छत्तीसगढ़ » दुर्ग

26-Nov-2020 10:54 PM 56

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भिलाईनगर, 26 नवंबर।
जिला दुर्ग में आज 154 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं । आज एक संक्रमित मरीज की मौत भी हुई है । स्मृति नगर भिलाई एवं रेलवे कॉलोनी मरोदा से एक ही परिवार के चार चार सदस्य संक्रमित पाए गए हैं।

जिला कोविड-19 अस्पताल के प्रभारी डॉ अनिल शुक्ला ने बताया कि आज जिले से नए 154 कोरोना संक्रमित मरीजों की पुष्टि की गई है। आज एक पॉजिटिव मरीज की मौत भी हुई है। स्मृति नगर भिलाई से एक ही परिवार के चार सदस्य संक्रमित पाए गए हैं जिसमें एक 78 वर्षीय बुजुर्ग दो किशोर क्रमश: 15 एवं 17 वर्ष, एक 45 वर्षीय महिला संक्रमित पाई गई हैं। इसी प्रकार से रेलवे कॉलोनी मरोदा में एक ही परिवार के चार सदस्य संक्रमित पाए गए हैं जिसमें दो बालक क्रमश: 6 एवं 12 वर्ष एवं 2 महिलाओं में एक 35 वर्षीय एवं एक 58 वर्षीय शामिल है। रिसामा बाजार से एक ही परिवार के 3 सदस्य संक्रमित मिले हैं । तीनों ही महिलाओं में दो 20 एवं 23 वर्षीय युवती एवं एक 40 वर्षीय महिला शामिल हैं।

 


26-Nov-2020 7:16 PM 18

दुर्ग, 26 नवंबर।  हेमचंद यादव विश्वविद्यालय दुर्ग के 2017-18 वार्षिक एवं सेमेस्टर अंतिम वर्ष परीक्षाओं में  प्रावीण्य सूची में स्थान प्राप्त विद्यार्थियों का ऑनलाइन सम्मान समारोह 5 दिसंबर को दोपहर 1.30 बजे आयोजित होगा।

 यह जानकारी देते हुए विश्वविद्यालय के कुलसचिव डॉ. सी.एल. देवांगन ने बताया कि प्रावीण्य सूची में स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों का विवरण विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर शीघ्र उपलब्ध कराया जा रहा है। साथ ही इन विद्यार्थियों का विश्वविद्यालय के परीक्षा विभाग द्वारा 1 व्हाटसएप समूह भी बनाया जा रहा है। इन सभी विद्यार्थियों को ऑनलाइन सम्मान समारोह के दौरान कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रावीण्यता प्रमाण पत्र प्रदान करेंगे। प्रत्येक विद्यार्थियों को विश्वविद्यालय द्वारा पांच हजार रुपये राशि उनके बैंक खाते में जमा की जायेगी। डॉ. देवांगन ने 2017-18 की प्रावीण्य सूची में स्थान प्राप्त समस्त मेधावी विद्यार्थियों से आग्रह किया है कि वे अपने बैंक पासबुक की प्रथम पेज की छायाप्रति विश्वविद्यालय द्वारा निर्मित उनके व्हाट्सप ग्रुप में अनिवार्य रूप से 2 दिसंबर तक उपलब्ध करा दें, जिससे उन्हें विश्वविद्यालय द्वारा प्रदान की जाने वाली सम्मान राशि का समय पर भुगतान किया जा सकें।

विश्वविद्यालय के अधिष्ठाता छात्र कल्याण, डॉ. प्रशांत श्रीवास्तव एवं उपकुलसचिव, परीक्षा भूपेन्द्र कुलदीप द्वारा संयुक्त रूप से दी गई जानकारी के अनुसार इस ऑनलाइन सम्मान समारोह में प्रदेश सरकार के केबिनेट मंत्री मोहम्मद अकबर तथा रविन्द्र चौबे अतिथियों के रूप में उपस्थित रहेंगे। ऑनलाइन सम्मान समारोह से जुडऩे के लिए प्रत्येक प्रावीण्य सूची में स्थान प्राप्त विद्यार्थियों को पृथक से लिंक प्रदान किया जायेगा। ऑनलाइन समारोह की समाप्ति के पश्चात संबंधित प्रावीण्य सूची में स्थान प्राप्त विद्यार्थी कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए अपनी सुविधानुसार दुर्ग विश्वविद्यालय के परीक्षा विभाग में संपर्क कर अपने प्रावीण्यता प्रमाण पत्र की मूल प्रति प्राप्त कर सकते हैं। विश्वविद्यालय की कुलपति डॉ. अरूणा पल्टा ने 2017-18 की प्रावीण्य सूची में स्थान प्राप्त सभी विद्यार्थियों को बधाई दी।


26-Nov-2020 7:14 PM 17

भिलाई नगर, 26 नवम्बर। डॉ. शैलेन्द्र कुमार तिवारी अधिष्ठाता पशुचिकित्सा एवं पशुपालन महाविद्यालय, अंजोरा, दुर्ग एवं विभागाध्यक्ष पशु शल्य-चिकित्सा और विकिरण चिकित्सा विभाग हाल ही में संपन्न एनएवीएस के चुनाव में पुन: एक्जीक्यूटिव कौंसिल के सदस्य चयनित हुए हैं । इनका कार्यकाल 2020 से 2023 (तीन वर्ष) का रहेगा। पूर्व में भी डॉ.तिवारी 2017 से 2019 तक इसके सदस्य रहे हैं।

