छत्तीसगढ़ » गरियाबंद

Date : 15-Feb-2020

राजिम माघी पुन्नी मेला: रंगारंग प्रस्तुति ने मोहा मन

छत्तीसगढ़ संवाददाता
राजिम, 15 फरवरी।
राजिम माघी पुन्नी मेला में मुख्य मंच पर सांस्कृतिक कार्यक्रम में ननकी ठाकुर के पुन्नी का चंदा ने दर्शकों को खूब झूमया। उनकी गीतों की शुरूआत ओ गजानंद स्वामी जय हो..., छत्तीसगढ़ महतारी ओ पाईया परव..., चांदी के मुंदरी जैसे गीतों ने दर्शकों को बांधे रखा। 

पुन्नी के चंदा के समूह में उभरते कलाकार के रूप में चंम्पा निषाद और प्रदीप तिवारी की आवाज में छुनुर छुनुर पैरी बाजे... आकाशवाणी में चलने वाले गीतों में एक था। इसके बाद बहुत लोकप्रिय गीत पुन्नी के चंदा मोर गॉव मा... की प्रस्तुति दी गई। बाल-विवाह पर आधारित गीत ऐ...सो गवना दे बुढ़ी दाई..., छम छम बोले मोर पॉव के पैरी... गीत सुनकर दर्शक भावविभोर हो गये। इसी के साथ दर्शकों को और अधिक पसंद आने वाले गीत ‘‘मन में बॉधे के राखे हावा गा... इस गीत को सुनकर कुछ दर्शक अपने स्थान पर ही थिरकने लगे। इसी के साथ कर्मा गीत की प्रस्तुती दी गई कर्मा सुने बर आबे... की प्रस्तुति दी गई। इसी कडी में गौरी-गौरा, लोकनाचा इत्यादि की भी प्रस्तुती हुई।

इस कार्यक्रम के पूर्व इसी सांस्कृतिक मंच में महेश यादव ने राउत नृत्य की प्रस्तुति पारंपरिक वेषभूषा में दी जिन्हें देखकर दीपावाली के समय गोवर्धन पूजा की याद आने लगी। दर्शक भी इस अवसर दोहा पारने लगे। दिनेश जागड़े ने अपने साथी कलाकारों के साथ विभिन्न करतब दिखाते हुए पंथी नृत्य प्रस्तुत किया। जिसमें गुरू घासीदास का वंदना करते हुए जय जय जयकारा किया गया। 

इसके बाद शिवा सुरदास ने अपनी प्रस्तुति के माध्यम से पारंपरिक नृत्यों की प्रस्तुती दी। जो मन को मोहित कर रहा था। दर्शक एकटक होकर इनकी प्रस्तुतियों को निहार रहे थे। अंचल शर्मा द्वारा भी अपनी छत्तीसगढ़ी और हिन्दी गीत जिसमें देश भक्ति गीत को गाकर पुलवामा में शहीद हुए वीर जवानों को अपने देशभक्ति गीतों के माध्यम श्रद्धांजली अर्पित की गई। इस कार्यक्रम का संचालन निरंजन साहू, रूपा साहू भिलाई के द्वारा मनमोहक रूप में किया गया। सभी कलाकरों का सम्मान गरियाबंद एसपी एमआर आहिरे, ओएसडी एवं समन्वयक गिरीश बिस्सा एवं स्थानीय जनप्रतिनिधियेंा द्वारा किया गया।  

 

 


Date : 15-Feb-2020

मानिकचौरी में नवनिर्वाचित सरपंच-पंचों ने ली शपथ

नवापारा-राजिम, 15 फरवरी। ग्राम पंचायत मानिकचौरी में शपथ ग्रहण समारोह सामुदायिक भवन में रखा गया था। जिसमें पं. गोविन्द प्रसाद तिवारी ने सभी पंच व नवनिर्वाचित सरपंच बुद्धेश्वर साहू को शपथ दिलाई। इस अवसर पर मधुसूदन धृतलहरे, चंद्रिका प्रसाद साहू, हेमलता साहू, नवनिर्वाचित सरपंच बुध्देश्वर साहू ने अपने विचार व्यक्त किया।

 शपथ समारोह में वयोवृद्ध श्यामलाल साहू, छबीराम साहू, देवकी साहू, कली बाई साहू, उदय सिंह पुनुराम सेन, हेमेंद्र साहू, झरोखा साहू, चिंता साहू, तुलसीदास, रोमन तारक, पंचगण हितेश मंडई, संतुराम, डगेश्वर साहू, कोमल साहू तामेश्वर रात्रे, पुनीत रजक, प्रमोद मंडई, श्रीमती मीना साहू, वनीता सेन, देवकी चंदेल, मोहिनी धु्रव, कामिनी विश्वकर्मा, विद्या साहू, माहेश्वरी यादव, पूर्णिमा रात्रे, ग्रामीणजन मुकुंद बघेल, राजकुमार दिरही, महेन्द्र दिरही, देवाराम साहू, रामसाय साहू, गजेंद्र साहू, गजेंद्र सेन, पप्पू रात्रे, रामगुलाल तारक, रोहित तारक आदि उपस्थित थे। आभार प्रदर्शन सचिव जागेश्वर निषाद व संचालन चुम्मन लाल साहू, एस.एल.साहू ने किया।

 


Date : 15-Feb-2020

माघी पुन्नी मेला के छठवें दिन चौबेबांधा स्कूल के 51 छात्रों ने लोकखेल चित्र प्रदर्शनी को समझा

