छत्तीसगढ़ » जान्जगीर-चाम्पा

18-Jun-2021 7:43 PM (78)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
जांजगीर-चांपा, 18 जून।
राज्य गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष राजेश्री डॉ. महन्त रामसुन्दर दास जी महाराज पीठाधीश्वर श्री शिवरीनारायण मठ ने कल जांजगीर-चांपा जिले के दो अलग-अलग स्थानों पर संचालित गौशालाओं का निरीक्षण किया। 
सबसे पहले वे नवागढ़ विकासखंड अंतर्गत स्थित ग्राम दुरपा में जय मां शबरी गौशाला समिति द्वारा संचालित गौशाला का निरीक्षण किया।

उन्होंने संचालन समिति के अध्यक्ष से पूछा कि पिछले सत्र जब यहां निरीक्षण के लिए आया था तब आपसे कोटना बनाने के लिए कहा था अब तक आपने बनाया नहीं है?  
उन्होंने छोटे-छोटे कोटना को दिखाया, तब राजेश्री महंत ने उनसे पूछा कि 198 गौवंशी इतने छोटे कोटना में चारा कैसे प्राप्त करते हैं? यह सुनकर उसने यथाशीघ्र निर्माण कार्य पूरा करने का आश्वासन दिया। इसके पश्चात राजेश्री महन्त जी महाराज चांदी पहाड़ आश्रम गौ सेवा समिति गोवाबंद पहुंच कर गौशाला का निरीक्षण किए जहां उन्होंने बर्षा के पूर्व गायों के  टीकाकरण पूर्ण होने की जानकारी ली तथा यह पूछा कि डॉक्टर गायों के इलाज के लिए समय पर आते हैं या नहीं?
 उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के संक्रमण काल में भी गौ सेवा आयोग के अधिकारियों ने अच्छा कार्य किया। यद्यपि विषम परिस्थितियों का प्रभाव उन पर भी पड़ा। हमारे बीच से अनेक अधिकारी कर्मचारी दिवंगत हुए किंतु इन सब के बाद भी आयोग का कार्य निरंतर संचालित होता रहा, हमारा उद्देश्य ही गौ माता की सेवा करना है। 

राजेश्री महंत जी महाराज पामगढ़ विश्राम गृह में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं एवं अधिकारियों से भेंट मुलाकात कर शासन के द्वारा संचालित योजनाओं के उचित क्रियान्वयन के संदर्भ में जानकारी ली वे ग्राम रसोटा के मृतक परिवार के कार्यक्रम में भी शामिल हुए एवं शोक संवेदना व्यक्त की। 

इस अवसर पर विशेष रूप से जिला पंचायत जांजगीर चांपा के उपाध्यक्ष राघवेंद्र प्रताप सिंह, जनपद पंचायत बलौदा के अध्यक्ष प्रतिनिधि कन्हैया राठौर, जनपद सदस्य कमलेश सिंह, पूर्णेन्द तिवारी, अधिवक्ता प्रमोद सिंह, मनोज मित्तल, बसंत अग्रवाल, हर प्रसाद साहू, पामगढ़ के एसडीएम  करुण डहरिया, मुख्य कार्यपालन अधिकारी एल के कौशिक, तहसीलदार जयश्री पथे, कृषि विस्तार अधिकारी एफ आर साहू, थाना स्टाफ पामगढ़ तथा कल्याण सिंह बर्मन, बंटी थवाईत, एचपी खरे, सरपंच कविता नरेंद्र तिवारी, चुन्ना सिंह, आकाश यादव, अरविंद मिश्रा, सुशील साहू, मीडिया प्रभारी निर्मल दास वैष्णव सहित अनेक गणमान्य जन उपस्थित थे।

 


18-Jun-2021 6:57 PM (106)

   भूपेश सरकार की कथनी और करनी में अंतर -सौरभ     

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता 
बलौदा, 18 जून।
प्रदेश सरकार के ढाई साल पूर्ण होने पर भाजपा के अकलतरा विधायक सौरभ सिंह ने बलौदा में कल प्रेसवार्ता में कांग्रेस शासन के ढाई साल की नाकामी और जनता से किये गये झूठे वादों को सिलसिलेवार बताया।
श्री सिंह ने बताया कि कांग्रेस सरकार चुनाव के समय गंगाजल लेकर अपनी चुनावी घोषणापत्र में कई वादे किए थे। अपने वादों के मुताबिक राज्य में शराब की बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने की बात कही गई थी, किन्तु शराबबंदी तो दूर आजकल हर गली मोहल्ले में अवैध शराब की बिक्री की जा रही है, वहीं आरोपियों को केवल पकडऩे की औपचारिकता पूरी कर रही है, छत्तीसगढ़ कांग्रेस सरकार के राज में अवैध शराब सट्टा जुआ का कारोबार दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। संस्थागत माफिया राज चला रहे है, अधिकारी किसी की सुनते नहीं, छत्तीसगढ़ में कानून व्यवस्था पूरी तरह चौपट है। 

सौरभ सिंह ने आगे बताया कि छत्तीसगढ़ कांग्रेस सरकार युवाओं को राजीव मित्र योजना के तहत हर घर रोजगार, घर-घर रोजगार देने का वादा किया था, 10 लाख बेरोजगार युवाओं को सामुदायिक विकास और समाजसेवी गतिविधियों में भाग लेने पर 2500 प्रति माह प्रदान करने की बात कही गई थी, परंतु छत्तीसगढ़ कांग्रेस सरकार की नाकामी के कारण बढ़ती बेरोजगारी और रोजगार के घटते अवसर दिखाई दे रही है। घोषणा पत्र के अनुरूप सर्ववृद्धा पेंशन योजना के अंतर्गत 60 से अधिक के आयु के नागरिकों को 1000 प्रति माह एवं 75 वर्ष के आयु के नागरिकों को 1500 पेंशन के रूप में प्रदान किया जाएगा,इस कोरोना काल के विपदा में भी ये राजनीति करने से पीछे नहीं हट रहे हंै और केंद्र सरकार की वैक्सीन प्रणाली का विरोधकर हजारों वैक्सीन बर्बाद किया, किंतु कांग्रेस सरकार कोई भी वादे को पूरा करने में नाकाम साबित हुई है। 

कार्यक्रम में मुख्य रूप से जिला पंचायत सदस्य प्रदीप पाटले, भाजपा मंडल अध्यक्ष एस कुमार देवांगन, समीर शुक्ला, रमाकांत यादव, बल्ला श्रीवास उपस्थित रहे। 

 


