छत्तीसगढ़ » बालोद

Date : 17-Oct-2019

पड़ोसी पर धारदार हथियार से हमला, पत्नी से बात करने पर शक को लेकर धारदार हथियार से हमला कर दिया

छत्तीसगढ़ संवाददाता

बालोद, 17 अक्टूबर। बीती रात बालोद थाना क्षेत्र के भोथली गांव में एक युवक ने अपने ही पड़ोसी पर धारदार हथियार से ताबड़तोड़ हमला कर दिया।  हमले में घायल युवक को देर रात बालोद जिला अस्पताल लाया गया, जबकि दूसरे युवक को भी इस दौरान चोट लगी, जिसका भी इलाज जारी है।

भोथली के ही शोभित साहू ने पड़ोसी शोभित राव पर पत्नी से बात करने पर शक को लेकर धारदार हथियार से हमला कर दिया। हमले में शोभित राव बुरी तरह घायल हो गया, जिसे बालोद पुलिस ने अपने ही वाहन में अस्पताल लाया। जहां पर उनका इलाज किया जा रहा है।

बताया जाता है कि शोभित साहू के खिलाफ पहले भी इस तरह गांव के अन्य लोगों के साथ मारपीट के मामले को लेकर थाने में शिकायत मिल चुकी है, वहीं इस बार शोभित साहू ने शक के आधार अपने ही घर सामने रहने वाले युवक पर हमला कर घायल कर दिया।


Date : 15-Oct-2019

पश्चिम बंगाल में हुई हत्या का विरोध, हिन्दू धर्म सेना ने दी श्रद्धांजलि

बालोद, 15 अक्टूबर। पश्चिम बंगाल के बंधु प्रकाश उनकी पत्नी ब्यूटी मंडल एवं उनके 6 वर्षीय पुत्र की निर्मम हत्या के विरोध में बालोद नवयुवकों द्वारा परिवार को जयस्तंभ चौक पर मोमबत्ती जलाकर श्रद्धांजलि दी गई। शरद ठाकुर ने बताया कि हिंदुओं पर हो रहे अत्याचार का विरोध कोई बुद्धजीवी नहीं करेगा और धर्म हो तो लाइन लग जाती है। प्रशांत पवार ने बताया की संविधान ने सभी को अपने धर्म को मानने की सवंत्रता के साथ-साथ प्रचार का भी हक दिया है पर विशेष समुदाय द्वारा अपने धर्म को मानने पर जो निर्मम हत्या हुई है वह संविधान के विरोध में है। इस विरोध में एकांत पवार डिल्लु कौशिक योगेश साहू, केशव, आशीष, लक्की चांडक, रविराज, धर्मेन्द्र, यश आदि उपस्थित रहे।


Date : 15-Oct-2019

आदर्श गौठानों में वर्मी कम्पोस्ट का उत्पादन और विक्रय शुरू- कलेक्टर 

छत्तीसगढ़ संवाददाता  
बालोद, 15 अक्टूबर।
कलेक्टर रानू साहू के मार्गदर्शन में जिले के आदर्श गौठानों में वर्मी कम्पोस्ट का उत्पादन और विक्रय शुरू हो गया है। कलेक्टर ने बताया कि वर्मी कम्पोस्ट एक अच्छी किस्म की खाद है। यह साधारण कम्पोस्ट खाद से ज्यादा लाभदायक है। जैविक खेती करने वाले किसानों तथा उद्यानिकी फसलों के लिए वर्मी कम्पोस्ट लाभकारी है। 

कृषि विभाग के सहायक संचालक एस.एन.ताम्रकार ने बताया कि कलेक्टर के मार्गदर्शन में वर्मी कम्पोस्ट निर्माण हेतु तकनीकी अमलों, स्वसहायता समूहों के सदस्यों व गौठान समिति के सदस्यों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि आदर्श गौठानों में निर्मित वर्मी कम्पोस्ट का विक्रय शुरू हो गया है तथा वर्मी कम्पोस्ट की मॉग भी आने लगी है। 

 


Date : 15-Oct-2019

जनचौपाल में 134 आवेदन, अपर कलेक्टर ने सुनी समस्याएं और नियमानुसार त्वरित निराकरण का भरोसा दिलाया

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बालोद, 15 अक्टूबर।
कलेक्टर रानू साहू के मार्गदर्शन में संयुक्त जिला कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित जनचौपाल भेंट-मुलाकात कार्यक्रम में पहुंचे जिले के 134 आमजनों की मांगों एवं समस्याओं को अपर कलेक्टर ए.के.वाजपेयी ने एक-एक कर गंभीरतापूर्वक सुनी और नियमानुसार त्वरित निराकरण का भरोसा दिलाया। 

जनचौपाल कार्यक्रम में ग्राम मोहलाई की परनिया ने विधवा पेंशन दिलाने, ग्राम मुड़पार की फुलेश्वरी ने प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना का लाभ दिलाने, ग्राम हीरापुर के श्यामलाल ने बैटरी चलित ई-रिक्शा दिलाने, ग्राम पेंडरवानी के ईश्वर लाल ने आबादी जमीन दिलाने, ग्राम पेरपार के राम दयाल ने पेंशन दिलाने, ग्राम बकलीटोला की शबाना बानो ने गरीबी रेखा श्रेणी का राशन कार्ड बनाने, ग्राम चन्दनबिरही की परबत बाई ने वृद्धापेंशन दिलाने, ग्राम चिचबोड़ के चुन्नीलाल ने दिव्यांग प्रमाण पत्र का नवीनीकरण कराने, ग्राम खोरदो की सोमिन बाई ने सहायता राशि दिलाने, ग्राम बरबसपुर के ग्रामीणों ने बरबसपुर से पेण्ड्री पहुॅच मार्ग को मुरमीकरण कराने, ग्राम जुन्नापानी के तिलक राम ने पशु शेड निर्माण की राशि दिलाने, ग्राम परना के भंवर सिंह ने पेंशन राशि स्वीकृत करने, ग्राम भीमकन्हार की ज्योति ने विधवा पेंशन दिलाने, ग्राम घुमका के शिवभजन ने पशु शेड बनाने और ग्राम खर्रा के धनीराम ने वृद्धावस्था पेंशन दिलाने संबंधी आवेदन अपर कलेक्टर को सौंपे। 

