छत्तीसगढ़ » सरगुजा

18-Oct-2020 9:22 PM 8

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

लखनपुर,18 अक्टूबर। लखनपुर स्वास्थ्य अमला के द्वारा 15 अक्टूबर को कोविड-19 सघन सर्वे अभियान के तहत लहपटरा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र एव सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लखनपुर में शिविर लगाकर 55 आरटी पीसीआर मेथड से सैंपल लिया गया था। सैम्पल लेने उपरांत जांच के लिए सैंपल जिला मुख्यालय अंबिकापुर भेजा गया था। जिसकी रिपोर्ट 17 अक्टूबर को देर शाम आई, जिसमें लगभग 15 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने से क्षेत्र में हडक़ंप है तो वहीं 17 अक्टूबर को लखनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में 48 लोगों का एंटीजन तथा 30 लोगों का ट्रू नॉट मेथड से सैंपल लिया गया था जिसमें 4 लोगों की कोरोना पॉजिटव रिपोर्ट आई है।

लखनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थ आर एच ओ तथा कांग्रेस आईटी सेल सहित 19 लोगों की कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आई है। नगर के वार्ड क्रमांक 01 में एक कोरोना पॉजिटिव वार्ड क्रमांक 4 से 3 कोरोना पॉजिटिव वार्ड क्रमांक 6 से 2 कोरोना पॉजिटिव जूना लखनपुर से 4 ग्राम लहपटरा में 1 ग्राम पलगड़ी 1 ग्राम सलका में 4 ग्राम गुमगरा में 1ग्राम तराजू में 1 ग्राम घुईभवना में 1 कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। एक दिन में 19 कोरोना संक्रमित मरीज मिलने से लखनपुर सहित ग्रामीण अंचलों में हडक़ंप है। इसमें से लखनपुर विकासखंड के ग्रामीण अंचलों के कोरोना संक्रमित मरीजों को उपचार के लिए एंबुलेंस 108 के माध्यम से मेडिकल कॉलेज अस्पताल अंबिकापुर उपचार के लिए भेजा गया है। तो वहीं नगर में पाए गए कोरोना पॉजिटिव मरीजों को होम आइसोलेट कर दवाई का वितरण कर उपचार शुरू किया गया है।

उक्त जानकारी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के पीएमओ डॉ पी एस केरकेट्टा तथा कोविड-19 नोडल अधिकारी डॉ. विनोद भार्गव के द्वारा दी गई है।


18-Oct-2020 9:20 PM 7

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

अम्बिकापुर, 18 अक्टूबर। मेडिकल कालेज में प्रवेश हेतु आयोजित परीक्षा नीट में प्रयास आवसीय विद्यालय अम्बिकापुर के विद्यार्थियों ने उत्कृष्ट प्रदर्शन कर परचम लहराया है। विद्यालय के 17 विद्यार्थियों ने नीट में क्वालीफाई कर सरगुजा जिले का नाम रोशन किया है। इन विद्यार्थियों में 7 अनुसूचित जनजाति के हैं। कलेक्टर संजीव कुमार झा ने सभी सफल विद्यार्थियों को बधाई देते हुए उनकी उज्ज्वल भविष्य की कामना की है।

आदिवासी विकास विभाग के सहायक आयुक्त जे.आर. नागवंशी ने बताया कि इस वर्ष नीट 2020 में प्रयास आवासीय विद्यालय अम्बिकापुर के 54 विद्यार्थी शामिल हुए थे जिनमें से 17 विद्यार्थियों ने क्वालीफाई किया है। क्वालीफाई करने वाले विद्यार्थियों मे सुश्री रानी ठाकुर, सुश्री प्रिया पैंकरा, आर्यन बरवा, अनीशा गुप्ता, संध्या प्रजापति, विवेक जाटवर, करिश्मा, केनिता, सोनम पैकरा, विनायक बादल पैकरा, ख़ुश्बू जलतारे, विकास पैकरा, बीरप्पन सिंह, निखिल वर्मा, मीना किरण केरकेट्टा, दीपाक्षी मेश्राम एवं भारती शामिल हैं।

श्री नागवंशी ने बताया कि कॉउंसलिंग के बाद स्पष्ट होगा कि क्वालीफाई किये विद्यर्थियों में से कितने का प्रवेश एमबीबीएस के लिए होगा।

अम्बिकापुर के गंगापुर स्थित प्रयास आवासीय विद्यालय में विद्यार्थियों को नि:शुल्क आवासीय एवं गुणवत्तापूर्ण शिक्षा विषय विशेषज्ञों के द्वारा दिया जा रहा है। इस वर्ष कोरोना महामारी के कारण 12वीं की परीक्षा के बाद प्रत्यक्ष अध्यापन बंद कर दी गई थी किंतु ऑनलाईन के माध्यम से विद्यार्थियों को सतत अध्यापन कर समस्याओं का समाधान किया गया।


18-Oct-2020 9:19 PM 8

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

उदयपुर, 18 अक्टूबर। वन परिक्षेत्र उदयपुर में सात हाथियों का दल विगत एक माह से  भी अधिक समय से उत्पात मचाये हुए हैं। हाथियों ने दावा से होते हुए करमकठरा जंगल में प्रवेश किया था। विगत दो दिनों में जजगा में एक व्यक्ति के घर को तोड़ा है, केदमा रोड में जजगी गांव के मुहाने पर शनिवार को एक स्कूटी, एक बाइक एवं एक सायकिल को क्षतिग्रस्त कर दिया है। स्कूटी व सायकिल की हालत काफी खराब है।

     वाहनों में सवार लोगों ने हाथियों का दल सामने आने के बाद वाहन व सायकिल को जंगल के रास्ते में छोडक़र जान बचाकर किसी तरह भागने में सफल रहे। किसी भी प्रकार की जन हानि नहीं हुई है।

