छत्तीसगढ़ » कांकेर

Previous123Next
22-Jul-2021 9:04 PM (50)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

 कांकेर, 22 जुलाई। डेढ़ महीने पहले हुए एक अंधे कत्ल को सुलझाने में पुलिस को सफलता मिली। मृतक के मोटरसायकल और मोबाइल नंबर के आधार पर कन्हार गांव रेल्वे स्टेशन के पास हुए कन्हैया लाल गावड़े के हत्यारे तक पहुंचने में पुलिस को कामयाबी मिली। बीड़ी नहीं लाने की बात पर पास में पड़े पत्थर से कन्हैया के सिर पर वार कर हत्या करना कबूला।

पुलिस के अनुसार 3 जून को प्रार्थिया सम्पतिन गावड़े ने थाना भानुप्रतापपुर में रेल्वे स्टेशन ग्राम कन्हारगांव के पास झोपड़ी में कन्हैया गावड़े की सड़ी-गली लाश मिलने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। रिपोर्ट पर पुलिस ने  मर्ग पंजीबद्ध कर पंचनामा की गई थी। गत 17 जुलाई को शलभ कुमार सिन्हा पुलिस अधीक्षक कांकेर के निर्देश पर पुन: गोरखनाथ बघेल अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, मोतीराम पटेल निरीक्षक थाना प्रभारी भानुप्रतापपुर द्वारा सीन रिक्रऐट किये जाने पर घटना स्थल रेल्वे स्टेशन भानुप्रतापपुर के सामने बने झोपड़ीनुमा घर का दरवाजा का अवलोकन किया गया।

पुन: जांच से पाया गया कि अंदर की तरफ  से दरवाजे की संकली मय ताले को लगाना संभव था। घटना स्थल से मृतक के मोबाईल एवं नई टीवीएस लूना का न पाये जाने पर मोटरसायकल आरएमई-1 एवं मृतक के पूर्व के शिकायत पत्रों पर दिये गये मोबाईल नम्बरों का सीडीआर लेने पर मृतक का मोबाईल लोकेशन भिलाई में पाये जाने से  मोबाईल धारक का पता मिला।

इस आधार पर तेरसू सोनकर एवं श्रवण सोनकर को पकडक़र पूछताछ करने पर उसका दोस्त सुरेन्द्र कुमार गौर ने इसका उपयोग करना बताया। उसके पास एक नई टीवीएस लूना होना भी बताया। जिस पर सुरेन्द्र गौर को पकडक़र पूछताछ करने से कन्हैया गावड़े के पास इसका मामा कृपाराम रेल्वे स्टेशन पर समय पूर्व पहुंचने से ट्रेन समय तक उसके पास रूकने की बात कही। कन्हैया गावड़े को वह मजदूरी पर घर का काम करने दो-तीन दिन रोका। उसके साथ में रहकर काम करना व दारू पीना बताया ।

घटना दिनांक को बीड़ी नहीं लाने की बात पर पास में पड़े पत्थर से कन्हैया गावड़े के सिर पर वार कर हत्या कर दरवाजे को सांकल और ताला लगा दिया। उसके बाद कन्हैया गावड़े की बाहर खड़ी लूना को लेकर भागने की बात कबूल किया। मर्ग जांच पर कन्हैया गावड़े की हत्या होना पाये जाने पर आरोपी सुरेन्द्र गौर (30) खुण्डिया बांध थाना जिला मुंगेली को गिरफ्तार कर लिया गया है।  


22-Jul-2021 8:47 PM (19)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कांकेर, 22 जुलाई। पैराडाइज स्कूल द्वारा ऑनलाइन टेस्ट प्रारंभ कर दिया गया है, जिसमें बच्चे सभी विषयों का टेस्ट ऑनलाइन माध्यम से प्रश्न पत्र का लिंक प्राप्त करके एवं प्रश्नों को ऑनलाइन माध्यम से हल करके अपने विषय शिक्षक को मोबाइल व अन्य माध्यम से सम्मिट कर रहे हैं। बच्चों को विषय का  समुचित अभ्यास कराने हेतु उन्हें ऑनलाइन असाइनमेंट लिया जाता है। इसके साथ ही कापी कम्पलीटिंग एवं सब्जेक्ट क्रियेटीविटी एवं माडल के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है।

कोरोना महामारी एवं लॉकडाउन में स्कूल बंद के दौरान पैराडाइज हायर सेकेण्ड्री स्कूल अपनी ऑनलाइन अध्ययन अध्यापन को जारी रखते हुए ऑनलाइन शिक्षा के क्षेत्र में तकनिक एवं नवाचार का प्रयोग करके इस क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य किया है। स्कूल बंद की स्थिति में भी पैराडाइज स्कूल विगत सत्र एवं इस सत्र में निरंतर नियत समय सारणी से कक्षा नर्सरी से लेकर कक्षा बारहवीं के साइंस, मैथ्स एवं कामर्स का आदर्श ऑनलाइन कक्षा का संचालन कर रहा है। कुछ यूनिट की समाप्ति पर स्कूल द्वारा ऑनलाइन टेस्ट लेकर बच्चों में अध्ययन अध्यापन की प्रति रूचि एवं लगाव को और अधिक बढ़ाने का प्रयास कर रहा है।

विगत सप्ताह के प्रारंभ से कक्षा नर्सरी से लेकर बारहवीं तक के लगभग सभी विद्यार्थी रूचि पूर्ण ढंग से ऑनलाइन यूनिट टेस्ट में भाग ले रहे है। पैराडाइज के छात्र-छात्राएं शिक्षा के विभिन्न ऑनलाइन तकनीक से अपने आप को विश्व स्तरीय शिक्षा से जोड़ पा रहे हैं।

