छत्तीसगढ़ » दुर्ग

Previous123Next
Posted Date : 25-Apr-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    दुर्ग, 25 अप्रैल। बाफना टोल प्लाजा के पास आज सुबह मेटाडोर से 10 क्विंटल गांजा बरामद किया गया।  पुलिस के अनुसार आज सुबह बाफना टोल प्लाजा के पास गंजे से भरी मेटाडोर का गुजरने की सूचना मिली थी। जिसे घेराबंदी कर जेवरा सिरसा पुलिस ने पकड़ा। आरोपी वाहन चालक सुघांशु एवं हेल्पर से पूछताछ जारी है। 

  •  

Posted Date : 12-Apr-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    दुर्ग, 12 अप्रैल। पूर्व कैबिनेट मंत्री और भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष हेमचंद यादव के अंतिम दर्शन करने पूरा शहर उमड़ पड़ा। उसके साथ ही प्रदेशभर से सभी बड़े तमाम नेता मौजूद रहे। राज्य शासन ने घोषणा की है कि दुर्ग विश्वविद्यालय का नाम हेमचंद यादव के नाम पर रहेगा।
    आज सुबह 10 बजे से भाजपा कार्यालय में अंतिम दर्शन के लिए रखा गया था। जिसके बाद दुर्ग भाजपा कार्यालय से इंदिरा मार्केट होते हुए हरनाबांधा मुक्तिधाम  ले जाया गया। जहां उनके ज्येष्ठ पुत्र राजदीप यादव ने मुखाग्नि दी। अंतिम संस्कार में मुख्यमंत्री रमन सिंह के अलावा, विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल, प्रदेश प्रभारी अनिल जैन, प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक सहित शीर्ष बीजेपी नेता मौजूद थे।
    आज सुबह साढ़े 8 बजे से दुर्ग बैगापारा निवास स्थल से पूर्व मंत्री हेमचंद यादव की अंतिम यात्रा शुरू हुई। जो कंकालीनपारा, पंचमुखी हनुमान मंदिर ब्राम्हणपारा, चंडीमंदिर, गांधी चौक, शनिचरी बाजार होते हुए सुबह 9 बजे दुर्ग जिला भाजपा कार्यालय पहुंची। यहां दर्शनार्थ दो घंटे तक रखी गई। 
    भाजपा कार्यालय में जिला प्रभारी व पीडब्ल्यूडी मंत्री राजेश मूणत, कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल, उच्च शिक्षा मंत्री प्रेम प्रकाश, पंचायत मंत्री अजय चंद्राकर, महिला व बाल विकास मंत्री रमशीला साहू, राज्य सभा सांसद सरोज पांडेय, संसदीय सचिव लाभचंद बाफना, विधायकों में विद्यारतन भसीन, अरूण वोरा, सांवलाराम डाहरे, अवधेश चंदेल, शिव रतन शर्मा, महापौर दुर्ग चंद्रिका चंद्राकर, भिलाई-चरौदा महापौर चंद्रकांता मांडले सहित बड़ी संख्या में जन प्रतिनिधि व आमजनों ने श्रद्धांजलि दी। इसके बाद अंतिम यात्रा इंदिरा मार्केट, फरिश्ता कॉम्पलेक्स, शिक्षक नगर होते हुए हरनाबांधा मुक्तिधाम पहुंची।
    मुक्तिधाम में खाद्य मंत्री पुन्नूलाल मोहले, नगरीय निकाय मंत्री अमर अग्रवाल, अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष सुरेंद्र सिंह कैम्बो, पूर्व संसदीय सचिव विजय बघेल, दया सिंह सहित जन प्रतिनिधियों व आमजनों ने हेमचंद यादव को श्रद्धांजलि दी। यहां भी उनके दर्शन के लिए पूरा शहर उमड़ पड़ा था। 

     

  •  

Posted Date : 11-Apr-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    भिलाई नगर, 11 अप्रैल। बीएसपी टाउनशिप सेक्टर-2 में बीती रात युवक की हत्या उसके ही मौसरे भाई ने रॉड मारकर कर दी। हत्या का कारण अपनी मां के साथ मारपीट करना बताया गया है। पुलिस  आरोपी से पूछताछ कर रही है। 
    भट्ठी पुलिस के मुताबिक एस संजू अपनी मां के साथ आए दिन मारपीट करता था। कल रात  सेक्टर-2 निवास में पहुंचा और अपनी मां के साथ मारपीट करने लगा। यह देखकर मृतक की मौसी ने हस्तक्षेप किया तो उसने अपनी मौसी को भी एक थप्पड़ मार दिया।  उसने अपने  बेटे जी सन्मुख उर्फ सन्नू (26 वर्ष) को बताया। इस पर सन्मुख आवेश में आकर घर में रखे रॉड से हमला कर दिया।  लहू लुहान संजू  पड़ोसी जानकी राव के घर  जाकर उसने बाथरूम का दरवाजा बंद कर लिया। इसकी जानकारी परिजनों को होने पर बाथरूम का दरवाजा तोड़कर उसे बाहर निकाला एवं गंभीर अवस्था में अस्पताल ले गए। जहां चिकित्सकों ने परीक्षण के पश्चात उसे मृत घोषित कर दिया। 

  •  

Posted Date : 29-Mar-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    दुर्ग, 29 मार्च। बलात्कार के जुर्म में  सजा काट रहे राजनांदगांव जिला के मानपुर निवासी दुर्गाराम ध्रुर्वे 48 साल की संदिग्ध परिस्थितियों  में मौत हो गई। घटना बुधवार शाम  की है। गंभीर हालत में उसे जेल से जिला अस्पताल लाया गया था, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।
    मिली जानकारी के अनुसार दुर्गाराम को घबराहट व सांस फूलने की शिकायत पर उसे जेल अस्पताल पहुंचाया गया। प्राथमिक जांच व उपचार के बाद तबियत में सुधार नहीं होने पर उसे  जिला अस्पताल पहुंचाया गया। उसकी मौत जेल से अस्पताल लाते समय रास्ते में हो गई।  
    दुर्गाराम को नया बैरक में रखा गया था। दो दर्जन से अधिक कैदी साथ में रह रहे थे। जेल के अधिकारियों का कहना है कि इसके पहले उसे किसी तरह की शिकायत नहीं थी। सुबह का नाश्ता व दोपहर का खाना भी खाया था। राजनांदगांव जिला न्यायालय ने वर्ष 2015 में 10 साल कारावास की सजा सुनाई थी। राजनांदगांव जेल से उसे वर्ष 2016 में दुर्ग केंद्रीय जेल में शिफ्ट किया गया था।

