छत्तीसगढ़ » दुर्ग

स्कूलों में दशहरा अवकाश
13-Oct-2021 5:49 PM (34)

दुर्ग, 13 अक्टूबर। दशहरा अवकाश के चलते स्कूलों के पट 4 दिनों के लिए बंद रहेंगे। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा 13 से 16 अक्टूबर तक दशहरा अवकाश घोषित किया गया है। इस बार दीपावली अवकाश 5 दिनों का होगा। 2 से 6 नव बर तक स्कूलों में दीपावली अवकाश रहेगा। यह अवकाश शासकीय, अनुदान प्राप्त शालाओं एवं डीएड-बीएड-एमएड कॉलेजों में भी होगा।

दशहरा अवकाश को लेकर शिक्षकों में भ्रम की स्थिति बनी हुई थी, जिसे दूर करते हुए स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा 12 अक्टूबर को अवकाश संबंधी आदेश जारी किया गया है। दशहरा व दीपावली के अलावा शीतकालीन अवकाश की भी तिथि जारी की गई है। शीतकालीन अवकाश 24 से 28 दिस बर यानी 5 दिनों का होगा। ग्रीष्मकालीन अवकाश पहले की तरह ही इस बार भी रहेगा। 1 मई 2022 से 15 जून 2022 तक यानी कुल 46 दिन ग्रीष्मकालीन अवकाश घोषित किया गया है।

जेनेरिक दवाइयों की मिलेगी सुविधा, खुलेंगी दो दुकानें
13-Oct-2021 5:44 PM (35)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दुर्ग, 13 अक्टूबर। नगर पालिक निगम सीमा क्षेत्र अंतर्गत मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल के मंशा के अनुरूप, मुख्यमंत्री सस्ती दवा योजना प्रारंभ की गई है। विधायक अरुण वोरा और महापौर धीरज बाकलीवाल ने मुख्यमंत्री का आभार मानते हुए कहा कि नल घर शॉपिंग काम्प्लेक्स एवं रायपुर नाका मुक्तिधाम के पास जेनेरिक दवाओं की दुकान 15 अक्टूबर तक खुला जाना प्रस्तावित है। जिसका शुभारंभ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा वर्चुवल कार्यक्रम में किया जाना है। आम नागरिकों को मिलेगी सुविधा जेनिरिक दवाइयां में एमआरपी रेट से 58 फीसदी डिकाउंट में प्राप्त होगी।

महापौर धीरज बाकलीवाल ने जलकार्य विभाग प्रभारी संजय कोहले, युवा कांग्रेस महासचिव संदीप वोरा के अलावा अधिकारी सहायक अभियंता एआर रंगहडाले के साथ निरीक्षण करते हुए कहा कि 15 अक्टूबर के पहले दोनों दुकानों का काम जल्द के लिए निर्देश दिए। शहर में रहने वाले आम जनताओं को अब जेनेरिक दवा खरीदने के लिए दुकानों के चक्कर नहीं लगाने होंगे। उन्हें यह दवाएं सस्ते दाम पर मिलेंगी। मुख्यमंत्री सस्ती दवा दुकान योजना के शहर में अब उच्च गुणवत्ता की जेनेरिक दवाइयां सस्ते दरों पर उपलब्ध कराने के लिए नगर पालिक निगम ने दो स्थानों चयन कर लिया गया है।

महापौर ने कहा कि इस योजना का प्रमुख उद्देश्य जेनेरिक दवाइयों की बढ़ती हुई मांग,गुणवत्ता का किसी भी रूप में ब्रांडेड दवाइयों से कम न होना, ब्रांडेड दवाइयों से कई गुना कम कीमत पर मिलना है,जेनेरिक दवाइयों की निश्चित उपलब्धता सुनिश्चित कराने तथा लोगों को आसानी से यह दवाइयां उपलब्ध कराने के लिए मुख्यमंत्री सस्ती दवा दुकान योजना एक बेहतर माध्यम साबित होगा। इस योजना से जेनेरिक दवाई के अलावा सर्जिकल आइटम की भी नियमित आपूर्ति की जाएगी। नागरिको को संजीवनी की दवाएं भी मिलेंगी, दवाइयों व सामग्रियों की बिक्री इन दुकानों में की जाएगी।

मुख्यमंत्री सस्ती दवा दुकान योजना में जेनेरिक दवाओं के समेत अन्य सौंदर्य प्रसाधन सामग्री की बिक्री की जाएगी। जिससे दुकान का संचालन बिना किसी परेशानी के फायदा लेते हुए किया जा सके। जानकारी के मुताबिक इन दुकानों पर जेनेरिक दवाओं के अलावा इसके अलावा रिंग गार्ड, बाम, आयोडेक्स,विक्स वेपराइजर,डेटाल, इच गार्ड, वेपराइजर मशीन, सेनेटरी पैड, गर्भनिरोधक के अलावा अन्य ऐसे ही आइटम की बिक्री होगी, लेकिन दुकानदार ब्रांडेड दवाएं नहीं बेच सकेगा।

युवा पीढ़ी में ज्ञान प्राप्त करने की अत्यधिक ललक-श्रीवास्तव
13-Oct-2021 5:44 PM (31)

भारती विवि में कुलपति-कुलसचिव ने पदभार संभाला

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दुर्ग, 13 अक्टूबर। भारती विश्वविद्यालय के प्रथम कुलपति प्रोफेसर डॉ. हेमंत कुमार पाठक एवं कुलसचिव  डॉ. वीरेन्द्र कुमार स्वर्णकार के पदभार ग्रहण के समारोह का आयोजन विश्वविद्यालय प्रांगण में हुआ, जिसके मुख्य अतिथि अध्यक्ष, छत्तीसगढ़ आर्बिट्रेशन ट्रिब्यूनल, रायपुर जस्टिस अनुराग श्रीवास्तव थे। विशेष अतिथि के रूप में श्रीश्री 1008 महाराज थे।

 कार्यक्रम का प्रांरभ मां सरस्वती के माल्यार्पण के साथ हुआ। रजिस्ट्रार भारती कॉलेज घनश्याम साहू ने सभी अतिथियों का स्वागत किया। कुलाधिपति सुशील चंद्राकर ने पदभार ग्रहण करने के लिए शुभकामनाएं दी। मुख्य अतिथि जस्टिस अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि आज की युवा पीढ़ी में ज्ञान प्राप्त करने की  अत्यधिक उत्सुकता व ललक है, विद्यार्थियों को डिग्री प्राप्त करने के बाद सफल उद्यमी बनने की आवश्यकता पर बल दिया। विश्वविद्यालयों को पढ़ाई के साथ-साथ संस्कारवान बनाने के लिए मार्गदर्शन दिए। कुलपति ने कहा कि विश्वविद्यालयों में अनुसंधान एवं नवाचार करने की आवश्यकता पर जोर दिया।

कार्यक्रम में संस्था के प्रबंधन समिति के सभी सदस्यगण डॉ. योगेश बैस, जय चंद्राकर, प्रभजोत सिंह भुई , एच एस वर्मा , सुरेश साहू, दिलीप साहू, योगी, एम. चंद्राकर एवं कॉलेजो के प्राचार्य प्रो. दिनेशचंद्र परसाई, प्रो. डॉ. मानस रंजन होता, प्रो. डॉ. अलोक भट्ट, प्रो. विजय यदु, सोनिया सिंह, खिलेश गंजीर सहित विभागाध्यक्ष, शिक्षकगण एवं कर्मचारीगण उपस्थित थे. रजिस्ट्रार डॉ. वीरेन्द्र कुमार स्वणर्कार ने धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम का संचालन फार्मेसी विभाग के सहायक प्राध्यापक शीतल मिश्रा एवं अलका वर्मा ने किया।

एयरटेल सेल्स अफसर को धमकी देकर मारपीट, दो पर जुर्म
13-Oct-2021 5:43 PM (36)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दुर्ग, 13 अक्टूबर। श्री मोबाइल शॉप पंचशील नगर में दुकानदार से रिचार्ज की रकम ले रहे एयरटेल कंपनी के फील्ड ऑफिसर के साथ दो आरोपियों ने मारपीट करते हुए जान से मारने की धमकी दी। इस दौरान प्रार्थी द्वारा दुकानदारों से वसूली गई रकम भी गिर गई।

प्रार्थी की शिकायत पर कोतवाली पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ अपराध दर्ज किया गया।

 पुलिस के मुताबिक जवाहर नगर दुर्ग निवासी विकास साहू एयरटेल कंपनी में फील्ड ऑफिसर के पद पर कार्यरत है। मंगलवार को वह पंचशील नगर दुर्ग स्थित शैलेंद्र कुमार सोनी के मोबाइल दुकान में रिचार्ज की रकम 1000 रुपए मांगने गया था। इस पर शैलेंद्र कुमार सोनी ने कहा कि शाम को आकर रकम ले जाना। विकास साहू ने कहा कि वह शाम को नहीं आ पाएगा आप मेरे उच्च अधिकारी से बात कर लो यह सुनकर शैलेंद्र आक्रोशित हो गया और गाली गलौज करने  लगे। इसके बाद प्रार्थी वहां से निकल कर उरला स्थित अन्य मोबाइल शॉप में रिचार्ज की रकम लेने चला गया। जब लौटकर दोपहर में आ रहा था तब आजाद स्कूल के पास पंचशील नगर में आरोपी शैलेंद्र और उसके दोस्त ने उसे रोकने की कोशिश की। इसके बाद जब प्रार्थी श्री मोबाइल दुकान में रिचार्ज की रकम ले रहा था। इस दौरान दोनों आरोपी वहां पहुंचे और गाली गलौज कर मारपीट की एवं जान से मारने की धमकी दी। इससे प्रार्थी को चोटें भी आई।