31-May-2021 6:09 PM (86)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
डभरा, 31 मई।
जांजगीर-चाम्पा जिले के नगर पंचायत डभरा में कोरोना वॉरियर्स का सम्मान किया गया है।
नगर पंचायत अध्यक्ष प्रीतम अग्रवाल, उपाध्यक्ष दीपक साहू सहित नगर के पार्षदों ने नगर के गणमान्य नागरिकों व पत्रकारों को श्रीफल से सम्मानित किया।
छ.ग. समेत पूरे देश में कोरोना महामारी एक विकराल रूप ले चुका है जिसके कारण हजारो जिंदगियां और परिवार तबाह हो चुके है। कोरोना के चैन तोडऩे हेतु किए गए तालाबंदी में सहयोग व जनता में जागरुकता लाने के लिए प्रयासरत  पत्रकार बन्धु व गणमान्य नागरिक जो हमें इतनी विपरीत परिस्थितियों मे भी लोगों के बीच जागरुकता ला रहे हैं। फ्रंटलाइन वर्कर पत्रकार जो अपने कर्तव्य पथ पर जान की बाजी लगाकर क्षेत्र की हर खबर लोगों तक पहुंचाने का कार्य कर रहे हैं। नगर पंचायत अध्यक्ष प्रीतम अग्रवाल के अगुवाई में नगर के उपाध्यक्ष दीपक साहू व पार्षदगण के द्वारा पत्रकारों व नगर के गणमान्य नगरकों  को श्रीफल और गमछे से स्वागत कर   सम्मानित किया गया।
 


31-May-2021 6:03 PM (57)
‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
डभरा, 31 मई।  पैसे नहीं देने पर नाती ने नानी की डंडा व लोढ़ा से वार कर हत्या कर दी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। 
पुलिस के अनुसार प्रार्थी घसियाराम बघेल ठनगन थाना में उपस्थित आकर रिपोर्ट दर्ज कराया कि घसनीन सतनामी उर्फ खुरघटहीन (70 वर्ष) जो अपने बेटी नाती जगन्नाथ प्रसाद के साथ ठनगन में रहती थी वह वृद्धा पेंशन पाती थी। 28 मई को रात्रि करीब 11 बजे जगन्नाथ प्रसाद घर आकर अपनी नानी घासनीन को घरेलू विवाद को लेकर उसे डंडा-लोढ़ा से वार कर हत्या कर दी। 
 
विवेचना के दौरान आरोपी जगन्नाथ सतनामी को पुलिस हिरासत में लेकर घटना के बारे में बारिकी से पूछताछ करने पर बताया कि 28 मई की रात्रि करीब 11 बजे नानी घसनीन बाई से पैसा मांगने पर नहीं देने से गाली-गलौच कर रहा था। तभी पड़ोसियों के शिकायत पर डायल 112 की पुलिस आकर मुझे समझाकर चले गए फिर मैंने गुस्से में अपनी नानी को तुम्हारी वजह से पुलिस वाले आकर मुझे डांट रहे थे कहते हुए डंडा से अंधाधुन मारने लगा तभी नानी गाली-गलौच करने लगी। तब मैंने नानी को जान सहित मारने की नीयत से घर में रखे लोढ़ा से दो-तीन बार मारा जिससे शाम तक मौत हो गई थी। डंडा एवं लोढ़ा को कमरे में खाट नीचे छुपाकर रखना बताया। पुलिस ने डण्डा एवं लोढ़ा को जब्त किया है। आरोपी जगन्नाथ उम्र 33 वर्ष ठनगन थाना डभरा को 30 मई को गिरफ्तार  कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया। 
 

30-May-2021 9:39 PM (123)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बलौदा, 30 मई। लॉकडाउन में ग्रामीणों द्वारा जंगल की आधा सैकड़ा से अधिक जमीन पर अवैध कब्जा करते हुए मेड़ बना कर घेराव कर लिए थे। इसकी शिकायत पर उडऩदस्ता जांच टीम ने मौके पर पहुंचकर कार्रवाई की।

ज्ञात हो कि  वन परिक्षेत्र बलौदा जांजगीर चांपा जिले का सबसे बड़ा वन परिक्षेत्र है। एक समय था कि लोग बलौदा के आसपास के रास्तों से गुजरने में डरते थे और आज उजड़ते वनों ने वनपरिक्षेत्र का आकार सीमित कर दिया है। वनपरिक्षेत्र के चारों ओर रसूखदार कुछ कतिपय तत्वों के द्वारा राजनीतिक और लाठी के जोर पर पूरे जंगल को बर्बाद कर दिया।

बलौदा वनपरिक्षेत्र के कटरा के बीट के क्रमांक 54 के करीब 65 एकड़ वन भूमि को अज्ञात ग्रामीणों के द्वारा गैंती, फावड़ा से खोद कर मेड़ बना कर घेराव कर लिए थे। इसकी जानकारी ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष संगीता कॄष्ण सोनी को पता चलने पर इसकी शिकायत वन मंत्री  मोहम्मद अकबर से की गई थी। जिसके बाद उडऩदस्ता जांच टीम के द्वारा कोरबी अचानकपुर वनपरिक्षेत्र कटरा बीट के  कक्ष क्रमांक 54 में पहुंच कर कार्रवाई करते हुए पंचनामा बनाया।

 संगीताकृष्ण सोनी ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष, बलौदा के पार्षद गोवर्धन कुर्रे, रफीक कुरैशी, यशवंत भारद्वाज और अन्य ने उक्त भूमि को कब्जामुक्त कराने को कहा गया। लॉकडाउन केर बाद जेसीबी से भूमि को समतल किये जाने के साथ कब्जाधारियों पर कठोर कार्रवाई की मांग की गई है।

ज्ञात हो कि पिछले वर्ष भी इसी लॉकडाउन में आर एफ 54 के वनभूमि पर भी कुरमा, काठापाली सोनबरसा के ग्रामीणों ने बेसरम, खूंटा आदि घेरकर कब्जा कर लिया था, उस समय भी बेदखली की कार्रवाई की गई थी और 5-6 लोगों को पकड़ कर वन अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई थी।


22-May-2021 12:28 PM (116)

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

बलौदा, 22 मई। कोरोना संक्रमण काल में हिम्मत और जज्बे से उबरने वाली एक नहीं कई माताएं परिवार ही नहीं समाज के लिए मिसाल बनी हैं। 
बलौदा विकासखंड के ग्राम सुल्ताननार निवासिनी 76 वर्षीया डोल कुवंर ने 40-45 आक्सीजन सैचुरेशन और शुगर की बीमारी से पीडि़त होने के बाद भी न केवल कोरोना को मात दी बल्कि अपनेे पूरे परिवार को संभाला। बच्चों में जोश भरा कि कोरोना से डरने की नहीं, डटकर मुकाबला करने की जरूरत है। दो दिन पहले वह संक्रमण मुक्त हुईं तो बेटों, बहुओं ने ही नहीं घर के बच्चों ने भी दादी की हिम्मत को दाद देते हुए खुशियां मनाईं।

