छत्तीसगढ़ » कोण्डागांव

Previous123456789...8283Next
27-Sep-2021 8:52 PM (31)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोण्डागांव, 27 सितंबर। संयुक्त किसान मोर्चा के माध्यम से तीन कृषि कानूनों के विरोध में 27 सितंबर को भारत बंद का आह्वान किया गया था। इस बंद का कोण्डागांव में भी 27 सितंबर को व्यापक असर देखने के लिए मिला।

बंद के चलते नगर के सभी व्यापारिक प्रतिष्ठानें स्वत: ही बंद रही, वहीं इस बंद को सीपीआई कोण्डागांव और आनुसांगिक संगठन जिला कोण्डागांव ने भी अपना समर्थन दिया। किसानों के द्वारा तीन कृषि कानून के विरोध में किए गए बंद के चलते नगर में पुलिस के माध्यम से चौक चौराहों में सुरक्षा के मद्दे नजर जवानों को भी तैनात किया गया।

इस बंद के बारे में सीपीआई जिला सचिव तिलक पाण्डे ने कहा, बंद के संबंध में समस्त व्यापारिक प्रतिष्ठान संचालकों को समर्थन के लिए पत्राचार किया गया था, जिसका पूर्ण समर्थन मिला।

 उन्होंने आगे कहा, लगभग एक साल पूर्व संयुक्त किसान मोर्चा के माध्यम से केंद्र सरकार द्वारा बनाए गए तीन कृषि कानूनों के रद्द किए जाने की मांग को लेकर निरंतर धरना-प्रदर्शन किया जा रहा है। धरना प्रदर्शन के दौरान अब तक कई किसानों की मौतें भी हो चुकी है, लेकिन इन सबके बावजूद केंद्र सरकार, लगातार किसानों की मांग को नजरअंदाज कर रही है। संयुक्त किसान मोर्चा के द्वारा तीन कृषि कानूनों के विरोध में 27 सितंबर को भारत बंद किए जाने का आह्वान किया गया है।


27-Sep-2021 8:50 PM (30)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोण्डागांव, 27 सितंबर। सिटी कोतवाली कोण्डागांव की पुलिस ने गांजा तस्करी करते एक गर्भवती महिला को गिरफ्तार किया है। महिला के पास से 33 किलो से अधिक अवैध गांजा पाया गया है। पुलिस की माने तो, महिला के साथ तस्करी के दौरान दो बच्चे भी बस में सफर कर रहे थे। जब्त गांजा की अनुमानित कीमत 3 लाख 30 हजार रुपए से अधिक बताई जा रही है। फिलहाल महिला को एनडीपीएस एक्ट के तहत गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड में जेल भेज दिया गया है।

एसपी सिद्धार्थ तिवारी के निर्देशन व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राहुल देव शर्मा के मार्गदर्शन में कोण्डागांव के जगदलपुर नाका मर्दापाल तिराह के पास पुलिस के माध्यम से विशेष एनसीपी कैंप स्थापित किया गया है। इस कैंप में बीती रात कोण्डागांव से होकर गुजरने वाले वाहनों का सघन जांच किया जा रहा था। इसी जांच कार्रवाई के दौरान मुखबिर से मिले सूचना के आधार पर दुबे ट्रेवल्स की बस सीजी 04 ईए 4882 को जांच किया गया, जिसमें सफर कर रहीं सुनीता उर्फ संगीता (31) निवासी मईखुर्द कला शहाजहापुर उत्तरप्रदेश के कब्जे से गांजा बरामद किया गया। जांच के दौरान उसके पास से 33.420 किलो गांजा पाया गया।

गांजा तस्करी के चलते उसे एनडीपीएस धारा 20 बी एक्ट के तहत गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेजा गया। इस कार्रवाई में निरीक्षक अर्धना धुरंधर, उप निरीक्षक नमिता टेकाम, सहायक उप निरीक्षक लोगेश्वर नाग, दिनेश पटेल व अन्य आरक्षकों का योगदान रहा है।


27-Sep-2021 8:45 PM (31)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोण्डागांव, 27 सितंबर। आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम के तहत राष्ट्रीय सेवा योजना के माध्यम से नगर के एनसीसी मैदान से एनएसएस के 350 स्वयंसेवकों ने जयस्तंभ चौक तक 25 सितंबर को फ्रीडम रन रैली निकाली। इसके बाद जिला मुख्यालय स्थित शासकीय बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। यहां मुख्य रूप से जिला पंचायत अध्यक्ष देवचंद मतलाम, महाविद्यालय के जनभागीदारी समिति अध्यक्ष विकल मने, साथी समाज सेवी संस्था कुम्हारपारा के डायरेक्टर भूपेश तिवारी, बाल न्याय बोर्ड के सदस्य आरके जैन, शासकीय गुंडाधुर स्नातकोत्तर महाविद्यालय प्राचार्य डॉ. किरण नुरूटी, एनएसएस जिला संगठक शशि भूषण कनौजे नजर आए।

शासकीय बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कोण्डागांव में 24सितंबर को राष्ट्रीय सेवा स्थापना दिवस बड़े ही हर्षोल्लास व धूमधाम के साथ मनाया गया। इस कार्यक्रम की शुभारंभ विद्यालय परिसर के आस-पास साफ सफाई (श्रमदान) किया गया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि से हाथों ध्वाजारोहण एनएसएस के लक्ष्य गीत उठे समाज के लिए के साथ एवं माँ सरस्वती व स्वामी विवेकानंद के छाया चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलित कर किया गया। स्वयं सेविकाओं के द्वारा स्वागत गीत प्रस्तुत किया गया। स्थापना दिवस का प्रतिवेदन हरिशंकर नेताम (कार्यक्रम अधिकारी) के द्वारा तथा इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए विभिन्न प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें चित्रकला, रंगोली, तात्कालिक भाषण, निबंध सभी प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय, तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले स्वयं सेवकों को प्रमाण पत्र एवं पुरस्कार प्रदान एवं सभी प्रतिभागियों को सहभागिता प्रमाण पत्र प्रदान प्राचार्य एवं शिक्षकों के द्वारा किया गया। मुख्य अतिथि, प्राचार्य, शिक्षकों के द्वारा विचार उद्बोधन में राष्ट्रीय सेवा योजना का महत्व, समाज के लिए समर्पित सेवा, स्वच्छता, अनुशासन, युवाओं को प्रेरित किया गया।


26-Sep-2021 9:43 PM (37)

 शासकीय वाहन चालक संघ का संभागीय सम्मेलन

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोण्डागांव, 26 सितम्बर। आज मुख्यालय के इंडोर स्टेडियम में छत्तीसगढ़ शासकीय वाहन चालक संघ, यांत्रिक कर्मचारी संघ का संभागीय सम्मेलन एवं प्रांतीय सम्मान कार्यक्रम संपन्न हुआ। कार्यक्रम में कोरोना महामारी के दौरान सेवा भावना और उत्कृष्ट कार्य करने वाले वाहन चालकों का विधायक व पीसीसी अध्यक्ष मोहन मरकाम द्वारा सम्मान किया गया।

