छत्तीसगढ़ » सरगुजा

Date : 24-Feb-2020

पवन बने सांसद प्रतिनिधि 

रामानुजगंज, 24 फरवरी। भाजपा कार्यकर्ताओं ने पवन गुप्ता को सांसद प्रतिनिधि बनने पर हर्ष जताया। वहीं पवन गुप्ता ने सांसद रेणुका सिंह एवं संगठन को आभार जताते हुए कहा कि भाजपा शीर्ष नेतृत्व ने जो उनके ऊपर भरोसा जताया है उसे वह पूरे निष्ठा के साथ निभाएंगे। पवन गुप्ता के सांसद प्रतिनिधि बनने पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने उन्हें बधाई देते हुए शुभकामनाएं दी।


Date : 24-Feb-2020

सड़क हादसे में एएसआई पत्नी समेत घायल

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अंबिकापुर, 24 फरवरी।
बिलासपुर मार्ग में मोरगा के पास ट्रक की टक्कर से कार में सवार एएसआई और उनकी पत्नी घायल हो गए। पीछे से आ रहे परिचितों ने दोनों को अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल दाखिल कराया। बताया गया कि हादसे के दौरान कार के पीछे वाली सीट पर उनकी 3 वर्षीय बच्ची भी सो रही थी, जो बाल बाल बच गई।

बताया गया कि स्थानीय पुलिस लाइन निवासी दरिमा थाना में पदस्थ एएसआई प्रेमप्रताप कश्यप और उसकी पत्नी शिक्षिका संध्या कश्यप अपनी बड़ी बच्ची को बिलासपुर छोडऩे गए थे। बच्ची को छोडऩे के बाद कार से दंपत्ति व उनकी छोटी पुत्री वापस अंबिकापुर आ रहे थे। बीती रात मोरगा के पास ट्रक चालक ने लापरवाही पूर्वक वाहन चलाते हुए कार को ठोकर मार दी। कार के सामने का एयर बैग खुल जाने से सामने बैठे दंपत्ति की जान बच गई। हालांकि दोनों घायल हो गए। इस दौरान पीछे से आ रहे लोगों ने जब वाहन रोककर देखा तो घायल परिचित निकले। तत्काल दोनों को मेडिकल कॉलेज अस्पताल लाकर दाखिल कराया गया है।


Date : 24-Feb-2020

शासन-प्रशासन अति पिछड़ों तक पहुंचकर योजनाओं  से लाभान्वित करें -डॉ. साय

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 24 फरवरी।
राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग के अध्यक्ष डॉ नंद कुमार साय ने कहा है कि वनांचलों एवं पहाड़ी पर रहने वाले विशेष पिछड़ी जनजातियों की स्थिति आज भी अच्छी नहीं है। विकास उनसे कोसों  दूर है। इन जनजातियों तक विकास की रोशनी पहुंचाने  के लिए शासन एवं प्रशासन को उन तक पहुंचना होगा और सरकार की योजनाओ से लाभान्वित करना होगा। डॉ साय ने यह निर्देश यहाँ जिला पंचायत सभा कक्ष में आयोजित राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग की संभागीय समीक्षा बैठक में अधिकारियो को  दिए।

  डॉ साय ने कहा कि राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग का गठन आदिवासियों के समस्यओं पर अधिक ध्यान देने के लिए किया गया है। आयोग को संवैधानिक दर्जा प्राप्त है तथा इसे सिविल न्यायालय के भी अधिकार है।उन्होंने कहा कि शासन की योजनाएं को अति पिछड़ो तक ठीक से पहुंच रही है कि नहीं, इस पर निगरानी रखने की जरूरत है।  विशेष पिछड़ी जनजाति पहाड़ी कोरवाओं को संरक्षित करने के लिए उनके लिए एक स्थान पर आवस की सुविधा सहित अन्य बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराएं ताकि सामुहिक रूप से विकास की ओर अग्रसर हो सकें। इसी प्रकार जशपुर के पंडरापाट क्षेत्र में रहने वाले माँझी मंझवारो की स्थिति सुधारने का प्रयास करें। डॉ साय ने मैनपाट की हरियाली बनाये रखने के लिए वन विभाग के अधीकारियों को वनों की कटाई पर रोक लगाने तथा बड़े पैमाने पर वृक्षा रोपण करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही ग्रामीण क्षेत्रो में अन्य प्रान्तों के लोगो द्वारा जमीन के अतिक्रमण पर नजर रखे। गांव में फेरीवालों तथा बाबाओ के गतिविधियों पर सरपंच के द्वारा  कड़ाई से नजर रखा जाना चाहिये।

डॉ साय ने उच्चारणगत अशुद्धि के कारण विभिन्न अनुसूचित जन जातियों के जाति प्रमाण पत्र नही बन पाने के संबंध में कहा कि जाति के सत्यापन के संबंध में हाई पवार कमेटी ही तय कर सकती है कि मूल जाति क्या है। उन्होंने संभाग में पीडि़त आदिवासियों के प्रकरणों का उल्लेख करते हुए कहा कि सीतापुर के बेलजोरा के एक आदिवासी परिवार से गैर आदिवासी द्वारा नौकरी लगाने के नाम पर पैसे लिया गया था ,नौकरी नही लगने पर पैसे वापस मांगा तो जान से मारने की धमकी दी जा रही है। इसी प्रकार कोरिया जिले के मनेन्द्रगढ़ तहसील के चन्दवारीडाँड,बलरामपुर जिले के शंकरगढ़ तहसील के आदिवासी परिवारों के जमीन को गैर अदिवासियो द्वारा कब्जा करने के प्रकरण। उन्होंने कहा कि आदिवासियों पर एट्रोसिटी के मामले की पुनरावृत्ति न हो इसके लिए जनजातियों को जागरूक करेंए मामले को प्राथमिकता से निराकरण  करे। 


Date : 24-Feb-2020

ट्रक के अचानक ब्रेक लगाने से वाहन भिड़े, चालक से मारपीट

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अंबिकापुर, 24 फरवरी।
नगर के रिंग रोड में ट्रक के अचानक ब्रेक मार देने से उसके पीछे भिड़े कार चालकों ने ना सिर्फ ट्रक चालक का पीछा किया, बल्कि ट्रक में पथराव करते हुए चालक से मारपीट की और उसके दस्तावेज सहित ट्रक की चाबी लूट ली। बात यह भी सामने आ रही है कि मौके पर डायल 112 भी पहुंची थी। कार चालकों ने उनके सामने भी ट्रक चालक से मारपीट की। 

