छत्तीसगढ़ » दुर्ग

Date : 16-Sep-2019

सुराना महाविद्यालय में हिन्दी दिवस पर कई आयोजन

दुर्ग, 16 सितंबर। सेठ आरसीएस कला एवं वाणिज्य महाविद्यालय के हिन्दी विभाग द्वारा हिन्दी दिवस का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में महाविद्यालय की वरिष्ठ प्राध्यापिका व विभागाध्यक्ष अर्थशास्त्र डॉ. किरण तिवारी व वाणिज्य विभाग के विभागाध्यक्ष डी. आर. भावनानी मंचस्थ थे। छात्र-छात्राओं के बीच हिन्दी दिवस के उपलक्ष्य में स्लोगन प्रतियोगिता व निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। डॉ. किरण तिवारी ने कहा कि वर्तमान परिवेश में अंग्रेजी के बढ़ते हुए प्रभाव के कारण अपने हिन्दी भाषा को कमतर न समझे, हिन्दी हमारी राष्ट्र भाषा है उस पर हमें गर्व करना चाहिए। डी.आर. भावनानी ने कहा कि अपनी राष्ट्रभाषा का सर्वाधिक प्रयोग करें। कार्यक्रम का संचालन व आभार प्रदर्शन हिन्दी विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ. दुर्गा शुक्ला ने किया। इस अवसर पर महाविद्यालय के छात्र-छात्राएं व प्राध्यापकगण उपस्थित थे।


Date : 16-Sep-2019

ठगड़ा बांध पर्यटन केंद्र बनाने विधायक ने मांगी राशि

दुर्ग, 16 सितंबर। प्रभारी मंत्री मोहम्मद अकबर की अध्यक्षता में हुई खनिज संस्थान न्यास निधि की बैठक में विधायक अरुण वोरा ने शहर के ठगड़ा बांध को पर्यटन केंद्र के रूप में विकसित करने के लिए 10 करोड़ रु की राशि देने की मांग रखी।

विधायक वोरा ने कहा कि ठगड़ा बांध 50 एकड़ से भी अधिक क्षेत्रफल में फैला हुआ है जिसे पिकनिक स्पॉट के रूप में विकसित किए जाने की लंबे समय से मांग की जा रही है। निगम ने इसके लिए 14 करोड़ का प्रस्ताव तैयार किया है, परंतु क्रियान्वयन नहीं किया जा रहा है। खनिज न्यास निधि से राशि देकर ठगड़ा बांध का गहरीकरणए संवर्धन व संरक्षण करने के साथ साथ इसे मनोरंजन केंद्र के रूप में विकसित करने से ना सिर्फ आस पास के भूमिगत जलस्तर में वृद्धि होगी अपितु शहर की जनता को पर्यटन के लिए स्थान मिलेगा।

 उन्होंने शहर के सौंदर्यीकरण के साथ साथ लोगों की सुविधा के लिए इंदिरा मार्केट से अग्रसेन चौक तक नवनिर्मित डिवाइडर में ट्यूबलर पोल लगा कर प्रकाश व्यवस्था करवाने के लिए 17 लाख की राशि भी खनिज न्यास से देने का भी आग्रह प्रभारी मंत्री एवं कलेक्टर से किया।


Date : 16-Sep-2019

जाबो कार्यक्रम से रूबरू हुए बीआईटी कॉलेज के छात्र-छात्राएं

छत्तीसगढ़ संवाददाता

दुर्ग, 16 सितंबर। जिला प्रशासन एवं नगर निगम दुर्ग द्वारा बीआईटी कॉलेज में जाबो कार्यक्रम के अंतर्गत मतदान जागरूकता अभियान के बारे में कॉलेज के छात्र-छात्राओं को जानकारी दी गई। कार्यक्रम में उपस्थित शिक्षकों व विद्यार्थियों को मतदान करने एवं मतदाताओं को मतदान करने के लिए शपथ भी दिलाई गई। इस मौके पर नोडल अधिकारी एव कार्यपालन अभियंता आर.के. पांडेय, नोडल अधिकारी डॉ. रामस्वरूप मरकाम, सह अभियंता जगदीश केशरवानी, बीआईटी के प्राचार्य डॉ. अरुण अरोरा, एस.के. सार, मलिका जैन, गौरव केशरवानी, संतोष मिश्रा, दलजीत वाधवा, योगेश साहू, कृष्ण सिन्हा के अलावा बीआईटी कॉलेज के कर्मचारी मौजूद थे।


Date : 16-Sep-2019

6 सौ ने दी पीएचडी प्रवेश परीक्षा

छत्तीसगढ़ संवाददाता

दुर्ग, 16 सितंबर। हेमचंद यादव विश्वविद्यालय, दुर्ग द्वारा सत्र 2019 हेतु ली गई पीएचडी प्रवेश परीक्षा में कुल 617 परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी। उक्त जानकारी शास. विश्वनाथ यादव तामस्कर स्नातकोत्तर स्वशासी महाविद्यालय, दुर्ग में आयोजित इस प्रवेश परीक्षा के केन्द्राध्यक्ष महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. आर.एन. सिंह एवं प्रवेश परीक्षा के नोडल अधिकारी डॉ. अनिल श्रीवास्तव द्वारा संयुक्त रूप से दी गई।

जानकारी के अनुसार कुल 68 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। दो पालियों में आयोजित इस पीएचडी प्रवेश परीक्षा का प्रथम प्रश्न पत्र सभी परीक्षार्थियों के लिए अनिवार्य था, जबकि द्वितीय प्रश्न पत्र में परीक्षार्थियों के विषय से संबंधित प्रश्न शामिल थे। परीक्षा के दौरान प्रथम प्रश्न पत्र में 50 प्रश्नों के उत्तर हेतु 60 मिनट का समय निर्धारित था। डॉ. अनिल कुमार ने बताया कि इस प्रवेश परीक्षा में छत्तीसगढ़ के साथ-साथ अन्य समीपवर्ती 6 राज्यों के परीक्षार्थी भी प्रवेश परीक्षा में शामिल हुये। विश्वविद्यालय के कुलसचिव डॉ. सी.एल. देवांगन के अनुसार पीएचडी प्रवेश परीक्षा के परिणाम सितम्बर माह के अंतिम सप्ताह अथवा अक्टूबर माह के प्रथम सप्ताह तक घोषित करने हेतु विश्वविद्यालय हर संभव प्रयास करेगा।