इसी प्रकार अन्य आवेदकों ने भी अपनी मांगों और समस्याओं से संबंधित आवेदन अपर कलेक्टर श्री वाजपेयी को सौंपे। इस अवसर पर डिप्टी कलेक्टर ऋ षिकेश तिवारी, प्रेमलता चंदेल, सुब्रत प्रधान सहित विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद थे। 

 


Date : 13-Oct-2019

श्री जलेश्वर महादेव समिति द्वारा महाआरती 16 को 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बालोद, 13 अक्टूबर।
जिला मुख्यालय गजपारा के दशोदी तलाब स्थित जलेश्वर महादेव में आठवे अभिषेक के लिए केवल आठ  माह में दो करोड़ ओम नम: शिवाय मंत्र लेखन पूर्ण होने पर 16  अक्टूबर को शाम 7 बजे महाआरती का आयोजन किया गया है।

इसके पहले चार जुलाई को जलेश्वर महादेव का स्थापना दिवस व सात वर्ष पूर्ण होने एवं रथयात्रा के शुभ अवसर पर महाआरती का आयोजन किया गया था। दशोदी तलाब में स्थित जलेश्वर महादेव समिति से प्राप्त जानकारी के अनुसार 4 जुलाई 2012 में ओम नम: शिवाय मत्र लेखन प्रारभ हुआ था। कुछ श्रद्धालुओं के माध्यम से शुरू किए गया मंत्र लेखन कार्य अब तक अनवरत जारी है। एक ही दिन में 350 भक्त मंत्र लेखन कक्ष पहुंचकर ओम नम: शिवाय लिख रहे हैं। 

शुरू में मंत्र लेखन का छोटा लक्ष्य निर्धारित किया गया था । वर्ष भर में एक करोड़ मंत्र की कल्पना किए थे, लेकिन भक्तों की अपार श्रद्धा व उमंग के चलते लक्ष्य छोटा पड़ गया। महिला व पुरूषों के लिए दो अलग अलग कक्ष बनाया गया हैं। जहां पर महिला, पुरुष व बच्चे टेबल में बैठकर केवल एक ही नाम ओम नम: शिवाय लेखन में लीन हैं। भक्तों द्वारा हर दिन एक लाख मंत्र लिखे जा रहे हैं। इन सात साल में भक्तों द्वारा 29 करोड़ से अधिक मंत्र लिखे जा चुके हैं। जिसमें आठवें अभिषेक के लिए 2 करोड़ से अधिक मंत्र लेखन हो चुका हैं, जिसके उपलक्ष्य में जलेश्वर महादेव समिति द्वारा 16  अक्टूबर को महाआरती का आयोजन किया गया हैं।


Date : 12-Oct-2019

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर गांधी विचार पदयात्रा में शामिल हुई महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बालोद, 12 अक्टूबर।
राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर जिले में कल गांधी विचार यात्रा प्रारंभ हुआ। प्रदेश की महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेंडिया डौण्डीलोहारा विकासखण्ड के ग्राम सम्बलपुर से डौण्डीलोहारा तक गांधी विचार पदयात्रा में शामिल हुई। पदयात्रा में जनपद पंचायत डौण्डीलोहारा की अध्यक्ष चंद्रप्रभा सुधाकर, नगर पंचायत डौण्डीलोहारा के अध्यक्ष प्रेमचंद भंसाली सहित क्षेत्र के जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक और बड़ी संख्या में ग्रामीण भी पदयात्रा में शामिल हुए।

 इस अवसर पर डौण्डीलोहारा में आयोजित सभा को संबोधित करती हुई मंत्री श्रीमती भेंडिया ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने सत्य और अहिंसा के रास्ते पर चलकर देश को आजादी दिलाई। श्रीमती भेंडिया ने गांधी जी के आदर्शों और उनके प्रेरक प्रसंगों के बारे में लोगों को बताया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा गांधी जी के सपनो को साकार करने की दिशा में अनेक कल्याणकारी कार्य शुरू किए हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान, सार्वभौम पीडीएस, मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लीनिक योजना, नरवा, गरूवा, घुरवा और बाड़ी आदि योजना के महत्व से अवगत कराया। मंत्री श्रीमती भेंडिया ने शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं को विस्तारपूर्वक जानकारी देकर उसका लाभ उठाने प्रेरित किया। 

मंत्री श्रीमती भेंडिया ने हितग्राहियों को सार्वभौम पीडीएस के तहत बनाए गए राशन कार्ड का वितरण किया। उन्होंने ग्राम रेंघई के दोनो पैर से दिव्यांग युवक श्री जीवन राम को बैटरी चलित ट्रायसायकल प्रदान किया। ग्राम सम्बलपुर की श्रीमती गोदावरी बाई को राष्ट्रीय परिवार सहायता राशि का चेक प्रदान किया। इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी लोकेश कुमार चन्द्राकर सहित अन्य अधिकारी-कर्मचारी, गणमान्य नागरिक अनिल लोढ़ा, हस्तीमल सांखला,  भोलाराम देशमुख आदि सहित बड़ी संख्या में नागरिक मौजूद थे। 


Date : 11-Oct-2019

एपीएल राशनकार्ड के लिए भटक रहे हितग्राही- नितेश वर्मा 

बालोद, 11 अक्टूबर। जिला योजना समिति के सदस्य और पार्षद नितेश वर्मा ने कांग्रेस सरकार पर सामान्य परिवारों के लिए उदासीन होने का आरोप लगाते हुए बताया कि, एपीएल राशनकार्ड के आवेदन के लिए जितनी तत्परता दिखाई गई उतनी तत्परता अब राशनकार्ड वितरण के लिए नहीं दिखाई जा रही है। यही वजह है कि हितग्राही एपीएल राशनकार्ड के लिए भटक रहे हैं। निकाय क्षेत्र में हजारों की संख्या में आवेदन के बाद अब उन्हें राशनकार्ड पाने के लिए पसीना बहाना पड़ रहा है। सामान्य वर्ग के लोगों को कार्ड कब तक मिलेगा न तो निकाय कार्यालयों में कोई बता पा रहा है और न ही खाद्य विभाग के अधिकारी बता पा रहे हैं।

