छत्तीसगढ़ » महासमुन्द

14-Jan-2021 4:53 PM 22

17 को सांसद को बुलावा नहीं

महासमुन्द, 14 जनवरी। आगामी रविवार को शहर के हाईस्कूल मैदान में साहू समाज भव्य समारोह आयोजित करने जा रहा है। इस समारोह में सांसद चुन्नी लाल साहू को आमंत्रण नहीं मिलने को लेकर जिले में चर्चा जारी है। 
 इस आयोजन में समाज के युवक-युवतियों का परिचय सम्मेलन होगा, समाज की पत्रिका का विमोचन होगा साथ ही अलंकरण समारोह भी आयोजित है। साहू समाज का यह संभाग स्तरीय आयोजन है। जिसमें महासमुन्द, धमतरी, गरियाबंद, रायपुर,  बलौदाबाजार जिले के सामाजिक जन शामिल होंगे। कार्यक्रम दो सत्र में होगा। पहले सत्र के मुख्य अतिथि प्रदेशाध्यक्ष अर्जुन हिरवानी हैं। अध्यक्षता पूर्व सांसद चंदूलाल साहू करेंगे। दूसरे सत्र के मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल हैं। अध्यक्षता गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू करेंगे। अतिथियों में समाज के रायपुर संभाग के विधायक, यहां तक कि भाजयुमो प्रदेशाध्यक्ष अमित साहू भी शामिल हैं। जबकि आमंत्रण पत्र में महासमुन्द लोकसभा सांसद चुन्नीलाल साहू का नाम गायब है।

इसी बात को लेकर चौख चौराहों में चर्चा है कि साहू समाज ने सांसद चुन्नी लाल साहू को इस गरिमामयी कार्यक्रम के अतिथि योग्य क्यों नहीं समझा। साहू समाज द्वारा संभाग स्तरीय अलंकरण समारोह, युवक युवती परिचय सम्मेलन एवं पुस्तक विमोचन का  कार्यक्रम आगामी 17 जनवरी 2021 को आयोजित किया जा रहा है इस भव्य समारोह में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवम गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू सहित साहू समाज के पदाधिकारियों की गरिमामयी उपस्थिति रहेगी। 

कार्यक्रम की तैयारी हाई स्कूल मैदान महासमुन्द में जोर शोर से चल रही है। तैयारियों का जायजा लेने के लिए पदाधिकारियों ने  कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण भी किया। परिचय सम्मेलन में आने वाले समस्त अतिथियों के नाम तय किए गए किए हैं। कार्यक्रम का आयोजन साहू समाज जिला महासमुन्द के तत्वधान में 17 जनवरी 2021 को  प्रात: 9 बजे से हाई स्कूल प्रांगण महासमुन्द में आयोजित होगी। जिसमें समस्त जिला, तहसील, परिक्षेत्र एवम ग्राम के पदाधिकारी और समस्त सदस्य  उपस्थित रहेंगे। इस दौरान नोनी बाबू परिचय पुष्प में समाज के युवक-युवतियों का परिचय सम्मिलित है। 

कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए धरम दास साहू जिला अध्यक्ष महासमुन्द, भुनेश्वर साहू, दयाराम साहू,  संरक्षक गौकरण साहू , उमेश साहू, डॉ दूजे लाल साहू , लाला साहू , डॉ दिलीप साहू , भेख लाल साहूआनंद साहू  युवा प्रकोष्ठ अध्यक्ष जिला महासमुन्द, संजय साहू, त्रिलोकनाथ साहू  गरियाबंद, संजय साहू   टीकम साहू, विजय साहू, संतराम साहू, बुधराम साहू, डायमंड साहू, चंद्रशेखर साहू, अनिल साहू, भूपेंद्र साहू, गिरधर साहू  सहित विभिन्न जिलों के जिला अध्यक्ष, महामंत्री, तहसील अध्यक्ष एवं वरिष्ठ जनों की उपस्थिति में कार्यक्रम के लिए रूपरेखा तैयार की  गई है।


14-Jan-2021 4:52 PM 23

प्रभारी मंत्री ने की जिला स्तरीय विभागीय गतिविधियों की समीक्षा

सभी निर्माण कार्यों में गुणवत्ता का रखें ध्यान 

धान खरीदी के लक्ष्य को समय पर पूरा करें

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुन्द, 14 जनवरी।
आबकारी एवं वाणिज्यकर और जिले के प्रभारी मंत्री कवासी लखमा ने जिला पंचायत के सभाकक्ष में जिला अधिकारियों की बैठक लेकर जिला स्तरीय विभागीय गतिविधियों की समीक्षा की। उन्होंने उपस्थित सभी को नववर्ष की शुभकामना दी। 

श्री लखमा ने कहा कि राज्य सरकार की फ्लैगशिप योजनाओं पर पूरी संवेदनशीलता के साथ काम करें। छत्तीसगढ़ की चार चिन्हारी योजना नरवा, गरूवा, घुरूवा और बारी में गुणवत्तापूर्ण कार्य करने की बात कही। वहीं उन्होंने कहा मुख्यमंत्री सुपोषण योजना, गोधन न्याय योजना आदि पर सभी विभागीय अधिकारी आपस में समन्वय के साथ काम करें। उन्होंने कहा कि अपूर्ण निर्माण कार्यों को पहले प्राथमिकता के साथ निपटाएं। मंत्री ने कहा कि सभी निर्माण कार्यों में गुुणवत्ता से कोई समझौता न किया जाए। श्री लखमा ने कहा कि जिले में धान खरीदी के महत्वपूर्ण कार्य है। दिए गए लक्ष्य के साथ पूरा करें। उन्होंने कहा कि धान खरीदी के लिए कम समय बचा है। किसानों को धान बेचने में कोई परेशानी या दिक्कत न हो इस बात का खास ध्यान रखा जाए।

