छत्तीसगढ़ » कोरिया

Previous12345678Next
29-Oct-2020 2:55 PM 373

फर्जी पासपोर्ट के साथ नाइजीरियाई नोएडा से बंदी, कई राज्यों में की है लाखों की ठगी

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 29 अक्टूबर।
मेट्रीमोनियल साइट पर फर्जी आईडी बनाकर शादी करने का झांसा देकर एवं अपनी संपत्ति भारत में ट्रांसफर कर भारत में सेटल होने के नाम पर बैकुंठपुर की युवती से 24 लाख की ठगी करने वाले नाइजीरिया के एक युवक को कोरिया पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस ने दिल्ली जाकर न सिर्फ विदेशी को छापा मारकर पकड़ा, बल्कि उसके पास से दो पासपोर्ट बरामद किए, जिसमें एक पासपोर्ट फर्जी पाया गया। राज्य में पहली बार फर्जी पासपोर्ट के साथ पकड़ाया एक विदेशी को पकडऩे का पहला मामला सामने आया है। 

कोरिया पुलिस एसपी चंद्रमोहन सिंह ने गुरुवार दोपहर को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मामले का खुलासा कर बताया कि आरोपी  एजिथे पिटर चिनाका (30) निवासी 17 सेटेलाईट न्यू टॉउन लागोस नाइजीरिया जिसे कोरिया पुलिस ने छापा मारकर टावर नं. केएम 21 फ्लैट नं 204 जेपी कोसमोस सेक्टर 134 नोएडा से गिरफ्तार किया। आरोपी द्वारा मेट्रीमोनियल साइट पर फेंक प्रोफाइल बनाकर लड़कियों को ठगा करता था, कई बार उसने रोहन मिश्रा, अरूण राय जैसे कई नामों से अपनी फेक आईडी बनाई, अपने आप को एनआरआई बताते हुए शादी करने का झांसा देकर एवं अपनी संपत्ति भारत में ट्रांसफर करने के नाम पर अपने को भारत में सेटल होने के नाम पर कस्टम चार्ज एवं आरबीआई आफिसर कभी आईएमएफ ऑफिसर के नाम पर फर्जी मेल भेजकर पैसा प्राप्त कर धोखाधड़ी किया करता था। 

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पुलिस ने प्रार्थी निवासी बैकुंठपुर की शिकायत पर थाना बैकुण्ठपुर में धारा 419,420 का मुकदमा कायम किया कि इसकी छोटी बहन के साथ उक्त आरोपी रोहन मिश्रा के नाम से फर्जी एनआरआई बनकर Jeevansathi.com वेबसाईट के माध्यम से शादी करने का झांसा देकर एवं अपनी संपत्ति भारत में ट्रांसफर कर भारत में सेटल होने के नाम पर कस्टम चार्ज एवं आरबीआई आफिसर, आईएमएफ ऑफिसर इत्यादि के नाम पर पीडि़ता से 24,07,500.00 रू (रू चौबीस लाख सात हजार पांच सौ) की ठगी की है। 

कार्रवाई के लिए बनी उच्चस्तरीय टीम
एसपी कोरिया ने बताया कि प्रकरण दर्ज कर अज्ञात आरोपी को पकडऩे के लिए पुलिस महानिरीक्षक रतन लाल डांगी सरगुजा रेंज सरगुजा के मार्गदर्शन में मेरे द्वारा अति पुलिस अधीक्षक डॉ. पंकज शुक्ला व उप पुलिस अधीक्षक धीरेन्द्र पटेल के नेतृत्व में सायबर टीम कोरिया द्वारा मामले की पतासाजी की जाने लगी। ये टीम राउंड ओ क्लॉक काम कर रही थी। उन्होंने कहा कि मामले में पूरी टीम बधाई की पात्र है, इन्हें पुरस्कार दिया जाएगा।

उन्होंने बताया कि आरोपी को पकडऩे में जुटी साइबर की टीम ने पाया कि आरोपी के द्वारा वीओआईपी कॉल, इंटरनेट कॉल, वाट्सएप कॉल उपयोग किया गया है। सायबर टीम द्वारा प्रकरण के सभी बिन्दुओं का बारीकी से विश्लेषण कर आरोपी की पहचान करने में सफलता पाई गई। अपराध की विवेचना के दौरान विशेष टीम को दिल्ली, नोएडा रवाना किया गया था। विशेष टीम द्वारा के द्वारा आरोपी के ठिकाने पर दबिश देकर आरोपी को गिरफ्तार कर आरोपी से पूछताछ किया गया। 

कई राज्यों में फैला था नेटवर्क
एसपी ने बताया कि आरोपी द्वारा अन्य राज्यों तेलंगाना, आन्ध्रप्रदेश, झारखण्ड, ओडिशा, हिमाचल प्रदेश इन सभी राज्यों में भी अपने आप को डॉक्टर, इंजीनियर, बिजनसमैन बताये हुये अपने झांसे में लेकर लाखों रूपये की ठगी की है तथा ठगी की रकम को कुछ अपने पास रख बाकी शेष रकम को नाइजीरिया ट्रांसफर कर देता था। 

दो पासपोर्ट मिले 
पुलिस को आरोपी के पास से 2 नग पासपोर्ट मिला जिसमें एक फर्जी पासपोर्ट एवं दूसरा पासपोर्ट, 2 नग नाईजीरियन डेबिट कार्ड, 1 नग एसबीआई डेबिट कार्ड, 4 नग मोबाईल हैण्डसेट, 14 नग सीम कार्ड, 1 वाईफाई डिवाइस, 1 नग लैपटॉप जब्त किया गया। आरोपी के पासपोर्ट एवं वीजा का अवलोकन किया गया, जिसकी मियाद समाप्त हो चुकी है। एसपी के मुताबिक मामले में भी धाराएं लगाई गई है।

आरोपी को पकडऩे में निरीक्षक विमलेश दुबे, उप निरीक्षक सचिन सिह, गंगासाय पैकरा, इस्तियाक खान, अशोक मलिक व कोरिया सायबर सेल से पुष्कल सिन्हा, प्रिंस राय, अरविन्द कौल, सजल जायसवाल, विजय कुमार सिंह का सराहनीय योगदान रहा।


28-Oct-2020 6:30 PM 17

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
मनेन्द्रगढ़, 28 अक्टूबर।
लाखों की लागत से जल संसाधन विभाग द्वारा बनाए गए स्टापडेम का बाहरी किनारा बह जाने की वजह से डेम का कोई औचित्य नहीं रह गया है। दो माह होने को है पार्षद ने विभाग को पत्र लिखकर विभाग का ध्यानाकर्षण कराया था, लेकिन विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों ने इस दिशा में कोई ध्यान देना जरूरी नहीं समझा। अब पार्षद ने विभाग को अल्टीमेटम दिया है। यदि एक माह के भीतर स्टापडेम में सुधार कार्य नहीं कराया गया तो वार्डवासियों को साथ लेकर जल संसाधन विभाग के कार्यालय के समक्ष धरना प्रदर्शन किया जाएगा।