गोदाम में चोरी

महासमुंद, 13 अक्टूबर। पिटियाझर स्थित कृषि उपज मंडी के गोदाम से रविवार रात किराना सामानों की चोरी हो गई। वार्ड 15 स्टेशन रोड निवासी सौरभ लूनिया ने बताया कि उनका स्वयं की किराना दुकान है। रविवार सुबह साढ़े 6 बजे उन्हें चौकीदार बनिया निर्मलकर ने फोन कर बताया कि गोदाम का ताला खुला हुआ है। सामानों का मिलान करने पर 10 पीपा तेल व अन्य सामान शक्कर, सरसों तेल, मैदा, बिस्किट समेत करीब 40 हजार रुपए का सामान गायब है।

शाही दशहरा के साथ 25 फीट का रावण दहन
13-Oct-2021 5:40 PM (28)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
उतई, 13 अक्टूबर।
नगर पंचायत उतई व नगर उत्सव समिति उतई के संयुक्त तत्वावधान में प्रतिवर्ष मनाए जाने वाले दशहरा उत्सव को शाही दशहरा के रूप में मनाने का निर्णय लिया गया है।

नगर उत्सव समिति के अध्यक्ष पार्षद राकेश साहू ने बताया कि इस वर्ष 15 अक्टूबर को शाम 6 बजे मवेशी बाजार स्थित दशहरा मैदान में भव्य आतिशबाजी के साथ शाही दशहरा उत्सव मनाया जाएगा। रावण को इस बार 25 फीट का बनाया जाएगा, जो पूरी तरह से आतिशबाजी से बना रहेगा। दशहरा उत्सव में राम, लक्ष्मण, सीता एवं रावण संवाद संगीतमय रहेगा इसके अलावा दशहरा मैदान में बिजली की रौशनी से जगमगाएगा एवं मेला भी लगेगा।

बैठक में उपाध्यक्ष सुरता सिंह गढ़े, बीरेंद्र गोस्वामी सचिव मनोरमा देवांगन, रविन्द्र वर्मा, तोषण साहू, हेमन साहू, राजकुमार साहू सहित कर्मचारियों की उपस्थिति में सम्पन्न हुई।
संघ ने एसडीएम को दिया ज्ञापन

गृहमंत्री ने सपरिवार किया माता बम्लेश्वरी दर्शन
13-Oct-2021 5:37 PM (36)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
उतई, 13 अक्टूबर।
गृह मंत्री ताम्र ध्वज साहू अपने एक दिवसीय प्रवास पर राजनांदगांव जिले के धर्म नगरी डोंगरगढ़ पहुंचे।  गृह मंत्री अपने सपरिवार के साथ मां बम्लेश्वरी देवी के दरबार मे पूजा अर्चना कर प्रदेश की  खुशहाली की कामना की औऱ आशिर्वाद लिया जिसके पश्चात वे नीचे छोटी माँ बम्लेश्वरी देवी के दर्शन कर आशिर्वाद लिय।
 

पानी भरे खेतों में धान के पौधे गिरे बदरा होने की आशंका बढ़ी
13-Oct-2021 5:32 PM (26)

मौसम की मार से किसान परेशान

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
उतई, 13 अक्टूबर।
किसानों को हमेशा मौसम की मार झेलना पड़ता है। यह मौसम कभी किसानों के लिए अनुकूल हो जाता है, तो खेती किसानी में मदद मिल जाती है, लेकिन अधिकांश मौसम किसानों की खेती के प्रतिकूल होता है और इसी प्रतिकुलता में बिना शिकायत के अपनी खेती करता है।

इस खरीफ सीजन में यह प्रतिकूलता और बढ़ गई है। इसी कारण किसान आर्थिक रुप से कमजोर होने लगे है। सरकार हरसंभव प्रयास कर रही है किसानों को आर्थिक रुप से समृद्ध बनाने की लेकिन मौसम की मार किसानों को ऐसा होने नहीं दे रही है। आवारा पशु बरहा बंदर और यह अब प्रतिकुल मौसम किसानों के लिए सिर दर्द बन गया है।

मौसम की प्रतिकूलता ने खेतों में बढ़ाई बीमारी
बोनी के समय जहां किसान अधिक वर्षा होने से बुआई नहीं कर पाये और थक हार कर जैसे तैसे छिडक़ा पद्धति (लाई चोपी ) विधि से धान की बुआई किये फिर बुआई होने के बाद वर्षा नहीं होने से खेत खरपतवार पट गये ।उसके लिए निंदाई कराने गाँव में मजदूर नहीं मिलने पर दूर गांव से 150 रुपये प्रति मजदूर मजदुरी व गाड़ी किराया अलग से देकर निंदाई करवाये, लेकिन ठीक उसी समय अनुकूल वर्षा भी हुई और जैसे ही खेतों में धान अच्छा दिखने लगे और धानों में बाली आनी शुरू हुई कि आसमान में लगातार बादल छाने और वर्षा होने से खेतों में माहू ब्लास्ट तना छेदक फंगस जैसे अनेक बीमारियां आनी शुरु हो गई। अब किसान इससे बचने के लिए फिर कीटनाशक दवाई का छिडक़ाव कर रहे है।

हरहुना धान बारिश के पानी में डूब गए  
ग्राम सेलुद के किसान बालमुकुद यदु ने बताया, मैं अपने खेत में आई आर 64 धान लगाया है। धान पूरी तरीके से पक गया है लेकिन अभी हाल में वर्षा होने से खेत में पानी भरा हुआ है। खेत का पानी निकालने के लिए एक सप्ताह पहले खेत में डीजल पंप लगाकर पानी खेत से बाहर किया था ताकि धान अच्छा से पके और नुकसान न हो लेकिन कल हुए वर्षा से खेतों में पुन: पानी भर गया है और धान का फसल उसी पानी में डूब गया है। धान पौधा गिरने से बाली पानी में डुबा हुआ है और सभी डूबे हुए धान सड़ जायेगा और सुखने पर बदरा हो जायेगा, जिससे फसल उत्पादन प्रभावित होगा।

सेलूद के किसान बसंत चंद्राकर ने बताया कि पानी की कमी को देखते हुए अपने 30 एकड़ के खेत में हरहुना किस्म के धान लगाये है। सभी धान पक चुके हंै। धान का पौधा पीला भी हो गया है, लेकिन इस समय वर्षा होने से खेतों में पानी रुक गया है, और फसल खराब हो रहे हे। जमीन शीघ्र सुखने की स्थिति पर हारवेस्टर से कटाई कराने की जरुरत है।
 

जनसंपर्क कार्यालय में पेन डाउन विरोध
13-Oct-2021 4:39 PM (26)

दुर्ग, 13 अक्टूबर। पूरे प्रदेश की तरह दुर्ग जिले के जनसंपर्क कार्यालय में सभी अधिकारी और कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर विरोध जताने के लिए सामूहिक अवकाश पर रहे। जिला जनसंपर्क कार्यालय से  कोई शासकीय समाचार जारी नहीं हुआ। जिले का शासकीय सोशल मीडिया अकाउंट भी सूना रहा। जनसंपर्क अधिकारी संघ द्वारा किए गए इस विरोध प्रदर्शन को छत्तीसगढ राजपत्रित अधिकारी संघ का भी भरपूर समर्थन मिला है। जनसंपर्क विभाग के अधिकारी और कर्मचारियों के  मंगलवार को सामूहिक अवकाश पर रहने से विभाग में सरकारी कामकाज भी ठप हो गया।

आयुक्त जनसंपर्क के साथ चर्चा के दौरान सकारात्मक आश्वासन के बाद उन्हें छत्तीसगढ़ जनसंपर्क अधिकारी संघ और छत्तीसगढ़ प्रदेश राजपत्रित अधिकारी संघ की मंशा से अवगत कराया गया। आयुक्त की सकारात्मक पहल पर यह तय किया गया कि अब अनिश्चितकालीन कलम बंद हड़ताल की बजाए 12 अक्टूबर को एक दिन का सांकेतिक कलम बंद किया जाएगा।
 

मूक बधिर से मारपीट मामला दर्ज
13-Oct-2021 4:11 PM (27)

दुर्ग, 13 अक्टूबर।  दुर्गा प्रतिमा देखने गए मूकबधिर युवक के साथ मामूली बात को लेकर आरोपी ने मारपीट की। वहीं आरोपी ने पत्थर उठाकर युवक के सिर पर मारा, जिससे युवक को चोटें आई। घायल के बड़े भाई की शिकायत पर मोहन नगर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ  धारा 294, 323 के तहत अपराध दर्ज कर जांच में लिया है।

पुलिस के मुताबिक 10 अक्टूबर की रात को लगभग 10 बजे मुकेश ठाकुर जो मूकबधिर था, वह खाना खाने के बाद दुर्गा प्रतिमा देखने संगम चौक उरला गया हुआ था। इस दौरान आरोपी मोहन साहू ने उससे कहा कि यहां क्यों खड़ा है यहां से भाग जा, जब मूकबधिर मुकेश जिसे सुनाई नहीं देता था, वहां से नहीं हटा तो मोहन साहू ने उसे गाली गलौज करते हुए मारपीट की। इसके बाद आरोपी ने पास में पड़े पत्थर को उठाया और मुकेश के सिर पर मारा, जिससे मुकेश के सिर हाथ पांव में चोटे आई। घायल के बड़े भाई  लुकेश कुमार ठाकुर की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज किया।