कलेक्टर डोमन सिंह ने राजस्व की गतिविधियों के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि नगरीय क्षेत्र में प्रदत्त नजूल की भूमि पर आवास बनाकर रह रहें ऐसे इच्छुक पट्टाधारियों से जिन्होंने पट्टे पर प्राप्त भूमि के सम्बंध में भू.स्वामी अधिकार हेतु आवेदन दिया है, उन्हें गाईड लाईन के आधार पर भू.स्वामी हक मालिकाना हक की कार्यवाही की जा रही है। कलेक्टर ने बताया कि उक्त मालिकाना हक मिलने से हितग्राही को पट्टे के नवीनीकरण की आवश्यकता नहीं होगी। मालिकाना हक प्राप्त या जमीन डायवर्टेड भी होगी, जिसका उपयोग सम्बंधित व्यक्ति भू.स्वामी हक से कर सकेगा। पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल कुमार ठाकुर और वनमंडलाधिकरी पंकज राजपूत ने भी अपने-अपने विभाग की गतिविधियों की जानकारी दी।  श्री लखमा ने कहा कि सम्बंधित विभागों द्वारा हितग्राहियों को वितरित की जाने वाली सामग्रियों के बारे में विधायक, जनप्रतिनिधियों को अवश्य पहले से अवगत कराया करें ताकि वह या उनके प्रतिनिधि मौके स्थल पर जाकर हितग्राहियों को विभिन्न सरकारी योजनाओं के बारे में बता सकें। 
 


14-Jan-2021 4:51 PM 29

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुन्द, 14 जनवरी।
प्रभारी मंत्री एवं जिला खनिज संस्थान न्यास के अध्यक्ष कवासी लखमा ने जिला पंचायत के सभाकक्ष में शासी परिषद की बैठक ली। 
कलेक्टर डोमन सिंह जिले के विकास के लिए विभागवार तैयार की गई कार्ययोजना एवं नियमों में नवीन संशोधन गाईड लाइन के बारे में पावर प्वाइंट प्रेजेंटेशन के जरिए परिषद के सदस्यों अवगत कराया। बाद में विभागवार वार्षिक कार्य योजना के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया।

बैठक में वर्ष 2015-16 से लेकर 2018-19 तक की जिला खनिज न्यास संस्थान की ऑडिट रिपोर्ट एवं 2017-18 से लेकर 2019-20 तक के वार्षिक कार्य योजनाओं के बारें में बताया गया। चालू वित्तीय वर्ष 2020-21 की यह दूसरी बैठक थी। कलेक्टर ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2016.17 के सभी काम पूरे हो चुके हैं। वहीं वर्ष 2017-18 में दो कार्य प्रगतिरत् हैं। वहीं 2018-19 के अधिकांश काम पूरें हो चुके हंै। वर्ष 2019-20 में स्वास्थ्य और शिक्षा विभाग के कुछ काम शेष है। बैठक में न्यास के सदस्य जिले के विधायक  विनोद चंद्राकर, देवेंद्र बहादुर सिंह और किस्मत लाल नंद, जिला पंचायत की अध्यक्ष ऊषा पटेल और जिला प्रभारी मंत्री से नामांकित सदस्य, वनमण्डलाधिकारी पंकज राजपूत सहित जनप्रतिनिधि और शासी परिषद के अधिकारी उपस्थित थे।

जिला खनिज न्यास के अध्यक्ष कवासी लखमा ने प्रस्तावित कार्ययोजना विकास उन्मुखी बताया। उन्होंने प्रजेंटेंशन कार्य योजना की सराहना की और कहा कि खनन प्रभावित गांवों के सरपंचों से लेकर जिले के विधायकों सहित जनप्रतिनिधियों के विकास कार्य प्रस्ताव का भी ख्याल रखें। उन्होंने कहा कि खनिज न्यास की राशि खनन से प्रभावित लोगों के अलावा क्षेत्र में शिक्षा, स्वास्थ्य, महिला बाल विकास के जनहित के कामों समयबद्ध तरीके से पूरा करें। 

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की घोषणा के अनुरूप शिक्षा, स्वास्थ्य एवं महिला बाल विकास के कार्य आंगनबाड़ी, सुपोषण के अलावा गोधन न्याय योजना, कोरोना कोविड.19 की रोकथाम एवं नियंत्रण के कामों को प्रथम प्राथमिकता बताया। उन्होंने गोठानों को ग्रामीणों की आजीविका के सशक्त माध्यम के रूप में विकसित करने पर बल दिया। बैठक में मंजूर हुए सभी प्रस्तावों के क्रियान्वयान के साथ-साथ समुचित निगरानी कर सुनिश्चित ढंग से समय सीमा के भीतर पूरा करने के निर्देश दिए।
 


14-Jan-2021 4:50 PM 15

जहां चिकित्सक और स्टॉफ  की कमी है, उसका प्रस्ताव बनाकर भेजें-लखमा

महासमुन्द, 14 जनवरी। प्रभारी मंत्री एवं जिला आबकारी एवं उद्योग मंत्री कवासी लखमा ने शासी परिषद् की बैठक के बाद जीवन दीप समिति की बैठक ली। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग में संचालित सभी राष्ट्रीय कार्यक्रम की समीक्षा करते हुए कोविड.19 वैश्विक महामारी के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि जिले के सभी अस्पतालों और स्वास्थ्य केन्द्रों में साफ.सफाई का विशेष ध्यान रखा जाए। वहीं यह भी सुनिश्चित किया जाए चिकित्सक और स्टॉफ समय पर उपस्थित हो। उन्होंने कहा कि जहां चिकित्सक और स्टॉफ  की कमी है, उसका प्रस्ताव कलेक्टर के माध्यम से भेजा जाए ताकि इस पर जरूरी कार्यवाही कर स्टॉफ  की भर्ती की जा सकें। क्योंकि अस्पताल जीवन से जुड़ा होता है। 

मरीज यहां अपने बेहतर इलाज के लिए आता है। उसे अच्छे से अच्छा उपचार मिलें यह चिकित्सकों की ड्यूटी और कर्तव्य भी है। मंत्री ने कहा कि जिन स्वास्थ्य केन्द्रों में एक्स.रे मशीन खराब हैं उन्हें तत्काल दुरूस्त कराए जाए। 
 


14-Jan-2021 4:49 PM 75

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुन्द, 14 जनवरी।
रोलबोल कम्यूनिटी के स्थापना का एक वर्ष पूर्ण होने पर महासमुन्द टीम ने विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए। महानदी रेसीडेंसी परिसर में आयोजित मोटिवेशनल टॉक शो के मुख्य आकर्षण तारक मेहता का उल्टा चश्मा के डॉ. हंसराज हाथी फेम निर्मल सोनी रहे। कार्यक्रम में उन्होंने कहा-छत्तीसगढिय़ा सबले बढिय़ा। इनके अलावा मूक बधिर एवं किन्नरों को अपने कैफे में रोजगार देकर विशिष्ट पहचान बनाने वाले नुक्कड़ कैफे रायपुर के संचालक प्रियांक पटेल, अपने दोनों पांव खो देने के बाद भी अफ्रीका की ऊंची चोटी किली मंजारों को फतह करने वाले चित्रसेन साहू, मशहूर कैरियर काउंसलर नितिन श्रीवास्तव, कवि एवं हास्य कलाकार मनोज शुक्ला इस कार्यक्रम में शामिल हुए। इस दौरान चंदन सरकार और उनकी टीम ने संगीतमयी प्रस्तुति दी।  

