छत्तीसगढ़ » महासमुन्द

Previous12345678Next
12-Jul-2020 11:14 PM

'छत्तीसगढ़' संवाददाता
महासमुंद, 12 जुलाई।
महासमुन्द जिले में डकैती की योजना बनाते मध्यप्रदेश व उड़ीसा के 7 आरोपी गिरफ्तार किए गए हैं। अभी शाम 6 बजे जिला मुख्यालय कंट्रोल रूम में पत्रकार वार्ता में एसपी प्रफुल्ल कुमार ठाकुर ने इस मामले का खुलासा किया। आरोपियों से 1 नग ऑटोमेटिक पिस्टल, 1 नग मैग्जीन, 2 नग जिन्दा कारतूस व 1 नग देशी कट्टा, 2 नग जिन्दा कारतूस, घटना में प्रयुक्त स्कार्पियों वाहन व टाटा कंपनी की 10 चक्का ट्रक के अलावा 60 हजार रुपये नगद  भी बरामद किया गया है। गिरफ्तार आरोपी मध्यप्रदेश में भी वॉन्टेड हैं और मध्यप्रदेश की एस.टी.एफ. भी आरोपियों की तलाश कर रही है।

 पुलिस के अनुसार आज दोपहर ओडिशा की ओर से एक सफेद स्कार्पियों आती दिखी। उसमें कुछ लोग सवार थे। पुलिस को देखकर उक्त वाहन चालक बेरिकेटिंग को तोड़ते हुए सरायपाली की ओर भाग निकला। इस पर थाना सरायपाली के नवागढ़ बेरियर में तैनात टीम के जवानों ने भी नाकेबंदी की और सारंगढ़ के पास ओवरटेक कर वाहन रोका गया। पूछताछ करने पर स्कार्पियों के वाहन चालक ने अपना नाम सोनू बाल्मिकी जिला शाजापुर, मध्यप्रदेश और दूसरे ने अपना नाम कुरूध्वज तांडी ग्राम केन्दुपाली जिला नवापडा ओडिशा बताया। उन्होंने बताया कि अपने 5 अन्य साथियों के साथ उक्त स्कार्पियों एवं 10 चक्का ट्रक से आए हैंं और सरायपाली व सिघोड़ा के आस-पास खड़े तेल के टैंकरों एवं ट्रकों से डीजल चुराते हैंं। अपने सभी साथियों के साथ पेट्रोल पम्प को लूटने व रेकी करके किसी मालदार के घर में डकैती डालने की योजना भी बना रहे हैंं।
पुलिस ने तलाशी में उक्त स्कार्पियों में बैठे व्यक्ति कुरूध्वज ताण्डी के पास से 1 नग देशी कट्टा व 2 नग जिन्दा कारतूस बरामद किया। आरोपियों के अन्य 5 साथी ट्रक में बसना के रास्ते में पकड़े गये। पूछताछ में आरोपियों ने अपना नाम अनिश गौसिया नगर इन्दौर, जावेद उर्फ गोलू संजीव नगर हजराना, इस्माइल खान  मालीखेडी जिला शाजापुर, ब्रज मोहन पता पोलाय थाना सुन्दरसिंह जिला शाजापुर,  सौदान पिता भीमसिंग भिलाला जिला शाजापुर मध्यप्रदेश बताया है।
जांच के दौरान पता चला कि ट्रक में एक गुप्त चेम्बर बना है और 1000-1500 लीटर एस्ट्रा डीजल टंकी है। रात को आरोपी तेल के टैंकरों एवं ट्रकों से डीजल चोरी कर लेते हैंं। चोरी करने के दौरान टैंकर एवं ट्रक ड्राईवर यदि जाग जाता है तो उसे अपने पिस्टल की नोंक पर बंधक बना लेते हैं। ज्यादा विरोध करने पर हत्या तक कर देते हैंं। आरोपियों ने मध्यप्रदेश के इन्दौर में डीजल चोरी करने के दौरान ड्राईवर की हत्या करना स्वीकार किया है। तलाशी के दौरान ट्रक ड्राईवर मो. अनिश पिता जमील खान के कब्जे से 1 नग आटो मेटिक पिस्टल, 1 नग मैगजीन व 2 नग जिन्दा कारतूस बरामद किया गया  है। आरोपियों से लोहे का सब्बल,  हथौड़ा, छैनी, चाईनीज चाकू, स्टील का रॉड एवं नगदी 60 हजार रुपए बरामद किया गया है। मामले में  थाना सरायपाली में धारा 394, 398, 399 भादवि कायम कर विवेचना में लिया गया है।

 


