छत्तीसगढ़ » रायपुर

Date : 17-Jul-2019

सिंह अकेडमी जालंधर में आयोजित आल इंडिया टेनिस टूर्नामेंट चैंपियनशिप में  सिंगल्स और डबल्स में मिली चुग उपविजेता 
छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 17 जुलाई।
ऑल इंडिया टेनिस एसोसिएशन एवं पंजाब टेनिस संघ के तत्वाधान में सिंह अकेडमी जालंधर में आयोजित आल इंडिया टेनिस टूर्नामेंट चैंपियनशिप सीरीज अंडर 16, 18 सिंगल्स में छग की मिली चुग  अंडर 16 में उपविजेता रही। फाइनल में पंजाब की महिका गुप्ता ने मिली को 6-4.,6-4 से पराजित किया। उत्कृष्ट प्रदर्शन से डबल्स में  मिली चुग उपविजेता रही।


Date : 17-Jul-2019

सरकार या योजना के खिलाफ नहीं, क्रियान्वयन के खिलाफ धरने पर- प्रकाश मुनि 
स्कूल-आंगनबाड़ी केंद्रों में अंडा वितरण, कबीरपंथियों का विरोध
छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 17 जुलाई।
कबीरपंथियों के धर्मगुरु प्रकाश मुनि साहब ने कहा है कि मैं न शासन के खिलाफ बैठा हूं, न किसी नेता या मंत्री के खिलाफ बैठा हूं। यहां तक कि शासन की योजना के खिलाफ भी नहीं हूं। इस योजना को जिस ढंग से क्रियान्वित किया गया है, मैं उसके खिलाफ हूं। 

प्रदेश के स्कूल-आंगनबाड़ी केंद्रों में बच्चों को हफ्ते में एक दिन अंडे दिए जा रहे हैं, इसका कबीर पंथियों ने विरोध शुरू कर दिया है। उनके धर्म गुरु प्रकाश मुनि साहब रायपुर-बिलासपुर राजमार्ग स्थित दामाखेड़ा(सिमगा) में अपने समर्थकों के साथ धरने पर बैठ गए हैं। कबीर पंथियों के विरोध के बाद राज्य सरकार ने अंडा वितरण योजना में बदलाव के निर्देश दिए हैं, लेकिन उनका धरना जारी है। इस संबंध में मीडिया के सवाल पर धर्मगुरु प्रकाश मुनि साहब ने कहा कि सरकार के फैसले में बदलाव हो जाता, तो उन्हें धरने पर बैठने की जरूरत नहीं पड़ती। 

धर्मगुरु प्रकाश मुनि साहब ने मीडिया से चर्चा में मांग की है कि प्रदेश के स्कूल-आंगनबाड़ी केंद्रों में अंडे का वितरण बंद हो। गांवों में पंचायतों, आंगनबाड़ी केंद्रों और शाला विकास के माध्यम से सर्वे करा लिया जाए। जिन्हें अपने बच्चों को अंडा खिलाना मंजूर हो, उनके घरों तक सरकार हफ्ते में एक दिन हो या चार दिन हो या प्रति दिन हो, कार्यकर्ताओं के माध्यम से अंडा पहुंचा दें। वो लोग अपने घरों में अपने बच्चों को अंडा खिला देंगे। स्कूल-आंगनबाड़ी केंद्रों में जहां शाकाहारी बच्चे जाते हैं, वहां अंडे का वितरण न हो। वहां अंडा पकाया भी न जाए और वहां किसी को खिलाया भी न जाए। 

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि 6 तारीख को अपने हाथों से पत्र लिखकर मुख्यमंत्री को भेजा था। सीएम को पत्र मिल चुका है। उन्होंने उस पर कार्रवाई का आश्वासन भी दिया था। कल शाम मैं भिलाई-तीन स्थित मुख्यमंत्री के निजी निवास पर एक घंटे तक बैठकर उनसे चर्चा की। चर्चा में मुख्यमंत्री ने मुझे सुझाव दिया कि हर गांव में आम सर्वे करा लेते हैं। 50 फीसदी लोग बोलेंगे नहीं करना है तो उस गांव में अंडा वितरण नहीं होगा। 

मैंने कहा ऐसे में हर गांव में खींचतान और विवाद हो जाएगा। मैंने अपना सुझाव दिया, हर गांव में सर्वे करा लिया जाए। आंगनबाड़ी, शाला विकास समिति, पंचायत के माध्यम से। गांव के जो लोग अपने बच्चों को अंडा खिलाना चाहते हैं, उन्हें चिन्हांकित कर उनकी एक सूची बना लें। और हफ्ते में जितने दिन भी सरकार द्वारा ऐसे लोगों को अंडा देना है, कार्यकर्ताओं के माध्यम से उनके घरों तक अंडा पहुंचा दिया जाए। वे सभी अपने घरों में बच्चों को अंडा खिला देंगे। 

उन्होंने कहा कि ज्ञान, विद्या के मंदिर में जहां अन्य शाकाहारी विद्यार्थी जाते हैं। हम कबीरपंथी शुद्ध शाकाहारी हैं। प्रदेश में करीब 40 लाख कबीरपंथी निवास करते हैं और बिल्कुल गरीब तबके हैं। 80 फीसदी कबीर पंथी मजदूर और छोटे किसान हैं। 80 फीसदी गरीबों के बच्चे सरकारी स्कूल में पढ़ते हैं। मैं न शासन के खिलाफ बैठा हूं, न किसी नेता या मंत्री के खिलाफ बैठा हूं। यहां तक कि शासन की योजना के खिलाफ भी नहीं हूं। इस योजना को जिस ढंग से क्रियान्वित किया गया है, मैं उसके खिलाफ हूं। 

 


Date : 17-Jul-2019

शराब की अवैध तस्करी युवक गिरफ्तार, 35 पेटी अंग्रेजी शराब जब्त
छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 17 जुलाई।
मंदिर हसौद के नारा गांव के पास बीती रात सूमो में अवैध रूप से शराब की तस्करी करने वाला युवक पकड़ा गया। उसके कब्जे से 35 पेटी अंग्रेजी शराब जब्त की गई है, जिसकी कीमत  करीब एक लाख 34 हजार के आसपास मानी जा रही है, पूछताछ जारी है। 

