बलौदा बाजार

कोरोना के खिलाफ लड़ाई में हम बहुत जल्द कामयाब होंगे-भूपेश
08-May-2021 7:30 PM (41)
 कोरोना के खिलाफ लड़ाई में हम बहुत जल्द कामयाब होंगे-भूपेश

    सीएम ने बलौदाबाजार में किया 500 बिस्तर नये कोविड अस्पताल का वर्चुअल उद्घाटन    

   अल्प अवधि में बड़े अस्पताल खड़ी करने पर जिला प्रशासन को दी शाबाशी    

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बलौदाबाजार, 8 मई। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जिला मुख्यालय बलौदाबाजार में कल 500 बिस्तर नए कोविड अस्पताल का वर्चुअल शुभारंभ किया। इसके साथ ही जिले की सरकारी अस्पतालों में कोरोना मरीजों के इलाज के लिए बिस्तर की सुविधा बढक़र 1320 हो गई है।

 श्री बघेल ने कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में हम बहुत जल्द कामयाब होंगे। आम जनता के सहयोग से जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी आपसी तालमेल के साथ संगठित होकर यह लड़ाई लड़ रहे हैं। उन्होंने कोरोना के समूल नाश होते तक कोविड की गाईडलाईन का आवश्यक रूप से पालन करने की अपील भी की है। रिकार्ड 20 दिन के अल्प समय मे सर्वसुविधायुक्त विशाल अस्पताल तैयार करने के लिए जिला प्रशासन को टीम को बधाई दी।

कार्यक्रम की अध्यक्षता स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण एवं जिले के प्रभारी मंत्री टीएस सिंहदेव ने की। उन्होंने कहा कि कोरोना से बचाव के लिए टीकाकरण की गति हमे और तेज करनी होगी।  पहला टीका लगा चुके लोगों को निर्धारित समय आने पर दूसरा टीका अवश्य लेना चाहिए।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने राजधानी रायपुर स्थित अपने निवास कार्यालय से रिमोट बटन दबाकर जिला मुख्यालय बलौदाबाजार के नई मण्डी परिसर में निर्मित कोविड अस्पताल का औपचारिक शुभारंभ किया और जिले की जनता को इलाज के लिए 500 बिस्तर की अतिरिक्त सुविधा प्रदान की। कोरोना पीडि़त लोगों का यहां पर मुफ्त में इलाज किया जायेगा। कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने अस्पताल निर्माण की पृष्ठभूमि पर प्रकाश डालते हुये कार्यक्रम में जुड़े सभी अतिथियों का स्वागत किया।

उन्होंने कहा कि इस अस्पताल के तैयार हो जाने से हम मरीज़ों को अपने जिले में ही रखकर इलाज करने में सक्षम हो गए है। जरूरत पडऩे पर आस-पास के जिलों के मरीजों का भी इलाज यहां किया जा सकता है। गौरतलब है कि 500 बिस्तर के इस अस्पताल में 120 बिस्तर में ऑक्सीजन की सुविधा है। 320 बिस्तर कोरोना के सामान्य किस्म के मरीजों के लिए है। 13 डॉक्टरों की टीम यहां दिन-रात तैनात रहेगी। उनके रहने की भी व्यवस्था की गई है। लगभग 150 की संख्या में पैरामेडिकल स्टाफ यहां काम करेगी।

 मानसिक चिंता और अवसाद की स्थिति से बचाने और उनकी कौन्सिल्लिंग के लिए मनोरोग विशेषज्ञ डॉ.राकेश प्रेमी को प्रभारी बनाया गया है। भारी गर्मी को देखते हुए अस्पताल को पूर्णत: वातानुकूलित बनाया गया है। चौबीसों घण्टे यहां एंबुलेंस तैनात होगी। सम्पूर्ण गतिविधियों की सीसीटीवी के जरिये मॉनिटरिंग की जाएगी। अस्पताल का निर्माण जिले की जनप्रतिनिधियों, औद्योगिक प्रतिष्ठानों, समाजसेवी और दानदाताओं के सहयोग के साथ डीएमएफ की राशि मिलाकर की गई हैं। मुख्यमंत्री ने उदार सहयोग के लिए सभी दानदाताओं को धन्यवाद भी दिया।

ऑनलाइन मोड में वीसी के जरिये आयोजित इस कार्यक्रम में लोकसभा सांसद सुनील सोनी एवं गुहाराम अजगले, राज्यसभा सांसद छाया वर्मा, संसदीय सचिव चन्द्रदेव राय, संसदीय सचिव शकुन्तला साहू, विधायक शिवरतन शर्मा, विधायक प्रमोद शर्मा, कृषक कल्याण परिषद के अध्यक्ष सुरेन्द्र शर्मा, पाठ्यपुस्तक निगम के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी, जिला पंचायत अध्यक्ष राकेश वर्मा, जिला अध्यक्ष हितेन्द्र ठाकुर, जिला पंचायत उपाध्यक्ष सरिता ठाकुर, नगरपालिका अध्यक्ष चित्तावर जायसवाल, विद्याभूषण शुक्ल, दिनेश यदु, पार्षद रूपेश ठाकुर, चेम्बर ऑफ कामर्स अध्यक्ष जुगल भट्टर, पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष विक्रम पटेल, सतीश अग्रवाल, सुनील माहेश्वरी ने शामिल होकर अस्पताल निर्माण को जिले के लिए एक उपलब्धि बताया और इसके बेहतर संचालन के लिए शुभकामनाएं दी।

अन्य पोस्ट

Comments