छत्तीसगढ़ » कोण्डागांव

01-Aug-2020 9:44 PM

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

कोण्डागांव, 1 अगस्त। कोण्डागांव पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ तिवारी ने 31 जुलाई को थाना फरसगांव परिसर में चौपाल लगाकर लोगों की समस्याओं से रूबरू हुए। वहीं कुछ प्रकरणों में थाना प्रभारी को त्वरित कार्रवाई के निर्देश दिए।

इस दौरान एसपी ने मीडिया से भी चर्चा करते हुए कहा कि, पुलिसिंग व पुलिस और जनता के बीच बेहतर समन्वय स्थापित करने व प्रकरणों के त्वरित निराकरण के उद्देश्य को लेकर उनके माध्यम से प्रति माह अलग-अलग थानों में इस तरह का आयोजन कराया जाएगा। इससे पुलिस के प्रति और विश्वास लोगों में बढ़ सके तथा मामलों का त्वरित निराकरण हो सके। साथ ही ऐसे  फरियादी जो किसी कारण वश जिला मुख्यालय नहीं आ पाते है पुलिस अधीक्षक के उनके थाना क्षेत्र में पहुंचने से वे भी अपनी समस्या को एसपी के समक्ष रख पाएंगे। चौपाल में फरसगांव थाना क्षेत्र के आम जनता, जनप्रतिनिधि गण, गणमान्य नागरिक, व्यापारी वर्ग के लोग, अधिकारी कर्मचारी व मीडिया मौजूद रहे।

 कार्यक्रम में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनंत कुमार साहू, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस फरसगांव पुष्पेन्द्र नायक, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस केशकाल अमित पटेल, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस कोण्डागांव कपिल चंद्रा, प्रशिक्षु पुलिस अधीक्षक लक्ष्मण सिंह पोटाई, थाना प्रभारी फरसगांव विनोद साहू व थाना फरसगांव के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित रहे।


01-Aug-2020 9:43 PM

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

कोण्डागांव, 1 अगस्त। संकुल बनजुंगानी अंतर्गत प्राथमिक विद्यालय कोकोड़ी के बच्चों को शिक्षकों और गांव के युवा वर्ग के द्वारा घर मोहल्लों में सुरक्षित जगह पर कक्षा लगाकर बच्चों को पढ़ाया जा रहा है।

विदित हो कि राज्य सरकार के माध्यम से योजना पढ़ई तुंहर दुआर आनलाईन पढ़ाई योजना संचालित है। कुछ बच्चे आनलाईन शिक्षा से जुड़े हैं। वहीं कई बच्चों और पालकों के पास स्मार्ट फोन की सुविधा और कहीं तो नेटवर्क सुविधा नहीं होने के कारण सभी बच्चे नहीं जुड़ पा रहे थे। शाला प्रबंधन समिति, पालकों ने शिक्षकों से कक्षा लगाकर बच्चों को पढ़ाने का आग्रह किया। तो इस कठिन परिस्थितियों में पढ़ाई को जारी रखने के लिए शिक्षक सुरज नेताम, राजकुमार यादव, कुंती नाग, कांती माला डेविड के माध्यम से गांव के हर मोहल्ले में 8-10 की संख्या में समूह बनाकर बच्चों को सामाजिक दुरी का पालन करते हुए मास्क, सेनेटाइजर का उपयोग कराते हुए पढ़ाई कराया जा रहा है।

 

पालकों और शाला प्रबंधन समिति से संपर्क करके गांव के युवाओं को शिक्षा सारथी के रूप में प्रथम संस्था के संजय सेठिया, गांव के शिक्षित युवा भारतीक बघेल को चुना गया। इन्होंने खुशी से बच्चों को पढ़ाई कराने के लिए मंशा जाहिर की। शिक्षक सुरज नेताम ने बताया कि, हम प्रत्येक दिन सभी मोहल्ले में जाकर एक से दो घंटे बच्चों को पढ़ाकर उन्हें होमवर्क दिया जाता है और अब लाउड स्पीकर की सहायता से भी बच्चों को पढ़ाई कराने की तैयारी चल रही है।

 


01-Aug-2020 9:42 PM

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

कोण्डागांव, 1 अगस्त। स्पंदन अभियान के तहत कोण्डागांव पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ तिवारी ने 31 जुलाई को थाना फरसगांव में जन चैपाल के पश्चात थाने के सभी अधिकारी कर्मचारी की दरबार ली।

दरबार में थाने के सभी अधिकारी कर्मचारियों से व्यक्तिगत तौर पर बातचीत किया। उनकी समस्याएं सुनी व पारिवारिक पृष्ठभूमि के संबंध में जानकारी ली व उन्हें हो रही कठिनाइयों के बारे में जानने का प्रयास किया व तनाव प्रबंधन, कार्यशैली में विकास के लिए दिशा निर्देश दिया। पुलिस अधीक्षक ने सभी अधिकारियों कर्मचारियों को अपने स्वास्थ्य का पूरा ध्यान रखते हुए पूरी क्षमता और संवेदनशीलता के साथ अपने कर्तव्य निर्वहन करने की समझाइश दी। सभी परिस्थिति में स्वयं का तनाव मुक्त दिनचर्या बनाए रखने कहा, किसी भी जटिल परिस्थिति में अनुशासन के साथ अपने वरिष्ठ अधिकारियों से समाधान के संबंध में मित्रवत आवश्यक मार्गदर्शन लेने कहा। पुलिस अधीक्षक ने कोरोना सक्रमण से बचाव के लिए जारी निर्देशो का पालन करते हुए अतिरिक्त सतर्कता बरतते हुए ड्यूटी करने निर्देशित किया।