पुलिस के मुताबिक बलरामपुर के ग्राम भंवरमाल (रामानुजगंज)   निवासी विनय सिंह (35) बीती रात एक  सूमो गोल्ड वाहन में अवैध रूप से शराब लेकर जा रहा है। मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने उसकी घेराबंदी की और वह पकड़ा गया। 
पूछताछ में उसने अपने को बलरामपुर जिले का निवासी बताया। पुलिस टीम द्वारा वाहन की तलाशी पर वहां शराब रखा होना पाया गया। उसके खिलाफ आबकारी एक्ट कार्यवाही की जा रही है। पुलिस का कहना है कि जुआ-सट्टा के साथ शराब की अवैध तस्करी के खिलाफ भी उनका अभियान जारी रहेगा। 

 


Date : 17-Jul-2019

आदिवासी संगठनों की मदद से भावना को मिला हिदायततुल्लाह विवि में दाखिला 
छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 17 जुलाई।
गरियाबंद जिले के ग्राम कोसमबुड़ा के किसान गुमान ध्रुव की बेटी भावना ने आदिवासी संगठनों की आर्थिक मदद से हिदायततुल्लाह विवि में दाखिला प्राप्त कर लिया है। भावना के पिता गुमान ध्रुव ने आदिवासी संगठन और मीडिया के प्रति आभार जताया है। ज्ञात हो छत्तीसगढ़ ने भावना की समस्या को विगत दिनों प्रमुखता से प्रकाशित किया था। 
बिलासपुर 'प्रयास' में पढ़ाई करने वाली भावना ने यद्यपि क्लैट क्वालीफाई कर लिया था और हिदायतुल्लाह विवि की सूची में उसका नाम भी आ गया था लेकिन दाखिले के लिए 1,75,000 रुपये की राशि जुटा न पाने के कारण भावना के पिता अपनी बेटी को लॉ कॉलेज में दाखिला नहीं दिला पा रहे थे।

गुमान ध्रुव ने बताया छत्तीसगढ़ में प्रकाशित खबर को पढ़कर आदिवासी संगठन ने सोशल मीडिया के जरिए होनहार भावना की  मजबूरी को शेयर किया। संगठन की सक्रिय भागीदारी के कारण राज्य एवं देश के आदिवासी संगठन सामने आए और उन्होंने सहयोग राशि से लॉ कॉलेज में दाखिले के भावना के सपने को पूरा कर दिया। सहयोग में केंद्रीय धमधागढ़ महासभा गोंडवाना समाज, गोडी धर्म संस्कृति संरक्षण समिति गरियाबंद आदिवासी छात्र संघ सहित प्रदेश के आदिवासी संगठनों की महत्वपूर्ण भूमिका रही। 

 


Date : 17-Jul-2019

कैरोसीन आबंटन में कटौती, पुनिया ने राज्यसभा में उठाया मामला

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 17 जुलाई।
प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी पीएल पुनिया ने कैरोसीन आबंटन में कटौती का मामला राज्यसभा में उठाया। उन्होंने आग्रह किया कि कटौती को तत्काल वापस लेकर प्रतिवर्ष डेढ़ लाख किलो लीटर कैरोसीन का आबंटन करे। जिससे प्रदेश की गरीब और जरूरतमंद आबादी को पीडीएस के जरिए कैरोसीन मुहैया कराया जा सके। 

कैरोसीन कटौती पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी केन्द्र सरकार को पत्र लिख चुके हैं। राज्यसभा सदस्य और प्रदेश प्रभारी श्री पुनिया ने इस विषय को प्रमुखता से उठाया। उन्होंने कहा कि उज्जवला योजना के क्रियान्वयन के बाद राज्यों को पीडीएस के अंतर्गत दी जाने वाली कैरोसीन के आबंटन की मात्रा में बड़ी मात्रा में कटौती की गई है। 

उन्होंने कहा कि सरकार ने उज्जवला योजना के लाभार्थियों को पीडीएस कैरोसीन के लिए अपात्र कर दिया है और छत्तीसगढ़ राज्य के वार्षिक कैरोसीन आबंटन को 2015-16 के कैरोसीन आबंटन एक लाख 72 हजार किलो लीटर से घटाकर वर्ष 2018-19 में एक लाख 15 हजार किलो लीटर कर दिया है। 

प्रदेश प्रभारी ने यह भी कहा कि छत्तीसगढ़ में गरीबी रेखा के नीचे आने वाले परिवारों के लिए घरेलू एलपीजी कनेक्शन के बाद भी कैरोसीन की जरूरत है क्योंकि छत्तीसगढ़ राज्य मुख्यतया आदिवासी क्षेत्र में गरीबी बहुत है। प्रदेश के 146 विकासखण्डों में से 85 अनुसूचित विकासखण्ड हैं। दूसरे सिलेण्डर के लिए गरीबों को एकमुश्त राशि 773 रूपए देना संभव नहीं है। छत्तीसगढ़ का भगौलिक क्षेत्रफल एक लाख 35 वर्ग किलो मीटर है। जहां एलपीजी सिलेण्डरों के वितरको की संख्या आनुपातिक रूप से बहुत कम है। दूर दराज इलाकों में भी घर-घर जाकर एलपीजी गैस सिलेण्डर नहीं दिए जा रहे हैं। 

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने 26 मार्च 2019 को पेट्रोलियम एवं नेचुरल गैस मंत्री और 29 जून को प्रधानमंत्री से इस समस्या से अवगत कराया था। जिस पर अभी तक कोई संज्ञान नहीं लिया गया है। आपके जरिए निवेदन है कि छत्तीसगढ़ राज्य के लिए कैरोसीन आबंटन में की गई कटौती वापस लें और प्रतिवर्ष एक लाख 58 हजार किलो लीटर कैरोसीन का आबंटन करें, जिससे प्रदेश की गरीब और जरूरतमंद आबादी को पीडीएस के जरिए कैरोसीन मुहैया कराई जा सके। 

 


