छत्तीसगढ़ » सरगुजा

12-Apr-2021 9:21 PM 17

अम्बिकापुर, 12 अप्रैल। कलेक्टर संजीव कुमार झा के द्वारा होम आइसोलेशन के नियमों का उल्लंघन करने पर सूरजपुर जिले में पदस्थ पटवारी के विरुद्ध कार्यवाही करने की अनुशंसा सूरजपुर कलेक्टर से किया गया है।विगत दिनों कलेक्टर के द्वारा होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजो के रेंडम निरीक्षण के दौरान अम्बिकापुर के बिशुनपुर निवासी तथा सूरजपुर जिले के लटोरी अंतर्गत हल्का न 53 में पटवारी के पद पर पदस्थ लिबास टोप्पो की पत्नी और ससुर को कोरोना पॉजिटिव पाए जाने की पुष्टि हुई।

श्री लिबास टोप्पो के घर में उनके एक महिला रिश्तेदार एलआईसी कार्यालय अम्बिकापुर में कार्यरत है तथा घर में कोरोना पॉजिटिव मरीज होने के बावजूद कार्यालय आना-जाना कर रही थी।

कलेक्टर संजीव कुमार झा ने सूरजपुर कलेक्टर को उक्त पटवारी के विरूद्ध कार्यवाही करने की अनुशंसा करते हुए कहा है कि पटवारी राजस्व विभाग का कर्मचारी है तथा कोरोना गाईड़लाइन से भली-भांति भिज्ञ होते हुए भी अपने परिवार के सदस्यों को कोविड 19 के नियम का पालन कराने में घोर लापरवाही और अनुशासनहीनता बरती है।


12-Apr-2021 9:21 PM 23

अम्बिकापुर, 12 अप्रैल। कलेक्टर संजीव कुमार झा के द्वारा कोरोना संक्रमण के प्रसार के रोकथाम एवं चेन को तोडऩे 13 अप्रैल प्रात: 6 बजे से 23 अप्रैल रात्रि 12 बजे तक सम्पूर्ण सरगुजा जिले को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है।जिले के सीमाओं में आवागमन एवं परिवहन पर कड़ी निगरानी के लिए चेक पोस्ट में अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है।अंतर्जिला सीमाओं के चेक पोस्ट में तैनात कर्मचारियों द्वारा आवागमन पर सख्ती बढ़ाई जाएगी। केवल पासधारी वाहन चालकों को ही आने-जाने दिया जाएगा।

जारी आदेशानुसार जाँच बेरियर चठिरमा में राजस्व निरीक्षक संजय शर्मा, हल्का पटवारी देवसाय मिंज, उत्तम गुप्ता, वनपाल अशोक कुमार,महेश तिग्गा,धीरेंद्र कुमार, पंचायत सचिव राजेश धर,सोनसाय,इंद्रदेव राजवाड़े,कोटवार सुरेश कुमार,सीताराम एवं बसंत की ड्यूटी लगाई गई है। इसी तरह जांच बेरियर अजिरमा में राजस्व निरीक्षक अजय गुप्ता, हल्का पटवारी अरविंद द्विवेदी,संजय ठाकुर,वनपाल शिवपूजन ठाकुर, वनरक्षक राकेश कुमार सिंह, दीवाकर तिरोले सहित अन्य की ड्यूटी लगाई गई है।


12-Apr-2021 9:20 PM 11

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

अम्बिकापुर, 12 अप्रैल। आजाद सेवा गर्ल्स विंग के द्वारा संत गहिरा गुरु विश्वविद्यालय के कुलसचिव को ज्ञापन सौंपकर बताया कि 2020-21मुख्य परीक्षा फॉर्म भरा जा रहा है उसकी अंतिम तिथि 15 अप्रैल है और सेमेस्टर परीक्षा का फॉर्म की तिथि ख़त्म हो चुकी है जिसे 15 दिवस बढ़ाया जाए क्योंकि विशेष परीक्षा का परिणाम अभी तक घोषित नहीं हुआ है।

सरगुजा जिला प्रशासन के आदेश अनुसार 13 अप्रैल से लेकर 23 अप्रैल तक संपूर्ण लॉकडाउन होने के कारण बहुत से छात्र परीक्षा फॉर्म भरने से वंचित रह सकते है इस पर कुलसचिव के द्वारा इस बात को तुरंत संज्ञान में लेकर आश्वासन दिया कि मुख्य परीक्षा के फॉर्म की तिथि को बढ़ा दिया जाएगा।ज्ञापन सौंपने वालों में आजाद सेवा संघ के प्रदेश सचिव रचित मिश्रा, गर्ल्स विंग की अध्यक्ष मिताली जायसवाल,जिला महासचिव प्रतीक गुप्ता,गर्ल्स विंग उपाध्यक्ष हिमांशी अग्रवाल,जिला सचिव प्रथम गुप्ता,जिला सचिव यीशु शर्मा,मयंक सोनी,रुखसार,रणवीर सिंह आदि उपस्थित रहे।


12-Apr-2021 9:20 PM 10

अम्बिकापुर, 12 अप्रैल। कलेक्टर संजीव कुमार झा के द्वारा कोरोना संक्रमण के प्रसार की रोकथाम एवं चेन को तोडऩे 13 अप्रैल प्रात: 6 बजे से 23 अप्रैल रात्रि 12 बजे तक सम्पूर्ण सरगुजा जिले को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। इस अवधि में कोरोना संक्रमण से बचाव एवं स्वास्थ्यगत आपातकालीन स्थिति के नियंत्रण हेतु 21 विभागों के शासकीय वाहनो को पीओएल सहित अधिग्रहित किया गया है। इन वाहनो के चालक अनुविभागीय दंडाधिकारी प्रदीप साहू, डिप्टी कलेक्टर श्री नीलम टोप्पो, श्री प्रवीण भगत तथा नायब तहसीलदार श्री किशोर कुमार वर्मा के निर्देशन में कार्य करेंगे।

