छत्तीसगढ़ » राजनांदगांव

25-May-2020

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
राजनांदगांव, 25 मई।
कोविड-19 के कारण लॉकडाउन के समय विपत्ति के इस घड़ी में किसान परेशान हो रहे थे। ऐसे समय में सरकार उनके हर सुख-दुख की सहभागी बनी और उन्हें मदद पहुंचाई। राजीव गांधी किसान न्याय योजना से किसानों को ऐसे समय में राहत मिली।

ग्राम सोमनी के ठाकुरटोला के किसान लतखोर निर्मलकर ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार शिद्दत से किसानों के हित में कार्य कर रही है और किसानों के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने बताया कि मुझे इस योजना के तहत 20 हजार 550 रुपए की राशि मिलेगी। जिसमें से अभी मुझे 5 हजार 394 रुपए की राशि प्राप्त हो गई है।

उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के इस कठिन समय में यह राशि मेरे लिए महत्वपूर्ण है और इस राशि से बारिश से पहले खेती-किसानी के लिए तैयारी कर सकूंगा। ग्राम अर्जुनी के किसान लेखूराम देवांगन ने कहा कि लॉकडाउन में बड़ी राहत मिली और यह राशि हमें सही समय पर मिली है। उन्होंने बताया कि राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत 34 हजार 122 रुपए की सहायता राशि मिलेगी। जिसमें से 8 हजार 957 रुपए प्राप्त हो गए है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को इस मदद के लिए धन्यवाद देते कहा कि किसानों से जुड़ी लाभकारी योजनाओं से हम सब के जीवन में बदलाव आया है।

छत्तीसगढ़ सरकार किसानों को उनकी उपज का सही दाम दिलाने के लिए राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत जिले के किसान लाभान्वित हुए है। राज्य सरकार इस योजना के तहत किसानों को खेती किसानी के लिए प्रोत्साहित करने के लिए खरीफ 2019 से धान तथा मक्का लगाने वाले किसानों को सहकारी समिति के माध्यम से उपार्जित मात्रा के आधार पर अधिकतम 10 हजार रुपए प्रति एकड़ की दर से अनुपातिक रूप से सहायता राशि दी जाएगी।  
 


25-May-2020

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
राजनांदगांव, 25 मई।
जिला किसान कांग्रेस के अध्यक्ष व जिला पंचायत सदस्य महेन्द्र यादव ने जारी विज्ञप्ति में कहा कि केन्द्र के मोदी सरकार द्वारा तमाम रोड़े अटकाने के बावजूद छत्तीसगढ़ के भूपेश बघेल सरकार ने किसानों के धान की कीमत 2500 रुपए प्रति क्विंटल देने के संकल्प को राजीव गांधी किसान न्याय योजना के माध्यम से पूरा करते किसानों के प्रति अपनी प्रतिबद्धता दिखाया है। इसी के साथ छत्तीसगढ़ राज्य धान का सर्वाधिक कीमत देने वाले हिन्दुस्तान का पहला राज्य बन गया है, जिस पर हर छत्तीसगढिय़ा व किसानों को गर्व है।

श्री यादव ने कहा कि छत्तीसगढ़ की भूपेश बघेल सरकार ने अपने चुनाव पूर्व किए किसानों के कल्याण संबंधी अधिकांश  घोषणाओं को 2 साल से कम के कार्यकाल में पूरा कर दिखाया है, चाहे वह किसानों का कर्जा माफ  हो या बिजली बिल हाफ , चाहे वह धान का समर्थन मूल्य से अधिक 2500 रुपए क्विंटल में धान खरीदी का हो।

श्री यादव ने भाजपा नेताओं को आड़े हाथों लेते कहा कि जिन लोगों ने 2100 रुपए धान की कीमत व 300 रुपए प्रति क्विंटल प्रतिवर्ष बोनस देने का 15 साल तक किसानों के साथ छल किया वे लोग कर्ज माफी, बिजली बिल हाफ  व 2500 रुपए धान की कीमत देने पर भूपेश बघेल सरकार पर संदेह कर रहे थे। लोगों को बरगलाने का प्रयास किया। अभी भी लोगों को भडक़ाने में लगे हैं कि एक किस्त में देना चाहिए, वह चार किस्त में दे रहे हैं। छत्तीसगढ़ की जनता व किसान समझ चुके हंै कि भाजपा बरगलाने, भडक़ाने वाली पार्टी है, जो खुद सत्ता में आने के बाद अपने किए वायदे को 15 साल तक में पूरा नहीं कर पाई। 
 


25-May-2020

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
राजनांदगांव, 25 मई।
कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य ने छुरिया विकासखंड के ग्राम आमगांव में कल रात 10 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने पर क्वॉरंटीन सेंटर का निरीक्षण किया और उन्होंने ग्रामीणों से बातचीत की। 

उन्होंने ग्रामीणों को सावधानी एवं सचेत रहने के लिए कहा।  कलेक्टर ने ग्रामीणों से कहा कि घबराने की जरूरत नहीं है। संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए हमें जागरूक रहना पड़ेगा। सोशल डिस्टेसिंग का सभी पालन करें और मॉस्क का उपयोग करें, सेनिटाइजर का उपयोग करें, साबुन से अपना हाथ समय-समय पर हाथ धोते रहें।

