छत्तीसगढ़ » रायपुर

27-Oct-2020 5:10 PM 15

रायपुर, 27 अक्टूबर। हम भारत के लोग सामाजिक संगठन के तत्वाधान में छत्तीसगढ़ की धरती में अखण्ड भारत के  महान सम्राट अशोक की याद में विजयदशमी समारोह  गांधी मैदान में आयोजित किया गया। इस अवसर पर  डॉ आंबेडकर चौक से गांधी मैदान तक सैकड़ों की संख्या में नागरिकों ने शोभायात्रा निकाली।

अशोक विजयदशमी के अवसर पर 25 अक्टूबर को माल्यार्पण एवं सलामी के बाद झाँकी के साथ शोभा यात्रा राजधानी के डॉ. आम्बेडकर चौक से शास्त्री चौक, नल घर चौक से होते हुए नगर निगम वाइट् हाउस से गांधी मैदान पहुंची। शोभा यात्रा में प्रदेशभर के सैकड़ों लोग शामिल हुए। दोपहर 2 बजे से 5 बजे तक गांधी मैदान में सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं प्रबोधन का कार्यक्रम रखा गया। कार्यक्रम में बसपा के पूर्व विधायक दुजराम बौद्ध, विजय सेंड, रामकृष्ण जांगड़े, अखिलेश एडगर, रघु नन्दन साहू, विष्णु बघेल, गोल्डी जार्ज, सुनील गनवीर, भुनेश्वर साहेब, नीरा देवी, दुजकुमार भास्कर, राजू खूंटे, नरेश साहू, कात्यायनी देवी, अग्निश देव, रतन गोंडाने, डॉ रमेश सुखदेवे, विनिका दुर्गम, , सीबी कुशवाहा, संजू कुशवाहा, जितेंद्र सोनकर, अजय चौहान,नागेश कुशवाहा, भंजन जांगड़े ,मुकुंद बंछोड़,भीम आर्मी एवं समता सैनिक दल के कार्यकर्ता भी शामिल हुए।

 


26-Oct-2020 8:21 PM 24

अभनपुर, 26 अक्टूबर। महाअष्टमी पर चंडी माता मंदिर में पंडित डॉ. बालेन्दुमणि त्रिपाठी द्वारा हवन पूजन कराया गया। कार्यक्रम में मंदिर समिति सहित आसपास के भक्तगण पूर्णाहूति देने पहुंचे। माता की विषेश आरती के बाद प्रसादी वितरण किया गया। इस अवसर पर मंदिर समिति के अध्यक्ष कांति भाई चावड़ा, विद्याभूशण सोनवानी राजू निम्बेकर लीलाराम साहू संदीप दीवान रामलाल साहू जागृत कोषले सहित अन्य लोग उपस्थित थे ।

 


26-Oct-2020 5:52 PM 30

  सीएम रावणभाठा दशहरा उत्सव में हुए शामिल  

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

रायपुर, 26 अक्टूबर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सार्वजनिक दशहरा उत्सव समिति दूधाधारी मठ द्वारा रायपुर के रावणभाठा में आयोजित दशहरा उत्सव में शामिल हुए। उन्होंने वहां रावण वध के पश्चात् भगवान श्री बालाजी के आरती कार्यक्रम में भाग लेते हुए पूजा-अर्चना की और प्रदेश की समृद्धि तथा खुशहाली के लिए कामना की।

श्री बघेल ने दशहरा उत्सव में शामिल होने पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि श्री दूधाधारी मठ द्वारा आयोजित यह उत्सव छत्तीसगढ़ के सबसे प्राचीन दशहरा उत्सव में माना जाता है। इसके लिए उन्होंने संरक्षक राजेश्री महंत डॉ. रामसुंदरदास तथा अध्यक्ष मनोज वर्मा सहित पूरे आयोजन समिति की सराहना की। मुख्यमंत्री ने कहा कि दशहरा का पर्व असत्य पर सत्य की जीत, अंधकार पर प्रकाश की जीत और अधर्म पर धर्म की जीत का पर्व है। यह पर्व हमें अपने अहंकार तथा बुराई को समाप्त कर अच्छाई तथा सत्य की राह पर चलने का सीख देता है। जब तक हमारे समाज, आस-पास तथा स्वयं में जो बुराई है वह समाप्त नहीं होगी तब तक हम और हमारा समाज आगे नहीं बढ़ पाएगा। इसलिए समाज में अहंकार, बुराई तथा असत्य के प्रतीक रावण का नाश जरूरी है, तभी हम आगे बढ़ पाएंगे।

मुख्यमंत्री ने बताया कि रावणभाठा में आयोजित दशहरा उत्सव की छत्तीसगढ़ के सबसे प्राचीन दशहरा उत्सव के रूप में विशिष्ट ख्याति और पहचान है। अभी कोरोना संकट के दौर में भी नियमों का पालन करते हुए परम्परागत रूप से दशहरा उत्सव के आयोजन के लिए उन्होंने श्री दूधाधारी मठ और समिति की सराहना की। उन्होंने बताया कि राजधानी रायपुर में नागपुर के भोसले वंश के शासक रघुराव जी भोसले द्वारा संवत 1610 अर्थात् सन 1554 में श्री दूधाधारी मठ की स्थापना की गई थी। तब से लेकर अब तक यहां दशहरा उत्सव उत्साह के साथ मनाया जाता रहा है।

कार्यक्रम को विधायक बृजमोहन अग्रवाल तथा महापौर एजाज ढेबर ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर सभापति  प्रमोद दुबे, पार्षद सतनाम पनाग, समीर अख्तर, सरिता वर्मा, चंद्रशेखर शुक्ला, प्रभात मिश्रा, सुशील ओझा, आदि उपस्थित थे।