जानकारी के अनुसार इलाहाबाद क्षेत्र के ग्राम दुआरी निवासी संतोष दुबे खाली ट्रक लेकर रायगढ़ की ओर जा रहा था। नगर के रिंग रोड जीवन ज्योति अस्पताल  ास उसने अचानक ब्रेक मार दिया। उस ट्रक के पीछे एक और ट्रक आ रहा था। सामने वाले ट्रक के रुकने पर पीछे वाले ट्रक ने भी गाड़ी रोक दी। इसी दौरान पीछे से आ रही कार ट्रक से जा भिड़ी। कार चालकों ने सबसे सामने वाले ट्रक पर अपना गुस्सा उतारते हुए विवाद शुरु कर दिया। किसी तरह ट्रक चालक वहां से ट्रक लेकर खरसिया चौक तक पहुंचा तो वहां भी कार चालक उसे ओवरटेक करते हुए पहुंच गए और ट्रक में पथराव शुरू कर दिया। चौक के पास ही ट्रक चालक को उतारकर उसके साथ मारपीट की गई। बाद में कार सवार ट्रक चालक से कागजात और चाबी लूट कर फरार हो गए। इस पूरे मामले में पुलिस ने ट्रक चालक को कोतवाली में बैठाए रखा। 

 


Date : 24-Feb-2020

युवा चुनौतियों का सामना करते हुए बढें आगे-सिंहदेव

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 24 फरवरी।
छत्तीसगढ शासन के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्रीटीएस सिंहदेव ने रविवार को यहां राजीव गांधी शासकीय स्नात्कोत्तर महाविद्यालय के आडिटोरियम में आयोजित संभाग स्तरीय युवा संसद प्रतियोगिता को मुख्य अतिथि की आसंदी से सम्बोधित करते हुए कहा कि आप सभी लोग जिला स्तरीय स्पर्धा से चयनित होकर आज संभाग स्तरीय स्पर्धा में शामिल हुए हैं। 

इस प्रकार के आयोजन से जहां संसद के गतिविधियों की जानकारी मिलती है वहीं जन सेवा की भावना भी जागृत होती है। भविष्य में जब मतदाताओं के माध्यम से इस स्थान पर जाने का मन होगा तो बड़ी से बड़ी संख्या में इस दिशा जरूर बढं़े और इस चुनौती भरी जिम्मेदारियों को ग्रहण करें। विद्यार्थियों को भारतीय संसदीय संस्थाओं की कार्य पद्धति का व्यावहारिक अनुभव कराना एवं भावी मतदाताओं के मानस में लोकतांत्रिक मूल्यों की सुदृढ़ स्थापना के साथ-साथ परस्पर स्वस्थ व अनुशासित चर्चा के माध्यम से समाधान प्राप्ति कराने के उद्देश्य से युवा संसद प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है।    श्री सिंहदेव ने कहा कि देश में ग्राम पंचायतों,जनपद पंचायतों, जिला पंचायतों,नगरीय निकाय,विधान सभा तथा लोक सभा के निर्वाचन के माध्यम से जन प्रतिनिधियों का निर्वाचन होता है। प्रजातांत्रिक प्रणाली के माध्यम से समाज के उत्थान के लिए विभिन्न योजनाएं बनाई जाती है।  संसद में सभी प्रकार के कानूनों का निर्माण होता है तथा यहां जो निर्णय लिए जाते हैं उससे समाज का संचालन होता है। हमारे पास धन राशि कितनी है तथा कौन से कार्य कराए जाने हैं उसका निर्णय भी सदन के द्वारा होता है। कोई भी मंत्री या मुख्यमंत्री या अधिकारी एक रूपये भी खर्च नही कर सकता जब तक सदन से पारित न हो जाए। 

 श्री सिंहदेव ने कहा कि जितनी भूमिका सत्ता पक्ष का है उतना ही भूमिका विपक्ष का भी है। विपक्ष द्वारा सरकार की कमियों को उजागर कर जनता के सामने लाना और जन कल्याण के काम के लिए सत्ता पक्ष को सहमत किया जाता है। उन्होंने ध्यानाकर्षण तथा स्थगन प्रस्ताव के संबंध में जानकारी देते हुए कहा कि यह प्रजातांत्रिक प्रणाली का अहम हिस्सा है जिसमें कई महत्वपूर्ण बातों पर चर्चा होती है। 

इसमें सत्ता पक्ष और विपक्ष दोनों बराबर रूप से किसी बात पर चर्चा कर सकते हैं। इसी प्रकार स्थगन प्रस्ताव अध्यक्ष के अनुमति से बाकी कामों को रोक कर किसी मुद्दे पर चर्चा के लिए स्थगन प्रस्ताव लाया जा सकता है। 


Date : 23-Feb-2020

सरगुजा के उदयपुर में आंधी तूफान के साथ जमकर ओलावृष्टि, फसलों को भारी नुकसान

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
उदयपुर, 23 फरवरी।
सरगुजा जिला के विकासखंड उदयपुर में रविवार को बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि ने जबरदस्त तबाही मचाई है। ओलावृष्टि से किसानों की फसलों को भारी नुकसान हुआ है। क्षेत्रों की सड़कों में डेढ़ से दो फीट मोटी बर्फ की चादर जमी हुई है। फसल की भरपाई कैसे करेंगे इस बात को लेकर किसान चितिंत है। गेहूं की लगी फसलों को भी काफी नुकसान पहुंचा है। इसके साथ साथ टमाटर मटर गोभी आदि फसलों को भी क्षति पहुंची है। आंधी तूफान से कई घरों के छप्पर, सीट व दुकानों के बोर्ड भी क्षतिग्रस्त हुए हैं।

