छत्तीसगढ़ » दुर्ग

27-Nov-2020 4:52 PM 26

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दुर्ग, 27 नवंबर। पैर में दर्द व तबियत ठीक नहीं रहने पर पीडि़ता का झाड़ फूंक कर इलाज करने के बहाने बैगा ने पीडि़ता व उसकी बहन के साथ रेप किया था। अपर सत्र न्यायाधीश (एसटीएफ) मधु तिवारी की कोर्ट ने आरोपी बैगा अर्जुनसिंह ठाकुर को धारा 376 (2) (2) के तहत दो मामले में मरते दम तक आजीवन कारावास तथा एक-एक हजार रुपए अर्थदण्ड की सजा सुनाई है। अभियोजन पक्ष की ओर से लोक अभियोजक बालमुकुन्द चंद्राकर एवं अतिरिक्त लोक अभियोजक पूजा मोंगरी ने पैरवी की थी।

पीडि़ता युवती के पैर में दर्द रहता था और तबियत बार-बार खराब होने पर वह इलाज के लिए अपने मामा के घर नेवई भिलाई आई हुई थी। मामा डॉक्टर से उसका इलाज करवा रहा था। इसी दौरान किसी ने बताया कि बैगा इसे ठीक कर सकता है। इसके बाद एक दिन वृद्ध बैगा अर्जुन सिंह ठाकुर (63) ग्राम ठेका काप्सीडीह थाना राजिम जिला गरियाबंद पीडि़ता के मामा के घर आया। उसने कहा कि इसकी तबियत ठीक हो सकती है, लेकिन पीडि़ता व उसकी ममेरी बहन को रात में मरघट में जाकर झाड़ फूंक करना पड़ेगा। इस दौरान परिवार का कोई सदस्य नहीं रहेगा। उस पर विश्वास कर मामा ने इलाज के लिए हामी भर दी। आरोपी बैगा ने 11 फरवरी 2016 को रात 7.30 बजे दोनों युवती को मरघट में लेकर गया। वहां दोनों को लेट जाने कहा. फिर उनके उपर चावल तथा चंदन लगाया। इसके बाद दोनों पीडि़ता को कोई होश नहीं रहा। आरोपी ने दोनों बहनों के साथ बलात्कार किया था।


27-Nov-2020 4:28 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भिलाई नगर 27 नवंबर ।
भिलाई स्टील सिटी चेंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष ज्ञानचंद जैन ने भिलाई इस्पात संयंत्र के मुख्य महाप्रबंधक नगर सेवाएं से आग्रह किया है कि भिलाई इस्पात संयंत्र द्वारा बकाया राशि वसूली के संदर्भ में जो योजनाबद्ध कार्यक्रम आरंभ किया गया है, वह स्वागत योग्य है।

श्री जैन ने कहा कि कोरोना संक्रमण के कारण एकमुश्त राशि का भुगतान नहीं कर पाने वाले बकाया धारों से राशि की वसूली में छूट देते हुए जो व्यापारी जितनी राशि जमा करना चाहता है उससे वह राशि जमा ली जानी चाहिए और जमा राशि पर उसे ब्याज में  छूट दिए जाने का प्रावधान भी किया जाना चाहिए यदि बीएसपी प्रबंधन इस तरह की सुविधाएं उपलब्ध नहीं कराता है तो संक्रमण के कारण व्यापार के चौपट होने से दुकानदार राशि का भुगतान करने में समर्थ नहीं होगा और मेहनत करके जो योजना बीएसपी प्रबंधन और चेंबर की सहमति से तैयार की गई थी। उसका लाभ भी ना प्रबंधन को मिलेगा और ना प्रभावित व्यापारी को ऐसी स्थिति में जब योजनाबद्ध तरीके से राशि वसूली की योजना तैयार की गई है तो बकायेदारों को छूट दी जानी चाहिए । ताकि जो भी बकाया राशि इस अभियान के तहत वसूली हो रही है। वह वसूली हो और उस पर प्रभावित व्यक्ति को छूट भी मिल सके।

ज्ञानचंद जैन ने मुख्य महाप्रबंधक  पी के घोष से टेलीफोन पर चर्चा कर  उक्त सुझाव दिया है ताकि योजना का लाभ प्रभावित व्यक्ति को मिल सके।
 


27-Nov-2020 4:04 PM 18

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 27 नवंबर। 
25 नवम्बर को अपेक्स बैंक के संवर्ग अधिकारी पंकज सोढ़ी ने मुख्य कार्यपालन अधिकारी के पद पर जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित दुर्ग में कार्यभार ग्रहण किया। इस अवसर पर बैंक अधिकारी/कर्मचारियों एवं कर्मचारी संघ पदाधिकारियों द्वारा उनका स्वागत किया गया। 

पूर्व सीईओ श्रीमती अपेक्षा व्यास का अपेक्स बैंक मुख्यालय रायपुर स्थानांतरण होने पर बैंक से कार्यमुक्त हुई। इस अवसर पर बैंक के अधिकारी/कर्मचारी द्वारा उन्हें विदाई दी गई। बैंक के सीईओ पंकज सोढ़ी द्वारा शाल, श्रीफल, प्रतीक चिन्ह से सम्मानित करते हुए दुर्ग बैंक में किये गये कार्य की प्रशंसा की। 

इस अवसर पर बधाई देने वालों में बैंक अधिकारी हृदेष शर्मा, सुश्री कुसुम ठाकुर, एस.के. निवसरकर, के.के. नायक, रोहित वर्मा, विनीत वर्मा, कर्मचारी संघ के पदाधिकारी धीरेन्द्र देवांगन, नंदकिशोर साहू, एन.एन. चन्द्राकर, नोडल अधिकारी राजेन्द्र वारे, सत्येन्द्र वैदे, शाखा प्रबंधक ए.एस. खान, दीनबंधु ठाकुर, मंजरी मेने सहित प्रधान कार्यालय दुर्ग में कार्यरत समस्त स्टॉफ उपस्थित थे।
 


