छत्तीसगढ़ » रायपुर

Date : 17-Jan-2020

क्लब एवं सिको काई कराटे द्वारा ओपन जिला स्तरीय आमंत्रण कराटे चैंपियनशिप जुटे 3 सौ खिलाड़ी, क्लबों के तकरीबन 300 खिलाडिय़ों ने भाग लिया

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 17 जनवरी।
क्लब एवं सिको काई कराटे द्वारा पुरानी बस्ती महामाई पारा में ओपन जिला स्तरीय आमंत्रण कराटे चैंपियनशिप का विगत दिनों आयोजन किया गया। जिसमें जिले के विभिन्न स्कूलों एवं  क्लबों के तकरीबन 300 खिलाडिय़ों ने भाग लिया। 

प्रतियोगिता का उद्घाटन वार्ड पार्षद जितेंद्र अग्रवाल, मुरली यदु, नरेंद्र निहाल, अमित अग्रवाल, प्रकाश अवस्थी, मनमोहन सिंह ठाकुर द्वारा किया गया। प्रतियोगिता का समापन अवसर पर मुख्य अतिथि सरिता वर्मा पार्षद, विशेष अतिथि अशोक मालू एवं डॉ. संजय उपाध्याय द्वारा पुरस्कार वितरण किया गया। आयोजक तुलसीराम सपहा द्वारा प्राप्त जानकारी अनुसार विजेता खिलाडिय़ों में ईशान्वी मिश्रा, आशिनी सोनू, नव्या सेन दीक्षा रामनी, खुशी पुजार वर्मा, अनुष्का, रूपेश, पिंकी, अश्वनी, भूमिका शामिल रहे। 

 

 

 


Date : 17-Jan-2020

स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा पुलिस ग्राउंड में आयोजित ड्रॉप रो बॉल में छत्तीसगढ़ का रहा दबदबा

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 17 जनवरी।
स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा पुलिस ग्राउंड में आयोजित ड्रॉप रो बॉल के रोमांचक मुकाबले खेले गए। बालिका अंडर-19 डबल्स में छत्तीसगढ़ में आंधप्रदेश को 2-0 से पराजित किया। बालिका अंडर-17 में छत्तीसगढ़ ने मप्र को 2-0 से हराया। बालिका अंडर-19 में दिल्ली में तमिलनाडु को 2-0 से, पंजाब में राजस्थान को 2-0 से, मप्र ने उत्तरप्रदेश को 2-0 से शिकस्त दी। बालिका अंडर-17 में राजस्थान में 2-0 से दिल्ली को, पंजाब ने 2-0 से  उत्तरप्रदेश को तथा तमिलनाडु में आंध्रप्रदेश को 2-0 से शिकस्त दी। बालिका अंडर-19 डबल्स में छत्तीसगढ़ ने 2-0 से तमिलनाडु को, आंध्रप्रदेश ने 2-0 से दिल्ली को शिकस्त दी। अंडर-17 में छग ने 2-0 से राजस्थान को हराया। 

 


Date : 17-Jan-2020

 प्रधानमंत्री ग्राम सडक़ योजना के तहत सडक़ों की गुणवत्ता परखने राष्ट्रीय समीक्षक दल का दौरा 

रायपुर, 17 जनवरी। छत्तीसगढ़ ग्रामीण सडक़ विकास अभिकरण के मुख्य अभियंता तथा राज्य गुणवत्ता समन्वयक ने बताया है कि इस माह में छत्तीसगढ़ राज्य में प्रधानमंत्री ग्राम सडक़ योजना के तहत निर्माणाधीन कार्यों के तृतीय स्तर के परीक्षण के लिए राष्ट्रीय गुणवत्ता समीक्षकों का दौरा होगा।

दौरा दल में कोरिया एवं बिलासपुर जिले की सडक़ों की गुणवत्ता परीक्षण का कार्य हरिशंकर यादव की टीम करेगी इनका मोबाईल नंबर है 9415797619 है। बस्तर एवं दंतेवाड़ा जिले की सडक़ों का परीक्षण अशोक कुमार परवान की टीम करेगी श्री परवार की मोबाईल नंबर 9418091099 है। कांकेर एवं राजनांदगांव की सडक़ों का परीक्षण धेवर चंद पनवार की टीम करेगी इनका मोबाईल नंबर 7506045235 है। नारायणपुर एवं कोण्डागांव सडक़ों का परीक्षण यू.पी. अनिल कुमार की टीम करेगी कुमार मोबाईल नंबर 9415483991 है। कांकेर और राजनांदगांव की सडक़ों का परीक्षण अनिल कुमार की टीम करेगी इनका मोबाइल नंबर 7903753767 है। इसी तरह बीजापुर एवं सुकमा जिले के प्रधानमंत्री ग्राम सडक़ योजना के अंतर्गत निर्माणाधीन कार्यों की गुणवत्ता का परीक्षण करेगी। श्री कुमार की मोबाइल नंबर 9560566800 है।

 

 

 

 


Date : 17-Jan-2020

सहकारिता मंत्री ने शक्कर कारखाना की समीक्षा, अधिकारियों को कारखानों के संचालन में मितव्ययता बरतने के निर्देश दिए