इस मौके पर मुख्य अतिथि श्री मरकाम ने कहा कि जिले में कोरोना महामारी के इस संकट घड़ी पर वाहन चालकों द्वारा गांव-गांव कोरोना संक्रमण को रोकने में कड़ी मेहनत, अद्वितीय सेवा भावना और कर्तव्य निष्ठा का परिचय देते हुए अपनी जान जोखिम में डाल कर कोरोना मरीजों को कोविड सेंटर अस्पताल तक पहुंचाया गया, जिससे जिले के शहरी क्षेत्र के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में भी कोरोना का संक्रमण अपेक्षाकृत कम फैला। इस प्रकार वाहन चालकों के सक्रिय कर्तव्य निर्वहन के कारण जिले में कोरोना संक्रमण का रोकथाम किया जा सका है।

उन्होंने आशा व्यक्त की कि भविष्य में भी इसी प्रकार अपने कर्तव्य निष्ठा का परिचय देते रहेंगे। कार्यक्रम में अन्य अतिथि वक्ताओं द्वारा भी वाहन चालकों के कर्तव्य परायणता की सराहना की गयी। कार्यक्रम के समापन पर मुख्य अतिथि ने प्रदेश भर से आये 100 वाहन चालकों को श्रीफल, शाल एवं प्रमाण पत्र दिया तथा प्रदेश वाहन चालक संघ के प्रांताध्यक्ष मनीष ठाकुर एवं प्रदेश महामंत्री आरके नायर ने मुख्य अतिथि को स्मृति चिन्ह भेंट करते हुए उनका आभार जताया।

इस मौके पर जिला पंचायत अध्यक्ष देवचन्द मातलाम, जनप्रतिनिधि शिशिर श्रीवास्तव, तरूण गोलछा, संघ के सदस्य एनएच खान, कैलाश मरकाम, मनोज देवांगन, मन्जीत सिंह, रामलाल नेताम, दिलीप नायडू, घनश्याम दास मानीकपुरी, दसमुराम मांझी, दिनानाथ बघेल, तुलेश्वर, चमनलाल वर्मा, हेमकुमार सहित अन्य सदस्य उपस्थित थे।


26-Sep-2021 9:40 PM (38)

लैंडस्कैपिंग, प्लांटेशन एवं पेवर ब्लॉक कार्यों को जल्द पूरा करने निर्देश

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोण्डागांव, 26 सितंबर। शनिवार को कलेक्टर पुष्पेंद्र कुमार मीणा अपने केशकाल प्रवास के दौरान मुरवेण्ड के निकट एनएच 30 पर प्राकृतिक मनोरम दृश्यों के बीच बनाए जा रहे लिमदरहा मिडवे का निरीक्षण किया।

ज्ञात हो कि यह मिड वे एनएच-30 पर यात्रा करने वाले लोगों के लिए एक विश्राम का स्थान होगा। यहां पर खाने पीने की व्यवस्था के साथ रिसोर्ट एवं रेस्टोरेंट के साथ वोटिंग एवं वाटर स्पोर्ट भी किए जा सकेंगे। इस स्थान पर बर्ड सेंचुरी के साथ वन्यजीवों को भी निकट से देखा जा सकेगा। लिमदरहा में स्टॉप डैम का निर्माण कर वाटर रिजर्वायर तैयार करते हुए प्राकृतिक रिजर्वायर को समृद्ध किया गया है। कलेक्टर ने अपने निरीक्षण के दौरान कार्य को तेजी से करने को कहा। इसके लिए उन्होंने लैंडस्कैपिंग, प्लांटेशन के साथ स्थल की साफ-सफाई तथा पेवर ब्लॉक लगाने के कार्य को जल्द से जल्द पूर्ण करने को कहा।

इस दौरान जिला पंचायत सीईओ प्रेम प्रकाश शर्मा, एसडीएम दीनदयाल मंडावी, ईई आरईएस अरुण शर्मा, जनपद पंचायत सीईओ एसके  नाग, परियोजना अधिकारी त्रिलोकी अवस्थी, डीएमएम विनय सिंह सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।


26-Sep-2021 9:38 PM (28)

कोण्डागांव, 26 सितंबर। जिला मुख्यालय में आज व्यापमं द्वारा आयोजित पी.ए.टी./पी.वी.पी.टी. की प्रवेश परीक्षा सम्पन्न हुई। ज्ञात हो कि उक्त परीक्षा हेतु मुख्यालय में 6 परीक्षा सेंटर शासकीय गुण्डाधूर महाविद्यालय, शासकीय बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, शा. कन्या उमा. वि., शा. उ. मा. तहसील पारा, चावरा हायर सेकेण्डरी स्कूल, सरस्वती शिशु मंदिर बनाये गये थे। परीक्षा में परीक्षार्थियों की कुल दर्ज संख्या 1217 बतायी गयी है। इसमें अनुपस्थित परीक्षार्थियों की संख्या 242 रही।


26-Sep-2021 6:14 PM (41)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बिश्रामपुर, 26 सितंबर।  भारत का इकलौता और दुनिया का पहला चलता फिरता अस्पताल कहे जाने वाली लाइफ एक्सप्रेस ट्रेन शुक्रवार देर शाम बिश्रामपुर रेलवे स्टेशन पहुंच गई है। इस अत्याधुनिक विशेष ट्रेन में 26 सितंबर से 13 अक्टूबर तक सरगुजा संभाग के विभिन्न रोगों से ग्रसित हजारों लोगों का उपचार और सर्जरी देश के विशेषज्ञ चिकित्सकों द्वारा की जाएगी। इंपैक्ट इंडिया फाउंडेशन द्वारा संचालित लाइफलाइन एक्सप्रेस भारतीय रेलवे और स्वास्थ्य मंत्रालय की साझेदारी में चलाई जाती है। इस ट्रेन में कुल सात कोच लगे हुए हैं।

