छत्तीसगढ़ » सरगुजा

Date : 11-Oct-2019

नौकरी दिलाने के नाम पर एक करोड़ से ज्यादा की ठगी, 3 बंदी, 10वीं बटालियन का आरक्षक भी शामिल

छत्तीसगढ़ संवाददाता
अंबिकापुर, 11 अक्टूबर।
अंबिकापुर जिला पंचायत में नौकरी लगाने के नाम पर ठगी का बड़ा मामला सामने आया है। इस मामले में पुलिस ने 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया जबकि अन्य फरार हैं। पुलिस मामले में पूछताछ कर रही है। बताया जा रहा है कि आरोपी नौकरी दिलाने के नाम पर 15 लोगों से 50 लाख से अधिक की ठगी कर चुके हैं। 

पुलिस के अनुसार ठगी के शिकार 15 लोगों के अलावा कई अन्य लोग भी पीडि़त हंै, जिनके द्वारा पुलिस महानिरीक्षक कार्यालय में शिकायत की गई है। इस लिहाज से यह पूरी ठगी एक करोड़ से ज्यादा की है। ये जिला पंचायत में चपरासी, स्टेनो, ड्राइवर आदि पदों पर नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करते थे। नौकरी दिलाने का झांसा देने के बाद आरोपियों द्वारा उन लोगों को बकायदा जिला पंचायत की सील लगाकर नियुक्ति पत्र भी दिया गया था। ठगी में 6  लोगों के नाम सामने आए हैं, जिनमें एक जिला पंचायत में पदस्थ सहायक ग्रेड 3 मुन्ना दास और दसवीं बटालियन में पदस्थ आरक्षक संजय साहू सहित वनकर्मी राजेश कुजूर भी शामिल है। पुलिस ने मामले में मुन्ना दास, मास्टरमाइंड सुमित यादव और सौरभ चकियार को गिरफ्तार कर लिया है, बाकी के आरोपी फरार हैं।

आज मामले का खुलासा करते हुए एएसपी ओम चंदेल ने बताया कि मणिपुर क्षेत्र निवासी दिनेश प्रजापति द्वारा वर्ष 2018  में नौकरी के नाम पर ठगी की शिकायत की गई थी। जिस पर जांच उपरांत एफआईआर दर्ज की गईथी। एसपी के निर्देश पर पुलिस ने टीम बनाकर पूरे मामले के मास्टरमाइंड चर्च रोड निवासी सुमित यादव को गिरफ्तार किया। पूछताछ के दौरान उसने मामले में राजेश कुजूर, संजय साहू, सती पारा निवासी ललिता भगत, मुन्ना दास और सौरभ चकियार का नाम बताया। 
पुलिस ने बताया कि सुमित यादव ट्रैवलिंग एजेंसी नगर के नमना कला में चलाता था। वीआईपी लोगों को वाहन उपलब्ध कराने के नाम पर जिला पंचायत के लोगों से उसकी जान पहचान थी। इसी का झांसा देते हुए वह लोगों से नौकरी के नाम पर ठगी कर रहा था। इस काम में जिला पंचायत के सहायक ग्रेड 3 मुन्ना दास द्वारा जिला पंचायत की सील लगाकर प्रार्थी को जॉइनिंग लेटर भी दिया जाता था। 

 


Date : 10-Oct-2019

लखनपुर में एक दिन बाद मना दशहरा, करीब 60 फीट रावण के पुतले का किया दहन

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
लखनपुर, 10 अक्टूबर।
रियासत कालीन परंपरा के अनुसार लखनपुर क्षेत्र में दशहरे का त्योहार एक दिन बाद मनाया गया। इस अवसर पर करीब 60 फीट रावण के पुतले का दहन किया गया।

 लखनपुर में एक दिन बाद दशहरा मनाने की परंपरा है। इसका एक कारण यह भी है कि दशहरे के दिन अम्बिकापुर से सरगुजा महाराज अपने प्रजाजनों से मिलने तथा उनका हाल चाल जानने लखनपुर पैलेस पहुंचते हैं जिसके बाद रावण दहन के साथ ही दशहरे के त्योहार मनाया जाता है। इसी तारतम्य में दुर्गा मंडप बाज़ारपारा तथा नवचेतना दुर्गा पूजा समिति बसस्टैंड के दुर्गा प्रतिमा का विसर्जन स्थानीय देव तालाब में किया गया। दशहरे के अवसर पर बड़ी तादाद में नगरवासी सहित छेत्रवासियों का हुजम उमड़ पड़ा जिसके बाद बुराई रूपी रावण का दहन स्थानीय साक्षरता मिनी स्टेडियम में किया गया जहां नगर के गणमान्य लोगों की उपस्थिति में रावण दहन कर बुराई पर अच्छाई की जीत का पर्व दशहरा धूम धाम से मनाया गया।

बच्चों ने किया रावण का दहन 
दशहरे के अवसर पर स्थानीय बच्चों के द्वारा बुराई के प्रतीक रावण के पुतले का दहन किया गया। ज्ञात हो कि स्थानीय नगर के बच्चों के द्वारा विगत 5 वर्षों से लगातार प्रत्येक वर्ष रावण के पुतले का दहन किया जाता रहा है जिसके बाद इस वर्ष भी रावण के पुतले का निर्माण छोटे बच्चों द्वारा किया गया जिसके बाद एक दिन बाद दशहरे के दिन आतिशबाजी के साथ रावण का पुतला दहन किया। 

नयन गुप्ता के नेतृत्व में इस वर्ष नगर के बच्चों ने जिसमें सुहैल,यश, ईश, अवि, आकाश,

िशवांगी,सुंदरम,लक्ष्य,वीरू,आदि,सानिया,राघव,स्नेहा,गुनगुन,शौर्य,बुलबुल,अन्नी, आरव, तन्नू,संतोष, इमरान,अनुष्का ने एक साथ मिलकर रावण का पुतला तैयार किया था जिसके बाद इन बच्चों के द्वारा रावण दहन कर दशहरे का त्योहार धूमधाम से मनाया गया।

 


Date : 10-Oct-2019

जंगल में लकड़ी काटते ग्रामीणों पर मधुमक्खियों का हमला, एक मौत, कई घायल

अंबिकापुर, 10 अक्टूबर। बलरामपुर जिले के प्रेम नगर कोरंधा के समीप जंगल में बुधवार को लकड़ी काटने गए ग्रामीणों पर हुए मधुमक्खियों के हमले में एक ग्रामीण की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि मधुमक्खियों के काटने से कई ग्रामीण घायल हो गए।