Date : 17-Jul-2019

जिला स्तरीय फुटबॉल में धरसींवा विजेता, जिले के वॉलीबॉल खिलाडिय़ों का चयन
छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 17 जुलाई।
स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा सपे्र शाला मैदान में वॉलीबॉल तथा मोनेट स्कूल में फुटबॉल की जिला स्तरीय स्पर्धा आयोजित की गई। चयनित खिलाड़ी जोन स्तरीय स्पर्धा में जिले का प्रतिनिधित्व करेंगे।

सप्रे शाला मैदान में आयोजित जिला स्तरीय वॉलीबॉल स्पर्धा में अभनपुर, आरंग, धरसींवा और तिल्दा विकासखंड के 240 खिलाड़ी शामिल हुए। चयनित खिलाड़ी 20 जुलाई को गरियाबंद में आयोजित जोन स्तरीय स्पर्धा में भाग लेंगे। 

वॉलीबॉल चयन सूची में शामिल खिलाडिय़ों के नाम इस प्रकार हैं- अंडर 17 बालक वर्ग में सत्यम तिवारी, आदर्श पांडेय, राजेश सिंह, अभिषेक प्रताप सिंह, अमन सिंह, युवराज सिंह, कुलदीप जायसवाल, पंकज सोनी, अभिनाश, रामनारायण यादव, उमाशंकर वर्मा, भूनेश्वर विश्वकर्मा, वाय शिवा, शुभम यादव, हर्षित अग्रवाल, केशव यादव को शामिल किया गया। 
अंडर 19 बालक वर्ग में सौरभ, प्रताप सिंह चौहान, फिरोज कुरैशी, सतीश, रोहन कुमार, रमन कुमार, खेलु राम यादव, अमन, प्रशांत सिंह, थानेन्द्र वर्मा, चंद्रदेव वर्मा, गौरव वर्मा, नमन कांत दीवान, हर्ष तथा तनिष्क साहू को शामिल किया गया है। अंडर 14 बालक में बाबू बेरा, नेतराम, शिवा, डेमन, चैतन्य, काव्या, प्रभात, श्रेयांश, शौर्य, वंश, हर्षवधन और हरीश को शामिल किया गया। 

बालिका वर्ग- 19 वर्ष में नवोनीता बेरा, अमिशा राजवाड़े, अमनजीत कौर, उपासना ध्रुव, कंचन आडिल, घृती विश्वास, मिताली अग्रवाल, भूमि शर्मा, अंशकुमारी, तनु, रिया और प्रगति को शामिल किया गया। बालिका 14 वर्ष में डाली वर्मा, अंजली वर्मा, सुंदरी, भूमिका, शाहिना, श्रेया, पीहू, दीक्षा, खुशी, लक्ष्मी साहू, कृषिका, अब्या को शामिल किया गया है। 
मंदिरहसौद स्थित मोनेट स्कूल में जिला स्तरीय फुटबाल स्पर्धा आयोजित की गई। स्पर्धा में आरंग, धरसींवा और तिल्दा ब्लाक की खिलाडिय़ों ने भाग लिया। पहला मैच आरंग और तिल्दा के मध्य हुआ। जिसमें आरंग 4-0 से विजेता रहा। फायनल मैच धरसींवा और आरंग के बीच खेला गया। जिसमें धरसींवा विजेता रहा। इस अवसर पर खेल प्रभारी नीलमनी चंद्राकर सैमुएल पीयूष राकेश प्रधान सहित अन्य क्रिड़ा अधिकारी मौजूद रहे। 

 

 

 

 

 


Date : 17-Jul-2019

गोदग्राही ग्राम में दिवस नि:शुल्क आयुर्वेद रोग निदान एवं चिकित्सा शिविर आयोजित 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 17 जुलाई।
धरसीवां के गोदग्राही ग्राम में विगत दिवस नि:शुल्क आयुर्वेद रोग निदान एवं चिकित्सा शिविर आयोजित किया गया। इस शिविर में विशेषज्ञ चिकित्सक के रूप में डॉ. स्वाति अग्रवाल शामिल हुईं। उन्होंने शिविर में आए रोगियों की जांच की तथा उपचार हेतु परामर्श दिया। आसपास के ग्रामीणों ने भी इस चिकित्सा शिविर का भरपूर लाभ उठाया। उन्होंने अपनी स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के निराकरण हेतु विशेषज्ञों से बात की। प्राचार्य वंदना चन्सोरिया के मार्गदर्शन में शासकीय नर्सिंग कॉलेज की छात्राओं ने शिविर में अपना योगदान दिया। शिविर में एसोशिएट प्रोफेसर अर्चना जैकब व डेमोंस्ट्रेटर जास्मिन राम भी शामिल रहे।


Date : 17-Jul-2019

टेबल टेनिस संघ द्वारा मानसून लीग टेबल टेनिस प्रतियोगिता का आयोजन 

रायपुर, 17 जुलाई। टेबल टेनिस संघ द्वारा मानसून लीग टेबल टेनिस प्रतियोगिता का आयोजन 21 से 23 जुलाई तक सप्रे शाला टेबल टेनिस हाल, रायपुर में किया जा रहा है। चार वर्गों में आयोजित प्रतियोगिता में सब जूनियर बालक एकल, सब जूनियर बालिका एकल, कैडेट बालक एकल एवं कैडेट बालिका एकल शामिल होंगे।  प्रतियोगिता हेतु प्रविष्टि कि अंतिम तिथि 20 जुलाई है।    प्रतियोगिता में भाग लेने वाले इच्छुक खिलाड़ी अपना नाम सप्रे शाला टेबल टेनिस हाल में सुबह 7 से 9 एवं सायं 6 से 8 बजे के मध्य दर्ज करा सकते हैं। 

 


Date : 17-Jul-2019

कटघोरा में कैदी की मौत संदेहास्पद, उच्चस्तरीय जांच हो-भाजपा

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 17 जुलाई।
प्रदेश भाजपा ने कटघोरा उप जेल में एक कैदी की मौत को संदेहास्पद बताते हुए उसकी उच्चस्तरीय जांच की मांग की है। उनका आरोप है कि जेल में मारपीट के चलते कैदी की मौत हुई है, लेकिन वहां किसी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई। पीडि़त परिवार को मुआवजा भी नहीं दिया गया। 

नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, भाजपा विधायक सौरभ सिंह ने बुधवार को यहां पत्रकारों को बताया कि 13 जुलाई की शाम कटघोरा उप जेल से दीवार फांदकर भागने के प्रयास में एक कैदी की मौत और एक कैदी के घायल होने की खबर सामने आई। प्रदेश भाजपा ने घटना पर संदेह जताते हुए चार सदस्यीय जांच टीम गठित की। जांच टीम में शामिल पूर्व मंत्री ननकीराम कंवर, पूर्व सांसद बंशीलाल महतो, लखन लाल देवांगन, अशोक चौलानी की टीम ने मौके पर पहुंचकर घटना की जांच करते हुए जेल प्रशासन से चर्चा की। एक दिन की जांच के बाद टीम ने भाजपा को अपनी रिपोर्ट सौंपी। 

श्री कौशिक व श्री सिंह का संदेह जताते हुए कहना है कि जेल की दीवार करीब 25 फीट ऊंची है और उसकी बैरक से दूरी करीब 30 फीट है। जेल प्रशासन के मुताबिक उस बैरक में चोरी के आरोप में ग्राम-सरसों के रहने वाले तीन कैदी बंद थे। इसमें से दो कैदी रमेश कुमार व अशोक कुमार  जेल से भागने के प्रयास में पकड़े गए। दोनों को वहां के सरकारी अस्पताल में इलाज के लिए ले जाया गया, जहां अशोक कुमार का हाथ-पैर फै्रक्चर बताकर उसे कोरबा जिला अस्पताल भेज दिया गया। वहीं रमेश कुमार को किसी भी तरह से चोट न लगने पर वापस जेल दाखिल कर दिया गया। 

उन्होंने बताया कि 14 जुलाई की सुबह जेल ले गए कैदी रमेश को फिर से कटघोरा अस्पताल लाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। उनका आरोप है कि जेल में प्रताडऩा के चलते उसकी मौत हुई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट अभी तक नहीं आई है। घटना के बाद से जेल के किसी भी अधिकारी-कर्मचारी पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है। परिजनों को कोई मुआवजा भी नहीं दिया गया है। उन्होंने मामले की बारीकी से जांच करा दोषी पर कार्रवाई और पीडि़त परिवार को मुआवजा देने की मांग की है। 

राज्य सरकार को सबक लेने की जरूरत-कौशिक
नेता प्रतिपक्ष श्री कौशिक ने कटघोरा उपजेल में कैदी की मौत के कुछ समय पहले चंदौरा थाने में गिरफ्तार कर रखे गए एक युवक की फांसी लगाकर मौत की खबर सामने आई थी। इस घटना की जांच भी भाजपा की टीम ने की थी और उनका मानना था कि थाने में युवक की हत्या की गई थी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार को प्रदेश में इस तरह की हो रही घटनाओं से सबक लेना चाहिए। श्री कौशिक ने एक सवाल के जवाब में यह भी कहा कि ऐसे मामलों को उनके विधायक विधानसभा में लगातार उठा रहे हैं और आगे भी उठाते रहेंगे। 

 

 


Date : 17-Jul-2019

पूछताछ के लिए आने से मुकेश गुप्ता की मनाही, ईओडब्ल्यू अब हाईकोर्ट जाएगी

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 17 जुलाई।
नागरिक आपूर्ति निगम-फोन टैपिंग प्रकरण में फंसे निलंबित डीजी मुकेश गुप्ता के पूछताछ के लिए आने से मना करने के बाद ईओडब्ल्यू अब हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाने की तैयारी कर रही है। बताया गया कि गुप्ता को गुरूवार 18 तारीख को बयान देने के लिए ईओडब्ल्यू दफ्तर पहुंचना था। 

ईओडब्ल्यू के एक आला अफसर ने ‘छत्तीसगढ़’ से चर्चा में बताया कि मुकेश गुप्ता ने पूछताछ के लिए उपस्थित नहीं होने की सूचना दी है। उन्होंने कहा कि गुप्ता ने गिरफ्तारी की आशंका जताई है। जबकि हाईकोर्ट ने मुकेश गुप्ता को ईओडब्ल्यू की जांच में सहयोग देने के आदेश दिए थे और उनकी तत्काल गिरफ्तारी पर भी रोक लगाई थी। 

हाईकोर्ट के आदेश के बाद दो बार तो बयान देने के लिए हाजिर हुए, लेकिन बाद में अलग-अलग कारणों का हवाला देकर ईओडब्ल्यू दफ्तर  आने से बचते रहे। पहले उन्होंने परिवार के सदस्य की बीमारी का हवाला देकर जांच की तिथि बढ़ावा ली थी। बाद में वे आए, लेकिन अब उन्होंने बेटी के एडमिशन के लिए व्यस्त होने का बहाना बताकर फिर से आने में असमर्थता जताई है। ईओडब्ल्यू ने उन्हें 18 तारीख का समय दिया था, लेकिन अब वे फिर पलट गए और पत्र भेजकर आने में  असमर्थता जता दी है। 

बताया गया कि मुकेश गुप्ता के खिलाफ दुर्ग के थाने में एक और प्रकरण दर्ज हो गया है। इसके चलते उन्हें गिरफ्तारी की आशंका भी है। कहा जा रहा है कि दुर्ग पुलिस की एक टीम ने दिल्ली में मुकेश गुप्ता के निवास पर दबिश भी दी है, लेकिन वे नहीं मिले। यही वजह है कि उन्होंने ईओडब्ल्यू में पूछताछ के लिए उपस्थित होने से मना कर दिया है। दूसरी तरफ, ईओडब्ल्यू अब अगले 2-3 दिनों में हाईकोर्ट जाने की तैयारी कर रही है। ईओडब्ल्यू मुकेश गुप्ता के पत्र को अदालत की अवमानना करार दिया है। ईओडब्ल्यू हाईकोर्ट में इस तथ्य को सामने रखेगी। बहरहाल, आने वाले दिनों में इस प्रकरण पर अदालत के आदेश की प्रतीक्षा करेगी।