ज्ञात हो कि मनेंद्रगढ़ में विशालबोरा और हंसिया नदी के संगम के समीप हंसिया नदी पर जल संसाधन विभाग द्वारा डीएमएफ फंड से 40 लाख 89 हजार की लागत से बनाए गए काली घाट स्टाप डेम का निर्माण कराया गया था, लेकिन तकनीकी स्वीकृति एवं निर्माण के समय निर्धारित मापदंडों के अनुसार कार्य नहीं किए जाने की वजह से बाहरी किनारा पहली बरसात में बह जाने से डेम से लगातार पानी का रिसाव हो रहा है। वार्ड क्र. 19 के पार्षद अजय जायसवाल ने जल संसाधन विभाग के अनुविभागीय अधिकारी को पत्र लिखकर कहा कि 31 अगस्त 2020 को पत्र के माध्यम से विभाग का ध्यानाकर्षण कराया गया था कि काली मंदिर घाट के पास बने स्टापडेम में विभागीय तकनीकी कमियों के कारण डेम के किनारे की मिट्टी का कटाव पूरी तरह से हो गया है। पार्षद ने कहा कि जिस उद्देश्य को लेकर स्टापडेम का निर्माण कराया गया था उसका लाभ आम जनता को नहीं मिल पा रहा है। यदि स्टापडेम में एक माह के भीतर सुधार कार्य नहीं कराया गया तो उनके द्वारा वार्डवासियों को साथ लेकर कार्यालय के समक्ष धरना प्रदर्शन किया जाएगा, जिसकी समस्त जवाबदेही विभाग की होगी। पार्षद ने पत्र की प्रतिलिपि कलेक्टर कोरिया एवं कार्यपालन अभियंता जल संसाधन संभाग बैकुंठपुर को भी प्रेषित की है।
 


28-Oct-2020 6:28 PM 18

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
मनेन्द्रगढ़, 28 अक्टूबर।
नीट परीक्षा 2020 में नगर की होनहार छात्रा स्वाति वैश्य पिता विजय कुमार वैश्य के सफलता प्राप्त करने पर नगर पालिका परिषद् मनेंद्रगढ़ की अध्यक्ष प्रभा पटेल एवं उपाध्यक्ष कृष्णमुरारी तिवारी के द्वारा छात्रा का सम्मान कर उसके उज्जवल भविष्य की कामना की गई। नपाध्यक्ष ने कहा कि होनहार छात्रा ने सफलता प्राप्त कर युवाओं को नई प्रेरणा दी है। वहीं छात्रा ने अपनी सफलता का श्रेय माता-पिता व गुरूजनों को दिया है। इस अवसर पर पार्षद नागेंद्र जायसवाल, अजय जायसवाल, अजमुद्दीन अंसारी, मो. हुसैन, पूर्व पार्षद गोपाल गुप्ता, एल्डरमेन ज्योति मजूमदार, चंद्रकांत चावड़ा, विष्णु दास, अजय वैश्य, रानी वैश्य एवं अशोक गुप्ता आदि उपस्थित रहे।


27-Oct-2020 6:35 PM 23

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 27 अक्टूबर।
जिले के भरतपुर जनपद पंचायत क्षेत्र के क्षेत्र क्रमांक 14 के जनपद सदस्य रामवती ने क्षेत्र के बहरासी बीट में कूप यानी पेड़ों की कटाई को रोकने की मांग को लेकर भरतपुर एसडीएम को शिकायत दी है जिसका समर्थन जनपद क्षेत्र क्रमांक 11 के जनपद सदस्य ने किया है। 

एसडीएम को दी गयी शिकायत में जनपद सदस्य ने उल्लेख किया है कि क्षेत्र के बहरासी बीट कंपार्टमेंट में वन विभाग द्वारा तार रूंधाई का कार्य किया गया है और उसके अंदर लगाये गये विभिन्न प्रकार के पेड़ों की कटाई की जा रही है। कंपाटमेंट के अंदर आंवला, बांसा,करंज सहित साल के पौधे लगाये गये है जो बडे हेा गये है जिनका अंधाधुंध वन विभाग द्वारा कटाई की जा रही है जो कि गलत है। कई दिनों से लगाये गये विभिन्न तरह के पेडों की अंधाधुंध कटाई से क्षेत्र के लोगों में भारी नाराजगी भी है। इसे देखते हुए वन विभाग द्वारा कूप कटाई को तत्काल रोकने की मांग की है। इस संबंध में जनपद सदस्य से शिकायत मिलने पर एसडीएम भरतपुर ने तत्काल आवेदन को वन मण्डलाधिकारी को फरवर्ड कर इस मामले में उचित जांच कर कार्यवाही करने के निर्देशित किया है। 

उल्लेखनीय है कि जिले के भरतपुर जनपद क्षेत्र में वनों की सबसे ज्यादा सघनता है और इस क्षेत्र में अवैध रूप से जंगल में कई जगहों पर कटाई करने की जानकारी आये दिन मिलती रहती है। भरतपुर जनपद के सरहदी क्षेत्र  के जंगलों में भी अवैध कटाई की खबर मिलती रहती है। अब वन विभाग ही कूप कटाई के नाम पर लगाये गये पौधे तो कि बडे पेड बन गये है उनकी अंधाधुंध कटाई करने में जुटी हुई है। एक ओर प्रतिवर्ष लाखों रूपये पौधों के रोपण में खर्च कर दी जाती है दूसरी ओर बडे पेडों की अंधाधुंध कटाई कर रहा है। इस पर तत्काल रोक लगाये जाने की जरूरत है।

 


27-Oct-2020 6:32 PM 22

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
चिरमिरी, 27 अक्टूबर।
जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़(जे) चिरमिरि के कार्यकर्ताओं ने चिरमिरि के प्रमुख बाजार गोदरी पारा शनिचरी बाजार में व्यापारी एवं आम नागरिकों से मुलाकात कर वैश्विक महामारी कोविड 19 के खतरे के संबंध में जागरूकता अभियान चलाते लोगों को नि:शुल्क मास्क वितरण किया गया। 

उन्हें बताया कि अभी सिर्फ अनलॉक हुआ है लेकिन कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है,बीमारी से घबराना नहीं है,लेकिन हमें कोरोना के प्रति गंभीर रहने की आवश्यकता है,इसके लिए सावधानी और सतर्कता बहुत जरूरी है। इस दौरान शाहिद महमूद, फणीन्द्र हमाम मिश्रा,उदय सिंह,सानु जोन्सी,फैजान रजा, तिलकेश्वर चौहान,देवेंद्र महाराणा,अजय मिश्रा,रामदेव लकड़ा,अफजाल अंसारी,अनिल दलाई,पांडु भी उपस्थित थे।

 


27-Oct-2020 6:31 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 27 अक्टूबर।
छग सहायक शिक्षक फेडरेशन के प्रांतीय आव्हान पर वेतन विसंगति एवं क्रमोन्नति मॉग के समर्थन में छग के मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर कोज्ञापन सौंपा गया। इसके पश्चात आयोजित बैठक में निर्णय लिया गया कि 28 अक्टूबर को जिले के समस्त सहायक शिक्षक संवर्ग प्रांत स्तर पर मौन रैली एवं धरना प्रदर्शन रायपुर में निकालेंगे जिसमें अधिक से अधिक संख्या में जाने का आव्हान किया गया।