ऑटो ने मारी कार को ठोकर
13-Oct-2021 4:06 PM (28)

दुर्ग, 13 अक्टूबर। सुपेला से कलेक्ट्रेट दुर्ग जा रहे प्रार्थी की कार को तेज व लापरवाही पूर्वक वाहन चलाते हुए ऑटो चालक ने ठोकर मार दी। इससे कार  क्षतिग्रस्त हो गई। जब कार चालक ने ऑटो चालक से लापरवाहीपूर्वक वाहन चलाने की बात कहीं तो आरोपी प्रार्थी से ही विवाद करने लगा। प्रार्थी की शिकायत पर पद्मनाभपुर चौकी पुलिस ने ऑटो चालक के खिलाफ धारा 279 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर जांच में लिया है। पुलिस के मुताबिक अजय मुर्गी फार्म के पास सुपेला निवासरत प्रार्थी अजय  टीजी कलेक्ट्रेट में जमीन संबंधित कार्य के लिए अपनी कार  पर अपने साथी सूर्यनारायण एवं उनकी पत्नी अनीता कश्यप के साथ जा रहे थे।

इसी दौरान पॉलिटेक्निक कॉलेज के सामने ऑटो क्रमांक सीजी 07 ए वी 8593 के चालक ने कार को पीछे से ठोकर मार दिया, जिससे कार की डिक्की क्षतिग्रस्त हो गई. प्रार्थी की शिकायत के बाद पुलिस जांच में जुट गई है।
 

किसान शहीद दिवस मनाया, ज्ञापन
13-Oct-2021 4:03 PM (28)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 13 अक्टूबर।
कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन का नेतृत्व करने वाले संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर पूरे देश में किसान संगठनों द्वारा किसान शहीद दिवस मनाया जा रहा है।
 जिले में भी छत्तीसगढ़ प्रगतिशील किसान संगठन के बैनर तले किसानों ने पटेल चौक में किसान शहीद दिवस का आयोजन किया गया। इस दौरान मौजूद किसान संगठन के पदाधिकारियों ने लखीमपुर में किसानों की मौत मामले में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा को बर्खास्त करने, साथ ही छत्तीसगढ़ राज्य के मृतक किसानों के परिजनों को भी 50 लाख रुपए आर्थिक सहायता देने की मांग रखी।

कार्यक्रम में संगठन के राजकुमार गुप्त और झबेंद्र भूषण वैष्णव ने बताया कि एक साल के आंदोलन के दौरान अब तक लगभग 7 सौ किसान शहीद हो गये हैं। कुछ साल पहले मप्र के मंदसौर में सरकार ने गोली मारकर 6 किसानों की हत्या कर दिया था। पिछले दिनों यूपी के लखीमपुर खीरी में शांतिपूर्वक प्रदर्शन करने वाले किसानों को गाड़ी से कुचल दिया गया, जिसमें 4 किसान शहीद हो गये, हरियाणा के करनाल में प्रशासन ने लाठियों से पीटकर और बस्तर में 3 आदिवासी किसानों को पुलिस ने गोलियों से भूनकर मार डाला।

किसानों ने प्रधानमंत्री के   नाम ज्ञापन दिया, इसमें लखीमपुर किसान हत्याकांड के लिये केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा को जि मेदार बताते हुए तत्काल उन्हें पद से बर्खास्त करने की मांग की।  प्रदर्शन के दौरान किसान संगठन ने कृषि उपजों के लिये न्यूनतम गारंटी मूल्य कानून लागू करने की मांग भी की है।

प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन प्रशासन के प्रतिनिधि के रूप में मौजूद नायब तहसीलदार दुर्गा साहू को सौंपा गया। किसान शहीद दिवस में परमानंद यादव, बाबूलाल साहू, कल्याण सिंह ठाकुर, ढालेश साहू, ज्ञानेश्वर यादव, राजेंद्र साहू, रामनारायण, मणि राम, शंकर राव, गीतेश्वर, अतीशकुमार, ओंकार, भूपेंद्र चौबे, दीपक यादव, प्रेमलाल निषाद, गुलाब चंद्राकर, लता चंद्राकर, खेमिन देवांगन, एकेश्वरी निर्मलकर, चंपेश्वरी धीवर, दुलारी श्रीवास्तव सहित अनेक किसान शामिल थे।
 

52 करोड़ की लागत से शहर के प्रमुख मार्गों का होगा उन्नयन
13-Oct-2021 4:03 PM (22)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 13 अक्टूबर।
दुर्ग विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली प्रमुख मार्गों के उन्नयन एवं चौड़ीकरण के लिए शहर विधायक ने आज सीजी आरडीसी के एमडी आइएएस हिमशिखर गुप्ता से लोनिवि एसडीओ सीएस ओगरे को साथ ले जाकर भेंट की एवं लगभग 52 करोड़ के कार्यों का प्रस्ताव दिया। जिसमें 49 करोड़ से शहर के 5 प्रमुख मार्ग पटेल चौक, राजेन्द्र पार्क चौक एवं मालवीय नगर चौक से स्टेशन स्थित शहीद चौक तक का पहुंच मार्ग, मालवीय नगर से जेल चौक होते हुए मिनीमाता चौक तक की सडक़ का चौड़ीकरण एवं सौन्दर्यीकरण शामिल हैं।

उन्होंने बहुप्रतीक्षित पांच बिल्डिंग की जर्जर सडक़ों के लिए भी लगभग 3 करोड़ की लागत से पुनर्निर्माण का प्रस्ताव दिया जिसे लोनिवि मंत्री ताम्रध्वज साहू से चर्चा उपरांत तत्काल स्वीकृति प्रदान कर दी गई एवं जल्द ही 49 करोड़ की राशि के कार्यों को स्वीकृति देने मंत्री साहू ने वोरा को आश्वस्त किया। श्री वोरा ने मंगलवार को वार्ड क्रमांक 13 मोहन नगर का भ्रमण कर मूलभूत समस्याओं का निराकरण किया। साफ सफाई, पेयजल एवं सडक़ नालियों से संबंधित नागरिक समस्याएं सुन उन्होंने अफसरों को तत्काल निराकरण के निर्देश दिए. साथ ही जानलेवा प्रतीत हो रही पानी टंकी को एक सप्ताह के भीतर सही करने भी निर्देशित किया। इस दौरान संजय कोहले, राजकुमार पाली, वार्ड के नागरिकगण एवं निगम अधिकारी मौजूद थे।
 

राज्य सरकार पर चावल घोटाले का आरोप
13-Oct-2021 3:37 PM (23)

  भाजपाईयों का विस स्तरीय धरना  

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
उतई, 13 अक्टूबर।
दुर्ग ग्रामीण विधानसभा स्तरीय धरना-प्रदर्शन में कांग्रेस सरकार पर भाजपा नेताओं ने हमला बोला।
पूर्व मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना 5 किलो चावल प्रति व्यक्ति, प्रति माह चावल केंद्र सरकार द्वारा सभी राज्यो में दिया जा रहा है। जिसे छत्तीसगढ़ के भूपेश सरकार गरीबो को नही दे रहा है।
कवर्धा मामले पर डॉ.रमन सिंह ने कहा कि भगवा ध्वज का अपमान करने  वाले को छोड़ा नहीं जाएगा आगे भी लड़ाई जारी रहेगा।

भाजपा प्रदेश व जिला के निर्देशानुसार भारतीय जनता पार्टी दुर्ग ग्रामीण के तीनों मंडलों द्वारा संयुक्त धरना-प्रदर्शन  ग्राम पंचायत अंजोरा (ख) में पुराना पुलिस चौकी के पास किया गया।
पूर्व कैबिनेट मंत्री रमशिला साहू के कहा कि छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार केंद्र की मोदी सरकार द्वारा कोरोना संक्रमण काल अप्रैल 2020 से गरीब जनता की राहत पहुंचाने प्रत्येक परिवार को 5 किलो नि:शुल्क चावल देने के लिए राज्य सरकार को प्रदान किया गया है अभी तक 1.385 टन चावल केंद्र से राज्य को मिला है, लेकिन राज्य की जनता का हक मार भूपेश सरकार ,उसके मंत्री , अधिकारी मिलकर खा गए है। राज्य की जनता को केंद्र द्वारा सहायता प्राप्त चावल नही दे रहे है और घोटाला कर अपने जेब भर रहे है।

हम भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता राज्य के भोलीभाली जनता के साथ है। हमारी मांग है कि केंद्र से सहायता प्राप्त खाद्यान्न को सभी को प्रदान किया जावे, और इस 14 माह में करीब 1500 करोड़ की राशन घोटाला की उच्च स्तरीय जांच कराकर दोषी अधिकारियों पर कड़ी कार्यवाही किया जाय, जिस किसे भी परिवार को चावल नही मिला है इस तत्काल चावल प्रदान किया जाय या नगद राशि दिया जावे। भारतीय जनता पार्टी हमेशा की तरह जनता के साथ है।