इन वाहनों को किया गया अधिग्रहित-

संयुक्त संचालक कोष एवं लेखा, कार्यपालन अभियंता राष्ट्रीय राजमार्ग, कार्यपालन अभियंता लोक निर्माण, कार्यपालन अभियंता लोक निर्माण सेतु, उप वनमण्डलाधिकारी, वनमंडलाधिकारी अम्बिकापुर के 2 वाहन, सहायक अभियंता क्रेडा, उप संचालक पशुधन विकास विभाग, जिला रोजगार अधिकारी, उप संचालक मछली पालन विभाग, श्रम पदाधिकारी, उप संचालक रेशम, जिला शिक्षा अधिकारी, मुख्य अभियंता हसदेव गंगा कछार, जल संसाधन विभाग, कार्यपालन अभियंता थर्मल पावर परियोजना, खनिज अधिकारी, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास, कृषि विज्ञान केन्द्र मैनपाट, सहायक भूमि संरक्षण अधिकारी अम्बिकापुर, राजमोहनी देवी कृषि महाविद्यालय एवं अनुसंधान केन्द्र अम्बिकापुर शामिल हैं।


12-Apr-2021 9:19 PM 12

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

अम्बिकापुर, 12 अप्रैल। सरगुजा एनएसयूआई जिला अध्यक्ष हिमांशु जायसवाल के निर्देश पर जिला उपाध्यक्ष सुरेंद्र गुप्ता के नेतृत्व में आज संत गहिरा गुरु विश्वविद्यालय सरगुजा के कुलसचिव विनोद एक्का को विश्वविद्यालय के छात्रों की समस्या को देखते हुए ज्ञापन दिया गया।ज्ञापन में बताया गया कि.विशेष परीक्षा का रिजल्ट जल्द से जल्द जारी किया जाए जिससे छात्र छात्राएं अपनी अगली कक्षा के लिए परीक्षा फॉर्म भर सकें।

लॉकडाउन होने के वजह से छात्र-छात्राओं की परीक्षा फॉर्म भरने की सुविधा को देखते हुए परीक्षा फॉर्म भरने की तिथि में वृद्धि की जाए।विशेष परीक्षा रिजल्ट जारी होने के पश्चात छात्र छात्राओं को परीक्षा फॉर्म भरने की विशेष अवसर प्रदान की जाए।परीक्षा परिणाम की अंकसूची की मूल प्रति को जल्द से जल्द जारी की जाए जिससे छात्र छात्राओं को असुविधा ना हो।

जिसमें मुख्य रुप से एनएसयूआई के जिला उपाध्यक्ष सुरेंद्र गुप्ता,सूरजपुर युवा कांग्रेस जिला कार्यकारिणी सदस्य चंदन गुप्ता,एनएसयूआई कार्यकर्ता अभिषेक गुप्ता,गौतम गुप्ता,आकाश यादव,वैभव पांडे,अभिषेक सोनी,आंचल गोस्वामी,पुष्पा विश्वकर्मा,परी प्रजापति, रूपा भगत,रिचा भगत अन्य सम्मिलित हुए।मांगो पर कुलसचिव ने सकारात्मक प्रतिक्रिया व्यक्त किया जिसमें उन्होंने आश्वासन दिया जल्द ही इन समस्याओं का निराकरण किया जाएगा।


12-Apr-2021 9:17 PM 17

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

लखनपुर, 12 अप्रैल। आस्था और विश्वास सृष्टि शक्ति के उपासना का मूल आदि शक्ति जगत जननी मां महामाया के पूजा अर्चना करने का महा पर्व चैत्र नवरात्र का शुभारंभ आज यानि मंगलवार से होने जा रहा है।

नगर लखनपुर के प्राचीन महामाया मंदिर, भवानी मंदिर,कलेसरी, गौरा महादेव , ग्राम देव दाऊ साहब, नागा बाबा मठ, के अलावा देवी महामाया मंदिर प्रांगण में स्थित मनोकामना अखंड दीप कक्षों सहित देव स्थलों में औपचारिक रूप से साफ़ सफाई लाईटिंग रंग रोगन के साथ सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है। इसके अलावा प्राचीन रामपुरहीन शक्ति पीठ ग्राम जेजगा में भी सांकेतिक रूप से चैत्र नवरात्र मनाये जाने तैयारियां की गई है। लिहाजा कोविड 19 नियम के दायरे में रहते हुए माता के नौ रूपों में शैलपुत्री, ब्रह्मचारिणी, चंद्रघंटा, कूष्मांडा, स्कंदमाता ,कात्यायनी, कालरात्रि, महागौरी, सिद्धीदात्री, की पूजा अनुष्ठान आगामी नौ दिनों तक भीड़भाड़ रहित माताभक्त पंडित पुजारियों द्वारा देवी मंदिरो में की जावेगी।

ग्रामीण अंचलों में जवारा बोकर जगराता किये जाने की भी परिपाटी रही है जो आज से आरंभ होगी।परन्तु कोरोना काल के मद्देनजर शासन प्रशासन द्वारा बनाए गए कोविड 19 नियमों के दायरे में रहते हुए सांकेतिक एवं सादगीपूर्ण तरीके से निर्धारित कर्फ्यू और लाकडाउन के परिधि में रहते हुए? चैत्र नवरात्र का पर्व घरों में ही मनाया जाएगा । बिडम्बना है कि पिछले चैत्र एवं शारदीय नवरात्रि में भी शक्ति दरबारो में कोरोना शक्ति का पहरा लगा रहा।

नियम के मुताबिक चैत्र नवरात्र का पर्व मनाया जाएगा।


12-Apr-2021 6:24 PM 28

  ग्रामीणों के विरोध का अधिकारियों का दो टूक जवाब भारत सरकार को दर्ज करा देंगे आपत्ति  