26-Oct-2020 5:51 PM 163

जातिगत रंग भी ले सकता है चेंबर चुनाव

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

रायपुर, 26 अक्टूबर। चेंबर चुनाव को लेकर गहमा-गहमी तेज हो गई है। रोज नए समीकरण बन रहे हैं। इस कड़ी में व्यापारी एकता पैनल से पूर्व विधायक श्रीचंद सुंदरानी या उनके भाई राधाकिशन सुंदरानी चुनाव मैदान में उतर सकते हैं।

हालांकि सुंदरानी ने ‘छत्तीसगढ़’ से चर्चा में कहा कि वे चुनाव लडऩे के इच्छुक नहीं है। उन्होंने कहा कि उन पर भाजपा जिला अध्यक्ष होने के नाते काफी जिम्मेदारी है। यद्यपि व्यापारियों का उन पर अध्यक्ष का चुनाव लडऩे के लिए काफी दबाव है। सुंदरानी ने कहा कि व्यापारी एकता पैनल जिसे भी उम्मीदवार बनाएगी, उसे जिताने के लिए वे व्यक्तिगत तौर पर हर मतदाता तक जाएंगे।

कुछ लोग श्रीचंद के चुनाव नहीं लडऩे की दशा में उनके भाई राधाकिशन सुंदरानी के अध्यक्ष प्रत्याशी होने की चर्चा भी है। इस पर श्रीचंद ने कहा कि उनका भाई बालिग है। पिछले 10 साल से चेंबर में सक्रिय है। यदि वह एकता पैनल से चुनाव लडऩे के लिए आवेदन देता है, तो उसके नाम का भी विचार किया जाएगा। राधाकिशन सुंदरानी वर्तमान में चेंबर के कार्यकारी अध्यक्ष भी हैं। व्यापारी एकता पैनल ने 5 नवंबर तक चुनाव लडऩे के लिए दावेदारों से नाम मांगे हैं। नाम आने के बाद प्रत्याशी तय करने के लिए पैनल की पंच कमेटी की बैठक होगी। एकता पैनल से ललित जैसिंघ, राजेंद्र जग्गी, चंदर विधानी, लालचंद गुलवानी, राजेश वासवानी और योगेश अग्रवाल के नाम भी अध्यक्ष पद के दावेदार के रूप में चर्चा में है।

दूसरी तरफ, जय व्यापार पैनल के बैनर तले चेंबर के पूर्व अध्यक्ष अमर परवानी के चुनाव मैदान में उतरने से इस बार मुकाबला दिलचस्प हो गया है। परवानी के समर्थन में कई बड़े नेता खुलकर आ गए हैं। इन सबके बावजूद चेंबर का चुनाव जातिगत रंग भी लेता दिख रहा है। कुछ व्यापारी नेताओं ने फेसबुक-वाट्सअप के जरिए इस पर चिंता भी जताई है। चेंबर में कुल सदस्य संख्या 16726 हैं। इनमें सबसे ज्यादा सिंधी समाज के व्यापारी 4106, जैन 2386, अग्रवाल 3014, मुस्लिम 500, माहेश्वरी 484, पंजाबी-सिक्ख 1183 और 734 गुजराती समाज के हैं।  कुछ व्यापारी नेताओं का मानना है कि यदि सिंधी समाज से अध्यक्ष के ज्यादा प्रत्याशी हुए, तो इसका फायदा गैर सिंधी उम्मीदवार को मिल सकता है। मगर चेंबर के पदाधिकारी इससे इंकार करते हैं। उनका कहना है कि पिछले चुनाव में प्रगति पैनल के अमर गिदवानी अकेले सिंधी प्रत्याशी थे, मगर वे दो हजार वोट नहीं बटोर सकें। यूएन अग्रवाल की अगुवाई वाले व्यापारी विकास पैनल के पंच कमेटी की जल्द बैठक होने वाली है, जिसमें प्रत्याशियों को लेकर विचार किया जाएगा। बहरहाल,  अगले कुछ दिनों में प्रत्याशियों को लेकर तस्वीर साफ होने की उम्मीद है।

भाजपा-कांग्रेस की भी नजर

व्यापारियों के इस सबसे बड़े संगठन के चुनाव पर कांग्रेस-भाजपा नेताओं की भी नजर है। दोनों ही दलों के नेता अपना समर्थित प्रत्याशी उतारने पर जोर दे रहे हैं। कांग्रेस के एक सीनियर नेता ने तो पिछले दिन कुछ व्यापारी नेताओं के साथ बैठक भी की है।

हालांकि कांग्रेस के कई नेता मानते हैं कि चेंबर के चुनाव से पार्टी को अलग रहना चाहिए। भाजपा के भी नेताओं का कुछ इसी तरह का विचार है। वैसे भी  श्रीचंद सुंदरानी जैसे कई प्रभावशाली नेता भाजपा के हैं। फिर भी चुनाव की घोषणा के बाद दोनों दलों का रूख सामने आ सकता है।


26-Oct-2020 5:50 PM 21

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

रायपुर, 26 अक्टूबर। निगम मुख्यालय उडऩदस्ता सहित सभी 10 जोनों की टीम ने शहर के मुख्यमार्गों पर हजार से अधिक बैनर, फ्लैक्स व बोर्ड हटाए।

निगम का यह  अभियान  जीई रोड सहित सभी मुख्य मार्गो में चला। इस बीच, चौक चैराहों में, विद्युत पोलो में लगाए गए 1000 से अधिक फ्लैक्स व बोर्ड निकालकर हटाने की कार्यवाही की गई। उक्त फ्लैक्स व बोर्ड जहां राजधानी शहर के मार्गों की सुंदरता पर विपरीत प्रभाव डाल रहे थे।