16 लाख से ज्यादा लोग हो चुके हैं लाभांवित

लाइफलाइन एक्सप्रेस अपने जीवन के 251 वें प्रोजेक्ट पर इस समय छत्तीसगढ़ के सूरजपुर जिले में बिश्रामपुर रेलवे स्टेशन पहुंच गई है और इसमें 26 सितंबर से सूरजपुर जिले समेत संभाग भर से पहुंचे जरूरतमंद लोगों का मुफ्त इलाज एवं सर्जरी का कार्य प्रारंभ होगा, जो 13 अक्टूबर तक निरंतर जारी रहेगा। लाइफ लाइन एक्सप्रेस ट्रेन पिछले तीन दशकों से पूरे देश में जगह-जगह जाकर इसी तरह से गरीब तबकों तक बेहतर से बेहतर इलाज उपलब्ध करवाने की कोशिशों में लगी हुई है। भारत की इकलौती लाइफ लाइन एक्सप्रेस ट्रेन वर्ष 1991 से संचालित है। बिश्रामपुर में इसका 251 वां कैंप है। इसके पूर्व भी वर्ष 1999, 2006 एवं 2011 में यह ट्रेन बिश्रामपुर में अपनी सेवा दे चुकी है। तीन दशक में यह ट्रेन देश के 22 राज्यों के 145 जिलों में कैंप कर चुकी है। इस ट्रेन में 16 लाख से अधिक रोगियों का उपचार किया जा चुका है।

ट्रेन में दो आधुनिक ऑपरेशन थियेटर

सात कोच वाली इस लाइफ लाइन एक्सप्रेस ट्रेन में दो आधुनिक आपरेशन थियेटर हैं, जिनमें पांच आपरेटिंग टेबल मौजूद हैं। इनके अलावा इस हास्पिटल ट्रेन में डेंटल डिपार्टमेंट भी है, जिसमें तीन डेंटल चेयर हैं। मरीजों की विभिन्न तरह की जांच के लिए एक्सरे, मैमोग्राफी कोलपोस्कोप और पैथोलोजी लैब का भी इंतजाम है। इस लाइफलाइन एक्प्रेस में मरीजों की स्वास्थ्य देखभाल के लिए 20 लाइफलाइन स्टाफ मौजूद हैं। इनके अलावा जरूरत के मुताबिक देश के विभिन्न मेडिकल इंस्टीट्यूट के सर्जन भी इसमें अपनी सेवाएं देने के लिए बुलाए जाते हैं।

चलते फिरते अस्पताल में होती हैं ये सर्जरी

इस ट्रेन में जिन सर्जरी की सुविधा आमतौर पर उपलब्ध करवाई जाती है, उसमें आंख की रोशनी वापस लाने की सर्जरी या मोतियाबिंद, पैरों में विकृति वाले मरीजों की आवश्यक सर्जरी, बहरेपन से जुड़ी सर्जरी और जिनके होठों में फांक होते हैं, उनकी सर्जरी शामिल है। इसके अलावा इस अस्पताल में कैंसर के प्रति जागरूकता भी फैलाई जाती है और ओरल और ब्रेस्ट कैंसर से जुड़ी स्कीनिंग सेवाएं भी मुहैया करवाई जाती हैं।

किन तिथियों में होगा, किनका उपचार

जांच उपरांत 27 सितंबर से दो अक्टूबर तक आंखों में मोतियाबिंद की सर्जरी की जाएगी। चार अक्टूबर से सात अक्टूबर तक कान की सर्जरी, नौ अक्टूबर से 11 अक्टूबर तक 14 वर्ष आयु तक के बच्चों के मुड़े हुए पैरों की सर्जरी एवं नौ अक्टूबर से 11 अक्टूबर तक कटे फटे होंठ की सर्जरी किया जाना निर्धारित है। नौ अक्टूबर से 13 अक्टूबर तक दांत की जांच एवं उपचार तथा 26 सितंबर से दौ अक्टूबर तक मौखिक, स्तन एवं ग्रीवा कैंसर जागरूकता एवं परीक्षण किया जाना निर्धारित है।

युद्ध स्तर पर शिविर स्थल में किए जा रहे इंतजाम

26 सितंबर से नगर के रेलवे माल धक्का में प्रारंभ होने वाले लाइफ लाइन एक्सप्रेस प्रोजेक्ट के लिए शिविर स्थल पर कलेक्टर गौरव कुमार सिंह के मार्गदर्शन में व्यवस्था के तमाम इंतजाम युद्ध स्तर पर किए जा रहे हैं। तमाम आवश्यक व्यवस्थाओं को पूर्ण करने का काम अंतिम चरणों में है। पूरी व्यवस्थाओं की मानिटरिंग स्वयं कलेक्टर कर रहे हैं।


25-Sep-2021 8:55 PM (34)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोण्डागांव, 25 सितंबर। जिले में मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के अंतर्गत कुपोषित बच्चों की देखभाल एवं उन्हें सुपोषित करने के लिए नंगत पिला कार्यक्रम चलाया जा रहा है। इस कार्यक्रम के अंतर्गत प्रत्येक बच्चे के स्वास्थ्य की जानकारी को एक स्थान पर एकत्र कर डिजिटल माध्यम से निगरानी करने के लिए नंगत पिला एप्प का निर्माण किया गया था। इस एप्प का शुभारंभ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा 20 जून को आयोजित समारोह में वर्चुअल माध्यम से किया गया था। इस एप्प के संचालन एवं इसके द्वारा डाटा संग्रहण हेतु जिलेभर में प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। जिसके तहत् शनिवार को जिला कार्यालय सभाकक्ष में सभी विकासखण्डों के महिला बाल विकास विभाग की सुपरवाईजरों के लिए नंगत पिला एप्प प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। इस प्रशिक्षण में सुपरवाईजरों को एप्प में बच्चों की जानकारी दर्ज करने एवं कुपोषण के स्तर की जांच हेतु जानकारी दी गई।

ज्ञात हो कि इससे पूर्व सभी महिला बाल विकास परियोजना अधिकारियों एवं जिला स्तरीय अधिकारियों को 20 सितम्बर को एप्प का प्रशिक्षण दिया गया था।

नंगत पिला एप्प को जिले में कुपोषण के स्तर की जांच हेतु निर्मित किया गया है। इसके माध्यम से आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सुपरवाईजर एवं अन्य अधिकारी आसानी से क्षेत्र में कुपोषण के स्तर की जांच के साथ इनका बेहतर प्रबंधन कर सकेंगे। सुपरवाईजरों एवं सीडीपीओ के प्रशिक्षण उपरांत अब इन्हें जिम्मेदारी दी गई है कि वे अपने-अपने क्षेत्र में जाकर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को इस एप्प के संचालन का प्रशिक्षण देंगे। एप्प द्वारा निरीक्षण से बच्चों की वास्तविक स्थिति को बच्चे की फोटो सहित लिये जाने से बच्चों के पोषण स्तर की बेहतर निरीक्षण किया जा सकेगा। इस कार्यक्रम में प्रशिक्षण डीएमएफटी पीएमयू के शिवा चिट्टा, सिओना कोरिया, राजशेखर रेड्डी द्वारा दिया गया।