     हाथियों का दल जजगी से निकलकर रेण नदी को पार करते हुए धान के खेतों की फसल को रौंदते हुए जजगा पहुंचे। पीछे पीछे सैकड़ों ग्रामीण टार्च लेकर उनके पीछे पड़े रहे। एनएच-130 के बगल में रमपुरहिन दाई मंदिर के समीप स्थित कच्चे के मकान के एक हिस्से को गिराया तथा घर में चावल बनाकर रखे बर्तन को खेतों की ओर उठाकर ले गए। पके हुए चावल को खाने के बाद बर्तन को पैरों तले कुचल दिये। हाथी घर जब घर तोडऩे की कोशिश करने लगा, तब घर में रह रहे सदस्य घर से भाग गए। हाथियों के जाने के बाद देर रात वापस घर लौटे।

    एनएच-130 पर हाथियों के चढऩे के बाद रोड क्रॉसिंग के उद्देश्य वन अमला द्वारा ट्रैफिक को कुछ देर के लिए रोका गया, परंतु सैकड़ों लाइटों एवं उपस्थित लोगों के शोर से हाथी एनएच को क्रास करने की बजाय वापस जजगी रेण नदी किनारे धान के खेतों में और गन्ने की फसलों में पहुंच गए। वन अमले के समझाइश के बाद भी लोग हाथी के पीछे पीछे जाना नहीं छोड़ रहे हैं, जिससे जनहानि की आशंका बनी हुई है।

आसपास 4 से 5 गांव के किसानों के धान की फसल को नुकसान पहुंचाया है। हाथियों के डर से ग्रामीण रतजगा करने को मजबूर हैं। हाथियों का दल कब किस ओर जाएगा, इसका पता नहीं रहता है। आसपास के 5 से 6 गांव के लोग वन अमला के साथ मिलकर रात भर हाथियों की निगरानी में लगे हुए रहते हैं।

    हाथी दल दिनभर करमकठरा जंगल में शांत रहने के बाद शाम को बाहर निकलकर पूरी रात अलकापुरी, जजगी, जजगा में घूमकर धान के फसलों को बुरी तरह से रौंदकर और खाकर धान गन्ना, अरहर एवं मक्का की फसल को नुकसान पहुंचाया है। हाथियों का दल अभी भी जजगी जंगल में डेरा जमाए हुए है।

 हाथियों से लोगों को बचाने के लिए वन अमला निगरानी में लगा हुआ है। वन अमला द्वारा लोगों को जागरूक करने के लिए मुनादी करा रहा है तथा लोगों को हाथियों से दूर रहने की सलाह भी दी जा रही है। जंगल किनारे एकांत घरों में रहने वाले लोगों को बस्ती में आकर निजी व शासकीय पक्के मकान व छतों में रखने की व्यवस्था की जा रही है। हाथियों की निगरानी में गजराज वाहन सुरक्षा उपकरणों के साथ उदयपुर वन अमला जुटा हुआ है।


18-Oct-2020 9:13 PM 5

अम्बिकापुर,18 अक्टूबर।संयुक्त संचालक एवं मेडिकल कॉलेज के अधीक्षक ने बताया है कि अम्बिकापुर नगर निगम अंतर्गत अम्बिकापुर के अजिरमा के 57 वर्षीय महिला, 24 वर्षीय महिला, भरतपुर के 49 वर्षीय महिला, डिग्मा के 62 वर्षीय पुरूष, जशपुर 71 वर्षीय पुरूष, 28 वर्षीय पुरूष, लखनपुर के 23 वर्षीय महिला, 55 वर्षीय महिला, 29 वर्षीय पुरूष तथा 42 वर्षीय पुरूष को 5 दिन के हॉस्पिटलाईजेशन होने के उपरांत लक्षण रहित पाए जाने पर आज डिस्जार्च कर दिया गया है।

कोविड अस्पताल अम्बिकापुर में 18 अक्टूबर की स्थिति में 53 मरीज भर्ती हैं जिनका ईलाज जारी है। सरगुजा जिले के 43, जषपुर जिले के 01, बलरामपुर जिले के 05, कोरिया जिले के 02 एवं सूरजपुर जिले के 02 मरीज शामिल हैं।


18-Oct-2020 9:12 PM 5

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

लखनपुर,18 अक्टूबर। थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पंचायत लटोरी में एक 4 वर्षीय बालक बिजली के तरंगित तार के चपेट में आकर घायल हो गया। बालक घर के बाड़ी में खेल रहा था, तब यह हादसा हुआ।

परिजनों से मिली जानकारी के मुताबिक आदित्य यादव घर के पीछे बाड़ी में खेल रहा था, तभी ट्यूबवेल में लगे विद्युत केबल जो जमीन के नीचे दबा हुआ था, खेलने के दौरान विद्युत केबल को छूने से आदित्य  करंट की चपेट में आ गया। जिसके बाद गोमती यादव के द्वारा करंट की चपेट में बालक को देखकर स्वीच को बंद किया गया, जिससे बच्चे की जान बच गई। परिजनों के द्वारा प्राथमिक उपचार के लिए लखनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया, जहां बालक का उपचार जारी है।


17-Oct-2020 10:02 PM 1

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

लखनपुर, 17 अक्टूबर। भक्ति और आस्था का महापर्व शारदीय नवरात्र मनाए जाने का सिलसिला आज शनिवार से देवी मंदिरों शक्तिपीठों में आरंभ हुई। स्थानीय प्राचीन महामाया मंदिर में बाकायदा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए राज परिवार के लाल बहादुर अजीत प्रताप सिंह देव एवं अमित सिंह देव ने कुलदेवी माता कात्यायनी मां महामाया की विधिवत पूजा अनुष्ठान की। भक्तों ने जगत जननी मां महामाया के पूजा अर्चना करते हुए देवी माता का आशीर्वाद प्राप्त किया।