जानकारी के मुताबिक आज दोपहर 2 बजे मौसम खराब हुआ। एकाएक आंधी तूफान के साथ जमकर ओलावृष्टि हुई। ओलावृष्टि से क्षेत्र के लगभग-लगभग सभी को नुकसान हुआ है। किसानों ने फसलों के नुकसान के मुआवजा की मांग प्रशासन से की है। पुटा रामनगर लक्ष्मणगढ़ उदयपुर सहित दर्जनों ग्रामों में हुई तबाही का अंदाजा तस्वीरों का देखकर लगाया जा सकता है।  बेमौसम बरसात और ओलावृष्टि ने मौसम का मिजाज बदल दिया। जानकारों का मानना है कि बेमौसम बरसात और ओलावृष्टि से ठंड वापस लौट कर आएगी लोगों को अभी ठंड से राहत नहीं मिलने वाली है।

गौरतलब है कि हिमाचल प्रदेश के पास पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है। पश्चिमी उत्तरप्रदेश पर चक्रवात तथा पूर्वी मप्र से पश्चिमी मध्य प्रदेश तक द्रोणिका बना गया है।उसी के प्रभाव से उत्तर छत्तीसगढ़ के इलाकों में शनिवार को ओडग़ी क्षेत्र में ओलावृष्टि हुई थी और रविवार को सरगुजा के उदयपुर में आंधी तूफान के साथ जमकर ओलावृष्टि हुई।

 


Date : 23-Feb-2020

किशोरी से गैंगरेप, 3 बंदी, आईजी ने टीआई को कराया लाइन अटैच

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अंबिकापुर, 23 फरवरी।
बलरामपुर-रामानुजगंज जिला के बलरामपुर कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत एक किशोरी से गैंगरेप के तीनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। मामले में संवेदनहीन रवैय्या को लेकर सरगुजा रेंज आईजी रतनलाल डांगी के निर्देश पर बलरामपुर एसपी टीआर कोशिमा ने बलरामपुर कोतवाली टीआई उमेश बघेल को लाइन अटैच कर दिया है।

जानकारी के मुताबिक गत 19 फरवरी की रात मंदिर से प्रवचन सुनकर अपनी सहेली के साथ लौट रही 14 वर्षीय किशोरी को रास्ते से 2 युवक बाइक पर जबरन बैठाकर सूनसान मकान में ले गए थे। मकान में पहले से ही एक युवक मौजूद था। इसके बाद तीनों ने रातभर किशोरी के साथ रेप किया था। पीडि़ता की सहेली ने रात में ही उसके परिजनों को घटनाक्रम की जानकारी दे दी थी।

परिजन द्वारा मामले की शिकायत बलरामपुर कोतवाली में की गई लेकिन पुलिस ने तत्काल कोई कार्रवाई नहीं की थी। दूसरे दिन पीडि़ता का एमएलसी कराकर घर छोड़ दिया। 

इसकी जानकारी जब क्षेत्रीय विधायक को लगी तो वे पुलिस पर संवेदनहीन रवैया अपनाने का आरोप लगाकर बलरामपुर टीआई की शिकायत सरगुजा रेंज आईजी रतनलाल डांगी से करते हुए कार्रवाई की मांग की थी। विधायक की शिकायत पर आईजी ने इस मामले की जांच के निर्देश बलरामपुर एसपी को दिया था।आरोप सही पाए जाने पर टीआई को लाइन अटैच किया गया है। पुलिस ने घटना के तीसरे दिन तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

मामले में बलरामपुर पुलिस ने तीनों आरोपियों के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म पॉक्सो एक्ट के तहत अपराध दर्ज कर जेल भेज दिया गया है।

गौरतलब है कि बलरामपुर जिले के मंदिर में 19 फरवरी की रात प्रवचन कार्यक्रम चल रहा था। प्रवचन में 14 साल की किशोरी अपनी सहेली के साथ गई थी। रात में यहां से लौटते समय बाइक सवार दो युवकों ने बालिकाओं का रास्ता रोक लिया व छेड़छाड़ करने लगे।इस दौरान सहेली हिम्मत दिखाते हुए आरोपियों को दांत काट कर वहां से भाग गई, लेकिन 14 वर्षीय किशोरी को आरोपी अपने साथ जबरन अपनी बाइक पर बैठाकर ग्राम के पहाड़ पर स्थित एक सूने मकान में ले गए और सामूहिक आनाचार की वारदात को अंजाम दिया था।


Date : 23-Feb-2020

स्वस्थ जीवन के लिए खेल आवश्यक-सिंहदेव

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अंबिकापुर, 23 फरवरी।
नगर के कला केंद्र मैदान में रविवार को मंत्री टीएस सिंहदेव ने मां महामाया कप 2020 क्रिकेट टूर्नामेंट का शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि स्वस्थ जीवन में खेल का बहुत महत्व है। स्वस्थ रहने के लिए खेल आवश्यक है। कला केंद्र मैदान में मां महामाया कब क्रिकेट टूर्नामेंट एक बड़ी प्रतियोगिता है। यहां विजेता और उपविजेता को जितनी बड़ी राशि इनाम स्वरूप रखी गई है वह संभाग में आज तक नहीं हुई। इस बड़ी राशि के जरिए बाहर से बड़े स्तर के खिलाड़ी इस टूर्नामेंट में भाग लेंगे। निश्चित ही यह टूर्नामेंट ऊंचाइयों तक जाएगा। उन्होंने आयोजन समिति को भी बधाई दी। मां महामाया कब क्रिकेट टूर्नामेंट में विजेता टीम के लिए 3 लाख और उपविजेता के लिए सवा लाख की राशि इनाम स्वरूप रखी गई है। इसके अलावा मैन ऑफ द सीरीज के लिए टीवीएस मोटरसाइकिल भी रखी गई है। 

क्रिकेट टूर्नामेंट का उद्घाटन मंत्री श्री सिंहदेव ने मां महामाया मां की पूजा अर्चना करते हुए की। इसके बाद राजमाता की तस्वीर में पुष्पांजलि अर्पित करते हुए 2 मिनट का मौन रखा गया। मंत्री श्री सिहदेव ने उद्घाटन अवसर पर अपने बल्लेबाजी का जौहर दिखाते हुए कई ऐसे शार्ट दिखाएं जो एक मंझा हुआ खिलाड़ी दिखा सकता है।


Date : 23-Feb-2020

धनवारकला में स्वास्थ्य जांच व जागरूकता शिविर

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अंबिकापुर, 23 फरवरी।
बलरामपुर जिले के दूरस्थ ग्रामीण अंचल धनवारकला के कोडाकू बाहुल बस्ती में जेसुइट मिशन परिवार के बैनर तले विशाल स्वास्थ्य जांच व जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया जिसमें बड़ी संख्या में लोगों ने स्वास्थ्य लाभ प्राप्त किया।

