बस्तर

नगरनार में शराब दुकान खोलने जारी निविदा पर रोक लगाएं
16-Jun-2021 8:40 PM (116)
 नगरनार में शराब दुकान खोलने जारी निविदा पर रोक लगाएं

   पूर्व विधायक ने मुख्यमंत्री-आबकारी मंत्री को लिखा पत्र      

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता 
जगदलपुर, 16 जून।
ग्राम पंचायत नगरनार में शराब की दुकान खोले जाने को लेकर बस्तर जिला प्रशासन द्वारा जारी की गई निविदा पर जगदलपुर विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक संतोष बाफना ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं आबकारी मंत्री कवासी लखमा को पत्र लिखकर अपनी तीखी प्रतिक्रिया जाहिर की है।

पूर्व विधायक ने पत्र में कहा है कि पूर्ण शराबबंदी का वादा कर सत्ता पाने वाली कांग्रेस सरकार अब शराब, शहर क्या दूरदराज के ग्रामीण ईलाकों तक पहुंचाने में लगी हुई है। इससे साफ प्रतीत हो रहा है कि, कांग्रेस की सरकार में शराबबंदी लागू किये जाने की इच्छा शक्ति का अभाव है। जबकि जन घोषणा पत्र में शराबबंदी का जिक्र करके प्रदेश में सरकार बनते ही इसे लागू करने को लेकर प्रतिबद्धता भी जताई गई थी। लेकिन अब जन घोषणा पत्र में शामिल अन्य वादों की तरह आपकी सरकार ने शराबबंदी का वादा भी भूला दिया है। अभी हाल ही में ग्राम पंचायत नगरनार क्षेत्र के लोगों ने पूर्व विधायक बाफना के समक्ष उपस्थित होकर अवगत कराया है कि, उनकी ग्राम पंचायत में नई शराब की दुकान स्थापित करने को लेकर बस्तर जिला प्रशासन के द्वारा इस निर्णय से पहले आम जनता का पक्ष लेना तक उचित नहीं समझा गया और क्षेत्र में शराब दुकान की उपलब्धतता हेतु निविदा जारी कर दी गई। इस निर्णय से जाहिर होता है कि, प्रशासन यहां के निवासियों पर जबरन शराब की दुकानें थोप रही है।
 भाजपा के पूर्व विधायक संतोष बाफना ने पत्र के अंत मुख्यमंत्री से कहा है कि चुनावी जन घोषणा पत्र में प्रदेशभर की माताओं-बहनों से शराबबंदी का जो वादा आपने किया था, उसे पूरा करने हेतु आवश्यक कार्यवाही करने का श्रम करें एवं हाल ही में ग्राम पंचायत नगरनार में शराब की दुकान स्थापित करने हेतु प्रशासन द्वारा जारी की गई निविदा पर रोक लगायें। यदि नगरनार क्षेत्र में नई शराब दुकान खोलने के निर्णय को वापस नहीं लिया जाता है तो मुझे क्षेत्र के लोगों के साथ धरना प्रदर्शन करने को विवश होना पड़ेगा। जिसकी पूर्ण जिम्मेदारी राज्य सरकार की होगी।

अन्य पोस्ट

Comments