12-Jul-2020 7:47 PM

पिथौरा, 12 जुलाई। नगर के बार चौक में स्थानीय पुलिस ने कैम्प लगाकर बगैर मास्क पहने चल रहे लोगों को रोक कर जुर्माना वसूला और मास्क दिया। थाना प्रभारी पिथौरा एन. के. स्वर्णकार के नेतृत्व में पुलिस स्टाफ एवं होमगार्ड सैनिक, महिला सैनिक के सहयोग से पिथौरा नगर में कोरोना वायरस संक्रमण बचाव हेतु एम.वी. एक्ट उल्लंघन पर 200 रुपये जुर्माना वसूला गया। कुल 26 व्यक्तियों पर कार्रवाई की गई एवं मोटरसाइकिल चालकों को मास्क लगाने की हिदायत दी गई एवं मास्क वितरण किया गया। यातायात नियमों का पालन करने 3 सवारियों नहीं चलने तथा हेलमेट लगाकर चलने की हिदायत दी गई।


12-Jul-2020 7:43 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

पिथौरा, 12 जुलाई। कल पुलिस ने 20 लीटर महुआ शराब जब्त कर एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। ज्ञात हो कि लॉकडाउन में सरकारी शराब दुकान बंद होने से अचानक गांव-गांव में महुआ शराब बना कर बेचा जा रहा था, जो कि अब भी थमने का नाम नहीं ले रहा है।  शनिवार को भी थाना प्रभारी पिथौरा  एन. के. स्वर्णकार के नेतृत्व में मुखबिर की सूचना के बाद थाना क्षेत्र के ग्राम किशनपुर के लक्ष्मी विश्वकर्मा के यहां दबिश देकर एक जरकिन में रखा 20 लीटर महुआ शराब जब्त कर आबकारी एक्ट के तहत कार्रवाई की गई।

आरोपी लक्ष्मी विश्वकर्मा निवासी वार्ड नंबर 06 किशनपुर थाना पिथौरा को न्यायालय में पेश कर रिमांड में भेज दिया गया है।


12-Jul-2020 7:43 PM

जनसंख्या स्थिरीकरण पखवाड़ा

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुन्द, 12 जुलाई।
जनसंख्या स्थिरीकरण को लेकर विगत कई वर्षों से प्रदेश के अग्रणी जिलों में शुमार महासमुन्द में इस बार अस्थायी साधनों के उपयोग के जरिए परिवार नियोजन के लिए व्यापक स्तर पर प्रचार प्रसार किया जाएगा। इसी कड़ी में शासन स्तर से प्राप्त निर्देशानुसार हर साल की तरह इस बार भी 11 से 24 जुलाई तक जनसंख्या स्थिरीकरण पखवाड़ा मनाया जाएगा। शनिवार को विधायक विनोद सेवन लाल चंद्राकर ने जिला चिकित्सालय से जनसंख्या स्थिरीकरण सारथी रथ को हरी झंडी दिखा कर रवाना करते हुए पखवाड़ेे की शुरूआत की। 

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक वर्तमान में देश कोविड.19 महामारी से बचाव के लिए संघर्षरत हैए किंतु प्रजनन स्वास्थ्य सेवाओं का प्रावधान अवांछित गर्भधारण को रोकने के लिए भी बहुत महत्व रखता है। इस तारतम्य जिले में भी कोविड.19 की सुरक्षा सावधानियों के साथ.साथ परिवार कल्याण गतिविधियों के लिए उन्मुखीकरण पर काम किया जाएगा। जिसके तहत विभिन्न शासकीय विभागों के आपसी सहयोग एवं समन्वय से प्रचार.प्रसार के लिए बैनर, पोस्टर्स और आईईसी सामग्री सहित मीडिया एवं सोशल मीडिया के जरिए भी लक्ष्य दंपत्तियों को जागरूक करने के अभ्यास जारी रहेंगे।


12-Jul-2020 7:41 PM

सबसे ज्यादा मुनगा पौधे रोपे

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुंद, 12 जुलाई।
महासमुंद जिले में कल हर जगह पौधरोपण हुआ। जनप्रतिनिधियों, अफसरों और आम लोगों ने मिलकर जिले में हजारों पौधे लगाए।  कल शनिवार को सरकारी छुट्टी होने के बावजूद अधिकांश सरकारी दफ़्तरों, स्कूलों, शाला-आश्रमों, छात्रावासों, अस्पताल की खुली ज़मीन पर चारों तरफ़  हरियाली नजऱ आयी। जिले के तमाम आला अफ़सरों, अधिकारी-कर्मचारियों से लेकर जनप्रतिनिधियों, नागरिकों ने बड़े उत्साह के साथ विभिन्न प्रजातियों के फलदार और छायादार पौधे लगाये। कहीं-कहीं पर छोटे बच्चे बड़े उत्साह के साथ पौधे लगाते दिखे। विकासखंड, ग्रामों पंचयतों में जनप्रतिनिधियों ने ग्रामवासियों के साथ वृक्षारोपण किया। जिले के सुदूर विधानसभा क्षेत्र सरायपाली के ग्राम छूईपाली रूढ़ा नर्सरी में विधायक किस्मत लाल नंद, महासमुन्द में विधायक विनोद चंद्राकर, बागबाहरा में विधायक द्वारकाधीश यादव और बसना में विधायक राजा देवेन्द्र बहादुर ने पौधे रोपे। सरायपाली एसडीएम राजस्व कुणाल दुदावत ने आम का पेड़ लगाया। उप वन मंडल अधिकारी अर्जुन कुमार विंध्यराज ने जामुन, जयंत चौधरी ने नीम का पेड़ लगाया। 