 


Date : 17-Jul-2019

शासकीय बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय राजिम में वार्षिक खेल कैलेंडर के लिए बैठक सम्पन्न 
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
राजिम, 17 जुलाई।
शासकीय बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय राजिम में 16 जुलाई मंगलवार दोपहर 1 बजे विकासखंड स्तरीय वार्षिक खेल कैलेंडर हेतु आवश्यक बैठक विकासखंड शिक्षा अधिकारी एमएल कंवर एवं विकासखंड स्रोत समन्वयक उत्तम राजवंशी की उपस्थिति में सम्पन्न हुआ। खेल अधिकारी रोमन साहू ने बताया कि विकासखंड स्तरीय 2019-20 के लिए शालेय खेल कैलेंडर निर्माण हेतु विकासखंड फिंगेश्वर के सभी हायर सेकंडरी एवं हाई स्कूल के प्राचार्य एवं क्रीड़ा प्रभारी को जानकारी देते हुए सभी शालाओं में स्काऊट गाइड, जूनियर रेडक्रास के गतिविधियों की संचालन हेतु जानकारी दी गई। उन्होंने आगे बताया कि क्रीड़ा, स्काऊट गाइड, जूनियर रेडक्रास के पंजीयन शुल्क विकासखंड, जिला, क्षेत्रीय एवं राज्य हेतु 15 अगस्त तक जमा करने हेतु निर्धारित समय सीमा निश्चित किया गया है। साथ विभिन्न क्रीड़ा प्रतियोगिता हेतु दिन, तिथि एवं स्थान के बारे में बतलाया गया। इस अवसर पर प्राचार्य एस कंवर, जेएस साहू, एसएस कंवर, प्रफुल्ल दुबे, वर्षा नेताम, एमआर रात्रे, दिनेश साहू, ओमप्रकाश साहू, खुमान निषाद, चंद्रशेखर मिश्रा, पूरन लाल साहू, भुवन यदु, सुरेश गुप्ता, रेखा उपाध्याय, दिनेश सोनी, सुखसिंह ठाकुर, बुध लाल नेगी, हरिश्चन्द्र निषाद, रामानुज ढीढी, उमाकांत साहू सहित फिंगेश्वर ब्लॉक के क्रीड़ा प्रभारी एवं शिक्षकगण उपस्थित थे।

 


Date : 17-Jul-2019

सराही जा रही है एयरपोर्ट  में लगी पेंटिंग प्रदर्शनी 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 17 जुलाई।
राजधानी के चित्रकार शेख युनूस द्वारा स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट में 15 दिवसीय पेंटिंग सह बिक्री प्रदर्शनी हवाई यात्रियों के आकर्षक का केंद्र बनी हुई है। शेख युनूस ने अपनी पेंटिंग्स में नारी सौंदर्य को जहां दर्शाया है वहीं प्रकृति के वैभव को प्रदर्शित किया है। 
शेख युनूस ने बताया रायपुर एयरपोर्ट में 16 से 30 जुलाई तक आयोजित प्रदर्शनी में उन्होंने कुल 11 पेंटिंग्स को शामिल किया है। प्रदर्शनी में लैंड स्कैप, पोट्रेट, एब्सट्रेक्ट पेंटिग्स शामिल हैं। हवाई यात्रियों द्वारा पेंटिग्स का न सिर्फ अवलोकन किया जा रहा है वरन उसकी सराहना भी की जा रही है। 

 


Date : 17-Jul-2019

मध्यान्ह भोजन,शिक्षा विभाग ने कलेक्टरों को लिखा पत्र

रायपुर, 17 जुलाई। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा आज जिला कलेक्टरों को मध्यान्ह भोजन के मेन्यू के संबंध में स्पष्टीकरण जारी किया गया है। 
पत्र में कहा गया है कि विभाग के एक अन्य पत्र क्रमांक एफ 7-1/2014/20-एक दिनांक 15.01.2019 के तहत प्रोटीन एवं कैलोरी की पूर्ति के लिए मध्यान्ह भोजन के साथ सप्ताह में कम से कम दो दिन अण्डा या दूध या समतुल्य न्यूट्रीशन मूल्य का खाद्य पदार्थ दिए जाने का उल्लेख एवं सुझाव है। चूंकि शाकाहारी परिवार के बालक एवं बालिकाएं भी शासकीय शालाओं में मध्यान्ह भोजन ग्रहण करते हैं, अत: स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा सुझाव के क्रियान्वयन के संबंध में कलेक्टरों को स्पष्टीकरण जारी किया गया है। 

इस स्पष्टीकरण के तहत स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव ने कलेक्टरों को निर्देशित किया है कि आगामी दो सप्ताह में शाला विकास समिति एवं पालकों की बैठक शाला स्तर पर आयोजित कराई जाए। इस बैठक में ऐसे छात्र-छात्राओं को चिन्हित किया जाए जो मध्यान्ह भोजन में अण्डा ग्रहण नहीं करना चाहते हैं। 

मध्यान्ह भोजन तैयार करने के बाद अलग से अण्डे उबालने अथवा पकाने की व्यवस्था की जाए। इसके तहत जिन छात्र-छात्राओं को चिन्हित किया गया है, उन्हें मध्यान्ह भोजन के समय पृथक पंक्ति में बैठाकर मध्यान्ह परोसा जाएं। 
पत्र में कहा गया है कि जिन शालाओं में अण्डा वितरण किया जाना हो, वहां शाकाहारी छात्र-छात्राओं के लिए अन्य प्रोटीनयुक्त खाद्य पदार्थ यथा सुगंधित सोया दूध, सुगंधित मिल्क, प्रोटीन क्रंच, फोर्टिफाइड बिस्किट, फोर्टिफाइड सोयाबड़ी, सोया मूंगफल्ली चिकी, सोया पापड़, फोर्टिफाइड दाल इत्यादि विकल्प की व्यवस्था की जाएं। 