दरबार में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनंत कुमार साहू, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस फरसगांव पुष्पेन्द्र नायक, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस केशकाल अमित पटेल, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस कोण्डागांव कपिल चंद्रा, प्रशिक्षु पुलिस अधीक्षक लक्ष्मण सिंह पोटाई, थाना प्रभारी फरसगांव विनोद साहू व थाना फरसगांव के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे।

 

 

स्पंदन अभियान, एसपी ने पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों की समस्याएं सुनी

'छत्तीसगढ़Ó संवाददाता

कोण्डागांव, 1 अगस्त। स्पंदन अभियान के तहत कोण्डागांव पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ तिवारी ने 31 जुलाई को थाना फरसगांव में जन चैपाल के पश्चात थाने के सभी अधिकारी कर्मचारी की दरबार ली।

दरबार में थाने के सभी अधिकारी कर्मचारियों से व्यक्तिगत तौर पर बातचीत किया। उनकी समस्याएं सुनी व पारिवारिक पृष्ठभूमि के संबंध में जानकारी ली व उन्हें हो रही कठिनाइयों के बारे में जानने का प्रयास किया व तनाव प्रबंधन, कार्यशैली में विकास के लिए दिशा निर्देश दिया। पुलिस अधीक्षक ने सभी अधिकारियों कर्मचारियों को अपने स्वास्थ्य का पूरा ध्यान रखते हुए पूरी क्षमता और संवेदनशीलता के साथ अपने कर्तव्य निर्वहन करने की समझाइश दी। सभी परिस्थिति में स्वयं का तनाव मुक्त दिनचर्या बनाए रखने कहा, किसी भी जटिल परिस्थिति में अनुशासन के साथ अपने वरिष्ठ अधिकारियों से समाधान के संबंध में मित्रवत आवश्यक मार्गदर्शन लेने कहा। पुलिस अधीक्षक ने कोरोना सक्रमण से बचाव के लिए जारी निर्देशो का पालन करते हुए अतिरिक्त सतर्कता बरतते हुए ड्यूटी करने निर्देशित किया।

दरबार में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनंत कुमार साहू, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस फरसगांव पुष्पेन्द्र नायक, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस केशकाल अमित पटेल, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस कोण्डागांव कपिल चंद्रा, प्रशिक्षु पुलिस अधीक्षक लक्ष्मण सिंह पोटाई, थाना प्रभारी फरसगांव विनोद साहू व थाना फरसगांव के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे।


31-Jul-2020 10:50 PM

छत्तीसगढ़ संवाददाता

फरसगांव, 31 जुलाई। कोंडागांव जिले के फरसगांव ब्लाक में आज एक दिन में कुल 21 पॉजिटिव पाए गए। यह सभी कोरोना मरीज फरसगांव ब्लाक के ग्राम बानगांव के क्वारंटीन सेंटर में रुके हुए प्रवासी मजदूर हैं। सभी को 108 की सहायता से जिला कोविड अस्पताल भेजा गया। वहीं जिले में आज एक माकड़ी और एक सीआरपीएफ जवान पॉजिटिव मिला है।

जानकारी के अनुसार फरसगांव ब्लाक के ग्राम बानगांव के क्वारन्टीन सेंटर में कुल 32 मजदूरों को रखा गया था। यह सभी मजदूरों को  21 जुलाई से दो से तीन चरणों में लेकर रखा गया था। ये सभी मजदूर तमिलनाडु, कर्नाटक, हैदराबाद, तेलंगाना से आये हुए हैं। जहां कुल 32 प्रवासी मजदूरों को रखा गया था जिसमें 21 प्रवासी मजदूर आज कोरोना संक्रमित पाए गए। बाकी 11 मजदूरों सहित  सेंटर में ड्यूटी कर रहे लोगों की जांच की गई, जिनकी रिपोर्ट निगेटिव आई। सभी कोरोना संक्रमित मरीजों को 108 की सहायता से जिला कोविड अस्पताल भेजा गया। इसकी पुष्टि फरसगांव के बीएमओ लखन जुर्री ने की है ।

 


31-Jul-2020 10:47 PM

छत्तीसगढ़ संवाददाता

फरसगांव, 31 जुलाई। कोंडागांव जिले के फरसगांव ब्लाक में आज एक दिन में कुल 21 पॉजिटिव पाए गए। यह सभी कोरोना मरीज फरसगांव ब्लाक के ग्राम बानगांव के क्वारंटीन सेंटर में रुके हुए प्रवासी मजदूर हैं। सभी को 108 की सहायता से जिला कोविड अस्पताल भेजा गया। वहीं जिले में आज एक माकड़ी और एक सीआरपीएफ जवान पॉजिटिव मिला है।

