छत्तीसगढ़ » कांकेर

Date : 06-Apr-2020

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कांकेर, 6 अप्रैल।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज शाम को कांकेर के राजापारा निवासी किरण देहारी से मोबाईल से बात कर उन्हें पूरक पोषण आहार, राशन कार्ड से चावल का वितरण इत्यादि की जानकारी लेते हुए पूछा कि परिवार में कितने सदस्य हैं और क्या करते हैं? पूरक पोषण आहार मिला अथवा नहीं, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता घर में आकर स्वास्थ्य की जानकारी ली जाती है अथवा नहीं, उनके द्वारा रेडी-टू-ईट और सूखा राशन का प्रदाय किया गया है अथवा नहीं, राशन कार्ड है अथवा नहीं चावल खरीदे अथवा नहीं। भूपेश बघेल ने किरण देहारी को बताया कि नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए, उससे बचाव के लिए राज्य शासन द्वारा विभिन्न उपाय किये गये हैं, जिसके तहत बीपीएल राशन कार्ड पर गरीबों को दो महीने का नि:शुल्क चांवल दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री से दूरभाष पर चर्चा के दौरान श्रीमती देहारी ने कहा कि आंगनबाड़ी से उन्हे रेडी-टू-ईट एवं सूखा राशन प्राप्त हो चूका है तथा राशन कार्ड से 35 किलो चावल भी प्राप्त हुआ है।
 


Date : 06-Apr-2020

कांकेर, 6 अप्रैल।  सोमवार की सुबह 8 बजे के आसपास ग्राम सिंगारभाठा राष्ट्रीय राजमार्ग 43 के पास वन मंडल अधिकारी के निवास के आगे जंगल से भटककर पहुंचा लकड़बग्घा मृत मिला। 

जानकारी के अनुसार सुबह की सैर पर निकले लोगों की नजऱ सडक़ के किनारे मृत पड़े लकड़बग्घा पर पड़ी। लोगों ने पहली नजऱ में कुत्ते को समझकर आना-जाना करते रहे। किसी ने करीब से जाकर देखा तो मृत पड़े लकड़बग्घा की जानकारी वनविभाग को दिया गया। जिसके बाद वनविभाग के अफसरों ने पोस्टमार्टम के बाद लकड़बग्घा के शव का अंतिम संस्कार किया।
 


Date : 06-Apr-2020

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कांकेर, 6 अप्रैल। नगरीय निकाय क्षेत्रों में पीलिया को फैलने से रोकने के लिए शुद्ध पेयजल की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए कलेक्टर के.एल. चौहान ने नगरीय निकायों के मुख्य नगर पालिका अधिकारियों को निर्देशित किया है। 

उन्होंने नगर पालिका अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि समस्त वार्डों में नियमित रूप से साफ-सफाई करायी जाए। डोर टू डोर कचरे का संग्रहण नियमित रूप से कराया जाये। जल प्रदाय हेतु पाईपलाईन में लिकेज की मरम्मत करायी जाये। डिस्इंफेक्शन हेतु निर्धारित मात्रा में क्लोरीन आदि आदि केमिकल का छिडक़ाव किया जाए। जल शोधन संयंत्र का संचालन सुचारू रूप से किया जावे एवं नियमित रूप से वॉटर सेम्पल क्वालिटी टेस्टिंग किया जाना सुनिश्चित किया जावे निकाय की सभी पानी की टंकियों की सफाई कराकर, अगली सफाई की तिथि पेन्ट से लिखी जावे।  निकाय क्षेत्रातर्गत पीलिया को फैलने से रोकने के लिए उपरोक्तानुसार कार्यवाही करते हुए अन्य समस्त आनुषांगिक व्यवस्थाएं भी तत्काल करने के लिए कलेक्टर श्री चौहान द्वारा नगरीय निकायों के अधिकारियों को निर्देशित किया गया है।
 