जिला प्रशासन जिला-महासमुन्द के द्वारा जिले में चलाये जा रहे पौधा रोपण अभियान के द्वितीय चरण में कल शनिवार को शासकीय महाप्रभु वल्लभाचार्य स्नातकोत्तर महाविद्यालय महासमुन्द परिसर में प्राचार्य डॉ. ज्योति पाण्डेय के निर्देशानुसार महाविद्यालय के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के द्वारा विभिन्न प्रजातियों के फलदार और छायादार 30 पौधों का रोपण किया गया।  इसी तरह पत्रकार संव. हेमन्त राठौड़ स्मृति उपवन में दलदली रोड महासमुन्द स्थित उनकी पैतृक भूखण्ड पर राठौड़ परिवार के समन्वय से उपवन विकसित करने करीब एक सौ पौधे रोपे गए। उपवन में 500 पौधे रोपकर छाया और फल के साथ ही आसपास के रहवासियों को शुद्ध हवा मुहैया कराने की योजना है। महासमुन्द विधायक विनोद चंद्राकर और प्रकाश राव साकरकर ने कदंब का पौधा रोपकर पौधरोपण अभियान का शुभारंभ किया। बाद राठौड़ परिवार से सेवानिवृत्त बैंक प्रबंधक तोषण राठौड़, सेवानिवृत्त डिस्ट्रिक्ट जज महेंद्र राठौड़, नोटरी भूपेंद्र राठौड़, सेवानिवृत्त एएफओ कुशल राठौड़, भव्य, राजकुमार, भरत के अलावा गुजराती समाज से जसवंत मेहता, मनीष सरवैया, शिक्षक प्रमोद कन्नौजे, प्रेस क्लब महासमुन्द अध्यक्ष आनंदराम साहू, उपाध्यक्ष संजय महंती, महासचिव रविन्द्र विदानी, संगठन प्रचार मंत्री प्रभात महंती, संरक्षक सालिक राम कन्नौजे, केपी साहू, अजय पांडेय, विजय चौहान, भरत यादव, एतराम साहू ने उपवन में जाम, जामुन, काजू, बादाम, नीम, कदंब, पीपल, आंवला, शीशम, बिल्व, कटहल आदि के पौधे रोपे। वृहद वृक्षारोपण अभियान के तहत ग्राम पंचायत बकमा में विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर के मुख्य आतिथ्य में पौधरोपण किया गया। इस दौरान उन्होंने उपस्थितजनों से पौधों की सुरक्षा के लिए संकल्प भी दिलाया।  किलेक्टर कार्तिकेया गोयल ने जिला अस्पताल परिसर में आंवले का पौधा लगाया। वहीं पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल कुमार ठाकुर ने नीम और मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत डॉ. रवि मित्तल ने फलदार अमरूद का पौधा रोपित किया। 

वनमण्डलाधिकारी मयंक पाण्डेय, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा. एस.पी. वारे ने भी कटहल, मुनगा लगाया। सभी ने पौधरोपण कर शहरवासियों और जिलेवसियों को अपने क्षेत्र, शहर को हरा-भरा रखने का संदेश दिया। वनमण्डलाधिकारी मयंक पाण्डेय ने बताया कि अभियान के तीसरे चरण में 20 जुलाई को हरेली तिहार के दिन पौधारोपण किया जाएगा। जिसमें जिले के गोठान, चारागाह स्थलों में छायादार और फलदार पौधे रोपण किए जाएंगे। जिले में 74 विभिन्न प्रजातियों के पौधे वन विभाग की नर्सरी में तैयार कर लिए है। इसके अलावा उद्यानिकी विभाग के नर्सरी में भी पौधे तैयार है। 
 


12-Jul-2020 7:39 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुन्द, 12 जुलाई।
जिला विधिक सेवा प्राधिकरण महासमुन्द के सचिव मोहम्मद जहांगीर तिगाला से प्राप्त जानकारी के अनुसार देश के साथ-साथ महासमुन्द जिले में भी कल पहली बार ई.लोक अदालत का आयोजन किया गया। इस विशेष ई-लोक अदालत को ऐतिहासिक सफलता प्राप्त हुई। उल्लेखनीय है कि ई.लोक अदालत के सफल संचालन हेतु प्रशिक्षण महासमुन्द जिला न्यायलय की वेब साइट पर लिंक की सहायता से पक्षकारों को घर बैठे मिली। 