इस कौंसिल में छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, उड़ीसा, महाराष्ट्र, झारखंड राज्यों में से छत्तीसगढ़ के केवल डॉ. तिवारी ही चयनित हुए हैं। डॉ. तिवारी ने अपनी स्नातक एवं स्नातकोत्तर की दोनों उपाधियां स्वर्ण पदक के साथ जवाहर नेहरू कृषि विश्वविद्यालय जबलपुर (मध्य प्रदेश) से वर्ष 1983 एवं 1988 में क्रमश: उत्तीर्ण की है। डॉ. तिवारी ने पी.एच.डी. की उपाधि जी.बी. कृषि एवं तकनीकी विश्वविद्यालय, पंतनगर, उत्तराखंड से उत्तीर्ण की है। जिसमें उन्हें आई.सी.ए. आर, नई दिल्ली का सर्वोत्तम पी.एच.डी. थीसिस हेतु राष्ट्रीय स्तर के जवाहरलाल नेहरू अवॉर्ड से भी नवाजा जा चुका है। डॉ.तिवारी ने अपना कैरियर वेटनरी ऑफिसर के रूप में सन 1985 से प्रारंभ किया तथा 2003 से वे प्राध्यापक एवं विभागाध्यक्ष के रूप में कार्यरत हैं। इसी क्रम में 2014 में उनका चयन निदेशक शिक्षण हेतु हुआ । वर्तमान में डॉ. तिवारी ने अधिष्ठाता पशु चिकित्सा एवं पशुपालन महाविद्यालय अंजोरा, दुर्ग के पद में दिनांक 12 मार्च 2020 से कार्यरत है। इसके अतिरिक्त शैक्षणिक क्षेत्र में डॉ. तिवारी को अनेक पुरस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है जैसे कि बी.व्ही.एस.सी. एंड ए.एच. स्नातक उपाधि एवं एम.व्ही.एस.सी. एंड ए.एच. स्नातकोत्तर उपाधि हेतु गोल्ड मेडल, बेहर गोल्ड मेडल, पटवर्धन गोल्ड मेडल, जवाहरलाल नेहरू अवॉर्ड, आई.सी.ए.आर.जूनियर एवं सीनियर रिसर्च फैलोशिप, कॉमनवेल्थ फेलोशिप इत्यादि। डॉ. तिवारी का पशुचिकित्सा के शैक्षणिक अनुसंधान एवं विस्तार क्षेत्र में 32 वर्षों से अधिक का अनुभव है। उन्होंने अब तक 29 एम.व्ही.एस.सी. तथा 01 पी.एच.डी. छात्र को भी गाइड किया है। इसके अलावा डॉ.तिवारी को अन्य कई पुरस्कारों से भी सम्मानित किया जा चुका है जैसे कि बेस्ट टीचर अवॉर्ड, भारत ज्योति अवॉर्ड, ए.के. भार्गव मेमोरियल अवॉर्ड, पशुधन सिल्वर जुबली अवॉर्ड, कृषि शिरोमणी अवॉर्ड, एन.ए.व्ही.एस.फेलो अवार्ड, आई.एस.व्ही.एस. फेलो अवार्ड इत्यादि। डॉ.तिवारी आई.सी.ए.आर, नई दिल्ली के यूरोलिथिएसिस परियोजना के मुख्य अन्वेषक भी रह चुके हैं । डॉ. तिवारी ने अभी तक राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय स्तर के शोध पत्रिकाओं मे 269 से अधिक रिसर्च शोधों का प्रकाशन कर चुके हैं। इसके अलावा डॉ. तिवारी विगत 6 वर्षों से दाऊ  वासुदेव चंद्राकर कामधेनु विश्वविद्यालय, दुर्ग के विद्या परिषद्, प्रशासनिक परिषद्, एवं कार्य परिषद् के सदस्य के रूप में कार्यरत हैं। डॉ. तिवारी ने एनेस्थीसिया एवं एनाल्जेसिया विषय पर पुस्तक भी प्रकाशित की है। डॉ.तिवारी की इस उल्लेखनीय उपलब्धि पर विश्वविद्यालय के कुलपति महोदय डॉ. एन.पी.दक्षिणकर समस्त शिक्षकों एवं छात्र छात्राओं ने बधाई दी है।

 

 

 


26-Nov-2020 5:37 PM 17

दुर्ग, 26 नवंबर। जिला यादव ठेठवार महासभा महिला प्रकोष्ठ के नवनिर्वाचित पदाधिकारी द्वारा पहला 22 नवम्बर को अनमोल भवन कसारीडीह में दीवाली मिलन समारोह का आयोजन किया गया। 

बैठक में यादव ठेठवार महासभा के मातृशक्ति बड़ी संख्या में शामिल हो समाज को संगठित करने का प्रयास किया गया। मुख्य अतिथि डॉ. मानसी गुलाटी (स्त्रीरोग विशेषज्ञ) ने स्वस्थ से संबंधित विचार व्यक्त किए। जिलाध्यक्ष अहिल्या यादव ने बताया कि ज्यादा से ज्यादा वार्ड शहर स्तर में सदस्यता अभियान कर महिलाओं को समाज मे जोडक़र समाज को संगठित किया जाना है। 

दिवाली मिलन समारोह में महिला प्रकोष्ठ नवनिर्वाचित पदाधिकारी व समाज की मातृ शक्ति अहिल्या यादव (जिलाध्यक्ष) सुशीला यादव, माधुरी यादव, सुश्री गिरजा यादव, आरती यादव, कौशल्या यादव, दीक्षा यादव, रुभा यादव, चित्रलेखा यादव, इंदु यादव, अंजू यादव, पार्वती यादव, निक्की यादव, बिरानी यादव, केवरा यादव, गोमती यादव, आशा यादव, रानू यादव, बसंती यादव, रेखा यादव, तुलसी यादव, श्रद्धा यादव, रूखमणी यादव सहित अन्य शामिल हुए।
 


26-Nov-2020 5:35 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 26 नवंबर।
हेमचंद यादव विश्वविद्यालय दुर्ग के कुलसचिव डॉ. सीएल देवांगन, अधिष्ठाता छात्र कल्याण, डॉ. प्रशांत श्रीवास्तव एवं संचालक, खेल, डॉ. ललित प्रसाद वर्मा की टीम ने  भिलाई-दुर्ग के निजी महाविद्यालयों में चल रही ऑनलाइन कक्षाओं का औचक निरीक्षण किया।