राजिम, 15 फरवरी। माघी पुन्नी मेला के छठवें दिन पूर्व माध्यमिक शाला चौबेबांधा के 51 छात्रों ने लोक खेल प्रदर्शनी एवं चित्र प्रदर्शनी को समझा तथा भौंरा, फल्ली, बग्गा, गोंटा, फुगड़ी, बांटी आदि को खेलकर मोटीवेट हुए। छात्र युवराज, पीयूष, तेजेस्वर, लोमेश, कुंदन, डोमन, पोषण ने लकड़ी से बने भौंरे पर नेती लपेटकर मैदान पर छोड़ा तो भन करते हुए भौंरा रठ मार दिया। भौंरे की चाल को देखकर उपस्थित लोग खूब ताली बजाये। कक्षा सातवीं के राहुल पटेल जिन्हें वर्तमान में 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के दिन शौर्य वीरता पुरूस्कार से राज्यपाल अनुसुईया उइके ने नवाजा था, उन्होंने गेंड़ी चढक़र दूर तक चले। राहुल ने एक ही बार में गेड़ी पर अपना बैलेंस बना लिया और दौड़ भी लगाया। छात्रा वाणी सोनकर, कुसुम, वर्षा, ईशा, रितु, चांदनी, गुंजेश्वरी, ज्योंति, केंवरा, धनेश्वरी ने देर तक फुगड़ी करते रहे। ईशु ने सात मिनट तक लगातार फुगड़ी पर हाथ, पैर मारा। भिर्री, पच्चीसा, तुवेलंगरची, घोटकूल, सोलहगोंटिया, बांटी, नौगोंटिया, भारत, चिकलस, पि_ूल, मक्कीमार खेलों की चित्र प्रदर्शनी छात्रों को खासतौर से बताया गया। 

इस मौके पर उपस्थित छत्तीसगढ़ लोक खेल एसोसियेशन के अध्यक्ष चंद्रशेखर चकोर ने कहा कि महिलाओं के लिए फुगड़ी खेल वरदान है जो बच्चियां बचपन में फुगड़ी खेलती है, उन्हें जनमते समय दिक्कत नहीं होती है। अत: छात्राओं को खासतौर से हम यहां फुगड़ी खेला रहे है। उन्होंने शासन से मांग करते हुए प्राथमिक स्कूलों में फुगड़ी खेल को अनिवार्य किया जाना चाहिए। इस अवसर पर स्कूल के प्रधानपाठक टीआर धनकर, जेके पटेल, ज्योति सिंह ठाकुर, झुना यादव प्रमुख रूप से बच्चों का मार्गदर्शन कर रही।

 


Date : 14-Feb-2020

मैनपुर में भाजपा समर्थित जनपद अध्यक्ष तो कांग्रेस समर्थित उपाध्यक्ष 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
मैनपुर, 14 फरवरी।
मैनपुर में भाजपा समर्थित जनपद अध्यक्ष तो कांग्रेस समर्थित उपाध्यक्ष बने। नूरमती मांझी के जनपद अध्यक्ष एंव नन्दकुमारी राजपूत के उपाध्यक्ष बनने पर जश्न मनाया गया।

जनपद पंचायत मैनपुर में गुरूवार को जनपद अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का चुनाव शांतिपूर्ण सम्पन्न हुआ। सुबह 10:30 बजे चुनाव निर्वाचन प्रक्रिया प्रारंभ किया गया। इस दौरान पीठासीन अधिकारी एसडीएम मैनपुर अंकिता सोम, तहसीलदार रजनी भगत, जनपद पंचायत मैनपुर के मुख्य कार्यपालन अधिकारी नरसिंह धु्रव व चुनाव रीडर पतिराम साहू विशेष रूप से उपस्थित थे। सभी 24 जनपद सदस्य की उपस्थिति में जनपद अध्यक्ष पद के लिए नूरमती मांझी गोहरापदर एंव उपाध्यक्ष पद के लिए नन्दकुमारी राजपूत ने नामांकन दाखिल किया और निर्विरोध जनपद अध्यक्ष नूरमती मांझी एंव उपाध्यक्ष नन्दकुमारी राजपूत को चुना गया जिन्हें पीठासीन अधिकारी द्वारा प्रमाण पत्र प्रदान किया गया इस दौरान सैकडो समर्थकों की भीड़ जनपद पंचायत कार्यालय के सामने लगी रही जैसे ही जनपद अध्यक्ष नूरमती मांझी एंव उपाध्यक्ष नन्दकुमारी राजपूत के निर्विरोध चुने जाने की जानकारी समर्थकों को लगी जमकर आतिशबाजी किया गया और फटाखे फोड़ मिठाई बांटकर खुशियां मनाई गई। इस मौके पर जनपद सदस्य डाकेश्वर नेगी, कैनीबाई ओंटी, मनोज मिश्रा, लीलाबाई कमलेश, घनश्याम मरकाम, पनकीन बाई मरकाम, जयराम ,दीपक मंडावी, वेदमती कपील, नवीना मरकाम, भुमिलता जगत, ललिता बाई, सरस्वती बाई नेताम, टामोतिन यादव, निर्भय सिंह ठाकुर, अरूण सिन्हा, इंद्रा बाई, पलाक राम यादव, पुनित राम सिन्हा, केदार नाथ डोंगरे, लक्ष्मी पटेल, जयसिंह नागेश सहित सभी जनपद सदस्य उपस्थित थे। 


Date : 14-Feb-2020

नवनिर्वाचित सरपंच-पंचों का शपथ ग्रहण, गांव की समृद्धि के लिए भाईचारे के साथ करें काम-धनेंद्र

नवापारा, 14 फरवरी। ग्राम परसदा में सरपंच और पंचों का शपथग्रहण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जहाँ पर सरपंच महेश्वरी साहू सहित पंचों ने अपने कर्तव्य, समाज सेवा एवं भाईचारे के साथ मिलजुलकर ग्राम के विकास एवं स्वच्छता के प्रति सजग रहने की शपथ ली। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विधायक धनेंद्र साहू, अध्यक्षता रतीराम साहू, विशिष्ट अतिथि के रूप में नपा अध्यक्ष धनराज मध्यानी, नपा के पूर्व उपाध्यक्ष जीत सिंग, पार्षद अनुप खरे, एल्डरमेन सौरभ शर्मा, पार्षद प्रतिनिधि अर्जुन साहू उपस्थित थे।

 इस अवसर पर सरपंच सहित सभी नवनिर्वाचित पंचों को मुख्य अतिथि धनेंद्र साहू द्वारा शपथ दिलाई गई।