रायपुर, 17 जनवरी। सहकारिता मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने प्रदेश में संचालित चार सहकारी शक्कर कारखाना की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को गन्ना उत्पादक किसानों के व्यापक हित में आवश्यक मितव्ययता के साथ गुणात्मक ढंग से दक्षता पूर्ण कारखाना संचालन कर शक्कर की लागत में कमी और रिकव्हरी में वृद्धि सहित सह उत्पादों के अधिकतम संभव मूल्य में विक्रय सहित सभी कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। बैठक में भोरमदेव कवर्धा, लौह पुरूष सरदार वल्लभ भाई पटेल, सहकारी शक्कर कारखाना पंडरिया, मां महामाया सहकारी शक्कर कारखाना अंबिकापुर और दंतेश्वरी मैया सहकारी शक्कर कारखाना बालोद की समीक्षा की गई। 

डॉ. टेकाम ने अधिकारियों को शक्कर के निर्यात के प्रभावी प्रयास के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि राज्य शासन द्वारा वितरण के लिए गुड़ की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए कवर्धा जिले में अतिशेष गन्ने से गुड़ निर्माण के लिए गुड़ निर्माण सहकारी समिति के गठन के प्रयास किए जाए। डॉ. टेकाम ने कारखानों की प्रतिकूल वित्तीय स्थिति को ध्यान में रखते हुए इथेनॉल प्लांट की स्थापना के लिए पी.पी.पी. मोड के विकल्प पर विचार करते हुए प्रस्ताव करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। 

समीक्षा बैठक में अधिकारियों ने बताया कि कवर्धा में 40 के.एल.पी.डी. क्षमता का मोलासिस से इथेनॉल बनाने के लिए संयंत्र की स्थापना की स्वीकृति प्राप्त हो चुकी है। डी.पी.आर. व्ही.एस.आई. पुणे से तैयार कराया गया है। पर्यावरण क्लीयरेन्स की कार्यवाही प्रक्रियाधीन है। परियोजना लागत का 70 प्रतिशत लगभग 49.76 करोड़ की गारंटी के लिए प्रस्ताव शासन को प्रेषित किया गया है। पण्डरिया शक्कर कारखाना में एनएफसीएसएफ नई दिल्ली से 70 के.एल.पी.डी. क्षमता का मोलासिस से इथेनॉल बनाने के लिए डी.पी.आर. तैयार कराया गया है। केरता कारखाना में व्ही.एस.आई. पुणे से 40 के.एल.पी.डी. क्षमता का मोलासिस से इथेनॉल बनाने के लिए डीपीआर तैयार कराया गया है। बैठक में शक्कर कारखानों के हितों को ध्यान में रखते हुए सामग्री क्रय में मितव्ययता के साथ गुणवत्तापूर्ण सामग्री के लिए पारदर्शी प्रक्रिया का पालन करने के निर्देश दिए गए। प्रबंध संचालकों को कारखानें और गन्ना उत्पादक कृषकों के हितों में ध्यान में रखते हुए सुचारू संचालक सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए। सभी प्रबंध संचालकों को गोदाम, टैंक, रोड़, पाइप लाइन आदि निर्माण कार्यों के लिए जिला कलेक्टर से समन्वय कर शासन से राशि प्राप्त करने के लिए त्वरित कार्यवाही करने के निर्देश दिए। 

बैठक में सचिव सहकारिता रीता सांडिल्य, सचिव सहकारी एवं पंजीयक सहकारी संस्थाएं धनंजय देवांगन, अपर पंजीयक सहकारी संस्थाएं एच. के. दोशी और एच. के. नागदेव, उप सचिव पी.एस. सर्पराज, संयुक्त पंजीयक डी.पी. टावरी, सहायक पंजीयक विकास खन्ना, प्रबंध संचालक भोरमदेव सहकारी शक्कर कारखाना कवर्धा भूपेन्द्र सिंह ठाकुर, प्रबंध संचालक लौह पुरूष सरदार वल्लभ भाई पटेल सहकारी शक्कर कारखाना पण्डरिया दिलीप जायसवाल, प्रबंध संचालक मां महामाया सहकारी शक्कर कारखाना अंबिकापुर बिनोद बुनकर और प्रबंध संचालक दंतेश्वरी मैया सहकारी शक्कर कारखाना बालोद मुकेश ध्रुव उपस्थित थे।

 

 


Date : 17-Jan-2020

शास्त्रीय नृत्य का आयोजन, नृत्य में तबस्मी पॉल मजूमदार ने अपने विभिन्न कला एवं मुद्राओं का प्रदर्शन कर उपस्थित जप समुदाय का मन मोह लिया

रायपुर, 17 जनवरी। शहर की ख्यातिलब्ध संस्था ज्ञरन गंगा न केवल शिक्षा बल्कि अन्य विद्याओं में समय समय पर कार्यक्रम करवाती है जिसके अंतर्गत शास्त्रीय नृत्य का आयोजन किया गया, शास्त्रीय नृत्य में तबस्मी पॉल मजूमदार ने अपने विभिन्न कला एवं मुद्राओं का प्रदर्शन कर उपस्थित जप समुदाय का मन मोह लिया, उपरोक्त कार्यक्रम का आयोजन मुख्य रूप में जन शिक्षा संस्थान के माध्यम से किया गया। शास्त्रीय नृत्य की विभिन्न विद्याओं कला को सीखकर छात्र छात्राओं ने बल्कि उपस्थित सभी लोगों ने भूरि भूरि प्रशंसा की। तबस्मी पॉल मजूमदार का नाम कलकत्ता में शास्त्रीय नृत्य के लिये प्रसिद्ध है, इनके इस पंयास का साक्षी ज्ञान गंगा एजुकेशनल एकेडमी रहा जिसके साहित्य में कार्यक्रम सफल रहा। उपरोक्त कार्यक्रम में शाला की प्राचार्या प्रतिमा राजगोर ने कहा कि इनके शास्त्रीय नृत्य को हम अपने बच्चों को सीखने के लिये प्रेरणा देंगे।