दुर्ग विश्वविद्यालय की कुलपति डॉ. अरूणा पल्टा के मार्गदर्शन में आयोजित इस प्रवेश परीक्षा का नोडल सेंटर साईंस कालेज, दुर्ग को बनाया गया था। परीक्षा के दौरान विश्वविद्यालय के कुलसचिव डॉ. सी.एल. देवांगन, सहायक कुलसचिव, डॉ. सुमीत अग्रवाल, उपकुलसचिव डॉ. राजमणी पटेल  तथा साईंस कालेज, दुर्ग के प्राचार्य डॉ. आर.एन. सिंह एवं नोडल अधिकारी डॉ. अनिल कुमार ने परीक्षा कक्षों का निरीक्षण किया। विश्वविद्यालय के कुलसचिव डॉ. सी.एल. देवांगन ने परीक्षा संचालन से संबंधित विभिन्न बिंदुओं का बारीकी से निरीक्षण कर जानकारी प्राप्त की तथा साईंस कालेज, दुर्ग द्वारा आयोजित पीएचडी प्रवेश परीक्षा आयोजन पर संतोष व्यक्त किया। वनस्पति शास्त्र, शिक्षा, बायोटेक्नालॉजी, अर्थशास्त्र, माइक्रोबायलॉजी, हिन्दी, अंग्रेजी, गणित, कॉमर्स, राजनीति शास्त्र, गृह विज्ञान, भौतिक, समाजशास्त्र, रसायन, प्राणी शास्त्र, इतिहास आदि विषयों में यह प्रवेश परीक्षा आयोजित की गई।

 

 

 

 


Date : 16-Sep-2019

बेटियां घर की रौनक-संजीवनी

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
दुर्ग, 16 सितंबर।
शासकीय डॉ. वामन वासुदेव पाटणकर कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय में वुमेन सेल के तत्वावधान में बदलते सामाजिक एवं सांस्कृतिक मूल्यों पर चर्चा हेतु नानी संग गोठ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस आयोजन में तीन पीढिय़ों को शामिल किया गया, नानी, मम्मी और बेटी। कार्यक्रम में प्राचार्य डॉ. सुशील चन्द्र तिवारी, कार्यक्रम की संयोजक एवं संचालक डॉ. रेशमा लाकेश, वरिष्ठ महिलाओं में संजीवनी श्रीवास्तव, वनमाला झा, एस.एस सिद्दकी, मनोरमा चौहान एवं श्रीमती ऐडिना मैरी फ र्नान्डीस ने हिस्सा लिया।संजीवनी श्रीवास्तव ने कहा कि बेटियां घर की रौनक है। वे घर में उमंग और उत्साह लाती है। बेटियां मायके से संस्कार लाती है जो दो परिवार को जोड़ता है। संस्कार ही परिवार की पहली पाठशाला है। संगोष्ठी में हिस्सा लेते हुए एमएससी की शिल्पी ने कहा कि पहले के समय की तुलना में आज लड़कियां अपने आपको ज्यादा असुरक्षित महसूस  करती है ऐसा क्यों? इसका जवाब देते हुए संजीवनी श्रीवास्तव ने कहा कि आज के परिवेश में असुरक्षित परिधान और निरंकुशता के कारण हमें कई दफे परेशानियों को सामना करना पड़ता है।

महाविद्यालय की प्राध्यापक डॉ. ऋचा ठाकुर ने कहा कि संस्कार पीढ़ी दर पीढ़ी आते है और हम लोग सारे सुधार की कवायद बेटियों के लिये करते है। अपेक्षाओं भी उन्हें से करते है पर बेटों को इन सबसे अलग रखते है। 

एसएस सिद्दकी ने कहा कि चाहे लडक़ा हो या लडक़ी संस्कार तो परिवार से ही मिलता है और परिवार में मां से बेहतर कोई मार्गदर्शक नहीं होता। श्रीमती वनमाला झा ने भारत की प्रमुख हस्तियों श्रीमती इन्दिरा गांधी, मदर टेरेसा और किरण बेदी का जिक्र करते हुए कहा कि इनका संघर्ष कम नहीं था और आज इन्होनें हम सबके लिये एक आदर्श प्रस्तुत किया है। संगोष्ठी में कार्यक्रम की संयोजक एवं संचालक डॉ. रेशमा लाकेश ने बताया कि बदलता सामाजिक और सांस्कृतिक मूल्य हमारी युवा पीढ़ी को अत्यधिक प्रभावित कर रहा है। इस अवसर पर श्रीमती मनोरमा चौहान, श्रीमती फर्नान्डीस ने भी छात्राओं को अपने अनुभव से परिचित कराया। छात्राओं की ओर से  हिमानी, निकिता साहू, यामिनी साहू, रेशमा साहू ने अपने विचार रखे। संगोष्ठी में महाविद्यालय के प्राध्यापक, छात्रायें बड़ी संख्या में उपस्थित थीं। आभार प्रदर्शन डॉ. ज्योति भरणे ने किया।

 


Date : 15-Sep-2019

मंदिर की सम्पत्ति पर दावा, कोर्ट ने खारिज की पुनरीक्ष

छत्तीसगढ़ संवाददाता

दुर्ग, 15 सितंबर। श्री किल्ला मंदिर लोक न्यास की सम्पत्ति पर अपना हक बताने वाले वादी के कोर्ट में प्रस्तुत पुनरीक्षण याचिका को निरस्त कर दिया है। तृतीय अतिरिक्त जिला न्यायाधीश ममता शुक्लाकी कोर्ट ने धारा 08 (2) छग लोक न्यास अधिनियम के आज्ञापक प्रावधान का पालन न किए जाने के कारण वादी का दावा निरस्त कर प्रकरण समाप्त करने का आदेश दिया है। 

 इस प्रकरण में अतिरिक्त शासकीय अधिवक्ता महेन्द्र कुमार राजपूत ने पैरवी की थी। लगभग 15 वर्ष पूर्व महंत गौतमानंद तत्कालीन सरवराकार के शिष्य महंत यज्ञानंद ने किल्ला मंदिर समिति की लगभग 3 करोड़ 95 लाख की चल-अचल सम्पत्ति पर स्वयं का हक बताते हुए व ट्रस्ट का विरोध करते हुए पंजीयक लोक न्यास में आवेदन दिया था कि ट्रस्ट नहीं बनाना चाहिए। पंजीयक लोक न्यास एवं एसडीएम दुर्ग ने पंजीयन कर दिया था। इस पंजीयन के खिलाफ सिविल कोर्ट में फाइल किया गया था। 3 करोड़ 96 लाख की प्रापर्टी बताकर पंजीयन निरस्त करने हाईकोर्ट में 27 जून 2018 को पीटिशन लगाया गया था।