श्री साहू ने कहा कि आप सभी को जो जिम्मेदारी का कार्य गांव वालों ने दिया है उसे ईमानदारी एवं निष्ठापूर्वक निर्वहन करेंगे। शासन की प्रत्येक योजना का लाभ हर एक व्यक्ति को मिले ऐसी सोंच रखते हुए बिना किसी भेदभाव से करने की बात कही। उन्होंने कहा कि गाँव की सुख शांति व समृद्धि के लिए आपस मे प्रेम व भाईचारे के साथ कार्य करें।  रतीराम साहू ने कहा कि एकता में बड़ी ताकत होती है, ऐसे मौके पर सामुहिक एकजुटता जरूरी है। धनराज मध्यानी ने कहा कि हमे गांव के विकास पर जोर देते हुए आपस मे भाईचारे व सदभावना के साथ कार्य करना होगा तो निश्चित ही गाँव विकास की धारा में अग्रसर होंगे। जीतसिंग ने गाँव को विकास की धारा में कैसे जोड़े इसके लिए मिलजुलकर एकजुट होकर कार्य करने की बात कही। नवनिर्वाचित सरपंच महेश्वरी साहू ने ग्रामवासियों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि आप लोगों ने मुझे जो जिम्मेदारी दी गई है उसे मैं अपना कर्तव्य मानकर बिना किसी भेदभाव के साथ सभी को साथ लेकर कार्य करूंगी और लोगों की समस्या का निराकरण करने की हरसंभव प्रयास करूंगी। कार्यक्रम का संचालन सरपंच प्रतिनिधि तिलक राम साहू ने किया। कार्यक्रम के अंत मे सभी अतिथियों को शाल व श्रीफल भेंटकर सम्मान किया गया।

 इस अवसर पर रमेश वर्मा, टिकेश्वर यादव, पूरन लाल साहू, महेंद्र वर्मा, रामकुमार हिरवानी, कमलेश तारक, चंद्रिका वर्मा, शिवकुमार वर्मा, विष्णु महिलांग, धनीराम बारले, धनेश्वरी धु्रव, मोंगरा साहू, शकुंतला वर्मा, ज्योति तारक, आशा महिलांग, द्रौपदी साहू, पूर्णिमा महिलांग, कांति तारक, खेदिन साहू, साहू, विनोद सेन, शिव कुमार वर्मा, मोंगरा साहू, खेदिन साहू, भुखऊ साहू,  रमेश साहू, सहित बड़ी संख्या में ग्रामवासी उपस्थित थे।

 


Date : 14-Feb-2020

फिंगेश्वर जनपद में कांग्रेस का कब्जा, पुष्पा बनीं अध्यक्ष-योगेश उपाध्यक्ष

छत्तीसगढ़ संवाददाता

राजिम/फिंगेश्वर। जनपद पंचायत में गुरुवार को अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का चुनाव गहमा-गहमी के माहौल में सम्पन्न हुआ। जिसमें पुष्पा जगन्नाथ साहू निर्विरोध अध्यक्ष बनीं, वहीं उपाध्यक्ष के लिए 4 दावेदारों में योगेश साहू निर्वाचित हुए।

उपाध्यक्ष चुनाव की प्रक्रिया में चार उम्मीदवारों कीर्ति गजेन्द्र निवार, नागेश्वरी लोकेश सिन्हा, योगेश साहू एवं राधेश्याम साहू ने नामांकन दाखिल किया। पश्चात सदास्यों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। जिसमे कीर्ति निषाद 2 मत नागेश्वरी लोकेश सिन्हा को 1 मत, योगेश साहू को 19 मत एवं राधेश्याम साहू को 3 मत हासिल। नगर के जनपद पंचायत के अध्यक्ष-उपाध्यक्ष पद पर कांग्रेस के समर्थक विजयी होने से कार्यकर्ताओं में हर्ष है। परिणाम आते ही जनपद पंचायत परिसर में कार्यकर्ताओं ने आतिशबाजी कर जीत का जश्न मनाया।

चुनाव अधिकारी एसडीएम राजिम जीडी वाहिले एवं जनपद पंचायत फिंगेश्वर की सीईओ स्वेच्छा सिंह ने नवनिर्वाचित अध्यक्ष श्रीमति पुष्पा जगन्नाथ साहू एवं उपाध्यक्ष योगेश साहू तथा सदास्यों ललिता भागवत साहू, अर्चना साहू, नागेश्वरी सिन्हा, राजबाई रीवाव, रामाधीन धु्रव, नेमीचंद देवांगन, आशाराम साहू, धान बाई कमार, कीर्ति निषाद, राधेश्याम साहू, डोगेश्वरी रात्रे, भुनेश्वरी साहू, नरेन्द्र चेलक, होरीलाल साहू, मालती साहू, दीपक साहू, विद्या साहू, संतोष सेन, जगदीश साहू, सुगन्धिन घृतलहरे, छबीला साहू, नीरा साहू, शशिकला रात्रे को निर्वाचन का प्रमाण पत्र दिया गया।

अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का चुनाव होने के बाद खुशी मनाते हुए खुली जीत में राजिम पहुंचकर भगवान श्री राजीव लोचन का पूजा अर्चना कर आशीर्वाद मांगा। यहां पं. श्यामाचरण शुक्ल चौक पहुंचकर उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। दोनों निर्वाचित को कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बधाई दी है। जिसमें प्रमुख रूप से विधायक अमितेष शुक्ल, ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष भावसिंग साहू, नगर पंचायत अध्यक्ष रेखा सोनकर, ओमप्रकाश बंछोर, रामकुमार गोस्वामी, गिरीश राजानी, सुनील तिवारी, विकास तिवारी, ओंकार ठाकुर सहित कांग्रेस कार्यकर्ताओं और शुभचिंतकों ने बधाई दी है।


Date : 14-Feb-2020

राजिम माघी पुन्नी मेला में 183 बेटियों के हाथ होंगे पीले

छत्तीसगढ़ संवाददाता

राजिम, 14 फरवरी। राजिम माघी पुन्नी मेला में शासन की विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी मिल रही है। साथ-साथ पात्र हितग्रहियों को योजनाओं का लाभ दिलाने का प्रयास भी किया जा रहा है।

आगामी 16 फरवरी को मुख्यमंच के समीप जिले के 183 बेटियों के हाथ पीले होंगे। इसके लिए मुख्यमंत्री कन्या सामूहिक विवाह योजना अंतर्गत भव्य आयोजन की तैयारी की जा रही है। महिला एवं बाल विभाग के कार्यक्रम अधिकारी श्रीमती जगरानी एक्का ने बताया की कलेक्टर श्री श्याम धावड़े के मार्गदर्शन में विशेष तैयारी की जा रही है। आज तक 183 जोड़ो का पंजीयन किया जा चुका है।

