छत्तीसगढ़ » कोण्डागांव

24-May-2020

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

कोण्डागांव, 24 मई। कलेक्टर नीलकण्ठ टीकाम ने मॉडल छात्रावास विकसित करने के लिए प्री मेट्रिक बालक छात्रावास घोडागांव, कारसिंग और प्री मेट्रिक बालक छात्रावास कोण्डागांव का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने आश्रम-छात्रावासों को मॉडल बनाने के लिए आमूलचूल परिवर्तन करने के निर्देश दिए।

उन्होंने परिसर में किचन गार्डन बनाने को कहा वहां ताकि संचालित रसोई को सब्जियों के लिए बाजार पर निर्भर ना रहना पड़े। साथ ही उन्होंने पीने के पानी की उत्तम व्यवस्था, सोने के लिए गद्दों, चादरों की व्यवस्था करने को कहा। उन्होंने बताया कि एक छात्र के लिए पढ़ाई के लिए अच्छा वातावरण बहुत आवश्यक है जिसके लिए आश्रम में अलग से स्टडी रूम विकसित करना है जहां उनके लिए कोर्स की पुस्तकों के साथ प्रेरणादायी चरित्रों की पुस्तकें रखने एवं आश्रम के किचन व शौचालयों को अत्यंत विकसित करने पर जोर दिया और शयन कक्ष में सभी के लिए मच्छरदानी एवं अलमारी निर्माण के निर्देश दिए। 

राज्य शासन ने विगत दिनों प्रत्येक जिले में दस-दस छात्रावासों को मॉडल बनाने के निर्देश दिए हैं। इसके लिए शासन द्वारा कमिश्नर बस्तर संभाग को 20 करोड़ रूपए की राशि भी स्वीकृति प्रदान की गई। इस पर कलेक्टर ने बताया कि मॉडल छात्रावास एक शुरुआत ही है सर्वप्रथम इन दस छात्रावासों को लक्ष्य बनाकर कार्ययोजना तैयार की जा रही है। 

इसके पूर्ण होने के बाद सभी छात्रावासों के लिए ये प्रेरणा का कार्य करेंगे और भविष्य में जिला प्रशासन भी सभी छात्रावासों को इन्ही की तरह सुव्यवस्थित तरीके से विकसित करेगा क्योंकि किसी भी छात्र को शिक्षा के लिए प्रेरित करना है तो उसे आदर्श वातावरण एवं सभी सुविधाएँ दिलानी आवश्यक है ताकि छात्र अपना सम्पूर्ण ध्यान पढ़ाई पर लगा सके और उसकी पढ़ाई में रुचि और बढाई जा सके। इस दौरान सहायक आयुक्त जीआर सोरी, सीएमएचओ डॉ. टीआर कुंवर सहित अन्य विभागीय अधिकारी-कर्मचारी मौजूद थे।


23-May-2020

'छत्तीसगढ़' संवाददाता
कोण्डागांव, 23 मई।
अपने ही दो मासूम बच्चों की हत्या का आरोप साबित होने पर कोण्डागांव के अपर सत्र न्यायाधीश केपी सिंह भदोरिया न्यायालय ने पिता को आजीवन कारावास और अर्थदंड की सजा सुनाई है। ज्ञात हो कि मामला विश्रामपुरी थाना अंतर्गत कोसमी गांव में 19 जनवरी 2018 की रात घटी थी, जिसके बाद से मामला न्यायालय में विचाराधीन था।

अपर लोक अभियोजक हेमंत गोस्वामी ने बताया, कि फूलचंद सलाम (38) विश्रामपुरी थाना के कोसमी गांव में पत्नी सनताबाई, दो बेटे भूपेन्द्र (12) व भूनेष (10) के साथ रहता था। घटना वाले 19 जनवरी 2018 की रात फूलचंद सलाम व सनताबाई दोनों पति-पत्नी के बीच शराब पीने के नाम से विवाद होने लगा। ऐसे में सनताबाई पति के विवाद से डरकर अपनी जेठानी पीलाबाई के घर सोने चली गई। यहां से जब वह लौटी तो उसके दोनों मासूम बच्चे मृत हालत में बिस्तर में खुन से सने हुए पड़े थे। फूलचंद सलाम ने भूपेन्द्र व भूनेष धारदार हथियार से हत्या कर दिया था। 

