छत्तीसगढ़ » रायपुर

Date : 06-Dec-2019

नामांकन दाखिले के आखिरी दिन कांग्रेस की रायपुर, दुर्ग और बिलासपुर व नांदगांव के वार्ड प्रत्याशियों की सूची जारी

प्रमोद दुबे को भगवती चरण वार्ड से प्रत्याशी, दर्जनभर से अधिक पार्षदों को भी टिकट

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 6 दिसंबर। आखिरकार नामांकन दाखिले के आखिरी दिन रायपुर, दुर्ग और बिलासपुर व राजनांदगांव नगर निगमों के वार्ड प्रत्याशियों की सूची जारी कर दी है। बताया गया कि रायपुर नगर निगम के महापौर प्रमोद दुबे को भगवती चरण वार्ड से प्रत्याशी बनाया गया है। न सिर्फ दुबे बल्कि आधा दर्जन से अधिक मौजूदा पार्षद फिर से प्रत्याशी बनाए गए हैं।

चुनाव समिति की बैठक और बाहर टिकट को लेकर काफी माथापच्ची होती रही। रायपुर के अलावा दुर्ग, बिलासपुर और राजनांदगांव की सूची पर भी मुहर लगाई गई। रायपुर से प्रमोद दुबे के अलावा मौजूदा पार्षद एजाज ढेबर, अजीत कुकरेजा, राजेश ठाकुर, अनवर हुसैन अमित दास, सतनाम सिंह पनाग, समीर अख्तर, श्रीकुमार मेनन को भी टिकट मिल गई।

वार्ड प्रत्याशियों की सूची इस प्रकार है-वीर सावरकर वार्ड- दीपा साहू, जवाहरलाल नेहरू-घनश्याम क्षत्री, संत कबीरदास-मोहित घृतलहरे, यति यतनलाल वार्ड- गायत्री जीत सिंह, बंजारी माता वार्ड -नागभूषण राव यादव, वीरांगना अवंति बाई-अंजनी विभार, कुशाभाऊ ठाकरे वार्ड-राजेश्वरी माधव प्रसाद साहू, मोतीलाल नेहरू-वीरेंद्र टण्डन (अब्बी), डॉ. भीमराव अंबेडकर-द्रौपती पटेल, रानी लक्ष्मीबाई-गोसिया अमजद सुल्ताना, कालीमाता- अमितेष भारद्वाज, महात्मा गांधी-रमेश यादव, राजीव गांधी-जग्गू सिंह ठाकुर, रमण मंदिर-अरूण जंघेल, कन्हैयालाल बाजारी-राजेश जैन, वीर शिवाजी-अन्नु दाउलाल साहू,  ठक्कर बापा-दिलेश्वरी अन्नु राम साहू, बाल गंगाधर तिलक-पदमा श्रीनिवास, डॉ. एपीजे अब्दुल-मंजु वारेण साहू, रामकृष्ण परमहंस-श्री श्रीकुमार मेनन, शहीद भगत सिंह-सोहन लाल शर्मा, ईश्वरी चरण शुक्ल-प्रेम सिंह ठाकुर, मनमोहन सिंह बख्शी-प्रकाश जगत, सरदार वल्लभ भाई पटेल-मणीराम साहू, संत रामदास भोला-तरूण श्रीवास, दानवीर भामाशाह-सुन्दर जोगी, इंदिरा गांधी-सुरेश चन्नावार, शहीद हेमु कालाणी-हरदीप सिंह होरा (बंटी), गुरु गोविंद सिंह-पुरूषोत्तम बेहरा, शंकरनगर-भाविका मनोज मसंद, सुभाषचंद्र बोस वार्ड-राकेश कुमार धोतरे, महर्षि वाल्मीकि-प्रमोद मिश्रा, शहीद वीर नारायण सिंह-प्रभा चौबे, लाल बहादुर शास्त्री-कामराज अंसारी, पं. रविशंकर शुक्ल-आकाश तिवारी, अब्दुल हमीद वार्ड-अनवर हुसैन, तात्यापारा-रितेश त्रिपाठी, शहीद चूड़ामणि नायक-बजरंग कुमार यादव, स्वामी आत्मानंद-विकास अग्रवाल, ठाकुर प्यारेलाल-ज्ञानेश शर्मा, पं. दीनदयाल उपाध्याय-आरती उपाध्याय, पं. सुंदरलाल शर्मा-संदीप तिवारी, महंत लक्ष्मीनारायण दास-राजेश ठाकुर, ब्राह्मणपारा-रेखा विकास तिवारी, स्वामी विवेकानंद -दीपा नवीन चंद्राकर , मौलाना अब्दुल रउफ-एजाज ढेबर, सिविल लाइन-नीलम नीलकंठ जगत, मदर टेरेसा-अजीत कुकरेजा, गुरू घासीदास-शीतल कुलदीप, रानी दुर्गावती-सहदेव व्यवहार, पं. विद्याचरण शुक्ल-धनेश बंजारे (राजा), डॉ. राजेंद्र प्रसाद-अर्चना राजू दुबे, बाबू जगजीवन प्रसाद-सीमा बारले, सुधीर मुखर्जी-पुष्पा बाई (पुष्पलता मोहन)साहू, रविंद्र नाथ टैगोर-मान सिंग धु्रव, अरविंद दीक्षित-आकाशदीप शर्मा, पं. भगवतीचरण शुक्ल -प्रमोद दुबे, शहीद पंकज विक्रम-निशा देवेंद्र यादव, मोरेश्वर राव गद्रे- अमित दास, चंद्रशेखर आजाद-संध्या चक्रधर, डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी-सतनाम सिंह पनाग, शहीद राजीव पांडे-समीर अख्तर, शहीद ब्रिगेडियर-पार्वती साहू, डॉ. विपिन बिहारी सूर-नोहर साहू, महामाया मंदिर-जयश्री नायक, वामनराव लाखे- कुष्णा सोनकर (बब्बी), भक्त माता कर्मा -उत्त्तम कुमार साहू, डॉ. खूबचंद बघेल -तुषार पांडेय, माधव राव सप्रे -विनोद कश्यप, संत रविदास-अशोक सिंह ठाकुर शामिल हैं।


Date : 06-Dec-2019

कलेक्टर और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने विजय तिवारी के परिजनों से मुलाकात की, शासन-प्रशासन ने हर संभव सहयोग की बात कही

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 6 दिसंबर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर शुक्रवार की सुबह कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन और पुलिस अधीक्षक मोहम्मद आरिफ एच. शेख ने रायपुर निवासी एवं जहाज के चीफ मैक्निकल इंजीनियर विजय तिवारी के भनपुरी स्थित घर पहुंचकर उनके छोटे भाई पवन तिवारी तथा दीनदयाल उपाध्याय कॉलोनी पहुंचकर विजय तिवारी की पत्नी अंजु तिवारी के भाई एसपी उपाध्याय से मुलाकात कर उन्हें शासन से हर संभव सहयोग का आश्वासन दिया।

कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने नाइजीरिया के बोन्नी आफशोर टर्मिनल के पास से एंग्लों ईस्टर्न शिप मैनेजमेंट कंपनी के जहाज में सवार 19 लोगों को अगवा किए जाने की घटना पर संवेदना व्यक्त किया और कहा कि शासन-प्रशासन उनके परिवार के इस कठिनाई के समय में उनके साथ है और राज्य शासन द्वारा जो भी सहयोग या मदद की जरूरत होगी वह किया जाएगा।

कलेक्टर ने बताया कि मुख्यमंत्री ने प्रदेश के मुख्य सचिव और प्रमुख सचिव (गृह) को इस संबंध में आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए है और राज्य शासन इस संबंध में भारतीय दूतावास के साथ-साथ भारत सरकार के गृह एवं अन्य संबंधित विभागों के संपर्क में है।

कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक से बातचीत करते हुए तिवारी दंपत्ति के परिजनों ने बताया कि उन्हें इस घटना की जानकारी परसो मुम्बई के अंधेरी स्थित कंपनी के माध्यम से मिली। अपहरणकत्र्ताओं ने जहाज के इस दम्पत्ति सहित 19 लोगों को बंधक बनाया है लेकिन जहाज को छोड़ दिया है।

 

 


Date : 06-Dec-2019

राजभवन में ब्रेन स्ट्रोक से बचने के लिए हुआ जागरूकता कार्यक्रम, ब्रेन स्ट्रोक आने पर यथाशीघ्र सिटी स्केन कराने और साढ़े चार घण्टे के अन्दर आवश्यक इलाज कराने की सलाह दिया

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 6 दिसंबर। ब्रेन स्ट्रोक जागरूकता अभियान के तहत कल राजभवन के दरबार हॉल में ब्रेन स्ट्रोक से बचने के लिए एम.एम.आई. नारायणा मल्टीस्पेशिलिटी हॉस्पिटल के डॉक्टरों ने जहां कुछ एहतियाती उपाय बताए, वहीं ब्रेन स्ट्रोक आने पर यथाशीघ्र सिटी स्केन कराने और साढ़े चार घण्टे के अन्दर आवश्यक इलाज कराने की सलाह दिया।

राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके ने कहा कि एम.एम.आई. नारायणा मल्टीस्पेशिलिटी हॉस्पिटल द्वारा ब्रेन स्ट्रोक जागरूकता अभियान काफी सराहनीय है। आज भागमभाग की जिंदगी में तनावयुक्त जीवन हो गया है, जिसके कारण ब्रेन स्ट्रोक जैसी समस्या सामने आ रही है। ऐसे जागरूकता प्रोग्राम से हम ब्रेन स्ट्रोक आने से पहले ही निजात पाया जा सकता है।

एम.एम.आई. नारायणा मल्टीस्पेशिलिटी हॉस्पिटल डॉ. एच. पी. सिन्हा ने कहा कि नियमित सैर एवं व्यायाम करने, बी.पी. एवं शुगर को कंट्रोल रखने और स्ट्रेस फ्री रहकर काफी हद तक ब्रेन स्ट्रोक बचा जा सकता है। उन्होंने स्ट्रोक के लक्षणों के बारे में बताते हुए कहा कि सीधे खड़े रहने में परेशानी होना, आंख से धुंधला या दो-दो दिखाई देना, चेहरा, बाजू, टांग में शून्यता एवं कमजोरी आ जाना, बोलने एवं समझने में कठिनाई होना है। डॉ. सिन्हा ने कहा कि उक्त लक्षण दिखने पर तत्काल इलाज के लिए अस्पताल ले जाएं। उन्होंने दिनचर्या में हल्दी और लहसुन के उपयोग को ब्रेन स्ट्रोक रोकने में लाभकारी बताया। इस अवसर पर डॉ. सिन्हा ने राज्यपाल सुश्री उइके को स्मृति चिन्ह भेंट किया।


Date : 06-Dec-2019

राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस  सुकमा जिले के चार बाल वैज्ञानिक जाएंगे तिरूवनन्तपुरम, मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री ने दी बधाई और शुभकामनाएं

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 6 दिसम्बर। केरल की राजधानी तिरूवनन्तपुरम में आयोजित होने वाले 27वीं राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस 2019 में सुकमा जिले के चार प्रतिभागी हिस्सा लेंगे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने प्रतिभागियों को बधाई और शुभकमानाएं दीं है। उल्लेखनीय है कि सुकमा जिले के इन प्रतिभागियों द्वारा ‘जापानी इंसेफेलाइटिस ए मेजर प्रॉब्लम ऑफ छत्तीसगढ़ सुकमा‘ और ‘कचरे से समृद्धि‘ विषय पर बनाई गई मॉडल का चयन राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस के लिए हुआ है।

सुकमा जिले के चयनित प्रतिभागी केरल के तिरूवनन्तपुरम में 27 से 31 दिसम्बर को आयोजित होने वाले राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस छत्तीसगढ़ का प्रतिनिधित्व करेंगे। इन प्रतिभागियों को सुकमा जिले के कलेक्टर श्री चंदन कुमार ने भी सम्मानित कर उनका उत्साहवर्धन किया। हाल ही में रायपुर में आयोजित राज्य बाल विज्ञान कांग्रेस में सुकमा जिले के बाल वैज्ञानिक कुमारी श्रेया श्रीवास ने अपने शिक्षक याबेश राजा के मार्गदर्शन में ‘जापानी इंसेफेलाइटिस ए मेजर प्रॉब्लम ऑफ छत्तीसगढ़ सुकमा‘ विषय पर परियोजना का निर्माण किया, वहीं कुमारी निशा नाग ने शिक्षक नागेश दास के मार्गदर्शन में ‘कचरे से समृद्धि‘ उप कथानक पर ‘पूजन के पश्चात निकलने वाले पूजन सामग्रियों का उचित प्रबंधन कर नदियों को प्रदूषण मुक्त करना‘ परियोजना का प्रस्तुतीकरण किया।

उल्लेखनीय है कि राजधानी रायपुर में आयोजित राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस में कुल 123 परियोजनाओं के मॉडल प्रस्तुत किए गए। छत्तीसगढ़ राज्य से राष्ट्रीय स्तर विज्ञान कांग्रेस में भाग लेने के लिए वरिष्ठ वर्ग में 10 परियोजना का चयन किया गया। सुकमा जिले से आईएमएसटी अंग्रेजी माध्यम उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सुकमा की छात्रा कुमारी श्रेया श्रीवास, सहयोगी कुमारी जयंती कुन्डु और शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सुकमा की छात्रा कुमारी निशा नाग, सहयोगी कुमारी तनु कश्यप का चयन हुआ है।

 


Date : 06-Dec-2019

मुख्य सचिव ने नवा रायपुर में किया निर्माण कार्यों का निरीक्षण, अधिकारियों को निर्माण पूरी गुणवत्ता के साथ, एक वर्ष के भीतर पूर्ण करने हेतु निर्देशित किया

रायपुर, 6 दिसम्बर। प्रदेश के मुख्य सचिव आर पी मंडल ने आज नवा रायपुर में हो रहे निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया। जिसमें नवा रायपुर के सेक्टर 24 में निर्माणाधीन राजभवन, मुख्यमंत्री निवास एवं मंत्री गणों हेतु आवास तथा सेक्टर 18 में वरिष्ठ अधिकारियों हेतु निर्माणाधीन आवास का निरीक्षण लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों के साथ किया गया।