कार्यक्रम की मुख्य अतिथि महिला एवं बाल विकास तथा समाज कल्याण मंत्री श्रीमती अनिला भेडिय़ा होंगी। कार्यक्रम की अध्यक्षता स्थानीय विधायक श्री अमितेष शुक्ल एवं विशिष्ट अतिथि नगर पंचायत राजिम के अध्यक्ष श्रीमती रेखा राजू सोनकर होंगे। ज्ञात है राज्य शासन द्वारा गरीब बेटियों के विवाह के लिए 25 हजार रूपये की सहायता राशि दिये जाते है। विवाह का आयोजन 16 फरवरी रविवार को दोपहर 2 बजे से मुख्यमंच के समीप किया जायेगा।


Date : 14-Feb-2020

राजिम माघी पुन्नी मेला में बढ़ रही भीड़, स्थानीय कलाकारों को मिला मंच, चौथे दिन 10 वर्षीय बालिका के गीत और पद्मश्री ममता चंद्राकर की प्रस्तुतियों ने किया मंत्रमुग्ध

छत्तीसगढ़ संवाददाता 

राजिम, 14 फरवरी।  राजिम माघी पुन्नी मेला में सांस्कृतिक मंच पर चौथे दिन 10 वर्षीय बालिका आरू साहू के गीत ने दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। कक्षा 6वीं की छात्रा आरू साहू ने छत्तीसगढ़ी वंदना गीत ‘‘अरपा पैरी की धार, महानदी हे अपार‘‘, ‘‘जगमग जोत जले’’ और ‘‘जस गीत‘‘ एवं ‘‘धनी बिना जग लागे सून्ना रे‘‘ गीत गाकर दर्शकों का दिल जीत लिया। छत्तीसगढ़ है अलबेला........ तरी हरी ना ना........ मुनगा के डारा.... उसके बाद छत्तीसगढ़ी फिल्म हॅस झन पगली फॅस जबे के गीत मीठ मीठ लगे माया के बानी की गीत की प्रस्तुती दी। इस दौरान मंच पद्मश्री से सम्मानित डॉ. ममता चन्द्राकर और प्रेम चन्द्राकर ने आरू साहू के साथ मंच पर अपनी शानदार प्रस्तुती पर दर्शक भी झुमने लगे। आरू साहू ने अंत में पुरानी फिल्म के गीत ‘‘तेरे जैसा यार कहा’’ की प्रस्तुति दी। इसी बड़ी में रंग झरोखा दुश्यंत हसमुख की शुरूआत गाइये गणपति वंदन...........बघवा के कष्ट हरे बर उसके बाद प्रोफेसर नरेन्द्र देव वर्मा रचित और वर्तमान के राजकीय गीत अरपा पैरी के धार महानदी के अपार गीत प्रस्तुती दी गई। अगले कड़ी में पंथी गीत अॅगना मे गड़े हे जैत खम्हा बाबा के अमर निशानी........इसी के साथ कर्मा नृत्य और अनेक मन को आकर्षित करने वाली गीत की प्रस्तुित दी गई। इन कार्यक्रमो के पूर्व मंच में डैनी राम कर्मा नृत्य, धनी राम साहू डण्डा नृत्य और आनंद ध्रुव के द्वारा लोकमंच की प्रस्तुति दी जिसमें दर्शक भी झुमते रहे। कलाकारों का सम्मान स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा स्मृति चिन्ह भेंटकर किया गया। मंच का संचालन निरंजन साहू, रूपा साहू, मनोज सेन आदि द्वारा किया गया।


Date : 14-Feb-2020

गरियाबंद जपं में निर्दलीय अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का दबदबा

छत्तीसगढ़ संवाददाता

गरियाबंद, 14 फरवरी। जिले में गुरुवार को सभी जनपद पंचायत में अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के चुनाव की प्रक्रिया सम्पन्न हुई जिसमें जिला मुख्यालय में निर्दलीय प्रत्याशी के रूप के जनपद सदस्य बने लालिमा पारस ठाकुर को अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के रूप में प्रवीण यादव द्वारा एक तरफा बहुमत लाते हुए अपना परचम लहराया।

ज्ञात हो कि गरियाबंद में 16 जनपद पंचायत क्षेत्र निर्धारित किया गया है जिसका चुनाव 28 जनवरी को सम्पन्न हुआ और जनपद सदस्य के चुनाव जीतते ही अध्यक्ष और उपाध्यक्ष को दौड़ में शामिल प्रत्याशी अपनी पकड़ मजबूत करते हुए विजयी प्रत्याशियों को अपने समर्थन में करने में लग गए । वहीं इन दोनों पदों की दौड़ में अध्यक्ष के लिए दो और उपाध्यक्ष के लिए दो प्रत्याशी के द्वारा जोरआजमाइश करते देखा गया और प्रशासन द्वारा अध्यक्ष उपाध्यक्ष के चुनाव के लिए निर्धारित 13 फरवरी को सुबह से से स्थानीय जनपद पंचायत कार्यालय में दावेदार अपने समर्थकों के साथ जोड़ तोड़ में जुट गए ।

जनपद अध्यक्ष के लिए लालिमा पारस ठाकुर के द्वारा फार्म जमा किया गया ,तो उनके विरुद्ध में श्यामा दीवान के द्वारा फार्म जमा किया गया वहीं उपाध्यक्ष के लिए प्रवीण यादव और सफीक मेमन का फार्म जमा हुआ । इसी के साथ ही निर्धारित समय अनुसार चुनाव प्रक्रिया प्रारम्भ किया गया और 16 जनपद सदस्यों के बीच लालिमा ठाकुर को 13 वोट और श्यामा को 3 वोट प्राप्त हुए वही उपाध्यक्ष के लिए प्रवीण यादव को 13 और सफीक खान को 3 वोट मिला जिससे अध्यक्ष पद के लिए लालिमा ठाकुर अपने प्रतिद्वंदी से 10 वोट से विजयी रहे वहीं उपाध्यक्ष के लिए प्रवीण यादव भी अपने प्रतिद्वंदी से 10 वोट से विजयी रहे ।

जीत के बाद समर्थको में अच्छा खासा उत्साह देखने को मिल रहा है और अध्यक्ष उपाध्यक्ष के विजयी होने के पश्चात बाहर निकलते ही गुलाल बाजे और बेंड बाजा से उनका स्वागत करते हुए जुलूस के रूप में आगे बढ़े । इस अवसर पर विजयी प्रत्याशियों के द्वारा आभार व्यक्त करते हुए कहा गया कि सभी के साथ मिलकर काम करने का प्रयास करेंगे वही आम जनता के आशा के अनुरूप काम किया जाएगा जो भी स्थानीय विकास का काम है करने का प्रयास करेंगे ।