प्राचीन भवानी मंदिर में भी माता भक्तों का तांता लगा रहा, परंतु कोरोनाकाल के भयावहता को देखते हुए लोगों ने सामाजिक दूरी नियम का पालन भी किया। शासन प्रशासन के दिशानिर्देशों के प्रति पालन में माता भक्तों ने सादगी पूर्ण ढंग से देवी मंदिरों में पूजा-अर्चना की। दुर्गा पंडालों में भी कोरोना काल का साया साफ तौर पर देखा गया। दुर्गा पंडालों में देवी माता के भक्तों का आना-जाना लगा रहा। पूजा अनुष्ठान भी होते रहे, परंतु अपेक्षाकृत पूजा स्थलों में लोगों की भीड़ भाड़ कम देखी गई। सावधानी बरतते हुए लोगों ने दुर्गा पंडालों में पूजा-अर्चना की। देवी मंदिरों में आदि शक्ति जगजननी का जयकारा गूंजता रहा।


17-Oct-2020 9:51 PM 3

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

लखनपुर,17 अक्टूबर। दूरस्थ वनांचल आदिवासी बाहुल्य ग्राम पंचायत करई के कुरमेन नाला में पुलिया निर्माण नहीं होने के कारण ग्राम वासियों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।  बरसात के दिनों में ग्राम पंचायत करई वासियों का ब्लाक मुख्यालय से सम्पर्क टूट जाता है जिससे ग्रामवासियों को स्वास्थ्य,शिक्षा जैसे बुनियादी सुविधाओं के अलावा दैनिक आवागमन के लिए काफी परेशानी उठानी पड़ती है। क्षेत्र में दो विधायकों के बदले जाने के बाद भी पंचायतवासियों की परेशानी नहीं बदली, तीसरे विधायक के प्रति ग्रामीणों में आस जगी है, परन्तु अभी तक पुलिया निर्माण नहीं हो पाया है जिसे लेकर ग्रामीणों में रोष व्याप्त है।

लखनपुर विकासखंड अंतर्गत पहाड़ों के गोद में बसा आदिवासी बाहुल्य दूरस्थ वनांचल ग्राम पंचायत करई भौगोलिक दृष्टि कोण से जंगल पहाड़ों के बीच घिरा हुआ ग्राम पंचायत है। यहां 90 फ़ीसदी से भी ज्यादा आदिवासी जनजाति के लोग इस पंचायत में निवासरत है जिनमें पहाड़ी कोरवा जनजाति के लोग भी शामिल हैं। यह एक ऐसा ग्राम पंचायत है जहां बीते कुछ वर्षों पूर्व अभियान चला कर सर्वप्रथम पूर्ण नशाबंदी भी ग्राम में कराया गया था।

आवागमन के लिए जमदरा कुन्नी मुख्य मार्ग से प्रधानमंत्री सड़क योजना के तहत ग्राम करइ के कुरमेन नाला तक सड़क निर्माण भी किया गया है। परन्तु अब तक पुलिया का निर्माण नहीं हो पाया है।

ग्राम पंचायत करई नाला में पुलिया निर्माण नहीं होने कारण बरसात के दिनों सारा गांव एक टापू के शक्ल में बदल जाता है। बसाहट के लोगों को एक लम्बा सफर तय करने के बाद घुमकर पहाड़ी पगडंडी रास्ते से ग्राम अरगोती की ओर से आना जाना करना पड़ता है। यह ग्राम पंचायत लुंड्रा विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आता है। वहीं लगातार तीन बार लुंड्रा विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के विधायक बन चुके हैं। सरपंच सहित ग्रामवासियों के द्वारा प्रत्येक विधानसभा चुनाव के दौरान करई नाला में पुलिया निर्माण कराए जाने की मांग की गई, जिसमें ग्राम वासियों को विधायकों से सिर्फ आश्वासन ही आज तक मिला है। अभी तक उक्त नाला में पुलिया निर्माण नहीं हो पाया है।

दशकों बीत जाने के बाद भी पुलिया निर्माण नहीं होने से बरसात के दिनों में बसाहट का संपर्क पूरी तरह से ब्लॉक मुख्यालय से टूट जाता है लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। ग्रामीणों को नदी का पानी उतरने का इंतजार महीनों करना पड़ता है। नदी में बाढ़ आ जाने के कारण आवागमन बाधित हो जाता है। ग्रामीणों को किसी भी प्रकार के बीमारियों तथा दूसरे अन्य आवश्यक कार्य के लिए मुख्यालय जाने में लिए महीनों इंतजार करना पड़ता है।

ग्राम पंचायत कराई की  सरपंच बेलसो एक्का के द्वारा इस संबंध में बताया गया कि हम समस्त ग्रामवासियों के द्वारा पूर्व में भी कई बार विधायक से लेकर जिला पंचायत सदस्य सहित तमाम अधिकारी कर्मचारी से मांग की गई, परंतु आज तक नदी में पुलिया निर्माण नहीं हो पाया है जिसके कारण ग्रामवासियों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। बरसात के दिनों में ब्लॉक मुख्यालय से संपर्क टूट जाता है।

ग्राम पंचायत के पूर्व सरपंच एवं आदिवासी नेता नेवल कुजुर ने बताया कि करई नाला में पुलिया निर्माण नहीं होने से आवागमन एवं मुख्यालय से संपर्क टूट जाती है। इस संदर्भ में क्षेत्र के तीन विधायकों को अर्जी पेश की जा चुकी है लेकिन आज तक विधायकों के द्वारा पुलिया का प्रशासनिक स्वीकृति नहीं मिल पाया है।

 

 


17-Oct-2020 9:47 PM 6

फुटबॉल स्पर्धा में माजा गांव ने मारी बाजी

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

लखनपुर, 17 अक्टूबर। खेल हमारे जीवन में बहुत महत्वपूर्ण है। खेल से स्वस्थ मन, तन के साथ अच्छे स्वास्थ्य की अनुभूति हमें प्राप्त होती है। उक्त बातें लखनपुर जनपद उपाध्यक्ष अमित सिंह देव ने 16 अक्टूबर को ग्राम अरगोती में आयोजित फुटबॉल प्रतियोगिता कार्यक्रम के समापन अवसर पर प्रतिभागी खिलाडिय़ों एवं उपस्थित ग्रामवासियों को संबोधित करते हुए कही।