श्री मंडल ने निर्माण के नक्शे का निरीक्षण किया तथा अधिकारियों को निर्माण पूरी गुणवत्ता के साथ, एक वर्ष के भीतर पूर्ण करने हेतु निर्देशित किया। इस अवसर पर विशेष सचिव अनिल राय, प्रमुख अभियंता डी.के. अग्रवाल, मुख्य अभियंता एस के शर्मा सहित विभाग के अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

 


Date : 06-Dec-2019

राष्ट्रीय अविष्कार अभियान : विज्ञान की पढ़ाई बनेगी रोचक बस्तर, महासमुंद, दुर्ग, बिलासपुर और सूरजपुर में बनेगा थीम आधारित केन्द्र

रायपुर, 6 दिसम्बर। विज्ञान की पढ़ाई को रोचक बनाने और लोगों में विज्ञान के प्रति जागरूकता लाने के लिए राष्ट्रीय अविष्कार अभियान के अंतर्गत इस वर्ष पांच जिलों बस्तर, महासमुंद, दुर्ग, बिलासपुर और सूरजपुर का चयन किया गया है। इन जिलों में स्कूली छात्रों और शिक्षकों के साथ विषय-विशेषज्ञों का दल गठित कर प्रदर्शन केन्द्र बनाए जाएंगे। इन प्रदर्शन केन्द्रों में रोचक ढंग से विज्ञान के विभिन्न सिद्धांतों और नियमों को प्रस्तुत किया जाएगा। इससे बच्चों को विज्ञान पढऩे में आसानी होगी। साथ ही आम लोगों में भी विज्ञान के प्रति रूचि बढ़ेगी।

राष्ट्रीय अविष्कार अभियान के तहत जिला बस्तर में स्थानीय परंपराओं में निहित विज्ञान पर आधारित म्यूजियम, महासमुंद में विज्ञान शिक्षण को रोचक बनाने विभिन्न सहायक शिक्षण सामग्री, उपकरण, दुर्ग में खेल-खिलौने का उपयोग कर विज्ञान एवं गणित की समझ विकसित करना, बिलासपुर में गणित एवं विज्ञान से संबंधित विभिन्न प्रतियोगिताओं के लिए तैयारी, सूरजपुर जिले में विभिन्न प्रकार के अंधविश्वासों को दूर करने गतिविधियों का स्टाक की थीम के आधार पर विशेषज्ञ दल का गठन कर केन्द्र को विकसित करते हुए सभी आवश्यक व्यवस्थाएं और संसाधन सुलभ करवाना है।

प्रबंध संचालक समग्र शिक्षा पी. दयानंद ने चयनित पांचों जिलों के कलेक्टरों को यथाशीघ्र केन्द्र विकसित किए जाने और विभिन्न जिलों में थीम पर आधारित कार्यों में सहयोग देने के इच्छुक शिक्षकों की सूची बनाकर तैयार रखने के निर्देश दिए हैं, ताकि केन्द्र तैयार होते ही इन केन्द्रों की एक्सपोजर भ्रमण एवं संसाधन सहयोग के लिए भेजा जा सके। इन केन्द्रों को विकसित करने वहां के चयनित लर्निंग कम्युनिटी के शिक्षक राज्य के बाहर या भीतर अध्ययन हेतु जाने का प्रस्ताव भी दे सकते हैं, ताकि बेहतर मॉडल तैयार किए जा सके।

इन जिलों के कलेक्टरों से कहा गया है कि जिले में थीम के आधार पर एक समिति का गठन किया जाए, जो कार्य के सफल क्रियान्वयन के लिए विभिन्न स्त्रोतों, संसाधनों की पहचान कर योजना तैयार कर सकें। समिति में स्कूल शिक्षा विभाग के साथ-साथ विश्वविद्यालय और अन्य विभागों के साथ-साथ विशिष्ठ क्षेत्र में सहायता करने के इच्छुक लोगों को अधिक से अधिक जोड़ा जाए।

प्रदर्शन स्थल का चयन स्थानीय परिस्थितियों के आधार पर किया जा सकता है। रख-रखाव और नियमित संचालन के लिए कुशल एवं इच्छुक टीम चयनित की जाए जो कौशल के साथ इस कार्य को बढ़ावा देने के लिए समय दे सकें। केन्द्र में चयनित थीम से संबंधित सामग्री की उपलब्धता के लिए विभिन्न जिलों से एक्सपोजर की व्यवस्था की जाएगी। चयनित थीम के अनुसार निरंतर विकास और स्त्रोत के कुशल और सक्रिय प्रोफेशनल लर्निंग कम्युनिटी हो, जो उस क्षेत्र में लगातार स्त्रोत कर अधिक से अधिक सामग्री उपलब्ध करवा सके। केन्द्रों में समय-समय पर संगोष्ठियां, कार्यशालाओं का आयोजन कर जानकारियों का आदान-प्रदान एवं ज्ञान का विस्तार के अवसर उपलब्ध कराया जाएं। केन्द्र में विभिन्न विशेषज्ञों को भी आमंत्रित किया जाए।

पांचों जिलों में गणित, विज्ञान से संबंधित प्रदर्शन स्थल तैयार किए जाने हैं। जिसे अन्य जिलों के शिक्षक वहां जाकर देखते हुए कुछ नई बातें सीखेंगे और अपने-अपने क्षेत्रों में इसका विस्तार करेंगे। प्रबंध संचालक समग्र शिक्षा पी. दयानंद ने इस संबंध में इन जिलों के कलेक्टरों को कार्यक्रम क्रियान्वयन के लिए एक सक्रिय विशेषज्ञ टीम का गठन कर उपयुक्त स्थल का चयन कर उसके निरंतर संचालन और विकास के लिए ठोस योजना बनाकर जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय के माध्यम से शीघ्र क्रियान्वयन करवाने कहा है।


Date : 06-Dec-2019

पॉवर कंपनी में अंतरक्षेत्रीय शतरंज-कैरम स्पर्धा का आयोजन, 07 दिसम्बर तक चलने वाली इस स्पर्धा में प्रदेषभर की 10 क्षेत्रीय टीमें हिस्सा ले रही हैं

रायपुर। छत्तीसगढ़ स्टेट पावर कंपनी के मुख्यालय डंगनिया परिसर मे स्थित बैडमिंटन हाल मे अंतरक्षेत्रीय शतरंज एवं कैरम स्पर्धा का आयोजन किया गया है। 07 दिसम्बर तक चलने वाली इस स्पर्धा में प्रदेषभर की 10 क्षेत्रीय टीमें हिस्सा ले रही हैं। स्पर्धा के उद्धाटन अवसर पर कार्यपालक निदेशक वित्त एवं केन्द्रीय क्रीड़ा एवं कला के महासचिव श्री एमएस चैहान ने कहा कि खेल भावना से बेहतर प्रदर्शन करते हुये खिलाड़ीगण नेशनल टीम को लक्ष्य बनाये। इस अवसर पर कार्यपालक निदेशक सर्वश्री केएस मनोठिया, पीके गिरदौनिया, मुख्य अभियंता आरए पाठक, जीएम (एचआर) वीके साय विशेष रूप से उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन कल्याण अधिकारी श्री डीएन वर्मा ने किया।