27-Nov-2020 3:44 PM 13

शिविर के लिए आगरा रवाना

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दुर्ग, 27 नवंबर। हेमचंद यादव विश्वविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई के विभिन्न महाविद्यालयों से विश्वविद्यालय स्तर पर चयनित 5 एनएसएस स्वयंसेवकों का दल आगरा में 25 नवंबर से 4 दिसंबर तक आयोजित होने वाले पूर्व गणतंत्र दिवस परेड शिविर में शामिल होने के लिए रवाना हुए।

यह जानकारी देते हुए दुर्ग विश्वविद्यालय के एनएसएस मुख्य समन्वयक डॉ. आरपी अग्रवाल ने बताया कि राज्य स्तर पर चयनित ये स्वयंसेवक 10 दिनों के प्रशिक्षण के बाद 26 जनवरी 2021 में होने वाली गणतंत्र दिवस परेड राजपथ नई दिल्ली हेतु चयनित किये जाएंगे।

आगरा रवाना होने के पूर्व पांचों एनएसएस स्वयंसेवकों तामेश्वर वर्मा, शासकीय पं. जे. एल.एन पीजी महाविद्यालय डोंगरगढ़, उद्धव कुमार माता कर्मा महाविद्यालय गुंडरदेही, आर. सौजन्या शंकराचार्य महाविद्यालय जुनवानी भिलाई, चिकलेश्वरी शासकीय एकलव्य महाविद्यालय डौंडीलोहारा तथा  ज्योति वर्मा शासकीय महाविद्यालय पाटन ने दुर्ग विश्वविद्यालय की कुलपति डॉ. अरूणा पल्टा से सौजन्य भेंट कर उनका मार्गदर्शन प्राप्त किया।

चयनित स्वयंसेवकों को शुभकामनाएं देते हुए एनएसएस समन्वयक, डॉ. आर.पी.अग्रवाल तथा कुलपति डॉ. अरूणा पल्टा ने कहा कि इस प्रकार के राष्ट्रीय शिविर में सहभागिता से विद्यार्थियों के मन में एकता, अनुशासन एवं आत्मविश्वास बढ़ता है। अपने प्रदेश की संस्कृति को देश के अन्य राज्यों के विद्यार्थियों के समक्ष प्रस्तुत करने से गर्व की अनुभूति होती है। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के कुलसचिव, डॉ. सी एल. देवांगन, अधिष्ठाता छात्र कल्याण, डॉ. प्रशांत श्रीवास्तव, उपकुलसचिव, भूपेन्द्र कुलदीप सहित विभिन्न महाविद्यालय के एनएसएस अधिकारी तथा प्रतिभागी स्वयंसेवकों के पालकगण उपस्थित थे।

 

 


27-Nov-2020 3:41 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भिलाईनगर, 27 नवम्बर।
मोर मितान मोर संगवारी. कार्यक्रम के तहत सेक्टर भिलाई 3 मे 21 नवम्बर से 4  दिसंबर तक आयोजित पुरूष नसबंदी पखवाड़े के लिए हितग्राहियों की कार्यशाला आयोजित किया गया।

परिवार नियोजन संबध मे स्वास्थ्य सुपरवाइजर सैय्यद असलम ने बच्चों मे अंतर रखने की विधि के जानकारी देते हुए बताया कि अंतरा इंजेक्शन ,छाया गोली ,कापर टी ,माला एन ओर पुरूषों मे कंडोम जैसे साधनों को अपनाने से अंतर आसानी से ला सकते है। उपस्थित हितग्राहियों को एल एच व्ही  श्रीमती ए दत्ता ने बताया कि पुरूषों एंव महिलाओं के स्थाई साधनों मे नसंबदी सबसे अच्छा विकल्प है। छोटा परिवार सुखी परिवार के लिए चाहिए परिवार नियोजन साधन जरूर अपनाऐ । डा बेलचदन ने बताया कि कोविड 19 में अभी महिलाओं की नसबंदी नहीं हो पा रही है इसलिए पुरुषों को चाहिए कि पुरूष नसबंदी जो बिना चीर फाड ओर केवल दो टांके से आसानी से होता है। आपरेशन के बाद पुरुषों मे कोई कमजोरी नही आती है। सभी काम आसानी से कर सकता है। कार्यक्रम मे मुरली मनोहर वर्मा, सोनशीर देशलहरे, मितानीन रेहाना परवीन ओर दो बच्चों, तीन बच्चों वाले ,एक बच्चे वाले लोग उपस्थित थे।
 


27-Nov-2020 3:39 PM 20

जल प्रदाय सुचारू रूप से प्रारंभ

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भिलाई नगर 27 नवंबर ।
नगर पालिक निगम भिलाई के कर्मचारियों द्वारा 3 दिनों तक दिन और रात काम करने के पश्चात जलापूर्ति की क्षतिग्रस्त पाइप लाइन का संधारण कर दिया गया है, और जल प्रदाय प्रारंभ कर दिया गया है।