जिला मुख्यालय से लगभग 100 किलोमीटर दूर थाना बसना ग्रामीण अंचल गढफ़ुलझर के गुलजार सिंह जटाल, जिला मुख्यालय से लगभग 80 किलोमीटर दूर थाना बसना ग्रामीण अंचल बिजेपुर के संजय कुमार पुरोहित, 80 किलोमीटर दूर थाना बसना ग्रामीण अंचल जामताड़ा के युगल किशोर बंछोर एवं 140 किलोमीटर दूर थाना पिथौरा ग्रामीण अंचल रजपालपुर के मिनिकेतन कश्यप के प्रकरणों का निपटारा ई.लोक अदालत के माध्यम से आपसी समझौता हुआ। इस दौरान पिथौरा न्यायालय से लगभग 75 किलोमीटर दूर थाना सांकरा ग्रामीण अंचल नाम जुड़ा एवं विजेपुर के दो परिवारों का आपसी विवाद का निपटारा ई.लोक अदालत के माध्यम से हुआ। उक्त समस्त पक्षकारों को समझाईश एवं सुलह हेतु वर्तमान कोरोना काल में न्यायालय में उपस्थित कराना संभव नहीं था। विशेष ई.लोक अदालत में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग द्वारा पीठासीन अधिकारी द्वारा समझाईश दिये जाने पर इन प्रकरणों में समझौता संभव हो सका। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण महासमुन्द की अध्यक्ष एवं जिला न्यायाधीश सुषमा सावंत के कुशल मार्गदर्शन एवं नेतृत्व में जिले के सिविल न्यायालयों में कुल 7 विशेष ई खण्डपीठों की स्थापना की गई। जिनमें कुल 99 प्रकरण निराकृत हुए और उनमें एक करोड़ 96 लाख 82 हजार 77 रुपए की राशि के अवार्ड राजीनामा के आधार पर पारित किए गए। उक्त ई.लोक अदालत में पक्षकारों एवं वकीलों ने न्यायालय में उपस्थित हुए बिना घरों से ही वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से आपसी सहमति से प्रकरणों का निराकरण किया। 
 


12-Jul-2020 7:38 PM

विधायक ने किया विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण-भूमिपूजन

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुंद, 12 जुलाई।
ग्राम पंचायत बेमचा में मिनी स्टेडियम और ग्राम पंचायत परसदा में सुविधायुक्त पंचायत भवन की सौगात मिली। शनिवार को विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर ने विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण व भूमिपूजन किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता जनपद अध्यक्ष भागीरथी चंद्राकर ने की। विशेष अतिथि के रूप में जिला कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष डा. रश्मि चंद्राकर, जिला पंचायत उपाध्यक्ष लक्ष्मण पटेल, जिला पंचायत सदस्य अमर चंद्राकर, जनपद पंचायत सदस्य सावित्री रोहित चंद्राकर, कुणाल चंद्राकर, भरत चंद्राकर, ब्रिजेन हीरा बंजारे, विवेक पटेल, तोषण कन्नौजे मौजूद थे।
 


12-Jul-2020 7:35 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुन्द, 12 जुलाई।
मृत्यु भोज पर कोरोना का काफी गहरा असर रहा। लॉकडाउन के दौरान इस प्रथा पर अघोषित रूप से ब्रेक लग गया है। सोशल डिस्टेंसिंग के कारण अभी भी चंद लोगों की मौजूदगी में सादगी से सभी कर्मकांड हो रहे हैं।  पितृ कर्म के प्राचीन स्थल उज्जैन के सिद्धवट पर पारंपरिक रूप से कर्म कराने वाले तीर्थ पुरोहित पं. राजेश त्रिवेदी का कहना है कि मृत्यु भोज शास्त्र सम्मत नहीं है। गरुड़ पुराण में मृत्यु भोज की जगह ब्राह्मण भोज का ही जिक्र है।

बिहार स्थित गया जी के पंडित महेशलाल गुप्त कहते हैं कि यजमान पर कोई प्रतिबंध नहीं है कि वह 11, 21 या 51 ब्राह्मणों को भोज कराए। यह सामथ्र्य और श्रद्धा पर आधारित है। यदि सामथ्र्य नहीं है तो एक ब्राह्मण का भी भोज करा सकते हैं। शास्त्र केवल ब्रह्मभोज का आदेश देते हैं। मृत्यु भोज की प्रथा को लेकर कई समाजों ने स्वयं निर्णय लेकर रोक लगाई है। हालाकि इसमें व्यक्ति स्वयं ही निर्णय लेने के लिए सक्षम है। इसमें न तो हमें कुछ कहने की जरूरत है और न किसी और को।

ज्ञात हो कि जिले में कोरोना काल में हुई मौतों में सामाजिक भोज का आयोजन नहीं हुआ। ग्राम भीखापाली निवासी 19 वर्षीय विजय साहू का 25 मई को निधन हुआ। स्व. विजय के दादा बसावन साहू ने बताया कि लॉकडाउन के कारण तीन दिन में ही पूरा कार्यक्रम संपन्न हुआ। इस दौरान केवल परिवार के सदस्य ही मौजूद थे। दो साल पहले विजय के बड़े भाई अजय की तेरहवीं पर 500 से अधिक रिश्तेदार, गांव के परिचित शामिल हुए थे जिसमें 1 लाख से अधिक खर्च हुआ था।

हालांकि मृत्युभोज जैसी कुप्रथा पर कई समाजों ने रोक लगा रखी है लेकिन यह आज भी कायम है। लॉकडाउन ने सामाजिक तस्वीर बदल दी है। यह समाज के लिए अच्छा संकेत है। इससे उन गरीबों को हिम्मत मिली है, जो ऐसा करने और इतने लोगों का भोज कराने में समक्ष नहीं हैं। यह इस लिहाज से भी बेहतर है कि अपने को खोने का गम में डूबे परिवार को मृत्यु भोज के नाम पर इतना आर्थिक बोझ नहीं उठाना पड़ा। यदि लॉकडाउन में मृत्यु भोज नहीं हो सकता है तो इसे हम हमेशा के लिए बंद करने का निर्णय क्यों नहीं लिया जा सकता है? 