  •  

Posted Date : 29-Mar-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    दुर्ग, 29 मार्च। बलात्कार के जुर्म में  सजा काट रहे राजनांदगांव जिला के मानपुर निवासी दुर्गाराम ध्रुर्वे 48 साल की संदिग्ध परिस्थितियों  में मौत हो गई। घटना बुधवार शाम  की है। गंभीर हालत में उसे जेल से जिला अस्पताल लाया गया था, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।
    मिली जानकारी के अनुसार दुर्गाराम को घबराहट व सांस फूलने की शिकायत पर उसे जेल अस्पताल पहुंचाया गया। प्राथमिक जांच व उपचार के बाद तबियत में सुधार नहीं होने पर उसे  जिला अस्पताल पहुंचाया गया। उसकी मौत जेल से अस्पताल लाते समय रास्ते में हो गई।  
    दुर्गाराम को नया बैरक में रखा गया था। दो दर्जन से अधिक कैदी साथ में रह रहे थे। जेल के अधिकारियों का कहना है कि इसके पहले उसे किसी तरह की शिकायत नहीं थी। सुबह का नाश्ता व दोपहर का खाना भी खाया था। राजनांदगांव जिला न्यायालय ने वर्ष 2015 में 10 साल कारावास की सजा सुनाई थी। राजनांदगांव जेल से उसे वर्ष 2016 में दुर्ग केंद्रीय जेल में शिफ्ट किया गया था।

  •  

Posted Date : 11-Jan-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    भिलाई नगर, 11 जनवरी। घड़ी चौक सुपेला में गुरूवार दोपहर बाइक सवार एक दंपत्ति ट्रक की चपेट में आ गए। हादसे में महिला की घटनास्थल पर ही मौत हो गई, वहीं घायल पति को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। 
     प्रगति नगर रिसाली निवासी ललित वर्मा अपनी पत्नी शीला वर्मा के साथ बाइक से बेटे राकेश वर्मा के पासपोर्ट के लिए कागजात जांच करवा सुपेला थाना से प्रगति नगर लौट रहे थे। बेटा राकेश अलग बाइक पर साथ ही चल रहे थे। घड़ी चौक सुपेला में क्रासिंग के दौरान ललित की बाइक अनियंत्रित हो बगल से निकल रहे ट्रक से जा भिड़ी। शीला वर्मा की ट्रक के नीचे आने से मौके पर ही मौत हो गई। ललित को घायल अवस्था में दुर्ग हॉस्पिटल भेजा गया है। ट्रक चालक को गिरफ्तार कर लिया है।

  •  

Posted Date : 10-Jan-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    कुम्हारी/ भिलाई नगर, 10 जनवरी। आज सुबह चरौदा जीआरपी थाने से 100 मीटर की दूर फोरलेन की झाडिय़ों में एक युवक की खून से सनी लाश मिलने से सनसनी फैल गई। युवक की उम्र 25 से 27 वर्ष के बीच बताई जा रही है। मृत युवक के पेट एवं छाती में चोट के निशान है। युवक के दाएं हाथ के त्रिशूल का निशान है।  मौके पर सड़क से लेकर घटनास्थल तक खून के निशान पाए गए। मृतक की शिनाख्त फिलहाल नहीं हो सकी है। 
     पुलिस के अनुसार चरोदा जीआरपी थाना से थोड़ी ही दूरी पर फोरलेन की झाडिय़ों में एक  युवक की लाश की खबर क्षेत्र के चौकीदार ने दी। युवक के पेट और सीने पर धारदार हथियार से कई प्राणघातक हमले किये गये हैं। दुर्ग एस पी अमरेश मिश्रा एवं सीएसपी छावनी अजीत यादव मौके पर उपस्थित थे। सीएसपी अजीत यादव ने बताया कि प्रथम दृष्टतया यह प्रतीत हो रहा है कि युवक की हत्या कहीं और की गई है तथा लाश को यहां फेंक दिया गया है। मृतक की पहचान के लिए आस-पास के क्षेत्र व थानों को उसका हुलिया भेजा गया है। 
    मृतक को कमर के पास से उठाया गया है जिससे उसकी बेल्ट टूट गई है तथा उसके शरीर पर गर्म कपड़े भी नहीं हैं। इससे संदेह है कि उसकी हत्या पहले करने के बाद रात को आरोपियों ने उसे वाहन से यहां लाया और लाश फेंक कर निकल गये। 

  •  

Posted Date : 02-Jan-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    दुर्ग, 2 जनवरी।  पाश्र्व तीर्थ नगपुरा के मैनेजनिंग डायरेक्टर व ट्रस्टी रावलमल जैन मणि एवं उनकी धर्मपत्नी सुरजी बाई की गोली मारकर हत्या करने वाले आरोपी पुत्र संदीप जैन को आज पुलिस रिमांड से अपरान्ह 3.30 बजे न्यायालय में प्रस्तुत किया जाएगा। समाचार लिखे जाने तक न्यायालय में प्रस्तुत करने की तैयारी की जा रही है। गौरतलब है कि इस हत्य को लेकर पूरा शहर आज भी स्तब्ध है। माता-पिता का हत्यारा पुत्र ही निकला इसे लेकर लोग  तरह-तरह की चर्चाएं कर रहे हैं। 
     इधर आज दोपहर 12 बजे क्राइम ब्रांच की पुलिस गंजपारा  दुग्गड़ निवास स्थित उनके निवास पर पहुंची। बताया जा रहा है कि पुलिस द्वारा आरोपी पुत्र संदीप जैन के पर्स, मोबाइल व अन्य सामान को सुपुर्दगी देने वहां पहुंची थी। जानकारी ये भी है पुलिस ने आरोपी संदीप जैन के गिरफ्तारी की सूचना उसके घर में दी है। 
    स्व. रावलमल जैन  के आवास  पर  केवल जैन समाज एवं शुभचिंतकों का आना-जाना जारी है।  निवास में आरोपी की पत्नी व उसके बेटे मौजूद थे।  आरोपी बेटे का कपड़ा दुकान जो समता साड़ी के नाम से संचालित है उसके शटर खुले रहे, लेकिन वहां गिनती के दो-तीन लोग मौजूद थे, जो उनके परिजन बताया जा रहे हैं। इधर नगपुरा स्थित मंदिर में दूर-दराज से लोगों का आवाजाही जारी है। 