जानकारी के अनुसार कोरंधा प्रेमनगर निवासी धरनु राम पिता चुईया 40 वर्ष बुधवार को सुबह अन्य ग्रामीणों के साथ गांव के समीप जंगल में लकड़ी काटने गया था। बताया गया कि जिस पेड़ में चढ़कर वह लकड़ी काट रहा था, उसी पेड़ में मधुमक्खी का छत्ता था। अचानक मधुमक्खियां भड़क गई और ग्रामीणों पर हमला कर दिया। मधुमक्खियों के हमले को देखकर ग्रामीण इधर-उधर भागने लगे। इसी दौरान मधुमक्खियों के काटने से ग्रामीण घायल हो गए। दूसरी ओर पेड़ पर चढ़े धरनु पर सैकड़ों मधुमक्खियां आ गई और उसे डंक मार कर गंभीर रूप से घायल कर दिया।  घायल को परिजन बुधवार शाम को लेकर मिशन अस्पताल पहुंचे, जहां कुछ ही देर में उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। 


Date : 10-Oct-2019

गरबा-सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ संपन्न हुआ नवरात्र

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
उदयपुर, 10 अक्टूबर।
 शहर में शारदीय नवरात्र पर्व को धूमधाम से मनाया गया। मां जगत जननी के विविध रूपों की भक्तिभाव से पूरे नौ दिनों तक पूजा अर्चना की गई। नगरवासियों द्वारा ब्लॉक मुख्यालय सहित अनेक स्थानों पर भव्य पंडाल बनाकर मां दुर्गा की प्रतिमा की स्थापना पूर्ण विधि विधान से करते हुए सुबह शाम माता की अराधना की गई। जिससे शहर का माहौल भक्तिमय रहा। जगह-जगह खीर पूड़ी सब्जी का भंडारा का आयोजन किया जा रहा है जिसमें प्रतिदिन नगर सहित ग्रामीण क्षेत्र के हजारों श्रद्धालु भंडारा रूपी प्रसाद ग्रहण किए।

लगातार नौ दिनों तक सार्वजनिक दुर्गा पूजा समिति द्वारा गरबा का कार्यक्रम भी मंच के समीप आयोजित किया गया था जिसमें आसपास की महिलाओं बच्चियों और पुरूष वर्ग के लोगों ने भी भाग लिया। इसके अतिरिक्त बच्चों के फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता कुर्सी दौड़ प्रतियोगिता डांस प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया था। विजयी प्रतिभागियों को समिति के ओर से उपहार भी प्रदान किया गया । मंगलवार को हजारों लोगों की उपस्थिति में भव्य रावण दहन का कार्यक्रम भी आयोजित किया गया। कार्यक्रम के सफल आयोजन में सार्वजनिक दुर्गा पूजा समिति के पदाधिकारियों का सराहनीय योगदान रहा।


Date : 10-Oct-2019

सरगुजा: 9 माह में 1865 छोटे भूखण्डों की हुई रजिस्ट्री, 96 लाख से अधिक राजस्व की हुई प्राप्ति

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 10 अक्टूबर।
 राज्य सरकार द्वारा छोटे भूखंडों की खरीद बिक्री से रोक हटाने, सम्पत्ति गाईड लाईन दर में 30 फीसदी की कमी के फैसले से जिले में पंजीयन से प्राप्त राजस्व और सम्पत्तियों की पंजीयन संख्या में वृद्धि हुई है। जिला पंजीयक कार्यालय से प्राप्त जानकारी के  अनुसार पिछले 9 महीने के दौरान (जनवरी 2019 से सितम्बर 2019 तक) कुल 1 हजार 865 छोटे भूखण्डों के दस्तावेजों का पंजीयन हुआ है। इन दस्तावेजों के पंजीयन से 96 लाख 716 रुपये राजस्व प्राप्ति हुई है ।

राज्य शासन द्वारा जनवरी 2019 में 5 डिसमिल से कम के भूखण्डों के खरीदी बिक्री पर रोक हटा दिया गया है। सरकार के इस फैसले से मध्यम वर्गीय परिवार काफी खुश हैं। इन परिवारों को उनके घर बनाने का सपना पूरा होने लगा है। नियमों के सरलीकरण होने से रियल एस्टेट में भी उत्साह का माहौल है। लोग सम्पत्ति खरीद, बिक्री के लिये आगे आ रहे हैं।         

 

 


Date : 10-Oct-2019

ग्रामीण क्षेत्रों में मनाया जा रहा नवाखानी पर्व

लखनपुर, 10 अक्टूबर। लखनपुर क्षेत्र अंतर्गत इन दिनों नवाखानी पर्व जोर-शोर से मनाया जा रहा है जहाँ लोग नवरात्रि के आरंभ से ही नए अन्न को मिला भोजन बनाने की परंपरा का निर्वहन करते दिखाई दे रहे हंै।  ज्ञात हो कि ग्रामीण सहित शहरी क्षेत्रों में नवरात्री पर्व के एकती तिथि से लेकर नवमी तिथि तक नवाखानी का त्योहार मनाया जाता है जिसके बाद घरों में अन्नपूर्णा माता की पूजा अर्चना की जाती है तथा खेतों में तैयार हो रहे नए फसल के चावल को मिलाकर भोजन तैयार किया जाता है। इस दौरान ग्रामीण अंचलों में खाने पीने के दौर लंबे समय तक चलता है जो कि ग्रामीन अंचलों में इस त्योहार का ही एक भाग माना जाता है।ज्ञात हो कि नए फसल के तैयार होने के साथ ही अन्नपूर्णा माता को धन्यवाद देने स्वरूप धन धान्य की वृद्धि एवं सुख समृद्धि की कामना को लेकर इस त्योहार को मनाया जाता है तथा निश्चित दिन पर नवाखानी की परंपरा निभाई जाती है जिसके बाद कई दिनों तक यह त्योहार मनाया जाता है।


Date : 10-Oct-2019

मिनी ट्रक की ठोकर, बाइक सवार की मौत

अंबिकापुर, 10 अक्टूबर। दशहरा देखकर वापस घर जा रहे एक व्यक्ति की बाइक मिनी ट्रक की टक्कर से दुर्घटनाग्रस्त हो गई। दुर्घटना में बाइक सवार की मेडिकल कॉलेज अस्पताल में मौत हो गई। 