जनपद अध्यक्ष पर आसीन लालिमा ठाकुर के पति अपने राजनीति जीवन के प्रारम्भ से ही बीजेपी पार्टी के लिए समर्पित रहे है और बीजेपी के बैनर में ही पिछले कार्यकाल में जिला उपाध्यक्ष पद पर आसीन रहते है अपना कार्यकाल सफलता पूर्वक निकाले है और इस चुनाव में भी उनके द्वारा बीजेपी से अपनी पत्नी के लिए टिकट की मांग किये थे । लेकिन उन्हें अधिकृत नही किया गया जिसके चलते लालिमा ठाकुर निर्दलीय चुनाव लड़ते हुए अपनी जीत हासिल किए और जनपद अध्यक्ष बने।।


Date : 14-Feb-2020

कांग्रेसियों ने मनाई पं. श्यामाचरण की पुण्यतिथि

छत्तीसगढ़ संवाददाता

राजिम कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा अविभाजित मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री पं. श्यामाचरण शुक्ल की पुण्यतिथि मनाई गई। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पं. श्यामाचरण शुक्ल चौक पर पहुंचकर उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की गई।

श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए नगर पंचायत अध्यक्ष रेखा सोनकर ने कहा कि सहज-सरल व्यक्तित्व के धनी पंडित शुक्ल ने अविभाजित मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में एक सजग तथा कर्मठ राजनेता के रूप में छत्तीसगढ़ सहित समूचे मध्यप्रदेश की प्रगति के लिए अनेक क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य किया। विशेष रूप से सिंचाई के क्षेत्र में उनके योगदान को सदैव याद रखा जाएगा। रामकुमार गोस्वामी ने कहा कि पंडित श्यामाचरण शुक्ल छत्तीसगढ़ की माटी के सच्चे सपूत थे। श्यामाचरण जी भागीरथी के रूप में जाने जाते है। छत्तीसगढ़ में उन्होंने अपने कार्यकाल में कई बांध एवं नहरों का निर्माण करवाया है। गिरीश राजानी ने कहा कि श्यामा भैय्या किसानों के मसीहा थे। पंडित शुक्ल जी ने राजिम क्षेत्र में बिजली, पानी व सडकों का जाल बिछाकर ग्रामीणों को विकास की कड़ी से जोडऩे की पहल किया। जिसके चलते आज भी राजिम विधानसभा क्षेत्र में शुक्ल परिवार की पारिवारिक संबंध है। पं. श्यामाचरण जी को कभी भुलाया नहीं जा सकता। इस अवसर पर वरिष्ठ कांग्रेस नेता ताराचंद मेघवानी, नगर पंचायत अध्यक्ष रेखा सोनकर, रामकुमार गोस्वामी, गिरीश राजानी, सुनील तिवारी, विकास तिवारी, अशोक श्रीवास्तव, राजेेन्द्र गुप्ता, ओमकार ठाकुर, ठाकुरराम साहू, अश्वनी यादव, विनोद सोनकर, रामकुमार साहू, प्रीति पाण्डेय सहित युवा कांग्रेस, महिला कांग्रेस, एनएसयूआई कार्यकर्ता सहित बड़ी संख्या में कांग्रेसी उपस्थित थे।


Date : 14-Feb-2020

छुरा जनपद में तोकेश्वरी अध्यक्ष, चंद्राकर-मिश्रा को बराबर मत, लॉटरी में निकला मिश्रा का नाम, कांग्रेसी-भाजपाई समर्थकों की सुबह से ही जनपद कार्यालय में रही हलचल

छत्तीसगढ़ संवाददाता

छुरा, 14 फरवरी। जनपद पंचायत में गुरुवार को जनपद अध्यक्ष-उपाध्यक्ष का चुनाव संपन्न हुआ।  जिसमें तोकेश्वरी जनपद अध्यक्ष और उपाध्यक्ष गौरव मिश्रा बने।

अध्यक्ष पद के लिए 22 मतों में से तोकेश्वरी को 11  व नीलकंठ ठाकुर को 8 व  खिलेश्वरी ध्रुव को तीन मत मिले।  जिसमें तोकेश्वरी विजय घोषित हुईं,  वहीं उपाध्यक्ष पद के लिए 3 उम्मीदवार चुनाव मैदान में उतरे, जिसमें  गौरव मिश्रा को 9 एवं हेमलाल चंद्राकर को 9 वोट प्राप्त हुए तथा चार मत प्रहलाद यादव के पक्ष में पड़े। गौरव मिश्रा एवं हेमलाल चंद्राकर को बराबर मत मिलने पर रिटर्निंग ऑफिसर जीआर चौरसिया ने लाटरी के माध्यम गौरव मिश्रा को 10 वोट मिलने की घोषणा करते हुए जनपद उपाध्यक्ष पद हेतु गौरव मिश्रा का नाम नामांकित किया।  सुबह 10 बजे से कांग्रेसी एवं भाजपा समर्थित नेताओं की जनपद पंचायत में हलचल दिखी। दोनों खेमा के नेता आखिरी क्षणों तक अपने-अपने समर्थकों के साथ डटे थे। अंतिम में दोनों प्रत्याशियों के विजय होने पर बधाई प्रेषित किए तथा शुभकामनाएं दी।


Date : 13-Feb-2020

केंद्र में बिना धान पहुंचे जारी की पर्ची मुंशी को हटाने का आदेश, एसडीएम ने धान खरीदी केन्द्रों का किया निरीक्षण

छत्तीसगढ़ संवाददाता
मैनपुर, 13 फरवरी।
संग्रहण केन्द्र में धान की बोरी पहुंची ही नहीं और पर्ची मुंशी ने नियमों को ताक पर रखकर संबंधित किसान के नाम से आवक पर्ची भी जारी कर दिया, मामले का खुलासा तब हुआ जब मैनपुर एसडीएम ने तेतलखुंटी संग्रहण केन्द्र से करीब एक किलोमीटर दूर एक ट्रैक्टर को रोककर पूछताछ की। 

