छत्तीसगढ़ » बालोद

Previous12Next
Date : 29-Feb-2020

जलेश्वर महादेव की पूजा में यज्ञदत्त सपत्निक हुए शामिल 

छत्तीसगढ़ संवाददाता  
बालोद, 29 फरवरी।
जिला मुख्यालय के गंजपारा, दशौंदी तालाब स्थित जलेश्वर महादेव में पुण्यवर्धन उत्सव मंत्र अर्पण महोत्सव के तहत शुक्रवार से शास्त्रोक्त पूजन शुरू हुई। इस पूजन कार्य के लिए कोलकाता से आए 9 विद्वान् पंडितों को बुलाया गया है। 

दो मार्च तक चलने वाले इस धार्मिक आयोजन में बुधवार को कोलकाता से आए पंडितों ने मंगल शांति पाठ, गणेशा अंबिका पूजा, यज्ञादिक संकल्प मंडप पूजन किया। पंडितों ने सर्वप्रथम नगर के देवी-देवताओं की विशेष पूजा-अर्चना कर आह्वान किया। इस दौरान मौजूद जलेश्वर महादेव मंदिर के प्रमुख यज्ञदत्त शर्मा व उनकी पत्नी रंजना शर्मा ने जिलेवासियों के अमन चैन व खुशहाली की कामना की।

दशोदी तलाब स्थित जलेश्वर महादेव मंदिर समिति के सदस्यों ने बताया कि शुक्रवार को मंगल शांति पाठ, गणेशाम्बिका पूजा,यज्ञदिक सकल्प,मंडप पूजन,का कार्यक्रम हुआ है। 28  फऱवरी से 01मार्च तक शांतिपाठ ,वेदियों की पूजा,महामंत्र पुस्तिका पूजन एव राजोपचार शिव सपरिवार पूजा होगी। जिसमें मंत्र लिखने वाले सभी परिवारों के सदस्य पूजा में शामिल होंगे। वहीं 01 मार्च को ही मंत्र लेखन पुस्तिका को जलेश्वर महादेव के जलधरि में अर्पण किया जाएगा। महोत्सव के दौरान प्रतिदिन शाम 7 बजे जलेश्वर महादेव की महाआरती की जाएगी, जिसके बाद भक्तों को प्रसाद वितरण किया जाएगा। दो मार्च को हवन पूजन पूर्णाहुति होगी एव दोपहर एक बजे से भक्तों को मनोरथ भोग तथा अमृतस्वरूप जल का वितरण किया जाएगा।         

इस दौरान प्रमुख रूप से यज्ञदत्त शर्मा, रंजना शर्मा, अम्बा भाई पटेल,बाबू भाई पटेल, लक्ष्मी बेन, जशोदा बेन, सालनी सोनी,संजू सोनी, मधु ठक्कर, गोल्डी चन्द्राकर,श्यामसुंदर रधुवंशी, विकास विभूति शर्मा, ज्योति कोमल पटेल,वेलभाई पटेल, अलका बेन, दमयंतीन बेन पटेल, कुसुमलता मिश्रा, धर्मेन्द्र श्रीवास्तव, पोषण राजपूत,सुधीर कर्ण, संध्या अग्रवाल,भरत गांधी, मनीषा गांधी, ममता टावरी, यामिनी निर्मलकर, उमा मंत्री,मधु मंत्री, हेमलता पटेल, माया पटेल, कमला बेन पटेल,हेमंत रधुवंशी सहित बड़ी संख्या में लोग सह परिवार पूजा में शामिल हुए।

 


Date : 29-Feb-2020

टोकन प्राप्त किसानों का धान खरीदेगी राज्य सरकार, भाजपा व किसान मोर्चा ने निर्णय का किया स्वागत

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बालोद, 29 फरवरी। 
राज्य सरकार द्वारा टोकन प्राप्त किसानों से धान खरीदने के निर्णय को भारतीय जनता पार्टी व किसान मोर्चा बालोद ने स्वागत करते हुये उसे किसानों की जीत बताया है। पूरे प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी एवं विभिन्न किसान संगठन के आंदोलन धरना प्रदर्शन के बाद देर से सही किसानों की मांग पर काटे गए कूपन पर धान खरीदने के लिए राजी हुए। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को धन्यवाद दिया गया।

इस संबधं में जिलाध्यक्ष भाजपा कृष्णा कांत पवार ने संघर्ष में साथ खड़े सभी किसानों व किसान मोर्चा के साथियों को धन्यवाद एवं बधाई देते हुये कहा कि जिन किसानों का टोकन कट गया है वे अब अपना धान बेच सकते हैं। 

जिलाअध्यक्ष किसान मोर्चा किशोरी साहू ने कहा कि सरकार के खिलाफ आंदोलन व विरोध करने पर सरकार का यह निणर्य स्वागत योग्य है।  जिला महामंत्री तोमन साहू ने कहा कि हालांकि यह एक छोटी सी राहत है। वैसे हर किसान का दाना-दाना धान सरकार को खरीदना चाहिए। अभी जिले में चौथा कूपन जारी नहीं होने के कारण हजारों किसान अपने धान बेचने से वंचित हो गये हैं उनका भी धान सरकार को खरीदना चहिये। आगे उन्होंने कहा कि भाजपा किसान मोर्चा किसानों के हर पीड़ा के साथ खड़ी है। किसानो की हक़ की लड़ाई लडऩे भाजपा किसान मोर्चा हर मोर्चा पर आगे भी तत्पर  रहेगी।

इस निणर्य का स्वागत करने वालो में प्रीतम साहू, लेखराम साहू,पवन साहूछगन देशमुख  होरीलाल रावटे, देवेंद्र जयसवार, अश्वनी यादव सोमेश साहू नंदकिशोर  शर्मा, नरेश यदु पालक ठाकुर, प्रमोद जैन  कौशल साहू, सुरेश निर्माकर, प्रेम साहू, दुस्यंत साहू, प्रणेश जैन, रूपेंद्र सिन्हा मनीष झा, दुर्जन साहू प्रकाश आर्य, लेख तिवारी, दीनानाथ  सिन्हा , मनोहर सिन्हा, मणिकांत बघेल,शशि साहू, आसवन बारले ,छगन देशमुख,  हरीशचंद्र जगन्नाथ  साहू, आदि भाजपा किसान मोर्चा के पदाधिकरी गण सम्मलित हुए।

 