शिवनाथ नदी से आने वाली मुख्य पाइप लाइन जो कि दुर्ग पटेल चौक से होते हुए भिलाई के क्षेत्रों में पानी सप्लाई करती है। पटेल चौक के पास लीकेज होने के कारण जल प्रदाय प्रभावित हुआ था। इसे ठीक करने के लिए सोमवार से कार्य प्रारंभ किया गया और लगातार कर्मचारियों के द्वारा काम करने पर संधारण कार्य पूर्ण होने के पश्चात जल प्रदाय प्रारंभ कर दिया गया है! यह मुख्य पाइप लाइन से 77 एमएलडी और 66 एमएलडी के जल शोधन संयंत्र में पानी पहुंचता है। शुद्धीकरण होने के पश्चात निगम क्षेत्र की टंकियों में पानी की सप्लाई की जाती है! मुख्य पाइप लाइन में लीकेज होने के कारण इसका संधारण कार्य अति आवश्यक हो गया था। जिसके लिए सोमवार से शट डाउन लेने के तत्काल बाद कार्य प्रारंभ कर दिया गया, निगम के तकरीबन 30 कर्मचारी जिसमें इलेक्ट्रीशियन, प्लंबर, वेल्डर, तकनीकी कर्मचारी इत्यादि संधारण कार्य में जुटे हुए थे! खुदाई कार्य के दौरान पाइप लाइन से लगे हुए क्षेत्र में पत्थर निकलने पर इसे तोडऩे में काफी मशक्कत करनी पड़ी! समय के महत्व को देखते हुए पाइप को काटकर इसके भीतरी हिस्से से संधारण का कार्य किया गया! अधीक्षण अभियंता सत्येंद्र सिंह, कार्यपालन अभियंता  संजय शर्मा एवं उप अभियंता अर्पित बंजारे ने 3 दिनों तक फील्ड में रहकर अपनी उपस्थिति में संधारण कार्य पूर्ण कराया! गुरुवार की सुबह 7:00 बजे संधारण कार्य पूर्ण होने के पश्चात पानी सप्लाई की टेस्टिंग की गई! टेस्टिंग उपरांत जल शुद्धीकरण संयंत्र से उच्च स्तरीय जलागार को पानी सप्लाई किया जा रहा है! जलकार्य विभाग के प्रभारी उप अभियंता बसंत साहू ने जानकारी देते हुए बताया कि चंद्रा मौर्या, मदर टैरेसा नगर, खुर्सीपार, छावनी एवं गौतम नगर की टंकियों को रात तक पानी सप्लाई किया जाएगा तथा रात्रि से सुबह तक वैशाली नगर, हाउसिंग बोर्ड, कोहका, नेहरू नगर, स्मृति नगर, फरीदनगर एवं रिसाली की पानी टंकियों को भरा जाएगा! शुक्रवार को पूर्ण रूप से सभी के घरों में पानी मिल पाएगा।
 


27-Nov-2020 2:37 PM 21

गवलीपारा, राजेन्द्र पार्क के पास विकास कार्यों का लिया जायजा  

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 27 नवंबर।
महापौर धीरज बाकलीवाल ने आज शहर में चल रहे विकास कार्यों के अंतर्गत गवली पारा और राजेन्द्र पार्क क्षेत्र और सिकोला बस्ती वार्ड का भ्रमण कर निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया।

उन्होंने गवलीपारा में पुलिया निर्माण को तीन दिनों में पूरा कर अवगत कराने अधिकारी और ठेकेदार को निर्देश दिए। इस दौरान लोक कर्म प्रभारी अब्दुल गनी, एल्डरमेन अजय गुप्ता, सहा. अभियंता जितेन्द्र समैया व अन्य उपस्थित थे। नगर निगम द्वारा वार्ड 31 लंगूरवीर वार्ड के गवली पारा में अमृत मिशन का पाइप लाइन विस्तार कार्य के दौरान पुलिया को तोड़ दिया गया था, जिसका निर्माण किया जा रहा है। महापौर द्वारा निरीक्षण दौरान गवली पारा स्थित पुलिया का निरीक्षण करते हुए कहा यह मार्ग अधिक आवाजाही वाला है आम नागरिक परेशान हो रहे हैं। उन्होंने अमृत मिशन के ठेकेदार को बुलाकर तीन दिनों में पुलिया निर्माण पूरा कर अवगत कराने कहा। महापौर ने वार्ड 29 में राजेन्द्र पार्क से दादा-दादी, नाना-नानी पार्क तक सडक़ किनारे लगाये जा रहे पेवर ब्लाक कार्य का अवलोकन किया। उन्होंने सडक़ के दूसरे साईड भी पेवर ब्लाक निर्माण करने का प्रस्ताव बनाने अधिकारियों को निर्देश दिए। उन्होंने कहा सडक़ को बीच में खुला न छोड़ें, मार्ग में चलने वाले दिव्यांगों के अनुसार रेम्प भी बनायें। भ्रमण के दौरान महापौर ने वार्ड 16 सिकोला बस्ती के पार्षद खिलावन मटियारा से भी मुलाकात कर उनके वार्ड में चल रहे विकास कार्यों की जानकारी ली।
 


27-Nov-2020 2:36 PM 21

दुर्ग, 27 नवंबर। नशे के खिलाफ  दुर्ग पुलिस आरोपियों पर लगातार कार्रवाई कर रही है। इसके तहत नगर पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला एवं प्रशिक्षण उप पुलिस अधीक्षक चित्रा शर्मा के नेतृत्व में मोहन नगर एवं कोतवाली थाना पुलिस ने कार्रवाई करते हुए दो आरोपियों को गिरफ्तार किया। पकड़ाई महिला सहित दो आरोपियों के खिलाफ  नारकोटिक्स एक्ट की धारा 22 के तहत कार्रवाई की गई है। 

जियो खुलकर नशा मुक्ति अभियान के तहत दुर्ग पुलिस जिले में नशे के कारोबार को खत्म करने के लिए लगातार कार्रवाई कर रही है। टीम ने आरोपी प्रवीण मेश्राम निवासी महाराणा प्रताप भवन के पास दुर्ग को गिरफ्तार कर उसके पास से 150 नग अल्प्राजोलम टेबलेट तथा 51 मादक पदार्थ की पुडिय़ा जब्त की है। इसी तरह मोहन नगर थाना क्षेत्र में आरोपी पुष्पा कौर निवासी लोधीपारा उरला को पकड़ कर उसके पास से 225 नग नशीली टेबलेट जब्त की है।

 इस कार्रवाई में मोहन नगर थाना प्रभारी बृजेश कुशवाहा, उपनिरीक्षक पवन देवांगन, उपनिरीक्षक मोनिका साहू, देवदास भारती, आरक्षक जावेद खान, प्रदीप ठाकुर, धीरेंद्र यादव, राहुल दुबे एवं ड्रग इंस्पेक्टर गायत्री पटेल की विशेष भूमिका रही।