ग्राम अरगोती में फुटबॉल प्रतियोगिता का फ़ाइनल मुकाबला ग्राम माजा और अरगोती के बीच खेला गया। जिसमें ग्राम माजा की टीम ने 0-1 से गोल करके यह प्रतियोगिता अपने नाम की। विजेता टीम माजा को 22000 रुपये नगद और शील्ड तथा उपविजेता टीम अरगोती को 12000 रुपये एवं शील्ड कार्यक्रम के बतौर मुख्य अतिथि अमित सिंह देव द्वारा प्रदान किया गया। जनपद उपाध्यक्ष अमित सिंह देव के साथ चौपाल संस्था के डायरेक्टर एवं जनपद अध्यक्ष पति गंगा राम पैकरा, लखनपुर वरिष्ठ पत्रकार मुन्ना पांडेय, लखनपुर वार्ड पार्षद असफाक खान, आईटी सेल मक़सूद हुसैन, आशीष पैकरा, अरगोती की सरपंच गीता मिंज, उपसरपंच समुद्री यादव, आधार यादव, रामलखन, नेवल कुजूर, मन बहाल, रामलाल एक्का, राकेश यादव उपस्थित रहे।

जनपद उपाध्यक्ष अमित सिंह देव ने दोनों टीमों को बेहतर खेल प्रदर्शन के लिए बधाई दिया और कहा, आप हमेशा ऐसे ही खेलते रहे और अपने जिले , ब्लॉक प्रदेश और देश का नाम रोशन करें। कार्यक्रम को चौपाल के डायरेक्टर गंगा राम पैकरा ने भी संबोधित किया। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए काफी संख्या में ग्रामवासी उपस्थिति रहे।


17-Oct-2020 9:46 PM 4

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

अम्बिकापुर, 17 अक्टूबर। एनएसयूआई द्वारा आज अम्बिकापुर में केंद्र की भाजपा सरकार के खिलाफ मशाल रैली निकाली गई। एनएसयूआई प्रदेश अध्यक्ष आकाश शर्मा व आदित्य भगत के आह्वान पर प्रदेश सचिव नीतीश ताम्रकर के द्वारा केंद्र सरकार के किसान बिल, महिला सुरक्षा, बेरोजगारी जैसे मुद्दों को लेकर अम्बिकापुर में घड़ी चौक से महामाया चौक तक मशाल रैली निकली गई।

प्रदेश सचिव नीतीश ताम्रकर ने बताया कि आज देश की इकनॉमी निरन्तर गिरते जा रही है। इस विषय में केंद्र सरकार के पास कोई भी रोड मैप नहीं है, जिससे कि देश के युवाओं को रोजगार मिल सके। आज देश का युवा मायूस और हताश है। जिस प्रकार मनमाने ढंग से भाजपा की सरकार द्वारा किसान बिल को लागू किया गया है, अगर इस पद्धति से कॉरपोरेट मनमाने रेट पर किसानों की फसलें खरीदेंगी व कॉन्ट्रेक्ट के माध्यम से हर बार किसानों को सही मूल्य नहीं मिल पाएगा।

 महिला सम्मान व सुरक्षा को लेकर नीतीश ताम्रकर ने बताया कि देश में किसी भी राज्य में दुष्कर्म होता है वो बहुत ही अशोभनीय है, लेकिन वहां के शासन और प्रशासन के लोग इस कुकृत्य पर टिप्पणी करते हंै। जाति, धर्म पर अशोभनीय टिप्पणी करते हंै, और महिलाओं का अपमान करते हंै। ऐसे लोगों का एनएसयूआई पुरजोर विरोध करती है।

इस मशाल रैली के दौरान नीतीश ताम्रकर, विवेक चन्द्र, मनीष दुबे, शिवराज सिंह, नवनीत सिंह, अतुल सिन्हा, राहुल कुमार, राहुल चौबे, निक्की तिवारी, निकेत जायसवाल, ललित सोनी, प्रफुल यादव, संजय यादव, चन्दन सोनी, विवेक सिंह, प्रत्यूष श्रीवास्तव, प्रिंस, शानू सिन्हा, रोहित दुबे, अंकित ठाकुर सहित अन्य उपस्थित थे।


17-Oct-2020 9:45 PM 6

लखनपुर, 17 अक्टूबर। जपं क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पंचायत रजपुरीकला के आश्रित मोहल्ला पखना पारा में बनने वाले सीसी रोड 100 मीटर का भूमिपूजन जनपद उपाध्यक्ष अमित सिंह देव द्वारा किया गया। लंबे अर्से से ग्रामीणों द्वारा मांग की जा रही थी। बनने वाली सीसी सड़क निर्माण लागत राशि 3 लाख का भूमिपूजन जनपद उपाध्यक्ष अमित सिंह देव ने किया। इस दौरान उनके साथ वरिष्ठ कांग्रेसी बृजमोहन अग्रवाल, लखनपुर वार्ड पार्षद असफाक खान, आईटी सेल के मक़सूद हुसैन, ग्राम सरपंच विनोद, सिंह पैकरा पुलकित, मुरली, सतीश अग्रवाल सहित ग्रामीणजन उपस्थित रहे।

 


17-Oct-2020 9:44 PM 6

अम्बिकापुर, 17 अक्टूबर।संयुक्त संचालक एवं मेडिकल कॉलेज के अधीक्षक ने बताया है कि अम्बिकापुर नगर निगम अंतर्गत दरिमा के 22 वर्षीय महिला, विश्रामपुर के 40 वर्षीय महिला, रामानुजगंज नगर के 45 वर्षीय पुरूष, लखनपुर के 17 वर्षीय पुरूष तथा 45 वर्षीय पुरूष को 5 दिन के हॉस्पिटलाईजेशन होने के उपरांत लक्षण रहित पाए जाने पर आज डिस्जार्च कर दिया गया है। कोविड अस्पताल अम्बिकापुर में 17 अक्टूबर की स्थिति में 54 मरीज भर्ती हैं जिनका ईलाज जारी है। सरगुजा जिले के 43, जशपुर जिले के 3, बलरामपुर जिले के 3, कोरिया जिले के 2 एवं सूरजपुर जिले के 3 मरीज शामिल हैं।


