छत्तीसगढ़ » दुर्ग

21-Sep-2020 5:02 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

भिलाई नगर 21 सितंबर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्म दिवस 17 सितंबर के अवसर पर पूरे देश में भारतीय जनता पार्टी 14 से 20 सितंबर तक सेवा सप्ताह के रूप में मनाने का निर्णय लिया है। इसी परिपेक्ष्य में भारतीय जनता पार्टी प्रदेश इकाई के निर्देश पर भाजपा जिला भिलाई के अध्यक्ष व पूर्व विधायक अहिवारा राजमहंत सांवलाराम डाहरे के निर्देश पर प्रधानमंत्री के जन्मदिवस को सेवा सप्ताह के रूप में मनाया जा रहा है।

इस अवसर पर भाजपा कार्यकर्ताओं के द्वारा पौधारोपण स्वच्छता अभियान, अस्पतालों में फल वितरण, ब्लड डोनेशन, दिव्यांगों को कृत्रिम अंग प्रदान किए गए। प्रधानमंत्री के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर विधानसभा द्वारा वैशाली नगर भिलाई नगर में ऑनलाइन वेबीनार का आयोजन भी किया गया।

इन कार्यों में प्रमुख रूप से खिलावन साहू, फणींद्र पांडे, प्रमोद अग्रवाल, संतोष सिंह, दिलीप पटेल, राजू पांडे, मुकेश अग्रवाल, संजय शर्मा, ए के पाड़ी, मंजूषा साहू, चंद्र प्रकाश पांडे, सुषमा जेठानी का योगदान रहा।

 


21-Sep-2020 4:37 PM

जिला कोविड-19 अस्पताल पर निर्भरता समाप्त

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भिलाईनगर 21 सितंबर ।
चंदूलाल चंद्राकर कोविड-19 केयर सेंटर कचांदूर में आज से 15 बेड का आईसीयू वार्ड शुरू हो गया है। अब गंभीर मरीजों का भी इलाज केयर सेंटर में किया जा सकेगा। केयर सेंटर अब जिला कोविड-19 अस्पताल शंकराचार्य पर निर्भर नहीं रहेगा। कल कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भूरे, निगम कमिश्नर ऋ तुराज रघुवंशी एवं कोविड-19 केयर  सेंटर प्रभारी अनिल शुक्ला ने निरीक्षण कर आईसीयू शुरू करने की अनुमति अस्पताल के कंसलटेंट डॉ. सरिता को दी थी।

चंदूलाल चंद्राकर कोविड-19 केयर सेंटर कचांदूर के प्रभारी डॉ. अनिल शुक्ला ने बताया कि 900 बिस्तर वाले इस कोविड-19 सेंटर में भूतल में आज से गहन चिकित्सा इकाई कक्ष की शुरुआत 15 बिस्तरों के साथ की गई है।  इसके पूर्व यह व्यवस्था इस केयर सेंटर में नहीं थी। जिसके कारण गंभीर स्थिति होने पर मरीजों को जिला कोविड-19 अस्पताल शंकराचार्य भेजना पड़ता था। जिसमें एंबुलेंस को बुलाने से लेकर मरीज को पहुंचाने तक की प्रक्रिया में करीब 1 घंटे का समय व्यतीत हो जाता था। जिसके कारण मरीज की स्थिति गंभीर हो जाती थी और जान जाने का भी खतरा बना रहता था। लेकिन आईसीयू बन जाने के बाद से यह स्थिति नहीं रहेगी। क्रिटिकल मरीजों का इलाज कोविड-19 केयर सेंटर में ही किया जाएगा। 

डॉ. शुक्ला ने बताया कि 19 सितंबर को कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भूरे, सेंटर के नोडल अधिकारी निगम आयुक्त ऋतुराज रघुवंशी, सेंटर के प्रभारी डॉ. अनिल शुक्ला एवं सेंटर कंसलटेंट डॉ. सरिता के द्वारा चंदूलाल कोविड-19 केयर सेंटर में ऑक्सीजन सप्लाई के लिए बनी हुई व्यवस्था को देखा था। इसके बाद निर्णय लिया था कि भूतल में 15 बिस्तर वाले आईसीयू वार्ड संचालित किया जा सकता है। आज से ही 15 बेड आईसीयू वार्ड शुरू कर दिया गया है। 

डॉ. शुक्ला ने बताया कि धीरे-धीरे बढ़ाकर इसे 54 बेड तक ले जाया जाएगा। आवश्यकता हुई तो इसे 100 बिस्तर का आईसीयू वार्ड भी बनाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि इसके लिए नर्सिंग स्टाफ की नियुक्ति कर दी गई है। प्रतिदिन शाम को कंसलटेंट डॉक्टर के द्वारा प्रत्येक मरीज का परीक्षण किया जाएगा। डॉ. शुक्ला ने यह भी कहा कि 15 बेड के क्रिटिकल आईसीयू के शुरू हो जाने से गंभीर मरीजों का इलाज किया जाएगा और शंकराचार्य कोविड-19 ताल पर निर्भरता भी केयर सेंटर की समाप्त होगी।


21-Sep-2020 1:45 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भिलाईनगर, 21 सितंबर।
आमापारा दुर्ग में 20-21 की दरमियानी रात पति ने पत्नी के सिर पर हथौड़ा मारकर हत्या कर दी। हत्या का कारण पति द्वारा पत्नी के चरित्र पर संदेह किया जाना बताया गया है। आरोपी पति फरार है।