Date : 06-Dec-2019

महाविद्यालयीन महिला क्रिकेट स्पर्धा 9 से, प्राचार्य डॉ मेघेश तिवारी ने बताया कि विप्र ट्राफी अंतर महाविद्यालयीन महिला क्रिकेट प्रतियोगिता में पंडित रविशंकर विश्वविद्यालय से संबद्ध महाविद्यालय की टीम हिस्सा लेगी।

रायपुर, 6 दिसंबर। पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय रायपुर के तत्वावधान में विप्र महाविद्यालय द्वारा विप्र ट्राफी अंतर महाविद्यालयीन महिला क्रिकेट प्रतियोगिता का आयोजन 9 दिसंबर सोमवार से किया जा रहा है ।

उपरोक्त जानकारी देते हुए प्राचार्य डॉ मेघेश तिवारी ने बताया कि विप्र ट्राफी अंतर महाविद्यालयीन महिला क्रिकेट प्रतियोगिता में पंडित रविशंकर विश्वविद्यालय से संबद्ध महाविद्यालय की टीम हिस्सा लेगी। विप्र कॉलेज में आयोजित इस प्रतियोगिता के माध्यम से पंडित रविशंकर विश्वविद्यालय टीम का गठन किया जाएगा, जो अंतर विश्वविद्यालय प्रतियोगिता में हिस्सा लेने अवध प्रताप सिंह विश्वविद्यालय रीवा जाएगी।


Date : 05-Dec-2019

बिना बंडल के कैसे मिलेगा टिकट..., भाजपा नेताओं के बीच लेन-देन की बातचीत का ऑडियो वायरल

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 5 दिसंबर। भाजपा टिकट के लिए कथित तौर पर लेन-देन का ऑडियो वायरल हुआ है। वायरल ऑडियो में भाजपा के एक पदाधिकारी द्वारा दावेदार से बंडल की मांग की गई और कहा गया कि  यह पर्यवेक्षक पर खर्च करना पड़ेगा।

नगरीय चुनाव के दौरान दावेदारी के लिए प्रत्याशी से बंडल की मांग का ऑडियो सोशल मीडिया पर तैर रहा है। ऑडियो में साफ तौर से दावेदार से बंडल की मांग करते हुए एक पदाधिकारी द्वारा कहा जा रहा है कि बंडल बगैर सूखा-सूखा से कैसे काम चलेगा? एकात्म परिसर में शाम को 4 बजे बैठक है। दावेदार द्वारा चुनाव के बाद बंडल देने के आश्वासन पर सामने वाला कहता है कि चुनाव से पहले बंडल देना होता है।

चुनाव के लिए पर्यवेक्षक पर भी खर्च करना पड़ता है। ‘छत्तीसगढ़’ ऑडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं करता है।

 


Date : 05-Dec-2019

भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष ने पद से इस्तीफा दिया, आरोप भी

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 5 दिसंबर। शहर जिला भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष श्रीमती शैलेन्द्री परगनिया ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने आरोप लगाया कि महिला मोर्चा की कार्यकर्ताओं की उपेक्षा की गई और वरिष्ठ नेताओं के रिश्तेदारों को टिकट दी गई।

शैलेन्द्री परगनिया ने आरोप लगाया कि महिला मोर्चा की जमीनी कार्यकर्ताओं को टिकट से वंचित कर दिया गया। घरेलू महिलाओं को टिकट दे दी गई। परगनिया ने महामंत्री (संगठन) पवन साय को अपना इस्तीफा दिया।


Date : 05-Dec-2019

संविधान की प्रस्तावना के प्रति विद्यार्थियों को जागरूक किया, छात्र- छात्राओं और सहित प्राचार्य व अध्यापकगण ने मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया 

रायपुर, 5 दिसंबर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा स्कूलों में संविधान की प्रस्तावना का वाचन कराया जाने का निर्णय लिया गया है जो एक दूरगामी निर्णय है। इस निर्णय से संविधान के प्रति बच्चों में बचपन से ही सम्मान पैदा होगा। वर्तमान में जहां सामाजिक मूल्यों के ह्रास और सामाजिक ताना-बाना में बिखराव हो रहा है, ऐसे में यह एक मार्गदर्शी के रूप में अहम साबित होगा। 

बच्चों में प्रारंभ से ही संवैधानिक मूल्यों को विकसित करने की यह पहल एक दूरगामी पहल है। साथ ही यह अन्य राज्यों के लिए भी अनुकरणीय होगा। बता दें कि मुख्यमंत्री का यह निर्णय 26 नवंबर को लागू किया गया था। उसके पहले ही शासकीय उ.मा. विद्यालय छछान पैरी में व्याख्याता के रूप में अपनी सेवाएं दे रहे श्री ललित साहू ने संविधान की उद्देशिका को स्कूलों में लागू कराने की पहल करते हुए मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री को पत्र लिखकर सुझाव दिया था। ललित ने अपने स्कूल में सत्र के प्रारंभ से ही संविधान के उद्देश्य का वाचन नियमित रूप से कराने सकारात्मक माहौल बनाया और आज नियमित रूप से बच्चे वाचन कर रहे हैं। 

यहां के बच्चों में संविधान के प्रति गजब की ललक और जागरूकता देखते ही बनती है। यहां तक बच्चों को प्रस्तावना के मूल शब्दों जैसे सम्प्रभुता, धर्मनिरपेक्ष गणराज्य का अर्थ सही मायनों में मालूम है। 

बच्चों को प्रस्तावना कंठस्थ याद है और प्रार्थना के दौरान ही इसका वाचन प्रतिदिन किया जा रहा है। संभवत यह प्रदेश का पहला स्कूल है जहां इस तरह का वाचन किया जा रहा है। व्याख्याता श्री ललित साहू ने कहा कि बच्चों में यदि प्रारंभ से ही संवैधानिक मूल्य, बराबरी और समरसता का पाठ पढ़ाया जाए तो एक अच्छे और समतामूलक समाज के निर्माण में यह काफी महत्वपूर्ण होगा। उन्होंने मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के इस फैसले का स्वागत करते हुए कहा है कि यह निर्णय राज्य के बच्चों में संवैधानिक मूल्यों के साथ अधिकार तथा कर्तव्य को समझने में और इसे जीवन में उतारने में कारगर सिद्ध होगा। 

स्कूल के सभी छात्र-छात्राओं सहित प्राचार्य व अध्यापकगण ने  इस फैसले का स्वागत उत्साह के साथ किया है। उनका कहना है कि स्कूल आज इस निर्णय से गौरवान्वित महसूस कर रहा है। छात्र छात्राओं और स्कूल बिरादरी की ओर से मुख्यमंत्री का आभार ब्यक्त किया गया है।

 


Date : 05-Dec-2019

सीएम ने प्रदेश में प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना के सफल क्रियान्वयन के लिए गठित की समिति

