छत्तीसगढ़ » कोरिया

Previous12345678Next
24-Jan-2021 5:19 PM 900

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 24 जनवरी।
जिला मुख्यालय बैकुंठपुर का चर्चित प्रेमाबाग भूमि मामले में पुलिस ने बिल्डर की पत्नी के भाई डॉक्टर को रीवा मध्यप्रदेश से गिरफ्तार कर रिमांड पर जेल भेज दिया है, बिल्डर के दो सहयोगी  चिरमिरी के चंदन शर्मा और आकाश बघेल को भी जेल भेजा गया है। घटना में शामिल अन्य आरोपी फरार बताए जा रहे हंै। डॉक्टर के खिलाफ बिल्डर के साथ षडय़ंत्र में शामिल होने तथा बिल्डर के अपराध करने के दौरान अपने अस्पताल में भर्ती होने का फर्जी मेडिकल दस्तावेज बनाकर आपराधिक गतिविधियों में सहयोग का आरोप है।  
इस संबंध में प्रार्थी विष्णु सिंह की माने तो बिल्डर ने संभागायुक्त, राजस्व मंडल और उच्च न्यायालय में अपने को रीवा मे 29 अप्रैल से 3 मई तक एडमिट होना बताया है साथ ही 1 मई को तहसीलदार बैकुण्ठपुर में भी उपस्थित होना बताया है तो ऐसे में एक ही दिन एक व्यक्ति दो स्थानों पर कैसे रह सकता है।

वहीं उप पुलिस अधीक्षक धीरेन्द्र पटेल का कहना है कि प्रेमाबाग विष्णु सिंह के मामले में बिल्डर संजय अग्रवाल की पत्नी के बाई डॉ.दीपक अग्रवाल को हिरासत में लेकर रिमांड पर लिया गया है, मामले में और कार्रवाई जारी है।
शनिवार की देर रात पुलिस रीवा के बड़े चिकित्सक डॉ. दीपक अग्रवाल को लेकर सिटी कोतवाली पहुंची, सुबह से पुलिस की एक टीम मामले में कोर्ट में हाजिर करने की औपचारिकता पूरी करती रही, रविवार होने के कारण 3 बजे डॉक्टर को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें रिमांड पर भेज दिया गया। उनके साथ 29 अप्रैल 2017 के दिन फोटोग्राफ से बिल्डर के दो सहयोगी चिरमिरी चंदन शर्मा और आकाश बघेल की पहचान कर उन्हें भी जेल भेजा गया है।

इस मामले में मास्टर माइंड तक पुलिस अभी तक नहीं पहुंच पाई है। करोड़पति मास्टर माइंड के कारण आदिवासी की भूमि का नया वारिस सामने आया था और भूमि के कागजात फर्जी बनाए गए, वहीं अब तक उक्त भूमि 8 लोगों को बेची जा चुकी है, बकायदा उनके नाम नामांतरण भी पूरा हो चुका है। चूंकि, सेवानिवृत अपर कलेक्टर एडमंड लकड़ा की गिरफ्तारी को लेकर राजस्व अधिकारी विरोध कर रहे हंै, ऐसे में पुलिस का कहना है कुछ दस्तावेज जिस कार्यालय में अपर कलेक्टर पदस्थ थे, वहां से मांगे गए है जो अब तक उन्हें नहीं मिल पाए है। 
कलेक्टर कार्यालय के सूत्रों की माने तो बीते एक माह से पुलिस जिस दस्तावेज को मांग रही है, उसे राजस्व अधिकारी देने से कतरा रहे हैं। यही कारण है कि अधिकारी और कर्मचारियों पर पुलिस कार्यवाही नहीं कर पा रही है, जबकि आम नागरिक को तुरंत गिरफ्तार कर रही है।

क्या है मामला
प्रार्थी विष्णु सिंह द्वारा बीते 2 साल से आरोपी डॉक्टर सहित सभी आरोपियों की मांग की जा रही थी। 
कोरिया जिला मुख्यालय बैकुंठपुर स्थित प्रेमाबाग स्थित जमीन पाकिस्तान चले गए एक व्यक्ति की थी, जिसका कोई वारिस नहीं था, परन्तु अचानक राज्स्व अमले के साथ मिलकर प्रतापपुर के एक व्यक्ति को वारिस बनाया, मामले में अब तक फर्जी वारिस सहित 5 लोग और जेल में रिमांड पर निरूद्ध है। सूत्रों की मानें तो इस मामले में आधा दर्जन से ज्यादा सरकारी अमले पर भी कार्रवाई होने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता। चार वर्ष बाद पुलिस अधीक्षक चंद्रमोहन सिंह के निर्देश पर उप पुलिस अधीक्षक धीरेन्द्र पटेल ने सूक्ष्म जांच शुरू की, तब मामले में खुलासा होने लगा। जिसके कारण रीवा के डॉ दीपक अग्रवाल को पुलिस ने अपने कब्जे में लेकर रिमांड पर जेल भेज दिया है।

एक साथ दो स्थानों पर था उपस्थित
प्रार्थी विष्णु सिंह का कहना है कि बिल्डर ने उनकी भूमि पर बने एक मकान को  29 अप्रेल 2017 की रात को  उनका मकान ध्वस्त कर दिया, 30 अप्रैल को घेर कर रखा, और 29 अप्रैल 2017 को ही 1 बजे दोपहर रीवा स्थित डॉ दीपक अग्रावल के अस्पताल में एडमिड हो गया। जिसकी जानकारी उनके द्वारा निकाली गई, बिल्डर 29 अप्रैल 2017 को 1 बजे से 3 मई 2017 तक वहां एडमिट होना बता रहा है। जबकि 29 अप्रेल 2017 को तत्कालिन तहसीलदार सुमनराज ने मेरे आवेदन पर स्टे दे दिया, उस वक़्त बिल्डर उपस्थित था, उसी दिन 1 बजे कैसे कुछ घंटे में ही कैसे रीवा पहुंचकर एडमिट हो गया।। वहीं 1 मई 2017 को तहसीलदार न्यायालय में हुई सुनवाई के दौरान मैं और बिल्डर संजय अग्रवाल, अधिवक्ता तीनों तहसीलदार सुमन राज के कोर्ट में उपस्थित थे। जबकि 1 मई 2017 को रीवा में बिल्डर का इलाज जारी था।
एफआईआर निरस्त करने हाईकोर्ट में याचिका

जानकारी के अनुसार 29 अप्रेल 2017 को प्रेमाबाग स्थित भूमि पर जमकर हंगामे की जानकारी विष्णु सिंह की पत्नी ने सिटी कोतवाली में दी और 1 मई 2017 को मामला दर्ज हो गया, इधर, बिल्डर ने उसी दिन अपने स्वास्थ्य खराब होने को लेकर रीवा में एडमिट रहने की बात बता कर एफआईआर को निरस्त करने हाई कोर्ट में याचिका लगा रखी है।

डकैती सहित बलवा का है आरोप
प्रार्थी विष्णु सिंह बताते है वर्ष 2017 मई 29 की रात, इस दिन सुबह से प्रेमाबाग स्थित भूमि पर जेसीबी की धमक के साथ उनका मकान ध्वस्त हुआ, उनकी पत्नी ने अपना मकान ध्वस्त होते देखा और विरोध किया, जिसके बाद पुलिस में मामला दर्ज करवाया, जिसमे कई गैर जमानती धाराओं में मामला पंजीबद्ध किया गया परंतु कार्यवाही के लिए तत्कालीन प्रशासन आगे नही है, उनकी भूमि का मामला बिल्डर ने राजस्व न्यायालय से सीधे संभागायुक्त में पहुचाया और वहां से राजस्व मंडल। परंतु मेरी बात कोई सुनने को तैयार नहीं था।

 


23-Jan-2021 7:02 PM 25

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बैकुण्ठपुर, 23 जनवरी। राजस्व विभाग में पदस्थ पटवारी  योगेश गुप्ता ने एक बार पुन: बड़ी उपलब्धि अर्जित की है। 11वें मतदाता दिवस के अवसर पर 25 जनवरी को राजधानी रायपुर में आयोजित राज्य स्तरीय समारोह में सम्मानित किए जाएंगे।

विदित हो कि प्रति वर्ष राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर निर्वाचन के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाले व्यक्तियों को अलग अलग श्रेणियों में  राज्य स्तर पर सम्मानित किया जाता है, कोरिया जिले के पटवारी योगेश गुप्ता को विशिष्ट श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ क्रिएटिव वर्क के तहत रचनात्मक गतिविधियों के लिए राज्य स्तर पर प्रथम पुरस्कार प्राप्त हुवा है। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी की अनुशंसापर जिले की तरफ से विशेष पुनरीक्षण कार्यक्रम तथा मरवाही उपचुनाव में उनके विशेष योगदान के लिए योगेश गुप्ता को नामांकित किया गया था जिसे राज्यस्तरीय चयन समिति ने  प्रथम पुरस्कार हेतु चयनित किया है।