ग्राम बेलसोंडा निवासी 72 वर्षीय नंदलाल चंद्राकर का 25 जून को निधन हो गया। लॉकडाउन के कारण परिवार के सदस्यों की मौजूदगी में उनका अंतिम संस्कार किया गया। सभी कार्यक्रम सादगी से हुआ। ग्रामीण भोला चंद्राकर बताते हैं कि जनवरी माह में उनके बड़े भाई देवनारायण चंद्राकर 70 वर्ष का निधन हो गया था। उस दौरान अंतिम क्रियाकर्म समेत भोज में करीब 1.50 लाख रुपए खर्च हुआ था। इसी तरह ग्राम खुटेरी निवासी प्रीतम बरिहा के बड़े भाई किरित राम बरिहा 60 वर्ष का निधन 24 जून को हुआ। अंतिम संस्कार में घर परिवार के लोग शामिल हुए। कोरोना वायरस के कारण किसी को नहीं बुलाया गया। 26 जून को तीन दिन में क्रियाकर्म करना पड़ा। लगभग 5000 रुपए खर्च हुए। प्रीतम बरिहा ने बताया कि सन 2012 में 8 साल पहले पिता जी का देहांत हो गया था जिसमें पूरे रिश्तेदार व ग्रामीणजन परम्परानुसार शामिल हुए थे जिसमें लगभग 50 हजार रुपये खर्च हुए थे।
 


12-Jul-2020 7:31 PM

पिथौरा, 12 जुलाई। नगर के बार चौक में स्थानीय पुलिस ने कैम्प लगाकर बगैर मास्क पहने चल रहे लोगों को रोक कर जुर्माना वसूला और मास्क दिया। थाना प्रभारी पिथौरा एन. के. स्वर्णकार के नेतृत्व में पुलिस स्टाफ एवं होमगार्ड सैनिक, महिला सैनिक के सहयोग से पिथौरा नगर में कोरोना वायरस संक्रमण बचाव हेतु एम.वी. एक्ट उल्लंघन पर 200 रुपये जुर्माना वसूला गया। कुल 26 व्यक्तियों पर कार्रवाई की गई एवं मोटरसाइकिल चालकों को मास्क लगाने की हिदायत दी गई एवं मास्क वितरण किया गया। यातायात नियमों का पालन करने 3 सवारियों नहीं चलने तथा हेलमेट लगाकर चलने की हिदायत दी गई।


12-Jul-2020 7:31 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

पिथौरा, 12 जुलाई। कल पुलिस ने 20 लीटर महुआ शराब जब्त कर एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। ज्ञात हो कि लॉकडाउन में सरकारी शराब दुकान बंद होने से अचानक गांव-गांव में महुआ शराब बना कर बेचा जा रहा था, जो कि अब भी थमने का नाम नहीं ले रहा है।  शनिवार को भी थाना प्रभारी पिथौरा  एन. के. स्वर्णकार के नेतृत्व में मुखबिर की सूचना के बाद थाना क्षेत्र के ग्राम किशनपुर के लक्ष्मी विश्वकर्मा के यहां दबिश देकर एक जरकिन में रखा 20 लीटर महुआ शराब जब्त कर आबकारी एक्ट के तहत कार्रवाई की गई।

आरोपी लक्ष्मी विश्वकर्मा निवासी वार्ड नंबर 06 किशनपुर थाना पिथौरा को न्यायालय में पेश कर रिमांड में भेज दिया गया है।


12-Jul-2020 7:14 PM

पिथौरा, 12 जुलाई। नगर के बार चौक में स्थानीय पुलिस ने कैम्प लगाकर बगैर मास्क पहने चल रहे लोगों को रोक कर जुर्माना वसूला और मास्क दिया। थाना प्रभारी पिथौरा एन. के. स्वर्णकार के नेतृत्व में पुलिस स्टाफ एवं होमगार्ड सैनिक, महिला सैनिक के सहयोग से पिथौरा नगर में कोरोना वायरस संक्रमण बचाव हेतु एम.वी. एक्ट उल्लंघन पर 200 रुपये जुर्माना वसूला गया। कुल 26 व्यक्तियों पर कार्रवाई की गई एवं मोटरसाइकिल चालकों को मास्क लगाने की हिदायत दी गई एवं मास्क वितरण किया गया। यातायात नियमों का पालन करने 3 सवारियों नहीं चलने तथा हेलमेट लगाकर चलने की हिदायत दी गई।