 


27-Nov-2020 2:35 PM 21

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 27 नवंबर।
खरीफ व रबी फसलों में किसानों के लिए राष्ट्रीय फसल बीमा योजना राज्य भर में लागू की गई थी। ऋण लेने वाले किसानों के खाते में बीमा योजना की राशि काटकर कृषि बीमा कार्यालय पंडरी में जमा किया जाना था, परन्तु राशि नहीं भेजे जाने से किसानों को नुकसान उठाना पड़ा। फोरम ने ग्राम खेरधा तहसील धमधा के 11 परिवादियों के पक्ष में फैसला दिया है। 

जिला उपभोक्ता फोरम के अध्यक्ष लवकेश प्रताप सिंह, सदस्य राजेन्द्र पाध्ये तथा लता चंद्राकर ने परिवादियों के पक्ष में फैसला दिया। परिवादियों की ओर से अधिवक्ता आदित्य ताम्रकार ने पैरवी की थी। ग्राम खेरधा के परिवादी नैनू लाल पिता निजाम सहित 11 किसानों ने ऋण लेकर खेती किया था, जिस पर बीमा को भी लागू किया गया था, लेकिन नियम के अनुसार प्रबंधक सेवा सहकारी समिति मर्यादित ग्राम नारधा तथा मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक द्वारा जिम्मेदारी निभाते हुए फसल बीमा की बीमित राशि भारतीय कृषि बीमा कंपनी पंडरी रायपुर में जमा किया जाना था, लेकिन कार्य में लापरवाही की गई. जिसके कारण किसानों को परेशान होना पड़ा। 

जिला फोरम ने ग्राम खेरधा निवासी नैनू लाल, गुमान, भूपेन्द्र, दिनेश, भुनेश्वर, रामेश्वर, वरूण, मदन, तुकाराम, साजिद, राजकुमार के पक्ष में फैसला सुनाया। फोरम ने आदेश दिया कि सभी परिवादियों की कुल बीमा राशि 2,04,469 रुपए, मानसिक क्षतिपूर्ति के प्रत्येक को 6-6 हजार रुपए तथा वाद व्यय के 1-1 हजार रुपए अदा करें।

 


27-Nov-2020 2:34 PM 23

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 27 नवंबर।
इलाज के दौरान चिकित्सकीय लापरवाही के कारण मरीज की मौत हो जाने पर अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ  फोरम ने फैसला सुनाया है।
फोरम के अध्यक्ष लवकेश प्रताप सिंह, सदस्य राजेन्द्र पाध्ये ने  अपोलो बीएसआर हॉस्पिटल के डायरेक्टर डॉ. दिलीप रत्नानी एवं युनाइटेड इंडिया इंश्योरेंस कंपनी को आदेश दिया कि वह परिवादी राज पंजवानी को 7 लाख 73 हजार रुपए अदा करें। 21 अगस्त 2015 को सीने में दर्द होने के कारण खेराजमल पंजवानी को बीएसआर हॉस्पिटल जुनवानी में इलाज के लिए भर्ती किया गया था। 24 अगस्त तक इलाज चलता रहा। प्रतिदिन इलाज के लिए रकम अस्पताल प्रबंधन द्वारा ली गई, परन्तु ऑपरेशन के बाद ही मरीज की मौत हो गई थी।
 


27-Nov-2020 2:33 PM 17

विश्वविद्यालय की टीम कर रही मॉनिटरिंग

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 27 नवंबर।
उच्च शिक्षा विभाग, छत्तीसगढ़ शासन के निर्देशानुसार हेमचंद यादव विश्वविद्यालय, दुर्ग के कुलसचिव एवं उनके साथ अधिकारियों की टीम द्वारा निजी महाविद्यालयों में चल रही ऑनलाइन कक्षाओं के आकस्मिक निरीक्षण से निजी महाविद्यालयों में खलबली मची हुई है। विश्वविद्यालय के कुलसचिव, डॉ. सीएल देवांगन ने बताया कि पिछले दो दिनों में उनके साथ दुर्ग विश्वविद्यालय के अधिष्ठाता छात्र कल्याण, डॉ. प्रशांत श्रीवास्तव एवं खेल संचालक, डॉ. ललित प्रसाद वर्मा की टीम ने छ: निजी महाविद्यालयों का निरीक्षण किया।

विश्वविद्यालय की कुलपति डॉ. अरूणा पल्टा के निर्देशानुसार निरीक्षण दल ने सेंट थॉमस कॉलेज भिलाई, स्वामी श्री स्वारूपानंद कॉलेज भिलाई, सेठ रतन चंद सुराना महाविद्यालय दुर्ग, शैल देवी महाविद्यालय अण्डा, रूंगटा कॉलेज गंजपारा दुर्ग तथा छत्रपति शिवाजी कॉलेज दुर्ग का सघन निरीक्षण किया।

कुलसचिव डॉ. देवांगन के अनुसार सभी निरीक्षण वाले महाविद्यालयों में ऑनलाईन कक्षाओं का संचालन संतोषप्रद था, परन्तु अधिकांश महाविद्यालयों में ऑनलाइन रूप से जुड़े विद्यार्थियों की संख्या पर्याप्त नहीं थीं। इस पर कुलसचिव डॉ. देवांगन ने सभी निजी महाविद्यालयों का निर्देशित किया कि वे अधिक से अधिक संख्या में विद्यार्थियों को ऑनलाइन कक्षाओं में जोडऩे हेतु हर संभव प्रयास करें। 
डॉ. देवांगन ने निजी महाविद्यालयों में प्राध्यापकों की कम संख्या में उपस्थिति पर भी आपत्ति करते हुए समस्त प्राचार्यों को निर्देशित किया कि महाविद्यालयों की कार्य अवधि में छत्तीसगढ़ शासन के निर्देशानुसार कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए सभी कार्य सम्पादित किए जाए।