क्या था चयन का मानदण्ड - मतदाता जागरूकता कार्यक्रम के अंतर्गत सर्वश्रेष्ठ क्रिएटिव एक्टिविटी जिसमे निवार्चन हेतु मतदाताओं व आम नागरिकों को आकर्षित एवं प्रभावित करने हेतु आकर्षक पोस्टर,स्लोगन,फ्लेक्स की डिजाइन, समाचार पत्रों में प्रकाशन हेतु विज्ञापन, सोशल मीडिया में प्रचार हेतु क्रिएटिव पोस्ट तैयार करने वाले किसी एक कर्मचारी/अधिकारी को राज्यस्तर पर पुरस्कृत किए जाने का प्रावधान है।

नेशनल एवार्ड के लिए भी छ. ग. राज्य से योगेश का नाम प्रस्तावित हुआ था - भारत निर्वाचन आयोग की तरफ से 25  जनवरी को प्रदान किये जाने वाले नेशनल एवार्ड के लिए भी योगेश के क्रिएटिव वर्क को देखते हुवे मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी छ ग ने कलेक्टर कोरिया की अनुशंसा पर स्पेशल केटेगरी में योगेश के नाम का प्रस्ताव भारत निर्वाचन आयोग को भेजा था, किन्तु इस वर्ष स्पेशल केटेगरी का नेशनल एवार्ड बिहार की संस्था च्जीविकाज् को प्रदान किया गया है,

योगेश को 2018 में भी मिल चुका है एवार्ड - छत्तीसगढ़ विधान सभा मे सर्वश्रेष्ठ स्वीप कार्यकर्ता का स्टेट लेवल एवार्ड योगेश को 2018 में राजधानी रायपुर में प्राप्त हुवा था । उस समय योगेश गुप्ता द्वारा तैयार 7 अलग अलग पोस्टर्स  को निर्वाचन आयोग ने छतीसगढ़ के सम्पूर्ण मतदान केंद्रों में लगवाया था । लोकसभा निर्वाचन के दौरान भी योगेश ने  निर्वाचन कार्यों में छत्तीसगढ़ के लिए सक्रिय भागीदारी निभाई थी।

योगेश गुप्ता कोरिया जिले के बैकुंठपुर  तहसील में पटवारी पद पर पदस्थ है, विभागीय दायित्वों के अतिरिक्त बचे हुवे समय मे रचनात्मक गतिविधियां करते रहते हैं। निर्वाचन कार्यों में उनकी खास पहचान है, गत वर्ष दिल्ली विधानसभा चुनाव में भी इनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही है, सीईओ दिल्ली ने रायपुर को पत्र जारी कर योगेश को 15 दिनों के लिए दिल्ली में रहकर निर्वाचन के दौरान सेवाएं देने का आग्रह किया था । स्थानीय स्तर पर सामाजिक, सांस्कृतिक और शासकीय आयोजनों में सक्रिय रहने वाले योगेश हमेशा ही कुछ अलग करने की कोशिश करते हैं। रचननात्मक प्रतिभा के धनी योगेश की इस उपलब्धि पर अधिकारी, कर्मचारियों व स्थानीयजनो में हर्ष व्याप्त है।


22-Jan-2021 7:14 PM 33

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

चिरमिरी, 22 जनवरी। बुधवार को ब्लॉक मुख्यालय खडग़वां में केंद्रीय मर्यादित सहकारी बैंक के उद्घाटन कार्यक्रम में आमंत्रित ना किए जाने एवं लोकार्पण पट्टिका में जनपद अध्यक्ष सोनमती उर्रे का नाम न होने से कार्यक्रम के बीच में पहुंच कर जनपद अध्यक्ष जमकर बिफरीं।

केंद्रीय सहकारी मर्यादित बैंक के उद्घाटन कार्यक्रम में जनपद अध्यक्ष खडग़वां सोनमती उर्रे को नहीं बुलाया गया था और न ही लोकार्पण पट्टिका में उनका नाम था जबकि जनपद उपाध्यक्ष भुनेश्वर साहू का नाम लोकार्पण पट्टीका में लिखा गया है। कार्यक्रम जनपद पंचायत खडग़वां के मैदान में ही आयोजित किया गया था, कार्यक्रम के बीच में ही सोनमती मंच पर पहुंच कर अशोक श्रीवास्तव के हाथों से माइक छीन कर मंच से नाराजगी जाहिर करने लगी और जब नहीं रुकी तो माइक का कनेक्शन काट दिया गया।

जनपद अध्यक्ष सोनमती उर्रे ने बताया कि केंद्रीय मर्यादित बैंक का उद्घाटन कार्यक्रम था। अंबिकापुर से भी कई अतिथि आए हुए थे स्थानीय विधायक भी थे जनपद उपाध्यक्ष भी थे उनका नाम लोकार्पण पट्टीका में है मगर जनपद अध्यक्ष का नाम नहीं है । उद्घाटन कार्यक्रम में भी नहीं बुलाया गया  इसलिए मैं नाराज हूं। उपाध्यक्ष का नाम है और अध्यक्ष का नाम नहीं है। कार्यक्रम किसी पार्टी बेस का नहीं था सार्वजनिक कार्यक्रम था मुझे लगता है कि मैं एक आदिवासी महिला हूं इसलिए मुझे अनदेखा किया जा रहा है मेरे मान सम्मान को ठेस पहुंचाया जा रहा है, जानबूझकर प्रताडि़त किया जा रहा है, जनपद पंचायत खडगवां के सामने कार्यक्रम हुआ मगर किसी का फोन नहीं आया इसलिए मैं आखिरी में गई, मैं भी जनता की चुनी हुई प्रतिनिधि हूं कोई सरकारी कर्मचारी नहीं।


22-Jan-2021 7:10 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोरिया/खडग़वां, 22 जनवरी। जिले के खडग़वां ब्लॉक के किसानों की बहुचर्चित जिला सहकारी केंद्रीय बैंक की शाखा खोले जानी की मांग ने अब मूर्त रूप ले लिया है। बुधवार को खडग़वां में बैंक की शाखा का विधिवत शुभारंभ हुआ।

 कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में क्षेत्रीय विधायक डॉ. विनय जायसवाल, जिला पंचायत उपाध्यक्ष वेदांती तिवारी, कांग्रेस जिलाध्यक्ष नजीर अज़हर सहित अन्य लोग उपस्थित थे। बीते 15 वर्षो के अधिक अंतराल से लगातार उठ रही मांग को ध्यान में रखते हुए मनेन्द्रगढ़ विधायक डॉ विनय जायसवाल के अथक प्रयास से उक्त बैंक का शुभारभ किया गया जो भब्य रूप में देखने को मिला जहाँ विधायक के उपस्थित होते ही स्थानीय ग्रामीणजनों ने उन्हें अपनी गोद में उठा लिया और शैला नृत्य पर घण्टों झूमते रहे। क्षेत्रीय विधायक ने इस भब्य स्वागत में खुद को नाचने से रोक नहीं पाये और मांदर की थाप को अपने हाथो में लेकर राज्य की कला को समोहित किया।

जानकारी अनुसार इस शाखा के शुभ आरंभ से पहले स्थानीय ग्रामीण जन को अपनी राशि आहरण करने के लिए लगभग 30 किलों मीटर का लंबा सफर तय कर के नगर निगम चिरमिरी जाना पड़ता था। जहाँ किसानों काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता था। उक्त बंैक के खडग़वां में खुलने से किसानों और ग्रामीण जनों में काफी हर्ष है।

बहरहाल बैंक की शाखा का शुभ आरंभ करते हुए विधायक डॉ,विनय जायसवाल ने सर्व प्रथम ग्रामीणों की मांग पर स्वयं के हाथो से अपना ही एक खाता खोल कर उनको दुगनी ख़ुशी दी ।

इस  अवसर पर विधायक डॉ. विनय जायसवाल, जिला अध्यक्ष नज़ीर अज़हर, जिला पंचायत उपाध्यक्ष वेदांती तिवारी, नगर पालिका बैकुंठपुर के अध्यक्ष अशोक जायसवाल, युवा नेता आशीष डबरे, खडग़वां ब्लाक अध्यक्ष मनोज साहू,वरिष्ठ कांग्रेसी प्रकाश तिवारी, गणेश राजवाड़े, जनपद अध्यक्ष और उपाध्यक्ष भुनेश्वर साहू, सूर्य प्रताप सिंह, राम कृष्ण साहू, विजय जायसवाल, ग्राम पंचायत के सरपंच और जनप्रतिनिधि काफी संख्या में उपस्थित रहे। कार्यक्रम को सफल बनाने में ओंकार पांडेय, अशोक श्रीवास्तव, भुनेश्वर साहू और बैंक प्रबंधन के सभी सम्भागीय अधिकारी कर्मचारियों के साथ भारी संख्या में ग्रामीण जन उपस्थित रहे ।


22-Jan-2021 7:05 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 22 जनवरी। सविप्रा उपाध्यक्ष  एवं भरतपुर-सोनहत विधायक गुलाब कमरो की पहल पर राज्य शासन द्वारा चालू वित्तीय वर्ष 2020-21 में भरतपुर-सोनहत विधानसभा क्षेत्रांतर्गत पहुंचविहीन क्षेत्रों में सुगम आवागमन की सुविधा उपलब्ध कराए जाने हेतु कुल 2 करोड़ 15 लाख 91 हजार रूपए की प्रशासकीय स्वीकृति प्रदान की गई है। विधायक के प्रयासों से शासन द्वारा सुगम आवागमन की सुविधा हेतु एक बड़ी राशि को मंजूरी प्रदान किए जाने से क्षेत्र में हर्ष व्याप्त है।