नगर पुलिस अधीक्षक दुर्ग विवेक शुक्ला ने बताया कि आमापारा थाना मोहन नगर में बीती रात 1.30 से 2 बजे के लगभग सुजाता बंसोड को पति आदेश बंसोड ने मोबाइल पर किसी से बात करते हुए सुना। तब पत्नी के देर रात तक बात करने पर सवाल पूछा। जिस पर दोनों के मध्य विवाद होने लगा। आवेश में आकर आदेश ने घर पर रखे हथौड़े से पत्नी सुजाता के सिर पर वार किया। वार इतना घातक था कि पत्नी लहूलुहान होकर जमीन पर गिर पड़ी। 

घटना के बाद आदेश घर से बाहर आ गया और अपनी बहन शालिनी को घटना के संबंध में बताया। तब शालिनी के द्वारा 108 को सूचना दी और घायल भाभी को जिला अस्पताल ले गई। महिला की गंभीर स्थिति को देखते हुए जिला अस्पताल द्वारा उसे मेकाहारा रायपुर ले जाने की सलाह दी। इलाज के दौरान सुजाता की आज सुबह मौत मेकाहारा अस्पताल रायपुर में हो गई।
 
पुलिस ने बताया कि घटना के बाद से आरोपी पति फरार हो गया। आरोपी सूर्या मॉल में किसी चश्मा दुकान में कार्य करता है और पत्नी के चरित्र पर संदेह किया करता था। दोनों का विवाह हुए 12 साल बीत चुके हैं और एक पुत्र भी है। 

आरोपी की बहन शालिनी की रिपोर्ट पर मोहन नगर पुलिस के द्वारा आदेश के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया है। पुलिस द्वारा हत्या में प्रयुक्त हथौड़ा भी जब्त कर लिया गया है।


20-Sep-2020 8:05 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

भिलाई नगर, 20 सितंबर। राज्यसभा सांसद एवं राष्ट्रीय महासचिव भाजपा सरोज पांडेय ने कल सदन के मानसून सत्र में महामारी (संशोधन) विधेयक-2020 के समर्थन में अपने विचार व्यक्त किए।

उन्होंने कहा कि आज पूरा देश कोरोना वायरस रूपी महामारी से जूझ रहा है, और हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में सरकार द्वारा इस महामारी से लडऩे के लिए जो कदम उठाये हैं, उसके लिए मैं उन्हें साधुवाद देती हूँ। सुश्री पांडे ने स्पष्ट किया कि यह विधेयक कोरोना महामारी से फ्रंट लाइन में बहादुरी से लड़ रहे हमारे स्वास्थ्य कर्मी की प्रतिबद्धता एवं मजबूती से पेशेवरों की सुरक्षा को सुनिश्चित करेगा।

वर्तमान में इस विधेयक में कोरोना वारियर्स की सुरक्षा के लिए और इस संक्रमण काल में स्वास्थ्य सेवाओं और सुविधाओं को क्षति से बचाने के लिए जो प्रावधान किये गये है, वह निम्न हैं। महामारी से लडऩे में जुटे हमारे कोरोना वारियर्स  पर हमला करने और उनके कार्य में बाधा पहुंचने पर 3 माह से लेकर 5 साल तक की सजा हो सकती है, और 50 हजार से लेकर 2 लाख तक का जुर्माना भी लगाया जा सकता है। स्वास्थ्य कर्मी के खलाफ हिंसा से यदि गंभीर क्षति पहुँचती है तो यह सजा 6 महिने से लेकर 7 वर्ष तक बढाई जा सकती है तथा जुर्माना 1 लाख से 5 लाख तक हो सकता है। इस बिल में इन अपराधों को संज्ञेय तथा गैर जमानती बने गया है ताकि आपरधिक तत्वों में कानून का भय व्याप्त रहे और हमारे इन स्वास्थ्य कर्मियों पर कोई भी हमला या दुर्व्यवहार करने का साहस न कर सके। साथ ही, असामाजिक तत्वों द्वारा स्वास्थ्य सेवाओं के संस्थानों को नुकसान पहुंचाने पर दोषी व्यक्तियों से मुआवजा वसूलने का भी प्रावधान रखा गया है। यह प्रावधान उन तत्वों को हतोत्साहित करेगा जो शासकीय संपत्ति का नुक्सान करना अपना हक़ समझते थे और विभिन्न शासकीय और स्वास्थ्य संस्थानों को करोड़ों अरबों नुकसान पहुंचाते थे, तथा कानून के न होने से बच जाते थे। अब इस कानून की मदद से ऐसे लोगों को अपने किये गुनाह का जुर्माना भरना पड़ेगा।


20-Sep-2020 8:03 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

उतई, 20 सितंबर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 70 वें जन्मदिन के अवसर पर उतई मंडल के भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा ग्राम खोपली में तालाब बाजार हाट का साफ सफाई एवं आंगबाड़ी केंद्र क्रमांक 02 में स्वछ भारत मिशन के तहत  स्वाछता का सन्देश दिया गया। साथ ही खम्हरिया में काढ़ा का वितरण किया गया।

इस अवसर पर पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष एवं वर्तमान जिला पंचायत सदस्य क्षेत्र क्रमांक 7 माया बेलचंदन भाजयुमो प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य ललित चन्द्राकर, पूर्व जिला पंचायत उपाध्यक्ष थानुराम साहू, दुर्ग ग्रामीण वर्चुअल रैली प्रभारी अनिल साहू, सेवा सप्ताह प्रभारी प्रवीण कुमार यदु, सेवा सप्ताह सह-प्रभारी सोनू राजपूत, पूर्व सरपंच एवं महिला मोर्चा उतई मंडल अध्यक्ष कमलेश्वरी यादव, पाऊवारा सरपंच वामन साहू, रोहित साहू, मोहनलाल साहू,  राजूलाल साहू, शुभम वर्मा, संतोष साहू, लक्ष्मी देशलहरे, अनिता देशलहरे, भगवती, आशा पटेल सहित भाजपा के कार्यकर्तागण एवं ग्रामवासी उपस्थित थे।