ऑनलाइन के इस नवीनतम तकनीक द्वारा अध्ययन अध्यापन को निर्बाध जारी रखते हुये पैराडाइज स्कूल शिक्षा के क्षेत्र में विशिष्ट कार्य कर रहा है। जिसका श्रेय पैराडाइज कीे प्राचार्य रश्मि रजक, मैनेजर योगेश रजक एवं सभी शिक्षकों को दिया जा सकता है।


21-Jul-2021 9:07 PM (30)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कांकेर, 21 जुलाई। स्थानीय पुराना बस स्टैंड के पास दो तीन बच्चे सांप दिखाकर भिक्षावृत्ति कर रहे थे। लोगों का मनोरंजन कर वे पैसे मांगते रहे। काफी देर तक सांपों का तमाशा लोग देखते रहे। इस दरम्यान किसी ने बाल संरक्षण अधिकारी को यह सूचना दी। उसके बाद यह तमाशा रूक गया।

चाइल्ड लाईन कांकेर को जिला बाल संरक्षण अधिकारी टिना लारिया ने इसकी सूचना दी। चाइल्डलाईन समन्वयक अमित बघेल अपनी टीम के साथ पुराना बस स्टैण्ड पहुचे, वहाँ दुकानों में बच्चे सांप दिखाकर पैसा मांग रहे थे। टीम के द्वारा बच्चों को रेस्क्यू कर बाल कल्याण समिति के समक्ष प्रस्तुत किया गया।

बच्चों ने बताया कि वे अपनी दादी के साथ ग्राम चारभाटा ठाकुर पारा से भिक्षावृत्ति करने कांकेर आये है। टीम के द्वारा उनकी दादी को भी बाल कल्याण समिति में प्रस्तुत किया गया।  उनकी दादी को समझाइश दिया गया कि बच्चों को दुबारा भिक्षावृत्ति करने ना भेजें। उन बच्चों को स्कूल भेजने कहा गया। रेस्क्यू जिला बाल संरक्षण अधिकारी के मार्गदर्शन में किया गया। 


21-Jul-2021 9:03 PM (19)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कांकेर, 21 जुलाई। लोकसभा मानसून सत्र के दौरान कांकेर सांसद मोहन मण्डावी ने 20 जुलाई को अविलंबनीय लोकसभा के विषय का उल्लेख करने की अनुमति प्राप्त कर लोकसभा में छ.ग. के राज्य सरकार के कोरोनाकाल में राज्य में वनोपज का संग्रहणकर्ताओं को उचित मूल्य दिलाने के दावा को पूर्णत: झूठा बताया है।

मंडावी ने बताया कि कोरोनाकाल में हाटबाजार पूरी तरह से बंद था। इसका फायदा छ.ग. की सरकार ने पूरे योजनाबद्ध तरीके से कुछ व्यापारियों तक पहुँचाया है । छ.ग. राज्य महुआ फुल, इमली, चिरौंजी, गोंद, लाख, व अन्य वनोपज का एशिया में बड़ा उत्पादक राज्य है। इस वनोपज का लाभ पहुँचाने के नियत से कम दामों में खरीदी कर छ.ग. के वनोपज संग्रहणकर्ताओं भोले-भाले आदिवासियों के साथ धोखाधड़ी किया है।

सांसद मोहन मण्डावी ने सदन को अवगत कराया कि वनोनज संग्रह और उसके व्यापार पर देश में सरकारी आँकड़ों के अनुसार करीब एक हजार करोड़ रू. का प्रतिवर्ष आमदानी होती है।

वनोपज संग्रहकर अपनी जीवकोपार्जन करने वाले आदिवासियों को कोरोना के इस संकट काल में छ.ग. प्रदेश की सरकार ने अधिक दोहन किया है । उनके हक का हनन किया है।

  सांसद मोहन मण्डावी ने सदन के माध्यम से कहा कि पुन: वनोपज संग्रहणकर्ता आने वाले वर्षों में भी लुटे न जाए, इस लिहाज से छ.ग. में वनोपज की उचित व निर्धारित मूल्य का लाभ संग्रहकों को प्राप्त हो सके, तथा उन्हें हक दिया जा सके।


21-Jul-2021 8:58 PM (27)

कांकेर, 21 जुलाई। वैश्विक महामारी नोवेल कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण से बचाव एवं कोरोना संक्रमितों के उपचार के लिए पीरामल स्वास्थ्य एवं मैनेजमेंट रिसर्च इंस्टीट्यूट के द्वारा 10 ऑक्सीजन कन्सट्रेटर जिला प्रशासन को प्रदान किया गया है। उक्त ऑक्सीजन कन्सट्रेटर को कलेक्टर  चन्दन कुमार को सौंपा गया।


19-Jul-2021 9:33 PM (30)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कांकेर, 19 जुलाई। कांकेर के ऐतिहासिक गढिय़ा पहाड़ को सौंदर्यीकरण के नाम पर आधिपत्य करने की नगरपालिका की मांग को खारिज करने सैकड़ों ग्रामीण सडक़ पर उतर आए।

शनिवार को कलेक्टर को दिए ज्ञापन में ग्रामीणों ने कहा है कि सौंदर्यीकरण के नाम पर रियासतकालीन खजाने को हथियाने की साजिश की जा रही है। पहाड़ का आधिपत्य करने की पालिका की मांग को खारिज नहीं की जाती है तो ग्रामीणों ने उग्र आंदोलन करने की चेतावनी दी है।