पूछताछ के दौरान ट्रैक्टर चालक ने टोकन संग्रहण केन्द्र में होने की बात कही। जब एसडीएम ने संग्रहण केन्द्र से जानकारी ली तो पता चला कि संग्रहण केन्द्र में धान पहुंचा ही नहीं है और 97 बोरी धान संग्रहण केन्द्र में पहुंचना मुंशी द्वारा पर्ची में बता दिया गया है। एसडीएम ने जांच के दौरान पाया कि आवक पर्ची में मुंशी ने 97 बोरी धान संग्रहण केन्द्र में होना बताया है, जबकि झरगांव के किसान प्रहलाद के पास ट्रैक्टर में मात्र 6 5 बोरी धान ही पाया गया। 

मामले में एसडीएम ने तत्काल पर्ची मुंशी को हटाने के लिए समिति अध्यक्ष को निर्देंशित किया। दौरे के दौरान मैनपुर नायब तहसीलदार कृष्णमूर्ति दीवान भी मौजूद रहे।

ऑपरेटर की कार्यप्रणाली से नाराज
मैनपुर एसडीएम अंकिता सोम ने दौरे के दौरान ऑपरेटर की कार्यप्रणाली पर भी जमकर नाराजगी व्यक्त की। एसडीएम को जब पता चला कि किसानों की धान के बिक्री पश्चात् शेष धान की बिक्री नहीं किए जाने के लिए सहमति पत्र भरवाने में ऑपरेटर उदासीनता बरत रहा है। इस पर एसडीएम ने कड़े शब्दों में चेतावनी देते हुए कहा कि इस तरह की उदासीनता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। वहीं उन्होंने ऑपरेटर को निर्देंशित किया कि काम को गंभीरता से लेते हुए किसानों की धान बिक्री के पश्चात् सहमति पत्र भरवाया जाए।

छोटे किसानों को दी जाए प्राथमिकता
निरीक्षण के दौरान एसडीएम को जानकारी मिली कि बड़े किसानों का एक ही बार में टोकन काटा जा रहा है,जिससे छोटे किसान का धान समय पर नहीं बिक पा रहा है, वहीं उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, वहीं जानकारी मिलने पर एसडीएम ने जिम्मेदारों को निर्देंशित करते हुए कहा कि छोटे किसानों के धान खरीदी को प्राथमिकता दिया जाए, इसके लिए उन्होंने समिति अध्यक्ष के साथ ही प्रभारी को निर्देंशित किया। 

दौरे के दौरान एसडीएम ने बताया कि उनकी भरसक कोशिश हैं कि किसी भी शर्त में बिचैलिए अपने मंसूबों में कामयाब नहीं हो पाए, श्रीमती सोम ने बताया कि इसके लिए उन्होंने बुधवार को सीमावर्ती क्षेत्रों का सघन दौरा भी किया है। एसडीएम अंकिता ने साफ कर दिया कि लगातार उनका दौरा जारी रहेगा, उनकी टीम भी लगातार क्षेत्रों का निरीक्षण कर रही है, जहां भी धान तस्करी की सूचना मिलेगी,तत्काल ऐसे लोगों पर कार्रवाई की जाएगी। 

 


Date : 13-Feb-2020

मायके जाने को लेकर विवाद-हत्या, पति समेत सास-ससुर बंदी

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
नवापारा-राजिम, 13 फरवरी।
मायके जाने की जिद को लेकर हुए विवाद में पति ने नवविवाहिता पत्नी की हत्या कर दी। मामले में आरोपी के साक्ष्य छुपाने के प्रयास में उसके माता पिता को भी गिरफ्तार कर पुलिस ने जेल भेज दिया है। 

जानकारी के अनुसार थाना गोबरा नवापारा के ग्राम सुंदरकेरा के दानेश्वर साहू का विवाह पिछले वर्ष मुजगहन थाना क्षेत्र की रहने वाली पिंकी साहू से हुआ था। रविवार रात को घर पहुंचे दानेश्वर से पिंकी ने अपने साथ मायके चलने की जिद की, जिस पर दोनों में विवाद हुआ। विवाद इतना बढ़ गया कि दानेश्वर ने पिंकी को पीटना शुरू कर दिया। बेदम पिटाई से कुछ ही देर में पिंकी की मृत्यु हो गई। यह देखकर दानेश्वर डर गया और कमरे में ही सो गया। सुबह उसने अपने पिता देवनारायण और मां कांतिबाई को पूरी घटना की जानकारी दी। माता पिता ने ग्रामवासियों और पिंकी के घर वालों को यह जानकारी दी कि गिरने से पिंकी की मौत हो गई है।

जब पिंकी के परिजन सुंदरकेरा पहुंचे तो लाश पर चोट के निशान देखकर उन्हें अपनी बेटी की हत्या करने का संदेह हुआ, उन्होंने तत्काल गोबरा नवापारा थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने अंतिम यात्रा को रोककर लाश का बारीकी से मुआयना किया तो उसे मामला प्रथम दृष्टया हत्या का लगा। लाश जब्त कर पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भिजवाते हुए दानेश्वर को हिरासत में लिया। शॅार्ट पीएम रिपोर्ट में हत्या की पुष्टि होने पर दानेश्वर से कड़ाई से पूछताछ शुरू की गई। रात 11 बजे के करीब उसने अपना अपराध कबूल कर लिया। इसके बाद उसने सारी घटना पुलिस को विस्तार से बता दी। इसके बाद पिता देवनारायण व मां कांतिबाई को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

 


Date : 13-Feb-2020

राजिम माघी पुन्नी मेला पर आयोजित वन सम्मेलन कार्यक्रम में पहुंचे वन मंत्री मो. अकबर ने राजीव लोचन मंदिर में पूजा कर प्रदेश की खुशहाली की कामना की

राजिम, 13 फरवरी। राजिम माघी पुन्नी मेला के अवसर पर आयोजित वन सम्मेलन कार्यक्रम में पहुंचे वन मंत्री मो. अकबर ने राजीव लोचन मंदिर में पूजा कर प्रदेश की खुशहाली की कामना की। इस दौरान कलेक्टर श्याम धावड़े, एसपी एमआर आहिरे, जिला पंचायत सीईओ विनय लंगेह, धमतरी डीएफओ अमिताभ वाजपेयी, बैशाखु राम साहू, विकास तिवारी, मनीष दुबे, ठाकुरराम साहू, अशोक श्रीवास्तव सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

 

 