Date : 28-Feb-2020

नेमीचंद कॉलेज में सम्मान व पुरस्कार वितरण समारोह 

दल्लीराजहरा, 28  फरवरी। शासकीय नेमीचंद जैन महाविद्यालय दल्लीराजहरा मेें प्रतिभावान छात्र-छात्राओं का सम्मान एवं पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि शहर के प्रथम नागरिक नगरपालिका अध्यक्ष शीबू नायर उपस्थित रहे। अध्यक्षता प्राचार्य डॉ. संतोष सिंह ने की। वहीं  विशिष्ट अतिथि के रूप में जनभागीदारी समिति अध्यक्ष प्रशांत बोकड़े, पूर्व छात्र एल्युमिनी संगठन अध्यक्ष कुलदीप एवं सचिव रवि जायसवाल उपस्थित थे।

सर्वप्रथम महाविद्यालय के व्याख्याता एवं छात्र-छात्राओं द्वारा अतिथियों को पुष्प गुच्छ भेंंट कर स्वागत किया गया। मुख्य अतिथि नगरपालिका अध्यक्ष शीबू नायर ने अपने उद्बोधन में महाविद्यालय के प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को शैक्षणिक क्षेत्र में उपलब्धि के लिए बधाई दी तथा सभी को अपनी पढ़ाई के प्रति विशेष ध्यान देकर आगामी वार्षिक परीक्षा की तैयारी करने और परीक्षा परिणाम मेंं उत्कृष्ट अंकों के साथ सफलता हासिल करने के लिए प्रेरित किया। वहीं नगरपालिका अध्यक्ष ने अपने निधि से महाविद्यालय को 1 लाख 50 हजार रूपये स्मार्ट क्लास हेतु देने का वादा किया। तत्पश्चात महाविद्यालय के प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को पुरस्कार प्रदान किया गया। 

 


Date : 27-Feb-2020

नीलामी के बाद भी खदान शुरू नहीं, तिगुने रेट पर खरीद रहे रेत, 2-3 दिन में हो सकती हैं खदानें शुरू-विभाग

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बालोद, 27 फरवरी।
बालोद जिले में रेत खदानों की नीलामी के बाद भी अब तक खदानें शुरू नहीं हो पाईं हैं। जिसके कारण मजबूरी में लोगों को पड़ोसी जिले कांकेर क्षेत्र के चारामा से ज्यादा रेट में रेत खरीदना पड़ रहा है। जो रेत ट्रैक्टर में प्रति ट्रिप 800 से 1500 में मिल जाती थी, आज उसी को लोग 2500 से 3500 में मंगवा रहे हैं। जिले के चार खदान रौना, भरदा, देवी नवागांव और अरौद खदान के साथ अन्य खदानों की नीलामी भी हो गई है। लेकिन अब तक चालू नहीं हो पाई हैं।

इस संबंध में प्रवीण चंद्राकर, जिला खनिज अधिकारी ने बताया कि प्रक्रिया आधीन है। हम लगातार इसका अपडेट ले रहे हैं। आने वाले दो से तीन दिन में रेत की खदानें शुरू हो सकती हैं। इसका फायदा आम जनों को मिलेगा।

जानकारी के अनुसार जिले के रेत खदानों में वर्तमान में एक भी खदान चालू नहीं है और रेत खदानों की नीलामी हो चुकी है वह भी शुरू नहीं हो पा रही है। जिसके कारण आम लोगों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। वहीं रेत के लिए पड़ोसी जिलों पर निर्भरता बढ़ गई है जिसके कारण अधिक दर पर रेत खरीदना पड़ रहा है और फिलहाल अधिकारी चार खदानों की अनुमति मिलने की बात कहते हुए दो खदान जल्द शुरू होने की बात कह रहे हैं। 

वर्तमान में रेत खदान शुरू ना होने के कारण आम जनता को अधिक दर चुकानी पड़ रही तो साथ ही अवैध उत्खनन भी काफी बड़ा है इसके पीछे कारण भी रेत खदानों का चालू ना होना पाया गया है। अधिकारी सीमांकन के साथ ही जल्द खदान शुरू होने की बात कह रहे हैं।

लोगों की मजबूरी 
ग्रामीणों ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकान बनवा रहे हैं, घर बनाने के लिए रेत नहीं मिल रही है। एक ठेकेदार को कहा तो 3000 से ज्यादा लगने की बात कही। पहले वही रेत मैं 1200 ट्रिप में मंगवा लेता था। बिना रेत काम बंद पड़ा है। मेढक़ी के दुलार नेताम ने कहा कि मकान बनवा रहा हूं। इंतजार में था कि बारिश के बाद आसपास जिले की नदियों में ही रेत खनन शुरू हो जाएगा तो कम रेट में रेत मिल जाएगी। लेकिन अब तक कुछ नहीं हुआ। मजबूरी में ठेकेदार को तीन गुना ज्यादा रेट पर रेत मंगवाया।


Date : 27-Feb-2020

व्यवस्था नहीं, खुले में रखा धान भीगा

छत्तीसगढ़ संवाददाता

बालोद, 27 फरवरी। जिलेभर के धान क्रय केंद्रों में किसानों से खरीदे गए धान खुले में पड़े हुए हैं। पर्याप्त व्यवस्था नहीं होने के कारण सोमवार की शाम से शुरू बारिश से धान भीग रहे हैं। इससे सरकार को लाखों का नुकसान हो भी हो रहा है।

ग्रामीण क्षेत्र के विभिन्न धान क्रय केंद्रों पर खरीदी के बाद धान खुले आसमान के नीचे रखे गए हैं। ऐसे में बारिश के चलते धान भीग रहे हैं। ना तो धान ढंकने की कोई व्यवस्था की गई और ना ही खरीदे गए धान को उठाया गया।

धान खरीदी केन्द्रों के प्रबंधकों के अनुसार धान उठाने की जिम्मेदारी ठेकेदार की है, जो नहीं उठाया गया। बारिश के बाद जो संसाधन उपलब्ध थे, उससे धान को भीगने से बचाया जा रहा है। इसी तरह धान क्रय केंद्र केन्द्रों पर सोमवार की सुबह पहुंचे कर्मचारियों ने बारिश को देखते हुए धान के उपर प्लास्टिक की झिल्ली डालकर उन्हें भीगने से बचाने का प्रयास किया, लेकिन झिल्ली कम और धान ज्यादा होने के कारण इन्हें भीगने से नहीं बचाया जा सका। सोसायटी प्रबंधक मकसूदन देशमुख का कहना है कि विभाग द्वारा धान ढंकने के लिए कोई व्यवस्था नहीं की जाती। इसके बावजूद भी धान को भीगने से बचाने के लिए अपने स्तर पर पूरी कोशिश की जा रही है।

