छत्तीसगढ़ » जशपुर

Previous12345Next
24-Jan-2021 5:53 PM 13

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
पत्थलगांव, 24 जनवरी।
आबकारी अमले के खिलाफ आदिवासी परिवार को प्रताडि़त कर पैसे मांगने का आरोप है। पीडि़त परिवारों ने पत्थलगांव थाने पहुंचकर थाने में शिकायत दर्ज कराई है।
पत्थलगांव के नजदीकी ग्राम पतरापाली के झेराडीह मोहल्ला के निवासी ढाबा राम ने आरोप लगाया कि जब अपने घर को ताला लगाकर खेत में काम कर रहा था, तभी उसके ताला बंद घर में आबकारी विभाग के अधिकारी व कर्मचारी ताला तोडक़र घर के अंदर घुसे व घर में रखे सामान को बिखेर दिया और घरेलू उपयोग के लिए फुलाया हुए महुआ की जब्ती बना ली। 

आरोप है कि आबकारी विभाग द्वारा उनसे जबरन कोरे कागज पर अंगूठा व हस्ताक्षर करवाते हुए केस दर्ज नहीं करने की बात कहते हुए दस हजार रुपये की मांग की गई। उसके द्वारा जब पैसे नहीं होने की बात कही गई तो उनके द्वारा अपना मोबाइल नंबर देकर पैसे की व्यवस्था कर जल्द ही सूचना देने की बात कही। पीडि़त परिवार ने पत्थलगांव थाने पहुंचकर थाने में अपनी शिकायत दर्ज कराई है।

पीडि़त परिवार का आरोप है कि आबकारी अमले द्वारा जबरन कोरे कागज पर हस्ताक्षर कर जेल भेजे जाने की धमकी दी गई, जेल जाने से बचने के लिए पैसे की मांग की गई।
इस संबंध में पत्थलगांव थाना प्रभारी संतलाल आयाम ने कहा कि शिकायत की जांच की जा रही है, दोषी पाए जाने पर विधि पूर्वक कारवाई की जाएगी।
 


23-Jan-2021 8:21 PM 26

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

पत्थलगांव/जशपुर, 23 जनवरी। जशपुर जिले के कांसाबेल ब्लॉक में रहने वाले प्रियांक मित्तल ने प्रेरणादायी किताब हौसलों की उड़ान लिखी है। युवा लेखक प्रियांक मित्तल अभी फस्ट ईयर कॉलेज में हैं। दरअसल यह किताब प्रियांक ने अपने स्कूल में लिखनी शुरू कर दी थी। प्रियांक का कहना है कि जितने समय मुझे लिखने में लगा, उससे ज्यादा समय मुझे सफलता प्राप्त किए हुए व्यक्तियों द्वारा किए गए संघर्षों के बारे में जानने और उनकी जीवन शैली को परखने में लगा।

प्रियांक के विद्यालय में एक दसवीं क्लास के बच्चे द्वारा परीक्षा में नंबर कम आने पर आत्महत्या कर ली थी। इस घटना ने प्रियांक को झकझोर दिया, तब प्रियांक 9वीं कक्षा के छात्र थे और तब से ही उन्होंने एक प्रेरणादायी किताब लिखने की ठान ली थी। इस किताब में बड़े-बड़े कामयाब चेहरों की संघर्ष के दिनों के बारे में लिखा गया है, इस किताब में बताया गया है कि बिना संघर्ष जिंदगी में कुछ भी नही मिलता और संघर्ष से डर कर जो हर नहीं मानते सफलता उनके ही कदम चूमती है। इस किताब में जशपुर के बगीचा से विश्व प्रसिद्ध मॉडल रेनी कुजुर के भी संघर्षों के बारे में बताया गया है।