पुलिस के अनुसार उदयपुर थाना क्षेत्र के मोहनपुर निवासी तिलेश्वर सिंह कंवर (32 वर्ष)8 अक्टूबर को शाम 7 बजे दशहरा पर्व देखने ग्राम केदमा मोटरसाइकिल से गया हुआ था।

 वहां से वापस आते दौरान मार्ग में मिनी ट्रक की टक्कर से गंभीर रूप से घायल हो गया। सूचना पर परिजन मौके पर पहुंचे और उसे केदमा के अस्पताल ले गए। वहां से उदयपुर अस्पताल लाया गया। उदयपुर से रिफर करने पर उसे परिजन मेडिकल कॉलेज अस्पताल लेकर पहुंचे थे, जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई।


Date : 10-Oct-2019

झुग्गी वासियों की सर्वे हेतु सर्वेक्षण दल गठित 

अम्बिकापुर, 10 अक्टूबर। नगर निगम क्षेत्र अंतर्गत शासकीय नजूल भूमि में काबिज झुग्गी वासियों को स्थाई पट्टा देने हेतु सर्वेक्षण दल का गठन अनुविभागीय अधिकारी राजस्व द्वारा कर दिया गया है। जारी आदेशानुसार अम्बिकापुर के तहसीलदार, नगर पालिक निगम के राजस्व अधिकारी, नगर एवं ग्राम निवेश अम्बिकापुर के सर्वेयर, नजूल निरीक्षक एवं हल्का पटवारी को दल में शामिल किया गया है। आदेश में कहा गया है कि सर्वेक्षण दल, छत्तीसगढ़ शासन नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग के निर्देशानुसार प्रत्येक क्षेत्र के लिए प्रारूप -क में एक रजिस्टर का संधारण करने तथा अधिभोग के अधीन भूखण्ड को दर्शाने वाली स्थल का कार्ययोजना तैयार करेंगे। 

सर्वेक्षण दल उन झुग्गी बस्तियों की सूची भी तैयार करेंगी जिनका व्यवसायिक महत्व है अथवा जिसका जनहित में प्रयोजन के लिए आवश्यकता होगी तथा ऐसी झुग्गी बस्ती को अन्यत्र व्यवस्थापित करना होगा। यह जानकारी 25 अक्टूबर 2019 तक प्रस्तुत करना अनिवार्य होगा। 

 


Date : 09-Oct-2019

रावण दहन में बारिश ने डाली खलल, जुगाड़ से जला 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
अम्बिकापुर, 9 अक्टूबर।
 अंबिकापुर पीजी कॉलेज में आयोजित रावण दहन कार्यक्रम में तेज बारिश ने आयोजकों की परेशानी बढ़ा दी।रावण दहन कार्यक्रम में मुख्य अतिथियों का भाषण चल ही रहा था कि अचानक तेज बारिश होने लगी और हल्की भगदड़ सी मच गई।

बारिश को खुलता ना देख आयोजकों ने जुगाड़ में पेट्रोल,पैरा व पटाखों के माध्यम से किसी तरह रावण का दहन किया। सरगुजा सेवा समिति,नागरिक समिति व जिला प्रशासन के संयुक्त तत्वाधान में पीजी कॉलेज मैदान में रावण,कुंभकरण व मेघनाथ के पुतला दहन कार्यक्रम का आयोजन विजयदशमी पर्व के अवसर पर हुआ था। शाम 7 बजे रावण दहन के समय ही तेज बारिश होने लगी और मैदान में अफरा-तफरी मच गई। 

बारिश से बचने लोग इधर-उधर भागने लगे।मैदान में उपस्थित हजारों लोगों ने पीजी कॉलेज के ऑडिटोरियम भवन,हॉस्टल व अन्य जगह पर घंटों खड़े रहे।आयोजकों ने किसी तरह रावण दहन कर औपचारिकता पूरी की।विजय दशमी महोत्सव कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सरगुजा सांसद व केंद्रीय राज्य मंत्री रेणुका सिंह व कैबिनेट मंत्री अमरजीत भगत थे।कार्यक्रम को संबोधित करते हुए श्रीमती रेणुका सिंह ने कहा कि रावण बुराई का प्रतीक है।बुराइयां भी ऐसी जो आदमी को राक्षस बना दे।
भगवान राम के तीर से मरने के बाद भी वह बार-बार जी उठता था।अंत में भगवान राम ने रावण का वध कर बुराई पर अच्छाई की जीत का संदेश दिया।हम रावण के पुतला दहन कर अपने अंदर छिपे अहंकार को समाप्त करने का संकल्प ले।अहंकार अपने अंदर से बुराइयां लाता है और इंसान को बुरा बना देता है।कैबिनेट मंत्री अमरजीत भगत ने कहा कि बुराई के प्रतीक रावण के पुतले का दहन कर हम विजयदशमी पर्व मनाते हैं लेकिन रावण दहन के साथ अपने अंदर छिपे बुराइयों को समाप्त करने का भी संकल्प ले।इस दौरान महापौर डॉ अजय तिर्की, सरगुजा सेवा समिति के अध्यक्ष रजनी रविशंकर त्रिपाठी,नागरिक समिति के संयोजक अजय अग्रवाल व कलेक्टर ने भी लोगों को संबोधित किया।

गाजे-बाजे के साथ निकली शोभायात्रा
विजयदशमी पर्व के अवसर पर सरगुजा सेवा समिति नागरिक सेवा व जिला प्रशासन के संयुक्त तत्वधान में नगर के राम मंदिर से भगवान राम,लक्ष्मण और हनुमान की भव्य शोभायात्रा निकाली गई।शोभा यात्रा देवीगंज रोड,घड़ी चौक,गांधी चौक,अंबेडकर चौक होते पीजी कॉलेज ग्राउंड पहुंची।शोभायात्रा में सैकड़ों लोग शामिल हुए।शोभायात्रा में श्रद्धालु शैला नृत्य के कलाकार सहित बैंड बाजा की धुन पर झूमते नजर आए।शोभायात्रा का जमकर जगह-जगह आतिशबाजी कर लोगों द्वारा स्वागत किया गया।शोभा यात्रा यात्रा में भगवान राम,लक्ष्मण हनुमान का दर्शन करने शहर के लोग उमड़ पड़े।पीजी कॉलेज मैदान में शोभायात्रा का समापन हुआ।भगवान राम,लक्ष्मण,हनुमान बुराई के प्रतीक रावण कुंभकरण व मेघनाथ के पुतले का दहन किया।शोभायात्रा में भाजपा जिला अध्यक्ष अखिलेश सोनी,पूर्व महापौर प्रबोध मिंज,सरगुजा कांग्रेस जिला महामंत्री राजीव अग्रवाल,राहुल गोयल,भाजपा जिला उपाध्यक्ष अंबिकेश केसरी,मुरारी लाल बंसल,राजेश अग्रवाल, जन्मजय मिश्रा,मधुसूदन शुक्ला,मंजूषा भगत, करता राम गुप्ता सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