धान खरीदी बंद हुए 6  दिन बीत गए, लेकिन संग्रहण केंद्रों से उठाव का काम पूरा नहीं हो सका। अब बारिश के चलते धान खरीदी केंद्रों में कैप कव्हर तो डाल दिया गया है, लेकिन धान में नमी आने की आशंका बढ़ गई है। इस साल जिले में टोटल धान की खरीदी 50 लाख 15 हजार 339.39 खरीदी हुई है। विभागीय जानकारी के अनुसार अब भी जिले में 16  लाख 50 हजार 6 70,6 0 धान परिवहन होने के लिए सोसायटीओं में बाकी है।  जिले में कुल 50 लाख 15 हजार 339.39 धान की खरीदी हुई। किसानों की संख्या 1 लाख 19 हजार 679 व धान खरीदी का टोटल लक्ष्य 52 लाख था।

 


Date : 26-Feb-2020

चितवा डोंगरी को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने कलेक्टर व वनमंडल अफसर ने लिया जायजा

बालोद, 26  फरवरी। कलेक्टर रानू साहू और वनमण्डल अधिकारी सतोविशा समाजदार डौण्डीलोहारा विकासखण्ड के ग्राम सहगांव के समीप गोंदली जलाशय के किनारे स्थित ‘चितवा डोंगरी‘ पहुंचे। ‘चितवा डोंगरी‘ को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने वहां भ्रमण कर जायजा लिया। कलेक्टर और वनमण्डल अधिकारी ने चितवा डोंगरी स्थित गुफा, ऐतिहासिक भित्ति चित्र, व्यू प्वाईंट सहित गोंदली जलाशय का अवलोकन किया। 

कलेक्टर ने चितवा डांंगरी पहुंचने के लिए प्रवेश द्वार, पहुंच मार्ग, पार्किंग, पेयजल, शौचालय, गुफा तथा भित्ति चित्र तक रास्ता, सीढ़ी निर्माण आदि के संबंध में विचार विमर्श किया। चितवा डोंगरी के समीप गोंदली जलाशय में नौका विहार, वाटर स्पोर्ट्स आदि के संबंध में चर्चा की गई। उन्होंने मौके पर उपस्थित जलसंसाधन विभाग के कार्यपालन अभियंता और ग्रामीण यांत्रिकी सेवा विभाग के कार्यपालन अभियंता को कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश दिए। कलेक्टर और वनमण्डल अधिकारी से वन प्रबंधन समिति के पदाधिकारियों ने भेंट किया।  उन्होंने बताया कि क्षेत्र के लोग इस स्थान को चितवा डोंगरी के नाम से जानते हैं। वन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि चितवा डोंगरी में राज्य कैम्पा मद से 450 मीटर पहुंच मार्ग निर्माण, सोलर पम्प हाउस, पांच एचपी सोलर पम्प और बारह सोलर लाइट पोल लगाया गया है। इस अवसर पर एस.डी.एम. ऋषिकेश तिवारी, जल संसाधन विभाग के कार्यपालन अभियंता एस.के.टीकम, ग्रामीण यांत्रिकी सेवा विभाग के कार्यपालन अभियंता भुआर्य सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।


Date : 26-Feb-2020

कलेक्टर ने कॉलेज में दिया कैरियर मार्गदर्शन

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बालोद, 26  फरवरी।
कलेक्टर रानू साहू शासकीय घनश्याम सिंह गुप्त स्नातकोत्तर महाविद्यालय में आयोजित कैरियर मार्गदर्शन कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि छात्र-छात्राएं खुद पर विश्वास रखें और उचित मार्गदर्शन के साथ अपने लक्ष्य के लिए निरंतर मेहनत कर सफलता प्राप्त करें। उन्होंने कहा कि लक्ष्य निर्धारित कर, सफलता प्राप्त करने जुनून के साथ कड़ी मेहनत करें। 

कलेक्टर ने विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी व सफलता प्राप्त करने अपने अनुभव छात्र-छात्राओं से साझा किया। उन्होंने कहा कि किसी भी परीक्षा से पूर्व लक्ष्य निर्धारण, पाठ्यक्रम का विश्लेषण, उचित मार्गदर्शन एवं समय प्रबंधन आवश्यक होता है। कलेक्टर ने महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं से रूबरू होकर उनके द्वारा कैरियर के संबंध में पूछे गए सवालों एवं शंकाओं का समाधान भी किया। प्राचार्य जे.के.खलखो ने भी छात्र-छात्राओं को कैरियर मार्गदर्शन दिया। कार्यक्रम की समाप्ति पर प्राध्यापक सी.डी.मानिकपुरी ने आभार व्यक्त किया। 

 


Date : 26-Feb-2020

अग्नि व बाढ़ आपदा से बचाव हेतु मॉक ड्रिल 

बालोद, 26  फरवरी। कलेक्टर रानू साहू के मार्गदर्शन में जिला सेनानी नगर सेना जमरूवा के नेतृत्व में एसडीआरएफ दुर्ग के द्वारा नगर सेना कैम्प ग्राम जमरूवा में अग्नि एवं बाढ़ आपदा से संबंधित मॉक ड्रिल का आयोजन किया गया। जिला सेनानी दिनेश कुमार रावटे तथा एसडीआरएफ दुर्ग प्रभारी जनकलाल देशमुख एवं टीम द्वारा शासकीय हाईस्कूल जमरूवा के छात्र-छात्राओं को अग्नि एवं बाढ़ से बचाव हेतु जानकारी दी गई तथा मॉक ड्रील किया गया। इस अवसर पर डिप्टी कलेक्टर भूपेन्द्र अग्रवाल, प्राचार्य अंजना बाघे सहित छात्र-छात्राएं, ग्रामीण मौजूद थे। 

 


Date : 25-Feb-2020

बिना रासायनिक खाद के स्कूल में सब्जियों की खेती, 22 दिनों में मशरूम उत्पादन, दिल्ली से मुआयना करने पहुंचेगी टीम

छत्तीसगढ़ संवाददाता

बालोद, 25 फरवरी। जिले के डौण्डी क्षेत्र के ग्राम बमनी प्राथमिक स्कूल में एक शिक्षक द्वारा स्कूल परिसर में मुख्यमंत्री पोषण वाटिका बना बिना रासायनिक खाद के पिछले दो साल से सब्जियों की खेती की जा रही है। साथ ही स्कूल में ही 22 दिन में मशरूम का उत्पादन भी किया गया है। जिसका मुआयना करने दिल्ली से खाद्य विभाग की एक टीम आज शाम तक स्कूल पहुंचेगी।