मौसमी बीमारियों के लिये हमेशा सुर्खियों में रहने वाले वनों से आच्छादित धनवारकला के ग्रामीणों को मलेरिया व डायरिया जैसी बीमारियों की रोकथाम के उपाय बताकर जागरूक किया गया।डाक्टर रेणुका ने ग्रामीणों को समझाइश देते हुए कहा की खाने-पीने के मामले में हम थोड़ी सी सावधानी से डायरिया मलेरिया जैसी बीमारियों से आसानी से निपटा जा सकता है।जागरूकता के आभाव में ही हमारे ऊपर बीमारी मुसीबत बन कर आ जाती है जिससे हम व हमारा परिवार टूट जाते हैं जेसुइट मिशन धनवारकला के द्वारा आयोजित इस स्वास्थ जांच शिविर में होली क्रॉस हॉस्पिटल अंबिकापुर कि डॉक्टर रेणुका केरकेट्टा की अगुवाई में डॉक्टरों की टीम के द्वारा ग्रामीणों की स्वास्थ्य जांच कर उपचार किया गया।

स्वास्थ्य जांच पश्चात ब्राइटवे फुटवियर व 24 जीम अंबिकापुर के सहयोग से जरूरतमंद कोडाकू ग्रामीणों बड़े व बच्चों को जूते,मोजे चप्पल और कपड़े भी वितरित किए गए।कार्यक्रम के अंत में आयोजक फादर अनिल पन्ना ने कहां की आने वाले समय में ऐसे शिविर और आयोजित किए जाएंगे कहते हुए कार्यक्रम में सहयोग करने वालों के प्रति का आभार व्यक्त करते हुए कार्यक्रम के समापन की घोषणा की।

 


Date : 23-Feb-2020

राजमाता की आत्मा की शांति के लिए गुरुद्वारे में अंतिम अरदास, राज परिवार हुआ शामिल, दी गई श्रद्धांजलि

अंबिकापुर, 23 फरवरी। सरगुजा की आधारशिला राजमाता स्व. देवेंद्र कुमारी सिंहदेव की याद में गुरुद्वारा श्री गुरु सिंह सभा में आयोजित अखंड पाठ की समाप्ति के बाद रविवार को अंतिम अरदास उनकी आत्मा की शांति के लिए किया गया। इस दौरान गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा में कैबिनेट मंत्री टीएस सिंहदेव सहित पूरे राज परिवार ने मत्था टेका। सिख समुदाय के साथ-साथ भारी संख्या में लोगों ने अंतिम अरदास में शामिल होकर राजमाता को श्रद्धांजलि अर्पित की। कीर्तन एवं अंतिम अरदास उपरांत गुरु का अटूट लंगर बताया गया, जिसमें मंत्री श्री सिंहदेव सहित पूरे राजपरिवार व हजारों लोगों ने प्रसाद ग्रहण किया। 

गुरु सिंह सभा की ओर से मंत्री श्री सिंहदेव को राजमाता की तस्वीर स्मृति चिन्ह के रूप में प्रदान की गई। कवि भगत सिंह विहंस की ओर से राजमाता को लेकर लिखी गई कविता राज परिवार को भेंट की गई। अंतिम अरदास में राजमाता स्व. देवेंद्र कुमारी सिंहदेव को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा के अध्यक्ष नवराज सिंह बाबरा ने कहा कि राजमाता का अवसान एक युग का अवसान है। राजमाता वात्सल्य की ऐसी छांव थी जो राज परिवार के साथ साथ हमारे लिए भी था। सरगुजा के प्रति उनका समर्पण हमेशा याद रहेगा। वे सरगुजा के सशक्तिकरण के लिए हमेशा प्रयासरत रहीं। उन्होंने कहा कि हम हमेशा राज परिवार के साथ थे और रहेंगे। राजमाता अत्यंत विनम्र व्यक्तित्व के धनी थी। उनका निधन एक बड़ी क्षति है। गौरतलब है कि राजमाता की आत्मा की शांति के लिए गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा में अखंड पाठ का आयोजन शुक्रवार को प्रात: 11.30 बजे से प्रारंभ किया गया था। आज राजमाता के अंतिम अरदास में सिख समुदाय सहित शहर के भारी संख्या में गणमान्य लोगों ने शामिल होकर उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किए।


Date : 23-Feb-2020

अजीत जोगी के स्वास्थ्य में सुधार, स्टेट प्लेन से रायपुर रवाना

अंबिकापुर, 23 फरवरी। छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री व छजका सुप्रीमो अजित जोगी के स्वास्थ्य में सुधार हो गया है। श्री जोगी रविवार को सरकार के स्टेट प्लेन से रायपुर रवाना हो गए।

गौरतलब है कि अजीत जोगी शनिवार को सरगुजा राजमाता स्व. देवेंद्र कुमारी सिंह देव के चंदनपान में शामिल होने नियमित ट्रेन से अंबिकापुर आए थे। दोपहर को अजित जोगी पैलेस कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे तो अचानक उनकी तबियत बिगड़ गई थी। उन्हें आपात स्थिति में जीवन ज्योति अस्पताल में भर्ती कराया गया था। चिकित्सकों ने उन्हें लो बीपी होना बताया था। रात भर चिकित्सकों की निगरानी के बाद उनके स्वास्थ्य में सुधार हो गया था। रविवार को अजित जोगी रायपुर के लिए रवाना हो गए। इस दौरान दानिश रफ़ीक, बलविंदर छाबड़ा लगातार उनके साथ मौजूद रहे। दरिमा एयरपोर्ट पर भाजपा पार्षद आलोक दुबे और इरफ़ान सिद्दकी उन्हें छोडऩे पहुंचे थे।