 

 


Date : 17-Jan-2020

प्रदेश भर के म्युनिसिपल चुनाव में चुने गए कांग्रेस प्रतिनिधियों के सम्मान समारोह को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा- छत्तीसगढ़ की सरकार लोगों को जोडऩे का काम कर रही है, वहीं दिल्ली में बैठी सरकार तोडऩे का काम कर रही, मोदी-शाह के मनमुटाव में पीस रही जनता

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 17 जनवरी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने म्युनिसिपल चुनाव में चुने गए कांग्रेस प्रतिनिधियों के सम्मान समारोह को संबोधित करते हुए केंद्र सरकार और उनकी नीतियों पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार लोगों को जोडऩे का काम कर रही है, लेकिन दिल्ली में बैठी सरकार लोगों को तोडऩे का काम कर रही है।

 प्रदेश कांग्रेस द्वारा आज यहां इंडोर स्टेडियम में म्युनिसिपल चुनाव में जीतकर आए करीब 13 सौ महापौर-सभापति, नगर पालिका अध्यक्ष-उपाध्यक्ष व पार्षदों का समारोह आयोजित कर सम्मान किया गया। मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री कहते हैं कि एनआरसी देश में लागू नहीं होगा। गृहमंत्री कहते हैं कि एस क्रोमोलॉजी है, एनआरसी पूरे देशभर में लागू होगा। अब सवाल यह उठता है कि सच कौन बोल रहा है। गृहमंत्री जो बोल रहे हैं वो सही है या फिर प्रधानमंत्री जो बोल रहे हैं वो सही है। हमको लगता है कि दोनों के बीच मनमुटाव हो गया है और इस मनमुटाव के चलते देश की जनता पीस रही है।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने सीएए-एनआरसी के मुद्दे पर प्रधानमंत्री और गृहमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ की सरकार लोगों को जोडऩे का काम कर रही है, वहीं दिल्ली में बैठी सरकार लोगों को तोडऩे का काम कर रही है। एक बात की तरफ हम जरूर इशारा करना चाहेंगे कि पिछला 5 साल जो गुजरा, वो नरेंद्र मोदी का समय था जिसमें उन्होंने नोटबंदी की, जीएसटी लाया। ये 7-8 महीने जो गुजरा ये अमित शाह का है, जिसमें उन्होंने 370 लाया, 35ए, सीएए, एनपीआर, एनआरसी लाया। ये दोनों मिलकर हिंदुस्तान के लोगों को अंग्रेजी सिखाने का काम कर रहे हैं।

5 साल उन्होंने तकलीफ दी और 7-8 महीने में इन्होंने जो किया उससे लोग सडक़ पर आ चुके हैं। मुख्यमंत्री ने पुलवामा अटैक को लेकर फिर से सवाल उठाते हुए कहा कि चुनाव के ठीक पहले पुलवामा हो जाता है। मैंने उस समय भी सवाल उठाया था कि आखिर उस सडक़ पर जहां परिंदा भी पर नहीं मार सकती, वहां आरडीएक्स से भरी कार कैसे पहुंची। और तो और उसी गाड़ी में टक्कर कैसे मारी, जो बुलेट प्रुफ नहीं थी।अब खबर आ रही है कि पुलवामा में भी वहीं डीएसपी देविंदर पोस्टेड था। देविंदर के बारे में कहा जाता है कि उसने आतंकी अफजल गुरू को दिल्ली पहुंचाया था।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने चुनाव जीतने वाले सभी पार्षदों का स्वागत करते हुए कहा कि उन्होंने जिस तरह से जीत दर्ज की है, वह बहुत काबिल ए तारीफ तो है ही, जनता का भी आभार है, जिन्होंने कांग्रेस की नीतियों पर भरोसा जताया। उन्होंने कहा कि जिस तरह का परिणाम इस बार नगरीय निकाय चुनाव में आया है, वैसी सफलता आज तक कभी किसी प्रदेश में नहीं आया। जब किसी एक पार्टी ने शत प्रतिशत निगमों में जीत दर्ज की हो। जीत की गूंज पूरे हिन्दुस्तान में है। इस जीत का मैदानी कार्यकर्ताओं, ब्लॉक व जिलाध्यक्षों, विधायकों, पूर्व विधायकों, प्रदेश पदाधिकारियों समेत कांग्रेस से जुड़े सभी लोगों को जाता है। खासकर प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया और प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम को सबसे अधिक श्रेय जाता है। उन्होंने कहा कि जीत जितनी बड़ी होती है, अपेक्षा भी उतनी ही बड़ी होती है।


Date : 17-Jan-2020

खेलो इंडिया में छत्तीसगढ़ को 4 पदक, मुख्यमंत्री और खेल मंत्री ने दी बधाई

रायपुर, 17 जनवरी। असम में आयोजित खेलो इंडिया प्रतियोगिता में छत्तीसगढ़ के खिलाडिय़ों ने अपने बेहतर खेल प्रतिभा का प्रदर्शन करते हुये चार पदक अपने नाम करने में कामयाब रहे हैं। खिलाडिय़ों के इस उपलब्धि के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और खेल मंत्री उमेश पटेल ने बधाई और शुभकामनाएं दी हैं।