फेडरेशन का कहना है कि वेतन विसंगति के कारण सहायक शिक्षकों के वेतनमान में प्रति महीने 10 हजार से 12 हजार रूपये कम वेतन प्राप्त हो रहा है वर्तमान में सहायक शिखकों को लेवल 8 का वेतनमान दिया जाना चाहिए किन्तु उन्हे लेबल 6 का ही वेतनमान प्राप्त हो रहा है। दूसरा तथ्य यह है कि वर्ग 2 एवं 1 के वेतनमान में 4 से  5 हजार का ही अंतर है। जबकि वर्ग 3 व 2 के वेतनमान में 10 से 15 हजार रूपये का अंतर है। यह खाई दिनों दिन बढ़ती जा रही है जिससे वेतन विसंगति उत्पन्न हो गयी है। 

ज्ञात हो कि शिक्षाकर्मियों का संविलियन किया गया और उनकी पूर्व की सेवाओं केा शून्य कर दिया गया इसके कारण ना तो पदोन्नति हेा पायी और ना ही उन्हे क्रमोन्नति वेतनमान का लाभ मिला। इसके फलस्वरूप 15 से 20 वर्ष सेवा करने के उपरांत भी पदोन्नति व क्रमोन्नति से वंचित हुए। फेडरेशन की मांग है कि उन्हें प्रथम नियुक्ति तिथि से उनकी सेवा की गणना की जाये एवं क्रमोन्नति वेतनमान का लाभ दिया जाये। 

बैठक में जिला संरक्षक रविन्द्र नाथ तिवारी, जिला अध्यक्ष एवं सरगुजा संभाग प्रभारी विश्वास भगत, विष्णु प्रताप सिंह, संरक्षक अवधेश शर्मा, जिला कार्यकारीण अध्यक्ष रामदेव विश्वकर्मा, जिला केाषाध्यक्ष भगत सिंह, भगवान सिंह, दीपक तिर्की, पुष्पराज सिंह, शिवनारायण कुर्रे, परम सिंह, चंद्रिका, मरावी, नयर अंसारी, सुखदेव पैकरा, संजय सिंह ठाकुर समेत अनेक शिक्षक साथी उपस्थित रहे।


27-Oct-2020 6:29 PM 16

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 27 अक्टूबर।
शरदीय नवरात्र की नौ दिनों तक पूजा अर्चना के बाद सभी स्थानों पर विराजित मां दुर्गा व अन्य देवी देवताओं की मूर्तियों का विसर्जन सादगी के साथ किया गया। इस बार कोरोना संक्रमण के चलते दुर्गा जी की झांकी निकालने की व डीजे पर प्रतिबंध के चलते विसर्जन में वह उत्साह नहीं देखने को मिला जो इससे पूर्व के वर्षो में देखने को मिलता था। 

गत 17 अक्टूबर से शुरू शारदीय नवरात्र में शक्ति की माता दुर्गा की नौ दिनों तक विधि विधान के साथ पूजा अर्चना होती रही। अंतिम दो तिथियों को लेकर मतभेद के कारण कुछ जगहों पर शुक्रवार को अष्टमी मनाई गयी तो कुछ जगहों पर शनिवार को। इस तरह जहां शुक्रवार को अष्टमी मनाई गयी वहां के समितियों द्वारा रविवार को दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन कर दिया गया लेकिन ज्यादातर जगहों पर अष्टमी व नवमी का संगम तिथि रविवार को महानवमी मनाया गया और इस दिन पंडाल में विशेष हवन पूजन के साथ माता को भोग चढाया गया साथ ही कन्याओं की पूजा कर भोग खिलाया गया तथा प्रसाद का वितरण किया गया। इस दिन कई लोगों ने मंदिरों में तो कई लोगों ने घरों में ही पूजा अर्चना की कोरोना संक्रमण के चलते इस बार मंदिरों में न ही पंडालों मे ज्यादा भीड दिखाई दी ज्यादातर लोग घरों में ही अष्टमी व नवमी तिथि पर पूजा अर्चना किये। अष्टमी व नवमी तिथि को मंदिरो ंमें पंडालों में भक्तों की भीड अन्य दिनों की अपेक्षा ज्यादा जुटी रही। जिले के खडगवॉ जनपद मुख्यालय से कुछ ही दूरी पर स्थित महामाया मंदिर में अष्टमी व नवमी तिथि को ज्यादा श्रद्धालुगण माता के दर्शन व पूजा अर्चना के लिए जुटते रहे। इसी तरह जनकपुर क्षेत्र के प्रसिद्ध आराध्य देवी चंाग देवी मंदिर में भी पूरे नौ दिनों तक श्रद्धालुओं की भीड़ पूजा अर्चना एवं दर्शन के लिए जुटती रही। 

सोमवार को भी मूर्तियों का विसर्जन 
शहर के कई स्थानों पर मां दुर्गा की प्रतिमा स्थापित कर विधि विधान के साथ पूजा अर्चना की जाती रही और महाष्टमी व नवमी तिथि पश्चात जहॉ कई स्थानों पर रविवार को ही मूर्तियों का विसर्जन किया गया। वही जिला मुख्यालय बैकुण्ठपुर मे सोमवार को सभी स्थानों पर विराजित किये गये मूर्तियों को वाहन में रखकर विसर्जन हेतु ले जाया गया इस दौरान किसी प्रकार का उत्साह देखने को नही मिला सादगी के साथ इस बार मॉ दुर्गा व अन्य देवी देवताओं के मूर्तियों का विसर्जन किया गया। इस तरह से नौ दिनों तक चलने वाले शक्ति के देवी की आराधना समाप्त हो गयी। 

कोरोना काल में इस बार नहीं हुआ रावण दहन
दुर्गा पूजा समाप्ति के बाद प्रतिवर्ष कोरिया जिला मुख्यालय बैकुण्ठपुर में भव्यता के साथ रावण दहन कार्यक्रम दशहरा के अवसर पर किया जाता रहा है लेकिन इस बार कोरोना संक्रमण के चलते जिला मुख्यालय में विशाल रावण दहन कार्यक्रम आयोजित नही किया गया जबकि प्रशासन ने इसके लिए दिशा निर्देश जारी कर दिये थे जिसके अनुसार रावण व अन्य पुतलो की उॅचाई 10 फीट से अधिक नही रखने के निर्देश जारी किये गये थे साथ ही आयोजन स्थल में 50 से अधिक लोगों केा प्रवेश नही देने के निेर्देश जारी किये गये थे। लेकिन आयोजन समिति ने इस बार रावण दहन कार्यक्रम ही नहीं रखा। विगत कई सालों में पहली बार जिला मुख्यालय में रावण दहन कार्यक्रम आयोजित नही किया गया।जबकि इस अवसर पर रावण दहन कार्यक्रम देखने के लिए शहर ही नहीं बल्कि जिले के कई क्षेत्रों से भारी संख्या में लोग शहर के रामानुज मिनी स्टेडियम में जुटते जिससे कि रेलमपेल की स्थिति स्टेडियम में मच जाती थी। इस बार दशहरा के अवसर पर शहर का मिनी स्टेडियम पूरी तरह से सूनसान रहा।