निरस्तीकरण के खिलाफ हाईकोर्ट में लगाए गए पीटिशन पर लोक न्यास की ओर से अधिवक्ता अजय ठाकरे ने हाईकोर्ट में पैरवी की थी। हाईकोर्ट ने सिविल कोर्ट को आदेश दिया था कि वे सुनवाई कर निर्णय ले। 11 सितंबर को ममता शुक्ला की कोर्ट ने दावा को निरस्त कर दिया।
ण याचिका

 


Date : 15-Sep-2019

विकास के लिए निगम और बीएसपी एक साथ बनाएंगे प्लान

छत्तीसगढ़ संवाददाता
भिलाई नगर, 15 सितंबर।
नगर निगम भिलाई और बीएसपी अब एक साथ मिलकर भिलाई शहर के विकास के लिए योजना बना रहे हैं ताकि भिलाई के टाउनशिप सहित पटरीपार के इलाकों में रह रहे लोगों को बेहतर मूलभूत सुविधा मिले। इसके लिए लंबी चर्चा हुई और तय किया गया कि शहर के विकास के लिए बीएसपी का सहयोग मिलेगा। ऐसा पहली बार हो रहा है कि जब बीएसपी के अधिकारी निगम के साथ मिलकर विकास कार्य की योजना बना रहे हैं। इसके लिए बीएसपी के अधिकारी निगम से मिलकर पहल कर रहे हैं।

 सूत्रों की माने तो बीएसपी के ईडी केके सिंह सेक्टर 5 स्थित भिलाईनगर विधायक व मेयर देवेंद्र यादव के कार्यालय पहुंचे। जहां भिलाई के विकास के लिए लंबी चर्चा की गई। करीब दो घंटे तक हुई बैठक में बीएसपी से मिलने वाले टैक्स के विषय पर भी गंभीर चर्चा की गई। विधायक श्री यादव ने कहा कि बीएसपी समय पर निगम को जरूरी टैक्स देगी तो इससे शहर के विकास में काफी सहयोग मिलेगा। 

गौरतलब है कि निगम प्रशासन ने बीएसपी को टैक्स देने के लिए नोटिस जारी किया है। नोटिस के बाद से फिलहाल कोई पहल नहीं हुई है लेकिन मेयर व विधायक श्री यादव यादव के साथ बीएसपी के अधिकारी की सार्थक चर्चा से उम्मीद है कि जल्द ही बीएसपी बेहतर पहल करेगी। इसके आलावा बीएसपी क्षेत्र के वार्डों में निगम लगातार विकास कार्य कराती रही है। सडक़,नाली, गार्डन आदि विकास कार्य करा रही है। 

लोगों की सुविधाओं के लिए आगे भी निगम बीएसपी के साथ मिलकर ऐसे कई विकास कार्य कराएगी।


Date : 15-Sep-2019

भाजपा के इशारे पर झूठे प्रकरण दर्ज करने वाले पुलिस अफसरों की सूची सौंपी जाएगी- मंगेश वैद्य साहू 
छत्तीसगढ़ संवाददाता
भिलाई नगर, 15 सितंबर।
पंद्रह वर्षों के भाजपा शासनकाल के दौरान छत्तीसगढ़ में लोकतंत्र की जमकर धज्जियां उड़ाई गईं तथा संवैघानिक व्यवस्थाओं का गला घोंटा गया। कांग्रेस को नीचा दिखाने और अपमानित करने के लिए तरह-तरह के हथकंडे अपनाए गए। बेगुनाह कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं के खिलाफ झूठे मुकदमे दर्ज कराए गए। पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी भाजपा की कठपुतली बनकर काम करते रहे ऐसे प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों को बेनकाब करने के लिए उनके नामों की सूची जल्द ही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को सौंपी जाएगी। उक्त आरोप वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं समाजसेवी संगठन हिंद सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष मंगेश वैद्य साहू ने लगाए हैं। 

श्री वैद्य ने कहा कि छत्तीसगढ़ में पंद्रह सालों का भाजपा शासनकाल कालिखों से भरा हुआ तथा विपक्षियों पर जुल्मों-सितम का रिकार्ड बनाने वाला काल रहा है। विपक्षी दलों, खासकर कांग्रेस के नेताओं को नीचा दिखाने और अपमानित करने में भाजपा के सियासतदानों ने कोई कसर बाकी नहीं रखी। अंतागढ़ विधानसभा सीट के उपचुनाव मे कांग्रेस की सुनिश्चित जीत को भाजपा की जीत में तब्दील करने के लिए अपनाया गया हथकंडा भाजपाई साजिश का जीता-जागता उदाहरण है। मंगेश वैद्य साहू ने कहा कि अंतागढ़ के उप चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी मंतूराम पवार की जीत तय थी। कांग्रेस की इस संभावित जीत में सत्तासीन भाजपा को अपनी फजीहत होती दिखाई देने लगी। 

फजीहत से बचने के लिए भाजपा ने साम, दाम, दंड, भेद की नीति अपनाते हुए मंतूराम पवार पर उस कदर दबाव बनाया कि उन्हें अंतिम क्षणों में चुनावी मैदान से हटना पड़ गया। भाजपा ने इस उप चुनाव में करोड़ों का खेल भी खेला, इस बात खुलासा मंतूराम पवार ने मजिस्ट्रेट के समक्ष दिए गए अपने बयान में किया है। श्री पवार ने तत्कालीन मुख्यमंत्री डॉं. रमन सिंह और पुर्व मुख्यमंत्री अजित जोगी की इस खेल में संलिप्तता का जिक्र किया है। 

श्री वैद्य ने उस कृत्य को लोकतंत्र की हत्या करार देते हुए उसकी कड़ी निंदा की है। उन्होंने कहा कि भाजपा शासनकाल में विपक्षी दल कांग्रेस के नेताओं के खिलाफ दुराग्रहपूर्वक पुलिस में फर्जी मामले दर्ज कराए गए। तब के पुलिस अघिकारियों ने भी भाजपाई मंत्रियों व नेताओं का कृपापात्र बनने के लिए कांग्रेस नेताओं व कार्यकर्ताओं के खिलाफ धड़ाधड़ झूठे प्रकरण दर्ज कर लिए। तबके कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष भूपेश बघेल के विरूद्ध भी झूठे मामले बनाए गए थे। भाजपा के चाटुकार रहे ऐसे पुलिस अधिकारियों एवं कर्मचारियों को चिन्हित कर लिया गया है तथा उनके नामों की सूची भी तैयार कर ली गई है, यह सूची बहुत जल्द ही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल व गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू को सौंपी जायेगी, ताकि उन पुलिस अधिकारियों एवं कर्मचारियों पर सख्त कार्रवाई की जा सके।