एपीएल राशनकार्ड के लिए बालोद जिले की नगरीय निकायों में पांच हजार से अधिक सामान्य वर्ग के लोगों ने आवेदन जमा किया है। सबसे अधिक 2,6 6 8  आवेदन दल्लीराजहरा नगरपालिका क्षेत्र के हंै। बालोद नगरपालिका क्षेत्र में 1,128  आवेदन जमा किए गए हैं।

एपीएल राशनकार्ड वितरण को लेकर खाद्य विभाग के अधिकारी का कहना है कि रायपुर से आया नहीं है अभी बात किया हूं, आएगा तो बनाके देते जाएंगे। 2 अक्टूबर गांधी जयंती के दिन वितरण शुरू करने पंचायतों का निकलवाए थे नगरीय निकाय का भी निकलवाने की कोशिश कर रहे हंै।

नगरपालिका बालोद क्षेत्र में प्राथमिकता वाले राशनकार्ड नवीनीकरण के बाद 9 दिनों में भी नही बांटे जा सके हैं। 1 अक्टूबर को एक दिन का शिविर लगाकर वितरण शुरू किया गया था। 3,739 कुल राशनकार्डो में 3,6 55 को पात्र मानते हुए नवीनीकरण किया गया था। नगरपालिका कार्यालय में अभी भी वितरण चल रहा है बताया जा रहा है कि, लगभग 3 सौ कार्ड का वितरण होना बाकी है।

नितेश वर्मा ने बताया कि एपीएल राशनकार्ड हो या प्राथमिकता वाले सत्यापित राशनकार्ड में त्रुटियों के समाधान को लेकर फूड इंस्पेक्टर से मोबाइल से संपर्क किया जाता है तो फोन रिसीव नहीं करते। ऐसे में जनप्रतिनिधियों को भी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।


Date : 11-Oct-2019

मालगांव में पेड़ के नीचे कलेक्टर ने लगाई चौपाल, ग्रामीणों की मांगों एवं समस्याओं को गंभीरतापूर्वक सुनी और निराकरण का भरोसा दिलाया

छत्तीसगढ़ संवाददाता  
बालोद, 11 अक्टूबर।
कलेक्टर रानू साहू ग्राम भ्रमण के तहत जिला स्तरीय अधिकारियों सहित सामूहिक रूप से एक ही बस में सवार होकर बालोद विकाखण्ड के ग्राम मालगांव पहुंची। वहां उन्होंने नीम और करंज पेड़ के नीचे चौपाल लगाई और एक-एक कर ग्रामीणों की समस्याओं से रू-ब-रू हुई। ग्रामीणों ने राशन कार्ड बनाने, पुलिया निर्माण कराने, सडक़ मरम्मत कराने, स्कूल में शिक्षक नियुक्त करने आदि की मॉग की। कलेक्टर ने ग्रामीणों की मॉगों एवं समस्याओं को गंभीरतापूर्वक सुनी और नियमानुसार निराकरण का भरोसा दिलाया। कलेक्टर ने खाद्य विभाग के अधिकारियों को ग्राम मालगॉव में कैम्प लगाकर सभी परिवारों का राशन कार्ड बनाने के निर्देश दिए। कलेक्टर  के पूछने पर ग्रामीणों ने बताया कि पटवारी तथा शिक्षक नियमित आते हैं। शासकीय उचित मूल्य की दुकान से राशन मिलता है। 

कलेक्टर ने अधिकारियों और ग्रामीणों के साथ गांव का पैदल भ्रमण कर आंगनबाड़ी केन्द्र, उप स्वास्थ्य केन्द्र और उचित मूल्य की दुकान का निरीक्षण किया और ग्राम स्तर पर योजनाओं के क्रियान्वयन का जायजा लिया। उन्होंने आंगनबाड़ी केन्द्र में बच्चों से नाश्ता तथा गरम भोजन मिलने की जानकारी ली। बच्चों ने कलेक्टर को कविता सुनाई। कलेक्टर ने बच्चों को चॉकलेट देकर उनका उत्साहवर्धन किया। 

ग्रामीणों को विभागीय अधिकारियों द्वारा शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देकर उसका लाभ उठाने प्रेरित किया गया। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लीनिक योजना के अंतर्गत साप्ताहिक बाजार में स्वास्थ्य शिविर लगाया जा रहा है, उसका लाभ उठाएॅ। कृषि विभाग के अधिकारी द्वारा शासन की महत्वाकांक्षी नरवा, गरूवा, घुरवा और बाड़ी की महत्ता से ग्रामीणों को अवगत कराया गया। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान की विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई। इसी प्रकार अन्य विभाग के अधिकारियों ने भी अपने विभाग की कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी ग्रामीणों को दी। 


Date : 10-Oct-2019

कलेक्टर ने गौठानों में व्यवस्थाओं का लिया जायजा, सीईओ-एसडीओ को नोटिस

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बालोद, 10 अक्टूबर।
कलेक्टर रानू साहू ने बालोद विकासखण्ड के ग्राम बरही, करकाभाट और गुरूर विकासखण्ड के ग्राम बासीन, मोहारा व जेवरतला के गौठानों का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। गुरूर विकासखण्ड के ग्राम बासीन में गौठान पहुंच मार्ग सुगम नहीं होने पर कलेक्टर ने नाराजगी व्यक्त कर जनपद पंचायत के प्रभारी मुख्य कार्यपालन अधिकारी और ग्रामीण यांत्रिकी सेवा विभाग के अनुविभागीय अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। उन्होंने गौठानों के बेहतर संचालन के लिए अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री लोकेश कुमार चन्द्राकर इस अवसर पर मौजूद थे। 

कलेक्टर ने गौठानों में मवेशियों के आने का समय और मवेशियों की संख्या की जानकारी ली। उन्होंने वहॉ मवेशियों के लिए पेयजल तथा चारागाह में चारा की उपलब्धता की जानकारी ली। कलेक्टर ने गौठानों में बनाए गए वर्मी टांका का अवलोकन किया और वर्मी टांका में छाया के लिए शेड तैयार करने के निर्देश दिए। उन्होंने गौठानों में गोबर का संग्रहण कर वर्मी कम्पोस्ट तैयार करने के निर्देश दिए। उन्होंने गौठान संचालन के लिए गौठान समिति बनाए जाने की जानकारी ली। कलेक्टर ने गौठानों में वृक्षारोपण कार्य का अवलोकन किया और कहा कि पौधों की नियमित देखभाल करें। इस अवसर पर पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग, कृषि, उद्यान, पशु चिकित्सा आदि विभागों के अधिकारियों सहित संबंधित ग्राम पंचायतों के सरपंच और ग्रामीण उपस्थित थे।   