12-Jul-2020 7:14 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

पिथौरा, 12 जुलाई। कल पुलिस ने 20 लीटर महुआ शराब जब्त कर एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। ज्ञात हो कि लॉकडाउन में सरकारी शराब दुकान बंद होने से अचानक गांव-गांव में महुआ शराब बना कर बेचा जा रहा था, जो कि अब भी थमने का नाम नहीं ले रहा है।  शनिवार को भी थाना प्रभारी पिथौरा  एन. के. स्वर्णकार के नेतृत्व में मुखबिर की सूचना के बाद थाना क्षेत्र के ग्राम किशनपुर के लक्ष्मी विश्वकर्मा के यहां दबिश देकर एक जरकिन में रखा 20 लीटर महुआ शराब जब्त कर आबकारी एक्ट के तहत कार्रवाई की गई।

आरोपी लक्ष्मी विश्वकर्मा निवासी वार्ड नंबर 06 किशनपुर थाना पिथौरा को न्यायालय में पेश कर रिमांड में भेज दिया गया है।


11-Jul-2020 7:40 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

महासमुन्द, 11 जुलाई। थाना कोतवाली महासमुन्द में चोरी की 15 बाइक समेत आज दो लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने बागबाहरा, पिथौरा, गरियाबंद, रायपुर, फिगेश्वर व आरंग से सभी बाइक चोरी करना बताया।

पुलिस के अनुसार कल सूचना मिली थी कि महासमुन्द निवासी हेमू अग्रवाल चोरी की बाइक को खपाने हेतु खरीददार की तलाश में है और उन्होंने चोरी की बाइक अपने घर पर रखा है। हेमू अग्रवाल पूर्व में भी चोरी एवं आम्र्स एक्ट मामले में जेल जा चुका है। फिंगेश्वर के एक वाहन चोरी के अपराध में वांछित है तथा अपने साथी चन्दू के साथ महासमुन्द जिले के बागबाहरा, पिथौरा एवं सीमावर्ती गरियाबंद व रायपुर के फिंगेश्वर, आरंग से बहुत सारी बाइक चोरी किया है।

सिटी कोतवाली पुलिस ने आज हेमू अग्रवाल और उसके साथी चंदू को घेराबंदी कर पकड़ा। पुलिस का कहना है कि हेमू अग्रवाल उर्फ विकास अग्रवाल शातिर वाहन चोर है और पूर्व में लूट,चोरी जैसे अपराध में वह जेल भी गया है। उसने अपने साथी चन्दू के साथ रायपुर जिला, महासमुन्द जिला, गरियाबंद जिला से चोरी करना बताया।

थाना कोतवाली की टीम ने हेमू अग्रवाल से  प्लेटिना वाहन 2 नग, डिलक्स 04 नग, होण्डा साईन 02 नग, एक्टीवा 02 नग, मेस्ट्रो 01 नग, सीडी 100 एक नग, पैशन प्रो 01 नग, पल्सर 01 नग, अपाचे 01 नग, कुल 15 दुपहिया कीमत 4 लाख 50 हजार रूपये जब्त कर कार्रवाई की है।


11-Jul-2020 7:11 PM

महासमुन्द, 11 जुलाई। 15 वीं वैज्ञानिक सलाहकार समिति की बैठक शुक्रवार 17 जुलाई को प्रात:11 बजे से ऑनलाईन आयोजित की जाएगी। कृषि विज्ञान के अधिकारियों ने बताया कि बैठक में वित्तीय वर्ष 2019.20 की गतिविधियों एवं 2020.21 की कार्य योजना तैयार के सम्बंध में चर्चा की जाएगी।


11-Jul-2020 7:09 PM

महासमुन्द, 11 जुलाई। दलदली रोड महासमुन्द स्थित राठौड़ परिवार की निजी स्वामित्व की भूमि पर पत्रकार हेमंत राठौड़ स्मृति उपवन बनाने की तैयारी वन विभाग के सौजन्य से की गई है। आज शनिवार 11 जुलाई को दोपहर यहां पौधरोपण किया जाएगा। इस कार्यक्रम में स्व. राठौड़ का परिवार भी जिला प्रशासन के अधिकारी कर्मचारियों के साथ शामिल होंगे। 


11-Jul-2020 7:09 PM

महासमुन्द, 11 जुलाई। कृषि स्थायी समिति की बैठक 10 जुलाई 2020 को कार्यालय वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी लभराखुर्द महासमुन्द में आयोजित हुई। बैठक की शुरूआत कृषि स्थाई समिति के सदस्यों का विभागीय अधिकारियों-कर्मचारियों से परिचय हुई। बैठक में सदस्यों ने महासमुन्द विकासखण्ड को खरीफ वर्ष.2020 के लिए प्राप्त विभिन्न योजनांतर्गत फसल प्रदर्शन एवं अन्य विभागीय कार्यों की लक्ष्य एवं पूर्ति के सम्बंध में विस्तार से समीक्षा की। इसके अलावा उद्यानिकी विभाग, मछली पालन व जल संसाधन और कृषि अभियांत्रिकी के अधिकारियों ने अपने-अपने विभागीय योजनाओं के बारे में सदस्यों को जानकारी दी। 
 