 


Date : 15-Sep-2019

फोर्थ ओपन नेशनल यूनिट रूरल गेम्स चैंपियनशिप 2019 रायपुर में आयोजित की, उतई के दीपेश-सोमेंद्र का अंतरराष्ट्रीय खेल में चयन

छत्तीसगढ़ संवाददाता
उतई, 15 सितंबर।
फोर्थ ओपन नेशनल यूनिट रूरल गेम्स चैंपियनशिप 2019 रायपुर में आयोजित की गई, जिसमें दीपशिखा विद्यालय उतई के छात्र दीपेश कुमार सारंग ने उत्कृष्ट खेल का प्रदर्शन करते हुए 100 मीटर दौड़ में प्रथम स्थान और सोमेंद्र विश्वास ने क्रिकेट में तृतीय स्थान प्राप्त किया। दोनों खिलाडिय़ों का चयन नेपाल में आयोजित होने वाले इंटरनेशनल गेम्स में हुआ है। दोनों खिलाडिय़ों को  दीपशिखा विद्यालय उतई के सचिव डीएल सिन्हा प्राचार्य केआर सिन्हा और पालक शिक्षण समिति अध्यक्ष भूषण कौशल और  प्रधान पाठक एनके चंद्राकर और दीपशिखा विद्यालय परिवार की ओर से दोनों खिलाडिय़ों का उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए बधाई दी प्रेषित किया।


Date : 15-Sep-2019

राज्य स्तरीय साइकिल पोलो प्रतियोगिता की मेजबानी भिलाई को

छत्तीसगढ़ संवाददाता
भिलाई नगर, 15 सितंबर।
साइकिल पोलो की तीन वर्गों में राज्य स्तरीय प्रतियोगिता की मेजबानी भिलाई को मिली है। भिलाई होटल के सामने स्थित  दिव्यांग क्रिकेट ग्राउंड में उक्त तीनों राज्य स्तरीय प्रतियोगिताएं खेली जाएंगी। 

इसमें 8वीं सब जूनियर बालक एवं बालिका राज्यस्तरीय साइकिल पोलो प्रतियोगिता 25 से 28 सितंबर तक, 8वीं जूनियर बालक एवं बालिका राज्य स्तरीय साइकिल पोलो प्रतियोगिता 30 सितंबर से 3 अक्टूबर तक तथा 8वीं सीनियर पुरूष एवं महिला राज्य स्तरीय साइकिल पोलो प्रतियोगिता 5 अक्टूबर से 8 अक्टूबर तक खेली जाएगी।

 छत्तीसगढ़ साइकिल पोलो संघ के सचिव वीआर चन्नावर ने बताया कि यह प्रतियोगिताएं छत्तीसगढ़ साइकिल पोलो संघ, खेल एवं युवा कल्याण विभाग छत्तीसगढ़ शासन तथा भिलाई इस्पात संयंत्र साइकिल पोलो क्लब के संयुक्त तत्वावधान में हो रही हैं। उक्त तीनों प्रतियोगिताओं के अलावा पूर्व राष्ट्रीय सायकल पोलो प्रशिक्षण शिविर का आयोजन सायकल पोलो मैदान में किया जा रहा है। 

पूर्व राष्ट्रीय प्रशिक्षण शिविर सब जूनियर तथा जूनियर बालक बालिका 9 अक्टूबर से 7 नवंबर तक तथा पूर्व राष्ट्रीय प्रशिक्षण शिविर सीनियर पुरूष एवं महिला 10 नवंबर से 18 दिसंबर तक किया जा रहा है। 

राज्य स्तरीय प्रतियोगिताओं के लिए बीएसपी व दुर्ग जिले की टीमों का चयन भी होना है। 16 सितंबर से 23 सितंबर के बीच दुर्ग जिला व भिलाई इस्पात संयंत्र दल का चयन किया जाएगा। जिसमें सब जूनियर बालक बालिका तथा जूनियर बालक बालिका एवं सीनियर महिला पुरुष दल का चयन किया जाएगा। चयनित खिलाड़ी राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में भाग लेंगे।


Date : 15-Sep-2019

बच्चों ने इको फ्रेंडली गणेश प्रतिमा बनाकर पर्यावरण संरक्षण का दिया संदेश

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
भिलाई नगर, 15 सितंबर।
इंदु आईटी स्कूल के नर्सरी से कक्षा दूसरी तक के बच्चों ने इको फ्रेंडली गणेश प्रतिमा बनाकर पर्यावरण संरक्षण के प्रति अपनी प्रतिबद्धता का परिचय दिया। बच्चों ने मिट्टी की गणेश प्रतिमाएं गढ़ीं और इनमें एक-एक बीज भी छिपा दिया। मिट्टी में बीज इसलिए रखा गया ताकि विसर्जन के बाद जो पौधा विकसित होगा, वो गणपति बप्पा की याद दिलाएगा। 

गणेश प्रतिमा बनाने का प्रशिक्षण पृथ्वीराज परमार ने दिया। बच्चों ने इन मूर्तियों को प्राकृतिक रंगों का उपयोग करते हुए सजाया। शाला की डायरेक्टर श्रीमती मीनल उमक ने कहा कि मिट्टी की गणेश प्रतिमाएं प्रकृति का संरक्षण करने वाली तथा सुरक्षित होती हैं। उन्होंने बच्चों से अपने-अपने घरो में मिट्टी से स्वनिर्मित मूतिर्यों की स्थापना करने की अपील की। इस अवसर पर डाएरेक्टर एसएम उमक, यशोवर्धन उमक, प्राचार्य आलोक श्रीवास्तव, विंग इंचार्ज श्रीमती शिंपी भट्टी, शिक्षकगण सहित बच्चों ने भी भविष्य में मिट्टी की प्रतिमाओं की स्थापना करने का संकल्प लिया।

 


Date : 15-Sep-2019

एनसीसी कैम्प में सुरक्षित यातायात और सायबर अपराधों से बचने के दिए टिप्स

भिलाई नगर, 15 सितंबर। पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर यातायात जागरूकता हेतु सडक़ सुरक्षा संस्कार एवं साईबर क्राईम पर साईबर संगी अभियान के माध्यम से लोगों को जागरूक करने के लिए किये जा रहे कार्य में 14 सितंबर को एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन गर्व कॉलेज पुरई में चल रहे 10 दिवसीय एनसीसी के केम्प में किया गया। कार्यक्रम की शुरूआत में बच्चों यातायात नियम से संबंधित वीडियो क्लिप दिखाई गई।