Date : 06-Apr-2020

कांकेर। राजापारा आंगनबाड़ी केंद्र 1 नदीपारा  की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता शशिकला पटेल ने कोविड 19 को हराने प्रधानमंत्री की अपील को रंगोली में उकेर कर सुरक्षा कवच बनाएंगे कोरोना को भगाएंगे का नारा देकर लोगों को जागरूक किया।
 


Date : 05-Apr-2020

चारामा, 5 अप्रैल। धान खरीदी केंद्रों में खरीदी खत्म होने के बाद धान का उठाव जारी था, ऐसे में लॉकडाउन होने के बाद मिल, वाहन सभी बंद कर दिये गये। मजदूर भी अपना कार्य छोडक़र घरों में रहने लगे। खरीदी केन्द्रों में धान खुले आसमान के नीचे पाल के नीचे ढका हुआ रखा है। लेकिन तेज गर्मी से धान दिनोंदिन सूखता जा रहा है। उठाव नहीं होने से सूख्ती का खामियाजा संबंधित खरीदी केन्द्र प्रभारी को उठाना पड़ेगा। 
 


Date : 05-Apr-2020

चारामा, 5 अप्रैल। लॉकडाउन की स्थिति में सभी कार्य बंद होने से दिहाड़ी मजदूरों व गरीबों के सामने आर्थिक समस्याएं उत्पन्न होने लगी है। नगर में इनके मदद के लिए हाथ आगे बढ़ रहे हंै। नगर के प्रतिष्ठित व्यापारी भगवती किरी एवं ओम राठी के द्वारा चावल के साथ-साथ राशन से जुड़ी  तेल, हल्दी मसाले, नमक, साबुन व छोटी-छोटी जरूरत की चीजें प्रदान की जा रही है। गरीबों को जरूरत की चीजे पहुंचाने में नगर के पार्षद शंकर लाल सिन्हा, शिवेन्द्र निर्मलकर भी उनका सहयोग कर रहे हैं। 


Date : 05-Apr-2020

चारामा, 5 अप्रैल। लॉकडाउन के बाद स्कूल बंद होने के कारण शासन के आदेशानुसार सभी विद्यालय के बच्चों को मध्यान्ह भोजन घर पर ही दिया जा रहा है। बीईओ एसपी कोसरे, बीआरसी आर के सुकदेवे, एबीईओ भावना नरेटी द्वारा विकासखंड के सभी संकुल केन्द्र में स्वयं स्कूली बच्चों के घर-घर जाकर संकुल समन्वयक व शिक्षकों की उपस्थिति में 40 दिन का मध्यान्ह सूखा राशन पालकों को दिया जा रहा है, जिसमें प्राथमिक शाला के बच्चों को 4 किलो चावल एवं 800 ग्राम दाल व माध्यमिक शाला के बच्चों को 6 किलो चावल व 1200 ग्राम दाल दिया जा रहा है। ग्राम सिरसिदा संकुल समन्वयक मनीष तिवारी ने अपने संकुल अंतर्गत निगरानी करते हुए शिक्षकों के साथ घर-घर जाकर बच्चों को सूखा राशन का वितरण किया। 


Date : 05-Apr-2020

कांकेर, 5 अप्रैल। नोवल कोरोना वायरस से बचाव एवं नियंत्रण के लिए जिले में धारा-144 लागू की गई है, साथ ही लॉकडाउन भी किया गया है। ऐसे पस्थिति में जिले के जरूरतमंदों को खाद्य सामग्री व नकद राशि प्रदाय करने के लिए कलेक्टर के.एल. चौहान को आदिवासी विकास विभाग के अधिकारी कर्मचारियों द्वारा उपायुक्त विवेक दलेला के नेतृत्व में 50 हजार रूपये का सहयोग राशि सौंपा गया।
 