जानकारी के अनुसार जिले के डौण्डी क्षेत्र के ग्राम बमनी के प्राथमिक स्कूल के एक शिक्षक ने सरकार की वेबसाइट व यूट्यूब के जरिये मशरूम की खेती करने की विधि सीखी और स्कूल के बच्चों के साथ 22 दिनों में ही मशरूम का उत्पादन कर दिया। जिसकी जानकारी खाद्य विभाग दिल्ली तक पहुंच गई। 22 दिनों में मशरूम का सफल उत्पादन संभव नहीं है। यही जानने दिल्ली से खाद्य विभाग की एक टीम स्कूल पहुंच रही है।

सरकार द्वारा विभिन्न योजनाएं तैयार कर कुपोषण दूर करने प्रयास में जुटी हुई है तो इसी अभियान को साकार करने पिछले 2 सालों से जिले के बमनी प्राथमिक स्कूल के एक शिक्षक स्कूल में ही बिना रासायनिक खाद के जैविक खेती के माध्यम से स्कूली बच्चों को हरी सब्जी उपलब्ध करा रहे हैं और स्कूल में की जा रही खेती का नाम मुख्यमंत्री पोषण वाटिका रखा है।

ऐसे हुआ मशरूम उत्पादन

शिक्षक देवेन्द्र ने बताया कि उनके एक मित्र दुर्ग में मशरूम का उत्पादन करते हैं। जिसे देखते हुए वह प्रेरित हुए और मुख्यमंत्री पोषण वाटिका के तहत स्कूल में मशरूम उत्पादन का फैसला लिया। जनवरी 2020 में उन्होंने शासन के दिशानिर्देशों व यूट्यूब के जरिये मशरूम उत्पादन की जानकारी ली। जिसके बाद गांव से पैरा कुट्टी लाकर विभिन्न प्रक्रिया की और ऑनलाईन एमेजन से मशरूम का बीज मंगाया। 31 जनवरी को मशरूम के बीज को पैरा कुट्टी वाले दो बैग में डाल दिया और उस बैग की लगातार निगरानी करते रहे और चरणबद्ध तरीके से स्कूली छात्रों को भी जानकारी देते रहे। 22 फरवरी को यानि 22 दिन बाद मशरूम का पहला उत्पादन हुआ और 2 बैग में 2 किलो आयस्टर मशरूम का उत्पादन हुआ। देवेन्द्र ने बताया कि पहले वाले दो बैग में अगले छह दिन बाद दूसरा उत्पादन होगा तो वही दो अन्य बैग में भी उसी तरह की प्रक्रिया अपनाकर मशरूम का उत्पादन किया जा रहा है जिसका उत्पादन अगले 10 दिन में मिल जायेगा।

जैविक खाद का उपयोग

बमनी प्राथमिक स्कूल में जैविक खाद के माध्यम से हरी सब्जियां उत्पादन की जाती है और बच्चों को बिना रासायनिक खाद के हरी सब्जियां परोसी जाती है। यह केवल खेती ही नहीं बल्कि इस प्राथमिक स्कूल के बच्चों को खेती करने के गुर भी वहां के शिक्षक देवेन्द्र साहू सिखाते हैं। जिले के डौण्डी क्षेत्र के शासकीय प्राथमिक स्कूल बमनी में 55 बच्चे वर्तमान में अध्ययनरत हैं। स्कूल में जिस भी सब्जी की खेती की जाती है उसके शुरूआती पायदान से लेकर प्रत्येक चरणों के बारे में शिक्षक देवेन्द्र अपने स्कूल के 55 छात्रों को बताते हैं।

पहले सप्ताह में दो बार होता था उत्पादन

शिक्षक देवेन्द्र ने बताया कि वह वर्ष 2018  के जुलाई माह में पहली बार बाजार से विभिन्न हरी सब्जियों का बीज खरीद कर स्कूल में लगाया, जो तैयार होने के बाद सप्ताह में दो बार उसी सब्जी से मध्यान्ह भोजन तैयार होता था। लेकिन पहले से कुछ बेहतर करने की चाह के कारण देवेन्द्र ने जून 2019 से हरी सब्जी बैगन, बरबट्टी, फुलगोभी, पत्तागोभी, भिंडी, कद्दू, गिलकी, मिर्च, टमाटर का उत्पादन बढ़ा दिया और तब से लेकर आज तक प्रतिदिन स्कूल में जैविक खेती से होने वाले उत्पादन को ही बच्चे मध्यान्ह भोजन के साथ ग्रहण कर रहे हैं।

घर से जैविक खाद, पानी के लिए लगाया कनेक्शन

स्कूल में बच्चों के लिए हरी सब्जी उत्पादन के लिए शिक्षक देवेन्द्र अपने घर से गोबर खाद लाते हैं और उसी के उपयोग से फसल उत्पादन करते हैं। इसके साथ ही फसलों के लिए पानी की उपलब्धता गांव में सौर पैनल से लगे बोर के सहारे मिल जाती है। देवेन्द्र के घर में गाय है जिसके गोबर को एक जगह एकत्रित कर स्कूल की खेती के लिए खाद तैयार करते हैं तो वहीं गांव में लगे सौर पैनल वाले बोर से स्कूल के शिक्षकों ने अपने खर्च से पानी के लिए कनेक्शन की व्यवस्था की।

होती है सब्जियां चोरी

बमनी प्राथमिक स्कूल में हरी सब्जियों की खेती तो पर्याप्त मात्रा में होती है लेकिन अहाता नहीं होने के कारण तैयार फसल चोरी हो जाती है। शिक्षक देवेन्द्र ने बताया कि स्कूल संचालन के समय कोई भी असमाजिक तत्व स्कूल में नहीं आते लेकिन रात के समय तैयार फसल की चोरी हो जाती है। बावजूद इसके उत्पादन की अधिकता के कारण स्कूली बच्चों को पर्याप्त मात्रा में प्रतिदिन हरी सब्जी भोजन के रूप में मिल जाती है।

 

 


Date : 25-Feb-2020

मृदा स्वास्थ्य कार्ड के आधार पर करें खेती-जे एल मंडावी

छत्तीसगढ़ संवाददाता

बालोद, 25 फरवरी। कम खर्च व परिश्रम में दो गुणा फसल उत्पादन के लिए मृदा स्वास्थ्य कार्ड के रिपोर्ट के आधार पर उर्वरक का उपयोग करें व जलसंरक्षण को ध्यान में रखते हुए ड्रिप एवं स्प्रिंकलर सिंचाई सिस्टम को अपनाएं।