Date : 13-Feb-2020

राजिम त्रिवेणी संगम से जल लेकर कांवरिए नागपुर रवाना

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
राजिम, 13 फरवरी।
राजिम माघी पुन्नी मेला में नागपुर के श्री जागृतेश्वर पैदल कावंरिया यात्रा सेवा ट्रस्ट के लगभग 45 सदस्यों ने राजिम पहुंॅचकर संगम स्थल में स्नान कर जल लेकर नागपुर जागृतेश्वर मंदिर के लिए रवाना हुए। सदस्यों ने बताया कि शिवरात्रि पर नागपुर के जागनाथ बुधवारी स्थित जागृतेश्वर मंदिर में पहुंचकर भगवान शिव का जलाभिषेक किया जाएगा। 

दल के एक सदस्य ने बताया कि वे जल भरकर भगवान कुलेश्वर एवं राजीवलोचन की पूजा-अर्चना कर पैदल नागपुर के लिए रावाना होंगे। जो 20 फरवरी को नागपुर पहुंचेंग और 21 फरवरी को शिवरात्रि के अवसर पर जागृतेश्वर मंदिर में जलाभिषेक करेंगे। अब तक इस कावंरिया दल ने नासिक त्रयम्बकेश्वर, काशी बनारस तथा प्रयागराज ईलाहाबाद से पैदल कांवारियों ने जल लाकर जागृतेश्वर मंदिर में शिवरात्रि के अवसर पर जलाभिषेक करते हैं। 

राजिम माघी पुन्नी मेला में आना इस दल का यह पहला अवसर है आने के एक माह पहले इस दल के कुछ सदस्यों ने राजिम आकर सर्वे किया तथा निर्णय लिया कि इस वर्ष राजिम के त्रिवेणी संगम के जल भरकर जागनाथ बुधवारी नागपुर तक पैदल यात्रा कर कावंारिया में जल भरकर अभिषेक किया जाएगा। 

 

 


Date : 13-Feb-2020

छत्तीसगढ़ संयुक्त प्रगतिशील कर्मचारी महासंघ द्वारा अनियमित कर्मचारी-अधिकारियों का महासम्मेलन कल बूढ़ापारा में आयोजित किया गया 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
गरियाबंद, 13 फरवरी।
छत्तीसगढ़ संयुक्त प्रगतिशील कर्मचारी महासंघ द्वारा अनियमित कर्मचारी-अधिकारियों का महासम्मेलन कल धरना स्थल बूढ़ापारा रायपुर में आयोजित किया गया है। जिसमें 55 से अधिक संगठनों के 10 हजार से अधिक अनियमित कर्मचारी शामिल होंगे। महासम्मेलन में नियमितीकरण एवं बहाली का प्रस्ताव पारित कर मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपा जाएगा। 

प्रदेश अध्यक्ष (संयुक्त मोर्चा) गोपाल प्रसाद साहू ने बताया कि संयुक्त मोर्चा द्वारा अपनी नियमितीकरण एवं छटनी ना करने की मांग सहित 5 सूत्रीय मांग को सरकार के समक्ष मजबूती से रखने हेतु समस्त नियमित संगठनों के पदाधिकारियों के साथ समग्र चर्चा उपरांत महासम्मेलन आयोजित करने का निर्णय लिया गया। बैठक में 50 से अधिक अनियमित संगठनों के प्रतिनिधि एवं छत्तीसगढ़ संयुक्त प्रगतिशील/अनियमित कर्मचारी महासंघ के प्रांतीय/संभागीय/जिला स्तरीय पदाधिकारी सहित 75 से अधिक पदाधिकारी सम्मलित हुए। इस दौरान समस्त उपस्थित सदस्यों का हस्ताक्षरित ज्ञापन मुख्यमंत्री को सौंपा जाएगा। कार्यक्रम में 10 से अधिक नियमित संगठनों के प्रतिनिधि के सम्मिलित होने की संभावना है।

 


Date : 12-Feb-2020

राजिम माघी पुन्नी मेला सांस्कृतिक प्रस्तुतियों से दमक उठा

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
राजिम, 12 फरवरी।
माघी पुन्नी मेला सांस्कृतिक प्रस्तुतियों से दमक उठा है। कुलेश्वरनाथ महादेव मंदिर के पीछे बने सांस्कृतिक पंडाल में दोपहर 12 बजे से शाम 5 बजे तक छत्तीसगढ़ की संस्कृति से लबरेज प्रस्तुतियां लगातार हो रही। 

इसी क्रम में भेण्ड्री (मगरलोड) के गुरूशरण साहू द्वारा रामायण की प्रस्तुति दी गई। उन्होने बालकांड प्रसंग पर कहा कि राम का अवतार धरती लोक में आताताईयों के सर्वनाश के लिए हुआ था। उन्होने राम कथा के माध्यम से एक से बढ़कर एक धार्मिक भजन प्रस्तुत कर भावविभोर कर दिया। 

छुरा के गोविंद नेताम ने बस्तरिहा नृत्य कर समा बंध दिया। सड़क परसुली के टीना द्वारा लोक नृत्य की प्रस्तुति दी गई। चौबेबांधा के दीपक श्रीवास ने जसगीत प्रस्तुत किया। खपरी (दुर्ग) के गुणेश्वरी वर्मा की मंडली ने सुआ नृत्य पर जलवा बिखेरा। गरियाबंद के जितेन्द्र सोनवानी की टीम ने आदिवासी व कर्मा नृत्य पर झूमा चौरदा के इकबाल ने भजनों की प्रस्तुति दी। 

मड़ेली छुरा के तुसलीबाई मानिकपुरी ने पंडवानी विधा पर महाभारत के कथा का वर्णन किया। सोमेश साहू ने तिरंगा नृत्य किया। कार्यक्रम का संचालन महेन्द्र पंत, मनोज सेन, दुर्गेष तिवारी ने किया। जिला संास्कृतिक कार्यक्रम प्रभारी मोहित मोंगरे के अलावा द्वारिका नाग, केसर निर्मलकर, दयालु यादव, जितेन्द्र सोनवानी, गोपाल कंसारी, आषीस सेन, डिहु रावत आदि का सहयोग रहा। इस कार्यक्रम को देखने के लिए बड़ी संख्या में दर्शकगण उपस्थिति हो रहे हैं। पूरा पंडाल खचाखच श्रद्वालुओं से भरा हुआ है। 