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि केंद्रीय राज्य मंत्री रेणुका सिंह दिल्ली से ऑनलाइन जुड़ीं। कार्यक्रम की अध्यक्षता संसदीय सचिव एवं विधायक विनोद चंद्राकर तथा विशिष्ट अतिथि नपाध्यक्ष प्रकाश चंद्राकर मंच पर मौजूद रहे। कार्यक्रम में रोलबोल के फाउंडर दर्शन सांखला, कोफाउंडर गगन बरडिय़ा, वीरेन नागवंशी, महासमुन्द अध्यक्ष सुधा पींचा, ममता राठौर, पलक बरडिय़ा, रत्नेश सोनी,  अजय थवाइत, एनी लढ्ढा, आशीष साहू, हेमलता चोपड़ा,. कल्पा राजा, खुशी गोलछा का योगदान रहा। संसदीय सचिव विनोद चंद्राकर ने महासमुंद के पदाधिकारियों को विधिवत शपथ दिलाई।

कार्यक्रम के मुख्य आकर्षण निर्मल सोनी डॉ.हाथी ने कहा कि वे पहली बार छत्तीसगढ़ आए हैं और यहां उन्होंने छत्तीसगढिय़ा सबले बढिय़ा का नारा सुना। उन्होंने कहा कि अपने आपको कभी हीन भावना से नहींं देखना चाहिए। 
हम जैसे है हमें अपने आपको वैसे ही स्वीकार कर अपने आपको अपग्रेड करते हुए आगे बढऩा चाहिए।
 


14-Jan-2021 4:48 PM 17

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुन्द, 14 जनवरी। 
सरायपाली ब्लॉक के अमरकोट धान उपार्जन केंद्रों में बारदाने की कमी को लेकर किसानों ने प्रदर्शन किया। यहां अपने साथ पुराने बारदाने को लेकर चकरदा से आए किसानों ने सामूहिक प्रदर्शन किया। 

चकरदा के किसानों कहना है कि अमरकोट धान खरीदी केंद्र में चकरदा के किसानों के साथ सौतेला व्यवहार हो रहा है। किसानों का आरोप है कि चकरदा से धान लेकर आए किसानों को फटा पुराना बारदा उपलब्ध कराया जा रहा है जबकि अमरकोट के किसानों को सही सलामत बारदाना दिया जा रहा है। अपने साथ इस तरह के व्यवहार से खफा किसानों ने चकरदा में नया धान खरीदी केंद्र की मांग की।

अमरकोट फ ड़ में कंप्यूटर ऑपरेटर राजेंद्र पटेल से मिली जानकारी के मुताबिक फड़ प्रभारी सरायपाली पुरानी मंडी बैठक में गए हुए थे। उन्होंने जानकारी दी  वर्तमान में उपलब्ध बारदानों की संख्या 22967 है परंतु फड़ प्रभारी के निर्देशानुसार किसानों को 100 में 25 नया बारदाना उपलब्ध कराया जा रहा है। बाकी 75 पुराने बारदाने में धान भरने कहा गया है। किसानों का कहना है कि किसानों को कम बारदाना दिया जा रहा है। नये बारदाने को अपने पास रखकर पुराना, फटे हुए डेमेज बारदाने में धान भरने के लिए किसानों को विवश किया जा रहा है। 

उपार्जन केंद्र अमरकोट में सुबह से किसान आए हुए थे लेकिन कल शाम तक उन्हें नया बारदाना उपलब्ध नहीं कराया गया। फड़ प्रभारी शंकर यादव के नंबर पर संपर्क करने पर मोबाइल बंद मिला। सरायपाली तहसीलदार युवराज कुर्रे का इस ममले में कहना है कि सभी किसान उनके लिए बराबर हैं। किसी के साथ हम भेदभाव नहीं होगा। किसानों की समस्याओं को बहुत जल्दी समाधान कर दिया जाएगा।
 


14-Jan-2021 4:47 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुन्द, 14 जनवरी।
कलेक्टर डोमन सिंह के निर्देशानुसार कल राजस्व एवं खाद्य विभाग की टीम ने जिले में 8 प्रकरणों पर 457 बोरा धान अर्थात् 182.8 क्विंटल धान जप्त किए गए। प्राप्त जानकारी अनुसार इनमें सरायपाली तहसील के ग्राम बलौदा निवासी टिकेश्वर साहू से 40 बोरी धान, पिथौरा तहसील के ग्राम अंसुला निवासी तेजप्रताप ठाकुर, राधेश्याम सिदार एवं दौलत सिंह नेताम से क्रमश: 110, 100 एवं 60 बोरी धान जप्त किया गया। 

इसी प्रकार महासमुन्द तहसील के ग्राम झालखमहरिया निवासी उमेश साहू से 30 बोरी धान एवं बसना तहसील के ग्राम बाराडोली निवासी बंशीधर पटेल से 27 बोरी धान, ग्राम चंदखुरी निवासी भुनेश्वर साव से 32 बोरी धान जप्त किया गया तथा बसना तहसील के अन्तर्गत सरायपाली विकासखण्ड के ग्राम तोषगांव निवासी नूराधन साहू से 58 बोरी धान और सोल्ड सोनालिका ट्रैक्टर जप्त कर उचित कार्यवाही की गई। बता दें कि अब तक जिले में कुल 215 प्रकरण दर्ज किए गए हैं। जिनमें 10827 बोरा धान अर्थात् 4330.8 क्विंटल धान की जप्ती की गई है। इनमें 12 वाहन भी शामिल हैं। जिले में कलेक्टर डोमन सिंह के मार्गदर्शन में तहसीलदार, थाना प्रभारी, खाद्य निरीक्षक की संयुक्त उडऩदस्ता टीम का गठन कर अवैध धान परिवहन और अवैध धान भंडारण पर लगातार निगरानी की जा रही है।
 