समिति ने खाद्य मंत्री को चांदी की तलवार भेंट की

आज स्थानीय सर्किट हाउस में दशहरा आयोजन समिति के द्वारा खाद्य मंत्री अमरजीत भगत को चांदी का तलवार भेंट किया गया।दरअसल अंबिकापुर में  दशहरे के अवसर पर आयोजन समिति के द्वारा हर वर्ष राम लक्ष्मण और हनुमान का रूप धारण करने वाले प्रतियोगी बच्चों को सम्मानित किया जाता है, लेकिन इस वर्ष बारिश के कारण दशहरे के दिन उनका स्वागत नहीं किया जा सका। जिसे लेकर आयोजन समिति के द्वारा आज खाद्य मंत्री भगत के द्वारा प्रतिभागी बच्चों को स्थानीय सर्किट हाउस में पुरस्कृत  किया गया। 

इस अवसर पर उपस्थित मंत्री श्री भगत ने कहा कि ऐसे बच्चों को पुरस्कृत कर उनका मनोबल बढ़ाना चाहिए ताकि वह और भी आगे इस प्रकार की प्रतियोगिता में बढ़ चढ़कर हिस्सा ले सकें। इसके साथ ही मंत्री श्री भगत ने आयोजन समिति को भी धन्यवाद ज्ञापित किया। इस अवसर पर आयोजन समिति के द्वारा मंत्री अमरजीत भगत को चांदी का तलवार भेंट कर सम्मानित किया गया।


Date : 09-Oct-2019

विजयदशमी पर राम की निकाली शोभायात्रा, हजारों लोग हुए शामिल

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 9 अक्टूबर।
विजयदशमी के अवसर पर हिंदू युवा एकता मंच द्वारा अंबिकापुर नगर में भगवान राम की भव्य शोभायात्रा निकाली गई।भगवान राम व महामाया माता के जयकारे से शहर गुंजायमान रहा।शोभायात्रा का नगर में जगह-जगह पुष्प वर्षा कर स्वागत किया गया।प्रात:9 बजे से ही युवाओं का सैलाब शोभायात्रा में शामिल होने कला केंद्र मैदान में उमड़ पड़ा। सुबह 10 बजे भगवान राम,सीता,लक्ष्मण व हनुमान भगवान की विधिवत पूजा अर्चना की गई।इसके पश्चात कला केंद्र मैदान से विशाल शोभायात्रा गांधी चौक पहुंची।गांधी चौक से होते हुए शोभायात्रा घड़ी चौक पहुंची।घड़ी चौक पर ब्राह्मण समाज के लोगों द्वारा पुष्प वर्षा कर स्वागत किया गया।समाज के लोगों ने भगवान राम की आरती उतार पूजा अर्चना की।भव्य आतिशबाजी कर शोभा यात्रा का स्वागत किया गया।इसके पश्चात शोभायात्रा देवीगंज मार्ग,संगम चौक,महामाया चौक, मार्ग होते हुए महामाया मंदिर पहुंचकर संपन्न हुई। शोभा यात्रा के दौरान पूरा शहर भगवामय में हो गया था।शोभायात्रा में हजारों की संख्या में लोग पहुंचे थे। संगम चौक पर भाजपा व कांग्रेस के नेता महापौर डॉक्टर अजय तिर्की,सभापति शफी अहमद,कांग्रेस सरगुजा जिला महामंत्री राजीव अग्रवाल,राहुल अग्रवाल, भाजपा प्रदेश मंत्री अनुराग सिंह देव,पूर्व, भाजपा जिला अध्यक्ष अखिलेश सोनी, पूर्व महापौर प्रबोध मिंज,उपाध्यक्ष अंबिकेश केसरी,रिंकू वर्मा सहित अन्य लोगों ने स्वागत किया।महामाया चौक स्थित निगम कांपलेक्स के पास मारवाड़ी युवा मंच द्वारा स्वागत किया गया।एलआईसी ऑफिस के पास मायापुर मोहल्ले के लोगों द्वारा भगवान राम की आरती उतारकर वह पुष्प वर्षा कर स्वागत किया गया।शोभायात्रा में हिंदू युवा एकता मंच के हजारों लोग उपस्थित थे।

महामाया मंदिर में हुई महाआरती
शोभायात्रा महामाया मंदिर पहुंचने पश्चात हजारों लोगों ने एक साथ नगाड़े की धुन पर जय श्री राम व महामाया माता की जय के नारे लगाए।इसके पश्चात शंख बजाकर महाआरती किया गया।महाआरती पश्चात शोभायात्रा का समापन किया गया।

राजसी परंपरा के अनुसार पैलेस में टीएस सिंह देव ने किया शस्त्र पूजन
विजयदशमी पर्व के अवसर पर सरगुजा पैलेस में कैबिनेट मंत्री टीएस सिंह देव राजसी परंपरा के अनुसार दोपहर 12 बजे शस्त्र पूजन किए।शस्त्र पूजन श्री सिंहदेव के भतीजा आदित्येश्वर सिंहदेव ने भी किया। पैलेस में सर्वप्रथम गज व नगाड़ा की पूजा अर्चना की गई।इसके बाद विधिवत ढंग से शस्त्रों की पूजा अर्चना की गई।इस अवसर पर सरगुजा राजपरिवार के अन्य सदस्य भी शामिल हुए।पैलेस में मौजूद लोग पूजा उपरांत कैबिनेट मंत्री टीएस सिंह देव से मिलकर उन्हें दशहरे की शुभकामनाएं।श्री सिंह देव ने भी लोगों को शुभकामनाएं दिए।रक्षित केंद्र में एसपी आशुतोष सिंह ने शस्त्र पूजन किया।इसके पश्चात हर्ष फायर किया गया। 