 

 


Date : 10-Oct-2019

कलेक्टर ने बैठक में गैरहाजिर बालोद और अर्जुन्दा के सीएमओ का एक दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए 
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बालोद, 10 अक्टूबर।
कलेक्टर रानू साहू ने कहा कि मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लीनिक योजना के अंतर्गत जिले के सभी साप्ताहिक हाट-बाजारों में स्वास्थ्य शिविर लगाया जाना सुनिश्चित करें। स्वास्थ्य शिविरों के लिए स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी-कर्मचारियों की ड्यूटी लगाएॅ। स्वास्थ्य शिविरों के आयोजन में किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। श्रीमती साहू आज संयुक्त जिला कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित समय सीमा की बैठक में निर्देशित कर रही थी। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य शिविरों का मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, जिला कार्यक्रम प्रबंधक, खण्ड चिकित्सा अधिकारी, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, तहसीलदार तथा जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी मॉनीटरिंग करें। 

कलेक्टर ने योजना के अंतर्गत अब तक आयोजित किए गए स्वास्थ्य शिविरों की जानकारी ली और कम उपलब्धि पर अप्रसन्नता व्यक्त की। उन्होंने कहा कि साप्ताहिक हाट बाजारों में साग सब्जी और दैनिक उपयोग की वस्तुएॅ खरीदने आने वाले ग्रामीणों का हाट-बाजार क्लीनिक में रक्तचाप, मधुमेह, सिकलसेल, एनीमिया, नेत्र, कुष्ठ रोग, मलेरिया आदि रोगों की जॉच कर उन्हें आवश्यक दवाईयां दी जाए।

कलेक्टर ने बिना किसी पूर्व सूचना के बैठक में अनुपस्थित नगर पालिका परिषद बालोद और नगर पंचायत अर्जुन्दा के मुख्य नगर पालिका अधिकारी का एक दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने 11 अक्टूबर से 17 अक्टूबर तक आयोजित होने वाले गॉधी विचार यात्रा के लिए अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने सुपोषण अभियान की प्रगति की जानकारी ली। कलेक्टर ने मरम्मत योग्य सडक़ों की जानकारी उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। उन्होंने डायव्हर्सन प्रकरणों का निपटारा, गिरदावरी कार्य की प्रगति, स्लम पट्टों का वितरण तथा लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत आवेदनों का निराकरण आदि की जानकारी ली।

 


Date : 09-Oct-2019

डुडेंरा नवागांव में नवरात्रि पर्व धूमधाम से मनाया, रावण दहन भी
डुडेंरा नवागांव (बालोद), 9 अक्टूबर। ग्राम डुडेंरा नवागांव में नवरात्रि पर्व धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर करैत परिवार के देवेन्द्र करैत ने दुर्गा प्रतिमा दी। साथ ही देवेन्द्र करैत ने पूरे नौ दिन तक माता सेवा में विशेष योगदान दिया। यहां पर नौ दिनों तक प्रतिदिन गांव की अलग-अलग मंडलियों द्वारा माता की सेवा में सेवा गीत किया गया। पूरे नौ दिन माता की पूजा पूरे विधि-विधान से संपन्न हुआ। नवमीं को माता का विसर्जन किया गया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में गांव के शामिल हुए। गांव में स्थित दशहरा मैदान में रामलीला का आयोजन कर शाम को रावण दहन किया गया।


Date : 09-Oct-2019

सरदार वल्लभ पटेल मैदान में धूमधाम से मना दशहरा, दशहरे को लेकर जिला पुलिस अधीक्षक एमएल कोटवानी के निर्देश पर सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए गए थे

छत्तीसगढ़ संवाददाता

बालोद, 9 अक्टूबर। जिला मुख्यालय बालोद सहित आसपास के ग्रामीण अंचलों में मंगलवार को दशहरा मनाया गया। जिला मुख्यालय बालोद स्थित सरदार वल्लभ पटेल मैदान में राजदशहरा उत्सव समिति द्वारा दशहरा मनाया गया।  परंपरागत दायित्व के निर्वाह करते हुए अन्य वर्षों की अपेक्षा इस वर्ष से जोर शोर से तैयारी की गई थी। आकर्षक आतिशबाजी व 40 फिट ऊंचे रावण के पुतले को देखने के लिए जिला मुख्यालय सहित आसपास के सैकड़ों ग्रामीण उमड़ पड़े। अत्यधिक भीड़ के चलते आसपास की दुकानें की छतों पर लोग चढक़र रावण वध का नजारा देखते रहे। वहीं सुरक्षात्मक दृष्टिकोण से रावण प्रतिमा से 30 फीट की दूरी पर बेरिकेट लगाए गए थे।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि संगीता सिन्हा (विधायक संजारी बालोद), यशवंत जैन (सदस्य राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग), कृष्णा दुबे (अध्यक्ष जिला कांग्रेस कमेटी), राकेश यादव (पूर्व अध्यक्ष नगर पालिका पंचायत बालोद), विनोद शर्मा (अध्यक्ष शहर कांग्रेस कमेटी बालोद), पुरुषोत्तम पटेल (अध्यक्ष स.वि.स.मर्या. बालोद), एडी दास (राष्ट्रपति पुरस्कृत से.नि.शिक्षक बालोद), भैय्याराम सिन्हा (पूर्व विधायक संजारी बालोद), डोमेंद्र सिंह भेडिय़ा (पूर्व विधायक), रामजी भाई पटेल पूर्व अध्यक्ष न.पा.पं. बालोद), लीला लाले शर्मा (पूर्व अध्यक्ष न.पा.प. बालोद), कमलेश सोनी (अध्यक्ष शहर भाजपा मंडल बालोद) सत्यप्रकाश अग्रवाल (समाजसेवी), ठाकुर नाथ योगी (ग्राम पटेल) है।