20-Sep-2020 8:03 PM

मंत्री ताम्रध्वज की अनुशंसा पर 7 एल्डरमैन नियुक्त

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

भिलाई नगर, 20 सितंबर। रिसाली निगम क्षेत्र में अब योजनाबद्ध तरीके से विकास कार्यों को अंजाम दिया जा सकेगा। स्थानीय विधायक गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू की अनुशंसा पर राज्य शासन ने रिसाली निगम के लिए 7 एल्डरमैन की नियुक्ति की है।

पूर्व एमआईसी मेंबर और मरोदा सेक्टर के पार्षद केशव बंछोर ने नवनियुक्त एल्डरमैन को बधाई देते हुए कहा कि नामांकित सभी पार्षद क्षेत्र की समस्या से अवगत है अब उनके  निराकरण के लिए कारगर योजना बनाई जाएगी, जिनके सफल क्रियान्वयन में नामांकित पार्षदों की महत्वपूर्ण भूमिका होगी।

वरिष्ठ कांग्रेस नेता केशव बंछोर ने क्षेत्र के सामाजिक संतुलन ध्यान में रखते हुए किए गए एल्डरमैनों  की नियुक्ति के लिए गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव जितेंद्र साहू का आभार व्यक्त किया।

ज्ञात हो कि राज्य शासन ने प्रदेश के विभिन्न नगरीय निकायों के लिए 208 पार्षद मनोनीत किए हैं। इनमें विलास बोरकर, डोमार देशमुख, फकीर राम ठाकुर, संगीता सिंह, प्रेम चंद साहू, तरुण बंजारे और अनूप डे शामिल हैं।


20-Sep-2020 8:02 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

भिलाई नगर, 20 सितंबर। सेंट थॉमस महाविद्यालय के एनसीसी के कैडेट्स को एनसीसी निदेशालय, मध्यप्रदेश एवं छत्तीसगढ़ तथा 37 छत्तीसगढ़ बटालियन द्वारा लॉकडाउन के समय किये गए कार्यों हेतु सम्मान स्वरूप 'एक्स एनसीसी योगदान’ कार्यक्रम के तहत कोरोना वॉरियर्स सम्मान दिया गया। महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. एम. जी. रोईमोन द्वारा एनसीसी कैडेट्स को मेडल एवं प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया।

गौरतलब हो कि 5 से 17 मई के मध्य सेंट थॉमस महाविद्यालय के एनसीसी कैडेट्स विशाल, तीर्थराज, सुधीर, प्रियांशु एवं शिवम ने लॉकडाउन के दौरान सुपेला सब्जी बाज़ार तथा घड़ी चौक में यातायात एवं पुलिस विभाग के साथ जनता को सोशल डिस्टेंसिंग तथा कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए प्रोत्साहित किया। इस कार्य के दौरान कैडेट्स लगातार कड़ी धूप में यातायात एवं सब्जी बाज़ार में भीड़ को नियंत्रित करने में पुलिस विभाग के साथ तत्परता से कार्यरत रहे।

 प्राचार्य डॉ एम. जी. रोईमोन ने कहा कि इसी प्रकार आगे भी महाविद्यालय के एनसीसी कैडेट्स प्रशासन के कार्यों में आवश्यकता पडऩे पर अपनी सहभागिता देते रहेंगे। महाविद्यालय के प्रशासक वेरी रेवरेंट फादर गी. वर्गीस रम्भान ने कैडेट्स को उनके साहसिक कार्य हेतु शुभकामनाएं दी। कार्यक्रम का संचालन सेंट थॉमस महाविद्यालय के एनसीसी अधिकारी लेफ्टिनेंट डॉ. लक्ष्मण प्रसाद ने किया।


20-Sep-2020 7:58 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

भिलाई नगर, 20 सितंबर। सुपेला पुलिस ने शनिवार की रात नेहरू नगर इलाके से गांजा बेचने की फिराक में घूम रहे तस्कर महेश सेन और शिवादीप दोनों निवासी बॉम्बे आवास को गिरफ्तार किया है।

टीआई गोपाल वैश्य ने बताया कि रात करीब 8 बजे सूचना मिली थी कि बड़ी मात्रा में मादक पदार्थ बिकने के लिए आया है। जानकारी के मुताबिक दोनों आरोपियों के साथ अलताफ और गोलू नाम के दो बदमाश भी थे। लेकिन पुलिस के पहुंचने के पहले दोनों भाग गए। पकड़ाए आरोपियों से तीन लाख कीमत का गांजा और 5 लाख कीमत की गाड़ी जब्त की गई है। दोनों ही आरोपियों के खिलाफ 20 नारकोटिक्स एक्ट के तहत कार्रवाई की गई।

पुलिस ने बताया कि आरोपी महेश सेन (22) 5 रास्ता नाग मंदिर पास सुपेला, शिवा (25) 5 रास्ता नाग मंदिर पास ,अल्ताफ उर्फ राजू पठान नेहरू नगर बाम्बे आवास, गोलू साहू चरामा जिला कांकेर का रहने वाला है। पकड़े गए आरोपियों ने बताया कि उक्त मादक पदार्थ ओडिशा  से तस्करी कर लाए हैं।