  •  

Posted Date : 02-Jan-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    भिलाई नगर, 2 जनवरी। आज सुबह रायपुर से दुर्ग जा रही सफारी में  मौर्या-चंद्रा सिनेमा हाल के समीप अचानक आग लग गई। वाहन के भीतर बैठे लोग जैसे-तैसे बाहर निकले और दमकल कर्मियों की मदद से आग पर काबू पाया गया।
    मिली जानकारी के अनुसार सफारी वाहन क्रमांक सीजी-07 एमबी 6010 पर सवार  भिलाई-3 निवासी भाटिया परिवार डोंगरगढ़ जा रहा था।  सुबह 9 बजे  सुपेला घड़ी चौराहे से पहले ही बीच रास्ते उनकी चलती गाड़ी से धुआं उठते देख वाहन में सवार कुलदीप सिंह भाटिया और उनका परिवार फौरन वाहन से बाहर निकल गया। जैसे ही  सवार पांचों उतरे कार धू-धू कर जलने लगी।  तैनात ट्रैफिक पुलिस जवानों ने तुरंत फायर ब्रिगेड को सूचना दी और दमकल वाहन की मदद से आग पर काबू पाया गया। इस दौरान फोरलेन मार्ग पर लगभग आधे घंटे यातायात प्रभावित रहा। 

     

  •  

Posted Date : 01-Jan-2018

  • बंद घर में सुबह बेटे ने ही मारीं गोलियां 

    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    दुर्ग, 1 जनवरी। नगपुरा पाश्र्व तीर्थ के ट्रस्टी, प्रसिद्ध समाजसेवी डॉ. रावलमल जैन 'मणिÓ और उनकी पत्नी सुरजी की आज सुबह घर पर उसके अपने बेटे ने गोली मारकर हत्या कर दी। बेटे संदीप जैन को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। संदीप ने पुलिस के सामने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। रावलमल जैन और उनकी पत्नी सुरजी का अंतिम संस्कार दुर्ग के पास नगपुरा तीर्थ में किया गया। अंतिम संस्कार में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह सहित प्रदेश के कई बड़े नेता एवं समाज के लोग बड़ी संख्या में शामिल हुए। (श्रद्धांजलि पेज 12 पर देखें)
    वारदात सोमवार सुबह करीब 6 बजे की है। आरोपी संदीप ने पुलिस को बताया कि पिताजी उसके काम से काफी नाराज थे। जिस वजह से हमेशा उसे डांटते-फटकराते रहते थे। प्रॉपर्टी से भी बेदखल करने की धमकी देते थे। जिससे वह काफी परेशान था। दो दिन पहले माता-पिता से काफी विवाद हुआ था। रावलमल जैन अपने घर में स्थित मंदिर के लिए रोज शिवनाथ नदी से पानी लाते थे। इसी बात को लेकर विवाद हुआ था। उसी दिन से संदीप अपने पिता को मारने का मन बना लिया था। शनिवार की रात से ही वह घटना को अंजाम देने पूरी तैयारी कर लिया था। रविवार की रात वह सोया नहीं और सुबह का इंतजार करता रहा। उसे मालूम था कि पिताजी रोज सुबह 5 बजे उठ जाते हैं। उसी दौरान घटना को अंजाम देने का निर्णय लिया था। सोमवार सुबह रावलमल जैन शौचालय से वापस आ रहे थे उसी दौरान संदीप ने करीब से दो गोली मार दी। गोली लगते ही रावलमल वहीं गिर गए। घटना के बाद पूर्व तैयारी के अनुसार बाहर का दरवाजा खोलकर कुछ सामान बाहर फेंक दिया। संदीप पुलिस को गुमराह करना चाहता था कि बाहर से कोई आकर घटना को अंजाम दिया है। 
    गोली की आवाज सुनकर संदीप की मां दरवाजा खोलना चाही लेकिन दरवाजा बाहर से बंद था। उन्होंने पहले संदीप को ही फोन लगाया लेकिन संदीप ने फोन नहीं उठाया। इसके बाद श्रीमती जैन ने अपने नाती सौरभ को फोन कर बताया कि उसके नाना गिर गए हैं। इस बात को संदीप ने सुन लिया। राज न खुल जाए इस वजह से संदीप ने मां को भी तीन गोली मार दी। संदीप 8 माह पहले इलाहाबाद से कट्टा खरीदा था।  रावलमल जैन के यहां दो गार्ड नियमित ड्यूटी करते थे। आरोपी संदीप ने रविवार रात गार्ड को ड्यूटी पर नहीं आने कहा था।
    ऐसे हुआ वारदात का खुलासा
    पुलिस ने बताया कि रावलमल जैन के घर के सामने दो सीसीटीवी है, जिसमें घर से आने-जाने वाले कैद होते हैं। पुलिस ने सबूत के लिए सीसीटीवी को खंगाला तो, पूरी रात ना तो कोई घर से बाहर निकला और ना ही घर के अंदर आया। घर पर उनका बेटा संदीप ही मौजूद था, जबकि उसकी पत्नी मायके गई हुई थी। पुलिस ने इस शक के आधार पर पूछताछ शुरू की। लंबी पूछताछ के बाद संदीप ने अपना जुर्म कबूल कर लिया।
    आज ही जन्मदिन था
    रावलमल जैन का आज ही जन्मदिन था, और दुर्ग में जैन समाज द्वारा उनके अभिनंदन का कार्यक्रम भी रखा गया था।
    घटना की जानकारी लगते ही सांसद ताम्रध्वज साहू, संसदीय सचिव लाभचंद बाफना, पूर्व मंत्री हेमचंद यादव, पूर्व विधायक प्रदीप चौबे, समाजसेवी प्रताप मध्यानी, प्रकाश देशलहरा सहित क्षेत्र के बड़े व्यवसायी घटना स्थल पर पहुंच गए थे। 
    दुर्ग विधायक अरूण वोरा ने घटना की निंदा करते हुए कहा कि सरकार की नाकामी एक बार और जाहिर हुई। कोतवाली पुलिस थाना से 10 कदम दूर अलसुबह घटना कर आरोपी का भाग जाना पुलिस प्रशासन की अक्षमता को उजागर करता है। 
    दीपांशु काबरा का दुर्ग रेंज में कार्यकाल का आज आखिरी दिन था, और आज ही उन्हें बिलासपुर रेंज के आईजी का कार्यभार संभालना था कि यह वारदात हो गई। 
    यह अखबार 'छत्तीसगढ़' रावलमल जैन 'मणि' ने ही 1966 में शुरू किया था, और वे दुर्ग से उसे  प्रकाशित करते थे। इसके बाद उन्होंने  2006 में इस अखबार का रजिस्टर्ड टाईटिल 'छत्तीसगढ़Ó के वर्तमान संपादक सुनील कुमार को उपहार में दे दिया था। 