25-Sep-2021 8:54 PM (26)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोण्डागांव, 25 सितंबर। भाजपा जिला कार्यालय अटल सदन में पं. दीनदयाल उपाध्याय को उनके जन्मदिवस पर 25 सितंबर को याद किया गया। यहां मुख्य रूप से पूर्व मंत्री लता उसेण्डी व केदार कश्यप, प्रदेश मंत्री किरण देव, जिलाध्यक्ष दीपेश अरोरा, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य मनोज जैन, ओम प्रकाश टावरी, प्रवीर बदेशा सहित पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने स्व उपाध्याय के आदर्शों को अपनाकर संगठन को मजबूत करने का संकल्प लिया।

इस अवसर पर आयोजित संगोष्ठी में मुख्य वक्ता प्रदेश मंत्री किरण देव ने अपने उद्बोधन में कहा, एकात्म मानव दर्शन के प्रणेता, दूरदर्शी राजनीतिज्ञ, अंत्योदय का मंत्र देकर जनकल्याण व राष्ट्रसेवा के लिए प्रेरित कर राष्ट्र निर्माण में अपना जीवन समर्पित कर देने वाले पं. दीनदयाल उपाध्याय को देश आज याद कर रहा है। देशभर में आज उनकी 105वीं जयंती मनाई जा रही है। समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचने के विचार को सामने लाने वाले उपाध्याय जी के विचार को ही बीजेपी ने अपना मिशन बना लिया।

इस दौरान उनकी राजनैतिक जीवनी पर प्रकाश डालते भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष लता उसेण्डी ने कहा, जब 1951 में स्वर्गीय श्यामाप्रसाद मुखर्जी ने भारतीय जनसंघ बनाया तो संघ ने संगठन का काम देखने उपाध्याय को राजनीति में भेजा। 1953 में श्यामाप्रसाद मुखर्जी के निधन के बाद पंडित दीनदयाल के कंधों पर जनसंघ की सभी जिम्मेदारियां आ गई थीं।

15 साल जनसंघ के महामंत्री रहते हुए उन्होंने पार्टी की जड़ें मजबूत करते विचारधारा को आगे बढ़ाया और जन-जन तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई।

 डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने उनकी कार्यकुशलता और क्षमता से प्रभावित होकर एकबार कहा था यदि मुझे दो दीनदयाल मिल जाएं, तो मैं भारतीय राजनीति का नक्शा बदल दूं। भारत में रहने वाला और इसके प्रति ममत्व की भावना रखने वाला मानव समूह एक जन हैं। उनकी जीवन प्रणाली, कला, साहित्य, दर्शन सब भारतीय संस्कृति है। इसलिए भारतीय राष्ट्रवाद का आधार यह संस्कृति है। इस संस्कृति में निष्ठा रहे तभी भारत एकात्म रहेगा। इस एकात्म के तत्त्व को विस्तार से समझ कर सेवा और समर्पण की भावना को हमे आत्मसात करना है।

इस दौरान भाजपा जिला, उत्तर दक्षिण शहर और मर्दापाल मंडल सहित सभी मोर्चा और प्रकोष्ठ के पदाधिकारी और कार्यकर्ता जिनमे हेम कुंवर पटेल, प्रेम सिंह नाग, गोपाल दीक्षित, जितेंद्र सुराना, जैनेंद्र सिंह ठाकुर, कमलेश मोदी, कुलवंत चहल, संतोष पात्र, प्रतोष त्रिपाठी, विक्की रवानी, रेखा साहू, ललित देवांगन, सोना मनी पोयाम सहित अन्य उपस्थित हुए।


25-Sep-2021 8:54 PM (30)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोण्डागांव, 25 सितंबर। आजादी का अमृत महोत्सव अंतर्गत 25 सितंबर को मंत्री टीएस सिंहदेव की अध्यक्षता में जनप्रतिनिधियों से वर्चुवल स्वच्छता संवाद कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। जिले में इस वर्चुअल कार्यक्रम के अंतर्गत मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत प्रेम प्रकाश शर्मा एवं जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में मंत्री द्वारा गांवों को अधिक से अधिक स्वच्छ रखने में सरपंचों के साथ अन्य जनप्रतिनिधियों को इस कार्य में सहयोग देने हेतु प्रेरित किया गया।

इसके अलावा इस कार्यक्रम में स्वच्छता के विभिन्न आयामों जैसे ठोस एवं तरल अपशिष्ट अंतर्गत सामुदायिक सोख्ता गड्ढा निर्माण, ठोस अपशिष्ट का उचित प्रबंधन एवं सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त ग्राम पंचायत बनाने हेतु जोर दिया गया। इसके साथ ही उपस्थित सरपंच, पंच और स्वच्छताग्राहियों ने ग्रामों में स्वच्छता सुविधाओं को बेहतर बनाने के तहत् सुझाव दिये तथा सरपंचों के द्वारा स्वच्छता कार्य में आ रही समस्याओं पर चर्चा उपरांत उचित समाधान हेतु मंत्री जी द्वारा आश्वासन भी दिया गया।

इस अवसर पर सरपंच मसोरा दिनेश कुमार मरकाम, बड़ेबन्दरी संजय कुमार उईके, बटराली महेश्वरी हिरको, छिन्दली जेठू राम मरकाम, माकड़ी हेमलाल वटट्ी, शंकरपुर सोनूराम नाईक, चिखलपुटी विजय कुमार, बोलबोला रतनू राम पोयाम, उपसंचालक पंचायत बी.आर. मोरे, जनपद के समस्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवं जिला स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) की ओर से सुबेन्दु दास, जिला समन्वयक एवन कुमार पटेल, जिला सलाहकार सनकेर उसेण्डी सहित विकासखंड संकुल समन्वयक उपस्थित रहे।


25-Sep-2021 8:53 PM (30)

 निर्माण कार्य के लिए ढाई करोड़ का भूमिपूजन

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

केशकाल, 25 सितंबर।  शनिवार को टाटामारी पर्यटन में निर्माण कार्य के लिए 2 करोड़ 49 लाख रु का बस्तर विकास प्राधिकरण उपाध्यक्ष संतराम नेताम, जिला पंचायत अध्यक्ष देवचंद मतलाम, जनपद पंचायत अध्यक्ष महेंद्र नेताम, नगर पंचायत अध्यक्ष रोशन जमीर, जनपद पंचायत उपाध्यक्ष गिरधारी सिन्हा , नगर पंचायत उपाध्यक्ष बिहारी शोरी, मार्केटिंग सोसायटी अध्यक्ष सगीर अहमद कुरैशी व कलेक्टर पुष्पेंद्र मीणा और वनमंडलाधिकारी बीएस ठाकुर के द्वारा भूमिपूजन किया गया ।