11-Jul-2020 7:08 PM

महासमुन्द, 11 जुलाई। कांग्रेस की नीतियों से प्रभावित होकर शहर के वार्ड नं 21 के 19 लोगों ने कांग्रेस प्रवेश किया। कांग्रेस भवन में विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर की मौजूदगी में सभी का गमछा पहनाकर स्वागत किया गया। प्रवेश करने वालों में राजेश मारकंडे, भागवत जांगड़े, प्रदीप मारकंडे, चुरामन लहरे, उमेश मारकंडे, सोहन जोशी, गोपी मारकंडे, गुणवंत झुलपे,भुवन झुलपे, जीवन बघेल, कृष्णा बघेल, रितेश मंडलेश, सुनील रात्रे, भूपेश, तुलेश आदि शामिल हैं। 
 


11-Jul-2020 7:07 PM

महासमुंद, 11 जुलाई। पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल कुमार ठाकुर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मेघा टेंभुरकर एवं रक्षित निरीक्षक नीतिश आर नायर ने कल बागबाहरा अनुविभाग में स्पंदन अभियान की शुरूआत की। इसके तहत बागबाहरा में परेड का आयोजन किया गया। पुलिस अधीक्षक ने परेड एवं वेपन ड्रिल का निरीक्षण कर परेड में सम्मिलित जवानों के उत्साहवद्र्धन हेतु अच्छे ड्रिल एवं वेशभूषा पर उन्हें ईनाम भी दिया।

उन्होंने परेड में सम्मिलित अधिकारी-कर्मचारियों को राज्य पुलिस के गठन का संकेत प्रतीक चिन्ह को उनके बांये बाजू में लगाया। परेड में अनुविभाग क्षेत्र के एसडीओपी बागबाहरा लितेश सिंह, थाना प्रभारी बागबाहरा उपनिरीक्षक स्वराज त्रिपाठी, प्रशिक्षु उप पुलिस अधीक्षक थाना प्रभारी कोमाखान तिलेश्वर यादव, थाना प्रभारी तेन्दुकोना कमला पुसाम एवं बागबाहरा अनुविभाग के पुलिस अधिकारी-कर्मचारी सम्मिलित हुए।  

ज्ञात हो कि जिले के सभी पुलिस अधिकारियों-कर्मचारियों में एकरूपता लाने के उददेश्य से यूनिक पहचान पत्र आई कार्ड तैयार कराया गया है। इसे परेड में उपस्थित सभी पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों को पहनाया गया। इसी क्रम में रक्षित आरक्षित केन्द्र महासमुन्द में पौधरोपण भी किया। 
 


11-Jul-2020 7:06 PM

जीवित लोगों का मृत प्रमाण-पत्र बनाने का मामला 

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुंद, 11 जुलाई।
जीवित व्यक्तियों का मृत प्रमाण-पत्र बनाने के मामले में पुलिस ने ग्राम पंचायत के एक चपरासी सहित एक युवक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। इन दोनों के खिलाफ  पुलिस ने सचिव की शिकायत पर धोखाधड़ी की धारा के तहत अपराध दर्ज कर जांच में लिया था। मामला पटेवा थाना क्षेत्र के ग्राम बनपचरी का है।

पुलिस के अनुसार ग्राम पंचायत बनपचरी के सचिव ने आवेदन देकर शिकायत की थी कि ग्राम अमोरी निवासी रेखलाल ध्रुव एवं ग्राम बनपचरी निवासी व ग्राम पंचायत का चपरासी राकेश कुमार ध्रुव दोनों ने मिली भगत कर बनपचरी निवासी नीरा बाई ध्रुवव पति संतुराम एवं मनीराम ध्रुव पिता नरोत्तम का मृत्यु प्रमाण.पत्र बना दिया है। 

उक्त मामले का खुलासा 4 जुलाई को श्रम कार्यालय के सचिव द्वारा हुआ। सचिव ने जानकारी मिलते ही तत्काल ग्राम पंचायत के चपरासी राकेश ध्रुव, अमोरी निवासी रेखलाल सहित सरपंच व जिनके मृत प्रमाण पत्र जारी हुए हैं, को पंचायत में बुलाया। सचिव ने नीराबाई व मनी राम को बताया कि तुम्हारा मृत्यु प्रमाण.पत्र जारी हुआ है।  तब उन्होंने बताया कि रेखलाल ध्रुव ने श्रम कार्ड बनाने के लिए दोनों से बैंक पासबुक, राशनकार्ड, आमधार कार्ड एवं अन्य कागजात लिए थे। रेखलाल ने पूछताछ में बताया कि उसने ग्राम पंचायत के चपरासी राकेश ध्रुव के साथ मिली भगत कर मृत्यु प्रमाण.पत्र का एक पन्ना 54 नंबर लिया। कम्प्यूटर के माध्यम से हस्ताक्षर स्केन करके मृत्यु प्रमाण पत्र बनाया।
 