यह जानकारी देते हुए विश्वविद्यालय के कुलसचिव, डॉ. सी. एल. देवांगन ने बताया कि विश्वविद्यालय की कुलपति, डॉ. अरूणा पल्टा के निर्देशानुसार गठित जांच दल द्वारा शंकराचार्य महाविद्यालय, जुनवानी, एम.जे कॉलेज, भिलाई तथा देव संस्कृति कॉलेज आफ  एजुकेशन, खपरी दुर्ग का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान इन तीनों महाविद्यालयों में प्राचार्यों एवं शैक्षणिक स्टॉफ की उपस्थिति तथा महाविद्यालय में चल रही ऑनलाइन कक्षाएं एवं कक्षाओं में ऑनलाइन रूप से उपस्थित छात्र-छात्राओं की जानकारी भी जांच दल के सदस्यों ने प्राप्त की, जिन ऑनलाइन कक्षाओं का निरीक्षण किया गया उनमें बीएससी प्रथम, बी.सी.ए. प्रथम, एमएससी गणित, बीएससी द्वितीय एवं तृतीय तथा बी.कॉम एवं बीएड तृतीय सेमेस्टर की कक्षाएं शामिल थीं। कुछ ऑनलाइन कक्षाओं में विद्यार्थियों की उपस्थिति काफी कम थी। जिस पर कुलसचिव डॉ. देवांगन ने इन महाविद्यालयों के प्राचार्यों को निर्देशित किया कि वे विद्यार्थियों को समय पर लिंक उपलब्ध कराने के साथ-साथ ऑनलाइन कक्षाओं में उपस्थित होने हेतु प्रेरित करें। 

उल्लेखनीय है कि उच्च शिक्षा विभाग, छत्तीसगढ़ शासन द्वारा प्रत्येक विश्वविद्यालय के कुलसचिव को उनके विश्वविद्यालय परिक्षेत्र के अंतर्गत आने वाले निजी महाविद्यालयों में संचालित हो रही ऑनलाइन कक्षाओं के सतत् निरीक्षण का दायित्व सौंपा गया है। इसी आदेश के परिपालन में दुर्ग विश्वविद्यालय के निरीक्षण दल ने विभिन्न निजी महाविद्यालयों का निरीक्षण किया। 

विश्वविद्यालय के अधिष्ठाता छात्र कल्याण, डॉ. प्रशांत श्रीवास्तव ने बताया कि उपरोक्त तीनों महाविद्यालयों में ऑनलाईन कक्षाओं का संतोषप्रद संचालन पाया गया। उच्च शिक्षा विभाग के निर्देशानुसार प्रतिदिन विश्वविद्यालय का निरीक्षण दल विभिन्न निजी महाविद्यालयों का निरीक्षण करेगा। डॉ. श्रीवास्तव ने समस्त निजी महाविद्यालयों से आग्रह किया है कि वे ऑनलाइन कक्षाओं का सफल रूप से संचालन के साथ-साथ पढ़ाये गये विषय, कक्षा, टॉपिक तथा उपस्थित छात्र-छात्राओं की संख्या की जानकारी अपडेट रखें। महाविद्यालय से प्राप्त जानकारी को प्रति सप्ताह उच्च शिक्षा विभाग, छत्तीसगढ़ शासन को प्रेषित किया जायेगा।
 


26-Nov-2020 5:28 PM 17

दुर्ग, 26 नवंबर। राजीव गांधी किसान न्याय योजना में खरीफ 2020 में जिन कृषकों द्वारा सोयाबीन, मूंगफली, तिल, अरहर, मूंग, उड़द, कुल्थी, रामतिल, कोदो, कुटकी एवं रागी फसल बोया गया था, उनके बोये गये रकबे का पंजीयन संबंधित सेवा सहकारी समितियों के माध्यम से प्रारंभ हो गया है। 

ऐसे कृषक योजना में प्रावधानित फसलों के रकबे का पंजीयन के लिए पंजीयन फार्म में अपना पूर्ण विवरण भरकर अपने संबंधित सेवा सहकारी समिति में सत्यापन एवं पंजीयन हेतु जमा करेंगे। इस योजना में कृषकों को पूर्ण रूप से भरे हुये आवेदन पत्र (प्रपत्र-1) के साथ आवश्यक अभिलेख जैसे ऋण पुस्तिका, आधार कार्ड एवं बैंक पास बुक की छायाप्रति संबंधित प्राथमिक सहकारी समिति में जमा करना अनिवार्य होगा। सहकारी समितियों को कृषकों का पंजीयन 30 नवम्बर तक अनिवार्य रूप से करना होगा।  क्षेत्र के ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी द्वारा कृषकों के आवेदन पत्र का सत्यापन भुईयां पोर्टल में प्रदर्शित संबंधित मौसम के गिरदावरी के आकड़ों के आधार पर किया जायेगा। सत्यापन उपरांत कृषक को संबंधित सहकारी समिति में पंजीयन कराना होगा। समय-सीमा में पंजीयन कराने वाले कृषको को सोयाबीन, मूंगफली, तिल, अरहर, मूंग, उड़द, कुल्थी, रामतिल, कोदो, कुटकी, एवं रागी फसल के लिए आदान सहायता राशि देने का प्रावधान शासन द्वारा तय किया गया है।

 इन फसलों के लिए  आदान सहायता राशि की गणना संबंधित फसलों के गिरदावरी के अनुसार भुईयां पोर्टल में संधारित रकबा के आधार पर आनुपातिक रूप से की जावेगी। उपरोक्त प्रक्रिया के तहत प्राप्त कृषकों के डेटाबेस के आधार पर नोडल बैंक द्वारा आदान सहायता राशि सीधे कृषकों के खातों में अंतरित की जावेगी। अपंजीकृत कृषकों को योजनान्तर्गत आदान सहायता अनुदान की पात्रता नहीं होगी। योजनान्तर्गत शामिल फसलों के अतिरिक्त अन्य फसल जैसे यथा धान, मक्का एवं गन्ना पर आदान सहायता राशि देय नहीं होगा। किसान अपने क्षेत्र के ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी से पंजीयन आवेदन प्राप्त कर सकते है। अधिक जानकारी के लिए कृषि विभाग के टोल फ्री नं. 0788-2323755 के माध्यम से संपर्क कर सकते हैं।
 