परिजनों की शिकायत पर विश्रामपुरी थाना पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेष किया। कोण्डागांव जिले के अपर सत्र न्यायाधीश केपी सिंह भदौरिया ने प्रकरण का विचारण कर आरोपी को आजीवन सश्रम कारावास और अर्थदण्ड का सजा सुनाया है।

 

 

 

 

 

 

 

 


23-May-2020

कोण्डागांव, 23 मई। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए कॉलेज की परीक्षा स्थगित कर दी गई है और अब नए सत्र प्रारंभ होने को है, लेकिन सरकार की ओर से अब तक स्पष्ट दिशा-निर्देश नहीं आए हैं कि परीक्षा होगी अथवा नहीं। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के पूर्व छात्र नेता व भाजपा युवा मोर्चा नेता तोयेश चंदेल ने जारी विज्ञप्ति में कहा कि आज तक राज्य सरकार ने विद्यार्थियों को संशय में रखा है कि परीक्षाएं होगी या नहीं। वर्तमान में जो महामारी फैली है वह लंबे समय से विद्यमान रहने वाली है। ऐसे में सरकार छात्रों के भविष्य को लेकर अब तक फैसला क्यों नहीं ले रही है।

सरकार की ओर से जनरल प्रमोशन की बात कही गई थी, लेकिन यह भी स्पष्ट नहीं है। ऑनलाइन परीक्षा देने की बात कही गई थी, लेकिन इसमें समस्या उत्पन्न होगी क्योंकि बस्तर के दूरस्थ क्षेत्रों के हजारों आदिवासी छात्र वंचित होंगे। इन क्षेत्रों में नेट की सुविधा उपलब्ध नहीं है। छात्र नेता ने कहा कि नए सत्र प्रारंभ होने को है विद्यार्थी चिंता में हैं उसे ध्यान में रखकर मुख्यमंत्री और उच्च शिक्षा मंत्री को जल्द समस्या का हल निकालना चाहिए।

 

 


23-May-2020

कोण्डागांव, 23 मई। पुलिस अधीक्षक बालाजी राव के निर्देशन पर थाना व चौकी प्रभारी क्वॉरंटीन सेंटर में पहुंच कर लगातार निरीक्षण कर रहे हैं। कलेक्टर कोण्डागांव के निर्देश पर क्वॉरंटीन सेंटर में ठहराए व्यक्तियों को कोई परेशानी न हो इसके लिए अधिकारियों को निर्देशित किया गया है। क्वॉरंटीन  सेंटरों की साफ-सफाई, बिजली-पानी, टायलेट आदि की व्यवस्था दुरूस्त की जा चुकी है। क्वॉरंटीन  सेंटर में भोजन व अन्य सामग्री वितरण के समय सोशलध्फिजीकल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा जा रहा हैं। 

 


23-May-2020

कोण्डागांव, 23 मई। भाजयुमो जिलाध्यक्ष जसकेतु उसेण्डी ने राज्यपाल के नाम अनुविभागीय अधिकारी कोण्डागांव को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन के माध्यम से रायगढ़ भाजयुमो मण्डल अध्यक्ष के खिलाफ निगम आयुक्त द्वारा किए गए एफआईआर और द्वेषपूर्ण कार्रवाई की जानकारी देते तत्काल संज्ञान में लेते हुए उचित कार्रवाई करने निवेदन किया गया है।  इस दौरान मनीष देवांगन, सन्तोष पात्र, महेंद्र पारख, दिलावर कापडिय़ा व पोलटू चौधरी मौजूद रहे।

 

 