ज्ञात हो कि छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से लगातार पर्यटन स्थलों को चिन्हांकित किया जा रहा है। इसी तरह कोंडागांव जिला के  प्रवेश द्वार 12 मोड़ घाटी के ठीक ऊपर केशकाल नगर स्थित है, जिसके चारों ओर कई प्राकृतिक जलप्रपात लिमदरहा, कुँएमारी, मुत्तेकडका, ऊपरबेदी समेत कई जलप्रपात चिन्ह अंकित किया गया। इसी तरह टाटामारी पर्यटन क्षेत्र को भी बढ़ावा देने हरसंभव प्रयास किया जा रहा है।

 कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विधायक संतराम नेताम ने कहा कि केशकाल विधानसभा क्षेत्र चारों ओर प्राकृतिक केंद्रों से भरा है। इसी तरह टाटामारी के मनोरम दृश्य को देखने प्रतिदिन सैकड़ों लोग आते हैं, जो दिनों दिन छत्तीसगढ़ प्रदेश नहीं अन्य राज्यों से भी देखने पहुंच रहे हैं। जिसके लिए 2 करोड़ 49 लाख रु का भूमिपूजन किया गया है, ताकि प्रदेश के साथ साथ देश भर के पर्यटकों को लुभाया जा सके।

आगे कहा कि विगत दिनों में जिस गति से इस टाटामारी को देखने पर्यटकों का संख्या बढ़ रही है, जल्द ही निर्माण कार्य होने के बाद लोगों की संख्या और बढ़ जाएगी। जिससे पूरे क्षेत्र के बेरोजगार युवाओं को रोजगार मिलेगा, स्व सहायता समूह को भी काम मिलेगा, जिससे सभी लोगों का आए बढ़ेगा और नगर का नाम पूरे देश में चलेगा।

विधायक संतराम नेताम ने कहा कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को अवगत कराया गया है कि टाटामारी जैसे ही एक और मांझीनगढ़ पर्यटक स्थल है, उसे भी विकसित किया जा सकता है। जिससे स्थानीय बेरोजगार लोगों को रोजगार मिलने की बात कही।

  जिपं अध्यक्ष देवचंद मतलाम ने भी कहा कि केशकाल क्षेत्र में कई पर्यटन स्थल है जिसको लेकर राज्य सरकार और जिला प्रशासन के द्वारा विकसित किया जा रहा है जिसकी वजह से ग्रामीण क्षेत्र के युवा युवतियों को रोजगार मिलेगा। चूँकि क्षेत्र से युवाओं को रोजगार नहीं मिलने के कारण लोग पलायन हो रहे थे लेकिन अब उन सभी लोगो को रोजगार मिलेगा जिसके कारण पलायन में रोक लगाया जा सकता है ।

कोंडागांव कलेक्टर पुष्पेंद्र मीणा ने बताया कि केशकाल क्षेत्र अंतर्गत 21 जलप्रपात छोटा बड़ा मिला है, साथ ही मांझीनगढ़, गोबराहीन शिवमंदिर, पंचवटी, केशकाल घाटी और टाटामारी जो प्राकृतिक सौंदर्य से परिपूर्ण है, इन जगहों को चिन्हित किया गया है जल्द ही इन जगहों को विकसित किया जाएगा, जिसके पश्चात पर्यटकों के लिए 2 दिन एक रात रुकने के लिए व्यवस्था की जाएगी जिससे पूरे क्षेत्र को घुमा जा सके और टाटामारी में नाइट हेलटिंग किया जा सके और जंगलों में मिलने वाली जड़ी बूटियों के बारे वैदराज के द्वारा पर्यटकों को अवगत कराया जाएगा। जिसके लिए कई योजना बनाई गई है इस योजना से बेरोजगार युवाओं को भी रोजगार मिलने की बात कही।

 इस अवसर पर मुख्य रूप से वनमण्डलाधिकारी बीएस ठाकुर, जनपद अध्यक्ष महेंद्र नेताम, नगर पंचायत अध्यक्ष रोशन जमीर, ब्लाक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राजेश नेताम,सगीर कुरेशी,यूनुस पारेख, गिरधारी सिन्हा, बिहारी शोरी, कलीम खान, रतिराम, वीरेंद्र बघेल, पीताम्बर नाग, खिलेश्वर शोरी, एसडीएम दीनदयाल मंडावी, तहसीलदार आसुतोष शर्मा , उपवनमंडलाधिकारी केजू राम पोयाम, उपवनमंडलाधिकारी महेंद्र यदु समेत वन विभाग के समस्त कर्मचारी अधिकारी उपस्थित रहे।


25-Sep-2021 5:45 PM (27)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता 
कोण्डागांव, 25 सितंबर।
छोटे बच्चों, उनकी माताओं और सम्पूर्ण समाज में शिक्षा का अलख जगाने के उद्देश्य से उनके बौद्धिक और शैक्षिक स्तर में विकास के लिए प्रथम व समग्र शिक्षा द्वारा संचालित अंगना मा शिक्षा कार्यक्रम राज्य स्तर पर बहुत जोर-शोर से चल रही है। इस बारे में जिला मीडिया प्रभारी शिक्षक शैलेन्द्र ठाकुर ने 24 सितंबर को जानकारी देते हुए बताया कि, विकासखण्ड कोण्डागांव के प्राथमिक शाला हरदीपारा, संकुल केंद्र बाखरा में संकुल स्तरीय अंगना मा शिक्षा व कबाड़ से जुगाड़ प्रदर्शनी का आयोजन किया गया।

इस कार्यक्रम में अंगना मा शिक्षा कार्यक्रम के तहत् संकुल अंतर्गत आने वाले समस्त आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा बहुत अच्छी तैयारी की गई थी, संकुल के समस्त शालाग्रामों से आए माताओं का भी भरपूर समर्थन मिला। उपस्थित बच्चों, माताओं और पालकों को अंगना मा शिक्षा का उद्देश्य और कार्यविधि गतिविधियों के माध्यम से समझाया गया,माताओं के लिए दिया बुझाओ, कुर्सी दौड़, मटका फोड़ खेल रखा गया था। इसके साथ साथ कबाड़ से जुगाड़ प्रदर्शनी जिसमें समस्त प्राथमिक और माध्यमिक शालाओं द्वारा मॉडल तैयार किया गया था। इसमें प्राथमिक प्रथम स्थान प्राथमिेक शाला डोंगरीपारा, माध्यमिक प्रथम स्थान उच्च प्राथमिक शाला राजागांव ने प्राप्त किया। स्वच्छता पखवाड़ा के अंतर्गत प्राथमिक शालाओं के बच्चों के लिए चित्रकला और माध्यमिक व हाई स्कूल के बच्चों के लिए निबंध लेखन प्रतियोगिता कर बच्चों को प्रथम द्वितीय पुरस्कृत किया गया, रीडिंग कैंपेन में बच्चों और उपस्थित माताओं द्वारा कहानी पुस्तक, बाल पत्रिका, जीवनी पुस्तिका, अखबार का वाचन किया गया व उनके उत्साह हेतु सम्मानित किया गया। हस्तलिपि में प्राथमिक और माध्यमिक के बच्चों को अपने पसंदीदा टॉपिक पर लेखन करना था जिसमे प्रथम द्वितीय से पुरस्कृत किया गया,सुपोषण माह के अंतर्गत आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओ द्वारा व्यंजन निर्माण कर प्रदर्शनी लगाया गया था।