कोतवाली में भी शस्त्रों की पूजा की गई।अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा द्वारा देवेश्वर कॉलोनी में शस्त्र पूजन किया गया।शस्त्र पूजन उपरांत क्षत्रिय महासभा के लोगों द्वारा सामूहिक हवन व प्रसाद वितरण किया गया।इस दौरान महासभा के अध्यक्ष अनिल सिंह, अरुण सिंह,अरविंद सिंह,सतेंद्र सिंह,अतुल सिंह,दिलीप सिंह,संतोष सिंह,मनोज सिंह,संजय सिंह,राहुल सिंह सहित समाज के अन्य लोग उपस्थित थे।


Date : 09-Oct-2019

प्लैनेट फैशन में त्यौहारी सीजन को लेकर कई आकर्षक उपहार योजना

अंबिकापुर, 9 अक्टूबर। नगर के पुराना बस स्टैंड स्थित शिवधारी कांप्लेक्स में प्लैनेट फैशन रेडीमेड कपड़ो का शो रूम त्योहार के मौसम में खरीदारी करने वाले ग्राहकों के लिए आकर्षक उपहार योजना चलायी जा रही है। संस्था के संचालक मुकेश अग्रवाल ने बताया कि कि हमारे रेडीमेड कपड़ों विश्व प्रसिद्ध ब्रांडेड लुई फिलिप, वायन हुसैन, पीटर इंग्लैंड, एलेन सॉली एवं एलेन सॉली किड की विशाल श्रृंखला उपलब्ध है। दिवाली के अवसर पर हम अपने ग्राहकों के लिए आकर्षक उपहार योजना प्रदान कर रहे है। जिसमें 6 999 रुपए की खरीदी पर लैपटॉप बैग फ्री दिया जा रहा है। इसके अलावा 9999 रूपय की खरीदी पर ब्लेजर फ्री दिया जा रहा है। इसके अलावा 11999 रुपए की खरीदी पर बिग ट्रॉली बैग फ्री दिया जा रहा है। साथ ही हमारे संस्था प्लैनेट फैशन मे रेडीमेड कपड़ों की भव्य श्रृंखला उपलब्ध है।


Date : 09-Oct-2019

धूमधाम से हुआ मां शेरावाली की प्रतिमाओं का विसर्जन, नाचते-झूमते रहे भक्त

अंबिकापुर, 9 अक्टूबर।  शहर सहित सरगुजा संभाग में नौ दिनों तक नवरात्रि पर्व की धूम रही। मंदिरों में पूजा-आराधना हुई। ज्योति कलश प्रज्जवलित किए गए। शहर के अलग-अलग स्थानों में दुर्गोत्सव समितियों ने पहली व षष्ठी के दिन पंडालों में मां दुर्गा की प्रतिमाएं स्थापित की। आकर्षक लाइटिंग की गई थी। वहीं जगत जननी के दर्शन के लिए भक्तों का रेला उमड़ पड़ा। इसी धूम के साथ बुधवार को मां दुर्गा की प्रतिमाओं के विसर्जन का सिलसिला शुरू हुआ। बैंड-बाजों के साथ आकर्षक झाकियां निकाली गई।

बुधवार की दोपहर से ही दुर्गोत्सव की झांकियों का कारवां एक-एक कर निकला। शहर के मध्यनगरीय समिति, जयस्तंभ चौक, ब्रम्हरोड स्थित चंबोथी तालाब, , गांधीनगर, बौरीपारा, दर्रीपारा, मायापुर, सहित विभिन्न मोहल्लों में स्थापित मां दुर्गा की प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया। दर्रीपारा स्थित अनोखी सोच संस्था की ओर से आयोजित सार्वजनिक दुर्गा पूजन को लेकर बुधवार को विसर्जन के दौरान अभूतपूर्व झांकी नगर में निकाली गई। विसर्जन रैली में माता की जीवंत झांकी भी देखने को मिली। गाजे-बाजे के साथ सैकड़ों महिलाएं माता के गीतों पर नाचते गाते हुए निकली।

आकर्षक झांकियों को देखने के लिए लोग घरों से बाहर सड़कों पर निकल पड़े। जीवंत व चलित झांकियों को  देखकर लोगों ने खूब सराहना की। देर रात तक धीरे-धीरे झांकियां शहर का भ्रमण करते हुए विसर्जन के लिए तालाबों व नदियों में पहुंचे। विसर्जन स्थल पर आरती उतारते हुए भक्तों ने माता से आशीर्वाद लेते हुए उनसे सदैव कृपा बनाए रखने की कामना की।
प्रशासन द्वारा निर्धारित विभिन्न तालाबों में शहर के सभी दुर्गोत्सव समितियों ने माता के प्रतिमा का विसर्जन किया। पंडालों में बुधवार को महिलाओं ने माता का श्रृंगार करते हुए विशेष पूजा की। गाजे-बाजे के साथ भक्त माता को विसर्जित करने के लिए विसर्जन स्थल पहुंचे।इस दौरान पुलिस द्वारा सुरक्षा की चाक-चौबंद व्यवस्था की गई थी। वहीं कोरिया, बलरामपुर, सूरजपुर, सीतापुर, शंकरगढ़, बतौली, मैनपाट, उदयपुर, लखनपुर सहित संभाग के अन्य स्थानों पर स्थापित मां दुर्गा की प्रतिमाओं का विसर्जन भी धूमधाम से किया गया।

जवारे का किया विसर्जन
मां दुर्गा की प्रतिमा के विसर्जन के साथ ही पंडालों में बोए गए जवारे का विसर्जन भी भक्तों ने किया। छोटी बालिकाएं व महिलाएं जवारे को सिर में रखकर नृत्य करते हुए विसर्जन स्थल पहुंचीं।

शहर में गूंजते रहे माता के गीत
विसर्जन के दौरान बैड-बाजे व डीजे पर भजन बजते रहे। इसमें झूपत-झूपत आवे दाई मोरे अंगना ओ.., होवत है माता के विदाई जैसे गीतों पर भक्त झूमते रहे। भक्त भी भजनों को सुनकर माता की जय-जयकार करते रहे।

भोग, प्रसाद का हुआ वितरण
विसर्जन स्थल में माता को विदा करते हुए भक्तों ने माता को भोग अर्पित कर वितरित किया। लाई, बूंदी, नारियल, हलवा सहित कई तरह के प्रसाद का वितरण किया गया। श्रद्धालु भी माता की जय-जयकार करते हुए प्रसाद ग्रहण करते नजर आए।