कार्यक्रम में प्रमुख रूप से दुर्ग ग्रामीण के छाया विधायक जागेश्वर साहू, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष माया बेलचंदन, ललित चंद्राकर,किसान मोर्चा के जिला महामंत्री अजीत चंद्राकर, जिला उपाध्यक्ष डॉ.अनिल साहू, दुर्ग ग्रामीण विधानसभा के तीनों मंडल अध्यक्ष गिरेश साहू, फत्तेलाल वर्मा, राजीव पांडेय, सोनू राजपूत, पुकेश चंद्राकार, उमाशंकर साहू, तीरथ यादव, दिनेश देशमुख, प्रवीण यदु, त्रिलोक साहू, किशन यादव, फलेंद्र सिंह राजपूत, वमान साहू,ओपी रजक, गोविंद साहू, नगीना यादव, कमलेश हिरवानी, गुड्डू झा, रमेश यादव, योगेश साहू, छत्रपाल साहू, सुनील साहू, दीपा साहू, नूतन निर्मलकर, अनीता, विद्या देवी, किरण यादव, मोंगरा देशमुख, रूखमणी साहू, अविनाश शर्मा, नवीन सिन्हा, पोषण देवांगन, लुकेश देवांगन, पुरेंद्र साहू, अनिल राय, शैलेश शर्मा, परमेश्वर महिलांग, सोनसिह, सुनील साहू, मोहन देवांगन, अखिलेश यादव, अवध शाह,  हरिराम सारथी, सुखदेव ठाकुर, सुरेश देशमुख, उमाशंकर साहू, अजय रजक, रमेशर साहू, शिव निषाद, मुकेश बेलचंदन, बलवीर सिंह,गजेंद्र कोठारी, ऋतुराज पिपरिया, व्यासनारायण वर्मा, दानेश्वर यादव, लालू यादव, अवधराम साहू, दशरथ साहू, महेंद्र साहू,मोहन बड़े सहित तीनों मंडल के पदाधिकारीगण वरिष्ठ कनिष्ठ कार्यकर्ता व सभी मोर्चा, प्रकोष्ठ के पदाधिकारी, कार्यकर्ता गण बड़ी संख्या में उपस्थित रहे और सभी ने राज्य की कांग्रेसी सरकार के खिलाफ बहुत ओजस्वी वक्तव्य प्रस्तुत कर रानी सरकार के जन विरोधी कार्यों के विरोध में हमेशा जनता हित में सडक़ की लड़ाई जनता जनार्दन के साथ कंधा से कंधा मिल लडऩे का संकल्प भी लिए।
 

कुम्हारी के खारुन तट पर होगा दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन
13-Oct-2021 3:22 PM (22)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
कुम्हारी, 13 अक्टूबर।
कुम्हारी पालिका क्षेत्र अंतर्गत दुर्गा मूर्ति विसर्जन के लिए खारुन नदी तट वार्ड 13 सक्ति मंदिर के पास व महामाया मंदिर के नीचे खारुन तट पर विसर्जन स्थान बनाया गया है। विसर्जन 15 अक्टूबर को करने का आदेश जारी हुआ है। पालिका अध्यक्ष राजेश्वर ने भी श्रद्धालुओं से नदी और तालाबों को प्रदूषण से सुरक्षित रखने और अस्थाई विसर्जन कुंड में मूर्तियों का विसर्जन करने की अपील की है।

नगर पालिका कुम्हारी के सीएमओ जितेंद्र कुशवाहा ने बताया कि प्रशासनिक व्यवस्था के अंतर्गत खारून नदी के तट पर भगवान दुर्गा की मूर्तियों की विसर्जन की व्यवस्था की गई है। प्रशासनिक तौर पर सुचारू संचालन करने नगर पालिका कुम्हारी के अधिकारियों एवं कर्मचारियों की ड्यूटी लगा दी है। सीएमओ ने सभी परिषद अधिकारियों एवं कर्मचारियों से नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल और छत्तीसगढ़ शासन के पर्यावरण विभाग द्वारा जारी समस्त निर्देशों का मूर्तियों के विसर्जन के दौरान पूर्ण व्यवहारिक पालन करवाना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।

अधिकारियों व कर्मचारियों को दायित्व-दुशान्त चौहान उप अभियंता व सुपरवाईजर राजेश देवांगन विसर्जन स्थल पर लाईट व  प्रकाश की व्यवस्था करेंगे। वहीं अधिकारी अनिल झा स्वच्छता निरीक्षक एवं ओमप्रकाश सोनकर सफाई दरोगा इन्हें एनजीटी के तहत विसर्जन कुंड व विशेष साफ सफाई का दायित्व दिया गया है। वहीं राजस्व निरीक्षक राकेश साहू एवं अविनाश देवांगन उप राजस्व निरीक्षक व अन्य राजस्व स्टाफ को कोविड 19 व एनजीटी के नियमों के पालन करते हुए विसर्जन कराने का कार्य सौंपा गया है।
 

पचास का पेट्रोल डाल वसूला 400,
13-Oct-2021 12:10 PM (48)

 विश्वास पर पुलिस पेट्रोल पंप ने लगाया चूना, सीसीटीवी में कैद कारनामे को जांच रहे एएसपी

'छत्तीसगढ़' संवाददाता
भिलाई नगर, 13 अक्टूबर
। सेक्टर-6 पुलिस वेलफेयर पेट्रोल पंप के कर्मचारियों ने पेट्रोल डालने के नाम एक महिला ग्राहक के साथ धोखाधड़ी की है। महिला से 400 रुपए लिए लेकिन पेट्रोल सिर्फ 50 रुपए का डाला। पेट्रोल डलवाने के बाद जब महिला कुछ दूर गई और उसकी स्कूटी का कांटा नहीं शो किया तो वो वापस पेट्रोल पंप पहुंची और पेट्रोल चेक करने की बात कहने लगी। इस पर वहां के कर्मचारियों ने महिला से हुज्जतबाजी की। इसके बाद महिला ने मामले की शिकायत सिटी एएसपी से की है।

पीडि़त लक्ष्मी ने शिकायत में एएसपी संजय ध्रुव को बताया कि वह रिसाली आजाद मार्केट की रहने वाली हंै। ग्यारह  अक्टूबर को अपनी स्कूटी में पेट्रोल डलवाने के लिए सेक्टर-6 स्थित पुलिस वेलफेयर पेट्रोल पंप पहुँची, वहां 400 रुपए पेट्रोल पंप कर्मचारी को देकर पेट्रोल डालने के लिए कहा। पंप कर्मचारी धोखाधड़ी की नीयत से लक्ष्मी का ध्यान भटकाने की कोशिश करने लगा। उसने कहा कि आपका मोबाइल बज रहा है। जैसे ही लक्ष्मी स्कूटी की डिक्की की तरफ देखकर मोबाइल निकालने लगी तो पेट्रोल पंप कर्मचारी ने मात्र आधा लीटर पेट्रोल डालकर मशीन को बंद कर दिया और कहा कि पेट्रोल डल गया। लक्ष्मी पुलिस पेट्रोल पंप होने के नाते विश्वास में वहां से चली गई। जैसे ही वह कुछ दूर गई तो देखा कि स्कूटी का फ्यूल मीटर कम पेट्रोल शो कर रहा है।

इस पर महिला वापस पेट्रोल पंप पहुंची और इसकी शिकायत वहां के कर्मचारियों से की। जब पंप कर्मचारियों से गाड़ी का सारा पेट्रोल निकालकर नापने की बात कही तो उन्होंने झगड़ा शुरू कर दिया।
जब पंप के अधिकारियों को इसकी जानकारी हुई तो उन्होंने सीसीटीवी फुटेज चेक करवाया। फुटेज में साफ दिखाई दिया की महिला ने पेट्रोल डालने वाले कर्मचारी दिलेश्वर ठाकुर को दो सौ के दो नोट दिए। दिलेश्वर ने एक नोट जेब में डाल लिया और दूसरा नोट हाथ में पकड़े रहा। इस दौरान उसने अपने दूसरे साथी से इशारों में बात की और दोनों एक दूसरे को देखकर हंसे भी।

एएसपी सिटी संजय ध्रुव ने बताया कि उनके पास शिकायत आई है। वह इसकी जांच करा रहे हैं। जांच में गड़बड़ी पाए जाने पर संबंधित कर्मचारी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

 

शहर की खस्ताहाल सडक़ों पर पैचवर्क का पैबंद लगाने से काम नहीं चलेगा, डामरीकरण तत्काल शुरू करें-वोरा
12-Oct-2021 6:59 PM (29)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दुर्ग, 12 अक्टूबर। नवरात्र पर्व के दौरान भी शहर की सफाई व्यवस्था चाक चौबंद नहीं हो पाई है। निगम प्रशासन द्वारा बेहतर सफाई के दावों के बावजूद प्रमुख सडक़ों सहित वार्डों के भीतर सफाई न होने की लगातार शिकायतें मिल रही है। वरिष्ठ विधायक अरुण वोरा ने नाराजगी जताते हुए निगम कमिश्नर हरेश मंडावी को सफाई व्यवस्था दुरुस्त करने के निर्देश दिए हैं। शहर की खस्ताहाल सडक़ों पर पैचवर्क का पैबंद लगाने से काम नहीं चलेगा।

वोरा ने कलेक्टर से आग्रह किया है कि पीडब्लूडी अफसरों को निर्देश देकर शहर की खस्ताहाल सडक़ों का डामरीकरण तत्काल शुरू कराएं। पिछले 5 दिनों से जम्मू कश्मीर के दौरे पर गए वोरा ने दुर्ग लौटने के बाद आज सुबह से ही शहर की व्यवस्थाओं का निरीक्षण करने निकल गए। वोरा ने कलेक्टर डॉ सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे से आग्रह किया है कि शहर की सफाई व्यवस्था, स्ट्रीट लाइट व्यवस्था, खस्ताहाल सडक़ों का डामरीकरण कराने के साथ ही यहां हो रहे विकास कार्यों में तेजी लाने विभागीय अधिकारियों को कड़े निर्देश दें। कलेक्टर स्वयं सभी कार्यों की मॉनिटरिंग करें ताकि आम जनता को विकास कार्यों की सौगात मिल सके। वोरा ने कहा कि जिन कार्यों के प्रस्ताव नहीं बने हैं, उनके प्रस्ताव तत्काल बनाकर शासन से मंजूरी लेकर विकास कार्य शुरू कराए जाएं। स्वीकृत किये गए विकास कार्यों को पेंडिंग रखने से विकास अवरुद्ध होगा। इसके अलावा कछुआचाल से चल रहे विकास कार्यों को तेजी से पूरा किया जाना चाहिये।