कलेक्टर ने कहा कि संक्रमित मरीज भी हास्पिटल में इलाज के बाद ठीक होकर गांव वापस आ जाएंगे। उन्होंने कहा कि यह पूरा क्षेत्र अतिसंक्रमित प्रतिबंधित क्षेत्र होगा और यहां किसी का भी आवागमन नहीं होना चाहिए। उन्होंने सभी कोरोना संक्रमित मरीजों की ट्रेव्हल हिस्ट्री की भी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि मनरेगा के काम बंद रहेंगे। गांव में किसी भी को सर्दी, खांसी, बुखार हो तत्काल एएनएम को सूचित करें। 

क्वारेन्टाईन सेंटर को समय-समय पर सैनिटाइज करते रहे। सरपंच एवं सचिव सजग रहे तथा सर्दी, खांसी एवं बुखार के लक्षणों का परीक्षण करवाते रहें। सभी कोरोना पॉजिटिव मरीजों को मेडिकल कॉलेज पेंड्री (कोविड-19 हॉस्पिटल) एम्बुलेंस से भेजा गया। इस दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी मिथलेश चौधरी, एसडीएम डोंगरगांव वीरेन्द्र सिंह एवं ग्रामवासी उपस्थित थे।
 


25-May-2020

राज्य को पुन: शांति का टापू बनाने महापौर ने दिलाई शपथ
‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
राजनांदगांव, 25 मई।
राज्य शासन द्वारा छत्तीसगढ़ में हर वर्ष 25 मई को झीरम श्रद्धांजलि दिवस मनाए जाने दिए गए निर्देश के अनुक्रम में महापौर हेमा सुदेश देशमुख की अध्यक्षता में नगर निगम सभागृह में आयोजित श्रद्धांजलि सभा में श्रद्धांजलि देकर शहीदों को स्मरण कर राज्य को पुन: शांति का टापू बनाने के संबंध में शपथ ली गई।

झीरमघाटी में अपने प्राणों की आहूति देने वाले शहीदों की स्मृति में शासन से प्राप्त निर्देश पर 25 मई को निगम पदाधिकारियों एवं गणमान्य नागरिकों की उपस्थिति में वीर शहीदों के तैलचित्र पर माल्यार्पण कर दो मिनट की मौन श्रद्धांजलि अर्पित की गई। सभागृह में आयोजित श्रद्धांजलि सभा में महापौर श्रीमती देशमुख द्वारा राज्य को पुन: शांति का टापू बनाने निगम पदाधिकारियों, गणमान्य नागरिकों सहित अधिकारियों व कर्मचारियों को शपथ दिलाई गई। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि परिवर्तन यात्रा के दौरान झीरमघाटी में शहीद वरिष्ठ नेताओं, सुरक्षा बलों के जवानों एवं नक्सल हिंसा में शहीद लोगों की स्मृति में 25 मई को झीरम श्रद्धांजलि दिवस मनाए जाने शासन द्वारा निर्देश प्राप्त हुए हैं। झीरमघाटी में संस्कारधानी के वरिष्ठ नेता उदय मुदलियार एवं अल्लानूर भिंडसरा भी शहीद हो गए थे। हमें उनकी शहादत को नमन कर मिलजुलकर नक्सलवाद का सामना करना है।

निगम अध्यक्ष हरिनारायण पप्पू धकेता ने भी अपने संबोधन में श्रद्धांजलि अर्पित करते कहा कि माओवादियों के कायराना हरकत के कारण हमारे वरिष्ठ नेता शहीद हो गए थे। नक्सलवाद को खत्म करने प्रण लेकर हम सब कार्य करें, तभी शहीदों को सच्ची श्रद्धांजलि होगी। श्रद्धांजलि सभा का संचालन कार्यपालन अभियंता दीपक जोशी ने किया।

श्रद्धांजलि सभा में निगम आयुक्त चंद्रकांत कौशिक,  नेताप्रतिपक्ष शोभा सोनी सहित राजगामी संपदा न्यास के अध्यक्ष विवेक वासनिक, वरिष्ठ पार्षद कुलबीर सिंह छाबड़ा, रूपेश दुबे, सतीश मसीह, भागचंद साहू, विनय झा, गणेश पवार, सुनीता फडनवीस, राजेश गुप्ता चंप्पू,  पूर्णिमा नागदेवे, किशुन यदु, पिंकी साहू, गामेन्द्र नेताम,  मनीष साहू, महेश कुमार साहू, बसंत बहेकर,  एजाजुल रहमान आदि शामिल थे। इस अवसर पर गणमान्य नागरिक, पार्षद प्रतिनिधि, निगम के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।
 


25-May-2020

राजनांदगांव, 25 मई। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के निर्देशानुसार भाजपा कार्यालय के पास प्रवासी मजदूरों को राशन पैकेट एवं फल वितरण किया गया। जिला पंचायत सदस्य राजेश श्यामकर ने बताया कि बस में सवार प्रवासी मजदूरों को राशन पैकेट दिया गया। जिसमें में मुख्य रूप से दाल, शक्कर, चायपत्ती, साबुन, चना-मुर्रा, केला तथा रोजमर्रा से संबंधित चीजें दी गई। राशन सामग्री प्राप्त करने के बाद प्रवासी मजदूरों के चेहरों में खुशी की झलक देखने को मिली। इस दौरान जिला भाजपा अध्यक्ष मधुसूदन यादव, जिला पंचायत सदस्य राजेश श्यामकर, नेता प्रतिपक्ष शोभा सोनी सहित अन्य कार्यकर्ता उपस्थित थे।

 

 

 