खेलो इंडिया प्रतियोगिता में छत्तीसगढ़ से 13 खेलों में 102 खिलाडिय़ों के दल ने भाग लिया है। 17 व 21 वर्ष आयु वर्ग के बालिका कबड्डी खेल प्रतियोगिता में कांस्य पदक प्राप्त हुआ है, वहीं जूडो में अनमोल को 80 किलो ग्राम वजन वर्ग में कांस्य पदक व भारोत्तोलन में ज्ञानेश्वरी यादव को 45 किलोग्राम वजन वर्ग में रजत पदक प्राप्त हुआ है। ज्ञानेश्वरी ने 61 किलो स्नेच व 76 किलो जर्क कुल 137 किलोग्राम वजन उठाकर राज्य के लिए ये उपलब्धि अर्जित की।

 खेलो इंडिया के पदक विजेता को मुख्यमंत्री की घोषणा के अनुरूप व्यक्तिगत खेलो में रजत पदक विजेता को 1.75 लाख रुपए, कास्य पदक विजेता को 1.50 लाख रुपए एवं दलीय खेल कबड्डी के प्रत्येक सदस्य को 50-50 हजार रूपए का नगद पुरस्कार, खेल दिवस पर आयोजित सम्मान समारोह में दिया जाएगा।


Date : 17-Jan-2020

रैगिंग-मारपीट, कलेक्टर ने हॉस्टल अधीक्षकों की बैठक बुलाई, एंटी रैगिंग सेल का विचार

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 17 जनवरी। शहर के आदिवासी हॉस्टलों में बढ़ते रैगिंग को देखते हुए कलेक्टर ने जिलेभर के हॉस्टल अधीक्षकों की आज एक बैठक बुलाई है। बैठक में रैगिंग नियंत्रण को लेकर चर्चा चलती रही।  वे रैगिंग रोकने हॉस्टल अधीक्षकों को उचित दिशा-निर्देश भी देते रहे। कहा जा रहा है कि हॉस्टलों में जूनियर-सीनियर छात्रों के बीच रैगिंग, मारपीट रोकने एंटी रैगिंग सेल का गठन किया जाएगा।

शहर के डीडी नगर स्थित आदिवासी छात्रावास में दो दिन पहले मारपीट, रैगिंग की घटना सामने आई थी। वहां के कुछ सीनियर छात्रों ने जूनियर छात्रों की क्लास लेते हुए उनकी जमकर पिटाई कर दी थी। घटना के बाद वहां के तीन छात्र गायब थे। दूसरे दिन तीनों छात्रों ने कलेक्टर एस भारतीदासन के सामने घटना की पूरी जानकारी दी। इसके बाद वहां का हॉस्टल अधीक्षक निलंबित कर दिया गया।

इस घटना के बाद बीती शाम पेंशन बाड़ा स्थित आदिवासी हॉस्टल में मारपीट, रैगिंग का मामला सामने आ गया। पीडि़त छात्रों ने घटना की शिकायत कोतवाली पुलिस में करते हुए कार्रवाई की मांग की। दूसरी ओर आदिवासी हॉस्टलों में लगातार दो घटना के बाद कलेक्टर ने आज जिलेभर के हॉस्टल अधीक्षकों की एक बैठक बुलाई है। बैठक में हॉस्टल की व्यवस्था को लेकर चर्चा चलती रही। खासकर मारपीट, रैगिंग के मामलों पर बारीकी से नजर रखने के निर्देश दिए जाते रहे।  कहा जा रहा है कि आदिवासी हॉस्टलों में रैगिंग, मारपीट रोकने एंटी रैगिंग सेल का गठन भी जल्द किया जा सकता है।


Date : 17-Jan-2020

सौतेली नाबालिग बेटी से बलात्कार, फरार, घटना के समय उसकी मां कहीं काम पर गई थी

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 17 जनवरी। शहर के टिकरापारा क्षेत्र में एक मजदूर युवक ने अकेली पाकर डराते-धमकाते हुए अपनी एक नाबालिग सौतेली बेटी के साथ बलात्कार किया। घटना के बाद से आरोपी फरार है। पीडि़त की शिकायत पर पुलिस मामला दर्ज कर पूछताछ में लगी है।

पुलिस के मुताबिक 13 साल की एक नाबालिग युवती ने अपनी मां के साथ टिकरापारा पुलिस में पहुंचकर अपने सौतेले बाप के खिलाफ बलात्कार की शिकायत दर्ज कराई। उसने पुलिस को बताया कि परसों उसके सौतेले बाप ने उसके साथ डरा-धमकाकर बलात्कार किया। घटना के समय उसकी मां कहीं काम पर गई थी। शाम को मां के आने पर उसने घटना की पूरी जानकारी उसे दी। दूसरी ओर घटना के बाद उसका सौतेला बाप घर छोडक़र फरार हो गया।

 पुलिस का कहना है कि नाबालिग युवती से बलात्कार-धमकी मामले की जांच की जा रही है। आरोपी युवक कुली-कबाड़ी का काम करता है। घटना की शिकायत पुलिस में आने के पहले से वह फरार है। पुलिस उसकी तलाश में लगी है। फिलहाल वह पकड़ से बाहर है। उसके खिलाफ बलात्कार और पॉक्सो एक्ट का मामला दर्ज किया गया है।