विधानसभा अंतर्गत पहुंचविहीन क्षेत्रों में सुगम आवागमन की सुविधा उपलब्ध कराए जाने हेतु जिन निर्माण कार्यों को स्वीकृति प्रदान की गई है उनमें विकासखंड मनेंद्रगढ़ अंतर्गत ग्राम पंचायत पसौरी स्थित झरिया नाला में 18 लाख की लागत से मिट्टी के कटाव को रोकने हेतु रिटर्निंगवाल निर्माण, हस्तिनापुर के छापरगढ़हा में 19 लाख की लागत से रिटर्निंगवाल एवं पुलिया निर्माण, ग्राम पंचायत चनवारीडांड़ स्थित स्कूल से मनेंद्रगढ़ मार्ग में कलकलिया नाला में मिट्टी के कटाव को रोकने हेतु 20 लाख की लागत से रिटर्निंगवाल निर्माण, ग्राम पंचायत रोकड़ा में कपरिया से ताराबहरा मार्ग के नोनखरिहा नाला में 19 लाख 50 हजार की लागत से पुलिया निर्माण, बिरौरीडांड़ में स्कूल से बस्ती मार्ग में 7 लाख की लागत से पुलिया निर्माण, केलुआ में आमादमक मार्ग में 18 लाख की लागत से पुलिया निर्माण, सल्ही में जुड़वानी नाला में 48 लाख 62 हजार की लागत से पुलिया निर्माण एवं ग्राम पंचायत हस्तिनापुर में नींवडोढ़वा नाला में 11 लाख की लागत से पुलिया निर्माण कराया जाना है। इसी प्रकार विकासखंड भरतपुर में ग्राम पंचायत मैनपुर स्थित बहरानाला में 16 लाख 19 हजार की लागत से पुलिया निर्माण, विकासखंड सोनहत में पण्डो मार्ग में वेस्टवियर के पास 19 लाख की लागत से पुलिया निर्माण एवं ग्राम पंचायत ओदारी स्थित पटेलपारा मार्ग के खालबहरा मार्ग में 19 लाख 50 हजार की लागत से पुलिया निर्माण को स्वीकृति प्रदान की गई है। विधायक गुलाब कमरो ने कहा कि दूरस्थ वनांचल क्षेत्र जो अब तक विकास से कोसों दूर थे अब पुल-पुलिया बन जाने से पहुंचविहीन क्षेत्रों में जहां आवागमन सहज और सुगम होगा वहीं इन क्षेत्रों में विकास को भी पंख लगेंगे।


22-Jan-2021 5:42 PM 20

पैसे जमा नहीं करने पर परीक्षा में बैठने नहीं देने का आरोप

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
मनेन्द्रगढ़, 22 जनवरी।
फर्जी कॉलेज संचालित कर स्कॉलरशिप के नाम से एडमिशन दिलाने एवं छात्रा के साथ धोखाधड़ी किए जाने के मामले में मनेंद्रगढ़ पुलिस ने आरोपी सुधीर शर्मा के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है।

उल्लेखनीय है कि आमाखेरवा वार्ड क्र. 22 निवासी 21 वर्षीया छात्रा हेमलता साहू ने मनेंद्रगढ़ थाने में आरोपी के खिलाफ नामजद शिकायत दर्ज कराते हुए उसके खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी। छात्रा ने अपनी शिकायत में कहा कि शहर में संचालित भारत सेवक समाज नामक संस्था में एडमिशन लेते समय उसे सुनिश्चित किया गया कि डिप्लोमा मेडिकल लेबोट्री टेक्रेलॉजी (डीएमएलटी) 80 हजार रूपए का 2 वर्ष का कोर्स है। रजिस्ट्रेशन वाले इस कोर्स में आपको 40 हजार रूपए जमा करना होगा और बाकी का संस्था देगी। यह कहकर उसे और उसके जैसे कई लोगों को एडमिशन कराया गया।

फस्र्ट ईयर का एग्जाम दिलाया गया एवं सेकेंड ईयर का एग्जाम 28 दिसंबर 2020 से 29 दिसंबर 2020 तक सुनिश्चित किया गया था। छात्रा ने कहा कि उससे सेकेंड ईयर का फॉर्म भराया गया और 40 हजार रूपए की मांग की जाने लगी। जब उसने सवाल किया कि 40 हजार रूपए उससे किस लिए मांगे जा रहे हैं। इस पर कहा गया कि एनजीओ के जो प्रोग्राम थे, वह खत्म हो चुके हैं। छात्रा ने कहा कि उसके द्वारा 40 हजार रूपए जमा नहीं करने के कारण उसे एग्जाम में नहीं बैठने दिया गया। 

छात्रा ने मनेंद्रगढ़ एसडीएम को भी इसकी जानकारी दी थी, लेकिन आरोपी वहां भी उपस्थित नहीं हुआ। छात्रा ने कहा कि पतासाजी करने पर उसे ज्ञात हुआ कि बीएसएस कम्युनिटी और एनएसएस एकेडमी कॉलेज दोनों अलग है। डायरेक्टर सुधीर शर्मा द्वारा जाली रिसिप्ट तैयार कर फर्जी तरीके से कॉलेज चलाया जा रहा है। 

छात्रा ने संस्था के डायरेक्टर सुधीर शर्मा के द्वारा उसे धमकी देने का आरोप लगाते हुए पुलिस से शिकायत की जांच कर दोषी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई थी, ताकि उसे न्याय मिले और किसी अन्य के भविष्य के साथ खिलवाड़ न हो सके।

 


22-Jan-2021 5:36 PM 31

किसानों की समस्याओं को लेकर भाजपा का धरना-प्रदर्शन, गिरफ्तारियां

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 22 जनवरी।
किसानों की विभिन्न तरह की समस्याओं व धान खरीदी केंद्रो में अव्यवस्था को लेकर कोरिया जिला भाजपा द्वारा 22 जनवरी को जिला स्तरीय विशाल धरना-प्रदर्शन व आमसभा का आयोजन किया गया। भाजपा के किसान मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष और जिला अध्यक्ष के नेतृत्व में काफी संख्या में लोगों ने बढ़-चढक़र हिस्सा लिया और अपनी गिरफ्तारी दी। भाजपा कार्यकर्ता कलेक्टर कार्यालय तक नहीं पहुंचे इसके लिए प्रशासन ने मिनी स्टेडियम के पास ही बैरियर लगा उन्हें आगे जाने से रोक दिया।

शुक्रवार को भाजपा के जिला अध्यक्ष कृष्ण बिहारी जायसवाल के आव्हान पर जिले भर से भाजपा पदाधिकारी व कार्यकर्ता भारी संख्या में धरना-प्रदर्शन व आम सभा में शामिल हुए। इस अवसर पर भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष श्याम बिहारी जायसवाल ने प्रदेश सरकार को किसान विरोधी सरकार कहते हुए जमकर सरकार के खिलाफ हल्ला बोला। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार किसानों के हित में कार्य नहीं कर रही है। इस बार किसान धान विक्रय करने के लिए प्रतिदिन धान खरीदी कंद्रों में परेशान होते रहे। जिले के प्रत्येक धान खदीदी केंद्रों में अव्यवस्था बना हुआ है जिसका खामियाजा किसानों को भुगतना पड़ रहा है। 

जिला अध्यक्ष कृष्ण बिहारी जायसवाल ने कहा कि इस बार बम्पर धान उत्पादन हुआ है लेकिन प्रदेश कांग्रेस सरकार द्वारा गिरदावरी के नाम पर किसानों का रकबा कम कर दिया। जिससे जिले के हजारों किसान अपना पूरा धान उपज बेचने से वंचित हो गए हैं। 
वहीं उपाध्यक्ष शैलेष शिवहरे ने कहा कि रेत के दामों पर कोई नियंत्रण नहीं है, हर कहीं भ्रष्टाचार का बोलबाला है। सरकार कम से कम धान खरीदने के लिए किसानों की तमाम तरह की जांच शुरू की। ऐसा प्रदेश सरकार जानबूझ कर किया ताकि किसानों का पूरा धान खरीदी करना ना पड़े। यह सोची-समझी चाल है जिसके चलते गिरदावरी के नाम पर लगभग किसानों का रकबा कम कर दिया गया। किसानों को इसकी जानकारी होने पर आवेदन पर आवेदन दिये गये लेकिन सुधार कार्य नही हुआ। इस तरह से जिले भर के किसान भारी मात्रा में अपना धान बेचने से वंचित हो गये है। 