टीकमसिंह पटेल पूर्व जनपद अध्यक्ष ग्राम में कृषक है। उन्होंने मां के कोरोना संक्रमण मुक्त होने की कहानी सिलसिलेवार बताई। उन्होंने बताया कि 2 अप्रैल को मां डोल कुंवर को वैक्सीन लगने के 3-4दिनों से बुखार-जुकाम हुआ। चूंकि  रिपोर्ट पॉजिटिव तब आई टीकम सिंह के भतीजे चंद्रशेखर पटेल मार्च में रायपुर से एक परीक्षा दिला कर लौटने के बाद उसे बुखार आई एक दो दिन बाद टेस्ट करवाने पर रिपोर्ट निगेटिव आई, इसके बाद मेरा पुत्र योगेश, और बहू को भी बुखार आने पर टेस्ट कराये जहां वे दोनों पाजेटिव आये इसके बाद हमारे परिवार के सभी 8 सदस्य का टेस्ट कराये, जिसमें हमारी मां डोल कुंवर उम्र 76 वर्ष सहित भाभी हरा बाई, पत्नी मोंगरा बाई, पुत्र योगेश और बहू बबिता की रिपोर्ट पाजेटिव आई वही भैया भेखराम,और मेरा रिपोर्ट निगेटिव उसी दिन भैया ,भतीजा और मेरा आरटीपीसी आर टेस्ट भी कराये थे।
डॉ. दिलीप जैन  ( क्रिटीकल केयर विशेषज्ञ )बलौदा की सलाह पर डोल कुँवर का इलाज शुरू किया गया, परिवार के मुखिया टिकम सिंह अपनी माँ को किसी बड़े अस्पताल में  भर्ती नहीं कराना चाहते थे, उनका डर था कि माँ वहां से वापस नहीं आएंगी,

अन्य सदस्यों की भी कोविड का उपचार घर मे ही  शुरू किए जहां पर बेटे और बहू की तबियत में सुधार होने लगा लेकिन मां, भाभी और पत्नी की तबियत बिगडऩे लगी, मां ने खाना पीना छोड़ दिया वह बेहोश होने लगी इसी दौरान मा की आक्सीजन सैचुरेशन 40-45 हो गया साथ ही भाभी, और पत्नी की भी आक्सीजन सैचुरेशन 94 से नीचे आने लगा इस बीच भैया भेख राम पटेल की आरटीपीसी आर रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई लेकिन उनमें कोई लक्षण नही थे, तो भैया मां की देख रेख करने लगे डॉ. दिलीप जैन ने स्वयं मां की आक्सीजन सैचुरेशन देखने के बाद उन्हें आक्सीजन के साथ उपचार प्रारंभ किया। 
उस समय घर के सारे सदस्य मां को गीतापाठ सुना चुके थे और तुलसी गंगाजल पिला कर उनके बचने की आस छोड़ उनके अंतिम संस्कार के लिए पीईपी किट मंगा कर व्यवस्था कर लिए थे। उसी समय भैया भेखराम की भी आक्सीजन सैचुरेशन 60 -65 हो गई हम घर वाले सभी डर गए कि सभी सदस्यों का आक्सीजन लेबल कम होने लगा।

कोरोना को हिम्मत से दी मात 
मां की मौजूदगी, उनका दुलार बड़े से बड़ा दुख दूर कर देता है।  एक ऐसा भी परिवार है। जहां मां नहीं दादी की जिंदादिली ने चार वर्षीय बच्चे सहित परिवार के छह लोगों को कोरोना संक्रमण से उबार लिया।डॉ दिलीप जैन के कड़ी मेहनत से दवाओं, आक्सीजन और एहतियात के साथ हिम्मत से कोरोना को मात दी। घर के सदस्यों के कोरोना संक्रमित होने पर परिवार की स्थिति के बारे  में जानकारी देते समय यह कहना नहीं भूले कि तनाव और भय से मुक्त होकर किसी भी मुश्किल से उबरा जा सकता है।

दादी ने डॉ.दिलीप जैन के सेवाभाव और उसके नर्सिंग स्टाफ जैकी, टंकेश्वर और संजू के द्वारा घर आकर किए गए इलाज के आभार व्यक्त किया। इस विषम परिस्तिथि में पूरे परिवार के सदस्यों को कोरोना से मुक्त कराया। 
 उन्होंने डॉक्टरों से सलाह लेकर दवाएं शुरू की। टीकमसिंह का कहना है कि कोरोना के खौफ को दिमाग पर न हावी होने देंगे तो जल्द स्वस्थ हो जाएंगे। उन्होंने अपने मां की हिम्मत को दाद देते हुए कहा कि बुजुर्ग दादी ने मां की तरह खुद की चिंता छोड़कर सबको ठीक होने का हौसला दिया। आज घर के सभी सदस्य कोरोना को मात देकर स्वास्थ्य लाभ ले रहे है।

पूरे गांव के लोग सतर्क हो गए
टीकमसिंह ने बताया कि हमारे यहां से सभी लोग के संक्रमित होने के बाद से गांव में मुनादी करा लोगों को घरों से बाहर निकलने से मना किया और सर्दी बुखार आने पर तत्काल टेस्ट कराने को कहा आज गांव के सभी सुरक्षित हंै।


22-May-2021 12:23 PM (147)

बलौदा, 22 मई। छत्तीसगढ़ अनुसूचित जाति/ जनजाति अधिकारी कर्मचारी संघ विकास खण्ड बलौदा  संघ के सदस्यों ने आपस में राशि संग्रहण कर एम्बुलेंस दी। वर्तमान कोरोना महामारी को देखते हुए बलौदा सहित आसपास के क्षेत्रों में कोरोना संक्रमित मरीजों के इन दिनों उपचार कराने के दौरान अस्पताल से घर या घरों से अस्पताल मरीजो को लाने लेजाने के लिए मारामारी करनी पड़ रही थी। निजी एम्बुलेंस वाले इसका जमकर फायदा उठा रहे थे। इसे  देखते हुए संघ की ओर से एक सोल्ड एम्बुलेंस क्षेत्र की जनता के लिए नि:शुल्क तैयार रखी गई है। अजाक्स संघ के द्वारा पूर्व में भी ऑक्सीजन की कमी को देखते हुए दो ऑक्सीजन कंसंट्रेटर कोविड मरीजों के लिए उपलब्ध कराया गया है। इनके द्वारा एंबुलेंस की व्यवस्था किए जाने से लोगों को सुविधा मिलेगी उक्ताशय की जानकारी देवेंद्र गड़ेवाल सचिव अजाक्स विकासखंड बलौदा ने दी।

 


07-May-2021 12:50 PM (151)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

जांजगीर-चांपा, 7 मई। जिले के मालखरौदा इलाके में अवैध रेत खनन करने वाले माफियाओं ने एक स्थानीय पत्रकार पर हमला कर सिर फोड़ दिया। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ एफ आई आर दर्ज की है।