Date : 17-Jan-2020

नगरीय प्रशासन में बड़े पैमाने पर फेरबदल 34 अधिकारी-कर्मी इधर से उधर

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 17 जनवरी। नगरीय प्रशासन विभाग ने गुरूवार को बड़े पैमाने में फेरबेदल किया गया। इसमें 32 मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को विभिन्न नगर पालिकाओं में पदस्थ किया गया है। वहीं 34 अधिकारी और कर्मचारियों को इधर से उधर किया गया। इसके अलावा 3 अधिकारियों के भी तबादले किए गए। इस प्रकार जारी लिस्ट के अनुसार नगरीय प्रशासन विभाग में कुल 69 अधिकारी-कर्मचारियों के तबादले किए गए।

भूपेश सिंह डोंगरगांव से रायगढ़, नरेश कुमार वर्मा छुरिया से डोंगरगांव, हरदयाल रात्रे अकलतरा से चिरमिरी, सुमीत कुमार मेहता बलरामपुर से रामानुजगंज, रविंद्र शुक्ला उतई से भाटापारा, नेतराम रत्नेश दल्लीराजहरा से पे्रमनगर, बसंत राम भटगांव (सूरजपुर)से चिरमिरी, प्रकाशचंद शुक्ला शिवरीनारायण से अकलतरा, जेबीएस चौहान माना कैंप से भखारा, योगेश्वर उपाध्याय कुंरा से अंबिकापुर, अन्नपूर्णा पाल तुमगांव से महासमुंद, मोतीचंद जैन राजिम से पेंड्रा, दिनेश यादव बसना से धमतरी, संतोष कुमार विश्वकर्मा लोरमी से सक्ती, एके डिक्सेना छुरीकला से कोरबा,  अशोक शर्मा नवागढ़(जांजगीर-चांपा)से नयाबाराद्वार, पीएस सोम पलारी से अंबिकापुर, शिवकुमार यादव नयाबाराद्वार से रायगढ़, राजेश कुमार त्रिवेदी जैजेपुर से सक्ती, एस के दुबे कुसमी से पत्थलगांव, वेदराम साहू कुनकुरी से पत्थलगांव, पीताम्बर सिंह धु्रवे राजपुर से भोपालपट्टनम, सीमा बख्शी मारो से राजनांदगावं, नीतू अग्रवाल गरियाबंद से अड़भार, राजेश पाण्डेय सारागांव से रायगढ़, कमल नारायण जंघेल छुईखदान से बीरगांव, वनिस दुबे बस्तर से जगदलपुर, मोहरलाल गहवरिया प्रेमनगर से सूरजपुर, संतोष स्वर्णकार भखारा से रायपुर, सतीश सिंह भोपालपट्टनम से भाटापारा, आनंद राय अड़भार से खरसिया, सीबी परगनिया भिलाई-चरौदा से कुम्हारी, विमल शर्मा कुम्हारी से भिलाई-चरौदा।

राकेश जायसवाल बस्तर से महासमुंंद, रमेश जायसवाल महासमुंद से रायपुर, राजेश गुप्ता भाटापारा से बिलासपुर।

अनुभव सिंह डोंगरगांव, विभा सिंह छुरिया, शीलू भारती अकलतरा, तरूण कुमार एक्का बलरामपुर, सोहेल कुमार उतई, बंशीलाल नुरूटी दल्लीराजहरा, केरकेट्टा भटगांव (सूरजपुर), मनप्रीत कौर तुमगांव, हितेंद्र यादव शिवरीनारायण, जसदेव सिंह बाबरा मना कैम्प, श्वेता आंबिलकर कुंरा, येशा लहरे फिगेंश्वर, संध्या वर्मा गरियाबंद, चंदन मानकर राजिम, नारायण बसना, सवीना अनंत लोरमी, मनीष कुमार डौण्डीलोहरा, मनीष वारे छुरीकलॉ, रामसंजीवन नवागढ़, प्रणव प्रवेश प्रधान घरघोड़ा, लवकेश कुमार पलारी, विक्रण भगत नयाबाराद्वार, भूपेश दीवान जैजेपुर, दीपक कुमार कुसमी, अंकुल राम कुनकुरी, मीनाक्षी नाग गीदम, अमलदीप मिंज राजपुर, कोमल ठाकुर मारो, गिरिश कुमार चंद्रा सारागांव, अजय राजपूत छुईखदान, हंसा बस्तर, सुशील चौधरी बिलाईगढ़।

 

 


Date : 17-Jan-2020

बच्चों के अस्थि रोगों का नि:शुल्क परामर्श शिविर आरोग्य हॉस्पिटल शंकर नगर रायपुर मे आयोजित 

रायपुर, 17 जनवरी। बच्चों में होने वाले जन्मजात विंकलांगता (बिल पालकी व अति बोग) का नि:शुल्क परामर्श शिविर 18 जनवरी को सुबह 10 से 2 बजे तक आरोग्य हॉस्पिटल शंकर नगर रायपुर मे आयोजित किया जा रहा है इस अवसर पर डॉ. तरल वी. नागड, व डॉ. दीपक अग्रवाल विषेष रूप से उपस्थित रहेगें व परामष्र्र देगें। तथा जरूरतमंद बच्चे की आयुष्मान भारत की सहायता से नि:शुल्क ऑपरेशन भी किया जायेगा। यदि कोई भी बच्चे को निम्नलिखित लक्षण है शिशुु का समय पर सामान्य शारीरिक विकास न होना,गर्दन ना संभाल पाना,बैठ न पाना, चलना फिरने की समस्या,एडी उठाकर चलना,हाथ पैरो मे असमान्य जकडऩ,उकडू व पालथी मार कर ना बैठ पाना,एक हाथ या पांव का काम ना करना,पांव के पंजे का टेढ़े-मेढ़े होना,घुटने मोडकर चलना,पैर में कैंची मारकर चलना अन्य अस्थि रोग समस्याएं डीडीएच (कुल्हे की हड्डी व जोड़ की बीमारी) टॉर्टिकॉलिस (जन्म से गर्दन का टेढ़ापन,छोटापन) फ्लैट फूट (समतल पैर) तो वह शिविर में पंजीयन कराके आ सकते है।