25-May-2020

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

राजनांदगांव, 25 मई। 90 की दशक में राजनांदगांव की राजनीतिक परिदृश्य में एक चर्चित नेता बने स्व. उदय मुदलियार छत्तीसगढ़ गठन के बाद प्रदेश की राजनीति में एक ताकतवर नेता के रूप में उभरे। 1993 से लेकर 2008 तक वह लगातार चुनावी राजनीति में रहते हुए लोगों के बीच चर्चित चेहरे रहे।

कांग्रेस की  शहर की राजनीति उनके इर्द-गिर्द केन्द्रित रही। 25 मई 2013 को झीरम नक्सल हमले में शहादत की घटना से पहले उदय मुदलियार को बस्तर लोकसभा का कांग्रेस प्रभारी बनाया गया। कांग्रेस प्रभारी के तौर पर हुई नियुक्ति का उनके समर्थकों ने अंदरूनी विरोध किया। नक्सलियों के उत्पाती क्षेत्र में प्रभारी के तौर पर दौरा करने को लेकर समर्थकों और करीबियों ने जान के खतरे की बात कहकर स्व. मुदलियार को आगाह किया, लेकिन कांग्रेस के सच्चे सिपाही होने का इरादा लेकर मुदलियार ने ताबड़तोड़ बस्तर लोकसभा के कई गांवों का धुंआधार दौरा शुरू कर दिया।

बताते हैं कि मुदलियार की खासियत थी कि कांग्रेस के प्रति उनका लगाव ही उन्हें सियासत में अलग पहचान देने में मददगार साबित हुआ। कांग्रेस के भीतर गुटीय लड़ाई से परे रहते हुए मुदलियार ने अपनी राजनीतिक क्षमता से संगठन को मजबूत करने पर ध्यान दिया। झीरम हादसे से कुछ महीने पहले पार्टी ने मुदलियार को बस्तर लोकसभा में संगठन को मजबूत करने के लिए प्रभार सौंपा।

बताया जाता है कि नक्सल क्षेत्र में जाने के फरमान को शिरोधार्य मानते हुए मुदलियार ने दंतेवाड़ा से लेकर जगदलपुर, नारायणपुर, कोंडागांव, बीजापुर, सुकमा जैसे घोर नक्सल क्षेत्रों में जाकर कार्यकर्ताओं को संगठित किया। उनके ताबड़तोड़ दौरे से तत्कालिन भाजपा सरकार को भी कांग्रेस के मजबूत होने की पुख्ता जानकारी मिलने लगी।

इसी बीच प्रदेश में भाजपा सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए तत्कालिन प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नंदकुमार पटेल के नेतृत्व में निकली च्परिवर्तन यात्रा’ में नक्सलियों ने हमला कर दिया। इस हादसे में कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं विद्याचरण शुक्ल, नंदकुमार पटेल, महेन्द्र कर्मा के अलावा उदय मुदलियार भी शहीद हो गए।

31 जुलाई 1956 को जन्मे स्व. मुदलियार एमए तक शिक्षित थे। वह छात्र राजनीति से ही कांग्रेस की मुख्य राजनीति में पहचान बनाने में कामयाब हुए। 1993 में पहले ही चुनाव में स्व. मुदलियार निर्वाचित हुए। इससे पहले वह दिग्विजय कॉलेज के छात्रसंघ के चुनाव में भी बाजी मारकर अपनी राजनीतिक क्षमता का परिचय दिया था। कांग्रेस की सियासत में पहचान बनाने के लिए मुदलियार ने निर्विवाद होकर शहर अध्यक्ष के तौर पर शानदार काम किया। उनकी सांगठनिक क्षमता की परख अविभाजित मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने की। वहीं से मुदलियार की नई राजनीतिक पारी का आगाज हुआ। राजनांदगांव शहर के दो बार विधायक रहे स्व. मुदलियार खेमेबाजी की राजनीति से दूर रहे। यही कारण है कि प्रदेश की राजनीति में वह प्रमुख नेताओं के करीबी बन गए।

राजनांदगांव जिले में मुदलियार को आम लोगों के करीबी नेताओं में गिना जाता है। बस्तर प्रभारी रहते हुए मुदलियार ने अपनी जान जोखिम में डालकर कांग्रेस में जान फूंकने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी। आज भी उनकी गिनती ताकतवर दिवंगत नेताओं में होती है।


25-May-2020

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

राजनांदगांव, 25 मई। एकता और आपसी भाईचारे का पर्व ईद-उल-फितर पर कोरोना वायरस संक्रमण से रमजान के मुबारक माह के आखिरी दिन ईदगाह में होने वाली विशेष नमाज की रस्म पर भी असर पड़ा है। सदियों पुरानी ईदगाह में होने वाली नमाज पहली बार घरों में अता की गई।

इस साल कोरोना वायरस संक्रमण के असर से इंसानी जीवन खतरे में है। वहीं धार्मिक रिवाजों पर भी इसका प्रतिकूल असर पड़ा है, न सिर्फ मुस्लिम समुदाय, बल्कि सभी धर्मों की धार्मिक परपंरा में बदलाव हुआ है। करीब माहभर तक मुस्लिम धर्मावलंबियों ने रोजे रखकर पांच वक्त का नजाम अता किया। कठिन रोज रखते हुए रोजेदारों ने मुल्क में अमन-चैन कायम रखने व अपनी तरक्की के लिए दुआएं की।