26-Oct-2020 5:50 PM 24

रायपुर, 26 अक्टूबर। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डोमन सिंह ने तहसील कार्यालय पेंड्रारोड में विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों की बैठक लेकर मतदान केन्द्रों में बूथ लेवल एजेंटों की नियुक्ति और डाकमत पत्र के संबंध में चर्चा की।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों  को जानकारी दी कि मतदान केन्द्रों में मतदान एजेंटों की नियुक्ति में भारत निर्वाचन आयोग की गाईडलाइन का पालन आवश्यक है। उन्होंने कहा कि   जिस मतदान केन्द्र में पोलिंग एजेंट नियुक्त किया जाएगा, उस एजेंट को उसी मतदान केन्द्र का मतदाता होना चाहिए। मतदान अभिकर्ता को सरकारी कर्मचारी नहीं होना चाहिए।  मतदान केन्द्र में एक समय में एक पार्टी के एक ही एजेंट को बैठने की अनुमति होगी। उन्होंने कहा कि 28 अक्टूबर को विकासखंडवार 12 बजे सभी पोलिंग एजेंटों को प्रशिक्षण भी दिया जाएगा।

बैठक में बताया गया कि डाकमत पत्र के माध्यम से मतदान के प्रथम चरण में ऐसे मतदाता जो डाक मतपत्र के माध्यम से मतदान नहीं कर पाए है, उनके लिए 27 अक्टूबर को भारत निर्वाचन आयोग के दिशानिर्देश अनुसार डाक मतपत्र के माध्यम से मतदान करने की सुविधा प्रदान की जाएगी। बैठक में अपर कलेक्टर अजीत बसंत, अपर कलेक्टर बी सी एक्का, एस डी एम अपूर्व टोप्पो सहित विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।


26-Oct-2020 5:49 PM 46

कोरोना मौत के आंकड़े बढक़र 1818 हो गए

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

रायपुर, 26 अक्टूबर। प्रदेश में कोरोना से कल 8 मरीजों की मौत हुई। इसमें रायपुर के 2 मरीज शामिल हैं, जिनका अलग-अलग जगहों पर इलाज चल रहा था। इनके संपर्क में आने वालों की जांच-पहचान जारी है। दूसरी तरफ, इन मौतों को मिलाकर प्रदेश में कोरोना मौत के आंकड़े बढक़र 1818 हो गए हैं।

बुलेटिन के मुताबिक राजधानी और आसपास जिन मरीजों की मौत दर्ज की गई है, इसमें मोती नगर नया रायपुर का 50 वर्षीय पुरूष,  जीजामगांव कुरूद (धमतरी) का 71 वर्षीय पुरूष, सेक्टर-8 भिलाई की 3 वर्षीय बालिका, हीरापुर कोतरा रोड (रायगढ़) का 52 वर्षीय पुरूष, खम्हारडीह सारंगढ़(रायगढ़) का 50 वर्षीय पुरूष, कुम्हारी सारंगढ़(रायगढ़) का 72 वर्षीय पुरूष, पथरिया जांजगीर-चांपा का 62 वर्षीय पुरुष व माहुरबंद पारा कांकेर की 54 वर्षीय महिला शामिल हैं।

इन सभी मरीजों का इलाज एम्स, अंबेडकर अस्पताल समेत प्रदेश के अलग-अलग अस्पतालों में चल रहा था। इसमें से 3 की मौत कोरोना से हुई है। बाकी 5 मौतें गंभीर बीमारियों के साथ कोरोना से दर्ज की गई है।


26-Oct-2020 5:49 PM 21

रायपुर, 26 अक्टूबर। महापौर एजाज ढेबर एवं सभापति प्रमोद दुबे ने निगम जनसम्पर्क प्रेस विभाग में स्थित आफसेट प्रिंटिंग मशीन की दशहरा के पावन अवसर पर पूजा अर्चना की। रावणभाठा स्थित फिल्टर प्लांट की भी पूजा अर्चना की 


26-Oct-2020 5:49 PM 38

मौतें-539, एक्टिव-7503, डिस्चार्ज-32387

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

रायपुर, 26 अक्टूबर। राजधानी रायपुर समेत जिले में कोरोना मरीज साढ़े 40 हजार आसपास पहुंच गए हैं। बीती रात मिले 144 नए पॉजिटिव के साथ इनकी संख्या बढक़र 40 हजार 429 हो गई है। दूसरी तरफ, इन सभी मरीजों में से 539 की मौत हो चुकी है। 7 हजार 503 एक्टिव हैं, जिनका अलग-अलग जगहों पर इलाज जारी है। 32 हजार 387 मरीज ठीक होकर अपने घर लौट गए हैं।

राजधानी रायपुर समेत जिले में कोरोना संक्रमण जारी है और कई जगहों से नए पॉजिटिव सामने आ रहे हैं। हालांकि इनकी संख्या पहले से बहुत कम हो गई हैं। सितंबर में ये पॉजिटिव हजार से पार कर चुके थे। डॉक्टरों का मानना है कि लगातार सतर्कता बरती जाए, तो संक्रमण में और कमी आ सकती है।

 स्वास्थ्य अफसरों का कहना है कि राजधानी रायपुर समेत जिले के  गांवों में भी कोरोना जांच चल रही है। बड़े अस्पतालों में भर्ती मरीजों की भी जांच की जा रही है। इसके अलावा कई निजी संस्थाओं में कोरोना जांच हो रही है। इन सभी जगहों पर कहीं-कहीं नए पॉजिटिव सामने आ रहे हैं, लेकिन अधिकांश होम आइसोलेशन में रहकर ठीक हो रहे हैं। आने वाले दिनों में पॉजिटिव और कम हो सकते हैं।