14-Jan-2021 4:46 PM 17

राज्य महिला आयोग अध्यक्ष ने की सुनवाई

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुन्द, 14 जनवरी।
छत्तीसगढ़ राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष डॉ. किरणमयी नायक ने  महासमुन्द में महिला उत्पीडऩ से सम्बंधित प्रकरणों पर जन सुनवाई की। सुनवाई में 16 प्रकरण रखे गये थे। जिसमें 13 प्रकरण सुनवाई के पूर्व रजामंदी होने के कारण नस्तीबद्ध किया गया। इसी प्रकार अन्य 7 प्रकरणों को भी रजामंदी एवं सुनवाई योग्य नहीं होने के कारण नस्तीबद्ध किया गया। 

डॉ. नायक ने महिलाओं को समझाईश देते हुए कहा कि घरेलू आपसी मनमुटाव का समाधान परिवार के बीच किया जा सकता है। घर के बड़े बुजुर्गों का सम्मान एवं आपसी सामंजस्य सुखद गृहस्थ के लिए महत्वपूर्ण है। जिला कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित सुनवाई में मुख्य रूप से महिलाओं से मारपीट, मानसिक, शारीरिक, दैहिक प्रताडऩा, कार्यस्थल पर प्रताडऩा, दहेज प्रताडऩा से सम्बंधित प्रकरणों पर सुनवाई की गई। सुनवाई के दौरान अपर कलेक्टर जोगेन्द्र कुमार नायक अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मेघा टेम्बुलकर, डिप्टी कलेक्टर बी एस मरकाम, सीमा ठाकुर, प्रशिक्षु डीएसपी अपूर्वा सिंह, शासकीय अधिवक्ता शमीम रहमान सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

बसना विकासखंड के ग्राम जगत की आवेदिका पूर्व महिला सरपंच सुलोचना राजहंस ने चार अनावेदक के खिलाफ  मानसिक प्रताडऩा एवं गांव में किसी से भी बातचीत बंद करने तथा सामान लेनदेन बंद करने की शिकायत की थी। जिसमें वर्तमान सरपंच सहित तीन अन्य अनावेदकों द्वारा उनके खिलाफ  गांव के लोगों से चर्चा, भेदभाव करने तथा सामग्री लेनदेन पर प्रतिबंध लगाया गया है। इस पर अनावेदकों ने बताया कि उनके खिलाफ  इस तरह का कोई प्रतिबंध नहीं लगाया गया है और भविष्य में भी इस तरह की कोई प्रतिबंध नहीं लगाया जाएगा और उन्होंने सफाई देते हुए कहा कि पूर्व महिला सरपंच के हुक्का पानी बंद नहीं किया गया है तथा उनके साथ गांव के सभी लोग बातचीत करेंगे। इस प्रकरण को महिला आयोग द्वारा समझाईश दी गई की भविष्य में अनावेदकों द्वारा आवेदक के खिलाफ  किसी भी तरह की प्रताडऩा की जाती है तो उनके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।

इसी तरह पिथौरा विकासखंड के आवेदकों ने पुलिस अधिकारियों एवं चार अन्य लोगों के विरूद्ध कार्यवाही करने की मांग की। आवेदकों ने बताया कि किशनपुर हत्याकांड के मामलें में पुलिस अधिकारियों द्वारा समुचित जांच नहीं हुई है। इस प्रकरण पर महिला आयोग ने तीन साल पुराने मामले को निष्पक्ष तरीके  से जांच कराने तथा महिला आयोग के व्यय पर फॅारेंसिक एक्सपर्ट डॉ. सुनंदा ढेंगे को नियुक्त किया गया है। उनके सहयोग के लिए आयोग की अधिवक्ता शमीम रहमान एवं एसडीओपी अपूर्वा सिंह को दो माह के भीतर विस्तृत जांच कर रिपोर्ट आयोग को प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हंै। इस सम्बंध में आवश्यकतानुसार न्यायालय से अनुमति प्राप्त किये जाने हेतु भी कार्यवाही किया जा सकेगा।

पिथौरा के ही एक आवेदिका ने पटवारी पुत्र को मानसिक प्रताडऩा एवं भरण पोषण की राशि दिलाने की मांग की। जिस पर आयोग ने अनावेदक को आपसी रजामंदी से प्रत्यके माह की पहली तारीख को 8 हजार आवेदिका के खाते मेें आरटीजीएस के माध्यम से जमा करने तथा स्वयं अपने विभाग में आवेदन देकर लिखित सहमति प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। इसके अलावा आवेदिका को अनावेदक के घर पर किसी भी प्रकार की दखल अंदाजी नहीं करने के निर्देश दिए। इस पर दोनों पक्षों ने सहमति जताई। 

इसके अलावा पिथौरा के आवेदिका ने अनावेदक के खिलाफ  दैहिक शोषण की शिकायत की थी।  इस पर अध्यक्ष ने दोनों पक्षों को गंभीरता से सुनने के बाद पति-पत्नि को सुलह के साथ रहने की समझाईश दी। एक अन्य प्रकरण में महिला आवेदक ने दैहिक शोषण का आरोप लगाया। इस पर आयोग ने दोनों पक्षों की बातों को गम्भीरता पूर्वक सुनकर अनावेदिका को भरण-पोषण के लिए एकमुश्त 1 लाख, 60 हजार रुपए देने के निर्देश दिए।  इस पर आवेदक एवं अनावेदिका पक्ष ने आयोग के समक्ष आपसी रजामंदी में तलाक लेने की बात भी स्वीकार की।
 


14-Jan-2021 4:26 PM 21

5490 डोज कोल्ड स्टोरेज में सुरक्षित 

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुन्द, 14 जनवरी।
कोविड 19 वैक्सीन की पहली खेप रात 9 बजे जिला मुख्यालय महासमुन्द पहुंची है। पहली खेप में महासमुन्द जिले को 5490 डोज मिले हैं। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ.अरविन्द गुप्ता ने बताया कि वैक्सीन की डोज को जिला स्तरीय कोल्ड स्टोरेज महासमुन्द में 2 से 8 डिग्री टेम्प्रेचर में सुरक्षित रखा गया है और कक्ष को पूरी तरह सील कर दिया गया है। यह सब कार्य रात में ही मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी की देखरेख में किया गया।