ग्रामीणों का कहना है कि गढ़ पिछवाड़ी के पहाड़ों में देवी देवताओं का वास है। यहां रियासत काल का खजाना छुपा हुआ है। जिसे खुदाई कर हथियाने की साजिश की जा रही है, जिसे वे कदापि पूरा नहीं होने देंगे। सौंदर्यीकरण के नाम से गढिय़ा पहाड़ को आधिपत्य में लेने की पालिका की साजिश को नाकाम करने सैकड़ों ग्रामीण लामबंद हो रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि गढिय़ा पहाड़ एक ऐतिहासिक धरोहर है। पहाड़ एक पर्यटन स्थल के रूप में विकसित होता जा रहा है। पहाड़ के उपर अद्भुत सोनई-रुपई तालाब है। गढिय़ा देवता का मंदिर है। बाद में वहां योगमाया कांकेश्वरी देवी की भी स्थापना की गई है। इसके अलावा सिंहद्वार, टुरी हटरी आदि दर्शनीय स्थल है। इसे नगरपालिका स्वामित्व प्रदान करने प्रशासन से मांग की है। जब यह बात ग्रामीणों तक पहुंची तो वे सकते में आ गए, वे इसका विरोध करने लामबंद होकर गांव में बैठकें की। इसके बाद वे सांस्कृतिक धरोहरों की रक्षा करने, ऐतिहासिक तालाबों के जल स्तर गिरने से बचाने, धार्मिक व आस्था केंद्रों की रक्षा करने आदि 10 कंडिकाओं मेेें मांग प्रस्तुत किया है। साथ ही उन्होंने गढिय़ा पहाड़ पर आधिपत्य जमाने पालिका की मांग को खारिज नहीं करने पर आंदोलन की भी चेतावनी दी है। 


18-Jul-2021 9:16 PM (37)

कांकेर, 18 जुलाई। कांकेर, नरहरपुर और गोविंदपुर माइक्रो कंटेमेंट जोन घोषित कर दिया गया  है। जिससे लोगों में दहशत का माहौल है। इधर कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां उड़ाई जा रही है। नियमों का पालन करने कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई जा रही है। परिणाम स्वरूप जिले में कोरोना का सफाया होने में  देर होता जा रहा है।

नगर के शीतलापारा वार्ड में एक व्यक्ति एवं नगर पंचायत नरहरपुर के वार्ड क्रमांक 04 में दो व्यक्तियों और ग्राम गोविंदपुर में दो व्यक्तियों के कोरोना से संक्रमित पाये जाने के कारण उनके घरों को (पृथक-पृथक) चिन्हित करते हुए 100 मीटर की परिधि को माइक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है।

माइक्रो कन्टेनमेंट जोन में प्रवेष, निकास हेतु केवल एक द्वार होगा, जिसमें तैनात  पुलिस अधिकारी, फिजिकल डिस्टेंसिंग सुनिश्चित करते हुए मेडिकल इमरजेंसी, आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति हेतु आवागमन करने वाले सभी व्यक्तियों का विवरण एक रजिस्टर में दर्ज करेंगे।

माइक्रो कन्टेमेंट जोन अंतर्गत सभी दुकानें एवं अन्य वाणिज्यिक प्रतिश्ठान आगामी आदेशपर्यन्त बंद रहेंगे। प्रभारी अधिकारी द्वारा घर पहुंच सेवा के माध्यम से आवष्यक वस्तुओं की आपूर्ति उचित दरों पर सुनिष्चित की जावेगी। आवष्यक वस्तुओं की होम डिलिवरी हेतु विधिवत परिवहन अनुमति इंसीडेंट कमांडर द्वारा दी जावेगी। माइक्रो कन्टेमेंट जोन में सभी प्रकार के आवागमन पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। मेेडिकल इमरजेंसी एवं कृशि कार्य को छोडक़र अन्य किसी भी कारण से माइक्रो कन्टेमेंट जोन, मकान के बाहर निकलना प्रतिबंध रहेगा। केवल मेडिकल इमरजेंसी की दषा में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कांकेर खण्ड चिकित्सा अधिकारी के परामर्ष, अनुमति से इंसीडेंट कमांडर द्वारा पास जारी किया जावेगा।  आवष्यक वस्तुओं की आपूर्ति में संलग्न व्यक्ति फिजिकल डिस्टेंसिंग तथा सेनेटाईजेषन सुनिष्चित करते हुए माइक्रो कन्टेमेंट जोन में प्रवेष कर सकेंगे। अन्य किसी भी व्यक्ति को माइक्रो कन्टेमेंट जोन के नियमों का कड़ाई से पालन कराने का उत्तरदायित्व संबंधित थाना प्रभारी को होगा। स्वास्थ्य विभाग के मानकों के अनुरूप व्यवस्था हेतु पुलिस पेट्रोलिंग सुनिष्चित की जावेगी। स्वास्थ्य विभाग के निर्देषानुसार मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा संबंधित क्षेत्र में आवष्यक सर्विलांस, कांटेक्ट टेऊसिंग एवं सेम्पल जांच आदि की कार्यवाही की जावेगी।


17-Jul-2021 8:56 PM (38)

    भूपेश सरकार किसानों से निरंतर कर रही छल- मोहन मंडावी   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कांकेर, 17 जुलाई। किसानों की समस्या को लेकर भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा ने धरना प्रदर्शन किया ।

सभा को संबोधित करते हुए सांसद मोहन मण्डावी ने कहा कि पूर्ववर्ती भाजपा सरकार के कार्यकाल में खाद की कभी भी कमी नहीं हुई।  इधर राज्य में आये कांग्रेस सरकार को ढाई वर्ष ही हुए हंै और पूरे प्रदेश में खाद को लेकर हाहाकार मचा हुआ है। किसानों की हितों की बात करने वाली यह भूपेश सरकार किसानों से निरंतर छल कपट कर रही है। बोनस का पैसा भी किश्तों में देकर किसानों के साथ अन्याय कर रही है। 