16-Oct-2020 10:21 PM 6

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

अंबिकापुर, 16 अक्टूबर। नशे के कारोबार पर अंकुश लगाने लगातार हो रही कार्रवाई के मद्देनजर कोतवाली और मणिपुर चौकी पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए कई स्थानों में दबिश देकर अवैध शराब की बिक्री कर रहे 11 लोगों को पकड़ा है। उन सभी के पास से 91 लीटर अवैध महुआ शराब की जब्ती की गई है।

गौरतलब है कि पुलिस महानिरीक्षक व पुलिस अधीक्षक के द्वारा लगातार नशे के कारोबार पर अंकुश लगाने हेतु कार्यवाही के निर्देश दिए गए हैं। नशे के कारोबारियों व गाडिय़ों के उपर लगातार कार्यवाही करते हुये अति. पुलिस अधीक्षक व नगर पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन में टीम बनाकर पतासाजी की जा रही है।

शुक्रवार को कोतवाली पुलिस व मणीपुर चौकी द्वारा संयुक्त टीम बनाकर अभियान चलाकर अलग अलग जगहों से लगभग 91 लीटर शराब जब्त किया गया है। पकड़े गए लोगों में विकास गुप्ता बौरीपारा के पास से 4 ली. ,घनाजो बाई गाड़ाघाट के पास से 4 ली. , संध्या कुमारी गाड़ाघाट के पास से 4 ली., मुन्नी देवी बढिय़ा कुआ के पास से 12 ली. , मिना बरगोती ामझली पीड के पास से 6 ली. , रूबी देवी झा महामाया मंदिर के पास से 3 ली. , मीना पावले महामाया पारा के पास से 17 लीटर, सुको बाई विश्वकर्मा महामाया पारा के पास से 3 ली., इन्दु नगेशिया महामाया पारा के पास से 3 ली. , सोनु टोप्पो रिंग रोड बंडाबहरा के पास 10 ली. , अंजू भईया दर्रीपारा हनुमान मंदिर के पीछे गली के पास से 25 ली. कुल लगभग 91 ली. शराब जब्त कर सभी को न्यायिक रिमांड पर भेजा गया।

कार्रवाई में निरी. भारद्धाज सिंह, उनि रामनरेश गुप्ता, उनि अब्दुल मुनाफ, उनि विनोद नेताम, सउनि मनोज उपाध्याय, सउनि राकेश सिंह, सउनि सतोष सिंह, प्रआर प्रवीण राठौर, राकेश सिंह, आर. मनीष सिंह, जगदीप सिंह, रूपेश मंहत, अरवीद उपाध्याय, रिंकू गुप्ता, बालेश्वर राम सत्यप्रकाश, शिवनगर, कुन्दन सिंह, म. आर. जयंती बडा सरला टोप्पो, अजु एक्का का योगदान रहा।


16-Oct-2020 10:20 PM 6

अम्बिकापुर, 16 अक्टूबर। कलेक्टर संजीव कुमार झा के निर्देशानुसार गोठानों को आजीविका केंद्र के रूप में विकसित किया जा रहा है। बिहान के मार्गदर्शन में स्व सहायता समूह की दीदियों के द्वारा गोठानो में दीपावली के लिए गोबर से आकर्षक एवं सुंदर दीये बनाये जा रहे हैं। इन दीयो को दीपावली में विक्रय कर महिलाओं को आय प्राप्त होगी।

गोधन न्याय योजना के जिला नोडल अधिकारी श्री यशपाल प्रेक्षा ने बताया कि जिले में 17 स्व सहायता समूहों के 74 महिलाओं द्वारा दीया निर्माण का कार्य किया जा रहा है। वर्तमान में 1 हजार 650 गोबर के दीये बना लिए गए हैं। जिले में गोबर के दीयों की प्रतिदिन उत्पादन क्षमता 2 हजार 800 है। 10 नवम्बर 2020 तक 81 हजार 200 दीये बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।


16-Oct-2020 10:19 PM 6

छत्तीसगढ़' संवाददाता

लखनपुर, 16 अक्टूबर। शारदीय नवरात्रि का शुभारंभ शक्तिपीठों देवी मंदिरों दुर्गा पंडालों में शनिवार से होने जा रहा है। नगर लखनपुर के प्राचीन देवी मंदिर सहित सभी मंदिरों व पंडालों में  तैयारियां पूर्ण हो चुकी है। 

जगत जननी मां महामाया के सभी नौ रूपों के दर्शन पूजन किए जाने का सिलसिला आज से आरंभ होने जा रही है जो अनवरत नौ दिनों तक जारी रहेगा। इसके अलावा प्राचीन भवानी मंदिर लखनपुर ग्राम जेजगा स्थित रामपुरहीन माई के मंदिर तथा क्षेत्र के अन्य शक्तिपीठों में देवी माता के रूपों का विशेष हवन पूजन नौ दिनों तक चलता रहेगा। माता भक्तों पंडित पूजारियो एवं श्रद्धालुओं द्वारा पूजा अनुष्ठान नौवमी तिथि तक किए जाते रहेंगे। इसी कड़ी में नगर के बाजार पारा मोहल्ला स्थित दुर्गा मंडप एवं नवचेतना दुर्गा मंडप जूना लखनपुर में सभी तैयारियों को अंतिम रूप देते हुए मां दुर्गा के प्रतिमाओं के स्थापना के साथ पूजा अनुष्ठान किए जाने का सिलसिला भी आज से आरंभ होगी। अखंड मनोकामना दिप कलश देवी मंदिर के दीप कक्षों में प्रज्वलित किये जाएंगे। इसके अलावा क्षेत्र के ग्राम लटोरी, नवापारा , कुन्नी के दुर्गा पंडालों में शारदीय नवरात्र मनाए जाने प्रक्रिया आरंभ होगी। अपने अपने घरों में जवारा बोकर जगराता करने वाले आस्थावान माता भक्त जगराता का शुभारंभ आज से करेंगे।