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
अम्बिकापुर,12 अप्रैल।
सरगुजा जिला के बतौली विकासखंड के चिरंगा में एलमुनियम प्लांट खोलने के लिए आयोजित जनसुनवाई में 12 अप्रैल 2021 सोमवार को ग्रामीणों ने प्लांट खोले जाने को लेकर जमकर विरोध किया। ग्रामीणों ने कहा कि अब तक अधिकारी कहां थे,ग्राम में किस चीज के लिए नाप- जोख हो रहा है यांहा क्या खुलने वाला है इसकी जानकारी दिए बगैर डायरेक्ट जन सुनवाई के लिए ग्रामीणों को बुलाना बड़ा षड्यंत्र है। 

जनसुनवाई में मौजूद कई ग्रामों के ग्रामीणों ने एक स्वर में कहा कि चिरंगा में एलमुनियम प्लांट किसी भी शर्त पर नहीं खोलने दिया जाएगा।जन सुनवाई के दौरान देखते ही देखते नौबत यहाँ तक आ गई कि उग्र ग्रामीणों ने अधिकारियों से फैक्ट्री नहीं लगाने तत्काल लिखित आदेश मांगने लगे जिस पर एलुमिना फैक्ट्री के एक अधिकारी ग्रामीणों से उलझ गए जिसपर ग्रामीण उग्र हो गए।भीड़ अनियंत्रित होता देख पुलिस ने मोर्चा संभाला और किसी तरह ग्रामीणों पर काबू पाया।इस घटना के बाद किसी तरह अधिकारियों ने जनसुनवाई की समाप्ति की घोषणा कर निकल गए।

जनसुनवाई के बाद बाहर निकलने पर प्रशासनिक व कंपनी अधिकारी को काफी आक्रोश का सामना करना पड़ा। सूचना है कि ग्रामीण इतने उग्र थे कि वहां मौजूद वाहनों में आगजनी की भी फिराक में थे लेकिन पुलिस उन पर किसी तरह काबू पा ली।सोमवार को जनसुनवाई जैसे ही शुरू हुई ग्रामीणों ने कहा कि हमारे गांव में सब कुछ है,चलने के लिए सडक़,बिजली,अस्पताल और उनके जीवन यापन करने के लिए जंगल है। इससे उनका गुजारा हो जाएगा,फैक्ट्री लगने के बाद यह सब बंद हो जाएगा। 

जनपद सदस्य लीलावती पैकरा ने ग्रामीणों की ओर से अधिकारियों से पूछा कि क्या वह गांव के सभी लोगों को फैक्ट्री में रोजगार देंगे इस पर अधिकारियों ने मौन साध ली और कहा कि उनके प्रश्न को नोट कर लिया गया है,भारत सरकार इस पर निर्णय करेगी। श्रीमती लीलावती पैकरा ने आगे कहा कि यहां कोई नेता नहीं है यहां के ठोस किसान हैं अगर आप किसानों के हक को छीन लेंगे तो वह कहां जाएंगे? यहां जब नपाने आया गया था तो क्या यहां के ग्रामीणों को बताया गया था कि किस चीज के लिए नाप-जोख हो रहा है इससे ग्रामीणों को क्या लाभ और क्या नुकसान होगा।
 
जनपद सदस्य ने अधिकारियों से पूछा कि उन्हें इसके बारे में क्यों नहीं बताया गया डायरेक्ट जन सुनवाई के लिए क्यों बुलाया गया। इस महामारी काल में लोग संक्रमित हो रहे हैं अपनी जान गवां रहे हैं उन्हें इस समय इतनी संख्या में क्यों बुलाया गया क्या यह लोगों के जान से ज्यादा जरूरी था? जनपद सदस्य के इस प्रश्न से वहां मौजूद अधिकारियों ने मौन साध लिया और कहा कि इसका उत्तर बाद में दिया जाएगा। अधिकारियों के इस उत्तर से नाराज ग्रामीणों ने तत्काल उत्तर दिए जाने का नारा लगाने और कहा कि चिरंगा गांव में पावर प्लांट खुलने का हम सभी विरोध करते हैं अगर यहां प्लांट खुला तो उग्र आंदोलन किया जाएगा।

प्लांट खुला तो अंबिकापुर घुनघुट्टा डेम के अस्तित्व पर गहराएगा संकट, पर्यावरण व वन जीव को भी होगा भारी नुकसान-ग्रामीण
जन सुनवाई के दौरान वहां मौजूद ग्रामीणों ने प्लांट खोलने पर अपनी आपत्ति जताते हुए कहा कि एलुमिना रिफाइनरी के खुलने के लिए काफी मात्रा में पानी की आवश्यकता होती है।फैक्ट्री जिस जगह पर लगाया जाना प्रस्तावित है वह घुनघुट्टा नदी के पानी पर आश्रित होगा इससे अंबिकापुर पेयजल व्यवस्था के लिए लाइफ लाइन कहे जाने वाले घुनघुट्टा डेम पर तो संकट गहराएगा ही इसके साथ ही जिले के खेती भी इसी नदी से होती है वह भी प्रभावित होगा।आपत्ति करने वाले ग्रामीणों ने बताया कि कंपनी द्वारा 1 साल में 3 लाख मेट्रिक टन एलुमिना उत्पादन का लक्ष्य रखा है यह तभी बनेगा जब 7 लाख बॉक्साइट का रिफाइन करेंगे तो एलुमिना बनेगा।इसके लिए कम से कम 80 से 90 लाख मिलियन क्यूबिक मीटर पानी लगेगा।अगर इतना पानी डिस्चार्ज होगा तो घुनघुट्टा नदी सहित वहां के आसपास के नदी नाले सभी सूख जाएंगे।