Date : 05-Apr-2020

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कांकेर, 5 अप्रैल।
कोरोना वायरस जैसी गम्भीर बीमारी से निपटने भारत सरकार से लेकर राज्य सरकार पूरी मुस्तैदी से जुटी हुई है और जब सम्पूर्ण भारत में लॉकडाउन चल रहा है। लॉकडाउन में जिला प्रशासन आमजनों की सुविधा को देखते सब्जी फल दूध मेडिकल पेट्रोल पंप सहित किराना दुकानों को सुबह 9 से 5 बजे तक खोलकर लोगों को राहत देने का नियम लागू किया जा चुका है, लेकिन लॉकडाउन का आमजन उल्लंघन करते नजऱ आ रहे है। 

मस्जिद चौक घड़ी चौक कोतवाली के सामने पुलिस बेरीकेट लगाकर आने जाने वालों से पूछताछ कर आगे जाने दे रही है। इसके बावजूद कुछ लोग लॉकडाउन का खुलेआम उल्लंघन करते नजर आ रहे है।  निर्देशों के बावजूद लोग सडक़ों पर बेफिक्र होकर सडक़ों पर घूमते दिखाई देते है। 

जिले में लाकडाउन के बावजूद लोगों का सडक़ों पर आवागमन कम नहीं हो रहा है। जिसके चलते ड्यूटी में तैनात पुलिस व यातायात पुलिस के जवान लोगों को समझाइश के बावजूद सडक़ों में दिखाई दे रहे हैं। जिसके कारण लाकडाउन का असर नहीं देखा जा रहा है। जबकि देश के प्रधानमंत्री से लेकर मुख्यमंत्री तक ने कोरोना जैसी गम्भीर बीमारी से निपटने की समस्या लाकडाउन के दौरान अपने अपने घर में रहकर इस आपदा से लडऩे का सबसे अच्छा विकल्प माना गया है। 
 


Date : 05-Apr-2020

वाहन अनुमति के लिए अब ई-पास की भी सुविधा 
छत्तीसगढ़ संवाददाता
 कांकेर, 5 अप्रैल।
आवश्यक सेवाओं जैसे-राशन सामग्री, सब्जी, दवाईयां (मेडिकल) सहित अन्य अत्यावश्यक सेवाओं के लिए वाहन की अनुमति अब सीजी-कोविड-19 ई-पास के माध्यम से भी जिला प्रशासन को आवेदन किया जा सकता है। आवेदन करने के बाद संबंधित व्यक्ति को ऑनलाईन ई-पास उपलब्ध करा दिया जाएगा। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए जिला प्रशासन के कंट्रोल रूम अथवा कोतवाली थाना कांकेर से संपर्क किया जा सकता है।

नोवल कोरोना वायरस के नियंत्रण की समीक्षा के लिए गठित जिला स्तरीय कोर कमेटी की बैठक कलेक्टर श्री के.एल. चौहान की अध्यक्षता में सिविल सर्जन सह अस्पताल अधीक्षक के कार्यालय में आयोजित की गई, जिसमें आवश्यक खाद्य वस्तुओं, दवाईयां, सब्जियों इत्यादि की उपलब्धता के साथ ही राहत शिविर में रह रहे लोगों के भोजन आवास इत्यादि के संबंध मे समीक्ष की गई तथा संबंधित अधिकारियों को कलेक्टर श्री चौहान द्वारा आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। 

समीक्षा के दौरान कलेक्टर ने जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. संजय कन्नौजे को निर्देशित करते हुए कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में स्थिति की जानकारी के लिए जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी लगातार अपने क्षेत्र का निरीक्षण करें। महात्मागांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना  के अंतर्गत संचालित कार्यों में नियोजित श्रमिकों की जानकारी ली गई साथ ही उक्त कार्यों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के निर्देश भी दिये। जिला स्तरीय कोर कमेटी की बैठक में समीक्षा के दौरान बताया गया कि जिले में वर्तमान में 2276 व्यक्ति होम आइसोलेशन में रखा गया हैं।

बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. संजय कन्नौजे, अपर कलेक्टर सी.एल. मार्कण्डेय, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कीर्तन राठौर, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जे.एल. उईके, सिविल सर्जन डॉ. सी.एस. ठाकुर, डॉ. डी.के रामटेके, उपायुक्त आदिवासी विकास विभाग विवेक दलेला, जिला शिक्षा अधिकारी राकेश पाण्डेय, डिप्टी कलेक्टर डॉ. कल्पना ध्रुव, डीपीएम डॉ. निशा मौर्य, आरटीओ ऋषभ नायडू सहित जिला चिकित्सालय के स्टॉफ मौजूद थे।
 


Date : 04-Apr-2020

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कांकेर, 4 अप्रैल।
पंचायत व ग्रामीण विकास विभाग द्वारा जारी निर्देशानुसार नोवल कोरोना के संक्रमण से बचाव  एवं नियंत्रण हेतु  सोशल डिस्टेसिंग के पालन के लिये महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (मनरेगा) के अन्तर्गत व्यक्तिमूलक कार्य और आजीविका संवर्धन तथा बाड़ी विकास के कार्यों को प्रमुखता से स्वीकृत कराकर प्रारंभ कने के निर्देश दिये गए हैं, जिसका पालन सुनिश्चित करने के लिए जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. संजय कन्नौजे ने जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को निर्देशित किया है।

जिला पंचायत के सीईओ ने सभी जनपद सीईओ व पीओ नरेगा को पत्र लिखकर व वीडियो कान्फें्रस के माध्यम से निर्देश दिया कि कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन के दौर में ग्रामीणों की आजीविका सुरक्षित करना जरूरी है। इसलिए कोरोना वायरस से बचाव के सभी सुरक्षात्मक उपायों और दिशा निर्देशों का पालन करते हुए मनरेगा के कार्य चालू रखें। उन्होंने कहा कि मनरेगा ग्रामीण अर्थव्यवस्था के आधारभूत संधरकों में से एक महत्वपूर्ण संधरक है। योजना के प्रावधानों के अनुसार पंजीकृत परिवारों के वयस्क सदस्यों द्वारा काम की मांग किये जाने पर अधिकमत 15 दिवस में रोजगार प्रदान किया जाना आवश्यक है। उन्होंने बताया कि वित्तीय वर्ष 2020-21 कांकेर जिले के लिए जिले में मनरेगा कार्य हेतु 55 लाख मानव दिवस तथा 176 करोड़ राशि का प्रावधान किया गया है।

जिला पंचायत के सीईओ डॉ. संजय कन्नौजे ने बताया कि 01 अपै्रल 2020 से मनरेगा के मजदूरी की राशि 176 रूपये बढ़ाकर 190 रूपये हो गया है। वर्तमान में जिले में 4985 मनरेगा के मजदूर कार्य कर रहे है।

 


Date : 04-Apr-2020

छत्तीसगढ़ संवाददाता
चारामा,  4 अप्रैल।
विस उपाध्यक्ष मनोज सिंह मंडावी क्षेत्रीय विधायक और जिला कलेक्टर के एल चौहान द्वारा ग्राम चारभाठा के ठाकुर पारा में निवास कर रहे लगभग 20 घुमन्तू सपेरा परिवारों को राशन का वितरण किया गया। 

विधायक और कलेक्टर शनिवार को ग्राम चारभाठा के ठाकुर पारा पहुंचे। जहां के चिन्हांकित घुमन्तू परिवार को 10 -10 किलो चांवल, एक - एक किलो दाल और सब्जी एवं जरूरतों के लिए एक-एक हजार नगद राशि का वितरण किया तथा उनके स्वास्थ्य के संबंध में जानकारी ली, जिस पर सभी लोगों ने स्वस्थ होने की जानकारी दी। 

ग्रामीणों ने बताया कि वे इस गांव में पिछले 2-3 सालों से निवास कर रहे है लेकिन उनका अब तक राशन कार्ड नहीं बन पाया है। राशन कार्ड नहीं बनने से उन्हें शासन की प्रधानमंत्री आवास, उज्जवला योजना व अन्य योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है। जिस पर कलेक्टर ने बताया कि इन सभी परिवार का वर्ष 2011 की जनगणना की गरीबी रेखा में नाम नहीं होने के कारण इनका राशन कार्ड नहीं बन पाया है। 2021 में पुन: जनगणना होगी ,जिसमें इनका नाम उस सूची में जुड़ेगा, तब इनका राशन कार्ड नये सिरे से बनेगा व अन्य योजनाओ का लाभ भी इनको मिलेगा। 