कोरोना कालको देखते हुए शासन प्रशासन द्वारा बनाए गए नियमानुसार जारी दिशा निर्देश के अनुरूप शारदीय नवरात्र एवं विजयादशमी दशहरा उत्सव मनाये जाने दुर्गा पूजन समिति सदस्यों एवं मंदिर के पंडित पुजारियों द्वारा निर्णय लिया गया है।


16-Oct-2020 10:17 PM 5

अम्बिकापुर, 16 अक्टूबर। कलेक्टर संजीव कुमार झा के मार्गदर्शन तथा निर्देशन में गोधन न्याय योजना का क्रियान्वयन किया जा रहा है। जिले के 153 गोठानों में गोबर खरीदी का कार्य किया जा रहा है जिसमें से 89 गोठानों में वर्मी कम्पांस्ट ऑर्गेनिक खाद बनाया जा रहा है। वर्तमान में लगभग 500 क्विन्टल वर्मी कम्पोस्ट तैयार किया गया है जिसे कृषि, वन तथा उद्यान विभाग को मांग अनुसार पूर्ति किया जाएगा । इस़के साथ ही किसानों को भी पूर्ति किया जाएगा। वर्मी कम्पोष्ट खाद का मूल्य 8 रुपए प्रति किलो की दर से बिक्री की जाएगी। कलेक्टर श्री झा ने बताया कि जिले में वर्मी कम्पोष्ट सैम्पल परीक्षण के लिए गंगापुर ख् अम्बिकापुर में प्रयोगशाला स्थापित किया गया है। जिस प्रयोग शाला के बन जाने से सैम्पल को रायपुर नही भेजना पड़ेगा। जिले में तैयार वर्मी कम्पोष्ट का परीक्षण किया गया था जिसमें वर्मी खाद मानक के अनुरूप पाए गए हैं। तैयार वर्मी खाद की बिक्री हेतु पैकिंग की प्रक्रिया हो चुकी है। वन विभाग को 10 क्विन्टल वर्मी खाद की बिक्री की गई है।

 


16-Oct-2020 10:17 PM 5

अम्बिकापुर, 16 अक्टूबर। संयुक्त संचालक एवं मेडिकल कॉलेज के अधीक्षक ने बताया है कि अम्बिकापुर नगर निगम अंतर्गत अम्बिकापुर अजिरमा के 04 वर्षीय बालक, 38 वर्षीय पुरूष, 34 वर्षीय महिला, 43 वर्षीय पुरूष तथा 55 वर्षीय पुरूष को 5 दिन के हॉस्पिटलाईजेशन होने के उपरांत लक्षण रहित पाए जाने पर आज डिस्जार्च कर दिया गया है। कोविड अस्पताल अम्बिकापुर में 16 अक्टूबर की स्थिति में 47 मरीज भर्ती हैं जिनका ईलाज जारी है। सरगुजा जिले के 29, जशपुर जिले के 03, बलरामपुर जिले के 03, सूरजपुर जिले के 06 मरीज शामिल हैं।


16-Oct-2020 10:15 PM 5

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

लखनपुर,16 अक्टूबर। कल जनपद लखनपुर में ग्लोबल हैण्ड वाशिंग डे मनाया गया। इस कार्यक्रम का आयोजन लखनपुर जनपद कार्यालय में एवं ग्राम पंचायत पूहपुटरा के गौठान में किया गया। कार्यक्रम में हाथ धोने के सही तरीके के बारे में बताया गया एवं साफ़ हाथ से होने वाले स्वास्थ लाभ के बारे में भी लोगों को जागरूक किया गया. ग्राम पंचायत पूहपुटरा में स्वछता दीदियों एवं गाँव के अन्य लोगों द्वारा रैली निकाली गई एवं हाथ धोने के महत्व के बारे में नारे लगाये गए।

कार्यक्रम में जनपद लखनपुर के सीईओ अजय सिंह, जनपद अध्यक्ष मोनिका पैंकरा एवं जनपद उपाध्यक्ष  अमित सिंहदेव, सतेंद्र राय, विशेष अतिथि के तौर पर मौजूद थे। कार्यक्रम में बी.डी.सी सदस्य, पूहपूटरा के सरपंच, गौठान के अध्यक्ष,समूह की महिलाएं एवं जनपद लखनपुर के अन्य कर्मचारी भी हिस्सा लिए।

कार्यक्रम का आयोजन चौपाल ग्रामीण विकास एवं प्रशिक्षण संस्थान द्वारा किया गया एवं इसके लिए यूएनडीपी एवं आईसीआरजी कार्यक्रम द्वारा सहयोग किया गया।कार्यक्रम के अंत में उपस्थित लोगों को साबुन दिया गया एवं अतिथियों द्वारा लोगों से समय समय पर हाथ धोने, मास्क पहनने एवं उचित सामाजिक दूरी बनाने के अपील किया गया।

ज्ञात हो कि हर साल 15 अक्टूबर को दुनियाभर में ग्लोबल हैंड वॉशिंग डे मनाया जाता है। इसे मनाने का उद्देश्य हाथों को अच्छी तरह से धोने के फायदे एवं महत्व के बारे में जागरूकता फैलाना है। वैसे तो साबुन से हाथ धोने से कई संक्रामक बीमारियों से बचा जा सकता है परन्तु कोरोना काल में कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए हाथ धोना जरुरी हो गया है।