Date : 23-Feb-2020

बाइक की ठोकर से युवक घायल

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कुसमी, 23 फरवरी।
कुसमी-करौंधा मुख्य मार्ग पर शुक्रवार रात भारतीय स्टेट बैंक के समीप शिव मंदिर से कीर्तन कर पैदल निवास लौट रहे कृषि मंडी कर्मचारी को बाइक सवार युवकों ने ठोकर मार दी। जिससे कर्मचारी के दोनों पैर फ्रैक्चर हो गए। 
जानकारी के अनुसार बाइक सवार युवक नशे में थे। जो तेज रफ्तार लापरवाही पूर्वक बाइक चलाते हुए कृषि मंडी के कर्मचारी सत्येंद्र मिश्रा को ठोकर मार दिये। हादसे में श्री मिश्रा के दोनों पैर फ्रैक्चर हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घटना स्थल से घायल सत्येंद्र मिश्रा व बाइक सवार युवक राकेश ठाकुर, प्रदीप ठाकुर को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया।जहां से सत्येंद्र मिश्रा को जिला अस्पताल भेज दिया गया। 

वहीं मामूली चोट लगने पर चालक को प्राथमिक उपचार करा बाइक समेत हिरासत में ले लिया है। पुलिस ने बताया कि बाइक राकेश ठाकुर चला रहा था तथा दोनों कुसमी में सैलून दुकान चलाते हैं। 

 


Date : 22-Feb-2020

सरगुजा राजमाता के श्रद्धांजलि कार्यक्रम में आए अजीत जोगी की तबीयत बिगड़ी, सीएम मिलने पहुंचे
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अंबिकापुर, 22 फरवरी।
अविभाजित मध्यप्रदेश की पूर्व कैबिनेट मंत्री व सरगुजा रियासत की राजमाता देवेंद्र कुमारी सिंहदेव के 13वीं कार्यक्रम में शामिल होने अंबिकापुर पहुंचे छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजीत जोगी की तबीयत अचानक खराब हो गई है। बताया जा रहा है कि वे रघुनाथ पैलेस में राजमाता को श्रद्धांजलि देने व्हीलचेयर के सहारे मंच पर चढ़े थे। इसी दौरान अचानक उनकी तबियत खराब हो गई। आनन-फानन में उन्हें सहयोगियों द्वारा मंच से उतारकर उनके वाहन से अस्पताल ले जाया गया।  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी अजीत जोगी से मिलने पहुंचे।

जानकारी के अनुसार शनिवार की दोपहर करीब 3 बजे अजीत जोगी राजमाता की प्रतिमा के समक्ष श्रद्धांजलि देने मंच पर चढ़े थे। इसी दौरान उनकी तबियत बिगड़ गई। उन्होंने सहयोगियों को इशारा किया तो तत्काल उन्हें मंच से उतारा गया और उनके विशेष वाहन में ले जाया गया। वाहन में पूरी चिकित्सकीय व्यवस्था उपलब्ध है। जांच में डॉक्टरों ने पाया कि पूर्व सीएम जोगी का ब्लड प्रेशर लो गया गया था। इसके कारण उन्हें थोड़ी परेशानी महसूस हुई। 

 शाम को समाचार लिखे जाने तक उनकी तबीयत स्थिर नहीं हो पाई है। अब तक तीन से चार बार वे बेहोश हो रहे हैं। रूक-रूककर आ रही बेहोशी की वजह से उन्हें होटल से तुरंत जेजे हास्पीटल भेजा गया।

डाक्टरों ने उनकी बीपी काफी लो बताया है, जो काफी देर से स्थिर नहीं हो पा रहा हैं। अगर अस्पताल में भी उनकी तबीयत में सुधार नहीं आता है तो अंबिकापुर में एयर एंबुलेंस की भी व्यवस्था कर दी गई है, जो तत्काल उन्हें लेकर या तो रायपुर या फिर दिल्ली रवाना हो जाएगी।

 


Date : 22-Feb-2020

अभी तो किसान का नंबर लगा है आगे सभी वर्ग होंगे प्रताडि़त- रमन 
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 22 फरवरी।
सरगुजा राजमाता को श्रद्धांजलि देने उपरांत अंबिकापुर भाजपा कार्यालय में पत्रकारों से चर्चा करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि धान खरीदी को लेकर पूरे प्रदेश में हलचल है। सरकार के घोषित तारीख तक लाखों किसानों की धान खरीदी नहीं हो पाई है। किसान सरकार के पास जा रहा है तो लाठी चलाई जा रही है जबकि किसानों का एक-एक दाना धान खरीदने की बात सरकार ने कही थी। सरकार के इस रवैया से पूरे प्रदेश का किसान परेशान है। श्री सिंह ने आगे कहा कि सरकार ने 15 क्विंटल धान खरीदने, 2 साल का बोनस पूरा देने की भी बात कही थी लेकिन मुकर गई, सरकार को श्वेत पत्र जारी करना चाहिए। उन्होंने कहा कि अभी तो किसान प्रताडि़त हो रहे हैं आगे सभी वर्ग प्रताडि़त होंगे। 

रमन सिंह ने आगे बताया कि सरकार को एक लाख सात करोड़ मीट्रिक टन धान की खरीदी करनी थी। इनके अनुसार अभी तक 82 लाख मैट्रिक टन धान की खरीदी हो पाई है। 20 लाख किसानों का धान अभी तक नहीं खरीदी हुई है। रमन सिंह ने कहा कि 24 फरवरी को विधानसभा में पूरी ताकत से किसानों का मुद्दा उठाएंगे। पूर्व में राज्यपाल को ज्ञापन देकर धान खरीदी का समय बढ़ाए जाने की मांग भी की गई है थी।

श्री सिंह ने बताया कि सोसाइटी में 10 दिन बारदाना नहीं होने और 16 दिन असमय वर्षा से खरीदी केंद्र बंद रहे। सरकार ने धान खरीदी के लिए जो सॉफ्टवेयर बनाया है उसमें चौथे नंबर का टोकन नहीं लिया जिसके कारण भी खरीदी नहीं हो पाया। श्री सिंह ने कहा कि 16 दिन तिथि आगे बढ़ाना किसानों का जायज हक है बढ़ाया जाना चाहिए।
सरगुजा में नक्सलवाद का मनोबल बढ़ा है

वार्ता के दौरान रमन सिंह ने कहा कि सरगुजा में एक बार फिर से नक्सलवाद का मनोबल बढ़ा है। सरकार को तत्काल एक्शन लेने की आवश्यकता है। समय रहते एक्शन नहीं लिया गया तो फिर नक्सली आगे बढ़ेंगे और पहले जैसी स्थिति यहां निर्मित हो जाएगी। गौरतलब है कि कुछ दिन पूर्व ही बलरामपुर जिले में नक्सली वारदात हुई थी जिसमें 7 वाहनों को जला दिया गया। नक्सलियों ने संकेत दे दिया है कि वह यहां भी अपना कदम जमा लिए हैं। सरगुजा में कानून व्यवस्था को लेकर भी रमन सिंह ने प्रश्न चिन्ह उठाया और कहा कि आज चारों तरफ डकैती, अपहरण, हत्या व अन्य आपराधिक घटनाओं का खबर प्रकाशित ना होता हो। आज अपराधियों के हौसले बुलंद हैं चारों तरफ भय का माहौल है।