22-May-2020

'छत्तीसगढ़' संवाददाता
फरसगांव, 22 मई।
फरसगांव नगर पंचायत मुख्यालय में आज सुहागिनों ने पति की दीर्घायु और परिवार की सुख समृद्धि के लिए वट सावित्री की पूजा अर्चना की।  शुक्रवार को वट सावित्री व्रत आस्था के साथ मनाई गई। आज के दिन सुहागिनों ने अमर सुहाग की कामना के लिए व्रत रखा। सुहागिनों ने पति की लंबी आयु के लिए वट वृक्ष का पूजन कर कथा का श्रवण किया।  वट सावित्री पूजा में भी करोना बीमारी का असर देखने को मिला। महिलाओं की यहां ज्यादा भीड़ नहीं थी। सभी व्रती महिलाओं ने सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए मास्क लगाकर पूजा अर्चना की।

 


22-May-2020

'छत्तीसगढ़' संवाददाता
फरसगांव/कोण्डागांव, 22 मई।
जिले के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र फरसगांव के स्टोर रूम में 22 मई की सुबह शार्ट सर्किट के चलते आग लग गई। आग के कारण बड़ा हादसा होते-होते टल गया, क्योंकि स्टोर रूम में पुराने ओपीडी कागजात के बीच आक्सीजन सिलेंडर भी रखे हुए थे। लेकिन समय रहते पुलिस व अस्पताल के कर्मचारियों ने आग पर काबू पा लिया। 

फरसगांव थाना प्रभारी विनोद साहू ने बताया कि, अस्पताल में सार्टसर्किट के चलते आज सुबह आग लग गई हैं। वक्त रहते आग और काबू पाया गया। अस्पताल के जीस स्थान में आग लगी थी वह स्टोर रूम है। जब आग लगी तब वहां आक्सीजन के सिलेंडर, पुराने ओपीडी कागजात व अन्य सामाने रखे हुए थे। सुबह साफ-सफाई के दौरान यहां के सफाई कर्मी को आग का पता चला और उन्होंने सभी को इसकी जानकारी दी। आग के कारण 75 प्रतिशत ओपीडी फाइल के साथ कुछ सामान भी जले हैं। बाकी सामानों को सुरक्षित कर शिफ्ट किया जा रहा हैं।

 

 


22-May-2020

कोण्डागांव, 22 मई। रमज़ान के पाक महीने में केशकाल के 9 वर्षीय अशहर अहमद कुरैशी रोजा रखे हुए है। नन्हीं सी उम्र में अशहर ने 28 रोजे पूरे कर लिए है। अपने बड़ों के साथ तरावीह की नमाज भी पूरे कर रहे हैं। अशहर डियर होटल केशकाल के संस्थापक हाजी शफी अहमद कुरैशी के पोते व वरिष्ठ अधिवक्ता अशफाक अहमद कुरैशी के पुत्र हैं।

 


22-May-2020

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

विश्रामपुरी, 22 मई। कोरोना वायरस कोविड-19 के मरीजों की संख्या प्रदेश में लगातार बढ़ती जा रही है। बस्तर संभाग में भी अब कोरोना ने दस्तक दे दी है, जिसके चलते पुलिस एवं प्रशासन पूरी तरह सतर्कता एवं सावधानी बरत रही है, किंतु प्रशासन की ही एक सेक्टर प्रभारी जो कि वन विभाग में एसडीओ के पद पर पदस्थ हैं, के द्वारा इस पर लापरवाही का मामला प्रकाश में आया है। 

दो दिन पूर्व ही वन विभाग में पदस्थ एसडीओ मोना माहेश्वरी के पिता डगनलाल माहेश्वरी पश्चिम बंगाल से केशकाल पहुंचे तथा नियम के अनुसार उन्हें स्वयं का चिकित्सकीय परीक्षण कराना था। साथ ही प्रशासन को सूचना देनी थी कि वह अन्य प्रांत से यहां पहुंचे हैं, किंतु उन्होंने ऐसा न करते हुए अपनी बेटी एसडीओ के सरकारी बंगले में चले गए। जिसकी सूचना आसपास के लोगों ने प्रशासन को दी।