जानकारी के अनुसार फरसगांव ब्लाक के ग्राम बानगांव के क्वारन्टीन सेंटर में कुल 32 मजदूरों को रखा गया था। यह सभी मजदूरों को  21 जुलाई से दो से तीन चरणों में लेकर रखा गया था। ये सभी मजदूर तमिलनाडु, कर्नाटक, हैदराबाद, तेलंगाना से आये हुए हैं। जहां कुल 32 प्रवासी मजदूरों को रखा गया था जिसमें 21 प्रवासी मजदूर आज कोरोना संक्रमित पाए गए। बाकी 11 मजदूरों सहित  सेंटर में ड्यूटी कर रहे लोगों की जांच की गई, जिनकी रिपोर्ट निगेटिव आई। सभी कोरोना संक्रमित मरीजों को 108 की सहायता से जिला कोविड अस्पताल भेजा गया। इसकी पुष्टि फरसगांव के बीएमओ लखन जुर्री ने की है ।

 


31-Jul-2020 10:42 PM

छत्तीसगढ़ संवाददाता

कोण्डागांव, 31 जुलाई। पुलिस ने हत्या के फरार आरोपियों को धुर नक्सल संवेदनशील ग्राम तुमड़ीवाल से गिरफ्तार किया है।

इस वर्ष अप्रैल माह में थाना मर्दापाल के अति नक्सल संवेदनशील ग्राम तुमड़ीवाल में आपसी विवाद में गांव के ककड़ीपदर पारा निवासी चितु कश्यप की हत्या वहीं के कुछ अन्य ग्रामीणों ने डण्डा व कुल्हाड़ी मारकर कर दी थी तथा मामले के साक्ष्य छुपाने की दृष्टि से शव का कफन दफन कर दिया गया व पुलिस की घटना की जानकारी देने पर ग्रामीणों को जान से मारने की धमकी भी दी गई। बाद में मृतक के परिजनों ने घटना की सूचना थाने में दी। जिस पर कोण्डागांव पुलिस ने हत्या 302 व साक्ष्य छुपाने 201 सहित कई धाराओं को तहत मामला पंजीबध्द कर जांच की और प्रकरण सभी फरार आरोपियों की तलाश शुरू की।

इसी क्रम में पुलिस अधीक्षक कोण्डागांव सिदार्थ तिवारी के निर्देशन में व अति पुलिस अधीक्षक अनंत कुमार साहू व डीएसपी दीपक मिश्रा के मार्गदर्शन मे थाना प्रभारी मर्दापाल रमन उसेण्डी के नेतृत्व में जिला मर्दापाल व डीआरजी की संयुक्त टीमों ने धुर नक्सल ग्राम तुमड़ीवाल बेड़मा क्षेत्र में विशेष अभियान चलाकर ग्राम के ककड़ीपदर पारा से इस प्रकरण के आरोपियों बलराम, मनीराम, मनकर, मिलू व एक अन्य को पकडऩे में सफलता हासिल की है। मामले का सह आरोपी पोहडु पहले से नक्सल प्रकरण में अन्य मामले में न्यायिक रिमांड पर है। सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेज दिया गया है।


31-Jul-2020 10:35 PM

छत्तीसगढ़ संवाददाता

कोण्डागांव, 31 जुलाई। पुलिस ने हत्या के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। थाना उरनदाबेड़ा में 30 जुलाई को कन्हार गांव में जमीन विवाद को लेकर आपसी रंजिश के चलते सगे भतीजे चंद्रभान नाग (21) निवासी कन्हारगांव ने पड़ोस में निवासरत बड़े पिताजी पवन सिंह नाग (50) की धारदार हथियार से हत्या कर दी। मृतक की पत्नी की रिपोर्ट पर थाना में अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया था।

प्रकरण को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक कोण्डागांव सिद्धार्थ तिवारी ने तत्काल आरोपी की गिरफ्तारी के निर्देश दिए। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनंत कुमार साहू, पुलिस अनुविभागीय अधिकारी फरसगांव पुष्पेन्द्र कुमार नायक के निर्देशानुसार, निरीक्षक देवेन्द्र दर्रो थाना प्रभारी व स्टाफ के साथ कंहारगाव में दबिश देकर आरोपी चंद्रभान नाग को हिरासत में लिया गया है। पूछताछ कर आरोपी से हत्या में प्रयुक्त आलजरब की जब्ती किया गया है तथा आरोपी को गिरफ्तार कर न्याययिक रिमांड पर  न्यायालय में पेश किया गया।


31-Jul-2020 10:29 PM

छत्तीसगढ़ संवाददाता

कोण्डागांव/ विश्रामपुरी, 31 जुलाई। ढोंगी बाबा बनकर ग्रामीणों से ठगी करने वाले तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

थाना विश्रामपुरी में 22 जुलाई को प्रार्थी कृष्ण कुमार यादव (44) लोहाडोंगरी पारा थाना विश्रामपुरी लिखित आवेदन प्रस्तुत किया कि, 15 व 16 जुलाई दरम्यानी रात को 3 व्यक्तियों के माध्यम से पूजा पाठ जादू टोना का दिखावा करते हुए धोखाधड़ी कर प्रार्थी कुष्ण के घर से सोने-चांदी के आभूषण व नगदी रकम लेकर चले गए।

पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ तिवारी के निर्देशन, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनंत कुमार साहू व उप पुलिस अधीक्षक कोण्डागांव दीपक मिश्र के मार्गदर्शन व पर्यवेक्षण प्रकरण कायमी के तीसरे दिन 25 जुलाई को आरोपी तिलक मण्डावी (26) कौंदकेरा दंतापारा थाना विश्रामपुरी को गिरफ्तार कर जेल दाखिल किया गया है।

प्रकरण के अन्य आरोपीगण दारासिंह मंडावी (40) जो कि घटना कारित करने के दौरान सिरह बना था को नगरी जिला धमतरी, पंचराम मंडावी (30) दंतापारा कौंदकेरा को नगरी जिला धमतरी व आरोपी सुदेश मंडावी (21) को पुरूर जिला बालोद से गिरफ्तार किया गया है। आरोपियों से सोने चांदी के गहने जिसमें 2 जोड़ी सोने का टॉप्स, 1 मंगलसूत्र सोने का सात पत्ती वाला, एक जोड़ी चांदी का पायल, 2 नग चांदी की अंगूठी, 1 नग तांबे की अंगूठी व 5 हजार रूपए नगद कुल जुमला किमती 65 हजार रूपए अलग-अलग स्थानों से बरामद कर जब्त किया गया है।


31-Jul-2020 10:21 PM

कोण्डागांव, 31 जुलाई। पुलिस अधीक्षक कार्यालय कोण्डागांव में पदस्थ सहायक उप निरीक्षक सीताराम दीवान 31 जुलाई को अधिवार्षिकी आयु पूर्ण कर सेवानिवृत्त हुए, जिन्हें आज विदाई दी गई।

पुलिस अधीक्षक कोण्डागांव सिद्धार्थ तिवारी के माध्यम से सेवानिवृत्त हुए सहायक उप निरीक्षक सीताराम दीवान को शाल, श्रीफल एवं स्मृति-चिन्ह भेंटकर कर विदाई दी गई और सीताराम दीवान के सेवा अवधि व उनके द्वारा किए गए कार्यो की प्रशंसा करते हुए उनके उज्जवल भविष्य व स्वस्थ जीवन-यापन करने की कामना की गई।

 विदाई समारोह के दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनन्त कुमार साहू, अनु विभागीय अधिकारी पुलिस कपिल चन्द्रा, अंजली गुप्ता, निकिता तिवारी, रमेश चन्द्रा, रक्षित निरीक्षक व पुलिस अधीक्षक कार्यालय कोण्डागांव में कार्यरत समस्त अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित रहे।


31-Jul-2020 10:20 PM

कोण्डागांव, 31 जुलाई। कोण्डागांव भाजपा के शहर अध्यक्ष जैनेद्र सिंह ठाकुर ने विज्ञप्ति जारी कर कांग्रेस की प्रवक्ता व महिला महासचिव डॉ. शिल्पा देवांगन के माध्यम से भूपेश सरकार के लगभग 20 महीनों के योजना और जनता के खुशहाली की बात का खंडन करते हुए कहा कि, शिल्पा जी आप कौन सी खुशहाली और योजना की बात कह कर रहे है, एक तरफ कांग्रेस की भूपेश सरकार अपने किए गए वादों से मुकर रही है और साथ में किसानों को धान का बोनस का पैसा भी नहीं दे पा रही है और बेरोजगारों के लिए बेरोजगारी भत्ता 2500 रुपए देने की बात कही थी, अगर बेरोजगारों को 2500 रूपए भत्ता दिया होता तो एक बेरोजगारी युवक हरदेव सिन्हा को मुख्यमंत्री निवास के सामने आत्मदाह नहीं करना पड़ता और आप किस खुशहाली की बात करते हंै।

भाजपा के 15 वर्षों के डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व में पूरे प्रदेश में जो विकास की गंगा बही, वह आपके सामने है। डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व में विकास के जो योजनाएं बनाई गई। ऐसी योजना जो माँ के बच्चे की पैदाइश से लेकर मनुष्य के मृत्यु तक की योजनाएं रही हैं ये सारी योजनाएं डॉ. रमन सिंह के कार्यकाल में आई थीं। मैं आप से यह पूछना चाहता हूँ कि आपकी सरकार की एक भी ऐसी चुनिंदा योजना बता दीजिए जो प्रदेश के किसान, बेरोजगार और आम जन के लिए राम बाण साबित हो।

पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व में प्रदेश में जो योजनाएं लायी गई। उससे प्रदेश के किसान, श्रमिक, माता बहने, व बच्चों के चेहरे में खुशहाली थी, मगर आपके कांग्रेस की भूपेश सरकार ने सत्ता के लालच में प्रदेश की जनता से इतना ज्यादा झूठा वादा किया और इतना लालच दिया कि मजबूर होकर जनता से आपको वोट देकर सत्ता में बैठा दिया परन्तु 1 वर्ष में ही कोण्डागांव शहर की जनता ने आपके झूठे वादों से उबर कर आपको एक झटके में पालिका चुनाव में हार का मुंह दिखा दिया।