20-Sep-2020 7:44 PM

दुर्ग, 20 सितंबर। जिला सहकारी केंद्रीय बैंक मर्यादित, दुर्ग की वार्षिक साधारण सभा का आयोजन 30 सितंबर 2020 के पूर्व किया जाना था। वर्तमान में कोविड-19 महामारी के  संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए, बैंक के वार्षिक साधारण आम सभा के संबंध में आवश्यक मार्गदर्शन पंजीयक सहकारी संस्थाएं छत्तीसगढ़ से मांगा गया था।

पंजीयक सहकारी संस्थाएं,  छत्तीसगढ़ द्वारा आम सभा की आयोजन तिथि में 3 माह वृद्धि के जाने के निर्देश दिए हैं । बैंक द्वारा सूचना जारी कर समस्त अंशधारी सदस्य समितियों के बैंक प्रतिनिधियों को सूचित कर दिया गया है। माह दिसंबर 2020 में तिथि निर्धारित होने जाने  के पश्चात पृथक से सूचना दी जाएगी।


20-Sep-2020 7:38 PM

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

दुर्ग, 20  सितंबर। छत्तीसगढ़ डिस्टलरीज लिमिटेड ने कोविड केअर के लिए  जिला प्रशासन को 4 वेंटिलेटर दिए हैं। समूह के चेयरमैन नवीन केडिय़ा की ओर से यह सहयोग किया गया है।

समूह के सीईओ संजीव फतेहपुरिया कल कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे से मिले। उन्होंने कहा कि समूह ने वेंटिलेटर उपलब्ध कराने का निश्चय किया। ऑक्सीजन की गंभीर जरूरत वाले मरीजों को इससे संजीवनी मिल सकेगी। कलेक्टर ने कहा कि इससे शासकीय कोविड केयर सेंटर को बड़ी सुविधा मिलेगी। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए औद्योगिक, व्यावसायिक और  सामाजिक संगठन मेडिकल सुविधा अथवा अन्य तरह की सहायता के लिए पहल कर रही हैं। जनसरोकार को देखते हुए यह बहुत अच्छा काम है। इस क्षेत्र में प्रशासन को जितना सहयोग मिलेगा, कोविड के विरुद्ध अभियान उतना ही अधिक मजबूत होगा।

उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ डिस्टलरीज लिमिटेड ने वेंटिलेटर उपलब्ध कराया है, मेडिकल सुविधाओं की मजबूती की दिशा में की गई मदद बहुत कारगर होती है। कलेक्टर ने कहा कि बीते दिनों सभी सामाजिक संगठनों से अपील की गई थी। व्यापारिक संगठनों से भी चर्चा हुई थी। सभी कोविड के विरुद्ध लड़ाई में प्रशासन के साथ मजबूती से खड़े होकर सहयोग दे रहे हैं।

इस क्षेत्र में सामूहिक भागीदारिता से जितना काम होगा, उतनी बेहतर स्थिति होगी। संजीव ने कहा कि छत्तीसगढ़ डिस्टलरीज लिमिटेड सोद्देश्य पूर्ण कार्यों में सहयोग के लिए हमेशा तत्पर रहता है। आगे भी समूह द्वारा हर संभव मदद की जाएगी।


20-Sep-2020 7:35 PM

 भिलाई नगर, 20 सितंबर। भिलाई नगर के वरिष्ठ कांग्रेसी नेता स्व. उमेश तिवारी को कांग्रेसजनों ने श्रद्धांजलि दी है। वे भिलाई इस्पात संयंत्र के मेडिकल विभाग के कर्मचारी रहे। वे भिलाई नगर युवक कांग्रेस के अध्यक्ष एवं लगातार तीन कार्यकाल तक ब्लॉक कांग्रेस कमेटी चार के अध्यक्ष रहे है। श्रमिक संगठन इंटक में भी उनकी विशेष भागीदारी रही। वर्तमान समय में राधिका नगर की जन समस्याओं को लेकर वे संघर्षरत रहे। भिलाई शहर जिला कांग्रेस के निर्माण में उनकी भूमिका विशेष रही। उनके निधन पर भिलाई नगर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष तुलसी साहू, विधायक देवेंद्र यादव, ज्ञानचंद जैन, नीलेश चौबे, जी याकूब सहित भिलाई के कांग्रेसजनों ने श्रद्धांजलि दी।


20-Sep-2020 7:06 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भिलाई नगर, 20 सितंबर।
दुर्ग पुलिस द्वारा 20 से 30 सितंबर तक लॉकडाउन के दौरान 20 यातायात पुलिस के चेंकिंग पाइंट एवं 20 थाना के चेंकिग पाइंट बनाया गया है।

डॉ. सर्वेश्वर नरेन्द्र भूरे, जिला दण्डाधिकारी एवं प्रशांत ठाकुर, पुलिस अधीक्षक के द्वारा 20 से 30 सितंबर तक लॉकडाउन के संबंध में ली गई बैठक के परिप्रेक्ष्य में गुरजीत सिंह, उप पुलिस अधीक्षक, यातायात द्वारा समस्त यातायात अधिकारियों की मिटिंग यातायात जोन आकाशगंगा में ली गई। जिसमें सख्त निर्देश दिये गये कि इस 10 दिवस लॉकडाउन के दौरान ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र में कुल 40 चेंकिंग पाइंट बनाया गया है जिसमें यातायात पुलिस के 20 चेकिंग पाइंट एवं थानों के 20 चेकिंग पाइंट रहेंगे। 