वहीं बैकुंठपुर मंडल अध्यक्ष भानू पाल ने कहा कि प्रदेश सरकार ने घोषणा की थी कि वनाधिकार पट्टे की भूमि का भी धान खरीदी किया जायेगा लेकिन उस भूमि का धान की खरीदी अब तक नही की जा रही है यह किसानों के साथ धोखा है। 
इस अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रबल प्रताप सिंह जूदेव, श्याम बिहारी जायसवाल, भाजपा के जिला अध्यक्ष कृष्ण बिहारी जायसवाल, पूर्व विधायक दीपक पटेल, पूर्व विधायक चंपा देवी पावले, उपाध्यक्ष शैलेश शिवहरे, देवेंद्र तिवारी, जनपद अध्यक्ष बैकुंठपुर सौभाग्यवती खुसरो, कोषाध्यक्ष राहुल सिंह,  वीरेंद्र राणा,  मंडल अध्यक्ष भानु पाल, जिला पंचायत सदस्य रविशंकर सिंह, पूर्व अध्यक्ष जवाहर गुप्ता, डमरू बेहरा, पकंज गुप्ता, संजय सिंदवानी, सुभाष साहू, अन्नू दुबे, अंकुर जैन, शारदा गुप्ता, तीरथ राजवाड़े के साथ काफी संख्या में महिला मोर्चा की महिलाएं उपस्थित रहीं।

आमसभा के दौरान भाजपा पदाधिकारियोंं ने प्रदेश सरकार पर आरोप लगाया है कि चुनाव के दौरान उन्होने किसानों से कई तरह के वायदे किए थे जिसके बल पर सत्ता पर आयी लेकिन सत्ता मिलते ही किसानों से किये गये वादे को भूल गये। यह सरकार की वादा खिलाफी है। कांग्रेेस सरकार के कथनी और करनी में अंतर है जिसे जनता व किसान समझ रही है। वादे करके मुकर जाना कांग्रेस की पुरानी आदत है। भाजपा पदाधिकारियों ने कहा कि किसानों व जनता से जुड़े हर समस्या को लेकर भाजपा सडक पर उतरकर विरोध प्रदर्शन कर सरकार को सद््बुद्धि देने का प्रयास करता रहेगा साथ ही पदाधिकारियों ने कहा कि किसानों व जनता के हितों की उपेक्षा करना सरकार को भारी पड़ सकता है।

अस्थाई जेल में रखे गए भाजपाई
आम सभा उपरांत भाजपा पदाधिकारियों ने कलेक्टर को ज्ञापन निकले, वे कलेक्टर कार्यालय का घेराव करने के लिए आम सभा स्थल से आगे बढ़े कि उन्हें मिनी स्टेडियम के पास ही पुलिस ने रोक लिया। यहां पुलिस ने बेरिकेट्स लगा रखे थे। किया गया इस दौरान गिरफ्तारियों भी हुई। गिरफ्तार किए गए पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं को जिला मुख्यालय बैकुंठपुर के रामानुज उमावि के मैदान ले जाया गया जहां जिला दण्डाधिकारी के आदेश पर स्कूल मैदान को अस्थाई जेल घोषित किया गया था जिसके लिए प्रभारी दण्डाधिकारियों की नियुक्ति कर दी गयी थी। कुछ समय बाद गिरफ्तार किये गये सभी भाजपा पदाधिकारियों कार्यकर्ताओं को रिहा कर दिया गया।

अध्यक्ष की अहम रणनीति
भाजपा के जिला अध्यक्ष कृष्ण बिहारी जायसवाल नेे धरने से पूर्व आमगांव, खरवत, सरडी, जूनापारा, जामपारा, सागरपुर क्षेत्रोंं से लोगों की उपस्थिति को लेकर बेहद अहम रणनीति बनाई थी, जो धरने के दौरान देखी गई, इस क्षेत्र से काफी संख्या में लोग तो धरने में शामिल हुए ही जिले भर से भी काफी संख्या में लोगों ने एकजुटता दिखा सरकार को अपनी ताकत दिखाई।
भाजपा के इस धरना प्रदर्शन में भरतपुर से जनपद उपाध्यक्ष दुर्गाशंकर मिश्रा,  रामु सिंह वही सोनहत में रुद्र साहू के साथ काफी युवा बाइक रैली से बैकुंठपूर पहुंचे वही चिरमीरी, मनेन्द्रगढ़, खडग़वां, पटना के भी काफी संख्या में कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया।
 


21-Jan-2021 8:49 PM 15

छत्तीसगढ़ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 21 जनवरी। सरगुजा विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष राज्य मंत्री दर्जा प्राप्त भरतपुर सोनहत विधायक गुलाब कमरो ने अपने दो दिवसीय भरतपुर प्रवास के दूसरे दिन गुरूवार को जनकपुर इन्द्रप्रस्थ स्टेडियम में मुरेरगढ़ क्रिकेट टूर्नामेंट प्रतियोगिता का  शुभारंभ किया।

क्रिकेट प्रतियोगिता के शुभारंभ अवसर पर मुख्य अतिथि की आसंदी से विधायक गुलाब कमरो ने कहा कि ऐसे आयोजनों से ग्रामीण क्षेत्र के खिलाडिय़ों को अपनी प्रतिभा दिखाने का अवसर मिलता है। उन्होंने कहा कि सभी खिलाड़ी खेल भावना से खेल कर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करें। खेल में जीत-हार होती रहती है। खेल में खिलाड़ी के लिए खेल भावना का होना बहुत ही आवश्यक है।

इसके अलावा विधायक गुलाब कमरो डोम्हरा में आयोजित व्हालीबॉल प्रतियोगिता के फाइनल में मुख्य अतिथि के रुप में शामिल होकर विजेता एवं उप विजेता टीम के खिलाडिय़ों को शुभकामनाएं देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की।

धान खरीदी केंद्रों का किया निरीक्षण

अपने दो दिवसीय प्रवास के दौरान दूसरे दिन गुरूवार को विधायक कमरो ने जनकपुर, सिंगरौली एवं माड़ीसरई धान खरीदी केंद्र का निरीक्षण किया साथ ही साथ ही वन विभाग द्वारा आयोजित प्रगति महिला स्व-सहायता समूह के तत्वाधान में कांटा झाड़ू प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ किया। विधायक ने धान खरीदी केंद्रों की स्थिति का जायजा लेकर पूरी गतिविधियों की जानकारी प्राप्त की।

इस दौरान उन्होंने धान खरीदी केंद्र के समिति प्रबंधकों को पूरी पारदर्शिता के साथ धान खरीदने की बात कही। किसी भी तरह की धान खरीदी में गड़बड़ी होने पर कार्रवाई करने की भी बात कही। इस अवसर पर ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष रवि प्रताप सिंह, विधायक प्रतिनिधि अंकुर सिंह, बृजेश शर्मा, अवधेश सिंह, अमित गुप्ता, गुड्डू मिश्रा सहित जनप्रतिनिधि व ग्रामीणजन उपस्थित रहे।


21-Jan-2021 7:29 PM 18

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 21 जनवरी। रेलवे डिवीजन बिलासपुर के पूर्व डीआरयूसीसी सदस्य अधिवक्ता विजय प्रकाश पटेल ने कुछ ही दिनों में छत्तीसगढ़ शासन द्वारा प्रस्तुत होने जा रहे बजट में चिरमिरी-नागपुर हॉल्ट न्यू रेलवे लाईन विस्तारीकरण परियोजना को शामिल करते हुए तयशुदा 50  प्रतिशत का  वित्तीय फण्ड अविलम्ब रिलीज कर तत्काल कार्य प्रारंभ कराने का मार्ग प्रशस्त किए जाने की मांग की है। उन्होंने मुख्यमंत्री को सरगुजा एवं शहडोल संभाग के नागरिकों सहित सम्पूर्ण कोयलांचलवासियों की भावनाओं को लेकर 25 अगस्त 2020 अर्थात् करीब 5 माह से लगातार प्रतिदिन जारी घण्टानाद सत्याग्रह के संदर्भ में भी अवगत कराया है।

अपने ज्ञापन में श्री पटेल ने उल्लेख किया है कि चिरमिरी-नागपुर हॉल्ट न्यू रेलवे लाईन-

विस्तारीकरण की बहुप्रतीक्षित परियोजना का कार्यारम्भ करने हेतु  सरगुजा और शहडोल सम्भाग के नागरिकों सहित संपूर्ण कोयलांचलवासियों  की जनभावनाओं को लेकर विगत् 25 अगस्त 2020 से गाँधी चौक मनेन्द्रगढ़ में लगातार प्रतिदिन जारी घण्टानाद-सत्याग्रह को करीब 5 माह बीत चुके हैं, लेकिन दुर्भाग्यवश मुख्यमंत्री के सहमत होते हुए भी अब तक न तो फण्ड रिलीज किया गया है और न ही कार्यारंभ करने का कोई आदेश ही जारी किया गया है, जिसकी प्रतीक्षा संबंधित क्षेत्रवासियों द्वारा की जा रही है, इसलिए अति आवश्यक हो गया है कि उपरोक्त परियोजना के क्रियान्वयन को गंभीरता से लेते हुए तथा अब और विलंब न करते हुए राज्य शासन के बजट में तयशुदा 50 प्रतिशत का वित्तीय फण्ड अविलंब रिलीज कर कार्य प्रारंभ कराया जाना चाहिए। पूर्व