 इस कार्यक्रम में उपस्थित सभी बच्चों, पालकों, ग्रामीणों और अतिथियों के लिए शाला ग्राम के ग्रामीणों और शिक्षकों की तरफ से भोजन व्यवस्था भी किया गया था। उपरोक्त कार्यक्रम संकुल समन्वयक राजू राम दीवान व नरेंद्र जैन के मार्गदर्शन में संपन्न हुआ।
 


25-Sep-2021 5:45 PM (27)

कोण्डागांव, 25 सितंबर। भारतीय डाक उपडाकघर कोण्डागांव में 22 सितंबर को उप संभाग स्तरीय ग्रामीण डाक जीवन बीमा मेले का आयोजन किया गया। इस बीमा व सुकन्या मेले में मुख्य रुप से डाकघर बस्तर संभाग अधीक्षक आरपी वर्मा, सहायक अधीक्षक सीएल पटेल, कोण्डागांव पोस्टमास्टर रामचरण साहू, इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक मैनेजर सतीश रेड्डी उपस्थित रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता उप संभागीय निरीक्षक डाक रवि साहू द्वारा की गई।

इस अवसर पर उप संभाग के अंतर्गत जिले के कुल 90 शाखा डाकघर के डाक कर्मचारियों द्वारा अर्जित बीमा प्रस्ताव एवं सुकन्या समृद्धि खाता के प्रस्ताव लाया गया। इस मौके पर श्री वर्मा ने कहा कि ग्रामीण डाक सेवक डाक विभाग की रीड की हड्डी है ग्रामीण क्षेत्रों में जनता की मांग के अनुरूप योजनाओं की जानकारी देकर हम ग्रामीण जनता को योजनाओं का फायदा दिला सकते हैं। उन्होंने कोण्डागांव संभाग के अंतर्गत डाक कर्मचारियों द्वारा किए गए कार्यों की प्रशंसा की एवं भविष्य में भी इसी तरह कार्य करने की सिफारिश की। 

इस मेले में एवं महा लॉगिन डे में सर्वाधिक व्यवसाय अर्जन करने वाले कर्मचारियों को अधीक्षक द्वारा प्रशस्ति पत्र एवं पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया जिसमें आरपीएलआई में प्रथम अनिल दीवान, द्वितीय अविनाश क्षत्रिय, तृतीय डिकेश मिर्जा इसी प्रकार एईपीएस महलोगिन डे में प्रथम नईम खान, द्वितीय बालमुकुंद बंजारे एवं तृतीय डिकेश मिर्जा को एवं देवचंद सेठिया, सतेंद्र भदौरिया, सुमन साहू, शरदा झा को सम्मानित किया गया।
 


25-Sep-2021 5:43 PM (28)

कोण्डागांव, 25 सितंबर। सर्व विभागीय दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी संघ के प्रांताध्यक्ष दिनेश शर्मा के द्वारा जिला कोण्डागांव के भ्रमण के दौरान सर्व सम्मति से लोक निर्माण विभाग में पदस्थ कम्प्यूटर आपरेटर विरेन्द्र बघेल को जिलाध्यक्ष के पद पर नियुक्त कर एक माह के भीतर कार्यकारणी गठन कर सूचित करने के लिए आदेशीत किया गया है। चयन के समय लोक निर्माण विभाग, वन विभाग, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग एवं अन्य विभाग के कर्मचारी उपस्थित रहे। अध्यक्ष बनाये जाने पर विभाग के अधिकारी व कर्मचारियों द्वारा बधाई दिया गया।
 


25-Sep-2021 5:41 PM (31)

कोण्डागांव, 25 सितंबर। आदिम जाति कल्याण विभाग के सहायक आयुक्त संकल्प साहू ने 23 सितंबर को जिला कलेक्टर कार्यालय स्थित सभाकक्ष में जिला अंतर्गत संचालित सभी आश्रम छात्रावासों के अधीक्षकों और मण्डल संयोजको का समीक्षा बैठक लिया। 
इस बैठक के बारे में विभाग से मिली जानकारी अनुसार शैक्षणिक सत्र 2021-22 में शासन के निर्देशानुसार 02 अगस्त से शाला खुल चुके हैं, शाला खुलने के साथ - साथ विभाग द्वारा संचालित छात्रावास आश्रम भी खोलने के आदेश हैं। इसलिए विभागीय छात्रावास आश्रमों के सुचारू रूप से संचालन के लिए समीक्षा बैठक लिया गया। यहां खाद्यान्न पोर्टल में वर्ष 2021-22 में संचालित आश्रमों में प्रवेशित सीट की जानकारी, मुलभूत सुविधाओं की जानकारी, आवश्यक सामाग्री मांग पत्र, भवन मरम्मत की जानकारी समेत अन्य मुद्दों पर बिंदुवार जानकारी ली गई।
 


25-Sep-2021 5:40 PM (27)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता 
कोण्डागांव, 25 सितंबर।
राज्य शासन के पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा 26 जनवरी 2004 से राज्य भर में ग्रामीण सचिवालय व्यवस्था लागू की गयी थी। जिसके माध्यम से प्रशासन को ग्राम स्तरीय प्रशासन एवं जनता से सीधे जोडऩे और पारदर्शिता के साथ ग्रामीण समस्याओं के संवदेनशीलता पूर्वक हल करने के लिए स्थापित किया गया था, परंतु वर्तामान में ग्राम पंचायतों में ग्रामीण सचिवालयों की सक्रियता में कमी आयी थी। जिससे ग्रामीणों को विभिन्न समस्याओं का सामना करना पड़ रहा था। जिसे देखते हुए कलेक्टर पुष्पेन्द्र कुमार मीणा द्वारा ग्रामीण सचिवालयों को अधिक सक्रिय एवं प्रभावित बनाने के उद्देश्य से इनके संचालन हेतु दिशा निर्देश जारी किये हैं।

जारी निर्देशानुसार अब प्रत्येक सप्ताह में ग्रामीण सचिवालयों की बैठक को अनिवार्य करते हुए एक निर्धारित दिवस पर सुबह 11 से 02 बजे तक पंचायत भवन में आयोजित किये जायेगें। इन्हें हाट-बाजार के दिन लगाते हुए इनके संचालन के संबंध में ग्राम पंचायतों द्वारा प्रचार-प्रसार मुनादी, दीवाल लेखन एवं फ्लैक्स के माध्यम किया जायेगा। इनमें समस्त मैदानी स्तर के अधिकारियों की उपस्थिति अनिवार्य होगी तथा अनुपस्थित रहने वाले अधिकारी, कर्मचारी की जानकारी उसी दिन जनपदों को प्रेषित किया जायेगा। 