प्रियांक का कहना है कि हमें किसी भी सफल व्यक्ति की सफलता से पहले उस मुकाम तक पहुँचने के लिए उन्होंने जो संघर्ष किये हैं वो जानना बहुत जरूरी है। प्रियांक कहते हैं कि वे अपने कलम के माध्यम से देश में बढ़ रही आत्महत्या की घटनाओं को रोकने के लिए जितना हो सके, प्रयास करेंगे। इस किताब हौसलों की उड़ान में मुख्यत: जीवन मे कभी न हार मानने वाले व्यक्तियों के शुरुआती संघर्ष की कहानियां हैं।

विमोचन के दौरान जशपुर प्रभारी मंत्री अमरजीत भगत के साथ विधायक विनय भगत भी मौजूद रहे। मंत्री भगत ने कहा कि प्रियांक का इस युवा जीवन मे ही साहित्य के प्रति रुचि देख कर अच्छा लगा और ऐसे प्रेरणादायी किताबों की अभी सख्त जरूरत है क्योंकि कोरोना काल की वजह से बहुत लोग हताश से हो गए हैं। निश्चित ही यह किताब लोगों के जीवन में संघर्ष करते हुए आगे बढऩे के लिए प्रेरित करेगी।


22-Jan-2021 7:12 PM 26

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

पत्थलगांव, 22 जनवरी।  शुक्रवार पंचायत सचिव और रोजगार सहायकों का लगातार हड़ताल जारी है। सचिव संघ के मीडिया प्रभारी रामधनी यादव ने बताया कि ग्राम पंचायत सचिवों के द्वारा लगातार हड़ताल पे बैठते आज 28वा ंदिन हो गया है।

 क्रमिक भूख हड़ताल में शुक्रवार को शीतल गुप्ता श्रवण बंजारे सुमित चौहान, रामलाल धिरहि भुनेश्वर यादव बैठे ।  पंचायत सचिवों का कहना है कि  अब तक राज्य सरकार के तरफ से  किसी तरह का कोई ध्यान नही दिया जा रहा है। हड़ताल सेे गावंो के समस्त कार्य प्रभावित हो रहे है। विकास कार्य पूरी तरह ठप्प है। जल्द ही राज्य की भूपेश सरकार को हम लोगो के बारे में सोचते हुए शासकीयकरण कर देना चाहिए।


21-Jan-2021 7:20 PM 21

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

पत्थलगांव, 21 जनवरी। बुधवार को कलेक्टर महादेव कावरे और एसपी बालाजी सोमावार ने पत्थलगांव धान उपार्जन केंद्र का निरीक्षण कर धान खरीदी और बारदाना के सम्बंध में निर्देश दिए । खरीदे गए धान को रखने की जगह की कमी होने पर बगल की जमीन में धान को रखने के लिए बात की गई।

खरीदे गए धान को राइस मिल जाने के बाद उसी धान को फिर से बेचने की शिकायत पर एसडीएम से पूरे बातों को ध्यान देते हुए जांच करने कहा । खरीदे गए धान को सामने तौल करा कर वजन की जांच की गई। मौजूद किसानों से धान के सबन्ध में चर्चा की।  किसानों से धान बेचने पे पूरे पैसे खाते में आने की बात भी पूछी।

रेस्ट हाउस पर चर्चा के दौरान शहर में बन रहे एनएच के नाली निर्माण के सबन्ध में काफी शिकायतें मिली। जिला पंचायत सदस्य आरती सिंह ने नाली निर्माण में हो रही अनियमितता पर गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए कलेक्टर से इसे देखने कहा। नाली निर्माण फिर उसे पूरी तरह ढंक देने से पानी निकासी कैसे होने और चौराहों या गलियों में लगाये ढक्कन के पूरी तरह इतनी जल्दी टूटने से शहर वासियों को आने जाने में काफी मुश्किलों का सामना करने की बात बताई गई। जहां नाली निर्माण हो चुका है, वहां से मलबे को नहीं हटाया जाना मुश्किलों को और बढ़ाता जा रहा है। पूरन तालाब से एसडीएम ऑफिस तक के जर्जर सडक़ की बात भी कलेक्टर से बताई गई। जिस पर कलेक्टर महादेव कांवरे ने एन एच के ईई को बुला कर बात करने की बात कही। साथ ही एसडीएम से पूरे मामले को देखने कहा।