30-Jul-2020 9:32 PM

कोण्डागांव, 30 जुलाई। कोण्डागांव पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ तिवारी 31 जुलाई के 12 बजे से शाम 4 बजे तक थाना फरसगांव परिसर में चौपाल लगाकर लोगों की समस्या से रूबरू होंगे।

पुलिस अधीक्षक कोण्डागांव ने क्षेत्र के आम-जनता से अपील किया है कि यदि किसी फरियादी को किसी प्रकार की पुलिस संबंधित शिकायत, समस्या है व कानून व्यवस्था में सुधार के लिए कोई सुझाव हो तो वे थाना में पुलिस अधीक्षक से मुलाकात कर सकते हैं। उनके सुझाव आमंत्रित है। पुलिस अधीक्षक के माध्यम से फरियादियों के समस्या सुनकर उनके समस्या का त्वरित समाधान करने का प्रयास किया जाएगा।

पुलिस अधीक्षक कोण्डागांव इसी प्रकार माह में जिले के अलग-अलग थानों में स्वयं उपस्थित होकर शिकायतों का निराकरण करेंगे।

 पुलिस अधीक्षक के इस अभियान से क्षेत्र के लोगों को पुलिस संबंधी शिकायत-समस्याओं का त्वरित समाधान करने में सहायक होगी और क्षेत्र के आम-जनता सीधे पुलिस अधीक्षक से मिलकर अपनी समस्याओं के बारे में अवगत करा सकेंगे।


30-Jul-2020 9:28 PM

छत्तीसगढ़ संवाददाता

कोण्डागांव, 30 जुलाई। हड़ेली एचसी के अन्तर्गत आश्रित ग्राम खोडसानार में 29 जुलाई को मलेरिया मुक्त बस्तर 2 के तहत आरडी किट से जांच किया गया। इस ग्राम की जनसंखया 368 है। जिसमें कुल जांच 355 लोगों का जांच किया गया। इसमें केवल 9 पॉजिटिव पाया गया।

ज्ञात हो कि, मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान 1 के तहत कुल 28 पॉजिटिव पाया गया था। एसएचसी में पदस्थ आरएचओ बिनेश कुमार डहरिया के माध्यम से मितानिन के साथ मिलकर सेक्टर सुपरवाइजर कपहमेतु साहू के मार्गदर्शन में कार्य किया गया तथा लोगों को स्वास्थ्य शिक्षा, मच्छरदानी के उपयोगिता के बारे में बताया गया। इससे मलेरिया मुक्त बस्तर हो सके। इसमें सेक्टर प्रभारी रूपेश बारीक का भी योगदान रहा। शासन के माध्यम से संचालित इस कार्यक्रम का परिणाम बहुत ही अच्छा रहा। पहले चरण के अपेक्षा दूसरे चरण में इसका बहुत ही अच्छा परिणाम रहा। इसका परिणाम है कि अभी केवल 9 ही पॉजिटिव पाया गया।


30-Jul-2020 9:27 PM

छत्तीसगढ़ संवाददाता

कोण्डागांव, 30 जुलाई। कोण्डागांव जिले में भी कोरोना संक्रमित तेजी से बढ़ रहे हैं। कलेक्टर व जिला दण्डाधिकारी पुष्पेन्द्र कुमार मीणा ने जिले के सभी नगरीय निकाय क्षेत्रों के लिए प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किए हैं। इसके तहत जिला कोण्डागांव के नगरीय क्षेत्र नगरपालिका परिषद कोण्डागांव, नगर पंचायत फरसगांव, केशकाल व ग्राम पंचायत माकड़ी की सीमा क्षेत्र में 24 जुलाई की मध्य रात्रि 12 से 31 जुलाई की रात्रि 12 बजे तक लॉकडाउन तालाबंदी किया गया था। परन्तु कोरोना वायरस के संक्रमण के प्रसार को देखते हुए इसकी अवधि 31 जुलाई की मध्य रात्रि से 6 अगस्त के मध्य रात्रि 12 बजे तक बढ़ा दी गई है।

नगरीय क्षेत्रों में जिला प्रशासन के माध्यम से समय-समय पर घोषित कंटेनमेंट जोन व बफर जोन को छोड़कर अनुमति प्राप्त समस्त गतिविधियों (साग-सब्जी, फल, दूध-डेयरी, पनीर व किराना दुकानों) का संचालन पूर्वान्ह 7 बजे से अपरान्ह 2 बजे तक सोशल डिस्टेंसिंग व फिजिकल डिस्टेंसिंग का परिपालन करने व मास्क का अनिवार्य रूप से उपयोग करने सहित की जा सकेगी। प्रतिबंधित क्षेत्र में लॉकडाउन की अवधि के दौरान समस्त सार्वजनिक और निजी गैर आवश्यक परिवहन सेवाएं के परिचालन की अनुमति नहीं होगी। जबकि इमरजेंसी मेडिकल सेवा वाले व्यक्तियों को वाहन द्वारा आवागमन की अनुमति होगी। ऐसे निजी वाहन जो इस आदेश के अंतर्गत आवश्यक वस्तुएं, सेवाओं के उत्पादन व उनके परिवहन का कार्य कर रहें है।

