कोरिया

कोरिया: पहले दिन मात्र 128 का टीकाकरण
03-May-2021 6:49 PM (44)
कोरिया: पहले दिन मात्र 128 का टीकाकरण

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 3 मई।
कोरिया जिले में 1 मई को 18 वर्ष या उससे उपर 44 वर्ष आयु वर्ग के लोगों का कोरोना टीका का कार्य शुरू नहीं हुआ बल्कि दूसरे दिन 2 मई को टीकाकरण का कार्य निर्धारित केंद्रों में शुरू की गई। पहले दिन मात्र 128 लोगों को ही टीका लग पाया।

जानकारी के अनुसार उक्त आयुवर्ग के लोगों के लिए जिले के सभी ब्लाकों में टीकाकरण केंद्र बनाए गए है। जिले में कुल 8 टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं। पहले दिन सभी टीकाकरण केंद्रों में सीमित संख्या में ही लोग टीका लगवाने केंद्र तक पहुंचे। इसका मुख्य कारण प्रचार-प्रसार का अभाव था। लोगों को पहले से पता था कि 1 मई से 18 वर्ष या इससे उपर वालों का टीका लगाया जायेगा, जिसे लेकर कुछ लोग टीकाकरण केंद्र पहुंचे तो उन्हें निराशा हाथ लगी। आनन फानन में 2 मई को टीका लगाने का दिन नियत किया गया, लेकिन इसे लेकर आम लोगों तक जानकारी एक दिन पहले नहीं पहुंच पाई थी। इस संबंध में मुनादी भी नहीं करायी गई थी। वही उक्त आयु वर्ग के लोगों के टीकाकरण करने लिए नए दिशा-निर्देश  30 अपै्रल को स्वास्थ्य व परिवार कल्याण विभाग के अवर मुख्य सचिव द्वारा कलेक्टरों का जारी किया गया कि पहले चरण में 18 से 44 आयुवर्ग के लोगों का टीकाकरण में अंत्योदय कार्डधारियों का टीका लगाया जाएगा। जिसके बाद बीपीएल फिर एपीएल कार्डधारियों का। इस तरह पहले दिन कोरिया जिले में सिर्फ अंत्योदय कार्डधारियों का टीकाकरण किया गया। जानकारी के अभाव में टीकाकरण केंद्रों में बहुत कम संख्या में पात्र हितग्राही टीकाकरण के लिए पहुंचे।

दो केंद्रों में एक भी नहीं पहुंचे
कोरिया जिले में 18 प्लस उम्र के लोगों को टीका लगाने के लिए आठ केंद्र बनाए गए है, जिनमें जिला मुख्यालय बैकुण्ठपुर में मानस भवन, खडग़वां में एनआरसी भवन, मनेंद्रगढ़ में सीएससी, सोनहत में सीएससी, जनकपुर में सीएससी, के साथ चिरमिरी में तीन टीकाकरण केंद्र बनाए गए है, जिनमें एसईसीएल डोमनहील, शा कन्या स्कूल गोदरीपारा तथा शा हासे स्कूल हल्दीबाडी में केंद्र बनाये गये हैं। पहले दिन 2 मई को जिल में कुल आठ टीकाकरण केंद्रों में निर्धारित समय तक कुल 128 लोगों का ही टीका लग सका। 
इस दिन बैकुंठपुर के मानस भवन में सर्वाधिक 34 लोगों का टीका लगाया गया। इसी तरह खडग़वां में 30, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मनेंद्रगढ में  28, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सोनहत में 17, गोदरीपारा में 10, हल्दीबाडी में 9 लोगों को टीका लगाया गया। इस दिन टीकाकरण केंद्र सीएससी जनकपुर व डोमनहील में एक भी लोगों को दिन भर में टीका नही लग पाया। ऐसी स्थिति इसलिए निर्मित हुई कि पहले दिन दो केंद्रों टीकाकरण की स्थिति 0 रही क्योकि लोगों को इसके बारे में पूर्व में पर्याप्त प्रचार प्रसार नही किया गया आनन फानन में दूसरे दिन टीकारण चालू कर दिया गया। जब शहरी क्षेत्र में यह स्थिति है, तो फिर ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को इसकी जानकारी हुई होगी समझा जा सकता है।

टीकाकरण में दूरी बनी ग्रामीणों के लिए बाधा
कोरिया जिले में 18 वर्ष या इससे उपर के  44 वर्ष तक के पात्र हितग्राहियों का टीकारण गत 2 मई से शुरू किया गया। जिसके लिए केवल 8 टीकाकरण केंद्र जिले में बनाए गए है। इससे शहरी क्षेत्र के लोगों के लिए तो सुविधा है लेकिन सबसे ज्यादा परेशानी ग्रामीण क्षेत्रों  ग्रामीणों टीकाकरण के लिए लंबी दूरी तय करना पड़ेगा। जब जाकर ही पात्र हितग्राही को टीका लग पाएगा। 

जानकारी के अनुसार सोनहत ब्लाक मुख्यालय में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, वनांचल भरतपुर जनपद मुख्यालय में स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में तथा खडग़वां ब्लॉक मुख्यालय में टीकाकरण केंद्र बनाए गए है। जहां तक ग्रामीण परिवारों को पहुंचने के लिए लंबी दूरी तय करना होगा। सोनहत व जनकपुर वनांचल क्षेत्र में कई ऐसे दूरस्थ क्षेत्र है, जहां के ग्रामीण ब्लाक मुख्यालय के टीकाकरण केंद्र में मुश्किल में पहुॅंच सकते है। वर्तमान में लॉकडाउन के चलते सार्वजनिक परिवहन पूरी तरह से बंद है ऐसे में  ब्लॉक मुख्यालयो में दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्र के लोगों का पहुंचना मुश्किल हो गया है ।  
 

 

अन्य पोस्ट

Comments