रायपुर, 5 दिसम्बर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेश में प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना का सफल क्रियान्वयन सुनिश्चित करने के लिए मुख्य सचिव की अध्यक्षता में समिति का गठन किया है। प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना में वर्तमान में 5 हजार रूपए की राशि तीन किश्तों में महिलाओं को भुगतान की जा रही है। यह योजना केवल प्रथम संतान तक ही समिति है। मुख्य सचिव की अध्यक्षता में गठित की गई सात सदस्यीय यह समिति यह देखेगी कि प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना में दी जा रही 5 हजार रूपए की सहायता राशि पर्याप्त है कि नहीं, द्वितीय संतान के समय भी इस योजना से महिलाओं को लाभान्वित करने की संभावना एवं वर्तमान में योजना के क्रियान्वयन में आ रही समस्याओं का निराकरण तथा इस योजना से पात्र महिलाओं को शत-प्रतिशत लाभान्वित करना सुनिनिश्चत करेगी।

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में गठित इस समिति में अतिरिक्त मुख्य सचिव वित्त, प्रमुख सचिव पंचायत एवं ग्रामीण विकास, सचिव श्रम, सचिव स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, सचिव खाद्य तथा सचिव महिला एवं बाल विकास विभाग को सदस्य बनाया गया है। उपरोक्त संबंध में यह समिति 15 दिन में अपना प्रतिवेदन प्रस्तुत करेगी।

 


Date : 05-Dec-2019

ब्राम्हण पारा वार्डवासी पार्टी से परे चाहते हैं दमदार पार्षद, वार्ड में बिजली और सफाई की समस्या अभी भी बनी हुई है- सविता शुक्ला 
छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 5 दिसंबर।
ब्राम्हणपारा वार्ड निवासी के अनुसार उनके वार्ड में पूर्व पार्षद प्रमोद दुबे, ज्ञानेश शर्मा ने सक्रिय भूमिका निभाई। आकाश दुबे ने भी वार्ड के लिए काम किया, लेकिन सुंदरनगर का निवासी होने के कारण वार्डवासियों को उनसे संपर्क करने में दिक्कत आई। वार्डवासी मानते हैं कि आम तौर पर सत्ता पक्ष के प्रत्याशी की स्थिति मजबूत रहती है, लेकिन इसके बावजूद पार्षद अगर जुझारू हो, तो उसके लिए पक्ष-विपक्ष माएने नहीं रखता है। महिला आरक्षित ब्राम्हणपारा वार्ड में भाजपा की ओर से पार्षद आकाश दुबे की पत्नी सविता दुबे को पार्षद उम्मीदवार घोषित किया गया है। कांग्रेस पार्टी की ओर से सविता शुक्ला और प्रीति शुक्ला की दावेदारी का पेंच अब तक फंसा हुआ है। 

वार्ड निवासी व्यास नारायण तिवारी कहते हैं वार्ड में बिजली और सफाई की समस्या अभी भी बनी हुई है। पूर्व पार्षद ज्ञानेश शर्मा ने डामरीकरण, मंदिर का जीर्णोद्धार करवाया था, लेकिन हाल फिलहाल में कोई ठोस काम नहीं हुआ। कांग्रेस की कट्टर समर्थक मीरा ठाकुर का मानना है कि प्रमोद दुबे के कार्यकाल में वार्ड में सडक़ नाली सबका काम हुआ। आकाश दुबे चंूकि सुंदर नगर में रहते हैं इसलिए वार्डवासियों से उनका सीधा वास्ता नहीं रहा। संजय तिवारी के अनुसार प्रदेश में पार्टी की सत्ता माएने रखती है। आकाश दुबे अपने कार्यकाल के दौरान सक्रिय रहे।

 पार्षद पद की दावेदारी पेश करने वाली कांग्रेस की सविता शुक्ला कहती हैं पार्षद बनकर वार्ड की साफ-सफाई के लिए कुछ करना चाहती हूं। वार्डवासी जितेंद्र तिवारी कहते हैं वार्ड परिसीमन के बाद आबादी बढ़ी है। जीत हार तो पार्टी लेबल पर रहता है। लेकिन वार्डवासी चाहते हैं कि पार्षद शासकीय योजनाओं का लाभ वार्डवासी तक पहुंचाए। वार्डवासी हरीश शर्मा मानते हैं कि वार्डवासी के लिए पार्टी नहीं बल्कि उम्मीदवार माएने रखता हैं। पार्षद यदि दमदार हो तो विपक्षी पार्टी होने के बावजूद वार्ड के लिए काम करवा लेता है। 

सामाजिक कार्य के आधार पर कांग्रेस से पार्षद पद की दावेदारी करने वाली प्रीति शुक्ला के अनुसार वार्ड में पेयजल, नाली सफाई संकरी गली जैसी समस्या का निराकरण जरूरी है। प्रीति शुक्ला ने बताया वार्ड परिसीमन के बाद वार्ड की सीमा बढ़ी है। जिसके कारण नई चुनौतियों से पार्षद को सामना करना पड़ेगा। 


Date : 05-Dec-2019

कांग्रेस वार्ड-टिकट न मिली तो आत्महत्या की दो धमकियां, राजीव भवन की सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है और देर शाम तक सूची जारी होने की उम्मीद है

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 5 दिसंबर। कांग्रेस में टिकट की घोषणा से पहले ही बवाल मच गया है। टिकट के दो महिला दावेदारों ने तो प्रत्याशी नहीं बनाए जाने पर आत्महत्या तक की धमकी दे दी। राजीव भवन की सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है और देर शाम तक सूची जारी होने की उम्मीद है।

रायपुर नगर निगम की कांग्रेस टिकट को लेकर आधी रात तक माथापच्ची चलती रही। ज्यादातर निकायों के प्रत्याशियों की सूची जारी कर दी गई है। रायपुर और बिलासपुर को लेकर सर्वाधिक विवाद की स्थिति बनी हुई है। यहां नेताओं के बीच आपसी समन्वय बनाने की कोशिश चलती रही। खुद प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी इस काम में लगे रहे।

रायपुर नगर निगम के वार्डों प्रत्याशियों की सूची को लेकर अफवाहों का बाजार गरम रहा। कई दावेदार टिकट कटने की अफवाह के चलते समर्थकों समेत राजीव भवन पहुंच गए और वरिष्ठ नेताओं के सामने अपनी बात रखी। राजातालाब निवासी सायराबानू ने संचार विभाग के प्रमुख शैलेष नितिन त्रिवेदी से मुलाकात की और बताया कि उनके वार्ड से बाहरी को टिकट दी जा रही है। जबकि वे पिछले 20 साल से कांग्रेस के लिए मेहनत कर रही है। उन्होंने अपनी उपेक्षा का आरोप लगाया और कहा कि यदि टिकट नहीं मिली, तो वे आत्महत्या कर लेंगी। त्रिवेदी उन्हें समझाने बुझाने की कोशिश करते रहे और दिलासा देते दिखे कि अभी प्रत्याशी का नाम तय नहीं हुआ है।