डीआरयूसीसी सदस्य पटेल ने मुख्यमंत्री को अवगत कराया है कि यह आपकी जानकारी में भलीभांति है कि चिरमिरी-नागपुर हॉल्ट न्यू रेल लाईन-विस्तारीकरण परियोजना के लिए छत्तीसगढ़ शासन एवं केंद्र सरकार ने परस्पर ओएमयू पश्चात्  साझा वित्तीय मंजूरी प्रदान कर केंद्रीय रेलमंत्री पीयूष गोयल व तत्कालीन मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह द्वारा हरदी बाजार (कोरबा) तथा रेलवे परिसर चिरमिरी के सार्वजनिक समारोह में वीडियो-कॉन्फ्रेंसिंग द्वारा विगत 24 सितंबर 2018 को उक्त परियोजना का विधिवत् शुभारंभ किया जा चुका है, लेकिन यह अत्यंत दु:खद और दुर्भाग्यपूर्ण है कि जिस प्रोजेक्ट को दो वर्षों के भीतर पूरा कर लेने का लक्ष्य निर्धारित व घोषित किया गया था, उस दिशा में बिना काम शुरू हुए दो वर्ष से ज्यादा का समय बीत चुका है। उन्होंने कहा कि इस संदर्भ में अब तक मुख्यमंत्री से अनेकों बार मुलाकात-चर्चा होने पर उनका दृष्टिकोण हर बार

सकारात्मक रहा है। उन्होंने कहा कि 8 मई 2020 को छत्तीसगढ़ शासन की ओर से उन्हें प्रेषित पत्र द्वारा स्पष्ट तौर पर सहमति जताते हुए अवगत कराया गया था कि उपरोक्त परियोजना के लिये राज्यांश की राशि-वितरण का प्रकरण राज्य शासन स्तर पर विचाराधीन है। पूर्व डीआरयूसीसी सदस्य ने छत्तीसगढ़ शासन के प्रस्तुत होने जा रहे बजट में शामिल करते हुए क्षेत्रवासियों के लिए विकास, रोजगार और विभिन्न सुविधाओं के दृष्टिकोण से अत्यंत आवश्यक उपरोक्त रेल विस्तारीकरण परियोजना को फलीभूत करने अब और विलंब व निराश न करते हुए समस्त उपाय कर फण्ड रिलीज, भूमि अधिग्रहण एवं निविदा इत्यादि का कार्य तत्काल शुरू कर परियोजना को अंजाम तक पहुंचाने की मांग की है।


21-Jan-2021 7:27 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 21 जनवरी।  एक माह के अंतराल के बाद सरगुजा विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष राज्यमंत्री मंत्री दर्जा प्राप्त भरतपुर सोनहत विधायक गुलाब कमरो बुधवार को अपने दो दिवसीय प्रवास के दौरान उन्होंने विभिन्न विकास कार्यों का भूमि पूजन कर 16 करोड से भी अधिक के विकास कार्यों की सौगात दी।

विधायक गुलाब कमरो ने नए साल में भरतपुर विकासखंड वासियों को 16 करोड़ 58 लाख 57 हजार के विकास कार्यों का भूमि पूजन कर बड़ी सौगात दी है। उन्होंने इस दौरान ग्रामीणों से मुलाकात कर उनकी समस्याएं सुनकर समस्याओं का निराकरण भी मौके पर ही किया। सविप्रा उपाध्यक्ष विधायक गुलाब कमरो ने अपने दूरस्थ वनांचल क्षेत्र भरतपुर के दो दिवसीय प्रवास के पहले दिन बुधवार को  ग्राम पंचायत धोबाताल के ग्राम बरेल में  मनटोलियां डायवर्सन का भूमि पूजन अनुमानित लागत 6 करोड़ 42 लाख, ग्राम पंचायत चुटकी स्थित डौकीझरिया डायवर्सन अनुमानित लागत 8 करोड़ 96 लाख 64 हजार, ग्राम पंचायत बरौता में  नहर एवं बांध का जीर्णोधार अनुमानित लागत 1 करोड़ 19 लाख 93 हजार का भूमि पूजन कर भरतपुर क्षेत्रवासियों को नए साल में करोड़ों रुपए की बड़ी सौगात दी। इस अवसर पर ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष रविप्रताप सिंह, विधायक प्रातिनिधि अंकुर प्रताप सिंह, विधायक निज सहायक सगीर खान, जिला महामंत्री रामनरेश पटेल, अवधेश सिंह, संजीव गुप्ता, चरण सिंह, राजा पांडेय, सुनील राय, देवेंद्र पांडेय, आनंद राय, जनपद सदस्य ज्योति सिंह, प्रकाश नारायण चेरवा, सरपंच कुंवरवती चेरवा, श्यामवती, रामनारायण बैगा सहित जनप्रतिनिधि व ग्रामीण उपस्थित रहे।

कोटाडोल में लोगों से मुलाकात  कर सुनी समस्याएं

सरगुजा विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष राज्यमंत्री दर्जा प्राप्त भरतपुर सोनहत विधायक गुलाब कमरो ने कोटाडोल में चौपाल लगाकर आम जनों से मुलाकात कर उनकी समस्याएं सुनी और मौके पर ही समस्याओं का निराकरण भी किया। इस दौरान ग्रामीणों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि 2 साल के ही कार्यकाल में इतने काम करा दिए गए हैं कि पिछली सरकार अपने 15 साल के कार्यकाल में भी नहीं कर सकी थी।

उन्होंने कहा किआने वाले 3 सालों में भरतपुर सोनहत विधानसभा क्षेत्र की पूरी तरह से तस्वीर बदल जाएगी। विधायक ने कहा कि पूरे विधानसभा क्षेत्र में जरूरत के अनुसार लाखों रुपए के हाईमास्ट लगाए गए हैं तथा पंचायतों में स्ट्रीट लाइट की भी व्यवस्था की जा रही है।  300 करोड़ की 16 सडक़ों के निर्माण कार्य के साथ पूरे विधानसभा क्षेत्र में पुल-पुलिया व सीसी रोड का  कार्य किया जा रहा है। आने वाले समय में पूरी तरह से क्षेत्र का विकास किया जाएगा।  विधायक कमरो ने कहा कि एक तरफ जहां केंद्र की सरकार तीन काले कानून लाकर किसानों के अस्तित्व को ही मिटाना चाह रही है वहीं प्रदेश में भूपेश सरकार किसानों की हितैषी बनकर उनके साथ खड़ी है।


20-Jan-2021 5:49 PM 25

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
मनेन्द्रगढ़, 20 जनवरी।
एसईसीएल में 36 साल तक ईमानदारीपूर्वक अपनी सेवा देने के बाद एक कर्मचारी सेवानिवृत्त हो गया और साल भर से भी अधिक समय तक अपनी पेंशन की प्रतीक्षा करते-करते उसका देहांत हो गया, लेकिन उसके जीवित रहते उसे पेंशन नहीं मिल सकी। अब उसके निधन के बाद उसकी पत्नी अपने पति के पेंशन के लिए दर-दर की ठोकरें खा रही है।

केंद्रीय चिकित्सालय मनेंद्रगढ़ में वाल्व मैन के पद पर पदस्थ तासु पिता शंकर 30 जून 2018 को सेवानिवृत्त हुए। नौकरी से सेवानिवृत्त होने के उपरांत पेंशन के लिए उनके द्वारा सारी औपचारिकताएं पूरी की गईं, लेकिन उनके जीवित रहते पेंशन प्राप्त नहीं हो सकी और पेंशन की प्रतीक्षा करते-करते 2 सितंबर 2019 को उनका निधन हो गया। एसईसीएल कर्मी तासु के निधन के बाद से उसकी 60 वर्षीया पत्नी पाना बाई जो विगत डेढ़ वर्षों से कैंसर से पीडि़त है और मूल रूप से गोरखपुर (उप्र) में निवास करती है, पेंशन के लिए परेशान है। सेवानिवृत्त दिवंगत एसईसीएल कर्मी की बेवा पिछले एक सप्ताह से गोरखपुर से यहां आकर पेंशन के लिए केंद्रीय चिकित्सालय कार्यालय का चक्कर काट रही है।

डॉक्टर की पत्नी को जीवित रहते पेंशन दिलाने में नाकाम रहा प्रबंधन
पेंशन के लिए परेशान हो रहे सेवानिवृत्त एसईसीएल कर्मचारियों का यह कोई पहला मामला नहीं है। इसके पूर्व केंद्रीय चिकित्सालय मनेंद्रगढ़ में पदस्थ रहे अस्थि रोग विशेषज्ञ डॉ. डीके सिंह रिटायर होकर पेंशन प्राप्त कर रहे थे। 14 अक्टूबर 2019 को उनका देहांत हो गया। इनकी पत्नी सरोज सिंह 15 अक्टूबर 2019 से लेकर 15 अक्टूबर 2020 तक पेंशन संबंधी समस्त औपचारिकताएं पूरी करने के पश्चात भी अपने जीवित रहते हुए पेंशन प्राप्त करने में असफल रहीं और उनका भी 15 अक्टूबर 2020 को निधन हो गया। इन्हें भी जीवित रहते हुए प्रबंधन पेंशन दिलाने में असफल रहा