पुलिस के मुताबिक भंडोरा के भूपेंद्र लहरे एक अखबार व चैनल के लिए रिपोर्टिंग करते हैं। गुरुवार की शाम वह मिडिल स्कूल के पास अपने भतीजे अजय लहरें के साथ खड़े होकर बातचीत कर रहे थे। इसी दौरान वहां से दो ट्रैक्टर में संदीप लहरी विवेक लहरें और सुरेंद्र लहरें गुजरे। उन्होंने रुक कर पत्रकार भूपेंद्र को गंदी गंदी गालियां दी और रेत उत्खनन की खबर क्यों छापते हो और चैनल में चलाते हो, कहकर जान से मारने की धमकी दी। आरोपियों ने अपने पास रखे बेलचा से पत्रकार का सिर फोड़ दिया। हमले से वह सडक़ पर गिर गया। इस दौरान वहां ट्रैक्टर का मालिक हुलेश चंद्रा भी पहुंच गया था। प्रार्थी पत्रकार ने बताया है कि वह किसी तरह से जान बचाकर वहां से भागा वरना वह तीनों भाई उसे जान से मार डालते।

मालखरोदा पुलिस ने तीनों आरोपियों के विरुद्ध धारा 294, 223, 34 व 506 आईपीसी के तहत अपराध दर्ज किया है।


05-Apr-2021 5:09 PM (127)

बलौदा, 5 अप्रैल। अकलतरा विधायक सौरभ सिंह ने बलौदा के युवा नेता व पूर्व नगर पंचायत उपाध्यक्ष दुर्गेश स्वर्णकार को अपना प्रतिनिधि नियुक्त किया है, इस आशय का पत्र प्राचार्य नवीन महाविद्यालय को प्रेषित किया गया है ।
विदित हो कि दुर्गेश स्वर्णकार शुरू से भारतीय जनता पार्टी में विधायक सौरभ सिंह के नेतृत्व में पार्टी को मजबूत बनाने का काम करते आ रहे हैं। वे इसके पूर्व भाजयुमो के जिला मंत्री रहे है और वर्तमान में भाजपा पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के जिला मीडिया प्रभारी और मंडल सदस्य का दायित्व निभा रहे हैं तथा अब शासकीय नवीन महाविद्यालय बलौदा में विधायक सौरभ सिंह का प्रतिनिधित्व करेंगे। दुर्गेश स्वर्णकार की नियुक्ति से मित्रों सहित कार्यकर्ताओं में हर्ष है।
 


05-Apr-2021 4:49 PM (92)

आवेदकों ने अकलतरा विधायक को बताई पीड़ा

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बलौदा,  5 अप्रैल।
सीधी शिक्षक भर्ती में अनियमितता का आरोप अभ्यर्थियों ने लगाते हुए
अकलतरा विधायक सौरभ सिंह को अपनी पीड़ा बताई। आवेदकों ने बताया कि मार्च 2019 में 14580 शिक्षक भर्ती के आवेदन लिए गए थे। आवेदन के बाद स्क्रूटनी और जांच, दावा आपत्ति के बाद चयन प्रक्रिया आरम्भ हुई। जिसमें पहले कई आवेदकों को पात्र बता कर चयन कर लिया गया। इसके कुछ दिनों के बाद फिर अपात्र बता कर नियुक्ति से वंचित कर दिया गया। आरोप है कि सरकारी नौकरी पाने के अंतिम दहलीज में चयन कर अपात्र घोषित कर दिया।

मामला मार्च 2019 में निकली सीधी भर्ती शिक्षक 14580 पद के लिए संयुक्त संचालक स्कूल शिक्षा विभाग रायपुर के द्वारा आवेदन पात्र बेरोजगारों से मंगाये थे, जिसके प्रमाणपत्रों की जांच सत्यापन कराया गया वहीं संभागीय कार्यालय संयुक्त संचालक सरगुजा में 21 जनवरी 2021को शिक्षक सीधी भर्ती हेतु परीक्षण में आवेदकों के दस्तावेज पूर्ण पाए गए, जिसके आधार पर शिक्षक विषय अंग्रेजी संवर्ग टी पर नियुक्ति का प्रस्ताव दिया गया था और कहा गया है कि वर्तमान कोरोना महामारी को ध्यान में रखते हुए स्कूल खुलने के बाद पद रिक्तता के आधार पर नियुक्ति पत्र जारी करने की लिखित पत्र चयनितों को दिया गया था। इसके बाद आवेदक अपने चयन से संतुष्ट होकर स्कूल खुलने का इंतजार करने लगे थे कि एक माह बाद 22 फरवरी 2021 को कार्यालय संभागीय संयुक्त संचालक सरगुजा के द्वारा भेजे पत्र में आवेदकों को पुन: दस्तावेज सत्यापन के बाद अपात्र घोषित कर दिया। कारण यह है कि आवेदकों के सीटेट की शिक्षक पात्रता परीक्षा में कम अंक होना बताया जबकि 21 जनवरी को दस्तावेज सत्यापन में सी टेट में मिले अंक के आधार और अन्य प्रमाणपत्र में पात्र घोषित किया गया था। 

आरक्षण के प्रावधानों से छत्तीसगढ़ राजपत्र में सी टेट में प्राप्त अंकों में आरक्षित वर्गों के अभ्यर्थियों को केन्द्र और राज्य सरकार अभ्यर्थियों को मिलने वाले छूट का पालन कर नियुक्ति करना है। लेकिन एक समीक्षा बैठक के बाद  ठीक एक माह बाद ही शासन के सारे नियम और निर्देश बदल गए, जिसके कारण से आवेदक शिक्षक बनते बनते वंचित हो रहे है। आवेदकों की उम्र 2019 में आरक्षण नियमों के तहत चयन के लिए पात्र थे और दो वर्षों के पश्चात अब नई भर्ती के लिए उम्र सीमा पार हो जाने से नौकरी की उम्मीद भी खत्म हो गई। इसके लिए आवेदकों ने स्कूल शिक्षा विभाग के जिम्मेदार डीपीआई सरगुजा से व्यक्तिगत सम्पर्क किया तो बिना किसी चर्चा के कार्यालय से जाने को कहा, जैसा कि आवेदक रामनारायण सोनी निवासी बलौदा ने बताया। 

रामनारायण  सोनी और उनके साथ और चयन से वंचितों ने बताया कि यह कार्रवाई सन्देह से परे नहीं है। डीएड, बीएड प्रशिक्षित संघ के द्वारा लगाए गए दावा आपत्ति के बाद ही हमें अपात्र किया गया, जबकि पूर्व में दावा-आपत्ति गया था, उसके बाद हमें शिक्षक भर्ती के लिए पात्र घोषित किया गया। अब नई भर्ती के लिये हमारी उम्र सीमा पार हो गई और अंतिम उम्मीदों पर पानी फिर गया। इसी उम्मीद में आवेदकों ने अकलतरा विधायक सौरभ सिंह से अपनी पीड़ा बताई। 
विधायक सौरभ सिंह ने कहा कि आपकी बातों को लेकर डीपीआई संचनालाय रायपुर को पत्र लिख कर उचित प्रावधानों में आपके नियुक्ति के लिए कहेंगे , फिर भी नहीं माने तो सडक़ की लड़ाई में आपके साथ रहेंगे।
 