जिला भाजपा अध्यक्ष सतीष लाटिया ने कहा कि अपने हर वादे की तरह किसान और उर्वरक मामले में भूपेश सरकार लगातार झूठ फरेब की राजनीति कर रही है। खाद की उपलब्धता को लेकर सरकार झूठ पर झूठ बोल कर किसानों को गुमराह कर रही है। चंदन साहू ने बताया कि केन्द्र सरकार खाद की शत-प्रतिशत आपूर्ति कर रही है, जबकि प्रदेश में यदि कहीं खाद की कमी हो रही है तो उसके लिए भूपेश सरकार की गलतबयानी वाली राजनीति जिम्मेदार है।

किसान मोर्चा जिलाध्यक्ष विजय मण्डावी ने कहा कि केवल सरकार की गलत वितरण नीति, भ्रष्टाचार, जमाखोरी के कारण अनेक क्षेत्रों में यह समस्या है। कांग्रेस सरकार जानबूझकर खाद की कृत्रिम अभाव पैदा कर रही है, ताकि इसका ठीकरा केन्द्र सरकार पर फोड़ते हुए हमेशा की तरह इस पर सस्ती और झूठी राजनीति की जाये।

 किसान मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष आलोक ठाकुर पूर्व विधायक सुमित्रा मारकोले , पूर्व विधायक ब्रम्हानंद नेताम, पूर्व विधायक भोजराज नाग भाजपा के वरिष्ठ नेता महावीर सिंह राठौर सभा को जिला महामंत्री बृजेश चौहान, महिला मोर्चा प्रदेशाध्यक्ष शालिनी राजपूत व अन्य वक्ताओं ने भी संबोधित किया ।

भारतीय जनता पार्टी ने सभा में पुन: यह बात दुहराई कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार इस गंभीर और संवेदनशील विषय पर भी लगातार झूठ पर झूठ बोलते हुए निम्नस्तरीय राजनीति करने के लिए प्रदेश की जनता और केन्द्र की भाजपा नित सरकार से भी माफी मांगे । कांग्रेस यह भी बताये कि किस विवशतावश वह समितियों के बदले जमाखोरों, बिचौलियों को अनेक गुना अधिक आपूर्ति कर रही है, जबकि समितियों में खाद का कृत्रिम अभाव पैदा कर रही है। उर्वरकों की मांग और आपूर्ति संबंधी तमाम विषयों पर भपूेश सरकार श्वेत पत्र जारी करे।

 सभा का संचालन किसान मोर्चा के जिला महामंत्री चन्द्रप्रकाश ठाकुर  व आभार प्रदर्शन राजेन्द्र गौर ने किया । इस अवसर पर राजीव लोचन सिंह, देवेन्द्र भाउ, रूपेश्वर ठाकुर, राजा पाण्डेय, भूपेन्द्र राजपूत, आकाश सोनी, विद्यासागर ध्रुव, अंजू नेगी, सहित अन्य कार्यकर्ता उपस्थित रहे।


16-Jul-2021 6:29 PM (24)

कांकेर, 16 जुलाई। कांग्रेस नेता व व्यवसायी  हरनेक सिंह औजाला को छत्तीसगढ़़ चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज के कांकेर जिले के अध्यक्ष बनाया गया। पूर्व में भी वे चेंबर के विभिन्न पदों में अपनी जिम्मेदारी निभा चुके हैं। 

छत्तीसगढ़़ चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज के प्रदेश अध्यक्ष अमर परवानी ने बताया कि चेंबर के कार्य में सहयोग व चेंबर को गतिशील बनाने पदाधिकारियों का विस्तार किया गया है। जिसमें प्रदेश उपाध्यक्ष महिपाल मेहरा, मुकेश खटवानी ,संरक्षक नारायण केवलरमानी, अनंत गोपाल कोठारी, जिला इकाई अध्यक्ष हरनेक सिंह औजाला, उपाध्यक्ष विजय खटवानी, मोहम्मद शरीफ, शैलेंद्र सिंह, महामंत्री प्रदीप जायसवाल, कोषाध्यक्ष जावेद खान, मंत्री राजकुमार, लक्ष्मी सुनील पटेल, रियाद षेखानी और राजकुमार चोपड़ा है। कार्यकारिणी सदस्य कन्हैया बुधवानी ,राजकुमार पंजाबी, अनीश मेमन, मनोज कुमार, गब्बर शेख बिलाल, रविंद्र सॉरी, गिरीश अज्ञानी, किशोर चोपड़ा, सुमित बजाज, निशांत पार्वती, नीरज बुधवानी, रवि लालवानी, मोहम्मद अशरफ, मोहम्मद हनीफ आदि हैं।
 


16-Jul-2021 6:10 PM (25)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
कांकेर, 16 जुलाई।
छत्तीसगढ़ प्रदेश के सर्व महार महरा समाज के प्रतिनिधि मण्डल ने कल लोकसभा सांसद मोहन मण्डावी से उनके निवास में मिलकर महार समाज के कुछ वर्गों के उपजाति में मात्रात्मक त्रुटि के कारण अनुसूचित जाति के संवैधानिक लाभ से वंचित होंने की जानकारी देकर उसमें सुधार करवाने की मंाग की । 

प्रतिनिधि मण्डल ने सांसद  मण्डावी को बताया कि छग राज्य बनने के बाद छग सरकार द्वारा 2001, 2008, 2010 और 2016 में  महरा, माहरा जाति को अनुसूचित जाति में शामिल करने का प्रस्ताव केंद्र सरकार को प्रेषित किया गया था। जिसे भारत सरकार के महारजिस्ट्रार द्वारा इस संबंध में पर्याप्त संदर्भ साहित्य  रिपोर्ट न होने की बात कहते हुए प्रस्ताव खारिज कर दिया गया ।  2017 में पुन: तत्कालीन भाजपा सरकार ने महरा, माहरा जाति को महार जाति का मात्रात्मक त्रुटि मानते हुए एक सर्कुलर जारी कर उक्त उपजाति के लोगो को अनुसूचित जाति का प्रमाण पत्र जारी किया गया था । जिसे एक पक्षकार द्वारा न्यायालय में चुनौती दी गई है। वर्तमान में महरा, माहरा उपजाति के लोगो का अनुसूचित जाति का प्रमाण पत्र नही बन रहा है । 