कार्मिक विभाग को ठहराया जिम्मेदार
सेवानिवृत्त एसईसीएल कर्मी एवं समाजसेवी संस्था जन-जागृति मंडल के अध्यक्ष संतोष जैन ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी केंद्रीय चिकित्सालय मनेंद्रगढ़ को पत्र लिखकर पेंशन के लिए आ रही परेशानियों के लिए केंद्रीय चिकित्सालय कार्यालय के कार्मिक विभाग को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा सेंट्रल हॉस्पिटल मनेंद्रगढ़ में बाबुओं के पास शैक्षणिक योग्यता संबंधी प्रमाण पत्र न होने के कारण उन्हें ठीक से लिपिकीय कार्य करना नहीं आता है। 

यहां पदस्थ बाबू कार्यालयीन पत्रों को पंजीकृत डाक से संबंधित पते पर प्रेषित नहीं कर पाते हैं। सेंट्रल हॉस्प्टिल मनेंद्रगढ़ की आवक-जावक व्यवस्था तहस-नहस हो चुकी है जिसके कारण कर्मचारी ही नहीं अस्पताल का रूटीन वर्क भी प्रभावित हो रहा है। साथ ही उन्होंने कहा कि ठंडी, गर्मी, बरसात जीवनपर्यंत पूर्ण निष्ठा एवं समर्पणयुक्त सेवाएं प्रदान करने वाले कर्मचारी दिवंगत होने के बाद जब पेंशन के लिए जूझते अपनी पत्नी की वर्तमान हालत को देखते होंगे तो उन्हें भी पीड़ा होती होगी।


20-Jan-2021 5:46 PM 31

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
मनेन्द्रगढ़, 20 जनवरी।
बीती रात एक सरफिरे आशिक ने किन्नर को जान से मारने की नीयत से उस पर कट्टा से फायर कर दिया। यह तो गनीमत रही हमले में किन्नर बाल-बाल बच गई। किन्नर की रिपोर्ट पर मनेंद्रगढ़ पुलिस ने  2 आरोपियों को वारदात के चंद घंटे के भीतर गिरफ्तार कर लिया।

मंगलवार की रात करीब 9 बजे शहर से लगे ग्राम पंचायत चनवारीडांड़ वार्ड क्र. 5 गौटिया पारा निवासी किन्नर सोनू ने मनेंद्रगढ़ पुलिस थाने में उपस्थित होकर इस आशय की रिपोर्ट दर्ज कराई कि विकास सोनी नामक युवक ने उसे जान से मारने की नीयत से गोली चलाई है। रिपोर्ट पर आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 294, 506, 305 व 25, 27 आम्र्स एक्ट पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। आरोपी की पतासाजी करने घेराबंदी की गई। चूंकि घटना तत्काल की थी तथा मौके पर आसपास पुलिस की मौजूदगी एवं सक्रियता से वारदात के आधे घंटे के भीतर 2 आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई। पूछताछ के दौरान आरोपी विकास सोनी ने बताया कि वह पिछले 6 माह से सोनू किन्नर के संपर्क में था। लगातार शादी करने के लिए उसे बोल रहा था, लेकिन वह मना कर रही थी। 19 जनवरी मंगलवार को उसने अपने मोबाइल से सोनू को कॉल करके तहसील के पास मिलने बुलाया और उसे शादी करने के लिए कहा। उसके मना करने पर आवेश में आकर जान से मारने के लिए कट्टा से फायर किया और वहां से अबरार के साथ भाग गया।  कुछ देर में वे दोनों अलग-अलग हो गए और कट्टा को अबरार को दिया तथा कारतूस को अपने पास छिपाकर रखा। पुलिस द्वारा आरोपियों सिविल लाइन अग्रसेन भवन के पास निवासरत 26 वर्षीय विकास सोनी एवं गोपाल शीतगृह के पास निवासरत 28 वर्षीय मो. अबरार अंसारी के पास से घटना में प्रयुक्त देशी कट्टा, 1 नग खाली कारतूस, 1 नग जिंदा कारतूस, मोबाइल व प्रयुक्त मोटरसाइकिल को जब्त कर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जहां से उन्हें न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है। 
 


20-Jan-2021 5:46 PM 24

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
चिरमिरी, 20 जनवरी।
दस माह बाद लंबित मानदेय का भुगतान प्राप्त होने पर कोरिया जिले की पुलिस महिला मित्रो ने केंद्रीय राज्यमंत्री रेणुका सिंह का आभार व्यक्त किया है।
ज्ञात हो कि केंद्र सरकार ने महिला अपराधों के रोकथाम के लिए महिला बाल विकास एवं गृह मंत्रालय के संयुक्त देखरेख में महत्वाकांक्षी योजना चेतना बनाई थी जिसके पायलेट प्रोजेक्ट के लिए देश के कुछ चुनिंदा जिलों को चुना गया था । कोरिया जिले को भी इस सूची में शामिल किया गया था । जिसके तहत कोरिया पुलिस ने जिले में 2 हजार 5 सौ महिला पुलिस मित्रो का चयन कर बकायदा उन्हें ट्रेनिग देकर फील्ड में उतारा था । इन महिला पुलिस मित्रो को महिलाओं से सम्बंधित अपराध की सूचना सम्बंधित पुलिस थाने में देने, संवेदनशील मामलों में एफआईआर कराने व छोटे मामलों का मध्यस्ता के माध्यम से निराकरण करने की ट्रेनिग दी गई थी तथा योजना के तहत इन महिला पुलिस मित्रो को प्रति माह एक हजार रुपये की राशि मानदेय के रूप में देना तय किया गया था । फरवरी तक तो इन्हें मानदेय की राशि मिली लेकिन कोरोना महामारी के आने के बाद लगे लाक डॉउन के बाद से इन्हें मानदेय मिलना बंद हो गया । महिला पुलिस मित्रो ने इस संदर्भ में जिले के कलेक्टर व एसपी से मिलकर अपनी परेशानी बताई और रुके हुए मानदेय को दिलाने की मांग की लेकिन कोई हल नही निकला।

जिसके बाद कोरिया जिले में कार्यरत महिला पुलिस मित्रो का एक प्रतिनिधि मंडल गंगा सक्सेना, भारती टांडिया व दीपा सिंह के नेतृत्व में केंद्रीय राज्यमंत्री रेणुका सिंह से मिला और अपनी समस्या बताकर लंबित मानदेय दिलाने की मांग की । 

पुलिस महिला मित्रो की इस समस्या को गम्भीरता से लेते हुए केंद्रीय राज्यमंत्री रेणुका सिंह ने केंद्रीय महिला बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी व छतीसगढ़ शासन के मुख्य सचिव अमिताभ जैन को पत्र लिखकर समस्या के निराकरण के लिए कहा । जिसके बाद आखिरकार जनवरी में कोरिया जिले में कार्यरत सभी महिला पुलिस मित्रो का पिछले 10 माह से रुका हुआ मानदेय मिल गया । 

महिला पुलिस मित्र गंगा सक्सेना, भारती टांडिया व दीपा सिंह ने इस संवेदनशीलता के लिए केंद्रीय राज्यमंत्री रेणुका सिंह का आभार व्यक्त किया है ।
 


20-Jan-2021 5:43 PM 15

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 20 जनवरी।
कोरिया जिला प्रशासन का सबसे महत्वकांक्षी प्रोजेक्ट झुमका बोट क्लब के संचालन अब खुद प्रशासन को करना पड़ रहा है, ठेकेदार भाग खड़ा हुआ है, वही कमतर सुविधाओं के बीच   कई अधिकारी संचालन के लिए अपना मुख्य काम छोड़ मदद करने में जुटे है।

पर्यटन समिति के सचिव श्री सोनकर की माने तो जिसने टेंडर लिया वो भाग खड़ा हुआ है, दूसरे नंबर को मौका दिया जा रहा है, बोट क्लब का संचालन सुव्यवस्थित हो इसका प्रयास किया जा रहा है।
जानकारी के अनुसार कोरिया जिला मुख्यालय स्थित झुमका बोट क्लब के संचालन प्रशासन के हाथों में है, इसके पूर्व इसका टेंडर किया गया, 4 लाख की राशि से ज्यादा प्रतिमाह के हिसाब से एक संस्था ने ठेका लिया, बमुश्किल कुछ दिनों की इसका संचालन कर पाया और वो भाग खड़ा हुआ,  अब बीते 15 दिन से झुमका बोट क्लब का संचालन जिला प्रशासन के हाथों में है, जिसमे कई विभाग के अधिकारी कर्मचारी प्रशासन की मदद कर रहे है, लाइवलीहुड के प्राचार्य सहित उनका स्टाफ झुमका बोट क्लब में मदद करने में जुटे हुए है।

बोट डूबी अभी तक नही निकली
बोट क्लब में 3 बड़ी और 4 छोटी  बोट है। 3 बड़ी बोट मोटर से चलती है जबकि 4 बोट पैडल से चलाई जाती है। पैडल वाली 4 बोट में से 1 बोट झुमका में एक सप्ताह पूर्व डूब गई, उसे ढूंढने में 6 दिन लग गए, आज मिलने की बात बताई जा रही है, परंतु उसे बाहर निकाला नही जा सका है। वही 1 बोट बीच झुमका में फंसी हुई है। इसके अलावा बड़ी 3 बोट में 2 बोट की मरम्मत कराई जा रही है और एक बड़ी बोट पूरी तरह से फिट है। कुल 2 छोटी है 1 बड़ी बोट से पर्यटकों को सैर करवाया जा रहा है।