26-Nov-2020 5:10 PM 20

दुर्ग, 26 नवंबर। पद्मनाभपुर क्षेत्र में मोटरसाइकिल चोरी करने वाले तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इनके पास से 13 मोटर साइकिल जब्त की गई है, जिसकी कीमत 6 लाख 50 हजार आंकी गई है। 

शहर में चोरियों के मामले में कमी लाने के उद्देश्य से एडिशनल एसपी रोहित झा, नगर पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला के मार्गदर्शन में पद्मनाभपुर चौकी प्रभारी नरेश सार्वा की टीम चोरों की पतासाजी में लगी हुई थी। पुलिस को सूचना मिली कि जेल तिराहा चौक में 3 लडक़े अपनी-अपनी मोटरसाइकिल पर बैठे हुए हैं और तीनों ही अपनी गाड़ी के लिए ग्राहक की खोज कर रहे हैं। मौके पर पहुंची टीम ने आरोपी राजीव साहू निवासी जेल तिराहा के पास दुर्ग, राकेश साहू निवासी भैंसबोर्ड बिरेझर जिला धमतरी तथा आरोपी मोहम्मद सिरात निवासी उरला वाम्बे आवास को पकड़ा। पूछताछ में तीनों आरोपियों ने कुंदरा पारा दारु भट्टी, पोटिया चौक दारु भट्टी, बटालियन के सामने दारु भट्टी, धमधा रोड चिखली तथा जिला धमतरी क्षेत्र में मोटर साइकिल चोरी करने की बात स्वीकारी।
 


26-Nov-2020 5:09 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 26 नवंबर।
धारदार चाकू से प्राणघातक हमला करने वाले आरोपी को कोर्ट ने 2 वर्ष की सजा सुनाई है। सप्तम अपर सत्र न्यायाधीश मधुसुदन चंद्राकर की कोर्ट ने आरोपी मनीष उर्फ जानू के खिलाफ फैसला सुनाया है। अभियोजन पक्ष की ओर से अतिरिक्त लोक अभियोजक सत्येन्द्र सिंह ने पैरवी की थी। 

3 दिसम्बर 2018 की दोपहर 1.30 बजे विशाल आहूजा अपने दोस्त राहुल बिहारी से मिलने ओव्हरब्रिज ग्रीन चौक के पास से जा रहा था। इसी दौरान आरोपी मनीष उर्फ जानू जसवानी ने विशाल को नेतागिरी करते हो, कहकर चाकू से गर्दन के पास और चेहरे पर हत्या की नीयत से गंभीर वार कर दिया था। घायल विशाल को पहले जिला अस्पताल में भर्ती किया गया, वहां से उसे सेक्टर 9 रिफर किया गया था। प्रार्थी सुदामा लाल की शिकायत पर मोहन नगर पुलिस ने धारा 307, 394 के तहत मामला दर्ज किया गया था। न्यायालय ने अपराध की प्रकृति एवं उसमें दिए गए दण्ड की मात्रा देखते हुए अभियुक्त को धारा 324 के तहत 723 दिन (लगभग 2 वर्ष) की सजा सुनाई है।
 


26-Nov-2020 5:08 PM 16

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 26 नवंबर।
स्थानांतरण के अवसर पर डिप्टी कमिश्नर आरके खुंटे को भावभीनी विदाई संभागायुक्त परिवार की ओर से दी गई। आर के खुंटे की पदस्थापना प्रोजेक्ट डायरेक्टर के रूप में गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही में हुई है।
 इस मौके पर संभागायुक्त टीसी महावर ने कहा कि डिप्टी कमिश्नर के रूप में श्री खुंटे का कार्यकाल काफी यशस्वी रहा। उन्होंने अपना सारा कार्य मनोयोग से, ईमानदारी से और पारदर्शिता से किया। उन्हें जो भी जिम्मेदारी  सौंपी गई, उसका निर्वहन उन्होंने पूरी निष्ठा से किया। 
श्री खुंटे ने कहा कि दुर्ग में उप संभागायुक्त के रूप में उनकी पदस्थापना उनके करियर का यशस्वी क्षण रहा है। दुर्ग जिले में उन्हें काफी कार्य करने का अवसर मिला है। पूर्व में जिला पंचायत सीईओ के रूप में और अभी डिप्टी कमिश्नर के रूप में काफी चुनौतियों का सामना किया और वरिष्ठजनों के मार्गदर्शन में और सहयोगियों के समन्वय से सभी कार्य अच्छे से संपादित हुए। 
उन्होंने कहा कि संभागायुक्त श्री महावर के मार्गदर्शन में काफी अच्छा काम करने का मौका दुर्ग में मिला जो उनके लिए हमेशा यादगार रहेगा। इस मौके पर सेवानिवृत्त संभागायुक्त बीएल गजपाल सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।
 


26-Nov-2020 5:07 PM 18

कलेक्टर ने बैठक में दिए निर्देश

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 26 नवंबर।
कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने अमलेश्वर-सांकरा क्षेत्र में अवैध प्लाटिंग पर विशेष नजर रखने और इन पर कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। 
समीक्षा बैठक में उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र के साथ ही कुम्हारी में और अन्य जगहों पर जहां भी अवैध प्लाटिंग के मामले प्रकाश में आते हैं उन पर त्वरित कार्रवाई की जाए। कलेक्टर ने इसके लिए एसडीएम एवं नगरीय प्रशासन विभाग के अधिकारियों को समन्वय से कार्रवाई करने के निर्देश दिये। 

कलेक्टर ने निगम अधिकारियों को कहा कि सफाई सर्वोच्च प्राथमिकता है। नगरीय क्षेत्रों में स्वच्छता कर्मियों का हौसला तब बढ़ता है, जब अधिकारी स्वयं मौके पर पहुंचकर उनका हौसला बढ़ाते हंै। सुबह के समय ऐसे निरीक्षण करें और इसके लिए टीम बनाकर सफाई की स्थिति की मानिटरिंग करें। 