  •  

Posted Date : 24-Dec-2017
  • दो करोड़ अनुदान के बाद भी वसूली,  निजी स्कूल प्रबंधकों में रोष
    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    भिलाई नगर, 24 दिसंबर। राजनांदगांव जिले के सोमनी ग्राम में छ: दिवसीय स्काउट गाइड जंबूरी के आयोजन में शासन द्वारा 2 करोड़ दिए जाने के बावजूद सभी शासकीय व निजी स्कूल के प्राचार्यों को जिला शिक्षा अधिकारी ने पत्र लिख प्रति विद्यार्थी सात सौ रूपये के हिसाब से आयोजन के लिए रूपये जमा करने आदेशित किया है। इस जंबूरी में राज्य से 22 हजार तथा देश के अन्य प्रांतों से लगभग 2 हजार विद्यार्थी शामिल हो रहे हैं। 
    एक अशासकीय संस्था जो कि केन्द्र व राज्य सरकार से मान्यता प्राप्त है, के सहयोग से आयोजित की जाने वाली इस जंबूरी के लिए अतिरिक्त रूप से लगभग डेढ़ करोड़ की राशि जुटाई गई है। दो करोड़ के अनुदान के बाद भी इस अतिरिक्त वसूली को लेकर स्कूल प्रबंधकों में भारी रोष देखा जा रहा है लेकिन जिला शिक्षा अधिकारी के लिखित आदेश के बाद स्कूल प्रबंधन विद्यार्थियों से वसूली कर रूपये जमा कराने विवश है। 
    00 तीन विश्व रिकार्ड बनाने के होंगे प्रयास-यादव
    भारत स्काउट एवं गाइड्स के राज्य आयुक्त गजेन्द्र यादव नेे इस संबंध में  बताया कि ग्राम सोमनी जिला राजनांदगांव में 28 दिसम्बर से 2 जनवरी तक तीसरी राज्य स्तरीय जंबूरी का आयोजन किया गया है, जिसमें राज्य के 22 हजार व कश्मीर से कन्याकुमारी तक के 2 हजार स्काउट गाइड शामिल होंगे। इस जंबूरी में सत्रह एडवेंचर स्पोट्र्स, रंगोली स्पर्धा सहित अनेक आयोजन होंगे। सभी स्काउट-गाइड आर्ट एण्ड क्राफ्ट्स एवं पाक कला का प्रशिक्षण प्राप्त करेंगे। 
    बैण्ड प्रदर्शन के आलावा प्रतिदिन शाम को अलग-अलग क्षेत्र के लोगों की कला एवं संस्कृति का प्रदर्शन भी होगा। 30 दिसम्बर को गोल्डन बुक ऑफ वल्र्ड रिकार्ड एवं लिम्का बुक के लिये तीन विश्व रिकार्ड की तैयारी की जा रही है। इसमें 25 हजार स्काउट्स व गाइड एक साथ कर्मा नृत्य, शेक हैण्ड्स एवं 20 हजार द्वारा एक साथ रंगोली का निर्माण किया जायेगा।  
    00 दो करोड़ कम पड़ते इसलिए स्कूलों से वसूली 
    जंबुरी में शामिल होने वाले प्रत्येक स्काउट गाइड से 700 रूपये की अतिरिक्त वसूली के सवाल पर गजेन्द्र यादव ने कहा कि यह राशि बच्चों से नहीं बल्कि स्कूल प्रबंधन अथवा स्काउट गाइड निधि से स्कूल प्रबंधन द्वारा भुगतान किया जाना है। यह राशि पेट्रो कुकिंग की मद में ली जा रही है जिसमें बच्चे स्वयं दो दिन तक खाना बनायेंगे लेकिन गैर शासकीय संस्था के आयोजन में शासन स्तर पर राशि वसूलने का आदेश जारी करने के सवाल पर वे टाल मटोल करने लगे। उन्होंने कहा कि चूंकि संस्था शासन से मान्यता प्राप्त है इसलिए राशि जिला शिक्षा अधिकारी के माध्यम से पत्र भिजवा कर मंगवाई गई है। 
    00 अनुदान के बाद भी ऐसी वसूली नाजायज-मिश्रा
    दूसरी ओर भारत स्काउट गाइड की समकक्ष संस्था हिन्दुस्तान स्काउट एवं गाइड्स जो कि देश के 22 राज्यों में कार्यरत है, के प्रदेश प्रमुख राकेश मिश्रा ने कहा कि हर जंबूरी आयोजन के लिए स्काउट एवं गाइड से वसूली किया जाना नियम के खिलाफ है। केन्द्र एवं राज्य सरकार से मिले अनुदान के बाद इस प्रकार की वसूली नाजायज है।  
    गौरतलब हो कि भारत स्काउट्स एवं गाइड्स राज्य मुख्यालय रायपुर द्वारा राज्य स्तरीय स्काउट गाइड जंबूरी 2017 का आयोजन 28 दिसम्बर को राजनांदगांव जिले के सोमनी ग्राम में किया जा रहा है। इस आयोजन के लिए दुर्ग जिले के सभी शासकीय, अशासकीय हाई व मिडिल स्कूल से शिविर शुल्क के रूप में 100 रूपये, पंजीयन के लिए 100 रूपये, विकास शुल्क एवं भोजन के लिए 500 रूपये प्रति प्रतिभागी के हिसाब से मंगाये गये हैं। जिला शिक्षा अधिकारी ने जिले के सभी स्कूलों के प्राचार्य को पत्र दे आदेशित किया है कि प्रति विद्यार्थी सात सौ रूपये के हिसाब से जिला शिक्षा अधिकारी के नाम एकाउंट पेयी चेक के माध्यम से उक्त राशि जमा करवाना सुनिश्चित करें।   

  •  

Posted Date : 18-Dec-2017
  • प्रेम विवाह के बाद परिवार ने नाता तोड़ लिया था
    छत्तीसगढ़ संवाददाता