समाज के प्रतिनिधिमण्डल सांसद मण्डावी से इस मात्रात्मक त्रुटि को सुधार करने हेतु भारत सरकार के सामाजिक न्याय व अधिकारिता मंत्री से चर्चा कर छग में निवासरत महरा, माहरा जाति को महार, मेहर, मेहरा के समकक्ष सरल क्रमांक 33 में शामिल कर अनुसूचित जाति का संवैधानिक लाभ दिलवाने की मांग की है ।  प्रतिनिधिमण्डल में समाज के बी आर नायक, बीरबल गढ़पाले, विश्वेशर मेश्राम, दिनेश नागदौने, श्रीराम शैलेंद्र, अशोक ऊके, मिथलेश मेश्राम, राधेश्याम गनवीरे, जीवन कोवेंद्र, पिंटू आरदे, गेंद सिंग सहारे, नोहर सिंह , भीखम आरदे, सालिक राम रामपुरिया, चन्द्र कुमार कौशल, एम आर सोरदे व अन्य शामिल रहे ।
 


16-Jul-2021 6:08 PM (34)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
कांकेर, 16 जुलाई।
स्थानीय डंडिय़ा तालाब के समीप बने आवासीय मकानों पर नगरपालिका की बुलडोजर चलाने की कोशिश को मुहल्लेवासियों ने नाकाम कर दिया। भरे बरसात में नगरपालिका की इस कार्रवाई की सर्वत्र निंदा हो रही है। इसी तरह मंदिर को भी हटाने की कार्रवाई हिंदूसंगठन के विरोध के कारण असफल हुई।

जवाहर वार्ड में  डंडिय़ा तालाब के समीप दिनेष नाग, सुरूज नाग,मनेष नाग और लक्ष्मीबाई फुटान का मकान  बना हुआ था। जिसे नगरपालिका ने तालाब मेड़ पर अतिक्रमण बताकर तोडऩे की कार्रवाई करने पूरी टीम के साथ स्थल के पास पहुंच गई थी। तोड़ू दस्ता को देख कर मुहल्ले के पार्र्षद जयंत अटभैया सहित वार्डवासियों ने जमकर विरोध किया। इस विरोध के कारण नगरपालिका की पूरी टीम को बैरंग वापस होना पड़ा। 

इसी तरह डंडिया तालाब पर स्थित षिवजी की मंदिर को भी सडक़ चौड़ीकरण के नाम पर और कालीमाता की छोटी मंदिर को भी तोडऩे तोड़ू दस्ता पहुंचा था । तोडऩे की कार्रवाई के पहले ही विश्व हिंदू परिशद और बजरंग दल  के कार्यकर्ताओं ने वहां पहुंच कर इसका जमकर विरोध किया। जिससे यहां भी नगरपालिका की टीम को मुंह की खानी पड़ी।  
 


16-Jul-2021 6:03 PM (29)

कांकेर, 16 जुलाई। अवैध षराब की विक्री के लिए ले जाते गुरवार को एक व्यक्ति को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। 
कोरर थानांतर्गत धनेलीकन्हार  निवासी राजकुमार मंडावी कल दोपहर  लगभग 1 बजे  धनेली कन्हार से कोदागांव की ओर एक थैले में षराब की बोतलें रख कर बेचने ले जा रहा था । मुखबिर की सूचना पर कोरर पुलिस ने मार्ग पर उसे पकड़ लिया। थैले में रखे 18 नग गोवा कीमत 130 रूपए की दर से 2340 रूपए का शराब मिला। पुलिस ने आरोपी राजकुमार को आबकारी एक्ट की धारा 34 -1 के तहत गिरफ्तार कर मुचलके पर छोड़ दिया।  

 


15-Jul-2021 9:22 PM (48)

   कांग्रेस ने महंगाई के विरोध में निकाली बैलगाड़ी व साइकिल रैली   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कांकेर, 15 जुलाई। पेट्रोल-डीजल के दामों में लगातार की जा रही  वृद्धि के विरोध में छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस के आह्वान पर जिला कांग्रेस कमेटी द्वारा कांकेर में बैलगाड़ी व सायकल रैली निकाल कर केंद्र सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया गया।

पेट्रोलियम पदार्थों तथा अन्य आवश्यक वस्तुओं के दामों में लगातार वृद्धि और बढ़ते महंगाई पर नियंत्रण करने कोई स्पष्ट नीति नहीं बना पाने से केंद्र सरकार की विफलता को लेकर  जिला कांग्रेस कमेटी के द्वारा ग्राम गोविंदपुर से ज्ञानी ढाबा चौक कांकेर तक 5 कि.मी. सायकल रैली तथा बैलगाडिय़ों पर बैठ कर बढ़ते पेट्रोल, डीजल के दाम पर विरोध प्रदर्शन किया गया।

आयोजन की मुख्य अतिथि राज्य महिला आयोग अध्यक्ष डॉ. किरणमयी नायक ने कहा कि पेट्रोल-डीजल के दामों में हो रही बेतहाशा वृद्धि के चलते लगातार बढ़ रही है। महंगाई से आम आदमी त्रस्त हैं। हाहाकार मचा हुआ हैं, वहीं मोदी सरकार सो रही है। पेट्रोल-डीजल के दामों में प्रतिदिन हो रही बेतहाशा वृद्धि के कारण दैनिक जीवन की उपयोगी वस्तुओं की कीमत से जहां एक ओर महंगाई बढ़ रही हैं, वहीं आम आदमी परेशान हैं।  केंद्र की मोदी सरकार को आम जनता के हितों से कोई सरोकार नहीं है । जिसके कारण  लगातार पेट्रोल, डीजल तथा अन्य आवश्यक वस्तुओं के मूल्यों में लगातार वृद्धि पर वे मौन साधे हुए  है।