 रमजान माह में घरों में रहकर रोजे रखे गए। इस साल रोजा इफ्तार की परंपरा भी सिमटी रही। इस बीच ईद के मौके पर घरों में नमाज अता करने के लिए परिवार के सदस्यों ने बकायदा सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन किया। वैश्विक महामारी का रूप ले चुके कोरोना के असर से मुस्लिम बंधुओं ने घरों में रहकर ही नमाज अदा करते कोरोना से मुक्ति दिलाने के लिए दुआएं की।

ईद के मौके पर मस्जिदों में सन्नाटा पसरा रहा। सिर्फ मस्जिदों के मुतवल्ली और अन्य पदाधिकारियों ने ही मस्जिदों में नमाज अदा की। धर्मगुरूओं की ओर से समाज के लोगों को घरों में रहकर नमाज अदा करने अपील की थी। घरों में नमाज अदा करने के दौरान उम्रदराज सदस्यों ने नमाज के बाद खुदबा के जरिए कलमा और शूरा का भी पठन किया।

 माना जाता है कि ईद और खास मौकों पर सामूहिक नमाज के दौरान खुदबा को धर्म गुरूओं के द्वारा पढ़ाया जाता है। उधर नमाज के बाद गले लगकर एक-दूसरे को ईद की मुबारकबाद दी गई। गैर मुस्लिम समाज के लोगों ने भी अपनी ओर से मुबारकबाद पेश की। वहीं घरों में परंपरागत सेवईयोंं से लोगों का मुंह मीठा कराया गया। आज पूरे दिन घरों में ईद की खुशियां बिखरी रही। हालांकि अन्य सालों की तुलना में इस साल पर्व की खुशी पर कोरोना वायरस की बंदिशों का असर नजर आया।


25-May-2020

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

अंबागढ़ चौकी, 25 मई। शनिवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र अंबागढ़ चौकी को नई 108 एम्बुलेंस की सुविधा मिल गई है। अस्पताल को यह सुविधा मिलने से नगर के अलावा क्षेत्र के नागरिकों को मरीजों को स्वास्थ्य केन्द्र तक पहुंचाने में काफी सुविधाएं प्राप्त होगी।

ब्लॉक मुख्यालय में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र की एम्बुलेंस वर्षों से कंडम पड़ी हुई है। इसी तरह 108 की सुविधा देने वाली वाहन भी बीते चार माह से अस्पताल परिसर में खराब पड़ी हुई है। एम्बुलेंस तथा 108 वाहन दोनों के खराब होने से मरीजों को अस्पताल तक लाने और ले जाने में लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था। स्थानीय नागरिक पिछले चार माह से अस्पताल में एम्बुलेंस तथा 108 की सुविधा दिलाने की मांग कर रहे थे।

कुछ दिनों पूर्व नागरिकों ने क्षेत्रीय विधायक छन्नी साहू के नगर प्रवास के दौरान अस्पताल में एम्बुलेंस उपलब्ध नहीं होने से आने वाली परेशानियों की जानकारी देते समस्या का निदान करने की मांग की थी।

सीएम एवं स्वास्थ्य मंत्री का जताया आभार

सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र को नई 108 एम्बुलेंस देने पर स्थानीय नागरिकों एवं कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव, प्रभारी मंत्री मो. अकबर एवं विधायक छन्नी साहू का आभार जताया। क्षेत्रीय विधायक छन्नी साहू ने भी सीएम, एवं स्वास्थ्य मंत्री का आभार ज्ञापित किया। विधायक ने कहा कि उनके क्षेत्र में यह सुविधा मिलने से नागरिकों को राहत के साथ आम जनता को चिकित्सीय एवं स्वास्थ्य सुविधाएं दिलाने में काफी सुविधाएं प्राप्त होगी।

 एम्बुलेंस का पूजा पाठ कर किया शुभारंभ

नई 108 एम्बुलेंस का ब्लॉक मुख्यालय पहुंचने पर अस्पताल परिसर में स्वास्थ्य कर्मियों एवं कांग्रेस नेताओं ने पूजा पाठ कर इसके शुभारंभ व परिचालन के लिए झंडी दिखाई। नगर पंचायत के पूर्व अध्यक्ष कांग्रेस नेता अनिल मानिकपुरी ने विधिवत नई वाहन का पूजा-पाठ किया। इस अवसर पर बीएमओ डॉ. आरआर ध्रुवे, पार्षद मनीष बसोड, शंकर निषाद, अविनाश कोमरे, मुकेश सिन्हा, गोलू खान, संदीप दुबे, किशोर यादव, राजेश त्रिपाठी, सुनील यादव, राजू ठलाल सहित बड़ी संख्या में स्वास्थ्यकर्मी एवं 108 वाहन का स्टॉफ मौजूद था।

नई 108 एम्बुलेंस में अत्याधुनिक सुविधाएं

नई 108 एम्बुलेंस के चालक रोशन लाल ने बताया कि इस वाहन में कई अत्याधुनिक सुविधाएं से मरीजों को काफी राहत प्राप्त होगी। बताया कि वाहन में वातानुकूलित सिस्टम के अलावा रक्तचाप मशीन, आक्सीजन सिलेंडर, संक्रमण से सुरक्षा के लिए जरूरी निडिल डिस्ट्रायर, शॉक मशीन सहित अन्य कई सुविधाएं मौजूद है। इसके अलावा एम्बुलेंस में अनुभवी पायलट, एवं स्टॉप रोशनलाल, शैलेष कुमार, परमेश्वर भुआर्य, नंदकुमार यादव मौजूद थे।