विश्वविद्यालय के अधिष्ठाता छात्र कल्याण, डॉ. प्रशांत श्रीवास्तव ने निरीक्षण के दौरान ऑनलाइन रूप से जुड़े विद्यार्थियों से सीधी बातचीत भी की। अनेक विद्यार्थियों ने समय पर लिंक उपलब्ध न होने का जिक्र किया तो कई विद्यार्थियों ने कहा कि उनके पास उपलब्ध डाटा पैक की लिमिट के अनुसार एक घंटे की दो कक्षाओं में 1 जीबी डाटा पैक समाप्त हो जाता है, अत: वे बाकी कक्षाओं से नहीं जुड़ पाते। 

निरीक्षण टीम द्वारा प्रत्येक निजी महाविद्यालयों में प्राचार्य, प्राध्यापकों की उपस्थिति, ऑनलाइन कक्षा के विषय एवं उपस्थित छात्रों की संख्या संबंधी आंकडे भी एकत्रित कर प्रति सप्ताह उच्च शिक्षा विभाग, छत्तीसगढ़ शासन को पे्रषित किये जा रहे हैं। अनेक महाविद्यालयों में व्याख्यान कक्षों में कैमरे, कम्प्यूटर तथा माइक आदि की अच्छी व्यवस्था पायी गई। 

कुलपति डॉ. अरूणा पल्टा के अनुसार विश्वविद्यालय के निरीक्षण दल द्वारा पूरे वर्ष भर आयोजित होने वाली ऑनलाइन कक्षाओं का सघन निरीक्षण जारी रहेगा।
 


27-Nov-2020 2:13 PM 7

भिलाई नगर 27 नवंबर । दाउ वासुदेव चन्द्राकर कामधेनु विश्वविद्यालय, दुर्ग में कार्यरत डॉ.ओ.पी.मिश्रा निदेशक अनुसंधान सेवाएं को छत्तीसगढ़ शासन के पशुधन विकास विभाग ने छत्तीसगढ़ कामधेनु विश्वविद्यालय अधिनियम 2011 (संशोधित 2017) को धारा 22 उपधारा (2) के अंतर्गत विश्वविद्यालय के कार्य परिषद का पदेन सदस्य मनोनीत किया हैं। डॉ.ओ.पी.मिश्रा विश्वविद्यालय के विघा परिषद के सदस्य भी हैं। उनके मनोनयन पर विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ.एन.पी.दक्षिणकर एवं शिक्षकों ने बधाई एवं शुभकामनाएं दी।


26-Nov-2020 10:54 PM 58

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भिलाईनगर, 26 नवंबर।
जिला दुर्ग में आज 154 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं । आज एक संक्रमित मरीज की मौत भी हुई है । स्मृति नगर भिलाई एवं रेलवे कॉलोनी मरोदा से एक ही परिवार के चार चार सदस्य संक्रमित पाए गए हैं।

जिला कोविड-19 अस्पताल के प्रभारी डॉ अनिल शुक्ला ने बताया कि आज जिले से नए 154 कोरोना संक्रमित मरीजों की पुष्टि की गई है। आज एक पॉजिटिव मरीज की मौत भी हुई है। स्मृति नगर भिलाई से एक ही परिवार के चार सदस्य संक्रमित पाए गए हैं जिसमें एक 78 वर्षीय बुजुर्ग दो किशोर क्रमश: 15 एवं 17 वर्ष, एक 45 वर्षीय महिला संक्रमित पाई गई हैं। इसी प्रकार से रेलवे कॉलोनी मरोदा में एक ही परिवार के चार सदस्य संक्रमित पाए गए हैं जिसमें दो बालक क्रमश: 6 एवं 12 वर्ष एवं 2 महिलाओं में एक 35 वर्षीय एवं एक 58 वर्षीय शामिल है। रिसामा बाजार से एक ही परिवार के 3 सदस्य संक्रमित मिले हैं । तीनों ही महिलाओं में दो 20 एवं 23 वर्षीय युवती एवं एक 40 वर्षीय महिला शामिल हैं।

 


26-Nov-2020 7:16 PM 18

दुर्ग, 26 नवंबर।  हेमचंद यादव विश्वविद्यालय दुर्ग के 2017-18 वार्षिक एवं सेमेस्टर अंतिम वर्ष परीक्षाओं में  प्रावीण्य सूची में स्थान प्राप्त विद्यार्थियों का ऑनलाइन सम्मान समारोह 5 दिसंबर को दोपहर 1.30 बजे आयोजित होगा।

 यह जानकारी देते हुए विश्वविद्यालय के कुलसचिव डॉ. सी.एल. देवांगन ने बताया कि प्रावीण्य सूची में स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों का विवरण विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर शीघ्र उपलब्ध कराया जा रहा है। साथ ही इन विद्यार्थियों का विश्वविद्यालय के परीक्षा विभाग द्वारा 1 व्हाटसएप समूह भी बनाया जा रहा है। इन सभी विद्यार्थियों को ऑनलाइन सम्मान समारोह के दौरान कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रावीण्यता प्रमाण पत्र प्रदान करेंगे। प्रत्येक विद्यार्थियों को विश्वविद्यालय द्वारा पांच हजार रुपये राशि उनके बैंक खाते में जमा की जायेगी। डॉ. देवांगन ने 2017-18 की प्रावीण्य सूची में स्थान प्राप्त समस्त मेधावी विद्यार्थियों से आग्रह किया है कि वे अपने बैंक पासबुक की प्रथम पेज की छायाप्रति विश्वविद्यालय द्वारा निर्मित उनके व्हाट्सप ग्रुप में अनिवार्य रूप से 2 दिसंबर तक उपलब्ध करा दें, जिससे उन्हें विश्वविद्यालय द्वारा प्रदान की जाने वाली सम्मान राशि का समय पर भुगतान किया जा सकें।