सरगुजा के अधिकांश नदी नाले बरसाती पानी पर निर्भर हैं।कंपनी तो 12 माह एलुमिना का उत्पादन करेगी अगर इतना पानी का उपयोग कंपनी करेगी तो घुनघुट्टा बांध का क्या होगा।पर्यावरण प्रदूषण के हिसाब से भी यह फैक्ट्री काफी खतरनाक है क्योंकि यह पूरी तरह चाइना मॉडल तकनीक पर आधारित है। इससे ज्यादा प्रदूषण होने के कारण जंगल व उसमें रहने वाले जानवर भी प्रभावित होंगे। ग्रामीणों ने बताया कि वेदांता द्वारा उड़ीसा के मलकानगिरी के पहाडिय़ों में इसी तरह का प्लांट लगाया जा रहा था जहां सरकार ने प्रदूषण को देखते हुए प्रस्तावित परियोजना को खारिज कर दिया था। मलकानगिरी से ज्यादा घनी आबादी बतौली क्षेत्र में है अगर यह प्रस्तावित फैक्ट्री लगा तो पर्यावरण को भारी नुकसान होगा।

गौरतलब है कि ग्राम पंचायत चिरंगा में चट्टान मद की भूमि फैक्ट्री के लिए मेसर्स मां कुदरगढ़ी एलुमिना रिफाइनरी चिरंगा में प्रस्तावित ग्रीन फील्ड एलुमिना रिफायनरी कग्रीनेएस पावर प्लांट के पर्यावरण स्वीकृति के लिए 12 अप्रैल को जनसुनवाई की स्वीकृति पर्यावरण मंडल द्वारा मिली थी। जिसकी अधिसूचना पर्यावरण वन व जलवायु मंत्रालय के सरकुलेट 2006 में जारी किया गया था।इस फैक्ट्री से ग्राम पंचायत चिरंगा सहित माजा,झररगांव,लैगू,करदना,पहाड़ चिरगा सहित अन्य ग्राम शामिल हैं।ग्रामीणों का कहना है कि इससे कई गांव तबाह हो जाएंगे। 

धारा 144 के बीच जनसुनवाई, अधिकारियों ने नहीं उठाया मोबाइल
प्रदेश में एक ओर जहां संक्रमण अपने चरम पर है तो वहीं सरगुजा जिला के बतौली विकासखंड में एल्मुनियम प्लांट लगाने के लिए प्रशासन ने यहां धारा 144 के बीच जनसुनवाई आयोजित की। इस जनसुनवाई में ग्रामीणों ने प्रशासन,पर्यावरण मंडल व फैक्ट्री के अधिकारियों को जमकर खरी-खोटी सुनाई।जनसुनवाई में सीतापुर एसडीएम दीपिका नेताम,तहसीलदार,कंपनी के अधिकारी कर्मचारी व भारी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे। ग्रामीणों के भारी आक्रोश को लेकर क्षेत्रीय विधायक व छत्तीसगढ़ शासन में कैबिनेट मंत्री अमरजीत भगत से इस मसले को लेकर मोबाइल पर बातचीत करने की कोशिश की गई लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो सका। इस संदर्भ में सरगुजा कलेक्टर संजीव कुमार झा सीतापुर एसडीएम दीपिका नेताम से मोबाइल पर संपर्क करने की कोशिश की गई लेकिन उन्होंने भी फोन नहीं उठाया। सरगुजा पुलिस अधीक्षक से बात की गई तो उन्होंने बताया कि जनसुनवाई के दौरान ग्रामीणों से झड़प की कोई सूचना नहीं है।


11-Apr-2021 9:38 PM 16

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

अंबिकापुर, 11 अप्रैल। सरगुजा में कोरोना महामारी के चलते बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सरगुजा कलेक्टर ने आगामी 13 अप्रैल की शाम 6 बजे से सरगुजा में सख्त लॉकडाउन लगाने का निर्णय लिया है। मंगलवार 13 अप्रैल से 23 अप्रैल तक सख्त लॉकडाउन के निर्देश दिए हैं। इस दौरान सरगुजा जिले के सभी सीमाएं सील होंगी। तेरह अप्रैल की सुबह 6 बजे से 23 अप्रैल की रात 12 बजे तक यह लॉकडाउन होगा। आवश्यक सेवाओं की दुकानों को छोडक़र सब बंद रहेंगे।

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ में कोरोना भयावह रूप लेता जा रहा है। यहां हर दिन लगभग 12 हजार से अधिक कोरोना संक्रमित मिल रहे हैं। इसी कड़ी में सरगुजा में भी कोरोना संक्रमितों की संख्या में हर दिन इजाफा होता जा रहा है। यहां 200 से अधिक मरीज रोजाना मिल रहे हैं। संक्रमितों की लगातार बढ़ती संख्या को देखते हुए सरगुजा कलक्टर संजीव कुमार झा ने 10 दिन का सख्त लॉकडाउन लगाने का फैसला किया है। इसके तहत 13 अप्रैल से सुबह 6 बजे से 23 अप्रैल की रात 12 बजे तक आवश्यक सेवाओं व दुकानों को छोडक़र अंबिकापुर शहर समेत पूरा जिला बंद रहेगा।

मेडिकल व पेट्रोल पंप को बंद से मुक्त रखा गया है। पेट्रोल पंप पर शासकीय वाहन व अति आवश्यक सेवाओं से जुड़े वाहनों को ही पेट्रोल मिल पाएगा।

कलेक्टर द्वारा जारी आदेश में निर्णय लिया गया है कि सरगुजा जिला अंतर्गत आने वाले सभी क्षेत्र को 13 से 23 अप्रैल तक कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। ऐसी स्थिति में जिले की सभी सीमाएं सील रहेंगीं।

सिर्फ मेडिकल दुकानों को निर्धारित अवधि में खुलने की अनुमति होगी, मेडिकल दुकान संचालक मरीजों को दवा की होम डिलीवरी को प्राथमिकता देंगे।पेट्रोल पंप संचालकों द्वारा केवल शासकीय व शासकीय कार्य में प्रयुक्त वाहन, एटीएम कैश वैन, अस्पताल-मेडिकल व इमरजेंसी से संबंधित वाहन, दुग्ध वाहन तथा परिचय पत्र दिखाने पर मीडियाकर्मी/प्रेस वाहन/न्यूज पेपर हॉकर को ही पीओएल प्रदान किया जाएगा।

जिले के सभी साप्ताहिक व हाट-बाजार बंद रहेंगे


11-Apr-2021 9:36 PM 17

   कोरोना प्रबंधन में किया जाएगा इस राशि का उपयोग   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