संसदीय सचिव शिशुपाल शोरी ने मोदी सरकार के विफलता को बताते हुए कहा कि भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2014 में जनता को धोखे में रखकर झूठे बड़े-बड़े वादे किए और सत्ता में आते ही चन्द उद्योगपतियों के लिए काम करने लगे, यही कारण है कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में क्रूड ऑयल की कीमतें न्यूनतम स्तर में होने के बाद भी देश मे सर्वोच्च स्तर पर पेट्रोल-डीजल-गैस बिक रहे हैं, जबकि पड़ोसी देशों में उनकी कीमत भारत की तुलना मे अत्यन्त कम है।

सायकल रैली के प्रभारी जि़ला पंचायत अध्यक्ष हेमंत ध्रुव, उपाध्यक्ष हेमनारायण गजबल्ला, पूर्व विधायक शंकर ध्रुवा, जिला कांग्रेस अध्यक्ष सुभद्रा सलाम, किसान कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष जनकनंदन कश्यप, नरेश ठाकुर, हरनेक सिंह, सुनील गोस्वामी, मनोज जैन, याशीन करानी, पुरुषोत्तम पाटिल, नरेंद्र यादव, हिरवेन्द्र साहू, मुकेश ठक्कर, मकबूल खान, सियो पोटाई, आरतीरवि श्रीवास्तव, नीरा साहू, सुमति नेताम, आशीष दत्ता रॉय, ठाकुर राम कश्यप, दुर्गेश ठाकुर, रोमनाथ जैन, किशोर मरकाम, सोपसिंह आँचला, अमिता उइके, नवली मीना मण्डावी, गोमती सलाम, सहित जिला कांग्रेस के पदाधिकारी, सभी ब्लाक कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारी कार्यकर्ता, निर्वाचित जन प्रतिनिधि, सदस्य, पार्षद गण, सेवादल, महिला कांग्रेस, युवा कांग्रेस, एनएसयूआई, कांग्रेस कार्यकर्ता शामिल हुए।


15-Jul-2021 9:20 PM (154)

   महिला आयोग में प्रकरण दर्ज होते ही 6 पर एफ आईआर    

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

 कांकेर, 15 जुलाई। राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष डॉ. किरणमयी नायक की उपस्थिति में बुधवार को  कलेक्ट्रोरेट के सभाकक्ष में 20 प्रकरणों की सुनवाई की गई। जिसमें 14 प्रकरणों का निराकरण किया गया तथा 6 प्रकरणों के पक्षकार अनुपस्थित पाये गये।

सुनवाई के दौरान दहेज प्रताडऩा के प्रकरण में आवेदिका उपस्थित व अनावेदक अनुपस्थित होने पर एसआई कांकेर को आयोग की ओर से प्रकरण को निराकृत करने की जिम्मेदारी दी गयी है। जिसमें आवेदिका के प्रकरण की तफ्तीश अपने सामने कराने निर्देशित किया गया है, साथ ही अनावेदक को सामने बुलाकर आवेदिका व बच्चे के भरण-पोषण के संबंध में अनावेदक से राशि स्वीकृति कराया जाए। पहले पत्नी को तलाक अनावेदक दूसरी शादी करने वाला है, जिससे शादी करना चाहते हैं, उसका भी बयान दर्ज कर 10 दिवस के भीतर आयोग के समक्ष रिपोर्ट प्रस्तुत करने निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा कि पहले पत्नी को तलाक दिए बिना दूसरी शादी करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

मारपीट से संबंधित प्रकरण में आवेदिका द्वारा अनावेदक के विरुद्ध थाना में जुर्म दर्ज हो गया है। इस प्रकरण को आयोग द्वारा नस्तीबद्ध कर दिया गया है। शारीरिक शोषण के प्रकरण में एस आई कांकेर द्वारा जानकारी दिया गया कि अनावेदक के विरुद्ध जुर्म दर्ज किया गया है। एक अन्य प्रकरण में अनावेदक ने स्वीकार किया कि आवेदिका से तलाक लिए बिना दूसरी शादी किया है, अनावेदक पत्नी से बातचीत कर आवेदिका व बच्चे के स्थाई भरण-पोषण की व्यवस्था कर विधिवत तलाक लेने के निर्देश आयोग द्वारा प्रकरण को महिला एवं बाल विकास विभाग को सुपुर्द किया और उनके भरण-पोषण के लिए एक मुश्त राशि जमा करने की कार्यवाही कर आयोग को अवगत कराने निर्देशित किया गया है।

 मानसिक प्रताडऩा के एक प्रकरण में आवेदिका की षिकायत पर अनावेदक जो उच्च श्रेणी लिपिक है उसने कहा कि पेंशन प्रकरण में 2008 से 2011 में विसंगतियां होने के कारण उचित कार्यवाही नहीं हो पाई है। एक सप्ताह में कार्यवाही होने की सम्भावना अनावेदक है। आयोग द्वारा कार्यालय संयुक्त संचालक एवं नगरीय प्रशासन कांकेर को कार्यवाही कर छत्तीसगढ़ राज्य महिला आयोग कार्यालय को सूचित करने निर्देशित किया गया है। आयोग की सुनवाई में अधिवक्ता शमीम रहमान, संरक्षण अधिकारी तुलसी मानिकपुरी, एसआई कांकेर सहित जनप्रतिनिधि एवं महिला बाल विकास विभाग के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।


11-Jul-2021 9:46 PM (64)