इसी तरह महामाया पारा वार्ड से सोनिया यादव भी फुट फुटकर रो पड़ी उन्होंने बताया कि पहले उनका नाम तय था और उन्होंने प्रचार भी शुरू कर दिया था, लेकिन अब खबर आ रही है कि उनकी जगह किसी और का नाम तय किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि वे अब यह बेज्जती  बर्दाश्त नहीं कर सकती हैं। और अपनी जान दे देंगी। शैलेष ने उन्हें समझाने बुझाने की कोशिश भी की, लेकिन वे अपनी बात पर जोर देती रही। टिकट कटने को लेकर बड़ी संख्या में दावेदार और उनके समर्थक राजीव भवन में जुटने लगे। इस दौरान हंगामा भी हुआ। बाहर से गेट बंद कर दिया गया। दोपहर बाद फिर बैठक शुरू हुई। जिसमें अन्य जिलों के नामों की घोषणा की गई। रायपुर नगर निगम के वार्ड पार्षदों की सूची देर शाम तक जारी होने की उम्मीद जताई जा रही है।


Date : 05-Dec-2019

भाजपा में बगावत, बड़े नेताओं के घर प्रदर्शन, कुछ के निर्दलीय चुनाव मैदान में उतरने का ऐलान भी

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 5 दिसंबर। नगर निगम वार्ड पार्षदों की सूची जारी होने के बाद भाजपा में कई वार्डों में बगावत की स्थिति पैदा हो गई है। कई दावेदार और उनके समर्थकों ने पार्टी के प्रमुख नेताओं के घर जाकर प्रदर्शन भी किया।

भाजपा ने रायपुर नगर निगम के वार्ड पार्षद प्रत्याशियों की सूची जारी की। सूची में कई बड़े नेताओं के नाम हैं। मसलन, शहर जिलाध्यक्ष राजीव अग्रवाल खुद चुनाव लड़ रहे हैं। इसके अलावा आरडीए के पूर्व अध्यक्ष संजय श्रीवास्तव, सुभाष तिवारी, मृत्युंजय दुबे, प्रफुल्ल विश्वकर्मा, सूर्यकांत राठौर और अशोक पाण्डेय व संजूनारायण सिंह ठाकुर भी चुनाव मैदान में हैं। इन सभी को महापौर पद का दावेदार माना जा रहा है। मगर इनमें से ज्यादातर को अपने वार्ड में परेशानी झेलनी पड़ रही है।

संजय श्रीवास्तव के कालीमाता वार्ड से चुनाव मैदान में उतरने के बाद पार्टी के महामंत्री प्रमोद साहू ने बगावत कर दिया। साहू के समर्थकों ने गुरूवार को शहर जिला भाजपा अध्यक्ष राजीव अग्रवाल के निवास पर जाकर प्रदर्शन किया। साथ ही साथ चयन समिति के अन्य सदस्यों से भी मुलाकात की। कहा जा रहा है कि प्रमोद साहू निर्दलीय चुनाव मैदान में उतर सकते हैं। दूसरी तरफ, अरविंद दीक्षित वार्ड से सुभाष तिवारी को बाहरी बताकर विरोध किया जा रहा है, लेकिन उन्होंने डेमेज कंट्रोल की कोशिशें की और नाराज पार्टी नेताओं को मनाने में कुछ हद तक कामयाब भी रहे।

इसी तरह भगवती चरण वार्ड से सचिन मेघानी को भी बाहरी करार दिया जा रहा है। शंकर नगर वार्ड से रितु शर्मा निर्दलीय चुनाव मैदान में उतरने की तैयारी कर रही है। सुंदर नगर वार्ड से शशांक रजक के भी निर्दलीय चुनाव मैदान में उतरने की अटकलें लगाई जा रही है। इसके अलावा पार्षद दिलीप यदु भी निर्दलीय चुनाव मैदान में उतर सकते हैं। भाजपा की सूची में एक भी सिख उम्मीदवार का नाम नहीं है। जबकि आधा दर्जन से अधिक वार्डों से सिख समाज के भाजपा नेताओं ने दावेदारी ठोकी थी। हालांकि चार वार्ड से टिकट की घोषणा बाकी है, लेकिन 66 वार्डों में एक भी सिख उम्मीदवार को टिकट नहीं देने से नाराजगी है। छत्तीसगढ़ सिख काउंसिल ने इस पर खुले तौर पर नाराजगी जताई है।

दूसरी तरफ, सिंधी समाज के नेताओं ने भी नाराजगी जताई है। 66 उम्मीदवारों की सूची में मात्र 1 को ही टिकट मिली है। जबकि आधा दर्जन से अधिक टिकट के दावेदार थे। इनमें मदर टेरसा वार्ड से प्रेमप्रकाश मध्यानी, संत रविदास वार्ड से राजेश गुरनानी, इंदिरा गांधी वार्ड से अशोक क्षतिजा और शंकर नगर वार्ड से सुनीता नागरानी व ब्राम्हणपारा वार्ड से संध्या बिरनानी की दावेदारी थी। यहां सिंधी समाज के वोटर भी अच्छी खासी संख्या में है।  साथ ही साथ ये सभी भाजपा के पुराने कार्यकर्ता हैं। इसको लेकर भी भारी नाराजगी है। बहरहाल, मान मनौव्वल की कोशिशें भी हो रही है। बावजूद इसके कई के निर्दलीय चुनाव मैदान में उतर रहे हैं।

 


Date : 05-Dec-2019

फिरोज ने अंतागढ़ उपचुनाव में खरीद-बिक्री की पूरी कहानी ऑडियो सबूतों के साथ एसआईटी को दी...

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 5 दिसंबर। प्रदेश के सबसे चर्चित विधायक-प्रत्याशी खरीद-बिक्री कांड, अंतागढ़ टेप की जांच के दौरान स्टिंग ऑपरेटर फिरोज सिद्दिकी ने रायपुर पुलिस की एसआईटी के सामने कई सनसनीखेज भांडाफोड़ किए हैं। विश्वस्त सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार फिरोज ने पुलिस को अंतागढ़ विधानसभा उपचुनाव के कांग्रेस प्रत्याशी मंतूराम पवार की खरीद-बिक्री की पूरी कहानी ऑडियो सुबूतों के साथ दी है जो कि प्रदेश के कई नेताओं के लिए परेशानी का सबब बन सकती है।

फिरोज सिद्दीकी ने बताया कि वर्ष-2014 अगस्त में अंतागढ़ विधानसभा उपचुनाव में मंतूराम पवार को कांग्रेस ने टिकट दी। अमित जोगी और अजीत जोगी मंतूराम को टिकट देने के खिलाफ थे। जबकि मंतूराम अजीत जोगी के करीबी थे। मंतूराम पवार जितने वाले उम्मीदवार थे और इसका फायदा सीधे-सीधे तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल को मिलता।

अमित जोगी नहीं चाहते थे कि भूपेश बघेल का कद बढ़े। जब मंतूराम की टिकट फाइनल हो गई, तो दिल्ली में नार्थ एवेन्यू 85 में डायनिंग हॉल में खाना खाते अमित और अजीत जोगी आपस में चर्चा कर रहे थे कि क्यों न मंतूराम को चुनाव हरवा दिया जाए। चर्चा के बीच अमित ने सुझाव दिया कि ऐसा भी तो हो सकता है कि मंतूराम पवार चुनाव ही न लड़े। अजीत जोगी ने इस पर कहा कि इतना आसान नहीं है, वह जितने वाला प्रत्याशी है। अमित ने कहा कि कोशिश करते हंै। भाजपा से बात करते हैं। डॉ. रमन सिंह से डील करते हैं और मंतूराम के करीबी अमीन मेमन को इस काम में लगाते हैं। जोगी ने कहा कि अगर ऐसा हो जाए, तो बहुत अच्छा होगा।