16-Oct-2020 10:12 PM 7

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

अम्बिकापुर,16 अक्टूबर। वाणिज्य, उद्योग एवं वन विभाग के प्रमुख सचिव तथा जिले के प्रभारी सचिब  मनोज कुमार पिंगुआ ने आज सर्किट हाउस में उद्योग, वन, कृषि, उद्यान, महिला एवं बाल विकास तथा आदिवासी विकास विभाग के अधिकारियों की बैठक लेकर योजनाओं के प्रगति की समीक्षा की। श्री पिंगुआ ने कहा कि राज्य शासन की मंशा के अनुरूप सामुदायिक वनाधिकार पत्र तथा सामुदायिक वन संसाधन अधिकार पत्र के तहत ग्रामीणों को सामूहिक रूप से दिए जा रहे जमीन में व्यावसियक खेती के लिए 10 वर्ष के लिए एक मास्टर प्लान बनाये तथा किसानों को व्यावसायिक प्रोत्साहित करें। इन जमीनों में बड़े पैमाने पर जल्द उत्पादन देने वाले फलदार पेड़ लगवाएं ।इसके साथ ही पेड़ के बीच खाली जमीन में अदरक, हल्दी एवं तीखुर की खेती भी करायें ताकि पूरे जमीन का व्यवसयिक खेती के रूप में उपयोग हो सके।

प्रभारी सचिव ने कहा कि वनाधिकार पत्र देने से वनों पर वनवासियों का अधिकार तो मिलता ही है साथ मे वनों के संरक्षण की भी जिम्मेदारी मिलती है। वनों को संरक्षित रखते हुए अधिक से अधिक आय प्राप्त करने ग्रामीणों को जानकारी दें तथा आवश्यकतानुसार प्रशिक्षण की भी व्यवस्था करें। व्यावसायिक खेती को वाणिज्यिक रूप देने के लिए उत्पाद का वैल्यू एडिशन कर फ़ूड प्रॉसेसिंग यूनिट से जोडऩे की कार्य योजना बनाएं। उद्यान विभाग तथा कृषि विभाग अगले वर्ष के लिए बड़े पैमाने पर पौधे की तैयारी करें।

प्रभारी सचिव ने संभाग में वनाधिकार पत्र वितरण में धीमी प्रगति पर नाखुशी जाहिर करते हुए कहा कि सरगुजा संभाग वनवासी बाहुल्य क्षेत्र है लेकिन वनाधिकार पत्र वितरण में प्रगति औसत है। वन अधिकार पत्र वितरण में सभी स्तर पर मॉनिटरिंग करे और प्रगति लाएं। किसी प्रकार की ढिलाई न आने दें। डीएफओ की जिम्मेदारी है कि वे जिलों में प्रगति लाएं। उन्होंने आवर्ती चराई योजना के तहत वन विभाग द्वारा बनाये जा रहे गोठानो कि समीक्षा करते हुए कहा कि जिले के लिए निर्धारित 66 गोठान निर्माण शीघ्र पूरा करें। जहां वन भूमि पर अतिक्रमण है उसे अतिक्रामको से मुक्त कराएं। उन्होंने कहा की अब वन विभाग को अपने परम्परागत सोच को बदलकर नवीन दिशा में कार्य करना होगा। ऐसे कार्ययोजना बनायें जो लोकोन्मुखी हो, लोगो पर केंद्रित हो।

श्री पिंगुआ ने गोधन न्याय योजना के तहत गोठानो में गोबर खरीदी तथा वर्मी कम्पोष्ट निर्माण की समीक्षा करते हुए कहा की वर्मी कम्पोष्ट खाद को किसानों तक आसानी से पहुंच हो इसकी सुचारू व्यवस्था करें। उन्होंने जिले में गिरदावरी कार्य की सराहना करते हुए कहा कि इस बार पारदर्शी तरीके से गिरदावारी की गई है।गिरदावारी में करीब 5 हजार हेक्टेयर का अंतर आया है। श्री पिंगुआ ने बैठक में महिला एवं बाल विकास विभाग की समीक्षा करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के तहत कुपोषित बच्चों को दिए जाने वाले रेडी टू ईट एवं अंडा वितरण की ठीक से मॉनिटरिंग करें। प्रत्येक हितग्राही को सही मात्रा में सामग्री पहुंचना चाहिए।

बैठक में कमिश्नर जिनेविवा किंडो, कलेक्टर संजीव कुमार झा, अपर कलेक्टर ए एल ध्रुव, एसडीएम अजय त्रिपाठी सहित अन्य जिला अधिकारी उपस्थित थे।


16-Oct-2020 10:09 PM 6

महिला उद्यमिता की सराहना, बेहतर विपणन व्यवस्था के निर्देश

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

अम्बिकापुर 16 अक्टूबर। वाणिज्य, उद्योग एवं वन विभाग के प्रमुख सचिव तथा जिले के प्रभारी सचिव मनोज कुमार पिंगुआ ने आज बनारस रोड स्थित टीसीपीसी परिसर में बिहान महिला समूह द्वारा संचालित मशाला निर्माण ईकाई तथा बटन मशरूम उत्पादान इकाई का निरीक्षण किया उन्होंने महिलाओं से मशाला उत्पादन एवं मशरूम उत्पादन के बारे में पूछ-ताछ कर जानकारी प्राप्त की। उन्हांने महिलाओं के द्वारा कंपनी स्थापित कर इकाई संचालन की प्रशंसा की और महिला उद्यमिता की ओर बढ़ए कदम की सराहना की।श्री पिंगुआ ने कहा कि इन इकाइयों के संचालन से महिलाएं स्वावलंबन की ओर बढ़ रही है और अन्य महिलाओं को प्रेरित भी कर रही है।

श्री पिंगुआ ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि इकाई के उत्पाद के बिक्री के लिए बेहतर विपणन की व्यवस्था करें ताकि महिलाओं को अच्छी आय प्राप्त हो सके। बताया गया कि टीसीपीसी परिसर में करीब 1 वर्ष से बिहान महिला किसान प्रोड्यूसर कम्पनी लिमिटेड की महिलाओं द्वारा धनिया, मिर्च एवं मशाले की पिसाई कर पैकिंग करती हैं। महिलाओं के द्वारा यहां आचार भी तैयार किया जा रहा है। अभी विपणन की बड़ी व्यवस्था नही हो पाई है। उत्पाद को परिसर में ही बेचा जा रहा है। पॉलिथीन कचड़े को रोकने के लिए मसाले के पैकिंग में इस्तेमाल पॉलिथीन को वापस करने पर पॉलिथीन के प्रति पैक के दो रुपये कीमत दी जा रही है। महिलाओ ने बताया कि बटन मशरूम उत्पादन से अब तक करीब 2 लाख 40 हजार रुपये की आमदनी प्राप्त हुई है।