 उक्त कार्यक्रम में रावण वध के पूर्व राम रावण की शोभायात्रा मोखला मांझी मंदिर तक निकाली गई व स्वच्छता ही सेवा अभियान के तहत राम रावण की झांकी प्रस्तुत की गई। अखाड़ा दलों द्वारा रंगारंग मलखम की प्रस्तुति के साथ पिरामिड बनाकर प्रदर्शन किया गया तथा इसके साथ ही रंगारंग आतिशबाजी भी की गयी। रंगारंग आतिशबाजी व मलखम की आकर्षक प्रस्तुति को देखकर सरदार वल्लभ भाई पटेल मैदान तालियों की गडग़ड़ाहट से गूंज उठा। व्यायाम प्रदर्शन व आतिशबाजी के बाद रावण का पुतला दहन किया गया तथा इसके बाद सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन हुआ।

दशहरे को लेकर जिला पुलिस अधीक्षक एमएल कोटवानी के निर्देश पर सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए गए थे। प्रत्येक चौक चौराहों पर हथियारबंद पुलिस जवान तैनात रहे।  सरदार वल्लभ भाई पटेल मैदान में पुलिसकर्मी की भी ड्यूटी लगाई थी। थाना प्रभारी स्वयं सरदार पटेल मैदान उपस्थित होकर शांति व्यवस्था में डटे रहे। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जेआर पोर्ते नगर के प्रमुख मार्गो का भ्रमण करते रहे। यातायात विभाग का अमला यातायात व्यवस्था में डटा रहा।

संपूर्ण कार्यक्रम राज दशहरा उत्सव समिति द्वारा आयोजित किया गया था। उक्त समिति के अध्यक्ष नगर पालिका के अध्यक्ष विकास चोपड़ा थे। उन्होंने अपने आपको विशेष अतिथियों की श्रृखंला से दूर रख कार्यक्रम में हिस्सा लेने वाले प्रत्येक नागरिकों का सम्मान मुख्य द्वार पर खड़े होकर किया। यही नहीं दर्शक दीर्घा में बैठकर कार्यक्रम का आनंद लिया। बालोद कलेक्टर रानू साहू ने जिलेवासियों को दशहरे की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि विजयादशमी पर्व सत्य के विजय के प्रतीक के रूप में मनाया जाता है। श्रीराम ने रावणरूपी बुराई को मिटाते हुए इस बात का संदेश दिया है कि जीत हमेशा सत्य की होती है। आज हम सबको मिलकर यह सकंल्प लेना चाहिए कि अपने अंदर की बुराईयों को समाप्त कर जनकल्याणकारी योजनाओं में साझेदारी निभाये ताकि समाज का कल्याण हो सकें।

जिला पुलिस अधीक्षक एमएल कोटवानी ने दशहरे की बधाई देते हुए कहा कि समाज को दूषित करने वाले तथा अपराध से जुड़े लोग भी आज के रावण है। ऐसे लोगों को बेनकाब करने के लिए कानून की मदद करनी चाहिए ताकि समाज को दुषित करने वाले रावण का अंत किया जा सकें।


Date : 07-Oct-2019

सरपंच संघ के आंदोलन को यज्ञदत्त का समर्थन, 14 सूत्रीय मांगों को लेकर गांधी जयंती से अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे ब्लॉक सरपंच संघ 

छत्तीसगढ़ संवाददाता

बालोद, 7 अक्टूबर। 14 सूत्रीय मांगों को लेकर गांधी जयंती से अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे ब्लॉक सरपंच संघ बालोद के आंदोलन को आज जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति (दिशा) के सदस्य यज्ञदत्त शर्मा ने अपना समर्थन दिया। दिशा समिति में प्रतिष्ठित गैर-सरकारी संगठन से सदस्य और लघु वनोपज संघ बालोद के जिलाध्यक्ष, राज्य वनोपज संघ संचालक मंडल के सदस्य यज्ञदत्त शर्मा ने नए बस स्टैंड के धरना प्रदर्शन स्थल पर जाकर अपना समर्थन दिया।

सरपंच संघ के धरना प्रदर्शन को समर्थन देने यज्ञदत्त शर्मा के साथ प्राथमिक लघु वनोपज सहकारी समिति मर्या.बालोद के संचालक विनोद कौशिक और जिला योजना समिति के सदस्य और पार्षद नितेश वर्मा भी पहुंचे।

ज्ञात हो कि, कांकेर लोकसभा क्षेत्र के सांसद मोहन मंडावी की अध्यक्षता में गठित दिशा समिति की पहली बैठक में सांसद मोहन मंडावी ने मनरेगा कार्यो के पंचायतों के बकाया भुगतान को लेकर नाराजगी जताई थी। दिशा समिति की बैठक में सदस्य यज्ञदत्त शर्मा ने मनरेगा योजना के तहत पंचायतों को कार्यो के भुगतान का मामला उठाया था। ब्लाक सरपंच संघ के धरना प्रदर्शन को समर्थन पर दिशा समिति के सदस्य शर्मा ने कहा कि, जनहित के कार्यों को आंकड़ों में उलझाने की बजाए सर्वोच्च प्राथमिकता से पूरा किया जाना चाहिए। अधिकारी जनप्रतिनिधियों से समन्वय स्थापित कर जनहितार्थ के कार्यों को करें ताकि गांव व शहर की प्रगति हो सके।

 ज्ञात हो कि, महात्मा गांधी रोजगार गारंटी योजना मनरेगा के तहत करवाए गए निर्माण कार्यो की राशि पंचायतों को भुगतान सहित 14 सूत्रीय मांगों को लेकर ब्लाक सरपंच बालोद का अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन जारी है। 14 सूत्रीय मांगों को किए जा रहे आंदोलन को समर्थन के लिए सरपंच संघ के अध्यक्ष गजेंद्र भेडिय़ा सरपंचगण सतीश भेडिय़ा, पुरषोत्तम यादव, सुखसागर निषाद, सखाराम नेताम, नोहर मंडावी सहित सभी सरपंचों ने आभार जताया।


Date : 06-Oct-2019

14 सूत्रीय मांगों को लेकर धरने पर बैठे ब्लॉक सरपंच संघ बालोद के आंदोलन को जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति के सदस्य यज्ञदत्त का समर्थन