    भिलाई नगर, 18 दिसंबर। केम्प-1 संग्राम चौक के समीप एक युवक ने अपनी पत्नी व दो बच्चों का गला घोंटने के बाद खुदकुशी कर ली। घटना कल रात की बताई जा रही है जिसकी खबर सुबह घर वालों के जागने के बाद पता लगी। युवक का प्रेमविवाह के बाद से परिवार ने नाता तोड़ लिया था। इस हत्या व आत्महत्या की वजह का खुलासा समाचार लिखे जाने तक पुलिस नहीं कर पाई है। गौरतलब हो कि वर्ष 2011 में सेक्टर-4 निवासी एक परिवार ने खुद को घर में बंद करते हुए सामूहिक खुदकुशी कर ली थी।  
     सीएसपी अजीत यादव ने बताया कि प्रथम दृष्टतया युवक ने पत्नी व बच्चों का गला घोंटने के बाद खुदकुशी की है। एसपी अमरेश मिश्रा ने  बताया कि घटनास्थल से पत्र बरामद हुआ है एक राय हो परिवार सहित खुदकुशी का निर्णय लेना लिखा हुआ है। पत्र किसने लिखा है यह अभी स्पष्ट नहीं हो पाया है। घर के बाड़े में ही दादा व मृतक का छोटा भाई सपरिवार निवास करता है जिनके साथ रात में मृतक या उसके परिवार से कोई विवाद नहीं हुआ था। 
    मिली जानकारी के अनुसार केम्प-1 संग्राम चौक के समीप निवासी अशोक प्रजापति (26 वर्ष) अपनी पत्नी गायेश्वरी (23 वर्ष), पुत्री रागिनी (5 वर्ष) व पुत्र सागर (2 वर्ष) के साथ निवास करता था। इसी बाड़े में अशोक का छोटा भाई अजीत व उसकी पत्नी ममता प्रजापति तथा साथ ही लगे घर में दादा लौटन प्रजापति व दादी भी रहते हैं। आईजी दीपांशु काबरा ने बताया कि अशोक के ससुराल पक्ष को सूचना दे दी गई है। मामले के खुलासे में थोड़ा समय लगेगा, पीएम रिपोर्ट भी खुलासे में अहम साबित होगी जिसके बाद तफ्तीश को दिशा मिलेगी।  
     सबा ने परिजनों को दी जानकारी
    अशोक के बच्चों के साथ खेलने वाले पड़ोस की सबा (8 वर्ष) जब सुबह पौने 9 बजे खेलने के लिए उनके घर पहुँची तो  अशोक को फांसी पर झूलता देख इसकी जानकारी दी। पार्षद दीवाकर भारती  की सूचना पर छावनी पुलिस टीम मौके पर पहुँची और पंचनामा तैयार किया। 
    प्रेम विवाह के बाद टूटा रिश्ता नाता
    दादा लौटन प्रसाद ने बताया कि वे लोग मूलत: आजमगढ़ उत्तर प्रदेश के निवासी हैं, उनके तीन लड़कों में से मंझले अभिराम का परिवार भिलाई में ही उनके साथ रहता है। अभिराम के दो लड़के अशोक व अजीत हैं। वर्ष 2012 में जब उनकी बिटिया की शादी थी तब अशोक ने काम का बहाना कर गांव शादी में नहीं पहुँचा और भिलाई लौटने पर उसने अंतर्जातीय प्रेम विवाह कर लेने की जानकारी दी और गायेश्वरी को लेकर घर पहुँच बहू के रूप में परिवार से उसका परिचय कराया था। बिना जानकारी प्रेम विवाह करने की वजह से लौटन व उसके परिवार ने उससे रिश्ता नाता तोड़ लिया था।  दोनों  भाइयों के बीच भी बातचीत नहीं थी। लौटन के मुताबिक प्रेमविवाह के बाद से ही उसने एक कमरा अशोक को देते हुए कह दिया था कि वह अपने परिवार का भरण पोषण स्वयं करे बाकि की कोई उम्मीद परिवार से न रखे। 
    तीन हत्या के बाद की आत्महत्या-सीएसपी
    नगर पुलिस अधीक्षक छावनी अजीत यादव ने छत्तीसगढ़ को बताया कि प्रथम दृष्टतया प्रतीत होता है कि अशोक ने नींद की हालत में पत्नी गायेश्वरी व दोनों बच्चों का गला दबा दिया जिससे तीनों की मौत हुई। बाद में वह स्वयं फांसी पर झूल गया। घटना का वास्तविक समय पोस्टमार्टम के बाद ही मिलेगा लेकिन परिजनों से पूछताछ में पता लगा है कि रोज की तरह अशोक व उसका परिवार रात 9 बजे सो गया था। अशोक सुपेला की एक दुकान में एल्युमिनियम सेक्शन का कार्य करता है। जांच के लिए अशोक के कार्यस्थल और सहकर्मियों तथा परिवार विवाद के दृष्टिकोण को ध्यान रख पूछताछ की जायेगी। 
    गायेश्वरी के परिवार से अशोक का था मेल जोल
    प्रेम विवाह के बाद अशोक का नाता भले परिजनों से टूट गया था लेकिन गायेश्वरी जो कि मूलत: घुमका क्षेत्र की रहने वाली है के परिवार से विवाह बाद भी अच्छा मेलजोल था। अशोक के दादा लौटन प्रजापति ने बताया कि अशोक का साला कई महीने तक इनके साथ ही रहता था तथा अशोक के साथ ही उसने काम सीखा तथा काफी दिनों तक भिलाई में काम करता रहा। गायेश्वरी के माता पिता भी अनेक बार यहां मिलने आते रहे हैं लेकिन घटना की सूचना इसलिए उनको नहीं दी जा सकी है क्योंकि लौटन प्रसाद व अजीत के परिवार से गायेश्वरी के मायके पक्ष के लोगों से कोई बातचीत विवाह बाद से ही नहीं रही। 
    केम्प क्षेत्र में फैली सनसनी, लोगों का उमड़ा हुजुम
    साल के अंतिम पड़ाव पर एक ही परिवार के चार लोगों की मौत की खबर ने सुबह से ही शहर में सनसनी रही। घटनास्थल पर  भीड़ सुबह से ही इकट्ठा होने लगी। संकरी गलियों के बीच बसे प्रजापति परिवार तक पहुँचने एम्बुलेंस को भी काफी मशक्कत करनी पड़ी। पंचनामा कार्रवाई के बाद भी दोपहर 1 बजे शवों को घटनास्थल से पुलिस विभाग पीएम के लिए नहीं भेज पाया क्योंकि संकरी गलियों के बीच लोगों की भीड़ नियंत्रित करने में भी पुलिस को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। पुलिस ने घुमका थाना से सम्पर्क कर गायेश्वरी के परिवार को सूचना भेजी गई है। 

  •  

Posted Date : 16-Dec-2017
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 16 दिसंबर। सात फेरे लेने के दूसरे दिन एक विवाहिता के अपने प्रेमी के साथ लाखों के जेवरात लेकर गायब हो जाने का मामला सामने आया है। मामला राजनांदगांव के चिखली पुलिस चौकी का है।
    पुलिस के अनुसार अंबागढ़ चौकी के एक गांव की युवती का राजनांदगांव के रामनगर के सुरेश के साथ गत 11 दिसंबर को विवाह संपन्न हुआ था। शादी के दूसरे दिन युवती विजय सोनी नामक प्रेमी के साथ फरार हो गई।   चौकी प्रभारी रुपक शर्मा ने बताया कि दूल्हे पक्ष ने युवती 