 उन्हे भी अपवादित स्थिति व तात्कालिक आवश्यकताओं को देखते हुए परिवहन की छूट रहेगी। इसके अलावा शासन के माध्यम से संचालित सार्वजनिक परिवहन को भी इसके तहत् छूट दी गई है।

राखियों की दुकान, मिठाईयों की दुकान, सेवईयों की दुकान का संचालन 30 जुलाई से 3 अगस्त तक पूर्वान्ह 7 बजे से अपरान्ह 2 बजे तक किया जाएगा। इसके पश्चात् 6 अगस्त तक यह दुकानें पूर्णत: प्रतिबंधित रहेंगी। ठेलों पर घुम घुमकर सब्जी बेचने वालों, मटन, मुर्गा, मछली, अण्डे, खाद-बीज, कीटनाशकों की दुकानों को पूर्वान्ह 7 बजे से अपरान्ह 2 बजे तक संचालन की अनुमति प्रदान की गई है।


30-Jul-2020 9:27 PM

कोण्डागांव, 30 जुलाई। माकड़ी पुलिस ने गुम महिला को खोज कर परिजनों को सौंपा। माकड़ी थानान्तर्गत ग्राम मिरमिण्डा निवासी जीआर सिलोद ने 24 जुलाई को थाना उपस्थित होकर रिपोर्ट दर्ज कराया था कि उसकी पत्नी सुशीलाबाई 21 जुलाई की सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे के मध्य घर में किसी को बिना बताए चली गई हैं। इस रिपोर्ट पर थाना माकड़ी में गुम इंसान क्रमांक 04-2020 कायम कर जांच में लिया गया।

पुलिस अधीक्षक कोण्डागांव सिद्धार्थ तिवारी के निर्देशन तथा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कोण्डागांव अनन्त कुमार साहू, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस फरसगांव पुष्पेन्द्र नायक के मार्गदर्शन पर माकड़ी पुलिस के माध्यम से गुम इंसान का लगातार पता तलाश किया जा रहा था। जिसे ग्राम कुकुुलडीह थाना रायघर जिला नबरंगपुर (ओडिशा) में पता तलाश दौरान दस्तायाब कर  परिजनों को सुपुर्द किया गया।


30-Jul-2020 9:23 PM

छत्तीसगढ़ संवाददाता

कोण्डागांव, 30 जुलाई। कमलेश यादव बस्तर के युवा कलमकारों का वाट्सअप ग्रुप के लॉकडाउन के चलते ऑनलाइन काव्य श्रृंखला में ककसाड़ चो लरी के अन्तर्गत विगत दिनों सरगीफूल का आयोजन किया गया था। इसकी अगली कड़ी के रूप मे 28 जुलाई को संत शिरोमणि गोस्वामी तुलसीदास की जयंती पर कुड़ई फूल का आयोजन किया गया। इसमें कार्यक्रम का शुभारंभ मां शारदे की वंदना गिरिजी निषाद कोण्डागांव के माध्यम से किया गया।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि की आसंदी से लोकेश गायकवाड़ प्रदेश सलाहकार तुलसी मानस प्रतिष्ठान छत्तीसगढ़ ने कहा कि, आज यह जो लॉकडाउन जैसी स्थिति में भी ककसाड़ चो लरी काव्य श्रृंखला के अन्तर्गत ऑनलाइन काव्यमय संध्या कुड़ईफूल का आयोजन निश्चित ही तुलसी चो राम चो अकार, बस्तर चो युवा कलमकार आय जे ने इतरो सुंदर आयोजन होली से उन्होंने आगे कहा कि भारत विश्व विख्यात धर्म प्रधान देश है, यह संस्कारों की धरा रही है, और छत्तीसगढ़ की इस धरा का तो स्थान स्तुत्य और अनुपम महत्वपूर्ण है।

कार्यक्रम में विश्वनाथ देवांगन, अनिल यादव, किरण सोम, गीता चौहान, हितेन्द्र गिरिजा निषाद, डॉ. गीतिका  तिवारी, पुरुषोत्तम पोयाम, देशवती पटेल, दिनेश कुमार विश्वकर्मा आदि ने भाग लिया और सभी प्रतिभागियों ने एक से बढ़कर एक प्रस्तुति से देर रात तक पटल पर समा बांधे रखा। कार्यक्रम का संचालन गीता चौहान जशपुर ने किया। इनकी शेरो शायरी से लोग देर रात तक काव्यमय यात्रा कुड़ईफूल का आनंद लेते रहे। इस दौरान पटल पर प्रबुद्घ जन उपस्थित रहकर रसास्वादन करते रहे।


30-Jul-2020 9:23 PM

छत्तीसगढ़ संवाददाता

कोण्डागांव, 30 जुलाई। अगस्त में होने वाले विभिन्न उत्सव, धार्मिक त्योहार, आयोजनों के मद्देनजर शांति समिति की बैठक लेने संबंधी पुलिस अधीक्षक कोण्डागांव सिद्धार्थ तिवारी के निर्देश में 29 जुलाई को थाना बड़ेडोंगर में क्षेत्र के पंचायत के सरपंच उपसरपंच, पंचायत प्रतिनिधिगण, जनप्रतिनिधिगण व गण्मान्य नागरिकगणों को सूचित कर थाना परिसर में शांति समिति की  बैठक आहुत की गई। मीटिंग में आने वाले माह में मनाए जाने वाले त्योहारों उत्सवों को शांतिपूर्वक, सौहार्दपूर्ण तरीके से मनाए जाने अपील की गई।