विकास कार्यों की अनदेखी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। वोरा ने कहा कि जीई मार्ग के उन्नयन और सौंदर्यीकरण के साथ ही अमृत मिशन प्रोजेक्ट, यूनिशेड निर्माण, ऑडिटोरियम निर्माण, ठगड़ा बांध सौंदर्यीकरण सहित सभी कार्यों को तेजी से पूरा किया जाए।

वार्डों में मंजूर किये गए कार्यों को भी तत्काल शुरू कराया जाना चाहिये। कलेक्टर डॉ.सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने हाल ही में शहर के विकास कार्यों का निरीक्षण किया था। उन्होंने विकास कार्यों में तेजी लाने के निर्देश भी दिये। कलेक्टर के शहर का निरीक्षण करने के बाद दिये गए कड़े निर्देशों के बावजूद विकास कार्यों में अपेक्षित गति नहीं आई है।

हालत ये है कि कलेक्टर के निर्देशों के बावजूद पेयजल व्यवस्था में लगातार रुकावटें आ रही हैं। जल कार्य विभाग के अफसरों की कार्यशैली को लेकर लगातार सवालिया निशान लग रहे हैं। कलेक्टर व कमिश्नर के निर्देशों का पालन न करने सहित हर काम में ढिलाई के कारण जल कार्य विभाग की फजीहत हो रही है।

पद्मनाभपुर में पानी की किल्लत के बाद अब पूरे शहर में पानी सप्लाई में आ रही रुकावटों को लेकर लोग परेशान हैं। सफाई व्यवस्था का भी बुरा हाल है। बारिश की शुरुआत से ही सडक़ों की दुर्गति से पूरा शहर त्रस्त है। पीडब्लूडी और निगम प्रशासन द्वारा किये गए पैचवर्क से सडक़ों की हालत और बदतर हो गई। कलेक्टर द्वारा शहर का निरीक्षण करने के बावजूद कामकाज में कोई विशेष असर न होने पर आज विधायक वोरा ने इस मामले को लेकर नाराजगी जताई और नागरिक सुविधाओं को दुरुस्त करने कहा है।

सिंगल यूज प्लास्टिक के बजाय कपड़े व जूट के थैले इस्तेमाल पर जोर
12-Oct-2021 6:56 PM (26)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दुर्ग, 12 अक्टूबर। आजादी का अमृत महोत्सव के अवसर पर क्षेत्रीय कार्यालय, छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मण्डल, दुर्ग एवं मेसर्स ए.सी.सी. लिमिटेड, जामुल सीमेंट वक्र्स, जामुल, दुर्ग द्वारा श्रम निकेतन उच्चतर माध्यमिक शाला, जामुल, जिला- दुर्ग में आज सिंगल यूज प्लास्टिक के विलोपन हेतु स्कूली छात्र-छात्राओं के मध्य पर्यावरणीय जन-जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती में दीप प्रज्जवलित कर, स्वागत गीत के साथ किया गया।

स्कूल की छात्रा दिव्याश्नी मेश्राम द्वारा विषय- ‘से नो टू प्लास्टिक’ पर अपने उद्बोधन में मुख्यत: सिंगल यूज प्लास्टिक की वर्तमान में अधिक उपयोग हो होने, जिससे प्लास्टिक की मात्रा बढऩे, जो मानव जीवन व जीव जन्तु के स्वास्थ्य को प्रभावित करने की जानकारी दी गई। स्कूल प्रबंधन द्वारा विषय- ‘से नो टू प्लास्टिक’  पर बनाने गये नाटक का मंचन किया गया। जिसमें मुख्य रूप से सिंगल यूज प्लास्टिक के उपयोग से मानव व जीव जन्तु प्रभावित होने, जल एवं जमीन प्रदूषित होने, प्लास्टिक में भरे हुए सामान को खाने से जानवर की आकस्मिक मृत्यु होनेे की जानकारी नाटक के माध्यम से प्रस्तुति दी। साथ ही सिंगल यूज प्लास्टिक के स्थान पर कपड़े व जूट के थैले का उपयोग करने, तरल पदार्थ को बर्तन व बॉटल में लाने, दैनिक जीवन में प्लास्टिक का उपयोग नहीं करने हेतु बैनर, पोस्टर के माध्यम से आव्हान किया गया।

स्कूल के प्राचार्य प्रशांत चौबे द्वारा सिंगल यूज प्लास्टिक के विलोपन हेतु कार्यक्रम का उद्देश्य बताते हुए मानव जीवन में सिंगल यूज प्लास्टिक उपयोग नही करने, उपयोगित प्लास्टिक का पुर्नउपयोग करने के बारे जानकारी दी गई। डॉ. अनीता सावंत क्षेत्रीय अधिकारी, छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मण्डल, भिलाई द्वारा आजादी का अमृत महोत्सव के अवसर पर ंिसंगल यूज प्लास्टिक के दुष्प्रभाव के बारे में छात्र-छात्राओं को बताया कि सिंगल यूज प्लास्टिक का विलोपन क्या है ? जिसके बारे में हम बात कर रहे हैं। ऐसा प्लास्टिक का कोई भी पदार्थ जिसे हम केवल एक ही बार इस्तेमाल करते है। वह सिंगल यूज प्लास्टिक है। आज हमारे पर्यावरण के समक्ष बहुत सी चुनौतियां हैं और आप सब जानते हैं।

कहने का तात्पर्य यह है कि आज हम जिन पर्यावरणीय चुनौतियों से गुजर रहे हैं, उसमें सबसे प्रमुख पर्यावरणीय चुनौती जल प्रदूषण, वायु प्रदूषण के अतिरिक्त प्लास्टिक अपशिष्ट का व्यवस्थापन, मैनेजमेंट और उसका निष्पादन है। आप सब जानते हैं कि प्लास्टिक ऐसे पदार्थों से मिलकर बनता हैं जिसे अगर जलाकर नष्ट करना चाहें तो ऐसी हानिकारक गैसें निकलती है जो न केवल पर्यावरण को प्रदूषित करती है, बल्कि मानव स्वास्थ्य एवं जीव-जन्तुओं के भी स्वास्थ्य को भी प्रभावित करती है।

 इसमें बहुत सारे अवयव ऐसे हैं, जो कैंसर कारक हैं। जैसे आप अगर किसी प्लास्टिक के कंटेनर में गरम-गरम किसी चीज को रख दें, तो उसमें ऐसे केमिकल्स निस्त्राव होते हैं, जो बहुत ही कैंसर कारक होते हैं। आप पेय पदार्थ स्ट्रॉ के माध्यम से पीते हैं तो वह स्ट्रॉ दोबारा यूज नहीं होता, बहुत से कैरी बैग्स जिसको हम इस्तेमाल करने के बाद फेंक देते है ये सभी सिंगल यूज प्लास्टिक है।

मैं आपको बताना चाहूंगी कि हमारे छश्रीसगढ़ में किसी भी प्रकार का प्लास्टिक कैरी बैग्स प्रतिबंधित है, चाहे वह मोटा या पतला हो। हर तरह का प्लास्टिक कैरी बैग का उपयोग नहीं करना है। जिनको हम एक बार इस्तेमाल करने के बाद दुबरा इस्तेमाल नहीं करते ऐसे प्लास्टिक सिंगल यूज प्लास्टिक कहलाती हैं। इसका डिस्पोजल एक बहुत बड़ी चुनौती है। उक्त कार्यक्रम में मेसर्स एसीसी लिमिटेड, जामुल सीमेंट वर्क्स, के अनिल कुमार (हेंड एच.आर.), डॉ. व्ही.एस. कपूर, (हेड पर्यावरण) हरवीर सिंह (इंचार्ज सिक्यूरिटी) व  क्षेत्रीय कार्यालय, छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मण्डल के शिव प्रसाद, नन्दकुमार पटेल, पंकज प्रधान, हरकिरत सिंह, घनश्याम भोई, एसके. चौरासिया, हेमशंकर उमरे तथा श्रम निकेतन स्कूल के शिक्षक-शिक्षिकाएं व स्कूली छात्र-छात्राओं रिया मेश्राम, भूमिका देवांगन, तिनू देवांगन, मिनाक्षी यादव, काजल वर्मा, विवेक महेतो, गुलाब वर्मा, शोभा शर्मा, ईशा पाण्डेय व लक्लीन कौर उपस्थिति थे। क्षेत्रीय अधिकारी डॉ. अनीता सावंत द्वारा कार्यक्रम के सफल आयोजन हेतु मेसर्स एसीसी प्रबंधन, स्कूल के प्राचार्य, शिक्षक-शिक्षिकाओं, समस्त छात्र-छात्राओं को धन्यवाद दिया गया। कु. व्ही. साहू (कार्यक्रम प्रभारी) के कुशल मार्गदर्शन में विषय ‘से नो टू प्लास्टिक’ पर स्कूली छात्र-छात्राओं द्वारा नाटक का मंचन किया गया। कार्यक्रम का संचालन स्कूल के शिक्षिका चित्रा देवांगन द्वारा किया गया।