उक्त बातें सोमवार को सेवा सहकारी समिति पाररास में कृषकों द्वारा आयोजित कृषक सम्मेलन में किसानों को संबोधित करते हुए अनुविभागीय अधिकारी कृषि जे एल मंडावी ने कही।

उन्होंने किसानों को बताया कि किसानों को सभी प्रकार की सुविधा समय पर मिले इस दिशा में सेवा सहकारी समिति कार्य कर रही हैं उन्होंने उर्वरक संवर्धन किस तरह से करना चाहिए और उसका सदुपयोग कैसे करें इस पर किसानों को बताया।

के पी चौरसिया ने बताया कि सहकारिता के माध्यम से उच्च गुणवत्ता वाले बीज, खाद की दिशा में कृभको कार्य कर रही हैं और समय समय पर किसानों के लिए समितियों के माध्यम से किसानों को प्रशिक्षण दिया जाता है और जल उपयोगिता और तरल जैव उर्वरक का उपयोग करने की बात कही। वरिष्ठ कृषि विस्तार अधिकारी आर एस नागरची ने जल उपयोगिता वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम के बारे में बताया और वाटर लेबल बढ़ाने के लिए जल बैंक बनाने की विधि बताई।

इफको के अधिकारी दिनेश गांधी ने किसानों से कहा कि वर्तमान समय में हम खाद्यान्न के मामले में पूरी तरह से आत्मनिर्भर हैं। ये हमारे कृषि विभागों, तकनीकी, किसानों के मेहनत  का परिणाम है। लेकिन इन सब उपलब्धियों को प्राप्त करने में हमने बहुत कुछ खोया भी है। उन्होंने मात्रा के अनुसार खाद डालने की बात किसानों से कही।

कार्यक्रम में समिति प्रबन्धक होमन्त पटेल,अध्यक्ष दुर्जन सिंह साहू, आर एल ठाकुर, पूरन लाल साहू,टी डी मानिकपुरी,उपाध्यक्ष केशरी ठाकुर, रोमलाल यादव,भीष्म चंद्राकर, भेष कुमार यादव सहित12गांव के किसान उपस्थित रहे।


Date : 25-Feb-2020

एसपी दफ्तर में आईजी ने ली बैठक

बालोद, 25 फरवरी। पुलिस महानिरीक्षक दुर्ग रेंज विवेकानद सिन्हा सोमवार को बालोद पहुंचकर पुलिस अधीक्षक कार्यलय में जिले के थाना व चौकी के प्रभारियों की क्राइम बैठक ली।   बैठक में पुलिस महानिरीक्षक ने आम जनता की शिकायत सुनने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिए। जिसमें प्रतिबधंत्मक कार्रवाई करने,  सस्पेंस वारंट की तामीली करने तथा महिला संबधी अपराध में 6 0 दिवस में चालान पेश करने के दिशा निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि थाने में लंबित अपराध,लंबित चालान, लंबित शिक्षयत,लंबित मर्ग, लंबित गम इंसान एव लंबित जब्तीमाल के निराकरण को कहा गया हैं, साइबर सबधी अपराध व अन्य अपराधों में फरार आरोपियों की पतासाजी करने के लिए एक टीम बनाकर आरोपियों की गिरफ्तारी करने के निर्देश दिए है। जिले में अवैध शराब,जुआ सट्टा पर प्रभावी कार्रवाईके निर्देश दिए गए हैं।

बैठक में एसपी एमएल कोटवानी, एएसपी डीआर पोर्ते, एसडीओपी पीसी श्रीवास्तव, डीएसपी दिनेश सिन्हा, उप पुलिस अधीक्षक अमर सिरदार, अक्षय कुमार, कमल जीत पाटले, प्रशांत पैकरा उपस्थित थे।


Date : 25-Feb-2020

राज्य सरकार किसानों से छल कर रही है-उपासने

बालोद, 25 फरवरी। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता सच्चिदानंद उपासने ने भाजपा कार्यलय में आयोजित प्रेसवार्ता में कहा कि प्रदेश सरकार किसानों के साथ छल कर रही है। किसानों का पूरा धान नहीं खरीदा गया हैं, जिसके कारण किसानों की आर्थिक स्थिति कमजोर हुई है।

बस्तर के कोंडागांव में धान खरीदी की तारीख बढ़ाने के लिए किसानों द्वारा शांति पूर्वक आंदोलन कर रहे थे,जिसको पुलिस ने लाठी चार्ज किया था जिसमे दर्जनों किसानों को चोटें आई थी।

सच्चिदानंद उपासने के बालोद पहुंचने पर कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया। मीडिया से चर्चा के दौरान वे सरकार पर जमकर बरसते हुए नजर आए। विकास और किसान के मुद्दे पर उन्होंने सरकार को घेरा और कहा कि प्रदेश की भूपेश सरकार किसानों के साथ छलावा कर रही है और मीशा बंदी पेंशन बंद करने जैसे निर्णय लेकर अपनी दूजा भाव कर रही है।

उन्होंने कहा कि धान खरीदी के विषय पर उन्होंने कहा कि आंकड़े दर्शा कर कांग्रेस अपना पीठ थपथपा रही है और यह कोई बड़ी बात नहीं है उन्होंने कहा कि धान खरीदी का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है साथियों ने श्वेत पत्र जारी करने की मांग भी की उन्होंने कहा कि किसानों के साथ छलावा हुआ है सभी किसानों का धान नहीं खरीदा गया साल भर में नए नए बहाने लाकर खरीदी को प्रभावित करने का प्रयास किया गया।

प्रेसवार्ता के दौरान जिला भाजपा अध्यक्ष कृष्णकांत पवार,पवन साहू,शरद ठाकुर,लोकेश श्रीवास्तव, लाला नूनीवल,रिंकू शर्मा,सहित आदि उपस्थित थे।


Date : 24-Feb-2020

मजदूर संघ ने इस्पात मंत्री को सौंपा ज्ञापन 
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
दल्लीराजहरा, 24 फरवरी।
संयुक्त खदान मजदूर संघ ने राजहरा प्रवास पर आये केन्द्रीय तेल,पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस एवं इस्पात मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान को नौ सूत्रीय मांगों का ज्ञापन सौंपकर लौह अयस्क खान समूह के कर्मचारियों की मांगों को पूरा कराने के लिए अतिशीघ्र पहल की मांग की है। 