कोरोना वायरस संक्रमण के जिले में बढ़ते मामलों के मद्देनजर शासन के लॉकडाउन के आदेश निर्देशों का पालन करते हुए हर व्यक्ति को जब वह अपने घरों से बाहर निकले मास्क, कपड़ा का उपयोग मुंह नाक को ढकने में करने, सेनेटाइजर का उपयोग करने, साबुन पानी से समय समय पर हाथ धोते रहने, भीड़ वाले जगहों या कार्यक्रमों से बचने, दुपहिया वाहनों में एक से अधिक लोगों को ना बिठाने, बाहरी व अनजान व्यक्तियों से जो गांव-गांव मे घूम घूम कर समान बेचते हैं भीड़ लगाकर समान ना खरीदने, ऐसे लोगों की थाना में जानकारी देने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने अवगत कराया गया। आजकल लोग ठगी के शिकार मोबाइल के जरिए लालच में हो रहे है।

किसी भी अंजान व्यक्ति को अपना पता, मोबाइल नंबर, बैंक खाता नंबर आदि नहीं बताने, कोई भी लिंक जो ठग लोग किसी के भी मोबाइल में भेजते रहते हैं, टच कर ना जुडऩे बताकर जागरूक किया गया। जनप्रतिनिधिगनों से अपील की गई कि गांव के लोगो को उपरोक्त बातें बताकर जागरूक व सावधान करें।


30-Jul-2020 9:20 PM

छत्तीसगढ़ संवाददाता

कोण्डागांव, 30 जुलाई। विकासखण्ड कोण्डागांव के उप स्वास्थ्य केन्द्र मर्दापाल में कार्यरत् ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजक (पुरूष) प्रेमसिंह ठाकुर अपने कर्तव्य से अनाधिकृत रूप से 8 अक्टूबर 2016 से अनुपस्थित रहने पर उनके विरूद्ध छग सिविल सेवा नियम 1966 के नियम 14 के तहत आरोप पत्र 16 जनवरी 2019 को जारी किया गया।

आरोप पत्र जारी करने के उपरान्त मौखिक सुनवाई के लिए 10 दिवस के भीतर जवाब प्रस्तुतीकरण के लिए अवसर दिया गया। समय-सीमा में जवाब प्रस्तुत न करने पर विभागीय जांच संस्थित की गई है। इसमें जांच अधिकारी के माध्यम से उनके विरूद्ध लगाए गए आरोप प्रमाणित पाए गए। विभागीय जांच की प्रति आवेदक को 29 मई 2020 को भेजकर अपना अभिकथन व जवाब प्रस्तुत करने 10 दिवस का अवसर दिया गया, 5 जून 2020 को पुन: युक्तियुक्त का अवसर देते हुए पुन: जवाब के लिए 10 दिवस का अवसर दिया गया। इसके उपरान्त भी ठाकुर द्वारा किसी प्रकार का प्रति उत्तर नहीं किया गया। इस प्रकार वे लगातार कर्तव्य से 3 वर्ष से अधिक समय से अनुपस्थित हैं।

इस पर छग शासन वित्त व योजना विभाग के माध्यम से जारी निर्देशानुसार 3 वर्ष से अधिक अवधि से कर्तव्य विमुख व्यक्ति को शासकीय सेवा से पृथक किया जा सकता है। इस प्रकार प्रेमसिंह ठाकुर को पुन: सूचित किया गया है कि, सूचना प्रकाशन के 10 दिवस के भीतर वह कार्यालय में उपस्थित होकर अपने 8 अक्टूबर 2016 से लगातार अनुपस्थिति के संबंध में अभिकथन या अभ्यावेदन प्रस्तुत कर सकते हैं अन्यथा उनके विरूद्ध निर्देशानुसार सेवा से पृथककरण की कार्रवाई की जाएगी।


30-Jul-2020 7:44 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

विश्रामपुरी, 30 जुलाई। ट्रक चालकों को अक्सर ओवरलोड एवं गाड़ी के कागजात के चलते जुर्माना भरना पड़ता है, किंतु ट्रक चालक ने कभी यह नहीं सोचा होगा कि उसे बंदरों को खाद्य सामग्री देने से जुर्माना होगा। वह भी दो-चार सौ नहीं बल्कि पूरे 10 हजार रुपये।

कोंडागांव की केशकाल घाटी में राहगीरों एवं स्थानीय लोगों के द्वारा बंदरों को अनाप-शनाप सामग्री परोसी जा रही थी। कई लोग शौकिया तौर पर भी बंदरों को खाने की सामग्री दे रहे थे, जिसके चलते बंदरों की सेहत खराब हो रही थी।