इस माह की 16 तारीख से जिले में टीकाकरण अभियान का शुभारंभ होगा। प्रथम चरण में जिला अस्पताल महासमुन्द  सहित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सरायपाली और पिथौरा में लगाया जाएगा। स्वास्थ्य कर्मी, मितानिन एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को पहले टीका लगाया जाएगा। कलेक्टर डोमन सिंह के नेतृत्व में जिला स्तरीय टास्क फोर्स की बैठक में टीकाकरण के लिए ज़रूरी कार्य योजना तैयार की गई है। लगभग 9000 हजार के करीब स्वास्थ्य कर्मियों सहित मितानिन एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को प्रथम चरण में चिन्हांकित किया गया है। इसके बाद धीरे-धीरे पूरे जिले में टीकाकरण अभियान का विस्तार किया जायेगा। 

स्वास्थ्य विभाग के निर्देश पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय के टीम कोल्ड चेन प्रभारी किशोर पटेल और होम गार्ड समरूराम बघेल वैक्सीन लेने रायपुर गये थे। सुरक्षा कर्मी भी साथ थे। रात में लगभग 9 बजे वैक्सीन लेकर वे महासमुन्द पहुंचे हैं। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एन.के. मंडपे सहित सीएमएचओ कार्यालय में स्वास्थ्य चिकित्सकों और स्वास्थ्य कर्मियों ने  वैक्सीन लेकर पहुंची टीम का स्वागत किया और वैक्सीन को कोल्ड स्टोरेज में सुरक्षित रखवाया। टीकाकरण वाले कर्मियों का चयन कर लिया गया है और कल 16 जनवरी को उन्हें मोबाइल से सूचित कर वैक्सीन लगाने बुलाया जाएगा।
 


13-Jan-2021 8:48 PM 17

पिथौरा, 13 जनवरी। विकासखण्ड के दूरस्थ ग्राम छोटे लोरम के सात ग्रामीणों सहित अन्य ग्रामीणों के खाते में छह माह बाद ‘छत्तीसगढ़’ में खबर प्रकाशन के बाद स्थानीय प्रशासन ने अंतत: मुआवजा राशि डाल दी गयी। मंगलवार को ग्रामीण आभार व्यक्त करने पिथौरा स्थित ‘छत्तीसगढ़’ कार्यालय पहुंचे।

  पिथौरा क्षेत्र के छोटे लोरम के ग्रामीणों की समस्या सम्बन्धी खबर का असर फिर देखने को मिला। करीब छह माह पहले भारी बारिश से पिथौरा के जंगली इलाके में बसे गाँव छोटे लोरम के 7 एवं पास के ग्राम के 3 गरीब मजदूर परिवार के घर ढह गये थे और 5 माह बीत जाने के बाद भी उन्हें सरकारी मदद नहीं मिल पा रही थी। लिहाजा वे मकान टूट जाने के बाद किसी और की परछी में रहने को मजबूर थे। खबर प्रकाशन के बाद प्रशासन ने मामले को गम्भीरता से लेते हुए सभी प्रभावित गरीब मजदूर परिवार के लिये 6-4 राजस्व एवं आपदा प्रबंध के तहत मकान बनाने के लिए राशि स्वीकृत कर दी है। अब ग्रामीण ‘छत्तीसगढ़’ को धन्यवाद दे रहे हैं।

मजदूर तारालाल पारेश्वर  छोटे लोरम ने बताया कि वे अपना घर गिरने से काफी संकट में थे। परन्तु अचानक कुछ मीडिया वाले उनके लिए भगवान की तरह पहुंचे और उसके बाद उनका मुआवजा प्रकरण तुरन्त निपट गया।

ग्राम के एक अन्य ग्रामीण गंगाराम यादव छोटे लोरम ने बताया कि वे लोग बारिश में उनके मिट्टी के मकान ढह जाने से लगातार परेशान थे। ऐसी हालत में मीडिया उनके लिए भगवान की तरह है। ‘छत्तीसगढ़’ ने उनके मकानों के फोटो लिए और उन्हें प्रकाशित किया। जिससे पिथौरा के साहब लोगों को हमारी समस्या पता चली और उन्होंने तुरंत निराकरण कर दिया।

इधर पिथौरा के एसडीएम राकेश कुमार गोलछा ने बताया कि हमने अपनी जिम्मेदारी पूरी की है। हमारे संज्ञान में मामला आते ही ग्राम छोटे लोरम में सर्वे हेतु नायब तहसीलदार एवं पटवारी को भेज कर प्रकरण बनवाया। अब मुआवजा राशि हितग्राहियों के बैंक खातों में डाल दी गयी है। प्रकरण संज्ञान में लाने के लिए संबंधित मीडिया को भी उन्होंने धन्यवाद दिया।

 


13-Jan-2021 5:10 PM 17

हैप्पीनेस एक मेन्टल स्टेट है जिसको स्व- प्रशिक्षण से बढ़ाया जा सकता है- बोदले

महासमुन्द, 13 जनवरी। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा जिले के परियोजना अधिकारी और पर्यवेक्षकों के लिए एक दिवसीय जिला स्तरीय हैप्पीनेस वर्कशॉप का आयोजन पिथौरा विकासखण्ड के आंगनबाड़ी केन्द्र टेका में किया गया। जिला महिला एवं बाल विकास अधिकारी सुधाकर बोदले ने वर्कशॉप के माध्यम से बताया कि हैप्पीनेस एक मेन्टल स्टेट है। जिसको स्व.प्रशिक्षण से बढ़ाया जा सकता है। 

उन्होंने वर्कशॉप में पहले सभी प्रतिभागियों से उनका पिछले सप्ताह कैसा बीता, कितनी खुशी से बीता, ये तीन मिनट में लिखने कहा। इसके उपरांत विस्तार से चर्चा की। इसके बाद प्रतिभागियों से उन चीजों के बारे में पूछा गया जो वे अपने जीवन में लांग टर्म और शार्ट टर्म में पाना चाहते हैं। चर्चा का निष्कर्ष यह रहा कि हम जिन्दगी में जो भी पाना चाहते हैं उसका अंतिम ध्येय खुशी पाना ही है। 