वहीं उसी ग्राम में रहने वाले अन्य ग्रामीणों ने कलेक्टर से सपेरों के द्वारा किये जाने वाली गंदगी की शिकायत भी की। जिस पर कलेक्टर ने अन्य ग्रामीणों को समझाया कि ये वर्ग गरीब व निरक्षर है,इन्हें धीरे धीरे समाज की धाराओं से जोड़ा जा रहा है। ये भी आपके ग्राम से है आप अन्य ग्रामीण इन्हें स्वच्छता, व अन्य जानकारी देकर साक्षर करने का प्रयास करें। 
चर्चा के दौरान घुमन्तू परिवार के मुखिया देवीराम, राजाराम, खेदिया बाई इत्यादि ने कहा कि चावल - दाल मिलने से संकट की इस घड़ी में उन्हें बड़ी राहत मिलेगी। 

इस दौरान चारामा एसडीएम सुरेन्द्र प्रसाद वैघ, तहसीलदार दिव्या पोटाई, नायाब तहसीलदार विरेन्द्र नेताम,चारभाठा  सरपंच कमलकांत कश्यप, नरेन्द्र यादव, ठाकुर राम कश्यप, जनपद उपाध्यक्ष सत्तार खान, थाना प्रभारी, पटवारी सहित अन्य ग्रामीणजन उपस्थित थे। वहीं युवा समाजसेवी संस्था व रेडक्रास के सदस्य भी उपस्थित थे।
 


Date : 04-Apr-2020

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कांकेर, 
4 अप्रैल। लॉकडाउन में आंध्रप्रदेश में फंसा स्थानीय निवासी के कांकेर पहुंचने पर आइसोलेशन में भेजा गया। उन्होंने छत्तीसगढ़ पहुंचने में मदद के लिए जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन व छत्तीसगढ़ सरकार का आभार व्यक्त किया है।  

कांकेर जिले के ग्राम पंचायत लखनपुरी निवासी जनार्दन साहू ने बताया कि आंध्रप्रदेश के राजमेंद्री में 21 मार्च को अपने काम से आया था। इसी दौरान कोरोना वायरस के चलते जनता कफ्र्यू के बाद लॉकडाउन होने के कारण आंध्रप्रदेश राजमेन्द्री में फंसा रहा। इस दौरान मां का स्वास्थ्य खराब होने के कारण गृहग्राम लखनपुरी आने मैंने मदद की गुहार सोशल मीडिया के द्वारा की।  किसी के माध्यम से मेरा मैसेज जिला कांग्रेस कमेटी सोशल मीडिया प्रभारी सैयद नवाज अली के पास पहुंचा। उन्होंने मुझे तत्काल फोन में संपर्क किया उसके बाद उन्होंने मुझे मेरा अकाउंट नंबर मांगा और मुझे सकुशल लखनपुरी पहुंचाने के लिए  प्रयास किया गया। 

चूंकि जनार्दन अलग राज्य से पहुंचा था। जिसे तत्काल जिला अस्पताल लाकर मौजूद डॉक्टर की टीम द्वारा उसकी जांच की गई और आगामी 14 दिनों के लिए आइसोलेशन में भेज दिया गया है। जनार्दन साहू ने अपने घर सकुशल पहुंचने के बाद जिला मीडिया प्रवक्ता नवाज अली कांकेर, मनीष दत्त भाई दंतेवाड़ा, वासिल खान(मोनू) भाई कोंडागांव  अब्दुल कादर का दिल से धन्यवाद दिया है।
 