इस दौरान अपर कलेक्टर ए. एल. ध्रुव, एसडीएम अजय त्रिपाठी, उप संचालक कृषि के एस पैंकरा, बॉयोटेक लैब प्रभारी डॉ प्रशांत मिश्रा, डीपीएम राहुल मिश्रा, नीरज नामदेव एसहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।


15-Oct-2020 9:11 PM 5

अम्बिकापुर, 15 अक्टूबर। छत्तीसगढ़ प्रशिक्षित बीएड व डीएड संघ के बैनर तले चयनित शिक्षक अभ्यर्थियों एवं संघ के सरगुजा प्रतिनिधियों ने शिक्षा मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम से मुलाकात की और छत्तीसगढ़ शिक्षक भर्ती में अनियमितताओं का आरोप लगाते हुए उनसे चर्चा की।

प्रतिनिधियों ने अपनी तीन सूत्रीय मांगों में सर्वप्रथम सहायक शिक्षक जिसमें की भर्ती जिला स्तर पर होनी है, और अधिकांश विद्यार्थियों ने सभी जिलों के लिए फॉर्म भरा था, और यदि ऐसे समय में भौतिक सत्यापन किया जाए तो एक अभ्यर्थी को प्रत्येक जिले में घूम-घूम कर अपना वेरिफिकेशन कराना पड़ेगा, अर्थात छत्तीसगढ़ के 28 जिलों में एक अभ्यर्थी को कुल मिलाकर 56 बार अपना सत्यापन कराना होगा। जैसा कि वर्तमान परिस्थितियों देखने को मिल रही है। कोरोना के चलते परिवहन की समस्या है, एवं बेरोजगारी की मार झेल रहे युवाओं पर एक बड़ा आर्थिक बोझ भी आएगा। इसी क्रम में एक और परेशानी यह भी हो सकती है कि यदि एक किसी को किन्ही दो जिलों में वेरिफिकेशन की तिथि रख दी गयी तो एक अभ्यार्थी दो जगह पर अपनी उपस्थिति कैसे दर्ज कराएगा, इसलिए अभ्यर्थियों की मांग है कि वो सत्यापन को एमकेसीएल पद्धति के आधार पर ऑनलाइन किया जाए जिससे कि लोग एक जगह से दूसरी जगह जाने से बचें एवं वरीयता के क्रम में उनका सत्यापन भी पूर्ण हो जाए।

द्वितीय मांग के रूप में अभ्यर्थियों ने शिक्षक संवर्ग हेतु जिसकी भर्ती संभाग स्तर पर होनी है, और चूंकि हम जानते हैं कि छत्तीसगढ़ में 5 संभाग है और लगभग सभी अभ्यार्थियों ने पांचों संभाग से फॉर्म भरा था, और यदि इसमें भी भौतिक सत्यापन हुआ तो परिवहन, कोरोना वायरस, आर्थिक बोझ, जैसी समस्याओं का सामना अभ्यार्थियों को करना पड़ेगा।

व्याख्याता भर्ती जो लोक शिक्षण संचालनालय रायपुर से से होनी थी जिस पर विभिन्न विषयों पर 14 जुलाई 2019 को परीक्षा हुई। एक अक्टूबर 2019 को परिणाम आया, 12 नवंबर 2019, तक सत्यापन हुआ एवं 20 नवंबर 2019 को पात्र-अपात्र सूची जारी कर दी गई। उसके बाद अपात्र लोगों को एक और मौका देने हैं के लिए लोक शिक्षण संचनालय ने दावा आपत्ति मंगाया, और उसके बाद कभी चुनाव, और कभी कोरोना का बहाना देकर इसे ठंडे बस्ते में डाल दिया गया और जब अभ्यार्थी रोड पर उतरे तो पहले तो सरकार ने पहले इसकी मियाद को 1 वर्ष के लिए बढ़ा दी, फिर उनके परिवीक्षा अवधि को भी 2 वर्ष की जगह पर 3 वर्ष कर दिया गया, और इस परीक्षा अवधि में उन्हें वेतन की जगह पर 70 प्रतिशत 80 प्रतिशत और 90 प्रतिशत स्टाइपेंड पर कार्य करने के शर्त पर एक प्राविधिक चयन सूची जारी की गई है।

उस चयन सूची में ऐसे लोगों को भी जगह दिया गया है, जोकि सत्यापन में अनुपस्थित थे, या पूरी तरह अपात्र थे एवं उनके पात्र होने की कोई संभावना नहीं है, और जो व्यक्ति पुरानी लिस्ट में 100 प्रतिशत पात्र था उसे प्राविधिक चयन सूची में जगह ही नहीं दिया गया है।

इससे चयनित अभ्यर्थियों में काफी असंतुष्टता और आक्रोश है। चयनित अभ्यार्थियों ने इस नई सूची को रद्द करने की मांग की है और पुरानी चयन सूची के आधार पर भर्ती को पूर्ण कराने की मांग की है।

आगे शिक्षक अभ्यार्थियों ने बताया कि यदि हमारी मांगों को नहीं माना गया तो उसे 19 अक्टूबर से राज्य स्तर पर लोक शिक्षण संचालनालय का घेराव, आमरण अनशन और अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठने का ऐलान किया है। 

इस अवसर पर आशीष सिंह, विक्की कनौजिया, गोविंद राम, और अखिलेश श्रीवास्तव इत्यादि शिक्षक अभ्यर्थी उपस्थित थे।