25-May-2020

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

राजनांदगांव, 25 मई। छत्तीसगढ़ सरकार की अभिनव पढ़ई तुंहर दुआर योजना के माध्यम से जिले के डोंगरगांव अंचल में घर-घर ज्ञान का प्रकाश पहुंचने लगा है। इस महती योजना को लेकर शिक्षक, विद्यार्थी व पालक उत्साहित हैं।

इसी तारतम्य में डोंगरगांव विकासखंड शिक्षा अधिकारी श्री रात्रे ने बुनियादी प्रशिक्षण संस्थान के सभा हाल में एक समीक्षा बैठक आहूत की थी। बैठक में पढ़ई तुंहर दुआर के नोडल अधिकारी राजेश शर्मा, बीटीआई के प्राचार्य रामअवतार साहू, एबीओ रश्मि ठाकुर, क्षितिज सोरी, बीआरसी श्री रत्नाकर, रामकुमार ठाकुर सहित स्कूलों के प्राचार्य व शिक्षकगण उपस्थित थे।

बैठक में बीईओ श्री रात्रे ने शिक्षक, विद्यार्थी पंजीयन, ऑनलाइन क्लास से संबंधित आवश्यक जानकारी नियमित उपलब्ध करवाने का निर्देश दिया। आने वाली समस्याओं के समाधान के साथ ही शासन की इस महत्वकांक्षी योजना को घर-घर पहुंचाने के संकल्प को दोहराया। नोडल अधिकारी राजेश शर्मा ने पढ़ई तुंहर दुआर योजना की महत्ता पर प्रकाश डाला तो एबीओ सुश्री ठाकुर, प्राचार्य श्री साहू ने इस कार्य मे आने वाली तकनीकी समस्याओं से निपटने के गुर सिखाए। बैठक में ज्यादातर समस्या विद्यार्थी पंजीयन की बताई गई।

समस्या पर नोडल अधिकारी राजेश शर्मा ने कहा कि वेबसाइट में फिलहाल विद्यार्थी पंजीयन में ओटीपी विद्यार्थियों के मोबाइल पर आने का विकल्प है। फोन उनके पालक के पास हो या फिर विद्यार्थी के पास, उनसे बातचीत कर ओटीपी प्राप्त करें या पंजीयन कार्य पूर्ण करें। धीमा ही सही पर पंजीयन हो रहा है। उन्होंने बताया कि विकासखंड क्षेत्र में अब तक 14 हजार से अधिक बच्चों का पंजीयन हो चुका है। लगभग सभी शिक्षकों का पंजीयन हो चुका है और ऑनलाइन क्लास चालू है। जिसमें सभी रुचिगत हिस्सेदारी निभा रहे हैं।


24-May-2020

राजनांदगांव, 24 मई। भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष परवेज अहमद ने देशवासियों व प्रदेशवासियों को ईद की मुबारकबाद देते कहा कि यह ईद का त्यौहार  अमन शांति और भाईचारे का है। यह त्यौहार मुस्लिम भाई इस देश में  हर्षोल्लास और खुशी के साथ इस देश के कोने-कोने में नए-नए तरीके से मनाते हैं, पर इस साल पूरी दुनिया व हमारा देश कोरोना संक्रमित रोग के कारण आर्थिक स्थिति से गुजर रहा है, इसलिए सभी से गुजारिश है प्रेम एवं भाईचारे के इस त्यौहार को इस वर्ष सादगी से मनाएं। सोशल डिस्टेंस बनाते शासन-प्रशासन द्वारा जारी गाईड लाइन का पालन करें एवं घर पर ही ईद के त्यौहर को मनाएं।


24-May-2020

राजनांदगांव। राष्ट्रीय कांग्रेस कमेटी अल्पसंख्यक विभाग के चेयरमेन नदीम जावेद के आदेश अनुसार जितेन्द्र मुदलियार व छत्तीसगढ़ प्रभारी महेन्द्र सिंह वोहरा के मार्गदर्शन में कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के जिला अध्यक्ष राजिक सोलंकी के नेतृत्व में राजीव गांधी की पुण्यतिथि मनाई गई। इसमें अल्पसंख्यक विभाग के महासचिव शकील रिजवी, सचिव पिंकू खान, दुर्गेश राजपूत सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे। उक्त जानकारी जानकारी कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के जिला महामंत्री आफताब अहमद ने दी।
 


24-May-2020

जिलाध्यक्ष मधुसूदन की अगुवाई में मजदूरों को मदद
‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
राजनांदगांव, 24 मई।
लॉकडाउन में अपने घर जा रहे मजदूरों की भाजपा ने भी सुध ली है। नेशनल हाईवे में सामाजिक दूरी और मास्क लगाकर भाजपा कार्यकर्ता ओडिशा, झारखंड, बिहार समेत अन्य प्रांत जा रहे मजदूरों को नाश्ता किट दे रहे हंै। 

राजनांदगांव भाजपा अध्यक्ष मधुसूदन यादव के अगुवाई में पिछले 10 दिनों से भाजपा कार्यकर्ता नेशनल हाईव से ट्रकों और अन्य मालवाहकों से गुजर रहे मजदूरों को नाश्ता किट उपलब्ध कराया है। इस मुहिम के जरिए भाजपा मजूदरों को सफर में हो रहे परेशानी से निजात दिलाने का प्रयास किया है। 