अमित ने अमीन मेमन को फोन लगाकर दिल्ली आने बोला और उसी दिन शाम वाली फ्लाइट से अमीन मेमन दिल्ली आ गया। इसके बाद अमित जोगी ने, मेमन को पूरी योजना समझायी। अमीन मेमन ने मंतूराम को फोन लगाकर नार्मल बात की और फिर दूसरे दिन मिलने की बात कर मेमन रायपुर चला गया। इसके बाद अमित जोगी ने मुझसे डॉ. पुनीत गुप्ता से बात कर डॉ. रमन सिंह कहां है, इसका पता करने के लिए कहा।

पुनीत गुप्ता ने बताया कि वे विदेश में हैं, आंटी का इलाज कराने के लिए। इसके बाद पुनीत गुप्ता को फोन लगाकर दिया और अमित ने अजीत जोगी से फोन पर बात कराई। मैंने अपने मोबाइल में ऑटो वाइस रिकॉर्डिंग सुना तब पता चला कि साढ़े 7 करोड़ की डील की जा रही है। इसके बाद अमीन मेमन ने मंतूराम को तैयार कर लेने की खबर दी और बताया कि साढ़े 3 करोड़, निगम अध्यक्ष लालबत्ती और एक बंगला की मांग है। अमित ने पुनीत गुप्ता को साढ़े 3 करोड़ की जगह साढ़े 7 करोड़ बताया। साथ ही साथ यह कहा कि नाम वापसी के बाद ही रकम दी जाएगी। मुझे दिल्ली से रायपुर वापस भेज दिया गया।

अमित जोगी ने मुझसे अमीन मेमन के संपर्क में रहने कहा और पुनीत गुप्ता से चर्चा करने के लिए भी कहा। सिद्दीकी ने कहा कि नाम वापसी के ठीक पहले एक नया मोड़ आ गया। अमीन मेमन ने फोन पर उन्हें बताया कि मंतूराम पहले पैसा मांग रहा है और मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह से बात करना चाहता है। ये घटना सुबह 7 बजे की है फिर भी अमित ने पुनीत गुप्ता से बात करके मुख्यमंत्री से बात करवाने के लिए तैयार हो गया। मुझसे कहा कि तुम अपने मोबाइल से डॉ. रमन से बात करवा दो। अमीन मेमन से बात करके मैं कांकेर के लिए रवाना हुआ। उधर मंतूराम को लेकर अमीन आया और हम रास्ते में मिले। मैंने पुनीत गुप्ता के नंबर पर कॉल कर मंतूराम की बात मुख्यमंत्री से कराई। इसके बाद मंतूराम संतुष्ट होकर नाम वापस लेने के लिए कांकेर की ओर चले गए।

सिद्दीकी ने बताया कि मैं रायपुर आ गया। चूंकि राशि लेनी थी और नाम वापसी के बाद मंतूराम को दिया जाना था। पुनीत गुप्ता ने बताया कि राजेश मूणत के बंगले के सामने इंतजार करो और थोड़ी देर के बाद अमित का फोन आया। बंगले के अंदर गए। वहां मंत्रीजी अपने ऑफिस में बैठे थे। हमें बिठाया गया। थोड़ी देर बाद अरूण बिसेन दो हरे रंग के थैले में 2 करोड़ रूपए की बात कही। बाकी रकम के लिए इंतजार करने के लिए बोला गया। अमित जोगी शाम की फ्लाइट से रायपुर आ गया। मुझे बताया गया कि मंतूराम को वह रकम दे दी गई है, लेकिन मेरी अमीन से बात हुई, तो उसने बताया कि अमित ने रकम दिया ही नहीं है। मंतूराम ने बात कराया तो मंतूराम ने बताया कि मेरे साथ धोखा हुआ है। एसपी ने डरा धमकाकर नाम वापस लेने के लिए मजबूर किया है। मैं नाम वापसी नहीं लेता। वह किसी तरह समय टालना चाहता था। डर गया था इसलिए नाम वापस लिया।

सिद्दीकी ने यह भी बताया कि 2 करोड़ की राशि छोडऩे के बाद 5 करोड़ फिर 50 लाख अमित जोगी के बंगले में मुख्यमंत्री निवास से रकम भेजी गई। हर बार राशि अरूण बिसेन द्वारा भेजा गया। ये सच है कि मंतूराम नाम वापसी में पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह, पुनीत गुप्ता, अजीत जोगी, अमित जोगी और राजेश मूणत की अहम भूमिका रही है। उन्होंने यह भी बताया कि नाम वापसी के बाद मंतूराम को दिल्ली के मेदांता अस्पताल में बुलवाया गया। नाम वापसी के कुछ दिन बात मंतूराम को दिल्ली के मेदांता अस्पताल में बुलवाया गया। वहां डॉ. रमन सिंह की पत्नी को भर्ती रखा गया था। रात्रि 9 बजे मंतूराम की बैठक डॉ. रमन सिंह, पुनीत गुप्ता की उपस्थिति में चली। मैं वेटिंग हॉल में बैठा रहा। दोनों के बीच चर्चा हुई, यह मंतूराम ही बता सकते हैं। उनका मानना था कि भूपेश बघेल आगे चलकर खतरनाक  साबित होंगे। इसलिए अजीत जोगी, अमित जोगी और रमन सिंह, भूपेश बघेल को नीचा दिखाने के लिए प्रयास करते रहे।


Date : 05-Dec-2019

अन्तर्राष्ट्रीय दिव्यांग दिवस पर नकली पैर, कैलिपर्स, स्मार्ट केन पाकर दृष्टिबाधित, नि:शक्तजन हुए खुश, 100 दिव्यांगो को नि:शुल्क कृत्रिम अंग मिला

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 5 दिसम्बर।
अंतर्राष्ट्रीय दिव्यांग दिवस के अवसर पर तीन दिसम्बर को प्रदेश के विभिन्न जिलों में दिव्यांगजनों का परीक्षण एवं प्रमाणीकरण के लिए जिला स्तरीय शिविर का आयोजन किया गया। इसी तारतम्य में कोण्डागांव जिले के कलेक्टर नीलकंठ टीकाम के मार्गदर्शन में ग्राम मसोरा में दिव्यांगों का परीक्षण एवं प्रमाणीकरण शिविर आयोजित किया गया। इस दौरान पात्र दिव्यांग हितग्राहियों को कृत्रिम अंग एवं सहायक उपकरण वितरित किया गया। इसमें 14 हितग्राहियो को ट्रायसाइकिल, 5 व्हील चेयर, 9 बैसाखी, 11 वॉकिंग स्टिक, ब्रेल किट, 8 एमआर किट, डेजी प्लेयर, श्रवण यंत्र, एक स्मार्ट कैन, 3 स्मार्ट फोन, रोलेटर, तीन नकली पैर, नकली हाथ, 20 कैलिपर्स, एक एडीएल किट प्रदान किए गए। 
उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार के समाज कल्याण विभाग द्वारा नि:शक्तजनों को समाज की मुख्यधारा से जोडऩे के लिए समावेशी विकास के बेहतर अवसर उपलब्ध कराये जा रहे हैं, ताकि दिव्यांगजन सामान्य समुदाय के साथ समायोजित होकर साहस और विश्वास के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चल सके। इसी तारतम्य में कलेक्टर टीकाम द्वारा शिविर में दिव्यांगों को दिव्यांग प्रमाण पत्र प्रदान और स्मार्ट फोन एवं स्मार्ट केन भी प्रदान किए गए।