27-Oct-2020 6:27 PM 17

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 27 अक्टूबर।
शहर क्षेत्र में विकास के नाम पर अब एक वर्षों पुराने पीपल के पेड़ के अस्तित्व पर खतरा मंडरा रहा है। क्षेत्र के लोगों में इसे लेकर आपत्ति है। 

जानकारी के अनुसार बैकुंठपुर शहर के पुराने बस स्टैंड प्रतीक्षालय भवन को तोडक़र दुकानें बनाई जा रही हैं। भवन के बगल में वर्षों पुराना पीपल का पेड़ है, और यहां छोटा सा मंदिर भी है। वर्षों से यह लोगों का आस्था का केंद्र बना हुआ है तथा वृक्ष के नीचे मंदिर में कई वर्षो से पूजा अर्चना श्रद्धालुगण करते आ रहे है। स्थानीय पुराने बस स्टैड के पास बने जर्जर प्रतीक्षालय को तोडक़र नपा बैकुंठपुर द्वारा डबल स्टोरी शॉपिंग काम्प्लेक्स का निर्माण कार्य शुरू किया है। इसके लिए हाल में ही फाउंडेशन हेतु खुदाई कार्य पूरा कर लिया गया। इस दौरान वर्षों पुराने पीपल के वृक्ष के चारों ओर बने छोटे चबूतरे बनाये गये हंै। जहां पूजा के दौरान श्रद्धालुगण परिक्रमा करते हैं। अब शॉपिंग काम्पलेक्स के निर्माण के लिए चबूतरे को दायरे में लेकर फाउंडेशन खोदा गया है। ऐसे में पीपल के वृक्ष को काटने की आवश्यकता पड़ सकती है। कई वर्षों से यह पेड़ आस्था का केंद्र बना हुआ है।

सुरक्षित बच सकता है विशाल पेड़
वार्ड के लोगों का कहना है कि यदि जिस ओर पीपल का विशाल वृक्ष स्थित है। उस तरफ से शॉपिंग कॉम्प्लेक्स की सीढ़ी का निर्माण किया जाता तो पीपल के पेड़ को बचाया जा सकता था लेकिन पास में दूसरी ओर एक हॉटल के हिस्से की तरफ से सीढ़ी बनाने के लिए नींव खोदी गयी है। इसी गलती के कारण पीपल के पेड़ के अस्तित्व को खतरा हो गया है जबकि नपा चाहे तो पेड़ को बचाया जा सकता है। 

50 लाख से ज्यादा राशि से बनेगा कॉम्प्लेक्स
स्थानीय पुराने बस स्टैंड के पास बने जर्जर हो चुके प्रतीक्षालय को तोडक़र उस स्थल पर बडा शॉपिंग काम्प्लेक्स बनाया जा रहा है। जानकारी के अनुसार  50 लाख रूपये से ज्यादा राशि इसके लिए खर्च की जायेगी। जिससे 6 नग बडी दुकाने बनायी जायेंगी। बनाई जाने वाली दुकानों की साईज काफी बडी होगी जिससे कि बडे लोगों को ही इसका फायदा मिल सकेगा।    

पेड़ काटे लगाए नहीं
इससे पहले नपा द्वारा गौरवपथ निर्माण कार्य के लिए करीब 800 मीटर की दूरी तक सडक़ के दोनों ओर तीन दर्जन से अधिक छोटे बडे पेड़ों की कटाई गौरव पथ निर्माण कार्य के लिए कराया था। जिससे कि अब बनाये गये गौरवपथ किनारे वर्षों पुराने पेड़ अस्तित्व में नहीं है। सडक़ चौड़ी को गयी लेकिन पेड़ों की हरियाली व छांव अब सडक़ किनारे नहीं दिखती व मिलती।
 


26-Oct-2020 9:51 PM 27

छत्तीसगढ़ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 26 अक्टूबर। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मनेंद्रगढ़ में पदस्थ एक महिला डॉक्टर पर इलाज के लिए आने वाली महिला मरीजों से इलाज के नाम पर पैसा लेने का आरोप लगा है। शिकायत पर विधायक गुलाब कमरो ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मनेंद्रगढ़ पहुंचकर अस्पताल का औचक निरीक्षण किया तथा अस्पताल प्रबंधन को फटकार लगाते हुए चिकित्सकीय व्यवस्था पर सुधार लाने का निर्देश दिया है। वहीं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की बिगड़ती चिकित्सकीय व्यवस्था को लेकर विधायक ने सीएमएचओ व कलेक्टर से इस दिशा में कार्रवाई करने की बात कही है।

जानकारी के अनुसार सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मनेंद्रगढ़ में प्रसव कराने आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों सहित दूरदराज से महिलाएं आती हैं जिनसे अस्पताल में पदस्थ एक महिला डॉक्टर के द्वारा इलाज के नाम पर पैसा लिए जाने की शिकायत काफी समय से मिल रही थी। भरतपुर सोनहत विधानसभा क्षेत्र के ग्राम पंचायत सिरौली की एक महिला समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में इलाज कराने आई थी। इलाज नहीं होने व इलाज के नाम पर पैसा मांगे जाने की शिकायत महिला ने की थी।

शिकायत को गंभीरता से लेते हुए भरतपुर सोनहत विधायक गुलाब कमरो ने 25 अक्टूबर की शाम समुदाय स्वास्थ्य केंद्र मनेंद्रगढ़ पहुंचकर अस्पताल का औचक निरीक्षण किया और महिला डॉक्टर द्वारा पैसा मांगे जाने की शिकायत पर अस्पताल प्रबंधन को फटकार लगाते हुए अपनी नाराजगी जताई।

विधायक गुलाब कमरो ने अस्पताल की बिगड़ती चिकित्सा व्यवस्था को लेकर कोरिया कलेक्टर एवं सीएमएचओ कोरिया से बात कर चिकित्सा व्यवस्था में सुधारे लाने का निर्देश दिया है, साथ ही एसडीएम को महिला चिकित्सक के खिलाफ थाने में कार्रवाई कराए जाने का भी निर्देश दिया है।

 


26-Oct-2020 9:50 PM 29

छत्तीसगढ़ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 26 अक्टूबर। सविप्रा उपाध्यक्ष विधायक गुलाब कमरो ने दशहरा पर्व पर भरतपुर विकासखंड में फिर एक बार विकास की सौगात दी है। दो स्कूलों में अहाता निर्माण हेतु विधायक की मांग पर प्रशासकीय स्वीकृति प्रदान की गई है। भरतपुर विकासखंड के ग्राम पंचायत नेरूआ माध्यमिक शाला में 5 लाख की लागत से अहाता निर्माण कराया जाएगा। इसी प्रकार ग्राम पंचायत घाघरा माध्यमिक शाला में भी इतनी ही लागत से अहाता का निर्माण होगा। ज्ञात हो कि शिक्षा को लेकर संवेदनशील विधायक अपने क्षेत्र में लगातार सक्रिय हैं और एक के बाद एक लगातार विकास कार्यों की सौगात दे रहे हैं जिससे क्षेत्रवासियों में हर्ष व्याप्त है। सभी ने विधायक के प्रति आभार व्यक्त किया है।