बताया जाता है कि राशन किट ऐसे मजदूरों को दी जा रही है जो कि 15 घंटे से अधिक समय के लिए सफर कर रहे है। दो वक्त के लिहाज से प्रति मजदूर को सूखा नाश्ता किट और पानी दिया जा रहा है। 

‘छत्तीसगढ़’ से चर्चा करते जिलाध्यक्ष मधुसूदन यादव ने बताया कि पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन ङ्क्षसह, वरिष्ठ नेताओं और कार्यकर्ताओं की साझा कोशिश से मजदूरों को भूख की समस्या से दूर करने भाजपा ने अभियान चलाया है। उन्होंने बताया कि नाश्ता किट के साथ मजदूरों को मास्क भी दिया जा रहा है। 

श्री यादव ने कहा कि प्रवासी मजदूरों के अलावा जिले के क्वॉरंटीन सेंटरों में रहने वालों को भोजन दिया जा रहा है। श्री यादव ने कहा कि भाजपा से मुश्किल के दौर में मजदूरों के साथ है। 
 


24-May-2020

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

राजनांदगांव, 24 मई। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण से मुस्लिम समुदाय के सबसे बड़े पर्व ईद-उल-फितर के रीति-रिवाजों पर भी असर पड़ा है। रमजान माह के आखिरी दिन ईद की खुशियां घरों तक सिमटकर रह गई है। कोरोना से ईदगाह में नमाज अता करने की सदियों पुरानी रिवायत पर ब्रेक लग गया है। ईदगाह में सामूहिक नमाज अता करने की परंपरा कोरोना वायरस संक्रमण के चलते इस साल नदारद रहेगी। मुस्लिम समुदाय की मानें तो यह पहला मौका है जब ईद की विशेष नमाज सार्वजनिक स्थलों पर नहीं होगी।

समाज के प्रबुद्ध नागरिक रईस अहमद शकील ने 'छत्तीसगढ़’ को बताया कि यह पहला अवसर है जब नमाज ईदगाह में नहीं होगी। कोरोना के कारण कंधे से कंधा मिलाकर नमाज अदा करने की परंपरा इस बार नजर नहीं आएगी। उन्होंने कहा कि चूंकि नमाज के लिए बड़ी तादाद में लोग पहुंचते हैं, इसलिए स्वास्थ्यगत कारणों के चलते सार्वजनिक रूप से अता नहीं की जाएगी।

 शहर के मठपारा स्थित ईदगाह में पूरी तरह से सन्नाटा पसरा हुआ है। पूर्व में म्युनिसिपल हाईस्कूल मैदान स्थित ईदगाह में ईद के खास मौके पर नमाज अता की जाती थी। अब कुछ सालों से मठपारा के ईदगाह में विशेष नमाज अता की जाती है।

कोरोना के कारण मस्जिदों में नमाज अता करने पर पाबंदी लगी हुई है। मस्जिदों में दो से तीन लोगों की नमाज अता करने की अनुमति मिली है। मुस्लिम समाज के धर्मगुरूओं की ओर से सामाजिक सौहार्द और आपसी भाईचारे का संदेश के साथ घरों में ही नमाज अता करने का फरमान जारी किया गया है।

 ईद मनाने की तैयारी घरों में नजर आने लगी है। खासतौर पर छोटे बच्चों में ईद मनाने का उत्साह छलक रहा है। महिलाओं ने ईद के खास मौके पर खुशबूदार सेवईयां भी तैयार की है। घरों में नमाज के बाद दावतें भी होगी।

अल्ला-ता-आला की इबादत के लिए एक माह से रोजा रखकर मुस्लिम बंधु अमन और सुकुन के लिए दुआएं कर रहे हैं। रोजेदारों ने पूरे महीनेभर परिवार की खुशहाली और कोरोना संक्रमण की महामारी को दूर करने की दुआएं भी की है। कल विशेष नमाज में इंसानी जीवन के लिए खतरा बन चुके कोरोना महामारी को लेकर भी मुस्लिम धर्मावलंबी दुआएं करेंगे।

एकता और भाईचारे के साथ मनाएं ईद - गाजी

शहर के वरिष्ठ अधिवक्ता और समाजसेवी हलीम बख्श गाजी ने एकता और भाईचारे के साथ ईद पर्व मनाने की अपील की है। उन्होंने कहा कि अल्लाह-ता-आलह की इबादत के साथ गरीब और बेसहारा लोगों की मदद के लिए यथासंभव लोगों को सामने आना चाहिए। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण से उपजी विकट स्थिति से निजात दिलाने के लिए नमाज में विशेष दुआएं भी की जाएगी। श्री गाजी ने कहा कि घरों में रहकर सोशल डिस्टेंसिंग के साथ नमाज अता करने पर भी ध्यान देना होगा। मस्जिदों के बजाय लोग अपने-अपने घरों में रहकर ही नमाज अता कर ईद की खुशियां बांटेंगे।


24-May-2020

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

राजनांदगांव, 24 मई। गर्म हवाओं के थपेड़ों से लू के हालात बन गए हैं। दिन और रात के तापमान में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है। चिलचिलाती धूप से चेहरे झुलसने लगे हैं। गर्म हवाओं के असर से लोग बेहाल होने लगे हैं। कल से शुरू हो रही नौतपा से पहले गर्मी लोगों को झुलसा रही है। हालांकि इस साल मई के महीने में गर्मी का असर मामूली रहा। खराब मौसम और बरसात होने के कारण भीषण गर्मी के चपेट में लोग नहीं आ पाए। लॉकडाउन और कोरोना वायरस संक्रमण के चलते लोग पहले से ही घरों में दुबके हुए हैं। अब बढ़ती गर्मी के कारण लोग घरों से बाहर निकलने से परहेज कर रहे हैं।