पत्र में यह भी कहा गया है कि यदि पालकों की बैठक में मध्यान्ह भोजन में अण्डा दिए जाने के लिए आम सहमति न हो, तो ऐसी शालाओं में मध्यान्ह भोजन के साथ अण्डा न दिया जाकर घर पहुंचाकर पूरक आहार के प्रदाय की रीति शाला विकास समिति द्वारा विकसित की जाएं। 


Date : 17-Jul-2019

आरक्षक भर्ती नतीजे घोषित नहीं सैकड़ों अभ्यर्थी फिर धरने पर, जल्द भर्ती की मांग, चेतावनी 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 17 जुलाई।
आरक्षक भर्ती परीक्षा 2017-18 के नतीजे अब तक घोषित न करने के विरोध में सैकड़ों अभ्यर्थी फिर से यहां अपने परिजनों के साथ धरने पर बैठ गए हैं। उनकी मांग है कि भर्ती परीक्षा के नतीजे जल्द घोषित किया जाए, ताकि उनकी बेरोजगारी दूर हो सके। 
रायपुर समेत प्रदेश के सैकड़ों अभ्यर्थी अपने परिजनों के साथ सुबह यहां एकजुट हुए। इसके बाद वे सभी नारेबाजी करते हुए धरने पर बैठ गए। उनका कहना है कि पुलिस प्रशासन की ओर से उन सभी को बार-बार आश्वासन दिया जा रहा है, लेकिन नतीजे घोषित नहीं किए जा रहे हैं, जिससे वे सभी परेशान हैं और बेरोजगार भटक रहे हैं। 

अभ्यर्थियों का कहना है कि पुलिस विभाग की ओर से दो साल पहले विज्ञापन जारी कर आवेदन मंगाए गए थे। आरक्षक के 22 सौ से अधिक पदों पर उनकी भर्ती प्रक्रिया शुरू की गई थी। फिजिकल टेस्ट में करीब 64 हजार अभ्यर्थी पास भी हुए थे। इसके बाद उनकी लिखित परीक्षा लेकर बाकी सब कुछ ठंडे बस्ते में डाल दिया गया, जबकि वे सभी भर्ती का लगातार इंतजार कर रहे हैं। 

उनका कहना है कि इस संबंध में उनकी शासन-प्रशासन स्तर पर कई बार चर्चा हो चुकी है। कई बार उन्हें ज्ञापन देकर भर्ती करने की मांग की गई। कहीं कोई सुनवाई न होने पर वे सभी पिछले महीने यहां बेमियादी धरने पर रहे। नतीजे फिर भी घोषित न करने पर वे सभी फिर से परिवार समेत सडक़ पर उतरने मजबूर हैं। उन्होंने चेतावनी दी है कि नतीजे जल्द घोषित कर भर्ती शुरू न करने पर वे सभी आगे की रणनीति बनाने मजबूर होंगे।

 


Date : 17-Jul-2019

आयुर्वेदिक चिकित्सा शिविर से लाभान्वित हुए ग्रामीण

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 17 जुलाई।
धरसीवां के गोदग्राही ग्राम में विगत दिवस नि:शुल्क आयुर्वेद रोग निदान एवं चिकित्सा शिविर आयोजित किया गया। इस शिविर में विशेषज्ञ चिकित्सक के रूप में डॉ. स्वाति अग्रवाल शामिल हुईं। उन्होंने शिविर में आए रोगियों की जांच की तथा उपचार हेतु परामर्श दिया। आसपास के ग्रामीणों ने भी इस चिकित्सा शिविर का भरपूर लाभ उठाया। उन्होंने अपनी स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के निराकरण हेतु विशेषज्ञों से बात की। प्राचार्य वंदना चन्सोरिया के मार्गदर्शन में शासकीय नर्सिंग कॉलेज की छात्राओं ने शिविर में अपना योगदान दिया। शिविर में एसोशिएट प्रोफेसर अर्चना जैकब व डेमोंस्ट्रेटर जास्मिन राम भी शामिल रहे।

 


Date : 17-Jul-2019

राशनकार्ड नवीनीकरण में हितग्राहियों को न हो असुविधा- कलेक्टर 

रायपुर, 17 जुलाई। शासन के निर्देशानुसार राशनकार्डों का नवीनीकरण किया जाना है। राशन कार्ड में आधार नंबर, पासबुक और सदस्यों के आधार नंबर जोड़ा जाना है। राशनकार्ड नवीनीकरण के लिए हितग्राहियों को किसी भी प्रकार की समस्या का सामना न  करना पड़े इसका विशेष ध्यान रखें। राशनकार्ड नवीनीकरण में लापरवाही या अपात्रों को राशनकार्ड जारी करने पर दोषी अधिकारियों के ऊपर कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन ने दिया है। 
उन्होंने कहा कि गिरते भू-जल स्तर को बढ़ाने तथा जल संरक्षण के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए ग्रामीण स्तर पर जल चौपाल का आयोजन किया जाये। जिले के समस्त शासकीय भवनों मे अनिवार्य रूप से वॉटर हार्वेस्टिंग लगाया जाना है। इसके अतिरिक्त अन्य लोगों को भी जल संरक्षण हेतु वॉटर हार्वेस्टिंग बनाने प्रेरित करें। कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन ने कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में साप्ताहिक समय-सीमा में समीक्षा बैठक राशनकार्ड नवीनीकरण और जल चौपाल के आयोजन के संबंध में अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।
उन्होंने कहा कि विभागों में लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत प्राप्त होने वाले आवेदनों का निर्धारित समय-सीमा में निराकरण किया जाए तथा सभी पटवारी सोमवार और मंगलवार को अपने मुख्यालय में अनिवार्य रूप से उपस्थित रहें। कलेक्टर ने कहा कि मुख्यमंत्री के भेंट-मुलाकात जनचौपाल में प्राप्त होने वाले आवेदनों के निराकरण के लिए सभी विभागों में एक नोडल अधिकारी होंगे जो समय-सीमा में आवेदनों के निराकरण की कार्यवाही करेंगे। इसी तरह प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत अभियान चलाकर निर्धारित समय-सीमा के भीतर किसानों की जानकारी साफ्टवेयर में प्रविष्ट कराए। बैठक में अपर कलेक्टर  विनित नंदनवार, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. गौरव कुमार सिंह, एडीएम दीपक अग्रवाल सहित सभी विभागीय अधिकारी उपस्थित थे। 