26-Oct-2020 5:48 PM 24

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

रायपुर, 26 अक्टूबर। नवरात्रि के अवसर पर पंडालों में विराजित मां दुर्गा का महादेव घाट स्थित विशेष कुंड में सोमवार सुबह से विसर्जन का सिलसिला शुरु हो गया। इस दौरान रंग गुलाल से रचे बसे देवी भक्तों के जयकारों से विसर्जन स्थल सराबोर रहा। राजधानी की कई दुर्गा समितियां बाजे गाजे के साथ जहां विसर्जन स्थल पहुंचीं वहीं कई समितियों ने  दो से ज्यादा साउंड बॉक्स पर लगी पाबंदी और बैंड बाजा से जुड़ी गाइड लाइन के कारण जहां बैंड पार्टियों से दूरी बनाए रखी वहीं शहर की 40 में से बैंड पार्टियों की  दुर्गा विसर्जन में भागीदारी रही।

श्री सतबहनियां दुर्गोत्सव समिति आमापारा बगैर बाजे गाजे के साथ दुर्गा विसर्जन स्थल पहुंची। समिति के सदस्यों ने बताया कि बैंड बाजा पर लगी पाबंदी के कारण समिति ने सादगी पूर्ण ढंग से दुर्गा विसर्जन करने का फैसला लिया था। न्यू आजाद दुर्गोत्सव समिति अध्यक्ष दीपक जायसवाल ने बताया कि बैंड पार्टी पर लगी पाबंदी के कारण समिति ने बैंड पार्टी बुक नहीं किया था।  जसगीत के बीच  विसर्जन स्थल पहुंच कर मां दुर्गा का विसर्जन किया जाएगा।

श्री आदिशक्ति दुर्गोत्सव समिति आमापारा के सदस्यों ने बताया कि अब तक उन्होंने बैंड पार्टी को बुक नहीं किया था लेकिन बैंड पार्टी पर लगी पाबंदी के हटने के कारण समिति बैंड पार्टी की पड़ताल कर रही है। आर्दश नवदुर्गा समिति के दीपक ने बताया कि समिति चाहती है कि बाजे गाजे के साथ दुर्गा विसर्जन किया जाए लेकिन बैंड पार्टियों ने रेट बढ़ा दिए हैं इस कारण से दिक्कत आ रही है।

धुमाल जन कल्याण संघ के अध्यक्ष गौतम महानंद ने बताया कि ऐन समय पर बैंड पार्टियों पर लगे प्रतिबंध को हटाने से बैंड पार्टियों को काम तो मिला लेकिन ज्यादातर पार्टियों ने शासन द्वारा जारी किए गए गाइड लाइन के कारण काम नहीं लिया। पंडरी, गंज थाना से बैंड पार्टी को अनुमति नहीं मिली। रामनगर और गुढियारी में अनुमति दी गई थी। गाइड लाइन के नियमों के कारण शहर की 40 में से 15 ही पार्टियों को ही काम मिल पाया।


26-Oct-2020 5:48 PM 26

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

रायपुर, 26 अक्टूबर। महादेवघाट स्थित विसर्जन कुंड में आज दोपहर तक करीब 2 सौ दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया। इस दौरान श्रद्धालुओं ने काफी उत्साह देखा गया। नौ दिवसीय दुर्गोत्सव के बाद आज दोपहर से यहां दुर्गा प्रतिमाओं के विसर्जन का क्रम शुरू हुआ, जो लगातार जारी रही।

विसर्जन कुंड में निगम अधिकारियों एवं कर्मचारियों की 8 -8 घंटे की तीन पाली में 24 अक्टूबर को सुबह 6 बजे से 27 अक्टूबर को दोपहर 2 बजे तक ड्यूटी लगाई गयी है। क्रेन की सहायता से दुर्गा  प्रतिमाओं का विसर्जन कुंड में किया जा रहा। इस दौरान कोरोना से बचाव के लिए कुंड के आसपास सेनेटाइज भी कराया गया।

नेशनल ग्रीन ट्रीब्यूनल और शासन द्वारा जारी गाइड लाईन का पूर्ण पालन करना सुनिश्चित करने के आदेश दिए है। निगम रायपुर की व्यवस्था के तहत विगत दिवस दोपहर से प्रारंभ दुर्गा माता की मूर्तियों के विसर्जन के सिलसिले के दौरान आज दोपहर तक  आदिशक्ति माता की 190 से अधिक मूर्तियों का विसर्जन श्रद्धालुओं द्वारा क्रेन की सहायता से प्रतिमा विसर्जन कुंड में किया जा चुका है एवं श्रद्धालुगणों द्वारा बड़ी संख्या में विसर्जन करने अपनी बारी की प्रतीक्षा की जा रही है। निगम द्वारा समस्त आवश्यक प्रशासनिक प्रबंधन नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण के प्रसार की कारगर रोकथाम करने विसर्जन स्थल में किये गये है एवं लगातार जोन 8 स्वास्थ्य विभाग टीम द्वारा विसर्जन स्थल क्षेत्र में जनहित में जनस्वास्थ्य सुरक्षा हेतु सघनता से सेनेटाईजर स्पे्र करवाया जा रहा है।


26-Oct-2020 5:47 PM 25

रायपुर, 26 अक्टूबर। पश्चिम विधानसभा के विधायक व संसदीय सचिव विकास उपाध्याय आज मां दुर्गा के विसर्जन कार्यक्रम में पूरे क्षेत्र के विभिन्न आयोजनों में सम्मिलित हो कर छत्तीसगढ़ की पुरानी परंपरा जोत जवारा  में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई।