04-Apr-2021 8:54 PM (206)

   आवेदकों ने अकलतरा विधायक को बताई पीड़ा   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बलौदा,  4 अप्रैल। सीधी शिक्षक भर्ती में अनियमितता का आरोप अभ्यर्थियों ने लगाते हुए

अकलतरा विधायक सौरभ सिंह को अपनी पीड़ा बताई। आवेदकों ने बताया कि मार्च 2019 में 14580 शिक्षक भर्ती के आवेदन लिए गए थे। आवेदन के बाद स्क्रूटनी और जांच, दावा आपत्ति के बाद चयन प्रक्रिया आरम्भ हुई। जिसमें पहले कई आवेदकों को पात्र बता कर चयन कर लिया गया। इसके कुछ दिनों के बाद फिर अपात्र बता कर नियुक्ति से वंचित कर दिया गया। आरोप है कि सरकारी नौकरी पाने के अंतिम दहलीज में चयन कर अपात्र घोषित कर दिया।

मामला मार्च 2019 में निकली सीधी भर्ती शिक्षक 14580 पद के लिए संयुक्त संचालक स्कूल शिक्षा विभाग रायपुर के द्वारा आवेदन पात्र बेरोजगारों से मंगाये थे, जिसके प्रमाणपत्रों की जांच सत्यापन कराया गया वहीं संभागीय कार्यालय संयुक्त संचालक सरगुजा में 21 जनवरी 2021को शिक्षक सीधी भर्ती हेतु परीक्षण में आवेदकों के दस्तावेज पूर्ण पाए गए, जिसके आधार पर शिक्षक विषय अंग्रेजी संवर्ग टी पर नियुक्ति का प्रस्ताव दिया गया था और कहा गया है कि वर्तमान कोरोना महामारी को ध्यान में रखते हुए स्कूल खुलने के बाद पद रिक्तता के आधार पर नियुक्ति पत्र जारी करने की लिखित पत्र चयनितों को दिया गया था। इसके बाद आवेदक अपने चयन से संतुष्ट होकर स्कूल खुलने का इंतजार करने लगे थे कि एक माह बाद 22 फरवरी 2021 को कार्यालय संभागीय संयुक्त संचालक सरगुजा के द्वारा भेजे पत्र में आवेदकों को पुन: दस्तावेज सत्यापन के बाद अपात्र घोषित कर दिया। कारण यह है कि आवेदकों के सीटेट की शिक्षक पात्रता परीक्षा में कम अंक होना बताया जबकि 21 जनवरी को दस्तावेज सत्यापन में सी टेट में मिले अंक के आधार और अन्य प्रमाणपत्र में पात्र घोषित किया गया था।

आरक्षण के प्रावधानों से छत्तीसगढ़ राजपत्र में सी टेट में प्राप्त अंकों में आरक्षित वर्गों के अभ्यर्थियों को केन्द्र और राज्य सरकार अभ्यर्थियों को मिलने वाले छूट का पालन कर नियुक्ति करना है। लेकिन एक समीक्षा बैठक के बाद  ठीक एक माह बाद ही शासन के सारे नियम और निर्देश बदल गए, जिसके कारण से आवेदक शिक्षक बनते बनते वंचित हो रहे है। आवेदकों की उम्र 2019 में आरक्षण नियमों के तहत चयन के लिए पात्र थे और दो वर्षों के पश्चात अब नई भर्ती के लिए उम्र सीमा पार हो जाने से नौकरी की उम्मीद भी खत्म हो गई। इसके लिए आवेदकों ने स्कूल शिक्षा विभाग के जिम्मेदार डीपीआई सरगुजा से व्यक्तिगत सम्पर्क किया तो बिना किसी चर्चा के कार्यालय से जाने को कहा, जैसा कि आवेदक रामनारायण सोनी निवासी बलौदा ने बताया।

रामनारायण  सोनी और उनके साथ और चयन से वंचितों ने बताया कि यह कार्रवाई सन्देह से परे नहीं है। डीएड, बीएड प्रशिक्षित संघ के द्वारा लगाए गए दावा आपत्ति के बाद ही हमें अपात्र किया गया, जबकि पूर्व में दावा-आपत्ति गया था, उसके बाद हमें शिक्षक भर्ती के लिए पात्र घोषित किया गया। अब नई भर्ती के लिये हमारी उम्र सीमा पार हो गई और अंतिम उम्मीदों पर पानी फिर गया। इसी उम्मीद में आवेदकों ने अकलतरा विधायक सौरभ सिंह से अपनी पीड़ा बताई।

विधायक सौरभ सिंह ने कहा कि आपकी बातों को लेकर डीपीआई संचनालाय रायपुर को पत्र लिख कर उचित प्रावधानों में आपके नियुक्ति के लिए कहेंगे , फिर भी नहीं माने तो सडक़ की लड़ाई में आपके साथ रहेंगे।


01-Apr-2021 4:59 PM (112)

दो भाइयों ने छत्तीसगढ़ का मान रखा

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बलौदा, 1 अप्रैल। 
9वाँ नेशनल अंध, और मूक बधिर जूडो पैरा चैंपियनशिप में नगर के दो भाइयों ने छत्तीसगढ़ का मान रखा।
लखनऊ के के डी सिंह बाबू स्टेडियम में 9वाँ राष्ट्रीय अंध-मूक बधिर जूडो पैरा चैंपियनशिप में छत्तीसगढ़ से अंध मूक बधिर युवा नितेश शुक्ला, विशाल शुक्ला,यादवेंद्र गौतम, और शावन्त सेन ने इस प्रतियोगिता में भाग लिया। 18 मार्च से 22 मार्च तक लखनऊ में आयोजित प्रतियोगिता में अपने कोच समीर शेख के साथ हिस्सा लिया, जहां पर 90 किलोग्राम वर्ग में विशाल शुक्ला ने श्रेष्ठतम प्रदर्शन करते हुए रजत पदक प्राप्त कर दूसरा स्थान, और 66 किलोग्राम में विशाल के बड़े भाई नितेश शुक्ला, और यादवेंद्र गौतम ने तीसरा स्थान में कांस्य पदक जीतकर छत्तीसगढ़ प्रदेश का नाम राष्ट्रीय चैंपियनशिप में बरकरार रखा।