    समेत उसके परिवार पर ठगी का आरोप लगाया है, जबकि पुलिस का कहना है कि युवती दहेज में मिले सामानों को पुलिस की निगरानी में वापस करने के लिए खुद सामने आई है।

  •  

Posted Date : 12-Dec-2017
  • भिलाई-दुर्ग की दर्जन भर चोरियों मेें शामिल
    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    भिलाई नगर, 12 दिसंबर। भिलाई-दुर्ग क्षेत्र में दर्जन भर चोरियों की घटनाओं को अंजाम देने वाले दो लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इनके पास से 12 लाख के जेवरात बरामद किया गया है। इनमें से एक राजस्थान का शातिर नकबजन है। उसका एक साथी यूपी जेल में बंद है।
    दुर्ग-भिलाई शहरी क्षेत्रों में बढ़ रही चोरी और नकबजनी की घटनाओं पर अंकुश लगाने पुलिस टीम लगातार प्रयास में लगी थी तभी सूचना मिली कि बैकुंठनगर केम्प-2 निवासी शेख सिकंदर चादी के सिक्के बेचने की फिराक में हाउसिंग बोर्ड क्षेत्र में ग्राहक तलाश रहा है। उसे पकड़ पूछताछ करने पर लगभग एक दर्जन चोरियों का खुलासा हुआ है। ये सभी चोरियां शेख सिकंदर ने आरोपी राजस्थान के दो नकबजनों के साथ मिलकर किया था।
    आरोपी शेख सिकंदर ने पुलिस को बताया कि राजस्थान निवासी संजय चारण उर्फ काड़ू एवं मुन्ना एवं मनोज बाउरी को उसने अपना घर किराए पर दे रखा है। सिकंदर की निशानदेही पर संजय चारण को पुलिस ने खुर्सीपार क्षेत्र में रेकी के दौरान गिरफ्तार किया, जबकि मनोज बाउरी इन दिनों जिला बस्ती उत्तर प्रदेश की जेल में बंद है। उसे प्रोडक्शन रिमाण्ड पर ले शेष जेवरात की बरामदगी के प्रयास पुलिस टीम कर रही है। गिरफ्तार किए गए दोनों शातिर आरोपियों से जिले के 12 नकबजनी के प्रकरणों में करीब 12 लाख रूपये के जेवरात बरामद करने में पुलिस टीम सफल रही है।
     पुलिस ने बताया कि आरोपियों द्वारा लगातार रेकी की जाती थी। इनके द्वारा सुनसान मकान, जिन घरों के आगे लाईट नहीं जलती थी, ऐसे मकानों को टारगेट किया जाता था जहां सीसी टीवी कैमरे न लगे हों। सब्बलनुमा हथियार और रॉड से ताला तोड़ आरोपी चोरी किया करते थे। आरोपी संजय चारण और मनोज बाउरी राजस्थान, उत्तर प्रदेश क्षेत्र में चोरी के अपराधों में जेल जा चुके हैं। 
    आरोपियों ने सुंदर विहार कॉलोनी निवासी अनिल तामले, जनकल्याण हॉस्पिटल रोड कैलाश नगर निवासी सोमेन्द्र नाथ बराट, हाउसिंग बोर्ड निवासी प्रमोद अग्रवाल, सन मैरेज पैलेज के पास 
    कैलाश नगर जामुल में योगेन्द्र वर्मा, क्रिकेट ग्राउण्ड हाउसिंग बोर्ड निवासी विजय गुप्ता, हाउसिंग बोर्ड एमआईजी-21 निवासी सुनीता बांधे, हाउसिंग बोर्ड गार्डन के सामने निवासी लक्ष्मण वरू, एकता नगर भिलाई-3 निवासी उर्मिला उइके, सेक्टर-1 सड़क-8 निवासी एनआर देवांगन, चौहान टाउन जुनवानी निवासी सलमा बेगम, मेहमान कोल डिपो केम्प-1 निवासी बसंती वर्मा, भिलाई-3 गोयल कूलर दुकान के पास निवासी गणेशिया सतनामी के घर से सोने चांदी के जेवरात चोरी किए थे। 
    पिछले वर्ष जून से दिसंबर तक कुल बारह चोरियों में लगभग 12 लाख के जेवरात आरोपियों ने चुराए थे। आरोपी संजय चारण निवासी रंगमहल तहसील सूरतगढ़, श्रीगंगा नगर राजस्थान, शेख सिकंदर निवासी संतोषी पारा हुडको, बैकुंठ धाम के सामने केम्प-2 को गिरफ्तार किया गया है। जबकि मुन्ना उर्फ मनोज बाउरी निवासी ग्राम सिरगावट, नागौर, श्रीगंगा नगर राजस्थान को यूपी के बस्ती जेल से प्रोडक्शन वारंट पर लाने कार्रवाई की जा रही है।  

  •  

Posted Date : 10-Dec-2017
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    दुर्ग
    , 10 दिसंबर। जिला अस्पताल परिसर में बने नर्सिंग कॉलेज में जनरल नर्सिंग ट्रेनिंग ले रही छात्रा ने बीती रात फांसी लगाकर जान दे दी। कोतवाली थाना पुलिस ने मर्ग कायम कर लिया है। लगभग 25 दिन पूर्व ही ग्राम चिखली तहसील सारंगढ़ जिला रायगढ़ निवासी ज्योति चौहान (19) पिता गंगाधर चौहान ने नर्सिंग कोर्स करने 15 नवंबर को एडमिशन लिया था। उसके बाद वह अपने घर ग्राम चिखली चली गई थी। 20 नवम्बर को जब वह हॉस्टल में कमरा नंबर 2 में रहने आई, तब से वह अपनी सहेलियों से कहती थी कि वह यहां नहीं रहना चाहती और पढ़ाई नहीं करना चाहती। 
    8-9 दिसम्बर की दरमियानी रात को जब रात में हॉस्टल की अन्य छात्राएं सो गई, तब ज्योति चौहान ने हॉस्टल के भीतर लगे जाम के पेड़ पर ओढऩी का फंदा बनाकर लटक गई। जब सुबह छात्राओं ने उसे लटकती देखा तो इसकी सूचना प्रिंसिपल व अन्य लोगों को दी। घटनास्थल पर कोतवाली थाना पुलिस पहुंचकर लाश का पंचनामा कर मरच्युरी में लाश को रखवा दिया। दोपहर को मृतका के परिजनों के पहुंचने पर पीएम किया गया और लाश परिजनों को सौंप दी गई।
    अपनी पुत्री से मिलने उसके किसान पिता गंगाधर चौहान 8 दिसम्बर को ही नर्सिंग हॉस्टल में पहुंचे थे। पिता गंगाधर ने बताया कि ज्योति हॉस्टल में रहना और पढऩा नहीं चाहती थी परन्तु हम उसका भविष्य सुधर जाए, इस कारण उसे मनाते हुए यहीं रहने कहा था। हमें नहीं पता था कि हमारे जाते ही वह इस तरह का कदम उठा लेगी। रोती बिलखती मां ने कहा कि बच्ची कहती थी कि मैं गांव में ही रहकर मेहनत मजदूरी कर लूंगी परन्तु पढ़ाई नहीं करना चाहती। मैं उसे समझाते रहती थी कि पढ़ेगी तो अच्छी सर्विस लग जाएगी।