Date : 12-Feb-2020

माघी पुन्नी मेला में नागा साधुओं का आगमन, दशनाम जूना अखाड़ा एवं अन्य अखाड़ों से आए साधुओं द्वारा धर्म ध्वजारोहण 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
राजिम, 12 फरवरी।
माघी पुन्नी मेला में नागा साधुओं का आगमन हो गया है। मेला में दशनाम जूना अखाड़ा एवं अन्य अखाड़ों से आए नागा साधुओं द्वारा धर्म ध्वजारोहण किया गया। 

लोमषऋषि आश्रम में स्थित पुराने ध्वज को उतारकर नया ध्वजारोहण मंत्रोचार के साथ विधि विधान पूर्वक सम्पन्न किया। 
दिगम्बर अखाड़ा के राजिम माघी पुन्नी मेला प्रभारी जनकपुरी महाराज ने बताया कि जब इस पृथ्वी पर (कुम्भ) संत समागम की शुरूआत हुई है तभी से सनातन धर्म की ध्वजा का सुत्रपात हुआ हैं। भगवा ध्वज सन्यासी का प्रतीक हैं, जिसे विश्व का प्रथम ध्वज माना जाता है। धर्म ध्वजारोहण के बाद श्रद्धालुओं को प्रसाद वितरित किया गया। 16  फरवरी जानकी जयंती के दिन पेशवाई निकाली जाएगी। धर्म ध्वजारोहण के बाद अपने ईष्ट देव दत्तात्रेय भगवान को आमंत्रित करते हुए आशीर्वाद लेते है और अपनी-अपनी धुनी लगाकर भक्तिभाव कर प्रभु का कीर्तन करते हैं। 

इस अवसर पर जनकपुरी उमेशानंदपुरी राजेन्द्रगिरि, प्रकाश गिरि सनातन पुरी, संतोष गिरि, कमलेशानंद, विजयगिरि, पारस भारती, अभिषेक गिरि, शातानंद गिरि, प्रदीप गिरि, वही माईवाड़ा में सिद्धेश्वरी गिरि, अम्बा गिरि, उमा गिरि, पूर्णिमा गिरि के साथ अन्य साधु संत मौजूद थे।


Date : 12-Feb-2020

दुर्गा में दिखी पंडवानी गायिका तीजन बाई की झलक
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
राजिम, 12 फरवरी।
माघी पुन्नी मेला के अवसर पर तिल्दा ब्लॉक के एक छोटे से गांव की दुर्गा साहू की पंडवानी प्रस्तुतीकरण से दर्शक झूम उठे। चर्चा के दौरान दुर्गा ने बताया कि प्रसिद्ध पंडवानी गायिका पद्मश्री तीजनबाई ने जब दुर्गा की पंडवानी सुनी तो वह स्वयं को रोक नहीं पाई और बहुत ही भावुक होकर उन्होंने दुर्गा को आशीर्वाद देते हुए कहा कि तुम ही भविष्य की तीजन बाई बनोगी।

दुर्गा बचपन से ही कला के प्रति आकर्शित थी और उसे पता ही नहीं चला की वह कब और कैसे पंडवानी गाने लगी। अपने स्कूल के वार्षिक प्रोग्राम में उसने पहली बार अपने शिक्षक श्री साहू के मार्गदर्शन में पंडवानी गायी है, उसके बाद उसे दर्शकों का जिस प्रकार से स्नेह मिला फिर दुर्गा ने पिदे मुड़ कर नहीं देखी। बी.एस.सी. गणित की प्रथम वर्षीय छात्र दुर्गा का मन लीन कला के रंगो से रंगा तथा आत्मविश्वास से भरा हुआ है।  अपनी पढ़ाई से समय चुराकर दुर्गा प्रतिदिन लगभग 1 से 2 घंटे अभ्यास करती है। उसने अब तक अपने गांव के आसपास क्षेत्रों के अलावा म.प्र., उड़ीसा और महाराष्ट्र में कई स्थानों पर अपना प्रोग्राम दिया है। वह पड़वानी गायन के साथ-साथ कमला देवी संगीत महाविद्यालय में गायन में प्रथमा की भी पढ़ाई कर रही है।

 


Date : 12-Feb-2020

राजिम माघी पुन्नी मेला में नागा साधुओं का आगमन, मेला में दशनाम जूना अखाड़ा एवं अन्य अखाड़ों से आए नागा साधुओं द्वारा धर्म ध्वजारोहण किया  

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
राजिम, 12 फरवरी।
माघी पुन्नी मेला में नागा साधुओं का आगमन हो गया है। मेला में दशनाम जूना अखाड़ा एवं अन्य अखाड़ों से आए नागा साधुओं द्वारा धर्म ध्वजारोहण किया गया। लोमषऋषि आश्रम में स्थित पुराने ध्वज को उतारकर नया ध्वजारोहण मंत्रोचार के साथ विधि विधान पूर्वक सम्पन्न किया। 

दिगम्बर अखाड़ा के राजिम माघी पुन्नी मेला प्रभारी जनकपुरी महाराज ने बताया कि जब इस पृथ्वी पर (कुम्भ) संत समागम की शुरूआत हुई है तभी से सनातन धर्म की ध्वजा का सुत्रपात हुआ हैं। भगवा ध्वज सन्यासी का प्रतीक हैं, जिसे विश्व का प्रथम ध्वज माना जाता है। धर्म ध्वजारोहण के बाद श्रद्धालुओं को प्रसाद वितरित किया गया। 16  फरवरी जानकी जयंती के दिन पेशवाई निकाली जाएगी। धर्म ध्वजारोहण के बाद अपने ईष्ट देव दत्तात्रेय भगवान को आमंत्रित करते हुए आशीर्वाद लेते है और अपनी-अपनी धुनी लगाकर भक्तिभाव कर प्रभु का कीर्तन करते हैं। इस अवसर पर जनकपुरी उमेशानंदपुरी राजेन्द्रगिरि, प्रकाश गिरि सनातन पुरी, संतोष गिरि, कमलेशानंद, विजयगिरि, पारस भारती, अभिषेक गिरि, शातानंद गिरि, प्रदीप गिरि, वही माईवाड़ा में सिद्धेश्वरी गिरि, अम्बा गिरि, उमा गिरि, पूर्णिमा गिरि के साथ अन्य साधु संत मौजूद थे।