इसके पूर्व भी राष्ट्रीय स्तर पर छत्तीसगढ़ से इन दोनों भाइयों ने 3रा, 4था, 5वाँ, 6वाँ, 7वाँ और 8वाँ चैम्पिनशिप में गोल्ड और रजत, सहित कांस्य पदक अर्जित किये और प्रदेश सहित नगर का मान बढ़ाया। 
उनकी सफलता पर विभिन्न खेल संगठनों ने जिला स्तर पर इन खिलाडिय़ों का सम्मान करने की बात कही है। नीतेश, और विशाल शुक्ला ने अपनी इस उपलब्धि का श्रेय माता मिथलेश शुक्ला और पिता तिलकराम शुक्ला के आशीर्वाद और प्रेरणा के साथ कोच समीर शेख के मार्गदर्शन से सफलता प्राप्त हुआ। 

विशाल शुक्ला को दूसरा स्थान और रजत पदक के साथ 10 हजार रुपए और नीतेश शुक्ला,और यादवेंद्र गौतम को कांस्य पदक के साथ 7000 हजार नगद प्राप्त हुए। विशाल और नीतेश के सफलता पर नगर सर्व बाम्हण समाज ने बधाई और शुभकामनाएं प्रेषित किए हैं।
 


28-Mar-2021 2:59 PM (82)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
सक्ती, 28 मार्च।
विधानसभा क्षेत्र सक्ती के विधायक एवं छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने विधानसभा क्षेत्र सक्ती के मल्दी, सुवाडेरा व्हाया नंदौरकला, अचानकपुर मार्ग को डामरीकरण करने के लिये प्रशासकीय स्वीकृति कराया है। 
इस संबंध में वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवंअधिवक्ता गिरधर जायसवाल ने बताया कि विधानसभा क्षेत्र सक्ती के अचानकपुर, नंदौरकला सडक़ निर्माण की मांग लम्बे समय से की जा रही थी लेकिन पूर्व की सरकारें इस ओर ध्यान नही दे रही थी लेकिन डॉ. चरणदास महंत ने एैसे विकास कार्य पर रूचि लेते हुये उक्त कार्य पुल पुलिया सहित 6 कि.मी. लम्बाई की सडक़ निर्माण 11 करोड 47 लाख रूपये की प्रशासकीय स्वीकृति करायी है तथा उक्त कार्य आने वाले दिनों में लोक निर्माण विभाग की कार्य ऐजेंसी के माध्यम से डामरीकरण सडक़ निर्माण होगा जिससे राष्ट्रीय राजमार्ग नंदौरकला रोड से अचानकपुर के लिये एक नया मार्ग सक्ती विधानसभा के लोगों को मिलेगा। 

विदित हो कि डॉ. चरणदास महंत के सक्ती क्षेत्र के विधायक बनने के बाद कई दषकों से रूके काम हो रहे है तथा विधानसभा क्षेत्र का हर मुख्य मार्ग एवं ग्रामीण क्षेत्र की सडक़े डामरीकरण होकर सुविधायुक्त हो रही है  मल्दी, नन्दौर, अचानकपुर मार्ग के डामरीकरण सडक़ निर्माण के लिये ग्रामीण क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों ने लम्बे समय से इस क्षेत्र के पूर्व निर्वाचित सांसद, विधायक एवं अन्य जनप्रतिनिधियों ने शासन से गुहार लगाई थी लेकिन सफल नही हो पाये थे । उक्त सडक़ के स्वीकृति पर जिला प्रतिनिधि गुलजार सिंह, जनपद पंचायत सक्ती के अध्यक्ष राजेश राठौर, नगर पालिका परिषद सक्ती के अध्यक्ष श्रीमती सुषमा  जायसवाल, पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष श्याम सुन्दर अग्रवाल, विधायक प्रतिनिधि अमित राठौर, पूर्व जनपद पंचायत सक्ती के अध्यक्ष श्रीमती अंजू राठौर, पूर्व जिला पंचायत सदस्य सरवन सिदार, जिला महिला कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती गीता देवांगन, भाई महबूब, पिन्टू ठाकुर, ग्राम पंचायत अचानकपुर के सरपंच श्रीमती हेमंत वंदना राज, ग्राम पंचायत नंदौरकला के सरपंच सुरेन्द्र राठौर, जगेश्वर सिंह राज, साधेश्वर गबेल, श्रीमती सावित्री गबेल ने प्रषन्नता व्यक्त करते हुये डॉ. महंत को उक्त कार्य की स्वीकृति के लिये धन्यवाद ज्ञापित किया है ।
 


20-Mar-2021 5:40 PM (52)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
सक्ती, 20 मार्च।
संकुल केंद्र सकरेली बा. में टीएलएम मेला का भव्य आयोजन किया गया। उक्त मेले में संकुल अन्तर्गत समस्त प्राथमिक एवं माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक/शिक्षिकाओं ने भाग लेते हुए शून्य निवेश एवं कबाड़ से जुगाड़ के तहत पाठ्यक्रम आधारित शैक्षिक सामग्री बनाकर प्रदर्शन किया गया और साथ ही साथ उनकी उपयोगिता को भी विस्तृत रूप से बताया गया।

उनके द्वारा बनाए गए सहायक सामग्रियों में विशेष रूप से स्थानीय मान की समझ, गुणा-भाग के आसान तरीके, स्वर-व्यंजन की पहचान, शब्द निर्माण, ज्यामितीय आकृतियों की समझ, अंग्रेजी एवं हिन्दी वर्णमाला की समझ आदि को विकसित करने से संबंधित शिक्षण सामग्री के माध्यम से सिखाने की बहुत ही सहज विधियां बताई गई।

इस अवसर पर संकुल प्रभारी वेद प्रकाश दिवाकर, शैक्षिक समन्वयक सत्येन्द्र प्रकाश चौहान द्वारा टीएलएम की उपयोगिता तथा उसका कक्षा शिक्षण में उपयोग के बारे में विस्तृत जानकारी दी और सभी शिक्षक/शिक्षिकाओं के कार्यों की सराहना की।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए वरिष्ठ शिक्षक राजेन्द्र कुमार राठौर ने कार्यक्रम के महत्ता से सभी को अवगत कराया। कार्यक्रम को सफल बनाने में बी पी हंसेलिया, उसत राम साहू, माधव प्रसाद राठौर, रामकुमार खांडे, अभयसिंग,  नीरा साहू, सीमा राठौर, राजेश राठौर, सुरेश मरावी, चन्द्र कुमार, सतीश राठौर, प्रदीप कुमार पंकज, राम नरेश तंबोली,अभिषेक सोनी, दिनेश कुमार चंद्रा, संतराम गोंड, मनंजय साहू, गजाधर प्रसाद राठौर, वीरांगना गोंड, सुमन कोशले, हीरा कंवर ,हीरा चंद्रा,श्यामा जायसवाल, नंद किशोर नौरंगे, फूल सिंह कंवर,अंजिता सिदार, गंगा सिदार, प्रतिभा राठौर,  पुष्पलता कुर्रे, केंवरा सूर्यवंशी, सुनीता राठौर, पवन मरावी, देव चरण  बंजारे,  आदि ने विशेष सहयोग प्रदान किया।
 