  •  

Posted Date : 28-Nov-2017
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता 
    भिलाई नगर, 28 नवंबर। आज सुबह भिलाई इस्पात संयंत्र में कन्वेयर बेल्ट में फँसकर बुरी तरह जख्मी ठेका मजदूर को सेक्टर-9  में भर्ती कराया गया है।  उसकी हालत नाजुक बताई जा रही है। उसकी पहचान एचएससीएल ठेका श्रमिक महादेव निवासी डूंडेर के रूप में हुई है। 
    मिली जानकारी के अनुसार महादेव (44 वर्ष) आज सुबह पानी का छिड़काव कर कार्यस्थल की सफाई में जुटा हुआ था इसी दौरान कन्वेयर बेल्ट व ड्रम के बीच फँस गया।   एंबुलेंस पहुँची लेकिन फोल्डिंग स्टे्रचर न होने की वजह से उसे नीचे उतार पाने में सहकर्मी सफल नहीं हो पाये। फिर दमकल विभाग को खबर कर तीन जवानों को बुलाया गया, उन्होंने  उसे उतारा।   
    चिकित्सकों ने बताया कि महादेव के सीधे पैर, बांए हाथ में गंभीर चोट है तथा अंदरूनी चोट होने की वजह से खून अंदर ही जम गया है। घटना की सूचना एचएससीएल के लेबरों को मिली, तो वे भी हॉस्पिटल पहुँचे और मजदूर के गांव डुंडेरा में परिजनों को सूचना दी। बीएसपी सीईओ एम रवि ने सेक्टर-9 हॉस्पिटल के अधिकारियों व चिकित्सकों से चर्चा कर घायल के बेहतर उपचार का निर्देश दिया।  
     

     

  •  

Posted Date : 23-Nov-2017
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    भिलाई नगर, 23 नवंबर। बीती रात सिविक सेंटर और पुलिस पेट्रोल पंप सेक्टर 6 के बीच सड़क दुर्घटना में कार सवार एक युवक की मौत हो गई तथा दो को गंभीर अवस्था में सेक्टर 9 हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। 
    सेक्टर-2 निवासी राजवीर सिंह कल रात अपने दोस्त दीपक तिवारी, सद्दाम एवं के सुनील कुमार के साथ कार से सेक्टर-9 जाने के लिए निकले थे। सेन्ट्रल एवेन्यू पर बेरोजगार चौक के पास पेट्रोल पंप के सामने उनकी कार अनियंत्रित हो पेड़ से टकरा गई। ठोकर से पेड़ जमीन पर गिर गया। दुर्घटना की वजह से चार अन्य चार पहिया वाहन एक दूसरे से जा भिड़े। कार सवार राजबीर की घटना स्थल पर ही मौत हो गई। सेक्टर-5 निवासी के सुनील कुमार और कैम्प निवासी सद्दाम को गंभीर चोटे आई हैं। दोनों की हालत गंभीर बताई जा रही है। कार दीपक तिवारी चला रहा था जो इस दुर्घटना में सुरक्षित बच गया। 
    घटना के कुछ देर बाद कैबिनेट मंत्री प्रेम प्रकाश पांडेय का काफिला वहां से गुजरा। काफिले में मौजूद लोगों ने घटना की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस टीम ने दोनों घायलों को  सेक्टर-9 हॉस्पिटल में भर्ती कराया।

     

  •  

Posted Date : 14-Nov-2017
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    भिलाई नगर, 14 नवम्बर। छत्तीसगढ़ के बड़े शराब कारोबारी के ठिकानों पर आज सुबह आयकर की टीम ने धावा बोलौ। आयकर की अलग अलग सात टीम ने केडिया ग्रुप के भिलाई, कुम्हारी, गुढिय़ारी और दुर्ग स्थित ठिकानों पर दबिश दी है। कैलाशपति केडिया के नेहरू नगर ईस्ट स्थित बंगला नंबर 64 में दस्तावेजों की जांच की जा रही है। 
    गौरतलब है कि केडिया ग्रुप प्रदेश का बड़ा शराब कारोबारी है, उसके रायपुर, दुर्ग स्थित डिस्टलरी, वेयरहॉउस समेत ग्रुप के मालिक नवीन केडिया के भिलाई नेहरू नगर स्थित मकान समेत कई बंगलों पर आईटी अफसर जांच कर रहे हैं। 
    दुर्ग के कुम्हारी स्थित डिस्लरी, वेयरहाउस समेत रायपुर के गुढिय़ारी स्थित वेयरहाउस पर भी टीम जाँच में लगी हुई है। 
    आईटी रेड की सूचना मिलते ही शहर के बड़े कारोबारियों में हड़कंप है। जानकारी मिली है कि केडिया ग्रुप के अलावा शेयर होल्डर्स पर भी शिकंजा कसा गया है। आईटी की एक टीम बड़े शेयर होल्डर्स के घर भी दबिश दे चुकी है। दस्तावेजों की जांच जारी है। भिलाई के नेहरू नगर स्थित दो बंगले में आईटी के अधिकारी जांच के साथ ही पूछताछ भी कर रहे हैं। सुरक्षा के लिहाज से बंगले के बाहर पुलिस के जवानों की तैनाती की गई है। अधिकारियों ने कार्रवाई के संबंध में कहा कि जांच पूरी होने के बाद वे निष्कर्षों का खुलासा करेंगे, जाँच शाम तक जारी रहेगी।