26-Oct-2020 9:48 PM 20

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 26 अक्टूबर। कोड़ा पुलिस ने नारकोटिक्स एक्ट के मामले में दो आरोपियों को हिरासत में लिया है। आरोपियों ने अपने घर की बाड़ी में गांजे का पौधा लगा रखा था।

कोड़ा पुलिस चौकी अंतर्गत नीमपारा घाघरा घाट निवासी आरोपी बिशन सिंह गोंड़ (55) एवं शिव प्रसाद गोंड़ (40) ने अपने-अपने घर के पास स्थित बाड़ी में गांजा का पौधा लगाया हुआ था। बिशन सिंह के कब्जे से 25 नग एवं शिव प्रसाद के कब्जे से 20 नग गांजा का पौधा जब्त कर एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई की गई।


26-Oct-2020 9:47 PM 20

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बैकुंठपुर, 26 अक्टूबर। कोरोना संक्रमण काल में पार्कों को बंद करने के निर्देश के बाद चिल्ड्रन पार्क भी बंद किया गया था ,लेकिन अनलॉक की प्रक्रिया शुरू होने के बाद फिर से पार्क आमजनों के लिए खोल दिया गया। इसके बाद पार्क की स्थिति अब पहले जैसी नहीं रही। कई तरह की समस्याओं के चलते चिल्ड्रन पार्क भी अब अपनी रौनक खोने लगा है। जबकि अब ठण्ड की शुरूआत हो रही है इस सीजन में ज्यादा लोग पार्क में सुबह की सैर करने पहुंचते है। दिन में तो ठीक लेकिन शाम ढलने के बाद आने वाले लोगों को पार्क में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

जानकारी के अनुसार शहर के चिल्ड्रन पार्क में बिजली व्यवस्था बिगड़ गयी है। यहां लगाई गई कई लाईट बंद पडी है तथा कई लाईट टूट फूट चुकी है जिसे अभी तक सुधारा नही जा सका है और न ही टूटे लाईटों को बदलने की ओर ध्यान दिया जा रहा है। चिल्ड्रन पार्क में लगाया गया हाई मास्क लाईट भी कई दिनों से बिगडा पडा है। जिस कारण शाम ढलने के बाद यहां आने वाले लोगों को पार्क में पर्याप्त रोशनी नहीं रहती। कई क्षेत्रों में अंधेरा पसरा रहता है। जबकि ज्यादातर लोग शाम ढलने के बाद ही पार्क में पहुंचते हंै ऐसे में पर्याप्त लाईट न होने के कारण लोगों को परेशानियां होती है।

पार्क में व्यवस्थित नहीं है वायरिंग, खुले बिजली वायर से खतरा

चिल्ड्रन पार्क में कई तरह की परेशानियों के बीच में यह भी एक परेशानी है कि यहां की गयी वायरिंग व्यवस्थित नहीं है। जिस कारण लोगों केा परेशानी होती है। पैदल चलने वाले सीसी मार्ग के ठीक उपर सटाकर वायरिंग को एक ओर से दूसरी ओर ले जाया गया है जबकि इसे मार्ग के नीचे से व्यवस्थित किया जाना चाहिए था। इससे सैर करने पहुंचने वाले लोगों को खतरा बना रहता है कई जगहों से वायरिंग खुला हुआ है। बिजली के उपकरण खुले पडे हुए है जो लोगों के लिए खतरा बना रहता है। यहां बच्चे भी बड़ी संख्या में पहुंचते है निश्चित रूप से खुले बिजली के उपकरण खतरे की घंटी बजा रही है। इस दिशा में नपा केा विशेष रूप से ध्यान देकर बिजली उपकरणों को सुरक्षित करने एवं वायरिंग को व्यवस्थित करने की जरूरत है। 

लंबे समय से फाउंटेन बिगड़ा पड़ा

चिल्ड्रन पार्क की सुन्दरता को बढ़ाने के लिए पार्क के अंदर एक फाउंटेन बनाया गया  जिसके लिए पास में ही पानी की व्यवस्था की गयी है लेकिन उसमें पानी भी कम हो गया है और लंबे समय से लगाया गया फाउंटेन भी बंद पड़ा है जिस कारण फाउंटेन से गिरने वाले पानी का नजारा भी पार्क में आये लोगों को देखने का ेनहीं मिल पा रहा है। लंबे समय से बंद पडे फाउंटेन को चालू करने की दिशा में किसी तरह की कवायद नहीं की जा रही है।

पूरे पार्क परिसर में एक भी डस्टबीन नहीं

पार्क परिसर में में एक भी डस्टबीन नही रखा गया है। जबकि पार्क में सैर करने वालों की संख्या प्रतिदिन रहती है। पार्क के बार खाने पीने की कई सामान लेकर कई लोग पार्क के अंदर प्रवेश करते है और डस्टबीन नही होने के कारण कचरे केा यहां वहां फेंक देते है। ऐसे में पार्क परिसर के भीतर गंदगी क्यो नही होगी। इस दिशा में नपा को ध्यान देकर जगह जगह डस्टबीन रखे जाने की जरूरत है ताकि लोग स्वच्छता बनाये रखे।

टूूटे अहाता की मरम्मत नहीं

चिल्ड्रन पार्क के एक ओर अहाता धंस कर टूट गया है जिसे सुरक्षित करने के लिए टूटे अहाता का निर्माण करने की दिशा में भी ध्यान नहीं दिया जा रहा है। जानकारी के अनुसार चिल्ड्रन पार्क के एक ओर का अहाता महीनों से टूटा पड़ा है जिस ओर से जानवर पार्क में प्रवेश कर लगाये गये फूल पौधों को नुकसान पहुंचा सकते हैं। जिसे जल्द सुधार कार्य कराये जाने की जरूरत है जिससे कि पार्क के अंदर लगाये गये फूल पौधो को सुरक्षित रखा जा सके।


26-Oct-2020 5:13 PM 89

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 26 अक्टूबर। दुर्गा पूजा देखने गई नाबालिग के साथ सामूहिक बलात्कार का मामला सामने आया है। मामले में पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेज दिया है।

सोमवार को मनेंद्रगढ़ पुलिस थाने में पुलिस अधीक्षक चंद्रमोहन सिंह ने पूरे मामले का खुलासा किया। पुलिस के अनुसार 24 अक्टूबर की रात्रि 8 बजे पीडि़ता अपने परिवार वालों के साथ दुर्गा पूजा देखने शिवधारा बिहारपुर मंदिर गई हुई थी। रात लगभग 11 बजे मंदिर से कुछ दूरी पर वह अपने ममेरा भाई से बातचीत कर रही थी, उसी समय 4 लडक़े धीरज, लक्ष्मण, रंजित एवं बिहारी वहां पहुंचे और यहां क्या कर रहे हो, कहकर पीडि़ता को उठाकर जंगल की ओर ले गए, जहां चारों आरोपियों ने पीडि़ता के साथ सामूहिक बलात्कार किया। 