सभी श्रमिक ई-श्रम पोर्टल में कराये अपना पंजीयन
12-Oct-2021 6:53 PM (32)

दुर्ग, 12 अक्टूबर। जिले में श्रमिकों का पंजीयन सतत् रूप से कराया जा रहा है। जिसमे पंजीयन हेतु श्रमिकों की आयु 18 से 59 वर्ष निर्धारित की गई है। ई-श्रम पोर्टल द्वारा पंजीयन  कराने के लिए सर्वोच्चय न्यायालय ने 31 दिसंबर की समयसीमा निर्धारित की है। जिसमें ई-श्रमिक पंजीयन से जुड़े हुए समस्त सीएससी को जिले में पंजीयन का लक्ष्य समयावधि में प्राप्त करने के लिए सहयोग प्रदान करने का निर्देश दिया गया है।

ई-श्रम पोर्टल में श्रमिक पंजीयन करा कर योजना का लाभ उठाये। वर्तमान में जिले में सीएससी और सेल्फ पंजीयन के द्वारा 25115 श्रमिकों का पंजीयन हो चुका है।

कुलपति देंगी शोध निर्देशकों-शोधार्थियों को मार्गदर्शन
12-Oct-2021 6:41 PM (25)

हेमचंद यादव विवि में पीएचडी की मौखिक प्रस्तुतिकरण परीक्षा समाप्त

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दुर्ग, 12 अक्टूबर। हेमचंद यादव विश्वविद्यालय, दुर्ग  में पी-एच.डी. कोर्स वर्क की मौखिक प्रस्तुतिकरण परीक्षा समाप्त हो गई। 1 से 11 अक्टूबर तक चली इस मौखिक प्रस्तुतिकरण परीक्षा में कुल 380 शोधार्थियों ने कुल 19 विषयों में अपने शोध विषय से संबंधित प्रस्तुतिकरण दिया।

प्रत्येक दिन मौखिक प्रस्तुतिकरण के दौरान विश्वविद्यालय की कुलपति, डॉ. अरूणा पल्टा, कुलसचिव, डॉ. सीएल देवांगन ने स्वयं उपस्थित होकर शोधार्थियों के द्वारा किये जाने वाले शोध कार्य का अवलोकन किया। यह जानकारी देते हुए विश्वविद्यालय के अधिष्ठाता छात्र कल्याण, डॉ. प्रशांत श्रीवास्तव ने बताया कि अनेक शोधार्थियों के प्रस्तुतिकरण के दौरान उपस्थित बाह्य विशय विशेषज्ञों तथा कुलपति ने शोध कार्य की संक्षेपिका एवं प्रस्तुतिकरण करने के तरीकें पर अनेक त्रुटियां पायीं। जिनका प्रस्तुतिकरण स्थल पर ही निराकरण करने का प्रयास किया गया। इन्हीं छोटी-छोटी त्रुटियों के निराकरण तथा प्रस्तुतिकरण की नई विधियों से शोधार्थियों एवं षोध निर्देषकों को अवगत कराने हेतु विश्वविद्यालय की कुलपति, डॉ. अरूणा पल्टा अगले सप्ताह मार्गदर्शन कक्षा लेंगी।

डॉ. श्रीवास्तव ने बताया कि प्रथम चरण में कुलपति, डॉ. पल्टा शिक्षा संकाय (एजुकेशन) के शोधार्थियों एवं षोध निर्देषकों की मार्गदर्शन कक्षा लेंगी। कक्षा की तिथि एवं समय की सूचना पृथक से प्रदान की जायेगी।

मौखिक प्रस्तुतिकरण परीक्षा में 55 प्रतिषत् से अधिक अंक प्राप्त करने वाले शोधार्थियों को अगामी 27 अक्टूबर 2021 को आयोजित होने वाली पीएचडी कोर्सवर्क संबंधी लिखित परीक्षा में भी 55 प्रतिशत् अंक पृथक से प्राप्त करना अनिवार्य होगा। यह परीक्षा ऑफलाईन पद्धति से 11 से 1 बजे के मध्य सेंट थॉमस कॉलेज, रूआबांधा, भिलाई में आयोजित की जायेगी। प्रत्येक शोधार्थियों को विश्वविद्यालय द्वारा जारी प्रवेश पत्र तथा एक फोटो युक्त पहचान पत्र (आधारकार्ड, पेन कार्ड, वोटर आईडी, ड्राइविंग लाइसेंस अथवा महाविद्यालय द्वारा जारी परिचय पत्र) लाना अनिवार्य होगा। बिना परिचय पत्र तथा कोरोना प्रोटोकॉल के पालन न करने पर शोधार्थी को लिखित परीक्षा में बैठने के अनुमति नहीं दी जायेगी।

शोधार्थी अपना प्रवेश पत्र 13 अक्टूबर के पश्चात् विश्वविद्यालय की अधिकृत वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के लिए आवेदन आमंत्रित
12-Oct-2021 6:40 PM (24)

दुर्ग, 12 अक्टूबर। प्रधानमंत्री रोजगार सृजन के कार्यक्रम के तहत स्वयं का रोजगार स्थापित करने के लिए वर्ष 2021-2022 हेतु आयोजन आवेदन आमंत्रित किए जाते हैं। योजना अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्र के उद्यमियों द्वारा स्वयं का उद्योग एवं सेवा व्यवसाय का कार्य हेतु आवेदन कर सकते हैं। जिसमें निर्माण कार्य को अधिकतम राशि 25 लाख एवं सेवा कार्य हेतु अधिकतम 10 लाख तक का ऋण बैंक के माध्यम से दिए जाने का प्रावधान है। ग्रामीण क्षेत्र के अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक तथा महिला, भूतपूर्व सैनिक, विकलांग वर्ग के हितग्राहियों को 35 प्रतिशत तथा सामान्य वर्ग को 25 प्रतिशत की मार्जिनमनी अनुदान का प्रावधान है। इस योजना का लाभ लेने हेतु हितग्राहियों को ऑनलाइन आवेदन करने के पश्चात आवेदन की हार्ड कॉपी/ प्रिंट आउट छत्तीसगढ़ खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड, जिला कार्यालय जिला पंचायत दुर्ग में 10 नवंबर तक जमा कर सकते हैं।

विस्तृत जानकारी हेतु ग्रामोद्योग बोर्ड, जिला पंचायत कार्यालय से संपर्क कर सकते हैं।

मां दुर्गा प्रतिमा विसर्जन को लेकर साफ-सफाई समेत व्यवस्थाओं का लिया जायजा
12-Oct-2021 6:14 PM (24)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 12 अक्टूबर।
नगर पालिक निगम आज महापौर धीरज बाकलीवाल एवं आयुक्त हरेश मंडावी ने एसडीएम विनय पोयम व एमआईसी सदस्य भोला महोविया, नोडल अधिकारी एमपी गोस्वामी, कार्यपालन अभियंता आरके पाण्डेय, स्वास्थ्य अधिकारी गिरीश दीवान, उपअभियंता विकास दमाहे दुर्ग थाना प्रभारी समेत स्वास्थ्य विभाग अमला के साथ शिवनाथ नदी और अन्य तालाबो पहुंचे। उन्होंने सफाई व्यवस्था का जायजा लिया, वहीं सफाई कर्मचारियों को शिवनाथ नदी और तालाब परिसर के विस्तृत सफाई करने के साथ ही तालाब के भीतर के झिल्ली, पन्नी एवं अन्य प्रकार के कचरे को सफाई करने के निर्देश दिए।

-आयुक्त हरेश मंडावी ने एसडीएम विनय पोयम,दुर्ग थाना प्रभारी और टीम के साथ निरीक्षण करते हुए ने कहा कि वार्ड 55 शिवनाथ नदी स्थित गुरुद्वारा के पास वार्ड 29 कसारिडीह, तालाब, वार्ड 57 व 58 उरला पौण्ड तालाब, विसर्जन हेतु पहुच मार्ग समतलीकरण, अस्थाई कुण्ड का निर्माण, वाटर फ्रूफ शामियाना और कुर्सी, टेबल और साफ सफाई की व्यवस्था के साथ डस्टबीन रखे, चिन्हित मूर्तियों विसर्जित स्थल पर पर्याप्त मात्रा में प्रकाश व्यवस्था और बैटरी सहित माइक रखें एवं स्थलों पर मूर्ति विसर्जन हेतु नाव सहित गोताखोर की व्यवस्था साथ ही विसर्जन के लिए क्रेन की व्यवस्था की जाए।

दुर्गा माता प्रतिमा विसर्जन शेष 4 दिन बचे है,ऐसे में प्रतिमा विसर्जन एवं जोत विसर्जन इत्यादि की परंपरागत गतिविधियां तेज हो जाती है। जिसको देखते हुए ऐसे तालाबों को चयनित कर सफाई की जा रही है। महापौर धीरज बाकलीवाल ने श्रद्धालुओं से अपील करते हुए कहा है कि पूजा से संबंधित सामग्री के विसर्जन के लिए तालाबों में निर्मित कुंड का ही उपयोग करें। ताकि तालाब स्वच्छ बना रहे।