इसके बाद बाहरी साधनों से मिलने वाली खुशी और आंतरिक खुशी की चर्चा की गई। इसका सार बाहरी साधनों से मिलने वाली खुशी की अवधि बहुत कम होता है और आंतरिक खुशी अधिक स्थाई होती है। श्री बोदले ने प्रशिक्षणार्थियों को आंतरिक खुशी को और किस प्रकार अधिक बढ़ा सकते हैं।  इस सम्बंध में विस्तार पूर्वक बताते हुए उन्होंने कहा कि हमें सुबह के दिनचर्या में फिजिकल वर्कआउट, मोटिवेशनल बुक रीडिंग, थॉट्स राइटिंग, मैडिटेशन जैसे अन्य कार्य को भी शामिल करना चाहिए। व्यक्तिगत और प्रोफेशनल जिन्दगी में दृढ़ लक्ष्य निर्धारित कर खुशी हासिल की जा सकती है। व्यक्तिगत और प्रोफेशनल लाईफ में एक.दूसरे का आपसी सहयोग कर खुशी प्राप्त की जा सकती है। जिन्दगी में हमें प्रत्येक दिन खुश रहकर सक्रिय तरीक से कार्य करने से हमारा हैप्पीनेस इंडेक्स उतना ही और अधिक बढ़ते जाता है।

 


13-Jan-2021 5:09 PM 17

महासमुन्द, 13 जनवरी। आगामी 17 जनवरी को प्रस्तावित मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के महासमुन्द प्रवास को लेकर संसदीय सचिव विनोद सेवनलाल चंद्राकर ने कल मंगलवार को साहू समाज के पदाधिकारियों से चर्चा कर रणनीति बनाई। 
इस दौरान स्वागत को लेकर विचार विमर्श किया गया। संसदीय सचिव निवास में संसदीय सचिव श्री चंद्राकर की मौजूदगी में साहू समाज के पदाधिकारियों से चर्चा की गई। जिसमें बताया गया कि 17 जनवरी को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का कार्यक्रम प्रस्तावित है। जिसमें बाईक रैली के साथ ही स्वागत को लेकर विचार विमर्श किया गया। इस दौरान प्रमुख रूप से खिलावन साहू, गोविंद साहू, तुलसी साहू, दिग्विजय साहू, राजू साहू, रवि साहू, डा. तरुण साहू, मनीष साहू, हरिशंकर साहू, संतोष साहू, डा. उपेंद्र साहू, हेमंत साहू, लीलू साहू, कपिल साहू, मुन्ना साहू, दारा साहू, लेडग़ा राम साहू, डागाराम साहू, शम्भू साहू, मानिक साहू आदि मौजूद थे।
 


13-Jan-2021 5:08 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुन्द, 13 जनवरी।
9 जनवरी से टीबी हारेगा देश जीतेगा थीम के साथ देश में सघन टीबी खोज अभियान फिर से शुरू हो गया है। अभियान के तहत खोजी दल एवं दल पर्यवेक्षक बनाकर सभी विकासखंडों में अभियान चलाया जा रहा है। 

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने महासमुन्द में भी टीबी मरीजों के खोजने के लिए अभियान शुरू करने के निर्देश दिए हैं। जेल महासमुन्द में खोजी दल के ने 442 बंदियों की टीबी जांच की गई। इस दौरान 9 बंदियों को टीबी बीमारी के संदेहास्पद के तौर पर चिह्नांकित किया गया। जिला क्षय उन्मूलन अधिकारी डॉ आई नागेश्वर राव ने कहा कि शासन के निर्देशानुशार राष्ट्रीय क्षय उन्मूलन कार्यक्रम जिला महासमुन्द के अंतर्गत सभी उच्च जोखिम समूह जैसे जेल, खदान, शहरी स्लम क्षेत्र, फैक्ट्री, वृद्धाश्रम, बालश्रम, शासकीय संस्थानों में कार्यरत स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं, रेन बसेरा एवं एचआईवी के उच्च जोखिम समूहों में टीबी की खोज करना है। 

श्री राव ने बताया कि उच्च जोखिम समूह में निवास एवं कार्य करने वाले व्यक्तियों में टीबी रोग की संभावना अधिक होती है। इससे इस खोज अभियान के माध्यम से खोजने का प्रयास किया जाएगा। ऐसे व्यक्ति जिसमे टीबी बीमारी के लक्षण पाए जाएंगे। उन संदेहियों की जांच कर जिले में संचालित उच्च गुणवत्ता युक्त सीबी नाट मशीन से किया जाएगा। 

इसी कड़ी में 9 जनवरी को जिला जेल में बंद बंदियों की टीबी जांच की गई। जांच रिपोर्ट के आधार पर आगे इलाज की प्रक्रिया की जाएगी। जिला क्षय उन्मूलन अधिकारी डॉ. आई नागेश्वर राव, जिला जेल अधीक्षक डीडी टोंडर जिला जेल महासमुन्द, जेल चिकित्सा अधिकारी डॉ ए के प्रसाद, घनश्याम देशमुख, विनय नाग, अरविंद सिदार व कमलेश सिंह उपस्थित थे। 
 


13-Jan-2021 5:08 PM 15

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुन्द, 13 जनवरी। 
विवेकानंद जयंती पर जिला मुख्यालय के समीपस्थ ग्राम पंचायत बेलसोंडा की सरपंच हुलसी चंद्राकर ने गांव में सफाई अभियान चलाया और सुबह 5 बजकर 11 मिनट से शीतला माता से सफाई कार्य का शुभारंभ करते हुए 8 बजे तक गांव की गलियों की सफाई की। इस काम में उनके साथ   गांव की अन्य महिलाएं भी शामिल हुईं। 

शाम को 5 बजे विवेकानंद संस्थान चौक टेढ़ी पारा में रामायण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। सफाई अभियान में मुख्य रूप से पोखन लाल चंद्राकर, जितेंद्र चंद्राकर, लक्ष्मीकांत चंद्राकर, रामसहाय साहू, रामनाथ साहू, संजय चंद्राकर, यज्ञ देवांगन, डॉक्टर झम्मन धीवर, हीरालाल साहू, प्रेमलाल साहू, दुर्गेश साहू, अशोक साहू, प्रीतम साहू, शिव कनाउजे, तेजराम धीवर, संतू साह,ू सावित्री चंद्राकर, ईशा धीवर, हेमा साहू आदि ने हिस्सा लिया। 
 


13-Jan-2021 5:07 PM 22

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुन्द, 13 जनवरी।
जिला कांग्रेस कमेटी के प्रभारी महामंत्री हरदेव ढिल्लो, पूर्व शहर कांग्रेस अध्यक्ष जसबीर ढिल्लों और जिला खनिज न्यास के सदस्य हार्दिक सोना ने कलेक्टर डोमन सिंह से जिला हॉस्पिटल से लभरा सर्किट हाउस नेशमल हाईवे में हुए भ्रष्टाचार, जिले के सभी कन्या छात्रावासों में छात्राओं में सेनेटरी पैड,  वेंडिंग मशीन लगाने के लिए फंड जारी होने के बाद नहीं लगाने पर दोनों मामलों में जांच की मांग करते हुए कार्रवाई की मांग की है। 