रिपोर्ट पर पुलिस द्वारा केल्हारी थानांतर्गत बडक़ाबहरा निवासी राकेश सिंह उर्फ धीरज (25), गोंड़, लोहारी पोंड़ी थाना निवासी रंजित सिंह उर्फ मुन्ना (22), बिहारपुर थाना मनेंद्रगढ़ निवासी लक्ष्मण सिंह उर्फ चेक (22) एवं बिजुरी जिला अनूपपुर (मप्र) निवासी  छोटू उर्फ बिहारी (19) के खिलाफ धारा 376(घ)(क)(2)(ढ) एवं पॉक्सो एक्ट की धारा 4,6 के तहत केस दर्ज कर विवेचना में लिया गया। रिपोर्ट के पांच घंटे के भीतर सभी आरोपियों को बिजुरी, केल्हारी एवं बिहारपुर में घेराबंदी कर हिरासत में लेकर पूछताछ की गई। आरोपियों द्वारा जुर्म स्वीकार करने पर गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया।
 
कार्रवाई में थाना प्रभारी एएसआई आरएन गुप्ता, आरआर भगत, आरक्षक आर. भगत, रामप्रकाश राजवाड़े, आनंद प्रताप, जितेंद्र ठाकुर, जगन लाल अडमाचे, प्रकाश सिंह, पुरूषोत्तम बघेल, रवि सिंह, अजय पोया शामिल रहे। 


24-Oct-2020 11:54 PM 22

बैकुंठपुर,  24 अक्टूबर। कोरिया में बीते कुछ दिनों से लगातार घटते क्रम में मरीज मिल रहे थे लेकिन 23 अक्टूबर को बड़ी छलांग के साथ कोरोना संक्रमितों की संख्या  60 पार निकले। इसके एक दिन पूर्व  22 अक्टूबर को रात्रि  8 बजे तक जिले में कुल 31 संक्रमित पाये गये थे इसके पूर्व कई दिन संक्रमितों की संख्या  60 से घटते क्रम में थी। कुछ दिनों तक लगातार कोरोना पॉजिटिव की संख्या में गिरावट दर्ज की जा रही थी। इसी बीच एकाएक संक्रमितों की संख्या बढऩे से प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ गयी है।

स्वास्थ्य विभाग द्वारा गत  23 अक्टूबर की रात्रि  8 बजे तक की स्थिति को लेकर जारी बुलेटिन के अनुसार कोरिया में इस दिन कुल  63 कोरोना पॉजिटिव पाये गये। जिनमें शहरी क्षेत्रों में  51 तथा ग्रामीण क्षेत्रों में 12 संक्रमित पाये गये। शहरी क्षेत्र शिवपुर चरचा में  2 की संख्या में संक्रमित मिले, जबकि बैकुंठपुर में  13, चिरमिरी में  20, मनेंद्रगढ़ में  15 तथा लेदरी में  1 की संख्या में पॉजिटिव पाये गये। इसी तरह ग्रामीण क्षेत्र बैकुंठपुर में  1, खडग़वां में  6, मनेंद्रगढ़ में  4 तथा सोनहत में  1 पॉजिटिव मिले।

एक्टिव केस 406 के साथ अब तक जिले में  24 की मौत

कोरिया जिले में कोरोना से मौत का आंकड़ा 24 पहुंच गया है। जबकि गत 23 अक्टूबर की स्थिति में कोरिया जिले में अब तक कुल पॉजिटिव आये लोगों की संख्या 2765 पहॅंची गयी है वहीं कुल एक्टिव केस  406 हो गयी। जबकि अब तक 2310 लोग स्वस्थ हो चुके ंहै। लगातार स्वस्थ होने वालों का आंकडा बढ रहा है जो राहत की खबर है।

होम आईसोलेशन में 377, कोविड अस्पताल के बेड हो रहे खाली

सरकार द्वारा जब से कोरोना संक्रमितों केा होम आईसोलेशन की सुविधा प्रदान की गयी है इसके बाद से लगातार हेाम आईसोलेशन में जाने वाले संक्रमितों की संख्या बढने लगी और इसके बाद कोविड अस्पताल के बेड लगातार खाली होने लगे। जानकारी के अनुसार 23 अक्टुबर तक की स्थिति में जिले में कुल 377 संक्रमित होम आईसोलेशन की सुविधा ले रहे है जबकि कंचनपुर स्थित 100 बेड के कोविड अस्पताल में मात्र 19 संक्रमित ही भर्ती है तथा  81 बेड खाली पड़े है। इसी तरह एसईसीएल चरचा के कोविड हास्पिटल में 50 बेड की सुविधा है यहां उक्त तिथि तक मात्र 10 मरीज ही भर्ती है तथा 40 बेड खाली पड़े हैं। जबकि एक दौर ऐसा था जब लगातार संक्रमितों के मिलने के कारण कोविड अस्पताल में बेड की कमी होती जा रही थी। 


24-Oct-2020 11:50 PM 20

छत्तीसगढ़ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 24 अक्टूबर। अखिल भारतीय अग्रवाल वैश्य फेडरेशन के कोरिया जिाध्यक्ष श्यामसुंदर पोद्दार ने कार्यकारिणी की घोषणा कर दी है। घोषित कार्यकारिणी में जिला उपाध्यक्ष विवेक अग्रवाल मनेंद्रगढ़, शारदा गुप्ता बैकुंठपुर, जिला महामंत्री उन्नत शर्मा, जिला मंत्री कौशलेंद्र पटना, आदित्य गुप्ता जनकपुर, नीरज केशरवानी खडग़वां, जिला कोषाध्यक्ष आकाश अग्रवाल, जिला सह कोषाध्यक्ष शशिकांत अग्रवाल व मीडिया प्रभारी अनुज तोदी को नियुक्त किया गया है।

 जिलाध्यक्ष पोद्दार ने सभी नवनियुक्त पदाधिकारियों को बधाई देते हुए कहा कि शीघ्र कार्यकारिणी का और विस्तार करते हुए संगठन को गति प्रदान कर समाज हित में कार्य करते रहेंगे।


24-Oct-2020 11:44 PM 21

छत्तीसगढ़ संवाददाता

बैकुंठपुर, 24 अक्टूबर। इन दिनों चल रही दुर्गोत्सव के दौरान अष्टमी व नवमीं तिथि को लेकर मतभेद के कारण कुछ पूजा पंडालों में शुक्रवार को ही अष्टमी की पूजा संपन्न की गयी तो कुछ पंडालों में दूसरे दिन शनिवार को अष्टमी की पूजा संपन्न की गयी। इस तरह से शनिवार को ज्यादातर पूजा पंडालों में शनिवार को ही अष्टमी की पूजा करने के कारण दूसरे दिन 24 अक्टूबर रविवार को नवमी पूजन किया जाएगा जिससे कि दशहरा का पर्व सोमवार को मनाया जाएगा।