महापौर धीरज बाकलीवाल ने नोडल अधिकारी एमपी गोस्वामी, कार्यपालन अभियंता आर.के पांडेय, स्वास्थ्य अधिकारी गिरीश दीवान को निर्देशित किया है कि नदी और तालाबो के घाट एवं परिसर भी साफ-सुथरा रहे, त्यौहार को देखते हुए शिवनाथ नदी एवं तालाब सफाई को प्राथमिकता से करने के निर्देश उन्होंने दिए हैं। निगमायुक्त हरेश मंडावी ने दुर्गा माता प्रतिमा विसर्जन शिवनाथ नदी और चिन्हित तालाबो में व्यवस्थाओं के लिये 19 अधिकारी एवं कर्मचारियों की टीम बनाकर जिम्मेदारी दी गई है।
मां दुर्गा माता प्रतिमा विसर्जन हेतु चिन्हित स्थलों किया जाएगा। इस कार्य के लिए नोडल अधिकारी एमपी गोस्वामी को नियुक्त किया गया है। इनके अलावा 18 अधिकारी एवं कर्मचारियों की ड्यूटी लगाकर जिम्मेदारी सौंपी गई।
 

बालिकाओं के अधिकारों के प्रति किया जागरूक
12-Oct-2021 6:11 PM (33)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 12 अक्टूबर।
राजेश श्रीवास्तव जिला एवं सत्र न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण दुर्ग के मार्गदर्शन एवं निर्देशन में आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत पैन इण्डिया आउटरिच कार्यक्रम के तहत दुर्ग में  अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के उपलक्ष पर राहूल शर्मा सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण दुर्ग एवं पैरा लीगल वालंटियर द्वारा बताया गया कि हर साल 11 अक्टूबर को ‘इंटरनेशनल डे ऑफ गर्ल चाइल्ड’ यानी कि ‘अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस’ मनाया जाता है। इस दिन को मनाने के पीछे का मुख्य उद्देश्य था बालिकाओ के विकास के लिए अवसरों को बढ़ाना और बालिकाओ की दुनियाभर में कम होती संख्या के प्रति लोगों को जागरूक करना, जिससे कि लिंग असमानता को खत्म किया जा सके। इस दिन को मनाने का उद्देश्य यह भी है कि समाज में जागरूकता लाकर बालिकाओं को वे समान अधिकार दिलाए जा सकें, जो कि लडक़ों को दिए गए हैं। बालिकाओं को सुरक्षा मुहैया कराना, उनके प्रति भेदभाव व हिंसा खत्म करना। बाल विवाह पर प्रतिबंध लगाना भी इस दिन को मनाने के कारणों में शामिल है।

‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ योजना की शुरुआत- बालिकाओं को संरक्षण और सशक्त करने के लिए ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ योजना की शुरुआत वर्ष 2015 में हुआ था। योजना के उद्देश्य बालिकाओं का अस्तित्व और सुरक्षा सुनिश्चित करना , बालिकाओं की शिक्षा सुनिश्चित करना, बालिकाओं को शोषण से बचाना व उन्हें सही/गलत के बारे में अवगत कराना, इस योजना का मुख्य उद्देश्य शिक्षा के माध्यम से लड़कियों को सामाजिक और वित्तीय रूप से स्वतंत्र बनाना है, लोगों को इसके प्रति जागरुक करना एवं महिलाओं के लिए कल्याणकारी सेवाएं वितरित करने में सुधार करना है।

भारतीय दंड संहिता, 1860 के तहत प्रावधान  भारतीय दंड संहिता की धारा 312 कहती है ‘जो कोई भी जानबूझकर किसी महिला का गर्भपात करता है जब तक कि कोई इसे सदिच्छा से नहीं करता है और गर्भावस्था का जारी रहना महिला के जीवन के लिए खतरनाक न हो, उसे सात साल की कैद की सजा दी जाएगी’। इसके अतिरिक्त महिला की सहमति के बिना गर्भपात (धारा 313) और गर्भपात की कोशिश के कारण महिला की मृत्यु (धारा 314) इसे एक दंडनीय अपराध बनाता है।

धारा 315 के अनुसार मां के जीवन की रक्षा के प्रयास को छोडक़र अगर कोई बच्चे के जन्म से पहले ऐसा काम करता है जिससे जीवित बच्चे के जन्म को रोका जा सके या पैदा होने का बाद उसकी मृत्यु हो जाए, उसे दस साल की कैद होगी धारा 312 से 318 गर्भपात के अपराध पर सरलता से विचार करती है, जिसमें गर्भपात करना, बच्चे के जन्म को रोकना, अजन्मे बच्चे की हत्या करना (धारा 316), नवजात शिशु को त्याग देना (धारा 317), बच्चे के मृत शरीर को छुपाना या इसे चुपचाप नष्ट करना (धारा 318)। हालांकि भू्रण हत्या या शिशु हत्या शब्दों का विशेष तौर पर इस्तेमाल नहीं किया गया है , फिर भी ये धाराएं दोनों अपराधों को समाहित करती हैं।

इन धाराओं में जेंडर के तटस्थ शब्द का प्रयोग किया गया है, ताकि किसी भी लिंग के भू्रण के सन्दर्भ में लागू किया जा सके।
 

70 वरिष्ठ नागरिकों को निशुल्क दवाई का वितरण
12-Oct-2021 6:06 PM (29)

दुर्ग, 12 अक्टूबर। आजादी का अमृत महोत्सव में प्रधानमंत्री, भारतीय जन औषधि परियोजना के तहत अत्यंत सस्ते मूल्य में गरीबों, नागरिकों, मरीजों को दवाइयां उपलब्ध कराने प्रधानमंत्री जनऔषधि केंद्र, ए मार्केट, सेक्टर सिक्स, भिलाई में आजादी का अमृत महोत्सव का आयोजन 10 अक्टूबर को आयोजन किया गया। जिसमे उपस्थित करीब 70 सत्तर वरिष्ठ नागरिकों को नि.शुल्क मेडिकल किट का वितरण  कार्यपालन अभियंता आर.के पांडेय और दवा केंद्र के संचालक क्र ांति अतुलकर, विक्रांत अतुलकर ने करीब 70 वरिष्ठ नागरिकों को निशुल्क मेडिकल किट का वितरण किया गया।

कार्यक्रम के अवसर पर मुख्य अतिथि दुर्ग नगर पालिक दुर्ग के कार्यपालन अभियंता राजेश पांडेय, ऑनरेरी समेजर एवं एक्स आर्मी, डीपी पात्रा, भिलाई, मार्केट के व्यापारी, नागरिक गण उपस्थित थे।
 

विज्ञान में अपडेट भी जरूरी, लेकिन संस्कृति को साथ लेकर, न कि उसे किनारे रखकर
12-Oct-2021 12:31 PM (30)

आईसीएफएआई विवि में आई टेक-साईंस अन्तरराष्ट्रीय सम्मेलन

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
कुम्हारी, 11 अक्टूबर।
आईसीएफएआई विश्वविद्यालय, कुम्हारी के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी तकनीकी विभाग द्वारा आई टेक- साईन्स 2021 अन्तरराष्ट्रीय सम्मेलन 8 व 9 अक्टूबर को आयोजित किया गया।  
प्रथम दिवस के प्रथम सत्र में इस अन्तरराष्ट्रीय सम्मेलन का उद्घाटन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में छत्तीसगढ़ निजी विश्वविद्यालय विनियामक आयोग के अध्यक्ष प्रो. डॉ. शिव वरण शुक्ला एवं विशिष्ट अतिथि के रूप में डॉ. उमेश कुमार, मिश्रा छत्तीसगढ़ निजी विश्वविद्यालय आयोग के सदस्य उपस्थित थे। विशेष अतिथि के रूप में प्रो. डॉ. रमा पांडे (भूतपूर्व आचार्य, रसायन शास्त्र) पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय, रायपुर रहे। इस आयोजन में विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. सत्यप्रकाश दुबे एवं कुलसचिव डॉ. रविकिरण पटनायक उपस्थित थे।

डॉ. मनोरंजन दास ने इस अन्तरराष्ट्रीय सम्मेलन के उद्देश्य पर प्रकाश डाला। आज वैज्ञानिक युग में तकनीकी काल हमारे समाज के लिए अत्यंत आवश्यक है, ये वास्तव में चितंन का विषय है। इसलिए दो दिवसीय सम्मलेन में देश से नहीं वरन् विदेशों से भी विषय विशेषज्ञ जानकारी देंगे।

विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. डॉ. एस. पी. दुबे ने अपने उद्बोधन में शिक्षा, विज्ञान और तकनीक की हमारे जीवन में क्या भूमिका है, इस पर प्रकाश डाला तथा कहा कि कोविड-19 ने हम सभी को एक नये स्वरूप में जीना सिखाया हैं। इसलिए विज्ञान और तकनीक का महत्व और अधिक बढ़ जाता है।

मुख्य अतिथि डॉ. शिव वरण शुक्ला ने कहा कि जीवन संस्कृति से विज्ञान पुष्पित और पल्लवित होता है। आज हम विज्ञान युग में जी रहे हैं। विज्ञान में अपडेट भी आवश्यक है, लेकिन संस्कृति को साथ लेकर, ना कि उसे किनारे रखकर।  वैज्ञानिक अनुसंधान, मशीन, सभी का सकारात्मक प्रयोग जीवन में विज्ञान के साथ संस्कृति और भौतिकता को जोडऩा ही हमें सफलता के चरमोत्कर्ष पर पंहुचा सकता है।

विशिष्ट अतिथि डॉ. उमेश कुमार मिश्रा ने विज्ञान एवं तकनीकी शब्दों का विस्तार से वर्णन किया।  डॉ. उमेश कुमार मिश्रा ने कहा कि हर एक टूल्स हमारे सामाजिक पंरपराओं के साथ चलते जाते है। जिनका उपयोग हम अपने दैनिक जीवन में विविध क्षेत्रों में करते है।
अन्तरराष्ट्रीय सम्मेलन के कन्वेनर डॉ. रवि श्रीवास्तव ने अत्यंत संक्षेप में विषय की भूमिका और महत्व पर प्रकाश डाला।