 


Date : 17-Jan-2020

नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में अज वर्ग के 215 प्रकरण वापस, अधिकारियों ने बताया कि पुलिस महानिरीक्षक बस्तर एवं दुर्ग को निर्देशित किया गया है कि वे आदिवासियों के विरूद्ध यदि कोई प्रकरण हो तो उनकी सूची अनुशंसा सहित पुलिस मुख्यालय को भेजें

रायपुर, 17 जनवरी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा राज्य के नक्सल प्रभावित क्षेत्रों विशेषकर बस्तर अंचल के अनुसूचित जनजाति वर्ग के रहवासियों और ग्रामीणजनों के उत्पीडऩ पर गहरी चिंता व्यक्त करते हुए इनके विरूद्ध पुलिस द्वारा दर्ज प्रकरणों की समीक्षा करने का निर्णय लिया गया था। इस निर्णय के तहत बस्तर संभाग के सातों जिलों के अंतर्गत घटित 215 प्रकरणों की वापसी हो चुकी है।

पुलिस मुख्यालय के अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री के भावनाओं के अनुरूप 8 मार्च 2019 को उच्चतम न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायमूर्ति ए.के.पटनायक की अध्यक्षता में 7 सदस्यीय समीक्षा समिति का गठन किया गया था। समिति की पहली बैठक में आदिवासियों के विरूद्ध दर्ज 313 प्रकरणों की वापसी की अनुशंसा की गयी। इनमें से बस्तर संभाग में घटित 215 प्रकरणों की वापसी हो चुकी है। राजनांदगांव के 98 प्रकरण न्यायालय में प्रक्रियाधीन है। पटनायक कमेटी की दूसरी बैठक के लिए 197 प्रकरणों की अनुशंसा की गई है, जिन पर अगली बैठक में निर्णय लिया जाएगा। अधिकारियों ने बताया कि पुलिस महानिरीक्षक बस्तर एवं दुर्ग को निर्देशित किया गया है कि वे आदिवासियों के विरूद्ध यदि कोई प्रकरण हो तो उनकी सूची अनुशंसा सहित पुलिस मुख्यालय को भेजें।

 


Date : 17-Jan-2020

गणतंत्र दिवस तैयारियां जोरो पर, 15 विभागों की निकलेगी झांकी, गणतंत्र दिवस समारोह पिछले वर्ष की तुलना में और अधिक गरिमामय ढ़ंग से मनाने के लिए विभिन्न विभागों को अलग-अलग जिम्मेदारियां सौंपी गई हैं

रायपुर, 17 जनवरी। राजधानी रायपुर सहित पूरे प्रदेश में गणतंत्र दिवस 26 जनवरी को हर्ष और उल्लास के साथ गरिमामय ढंग से मनाया जाएगा। जिला मुख्यालय सहित रायपुर के पुलिस परेड ग्राउंड में सवेरे 9 बजे से 11 बजे तक मुख्य समारोह आयोजित होगा। मुख्य समारोह में राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके करेंगी। गणतंत्र दिवस समारोह पिछले वर्ष की तुलना में और अधिक गरिमामय ढ़ंग से मनाने के लिए विभिन्न विभागों को अलग-अलग जिम्मेदारियां सौंपी गई हैं।

समारोह स्थल पर मंच, पंडाल, बैठक व्यवस्था, यातायात, पार्किंग आदि की व्यवस्था लोक निर्माण विभाग द्वारा कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक के समन्वय से की जा रही है। गणतंत्र दिवस पर राज्य के सभी जिला मुख्यालय पर ध्वजारोहण के बाद मुख्यमंत्री के संदेश का वाचन होगा। परेड कार्य पुलिस महानिरीक्षक के मार्गदर्शन में तैयार किया जा रहा है। परेड की अंतिम रिहर्सल 24 जनवरी को होगी। परेड में होम गार्ड, बीएसएफ, जिला पुलिस बल, एसटीएफ, एनसीसी एवं महिलाओं का दल शामिल होंगे। राजधानी के समारोह में स्कूली बच्चों का तथा अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। समारोह स्थल पर रंग-बिरंगे गुब्बारे उड़ाएं जाएंगे।

गणतंत्र दिवस समारोह में राज्य के विकास पर आधारित 15 विभागों द्वारा झांकियां निकाली जाएगी। इनमें कृषि, जेल, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, समाज कल्याण, नगरीय प्रशासन एवं विकास, ऊर्जा, आदिम जाति एवं अनुसूचित जाति विकास, महिला एवं बाल विकास, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, लोक निर्माण, वन, जल संसाधन, ग्रामोद्योग, संस्कृति एवं पर्यटन और कौशल विकास एवं तकनीकी शिक्षा विभाग शामिल है।

 इन झांकियों के अतिरिक्त भारत सरकार के केन्द्रीय सार्वजनिक उपक्रमों की तीन झांकियां भी प्रदर्शित की जाएगी। गणतंत्र दिवस पर प्रदेश में सभी शासकीय भवनों पर रोशनी की जाएगी।