साथ ही सरायपाली-बसना क्षेत्र के धान उपार्जन केंद्रों से धान खरीदी सत्र 2019-2020 में रिजेक्टेड धान (सड़े हुए धान) को महासमुन्द भंडारण केंद्र में रखकर सरकार को नुकसान पहुंचाने वालों पर भी कार्रवाई की मांग की। श्री ढिल्लो ने बताया कि नेशनल हाईवे निर्माण में रोड के लंबाई चौड़ाई नाप में, नाली कवर तथा सडक़ नाली के बीच में बिछाए जा रहे पेवर ब्लॉक आदि सभी में नाप के साथ में गुणवत्ता का बिल्कुल भी ध्यान नहीं रखा गया है। 

इसी प्रकार सरायपाली बसना क्षेत्र के धान उपार्जन केंद्रों से सत्र 2019-2020 में रात के समय लाखों कट्टा रिजेक्टेड धान को महासमुन्द धान संग्रह केंद्र लाया गया। जिला विपणन अधिकारी को धान के निस्तारण की जानकारी लेने जन सूचना अधिकार के अंतर्गत आवेदन किया गया, जिसका समय सीमा पूर्ण होने के बाद भी कोई जानकारी नहीं दी गई। इन सभी को लेकर कलेक्टर से सूक्ष्म जांच कराने एवं दोषियों पर कड़ी कार्यवाही करने की मांग की। 
 


13-Jan-2021 5:06 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुन्द, 13 जनवरी।
केंद्र सरकार के कृषि बिल का विरोध करते हुए कांग्रेसियों ने दोपहर एक बजे स्थानीय सांसद चुन्नीलाल साहू के कार्यालय पहुंच केंद्र सरकार के खिलाफ  जमकर नारेबाजी की और कांग्रेसियों ने भाजपा पर किसान विरोधी होने का आरोप लगाया। 

मंगलवार को दोपहर 1 बजे कांग्रेस भवन से कार्यकर्ता रैली निकाल भाजपा सांसद चुन्नीलाल साहू के कार्यालय पहुंचे। इस बीच युवा कांग्रेस कार्यकर्ता व पुलिस के बीच झूमा-झपटी भी हुई। भाजपा सांसद के घर का घेराव करने से पहले कोतवाली पुलिस और एसडीओपी नारद सूर्यवंशी वहां पुलिस बल के साथ मौजूद थे। रैली लेकर पहुंचे कोंग्रेसियों ने सांसद कार्यालय के भीतर प्रवेश करने की कोशिश की लेकिन पुलिस ने उन्हें बाहर ही रोक लिया। कांग्रेसी बाहर से ही सांसद चुन्नीलाल साहू बाहर आओ के नारे लगाते रहे। कुछ देर बाद पता चला कि सांसद अपने कार्यालय में नहीं हैं। इसके बाद कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने सांसद प्रतिनिधि के रूप में उपस्थित पवन साहू, मोहन साहू को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा। इस दौरान नगर पालिका परिषद और कांग्रेस कार्यकर्ता कृष्णा चंद्रकार, नेता प्रतिपक्ष नपा महासमुन्द राशि महिलांग, ब्लॉक अध्यक्ष खिलावन बघेल, पार्षद अमन चन्द्राकर सहित अन्य कार्यकर्ता उपस्थित थे। 
 


13-Jan-2021 5:05 PM 18

दिए सतर्कता बरतने के दिए निर्देश

महासमुन्द, 13 जनवरी। कलेक्टर डोमन सिंह ने देश के केरल, राजस्थान, मध्यप्रदेश और हिमाचल प्रदेश में पाए गए मृत पक्षियों बतख,कौंवे एवं प्रवासी पक्षियों में बर्डफ्लू  रोग की पुष्टि को गंभीरता से लेते हुए जिले के सभी अनुविभागीय अधिकारियों , राजस्व, को रोकथाम हेतु विशेष सावधानी बरतने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने इसके लिए जिले के सभी एसडीएम को पत्र जारी किया है । उन्होंने पत्र में कहा है कि जिले के सीमावर्ती प्रदेश से पक्षियों के परिवहन पर कड़ी नजऱ रखी जाए। कलेक्टर ने कहा है कि जिले में कहीं भी पक्षियों में किसी भी प्रकार के असामान्य बीमारी के लक्षण अथवा पक्षियों की आकस्मिक मृत्यु होने पर तत्काल अवगत करायें या पशुपालन विभाग के जिला अधिकारी को तुरंत सूचित करें।

 


13-Jan-2021 5:04 PM 20

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुन्द, 13 जनवरी।
जिले में इस साल गणतंत्र दिवस कोरोना गाइडलाइन के मुताबिक हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा। जिला स्तरीय कार्यक्रम मिनी स्टेडियम महासमुन्द में होगा। गणतंत्र दिवस समारोह सुबह 9 बजे शुरू होगा। मुख्य अतिथि ध्वजारोहण करेंगे। गणतंत्र दिवस मनाने को लेकर कलेक्टर डोमन सिंह की अध्यक्षता में मंगलवार को समय-सीमा की बैठक हुई। बैठक में विभिन्न विभागों के अधिकारियों को पूर्व की भांति दायित्व सौंपा। कलेक्टर ने कहा कि पहले की तरह गणतंत्र दिवस पर विभिन्न विभागों की झांकिया प्रदर्शित की जाएगी और बच्चों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी प्रदर्शन किया जाएगा। 

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल कुमार ठाकुर ने कहा कि सम्मानित होने वाले अधिकारी.कर्मचारियों या अन्य जिनकों पुरस्कृत किया जाना है, उन्हें पहले से ही लाइन अप कर लें और उन्हें निर्धारित जगह पर बिठाएं। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी गणतंत्र दिवस की फुलड्रेस रिहर्सल के समय जरूर उपस्थित रहें, जिससे 26 जनवरी को होने वाले कार्यक्रम के समय किसी प्रकार की कोई दिक्कत न हो। बैठक में डीएफओ पंकज राजपूत, अपर कलेक्टर जोगेन्द्र कुमार नायक, एसडीएम सुनील कुमार चन्द्रवंशी, सीएमएचओ डॉ.एनके मंडपे, डिप्टी कलेक्टर सहित अन्य विभाग के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