Date : 04-Apr-2020

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कांकेर, 4 अप्रैल।
कोरोना वायरस से बचाव  के लिए सम्पूर्ण देश में 21 दिन का लॉकडाउन के चलते लोग अपने अपने घरों ही रह रहे हंै, जिसके कारण आम जनता एवं मजदूर वर्ग को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इन वर्गों की मदद के लिए परिवहन एवं बीमा सलाहकारों द्वारा अपनी स्वेच्छा से जिला परिवहन अधिकारी ऋ षभ नायडू के माध्यम से जिला आपदा कोष कांकेर में 20 कट्टा चावल व एक कट्टा राहड़ दाल दान किया गया है। दान देने वालों में यासीन खान, संजय सिन्हा, ओमप्रकाश सुरोजिया,प्रदीप श्रीवास्तव, रोहित पांडेय,शिशिर कुमार देवधरत,खुमन यदु,मनीष कौशल,रोहन गोलदार एवं योगेश पांडेय शामिल हंै।
 


Date : 04-Apr-2020

कांकेर, 4 अप्रैल। नायब तहसीलदार एवं अंतागढ़ की प्रभारी तहसीलदार सतरूपा साहू को बिना पूर्व अनुमति के 19 से 30 मार्च तक मुख्यालय से अनुपस्थित रहने के कारण कलेक्टर के.एल. चौहान ने उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है तथा नायब तहसीलदार अखिलेष कुमार ध्रुव को अंतागढ़ के प्रभारी तहसीलदार का दायित्व सौंपा गया है।

नायब तहसीलदार एवं प्रभारी तहसीलदार सतरूपा साहू का निलंबन अवधि में मुख्यालय अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) कांकेर किया गया है। गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ शासन सामान्य प्रषासन विभाग तथा कलेक्टर कांकेर द्वारा नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण के दौरान अधिकारी कर्मचारियों को बिना पूर्वानुमति के मुख्यालय नहीं छोडऩे के आदेश दिये गये हैं, इसके बावजूद नायब तहसीलदार सतरूपा साहू बिना पूर्वानुमति के 19 से 30 मार्च तक मुख्यालय से अनुपस्थित रहीं, जिसके कारण कलेक्टर श्री चौहान द्वारा उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है।
 


Date : 04-Apr-2020

कांकेर, 4 अप्रैल। नोवल कोरोना वायरस के नियंत्रण की समीक्षा के लिए गठित जिला स्तरीय कोर कमेटी की बैठक कलेक्टर के.एल. चौहान की अध्यक्षता में सिविल सर्जन सह अस्पताल अधीक्षक के कार्यालय में आयोजित की गई, जिसमें जिला अस्पताल में रोगियों के इलाज की समीक्षा करते हुए कलेक्टर श्री चौहान ने छोटे-छोटे बीमारियों के इलाज के लिए जिला अस्पताल में नहीं आने बल्कि स्थानीय स्वास्थ्य केन्द्र में इलाज कराने अथवा डॉक्टरों से दूरभाष पर संपर्क कर उनके बताये अनुसार दवाईयां लेने की अपील नागरिकों से की गई है। उन्होंने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए गंभीर बीमारियों की इलाज के लिए ही जिला अस्पताल रोगियों को लाया जाये।

जिला स्तरीय कोर कमेटी की बैठक में अन्य राज्य अथवा जिलों से कांकेर जिले में फंसे हुए मजदूरों की भोजन व्यवस्था व आवास सुविधा, जरूरतमंद लोगों को सूखा खाद्य सामाग्री का वितरण, 01 मार्च के बाद विदेश यात्रा से कांकेर जिला पहुंचे हुए लोगों के सेम्पल इत्यादि की समीक्षा की गई। समीक्षा के दौरान बताया गया कि कांकेर जिले में वर्तमान में 2054 व्यक्तियों को होम आइसोलेशन में रखा गया है, जिन्हें 28 दिन की अवधि तक होम आइसोलेशन में रहना होगा।
 