   शिक्षा, स्वास्थ्य की मांग को ले 50 गांवों के आदिवासियों ने निकाली रैली   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कांकेर, 11 जुलाई। जिले के अंतागढ़ विकासखंड के अंतर्गत ग्राम छोटे बेठिया में आसपास के लगभग 50 गांवों के दो हजार से अधिक की संख्या में ग्रामीणों ने शिक्षा, स्वास्थ्य जैसे मूलभूत सुविधाओं की मांग को लेकर रैली निकाली और धरना-प्रदर्शन किया। इसके बाद उन्होंने मुख्यमंत्री के नाम तहसीलदार को एक ज्ञापन सौंपा।

शनिवार को ग्राम छोटेबेठिया में आसपास के लगभग 50 गांवों के दो हजार से अधिक की संख्या में ग्रामीण बैनर, तख्तियां लेकर इक_ा हुए व मूलभूत समस्याओं की मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि ग्रामीण क्षेत्रों में मोबाइल का टावर नहीं रहता है, जिससे ऑनलाइन पढ़ाई असफ ल है।

अत: स्कूलों को खोलकर नियमित रूप से पढ़ाई की जाए। प्रदर्शन करने वालों में युवाओं और महिलाओं की संख्या अधिक थी।

पढ़ाई के साथ विकास कार्य नहीं खोले जाने का भी आरोप सरकार के खिलाफ  ग्रामीणों ने लगाया। आदिवासियों ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार और भारतीय जनता पार्टी दोनों ही के खिलाफ आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा कि उन्हेें केवल चुनाव के ही समय याद किया जाता है। प्रदर्शनकारियों ने बताया कि पड़ोसी जिले नारायणपुर के ओरछा ब्लॉक के कई गांवों में पेयजल, बिजली, स्कूल, आंगनबाड़ी व  स्वास्थ्य जैसी मूलभूत सुविधाएं नहीं है। उन्हें झिरिया का गंदा पानी पड़ता है। उन्होंने सरकार पर आरोप लगाया कि आजादी के बाद से अब तक उन्हें अपने कब्जे की जमीन का पट्टा नहीं दिया गया है।  इस तरह बुनियादी सुविधाओं की मांग को लेकर ग्रामीणों ने रैली निकाली। रैली के बाद उन्होंने मुख्यमंत्री के नाम तहसीलदार को एक ज्ञापन सौंपा।


11-Jul-2021 9:42 PM (62)

कोरोना के चलतेरथ गुंडिचा मंदिर तक नहीं जाएगी

मंदिर से कुछ दूर तक ही रथ भ्रमण कर वापस

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कांकेर,  11 जुलाई। जगन्नाथ भगवान इस साल भी अपनी मौसी के घर नहीं जाएंगे। कोरोना के कारण अधिक भीड़ से बचने रथ गुंडिचा मंदिर तक नहीं जाएगी। अस्वस्थ हो चुके भगवान को आज काढ़ा पिलाया गया। स्वस्थ होने के बाद सोमवार को वे अपने भक्तों को देखने रथ से निकलेंगे। रथयात्रा के एक दिन पूर्व रविवार को भगवान जगन्नाथ मंदिर में भगवान की पूजा-अर्चना की गई। जिसमें श्रद्धालुजनों ने मंदिर पहुंच कर भगवान को फ ल- फू ल का भोग लगाया।

 रविवार को कांकेर के राजापारा स्थित जगन्नाथ मंदिर में भगवान जगन्नाथ, बलभद्र भगवान, सुभद्रा माता की पूजा-अर्चना की गई। हवन, आरती कर भगवान को भोग चढ़ाया गया। उसके बाद भगवान की अच्छे सेहत के लिए उन्हें काढ़ा पिलाया गया। उसके पश्चात उपस्थित जनों को प्रसाद वितरण करने के बाद काढ़ा पिलाया गया। माना जाता है कि विभिन्न जड़ी-बूटियों से बनाया गया यह काढ़ा अच्छे सेहत के लिए वरदायिनी साबित होती है। काढ़ा लेने लोगों में तांता लगा रहा।

भगवान जगन्नाथ सोमवार को रथ से शहर का भ्रमण कर भक्तों को आशीर्वाद प्रदान  करेंगे। भ्रमण के बाद भगवान अपने मौसी गुंडिचा के घर टिकरा पारा स्थित गुंडिचा मंदिर जाते थे, परंतु कोरोना के चलते अधिक भीड़ न हो, इसलिए इस वर्ष भी वे मंदिर से कुछ दूर तक ही भगवान का रथ भ्रमण कर वापस हो जाएगा।

पूजा अर्चना में मुख्य रूप से मंदिर के मुख्य पुजारी जगन्नाथ सिंह चौहान, श्रवण चौहान, माखन सिंह, जितेंद्र तिवारी सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।


11-Jul-2021 8:57 PM (54)

कांकेर, 11 जुलाई। एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालयों में कक्षा 06वीं में प्रवेश हेतु चयन परीक्षा का आयोजन जिले के संबंधित परीक्षा केन्द्रों में 15 जुलाई को प्रात: 10.30 से 12.30 बजे तक आयोजित किया जायेगा। आदिवासी विकास विभाग के उपायुक्त ने जानकारी दी है कि एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालयों में कक्षा 06वीं में प्रवेश के लिए 784 आवेदन प्राप्त हुये थे। परीक्षण उपरांत 730 विद्यार्थियों के आवेदन पात्र पाये गये है, जिनके लिए जिले में पांच परीक्षा केन्द्र शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कांकेर, शासकीय प्रेक्टिसिंग कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कांकेर, शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय भानुप्रतापपुर, शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय संबलपुर विकासखण्ड भानुप्रतापपुर और एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय लामकन्हार अंतागढ़ को परीक्षा केन्द्र  बनाया गया है। पात्र विद्यार्थी संबंधित खण्ड शिक्षा अधिकारी कार्यालय से प्रवेश पत्र प्राप्त कर सकते हैं।