कलेक्टर ने एसडीएम को अपने क्षेत्र के कोतवालों, पटेलों, किसानों की बैठक लेकर सूचना तंत्र को मजबूत करने की बात कहीं। उन्होंने कहा कि कुछ दिनों से जिले में कोविड 19 के टेस्ट की संख्या में गिरावट देखी गई है। उन्होंने एसडीएम से कहा कि कार्ययोजना बनाकर बीएमओ से बात करें और कार्ययोजना बनाकर ज्यादा से ज्यादा कोरोना टेस्ट करवाएं। कलेक्टर ने धान खरीदी, वनाधिकार पट्टे, गोधन न्याय योजना, लोक सेवा गारंटी अधिनियम आदि की भी जानकारी ली।
 


13-Jan-2021 5:04 PM 13

महासमुन्द जिले में मंगलवार को 40 कोरोना संक्रमितों की पहचान हुई है। इनमें से 3 को कोविड केयर सेंटर में इलाज के लिए भर्ती किया गया है, जबकि 37 ने होम आइसोलेशन की सुविधा ली है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी मेडिकल बुलेटिन के अनुसार जिले में मंगलवार को 72 मरीज स्वस्थ भी हुए हैं। वहीं एक कोरोना संक्रमित की मौत हुई है। महासमुन्द जिले में अब तक कुल 8824 कोरोना संक्रमितों की पहचान हो चुकी है। इनमें से 8469 पूरी तरह से स्वस्थ हो चुके हैं। वहीं 128 कोरोना संक्रमित की मौत अब तक हो चुकी है। जिले में एक्टिव केस की संख्या 227 है। मेडिकल बुलेटिन के अनुसार मंगलवार को महासमुन्द ब्लॉक में 19, बागबाहरा में 5, पिथौरा में 9, बसना में 4 और सरायपाली विकासखंड में 3 संक्रमितों की पहचान हुई है। जिले में मंगलवार को 641 सैंपल लेकर जांच किया गया।
 


13-Jan-2021 5:02 PM 16

पहली खेप 14 या 15 जनवरी को जिला मुख्यालय पहुंच जाएगी

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुन्द, 13 जनवरी।
महासमुन्द जिले में कोविड 19 टीकाकरण की तैयारियां पूरी हो चुकी है। जिले में इसके लिए 33 केंद्र बनाए गए हैं, जहां 8989 लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई जाएगी। 
16 जनवरी को जिला अस्पताल, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सरायपाली और पिथौरा में टीकाकरण की शुरुआत होगी। टीकाकरण के लिए वैक्सीन की पहली खेप 14 या फिर 15 जनवरी को जिला मुख्यालय पहुंच जाएगी। इसके बाद इसे इन तीनों सेंटर्स के कोल्ड चेन में भेजा जाएगा। टीकाकरण के लिए सभी केंद्रों में सेक्टर सुपरवाइर, अधिकारी-कर्मचारियों की ड्यूटी लगाने का काम पूरा हो चुका है। कलेक्टर डोमन सिंह का कहना है कि टीकाकरण की सभी तैयारियां पूरी हो चुकी है। 

राज्य से मिले निर्देश के अनुसार पहले तीन केंद्रों में टीकाकरण किया जाएगा। हमने तैयारियों को लेकर ड्राई रन पूरा कर लिया है। जहां जो कमी थी, उसे दूर कर लिया गया है साथ ही इस अभियान में जुड़े कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया जा चुका है। जिले में 23 कोल्ड चेन बनाए गए हैं और सभी कोल्ड चेन वैक्सीन स्टोर के लिए पूरी तरह तैयार है।

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार एक व्यक्ति को वैक्सीन के दो डोज दिए जाएंगे। पहले और दूसरे डोज की वैक्सीन के बीच 25 से 30 दिन का अंतर होगा। वैक्सीनेशन के लिए टीकाकरण करने वाले कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया जा चुका है। वैक्सीन लगवाने वाले व्यक्ति को तीन चरणों से होकर गुजरना पड़ेगा। इसके लिए मोबाइल एप तैयार किया गया है। 

एप पर रजिस्ट्रेशन होने के बाद फ्रंट लाइन वॉरियर्स को वैक्सीन लगाने से पहले मोबाइल पर एक मैसेज आएगा। मैसेज के बाद वह सेंटर जाएगा। यहां सबसे पहले संबंधित व्यक्ति का वैरिफिकेशन होगा। इसके लिए फोटो आधारित पहचान पत्र दिखाना होगा। वैरिफिकेशन के बाद सम्बंधित व्यक्ति को वैक्सीन की डोज दी जाएगी। वैक्सीनेशन सेंटर में तीन अलग-अलग कक्ष होंगे। पहला प्रतिक्षालय, दूसरा वैक्सीनेशन कक्ष और तीसरा ऑब्जरवेशन कक्ष।

टीकाकरण के लिए विकासखंड केंद्र महासमुन्द शहर में 6, महासमुन्द ग्रामीण में 5, बागबाहरा में 6, पिथौरा में 6, बसना में 5 और सरायपाली में 5 केन्द्र बनाए गये हैं। इन केन्द्रों में टीकाकरण के लिए तैयार टास्क फोर्स की बैठक कल मंगलवार को आयोजित की गई। बैठक में कोविड वैक्सीनेशन की तैयारियों की समीक्षा की गई। बैठक में मॉक ड्रिल के दौरान पाई गई कमियों को दूर करने के निर्देश दिए गए। कलेक्टर डोमन सिंह ने सम्बंधित अधिकारियों को बताई गई कमियों को तुरंत दूर करने के निर्देश दिए। 

कलेक्टर ने बताया कि 16 जनवरी को 3 सेंटर से वैक्सीनेशन की शुरुआत की जाएगी। इसमें जिला चिकित्सालय, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सरायपाली और पिथौरा शामिल हंै। वैक्सीनेशन को लेकर सभी अधिकारी-कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया जा चुका है। यदि किसी को इस सम्बंध में कोई समस्या हो तो वे टीकाकरण के नोडल अधिकारी से संपर्क कर सकते हैं। बैठक के दौरान एसडीएम सुनील कुमार चन्द्रवंशी, सीएमएचओ डॉ.एनके मण्डपे, डिप्टी कलेक्टर सीमा ठाकुर, कोविड.19 टीकाकरण नोडल अधिकारी पूजा बंसल सहित सभी विकासखण्ड से एसडीएम एवं बीएमओ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जुड़े थे।