अम्बिकापुर, 11 अप्रैल। खाद्य-नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री अमरजीत भगत ने विधायक निधि से 25 लाख रूपये सरगुजा कलेक्टर को दिये। इस राशि का उपयोग कलेक्टर द्वारा आवश्यकतानुसार कोविड प्रबंधन में किया जाएगा। उक्त राशि हेतु स्वीकृति देते हुए मंत्री अमरजीत भगत ने जिला कलेक्टर को निर्देश दिया कि आवश्यकतानुसार कार्ययोजना बनाकर इस राशि का उपयोग कोविड की रोकथाम के लिये की जाए।

आज 11 अप्रैल को मंत्री अमरजीत भगत ने सरगुजा जिले के जन-प्रतिनिधियों, विभिन्न समाज के पदाधिकारियों, व्यापारी संघ व जिले के प्रशासकीय अधिकारियों की बैठक ली। बैठक पूर्णत: बढ़ते कोविड के मामलों और उसकी रोकथाम पर केंद्रित रही। मंत्री अमरजीत भगत ने शासन-प्रशासन के साथ जनता व विभिन्न समाज के लोगों से साथ आने की अपील की, ताकि मिलकर कारगर कार्ययोजना बनाई जा सके। इसी बैठक में सरगुजा जिला युवा कांग्रेस के सदस्य व सरगुजा जिला कांग्रेस सेवा दल के महामंत्री परवेज़ आलम, महात्मा गांधी वार्ड क्रमांक 20, नगरपालिका अंबिकापुर के पार्षद दीपक मिश्रा, अंजुमन इस्लाहुल मुस्लेमिन वक्फ़ बोर्ड के सचिव इरफान सिद्दीकी ने खाद्य मंत्री अमरजीत भगत को पत्र लिखकर कोविड के बढ़ते मामले को लेकर चिंता जताई। उन्होंने इस विषय में संज्ञान लेते हुए लॉकडाउन लगाने का अनुरोध किया।

वर्चुअल माध्यम में हुई इस मीटिंग में सीतापुर विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत आने वाले ब्लॉक बतौली के भी स्थानीय लोग भी मौजूद थे। बतौली के मंत्री प्रतिनिधि नीलय त्रिपाठी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान बताया कि हर रोज बतौली ब्लॉक की परिस्थिति खराब होती दिख रही है। यहां रोज 15 से 20 कोरोना संक्रमण के केस मिल रहे हैं। इस परिस्थिति को देखते हुए, उन्होंने खाद्य मंत्री अमरजीत भगत व सरगुजा कलेक्टर से अनुरोध किया कि जल्द से जल्द लॉकडाउन लगाया जाए।

वहीं सीतापुर व आसपास के ग्रामीण अंचल के लोगों का कहना है कि यदि लॉकडाउन लगता भी है तो खेती से संबंधित लोगों को छूट दी जाए। यह फसल कटाई का समय है, किसानों का कहना है कि अभी बहुत सी फसलों की कटाई होनी शुरू हो गई है। यदि लॉकडाउन की वजह से कटाई का काम रुकता है तो यह उस किसान की मेहनत पर पाला पडऩे जैसा है। मंत्री अमरजीत भगत ने किसानों की बात सुनी और इस संदर्भ में सरगुजा जिला कलेक्टर से बात की। उन्होंने सरगुजा जिले के दोनों ग्रामीण व शहरी क्षेत्र की परिस्थिति अच्छी तरीके से समझ कर आगे फैसला लेने का निर्देश दिया।

ज्ञात हो कि इस समय पूरे प्रदेश में कोविड के मामले तेज़ी से बढ़ रहे हैं। कोरोना की दूसरी लहर पहली लहर की तुलना में ज्यादा तेज़ी से लोगों को संक्रमित कर रही है। इसे देखते हुए मंत्री अमरजीत भगत ने सरगुजा जिले में टीकाकरण की स्थिति की समीक्षा की। साथ ही मरीज़ों के उपचार के लिये उपलब्ध सुविधाओं के संबंध में बैठक में चर्चा की।

 मंत्री अमरजीत भगत का कहना है कि कोरोना के विरुद्ध जंग जीतने के लिये सभी को साथ आना होगा। दिशानिर्देशों का सख्ती से पालन करना होगा, क्योंकि हम जितना एक दूसरे के सीधे संपर्क में आएंगे, इसके प्रसार का खतरा उतना ही बढ़ेगा। साथ ही उन्होंने मास्क के सही इस्तेमाल पर भी ज़ोर दिया। मंत्री अमरजीत भगत ने हाल ही में अपने प्रभार जिलों जशपुर एवं बालोद जिले के अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों की बैठक भी ली थी। बैठकों में उन्होंने पीडीएस के तहत वितरण हेतु खाद्यान्न की उपलब्धता पर भी चर्चा की। संबंधित अधिकारियों से इस संबंध में बात करते हुए अनाज के समुचित भंडारण का निर्देश दिये।


11-Apr-2021 9:34 PM 14

लखनपुर, 11 अप्रैल। थाना क्षेत्र के कुन्नी चौकी अंतर्गत वनांचल ग्राम तिरकेला में शुक्रवार को एक युवती ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली।

पुलिस के मुताबिक फिलो तिर्की पिता शिरील तिर्की उम्र 19 वर्ष ग्राम तिरकेला ने अज्ञात कारणों से गांव के समीप लोगरा जंगल में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। किशोरी 9 अप्रैल को बिना बताये घर से निकली थी और वापस नहीं लौटी। परिजनों द्वारा पता तलाश किया जा रहा था। आज 11 अप्रैल को लोगरा जंगल के तेन्दू पेड़ के जड़ में फांसी पर लटके हुए गड्ढे में देखी गई। परिजनों ने कुन्नी चौकी पहुंच घटना की रिपोर्ट दर्ज करायी। पुलिस मर्ग कायम कर जांच करने जुटी है।