मिली जानकारी के मुताबिक रविवार को तापमान 43 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है। मई माह इस साल खराब मौसम की भेंट चढ़ गया। झुलसा देने वाली गर्मी से लोगों को राहत मिली। इधर सूर्य की तपिश से सडक़ों में दोपहर में सन्नाटा पसरने लगा है। तेज धूप और गर्म हवाओं के चलने से लोग हलाकान होने लगे हैं। वहीं कल 25 मई से नवतपा की शुरूआत होने वाली है। इससे पहले ही मौसम के बदलते रूख और तापमान में अचानक बदलाव होने से लोग घरों में दुबकने मजबूर होने लगे हैं। वहीं घरों से निकलने वाले लोग टोपी, चश्मा और स्कार्फ का उपयोग कर रहे हैं। मौसम में तब्दीली के साथ ही विगत तीन-चार दिनों से तापमान में अचानक वृद्धि होने से लोग चिलचिलाती गर्मी से बेहाल होने लगे हैं।

 मई माह के अंतिम सप्ताह में भीषण गर्मी ने अपना तेवर दिखाना शुरू कर दिया है। सुबह से ही गर्म हवाएं चल रही है। चिलचिलाती धूप से बचने लोग छांव की तलाश में रहने लगे हैं। लगातार तापमान में वृद्धि होने से पारा 40 डिग्री से पार हो गया है। भीषण गर्मी के चलते दोपहर बाद शहरी सहित ग्रामीण इलाकों में सन्नाटा पसरने लगा है। लोग घरों से बाहर निकलने में भी परहेज करने लगे हैं। वहीं बाजार में भी सुबह से दोपहर तक ही लोग दिखाई देने लगे हैं। दोपहर बाद शहर सहित अन्य इलाकों में लोगों की उपस्थिति नहीं के बराबर दिखाई दे रही है। मौसम को देखते फलों की मांग भी लोगों के बीच बनी हुई है।

 


23-May-2020

राजनांदगांव, 23 मई। जिला पंचायत सदस्य राजेश श्यामकर ने कांग्रेस के शहर अध्यक्ष कुलबीर छाबड़ा के बयान पर पलटवार करते कहा कि कांग्रेस अपनी घटिया राजनीति करना बंद करें। दो माह का चावल बांटकर दो माह का राशन बांटने का ढिंढोरा पीटने वाले पहले अपने गिरेबान में झांक लें। बड़ी-बड़ी बातें करने से जनता का भला नहीं होता। श्री श्यामकर ने जारी विज्ञप्ति में कहा कि राजनांदगांव के मौजूदा विधायक व पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह द्वारा विगत 15 वर्षों तक मुख्यमंत्री रहते छत्तीसगढ़ की जनता को कई योजनाओं से परिपूर्ण किया है। साथ ही छत्तीसगढ़ में अनेक सौगातें देते विकास की नई गाथा लिखी गई है। इस वजह से छत्तीसगढ़ के लोग आज भी डॉ. रमन सिंह को याद करते हैं। अभी छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार है और सत्ता पाने के लिए छत्तीसगढ़ की जनता को धोखा देकर सत्ता हासिल करने वाले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा गंगाजल को हाथ में लेकर कसम खाते कहा था कि छत्तीसगढ़ में पूर्ण शराबबंदी करेंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ, बल्कि मुख्यमंत्री बघेल द्वारा छत्तीसगढ़ में शराब दुकान खोल कर घर-घर तक ऑनलाइन के माध्यम से शराब बिक्री करवा रहे हैं। जिससे छत्तीसगढ़ के लोगों की आर्थिक स्थिति खराब हो रही है।


23-May-2020

राजनांदगांव, 23 मई। छत्तीसगढ़ प्रदेश युवक कांग्रेस के अध्यक्ष पूर्णचन्द्र कोको पाढ़ी, युवक कांग्रेस प्रभारी संतोष कोलकुंडा, सहप्रभारी एकता ठाकुर के आदेशानुसार एवं युवाओं के प्रेणास्त्रोत जितेन्द्र उदय मुदलियार के मार्गदर्शन में प्रदेश युवा कांग्रेस के सचिव सुनील आहुजा, राजनांदगांव विधानसभा अध्यक्ष चेतन भानुशाली के नेतृत्व में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर दूसरे दिन भी युवा कांग्रेस के पदाधिकारियों ने जिला अस्पताल में रक्तदान किया। श्री भानुशाली ने बताया कि राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर रक्तदान का आयोजन जिला चिकित्सालय में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते युवक कांग्रेस पदाधिकारियों द्वारा किया गया। इस अवसर पर राजनांदगांव विधानसभा अध्यक्ष चेतन भानुशाली, रवि माखीजा, सतीश तराने, सुरेन्द्र साहू, रविन्द्र यादव, दिलू साहू, ढालचंद साहू सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।