विश्वविद्यालय के अधिष्ठाता छात्र कल्याण, डॉ. प्रशांत श्रीवास्तव एवं उपकुलसचिव, परीक्षा भूपेन्द्र कुलदीप द्वारा संयुक्त रूप से दी गई जानकारी के अनुसार इस ऑनलाइन सम्मान समारोह में प्रदेश सरकार के केबिनेट मंत्री मोहम्मद अकबर तथा रविन्द्र चौबे अतिथियों के रूप में उपस्थित रहेंगे। ऑनलाइन सम्मान समारोह से जुडऩे के लिए प्रत्येक प्रावीण्य सूची में स्थान प्राप्त विद्यार्थियों को पृथक से लिंक प्रदान किया जायेगा। ऑनलाइन समारोह की समाप्ति के पश्चात संबंधित प्रावीण्य सूची में स्थान प्राप्त विद्यार्थी कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए अपनी सुविधानुसार दुर्ग विश्वविद्यालय के परीक्षा विभाग में संपर्क कर अपने प्रावीण्यता प्रमाण पत्र की मूल प्रति प्राप्त कर सकते हैं। विश्वविद्यालय की कुलपति डॉ. अरूणा पल्टा ने 2017-18 की प्रावीण्य सूची में स्थान प्राप्त सभी विद्यार्थियों को बधाई दी।


26-Nov-2020 7:14 PM 17

भिलाई नगर, 26 नवम्बर। डॉ. शैलेन्द्र कुमार तिवारी अधिष्ठाता पशुचिकित्सा एवं पशुपालन महाविद्यालय, अंजोरा, दुर्ग एवं विभागाध्यक्ष पशु शल्य-चिकित्सा और विकिरण चिकित्सा विभाग हाल ही में संपन्न एनएवीएस के चुनाव में पुन: एक्जीक्यूटिव कौंसिल के सदस्य चयनित हुए हैं । इनका कार्यकाल 2020 से 2023 (तीन वर्ष) का रहेगा। पूर्व में भी डॉ.तिवारी 2017 से 2019 तक इसके सदस्य रहे हैं।

इस कौंसिल में छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, उड़ीसा, महाराष्ट्र, झारखंड राज्यों में से छत्तीसगढ़ के केवल डॉ. तिवारी ही चयनित हुए हैं। डॉ. तिवारी ने अपनी स्नातक एवं स्नातकोत्तर की दोनों उपाधियां स्वर्ण पदक के साथ जवाहर नेहरू कृषि विश्वविद्यालय जबलपुर (मध्य प्रदेश) से वर्ष 1983 एवं 1988 में क्रमश: उत्तीर्ण की है। डॉ. तिवारी ने पी.एच.डी. की उपाधि जी.बी. कृषि एवं तकनीकी विश्वविद्यालय, पंतनगर, उत्तराखंड से उत्तीर्ण की है। जिसमें उन्हें आई.सी.ए. आर, नई दिल्ली का सर्वोत्तम पी.एच.डी. थीसिस हेतु राष्ट्रीय स्तर के जवाहरलाल नेहरू अवॉर्ड से भी नवाजा जा चुका है। डॉ.तिवारी ने अपना कैरियर वेटनरी ऑफिसर के रूप में सन 1985 से प्रारंभ किया तथा 2003 से वे प्राध्यापक एवं विभागाध्यक्ष के रूप में कार्यरत हैं। इसी क्रम में 2014 में उनका चयन निदेशक शिक्षण हेतु हुआ । वर्तमान में डॉ. तिवारी ने अधिष्ठाता पशु चिकित्सा एवं पशुपालन महाविद्यालय अंजोरा, दुर्ग के पद में दिनांक 12 मार्च 2020 से कार्यरत है। इसके अतिरिक्त शैक्षणिक क्षेत्र में डॉ. तिवारी को अनेक पुरस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है जैसे कि बी.व्ही.एस.सी. एंड ए.एच. स्नातक उपाधि एवं एम.व्ही.एस.सी. एंड ए.एच. स्नातकोत्तर उपाधि हेतु गोल्ड मेडल, बेहर गोल्ड मेडल, पटवर्धन गोल्ड मेडल, जवाहरलाल नेहरू अवॉर्ड, आई.सी.ए.आर.जूनियर एवं सीनियर रिसर्च फैलोशिप, कॉमनवेल्थ फेलोशिप इत्यादि। डॉ. तिवारी का पशुचिकित्सा के शैक्षणिक अनुसंधान एवं विस्तार क्षेत्र में 32 वर्षों से अधिक का अनुभव है। उन्होंने अब तक 29 एम.व्ही.एस.सी. तथा 01 पी.एच.डी. छात्र को भी गाइड किया है। इसके अलावा डॉ.तिवारी को अन्य कई पुरस्कारों से भी सम्मानित किया जा चुका है जैसे कि बेस्ट टीचर अवॉर्ड, भारत ज्योति अवॉर्ड, ए.के. भार्गव मेमोरियल अवॉर्ड, पशुधन सिल्वर जुबली अवॉर्ड, कृषि शिरोमणी अवॉर्ड, एन.ए.व्ही.एस.फेलो अवार्ड, आई.एस.व्ही.एस. फेलो अवार्ड इत्यादि। डॉ.तिवारी आई.सी.ए.आर, नई दिल्ली के यूरोलिथिएसिस परियोजना के मुख्य अन्वेषक भी रह चुके हैं । डॉ. तिवारी ने अभी तक राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय स्तर के शोध पत्रिकाओं मे 269 से अधिक रिसर्च शोधों का प्रकाशन कर चुके हैं। इसके अलावा डॉ. तिवारी विगत 6 वर्षों से दाऊ  वासुदेव चंद्राकर कामधेनु विश्वविद्यालय, दुर्ग के विद्या परिषद्, प्रशासनिक परिषद्, एवं कार्य परिषद् के सदस्य के रूप में कार्यरत हैं। डॉ. तिवारी ने एनेस्थीसिया एवं एनाल्जेसिया विषय पर पुस्तक भी प्रकाशित की है। डॉ.तिवारी की इस उल्लेखनीय उपलब्धि पर विश्वविद्यालय के कुलपति महोदय डॉ. एन.पी.दक्षिणकर समस्त शिक्षकों एवं छात्र छात्राओं ने बधाई दी है।