11-Apr-2021 9:34 PM 17

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

राजपुर, 11 अप्रैल। क्षेत्र में बढ़ते कोरोना संक्रमण के प्रभाव को रोकने राजपुर अनुविभागीय अधिकारी ने अब सभी दुकानों की खुलने की समय सीमा तय की है। सोमवार 12 अप्रैल से अब सभी दुकानें नए समय के अनुसार सुबह 6 बजे से दोपहर दो बजे तक खोलने की अनुमति होगी।

इन दिनों कोरोना संक्रमण बहुत तेजी से फैल रहा है। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए पहले ही राजपुर एसडीएम ने राजपुर अनुभाग के अंतर्गत आने वाले सभी हाट बाजारों को बंद करने का दिशा निर्देश जारी किया था। अब राजपुर में दुकानों के खुलने नए नियम जारी किया है। नए नियम के तहत अब सभी दुकानों को सुबह छ: बजे से दोपहर दो बजे तक ही खोलने की अनुमति होगी।

राजपुर अनुविभागीय दंडाधिकारी बालेश्वर राम ने कोविड-19 के संक्रमण के फैलाव के रोकथाम के दृष्टिगत सभी दुकानों को दोपहर दो बजे तक खोलने की अनुमति दी है। दोपहर पश्चात होटल किराना सब्जी व अन्य सभी दुकानें पूर्णत: बंद रहेंगी। समयावधि पश्चात केवल पेट्रोल पंप मेडिकल व गैस एजेंसी सहित एमरजेंसी सेवाओं को छूट प्रदान की गई है।


11-Apr-2021 9:32 PM 15

  कोरोना से निपटने तैयारी बैठक   

अम्बिकापुर, 11 अप्रैल। कोरोना से निपटने तैयारी को लेकर पंचायत एवं स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंह देव ने जिला प्रशासन की बैठक लेकर समीक्षा की। इस दौरान कोरोना पॉजिटिव मरीजों के लिए बेड की आवश्यकता, पॉलिटेक्निक कॉलेज, साईं हॉस्टल में शुरू किए सेंटर सहित कई विषय पर चर्चा हुई।

इस दौरान स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंह देव ने आईसीयू बेड की आवश्यकता को पूरा करने के लिए स्वास्थ्य विभाग को प्राप्त बज़ट के साथ-साथ विधायक मद से भी एक करोड़ रुपये इसके लिए देने की घोषणा की।

उन्होंने कहा कि त्वरित स्तर पर स्वास्थ्य विभाग को जो कार्य प्राथमिक स्तर पर करना हो, वो चाहे आईसीयू हो बेड की क्षमता बढ़ाना हो या फिर अन्य उपयोग, जहां करना हो कर सकते हैं। विधायक मद से यह राशि कोरोना से बचाव हेतु किये जाने वाले बचाव एवं निर्माण हेतु उपलब्ध है।


11-Apr-2021 9:29 PM 16

अम्बिकापुर, 11 अप्रैल। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपनी मासिक रेडियो वार्ता लोकवाणी की 17वीं कड़ी में कहा कि छत्तीसगढ़ का बजट प्रदेश में अधोसंरचना विकास के साथ ही किसानों को सशक्त करने और रोजगार को बढ़ावा देने वाला है। अम्बिकापुर में गांधी चौक डाटा सेंटर के पास युवाओं ने लोकवाणी सुनी। मुख्यमंत्री ने नया बजट नए लक्ष्य विषय पर बात की। लोकवाणी पर प्रतिक्रिया देते हुए बबन सोनी, सुरेन्द सोनी, संतोष ताम्रकार एवं दीपक ठाकुर ने कहा कि इस बार के बजट में अधोसंरचना विकास, अनुसूचित क्षेत्रों का विकास, न्याय योजनाएं तथा रोजगार सृजन पर सरकार ने ज्यादा फोकस किया है।


10-Apr-2021 8:31 PM 31

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

उदयपुर, 10 अप्रैल। थानांतर्गत ग्राम खोंधला में शुक्रवार की रात सांप के डसने से एक तीस वर्षीय महिला की मौत हो गई।

 घटना के संबंध में प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतका फुलबसिया पति दुखीराम शाम को गांव के ही बडक़ापारा मोहल्ले में अपनी ननद की शादी में खाना बनाने परोसने के बाद वापस सडक़ किनारे स्थित घर में आ गई थी। शादी वाले घर से अपने चारों छोटे छोटे बच्चों के लिए खाना भी लेकर आई थी। बच्चों को खाना खिलाकर वह जमीन में ही सो गई थी। रात में तीन बजे करीब उसे कमर के पास कुछ काटने का एहसास हुआ तो उसने घर लोगों को जगाकर बताया। जब तक घर के लोग कुछ समझ पाते उसकी हालत खराब होने लगी और कुछ करने से पहले ही करीब पांच बजे उसने दम तोड़ दिया।

घटना की सूचना पुलिस को दी गई, सूचना पर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और पंचनामा के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लाकर पोस्टमार्टम के बाद शव को परिजनों को सौंप दिया गया।


10-Apr-2021 8:28 PM 23

   होम आईओलेशन का उल्लंघन करने वाले 6 पर एफआईआर दर्ज, दो दुकानें सील   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

अम्बिकापुर, 9 अप्रैल। कलेक्टर संजीव कुमार झा ने होम आइसोलेशन तथा कोरोना गाइडलाइंस के नियमों के अनुपालन की स्थिति का जायजा लेने अधिकारियों के साथ शहर के औचक निरीक्षण में निकले। कलेक्टर ने होम आईसोलेशन के मरीजो का हाल-चाल पूछा । इस दौरान नियमों के उल्लंघन करने पर 6 लोगों पर एफआईआर दर्ज करने तथा दो दुकानों को सील करने के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने मरीजों को कंट्रोल रूम से काल आने तथा समय पर दवा लेने के बारे में जानकारी ली। घर के सभी सदस्यों को घर मे ही रहने तथा बाहर नहीं निकलने की हिदायत दी। पड़ोस में रहने वाले लोगों से मरीजों के बाहर आने .जाने पर कंट्रोल रूम में फोन कर जानकारी देने की बात कही।