पूरे शहर में आज दुर्गा विसर्जन को लेकर जबरदस्त धूम धाम रही। ये बात और है कि कोरोना काल के चलते अन्य वर्ष की तरह दुर्गा विसर्जन को लेकर इस बार भक्तों को जिस तरह से इस अवसर पर भक्ति भाव दिखाने खुली छूट मिलती थी इस बार ऐसा नहीं हुआ। बावजूद युवा विधायक विकास उपाध्याय ने माँ दुर्गा के भक्तों की भावना को और लगातार उनके द्वारा की जा रही माँग की उन्हें विसर्जन के लिये ष्ठछ्व और बैंड बाजा जैसे चीजों की अनुमति मिले को लेकर कलेक्टर से बात कर अनुमति दिलाई ताकि हिन्दू समुदाय की भावना का सम्मान बना रहे। इसकी अनुमति मिलने के साथ ही पूरे राजधानी में भक्तों के बीच खुशी की लहर दौड़ गई।

विकास उपाध्याय आज इन्हीं कार्यक्रमों में सम्मिलित हो कर रामनगर, गुडयारी सहित विभिन्न आयोजनों में जोत जवारा के विसर्जन में बढ़ चढक़र भाग लिया। विकास उपाध्याय के इन कार्यक्रमों में सम्मिलित होने से भक्तों में जबरदस्त उत्साह दिखाई दी।


26-Oct-2020 5:47 PM 24

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

रायपुर, 26 अक्टूबर। विजयादशमी के अवसर पर श्री श्री दुर्गोत्सव समिति माना तथा माना बाजार दुर्गोत्सव समिति द्वारा आयोजित दुर्गा पूजा के अवसर पर सोमवार को मां दुर्गा की विदाई के पहले बंगाली समाज की महिलाओं ने सिंदूर खेला के दौरान मां दुर्गा को सिंदूर अर्पित किया तथा एक दूसरे को सिंदूर लगाकर सदा सुहागिन रहने की कामना की।

श्री श्री दुर्गोत्सव समिति के सचिव तरुण वेद्य ने बताया कि यह मान्यता है कि दुर्गा पूजा के मौके पर मां दुर्गा अपने मायके आती हैं और दशमी में उनकी विदाई होती है। इस दिन सुहागिनें मां दुर्गा को सिंदूर अर्पित कर अखंड सुहाग की कामना करती हैं। इस मौके पर महिलाएं एक दूसरे को सिंदूर लगाती हैं। कोरोना के कारण इस बार एहतियात बरतते हुए सिंदूर खेला का आयोजन किया गया। समिति द्वारा विगत दिवस आरती प्रतियोगिता भी आयोजित की गई तथा विजेताओं को पुरस्कृत किया गया। 

माना बाजार दुर्गोत्सव समिति द्वारा आयोजित दुर्गा पूजा के दौरान विजयदशमी के अवसर पर मां दुर्गा की विदाई पूर्व सुहागिनों ने मां दुर्गा को सिंदूर अर्पित किया तथा सिंदूर खेला की परंपरा का निवर्हन किया। सचिव अमित घोष ने बताया कि इस दौरान मेल जोल और उल्लास का वातावरण बना रहा। समिति द्वारा कोरोना के नियमों का पालन किया गया तथा भोग भंडारा का आयोजन  नहीं किया गया।


26-Oct-2020 5:46 PM 15

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

रायपुर, 26 अक्टूबर। प्रदेश के मुख्य सचिव आर.पी. मंडल ने आज रायपुर शहर के हृदय स्थल देवेंद्र नगर तिराहा (तिरंगा चैराहा) से देवेंद्र नगर कॉलोनी जाने वाले मुख्य मार्ग के चौड़ीकरण और सौंदर्यीकरण कार्य का अवलोकन किया। इस सड़क के चौड़ीकरण होने से ना केवल यातायात जाम जैसी समस्या से लोगों को निजात मिलेगी बल्कि शहर को एक आकर्षक और व्यवस्थित मार्ग की सौगात भी मिलेगी।

श्री मंडल ने अवलोकन के दौरान इस कार्य को जल्द से जल्द पूरा करने के निर्देश दिए। उल्लेखनीय है कि  सड़क चौड़ीकरण के मार्ग में आने वाले 47 दुकानों को भी  स्थानांतरित कर इसके पीछे बनाया जा रहा है, दुकानें फिर से पुराने दुकानदारों को पुन: संचालन के लिए प्रदाय कर दी गई है। इससे लोगों को व्यवसायिक गतिविधियों को चलाने में आसानी होगी।

अवलोकन के दौरान विधायक एवं अध्यक्ष गृह निर्माण मंडल  कुलदीप जुनेजा, कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन, निगम आयुक्त सौरभ कुमार सहित जोन कमिश्नर तथा अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे। इस मार्ग के बनने से अब देवेंद्र नगर जाने वाले मुख्य मार्ग की चौड़ाई बढ़कर 80 फीट हो जाएगी और इसके बीचों-बीच डिवाइडर में सुंदर और आकर्षक पेड़ भी वातावरण को आकर्षक तथा ऑक्सीजनयुक्त बनाने में मददगार बनेंगे। इसके अलावा यहां रात्रि को रोशन करने आकर्षक विद्युत व्यवस्था भी की जाएगी।