ज्ञापन मेंं संयुक्त खदान मजदूर संघ ने केन्द्रीय इस्पात मंत्री को बताया है कि वर्तमान में सेल विभिन्न चुनौतियों का सामना करते हुए निरंतर आगे बढ़ता जा रहा है और सेल को लाभ पहुंचाने के लिए भिलाई इस्पात संयंत्र एवं खदानों के कर्मचारी लगातार उत्पादन बढ़ाने का भरसक प्रयास कर रहे हैं। अत: लौह अयस्क खदान समूह के कर्मचारियों के कुछ विशेष मांगों पर ध्यान आकर्षित कराना जरूरी है।

संघ ने केन्द्रीय इस्पात मंत्री से जनवरी 2017 से लंबित सेल कर्मचारियों का वेतन समझौता शीघ्र लागू कराने, कर्मचारियों के ईएल, इंकेशमेंट को तत्काल चालू करने, सेल की सब कमेटी द्वारा डिप्लोमा इंजीनियरर्स के लिए निर्धारित पदनाम मेें डिप्लोमा इंजीनियर्स को उनके शैक्षणिक योग्यता के आधार पर उचित पदनाम दिये जाने, ई-0 प्रमोशन पॉलिसी पूर्व की भांति वरिष्ठता के आधार पर दिये जाने व अन्य खदानों की तरह अपग्रेडेशन 3 वर्ष में दिये जाने, राजहरा माइंस से रावघाट प्रारंभ होने की स्थिति में राजहरा खदान बंद होती जा रही है इसलिए यहां खाली पड़ी जमीन एवं आवास को बीएसपी कर्मचारियों को लीज पर दिये जाने, आरएमडी की खदानों में 20 मेधावी बच्चों को सेल द्वारा उच्च शिक्षा हेतु अन्य उच्च संस्थानों में शिक्षा के लिए भेजा जाता है उसी तर्ज पर सेल प्रबंधन द्वारा राजहरा माइंस के बच्चों को भी उच्च शिक्षा के लिए भेजने आदि अन्य मांग की गई है। साथ ही संयुक्त खदान मजदूर संघ ने अपने उपरोक्त मांगों पर विचार कर केन्द्रीय इस्पात मंत्री से मांगों को पूरा करने के लिए अतिशीघ्र पहल करने का आग्रह किया है।

इस दौरान प्रमुख रूप से संयुक्त खदान मजदूर संघ अध्यक्ष कंवलजीत सिंह मान,कार्यकारी अध्यक्ष अनिल यादव,सचिव राजेन्द्र बेहरा,कार्यालय सचिव गौतम बेरा व संगठन सचिव तोरणलाल साहू,आरपी बरेट,कुलदीप सिंग सहित अन्य सदस्य उपस्थित थे। 

 

 


Date : 24-Feb-2020

नपा अध्यक्ष ने किया वाटर एटीएम व फ्रीजर का निरीक्षण 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
दल्लीराजहरा, 24 फरवरी।
ग्रीष्म ऋतु के आगमन को देखते हुए नगरपालिका अध्यक्ष शीबू नायर ने राजहरा नगर के बस स्टैण्ड में यात्रियों एवं आमजनता केे लिए पेयजल की समुचित व्यवस्था बनाये रखने के उद्देश्य से बस स्टैण्ड के वाटर एटीएम एवं वाटर फ्रीजर का निरीक्षण किया।

वहीं उन्होने नगरपालिका कर्मचारियों को तत्काल व्यवस्था में सुधार लाकर यात्रियों एवं आम लोगोंं को पेयजल मुहैया कराये और गर्मी के दिनों में भी समय समय पर ध्यान देकर इस व्यवस्था को सुचारू रूप से बनाये रखे जाने के निर्देश दिये। साथ ही सफाई कर्मियों को वाटर एटीएम एवं वाटर फ्रिजर स्थल पर उचित साफ सफाई रखे जाने के लिए कहा।
निरीक्षण के दौरान नगरपालिका अध्यक्ष के साथ कांग्रेस सेवादल जिला अध्यक्ष संतोष पांडेय, एल्डरमैन जगदीश श्रीवास, बसंत साहू, अजमेर सिंह रंधावा, राजकुमार साहू व अन्य कांग्रेसी उपस्थित थे।

 

 


Date : 24-Feb-2020

आंगनबाड़ी केन्द्र में नपा अध्यक्ष ने कराया अन्न प्राशन

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
दल्लीराजहरा, 24 फरवरी।
वार्ड क्रमांक 13 लोडिंग साइडिंग क्षेत्र स्थित आंगनबाड़ी केन्द्र में महिला जागृति शिविर एवं सुपोषण चौपाल व बाल संदर्भ शिविर का आयोजन किया गया।
कार्यक्र्रम में मुख्य अतिथि नगरपालिका अध्यक्ष शीबू नायर तथा विशेष अतिथि पार्षद विजयभान सिंह, कांग्रेस सेवादल जिला अध्यक्ष संतोष पांडेय,महिला एवं बाल विकास परियोजना अधिकारी दीपा शाह एवं पर्यवेक्षक रेणु छत्रपाल उपस्थित रहे।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि शीबू नायर द्वारा बच्चों को खीर खिलाकर अन्न प्राशन कराया गया। वहीं आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं एवं वार्ड के महिलाओं द्वारा रेडी टू ईट से बनाये गए व्यंजनों का स्टाल लगाया गया था जहां मुख्य अतिथि शीबू नायर ने व्यंजनों का स्वाद चखकर प्रसंनता जताई और स्वादिष्ट व्यंजनों को प्रथम व द्वितीय स्थान तय कर इन्हें बनाने वाली महिलाओं को पुरस्कार प्रदान किया। बाल संदर्भ शिविर में चिकित्सक द्वारा बच्चों मेंं कुपोषण के स्थिति की जांच की गई तथा कुपोषित पाये जाने बच्चों को प्रोटीन एवं विटामिन वितरित किया गया तथा संबंधित बच्चों के माताओं को परामर्श देते हुए अपने बच्चों को आंगनबाड़ी से मिलने वाले रेडी टू ईट के साथ साथ अपने घर में पोषक आहार खिलाकर सुपोषित करने कहा गया।

इस दौरान बच्चों के लिए कुर्सी दौड़ एवं मोमबत्ती जलाओ प्रतियोगिता आयोजित किया गया। विजेता बच्चों को अतिथियों द्वारा पुरस्कार दिया गया। वहीं जिन महिलाओं के शरीर में 12 से 13 ग्राम रक्त है उन्हें स्वास्थ्य के प्रति विशेष ध्यान रखने के लिए ईनाम दिया गया। कुपोषित से सुपोषित श्रेणी में आने वाले बच्चों को भी ईनाम देकर सभी माताओं को अपने बच्चों के सुपोषण के लिए ध्यान देने हेतु प्रोत्साहित किया गया। शिविर में बच्चों के द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत कर सभी का मनोरंजन किया गया। इस दौरान विभिन्न आंगनबाड़ी के कार्यकर्ता व सहायिकाएं तथा वार्डवासी बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