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बालोद, 6  अक्टूबर।
14 सूत्रीय मांगों को लेकर गांधी जयंती से अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे ब्लॉक सरपंच संघ बालोद के आंदोलन को आज जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति (दिशा) के सदस्य यज्ञदत्त शर्मा ने अपना समर्थन दिया। दिशा समिति में प्रतिष्ठित गैर-सरकारी संगठन से सदस्य और लघु वनोपज संघ बालोद के जिलाध्यक्ष, राज्य वनोपज संघ संचालक मंडल के सदस्य यज्ञदत्त शर्मा ने नए बस स्टैंड के धरना प्रदर्शन स्थल पर जाकर अपना समर्थन दिया।

सरपंच संघ के धरना प्रदर्शन को समर्थन देने यज्ञदत्त शर्मा के साथ प्राथमिक लघु वनोपज सहकारी समिति मर्या.बालोद के संचालक विनोद कौशिक और जिला योजना समिति के सदस्य और पार्षद नितेश वर्मा भी पहुंचे।

 ज्ञात हो कि, कांकेर लोकसभा क्षेत्र के सांसद मोहन मंडावी की अध्यक्षता में गठित दिशा समिति की पहली बैठक में सांसद मोहन मंडावी ने मनरेगा कार्यो के पंचायतों के बकाया भुगतान को लेकर नाराजगी जताई थी। दिशा समिति की बैठक में सदस्य यज्ञदत्त शर्मा ने मनरेगा योजना के तहत पंचायतों को कार्यो के भुगतान का मामला उठाया था। ब्लाक सरपंच संघ के धरना प्रदर्शन को समर्थन पर दिशा समिति के सदस्य शर्मा ने कहा कि, जनहित के कार्यों को आंकड़ों में उलझाने की बजाए सर्वोच्च प्राथमिकता से पूरा किया जाना चाहिए। अधिकारी जनप्रतिनिधियों से समन्वय स्थापित कर जनहितार्थ के कार्यों को करें ताकि गांव व शहर की प्रगति हो सके।

 ज्ञात हो कि, महात्मा गांधी रोजगार गारंटी योजना मनरेगा के तहत करवाए गए निर्माण कार्यो की राशि पंचायतों को भुगतान सहित 14 सूत्रीय मांगों को लेकर ब्लाक सरपंच बालोद का अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन जारी है। 14 सूत्रीय मांगों को किए जा रहे आंदोलन को समर्थन के लिए सरपंच संघ के अध्यक्ष गजेंद्र भेडिय़ा सरपंचगण सतीश भेडिय़ा, पुरषोत्तम यादव, सुखसागर निषाद, सखाराम नेताम, नोहर मंडावी सहित सभी सरपंचों ने आभार जताया।

 


Date : 06-Oct-2019

खनिज माफियाओं द्वारा रेत का अवैध उत्खनन कर निजी व शासकीय जमीन पर भंडारण कर मनमाने दामों पर आम लोगों को बेच रहे

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बालोद, 6  अक्टूबर।
जिले में खनिज माफियाओं द्वारा रेत का अवैध उत्खनन कर निजी व शासकीय जमीन पर रेत का भंडारण कर भारी भरकम दामों पर आम लोगों को बेचा जा रहा हैं। खनिज माफियाओं द्वारा प्रति ट्रेक्टर रेत 4 से 5 हजार रुपये में निजी व पीएम आवास बनाने वालों को बेची जा रही है।

बालोद जिले में खनिज संपदा भरपूर मात्रा में है। जिसका फायदा जिले के माफियाओं द्वारा उठाया जा रहा हैं।  तांदुला जलाशय जहां से होकर गुजरती है वहां रेत भरपूर मात्रा में मिलती है। खनिज माफिया इसी का फायदा उठा रहे हैं।  खनिज माफियाओं ने अवैध रूप से रेत का उत्खनन कर निजी जमीन पर भंडारण कर रखा था। जिसकी जानकारी जिला प्रशासन व खनिज विभाग के अधिकारियों को भी है। इसके बाद भी माफियाओं पर कोई कार्रवाईनहीं की जा रही है। शासन द्वारा जिले में एक भी रेत खदान प्रारभ नहीं की गई हैं, लेकिन रेत खदानों में अभी भी अवैध रेत उत्खनन का कार्य किया जा रहा हैं। 

जिले के गुण्डरदेही विकासखंड के ग्राम खेरूद में रेत भरपूर मात्रा में उपलब्ध हैं। तीन माह पूर्व खनिज माफिया नदी में चैन माउंटेन के जरिये रेत का अवैध रूप से उत्खनन किया। जिसके बाद अवैध रेत को पास के ही गांव खेरूद के आम बगीचा में भंडारण कर रखा गया। इसके अलावा कोटगांव के खाली मैदान रोड के किनारे भी अवैध रेत का भंडारण किया गया हैं।
4-5 हजार रुपए प्रति ट्रेक्टर बेची जा रही हैं रेत

ज्ञात हो किसी भी स्थान से अगर रेत का उत्खनन किया जाता है तो नियमानुसार रॉयल्टी पर्ची होने की अनिवार्यता है। लेकिन रेत माफिया बिना रॉयल्टी पर्ची के रेत चोरी कर रहे हैं। बताया जा रहा है रेत की जरूरत पर भंडारण कर रखे रेत को 4 से 5 हजार रूपये प्रति ट्रैक्टर के हिसाब से बेचा जाता है। जिससे लोगों को मजबूरन अधिक पैसे देकर रेत खरीदना पड़ रहा हैं।

रेत माफियाओं द्वारा अवैध रेत उत्खनन कर बिल्डिंग मटेरियल सप्लायरों को बेची जा रही है। मटेरियल सप्लायर भी मौके का फायदा उठाकर भारी भरकम दामो में रेत बेचकर मुनाफा कमा रहे हैं और आम लोगों की जेब लगातार ढीली होती जा रही है। 


Date : 06-Oct-2019

महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला ने आंबा भवन का किया लोकार्पण कर ग्रामीणों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बालोद, 6 अक्टूबर।
प्रदेश की महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेंडिया डौण्डीलोहारा विकासखण्ड के ग्राम गैंजी में 6.45 लाख की लागत से नवनिर्मित आंगनबाड़ी केन्द्र भवन का लोकार्पण कर ग्रामीणों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी। 