Date : 17-Jan-2020

नए एमडी बिजौरा का आफिसर्स एसोसिएशन ने किया स्वागत

रायपुर, 17 जनवरी। छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर जनरेशन कंपनी में नव-नियुक्त प्रबंध निदेशक एवं डायरेक्टर एन.के बिजौरा को बधाई तथा भविष्य के सफल कार्यकाल के लिये मंगलकामनाएं देने का सिलसिला जारी है। छत्तीसगढ़ पॉवर कंपनी के आफिसर्स एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने विद्युत सेवाभवन में बिजौरा से भेंटकर शुभकामनाएंं दी। इस अवसर पर कार्यपालक निदेशक (वित्त) अजय दुबे सहित आफिसर्स एसोसिएषन के उपाध्यक्ष विजय मिश्रा, सौमित्र दुबे एवं अन्य पदाधिकारी अजय शर्मा, जी.के. राठी, निशान्त मुंडेजा ने नवपदस्थ एमडी बिजौरा के नेतृत्व में जनरेशन कंपनी की सतत् प्रगति की कामना की। 

 


Date : 17-Jan-2020

प्रदेश में कुपोषण मुक्ति के प्रयासों को यूनिसेफ ने फिर सराहा, मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान के अंतर्गत मलेरिया उन्मूलन के साथ ही एनीमिया, शिशु मृत्यु दर, मातृ मृत्यु दर और कुपोषण दूर करने पर भी फोकस किया जा रहा है

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 17 जनवरी। छत्तीसगढ़ में कुपोषण मुक्ति के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा दृढ़ संकल्पित होकर किए जा रहे समन्वित अभिनव प्रयासों को लोगों की लगातार सराहना और सहयोग मिल रहा है। आज एक बार फिर अंतर्राष्ट्रीय संस्था यूनिसेफ ने छत्तीसगढ़ में कुपोषण मुक्ति के लिए छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों की सराहना की।

यूनिसेफ इंडिया ने अपने ट्वीटर हैण्डल से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान के शुभारंभ की पोस्ट साझा करते हुए लिखा कि ‘खून की कमी और कुपोषण रोकने के लिए मलेरिया की रोकथाम बहुत जरूरी कदम है। जिससे बस्तर के आदिवासी इलाकों में महिलाओं और बच्चों की जान बचाई जा सकती है।

यह छत्तीसगढ़ सरकार का महत्वपूर्ण कदम है।’ इससे पहले भी यूनिसेफ ने अपने ट्वीटर और फेसबुक एकाउंट पर दंतेवाड़ा जिले के प्राथमिक शाला बेंगलुरू की फोटो साझा कर स्कूलों में चल रहे किचन गार्डन बागवानी की सराहना करते हुए इसे बच्चों के पोषण के लिए अनूठी राह बताया था। राज्य सरकार द्वारा आकांक्षी जिलों और कुपोषण से ग्रसित आदिवासी बहुल इलाकों में खासतौर पर कुपोषण मुक्ति के प्रयास किए जा रहे है। इसके सुखद परिणामस्वरूप विगत दिनों सुपोषण अभियान में उल्लेखनीय उपलब्धि और नयी पहल के लिए 115 आकांक्षी जिलों में से दंतेवाड़ा जिले को स्कॉच अवार्ड से नवाजा गया है।

उल्लेखनीय है कि बस्तर को मलेरिया, एनीमिया और कुपोषण से मुक्त करने के संकल्प के साथ 15 जनवरी से संभाग के सातों जिलों में मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान शुरू किया गया है। अभियान के तहत स्वास्थ्य विभाग की टीम घरों के साथ ही स्कूलों, आश्रम, छात्रावासों और पैरा मिलिट्री कैम्पों में जाकर मलेरिया की जांच कर रही है। इसके साथ ही हाट-बाजारों में लोगों की जागरूकता के लिए अभियान चलाया जा रहा है।

मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान के अंतर्गत मलेरिया उन्मूलन के साथ ही एनीमिया, शिशु मृत्यु दर, मातृ मृत्यु दर और कुपोषण दूर करने पर भी फोकस किया जा रहा है। इसके साथ ही कुपोषण और एनीमिया मुक्ति को ध्यान में रखते हुए बस्तर संभाग के साढ़े छह लाख से अधिक गरीब परिवारों के लिए ‘मधुर गुड़ योजना’ शुरू की गई है। महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर पूरे प्रदेश में सुपोषण अभियान शुरू किया गया है। इसके तहत सभी विभागों के समन्वित प्रयास से कुपोषण मुक्ति का प्रयास किया जा रहा है। योजना के तहत बच्चों के साथ महिलाओं को भी गर्म भोजन दिया जा रहा है। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा स्कूलों में किचन गार्डन बागवानी की शुरूआत की गई है, जिससे बच्चों को मध्यान्ह भोजन में ताजे और स्थानीय पोषक आहार मिल सकें।


Date : 17-Jan-2020

मुक्तांगन भ्रमण कर युवाओं ने छत्तीसगढ़ की संस्कृति को साझा किया, भ्रमण के माध्यम से गुजरात के युवाओं को छत्तीसगढ़ की संस्कृति को करीब से जानने का अवसर प्राप्त हुआ

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 17 जनवरी। नेहरू युवा केंद्र रायपुर द्वारा 15 दिवसीय युवा आदान प्रदान कार्यक्रम के तहत इन दिनों छग एवं गुजरात की संस्कृति का आदान प्रदान किया जा रहा है। कार्यक्रम के दौरान छत्तीसगढ़ की संस्कृति साझा की जा रही है।