विशेष अतिथि प्रो. डॉ. रमा पांडे ने विज्ञान की प्राचीन एवं आधुनिक उपयोग एवं अंतर बताते हुए कहा कि विज्ञान की आज की पंरम्परा में विविध औषधियों का निर्माण सहजता से हो रहा है। उन्होने कैन्सर जैसे भयावह रोग के लिए अपने द्वारा बनाये प्रोजेक्ट को उदाहरण सहित बताया। इसमें 51 शोधपत्र 135  पंजीकरण 40 शोधकर्ताओं ने  अपने शोधपत्र पढ़ें। इ स अन्तरर्राष्ट्र्रीय सम्मेलन में यू.एस.ए, जर्मनी, डेनमार्क, म्यांमार, वांरगल, दिल्ली, पुणे, हैदराबाद, बैंगलुरू, रुडक़ी, पटना, उदयपुर, जयपुर, इंदौर, बी आई टी एस पिलानी सहित छत्तीसगढ़ के विभिन्न स्थान, कांकेर, दुर्ग, रायपुर से विषय विशेषज्ञों में डॉक्टर प्रो. रमा पांडे ने पी.पी.टी सह व्याख्यान देते हुए अपने विचार विषय पर साझा किए।

सम्मलेन के प्रथम दिवस मुख्य वक्ता के रूप में प्रो. डॉ. रमा पांडे व प्रो. रमेश सी. बंसल, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग विभाग, यूनिवर्सिटी ऑफ़ शारजाह, यू. ए. इ., से उपस्थित रहे। प्रथम दिवस विज्ञान एवं प्रोद्योगिकी के 25 शोधपत्र शोधार्थियों द्वारा पढ़े गए।
द्वितीय दिवस सम्मलेन के प्रथम सत्र में मुख्या वक्ता के रूप में श्री सुरेश कुमार बसेटटी, प्रोजेक्ट मेनेजर, टेक्ग्लोब इंक, शिकागो, यू.एस,ए. से वर्चुअल माध्यम से जुड़ कर अपना व्याख्यान प्रस्तुत किया।  सम्मलेन के द्वितीय सत्र में डॉ. जगजीत कौर सलूजा, प्रो. एवं विभाग प्रमुख, भौतिकी विभाग, साइंस कॉलेज, दुर्ग उपस्थित हो कर लुमिनिसेंस के क्षेत्र में अपना संबोधन प्रस्तुत किया।  

तृतीय सत्र के मुख्य वक्ता के रूप में सुश्री अमिथा कन्यामल्ला, प्री–साइ वेलिडेशन इंजिनियर, एन.टी.ई.एल. टेक्नोलॉजी्थस, मलेशिया, ने अपना व्याख्यान प्रस्तुत किया। द्वितीय दिवस के सम्मलेन में विभिन्न विभागों के 9 शोध पत्र शोधार्थियों द्वारा पढ़े गए।
समापन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में डॉ. अंजनी कुमार शुक्ला, भूतपूर्व अध्यक्ष, विश्वविद्यालय विनियामक आयोग, रायपुर उपस्थित रहे।  डॉ. अंजनी कुमार शुक्ला ने कहा कि इस तरह से उच्च स्तर के आयोजन निश्चित रुप से शिक्षा जगत के लिए सराहनीय कदम हैं। समाज शास्त्र के साथ विज्ञान के आधुनिक ज्ञान को समावेश करते हुए मुख्य अतिथि ने कहा कि विज्ञान का इस्तेमाल समस्या के समाधान के लिए किया जाये तथा पर्यावरण के सेहत का ख्याल रखा जाना भी अत्यंत आवश्यक है।

इस सम्मेलन में दो शोधार्थियों को अतिविशिष्ट पेपर अवार्ड प्रदान किया गया। अवार्ड के रूप में दो हज़ार रुपये एवम प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया । साथ ही आठ शोधार्थियों को विशिष्ट पेपर अवार्ड प्रदान किया गया, जिसमे एक हज़ार रुपये एवम् प्रशस्ति पत्र सम्मिलित हैं।
आयोजन में कुल 34 प्रतिभागी एवं विषय विशेषज्ञों ने ऑनलाईन जुडक़र पेपर प्रेजेटेशन किया। साथ ही देश एवं विदेश से लगभग 150 शिक्षक शोधार्थी एवं छात्र-छात्राओं ने इस सम्मेलन में ऑनलाईन माध्यम से अपनी उपस्थिति दर्ज कराई ।
मुख्य अतिथि अंजनी कुमार शुक्ल द्वारा इस सफल आयोजन के लिए विज्ञान एवं सूचना प्रौद्योगिकी विभाग की पूरी टीम को प्रशस्ति पत्र एवं स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया गया ।

कुलपति डॉ. सत्य प्रकाश दुबे एवं कुलसचिव डॉ. रविकिरण पटनायक ने इस सफल आयोजन के लिए पूरी टीम को बधाइयां दी ।
दो दिवसीय अन्तरराष्ट्रीय सम्मेलन में विश्वविद्यालय के सभी प्राध्यापकगण, एवं अतिथि सहित गणमान्य लोग उपस्थित थे।
 

युवा मोर्चा ने माता को 56 भोग लगाकर की सरोज के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना
12-Oct-2021 12:15 PM (32)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 11 अक्टूबर।
भारतीय जनता युवा मोर्चा, जिला-दुर्ग के द्वारा नवरात्र पर पंचमी के दिन राज्यसभा सांसद सरोज पाण्डेय के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की मंगलकामना करते हुए दुर्ग शहर के प्रसिद्ध व प्राचीन माँ चण्डी मंदिर एवं माता शीतला मंदिर में 56 भोग के साथ माता रानी का श्रृंगार व चुनरी अर्पण कर पूजन किया।

भाजयुमो जिलाध्यक्ष नितेश साहू के नेतृत्व में जिला भाजयुमो ने नवरात्र पंचमी के अवसर पर शहर के प्रसिद्ध माता चण्डी मंदिर व माता शीतला मंदिर में पूजा अर्चना कर माता रानी को 56 भोग के चढ़ावे के साथ श्रृंगार व चुनरी अर्पण कर भाजपा की  राष्ट्रीय नेता राज्यसभा सांसद सरोज पाण्डेय के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ के लिए प्रार्थना कर विशेष पूजा अर्चना किया गया। पूजा में मुख्य रूप से भाजपा प्रदेश मंत्री उषा टावरी, प्रदेश भाजपा कार्यसमिति सदस्य व पूर्व महापौर चंद्रिका चंद्राकर उपस्थित रहे।

भाजयुमो जिलाध्यक्ष नितेश साहू ने कहा कि विगत दिनों दुर्घटनावश सांसद सरोज पाण्डेय घर पर चोटिल हो गयी थी, गंभीर चोट लगने की वजह से रायपुर के ऐम्स अस्पताल में उनका ऑपरेशन हुआ है। पंचमी के शुभ दिन हम सभी युवा मोर्चा के साथियों ने माता रानी को 56 भोज लगा चुनरी व श्रृंगार अर्पण कर राज्यसभा सांसद सरोज के शीघ्र अतिशीघ्र स्वस्थ होने के लिए प्रार्थना किया है, माता की कृपा से वे जल्द स्वस्थ होकर आएंगी और पुन: जनसेवा और जनहित के कार्यों को आगे बढ़ाएंगी।

इस अवसर पर भाजपा जिला उपाध्यक्ष कांतिलाल जैन, भाजयुमो जिला महामंत्री तेखन सिन्हा व गौरव शर्मा, जिला उपाध्यक्ष राहुल दीवान, जिला कोषाध्यक्ष नितेश बाफना, जिला मंत्री मनीष साहू व अमित पटेल, जिला मीडिया प्रभारी चंद्रकांत साहू, मीडिया सह-प्रभारी नीलेश सिन्हा, जिला प्रचार प्रसार प्रमुख मुकेश सोनकर, राहुल भट्ट, बंटी देशमुख व हिमांशु सिंह, स्वाध्याय मण्डल जिला संयोजक नीलेश अग्रवाल, प्रशिक्षण प्रमुख नारायण दत्त तिवारी, भाजपा मंडल अध्यक्ष दीपक चोपड़ा, मंडल महामंत्री पोषण साहू, सुनील अग्रवाल व बंटी चौहान, मंडल उपाध्यक्ष रजनीश श्रीवास्तव, मंत्री प्रवीण सेन, जिला कार्यकारिणी सदस्य पीयूष मालवीय, राहुल पाटिल, कुंदन साहू, भाजयुमों मंडल अध्यक्ष राजा यादव, कन्हैया देवांगन व राहुल कुमावत, मंडल महामंत्री अनिकेत यादव, शुभम साहू, गोपू पटेल व फलेंद्र यादव, निरंजन दुबे, आशीष पाण्डेय,जीतू, अमन ताम्रकार, कृष्णा सिंग, राकेश देवांगन, गोलू ठाकुर ,जीतू नागरे, गणेश यादव, सुनील विश्वकर्मा, शुभम कोम्बे, दौलत, अविनाश राजपूत, बब्बू कोटवानी, धीरज देवांगन, यश देवांगन, प्रवीण यादव एवं चिंटू देवांगन सहित बड़ी संख्या में युवा मोर्चा के सदस्य  उपस्थित थे।