15 सालों में हमने 40 हजार करोड़, इस सरकार ने 1 साल में 20 हजार करोड़
वार्ता के दौरान पत्रकारों द्वारा रमन सिंह से पूछा गया कि कांग्रेसी आरोप लगाते हैं कि रमन सरकार ने सारा खजाना खाली कर चले गए हैं? प्रश्न के संदर्भ में रमन सिंह बताया कि धान खरीदी के लिए स्टेट को बजट में कोई इफेक्ट नहीं पड़ता, आरबीआई से लोन लेते हैं। 15 सालों में हमारा बजट सरप्लस रहा।वित्तीय स्थिति में हम एफआरडीएम के अनुसार जो जीएसडीपी 3 फीसदी रहना चाहिए, उसके अंदर रहे। 15 सालों में हमने 48 हजार करोड़ का कर्ज लिया इस सरकार ने तो 1 वर्ष में ही 20 हजार करोड़ का कर्ज ले लिया। रमन सिंह ने भूपेश सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि सरकार की सोच है जितना कर्ज लेना है ले लो आगे देखा जाएगा। रमन सिंह ने कहा कि प्रदेश की वित्तीय स्थिति पूरी तरह चौपट हो गई है।जन घोषणा पत्र को सरकार रद्दी टोकरी में डाल दी है।सरकार ने शराब बंदी,किसानों को बोनस और ना ही वादे के अनुसार समर्थन मूल्य में धान खरीदी की। रमन सिंह ने कहा कि अभी तो किसान का नंबर लगा है आने वाले समय में सभी वर्ग के लोग इस सरकार से प्रताडि़त होंगे।

मॉर्निंग ट्रेन की नितांत आवश्यकता, करेंगे रेल मंत्री से चर्चा
15 वर्षों तक मुख्यमंत्री रहने के बाद पहली बार अंबिकापुर में ट्रेन से पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि ट्रेन से आना उनके लिए काफी सुखद अनुभव रहा। जहां-जहां स्टेशन पड़ा सैकड़ों कार्यकर्ता उनसे मुलाकात किए और सेल्फी लेने की होड़ मची रही। श्री सिंह ने कहा कि इस दौरान कार्यकर्ताओं व लोगों से बातचीत की तो उन्हें लगा कि अंबिकापुर से रायपुर तक सुबह की ट्रेन की नितांत आवश्यकता है। 

उन्होंने कहा कि इसके लिए वे शीघ्र ही रेल मंत्री पीयूष गोयल से चर्चा करेंगे।श्री सिंह ने बताया कि भाजपा सरकार में स्वीकृत हुए रेल कॉरिडोर पूरी तरह ठप हो गए हैं। कोरिडोर में अंबिकापुर से कोरबा रेल लाइन जुडऩा था अगर यह रेल लाइन जुड़ जाती तो काफी समय यहां के यात्रियों का बचता। रमन सिंह ने कहा कि इस सरकार में कोई भी नए काम नहीं हुए हैं कहीं भी नई सडक़ नहीं बनी है सब पूर्व के स्वीकृत कार्य ही हो रहे हैं। 

वार्ता के दौरान विधायक बृजमोहन अग्रवाल, भाजपा प्रदेश मंत्री अनुराग सिंह देव,जिला अध्यक्ष अखिलेश सोनी,अनिल सिंह मेजर,पूर्व महापौर प्रबोध मिंज,भारत सिंह सिसोदिया,अंबिकेश केसरी,अजय सिंह बबलू,विनोद हर्ष,संतोष दास सहित अन्य मौजूद थे।

 


Date : 22-Feb-2020

हिण्डाल्को द्वारा सामरी में कंबल वितरित किया गया

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
कुसमी, 22 फरवरी।
हिण्डाल्को खान प्रभाग सामरी द्वारा संचालित सीएसआर विभाग के सौजन्य से बुधवार को ग्राम सामरी एवं आसपास के क्षेत्र के गरीब जरूरतमंद बुजुर्गों को सर्दी से बचाव हेतु कंबल का वितरण किया गया।

 खान प्रमुख राजेश अंबष्ट ने बताया कि सामरी एवं आस पास के क्षेत्र में हिण्डाल्को द्वारा सी.एस.आर. कार्यक्रमों के अंतर्गत ग्रामों के विकास के लिए विभिन्न कार्य किये जा रहे हैं, जिसके अंतर्गत ग्राम सामरी में क्षेत्र के गरीब जरूरतमंद बुजुर्गों को सर्दी से बचाव हेतु कंबल का वितरण किया गया। उन्होंने बताया कि क्षेत्र के विकास के लिए हम सदैव तत्पर हैं। उन्होंने नवनिर्वाचित जनपद अध्यक्ष , उपाध्यक्ष नगरपंचायत अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सरपंच, बीडीसी एवं अन्य जनप्रतिनिधियों को बधाई देते हुए साथ मिलकर काम करने की बात कही। सीएसआर प्रमुख विजय मिश्रा ने बताया कि ग्राम सामरी एवं आसपास के क्षेत्र के ग्रामीण बुजुर्गों को सर्दी से बचाव हेतु लगभग 400 कंबल का वितरण किया गया, एवं करीब 800 बचे ग्रामीणों को सूची के अनुसार कंबल वितरित किए जाएंगे। उन्होंने  नवनिर्वाचित जनपद एवं नगर पंचायत सदस्यों को अपने काम की जानकारी देते हुए आगे भी साथ मिलकर कार्य करने की बात कही। इस अवसर पर जनपद अध्यक्ष हुमन्त सिंह, उपाध्यक्ष हरीश मिश्रा ने कंबल वितरण में अपनी भागीदारी देते हुए ग्रामीणों के बीच हिण्डाल्को द्वारा किये जा रहे कार्यों की सराहना की, साथ ही उन्होंने क्षेत्र के विकास के लिए साथ मिलकर कार्य करने की बात कही। कार्यक्रम में मंच एवं शिविर संचालन हिण्डाल्को के सी.एस.आर. विभाग के रोहित श्रीवास्तव, के द्वारा किया गया जिसमें उनकी भूमिका अहम रही।  