ग्रामीण सचिवालय में आय-जाति, निवास प्रमाण पत्र, राशन कार्ड में परिवार के सदस्य का नाम जुड़वाना, अविवादित नामांतरण-बंटवारा से संबंधित कार्य तथा इसके अलावा मनरेगा के मजदूरी भुगतान तथा वृध्दावस्था पेंशन, सामाजिक सुरक्षा पेंशन की राशि भुगतान के संबंध में जानकारी दी जायेगी। इन सचिवालयों में ग्राम पंचायत बैठक एवं स्थायी समितियों के बैठकों सहित ग्राम के विकास एवं न्याय संबंधी प्रकरणों का निपटारा किया जायेगा।

इन ग्रामीण सचिवालयों में ग्राम पंचायत द्वारा संधारित 16 प्रकार की पंजियों एवं मनरेगा अन्तर्गत संधारित समस्त प्रकार की पंजियों के साथ-साथ पलायन पंजी को संधारित एवं अद्यतन करने की समीक्षा की जायेगी। इसकी जिम्मेदारी वरिष्ठ, आंतरिक, सहायक आंतरिक लेखा परीक्षण एवं करारोपण अधिकारियों की होगी। ग्रामीण सचिवालयों द्वारा शासन की महत्वपूर्ण योजनाओं जैसे नरवा, गरवा, घुरवा बाड़ी पर विशेष ध्यान देते हुए स्वायत (आत्म निर्भर) ग्राम पंचायतों के निर्माण एवं रोजगार सृजन किया जायेगा। इनमें अन्य गतिविधियाँ जैसे टीकाकरण, पलायन पंजी संधारण, स्वच्छता जाग़रूकता एवं श्रमदान आदि कार्य भी किया जायेगा। इन सचिवालयों द्वारा जानकारी निर्धारित प्रपत्र में साप्ताहिक रूप से जमा करायी जायेगी साथ ही सभी आवेदन पत्रों को ग्राम पंचायत सचिव के पास गूगल फार्म के माध्यम से लिया जायेगा। इन आवेदनों पर तत्काल कार्यवाही करते हुए सचिवालय में आए हुए ग्रामीणों को कार्यवाही से लिखित में अवगत कराना होगा। इन आवेदन पत्रों द्वारा किसी भी विभाग से मांग, शिकायत एवं सुझाव ग्रामीणों द्वारा दिया जा सकता है। इन आवेदनों को सचिवों द्वारा एक सम्ताह के भीतर निराकृत करने का प्रयास करते हुए कार्यवाही से आवेदक को अवगत कराया जायेगा। ग्रामीण सचिवालय दिवस में अधिकारी एवं कर्मचारियों की उपस्थिति सूचना बोर्ड में अंकित करनी होगी।
 


25-Sep-2021 5:05 PM (36)

रासेयो स्थापना दिवस पर कई आयोजन

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता 
कोण्डागांव, 25 सितंबर।
जनपद शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय दहिकोंगा राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई के द्वारा 24 सितंबर को एनएसएस स्थापना दिवस का आयोजन वनग्राम काकडग़ांव, ग्राम पंचायत पुसावण्ड किया गया।  शिविर में मुख्य अतिथि जिला संगठक शशि भूषण कन्नोजे, कार्यक्रम अध्यक्षता दिप्ती बघेल जनपद सदस्य, विशिष्ट अतिथि सरपंच शांति सूरज पोयाम, उप सरपंच मंगल राम मंडावी, पंच सुदरन कोरार्म, टी.पी.जोशी प्राचार्य शाउमा विद्यालय दहिकोंगा उपस्थित रहे।

कार्यक्रम का शुभारंभ स्वामी विवेकानंद के छायाचित्र पूजन कर एनएसएस ध्वजारोहण किया गया। तत्पश्चात एनएसएस प्रभारी ज्योति देवांगन के द्वारा स्वागत प्रतिवेदन के साथ वार्षिक गतिविधियों के साथ कार्यक्रम विवरण प्रस्तुत किया गया। स्थापना दिवस पर महिलाओं का रस्सा खींच और प्राथमिक शाला के बालक बालिकाओं का कुर्सी दौड़ प्रतियोगिता के साथ-साथ एनएसएस के छात्र छात्राओं के द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया। कार्यक्रम के दौरान मुख्य अतिथि ने स्थापना दिवस पर स्वामी विवेकानंद के सिद्धांतों पर प्रकाश डालते युवाओं के व्यक्तित्व विकास व सर्वांगीण विकास करने पर बल दिया। एनएसएस बच्चों के द्वारा स्वयं के साथ शासन की विभिन्न योजनाओं को ग्रामीणों एवं समाज तक पहुंचाने में कड़ी का काम करते है। 

कार्यक्रम को सफल बनाने में शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय दहिकोंगा से देशवती कश्यप, अमलेश वारले, कमलेश्वर कुमेटी, दशरथ लाल ध्रुव, ऋषिदेव सिंह सहित समस्त पंच, सरपंच ग्रामवासी एनएसएस बालक बालिकाएं का महत्वपूर्ण योगदान रहा। कार्यक्रम का संचालन देशवती कश्यप, आभार कार्यक्रम समन्वयक ज्योति देवांगन के द्वारा किया गया।
 


25-Sep-2021 5:03 PM (33)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता 
कोण्डागांव, 25 सितंबर।
ब्लॉक अंतर्गत संकुल केंद्र बड़ेकनेरा के प्राथमिक शाला मारीगुड़ा इन दिनों इको फ्रेंडली स्कूल के रूप चर्चा में बना हुआ हुआ है। इस स्कूल में बच्चों के अलावा एक पक्षी भी स्कूल में रोजाना अपनी उपस्थिति देता है, जो बच्चों का मन मोह लेता है। प्राथमिक शाला मारीगुडा के प्रभारी नीलकंठ साहू बताते है कि यह पक्षी रोज एक नियत समय पर उपस्थित होता है 3 बजे के बाद खुद चला जाता है।

इस पक्षी को बच्चे भी बहुत प्यार करते हैं और पक्षी को भी बच्चों व शिक्षकों से कोई समस्या नही है। स्कूल के शिक्षक श्रवण मानिकपुरी ने बताया कि इस पक्षी को देखकर  बच्चों में पर्यावरण प्रति जागरूकता आएगी स्कूल से जाने बाद भी बच्चे चिडिय़ों के शिकार के पक्षधर नही होंगे। इस पक्षी को स्थानीय बोली में रामी बोला जाता है जोकि एक समयांतराल में तोते की तरह इंसानी बोली में बात करता है कोरोना काल के बाद जबसे स्कूल खुला है तब से यह पक्षी प्रतिदिन उपस्थित होकर सभी कक्षाओं घूम घूमकर कीड़े मकोड़े को खाकर सफाई का कार्य भी कर देता है। हालांकि यह पक्षी स्कूल के आसपास के किसी के घर का पालतू है फिर भी स्कूल के आगंतुक बच्चों व शिक्षकों के इस पक्षी प्रेम को देखकर इस स्कूल को इको फ्ऱेंडली स्कूल कहने से नही चूकते  हैं।
 