 इस संबंध में मीडिया में खबर आने के बाद प्रशासन हरकत में आया तथा बीती रात 9.30 बजे के लगभग स्वास्थ्य विभाग की टीम के द्वारा उन्हें होम क्वॉरंटीन से निकालकर रेड जोन के लिए बनाए गए सुरडोंगर के बालक छात्रावास में क्वॉरंटीन किया गया। 

पहले तो एसडीओ ने स्वयं जाकर एसडीएम से यह कहा था कि 2 से 3 दिन के अंदर उनके पिता जो कि पश्चिम बंगाल में रहते हैं, वे केशकाल आने वाले हैं। इस मामले में प्रशासन से उन्हें मदद चाहिए, उन्हें वे होम क्वॉरंटीन पर ही रखना चाहती हैं। उन्हें अन्यत्र नहीं भेजा जाना चाहिए। इस बात की एसडीएम केशकाल डीडी मंडावी ने पुष्टि की है कि एसडीओ ने स्वयं आकर उन्हें यह बात बताई थी। 

 बीएमओ डी के बिसेन ने 'छत्तीसगढ़Ó को बताया कि एसडीओ मोना माहेश्वरी लगातार झूठ पर झूठ बोलती रहीं। कभी यह कहा गया कि वे दुर्ग से आए हैं तो कभी यह कहा गया कि पश्चिम बंगाल से काफी पहले ही यहां आ चुके हैं। 

मामले को तूल पकड़ता देख प्रशासनिक अधिकारियों की पहल पर उन्हें होम क्वॉरंटीन से हटाकर इस समय हायर सेकंडरी स्कूल सुरडोंगर में अन्य प्रांत से एवं रेड जोन से आए हुए लोगों के लिए बनाए गए क्वॉरंटीन सेंटर ले जाकर क्वॉरंटीन किया गया है। यहां अन्य प्रांत एवं रेड जोन से आये 20 अन्य लोग भी क्वॉरंटीन हैं। अब इसी जगह में डगन लाल माहेश्वरी को 14 दिनों के लिए क्वॉरंटीन किया गया है। 

 

 

 

 


22-May-2020

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

कोण्डागांव, 22 मई। पति की दीर्घायु, परिवार की सुख-शांति सलामति और मनोकामना पूर्ति के लिए आज सुहागिनों ने वट सावित्री की पूजा की। 
व्रतधारी महिलाओं की भीड़ सुबह से ही कोण्डागांव के अलग-अलग वट वृक्ष के नीचे आज दिखाई देने लगी थी। यहां महिलाओं ने माता सावित्री की मूर्ति, बांस का पंखा, लाल धागा, कलश, मिट्टी का दीपक, फल, पूजा के लिए लाल कपड़े, सिंदूर-कुमकुम और रोली, पकवान, अक्षत, हल्दी, सोलह श्रृंगार व पीतल का पात्र, जल अभिषेक आदि लेकर माता सावित्री की पूजा की। सुहागिनों ने सुबह वट-वृक्ष की पूजा कर जल, फूल, रोली-मौली, कच्चा सूत, भीगा चना, गुड़ इत्यादि चढ़ाएं और जलाभिषेक कर पेड़ के चारों ओर कच्चा धागा लपेट कर परिक्रमा किया। कई वट वृक्ष तले महिलाओं ने पंडित से सावित्री व्रत की कथा भी सुनी।

 

 

 


22-May-2020

'छत्तीसगढ़' संवाददाता
कोण्डागांव, 22 मई।
लॉकडाउन के चलते सभी प्रकार के निर्माण व विकास कार्य बाधित चल रहे है। इसी बीच नारायणपुर विधानसभा अंतर्गत कोण्डागांव जिला में विधायक चंदन कश्यप ने कई सौगातें दी है। विधायक चंदन कश्यप ने सोनाबाल से पोलंग तक सड़क निर्माण, सोनाबाल में डेम और हाईस्कूल हासेल भवन का भूमिपूजन किया।