26-Oct-2020 5:45 PM 12

रायपुर, 26 अक्टूबर। महाकौशल कला परिषद द्वारा महाकौशल कला वीथिका के फेसबुक पेज पर विगत दिवस रावण पर आधारित 53वीं अखिल भारतीय कला प्रदर्शनी आयोजित की गई। प्रदर्शनी में 54 कलाकारों के 54 कृतियों को शामिल किया गया है। प्रदर्शनी में म.प्र., आंध्रप्रदेश, कर्नाटक, महाराष्ट्र,केरल सहित गुजरात राजस्थान के कलाकारों की कृतियों को शामिल किया गया है। प्रदर्शनी में बलशाली रावण को कोरोना से बचाव के लिए मास्क का उपयोग करते, बस्तर दशहरा, सीताहरण जैसे सन्दर्भों को चित्रित किया गया है। प्रदर्शनी में छत्तीसगढ़ के श्याम निनोरिया,कल्याण प्रसाद शर्मा, अवतार सिंह भंगल सहित अन्य कलाकारों की कृतियों को शामिल किया गया है।


26-Oct-2020 5:44 PM 35

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

रायपुर, 26 अक्टूबर। कैट के प्रदेश अध्यक्ष अमर परवानी, कार्यकारी अध्यक्ष मंगेलाल मालू, विक्रम सिंहदेव, महामंत्री जितेंद्र दोशी आदि कार्यकर्ताओं ने अपने महत्वाकांक्षी ई कॉमर्स पोर्टल 'भारतईमार्केटÓ का लोगो 30 अक्टूबर को लांच करने का ऐलान किया है।

कैट का 'भारतईकॉमर्सÓ पोर्टल विशुद्ध रूप से भारतीय होगा जिसमें विदेश से प्राप्त किसी भी धन का निवेश नहीं होगा। पोर्टल पर प्राप्त होने वाला डाटा देश में ही स्थापित सर्वर पर रखा जाएगा और एक भी डाटा देश की सीमा से बाहर नहीं जाएगा। कैट ने यह भी घोषणा की की किसी भी प्रकार की चीनी वस्तु कैट के पोर्टल भारतईमार्किट पर नहीं बेची जा सकेंगी। देश में ई कॉमर्स के तेजी से बढ़ते प्रभाव को देखते हुए और देश के मायूस व्यापारियों के उत्थान के लिए कैट ने खुद के ई कॉमर्स पोर्टल को लांच करने की घोषणा कुछ महीने पूर्व ही कर दी थी और उसके बाद कैट लगातार भारतईमार्किट प्रोजेक्ट पर काम करता आ रहा है जिसमें अत्याधुनिक टेक्नोलॉजी, डिलीवरी सिस्टम, सामन का क्वालिटी कण्ट्रोल, डिजिटल भुगतान आदि विशिष्ट तकनीकों का पूरा इस्तेमाल किया गया है। भारतईमार्किट पोर्टल सार्वजनिक रूप से दिसंबर के महीने के प्रथम सप्ताह में लांच किया जाएगा।

कैट  के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमर पारवानी ने दशहरे के दिन इसकी घोषणा करते हुए बताया की कैट के ई कॉमर्स पोर्टल भारतईमार्किट का लोगो (प्रतीक चिन्ह) देश की एक बड़ी एडवरटाइजिंग एवं ब्रांडिंग कम्पनी ने कैट द्वारा किये गए एक देशव्यापी सर्वे जिसमें व्यापारियों एवं उपभोक्ताओं को शामिल किया गया था, से प्राप्त सुझावों के आधार पर बनाया है।  पोर्टल का यह प्रतीक चिन्ह ही 'भारतईमार्किटÓ की खूबियों को स्वत: रू ही बयान करता है । निश्चित रूप से हमारे भारतईमार्किट का लोगो देश भर में बेहद पसंद किया जाएगा और ई कॉमर्स की दुनिया में अपना स्थान स्वयं बनाएगा।

श्री पारवानी ने यह भी बताया की भारतईमार्किट पोर्टल भारत के व्यापारियों का व्यापारियों के द्वारा तथा व्यापारियों और उपभोक्ताओं के लिए , वाले मूल सिद्धांत पर आधारित होगा। भारतईमार्किट पोर्टल में निर्माता से लेकर आखिरी उपभोक्ता तक की वर्तमान व्यवसाय पद्धति जो अभी ऑफलाइन में चल रही है का उसी प्रकार से एलेक्ट्रॉनिकीकरण किया जाएगा। इससे जहां एक तरफ ऑनलाइन पर वर्तमान सप्लाई चेन को बल मिलेगा तो वही दूसरी ओर देश भर के व्यापारियों की निजी दुकानों के व्यापार में बड़ी वृद्धि होगी। इस पोर्टल के जरिये अब भारत के व्यापारियों की दुकाने 24 घंटे खुली रहेंगी । 

श्री पारवानी ने यह भी बताया की भारतईमार्किट की यह भी विशेषता होगी की यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लोकल पर वोकल और आत्मनिर्भर भारत के आव्हान को ई कॉमर्स व्यापार के माध्यम से जमीन पर संभव करेगा और इस पोर्टल में डिजिटल पेमेंट पर ज्यादा जोर होगा।  ज्ञातव्य है की कैट देश के व्यापारियों का शीर्ष संगठन है जिसके साथ देश भर के 40 हजार से ज्यादा व्यापारिक संगठन जुड़े हुए हैं जिनके जरिये कैट देश के 7 करोड़ व्यापारियों का प्रतिनिधित्व करता है। यह पूरे विश्व में सबसे बड़ी सप्लाई चेन है और भारतईमार्किट पर अधिक से अधिक व्यापारियों की ई -दुकाने बनवाने के काम में देश भर के व्यापारिक संगठन पूरी ताकत से जुटेंगे।