11-Jul-2021 6:18 PM (32)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता 
कांकेर, 11 जुलाई।
चाइल्ड लाईन कांकेर टीम के द्वारा शीतलापारा शा. हाईस्कूल में खुला मंच कार्यक्रम रखा गया, जिसके तहत टीम के द्वारा स्कूली बच्चों को चाइल्ड हेल्प लाईन 1098 टोल फ्री नम्बर के बारे में जानकारी दी गई। साथ ही बच्चों के चार प्रमुख अधिकारों के बारे में बताया गया व पॉक्सो एक्ट 2012 की जानकारी बच्चों को दी गई। वर्तमान स्थिति के तहत कोरोना कोविड-19 की भी जानकारी दी गई।

 इस जागरूकता कार्यक्रम में कोरोना से बचाव के उपाय हैंडवास, स्वच्छता, मास्क का उपयोग करने व सोशल डिस्टेन्स बनाये रखने के बारे में विस्तार से बताया गया। बाल अधिकारों में जीवन जीने का अधिकार, विकास का अधिकार, सहभागिता का अधिकार एवं सुरक्षा का अधिकार को विस्तार पूर्वक बताया गया, साथ ही बच्चों को सुरक्षित स्पर्श व असुरक्षित स्पर्श की जानकारी दी गई। चाइल्ड लाईन का संचालन जिले में सहभागी समाजसेवी संस्था के माध्यम से महिला व बाल विकास मंत्रालय भारत सरकार की परियोजना चाइल्ड लाईन 1098 को चलाया जा रहा है। बच्चों पर होने वाले शोषण व समस्याओं को दूर करने 1098 में कॉल करने कहा गया।

 जागरूकता कार्यक्रम में चाइल्ड लाईन टीम से सन्त साहू, भूपेन्द्र सिन्हा, महेश साहू, विनोद यादव, सीमा यदु, अंकिता साहू, दिपीका सिंहसार, निषा साहू व स्कूली स्टॉफ से रेनू पंत, किरण पाण्डे, अनिता साहू, लीला ध्रुव, शबाना खान, अनुप कोमरा, अंजना दुबे और सभी स्टॉफ उपस्थित रहे। यह कार्यक्रम चाइल्ड लाईन समन्वयक अमित बघेल के मार्गदर्षन में किया गया।

 


10-Jul-2021 9:07 PM (44)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कांकेर, 10 जुलाई। खाद और बीज की समस्या को लेकर पूर्व विधायक भोजराज नाग के नेतृत्व में अंतागढ़ ब्लॉक के बोंदानार के किसानों ने शुक्रवार को चक्काजाम किया। विरोध प्रदर्शन में बड़ी संख्या में किसान मौजूद रहे। खाद-बीज तुरंत उपलब्ध कराने की मांग को लेकर करीब 8 घंटे चक्काजाम रहा। जब 25 मीट्रिक टन खाद लाया गया, तब विरोध प्रदर्शन बंद हुआ।

खाद की समस्या किसानों के लिए बड़ी समस्या है। जिसके चलते किसानों ने अंतागढ़ -नारायणपुर मार्ग के बोंदानार ग्राम में चक्काजाम किया। जिसका नेतृत्व अंतागढ़ क्षेत्र के पूर्व विधायक भोजराज नाग कर रहे थे। इस मुुद्दे को लेकर भारतीय जनता पार्टी ने भी जोरदार विरोध प्रदर्शन करते हुए सरकार पर निशाना साधा।

अधिकारियों के मनाने के बावजूद किसान सडक़ से हटने तैयार नहीं हुए। किसानों ने खाद लिए बगैर वहां से जाने तैयार नहीं हुए। जब 25 टन खाद की व्यवस्था की गई, 8 घंटे बाद धरना प्रदर्शन बंद करने वे राजी हुए।

पूर्व विधायक भोजराज नाग ने कहा कि डीएपी खाद ओपन मार्केट में 1500 रुपए में मिल रही है, सरकारी रेट 12 सौ रुपए है, इसलिए नहीं दिया जा रहा है। श्री नाग ने कहा कि  किसान जब डीएपी मांगती है तो उन्हें पोटाश दिया जाता है और जब पोटास की जरूरत रहती तो उन्हें डीएपी दिया जाता है। इस तरह यह सरकार पूरी तरह नाकाम है। वह जनता को ठग रही है।


10-Jul-2021 9:05 PM (48)

कांकेर, 10 जुलाई। बीती रात 30 फीट गहरे कुएं में गिरी एक गाय को हौसला एक प्रयास संगठन के कार्यकर्ताओं के लगातार प्रयास से बाहर निकाल लिया गया।

आवारा मव्शियों को दुर्घटनाओं से बचाने जहां रोका-छेका अभियान चलाया जा रहा है इसके बावजूद कांकेर और आसपास में मवेशी नियंत्रण में नजर नहीं आ रहे हैं। गायों के सडक़ों पर दुर्घटनाएं होना आम बात हो गई है। बीती रात में  एक गाय  30 फीट गहरे कुएं में गिर गई। इसे एक सामाजिक संस्था के कार्यकर्ताओं ने लगातार रेस्क्यू बाहर निकालने का प्रयास  किया। रस्सी से उसे खींचकर निकालना मुश्किल हुआ तो एक जेसीबी मंगाई गई। गाय को जेसीबी में बांधने सामाजिक कार्यकर्ता खेमनारायण शर्मा रस्सी के सहारे 30 फीट गहरे कुएं में उतर यह सफल प्रयास किया। इस तरह वहां पहुंचे सभी कार्यकर्ताओं और नागरिकों के प्रयास से जेसीबी से गाय को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया। 


Previous123Next