 


Date : 09-Oct-2019

देश के पहले गार्बेज कैफे का स्वास्थ्य मंत्री ने किया शुभारंभ

अंबिकापुर, 9 अक्टूबर। छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर शहर में देश के पहले गार्बेज कैफे का शुभारंभ बुधवार को प्रदेश के पंचायत ग्रामीण विकास एवं स्वास्थ मंत्री टीएस सिंह देव ने स्थानीय प्रतिक्षा बस स्टैंड में किया। महापौर डॉक्टर अजय तिर्की की अनूठी सोच और कल्पना से आधा किलो प्लास्टिक का कचरा लाने पर नाश्ता और एक किलो प्लास्टिक कचरा लाने पर भरपेट भोजन मिलेगा।यह कैफे केवल कचरा लाने वाले लोगों के लिए नहीं बल्कि शहर के हर वर्ग के नागरिकों के लिए रेस्टोरेंट है।जहां लजीज व्यंजनों का भी आनंद लिया जाएगा।रेस्टोरेंट का नाम भी गार्बेज कैफे होने के पीछे उद्देश्य है कि लोगों तक स्वच्छता का संदेश जाए। रेस्टोरेंट में स्वच्छता से संबंधित स्लोगन लिखे गए हैं। ज्ञात हो कि अंबिकापुर शहर कचरा प्रबंधन के लिए खास पहचान रखता है। यहां साढ़े चार सौ महिलाओं को कचरा प्रबंधन के नाम पर रोजगार मिला है। जहां सूखे और गीले कचरे को अलग कर महिलाएं रोजगार अर्जित कर रही हैं।कचरे से सोना बनाने की बात यहां साकार हो चुकी है।अंबिकापुर देश का दूसरा स्वच्छ शहर भी है।

 


Date : 07-Oct-2019

देवी मंदिरों, दुर्गा पंडालों में  हवन पूर्णाहुति के साथ नवरात्र का समापन, उमड़े श्रद्धालु
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अंबिकापुर, 7 अक्टूबर।
नवरात्र नवमी पर सोमवार को देवी मंदिरों, दुर्गा पंडालों में यज्ञ-हवन कर पूर्णाहुति दी गई। यज्ञ-हवन में भागीदारी निभाने बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं की उपस्थिति रही। नगर की कुल देवी मां महामाया मंदिर में सुबह हवन-पूजन का कार्यक्रम प्रारंभ हुआ। वैदिक मंत्रोच्चार से यज्ञ संपन्न कराया। सुबह ही दुर्गा पंडालों में हवन-पूजन का कार्यक्रम प्रारंभ हुआ। हवन पूजन के साथ ही नौ दिनों तक चलने वाले दुर्गोत्सव का समापन हो गया। अब मंगलवार और बुधवार से दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन प्रारंभ होगा। दुर्गोत्सव समितियां अपनी व्यवस्था और प्रबंधों के अनुसार मंगलवार और बुधवार तक प्रतिमाओं का विसर्जन करेंगे।

 नवरात्र पर्व का सोमवार को समापन हो गया। सोमवार को श्रद्धालुओं ने विधि-विधान से वैदिक मंत्रों के बीच यज्ञ और हवन वेदी बनाकर किया गया। व्रतियों द्वारा नौ कन्याओं को पूड़ी-खीर का भोजन कराकर उनकी पूजा की गई। इस दौरान महिलाओं ने देवी को प्रसन्न करने के लिए गीत गाकर भारतीय संस्कृति को जागृत किया। दिनभर देवी मंदिरों में दर्शन-पूजन के लिए दिनभर श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा।

नवमी पर मंदिरों में दर्शन और पूजन के लिए भारी भीड़ उमड़ पड़ी थी। प्रात: से ही विभिन्न संस्थाओं तथा व्रत रहने वाले भक्तों ने यज्ञ और हवन की तैयारी शुरू कर दी थी। पूर्वाह्न से लेकर देर रात तक यह कार्यक्रम चलता रहा। वैदिक मंत्रों का उच्चारण शहर और ग्रामीण क्षेत्रों में गूंजता रहा।
घर-घर हुआ कन्या भोज
नवरात्रि नवमी पर सोमवार को शहर के कई देवी मंदिरों और घरों में मां की आराधना की गई। घरों और मंदिरों में कन्याओं को भोज भी कराया गया।  लोगों ने घरों में कन्या भोज कराते हुए यथाशक्ति दान भी किया।

 


Date : 07-Oct-2019

दिल से डांडिया सीजन टू में जमकर झूमा अम्बिकापुर, बॉलीवुड की विविधा-सोनी ने बांधा समा
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 7 अक्टूबर।
 दिल से डांडिया सीजन 2 का आयोजन सेलिब्रेशन इवेंट के ऑर्गेनाइजर ऋषभ मंगल के द्वारा अंबिकापुर नगर के होटल ग्रैंड बसंत में गत रविवार को किया गया।कार्यक्रम के मुख्य अतिथि छत्तीसगढ़ शासन में कैबिनेट मंत्री अमरजीत भगत थे।श्री भगत ने लोगो के साथ डांडिया कार्यक्रम का जमकर लुत्फ उठाया।इस कार्यक्रम में बॉलीवुड टीवी की मशहूर कलाकार सिया के राम सीरियल की विविधा कृति तेरा बल व चोघाड़ा गाने पर,झांसी की रानी व बिग बॉस में काम कर चुकी कलाकार सोनी सिंह ने ओढऩी ओढऩी उड़ी उड़ी जाए व साइको सइयां गाने पर धूम मचाते हुए जबरदस्त डांस किया।उक्त दोनों कलाकारों के डांस के साथ कार्यक्रम में उपस्थित हजारों लोग जमकर थिरके और डांडिया खेला।रायपुर की एंकर ऐश्वर्या ने भी डांडिया में चार चांद लगा दिया।गरबा डांडिया कार्यक्रम में लाइव डीजे पुणे, लाइव बैंड मुंबई और मशहूर सेलिब्रिटी की उपस्थिति में सरगुजा के लोग जमकर झूमें।