लॉकडाउन के दौरान किसी भी प्रकार की साप्ताहिक बाजार की अनुमति नहीं रहेगी। केवल सब्जी मार्केट प्रात: 05 से 10 बजे तक खुले रहेंगे एवं किराना दुकान, रेस्टोरेंट पूर्णत: बंद रहेगी।  रेस्टोरेंट में सिर्फ होम डिलेवरी होगा, टेक-अवे (काउण्टर डिलेवरी) नहीं दी जाएगी। अन्तर जिला यात्री बसें चालू रहेगी। लॉकडाउन नगरीय निकाय क्षेत्र में लगाया गया है, अत: नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों को जोडने वाली सडक़ों पर सख्त चेकिंग की जाएगी। दिनांक 20 से 30 सितंबर तक किसी भी प्रकार के प्रतियोगी एवं शैक्षणिक परीक्षा आयोजित होगी तो विद्यार्थी के आवागमन के लिए प्रवेश पत्र की छायाप्रति दिखाये जाने पर अनुमति दी जाएगी। पूर्व की भांति सोशल डिस्टेंसिंग एवं मास्क का प्रयोग नहीं करने पर जूर्माना वसूल किया जाएगा। 


20-Sep-2020 6:53 PM

दुर्ग, 20 सितंबर। कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने कल नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्र के गौठान का औचक निरीक्षण किया। वे दुर्ग शहर के गौठान सबसे पहले पहुंचे। यहां उन्होंने पशुओं के लिए चारा पानी आदि की स्थिति जानी। साथ ही इन्होंने पशुओं के ट्रीटमेंट आदि की जानकारी भी ली।

उन्होंने गोधन न्याय योजना के क्रियान्वन के संबंध में भी अधिकारियों से जानकारी ली। ग्रामीण क्षेत्र में उन्होंने तैयार किये जा रहे वर्मी कम्पोस्ट देखे। कलेक्टर ने कहा कि गोबर की आवक के मुताबिक वर्मी टैंक की उपलब्धता सुनिश्चित कर लें। गोधन न्याय योजना ग्रामीणों को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने का सबसे कारगर साधन है। इससे स्वसहायता समूहों को अच्छी आय होगी। वर्मी कम्पोस्ट से गौठान समितियों की आय भी बढेगी, इससे गौठान को आगे बढ़ाने में मदद मिलेगी। 

कलेक्टर ने आवारा मवेशियों के संबंध में भी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि शासन के निर्देश के मुताबिक गौठान को आजीविका मूलक गतिविधियों का केंद्र बनाना है। अपने ग्रामीण परिवेश की जरूरतों के मुताबिक उत्पाद तैयार करें। जिला प्रशासन द्वारा हर संभव सहायता की जाएगी। इस मौके पर जिला पंचायत सीईओ सच्चिदानंद आलोक भी उपस्थित थे। उन्होंने भी वर्मी की गुणवत्ता एवं गौठान की अन्य गतिविधियों के संबंध मेंआवश्यक निर्देश दिए।
 


20-Sep-2020 6:52 PM

धमधा में  भी आरंभ होगा कोविड केयर सेंटर, जैन समाज की सहायता से सौ बेड का कोविड केयर सेंटर दुर्ग में होगा शुरू

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 20 सितंबर।
अभी जिले में पंद्रह सौ सैंपल रोज लिये जा रहे हैं। अब दो हजार सैंपल लिये जाएंगे। इसमें फोकस प्राइमरी कांटैक्ट और लक्षणों वाले मरीजों का होगा। फिफ्टी प्लस आयु वाले नागरिकों पर विशेष ध्यान होगा। कांटैक्ट ट्रेसिंग में हाई रिस्क केसेस के चिन्हांकन पर विशेष ध्यान होगा। इनका एंटीजन टेस्ट में निगेटिव आए तो पुन: पुष्टि के लिए आरटीपीसीआर किया जाएगा। कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने कोविड संक्रमण की रोकथाम को लेकर अधिकारियों की महत्वपूर्ण बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में ली। बैठक में भिलाई नगर निगम आयुक्त  ऋ तुराज रघुवंशी, अपर कलेक्टर प्रकाश सर्वे और बीबी पंचभाई सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

ऑक्सीजन बेड भी बढ़ाएंगे 

कलेक्टर ने अधिकारियों से कहा कि टेस्टिंग को बढ़ाने के पीछे अहम बात यह है कि आरंभिक दौर में ही कोविड के पकड़ में आ जाने पर इस पर नियंत्रण आसान हो सकता है क्योंकि फेफड़ों में संक्रमण का दौर आता है तो कठिनाई बढ़ जाती है। डेथ रेट घटाने के लिए यह बहुत जरूरी है कि पेशेंट की पहचान बिल्कुल प्रारंभिक स्टेज में कर ली  यान चलाना बेहद जरूरी है। हर दिन कम से कम 2 हजार टेस्ट किये जाएं। उन्होंने सभी बीएमओ से टेस्टिंग की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि कुछ जगहों पर टेस्टिंग थोड़ी कम हो रही है इसकी संख्या बढ़ाएं। उन्होंने कहा कि आक्सीजन बेड की संख्या भी बढ़ानी है ताकि ऑक्सीजन की जरूरत वाले मरीजों के लिए इसकी व्यवस्था की जा सके। उन्होंने कहा कि जिला अस्पताल में निगेटिव और सांस की तकलीफ वाले मरीजों के लिए पचास बिस्तर आरंभ किये गए हैं। इसकी संख्या दस और भी बढ़ाई जाएगी। कलेक्टर ने कहा कि रात में भी जिला अस्पताल में कैज्युअल्टी में टेस्टिंग की सुविधा होनी चाहिए। सिविल सर्जन ने बताया कि हर दिन रात के वक्त लगभग 15 टेस्टिंग हो रही है।  