 मुख्य अतिथि अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर रोहित झा ने बच्चों को सोशल साईड पर किसी भी अनजान व्यक्ति से दोस्ती न करने की सलाह दी गई। फेसबुक-ट्यूटर पर जिनके बारे में पूर्ण जानकारी है ऐसे लोगो से ही दोस्ती करने की सलाह दी गई, बच्चों से कहा कि वे किसी भी अनजान एवं किसी को भी कभी अपना निजी पासवर्ड शेयर न करें और न हीं अनजान कॉल पर अपनी पर्सनल जानकारी दें मोबाईल पर आये मेसेज-ई-मेल जिसमें आपको लालच के रूप में नगद ईनाम प्राप्त होती है ऐसे मेसेज पर दिये गये लिंक को कभी भी ओपन नहीं करना चाहिए। बच्चों से कहा गया कि साईबर अपराध के संबंध में दी जानकारी को वे माता पिता, अपने परिवार, दोस्तों को भी दें ताकि भविष्य में वे किसी भी प्रकार के साईबर अपराध से बच सकें। इसी कड़ी में पाटन अनुविभागीय अधिकारी आकाश राव द्वारा भी बच्चों को इंटरनेट के माध्यम से केवल सुरक्षित ऐप्स/लिंक के माध्यम से लेन देन करने की सलाह दी गयी और सोशल साईट पर अनावश्यक फोटो/मैसेज पोस्ट न करने की सलाह दी गई। उपस्थित जवानों को शपथ ग्रहण कराया गया कि वे भविष्य में स्वयं और अपने परिजन को सदैव यातायात के नियमों का पालन करेगें।

 कार्यक्रम के दौरान यातायात पुलिस विभाग से प्रधान आरक्षक राजमणी, प्रधान आरक्षक टुमन चतुर्वेदी, आरक्षक विजय शर्मा, आरक्षक भागीरथी, आरक्षक तिलक साहू, आरक्षक द्रोण साहू उपस्थित रहे।

 


Date : 15-Sep-2019

एनसीसी बटालियन दुर्ग द्वारा गर्व इंस्ट्टियूट ऑफ मैनेजमेंट एण्ड टेक्नोलॉजी दुर्ग में दस दिवसीय के आठवें दिन पीटी और योग के आलावा अनेक आयोजन

भिलाई नगर, 15 सितंबर। 37 छग एनसीसी बटालियन दुर्ग द्वारा गर्व इंस्ट्टियूट ऑफ मैनेजमेंट एण्ड टेक्नोलॉजी दुर्ग में दस दिवसीय एनसीसी का संयुक्त वार्षिक प्रशिक्षण शिविर-13 आरडीसी-1 के आठवें प्रशिक्षण दिवस में कैडेटों ने पीटी के साथ योगा का प्रशिक्षण प्राप्त किया। छात्र कैडेट्स द्वारा शिविर में सम्मान गार्ड मानटिंग का अभ्यास किया। आरडीसी कैडेट्स को कन्टीजेन्ट ड्रिल एवं मार्चिग एवं चलते-चलते दाहिने सेल्युट का अभ्यास कराया गया।पुलिस उपअधीक्षक गुरूजीत सिंह, हेड कांस्टेबल तिलक साहू द्वारा साइबर क्राइम ट्रैफिक कन्ट्रोल्स एवं विभिन्न डिजीटल बैंकिग में होने वाली ठगी के बारे में बताया गया। द्वितीय पाली में मैप रीडिंग में ग्राउन्ड से नक्शा एवं नक्शा से ग्राउण्ड देखने का प्रदर्शन करके दिखाया एवं सिखाया गया। खेल कूद की गतिविधियों में गोला फेक चक्र भेक का आयोजन किया गया। सांस्कृतिक कार्यक्रमों में आरडीसी कैडेट्स ने एनआईईपी और समूह नृत्य का प्रदर्शन किया।

 

 


Date : 15-Sep-2019

अण्डर ब्रिज मामले में गुमराह कर रहे हैं रेलवे अधिकारी - ताम्रकार

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
भिलाई नगर, 15 सितंबर।
भिलाई पावर हाउस रेलवे क्रासिंग पर वरिष्ठ मण्डल अभियंता लाईन दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे रायपुर द्वारा यह कहना कि निर्माणाधिन अंडर ब्रिज का कार्य पूर्णता की ओर है, को छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष राजेन्द्र ताम्रकार ने हास्यास्पद व गुमराह करने वाला बताया है।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष राजेन्द्र ताम्रकार ने विगत 27 मार्च को महाप्रबंधक दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे को एक ज्ञापन देकर भिलाई पावर हाउस रेलवे क्रॉसिंग पर बन रहे अंडर ब्रिज की चौड़ाई बढ़ाए जाने की मांग की थी। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अमीरचंद अरोरा दुर्ग जिला कांग्रेस कमेटी के पूर्व जिला प्रतिनिधि लल्लन तिवारी, छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी क्रमांक-1 के अध्यक्ष प्रभाकर जनबंधु एवं छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस सेवा दल के महामंत्री राजेश प्रसाद गुप्ता तथा जिला कांग्रेस कमेटी के सचिव परविंदर सिंह राज कुमार चौधरी महामंत्री दिनेश गुप्ता, लक्ष्मी नारायण सोनी, केआर साहू भरत लाल सिंह आदि ने कहा है कि भिलाई पावर हाउस चौक के पास से ही भिलाई के मुख्य मार्केट, जवाहर मार्केट सर्कुलर मार्केट सब्जी मंडी,फल मंडी, लिंक रोड, नंदिनी रोड आदि मार्केट क्षेत्र आता है और जिसके कारण बढ़ती हुई ट्रैफिक को देखते हुए निर्माणाधीन अंडर ब्रिज की चौड़ाई 7 मीटर से बढ़ाकर 10 मीटर तक बढ़ाने की मांग की गई थी परंतु रेलवे की अधिकारी ने यह कहकर टाल दिया कि अधिकांश पुसिंग का कार्य हो चुका है। अब चौड़ाई बढ़ाना असंभव है। वर्तमान में अंडर ब्रिज का कार्य पूर्णता की ओर है। उक्त जानकारी रेलवे के अधिकारी के द्वारा दी गई जिसे कांग्रेस के नेताओं ने गलत ठहराते हुए कहा कि वर्तमान समय में पावर हाउस साइड में सिर्फ गड्ढ़े खोद कर छोड़ दिया गया है और लगभग दो माह से अंडर ब्रिज का कार्य पूणत: बंद है और गड्ढे में बारिश का पानी भरा हुआ है जिसके कारण डेंगू फैलाने की आशंका है।