कार्यक्रम में हिण्डाल्को के अमित तिवारी, योगेंद लिल्हारे, फ्रांसिस नाग ,राजेष सिंह, चंद्रषेखर प्रसाद, नगर पंचायत अध्यक्ष गोर्वधन राम, उपाध्यक्ष जावेद रहमानी , सरपंच सामरी भगमनिया देवी, बीडीसी मानमती सिंह, सचिव सामरी ओमप्रकाष यादव, विनोद राम, ललित, रामलाल यादव, रामसुदर यादव, खसरू बुनकर, योगेंद्र सिंह, विंधेष्वर, चातरू राम,रमेष नगेषिया, हरिषंकर सोनवानी, जनपद , कुसमी रामावतार एवं अन्य उपस्थित थे। 


Date : 22-Feb-2020

सरगुजा राजमाता देवेंद्र कुमारी को हजारों ने दी श्रद्धांजलि, राज्यपाल, कैबिनेट मंत्री समेत दोनों पूर्व सीएम हुए शामिल

छत्तीसगढ़ संवाददाता
अम्बिकापुर, 22 फरवरी।
अविभाजित मध्यप्रदेश की पूर्व मंत्री व सरगुजा राजपरिवार की राजमाता देवेंद्र कुमारी सिंहदेव के श्रद्धांजलि कार्यक्रम में शनिवार को राज्यपाल अनुसुईया उइके अम्बिकापुर पहुंचीं। उनके साथ कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे तथा संसदीय कार्य सचिव सोनमणी बोरा भी साथ थे। 

हेलीपैड पर कमिश्नर इमिल लकड़ा एवं आईजी रतन लाल डांगी ने अगवानी की। इसके पश्चात राज्यपाल व कैबिनेट मंत्री सरगुजा पैलेस पहुंच राजमाता को श्रद्धांजलि दी। इसके पूर्व विधान सभा अध्यक्ष चरणदास महंत, गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू,आबकारी मंत्री कवासी लखमा, राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल, मंत्री अमरजीत भगत, डॉ. प्रेमसाय सिंह व (बाकी पेजï 5 पर)

छत्तीसगढ़ के कई विधायक अम्बिकापुर पंहुचे और राजमाता को श्रद्धांजलि दी। राजमाता देवेंद्र कुमारी को श्रद्धांजलि अर्पित करने छत्तीसगढ़ के प्रथम मुख्यमंत्री अजीत जोगी के अलावा पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह सहित बस्तर के राजा कमल चंद भंजदेव भी पहुंचे हुए थे।

श्रद्धांजलि देने व चंदनपान में शामिल होने सरगुजा के हजारों लोग सरगुजा पैलेस पहुंचे थे। विभिन्न राज्यों के वीआईपी, वीवीआईपी का प्रवास दिनभर अंबिकापुर में होता रहा। सरगुजा संभाग के गांव-गांव से लोग तेरहवीं कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पहुंच रहे थे। सभी ने सरगुजा राजमाता स्व. देवेंद्र कुमारी सिंह देव के पुत्र पंचायत एवं स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव से मुलाकात की व निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया व अपनी श्रद्धांजलि दी। 

गौरतलब है कि गत 10 फरवरी की रात दिल्ली मेदांता अस्पताल में राजमाता ने 7.6 मिनट पर अंतिम सांस ली थीं। 86 वर्षीय राजमाता देवेंद्र कुमारी सिंहदेव बीते कई महीनों से अस्वस्थ थीं। 

सरगुजा की राजमाता देवेन्द्र कुमारी सिंहदेव हिमांचल प्रदेश के पूर्व जुब्बल रियासत की राजकुमारी थीं। उनका शिमला में 20 जुलाई 1933 को जन्म हुआ था। सरगुजा के महाराजा मदनेश्वर शरण सिंहदेव से 21 अप्रैल 1948 में विवाहित राजमाता देवेन्द्र कुमारी दो बार अम्बिकापुर तथा बैकुण्ठपुर से विधायक रहीं। वे अविभक्त मध्यप्रदेश की आवास एवं पर्यावरण मंत्री, मध्यम एव लघु सिंचाई मंत्री भी रहीं। वे राष्ट्रीय कांग्रेस के अग्रिम पंक्ति की सशक्त नेत्री थीं।


Date : 22-Feb-2020

विद्यार्थियों को किया जूते-मोजे का निशुल्क वितरण
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 22 फरवरी।
विगत दिनों ग्राम उचलेंगा, खिरटी तथा केतमा के छत्तीसगढ़ स्टेट पावर जनरेशन कंपनी लिमिटेड के गिधमुरी व पतुरिया कोयला खनन परियोजना की ओर से स्कूली बच्चों तथा आंगनबाड़ी के बच्चों हेतु नि:शुल्क जूते तथा मोजे का वितरण किया गया। 

इस वितरण कार्यक्रम में सीएसपीजीसीएल के कार्यपालन अभियंता अजय नेमा ने बताया की ग्राम उचलेंगा, खिरटी तथा केतमा के प्राथमिक शाला, माध्यमिक शाला तथा सभी आंगनबाडिय़ों के 300 बच्चों हेतु परियोजना के सीएसआर विभाग द्वारा नि:शुल्क जूता मोजे का वितरण किया जा रहा हैं, साथ ही साथ ग्राम उचलेंगा के आंगनबाड़ी क्रेंद्र का भी जीर्णो द्वार कराया गया है।   कार्यक्रम में उपस्थित कार्यपालन अभियंता श्री मेहर ने बताया कि परियोजना द्वारा सामाजिक विकास के कार्यों हेतु शिक्षा, स्वास्थ्य,पेयजल तथा नारी सशक्तिकरण के कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। कार्यक्रम में उपस्थित पूर्व सरपंच प्रतिनिधि जवाहर बिंझवार ने कंपनी के प्रयासों की सराहना की। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि नवनिर्वाचित सरपंच  जय सिंह बिंझवार ने कंपनी के कार्यों की सराहना करते हुए भविष्य में भी ग्राम विकास में कंपनी से सहयोग की अपेक्षा की। कार्यक्रम के अंत में पुरन पैकरा ने सभी उपस्थितजनों का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिये ग्राम उचलेंगा के प्राथमिक तथा माध्यमिक शाला के शिक्षकों तथा ग्रामवासियों का सराहनीय योगदान था।