पंडितों के अनुसार 23 अक्टूबर को सायं 6 बजकर  57 मिनट पर अष्टमी की शुरूआत हो रही है जो दूसरे दिन 24 अक्टूबर को 6 बजकर 58 मिनट तक रहेगा इसके बाद नवमी तिथि की शुरूआत हो जायेगी। अष्टमी व नवमी की तिथियों को लेकर असमंजस की स्थिति के कारण ही कहीं शुक्रवार को तो कहीं शनिवार को अष्टमी तिथि मनाई गयी लेकिन ज्यादातर जगहों पर शनिवार को ही महाष्टमी की पूजा-अर्चना की गई।

शहर में स्थापित ज्यादातर पूजा पंडालों में महाष्टमी शनिवार को ही मनाया गया। इस दिन हवन पूजन विशेष रूप से किया गया इस तरह रविवार को महानवमीं की पूजा अर्चना की जाएगी। इसके साथ ही नौ दिनों तक चलने वाले दुर्गोत्सव की समाप्ति होगी। गत  17 अक्टूबर से शारदेय नवरात्र की शुरूआत हुई थी। नवमीं पूजा के बाद पूजा पंडालों में स्थापित सभी स्थानों की मूर्तियों का विसर्जन किया जाएगा। इस बार कोरोना संक्रमण सके चलते दुर्गोत्सव मनाने के लिए प्रशासन द्वारा दिशा निर्देश जारी किये गये है जिसके अनुपालन करते हुए पूजा-अर्चना की जा रही है। इसका असर यह हुआ कि इस बार सादगी के साथ सभी जगहों पर मां दुर्गा की पूजा-अर्चना की जा रही है।

 कोरोना संक्रमण के चलते ज्यादातर श्रद्धालु पूजा पंडाल में नही जुट रहे हंै। यही कारण है कि अंतिम दिनों में शहर के दुर्गोत्सव में ज्यादा इस बार भीड़ नहीं जुटी अन्यथा अंतिम समय में पूरा शहर के साथ आस पास के ग्रामीण क्षेत्रों के श्रद्धालु माता के दर्शन करने के लिए शाम ढलने के बाद जुटते थे और देर रात्रि तक भीड जुटी रहती थी।

इस वर्ष सादगी के साथ सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए तथा सीमित संख्या में ही पूजा पंडालों में श्रद्धालुओं को प्रवेश देने के नियम के चलते पंडालों में भीड़ नहीं दिखाई दी। डीजे पर प्रतिबंध के चलते पूजा पंडालों में माता के जसगीत की गूंज उतनी नहीं हो रही है। साथ ही पूजा पंडालों में भण्डारा प्रसाद का वितरण भी पहले जैसा नहीं रहा। इस तरह आज के बाद शारदेय नवरात्र भी समाप्त हो जाएगा।

मंदिरों में श्रद्धालुओं ने की पूजा-अर्चना

क्वार नवरात्र के दौरान सभी ओर भक्ति की बयार बह रही है। ऐसे में दूर-दूर से श्रद्धालु आस्था केंद्रों तक पहुंच रहे हैं। जिले के प्रसिद्ध महामाया मंदिर चनवारीडॉड में श्रद्धालु अंतिम तीन दिनों के दौरान अधिक संख्या में प्रतिदिन जुट रहे हैं, जो नियमों का पालन करते हुए दर्शन एवं पूजा अर्चना कर रहे है। यहां ज्योतिकलश स्थापित कर मनोकामना दीप भी प्रज्वलित किये गये हैं। यहां जिले के अलावा पडोसी जिला कोरबा से भी श्रद्धालुगण पहुंच कर पूजा अर्चना कर रहे है। शनिवार को महामाया मंदिर चनवारीडांड में विशेष पूजन के लिए श्रद्धालुगण जुटते रहे। इसी तरह भरतपुर जनपद क्षेत्र. में स्थित चांग देवी मंदिर में भी पूजा अर्चना को लेकर विशेष चहल पहल रही।

नहीं मिलेगा विसर्जन झांकी का नजारा

इस वर्ष कोरोना संक्रमण के चलते पूजा समितियों को निर्देश दिए गये है कि विसर्जन की झांकी नहीं निकाली जाएगी। सीमित लोगों को ही वाहन में प्रतिमाओं को रखकर ले जाने की अनुमति दी गयी है, ऐसे में पहले जैसा जिस तरह से विसर्जन की झांकी निकाली जाती थी और श्रद्धालु डीजे की धुन पर नाचते गाते चलते थे और एक एक कर सभी दुर्गा प्रतिमाओं की झांकी घड़ी चौक से होकर गुजरती तो इस नजारे को देखने के लिए लोगों का हुजूम जुटता था माता के अंतिम दर्शन के लिए। इस बार यह नजारा देखने को नहीं मिलेगा। 


24-Oct-2020 6:24 PM 20

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
मनेन्द्रगढ़, 24 अक्टूबर।
शारदीय नवरात्र के अवसर पर बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत खोंगापानी वार्ड क्र. 15 में कन्या भोज का आयोजन किया गया।

अभियान की प्र्रदेश सह संयोजक पूर्व संसदीय सचिव चंपा देवी के मार्गदर्शन और जिला संयोजक जया कर की देखरेख में कन्या भोज कराया गया। जिला संयोजक जया कर ने कहा कि बेटियां लक्ष्मी का रूप होती हैं। जिस घर में भी बेटी होती हैं, उस घर में हमेशा खुशहाली बनी रहती है। एक सभ्य समाज का निर्माण सिर्फ बेटियां ही कर सकती हैं। बेटियां जिस घर भी जाती है, उस घर को हमेशा स्वर्ग बना देती हैं। उन्होंने नवदुर्गा पूजन में देवी स्वरूपा बेटियों की सुरक्षा और उनके सम्मान की रक्षा का संकल्प लेने का आह्वान किया। 

भाजपा जिला मंत्री अनीता देवी, अनुपमा निशी, महिला मोर्चा जिला महामंत्री प्रवीन सिंह, हसदेव मंडल अध्यक्ष मीनू पटेल, पार्षद मीरा यादव, सीता कोल, पी. मनी, पूर्व एल्डरमेन नई लेदरी बबीता सिंह, सुनीता शर्मा, अंजू उरमलिया की सहभागिता से कन्या भोज कार्यक्रम संपन्न हुआ।
 


24-Oct-2020 6:23 PM 29

पुल-पुलिया सहित होगा घुटरा से गरूडोल मार्ग का निर्माण

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
मनेन्द्रगढ़, 24 अक्टूबर।
सरगुजा विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष भरतपुर-सोनहत विधायक गुलाब कमरो ने अपने विधानसभा क्षेत्र में सडक़, पुल-पुलिया के निर्माण कार्य हेतु नवरात्र पर्व पर फिर करोड़ों रुपए की सौगात दी है।