कोरोना महामारी के चलते शारीरिक दूरी का ख्याल रखते हुए नारायणपुर विधायक चंदन कश्यप ने कई कार्यो का भूमिपूजन किया। उन्होने सोनाबाल से पोलंग तक करीब 2.50 किमी लंबी सड़क लागत 1 करोड़ 9 लाख रुपए, सोनाबाल में डेम और ग्राम हासेल में 66 लाख 95 हजार रुपए की लागत से बनने वाले हाईस्कूल भवन का भूमिपूजन किया। इस दौरान जनपद पंचायत उपाध्यक्ष मनोज सेठिया, सरपंच ईश्वरी पोयाम, जागेश्वरी मंडावी, पूर्व सरपंच सुखराम पोयाम, देवेन्द्र कोर्राम, वरूण सेठिया, लोकमन ठाकुर, बंगाराम सोढ़ी, राजेन्द्र साहू, लछिन्धर, श्यामलाल बघेल, ग्राम पुजारी, सोनाबाल, पोलंग आदि के निवासी उपस्थित रहे।

 


22-May-2020

कोण्डागांव, 22 मई। सिटी कोतवाली पुलिस ने स्थानीय मोहल्लावासियों की शिकायत पर एक युवक को गिरफ्तार किया है। युवक पर तलवार लहराने का आरोप है। फिलहाल आरोपी युवक को आम्र्स एक्ट की धारा 25, 27 के तहत गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। 

जानकारी अनुसार, सिटी कोतवाली कोण्डागांव पुलिस को सूचना मिली थी कि, नगर के भेलवापदर पारा निवासी विकास नेताम 21 मई की देर शाम खुलेआम हाथ में तलवार लेकर घूम रहा है। सूचना पर पुलिस नगर पेट्रोलिंग पार्टी ने मौके पर पहुंच कर विकास नेताम को गिरफ्तार कर लिया। साथ ही उसके पास से तलवार भी जब्त किया गया है। 

 


22-May-2020

'छत्तीसगढ़' संवाददाता
कोण्डागांव, 22 मई।
प्रदेश शासन के निर्देशानुसार स्कूली बच्चों के ऑनलाईन अध्यापन कार्यक्रम के सफल संचालन के लिए पढ़ई तुंहर दुआर कार्यक्रम का संचालन किया जा रहा है। 

इस कार्यकम को गति देने जिला शिक्षा अधिकारी राजेश मिश्रा, जिला मिशन समन्वयक महेन्द्र पाण्डे ने खण्ड स्रोत केन्द्र माकड़ी में विकासखण्ड स्तरीय समीक्षा बैठक आयोजित की।  

बैठक में जिला शिक्षा अधिकारी राजेश मिश्रा ने शाला में अध्ययरत सभी बच्चों को पढ़ई तुंहर दुआर ऑनलाईन कार्यक्रम में पंजीयन करने के संबंध में जानकारी दी। विकासखण्ड में पंजीकृत विद्याथ्रियों की संख्यात्मक जानकारी ले कर निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि, चाहे बच्चे के पास एण्ड्रायड फोन हो या कीपेड सभी बच्चों को इस कक्षा से जोडना है तथा बच्चा का तुंहर द्वार एप्प के उपयोग करने की जानकारी देनी है। समस्त सीएसी को कार्यक्रम को संचालन में सहयोग और मॉनिटिरिंग करने के निर्देश दिए गया। 

जिला शिक्षा अधिकारी ने समीक्षा बैठक में टेलीग्राम एप्प में सभी शिक्षक को जोडऩे व एप्प से प्राप्त जानकारी को बच्चा के साथ शेयर करेने की बात कही गई ही। जिला शिक्षा अधिकारी के द्वारा टेलीग्राम, टीचर एप्प और तुहर द्वार कार्यक्रम में रूचि न रखने वाले व मुख्यालय में अनुपस्थित रहने वाले शिक्षकों को चिन्हाकित कर कारण बताओ नोटिस जारी करने को निर्देश दिए। 

पढ़ई तुंहर दुआर समीक्षा बैठक में खण्ड शिक्षा अधिकारी जगमोहन भोयर, खण्डस्रोत समन्वयक ताहिर अहमद खान, सहायक खण्डशिक्षा अधिकारी श्रीराम तारम, समस्त प्राचार्य हाई व हायर सेकेण्ड्री व सीएसी सम्मिलित हुए।