लाइफ जैकेट में पेंच
झुमका बोट क्लब में सैर कराने के पूर्व लाइव जैकेट पर्यटकों को दिए जाते है। इन जैकेटों में साफ लिखा हुआ है कि एक जैकेट 9 किलो के अंदर ही वजन सहन कर सकता है। जबकि यहां ऐसा नही है , यहां 50 से 60 किलो से भी ज्यादा वजन  के लोगो इस जैकेट को पहनाया जा रहा है।
 


19-Jan-2021 1:41 PM 35

कोरिया जिले में तीन तलाक का तीसरा मामला

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 19 जनवरी।
कोरिया जिला मुख्यालय बैकुण्ठपुर में तीन तलाक का मामला सामने आया। अब तक जिले का यह तीसरा मामला बताया जा रहा है। आरोपी पति अपने ससुराल में आकर मायके में रह रही पत्नी को तीन बार तलाक कहकर अपने घर वापस लौट गया। पीडि़त महिला ने सिटी कोतवाली में लिखित रिपोर्ट दर्ज करायी। पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया है।

इस संबंध में उप पुलिस अधीक्षक धीरेन्द्र पटेल ने प्रेस वार्ता कर बताया कि बैकुंठपुर शहर के डबरीपारा मोहल्ला निवासी आवेदिका रेहाना कुरैशी ने 18 जनवरी को सिटी कोतवाली में उपस्थित होकर रिपोर्ट दर्ज करायी कि उसका विवाह करीब 12 वर्ष पूर्व सामाजिक रीति रिवाज के अनुसार एजाज कुरैशी निवासी पेंड्रा मस्जिद मोहल्ला के साथ हुआ था। दोनों के दांपत्य जीवन से 4 संतान भी हुई। वर्ष 2013 से पति एजाज कुरैशी आवेदिका को प्रताडि़त करने लगा जिससे परेशान होकर महिला अपने मायके बैकुंठपुर डबरीपारा चली गयी। इस बीच आवेदिका अपने ससुराल पेंड्रा बीच-बीच में आना-जाना करती थी। इसके बाद जब पति द्वारा प्रताडऩा ज्यादा होने लगी, तभी वर्ष 2018 में आवेदिका ने अपने पति के विरूद्ध सिटी कोतवाली बैकुंठपुर में 498 का अपराध पंजीबद्ध कराया, यह प्रकरण न्यायालय में विचाराधीन है। 

17 जनवरी 2021 को आवेदिका का पति बैकुंठपुर आकर महिला को तलाक के लिए धमकाने लगा, लेकिन आवेदिका द्वारा तलाक देने से इंकार करने पर पति द्वारा एकतरफा तीन बार तलाक कहकर तलाक दे गया। महिला ने अपने पति के इस कृत्य को लेकर सिटी कोतवाली में लिखित रिपोर्ट दर्ज करायी। जिस पर सिटी कोतवाली प्रभारी कमलाकांत शुक्ला के नेतृत्व में पुलिस ने आरोपी पति के खिलाफ धारा 4, 5 मुस्लिम महिला के संरक्षण अधिनियम  2019 के तहत मामला पंजीबद्ध किया और तत्काल कार्यवाही करते हुए आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया। वहीं मामले की विवेचना की जा रही है जिसके बाद चार्जशीट न्यायालय में प्रस्तुत किया जाएगा। 

उल्लेखनीय है कि शहर में तीन तलाक के मामले में पुलिस ने पीडि़ता की रिपोर्ट दर्ज करने के बाद त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपी पति को गिरफ्तार करने में देरी नही कीं। इसके अलावा इसके पूर्व जिले का पहला मामला मनेन्द्रगढ़, दूसरा केल्हारी और बैकुंठपुर ये मामला तीसरा है।
 


18-Jan-2021 7:16 PM 18

   फ्री होल्ड योजना के तहत जमीन क्रय करने आवेदन    

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बैकुंठपुर, 18 जनवरी। कोरिया जिलामुख्यालय के नगर पालिका परिषद बैकुंठपुर अंतर्गत वार्ड क्रमांक 15 के पार्षद सहित वार्डवासियों के द्वारा नजूल अधिकारी को आवेदन देकर शहर के पुराने बस स्टैंड में स्थित नजूल प्लाट नम्बर 520-4 क्षेत्रफल 1308 वर्ग भूमि में से पुराना पीपल का पेड़ के चबूतरा एवं मंदिर की भूमि को फ्री होल्ड योजना के तहत क्रय किये जाने को लेकर आवेदन दिया है।

सौैपे गये ज्ञापन में उल्लेख किया गया है कि नपा परिषद बैकुंठपुर द्वारा पुराने बस स्टैंड के प्रतीक्षालय को तोडक़र शॉपिंग काम्प्लेक्स का निर्माण कराया जा रहा है एवं वार्डवासियों का आस्था का केंद्र पीपल पेड के चबूतरे पर भी नींव खोदा गया है। जिस पर आपत्ति करते हुए वार्ड वासियों द्वारा कलेक्टर सहित अन्य अधिकारियों के समक्ष आपत्ति पेश की है। किन्तु नपा द्वारा चबुतरे को तोडक़र शॉपिंग काम्प्लेक्स बनाने की तैयारी में है। पत्र मे मांग की गयी है कि उक्त भूमि को फ्री होल्ड योजना के तहत प्रदान किया जाना उचित है। साथ ही यह भी उल्लेख किया गया है कि उक्त भूमि को वार्ड वासियों को प्रदान न किये जाने की स्थिति में नपा बैकुंठपुर द्वारा उक्त भूमि पर स्थित पीपल पेड मंदिर व चबूतरे को क्षति पहुॅचाई जायेगी जिससे वार्ड वासियों का आस्था आहत होगा। उक्त भूमि को फ्री होल्ड योजना के तहत वार्ड वासियों को प्रदान किये जाने पर शासन द्वारा अधिरोपित समस्त शर्तो का पालन करने के लिए वार्डवासी तैयार है। इस पत्र के आधार पर नजूल अधिकारी द्वारा मुख्य नगर पालिका अधिकार बैकुंठपुर को पत्र लिखा है कि राजस्व निरीक्षक नजूल की जांच प्रतिवेदन से सहमत होते हुए उक्त प्लाट में से 15 गुणा 15 वर्गफीट पर बने चबूतरे को छोडकर शेष भूमि पर नियमानुसार आबंटन की कार्यवाही करते हुए निर्माण कार्य किया जाना सुनिश्चित करने की मांग की।

डबल स्टोरी शॉपिंग कॉ्रम्प्लेक्स बनाने की तैयारी

जानकारी के अनुसार शहर के पुराने बस स्टैंड परिसर में स्थित जर्जर प्रतीक्षालय भवन को तोडकर उक्त स्थल पर नपा द्वारा डबल स्टोरी शॉपिग काम्प्लेक्स बनाने की तैयारी की है और इसके लिए उक्त स्थल पर भवन निर्माण हेतु नींव भी खोदा जा चुका है। नींव खोदने के बाद कुछ महीनों तक किन्ही कारणो से निर्माण कार्य रूका हुआ था जिसके बाद उसे पुन: निर्माण कार्य शुरू कर दिया गया है। जानकारी के अुनसार उक्त स्थल पर 50 लाख से अधिक राशि से बडा शॉपिंग काम्प्लेक्स का निर्माण कराया जाना है। जिसमें भूतल व उसके उपरी मंजिल में बडी बडी दुकाने बनाया जाना है।


18-Jan-2021 7:08 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

चिरमिरी, 18 जनवरी। शनिवार को कोरोना टीकाकरण अभियान शुरू किया गया। चिरमिरी में  पहला डोज एक डॉक्टर विधायक मनेंद्रगढ़ ने इंचार्ज डॉक्टर को टीका लगा कर इसकी शुरूवात की ।

राज्य शासन के आदेश पर जिला प्रशासन की निगरानी में मनेंद्रगढ़ विधायक डॉ. विनय जायसवाल, महापौर कंचन जायसवाल ने चिरमिरी के डोमनहिल शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में फीता काटकर शुभारंभ किया। इस अवसर पर इसका पहला डोज बड़ा बाजार सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी चिकित्सक डॉ.जयंत यादव को विधायक डॉ.जायसवाल ने सुरक्षा के सभी मापदण्डों को रख कर दिया। इस दौरान महापौर चिरमिरी कंचन जायसवाल ने अपने हाथों से डॉक्टर यादव को  मिठाई खिला कर उन्हें बधाई और शुभकामनाएं दी ।

 कार्यकम के अवसर पर निगम सभापति गायत्री बिरहा, डॉ एस. कुजूर, डॉ प्रिंस जायसवाल, एसडीएम पीबी खेस, तहसीलदार श्री यादव ,पार्षद सन्नी चौथा, अजय बघेल, सुनील कुमार, प्रकाश, लल्लू बीनकर एवं भारी मात्रा में वार्ड वासी उपस्थित रहे।