11-Jul-2020 7:01 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुन्द, 11 जुलाई।
पूरे 50 हजार लोगों को राहत देने 37 करोड़ रुपए की लागत से बन रहे ओवरब्रिज निर्माण में फि र एक रोड़ा आ गया है। ओवरब्रिज के एक छोर पर बड़ा सा नाला आ गया है। वैसे भी इस ओवरब्रिज का दो सालों से इंतजार किया जा रहा है और अब नाला आने के कारण इसका निर्माण प्रभावित हो रहा है। इसे पाटने के लिए पहले निकासी की व्यवस्था करना होगी तब जाकर ओवरब्रिज का निर्माण कार्य आगे बढ़ पाएगा। नगर पालिका ने इस नाले के पानी को डायवर्ट करने के लिए प्रीतम प्राइड के सामने नवीन हयूम पाइप कल्वर्ट निर्माण के लिए 9 जून को राष्ट्रीय राजमार्ग संभाग 1 लोक निर्माण के कार्यपालन अभियंता को पत्र लिखा है। लेकिन अभी तक निर्माण को लेकर किसी प्रकार की प्रक्रिया शुरू नहीं हुई है। जब तक नाले के पानी के निकासी की व्यवस्था नहीं होती, ओवरब्रिज का काम प्रभावित रहेगा। 

सेतु निगम के इंजीनियर एलडी महाजन ने बताया कि इंदिरा मार्केट के पास 11 दुकानों को तोड़ दिया गया है। नाले के पानी के लिए निकासी की व्यवस्था कराई जानी है, जिस पर प्लान तैयार किया जा रहा है। निकासी की व्यवस्था कराने के बाद ही निर्माण कार्य को आगे बढ़ाया जाएगा। श्री महाजन का कहना है कि इस जगह सर्विस रोड व ओवरब्रिज में चढऩे के लिए रास्ता का निर्माण होगा। पानी निकासी का प्लान तैयार होने के बाद ही काम शुरू होगा। अभी स्लैब ढल रहे हैं। 

ज्ञात हो कि 37 करोड़ रुपए की लागत से इस ब्रिज का निर्माण हो रहा है जो 17 खम्भों पर खड़ा रहेगा। कुल 75 मीटर रेल्वे क्रासिंग की लंबाई है और 626 मीटर ओवरब्रिज की लंबाई है। इस ब्रिज की चौड़ाई 15 मीटर है। इसके पूरा होने में महीने भर का समय और लग सकता है। वैसे इस ओवरब्रिज के निर्माण कार्य में लगातार देरी हो रही है। नाला आने के कारण अब नाले को डायवर्ट करने के लिए एक महीने की फि र से देरी होगी। अभी तक सेतु निगम व लोक निर्माण विभाग इस पर प्लान तैयार नहीं कर पाया है। जबकि नगर पालका ने एक महीने पूर्व ही डायवर्ट करने के लिए पत्र लिखा है। साथ ही प्लान का नक्शा भी संलग्न किया है। 

इस ब्रिज के निर्माण में दुकानों की रजिस्ट्री, मुआवजा, कोरोना संक्रमण के चलते भी देरी हुई है। अभी भी तीन से चार रजिस्ट्री शेष हंै। पूरा होने के बाद ही दो पिलरों का निर्माण होगा। वहीं आगे की ओर खड़े दो पिलरों में स्लेब ढलाई का काम चल रहा है। देना बैंक के पास से इस ओवरब्रिज में चढऩे व नीचे जाने के लिए सर्विस रोड का निर्माण होगा। ब्रिज के किनारे चार-चार मीटर की सडक़ और डेढ़-डेढ़ मीटर की नाली भी बनाई जानी है। ताकि ओवरब्रिज के नीच से लोग आवागमन कर सकें। ओवरब्रिज का निर्माण फेब्रिकेट गर्ड सिस्टम से किया जा रहा है। पटरीपार ब्रिज का निर्माण 90 प्रतिशत पूर्ण हो गया है। बस अंबेडकर चौक की ओर निर्माण शेष रह गया है। वहीं पटरियों के ऊपर गर्डर बिठाया जाना बाकी है जो बारिश के बाद लगाया जाएगा।

पालिका के इंजीनियर अमन चंद्राकर ने बताया कि नाले का निर्माण कराना अति आवश्यक है। यदि नाले को डायवर्ट करने के बजाय उसे पाट दिया जाएगा तो शहर की नालियां जाम हो जाएंगी और बारिश का पानी बाहर नहीं जा पाएगा। इसलिए नाले के पानी की निकासी के लिए नवीन कल्वर्ट का निर्माण कराना अतिआवश्यक है। कल्वर्ट का निर्माण प्रीतम प्राइड के पास से निर्माण कर इसे डायरेक्ट महामाया तालाब के किनारे बड़े नाले में जोड़ दिया जाएगा। इससे पानी की निकासी आसान होगी। उन्होंने बताया कि इसका नक्शा लोक निर्माण विभाग को सौंप दिया गया है।
 


Previous12345678Next