बच्चों के लक्षण पर विशेष ध्यान  दें हो सकते हैं सुपर स्प्रेडर
कलेक्टर ने कहा कि बुजुर्गों की प्रतिरोधक क्षमता कम होने के कारण कोविड का खतरा काफी रहता है। बच्चों की प्रतिरोधक क्षमता अच्छी होने की वजह से उन्हें कोविड का गंभीर खतरा कम रहता है लेकिन आशंका इस बात से होती है कि वे सुपर स्प्रेडर होते हैं अर्थात बहुत से लोगों तक कोविड को फैला सकते हैं अतएव संक्रमण के लक्षण वाले बच्चों का टेस्ट कर इनका उपचार आरंभ कर दें। 

100 अतिरिक्त ऑक्सीमीटर उपलब्ध कराए जाएंगे आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को
कंटेनमेंट जोन में और ऐसे क्षेत्र में जहां पाजिटिव केस काफी संख्या में आए हैं। वहां व्यापक सर्वे किया जाएगा। इसके लिए आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को सौ अतिरिक्त ऑक्सीमीटर उपलब्ध कराए जाएंगे। आइसोलेशन वार्ड में मरीजों के स्वास्थ्य संबंधी महत्वपूर्ण सूचकांक देखने मल्टीपैरा मॉनिटर की संख्या बढ़ाई जाएगी।

मरीज के लक्षणों की गंभीरता के अनुरूप कोविड केयर सेंटर भेजा जाना होगा तय
सबसे गंभीर मरीजों को शंकराचार्य हॉस्पिटल भेजा जाएगा। इसके बाद लक्षणों के अनुरूप कोविड केयर सेंटर का चुनाव किया जाएगा। जिन मरीजों को लक्षण नजर नहीं आ रहे, उन्हें होम आइसोलेशन की व्यवस्था की जा सकती है। पाजिटिव की जानकारी होते ही मेडिसीन का किट देना अनिवार्य होगा। ऐसे मरीजों के घरों में स्टिकर लगाना जरूरी होगा। होम आइसोलेशन कंट्रोल रूम से फोन आते ही संबंधित हॉस्पिटल में मरीज को एडमिशन देना होगा। 

अतिरिक्त क्षमता भी 
धमधा में पचास बेड का कोविड केयर सेंटर, आजाद हास्टल में जैन समाज के सहयोग से सौ बेड का कोविड केयर सेंटर चलाया जाएगा। कलेक्टर ने सभी कोविड केयर सेंटर में आवश्यक सुविधाओं के प्रबंध के निर्देश अधिकारियों को दिए। कलेक्टर ने प्राइवेट हॉस्पिटल से भी पूरे समन्वय के साथ सभी मरीजों को सबसे अच्छी उपचार सुविधा देने के निर्देश अधिकारियों को दिए। 
 


20-Sep-2020 6:49 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भिलाई नगर, 20 सितंबर।
निगम प्रशासन ने निदान-1100 में शहर से ऑनलाइन दर्ज सडक़, बिजली, पानी, साफ-सफाई सहित अन्य समस्याओं का समय-सीमा में निराकरण कर नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग की ग्रेडिंग में ए ग्रेड हासिल कर रही है। निगम प्रशासन ने निदान-1100 में ऑनलाइन शिकायत प्राप्त होने के बाद न केवल निर्धारित समय सीमा में निराकरण किया, बल्कि महापौर देवेन्द्र यादव और निगम आयुक्त ऋतुराज रघुवंशी के निर्देशानुसार निराकरण के बाद शिकायतकर्ता के फोन नंबर पर संपर्क कर फीडबैक लेने का कार्य भी किया है। 

ऑनलाइन शिकायत निवारण प्रणाली की रिपोर्ट के अनुसार शहर से निदान-1100 में 1 अप्रेल से 17 सितंबर तक कुल 17 हजार 641 शिकायतें दर्ज हुई। इनमें से 13 हजार 126 शिकायतों का निगम ने निर्धारित समय-सीमा में निराकरण किया। यानी कि निगम के विभिन्न विभागों के कर्मचारियों ने शिकायत दर्ज होने के 24 घंटे के अंदर 74 फीसद शिकायतों का निराकरण कर लिया। बाकी 4 हजार 371 आवेदनों को समय-सीमा के बाद निराकरण किया गया। शिकायतों के लिए अलग-अलग मामलों में समय सीमा भी अलग-अलग निर्धारित की गई है। आयुक्त श्री रघुवंशी की नियमित मॉनिटरिंग से निदान में प्राप्त शिकायतों का निराकरण शीघ्रता से गंभीरता पूर्वक किया जा रहा है। 

नगरीय प्रशासन विभाग ने सडक़, नाली की सफाई, स्ट्रीट लाइट, मृत जानवर का उठाव, पेयजल, सार्वजनिक शौचालय, आवारा मवेशियों इत्यादि से होने वाले समस्याओं के निराकरण के लिए तीन साल पहले निदान 1100 की शुरुआत की थी। टोल फ्री नंबर के जरिए दर्ज होने वाले शिकायतों का निराकरण के लिए तीन चरण की व्यवस्था की गई है। इस प्रकिया के अंतर्गत आनलाइन दर्ज होने वाले अधिकतर शिकायतों को भिलाई निगम ने प्रथम चरण में ही 24 घंटे के अंदर मेैसेज प्राप्त होते ही निराकरण कर दिया। दूसरे व तीसरे लेबल तक शिकायतें बहुत कम पहुंचती हैं। इस श्रेणी में शिकायतें सीधे आयुक्त के पास पहुंचती है। 

विदित हो कि टोल फ्री नंबर 1100 पर कई तरह की शिकायतें दर्ज की जा सकती हैं। इनमें स्ट्रीट लाइट, साफ-सफाई, मलबा उठाव, मृत जानवर, पेयजल, सडक़, सार्वजनिक शौचालय, आवारा पशुओं से होने वाली परेशानियों, जाम नाली, पेंशन समस्याएं शामिल हैं। 
 