वन विभाग ने इसे गंभीरता से लेते हुए चेतावनी जारी कर दी थी कि बंदरों को कुछ भी खिलाने पिलाने पर उसे जुर्माना किया जाएगा। जगह-जगह होर्डिंग एवं पंपलेट चिपका दिए गए थे। मंगलवार की शाम जगदलपुर से रायपुर की ओर जा रही वाहन के चालक ओम प्रकाश साहू निवासी दल्ली राजहरा के द्वारा जानकारी के अभाव में घाटी पर बंदरों को देखकर गाड़ी रोका गया तथा बंदरों को खाने की सामग्री दिया गया। वन विभाग का अमला जो कि आसपास ही था, उन्होंने इसे देख लिया तथा उसे रोककर तत्काल उस पर 10 हजार रुपए जुर्माना का रसीद काटा। भारी भरकम जुर्माने की राशि देखकर चालक ओमप्रकाश साहू के होश उड़ गए। पहले तो वाहन चालक इतनी रकम अपने पास नहीं होने की बात करता रहा किंतु वनकर्मियों ने जुर्माना भरने के पश्चात ही वाहन चालक को जाने की अनुमति दी।


29-Jul-2020 10:24 PM

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

कोण्डागांव, 29 जुलाई। जिला के पुलिस अधीक्षक कार्यालय अंतर्गत वेतन विभाग में पदस्थ एक आरक्षक का आज कोविड-19 रिपोर्ट पॉजिटिव आया।

इसकी पुष्टि करते हुए पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ तिवारी ने बताया, आरक्षक छुट्टी लेकर अपने घर गया हुआ था। छुट्टी से लौटने के बाद युवक को जारी प्रोटोकॉल के अनुसार पुलिस-क्वॉरंटीन सेंटर भेजा गया। साथ ही टाउन हाल में कोरोना टेस्ट करवाया गया। टेस्ट के चलते आरक्षक कोविड-19 पॉजिटिव पाया गया। युवक को सीधे अस्पताल में दाखिल करवाया जा रहा है। छुट्टी से लौटने के बाद जवाल कार्यालय नहीं आया है, फिर भी एतिहातन कार्यालय को सैनेटाइज करवाए जाने के निर्देश दिए गए है।

मरकाम के परिवार के 3 सदस्य भी पॉजिटिव

कोण्डागांव के मुख्य चिकित्सा व स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. टीआर कुंवर ने बताया, कोण्डागांव विधायक व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम के परिवार के तीन सदस्य, एक पीएसओ और एक कर्मचारी कुल 5 लोगों का कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। हालांकि सभी की रिपोर्ट रायपुर में पॉजिटिव पाई गई है, फिर भी एहतियातन कोण्डागांव के परिवार के सदस्यों का भी टेस्ट करवाया जा रहा है।


29-Jul-2020 10:23 PM

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

कोण्डागांव, 29 जुलाई। जिले में कोरोना के संदिग्ध मरीजों की स्क्रीनिंग से लेकर कोरोना संक्रमितों के इलाज में भी आयुष चिकित्सक अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। जिला अस्पताल कोण्डागांव के कोविड-19 समर्पित वार्ड में एमबीबीएस चिकित्सकों के साथ शिफ्ट में आयुष चिकित्सकों व पैरामेडिकल स्टॉफ की ड्यूटी लगाई जा रही है। साथ ही स्क्रीनिंग सेन्टर खालेमुरवेंड और घोड़ागांव में भी सेवा दे रहे हैं।

जानकारी अनुसार, एमबीबीएस चिकित्सकों की सीमित संख्या को देखते हुए आयुष चिकित्सकों की भी सेवा ली जा रही हैं। आगे और काफी संख्या में चिकित्सकों की जरूरत पड़ेगी। जरूरत पडऩे पर आरएमए की ड्यूटी भी लगाई जाएगी। जिले में कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या को देखते हुए स्थानीय स्तर पर सामुदायिक भवन में भी 100 से अधिक बिस्तर की व्यवस्था की गई है। आयुष नोडल अधिकारी डॉ. चंद्रभान वर्मा ने बताया, वर्तमान में जिले भर में 28 आयुष चिकित्सक कार्य कर रहे हैं। इस महामारी काल में आयुष चिकित्सक शुरूआत से ही कार्य कर रहे हैं। जिला अस्पताल के फीवर क्लिनिक में बीते चार माह से बारी बारी सभी आयुष चिकित्सकों की ड्यूटी लगाई थी।

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने काढ़ा वितरण

आयुर्वेद औषधालय और आयुष केंद्र स्तर पर भी ग्रामीणों को रोगों से बचाव और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने गिलोय, त्रिकटू चूर्ण, मुलेठी आदि का वितरण किया गया है। आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारी डॉ. योगेश विश्वकर्मा ने बताया, खान पान, रहन सहन में सावधानी के साथ ही आधे घंटे का योग-प्राणायाम भी कोरोना संक्रमण से बचाव में लाभकारी है। आयुष मंत्रालय की गाइड लाइन के अनुसार कोरोना से बचाव के उपायों के प्रचार प्रसार के साथ ही आयुष संस्थाओं में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने आयुष काढ़ा का भी नियमित रूप से वितरण जा रहा है जिससे ग्रामीण लाभान्वित हो रहे हैं।