कार्यक्रम की 11 वीं कड़ी में विगत दिवस प्रतिभागियों को नवा रायपुर स्थित मुक्तांगन का भ्रमण कराया गया। प्रतिभागी मुक्तांगन स्थित आदिवासियों के घर, आदिवासी कलाकृति, छग परम्परा के प्रतीक, मातागुड़ी सहित विविध मॉडल को देख प्रभावित हुए। भ्रमण का उद्देश्य गुजरात के युवाओं को छग की पौराणिक संस्कृति, रहन सहन एवं आदिवासी परम्परा को मॉडल के माध्यम से समझना था। इस भ्रमण के माध्यम से गुजरात के युवाओं को छत्तीसगढ़ की संस्कृति को करीब से जानने का अवसर प्राप्त हुआ।

इस भ्रमण में छग के 100 से ज्यादा प्रतिभागी शामिल हुए इन्होंने  मुक्तांगन में वनभोज भी किया। शिविर में शामिल गुजरात के शेख अलिफजान ने बताया कि दाहोद एवं बस्तर की कलाकृति में बहुत समानता है। छग की बांस कला एवं मेटल आर्ट की जितनी तारीफ़ की जाए कम है। मुक्तांगन में बनाई गई कलाकृति छग की सांस्कृतिक सम्पन्नता को दर्शाता है।

छग के बिलासपुर से प्रतिभागी तपेश शर्मा ने अत्यंत हर्ष व्यक्त करते हुए बताया कि वे इस शिविर के माध्यम से छग को एक ही जगह में देखने का अवसर मिला। उन्होंने बताया कि इस शिविर के माध्यम से छग के साथ साथ गुजरात की संस्कृति को भी जानने का अवसर मिला। वे गुजराती भाषा एवं खान पान से भी परिचित हुए।

गुजरात की तेजश्वीनी रोजिया ने बताया कि वे छग के बारे में अक्सर पढ़ा या सुना करती थी कि यहां विविधताओं से भरी संस्कृति है। लेकिन उन्होंने जितना सुना था उससे कहीं ज्यादा खूबसूरत है। छग के लोग बहुत भोले एवं सहज स्वभाव के होते हैं। इनमें प्रतिस्पर्धा की भावना बेहद कम होती है वे सभी का सहयोग करने को तत्पर होने के साथ ही मिलनसार होते हैं।

इस भ्रमण को सफल बनाने में सांस्कृतिक विभाग छग शासन, जिला युवा समन्वयक अर्पित तिवारी, लुकेश बघेल, डॉ आशीष चंद्र शर्मा, आदित्य भारद्वाज, प्रीतम निर्मलकर, दीक्षा पटेल, रामेश्वर, लक्ष्मी, नरेंद्र, ईश्वर, रविशंकर, अनुपमा, शारदा, डालिमा सहित नेहरू युवा केन्द्र संगठन रायपुर का विशेष योगदान रहा।

 


Date : 17-Jan-2020

सामाजिक संस्था क्रिएटिव आईस प्रमोशन्स द्वारा वृद्धाआश्रम में मनाया गया जीना इसी का नाम है, बुजुर्गों को शॉल, कम्बल, श्रीफल, अनाज, दाले, तिल के लड्डू, फल एवं समस्त जरूरत की सामग्री प्रदान की गई

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 17 जनवरी। सामाजिक संस्था क्रिएटिव आईस प्रमोशन्स द्वारा मकर संक्रांति के अवसर पर श्याम नगर स्थित ‘आश्रय’ वृद्धाश्रम में ‘जीना इसी का नाम है’ का आयोजन किया गया। इस अवसर पर आयोजकों एवं अतिथियों द्वारा बुजुर्गों को शॉल, कम्बल, श्रीफल, अनाज, दाले, तिल के लड्डू, फल एवं समस्त जरूरत की सामग्री प्रदान की गई।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि बृजमोहन अग्रवाल, डॉ. एस. के. शर्मा, महेश दरयानी एवं रिचा ठाकुर द्वारा समस्त दानदाताओं को’’ दानवीर 2020’’ के सम्मान पत्र एवं स्मृति चिन्ह प्रदान किया गया।

कार्यक्रम की शुरूआत थांवर गजवानी ने ‘ये तो सच है कि भगवान है’ गाकर तालियां बटोरी। तुलिका शर्मा ने ‘सत्यम शिवम सुंदरम’, ‘ओ पालन हारे’ अनिल कृष्णानी ने ‘जीना इसी का नाम है’, ‘जीना यहां, मरना यहां’ बजरंग बंसल ने चलो बुलावा आया है, संदीप शर्मा ने ‘ओ माझी रे अपना किनारा’ गीत की सुमधुर प्रस्तुति दी गई।

कार्यक्रम में संरक्षक डॉ. एस.के.शर्मा, आयोजक महेश दरयानी, बृजमोहन अग्रवाल एवं कार्यक्रम के अध्यक्ष डॉ. अजय आयोजक सतीश कटियारा एवं उर्मिला देवी अमर बसंल, रविन्द्र सिंह, राजकुमार राठी, मनोज पंजवानी, जितेन्द्र कृष्णानी, अमर गिदवानी, धमेन्द्र दुर्घा, हरिन्द्र अरोरा (रिक्की) प्रहलाद शादीजा, राजा बजाज, दुर्गा दुबे, राधा राजपाल, रिचा ठाकुर, सुनीता नागरानी की सहभागिता रही।  इस कार्यक्रम में महिला मंडल अशोका हाईट्स मोवा एवं सत्यमकाम वेलफेयर सोसायटी का विशेष सहयोग रहा।