20-Sep-2020 4:22 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भिलाई नगर, 20 सितंबर।
हिमालय कॉम्प्लेक्स सुपेला में दिनदहाड़े कपड़ा व्यापारी पर जानलेवा हमला करने वाला आरोपी पर पूर्व से हत्या-लूट जैसे 11 संगीन मामले विभिन्न थानों में दर्ज हैं। आरोपी सन्नी उर्फ टकली इंदर महज 19 वर्ष की कम उम्र में ही आदतन अपराधी बन चुका है।

गौरतलब हो कि 18 सितंबर को शहर के सर्वाधिक व्यस्ततम मार्केट आकाश गंगा सुपेला मार्केट के हिमालय कॉम्प्लेक्स में स्थित फैशन स्चयर कपड़ा दुकान में आरोपी सन्नी ने अपने एक साथी माजिद खान के साथ दुकान में बलात प्रवेश किया और दुकान संचालक कपिल चिलानी पर नकली पिस्टल टीका कर ब्लेड से जानलेवा हमला किया गया था। घटना के बाद दोनों ही आरोपी फरार हो गए थे। 

सुपेला पुलिस द्वारा कपिल की निशानदेही पर घटना की रात ही आरोपी को पकड़ लिया था। दूसरा साथी माजिद खान फरार था। परंतु पुलिस द्वारा दबाव बनाए जाने पर माजिद द्वारा समर्पण किया गया था। पुलिस के द्वारा इस घटना में इस्तेमाल किए गई नकली पिस्टल रेजर ब्लेड एवं घटना में प्रयुक्त वाहन बाइक जब्त कर ली गई है।
 
पुलिस ने बताया कि घटना का कारण पूछताछ पर सामने आया है कि कपिल के द्वारा इंस्टाग्राम में सन्नी की मंगेतर के साथ खींची गई फोटो पोस्ट की थी। इससे बौखला कर सन्नी द्वारा कपिल पर हमला किया गया। पुलिस ने बताया कि सन्नी के ऊपर पूर्व से ही हत्या, लूट, हत्या का प्रयास करने जैसे 11 मामले दर्ज हैं। एक तरह से कम उम्र में ही सन्नी आदतन अपराधी बन चुका है।


20-Sep-2020 4:00 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भिलाई नगर, 20 सितम्बर।
सुंदर नगर बैकुंठधाम केम्प क्षेत्र के लोगों को बरसात में पानी निकासी की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा। नाला के आसपास रहने वाले लोगों को भी दिक्कत नहीं होगी और यह सब नाला सुदृढ़ीकरण कार्य से संभव हुआ है। 

जोन आयुक्त प्रीति सिंह ने बताया कि निगम प्रशासन ने वार्ड-21 सुंदर तालाब से गौरवपथ बैकुंठधाम तक बहने वाली नाला का 95 लाख की लागत से सुदृढ़ीकरण किया है। दो साल पहले महापौर देवेन्द्र यादव की परिषद ने वार्ड-21 सुंदर नगर तालाब से गौरवपथ बैकुंठधाम तक बहने वाली नाला का सुदृढ़ीकरण का निर्णय लिया था। अधोसंरचना मद से फंड की स्वीकृति दी गई थी। 750 मीटर लंबा नाला के सुदृढ़ीकरण कार्य को दो चरण में कराया गया। 

गौरवपथ बैकुंठधाम से लेकर सुंदर नगर तालाब तक 750 मीटर लंबा नाला की सफाई के साथ कांक्रीट से दोनों तरफ रिटेनिंग वाल बनाने का कार्य लगभग पूरी हो गई है। इससे नाला दो मीटर चौड़ा और लगभग 5 फीट गहरा हो गया है। इससे आसानी से पानी की निकासी हो रही है। इस साल की बारिश में सुंदर नगर के अलावा आसपास के वार्डों के छोटे-बड़े नाला-नालियों में जाम या ओवर फ्लो की स्थिति नहीं बनी। केम्प -2 तालाब, पॉवर हाउस मार्केट, टाटा लाइन, शारदापारा और वार्ड-20 प्रगति नगर के नालियों की पानी की निकासी हो गई है। बरसात में नाला किनारे के घरों में भी पानी भरने या घुसने की शिकायत नहीं आई।

वार्ड पार्षद रिंकू प्रसाद ने बताया कि जोन-3 अंतर्गत सबसे बड़ा कार्य नाला सुदृढ़ीकरण का हुआ है। पहले हर साल बारिश में आदर्श नगर, जेपी नगर, शांतिपारा और सुंदर के लोगों को निकासी की समस्या का सामना करना पड़ता था। नाला के किनारे बसे आदर्श नगर, जेपी नगर, शांतिपारा और सुंदर के लोगों को घरों में पानी भर जाता था। इससे काफी नुकसान उठाना पड़ता था। इसके आलावा नाला की सफाई में निगम प्रशासन की बढ़ी राशि खर्च होती थी। नाला के दोनों तरफ रिटेनिंग वाल बनाए जाने से कचरा फंसने या जाम की समस्या नहीं होगी। बारिश में भी पानी ओवर फ्लो नहीं होगा।
 


20-Sep-2020 3:58 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भिलाई नगर, 20 सितम्बर।
जलेबी चौक के समीप टाटा लाईन कैम्प 2 निवासी मनोज सिंह (50 वर्ष) 17 सितंबर की सुबह घर से निकले लेकिन वापस नहीं लौटे हैं। उनका मोबाइल भी लगातार स्वीच ऑफ है। रिश्तेदारों में पतासाजी के बाद परिजनों ने शनिवार को छावनी थाना में मनोज सिंह की गुमशुदगी दर्ज करवाई है।
 