़उन्होंने ग्रामीणों की मांग पर ग्राम गैंजी में नाली निर्माण के लिए आठ लाख रूपए की घोषणा की। मंत्री श्रीमती भेंडिया ने ग्राम गैंजी में यात्री प्रतिक्षालय निर्माण के लिए भूमिपूजन भी किया। 

मंत्री श्रीमती भेंडिया ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार समाज के सभी वर्गों की बेहतरी के लिए लगातार कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि राज्य शासन द्वारा सार्वभौम पीडीएस लागू की गई है। अब बीपीएल परिवारों के साथ ही एपीएल परिवारों का भी राशन कार्ड बनाया जा रहा है। सभी परिवारों को शासकीय उचित मूल्य की दुकानों से चावल मिलेगा। मंत्री श्रीमती भेंडिया ने शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी ग्रामीणों को दी और उसका लाभ उठाने उन्हें प्रेरित किया। 

इस अवसर पर क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों सहित गणमान्य नागरिक अनिल लोढ़ा, हस्तीमल सांखला, भोलाराम देशमुख, महिला व बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी एच.आर.राणा, विभिन्न विभागों के अधिकारी-कर्मचारी और बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे। 

 


Date : 05-Oct-2019

पण्डवान देव मंदिर में 90 ज्योति कलश जगमगाए

दल्लीराजहरा, 5 अक्टूबर। नगर से लगभग 12 किमी दूर ग्राम पंचायत गुजरा के प्राचीन पण्डवान देव मंदिर में 90 ज्योति कलश की स्थापना की गई है। मंदिर परिसर को समिति द्वारा भव्य रूप से सजाया गया है। दूर दराज के भक्तगण इस प्राचीन मंदिर में अपनी मनोकामना को लेकर आ रहे हैं।

इस संबंध में मंदिर समिति के आनंद राम पटेल ने बताया कि इस प्राचीन मंदिर के बारे में हम अपने पूर्वजों से सुनते आये है कि ऊंची पहाड़ पर स्थित है जो लगभग 20 हेक्टयर के दायरे में समतल भूमि है मंदिर के पिछले हिस्से से तांदुला डेम का मनोरम दृश्य नजर आता है। उक्त स्थल पर पाण्डवों ने अपने अज्ञात वास में माता कुंती एवं द्रोपती के साथ बहुत समय गुजारा था उस समय पाण्डव मंदिर के नीचे स्थित गुफा में रहते थे। इसी के आसपास विचरण करते हुए अपना अज्ञात वास काटा था। तब से उक्त स्थल का नाम पण्डवान देव पड़ा। पण्डवान देव मंदिर के प्रति आसपास के 12 गांव के लोगों की आस्था जुड़ी हुई है। सात बहीनियां मंदिर , एक लिंग देव सहित अन्य देवी देवताओं का वास है। जब कभी भी आसपास के क्षेत्रों में अकाल की नौबत आती है तो ग्रामीणजन मंदिर में पहुंचकर पण्डवान देव के समीप वर्षा की कामना करते हुए पूजा पाठ कराते हंै। उसके बाद निश्चित ही वर्षा होती है। 

आगे उन्होंने बताया कि पण्डवान देव मंदिर परिसर उंचे पहाड़ पर घने जंगलों के बीच वन विभाग के क्षेत्र में पड़ता है पहले यहां पहूंचना काफी दुर्गम था लेकिन धीरे धीरे मंदिर स्थल तक पहूचंने के लिए सीसी रोड का निर्माण किया गया है एवं िवद्युत व्यवस्था भी हो चुकी है। पाण्डवान देव पहाड़ से लगा हुआ ही तांदुला डेम है, जो कि मंदिर परिसर के देखने पर एक अलौकिक अनुभव कराता है। 

उन्होंने कहा कि आसपास के ग्रामीणों एवं मंदिर समिति के द्वारा शासन प्रशासन एवं जनप्रतिनिधियों से पण्डवान देव मंदिर परिसर को पर्यटन स्थल घोषित करने कई बार गुहार लगाई जा चुकी है लेकिन आज तक हमारी यह प्राचीन धरोहर ज्यों की त्यों है जो थोड़ा बहुत विकास हुआ है वह आसपास के ग्रामीणों के सहयोग से हो सका है। अगर वन विभाग चाहे तो प्रस्ताव बनाकर उक्त प्राचीन देव स्थल को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित कर सकता है । अगर पण्डवान देव मंदिर पर्यटन स्थल के रूप मेे विकसित होगा तो हमारी यह प्राचीन धरोहर हो देश विदेश के लोग भी जान सकते है ंकि बालोद जिला के अंतर्गत गुजरा पंचायत में स्थित पण्डावान देव मंदिर परिसर भी है जहां महाभारत काल में पाण्डवों ने अपना अज्ञातवास काटा था। 
नवरात्र के समय इस प्राचीन देव स्थली पर दूर दराज के लोग अपनी मनोकामना ज्योत रखकर अपनी मन्नतें मांगते है जो जरूर पूरी होती है, वर्तमान में यहां पर 83 तेल के ज्योत एवं 7 घी जल रहे हैं, जिनको देखने के लिए श्रद्धालुओं का तांता लगा हुआ है। 

इस दौरान पाण्डवान देव समिति के अध्यक्ष देवलाल, ग्राम पटेल आनंद राम पटेल, हितेश साहू, रामाधार , पंचू राम, मयाराम, अमरनाथ साहू, शिव नेताम सहित अन्य श्रद्धालुगण उपस्थित थे। 


Date : 05-Oct-2019

गांधी-शास्त्री जयंती पर जूनियर रेडक्रॉस के संयुक्त तत्वावधान में सर्व धर्म प्रार्थना सभा और स्वच्छता अभियान का आयोजन
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बालोद, 5 अक्टूबर।
भारत स्काउट-गाइड जिला संघ बालोद और जूनियर रेडक्रॉस के संयुक्त तत्वावधान में सर्व धर्म प्रार्थना सभा और स्वच्छता अभियान का आयोजन जिला मुख्यालय में किया गया। जिसके मुख्य अतिथि- विकास चोपड़ा अध्यक्ष नगरपालिका बालोद, अध्यक्षता-आर.एल.ठाकुर जिलाशिक्षाधिकारी एवं विशेष अतिथि-अशोक देशमुख (पूर्व राज्य प्रशिक्षण आयुक्त स्काउट), सीमा साहू (संयुक्त सचिव राज्य स्काउट-गाइड) तथा जिले के समस्त विकासखण्ड शिक्षाधिकारी यू एस नागवंशी, बसंत बाघ, आर.सी.देशलहरा, आर आर ठाकुर एवं अन्य गणमान्य रहे। कार्यक्रम में बालोद जिले के सभी विकासखंड के विभिन्न स्कूलों के लगभग 700 से ज्यादा स्काउट-गाइड और जूनियर रेडक्रॉस के बच्चे अपने प्रभारी शिक्षकों सहित सम्मलित हुए।