कार्यक्रम की शुरुआत दुर्गा माता के छाया चित्र पर जिला कांग्रेस कमेटी के महामंत्री राजीव अग्रवाल व राहुल गोयल द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया। डांडिया कार्यक्रम उपरांत मुख्य अतिथि अमरजीत भगत,महापौर डॉक्टर अजय तिर्की,कलाकार विविधा कृति,सोनी सिंह,अजय अग्रवाल,राजीव अग्रवाल,राहुल गोयल द्वारा होली क्रॉस की शिक्षिका को बेस्ट डांसर का अवार्ड,बेस्ट सपोटीसट कपल का अवार्ड सीए आशीष मंगल व सीए ज्योति अग्रवाल को दिया गया। इसके अलावा कार्यक्रम में बेस्ट फीमेल,मेल डांसर,क्यूट बेबी,बेस्ट ड्रेसर कपल का अवार्ड व मोमेंटो अरहम गिफ्ट गैलरी की तरफ से दिल से डांडिया सीजन टू का दिया गया।कार्यक्रम में लोगों को असुविधा न हो इसके लिए रायपुर से सिक्योरिटी गार्ड व बाउंसर बुलाया गया था।कार्यक्रम में टेंट की व्यवस्था प्रिया टेंट हाउस के द्वारा किया गया।भोजन व फास्ट फूड की व्यवस्था सांझा चूल्हा द्वारा किया गया था।कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए विविधा कृति व सोनी सिंह गत शनिवार की शाम को ही होटल में मयूरा में पहुंच गई थी।उक्त दोनों कलाकारों के पहुंचने के साथ ही होटल मयूरा में व कार्यक्रम स्थल होटल ग्रैंड बसंत में लोग सेल्फी लेने उमड़ पड़े।दोनों कलाकारों ने अंबिकापुर सरगुजा के लोगों की जमकर सराहना की और ऐसे आयोजन में बार-बार आने की बात कही।

दिल से डांडिया सीजन 2 में इस बार लगभग 1500 लोग आए हुए थे। कार्यक्रम को सफल बनाने में जिला कांग्रेस कमेटी के महामंत्री राजीव अग्रवाल, सेलिब्रेशन इवेंट के ऑर्गेनाइजर ऋषभ मंगल व राहुल अग्रवाल का विशेष योगदान रहा। पिछले वर्ष दिल से डांडिया सीजन वन राजमोहिनी देवी भवन में आयोजित किया गया था जिसमें हजारों लोग कार्यक्रम में पहुंचे थे व जमकर डांडिया कार्यक्रम में झूमे थे।पिछले बार की अपार सफलता के बाद इस बार भी दिल से डांडिया सीजन टू में लगभग पंद्रह सौ लोगों के पहुंचने से आयोजन कर्ताओं में जबरदस्त उत्साह है। आगे भी इस तरह के कार्यक्रम करवाने की बात आयोजन कर्ताओं ने कही। कार्यक्रम संपन्न होने के उपरांत दिल से डांडिया कार्यक्रम के आयोजकों द्वारा बताया गया कि वृद्धा आश्रम, मूक बधिर आश्रम या अन्य आश्रमों में 50 हजार रुपए दान दिया जाएगा।पिछले बार बतौली के मूक बधिर आश्रम में 31हजार रुपए का दान दिया गया था।

दिल से डांडिया कार्यक्रम में जय हनुमान कोल एवं ट्रांसपोर्ट व्यवसाई राहुल अग्रवाल,राम अग्रवाल,राधे अग्रवाल,के.के. अग्रवाल, राहुल गर्ग ओबरा,धीरज गुप्ता,अभिषेक सिंह, मोहन मेडिकोज के नवीन अग्रवाल,राकेश अग्रवाल, सेलिब्रेशन इवेंट के ऋषभ मंगल,ऋषि अग्रवाल,विजय अग्रवाल,डॉक्टर निशांत अग्रवाल,पी आर ए ग्रुप के नवीन अग्रवाल,विवेक गोयल,अनुपम अग्रवाल,शिव प्रसाद अग्रहरि,आशु अग्रवाल, अहम गिफ्ट गैलरी के संजय जैन,सांझा चूल्हा के उमेश गुप्ता,सरला अग्रवाल, शैलजा गोयल,रक्षा गोयल,नीलम अग्रवाल,साबी अग्रवाल,शशि गोयल सहित अन्य लोग उपस्थित थे।


Date : 05-Oct-2019

महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने में समूहों की भूमिका अहम- सिंहदेव

महिला स्व सहायता समूहो का सम्मेलन राजमोहनी भवन में सम्पन्न

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 5 अक्टूबर।
छत्तीसगढ़ शासन के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री टी एस सिंहदेव के मुख्य आतिथ्य में महिला स्व सहायता समूहो का सम्मेलन यहां राजमोहनी भवन में सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर उत्कृष्ट कार्य करने वाले दस कम्यूनिटी रिसोर्स पर्सन को प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया।

 श्री सिंहदेव ने कहा कि प्रदेश के हर परिवार को शिक्षित एवं समृद्धि के रास्ते पर लाने के लिए स्वसहायता समूहो को और सशक्त बनाया जायेगा। उन्होंने कहा कि स्वसहायता समूह के माध्यम से परिवारो में आर्थिक सुदृढीकरण लाने आवश्यक पहल की जायेगी। 

श्री सिंहदेव ने कहा कि स्वसहायता समूह ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाओं को स्वरोजगार उपलब्ध कराकर आत्मनिर्भर बनाने में महत्वपूर्ण योगदान निभा रही हैं। महिलाएं समूहो के माध्यम से जुड़कर बेहतर जीवनयापन के संबंध में चर्चा कर अपने विचार साझा कर रही हैं। आज अम्बिकापुर की स्वछता दीदी के द्वारा  स्वच्छ अम्बिकापुर के कार्य हो या अन्य गतिविधया, सभी में स्वयं सहायता समूह के कार्यो की सराहना पूरे देश विदेश में किया जा रहा है। उन्होंने कहा समूह अन्य गतिविधियों के साथ-साथ शासन से जुड़कर छोटी-छोटी उद्योग के माध्यम से अपना समूह को आगे बढ़ायें। 