उन्होंने कहा कि लोगों की राजस्व संबंधी दिक्कतों के लिए अथवा अन्य किसी भी प्रकार की दिक्कत दूर करने के लिए कैंप आयोजित करें। कलेक्टर ने सभी नगरीय निकाय के अधिकारियों एवं जनपद सीईओ से पूछा कि वर्मी कंपोस्ट बनने की क्या स्थिति है। खरीदे गए गोबर को किस तरह रखा गया है। वर्मी कंपोस्ट की गुणवत्ता किस प्रकार है। क्या इसे टेस्टिंग के लिए लैब में भेजा गया है। उन्होंने कहा कि गोधन न्याय योजना में प्रोसेसिंग अगर सही तरह से हुई तो गुणवत्तायुक्त वर्मी कंपोस्ट प्राप्त होगा, जिसका अच्छा मूल्य समूहों को मिलेगा। बस इसके लिए मानिटरिंग की विशेष जरूरत है कि प्रक्रिया के अनुरूप कार्य हो।

बैठक में निगम कमिश्नर भिलाई ऋतुराज रघुवंशी, जिला पंचायत सीईओ सच्चिदानंद आलोक, डीएफओ केआर बढ़ाई, अपर कलेक्टर प्रकाश सर्वे, बीबी पंचभाई सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
 


26-Nov-2020 5:00 PM 26

भिलाई नगर, 26 नवंबर। संयुक्त ट्रेड यूनियनों की ओर से केंद्र सरकार की कथित मजदूर व जन विरोधी नीतियों के खिलाफ 26 नवंबर की देशव्यापी हड़ताल का असर भिलाई इस्पात संयंत्र में नहीं दिखा। सभी विभागों में कार्मिकों की उपस्थिति 98 से 99 फ़ीसदी रही। जिसके चलते उत्पादन आम दिनों की तरह सामान्य रहा। जबकि राजहरा माइंस में हड़ताल का व्यापक असर रहा। जिसके कारण उत्पादन भी प्रभावित हुआ।

संयुक्त ट्रेड यूनियन के आह्वान पर देशव्यापी हड़ताल की तैयारी भिलाई इस्पात संयंत्र के सभी यूनियन में एचएमएस, इंटक ,एटक एक्टू, इस्पात श्रमिक मंच, स्टील एंप्लाइज यूनियन के द्वारा व्यापक पैमाने पर की गई थी। इसी के तहत आज खुर्सीपार गेट में एचएमएस ,बोरिया गेट में इंटक जबकि मुख्य गेट पर सीटू ,इस्पात कर्मचारी मंच, स्टील एंप्लाइज यूनियन  के पदाधिकारी सक्रिय थे। परंतु संयंत्र प्रबंधन के द्वारा हड़ताल को अवैध घोषित किए जाने के कारण प्रथम पाली में सुबह 6 बजे के पहले ही अपने अपने कार्यस्थल पर कार्मिक पहुंच चुके थे। जिसके कारण विभागों में उपस्थिति 98 से 99 फ़ीसदी रही। औपचारिकता वश सामान्य पाली पर जाने वाले कार्मिकों को यूनियन के पदाधिकारियों के द्वारा रोकने का प्रयास किया गया। परंतु कर्मियों के द्वारा यूनियन का साथ नहीं देने के कारण कुछ ही क्षण में उन्हें छोड़ भी दिया गया। एक प्रकार से आज की हड़ताल भिलाई इस्पात संयंत्र में बेअसर रही ।जिसके चलते उत्पादन एवं उपस्थिति दोनों आप्रभावित रही।

इसके ठीक विपरीत राजहरा माइंस में हड़ताल का व्यापक असर दिखा। संयुक्त खदान मजदूर संघ के बैनर तले सचिव राजेंद्र बेहरा ने आंदोलन का नेतृत्व किया । जिसके कारण उपस्थिति एवं उत्पादन दोनों ही प्रभावित रहा।

बीएसपी जनसंपर्क विभाग के महाप्रबंधक जैकब कुरियन ने बताया कि संयुक्त यूनियन की हड़ताल बेअसर रही है। कार्मिकों के द्वारा प्रबंधन का साथ देते हुए सभी विभागों में 98 से 99 फीसदी तक उपस्थिति दर्ज कराई है। उत्पादन भी पूर्व की भांति सामान्य रहा है। आज की हड़ताल से प्रबंधन को कोई भी परेशानी नहीं हुई है। राजहरा माइंस में हड़ताल का व्यापक असर दिखा है।

 

 


26-Nov-2020 4:44 PM 18

दुर्ग, 26 नवंबर। फ्लैट खरीदने के लिए बिल्डर को 19 लाख 41 हजार रुपए देने के बावजूद भी बिल्डर ने उक्त फ्लैट को प्रार्थी को न देते हुए किसी अन्य को बेच दिया। जब प्रार्थी ने अपनी रकम वापस मांगी तो रकम वापस करने में आनाकानी की गई। इससे परेशान प्रार्थी ने पद्मनाभपुर चौकी में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने आरोपी बिल्डर के खिलाफ धारा 420 के तहत मामला पंजीबद्ध कर जांच में लिया है।

पुलिस के मुताबिक रूआबांधा सेक्टर भिलाई निवासी नरेंद्र कुमार निषाद ने बोरसी भाटा स्थित पैराडाइस कॉलोनी में निर्माणाधीन दीक्षिता अपार्टमेंट में फ्लैट नंबर 201 को बुक किया था। इसके बदले प्रार्थी ने बिल्डर सुनीता सिंह को फ्लैट की कीमत एवं अन्य खर्च सहित कुल 19 लाख 41 हजार रुपए 22 दिसंबर 2010 को दिए थे। इसके लिए बीएसपी कर्मी नरेंद्र निषाद ने बैंक से लोन लिया था।