26-Oct-2020 5:42 PM 14

रायपुर, 26 अक्टूबर। आबकारी मंत्री कवासी लखमा के निर्देशानुसार राज्य सरकार के आबकारी विभाग द्वारा मदिरा दुकानों से ओव्हर रेटिंग पर मदिरा के विक्रय की शिकायत प्राप्त करने के लिए वाट्सएप मोबाइल नंबर 9424102102 पर 25 अक्टूबर को जारी किया गया है। इस सुविधा के माध्यम से ग्राहक द्वारा मदिरा दुकान से उचित दर पर मदिरा विक्रय न किया जाना पाए जाने पर उस दुकान का वीडियो बनाकर वाट्सएप मोबाइल नम्बर 9424102102 पर भेजा जा सकता है। वीडियो प्राप्त होने पर उक्त नंबर के नाम पर आबकारी विभाग में शिकायत दर्ज की जाएगी। विभाग के द्वारा उक्त वीडियो की जांच कर संबंधित के विरूद्ध कार्यवाही की जाएगी। साथ ही की गई कार्यवाही से उक्त मोबाइल नंबर पर सूचित किया जाएगा।

वाट्सएप के माध्यम से वीडियो प्राप्त होने पर विभाग को कार्यवाही करने में आसानी होगी तथा प्राप्त शिकायत पर त्वरित कार्यवाही की जा सकेगी। वाट्सएप मोबाइल नंबर 9424102102 पर आबकारी अपराध जैसे अवैध मदिरा परिवहन, धारण एवं विक्रय तथा अन्य नशीले पदार्थों के विक्रय एवं धारण से संबंधित वीडियो भी भेजे जा सकते हैं जिस पर भी कार्यवाही की जाएगी।

विभाग में पूर्व से ही टोल फ्री नंबर 14405 कार्यरत है उक्त नंबर पर शिकायत ग्राहकों के द्वारा मुफ्त में की जा सकती है। उक्त नंबर पर आनेवाली शिकायतों पर विभाग द्वारा निरंतर कार्यवाही की जा रही है एवं आबकारी अधिनियम के तहत अपराध कायम किया जा रहा है। इस वित्तीय वर्ष में 700 शिकायतें टोल फ्री नंबर पर प्राप्त हुई हैं। जिनकी जांच कर कार्यवाही आबकारी विभाग द्वारा की गई है।

दशहरा पर्व को ध्यान में रखते हुए समस्त मदिरा दुकानों के निरीक्षण का निर्देश आबकारी मंत्री द्वारा दिया गया है। उनके निर्देश के तहत आबकारी आयुक्त निरंजन दास, प्रबंध संचालक ए.पी. त्रिपाठी और उपायुक्तों द्वारा मदिरा दुकानों की सघन जांच की जा रही है।

राज्य स्तरीय उडऩदस्ता एवं संभागीय उडऩदस्ता तथा जिले के जांच दल के द्वारा मदिरा दुकानों का निरंतर निरीक्षण किया जा रहा है एवं प्रकरण कायम किए जा रहे हैं।

मदिरा दुकानों के निरीक्षण के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने तथा मास्क लगाए जाने के लिए ग्राहकों को हिदायतें दी जा रही 


24-Oct-2020 7:25 PM 27

रायपुर, 24 अक्टूबर। राज्यपाल अनुसुईया उइके ने विजयादशमी के अवसर पर प्रदेशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने प्रदेश के सुख और समृद्धि की कामना करते हुए कहा है कि यह पर्व बुराई पर अच्छाई और असत्य पर सत्य की जीत का प्रतीक है। 

भगवान श्रीराम के जीवन का प्रत्येक क्षण हमें एक आदर्श जीवन जीने की सीख देता है। यह उत्सव हमें याद दिलाता है कि जो लोग सत्य, सदाचार और अच्छाई के रास्ते पर चलते हैं, उनकी सदैव जीत होती है।

 


24-Oct-2020 7:24 PM 27

आवेदन 7  नवम्बर तक 

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
 रायपुर, 24 अक्टूबर।
जिला अंत्यावसायी सहकारी विकास समिति मर्यादित, रायपुर द्वारा सफाई कामगारों के लिए स्कीम-अपटू, महिला अधिकारिता, महिला समृद्धि, माइक्रो क्रेडिट, ई-रिक्शा और गुड्स कैरियर योजना के तहत ऋण प्रदाय हेतु आवेदन पत्र 7 नवम्बर 2020 तक जमा किये जा सकते है।

जिला अंत्यावसायी सहकारी विकास समिति मर्यादित, रायपुर के कार्यपालन अधिकारी ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2020-21 में सफाई कामगार योजनातंर्गत स्कीम-अपटू (इकाई लागत 1 लाख रूपये), महिला अधिकारिता (इकाई लागत 1 लाख रूपये), महिला समृद्धि (इकाई लागत 50 हजार रूपये), माइक्रो क्रेडिट (इकाई लागत 50 हजार रूपये), ई-रिक्शा (इकाई लागत 2.16 लाख रूपये) एवं गड्स कैरियर योजना (इकाई लागत 6.26 लाख रूपये) संचालित है। 

ऋण लेने के इच्छुक सफाई कामगारों से संबंधित युवक-युवतियॉं, जिनकी उम्र 18-50 वर्ष के बीच हो, सफाई कामगार होने का प्रमाण पत्र (नगर पालिक निगम, ठेकेदार, शासकीय, अशासकीय) संस्था के प्रमुख एवं अन्य जहाँ कार्य करते वहाँ का प्रमाण-पत्र मान्य होगा। इसके साथ ही सक्षम अधिकारी द्वारा प्रदत्त मूल निवास प्रमाण-पत्र एवं आय प्रमाण पत्र (ग्रामीण क्षेत्र में 98 हजार रूपये एवं शहरी क्षेत्र में 1 लाख 20 हजार रूपये) एवं एक फोटोग्राफ लगाना होगा। 