निरीक्षण के दौरान वार्ड नंबर 48 केदारपुर निवासी सिद्धार्थ मिश्रा द्वारा होम आइसोलेशन में रहने के बावजूद बाहर घूमते पाया गया तथा उनके घर के बाहर कोविड का स्टीकर भी उखड़ा हुआ था। इस कारण उन पर महामारी नियंत्रण अधिनियम के तहत एफआईआर दर्ज किया गया।

इसी प्रकार बिशुनपुर में एक घर मे कोरोना मरीज निकलने के बाद भी कोरोना गाइडलाइंस का पालन नहीं करने के कारण सूरजपुर में ड्यूटी करने वाले पटवारी राजन एक्का तथा उसी घर से एलआईसी ऑफिस आना-जाना करने वाली कर्मचारी  जस्टिना तिग्गा, बिलासपुर चौक के पास पेट्रोल पंप गली में कोविड मरीज जशंकर भगत के द्वारा घर के बाहर स्टिकर उखाडऩे तथा उनके प्राइमरी कांटेक्ट वालों में आने वाले शक्ति सिंह, आनंद सिंह के द्वारा बाहर घूमने के कारण एफआईआर दर्ज कर उनकी दुकान मां महामाया हायड्रोलिक्स को सील किया गया।

कलेक्टर ने इसके साथ ही नावापारा और कुंडला सिटी में भी होम आइसोलेशन का निरीक्षण किया। उन्होंने कुंडला सीटी में मरीज कृष्ण कुमार अग्रवाल के द्वारा होम आईसोलेशन का पालन नहीं करने पर उसकी दुकान को सील करने के निर्देश दिये।

कंटेनमेंट जोन घोषित करने के निर्देश

कलेक्टर ने बिलासपुर चौक के पास पेट्रोल पम्प गली में होम आइसोलेशन के मरीजों द्वारा नियमों का पालन नहीं करने पर इस एरिया को कंटेन्मेंट जोन बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने इस गली को पूरी तरह से सील कर तत्काल पुलिस की ड्यूटी लगाने के निर्देश दिए।

टीका लगवाने वाला सदस्य मिला निगेटिव

निरीक्षण के दौरान सिंचाई कॉलोनी अम्बिकापुर में रहने वाले एक परिवार के सदस्यों में से 4 सदस्य कोरोना पॉजिटिव थे, जबकि इस परिवार की एक महिला सदस्य जो कोविड वैक्सीनेशन का दो टीका लगवा चुकी थीं, वह निगेटिव मिली। इस समय कोरोना के स्ट्रेन में यह देखने को मिल रही है कि परिवार के एक सदस्य के कोविड पॉजिटिव आने पर पूरे परिवार पॉजिटिव निकल रहे हंै।

निरीक्षण के दौरान निगम आयुक्त प्रभाकर पांडेय, सीएमएचओ डॉ.पीएस सिसोदिया,कोविड कंट्रोल प्रभारी डिप्टी कलेक्टर नीलम टोप्पो, डिप्टी कलेक्टर प्रवीण भगत तथा अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।


10-Apr-2021 8:26 PM 21

  कलेक्टर ने निरीक्षण कर 500 बेड की व्यवस्था सुनिश्चित करने दिए निर्देश   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

अम्बिकापुर, 10 अप्रैल। जिले में कोरोना मरीजो की बढ़ती संख्या को दृष्टिगत रखते हुए अम्बिकापुर स्थित शासकीय पॉलिटेक्निक कॉलेज में फिर से 500 बेड के आईसोलेशन सेन्टर जल्द शुरू होगा। कलेक्टर संजीव कुमार झा ने अधिकारियों के साथ शनिवार को पॉलिटेक्निक कॉलेज का निरीक्षण किया और यहाँ कोविड के मरीजो के लिए आईसोलेशन सेंटर पुन: शुरू करने के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने पॉलिटेक्निक कॉलेज के प्रथम एवं द्वितीय तल के हाल एवं कमरों में पिछले वर्ष शुरू किए गए कोविड आईसोलेशन सेंटर का अवलोकन किया। उन्होंने महिला एवं पुरुष मरीजो के लिए अलग-अलग विंग हेतु दोनों तल को दो भागों में विभाजित करने, कूलर तथा पेयजल की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। इसीप्रकार अबाधित विद्युत व्यवस्था के लिए जेनरेटर स्थापित करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने निगम आयुक्त एवं सीएमएचओ को आईसोलेशन सेंटर को शीघ्र शुरू करने साफ सफाई के साथ अन्य व्यवस्थाये तथा चिकित्सकों सहित स्टाफ की तैनाती सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने पॉलिटेक्निक कॉलेज संचालन में स्थानाभाव न हो इसके लिए कॉलेज के पास ही स्थित लाइवलीहुड कॉलेज में वैकल्पिक व्यवस्था के निर्देश दिए। उल्लेखनीय है कि जिला प्रशासन द्वारा कोविड मरीजों की सुविधा को दृष्टिगत रखते हुए शासकीय अस्पताल के साथ ही निजी अस्पतालों में भी आयुष्मान कार्ड के द्वारा मुफ्त इलाज नकी व्यवस्था किया जा रहा है। होम आईसोलेशन के साथ कोविड केयर सेंटर पुन: शुरू किये जा रहे हैं।

निरीक्षण के दौरान निगम आयुक्त प्रभाकर पांडेय, डिप्टी कलेक्टर नीलम टोप्पो प्रवीण भगत, सीएमएचओ डॉ. पीएस सिसोदिया सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।