पुलिस के मुताबिक प्रार्थी और सुनीता सिंह का पति महेंद्र सिंह एक ही विभाग में होने के कारण प्रार्थी ने बिल्डर की संचालक सुनीता सिंह पर भरोसा किया। जब कई माह तक फ्लैट नहीं मिला, तब प्रार्थी दीक्षिता अपार्टमेंट बोरसी पहुंचा। फ्लैट नंबर 201 में कोई और व्यक्ति रह रहा था। जब साथी ने कहा कि यह फ्लैट मैंने खरीदा हूं तब उसमें रह रहे व्यक्ति ने कहा कि जो बात करना है बिल्डर से करो, मैं कुछ नहीं जानता। परेशान प्रार्थी ने जब बिल्डर्स से अपनी रकम मांगी तो टालमटोल किया गया।


26-Nov-2020 4:42 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दुर्ग, 26 नवंबर।  25 नवम्बर को अपेक्स बैंक के संवर्ग अधिकारी पंकज सोढ़ी ने मुख्य कार्यपालन अधिकारी के पद पर जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित दुर्ग में कार्यभार ग्रहण किया। इस अवसर पर बैंक अधिकारी/कर्मचारियों एवं कर्मचारी संघ पदाधिकारियों द्वारा उनका स्वागत किया गया।

पूर्व सीईओ श्रीमती अपेक्षा व्यास का अपेक्स बैंक मुख्यालय रायपुर स्थानांतरण होने पर बैंक से कार्यमुक्त हुई। इस अवसर पर बैंक के अधिकारी/कर्मचारी द्वारा उन्हें विदाई दी गई। बैंक के सीईओ पंकज सोढ़ी द्वारा शाल, श्रीफल, प्रतीक चिन्ह से सम्मानित करते हुए दुर्ग बैंक में किये गये कार्य की प्रशंसा की।

इस अवसर पर बधाई देने वालों में बैंक अधिकारी हृदेष शर्मा, सुश्री कुसुम ठाकुर, एस.के. निवसरकर, के.के. नायक, रोहित वर्मा, विनीत वर्मा, कर्मचारी संघ के पदाधिकारी धीरेन्द्र देवांगन, नंदकिशोर साहू, एन.एन. चन्द्राकर, नोडल अधिकारी राजेन्द्र वारे, सत्येन्द्र वैदे, शाखा प्रबंधक ए.एस. खान, दीनबंधु ठाकुर, मंजरी मेने सहित प्रधान कार्यालय दुर्ग में कार्यरत समस्त स्टॉफ उपस्थित थे।


26-Nov-2020 4:16 PM 21

सीएमओ को कहा सात दिनों के भीतर सुधारे व्यवस्था

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दुर्ग, 26 नवंबर। कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने बुधवार को नगरीय निकायों में गोधन न्याय योजना के क्रियान्वयन की स्थिति देखी। उतई और अहिवारा में इसके क्रियान्वयन पर वे नाराज हुए।

उन्होंने कहा कि गोधन न्याय योजना शासन की सबसे महत्वपूर्ण योजना है। इसके क्रियान्वयन के लिए निरंतर मानिटरिंग और तकनीकी मानदंडों के अनुरूप व्यवस्था करने की जरूरत है, लेकिन इन निकायों में कार्य अपेक्षा  के अनुरूप नहीं है। उन्होंने कहा कि कार्य की शीघ्रता के साथ ही तकनीकी मानदंडों को सुनिश्चित करें। कलेक्टर ने इन निकायों में गोबर के रखरखाव पर नाराजगी जाहिर की। साथ ही वर्मी कंपोस्ट बनाने के लिए चल रही धीमी प्रक्रिया पर भी तीव्र नाराजगी जाहिर की। अमलेश्वर से सांकरा तक फोर लेन चौड़ीकरण कार्य आरंभ हो गया है।

 कलेक्टर ने पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों से कहा कि लोगों की सुविधाओं के लिए उपयोगी और सुंदर सडक़ तैयार करनी है। उन्होंने कहा कि सडक़ के निर्माण में डेंजर प्वाइंट्स संबंधित तकनीकी दृष्टिकोण का विशेष रूप से ध्यान रखें ताकि सडक़ सुरक्षा के तकनीकी मानदंडों पर खरी उतरती हुई मुकम्मल सडक़ तैयार हो सके। उन्होंने बिजली कंपनी के अधिकारियों से पोल शिफ्टिंग का कार्य शीघ्र समाप्त करने को भी कहा। रायपुर से पाटन आने के मार्ग पर भव्य प्रवेश द्वार का निर्माण किया जाएगा। कलेक्टर ने इस संबंध में भी निर्देश दिये।

कलेक्टर ने पाटन में चल रहे अन्य निर्माण कार्यों को भी तय समय पर पूरा करने के निर्देश पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों को दिए। कलेक्टर ने पंदर में बना नया धान खरीदी केंद्र भी देखा। इससे पंदर के अतिरिक्त गुजरा और नवागांव के ग्रामीणों को भी धान बेचने में आसानी होगी। यहां एक हजार किसानों का धान बिकेगा और 1100 हेक्टेयर रकबे का पंजीयन किया गया है।

समिति के अधिकारियों ने बताया कि लगभग चालीस हजार च्ंिटल की धान खरीदी इस केंद्र से होगी। केंद्र में चबूतरे बनाये जा चुके हैं। कलेक्टर ने जलसंसाधन विभाग के अधिकारियों से सिंचाई संबंधी संरचनाओं के क्रियान्वयन की प्रगति की। उन्होंने कहा कि मनरेगा से स्वीकृत कार्य शीघ्रताशीघ्र आरंभ किये जाएं। सिंचाई संबंधी स्वीकृत कार्यों में समय सीमा के साथ ही गुणवत्ता का भी पूरा ध्यान रखा जाए।

 

 


25-Nov-2020 10:51 PM 30

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भिलाईनगर, 25 नवंबर।
जिला दुर्ग से आज कोरोना के नए 133 पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि की गई है। एक कोरोना संक्रमित मरीज की मौत भी हुई है। आज सर्वाधिक 59 पॉजिटिव केस दुर्ग ब्लॉक से मिले हैं। जबकि भिलाई से 40 नए मरीज मिले हैं।