 


Date : 15-Sep-2019

बौद्ध कल्याण समिति का चुनाव 6 अक्टूबर को

भिलाई नगर, 15 सितंबर। बौद्ध कल्याण समिति कोसा नगर समिति का त्रिवार्षिक चुनाव संपन्न किया जा रहा है । इस संबंध में निर्वाचन हेतु नियम एवं शर्तें निश्चित की गई हैं। कार्यकारिणी सभा हेतु अध्यक्ष पद एक, उपाध्यक्ष पद दो, सचिव एक,  संयुक्त सचिव एक, कोषाध्यक्ष एक एवं दो सदस्यों के निर्वाचन हेतु चुनाव प्रक्रिया संपन्न की जाएगी। मुख्य चुनावअधिकारी आरएल वाहने एवं सहायक चुनाव अधिकार सेवानंद मेश्राम, एमसी गौरकर, मनोहर डोंगरे एवं धनंजय मेश्राम नियुक्त किए गए हैं। चुनाव की तिथि 6 अक्टूबर घोषित कर दी गई है। आवेदन फार्म वितरण तिथि 19 सितंबर तक,  आवेदन जमाकरने की तिथि 20 से 22 सितम्बर, आवेदन वापस लेने की तिथि 23 से 24 सितम्बर, दावा आपत्ति की तिथि 25 सितम्बर घोषित की गई है। प्रत्याशियों को आवेदन प्राप्त करने हेतु कार्यालय समय 10 बजे से 12 बजे तक एवं संध्या 5 बजे से 8 बजे तक रहेगा। मतदान के लिए चुनाव स्थल भीम मेला स्थान टोल नाका के पास कोसा नगर रहेगा।


Date : 15-Sep-2019

पोषण जागरूकता शिविर, कुपोषण और एनीमिया के दुष्प्रभाव को दूर करने के लिए पोषण जागरूकता शिविर का आयोजन  

उतई, 15 सितंबर। राष्ट्रीय पोषण माह के अंतर्गत एकीकृत बाल विकास परियोजना दुर्ग ग्रामीण के ग्राम धनोरा में महिला को सशक्त करने तथा कुपोषण और एनीमिया के दुष्प्रभाव को दूर करने के लिए पोषण जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया ।

आयोजन में आकर्षण का केंद्र ‘पोषण टुकनी’  रहा है। परियोजना अंतर्गत पूरे 221 आंगनबाड़ी केंद्रों में पोषण टुकनी रखा गया है, जिसका मुख्य उद्देश्य लोगों में पोषण के प्रति जागरूकता आए तथा साथ में स्थानीय स्तर पर उपलब्ध पौष्टिक भाजी, सब्जी और फलों का प्रतिदिन के भोजन में किस प्रकार उपयोग करें,  जिससे कुपोषण और एनीमिया को दूर किया जा सके। साथ आंगनबाड़ी केंद्रों में समुदाय का जुड़ाव हो, आंगनबाड़ी की सेवाओं को बेहतर तरीके से प्राप्त कर सके। इस अभिनव पहल के तहत प्रतिदिन आंगनवाड़ी में आने वाले बच्चे ,गर्भवती माता और समुदाय के अन्य लोगो को स्वेच्छा से हरी सब्जी, भाजी या अन्य खाद्य वस्तुएं रखे जाने हेतु प्रेरित किया जाता है। 

शिविर में अजय कुमार साहू परियोजना अधिकारी दुर्ग ग्रामीण ने गर्भवती माताओं को सप्ताह में तीन दिन कम से कम भोजन में भाजी को शामिल करने की बात कही। अक्सर यह होता है हम सभी अनजाने में सब्जी को पहले काटते हैं, फिर धोकर बनाते है जिससे पूरा विटामिन पानी में धुलकर बाहर निकल जाता है, जिससे सब्जी की पौष्टिकता एवं विटामिन समाप्त हो जाती है। अत: सब्जी को पहले धोना फिर काटकर बनाए जाने की समझाईश दी गई। साथ जो चावल हम अपने घरों में बनाते है उसकी पूरी पौष्टिकता माड़ के साथ बाहर आ जाती है। चावल की पौष्टिकता को बनाए रखने के लिए कम से कम सप्ताह ने तीन दिन चोवा भात खाने की सलाह दी गई। 

पर्यवेक्षक सोनल सोनी द्वारा गर्भवती और बच्चों में पाए जाने वाले एनीमिया के लक्षण,कारण, और इसे कैसे दूर कर सकते है के बारे में पूरी जानकारी प्रदान की गई। साथ स्थानीय स्तर पर उपलब्ध सामग्री का उपयोग प्रतिदिन भोजन में करने तथा 6 माह के तुरंत बाद ऊपरी आहार की शुरुआत करने के बारे बताया गया।

शिविर में क्षेत्र की जनपद सदस्य शशिकला देशलहरे द्वारा गर्भवती माता और 6 माह के बच्चों को अन्नप्राशन किया गया तथा कुपोषण को दूर करने के लिए सभी से शपथ भी करवाई गई। कार्यक्रम में महिलाओ,किशोरी बालिका,और पुरुषों की भागीदारी रही। महिलाओं के मनोरंजन के लिए कुर्सी दौड़, मटका फोड़, मोमबत्ती जलाओ व पोषण संबंधी प्रश्नोत्तरी भी रखा गया, जिसमें सभी विजेताओं को पुरस्कार भी प्रदान किया।

 शिविर में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा रेडी टू इट के प्रयोग व बनाने में तरीके पर नाटक का प्रस्तुति करन भी किया गया। 
कार्यक्रम में सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता परमा पटेल,अन्नपूर्णा साहू, इंद्रा फुलबांधे, राधा मधुकर, महिला समूहों के लोग उपस्थित रहे।


Date : 15-Sep-2019

बाजे-गाजे के साथ गणपति प्रतिमाओं का विसर्जन

उतई, 15 सितंबर। ग्राम महुदा में सभी गणेशोत्सव समिति मिलकर झांकी निकालकर गांव में भ्रमण कराने के बाद गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन करते हैं। सभी समिति एक साथ बाजार चौक में इक_े होते हैं, जिसके बाद सभी समिति मिलजुल गणेश प्रतिमा को झांकियों के रूप में गांव में डीजे, बाजे के साथ निकालकर तालाब में विसर्जन के लिए ले जाया जाता है। सभी समितियां बैंड बाजों के साथ नाचते गाते हुए तालाब के लिए रवाना होते हैं। बताया जाता है कि गणेश झांकी निकालने से दो दिन पहले सभी चौक-चौराहों की समितियों की मिटिंग होती है जिसमें लाटरी निकालकर प्रथम, द्वितीय क्रम तय होता है। जिसके बाद कतार में विसर्जन के लिए रवाना होते हैं।