 

 


Date : 22-Feb-2020

मैनपाट महोत्सव में होगा सायकल रेस व लगेंगे छत्तीसगढ़ी व्यंजनों के स्टॅाल

अम्बिकापुर, 22 फरवरी। मैनपाट महोत्सव का तीन दिवसीय आयोजन जिला प्रशासन द्वारा किया जा रहा है। महोत्सव के दूसरे दिन सायकल रेस का आयोजन किया जाएगा, जिसमें पुरूष एवं महिला वर्ग के प्रतिभागी भाग ले सकते हैं। सायकल रेस जूनियर एवं सीनियर वर्ग में आयोजित की जाएगी। जूनियर वर्ग मे 19 वर्ष से कम आयु वर्ग के बालक एवं बालिकाओं को 30 किलोमीटर तथा सीनियर वर्ग में पुरूष एवं महिला को 50 किलोमीटर की दूरी तय करनी होगी। सायकल रेस घड़ी चौक अम्बिकापुर से प्रारंभ होगी तथा जूनियर वर्ग के लिए ग्राम नवापाराकला तथा सीनियर वर्ग के लिए बस स्टैण्ड कमलेश्वरपुर मे समाप्त होगी। सायकल रेस में भाग लेने के इच्छुक 28  फरवरी तक अपना पंजीयन आनलाईन करा सकते हैं। 

मैनपाट महोत्सव में फूड फेस्टिवल का भी आयोजन किया जा रहा है जिसमें छत्तीसगढ़ी व्यंजन बनाने वाले विजेता प्रतिभागी को मेला ग्राउड में बनाए गए एक हट कुटिया का नि:शुल्क आबंटन किया जाएगा। इसके अतिरिक्त तीन प्रतिभागियों को जो किसी प्रकार का स्वादिष्ट व्यंजन बना सकते हैं उन्हें फूड फेस्टिवल क्षेत्र में तीन स्टाल नि:शुल्क दिए जाएंगे। नि:शुल्क स्टाल प्राप्त करने के इच्छुक प्रतिभागियों को पाककला प्रतियोगिता में भाग लेना होगा। यह प्रतियोगिता 25 फरवरी को अम्बिकापुर में आयोजित की जाएगी। इस प्रतियोगिता में प्रतिभागी को अपने घर से व्यंजन बनाकर लाना होगा तथा निर्णायक मण्डल द्वारा इनमें से सर्वश्रेष्ठ व्यंजन बनाने वाले प्रतिभागी का चयन किया जाएगा। चयनित प्रतिभागियों को मैनपाट महोत्सव में उन्हें आबंटित स्टाल में छत्तीसगढ़ी व्यंजनों का विक्रय कर सकेंगे। छत्तीसगढ़ी व्यंजन प्रतियोगिता में भाग लेने के इच्छुक प्रतिभागी, महिला समूह 24 फरवरी तक अपना पंजीयन ऑनलाईन करा सकते हैं। ऑनलाईन के अतिरिक्त सायकल रेस एवं फूड फेस्टिवल में भाग लेने के इच्छुक प्रतिभागी खेल विभाग के जिला कार्यालय कलेक्टोरेट परिसर अम्बिकापुर से भी सम्पर्क कर सकते हैं। 

 

 


Date : 21-Feb-2020

खड़े ट्रक में स्कॉर्पियो ने मारी टक्कर, बाल-बाल बचे सवार
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
लखनपुर, 21 फरवरी।
बिलासपुर मुख्य मार्ग में स्थित महामाया पेट्रोल पंप के समीप मोड़ के पास खड़े क्लिंकर लोड ट्रक में भिलाई से अंबिकापुर जा रहे स्कॉर्पियो के चालक ने शुक्रवार की सुबह 7 बजे नींद की झोक में पीछे से खड़े ट्रक में जबरदस्त ठोकर मार दी। क्लिंकर लोड ट्रक का ब्रेक फेल होने कारण कल से सड़क किनारे खड़ी थी। 
बताया जा रहा है तेज रफ्तार स्कॉर्पियो में 7 लोग सवार थे। टक्कर के बाद ट्रक चालक रशीद अंसारी, क्लीनर कौसर अंसारी के द्वारा स्कार्पियो सवार 4 महिलाओं वह तीन पुरुषों को बाहर निकाला गया। बाद इसके स्कार्पियो सवार लोगों को 112 एवं 108 एंबुलेंस के जरिए प्राथमिक उपचार के लिए लखनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा गया। डॉक्टरों से मिली जानकारी के मुताबिक स्कॉर्पियो में सवार महिलाओं व पुरुषों को हल्की चोटें आई है।


Date : 21-Feb-2020

शिवालयों में गूंजा हर-हर महादेव
लखनपुर, 21 फरवरी।
महाशिवरात्रि का पर्व क्षेत्र में उत्साह के साथ मनाया गया। लखनपुर नगर में स्थित प्राचीन स्वयंभू शिव मंदिर ऋषि जमदग्नि के तपोभूमि देवगढ़ धाम महेशपुर शिव धाम में भक्तों ने पहुंचकर जलाभिषेक दुग्ध अभिषेक से भगवान शिव का पूजा अनुष्ठान किया। आसपास के शिव मंदिरों में भी महादेव की पूजा आराधना भक्तों द्वारा की गई।

शिवालयों में हर-हर महादेव गूंजता रहा। सवेरे से ही मंदिरों में शिव भक्तों की तांता लगा रहा। महाशिवरात्रि पर जहां भगवान भोलेनाथ की पूजा अनुष्ठान लोगों ने किए वहीं मंगल कामना के साथ भगवान का आशीष भी प्राप्त किया। देवगढ़ धाम महेशपुर धाम में आज से 3 दिन दिवसीय मेला का शुभारंभ हुआ। महाशिवरात्रि के मौके पर प्रत्येक वर्ष मेला लगता है। मंदिर देवालयों में कीर्तन भजन का आयोजन भी हुआ, पूरे उल्लास के साथ महाशिवरात्रि का पर्व मनाया गया।