जिला कोविड-19 अस्पताल के प्रभारी डॉ अनिल शुक्ला ने बताया कि आज जिले से 133 नए संक्रमित मरीज मिले हैं। एक मरीज की मौत भी हुई है। जयंती नगर दुर्ग से एक ही परिवार के तीन सदस्य संक्रमित मिले हैं। जिसमें दो युवक एवं एक महिला शामिल है। ग्राम असनारा से एक ही परिवार के चार सदस्य संक्रमित पाए गए हैं जिसमें एक युवती, एक महिला, एक युवक एवं एक 3 वर्षीय बालक शामिल है। 

ऋषभ सिटी दुर्ग से तीन संक्रमित मरीज मिले हैं। एक नगर निगम दुर्ग का कर्मचारी भी संक्रमित पाया गया है। आज दुर्ग  ब्लॉक से सर्वाधिक 59, भिलाई ब्लॉक से 40, निकुम ब्लॉक से 9, चरोदा एवं रिसाली ब्लॉक से 6 - 6, पाटन ब्लॉक से 4, शेष मरीज अन्य ब्लॉक से मिले है।


25-Nov-2020 7:36 PM 22

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भिलाईनगर, 25 नवंबर।
हिंदुस्तान स्टील एंप्लाइज यूनियन सीटू की कार्यकारिणी बैठक संपन्न हुई जिसमें विभिन्न जोनों से आए फीडबैक के मुताबिक इस बार कर्मी प्रबंधन एवं सरकार द्वारा थोपी जा रही मजदूर विरोधी नीतियों को अच्छे से समझ चुके हैं। इसीलिए वे स्वेच्छा से हड़ताल में शामिल होने का मन बना लिए हैं। संयंत्र प्रबंधन के द्वारा भले ही इस हड़ताल को अवैध घोषित किया गया है। दूसरी ओर 26 नवंबर को सभी कर्मचारियों से संयंत्र प्रबंधन के द्वारा अनिवार्य रूप से उपस्थित होने की अपील की गई है। अनुपस्थिति की स्थिति में कर्मचारी के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही करने की चेतावनी दी गई है।

प्रबंधन ने यह भी आदेश जारी किया है कि अवकाश की स्थिति को केवल सक्षम चिकित्सकीय अधिकारी के प्रमाणपत्र के आधार पर ही स्वीकार किया जाएगा संयंत्र ने यह भी स्पष्ट किया है कि श्रमिक संगठनों के द्वारा सौंपा ज्ञापन में जो मांग की गई है वह सेल के निगमित कार्यालय से संबंधित है।

सीटू ने जारी बयान में कहा है कि जैसे ही हड़ताल एवं उससे जुड़े हुए मुद्दे कर्मियों के सामने स्पष्ट रूप से आने लगे हैं वैसे ही कुछ तथाकथित संगठन अपनी आदत के अनुसार लोगों को गुमराह करना प्रारंभ कर दिए हैं एवं इन मुद्दों को स्थानीय एवं केंद्रीय मुद्दे बता कर बरगलाने का प्रयास कर रहे हैं। केंद्रीय और स्थानीय मुद्दों के सवाल पर सीटू दो टूक कह देना चाहता है कि कोई भी केंद्रीय एवं स्थानीय मुद्दे एक  दूसरे से अलग नहीं होते बल्कि एक-दूसरे के पूरक होते हैं। वेतन समझौता सेल स्तर का स्थानीय  मुद्दा  है  किंतु केंद्र सरकार द्वारा लगाए गए अफॉर्डेबिलिटी क्लॉज के कारण वेतन समझौता केंद्रीय मुद्दा हो जाता है। वेतन समझौता के बाद एरियर नहीं देने की शर्त भी कहीं ना कहीं केंद्र के द्वारा थोपी गई है। वेतन समझौता में ग्रेच्युटी सीलिंग करने की बात 2014 से ही केंद्र सरकार द्वारा बलपूर्वक थोपने की कोशिश जारी है ।

जून 2021 तक महंगाई भत्ता सीलिंग करने की बात
आधे दिन ड्यूटी करके आधे दिन की तनख्वाह लेने की बात सब कुछ केंद्र के द्वारा थोपी जा रही है। ऐसे में स्थानीय एवं केंद्रीय मुद्दा उलझा कर न केवल सरकार के मंसूबों को सफल बनाने की दिशा में किया जा रहा कृत्य के अलावा कुछ और नहीं है। किसी भी न्यायालय ने हड़ताल को अवैध घोषित नहीं किया है।


25-Nov-2020 7:35 PM 37

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भिलाईनगर, 25 नवंबर।
ग्राम पंचायत अंजोरा (ख) की पंचायत सचिव श्रीमती तामलेश्वरी देवांगन को अपने पदीय दायित्वों के निर्वहन में घोर लापरवाही बरतने पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत द्वारा निलंबन की कार्यवाही की गई है।
 
उल्लेखनीय है कि गोधन न्याय योजना अंतर्गत 6 सौ से अधिक क्विंटल गोबर क्रय करने के उपरांत भी वर्मी कंपोस्ट तैयार करने में किसी प्रकार की रूचि नहीं ली गई है। साथ ही गोधन न्याय योजना के संबंध में आहुत बैठक में बिना किसी सूचना के अनुपस्थित रहने पर शासन की महत्वकांक्षी योजना के संचालन में लापरवाही बरतना पाया गया है। निलंबन अवधि में उन्हें नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता की पात्रता होगी और उनका मुख्यालय पाटन निर्धारित किया गया है।


25-Nov-2020 7:33 PM 49

  कंपनी के नाम फर्जी अकाउंट की भी जांच  

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भिलाईनगर, 25 नवंबर।
शासकीय नगरी निकायों से 8 लाख रुपए प्राप्त कर जिला सहकारी बैंक में फर्जी अकाउंट के जरिए गबन करने वाले राइट वॉटर सॉल्यूशन इंडिया प्राइवेट लिमिटेड नागपुर महाराष्ट्र के पूर्व सुपरवाइजर को आज दुर्ग कोतवाली पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। आरोपित के खिलाफ राइट कंपनी के मैनेजर की रिपोर्ट पर कार्यवाही की गई है।