24-Sep-2021 8:55 PM (60)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

केशकाल, 24 सितंबर। प्रदेश भर में हो रहे धर्मांतरण पर लगाम लगाने को लेकर अब आदिवासी समाज के जनप्रतिनिधियों ने भी अपनी आवाज बुलंद कर दी है। धर्मांतरण के विभिन्न पहलुओं को लेकर इस समस्या के निराकरण के लिए एक नया कानून बनाने के लिए सर्व आदिवासी समाज के लोग पहल कर रहे हैं। जिसकी शुरूवात केशकाल विधानसभा क्षेत्र के ग्राम पंचायत बिंझे से हुई है।

बैठक में मुख्य रूप से पहुँचे जनजातीय सुरक्षा मंच छत्तीसगढ़ प्रान्त संयोजक भोजराज नाग ने गांव गांव में हो रहे लगातार धर्मांतरण को लेकर ग्राम के लोगों को अवगत कराया। साथ ही उन्होंने समाज के जनप्रतिनिधियों गायता, पटेल पुजारी, को एकजुट होकर इसे रोकने सहित धर्मांतरण हुए परिवार जनों को आदिवासी समाज से मिलने वाले आरक्षण को खत्म करने हेतु कानून बनाने की मांग करने की बात कही।

 केशकाल के पूर्व विधायक सेवकराम नेताम ने भी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि प्रशासन द्वारा 9 निर्दोष ग्रामीणों पर जबरन रिपोर्ट दर्ज करने को लेकर तीखा प्रहार किया। साथ ही उन्होंने कहा कि ग्राम के आदिवासी अगर समाज के रीति-नीति से किसी को जोडऩा चाहते हंै तो फिर लोग धर्मांतरण होकर ग्राम के रीति नीति को मानने से किसलिए मना करते हंै। हम सबको धर्मांतरण करने वालों को रोकना चाहिए ।

कार्यक्रम में मुख्य रूप से पूर्व विधायक सेवक राम नेताम, जनजाति सुरक्षा मंच के जिला संयोजक खेमलाल नेताम, हरिशंकर नेताम, मनीराम मंडावी भारतीय किसान संघ प्रदेश महामंत्री, जनपद सदस्य वीरेंद्र बघेल सहित विभिन्न ग्राम के सरपँच उप सरपंच ग्राम के गायता, पटेल पुजारी सहित बड़ी संख्या में ग्रामवासी उपस्थित थे।

ग्राम बिंझे में कुछ माह पूर्व एक महिला के शव को गांव वालों द्वारा ग्राम की भूमि में दफनाने न देने को लेकर काफी बवाल हुआ था। उक्त मामले में पुलिस ने कुछ लोगों पर कार्यवाही भी की थी। जिसको लेकर सर्व आदिवासी समाज व ग्रामवासी एकजुट होकर प्रशासन के दोहरे रवैये के खिलाफ़ जंगी प्रदर्शन की तैयारी कर रहे हैं। 

ज्ञात हो कि विगत दिनांक 8 अप्रैल को ग्राम बिंझे में एक महिला की मौत हो जाने पर परिजनों द्वारा उसके शव को ग्राम बिंझे में ही घर के समीप दफनाया गया था। जिससे नाराज ग्रामवासियों ने शव का उत्खनन करवा दिया था। जिसके 24 घण्टे के पश्चात पुलिस द्वारा उक्त महिला के शव को केशकाल के ईसाई शमशान घाट में दफनाया गया था। आदिवासी समाज से धर्मांतरित होकर ईसाई धर्म में शामिल होने के चलते उक्त परिवार के किसी सदस्य को दफनाने हेतु जमीन देने से ग्रामवासियों ने मना कर दिया था। जिसके बाद से पुलिस द्वारा ग्राम के कुछ लोगों पर अपराध पंजीबद्ध किया था। किन्तु समाज के लोगों का कहना है कि आखिर किस आधार पर पुलिस ने ग्रामीण आदिवासियों पर केस बनाया, यह जांच का विषय है।


24-Sep-2021 8:51 PM (26)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोण्डागांव, 24 सितंबर। वृक्षारोपण क्षेत्र में बेजाकब्जा करने वाले शिक्षक व तीन अन्य को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

दक्षिण वनमंडल कोण्डागांव के माकड़ी परिक्षेत्र अंतर्गत मारागांव पंचायत के सिवनीबेड़ा वनक्षेत्र आरएफ 104 में वर्ष 2015-16 में 35 हेक्टेयर क्षेत्र में राज्य वन औषधी एवं पादप बोर्ड द्वारा स्वीकृत वनौषधि रोपण किया गया था। जिसकी परियोजना अवधि मार्च 2021 तक थी। संयुक्त वन प्रबंधन समिति मारागांव के सदस्यों द्वारा 18 सितंबर को विभाग में सूचना दी गई कि मारागांव के चार लोगों द्वारा उक्त क्षेत्र में अतिक्रमण का प्रयास किया जा रहा है एवं कुल 2.5 एकड़ भूमि की साफ-सफाई कर हल जुताई की गई है। जिसपर अवैध रूप से खेती का प्रयास किया जा रहा है।

इस पूरे मामले को संज्ञान में लेते हुए वनमडंलाधिकारी उत्तम कुमार गुप्ता द्वारा वन परिक्षेत्र माकड़ी की टीम को तत्काल कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया था। इस पर टीम द्वारा कार्यवाही करते हुए चारों अतिक्रमणकारियों के खिलाफ भारतीय वन अधिनियम 1927 की धारा 26 (1) (क), (ड़), (च) और धारा 52 एवं लोक सम्पत्ति क्षति निवारण अधिनियम 1984 की धारा 3 (1) के अतंर्गत पीओआर दर्ज कर बुधवार को गिरफ्तार करने की कार्यवाही की गई। इनमें शिक्षक रामलाल (54) सहित लखीराम (25), मेहतू (56) और महरू (38) शामिल हैं।

इन सभी को गिरफ्तारी कर न्यायालय मुख्य न्यायिक मजिस्टेऊट कोण्डागांव के समक्ष प्रस्तुत किया गया। न्यायालय द्वारा चारों आरोपियों को 06 अक्टूबर तक की न्यायिक अभिरक्षा हेतु जेल में दाखिल करने का आदेश दिया।


Previous123456789...8283Next