  •  

Posted Date : 14-Nov-2017
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    भिलाई, 14 नवंबर। डॉक्टर रमन मुख्यमंत्री या डॉक्टर नहीं होते तो क्या होते ? क्रिकेट में बेहद ही काबिल खिलाड़ी रहे रमन सिंह एक उम्दा क्रिकेटर भी बन सकते थे, लेकिन आज मुख्यमंत्री रमन सिंह ने खुद कहा कि- उनकी तमन्ना तो सेना में जाने की थी। वर्दी उन्हें हमेशा आकर्षित करती थी, इसलिए उन्हें आर्मी में जाने का खूब शौक था।
    आज मुख्यमंत्री रमन सिंह भिलाई में आयोजित बाल मेले में बच्चों के बीच खास पल को यादगार बना रहे थे। इस दौरान बच्चों के बीच परिसंवाद के दौरान एक बच्चे ने पूछा कि सर अगर डॉक्टर या मुख्यमंत्री नहीं होते, तो क्या होते?
    जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा- अगर वो डॉक्टर या मुख्यमंत्री नहीं होते, तो सेना में होते, सेना में जाने का मेरा सपना था, मैं आर्मी ज्वाइन करना चाहता था।
    मुख्यमंत्री रमन सिंह ने दुर्ग के रविशंकर स्टेडियम में बाल दिवस के अवसर पर आयोजित हुए बाल मेला में  शामिल हुए। इस दौरान मुख्यमंत्री के साथ स्कूली शिक्षा मंत्री केदार कश्यप, महिला एवं बाल विकास मंत्री रमशीला साहू,राष्ट्रीय महासचिव सरोज पांडे, उच्च शिक्षा मंत्री प्रेमप्रकाश पांडेय कार्यक्रम में शामिल हुए।
    मंदिर पर बढ़ी सक्रियता, अयोध्या जाएंगे श्रीश्री, योगी...
    नई दिल्ली/अयोध्या, 14 नवम्बर (आज तक)। देश में एक बार फिर राम मंदिर विवाद का मुद्दा केंद्र में आता जा रहा है। आध्यात्मिक गुरू श्रीश्री रविशंकर ने इस मुद्दे को बातचीत से सुलझाने का बीड़ा उठाया और लगातार कई पक्षों से बातचीत शुरू की। श्रीश्री रविशंकर बुधवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी मुलाकात कर सकते हैं। वहीं, वह 16 नवंबर को अयोध्या भी जाएंगे जहां वे कुछ पक्षकारों से बात करेंगे। पिछले कुछ समय में राम मंदिर मुद्दे को लेकर कई तरह के बयान और कोशिशें सामने आई हैं।
    यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ जब से सत्ता में आए हैं तभी से अयोध्या को लेकर उनका आकर्षण लगातार दिख रहा है। अयोध्या में इस साल दिवाली काफी भव्य रूप से मनाई गई। यूपी सरकार की ओर से अयोध्या में ही भगवान राम की मूर्ति लगाई जा रही है। यूपी की राजनीति में एक बार फिर अयोध्या केंद्र में है। मंगलवार को ही योगी ने बयान दिया कि भारत में राम के बगैर कुछ नहीं हो सकता है, राम देश की आस्था के केंद्र बिंदु हैं।
    आध्यात्मिक गुरू श्री श्री रविशंकर राम मंदिर मुद्दे को लेकर बातचीत कर रहे हैं। उन्होंने पिछले दिनों शिया वक्फ बोर्ड के सदस्यों से मुलाकात की, बेंगलुरू में भी कई बैठकें की हैं। रविशंकर 16 तारीख को अयोध्या जाएंगे। जहां वे राम मंदिर विवाद के पक्षकारों से मुलाकात करेंगे।
    भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी भी राम मंदिर विवाद को लेकर मुखर रहे हैं। उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में मामले के जल्दी निपटारे को लेकर याचिका दायर कर रखी है। जिस पर कोर्ट ने जल्द सुनवाई का भरोसा भी दिया है। इसके अलावा भी स्वामी कई मौकों पर बोलते आए हैं कि 2019 से पहले राम मंदिर निर्माण हो जाएगा।
    हाल ही में पटना में एक सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा था कि अगली दिवाली अयोध्या के राम मंदिर में मनाएंगे।
    राम मंदिर विवाद में मुस्लिम पक्ष का भी बड़ा महत्व है। श्रीश्री रविशंकर ने हाल ही में शिया वक्फ बोर्ड और सुन्नी वक्फ बोर्ड के सदस्यों से मुलाकात भी की है। शिया वक्फ बोर्ड ने राम मंदिर मुद्दे को शांति से सुलझाने की बात कही है, और मस्जिद को अयोध्या और फैजाबाद से बाहर बनाने पर सहमति जताई है। शिया वक्फ बोर्ड जल्द ही कोर्ट में समझौते की कॉपी भी देगा। श्री श्री रविशंकर के सुन्नी मौलानाओं से बात करने पर शिया वक्फ बोर्ड अपनी आपत्ति भी दर्ज करा चुका है।   
    एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने राम मंदिर मुद्दे पर श्री श्री रविशंकर पर वार किया है। उन्होंने कहा कि श्री श्री रविशंकर झूठ बोल रहे हैं, वह मुस्लिम पर्सनल लॉ से नहीं मिले हैं। ओवैसी ने कहा कि ऐसा करके उन्हें नोबेल पुरस्कार नहीं मिलेगा।

     

  •  

Posted Date : 14-Nov-2017
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    भिलाई नगर, 14 नवंबर। न्यू बसंत टाकीज के पीछे एक आटोडील गोदाम में प्रेमी जोड़े ने फांसी लगा  ली।   खुदकुशी के कारण का पता नहीं चल पाया है।  
    पुलिस के अनुसार खुर्सीपार निवासी अमित शर्मा (28 वर्ष) न्यू बसंत टाकीज के समीप स्थित कार गैरेज में मैकेनिक  था।  सोमवार दोपहर एक बजे के बाद वह गैरेज में नजर नहीं आया। गैरेज मालिक मोहम्मद चांद ने और लोगों से पूछा भी लेकिन कहीं पता नहीं चला। इधर गैरेज से लगे हुए घर से युवती सुनैना राव (21 वर्ष) भी गायब थी। रात लगभग आठ बजे सुनैना की मां ने गोदाम की खिड़की से झांका तो सुनैना और अमित एक ही रस्सी के दोनों छोर को फंदा बना लटके हुए थे।
     फांसी  की खबर मिलते ही छावनी पुलिस मौके पर पहुंची। गोदाम मालिक को भी सूचना दी गई। दरवाजा अंदर से बंद था। भीतर प्रवेश करने पर पुलिस 

    टीम ने देखा कि दोनों शीट की पाइप कर रस्सी बांध झूल गए थे। सुनैना का वजन अधिक होने के कारण वह मौत के बाद काफी नीचे आ गई थी और अमित ऊपर लटक रहा था।  मोहल्लेवासियों ने बताया कि दोनों के प्रेम प्रसंग की जानकारी पूरे मोहल्ले को थी। खुर्सीपार निवासी अमित की हाल ही में सगाई होने की भी जानकारी मिली है।

     

  •  



Previous123Next