 


22-May-2020

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

कोण्डागांव, 22 मई। माकड़ी तहसीलदार व थाना पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए ग्राम पंचायत हीरापुर में बिना मास्क लगाए लोगों के विरूद्ध कार्रवाई करते हुए 8 हजार रुपए का जुर्माना वसूला गया। ज्ञात हो, कोण्डागांव जिला कलेक्टर नीलकंठ टीकाम ने पूरे जिला में धारा 144 लागू कर दिया है। ऐसे में नियमों की अनदेखी करने वालों के विरूद्ध लगातार कार्रवाई की जा रही है।


22-May-2020

कोण्डागांव, 22 मई। नारायणपुर विधायक चंदन कश्यप ने कोण्डागांव जिला अंतर्गत अपने विधानसभा के ग्राम पंचायत मरकामपाल में साफ पेयजल की व्यवस्था के लिए 22 मई को हैंडपंप खनन शुरू करवाया है। इस क्षेत्र के ग्रामीणों के मांग पर विधायक चंदन कश्यप ने हैंडपंप की व्यवस्था के लिए बोर कार्य शुरू करवाया है।

 


22-May-2020

कोण्डागांव, 22 मई। प्रवासी मजदूरों के लिए प्रारंभ किए गए श्रमिक सहायता केंद्र में जिला कांग्रेस कमेटी कोण्डागांव ने पूर्व प्रधानमंत्री स्व राजीव गांधी की पुण्यतिथि मनाई। इस साथ ही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के प्रति राजीव गांधी किसान न्याय योजना के अंतर्गत सभी किसानो को घोषित 2500 रुपए समर्थन मूल्य के अंतर की राशि जारी करने के लिए आभार व्यक्त किया। 

इस  अवसर पर प्रदेश कांग्रेस सदस्य कैलाश पोयाम, जिलाध्यक्ष झुमुकदिवान, विधायक प्रतिनिधि बुधराम नेताम, जिला महामंत्री गीतेश गांधी, कपिल चोपड़ा, शहर महिला कांग्रेस अध्यक्ष तब्बसुम बानो, पूर्व पार्षद गुणमति नायक, उमेश साहू, रणजीत गोटा, जितेंद्र गुप्ता, परमेन्द्र देवांगन आदि उपस्थित रहे।


21-May-2020

किसानों की आय में वृद्धि से बनेंगे किसान समृद्ध - कलेक्टर
'छत्तीसगढ़' संवाददाता
कोण्डागांव, 21 मई।
आज पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि 21 मई पर उनको नमन करते हुए छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राजीव गांधी किसान न्याय योजना का शुभारंभ किया। यह प्रदेश के लिए पहला अवसर था कि इतनी वृहद योजना को कोरोना संकट के समय देशव्यापी लॉकडाउन के बावजूद ऑनलाईन माध्यम के द्वारा शुरु किया गया है। इस अवसर पर कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी एवं सांसद राहुल गांधी भी दिल्ली से ऑनलाइन टेलीकांफें्रसिंग के जरिये सम्मिलित हुए। इस क्रम में कोण्डागांव जिले में कलेक्ट्रेट के सभाकक्ष से कलेक्टर नीलकण्ठ टीकाम के साथ जिला पंचायत अध्यक्ष देवचंद मातलाम एवं सीईओ डी एन कश्यप ने भी इसमें ऑनलाइन वीडियो कॉन्फें्रसिंग के द्वारा भाग लिया। इस दौरान कुछ किसान भी योजना का शुभारम्भ देखने पहुंचे थे।