19-Sep-2020 10:03 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भिलाईनगर, 19 सितंबर।
जिला दुर्ग से आज 311 संक्रमित मरीजों की पुष्टि की गई है। कोरोना संक्रमित 8 मरीजों की मौत भी हुई है। जिले में कोरोना से आज तक कुल 270 संक्रमित मरीज की मौत हो चुकी है। आज मरने वाले में सेंट्रल जेल दुर्ग का एक कैदी भी शामिल है।

जिला मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर गंभीर सिंह ठाकुर ने बताया कि जिले से आज 311 संक्रमित मरीजों की पुष्टि की गई है। साथ ही आज 8 संक्रमित की मौत हुई है । जिसमें एक सेंट्रल जेल दुर्ग का 66 वर्षीय कैदी भी शामिल है जो 11 सितंबर से जिला कोविड-19 अस्पताल में भर्ती था। पटेल पारा कुम्हारी निवासी 28 वर्षीय युवक की भी कोरोनावायरस आज मौत हुई है। स्मृति नगर निवासी 48 वर्षीय महिला सभी जिला कोविड-19 अस्पताल में भर्ती थे। इनकी भी मौत हुई है एम्स रायपुर में उमरपोटी पाटन के 60 वर्षीय पुरुष एवं मोहन नगर दुर्ग से 54 वर्ष पुरुष की मौत हुई है । जिला अस्पताल दुर्ग में भर्ती 53 वर्षीय पुरुष की एवं जिला कोविड-19 अस्पताल में भर्ती 65 वर्षीय बुजुर्ग महिला निवासी पचरी पारा दुर्ग की भी आज मौत हुई है।
 
आज मिले संक्रमित मरीजों में प्रथम बटालियन दुर्ग से एक ही परिवार से 7 सदस्य, बीएसआर हाईटेक अस्पताल के 9 मरीज, श्री शंकराचार्य मेडिकल कॉलेज का एक डॉक्टर, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पाटन का एक स्टाफ, अशीष नगर रिसाली से एक परिवार के तीन सदस्य, मरार पाटन से एक परिवार के 5 सदस्य, कुम्हारी से एक परिवार के तीन सदस्य सहित शहर के एवं ग्रामीण क्षेत्रों से 311 संक्रमित मरीज मिले हैं।


19-Sep-2020 9:13 PM

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

भिलाई नगर, 19 सितंबर। जिले में 20 से 30 सितंबर तक लगने वाले लॉकडाउन के कारण दैनिक आवश्यकताओं की वस्तुओं की खरीदी के लिए शहर के सभी बड़े बाजारों में हजारों की संख्या में खरीदारी के लिए भीड़ उमड़ पड़ी, जिसके कारण कोविड-19 प्रोटोकॉल का आज सभी बाजारों में उल्लंघन देखा गया। लोगों के मध्य ज्यादा से ज्यादा सामग्री खरीदी के लिए होड़ सी मच गई। व्यापारियों ने भी इस आपदा को अवसर में बदलने में कोई कमी नहीं रखी। सामानों की कीमत बढ़ाकर व्यापार किया गया।

जिला प्रशासन के द्वारा कोरोना महामारी के कारण जिले में 20 से 30 सितंबर तक पूर्ण लॉकडाउन का आदेश दिया गया है। इसके परिपालन के लिए आज शहर भर में कोविड-19 प्रोटोकॉल का उल्लंघन किया गया। शहर के बड़े मार्केट इंदिरा मार्केट एवं पॉवर हाउस में आवश्यकताओं की सामग्री खरीदने के लिए जमकर भीड़ देखी गई। जिसके कारण व्यापारी भी ग्राहकों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवा पाने में असमर्थ दिखे।

छत्तीसगढ़ चेंबर ऑफ कॉमर्स के प्रदेश अध्यक्ष गार्गी शंकर मिश्रा ने बताया कि लोगों के द्वारा जमकर राशन की खरीदी की गई। लॉकडाउन की अवधि केवल 10 दिनों की है, परंतु लोगों के द्वारा इससे कहीं अधिक दिनों का सामान खरीदा गया। सब्जी बाजार में भी हरी सब्जियां खरीदने के लिए जमकर भीड़ रही। इसके अलावा पॉवर हाउस के लिंक मार्केट, जवाहर मार्केट, सर्कुलर मार्केट, सब्जी मार्केट में जमकर भीड़ रही।

छत्तीसगढ़ चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज युवा प्रकोष्ठ के युवा अध्यक्ष अजय भसीन ने बताया कि सामान्य दिनों की अपेक्षा आज ग्राहकों की कई गुना भीड़ बाजार में रही। हालांकि व्यापारी वर्ग के द्वारा भी होलसेल मार्केट से ज्यादा मात्रा में सामान की खरीदी कर स्टॉक भी ग्राहकों के लिए रखा गया था, जिसके कारण ग्राहकों को आवश्यकताओं की वस्तुएं खरीदने में परेशानी नहीं हुई।

उन्होंने यह भी कहा कि व्यापारी द्वारा इस आपदा को अवसर में भी बदला गया है, ज्यादा लाभ भी कमाया। उन्होंने यह भी कहा कि जिला प्रशासन को व्यापारी संगठनों के द्वारा एक और फार्मूला भी दिया गया था कि शनिवार, इतवार एवं सोमवार 3 दिन तक कफ्र्यू की तरह लॉकडाउन लगाया जाए, ताकि इस महामारी को नियंत्रित किया जा सके। चौथे दिन से लॉकडाउन समान रूप से लागू किया जाना चाहिए था।