17-Mar-2021 8:03 PM (101)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
सक्ती, 17 मार्च।
विगत दिनों शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय मसनिया कला (शिक्षा जिला सक्ति) में शिक्षण सत्र 2020-21 हेतु छत्तीसगढ़ शासन से कक्षा 9वीं हेतु सरस्वती सायकल योजना के अन्तर्गत प्राप्त निशुल्क 19 सायकल पात्र छात्राओं को शाला विकास समिति के अध्यक्ष   रमेश कुमार गबेल एवं अन्य सदस्यों तथा प्राचार्य  आरपी सिदार एवं  समस्त विद्यालय स्टाफ के गरिमामय उपस्थिति में  वितरित किया गया। 

ज्ञात हो कि शैक्षणिक जिला सक्ती के अंतर्गत आने वाले उच्चतर माध्यमिक विद्यालय मसनिया कला में सरस्वती साइकिल योजना के तहत साइकिल का वितरण किया गया।
इस अवसर पर शाला विकास समिति के अध्यक्ष एवं वरिष्ठ कांग्रेसी नेता रमेश गबेल को मुख्य अतिथि के रुप में आमंत्रित किया गया था जहां रमेश गबेल ने छात्राओं को साइकिल वितरण किया। 

साइकिल वितरण कार्यक्रम के दौरान अपने उद्बोधन में रमेश  गबेल ने कहा कि सरकार चाहे किसी भी पार्टी का क्यों ना हो अगर साइकिल वितरण जैसा कार्य किसी के द्वारा किया जाता है तो वह पुण्य का कार्य है। श्री गबेल ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं क्षेत्रीय विधायक तथा विधधानसभा अध्यक्ष डॉ चरणदास महंत की प्रशंसा करते हुए कहा कि पूरे छत्तीसगढ़ में नौजवान किसान गरीब मजदूर सभी वर्ग के लोग कांग्रेस के शासनकाल से खुश हैं छत्तीसगढ़ का सौभाग्य है कि हमें मुखिया के रूप में छत्तीसगढिय़ा मुख्यमंत्री एवं क्षेत्रीय विधायक के रुप में छत्तीसगढिय़ा विधायक प्राप्त हुआ है। 

उन्होंने यह भी कहा कि पहले छात्राओं को स्कूल जाने के लिए लंबी दूरी तक पैदल चलकर आना पड़ता था सरस्वती साइकिल योजना के तहत साइकिल वितरण कार्यक्रम के बाद से छात्राओं को इस समस्या से निजात मिली है। उन्होंने स्कूल के प्राचार्य एवं शिक्षकों की प्रशंसा करते हुए कहा कि आप सभी के द्वारा बेहतर स्कूल प्रबंधन का कार्य किया जा रहा है और ऐसे ही स्कूल की प्रगति आप सभी करते रहें सरस्वती साइकिल योजना के तहत साइकिल वितरण कार्यक्रम के दौरान स्कूल के प्राचार्य आर पी सिदार एवं स्कूल के शिक्षक कर्मचारी उपस्थित थे।
 


15-Mar-2021 4:35 PM (93)

जीवन हार-जीत के बिना नहीं चलती- देवेन्द्र

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बलौदा,  15 मार्च।
युथ क्लब बलौदा के द्वारा राज्य स्तरीय क्रिकेट प्रतियोगिता  स्व राजेन्द्र देवांगन (भोलू)के स्मृति में स्थानीय मंडी ग्राउंड में कराया गया। कल शाम को प्रतियोगिता का फाइनल मैच था।समापन और पुरुस्कार वितरण समारोह में भिलाई नगर निगम के युवा विधायक देवेंद्र यादव मुख्यातिथि थे। अध्यक्षता मंजू सिंह एआईसीसी सदस्य ने की। विशिष्ट अतिथि ललिता केशव पाटले अध्यक्ष नगरपंचायत बलौदा,क्रिकेट प्रतियोगिता के संरक्षक एवं पूर्व नगरपंचायत अध्यक्ष गोविंदराम देवांगन थे।

विजयी टीम को पुरस्कार देते हुए विधायक देवेंद्र यादव ने कहा कि बलौदा की पहचान पहले से ही खेल के नाम से जाना जाता है यहां के खिलाडी ,राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान बना चुके है यहां कुश्ती,तैराकी,और तीरंदाजी के अच्छे खिलाड़ी है। जो हमेशा खेल को खेल भावना से खेलते है। जीवन हार जीत के बिना नही चलती बैगर हार मिले जीवन की पटरी एक लाइन में नही आती इसलिए हारने वाले टीम को कभी निराश नही होना चाहिए। उन्होंने विजेता और उपविजेता टीम को बधाई दी।

कार्यक्रम को आये हुए अभ्यागतों ने भी विजेता टीम को शुभकामनाएं दी। फाइनल मैच  बिलासपुर चैम्पियन, और बिलासपुर एसीसी की टीमों में फाइनल खेला गया। निर्धारित 8 ओवरों में बिलासपुर चैपियन की टीम ने 135 रन बनाए जिसके जवाब में बिलासपुर एसीसी की टीम सिर्फ 80 रन में ही सिमट गई और बिलासपुर चैंपियन विजयी हुई।विजयी टीम को प्रथम पुरस्कार एक लाख रुपये और मैच विनर कप,दूसरा पुरुस्कार इक्यावन हजार और कप प्रदान किया गया।मैन आफ दी सीरीज एसीसी बिलासपुर के अविनाश पांडेय को ग्यारह हजार रुपए और कप प्रदान किया गया। 

समापन अवसर पर पूर्व अध्यक्ष केवल चंद जैन,नजीर अहमद ,विधायक प्रतिनिधि रमाकांत यादव,दुर्गेश स्वर्णकार ,पार्षद संजय देवांगन, अंगेश देवांगन,राधेश्याम शर्मा ,जनपद सदस्य राजेन्द्र गंगोत्री कवंर,के अलावा आयोजनकर्ता लीलाधर थवाईत,विद्या देवांगन,विजय देवांगन,दीपक यादव,प्रवीण जैन,अनिल आदित्य,सोनू थवाईत, हेमन्त ठाकुर,सहित सभी सदस्य उपस्थित रहे।
 


14-Mar-2021 7:36 PM (136)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बलौदा, 14 मार्च। शनिवार को वर्ष 2019 के लिए बेस्ट विधायक चुने जाने पर सौरभ सिंह का सम्मान किया गया।