 

 

 


Date : 24-Feb-2020

सांसद मोहन मंडावी ने भाजपा कार्यकर्ता विक्रम धुर्वे को नगर पंचायत चिखलाकसा का सांसद प्रतिनिधि नियुक्त किया

दल्लीराजहरा, 24 फरवरी। कांकेर लोकसभा क्षेत्र के सांसद मोहन मंडावी ने भाजपा कार्यकर्ता विक्रम धुर्वे को नगर पंचायत चिखलाकसा का सांसद प्रतिनिधि नियुक्त किया है।  विक्रम धुर्वे को सांसद प्रतिनिधि बनाये जाने पर नगर पंचायत अध्यक्ष सहित समस्त भाजपा पार्षदों एवं पदाधिकारी व कार्यकर्ताओंं ने सांसद का आभार व्यक्त किया है। उनकी इस नियुक्ति पर नगर पंचायत अध्यक्ष भीखी मसिया, तोसिन खान, कुंती देवांगन, लीला डड़सेना, शांति रावटे, ताराचंद पाथोड़े, संगीता साहू, घनाराम साहू, विनोद झा, गज्जू ठाकुर, ब्रिजमनी यादव, भरत पटेल, ओमप्रकाश कश्यप, सतीश सोनी सहित भाजपा कार्यकर्ताओं ने हर्ष व्यक्त किया है।

 


Date : 23-Feb-2020

बोर्ड परीक्षा को सप्ताह भर, तैयारियों में जुटा विभाग
छत्तीसगढ़ संवाददाता
बालोद, 23 फरवरी।
2 व 3 मार्च से दसवीं-बारहवीं की शुरू होने वाली परीक्षा की तैयारी में शिक्षा विभाग जुट गया है। शनिवार को कड़ी सुरक्षा के बीच प्रश्नपत्रों का वितरण किया गया।

जिला शिक्षा अधिकारी आरएल ठाकुर ने बताया कि जिले के 105 परीक्षा केंद्रों में प्रश्न-पत्र भेजा गया हैं। जिले में 6   नवीन परीक्षा केंद्र बनाए गए है। जिसमें गुंडरदेही ब्लॉक के शासकीय उमावि गोरकापार, तवेरा, रेगाड़बरी, दुडेरा व कोटगांव एव डौंडीलोहारा के शाउमावि. किल्लेकोड़ा में नवीन परीक्षा केंद्र बनाया गया हैं। जिले में हाईस्कूल व हायर सेकेंडरी स्कूलों की संख्या 217 हैं, जिले में 23507 परीक्षार्थी परीक्षा में बैठेंगे। 

दसवीं व बारहवीं की बोर्ड परीक्षा प्रारंभ होने में सप्ताह भर ही बाकी है। जिले में कुल 23 हजार 507 परीक्षार्थी बोर्ड की परीक्षा के नजदीक आते ही परीक्षा की तैयारी में लगे हुए हैं। 2 मार्च से बोर्ड की परीक्षाएं आयोजित हैं। इसके लिए शनिवार को जिला मुख्यालय  के आदर्श हायर सेकेंडरी स्कूल से प्रश्नपत्रों का वितरण किया गया। जिले के 11 पुलिस थानों में 105 परीक्षा केंद्रों के प्रश्नों को पुलिस की सुरक्षा में रखा गया है। सुबह से ही केंद्राध्याक्ष प्रश्न पत्र लेने पहुंच गए थे, जो देर शाम तक प्रश्न पत्रों को पेटी में ले गए। वहीं पुलिस थानों में जमा किया गया। जिले के 07 थानों में 105 परीक्षा केंद्रों के प्रश्न-पत्र जमा किए गए। जिसे परीक्षा के दिन ले जाएंगे।

प्रश्नपत्रों का वितरण जिले के हायर सेकेंडरी स्कूल  से किया गया। संवेदनशील के कारण दूर वनांचल के थानों में रखे जाने वाले प्रश्नपत्रों का वितरण पहले किया गया, ताकि समय रहते प्रश्नपत्र सुरक्षित थानों में जमा हो सके।

दसवीं बोर्ड में नए प्रयोग
इस बार दसवीं की बोर्ड परीक्षा में माध्यमिक शिक्षा मंडल ने नए प्रयोग किए हैं। इस बार विद्यार्थियों को उत्तर पुस्तिका में ओएमओ शीट दी जाएगी, जिसे तुरंत भरेंगे। 

इसी प्रकार पहले 20 पेज का उत्तर हल करने के लिए पुस्तिका दिया जाता था और उत्तर पुस्तिका भर जाने पर सैप्लीमेंट्री दिया जाता था, लेकिन इस बार परीक्षार्थियों को सैप्लीमेंट्री नहीं दिया जाएगा। सीधे 40 पेज का उत्तर पुस्तिका दिया जाएगा, जिसमें विद्यार्थी सभी प्रश्न हल करेंगे।


Date : 23-Feb-2020

भाजपा व किसान मोर्चा ने का धरना-प्रदर्शन

छत्तीसगढ़ संवाददाता

बालोद, 23 फरवरी। प्रदेश के बस्तर संभाग में आदिवासी किसानों पर हुए लाठीचार्ज व धान खरीदी में अव्यस्था को लेकर शनिवार को जिला भाजपा और किसान मोर्चा द्वारा टैक्सी स्टैंड में एक दिवसीय धरना प्रदर्शन कर राज्यपाल के नाम दस सूत्रीय मांगों को ले ज्ञापन अपर कलेक्टर को सौंपा। धरना प्रदर्शन में शामिल होने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेंडी विशेष रूप से उपस्थित होकर भूपेश सरकार के खिलाफ जमकर हमला किया। 