उन्होंने बताया कि राज्य शासन शहरी क्षेत्र के भूमिहीन परिवारों द्वारा काबिज, नजूल भूमि का पट्टा देने के लिये राजीव गांधी आश्रय योजना संचालित कर रही है। इस योजना के तहत छत्तीसगढ़ नगरीय क्षेत्र में भूमिहीन व्यक्ति को पट्टाधृति अधिकारा अधिनियम 1984 के उपबन्धों तथा उसके अधीन बनाये गये, नियमों एवं शर्तो के तहत पट्टा दिया जायेगा। नगर पालिक निगम अम्बिकापुर के महापौर डॉ.अजय तिर्की ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि महिला अब आत्मनिर्भर हो रही है। पहले की अपेक्षा अब अम्बिकापुर की महिलाओं में डर नहीं है और हर परिस्थिति का सामना करने में सक्ष्म हैं। 

इस अवसर पर सभापति शफी अहमद, पार्षद द्वितेन्द्र मिश्रा सहित अन्य जनप्रतिनिधी अधिकारी कर्मचारी एवं बड़ी संख्या में समूह की महिलाएं उपस्थित थी। 


Date : 05-Oct-2019

शैला नृत्य में सिंहदेव-भगत मांदर की थाप पर थिरके

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अंबिकापुर, 5 अक्टूबर।
दशहरा उत्सव पर कलाकेंद्र मैदान में शैला नृत्य प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इसमें सरगुजा संभाग के कई शैला नृत्य दलों ने हिस्सा लिया। कार्यक्रम का आयोजन छत्तीसगढ़ के 2 दिग्गज कैबिनेट मंत्री टीएस सिंहदेव व अमरजीत भगत की उपस्थिति में हुआ। सैकड़ों लोगों की उपस्थिति में मांदर की थाप पर दोनों मंत्री झूमे, साथ ही दोनों ने गेड़ी का भी आनंद लिया। मांदर की थाप पर मंत्रियों को झूमते देख वहां मौजूद लोगों ने ताली बजाकर स्वागत किया।
इसके बाद दोनों ने गेड़ी चढ़कर आनंद लिया। गौरतलब है कि शैला नृत्य प्रतियोगिता में लगभग 40 प्रतियोगी टीमें शामिल हुई। इसमें से प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान पर आने वाले शैला नृत्य दल को विजयादशमी के दिन आयोजित रावण दहन कार्यक्रम में पुरस्कृत किया जाएगा।

विजयादशमी महोत्सव के तहत शनिवार को कलाकेंद्र मैदान में सरगुजा सेवा समिति, नागरिक समिति व प्रशासन द्वारा संभाग स्तरीय लोकनृत्य प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में संभाग भर की लगभग 40 शैला, सुगा, करमा लोक नर्तक दलों ने शानदार प्रस्तुति दी। लोक नृत्य-गीत की ऐसी मनोहारी छटा बिखरी की देर शाम तक दर्शकों की भीड़ बनी रही। संभाग भर से परंपरागत वेशभूषा व वाद्य यंत्रों के साथ शैला, सुगा, करमा नर्तक दल अपनी प्रस्तुति देने पहुंचे थे। सरगुजिहा लोक नृत्य, गीत को अक्षुण्य बनाए रखने तथा युवा पीढ़ी को भी यहां की सांस्कृतिक विरासत से अवगत कराने की मंशा से आयोजन हर वर्ष किया जा रहा है। इस वर्ष प्रतियोगिता में  सुगा पार्वती पार्टी संबलपुर, कलवासो सुगा नृत्य दल सिलफिली, तिलासो बाई सुगा दल सेमरा, दीपक सैला नृत्य दल केशवपुर, बुधियारो सैला नृत्य दल हीराडबरी, नंदेश्वर दल रजपुरी, रनसाय दल सलका, शिव प्रसाद राजवाड़े दल, रामप्रकाश कर्मा दल बंशीपुर सहित पुहपुटरा व लगभग 40 नृत्य दल में शानदार प्रस्तुति दी।

 दोपहर दो बजे से शाम पांच बजे तक कलाकेंद्र मैदान में लोकनृत्य की मनोहारी छटा बिखरी रही।  आयोजन के दौरान पूर्व सांसद कमलभान सिंह, सरगुजा सेवा समिति की अध्यक्ष श्रीमती रजनी रविशंकर त्रिपाठी, महापौर डॉक्टर अजय तिर्की, सभापति सफी अहमद, अजय अग्रवाल, पूर्व महापौर प्रबोध मिंज, अनिल सिंह मेजर, जेपी श्रीवास्तव, राजीव अग्रवाल, आलोक दुबे, दुतेंद्र मिश्रा, आकाश गुप्ता, संजय अग्रवाल, प्रमोद चौधरी, महेंद्र अग्रवाल, दीपक सोनी, आलोक सिंह, प्रयागराज साहू, अशफाक अली, राजेश कश्यप सहित अन्य मौजूद थे। पूरे कार्यक्रम का संचालन नरेंद्र सिंह टुटेजा ने किया।

 


Date : 04-Oct-2019

संत अन्ना स्कूल में गांधी जयंती पर स्काउट गाइड का दो दिवसीय प्रशिक्षण 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कुसमी, 4 अक्टूबर।
संत अन्ना अंग्रेजी माध्यम स्कूल कुसमी में गांधी जयंती के अवसर पर स्काउट गाईड का दो दिवसीय प्रशिक्षण शिविर रखा गया। इस शिविर में कक्षा तीसरी से आठवीं तक स्काउट गाईड छात्रों में भाग लिया।

शिविर के संयोजक प्राचार्य सिस्टर निर्मला कुजूर ने शिविर का उद्घाटन करते हुए कहा कि इस प्रशिक्षण से बच्चों में देशप्रेम और जीवन में अनुशासित रहने की भावना जागृत होगी। बच्चों ने शिविर में अपने आस-पास के क्षेत्र को स्वच्छ रखना सीखा। एक दूसरे के साथ मिलकर काम करना आदि की प्रेरणा बच्चों को दी गई। 

शिविर के संचालक मंडल नवीन चंद्र कुजूर, अनूप नेशनल लकड़ा ,सहायक शिक्षिका रोशनी एक्का, शिक्षिका संगीता खलखो के द्वारा स्काउट गाइड प्रतिज्ञा कर्तव्य उद्देश्य इतिहास गठबंधन आदि से अवगत कराया। शाम 6 से 7 बजे बच्चों के द्वारा कार्यक्रम की प्रस्तुति दी गई, जिसमें बच्चों ने प्रेम दया शांति और क्षमा का संदेश दिया। उद्घाटन के अवसर पर स्कूल के सभी शिक्षक-शिक्षिकाएं मौजूद थे।