18-Jan-2021 7:02 PM 25

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

चिरमिरी, 18 दिसंबर। भाजपा किसान मोर्चा अध्यक्ष श्याम बिहारी जायसवाल ने  कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार पूरी गंभीरता से किसानों के कल्याण एवं उनकी भलाई के लिए कटिबद्ध है। विगत छ: वर्षों में किसानों की भलाई के जितने काम मोदी सरकार ने किये हैं, उतने किसी और ने नहीं किये। साथ ही, हमारी सरकार देश के हर नागरिक के लोकतांत्रिक अधिकारों की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है।

भाजपा किसान मोर्चा अध्यक्ष श्याम बिहारी जायसवाल ने बयान जारी करते हुए कहा है कि हम सुप्रीम कोर्ट के निर्णय को स्वीकार करते हैं। देश देख रहा है कि हमारी नीयत पहले भी साफ़ थी और आने वाले दिनों में भी हम इसी दृष्टिकोण से किसानों की भलाई के लिए काम करते रहेंगे। हम आशा करते हैं कि आंदोलनरत किसान संगठन भी सुप्रीम कोर्ट के इस निर्णय को स्वीकार करेंगे। हम सुप्रीम कोर्ट का सम्मान करते हैं सुप्रीम कोर्ट के निर्णय की कॉपी आने के बाद इसका विस्तृत अध्ययन कर हम इस पर आगे वक्तव्य देंगे। सरकार पहले दिन से यह कह रही थी कि वार्ता से ही इस मुद्दे का समाधान हो सकता है. सरकार चाहती थी कि किसान संगठन बिंदुवार चर्चा कर जहां भी उचित संशोधन की जरूरत हो, उसे प्रस्तावित करें और हम उस पर अमल करने को तैयार है। सरकार ने भी किसान संगठनों से बैठक में कई बार यह आग्रह किया था कि कोविड के कारण महिलाओं और बच्चों को इस आंदोलन से घर भेज दिया जाए, सुप्रीम कोर्ट ने भी किसान संगठनों से ऐसी ही अपील की है। सरकार ने किसान संगठनों से अपील करते हुए कहा था कि आप हाइवे को छोड़ कर अन्य वैकल्पिक जगहों पर अपना आंदोलन जारी रखें। किसान संगठनों को प्रदर्शन के लिए सरकार ने वैकल्पिक जगह भी मुहैया कराई थी। गृह मंत्री अमित शाह ने स्वयं किसान संगठनों से बात की थी, सुप्रीम कोर्ट ने भी आंदोलनरत किसान संगठनों से यही कहा है।

किसान मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष श्री जायसवाल ने आगे कहा कि सरकार ने किसान संगठनों से 9 दौर की वार्ता की, हर वार्ता में सरकार ने यह सीधा संदेश दिया कि हर बिंदु पर सरकार चर्चा करने को तैयार है। कई मुद्दों पर सरकार ने किसान संगठनों की बात मानी भी लेकिन किसान संगठन क़ानून रद्द करने की मांग पर अड़े रहे। किसान संगठनों के साथ सरकार की वार्ता लगातार सकारात्मक रही, किसान संगठनों ने स्वयं सरकार के क़दमों पर प्रसन्नता व्यक्त की। लेकिन विपक्ष और कुछ संगठनों ने अपने एजेंडे के तहत किसान संगठनों को गुमराह किया जिससे एक-दो बिंदुओं पर सहमति नहीं बन पाई। लोकतंत्र में सबको धरना, प्रदर्शन देने और असहमति का अधिकार है लेकिन हिंसा, पथराव और अराजकता की स्थिति नहीं होनी चाहिए। सरकार ने कई बार आशंका जताई और किसान संगठनों को भी आगाह किया इसमें असमाजिक तत्व शामिल हो गए हैं। ऐसी कई घटनाएं भी घटित हुई, क़ानून-व्यवस्था को लेकर जो चिंता केंद्र सरकार ने जाहिर की थी, आज वहीं चिंता सुप्रीम कोर्ट ने भी जाहिर की है।


17-Jan-2021 7:14 PM 17

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 17 जनवरी। मनेन्द्रगढ़ को हमें हराभरा करना है और साथ ही पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करना है, ताकि मनेन्द्रगढ़ में पर्यटन संबंधित आय के अन्य क्षेत्रों का विकास हो।

उक्त बातें पूर्व एडीजे व वर्तमान हाई कोर्ट लायर हेमंत अग्रवाल ने हसदेव गंगा में ग्रीन वैली के तत्वावधान में शनि मंदिर के सामने पौधरोपण करते हुए कही। ग्रीन वैली के अध्यक्ष नरोत्तम शर्मा ने कहा कि शनि मंदिर के सामने ग्रीन वैली द्वारा गुलाब पार्क विकसित किया जाएगा। इस अवसर पर आदित्य जायसवाल ने अपने जन्मदिन पर ग्रीन वैली के सहयोग से वृक्षारोपण किया और प्रण लिया कि वे सदैव पर्यावरण संरक्षण के लिए कार्यरत रहेंगे। इस अवसर पर नगर के समाज सेवी मधु पोद्दार, विद्याधर गर्ग, ग्रीन वैली के उपाध्यक्ष बसंत जायसवाल, अजय गायकवाड़, संजय गायकवाड़, मृत्युंजय सोनी सहित अनेक नागरिक व ग्रीनवैली के सदस्य उपस्थित रहे।


17-Jan-2021 7:13 PM 22

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 17 जनवरी। सरगुजा विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष राज्यमंत्री दर्जा प्राप्त भरतपुर सोनहत विधायक ने नए साल में रविवार को अपने विधानसभा क्षेत्र के 7 ग्राम पंचायतों में विभिन्न विकास कार्यों की आधारशिला रख कर लगभग 60 लाख रुपए की सौगात दी।

उल्लेखनीय है कि भरतपुर-सोनहत विधायक विधानसभा सत्र में शामिल होने रायपुर गए हुए थे। इसी दौरान उनकी माता की तबीयत खराब हो जाने के कारण वे लगभग 1 माह तक रायपुर में रहकर माता का इलाज कराने के पश्चात शनिवार को मनेंद्रगढ़ पहुंचे और विधानसभा क्षेत्र में विकास कार्यों की गति बढ़ाने में पूर्व की तरह फिर जुट गए। शनिवार को  कोरोना वैक्सीन  लगाने का कार्य  प्रारंभ हुआ जहां उन्होंने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मनेंद्रगढ़ पहुंचकर व्यवस्था की पूरी जानकारी ली। रविवार को अपने विधानसभा क्षेत्र के 7 पंचायतों में नए साल में विभिन्न विकास कार्यों की आधारशिला रखते हुए लगभग 60 लाख की सौगात दी। उन्होंने नवीन ग्राम पंचायत

चौघड़ा में 3 लाख की लागत से बनने वाली सीसी सडक़ निर्माण कार्य, ग्राम पंचायत डगौरा में 10 लाख 95 हजार की लागत का गोठान निर्माण कार्य व 7 लाख 12 हजार की लागत के पीडीएस भवन निर्माण, ग्राम पंचायत भलौर  में 10 लाख 95 हजार की लागत का गोठान निर्माण कार्य, ग्राम पंचायत कठौतिया में 5 लाख की लागत का सीसी रोड निर्माण कार्य व 7 लाख की लागत से बनने वाले यात्री प्रतीक्षालय निर्माण कार्य, ग्राम पंचायत महाई (रतौरा) में 5 लाख की लागत का नाली निर्माण कार्य, ग्राम पंचायत घुटरा में 5 लाख की लागत का पुलिया निर्माण कार्य एवं 1 लाख 73 हजार की राशि से उप स्वास्थ्य केंद्र घुटरा जीणोद्धार व ग्राम पंचायत सिरौली में 4 लाख लागत की सीसी सडक़ निर्माण   कार्य का भूमिपूजन  किया। विभिन्न निर्माण कार्यों के भूमि पूजन अवसर पर जिला पंचायत सभापति उषा सिंह, जनपद अध्यक्ष डॉ. विनय शंकर सिंह, उपाध्यक्ष राजेश साहू, नपा उपाध्यक्ष कृष्णमुरारी तिवारी,जिला महामंत्री रामनरेश पटेल, जनपद सदस्य रोशन सिंह, सुभागनी राय, कृष्णा सिंह, कविता दीवान, सरपंच संतोष सिंह, भारत सिंह, ज्योति सिंह, अमोल सिंह, सीमा सिंह, सुशीला सिंह, अगसिया बाई, विधायक निज सहायक सगीर खान, अशोक सिंह, विधायक जिला प्रातिनिधि रंजीत सिंह सहित ग्रामीणजन व जनप्रतिनिधि उपस्थित रहे। विधायक गुलाब कमरो भूमि पूजन कार्यकम के दौरान आमजनों से मुलाकात कर क्षेत्र के विकास कार्यों व समस्याओं से अवगत हुए एवं लोगों की समस्याओं का निराकरण किया। ग्रामीण लगातार विकास कार्यों की सौगात देने पर विधायक के प्रति आभार प्रगट किया।


Previous12345678Next