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष विक्रम उसेंडी ने कहा कि छग में सबसे ज्यादा परेशान किसान हैं। राज्य सरकार ने धान खरीदी दिसबर में शुरू की। किसानों का धान नहीं खरीद जा रहा है। कोंडागांव में शांति पूर्ण धरना प्रदर्शन कर रहे किसानों पर लाठी चार्ज किया गया। जिसमें दर्जनों किसान घायल हुए थे। पूरे प्रदेश में अराजकता का माहौल है। सरकार बनते ही प्रदेश में शराब बंदी करने की घोषणा की गई थी। बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ता देने सहित सभी मामलों में सरकार पूरी तरह से फेल है। 
भाजपा जिला अध्यक्ष कृष्णकांत पवार ने कहा कि जिला पंचायत में ज्यादा सीट जीत सकते थे, लेकिन जिला प्रशासन द्वारा लाइट बंद कर वोटों का हेरफेर किया गया है। हमारे क्षेत्र के सरपंचों को बरगलाया जा रहा है। 

धरना प्रदर्शन में यज्ञदत्त शर्मा,पूर्व विधायक वीरेंद्र साहू,प्रीतम साहू,सहित अन्य भाजपा के पदाधिकारियों ने भूपेश सरकार के खिलाफ जमकर हमला किया।इस दौरान बालोद जनपद अध्यक्ष प्रेमलता साहू, देवेंद्र जायसवाल,मोहन जैन,पालक ठाकुर,किशोरी साहू,प्रमोद जैन,इंद्रपाल चन्द्राकर,पुष्पेंद्र चन्द्राकर,नरेश यदु,सोमेश साहू,दुष्यंत,अमित चोपड़ा,विनोद कौशिक,शरद ठाकुर,लोकेश श्रीवास्तव सहित भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित थे।

 


Date : 22-Feb-2020

महाशिवरात्रि पर दशोदी तालाब में भक्तों का तांता

छत्तीसगढ़ संवाददाता

बालोद, 22 फरवरी। महाशिवरात्रि पर शुक्रवार को नगर के गंजपारा स्थित दशोदी तालाब के जलेश्वर महादेव  परिसर में मेला जैसा माहौल रहा। दूरदराज से लोग पहुंचकर विशाल शिवलिंग की पूजा और जलाभिषेक किया। दशोदी तालाब में सुबह से भक्तों का तांता लगा रहा।

इस दौरान भगवान के अभिषेक के साथ वेद मंत्र गूंजते रहे। वहीं मंदिर समिति द्वारा आने वालों भक्तों के लिए विशाल शिविलिंग तक पहुंचने लोहे की सीढ़ी बनाई गई हैं। जिसके सहारे लोग जलाभिषेक, दुग्धाभिषेक  किए। कावडिय़ों ने तांदुला घाट से जल भर जलेश्वर महादेव पहुंचकर दशोदी तालाब परिक्रमा कर पूजा किया जिसके बाद कांवडिय़ों का दल नगर भ्रमण करते हुए कपिलेश्वर मंदिर पहुंचकर शिव को जल अर्पित किया।

ब्रह्ममुहूर्त से मंदिरों में श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। मनोकामना पूरी करने विशेष पूजा के लिए श्रद्धालुओं ने दूध, दही, शहद, घी से अभिषेक किए, वहीं बेलपत्र, धतुरा, मदार के फूल अर्पित किए। इस दौरान जगह-जगह विविध धार्मिक आयोजन किए गए।

जिले के सबसे बड़े धार्मिक स्थल दशोदी तालाब स्थित विशाल जलेश्वर महादेव में महाशिवरात्रि पर मंदिर समिति द्वारा 151 लीटर दूध से अभिषेक किया गया,इसके साथ ही दूध शहद व मिश्री से जलाभिषेक किया गया। मंदिर समिति द्वारा सभी भक्तों के लिए प्रसाद स्वरूप हलुवा दिया गया।

200 कावरियों ने तांदुला नदी राम घाट से लाया जल

महाशिवरात्रि पर भगवान कपिलेश्वर महादेव मंदिर में चल रहे  महोत्सव के दूसरे दिन भगवान शिव की विशेष पूजा की गई। सुबह लगभग 200 की संख्या में बच्चे युवा, बुजुर्ग कंधों पर कांवड़ लेकर 3 किमी दूर तांदुला नदी तट पर रामघाट पहुंचे जहां डुबकी लगाकर जल लेकर कांवडि़ए जलेश्वर महादेव का अभिषेक करने गंगा सागर तालाब, शीतला माता मंदिर होते हुए कपिलेश्वर पहुंचे, जहां प्राचीन शिव मंदिर में जल अर्पित किए। इस दौरान कावडिय़ों के लिए भांग की भी व्यवस्था की गई थी।


Date : 22-Feb-2020

नेमीचंद कॉलेज में स्वागत-विदाई समारोह

छत्तीसगढ़ संवाददाता
दल्लीराजहरा, 22 फरवरी।
शासकीय नेमीचंद जैन महाविद्यालय दल्लीराजहरा के बी.कॉम भाग तीन के छात्र-छात्राओं का विदाई समारोह एवं बी कॉम भाग एक के छात्र-छात्राओं का स्वागत समारोह संयुक्त रूप से संचालन हेतु मिलन समारोह का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि प्राचार्य डॉ. संतोष सिंह एवं विशिष्ट अतिथि के रूप में प्रो. अरूण कुमार व्ही, डॉ. धर्मेन्द्र सिंह,डॉ. देवदत्त शर्मा एवं नेहा जायसवाल उपस्थित रहे। मुख्य अतिथि प्राचार्य डॉ. संतोष सिंह द्वारा केक काटकर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया।  प्राचार्य ने वाणिज्य विभाग के छात्र छात्राओं को उनके अच्छे एकेडमिक कार्य की सराहना करते हुए बी कॉम भाग तीन के छात्र छात्राओं के उज्वल भविष्य की कामना की। 

कार्यक्रम मेें दीपशिखा शर्मा को मिस फेयरवेल एवं तुषार गुप्ता को मिस्टर फेयरवेल के रूप में विजेता घोषित किया गया। वहीं देबोलीना भट्टाचार्य मिस फ्रैशर एवं बॉबीराज सिंह मिस्टर फ्रैशर के रूप मेंं विजेता घोषित हुए। साथ ही वाणिज्य संकाय के बेस्ट एकेडमिक स्टूडेंट ऑफ द ईयर का अवार्ड हर्ष चोपड़ा को दिया गया। कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं द्वारा विभिन्न प्रकार के खेल विधाएं,संगीत,नृत्य अनुकरण का प्रस्तुतीकरण किया गया। वाणिज्य संकाय के विभागाध्यक्ष डॉ. धर्मेन्द्र सिंह द्वारा छात्र छात्राओं को पुरस्कार वितरण कर उनका उत्साहवर्धन किया गया तथा आयोजन की सफलता के लिए सभी छात्र-छात्राओं का आभार व्यक्त किया गया। 

 


Previous12Next