उल्लेखनीय है कि कोण्डागांव जिले में पंजीकृत 32 हजार 72 कृषकों में से 27 हजार 4 सौ 91  कृषकों ने इस खरीफ वर्ष में 44 उपार्जन केंद्रों के माध्यम से कुल 11 लाख 22 हजार 5 सौ क्विंटल धान का विक्रय किया। इन सभी 27 हजार 4 सौ 91 कृषकों को धान विक्रय के रूप में प्रति एकड़ अधिकतम 10 हजार रुपये की दर से आनुपातिक सहायता राशि द्वारा 79 करोड़ 91 लाख 1 हजार सौ राशि प्रदान की जानी है। जिसके तहत प्रथम किस्त के रूप में 19 करोड़ 77 लाख 52 रुपये का भुगतान आज सीधे किसानों के खाते में डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर द्वारा कृषकों के खाते में भेजे जाने की शुरुआत की गई। ज्ञात हो कि 79 करोड़ 91 लाख 1 हजार सौ में से शेष 55 करोड़ 13 लाख 49 हजार 6 सौ राशि आगामी 3 किश्तों में किसानों को उनके खातों में दी जाएगी।

ज्ञात को कि पूर्व में केंद्र द्वारा निर्धारित समर्थन मूल्य पर धान खरीदी की गई थी परन्तु छत्तीसगढ़ शासन द्वारा 2500 रुपये धान उपार्जन के रूप में दिए जाने का आश्वासन किसानों को दिया गया। जिससे प्रेरित किसानों ने इस बार उत्साहित होकर रिकॉर्ड उत्पादन कर छत्तीसगढ़ का नाम ऊंचा किया है। अब राजीव गांधी न्याय योजना द्वारा किसानों को अंतर की राशि किश्तों में प्रदान की जा रही है। जिससे किसानों में चारों ओर खुशहाली ही खुशाहाली नजर आ रही है।

पीलूराम ने किया शासन का धन्यवाद
ग्राम बोलबाला के कृषक पीलूराम नेताम ने बताया कि विगत वर्ष से अब तक सारी प्राप्त हुई राशि खर्च हो गयी थी ऐसे में आने वाले कृषि मौसम के पूर्व राशि मिलने से उसे खेत को विकसित करने में मदद मिलेगी। यदि यह राशि नहीं मिलती तो वह इस वर्ष कृषि हेतु ऋण लेने को बाध्य हो जाता परन्तु न्याय योजना से मील पैसों से वह आत्मनिर्भर महसूस कर रहा है। उसने अपने आत्मसम्मान की रक्षा के लिए राज्य शासन को धन्यवाद एवं बहुत सारा आशीष भी दिया है।

 

 


20-May-2020

कोण्डागांव, 20 मई। कोविड-19 के संक्रमण के प्रभावी रोकथाम के लिए सीईओ जनपद को विशेष अधिकार दिया गया।
कार्यालय कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी द्वारा जारी विज्ञप्ति अनुसार नोवेल कोराना वायरस संक्रमण से रोकथाम एवं प्रभावी नियंत्रण हेतु और इससे निर्मित विकट स्थिति के परिप्रेक्ष्य में छत्तीसगढ़ शासन सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा कोरोना नियंत्रण के निर्देशों को लागू करने के लिए जनपद स्तर पर सीईओ जनपद 'इन्सीडेंट कमांडरÓ  (विशेष अधिकारी) के रूप में तैनात किया गया है। 

तैनात इन्सीडेंट कमांडर अपने निर्धारित क्षेत्र में निर्देशों के पालन हेतु जिम्मेदार होंगे तथा उक्त क्षेत्र के सभी विभाग के अधिकारी-कर्मचारी इन्सीडेंट कमांडर के निर्देशों के अंतर्गत कार्य करेंगे। इसके साथ ही इन्सीडेंट कमांडर पर अस्पतालो के अधोसंरचना के विस्तार के लिए आवश्यक संसाधन, वस्तुऐं और अन्य सामग्रियों के निर्बाध आपूर्ति की उपलब्धता सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी भी होगी।

 

 