 

 


Date : 17-Jul-2019

अनुसुईया उइके को राज्यपाल की जिम्मेदारी मिलने पर सीएम ने बधाई दी

रायपुर, 17 जुलाई। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सुश्री अनुसुईया उइके को छत्तीसगढ़ के राज्यपाल की जिम्मेदारी मिलने पर उन्हें हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। श्री बघेल ने उम्मीद जताई है कि राज्यपाल के रूप में सुश्री उइके का प्रतिपालकत्व छत्तीसगढ़ शासन को नई ऊर्जा और विश्वास देगा। 

 

 


Date : 17-Jul-2019

राशन कार्डों के नवीनीकरण कार्य में लापरवाही बर्दाश्त नहीं- भगत

आवेदन संकलन शिविरों में सुविधाएं उपलब्ध कराने के निर्देश

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 17 जुलाई।
खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री अमरजीत भगत ने प्रचलित राशन कार्डों के नवीनीकरण करने के राज्यव्यापी अभियान में आवश्यक सुविधाएं बढ़ाने के निर्देश दिए हैं और यह भी कहा है कि इस कार्य में किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। 

उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ राज्य के सभी ग्राम पंचायतों एवं नगरीय निकायों में 15 जुलाई से राशन कार्ड के नवीनीकरण के लिए आवेदन प्राप्ति हेतु शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। इसके तहत प्रदेश में करीब 58 लाख राशन कार्डधारियों के राशन कार्डों का नवीनीकरण किया जाएगा। 

खाद्य मंत्री ने कहा है कि अधिकांश राशन कार्ड परिवार की महिला मुखिया के नाम पर जारी है। नवीनीकरण के लिए आवेदन देने में बड़ी संख्या में महिलाएं शिविर में आएंगी। इसलिए जरूरी है कि आवेदन संकलन शिविरों में आने वाले राशन कार्डधारियों के बैठने के लिए शेड-कनात (टेन्ट) की व्यापक व्यवस्था की जाए, ताकि बारिश और धूप से हितग्राहियों को असुविधा न हो। खाद्य मंत्री ने आवेदनकर्ताओं के लिए शिविर में पेयजल की समुचित व्यवस्था करने के निर्देश भी दिए गए हैं।
खाद्य मंत्री ने कहा है कि आवेदन पत्र भरने तथा दस्तावेज संलग्न करने हेतु पर्याप्त संख्या में शासकीय कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई जाए, जिससे आवेदकों को अधिक समय तक आवेदन शिविर में अनावश्यक रूकना न पड़े। इसी तरह अशिक्षित आवेदक के आवेदन पत्र को भरने के लिए भी मंत्री श्री अमरजीत भगत ने समुचित व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। 

इसी तरह खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग के सचिव डॉ. कमलप्रीत सिंह ने सभी जिला कलेक्टरों को आज पत्र लिखकर निर्देशित किया है कि आवेदन भरवाने के समय हितग्राहियों से किसी भी स्थिति में राशन कार्ड जमा नहीं कराएं। नवीन राशन कार्ड जारी करते समय ही वर्तमान कार्ड जमा कराएं। 

सचिव ने यह भी बताया है कि राशन कार्ड शिविर में राशन कार्ड नवीनीकरण की समस्त प्रक्रिया नि:शुल्क है। उन्होंने इस आशय की सूचना अनिवार्य रूप से सभी शिविरों में प्रदर्शित करने के निर्देश दिए हैं। विभाग के सचिव डॉ. कमलप्रीत सिंह ने सभी जिलों के कलेक्टर को राशन कार्ड नवीनीकरण का कार्य नियत समय सीमा में पूर्ण करने के निर्देश दिए हैं। 

 

 


Date : 17-Jul-2019

दहीहंडी लूट प्रतियोगिता के अवसर पर दिया जाएगा गौ रत्न, कृष्ण मित्र सम्मान 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 17 जुलाई।
दही हांडी लूट प्रतियोगिता के अवसर पर संस्था कृष्ण जन्माष्टमी उत्सव एवं विकास समिति द्वारा 24 अगस्त को विविध क्षेत्रों में योगदान देने वालों को कृष्ण मित्र, गौ रत्न जैसे सम्मान से जहां विभूषित किया जाएगा वहीं इस अवसर पर मेधावी विद्यार्थियों को भी पुरस्कृत किया जाएगा। बैठक में जन्माष्टमी पखवाड़े के अंतर्गत स्कूली छात्राओं के लिए रंगोली, फैंसी ड्रेस एवं डांस प्रतियोगिता के आयोजन को लेकर चर्चा की गई।

विगत दिवस वृंदावन हाल में सच्चिदानंद उपासने की अध्यक्षता में जन्माष्टमी को लेकर बैठक संपन्न हुई। संस्था के संयोजक माधव लाल यादव और अध्यक्ष सच्चिदानंद उपासने ने बताया कि विगत 10 वर्षों से मुंबई की तर्ज पर प्रदेश स्तर का दही हांडी लूट प्रतियोगिता सप्रे शाला मैदान बुढ़ापारा में आयोजित किया जाता रहा है। 

संस्था द्वारा 11वें आयोजन हेतु बैठक में उपस्थित सभी सदस्यों ने अपने सुझाव दिए। इस संबंध में जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि संस्था द्वारा गौ रक्षा, गौ सेवा, गौ संवर्धन के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाले व्यक्ति या संस्था को गौ रत्न सम्मान, कृष्ण मित्र सम्मान, छत्तीसगढ़ गौरव सम्मान, कृष्ण बलराम शौर्य जैसे सम्मान दिए जाएंगे। इसके अलावा मेधावी विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया जाएगा। 