उल्लेखनीय है कि लंबे समय से मनेंद्रगढ़ विकासखंड के अंतर्गत घुटरा से गरुडड़ोल मार्ग पर सडक़, पुल-पुलिया निर्माण की मांग स्थानीय जनता के द्वारा की जा रही थी। स्थानीय जनता की मांग को विधायक गुलाब कमरो ने गंभीरता से लेते हुए छत्तीसगढ़ शासन के पीडब्ल्यूडी मंत्री ताम्रध्वज साहू को सडक़ पुल व पुलिया निर्माण हेतु प्रस्ताव देकर मांग की थी। जिस पर प्रदेश के पीडब्ल्यूडी मंत्री ताम्रध्वज साहू ने अपनी मुहर लगाते हुए घुटरा से गरुडड़ोल मार्ग पर सडक़ पुल व पुलिया निर्माण हेतु 9 करोड़ 74 लाख 78 हजार रुपए की राशि स्वीकृत कर निर्माण कार्य को मंजूरी दी है। 

विधायक गुलाब कमरो के प्रयास से बहुप्रतीक्षित मांग घुटरा से गरुडोल मार्ग पर सडक़, पुल व पुलिया निर्माण कार्य हेतु 9 करोड़ 74 लाख 78 हजार रुपये की प्रशासकीय स्वीकृति मिली है। श्री कमरो व क्षेत्रवासियों ने करोड़ों की सौगात देने पर प्रदेश के पीडब्ल्यूडी मंत्री ताम्रध्वज साहू के प्रति आभार व्यक्त किया है।
 


23-Oct-2020 8:02 PM 22

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बैकुंठपुर, 23 अक्टूबर। आज सुबह जंगल गई महिला पर भालू ने हमला कर दिया। महिला अपनी संासें रोककर 15-20 मिनट पड़ी रही, जिसके बाद भालू काफी देर महिला के आसपास घूमता रहा और उसे मरा समझकर जंगल चला गया। घायल महिला को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

जानकारी के अनुसार घटना शुक्रवार की सुबह की है, जब बैकुंठपुर परिक्षेत्र स्थित बिशुनपुर जूनापारा निवासी फूलकुंवर (40) जंगल गई थी कि अचानक एक भालू ने उस पर हमला कर दिया, जिसके बाद वो जमीन पर गिर गई, गिरते ही उसने सूझबूझ दिखाई और अचेत हो गई, जिसके बाद भालू उसके चारों ओर घूम-घूमकर मुआयना करता रहा, और महिला को मृत समझकर जंगल की ओर चला गया। जिसके बाद वो उठकर सरपंच के घर पहुंची और अपनी आपबीती बताई, जिसके बाद उसे जिला अस्पताल लेकर आए। बताया गया कि जिला अस्पताल के कर्मचारियों ने उसे दवा देकर वन विभाग रवाना कर दिया।

बिना इलाज भेज दिया वन विभाग

बताया गया कि आज घायल अवस्था में पहुंची महिला को जिला अस्पताल में पदस्थ ड्रेसर ने बिना मरहम पट्टी किए महिला और उसके परिजनों को वन विभाग भेज दिया। जिसके बाद परिक्षेत्राधिकारी के निर्देश पर वनरक्षक छत्रपाल राजवाड़े पीडि़त महिला को लेकर जिला अस्पताल पहुंचे, जहां उसे कई टांके लगाए गए और उसे भर्ती किया, उसे वन विभाग ने सहायता राशि भी प्रदान की।


23-Oct-2020 6:33 PM 21

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 23 अक्टूबर।
कोरिया जिले के जिला चिकित्सालय बैकुंठपुर में गत दिवस अस्थि रोग विशेषज्ञ डॉ. गौतम पैकरा व उनकी टीम ने एक ग्रामीण के कूल्हे के जोड़ का सफल प्रत्यारोपण किया। जिस पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी व विभाग के अधिकारी कर्मचारियों ने डॉ. पैकरा व उनकी टीम का बधाई एवं शुभकामनाएं दी। 

उल्लेखनीय है कि इससे पहले कोरिया जिले में ऐसा कोई ऑपरेशन अब तक नहीं हुआ था जब जिले में इससे बेहतर साधन सुविधा एसईसीएल के चिकित्सलयों में उपलब्ध है। सीमित संसाधन के बावजूद डॉ. पैकरा ने वह कर दिखाया जो अब तक जिले में नही हेा पाया था। ऐसे मामले में राजधानी रायपुर में ही सुविधा उपलब्ध होती है। 

जानकारी के अनुसार कोरिया जिले के खडग़वां जनपद क्षेत्र के ग्राम बडक़ानार निवासी लाला राम उम्र  55 वर्ष कूल्हे की बीमारी से बीते कई सालों से परेशान रहता था। जिले में चिकित्सकों से अपनी बीमारी को दिखाने पर चिकित्सकों द्वारा उन्हें बाहर बड़े शहर में जाकर कूल्हे का प्रत्यारोपण कराने की सलाह दी थी लेकिन लालाराम आर्थिक रूप से इतना मजबूत नहीं था कि अपनी बीमारी का बड़े शहरों में जाकर बडी राशि खर्च कर कूल्हे का प्रत्यारोपण करा सके। अतत: लालराम ने जिला चिकित्सालय में पदस्थ अस्थि रोग विशेषज्ञ डॉ. गौतम पैकरा से संपर्क किया। तब डॉ. गौतम पैकरा ने इसे चुनौती के रूप में स्वीकार किया और काफी सोच विचार कर जिला चिकित्सालय में ही कूल्हे का प्रत्यारोपण करने का फैसला लिया। 

गत गुरूवार को लालाराम के बिप्लोर हिमियाथ्रोप्लास्टी का कुल्हे के जोड़ का प्रत्यारोण करने में अपनी टीम के साथ जुट गये और कई घंटों के अथक परिश्रम आखिर रंग लाई जब डॉ. पैकरा तथा उनकी टीम ने लालाराम के कुल्हे के जोड का सफल प्रत्यारोपण करने में सफल रहे इसके साथ ही कोरिया में ऐसा करने वाले वे प्रथम चिकित्सक हैं।

इस संबंध में जिला चिकित्सालय में पदस्थ अस्थि रोग विशेषज्ञ डॉ. गौतम पैकरा ने बताया कि लालाराम के कूल्हे का प्रत्यारोपण करना किसी चुनौती से कम नहीं था लेकिन इस कार्य में जोखिम नहीं लेता तो गरीब परिवार का व्यक्ति आर्थिक चुनौतियों के चलते पीडि़त ही रहता। जिसे देखते हुए मैंने फैसला किया कि कूल्हे का प्रत्यारोपण यही किया जाये और सफल रहा। 

उल्लेखनीय है कि कुछ वर्षों पूर्व ही डॉ. गौतम पैकरा विभागीय तौर पर अस्थि रोग विशेषज्ञ की डिग्री हासिल की और जिला चिकित्सालय में ही लगातार सेवा दे रहे हंै। उनके इस कठिन सर्जरी के बाद अब कई और अस्थि रोग से पीडि़त लोगों की जिला चिकित्सालय से उम्मीद जग गयी है।
 


Previous12345678Next