20-May-2020

'छत्तीसगढ़' संवाददाता
कोण्डागांव, 20 मई।
इनोवटिव आईडिया (नवाचारी तकनीकी विचार) से अब स्वरोजगार के बेहतर अवसर मिलेंगे।
जिला व्यापार एंव उद्योग एंव उद्योग केन्द्र कोण्डागांव द्वारा जारी विज्ञप्ति अनुसार राज्य शासन द्वारा जिले के इच्छुक छात्र, उद्यमी, बिजनेसमेन अथवा आम जनता के लिए अपने इनोवेटिव आइडिया के माध्यम से स्वरोजगार प्रारंभ करने हेतु 5 इन्क्यूबेशन केन्द्र खोले गये हैं। अत: ऐसे इच्छुक व्यक्ति जो नवाचारी तकनीकी विचार  (जिसे अब तक किसी ने अनुसरण न किया हो) अथवा ऐसे पुराने आइडिया जिनकी सर्विस या प्रोडक्ट में बदलाव करते हुए स्र्टाट-अप का हिस्सा बन सकते है। इस क्रम मे इन 5 इन्क्यूबेषन सेंटर्स को 15.00 लाख का अनुदान  (प्रति आइडिया के हिसाब से) दिये जाने का प्रावधान एमएसएमई मंत्रालय भारत सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ राज्य के लिए गया हैं। 

राज्य में 5 इन्क्यूबेषन केन्द्र के नाम इस प्रकार है एनआईटी रायपुर (डॉ.आर.एन.पटेल, मो.न. 9827494379), बी.आई.टी. दुर्ग, (डॉ.अषोक कुमार चन्द्रा, मो.न. 9926615214), डॉ.श्यामाप्रसाद मुखर्जी आई.आई.आई.टी (डॉ.अमीत कुमार अग्रवाल मो.न. 8954167407), श्री शकंराचार्य टेक्नीकल कैम्पस जुनवानी भिलाई (डॉ.पी.बी.देषमुख मो.न. 9893369869), आई.आई.टी भिलाई कैम्पस एट रायपुर (डॉ.संजीब बनर्जी मो.न. 9674857330) है। इच्छुक व्यक्ति उपरोक्त 5 इन्क्यूबेषन सेंटर्स मे अपना इनोवेटिव आइडिया का ऑनलाईन पंजीयन कर योजना का लाभ ले सकते है, एंव इस संबंध मे अधिक जानकारी हेतु कार्यालय महाप्रबंधक जिला व्यापार एंव उद्योग केन्द्र सुमति कॉम्प्लेक्स, डीएनके कॉलोनी कोण्डागांव मे संपर्क किया जा सकता है।

 

 

 


19-May-2020

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

फरसगांव, 19 मई। फरसगांव विकासखंड के खंडस्रोत समन्वयक कार्यालय में आज पढ़ई तुंहर दुआर के तहत ऑनलाइन पढ़ाई पर जोर देते हुए शिक्षकों के सामने आने वाली कठिनाइयों को दूर करने के लिए प्रशिक्षण का आयोजन किया गया। इसमें कोंडागांव जिला शिक्षा अधिकारी राजेश मिश्रा स्वयं उपस्थित होकर ऑनलाइन पढ़ाई पर विशेष जोर दिए।

उन्होंने कहा कि कोरोना जैसे महामारी से लडऩे के लिए हमें सोशल डिस्टेंस बनाते हुए बच्चों को पढ़ाई कराते रहना है, आने वाले समय में ऑनलाइन पढ़ाई को ही बढ़ावा दिया जाएगा। इसके लिए आप सभी तैयार रहें। उन्होंने कोरोना वायरस से बचने के लिए सभी शिक्षक साथियों से कहा कि हमें जीवन शैली में बदलाव लाना होगा। हमेशा सोशल डिस्टेंस बनाकर रखना होगा जिससे कोरोना वायरस के चैन को रोका जा सके।

 इस दौरान खंड स्रोत समन्वयक करण सिंह बघेल, सहायक खंडशिक्षा अधिकारी सुखराम देवांगन, यूसुफ खान, रमेश कुंडू  सहित फऱसगांव, मोहलई, आलोर, शिरपुर, पतोड़ा के संकुल समन्वयक भी उपस्थित रहे। सभी शिक्षक ऑनलाइन पढ़ाई के लिए उत्साहित दिखे।