 

 

 


26-Nov-2020 5:37 PM 18

दुर्ग, 26 नवंबर। जिला यादव ठेठवार महासभा महिला प्रकोष्ठ के नवनिर्वाचित पदाधिकारी द्वारा पहला 22 नवम्बर को अनमोल भवन कसारीडीह में दीवाली मिलन समारोह का आयोजन किया गया। 

बैठक में यादव ठेठवार महासभा के मातृशक्ति बड़ी संख्या में शामिल हो समाज को संगठित करने का प्रयास किया गया। मुख्य अतिथि डॉ. मानसी गुलाटी (स्त्रीरोग विशेषज्ञ) ने स्वस्थ से संबंधित विचार व्यक्त किए। जिलाध्यक्ष अहिल्या यादव ने बताया कि ज्यादा से ज्यादा वार्ड शहर स्तर में सदस्यता अभियान कर महिलाओं को समाज मे जोडक़र समाज को संगठित किया जाना है। 

दिवाली मिलन समारोह में महिला प्रकोष्ठ नवनिर्वाचित पदाधिकारी व समाज की मातृ शक्ति अहिल्या यादव (जिलाध्यक्ष) सुशीला यादव, माधुरी यादव, सुश्री गिरजा यादव, आरती यादव, कौशल्या यादव, दीक्षा यादव, रुभा यादव, चित्रलेखा यादव, इंदु यादव, अंजू यादव, पार्वती यादव, निक्की यादव, बिरानी यादव, केवरा यादव, गोमती यादव, आशा यादव, रानू यादव, बसंती यादव, रेखा यादव, तुलसी यादव, श्रद्धा यादव, रूखमणी यादव सहित अन्य शामिल हुए।
 


26-Nov-2020 5:35 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 26 नवंबर।
हेमचंद यादव विश्वविद्यालय दुर्ग के कुलसचिव डॉ. सीएल देवांगन, अधिष्ठाता छात्र कल्याण, डॉ. प्रशांत श्रीवास्तव एवं संचालक, खेल, डॉ. ललित प्रसाद वर्मा की टीम ने  भिलाई-दुर्ग के निजी महाविद्यालयों में चल रही ऑनलाइन कक्षाओं का औचक निरीक्षण किया।

यह जानकारी देते हुए विश्वविद्यालय के कुलसचिव, डॉ. सी. एल. देवांगन ने बताया कि विश्वविद्यालय की कुलपति, डॉ. अरूणा पल्टा के निर्देशानुसार गठित जांच दल द्वारा शंकराचार्य महाविद्यालय, जुनवानी, एम.जे कॉलेज, भिलाई तथा देव संस्कृति कॉलेज आफ  एजुकेशन, खपरी दुर्ग का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान इन तीनों महाविद्यालयों में प्राचार्यों एवं शैक्षणिक स्टॉफ की उपस्थिति तथा महाविद्यालय में चल रही ऑनलाइन कक्षाएं एवं कक्षाओं में ऑनलाइन रूप से उपस्थित छात्र-छात्राओं की जानकारी भी जांच दल के सदस्यों ने प्राप्त की, जिन ऑनलाइन कक्षाओं का निरीक्षण किया गया उनमें बीएससी प्रथम, बी.सी.ए. प्रथम, एमएससी गणित, बीएससी द्वितीय एवं तृतीय तथा बी.कॉम एवं बीएड तृतीय सेमेस्टर की कक्षाएं शामिल थीं। कुछ ऑनलाइन कक्षाओं में विद्यार्थियों की उपस्थिति काफी कम थी। जिस पर कुलसचिव डॉ. देवांगन ने इन महाविद्यालयों के प्राचार्यों को निर्देशित किया कि वे विद्यार्थियों को समय पर लिंक उपलब्ध कराने के साथ-साथ ऑनलाइन कक्षाओं में उपस्थित होने हेतु प्रेरित करें। 

उल्लेखनीय है कि उच्च शिक्षा विभाग, छत्तीसगढ़ शासन द्वारा प्रत्येक विश्वविद्यालय के कुलसचिव को उनके विश्वविद्यालय परिक्षेत्र के अंतर्गत आने वाले निजी महाविद्यालयों में संचालित हो रही ऑनलाइन कक्षाओं के सतत् निरीक्षण का दायित्व सौंपा गया है। इसी आदेश के परिपालन में दुर्ग विश्वविद्यालय के निरीक्षण दल ने विभिन्न निजी महाविद्यालयों का निरीक्षण किया। 

विश्वविद्यालय के अधिष्ठाता छात्र कल्याण, डॉ. प्रशांत श्रीवास्तव ने बताया कि उपरोक्त तीनों महाविद्यालयों में ऑनलाईन कक्षाओं का संतोषप्रद संचालन पाया गया। उच्च शिक्षा विभाग के निर्देशानुसार प्रतिदिन विश्वविद्यालय का निरीक्षण दल विभिन्न निजी महाविद्यालयों का निरीक्षण करेगा। डॉ. श्रीवास्तव ने समस्त निजी महाविद्यालयों से आग्रह किया है कि वे ऑनलाइन कक्षाओं का सफल रूप से संचालन के साथ-साथ पढ़ाये गये विषय, कक्षा, टॉपिक तथा उपस्थित छात्र-छात्राओं की संख्या की जानकारी अपडेट रखें। महाविद्यालय से प्राप्त जानकारी को प्रति सप्ताह उच्च शिक्षा विभाग, छत्तीसगढ़ शासन को प्रेषित किया जायेगा।
 