Date : 04-Apr-2020

चारामा,  4 अप्रैल। ग्राम कुर्रूभाठ में नर और मादा दो भालुओं को ग्रामीणों के द्वारा देखा गया। महुआ का मौसम आते ही भालू अक्सर जंगल से ग्राम की ओर आने लगते हंै। महुआ खाकर भालू वापस जंगल की ओर चले जाते हैं। वन विभाग की ओर से ग्रामीणों को सतर्क होकर महुआ बीनने का निर्देश दिया है एवं जंगलों में सुरक्षा के साथ जाने की बात कही है। 
 


Date : 04-Apr-2020

चारामा,  4 अप्रैल। शनिवार को विधानसभा उपाध्यक्ष व क्षेत्रीय विधायक मनोज मंडावी, कलेक्टर के एल चौहान एवं उनकी टीम चारामा शासकीय अस्पताल पहुंच अस्पताल के कार्यों का निरीक्षण किया। विधायक-कलेक्टर ने अस्पताल की तैयारियों और सतर्कता की सराहना की। इस दौरान सीएचएमओ जे एल उईके, डीपीएम उषा मौर्य, डॉ ओ पी शंक्वार ,देवनारायण देवांगन सहित अन्य स्वास्थ्य कर्मचारी उपस्थित थे। 


Date : 04-Apr-2020

कांकेर, 4 अप्रैल। राज्य शासन द्वारा दिए गए निर्देशानुसार प्राथमिक एवं माध्यमिक शालाओं में अध्ययनरत विद्यार्थियों को मध्यान्ह भोजन के सूखा राशन का वितरण शुरू हो गया है। शिक्षकों द्वारा घर-घर जाकर अथवा स्कूलों में विद्यार्थियों के पालकों को 40 दिन का सूखा राशन का वितरण किया जा रहा है।
 


Date : 03-Apr-2020

गांवों के लिए गठित निगरानी टीम कर रही सर्वे 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
चारामा, 3 अप्रैल।
कोरोना वायरस से बचाव हेतु जिला प्रशासन के आदेश पर ब्लॉक स्तर पर ग्रामों के लिए गठित निगरानी टीम के सदस्य, शिक्षक व उप स्वास्थ्य केंद्र के स्वास्थ्यकर्मी एवं उस ग्राम के जनप्रतिनिधियों के सहयोग से सघन सर्वे अभियान किया जा रहा है। 

ग्राम पंचायत जेपरा में सघन सर्वे अभियान के दौरान ग्राम प्रमुख सरपंच भागवत नेताम, उप सरपंच गोविंद मंडावी, जनपद सदस्य सुरुचि सिन्हा एवं सभी पंचायत प्रतिनिधियों के सहयोग से गांव के प्रत्येक घरों में जाकर अन्य राज्यों से आये लोगों की जानकारी ली जा रही है साथ ही प्रत्येक ग्रामीण से उनके स्वास्थ्य से जुड़ी जानकारी भी ली जा रही है। अभी तक ग्राम जेपरा में अन्य राज्य से आये दो व्यक्ति को 28 दिनों के लिए होम आइसोलेशन में रखा गया हैं। होम आइसोलेशन में रखे व्यक्ति के घर को केंद्र बिंदु मानकर उनके घरों से लेकर आगे 50 - 50 घर का सर्वे स्वास्थ्य विभाग के निर्देश के अनुसार किया जा रहा है एवं कोरोना के बचाव तथा सोशल डिस्टेंस के संबंध में आमजन को जानकारी दी जा रही है।निगरानी सर्वे समिति में प्रमुख रूप से स्वदेश शुक्ला व्याख्याता, दिलीप ठाकुर शिक्षक, मोहन सिन्हा  आर.एच. ओ. श्रीमती चंद्रिका  साहू, श्रीमती ओम बाई साहू एएनएम एवं  मितानिनों का सहयोग मिल रहा हैं। उप स्वास्थ्य केंद्र  जेपरा के अंतर्गत ग्राम किलेपार में भी युवक होमेन्द्र पम्मार एवं साथियों के प्रयास से ग्राम में बेरियर लगाकर बाहरी व्यक्ति का प्रवेश निषेध किया गया है।