 कार्यपालन अधिकारी ने बताया कि इच्छुक आवेदकों को अवगत कराया है, कि ऋण स्वीकृत किए जाने की स्थिति में आवेदक को ऋण के बराबर का जमानत लगाना होगा। तीन, पांच एवं छ: वर्ष के लिए ऋण पर क्रमश: व्याज दर, 4, 5, एवं 6 प्रतिशत वार्षिक दर से प्रतिमाह किश्त को रूप में वसूली की जायेगी।

ऐसे सफाई कामगार जिन्होंने किसी भी शासकीय योजनान्तर्गत लाभ लिया हो, उन्हें योजना का लाभ नही दिया जायेगा। अत: पात्र आवेदक ही आवेदन करें। आवेदन पत्र 7 नवम्बर 2020 तक कलेक्टोरेट परिसर, जिला अत्यावसायी सहकारी विकास समिति, मर्यादित रायपुर कक्ष क्रमांक- 34 में जमा कराया जा सकता है।


24-Oct-2020 7:23 PM 137

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
रायपुर, 24 अक्टूबर।
बच्चों को चित्र एवं चार्ट के माध्यम से पढ़ाना हुआ पुराना. अब शिक्षक,  काल्पनिक वस्तुओं से वास्तविक जगत मेँ पढ़ा सकेंगे और विद्यार्थियों को सिखाएंगे वर्चुअल जगत से निर्माणAR (ऑगमेंटेड रियलिटी) से बदलेगा पढऩे-पढ़ाने का तरीका. साथ ही, घर से निकले बिना कोरोना से बचकर कर सकेंगे पूरे विश्व की सैर...
स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा शिक्षकों के लिए आयोजित विशेष साप्ताहिक कार्यक्रम में हज़ारों के संख्या में शिक्षकों ने भाग लिया । इस ख़ास वेबिनार में वरिष्ठ शिक्षा सलाहकार सत्यराज अय्यर द्वारा ्रक्र/ङ्कक्र जैसे आधुनिक तकनीकों के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। इस तकनीक में आपके आसपास के वातावरण से मेल खाता हुआ एक कम्प्यूटर जनित वातावरण तैयार किया जा सकता हैं। आसान भाषा में समझे तो आपके आसपास के वातावरण के साथ एक और आभासी दुनिया को जोडकर एक वर्चुअल सीन तैयार किया जाता है, जो देखने में वास्तविक लगता है। 

वेबिनार के दौरान उन्होंने LIVE डेमो देते हुए, ऑग्मेंटेड रीऐलिटी के मदद से सचमुच का शेर, गाय, हाथी, ड्रैगन को बनाकर दिखाया। साथ ही शिक्षकों को मानव शरीर संरचना, सौर मंडल जैसे विज्ञान से जुड़ें अवधारणाओं को समझाने के लिए ३ष्ठ सिम्युलेटेड वातावरण उपयोग हेतु रुढ्ढङ्कश्व डेमो दिया। उन्होंने बताया की हम सदियों से गणित पढ़ाते समय ३ष्ठ आकारों को ब्लैक्बॉर्ड एवं पेपर जैसे 2ष्ठ सतह पर बच्चों को सिखातें हैं, अब हमारे फ़ोन में ऐसे फ़ीचजऱ् आ चुकें हैं की शिक्षक ३ष्ठ माडल्ज़ को ३ष्ठ सतह पर सीधा दिखा कर पढ़ा सकते हैं। ये तकनीक काफ़ी समय से सैन्य प्रशिक्षण, इंजिनीरिंग डिज़ाइन, शॉपिंग, चिकित्सा जैसे क्षेत्रों में उपयोग में हैं, परंतु शिक्षा क्षेत्र में इसकी उपयोगिता बहुत कम एवं धीमी रही हैं। समय आ गया हैं की हम ऐसे नविचारों को अपनाए एवं विध्यर्थियों को भविष्य के लिए नवीनतम तरीक़े से तैयार करें । 

उन्होंने इस बात पर भी ज़ोर दिया की विद्यार्थियों को नए-नए प्रकार के क्षेत्रों में अपना भविष्य बनाना होगा। जॉब सीकर (Job seeker) से हटकर जॉब क्रिएटर(Job Creator) बनना होगा। यह तभी संभव होगा जब हम अपने आस पास हो रही सामाजिक समस्याओं को गौर से देखेंगे, समझेंगे  और नवीन तकनीकों के मदद से ऐसे समस्याओं को हल करने की दिशा में काम करेंगे। अक्सर गांव में रहने वाले विद्यार्थी समस्या को तो आसानी से परख लेते हैं, परन्तु उनके पास ऐसे तकनिकी जानकारी एवं सीमित संसाधनों के चलते जीवन में अच्छे मौके से वंचित रह जाते हैं। इसलिए शिक्षकों को इसके लिए जि़म्मेदारी लेनी होगी और उन्हें अपने आप को सबसे पहले डिजिटल युग के अनुसार सक्षम बनना होगा ताकि वे बच्चों को प्रेरित कर सकें और उन्हें एक नई दुनिया और उज्वल भविष्य हेतु अपना मार्गदर्शन प्रदान कर सकें। 

यूटूब से जुड़ें शिक्षकों ने आज के वेबिनार के प्रति अपनी संतुष्टि जतायी और कॉमेंट करते हुए कहा की वे भी इस नवाचार को अपने कक्षा में अपनाएँगे और बच्चों को रोचक तरीक़े से पढ़ाने की भरपूर कोशिश करेंगे।