 


Date : 15-Sep-2019

डीएमएफ की राशि का स्वास्थ्य, पोषण, शिक्षा, पेयजल आदि में प्राथमिकता से होगा उपयोग- अकबर

दुर्ग, 15 सितंबर। जिला खनिज न्यास निधि की शासी परिषद की बैठक दुर्ग जिले के प्रभारी मंत्री मोहम्मद अकबर की अध्यक्षता में हुई। बैठक में कलेक्टर अंकित आनंद द्वारा जिला खनिज संस्थान न्यास से संबंधित संशोधित नियमों की संक्षिप्त जानकारी दी गई।

 प्रभारी मंत्री श्री अकबर ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि डीएमएफ मद से खनन प्रभावित क्षेत्रों में प्रत्यक्ष रूप से प्रभावित लोगों का जीवन स्तर ऊंचा उठाने और उनके कल्याण के उद्देश्य से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा जनहित में नियमों में संशोधन किया गया है, जिससे निश्चित रूप से जनता को फायदा पहुंचेगा। स्वास्थ्य, पोषण, शिक्षा, पेयजल आदि क्षेत्रों में प्राथमिकता के आधार पर इस राशि का उपयोग किया जाएगा। राज्य सरकार के उद्देश्य के अनुरूप परिषद के सभी सदस्यों से जरूरत के मुताबिक प्रस्ताव आमंत्रित करें और खनन प्रभावित ग्रामों में प्राथमिकता तय करते हुए कार्य करें।

श्री अकबर ने कहा कि प्रदेश के मुखिया की स्पष्ट मंशा है कि कुपोषण के खिलाफ बड़ा अभियान चलाकर प्रदेशभर में लइका और महतारी के जीवन स्तर को बेहतर किया जाए। इसके लिए डीएमएफ की राशि का उपयोग किया जाएगा। खनन प्रभावित क्षेत्रों में संचालित आंगनबाड़ी केन्द्रों में सघन सर्वे कर आंगनबाड़ी की भौतिक स्थिति का आंकलन कर कार्य शुरू किया जाएगा। उन्होंने महिला एवं बाल विकास विभाग के सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि जमीनी स्तर पर मजबूती से काम करना होगा। उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी केन्द्र के माध्यम से संचालित सेवाओं द्वारा महिलाओं और बच्चों के पोषण स्तर में सुधार लाने के लिए डीएमएफ की राशि का इस्तेमाल किया जाएगा। बैठक में कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने कहा कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में प्राथमिकता तय करते हुए डीएमएफ की राशि का इस्तेमाल किया जाएगा। जिला अस्पताल में आम जनता के लिए अच्छी स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएगी, ताकि मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मिल पाएं। बैठक में बताया गया कि स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर बनाने के लिए 13.83 करोड़ रुपए के 98 कार्य स्वीकृत किए गए हैं, जिसमें से 49 कार्य पूर्ण एवं शेष प्रगतिरत है। बैठक में वित्तीय वर्ष 2019-20 की कायर्योजना पर विस्तार से चर्चा की गई। कलेक्टर अंकित आनंद ने बताया कि उच्च प्राथमिकता वाले क्षेत्र जैसे पेयजल, पर्यावरण संरक्षण, स्वास्थ्य, शिक्षा, कृषि, महिला एवं बाल विकास विभाग, नि:शक्तजन, कौशल विकास और स्वच्छता सेक्टर में लगभग 36 करोड़ रुपए के 97 कार्यों के प्रस्ताव प्राप्त हुए हैं।

खनिज उत्खनन से 92 ग्राम प्रत्यक्ष रूप से प्रभावित
बैठक में बताया गया कि जिले में 49 मुख्य खनिज पट्टेदार है, जिसमें 47 चूना पत्थर और 2 मोल्डिंग सेंड के पट्टेदार है। इसी प्रकार 151 गौण खनिज पट्टेदार जिसमें से 81 चूना पत्थर, 67 मिट्टी और 3 क्वर्टजाईट के पट्टेदार है। उल्लेखनीय है कि 92 ग्राम खनन से प्रत्यक्ष रूप से प्रभावित है. बैठक में दिसम्बर 2015 में डीएमएफ की स्थापना से लेकर अब तक के आय-व्यय की जानकारी भी दी गई। बैठक में बताया गया कि विगत तीन वर्षों में 121.50 करोड़ रुपए की राशि डीएमएफ मद में प्राप्त हुई है, जिसमें से लगभग 73 करोड़ रुपए के 2857 कार्य स्वीकृत हुए हैं। जिसमें से उच्च प्राथमिकता वाले क्षेत्रों में लगभग 82 प्रतिशत और अन्य प्राथमिकता वाले क्षेत्रों में 18 प्रतिशत राशि व्यय की गई है।

 

 


Date : 15-Sep-2019

जिला न्यायालय एवं तहसील न्यायालय में नेशनल लोक अदालत का आयोजन, निपटे 809 मामले

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
दुर्ग, 15 सितंबर।
राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली के निर्देश एवं गोविंद कुमार मिश्रा जिला न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण दुर्ग के निर्देशन में जिला न्यायालय एवं तहसील न्यायालय में नेशनल लोक अदालत का आयोजन शनिवार को किया गया। दुर्ग जिले में जिला न्यायालय दुर्ग, व्यवहार न्यायालय भिलाई-तीन एवं व्यवहार न्यायालय पाटन तथा किशोर न्याय बोर्ड, श्रम न्यायालय में नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया गया था। 