26-Nov-2020 5:28 PM 17

दुर्ग, 26 नवंबर। राजीव गांधी किसान न्याय योजना में खरीफ 2020 में जिन कृषकों द्वारा सोयाबीन, मूंगफली, तिल, अरहर, मूंग, उड़द, कुल्थी, रामतिल, कोदो, कुटकी एवं रागी फसल बोया गया था, उनके बोये गये रकबे का पंजीयन संबंधित सेवा सहकारी समितियों के माध्यम से प्रारंभ हो गया है। 

ऐसे कृषक योजना में प्रावधानित फसलों के रकबे का पंजीयन के लिए पंजीयन फार्म में अपना पूर्ण विवरण भरकर अपने संबंधित सेवा सहकारी समिति में सत्यापन एवं पंजीयन हेतु जमा करेंगे। इस योजना में कृषकों को पूर्ण रूप से भरे हुये आवेदन पत्र (प्रपत्र-1) के साथ आवश्यक अभिलेख जैसे ऋण पुस्तिका, आधार कार्ड एवं बैंक पास बुक की छायाप्रति संबंधित प्राथमिक सहकारी समिति में जमा करना अनिवार्य होगा। सहकारी समितियों को कृषकों का पंजीयन 30 नवम्बर तक अनिवार्य रूप से करना होगा।  क्षेत्र के ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी द्वारा कृषकों के आवेदन पत्र का सत्यापन भुईयां पोर्टल में प्रदर्शित संबंधित मौसम के गिरदावरी के आकड़ों के आधार पर किया जायेगा। सत्यापन उपरांत कृषक को संबंधित सहकारी समिति में पंजीयन कराना होगा। समय-सीमा में पंजीयन कराने वाले कृषको को सोयाबीन, मूंगफली, तिल, अरहर, मूंग, उड़द, कुल्थी, रामतिल, कोदो, कुटकी, एवं रागी फसल के लिए आदान सहायता राशि देने का प्रावधान शासन द्वारा तय किया गया है।

 इन फसलों के लिए  आदान सहायता राशि की गणना संबंधित फसलों के गिरदावरी के अनुसार भुईयां पोर्टल में संधारित रकबा के आधार पर आनुपातिक रूप से की जावेगी। उपरोक्त प्रक्रिया के तहत प्राप्त कृषकों के डेटाबेस के आधार पर नोडल बैंक द्वारा आदान सहायता राशि सीधे कृषकों के खातों में अंतरित की जावेगी। अपंजीकृत कृषकों को योजनान्तर्गत आदान सहायता अनुदान की पात्रता नहीं होगी। योजनान्तर्गत शामिल फसलों के अतिरिक्त अन्य फसल जैसे यथा धान, मक्का एवं गन्ना पर आदान सहायता राशि देय नहीं होगा। किसान अपने क्षेत्र के ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी से पंजीयन आवेदन प्राप्त कर सकते है। अधिक जानकारी के लिए कृषि विभाग के टोल फ्री नं. 0788-2323755 के माध्यम से संपर्क कर सकते हैं।
 


26-Nov-2020 5:10 PM 20

दुर्ग, 26 नवंबर। पद्मनाभपुर क्षेत्र में मोटरसाइकिल चोरी करने वाले तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इनके पास से 13 मोटर साइकिल जब्त की गई है, जिसकी कीमत 6 लाख 50 हजार आंकी गई है। 

शहर में चोरियों के मामले में कमी लाने के उद्देश्य से एडिशनल एसपी रोहित झा, नगर पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला के मार्गदर्शन में पद्मनाभपुर चौकी प्रभारी नरेश सार्वा की टीम चोरों की पतासाजी में लगी हुई थी। पुलिस को सूचना मिली कि जेल तिराहा चौक में 3 लडक़े अपनी-अपनी मोटरसाइकिल पर बैठे हुए हैं और तीनों ही अपनी गाड़ी के लिए ग्राहक की खोज कर रहे हैं। मौके पर पहुंची टीम ने आरोपी राजीव साहू निवासी जेल तिराहा के पास दुर्ग, राकेश साहू निवासी भैंसबोर्ड बिरेझर जिला धमतरी तथा आरोपी मोहम्मद सिरात निवासी उरला वाम्बे आवास को पकड़ा। पूछताछ में तीनों आरोपियों ने कुंदरा पारा दारु भट्टी, पोटिया चौक दारु भट्टी, बटालियन के सामने दारु भट्टी, धमधा रोड चिखली तथा जिला धमतरी क्षेत्र में मोटर साइकिल चोरी करने की बात स्वीकारी।
 


26-Nov-2020 5:09 PM 21

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 26 नवंबर।
धारदार चाकू से प्राणघातक हमला करने वाले आरोपी को कोर्ट ने 2 वर्ष की सजा सुनाई है। सप्तम अपर सत्र न्यायाधीश मधुसुदन चंद्राकर की कोर्ट ने आरोपी मनीष उर्फ जानू के खिलाफ फैसला सुनाया है। अभियोजन पक्ष की ओर से अतिरिक्त लोक अभियोजक सत्येन्द्र सिंह ने पैरवी की थी। 

3 दिसम्बर 2018 की दोपहर 1.30 बजे विशाल आहूजा अपने दोस्त राहुल बिहारी से मिलने ओव्हरब्रिज ग्रीन चौक के पास से जा रहा था। इसी दौरान आरोपी मनीष उर्फ जानू जसवानी ने विशाल को नेतागिरी करते हो, कहकर चाकू से गर्दन के पास और चेहरे पर हत्या की नीयत से गंभीर वार कर दिया था। घायल विशाल को पहले जिला अस्पताल में भर्ती किया गया, वहां से उसे सेक्टर 9 रिफर किया गया था। प्रार्थी सुदामा लाल की शिकायत पर मोहन नगर पुलिस ने धारा 307, 394 के तहत मामला दर्ज किया गया था। न्यायालय ने अपराध की प्रकृति एवं उसमें दिए गए दण्ड की मात्रा देखते हुए अभियुक्त को धारा 324 के तहत 723 दिन (लगभग 2 वर्ष) की सजा सुनाई है।