दुर्ग कोतवाली पुलिस ने बताया कि राइट वाटर सलूशन इंडिया प्राइवेट लिमिटेड नागपुर महाराष्ट्र कंपनी को पूरे छत्तीसगढ़ प्रदेश में वाटर एटीएम विभिन्न नगरीय निकायों में स्थापित कर उसके संचालन एवं मरम्मत का कार्य मिला हुआ है। इस कार्य का निर्वाहन कंपनी के द्वारा विगत तीन वर्षों से किया जा रहा है। इसके एवज में नगरी निकाय संस्थाओं द्वारा बिल के आधार पर भुगतान किया जाता है। 

इस कंपनी का कार्य सुपरवाइजर राघवेंद्र तिवारी निवासी शिक्षक नगर दुर्ग के द्वारा किया जा रहा था। जिसके द्वारा कार्य के दौरान नगर पंचायत चारमा से 349663 रुपए नगर पंचायत बारसूर से 726750 एवं पुसौर से 77864 कुल 1154257 रुपए का भुगतान स्वयं द्वारा कंपनी के नाम पर जिला सहकारी केंद्रीय बैंक मर्यादित जी ई रोड दुर्ग में फर्जी अकाउंट खोल कर प्राप्त कर लिया गया। 

उपरोक्त सभी भुगतान इसी अकाउंट में ट्रांसफर हुए परंतु नगर पंचायत चारामा का पेमेंट कंपनी के अकाउंट में जमा कर दिया गया। परंतु शेष राशि करीब 814590 रुपए फर्जी अकाउंट में रखकर उसका उपयोग स्वयं के कार्य के लिए किया गया। उक्त राशि गबन के पश्चात आरोपी द्वारा अगस्त 2020 में कंपनी से इस्तीफा भी दे दिया था। इसका खुलासा कंपनी को जीएसटी प्राप्त होने पर हुआ इस पर से कंपनी के मैनेजर राजेश श्रीवास्तव निवासी सत्यम विहार कॉलोनी शिवम एजुकेशनल एकेडमी के पीछे रायपुर द्वारा की गई रिपोर्ट पर कल दुर्ग कोतवाली पुलिस के द्वारा आरोपी राघवेंद्र तिवारी के खिलाफ धारा 420, 406 एवं 408 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में ले गया।
 
आज विवेचना के दौरान आरोपी राघवेंद्र तिवारी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। कंपनी के नाम पर जिला सहकारी केंद्रीय बैंक मर्यादित में किस प्रकार से फर्जी खाता किन दस्तावेजों के आधार पर खोला गया इसकी जांच अलग से की जाएगी।


25-Nov-2020 5:45 PM 23

दुर्ग, 25 नवंबर। निगम आयुक्त इंद्रजीत बर्मन द्वारा निगम के दो ठेकेदार प्रमोद महोबिया और  बलराम निर्मलकर के इंदिरा मार्केट पार्किंग व नया बस स्टैंड पार्किंग ठेका को निरस्त कर उनके द्वारा अमानत राशि के रूप में जमा किए गए 2.70 लाख रुपए को निगम कोष में जमा कर राजसात कर लिया गया है। निगम दुर्ग के आगामी पार्किंग ठेका में भाग लेने के लिए दोनों ठेकेदार को ब्लैक लिस्टेड घोषित कर दिया गया है। नगर निगम दुर्ग द्वारा इंदिरा मार्केट मोटरसाइकिल पार्किंग स्थल और नया बस स्टैंड पार्किंग स्थल के संचालन के लिए निविदा निकाला गया था। जिसमें प्रमोद महोबिया को नया बस स्टैंड पार्किंग और बलराम निर्मलकर को इंदिरा मार्केट पार्किंग का ठेका दिया गया था। नगर निगम के बाजार विभाग द्वारा इंदिरा मार्केट वाहन पार्किंग ठेकेदार बलराम निर्मलकर को पार्किंग शुल्क 7,03000 रुपए का 50 प्रतिशत राशि जमा कर अनुबंध कराने 3 दिवस का समय दिया गया था। 

इसी प्रकार नया बस स्टैंड वाहन पार्किंग ठेकेदार प्रमोद महोबिया को पार्किंग शुल्क 7,45000 रुपए का 50 प्रतिशत राशि जमा कर अनुबंध कराने 3 दिवस का समय दिया गया था। दोनों ठेकेदारों द्वारा 50 प्रतिशत राशि जमा नहीं कर अनुबंध नहीं कराए जाने के कारण निगम आयुक्त द्वारा दोनों पार्किंग स्थल का ठेका निरस्त कर उनके अमानत राशि को राजसात कर लिया गया। आयुक्त ने बाजार विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों की ड्यूटी दोनों पार्किंग स्थल में लगाई है।
 


25-Nov-2020 5:44 PM 20

दुर्ग, 25 नवंबर। भाजयुमो के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष अमित साहू के दुर्ग जिले में प्रथम आगमन को भाजयुमो की तैयारी बैठक जिला भाजपा कार्यालय में हुई। बैठक में प्रमुख रूप से भाजपा प्रदेश मंत्री एवं जिला भाजपा अध्यक्ष उषा टावरी, प्रदेश भाजयुमो उपाध्यक्ष डॉक्टर देवनारायण तांडी, प्रदेश सोशल मीडिया संयोजक एवं प्रवास कार्यक्रम संभाग प्रभारी जयप्रकाश यादव, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य ललित चंद्राकर, सुनील साहू, संजय साहू उपस्थित थे। बैठक की अध्यक्षता कर रहे जिला भाजयुमो अध्यक्ष दिनेश देवांगन ने प्रदेशाध्यक्ष के आगमन की तैयारी पर विस्तारपूर्वक चर्चा की।