23-May-2020

राजनांदगांव, 23 मई। लॉकडाउन के कारण रक्तदान शिविर नहीं हो पा रहे हैं। जिससे मरीजों को होने वाली परेशानी को देखते दिग्विजय महाविद्यालय की यूथ रेडक्रॉस इकाई द्वारा लॉकडाउन में समय-समय पर रक्तदान किया जा रहा है। इसी कड़ी में शुक्रवार को यूथ रेडक्रॉस के 16 विद्यार्थियों ने जिला अस्पताल में रक्तदान कर रक्त की अपूर्ति में पुन: अपनी सहभागिता दर्ज की। प्राचार्य डॉ. बीएन मेश्राम के संरक्षण व यूथ रेडक्रॉस अधिकारी डॉ. एचएस भाटिया के मार्गदर्शन में आयोजित हो रहे रक्तदान के कार्यों को भविष्य में भी निरंतर जारी रखा जाएगा, ताकि मरीजों को इस विपदा की घड़ी में राहत पहुंचाई जा सके।
 


23-May-2020

राजनांदगांव। जनसंघसेवक मंच के प्रदेश महामंत्री अख्तर अली के नेतृत्व में राजनांदगांव जिला अध्यक्ष राजेश गलफ्ट व जनसंघसेवक की टीम ने गत़ दिनों प्रवासी मजदूरों को खाना वितरण किया। इस दौरान सुशील शर्मा, महावीर शर्मा, आमिल, सिद्धार्थ भागवत, कृष्ण गुरुचरण, आदर्श ठाकुर, जयकरण वर्मा एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे। उक्त जानकारी मंच के कृष्ण गुरुचरण ने दी।
 


23-May-2020

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
राजनांदगांव, 23 मई।
वर्तमान पेयजल समस्या व ग्रामीणों की मांग को ध्यान में रखते विधायक दलेश्वर ने राज्य शासन के राज्य आयोजना मद डोंगरगांव विधानसभा क्षेत्र के पांच गांव में नल-जल प्रदाय व आवर्धन जल प्रदाय योजना अंतर्गत एक करोड़ 27 लाख की स्वीकृति दिलाई है।

विधायक कार्यालय से जारी विज्ञप्ति में अमरनाथ साहू ने जानकारी दी है कि डोंगरगांव विधायक दलेश्वर साहू के प्रस्तावानुसार लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग खंड राजनांदगांव के प्राक्कलन के आधार पर मुख्य अभियंता लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग रायपुर द्वारा प्रशासकीय स्वीकृति जारी कर दी है । जारी आदेशानुसार डोंगरगांव विधानसभा क्षेत्र के डोंगरगढ़ विकासखंड के ग्राम दिवानटोला 22.16 लाख, भगवानटोला 24.75 लाख, धनडोंगरी 28 लाख, कातलवाही 26.79 लाख, खूबाटोला 25.08 लाख रुपए का कार्य को स्वीकृति मिली है।
कार्य की स्वीकृति मिलने पर क्षेत्र के लोगों में बहुप्रतिक्षित मांग पूरा होने पर हर्ष है। क्षेत्र के जनप्रतिनिधि, ग्रामीणों व कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, पीएचई मंत्री रूद्र गुरु, प्रभारी मंत्री मोहम्मद अकबर व विधायक दलेश्वर साहू के प्रति आभार व्यक्त किया है। 

जिसमें जनपद अध्यक्ष भावेश सिंह, जिला पंचायत सदस्य प्रभा साहू, रामक्षत्री चंद्रवंशी, अजय अग्रवाल, हीरा सोनी, सोमेश्वर वर्मा, जनपद सभापति महेश सेन, मदन साहू, नरेश उईके, बिट्टू भाटिया, सुरेश सहारे, राजेन्द्र साहू, रामदास आदि प्रमुख हैं।
 


23-May-2020

महापौर ने मुख्यमंत्री का जताया आभार
‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
राजनांदगांव, 23 मई।
पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि के अवसर पर छत्तीसगढ़ के किसानों के लिए राजीव गांधी किसान न्याय योजना का शुभारंभ गत् दिनों मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा डिजिटली भव्यता के साथ मंत्री एवं विधायकों की उपस्थिति में किया गया। किसानों के हित में योजना का शुभारंभ करने पर महापौर हेमा सुदेश देशमुख ने मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया है।

पेन्ड्री मेें जैतखम के पास प्रवासियों के लिए सूखा स्वल्पाहार वितरण केन्द्र स्थापित किया गया है, जहां पर राजीव गांधी की पुण्यतिथि मनाई गयी। कार्यक्रम में महापौर देशमुख सहित विधायक दलेश्वर साहू, राजगामी सम्पदा न्यास  अध्यक्ष विवेक वासनिक, पूर्व मंत्री धनेश पाटिला, पूर्व विधायक ईमरान मेमन, पूर्व महापौर सुदेश देशमुख, महापौर परिषद के प्रभारी सदस्य संतोष पिल्ले व गणेश पवार, पार्षदगण शकीला बेगम, पिंकी साहू, पूर्णिमा नागदेवे, शरद पटेल, पूर्व पार्षद बसंत बहेकर आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम में राजीव गांधी के तैल चित्र पर माल्यार्पण कर दीप प्रज्जवलित किया गया।

महापौर ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित करते कहा कि राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा छत्तीसगढ़ के किसानों के हित में राजीव गांधी किसान न्याय योजना का शुभारंभ किया जा रहा है। इसके लिए मैं उनका आभार व्यक्त करती हूं। इस योजना के तहत प्रदेश के करीब 20 लाख किसानों को 5750 करोड़ रुपए की राशि डीबीटी के माध्यम से चार किस्तों में सीधे खाते में मिलेगा। वहीं योजना का लाभ धान, मक्का और गन्ना के किसानों सहित आगामी सीजन में दलहन व तिलहन उत्पादन करने वाले किसानों को मिलेगा।