गांधी-शास्त्री जयंती पर आयोजित इस कार्यक्रम में सामाजिक समरसता और धर्मनिरपेक्षता का बड़ा संदेश देते हुए सर्व धर्म प्रार्थना की गई, जिसमे सभी धर्मावलंबियों ने अपने धर्म के प्रार्थना की प्रस्तुति दी। सेंट कबीर पब्लिक स्कूल के प्रांगण में आयोजित इस जिलास्तरीय सभा मे विद्यालय के छात्र छत्राओ ने सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किये।

जिलाशिक्षाधिकारी आर एल ठाकुर ने प्रतिवेदन वाचन करते हुए स्कॉउटिंग के क्षेत्र में जिले की उपलब्धियों व उल्लेखनीय सेवाकार्यो का उल्लेख करते हुए समस्त स्काउट-गाइड व स्काउटर-गाइडर्स की सराहना की। मुख्य अतिथि विकास चोपड़ा ने अपने छात्र जीवन मे स्वयं एक स्काउट रहकर किये कार्यो का स्मरण किया और स्कॉउटिंग में सेवाकार्यो व अनुशासन को सर्वोपरि मानते हुये हर्ष व्यक्त किया कि हमारे जिले के स्काउट गाइड प्रदेश में बालोद जिले का नाम रौशन कर रहे हैं। 

जिलासचिव व जिला स्काउट निर्वाचन अधिकारी जितेंद्र शर्मा ने जानकारी दी कि इस अवसर पर जिला स्काउट-गाइड संघ के नवनिर्वाचित पदाधिकारी विक्रम राजपूत, दुलारु राम पिकेश्वर, धनेश्वरी सोनवानी, मधुमाला कौशल, कुमुदनी साहू को शपथग्रहण कराया गया। 

 


Date : 05-Oct-2019

जिला वनमंडल द्वारा वन्य प्राणी संरक्षण सप्ताह का आयोजन, निबंध व चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन

बालोद, 5 अक्टूबर। जिला वनमंडल द्वारा 2 से 8  अक्टूबर तक वन्य प्राणी संरक्षण सप्ताह का आयोजन किया जा रहा हैं। इस दौरान शुक्रवार को काष्ठागार डिपो में निबंध व् चित्र कला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जिसमें बड़ी संख्या में स्कूली बच्चों ने भाग लिया। जिला वनमंडल के अंतर्गत पांचों परिक्षेत्र गुरुर, दल्लीराजहरा, डौंडी, डौंडीलोहारा, बालोद व गुंडरदेही में विभिन्न तरह के कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। जिसमे स्कूली बच्चों को भी शामिल किया गया हैं।

शुक्रवार को जिला मुख्यालय स्त्तिथ काष्ठागार नीलाम हॉल में चित्रकला व निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जिसमें बालोद नगर के शासकीय व अर्धशासकीय स्कूलों के छात्र-छात्राओं ने भाग लिया। चित्रकला प्रतियोगिता में कुल 52 छात्र-छात्राओं ने भाग लिया तो वही निबंध प्रतियोगिता में 33 छात्र-छात्राओं ने भाग लिया हैं। बालोद वन परिक्षेत्र अधिकारी रियाज खान ने बताया कि वन्य प्राणी संरक्षण सप्ताह 8  अक्टूबर तक चलाया जाएगा। जिसमें वन्य प्राणियों की सुरक्षा से सम्बंधित जानकारियां दी जाएगी साथ ही 7 अक्टूबर को जिला मुख्यालय में जागरूकता रैली भी निकाली जाएगी। श्री खान ने बताया कि चित्रकला व निबंध प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय व तृतीय आने वाले छात्र-छात्राओं को पुरस्कार देकर सम्मान भी किया जाएगा।


Date : 05-Oct-2019

दशगात्र में पहुंचे डेढ़ दर्जन से अधिक लोगों पर मधुमक्खियों के झुंड ने किया हमला, 10 को गंभीर चोटें

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बालोद, 5 अक्टूबर।
बालोद विकासखंड के ग्राम साकरा/ज में शुक्रवार को दशगात्र कार्यक्रम के दौरान दर्जनों लोगों पर मधुमक्खियों के झुंड ने हमला कर दिया। डेढ़ दर्जन से अधिक लोगों को मधुमक्खियों ने काटा जिसमें 10 लोगों को गंभीर चोटें आई है। 

मिली जानकारी अनुसार बालोद थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम सांकरा/ज में जिला सेन समाज के संरक्षण त्रिभुवन सेन के दशगात्र का कार्यक्रम चल रहा था। दशगात्र में शामिल होने आए 100 से अधिक लोग दोपहर 2 बजे जब तालाब पार में पानी देने गए। तभी तालाब पार में स्त्तिथ पीपल के पेड़ के नीचे बैठ किसी ने बीड़ी या सिगरेट जलाई। जिसकी वजह से पीपल के पेड़ में मधुमक्खियों के 3 से अधिक छाते से निकल मधुमक्खियों के झुंड ने सभी पर हमला बोल दिया। मधुमक्खियों ने 40 से अधिक लोगों को काटा, जिससे उन लोगों को मामूली चोटें आई हैं और हल्की जलन महसूस हो रही हैं, पर 10 लोगों को गंभीर चोटें आई हैं। जिन्हें 108  के जरिये जिला अस्पताल बालोद लाया गया हैं। जहां सभी लोगों का इलाज जारी हैं।  ग्रामीणों ने बताया कि घायल उत्तम सेन के कान के अंदर 3 मधुमक्खी घुस गई थी। लेकिन 2 बाहर आ गई। गंभीर घायलों में प्रमुख रूप से मनोज कौशिक, ओशकरण, कंवल कौशिक, उत्तम सेन, जनक पटेल हैं