सम्मान एवं पुरस्कार प्राप्त करने के इच्छुक व्यक्ति या संस्था को अपना आवेदन पत्र संस्था के अध्यक्ष के नाम से संस्था के कार्यालय में प्रेषित करना होगा ।चयन समिति सभी सम्मान और पुरस्कारों के लिए चयनित व्यक्ति या संस्था को विधिवत सूचना  प्रेषित करेगी। 
बैठक में प्रमुख रूप से सच्चिदानंद उपासने ,माधव लाल यादव, धनुलाल देवांगन, राधेश्याम बुंदेल, हितेश दीवान, छोटे लाल यादव, डॉ. रामानंद यदु, प्रदीप गोविंद शितूत, डॉ मनोज ठाकुर, बल्लू शर्मा, भुनेश्वर यादव, नरेश यदु, बिहारी लाल शर्मा, पीयूष परिहार, लोकेश यादव, सुमन दीवान, हेमलता यादव, अचला स्वामी, दमयंती देशपांडे, अनघा करकसे, अंजलि शीतूत, विजय पाल, नेमीचंद साहू, हरीराम सेन, चंद्रशेखर साहू सहित बड़ी संख्या में सदस्य उपस्थित रहे।

 


Date : 17-Jul-2019

राज्य में लक्ष्य से अधिक बीज भण्डारित समितियों में बीज एवं उर्वरक का भी पर्याप्त भण्डारण

रायपुर, 17 जुलाई। कृषि विकास, किसान कल्याण मंत्री तथा जैव प्रौद्योगिकी मंत्री रविन्द्र चौबे ने मंत्रालय में कृषि एवं संबंधित विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक लेकर छत्तीसगढ़ राज्य में मानसून के विलंब आगमन और पिछले कुछ दिनों से अवर्षा की स्थिति की समीक्षा की। 

उल्लेखनीय है कि 15 जुलाई की स्थिति में राज्य में 304 मिली मीटर की वर्षा हुई है जो पिछले वर्ष की तुलना में 17 प्रतिशत कम है। छत्तीसगढ़ के 8-9 जिले ऐसे है जहां 80 प्रतिशत से कम वर्षा हुई है। कृषि मंत्री श्री चौबे ने ऐसे जिलों में बीज एवं उर्वरक के भण्डारण और वितरण पर विशेष रूप से ध्यान देने के निर्देश अधिकारियों को दिए। 

श्री चौबे ने कहा है कि राज्य में किसी भी प्रकार के आदान सामग्रियों में कमी न हो इसके लिए कृषि एवं संबंधित विभागों के मैदानी अमले फिल्ड की लगातार निगरानी करें और तत्काल आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चित करें। कृषि मंत्री ने अवर्षा से प्रभावित क्षेत्रों के लिए विभाग द्वारा तैयार आकस्मिक कार्ययोजना के अनुसार दलहन-तिलहन एवं कम वर्षा की धान किस्मों की व्यवस्था करने के लिए कृषि एवं बीज निगम के संचालक को निर्देशित किया। 

कृषि मंत्री ने कृषि विवि रायपुर को भी छत्तीसगढ़ के आवश्यकतानुसार समसामयिक तकनीकी सलाह जारी करने कहा है। उन्होंने कृषि, उद्यानिकी, मत्स्य एवं पशुपालन विभाग के जिला स्तरीय अधिकारियों और मैदानी अमलें को भी नियमित रूप से अपने क्षेत्रों में चौपाल, गोष्ठी और परिचर्चा का आयोजन करने तथा कृषि संबंधी तकनीकी सलाह देने के निर्देश दिए हैं। 

कृषि मंत्री ने उद्यानिकी विभाग को बाड़ी विकास कार्यक्रम के अंतर्गत कृषकों को बीज, खाद इत्यादी की व्यवस्था तत्काल कराने के निर्देश दिए तथा कृषकों से सतत् सम्पर्क बनाए रखने के लिए कहा। उन्होंने पशुपालन विभाग को निर्देशित किया है कि गौशाला, गौठान इत्यादि का सतत् निरीक्षण करते हुए समुचित प्रबंध करें तथा मौसमी बीमारियों के रोकथाम के लिए वृहद टीकाकरण कार्यक्रम भी चलाए। उन्होंने वर्षा की कमी के कारण दुर्ग, राजनांदगांव एवं बलरामपुर जिले में मत्स्य बीज उत्पादन पर विशेष ध्यान देने की बात कही।  

कृषि मंत्री ने बैठक में राज्य में बोवाई कार्य के साथ-साथ कृषि कार्यों की स्थिति की जानकारी ली। बैठक में बताया गया कि मैदानी अमलों के आंकलन के आधार पर अभी तक राज्य में बोता धान का क्षेत्राच्छादन लगभग 80 प्रतिशत हो चुका है। धान रोपाई का कार्य अभी प्रारंभ हुआ है तथा एक सप्ताह बाद इस कार्य में तेजी आएगी। 15 जुलाई की स्थिति में राज्य के कुल क्षेत्राच्छादन का लगभग 50 प्रतिशत हुआ है जो गत वर्ष इसी अवधि के क्षेत्राच्छादन से 9 प्रतिशत कम है।

बैठक में बताया गया कि राज्य में खरीफ वर्ष-2019 में 8 लाख 50 हजार 550 क्विंटल बीज एवं 10 लाख 50 हजार मीट्रिक टन उर्वरक की आवश्यकता आंकलित की गई है। इसके विरूद्ध 15 जुलाई की स्थिति में राज्य में 8 लाख 57 हजार 297 विक्ंटल बीज भण्डारित किया जा चुका है, जो आंकलित आवश्यकता का 101 प्रतिशत है। कृषकों द्वारा अभी तक 6 लाख 89 हजार क्विंटल से अधिक बीज का उठाव किया जा चुका है, जो लक्ष्य का 81 प्रतिशत है। 

बैठक में बताया गया कि राज्य में 9 लाख 51 हजार 781 मीट्रिक टन उर्वरक राज्य में भण्डारित है जो मांग का 91 प्रतिशत है। अभी तक 5 लाख 5 हजार 943 मीट्रिक टन उर्वरक वितरण हुआ है तथा 4 लाख 45 हजार मीट्रिक टन उर्वरक केन्द्रों में भण्डारित है। वर्तमान में राज्य की एक हजार 333 समितियों में बीज एवं उर्वरक का पर्याप्त भण्डारण है।