10-Apr-2021 8:25 PM 19

सीतापुर, 10 अप्रैल। ग्राम पंचायत सीतापुर से आए कोरोना मरीज राजकुमार सिंह की आज मेकाहारा में मृत्यु हो गई। उसके दु:खी परिजन परेशान थे कि क्या करें, कैसे वापस जाएँ। उनकी मुश्किल के बारे में जैसे मंत्री अमरजीत भगत को पता चला तो उन्होंने तत्काल प्रयास आरंभ किये। मंत्री भगत ने निजी खर्च पर एम्बुलेंस की व्यवस्था की और मृतक राजकुमार सिंह के परिजनों को सीतापुर के लिये रवाना किया।

ज्ञात हो कि मंत्री अमरजीत भगत सीतापुर निर्वाचन क्षेत्र से लगातार चार बार विधायक निर्वाचित हुए हैं। वह अपने क्षेत्र में सहृदय, संवेदनशील नेता के रूप में जाने जाता हैं। उन्होंने पहले भी कई बार लोगों की अलग-अलग परिस्थितियों में अनेक तरह से मदद की है। कई बार ज़रूरतमंदों को अपने काफिले की कार से अस्पताल भी पहुँचाया है।

उन्होंने साथ ही लोगों से अपील की है कि अभी कोविड के कारण हालात अच्छे नहीं हैं, घर पर ही रहें। मास्क पहने लगातार हाथ धोते रहें, सबसे महत्वपूर्ण बात भीड़ में न जाएँ न ही कहीं भीड़ लगाएँ। आपस में कम से कम 6 फीट की दूरी रखें। जहाँ-जहाँ लॉकडाउन है वहाँ पूरा सहयोग करें।


10-Apr-2021 8:24 PM 25

   4 पुलिसकर्मियों के पॉजिटिव होने के बाद तंबू में लगाया जा रहा थाना कार्यालय   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

उदयपुर, 10 अप्रैल। जिला सरगुजा अंतर्गत आने वाले उदयपुर थाना में 4 पुलिसकर्मियों की रिपोर्ट गुरुवार को पॉजिटिव आने के बाद थाना में हडक़ंप मचा हुआ है। उदयपुर थाना के मुख्य भवन को कंटेनमेंट जोन बना दिया गया है । सभी कोरोना पॉजिटिव कर्मियों को स्वास्थ्य अमला द्वारा दवाइयां दी गई है तथा होम क्वारंटीन किया गया है। पुलिस अधीक्षक सरगुजा टीआर कोशिमा के निर्देश पर थाना भवन को सैनिटाइज करा दिया गया है।

थाना कार्यालय का संचालन कैंपस के भीतर ही खाली जगह पर तंबू लगाकर किया जा रहा है । उक्त कार्यालय में आवश्यक कार्यों को प्राथमिकता दी जा रही है।


10-Apr-2021 8:23 PM 16

   अब तक 18 हजार से अधिक लोगों का किया गया इलाज   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

अम्बिकापुर, 9 अप्रैल। अम्बिकापुर के उराँवपारा निवासी 65 वर्षीय छितेंद्र नाथ को आर्थिक रूप से कमजोर होने के कारण इलाज कराने तथा दवाई खरीदने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा था, लेकिन मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना अन्तर्गत मोबाईल मेडिकल यूनिट द्वारा उनके मोहल्ले में आकर नि: शुल्क इलाज और दवाई मिलने से बड़ी राहत मिली।

 छितेन्द्र नाथ ने बताया कि उन्हें बदन दर्द, सिर दर्द तथा कमजोरी की समस्या थी। उन्होंने अपने मुहल्ले में पहुंची मोबाईल मेडिकल यूनिट के पास पहुंचकर चिकित्सकों को दिखाया। चिकित्सकों के द्वारा उनका तत्काल बीपी, शुगर और कुछ अन्य लैब जाँच किया गया। इसके पश्चात उन्हें सिरप और टेबलेट के साथ स्वास्थ्य परामर्श किया गया।

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना के तहत अम्बिकापुर नगर निगम में कुल 4 मोबाइल मेडिकल यूनिट प्रतिदिन अलग अलग क्षेत्र में भ्रमण कर नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा प्रदान कर रही हैं। निगम क्षेत्र में आज तक कुल 371 कैम्प लगाकर 19 हजार 907 लोगो का ईलाज किया गया है। इनमें से 9 हजार 461 लोगों का नि:शुल्क लैब टेस्ट किया गया है तथा 1 हजार 969 लोगों का श्रम कार्ड कैम्प में पंजीयन के माध्यम से बनाया गया है। एमएमयू का संचालन चिन्हांकित स्लम एरिया में प्रतिदिन प्रात: 8 बजे से दोपहर 3 बजे तक किया जाता है। इसमे कुल 41 प्रकार के स्वास्थ्य जांच के लिए लैब की सुविधा उपलब्ध है जहाँ पर नि:शुल्क लैब टेस्ट कर रिपोर्ट प्रदान किया जाता है।


10-Apr-2021 8:22 PM 20

अम्बिकापुर, 10 अप्रैल। राज्य शासन के निर्देशानुसार कोरोना संक्रमण के प्रसार के रोकथाम हेतु जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में क्वॉरंटीन सेंटर फिर से सक्रिय किये जायेंगे। कलेक्टर संजीव कुमार झा के द्वारा सभी जनपद सीईओ को इस सम्बन्ध में कार्रवाई तेज करने के निर्देश दिए गए है।

क्वॉरंटीन सेंटर के लिए बोर्ड परीक्षा केंद्रों को छोडक़र सभी उपयुक्त स्कूल तथा छात्रावास को चिन्हांकित करने कहा गया है। निर्देश के अनुपालन में अब तक अम्बिकापुर जनपद में 102, बतोली जनपद में 43,मैनपाट जनपद में 44 तथा लुंड्रा जनपद में 4 क्वॉरंटीन सेंटर चिन्हांकित कर लिए गए है। इन क्वॉरंटीन सेंटरों में बाहर से आने वाले प्रत्येक व्यक्ति को रखा जाएगा ताकि कोविड संक्रमण के प्रसार में रोक लगे। जिस गांव का व्यक्ति है उसे उसके गांव के नजदीकी क्वॉरंटीन सेंटर में रखा जाएगा।