नेशनल लोक अदालत का शुभारंभ गोविंद कुमार मिश्रा जिला न्यायाधीश ने दीप प्रज्जवल कर किया। शुभारंभ पर कुटुम्ब न्यायालय के प्रधान न्यायाधीश निर्मल मिंज सहित सभी न्यायिक अधिकारी, अधिवक्ता संघ दुर्ग के अध्यक्ष गुलाब सिंह पटेल, सचिव रविशंकर सहित अन्य पदाधिकारी, अधिवक्तागण एवं अन्य संस्थानों के प्रबंधक उपस्थित रहे। नेशनल लोक अदालत हेतु कुल 42 खण्डपीठ का गठन किया गया था। परिवार न्यायालय दुर्ग हेतु 3 खण्डपीठ , जिला न्यायालय हेतु 34, तहसील न्यायालय पाटन हेतु 1 खण्डपीठ , तहसील न्यायालय भिलाई-3 हेतु 2 खण्डपीठ एवं किशोर न्याय बोर्ड हेतु 1 खण्डपीठ तथा श्रम न्यायालय दुर्ग हेतु 1 खंडपीठ का गठन किया गया था। नेशनल लोक अदालत में कुल 604 न्यायालयीन प्रकरण तथा कुल 205 प्रीलिटिगेशन प्रकरण निराकृत हुए। जिसमें कुल समझौता राशि 4,81,79,087 रुपए रही. निराकृत हुए न्यायालयीन प्रकरण में 325 दांडिक प्रकरण, 46 विद्युत के प्रकरण, क्लेम के 66 प्रकरण, 37 पारिवारिक मामले,  92  चेक अनादरण मामले, 36 व्यवहार वाद मामले तथा 2 प्रकरण श्रम न्यायालय के प्रकरण में निराकृत हुए।
पति-पत्नी द्वारा धारा- 13 बी हिन्दू विवाह अधिनियम के अंतर्गत आपसी सहमति से विवाह विच्छेद की डिक्री प्राप्त करने हेतु प्रकरण को न्यायालय में पेश किया था। न्यायालय द्वारा प्रकरण को नेशनल लोक अदालत में सुलह एवं समझाईश दिये जाने हेतु चिन्हांकित कर रखा गया। पक्षकारों को पीठासीन अधिकारी निर्मल मिंज, सदस्य शैलेन्द्र कुमार गुप्ता एवं श्रीमती सुलोचना बावरिया द्वारा किये गये अथक प्रयास कर समझाईश दी गई एवं परिवार को न तोडऩे की सलाह दी गई। पति-पत्नी ने अपना दाम्पत्य जीवन निर्वहन करने पर विचार करते हुए साथ रहने सहमत हुए। 

विभिन्न मोटर दुर्घटना दावा प्रकरणों के लिए गठित खंडपीठ में कुल 66 मोटर दुर्घटना के प्रकरण निराकृत हुए, जिनमें कुल एवार्ड की राशि 1,22,35,000 रुपए रही। विद्युत चोरी के कुल 46 प्रकरण के राजीनामा के आधार पर लोक अदालत में निराकृत करवाया गया। श्रीमती ममता शुक्ला के खंडपीठ न्यायालय में लंबित निष्पादन प्रकरण में पक्षकारों के मध्य निर्णय 21 जुलाई 1995 में पारित आज्ञप्ति आदेश से उत्पन्न हुए निष्पादन प्रकरण जो वर्ष 1998 से न्यायालय में लंबित था, का निराकरण पीठासीन अधिकारी द्वारा बहुत प्रयास किये जाने व समझाईश दिये जाने पर  प्रकरण राजीनामा के आधार पर निराकृत किया गया।

4 साल की बच्ची को मिला पिता का संरक्षण
पीठासीन अधिकारी नीरू सिंह के खंडपीठ में लंबित पारिवारिक मामले में 4 साल की नाबालिग बच्ची को पिता का संरक्षण मिला। बच्ची वर्तमान में अपने नाना के पास रह रही थी। बच्ची की मां की मृत्यु हो गई थी पिता एवं नाना के मध्य राजीनामा होने पर नाबालिक बच्ची का संरक्षण पिता को मिला। पिता के ससुराल पक्ष बच्ची से मुलाकात कर मिलते रहेंगे।


Date : 15-Sep-2019

छत्रपति शिवाजी इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी ने मनाया 21वां स्थापना दिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
दुर्ग, 15 सितंबर।
छत्रपति शिवाजी इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी ने 21 वां स्थापना दिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया। इस अवसर पर विभिन्न क्षेत्रों की प्रतिभाओं का सम्मान किया गया। मेधावी छात्र-छात्राओं तथा फेकेल्टी मेम्बर्स को अपने बेहतर परिणाम के लिए विभिन्न सम्मान से पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम सीएसआईटी के सभागार स्वामी विवेकानंद हॉल में आयोजित किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ महाविद्यालय के चेयरमेन अजय प्रकाश वर्मा, डायरेक्टर एडमिनेस्ट्रेशन राजेश देशमुख, कॉलेज के डायरेक्टर डॉ. अनुराग वर्मा एवं छत्रपति शिवाजी इंस्टीट्यूट ऑफ फार्मेसी के डायरेक्टर एकेडमिक विनय द्विवेदी ने मां सरस्वती के तैलचित्र के समक्ष पुष्प अर्पित एवं दीप प्रज्जवलित कर किया गया। 

चेयरमेन अजय प्रकाश वर्मा ने सीएसआईटी के बीस वर्षों की उपलब्धियों एवं एकेडमिक यात्रा को विस्तारपूर्वक बताया। साथ ही उन्होंने हिन्दी दिवस की शुभकामनाएं दी। कॉलेज के डायरेक्टर डॉ. अनुराग वर्मा ने अपने उद्बोधन में महाविद्यालय के विद्यार्थियों द्वारा प्राप्त एकेडमिक उपलब्धियां एवं महाविद्यालय में उपलब्ध अन्य व्यक्तित्व विकास हेतु किये जा रहे कार्यों एवं गतिविधियों को रेखांकित किया। इस अवसर पर कॉलेज ने इंजीनियरिंग के सभी ब्रांच के मेधावी छात्र-छात्राओं को सेमेस्टर एवं युनिवर्सिटी टॉपर बनने पर डॉ. वाय. के. गौर स्मृति पुरस्कार एवं बेस्ट अटेन्डेंस इन क्लॉस के लिए सम्मानित किया। साथ ही साथ फेकेल्टी मेम्बर्स को पेपर प्रजेन्टेशन, बुक पब्लिकेशन एवं बेहतर परिणाम के लिए भी पुरस्कृत किया गया। सम्मान में प्रशस्ति पत्र एवं प्रतीक चिन्ह कॉलेज द्वारा प्रदाय किया गया। इसमें युनिवर्सिटी टॉपर के साथ समस्त सेमेस्टर ब्रांच टॉपर छात्रों को भी उनके पैरेन्ट्स के साथ पुरस्कार एवं प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया। सीएसआईटी कैम्पस स्थित बालक एवं कन्या छात्रावास में महाविद्यालय द्वारा स्वच्छ सुन्दर मेरा हॉस्टल प्रतियोगिता का आयोजिन गया। इसमें महाविद्यालय के छात्रावास में निवासरत विद्यार्थियों ने स्वच्छता के प्रति अपनी जागरूकता को प्रदर्शित किया।