विधानसभा के बजट सत्र के बाद छत्तीसगढ़ विधानसभा में वर्ष 2019 के लिए अकलतरा विधानसभा के विधायक सौरभ सिंह को बेस्ट विधायक विधानसभा में चुना गया। जिस पर विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं ने 13 मार्च को सम्मान समारोह का आयोजन किया। बलौदा के विश्रामगृह में आतिशबाजी के साथ नगर के लोगों के साथ आसपास के जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में फूलमाला-शाल से स्वागत किया गया।

 इस अवसर पर विधायक सौरभ सिंह ने कहा कि आपके सहयोग आशीर्वाद से ही यह खिताब मिला है, इसका श्रेय के असली हकदार आप सभी मेरे अपने लोग है। आपके ही परिवार का सदस्य हूँ जिसे आप सभी ने कड़े मुकाबले में निर्वाचित कर प्रतिनिधि बनाया। मैं आप लोगों को विश्वास दिलाता हूं कि क्षेत्र के विकास कार्य में कोई तकलीफ नहीं होगी। सभी समस्याओं का निराकरण करना हमारी पहली प्राथमिकता होगी, जिसका लाभ पूरे क्षेत्र की जनता को समय पर मिले। इसके लिए मैं हमेशा आप लोगों के लिए उपलब्ध रहूंगा। बिना संकोच के अपनी बात मुझ तक बताये, जिसका समाधान हरसम्भव किया जाएगा।

सम्मान कार्यक्रम में बलौदा मंडल अध्यक्ष एस कुमार देवांगन, समीर शुक्ला, मणिकांत अग्रवाल, रमाकांत यादव, ओमप्रकाश श्रीवास, शेखर यादव, भूपेश देवांगन, बल्ला श्रीवास, योगेश गोयल प्रमोद सिंह, रमेश वैष्णव, यदुनंदन सिंह, संजय कश्यप सतीश यादव सहित पार्टी के कार्यकर्ता और नागरिक गण उपस्थित रहे।


14-Mar-2021 7:32 PM (322)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बलौदा, 14 मार्च। अखंड नवधा रामायण बुधवारी बाजार बलौदा में आठवें दिन अकलतरा विधायक सौरभ सिंह ने मानस प्रेमियों की बीच सुनी। रामचरितमानस नवधा रामायण अखंड नवधा रामायण समिति के ओर से विधायक सौरभ सिंह का शाल-श्रीफल से सम्मान किया गया।

 उन्होंने बताया कि  श्री राम जी के संदर्भ  छत्तीसगढ़ में जो जो बातें प्रचलित है कि भाँचा के पैर छूकर प्रणाम करते हैं। माता कौशिल्या का जन्म छतीसगढ़ में हुआ है, इसलिए श्रीराम जी को यहां के लोग भाँचा कहते हंै औऱ नवधा रामायण के कथा से ही श्री राम जी के आदर्शों का पता चलता है। उन्होंने नवधा रामायण समिति बुधवारी बाजार के सभी लोगों का धन्यवाद दिया कि इसी नवधा रामायण से अभी के पीढ़ी को इसका ज्ञान दे रहे हैं। नवधा रामायण का 14 मार्च को हवन सहस्त्रधारा पूर्णाहुति ब्राह्मण भोजन एवं महाभंडारा का आयोजन रखा गया है।

इस अवसर पर ब्लॉक भाजपा मंडल अध्यक्ष एस कुमार देवांगन, समीर शुक्ला, अजय कटकवार यादव, राधेश्याम शर्मा, रमाकांत यादव सहित भक्तगण उपस्थित रहे।


13-Mar-2021 8:09 PM (98)

बलौदा, 13 मार्च। शनिवार को वर्ष 2019 के लिए बेस्ट विधायक चुने जाने पर सौरभ सिंह का सम्मान किया गया।
विधानसभा के बजट सत्र के बाद छत्तीसगढ़ विधानसभा में वर्ष 2019 के लिए अकलतरा विधानसभा के विधायक सौरभ सिंह को बेस्ट विधायक विधानसभा में चुना गया। जिस पर विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं ने आज सम्मान समारोह का आयोजन किया। बलौदा के विश्रामगृह में आतिशबाजी के साथ नगर के लोगों के साथ आसपास के जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में फूलमाला-शाल से स्वागत किया गया।

 इस अवसर पर विधायक सौरभ सिंह ने कहा कि आपके सहयोग आशीर्वाद से ही यह खिताब मिला है, इसका श्रेय के असली हकदार आप सभी मेरे अपने लोग है। आपके ही परिवार का सदस्य हूँ जिसे आप सभी ने कड़े मुकाबले में निर्वाचित कर प्रतिनिधि बनाया। मैं आप लोगों को विश्वास दिलाता हूं कि क्षेत्र के विकास कार्य में कोई तकलीफ नहीं होगी। सभी समस्याओं का निराकरण करना हमारी पहली प्राथमिकता होगी, जिसका लाभ पूरे क्षेत्र की जनता को समय पर मिले। इसके लिए मैं हमेशा आप लोगों के लिए उपलब्ध रहूंगा। 
सम्मान कार्यक्रम में बलौदा मंडल अध्यक्ष एस कुमार देवांगन, समीर शुक्ला, मणिकांत अग्रवाल, रमाकांत यादव, ओमप्रकाश श्रीवास, शेखर यादव, भूपेश देवांगन, बल्ला श्रीवास, योगेश गोयल प्रमोद सिंह, रमेश वैष्णव आदि उपस्थित रहे।

 


12-Mar-2021 5:49 PM (241)

बलौदा, 12 मार्च। अखंड नवधा रामायण बुधवारी बाजार बलौदा में शामिल हुए प्रदेश प्रतिनिधि कांग्रेस कमेटी के राघवेंद्र सिंह ने कहा कियज्ञ में सबसे बड़ा यज्ञ नवधा ही है जहां हमारे छत्तीसगढ़ के लोग भगवान राम की भक्ति में लीन रहते हैं। भगवान श्रीरामजी के चरित्र को अपने जीवन मे अमल करना चाहिए। 

अखंड नवधा रामायण जो 4 मार्च से प्रारंभ हुआ था जिसका 13 मार्च को मानस गायन स्टार नाइट का कार्यक्रम भी रखा गया है। रामायण के मुख्य यजमान आदित्य सिंह ठाकुर थे। 14 मार्च बुधवार को हवन सहस्त्रधारा पूर्णाहूति ब्राह्मण भोजन एवं भंडारा होगा।

रामचरितमानस में राघवेंद्र सिंह का आगमन हुआ जिनका नवधा समिति द्वारा शाल श्री फल और राम पट्टिका से समिति के अध्यक्ष अनिल देवांगन ने  स्वागत किया गया। इस अवसर पर संगीता सोनी अध्यक्ष ब्लॉक कांग्रेस बलौदा, अशोक अरोरा, रमाकांत यादव कृष्ण कुमार सोनी,  राधेश्याम शर्मा, सहित यजमान एवं भक्त गण उपस्थित रहे।