 शिविर में उपस्थित दृष्टिबाधित एवं अन्य दिव्यांगजन स्मार्ट फोन, स्मार्ट केन एवं अन्य उपकरण यंत्र पाकर उत्साहित हुए और उनके चेहरों पर रौनक आ गई। 


Date : 05-Dec-2019

नेहरू युवा केंद्र युवा सरकार द्वारा आयोजित सात दिवसीय जीवन कौशल शिक्षा प्रशिक्षण कार्यक्रम, 1098 नि: शुल्क सेवा के बारे में प्रतिभागियों को जानकारी दी

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 5 दिसंबर।
नेहरू युवा केंद्र युवा सरकार द्वारा आयोजित सात दिवसीय जीवन कौशल शिक्षा प्रशिक्षण कार्यक्रम के अंतिम चरण में चाइल्डलाइन  के मुकेश तथा हेमसागर ने 1098 नि: शुल्क सेवा के बारे में प्रतिभागियों को जानकारी दी। इस अवसर पर स्पोर्ट्स योगा टीचर कुश्ती संघ की उपाध्यक्ष डाली यादव ने कन्याओं को वर्तमान समय में हो रही घटनाओं से बचने के उपाय सुझाए। 

 जिला युवा समन्वयक अर्पित तिवारी ने प्रतिभागी छात्राओं का उत्साह वर्धन तथा जिज्ञासु इच्छा शक्ति की सराहना करते हुए कहा समय प्रबंधन, सात्विक चिंतन, संबंधों में सुधार जैसे गुणों के विकास से जीवन की चुनौतियों का सामना करने में मदद मिलती है। नीलिमा ठाकुर प्रधान पाठिका शा. पूर्व मा. शाला चंगोराभाठा ने आयोजित कार्यक्रम के प्रति आभार व्यक्त किया। 
कार्यक्रम के समापन अवसर पर प्रतिभागी छात्र-छात्राओं को प्रमाण पत्र दिया गया। इस अवसर पर लुकेश बघेल राज्य प्रशिक्षक नेहरू युवा केंद्र आशीर्वाद एजुकेशन एंड वेलफेयर एसोसिएशन, खारुन गंगा यूथ सोसल ऑर्गेनाइजेशन के अध्यक्ष राकेश भारती गोस्वामी, देवेंद्र कुमार, मंजुला साहू, राष्ट्रीय युवा स्वयंसेवक शारदा पैकरा, भूपेंद्र देवांगन उपस्थित रहे।

 


Date : 05-Dec-2019

उच्च शिक्षा विभाग के तत्वाधान में अंतर महा हैंडबाल प्रतियोगिता का आयोजन, सेक्टर हैंडबॉल महिला टीम घोषित

रायपुर, 5 दिसंबर। उच्च शिक्षा विभाग छग शासन के तत्वाधान में शासकीय छत्तीसगढ़ महाविद्यालय रायपुर सेक्टर अंतर महा हैंडबाल प्रतियोगिता का आयोजन शिक्षा विभाग पं. रविवि परिसर के हैंडबॉल मैदान में 4 दिसम्बर को किया गया। स्पर्धा के माध्यम से रायपुर सेक्टर की महिला हैंडबॉल टीम का गठन किया गया। यह टीम 14 एवं 15 दिसंबर को शास. दू ब महिला महाविद्यालय द्वारा आयोजित स्टेट हैंडबॉल प्रतियोगिता में भाग लेंगी। 

आयोजन सचिव एवं क्रीड़ा अधिकारी रूपेंद्र सिंह चौहान द्वारा प्राप्त जानकारी अनुसार रायपुर सेक्टर की महिला हैंडबॉल टीम में  प्रीति साहू, गुँजन टंडन, योगिता साहू, हेमपुष्पा वर्मा, हिना चन्द्राकर, (शास कन्या महाविद्यालय देवेंद्र नगर), नेहा साहू , मनीषा टण्डन (शास जे योगनन्दम छत्तीसगढ़ मविरायपुर), मनीषा साहू, गायत्री साहू, योगिता निषाद ( शास महाविद्यालय आरंग), सुनीता ध्रुव (शास दू ब मवि रायपुर), मानसी पाल (आदर्श मवि रायपुर), अनिता पटेल (विज्ञान मवि रयपुर), पुष्पलता बरगाह (दुर्गा मवि) को शामिल किया गया है। 

 


Date : 05-Dec-2019

 राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा समस्त कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी को जाति प्रमाण के संबंध में निर्देशित किया

रायपुर, 5 दिसम्बर। छत्तीसगढ़ राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा समस्त कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी को जाति प्रमाण के संबंध में निर्देशित किया गया है। छत्तीसगढ़ अनुसूचित जाति, जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग (सामाजिक प्रास्थिति के प्रमाणीकरण का विनियमन) अधिनियम-2013 की धारा-2(ख) में सक्षम प्राधिकारी को परिभाषित किया गया है। छत्तीसगढ़ शासन, सामान्य प्रशासन विभाग मंत्रालय नवा रायपुर के अधिसूचना क्रमांक एफ क्यू-13-23/2012/आ.प्र./1-3 दिनांक 22 अगस्त 2013 में उक्त अधिनियम के प्रावधानों के अधीन सक्षम प्राधिकारी तथा अपीलीय अधिकारियों को अधिसूचित किया गया है।

कुछ जिलों से जानकारी प्राप्त हुई है कि अभ्यर्थियों को सक्षम अधिकारी द्वारा जारी प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने में कठिनाई आ रही है। उन्होंने इस संबंध में आयोग द्वारा प्रकाशित ‘रिटर्निंग ऑफिसर की निर्वाचन संदर्शिका-2019’ की कंडिका 6:16:1:4 की तरफ ध्यान आकर्षित कराया है। 

इस संबंध में स्पष्ट किया जाता है कि उक्त कंडिका में सक्षम अधिकारी द्वारा जारी जाति का प्रमाणित दस्तावेज अनिवार्य किया गया है। इस विषय को और अधिक स्पष्ट करने के लिए जाति के प्रमाण की कार्यवाही हेतु छत्तीसगढ़ शासन सामान्य प्रशासन विभाग मंत्रालय नवा रायपुर के पत्र क्रमांक एफ 13-4/2006/आ.प्र./1-3, रायपुर, दिनांक 29 जून 2013 (सुलभ सन्दर्भ हेतु प्रति संलग्न है) में उल्लेखित प्रक्रिया का अवलोकन एवं अध्ययन कर लिया जावे। साथ ही रिटर्निंग ऑफिसर की संदर्शिका के पृष्ठ-46 पर दर्शित चेक लिस्ट की कंडिका-4 का भी अवलोकन कर लिया जाए।