19-Jan-2021 8:35 PM 21

पत्थलगांव/जशपुर, 19 जनवरी। सोमवार को 18 जनवरी से 17 फरवरी तक चलने वाला 32वां राष्ट्रीय सडक़ सुरक्षा माह 2021 का शुभारंभ मुख्य अतिथि कलेक्टर जशपुर महादेव कावरे, विशिष्ट अतिथि वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बालाजी राव, सीआरपीएफ कमांडेंट संजीव कुमार, टू.आईसी रवि प्रकाश, जिला पंचायत सीईओ केएल मंडावी, जिला परिवहन अधिकारी प्रकाश रावटे, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक उनैजा खातून अंसारी, एसडीओपी जशपुर राजेंद्र सिंह परिहार, रक्षित निरीक्षक जशपुर विमलेश देवांगन, थाना प्रभारी जशपुर लक्ष्मण सिंह ध्रुवे, यातायात प्रभारी सूबेदार सौरभ चंद्राकर, वरिष्ठ पत्रकार प्रेम प्रकाश शर्मा, तरुण शर्मा, विश्व बंधु शर्मा एवं वरिष्ठ नागरिक अजय गुप्ता की उपस्थिति में संपन्न हुआ।

मुख्य अतिथि ने कहा कि जिले में बढ़ती सडक़ दुर्घटनाओं को देखते हुए दुर्घटनाजन्य क्षेत्र ब्लैक स्पॉट ग्रे स्पॉट में जो कमी है, उसको सुधारने हेतु हर संभव प्रयासरत हंै, ताकि होने वाली सडक़ दुर्घटना में कमी आ सके।

 वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने कहा कि सडक़ दुर्घटनाओं में मौतों के मुख्य कारण दो पहिया वाहन चालकों द्वारा हेलमेट धारण न करना, दो पहिया वाहन में तीन सवारी बैठाना, तेज रफ्तार से वाहन चलाना, नशे की हालत में वाहन चलाना, वाहन चलाते समय मोबाइल का प्रयोग करना, चार पहिया वाहन चालकों द्वारा सीट बेल्ट न लगाना है। यातायात प्रभारी के द्वारा गुड सेमेरिटन योजना के तहत घायल व्यक्तियों की मदद करने एवं सहयोग करने हेतु सुझाव दिया गया। साप्ताहिक हाट बाजारों में यातायात जागरूकता के लिए हरी झंडी दिखाकर वाहन को रवाना किया गया।


18-Jan-2021 7:10 PM 20

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

पत्थलगांव, 18 जनवरी।  सोमवार को सात प्रधान पाठकों को स्कूल के छात्रों की छात्रवृत्ति को समय पर नहीं भरने पर कारण बताओ नोटिस जारी कर जानकारी मांगी है।

ज्ञात हो कि  शासन के द्वारा दी जाने वाली छात्रवृत्ति ऑनलाइन के सबन्ध में पोर्टल पर 12 दिसंबर तक योजनांतर्गत सभी शासकीय अशासकीय एवं अनुदान प्राप्त विद्यालयों का प्रस्ताव ऑनलाइन के माध्यम से डीईओ और बीइओ के आईडी में भेजने निर्देश दिए गए थे पर कुल सात प्रधान पाठकों ने बच्चो के छात्र वृत्ति की जानकारी नहीं भेजा। चूंकि शासन अध्ययनरत पात्र छात्रों को छात्रवृत्ति देती है। जिसका सभी स्कूल प्रमुख की जिम्मेदारी है कि कोई भी पात्र छात्र इससे न छूट पाए पर पत्थलगांव विकासखण्ड की सुनीता तिर्की प्रधान पाठक शासकीय प्राथमिक शाला घुटरा पारा, इला, संकुल किलकिला, कमला कुजूर, प्रधान पाठक बथान पारा, संकुल सुखरा पारा, राम बाई लहरे, पाकेर टिकरा, संकुल दिवानपुर, विकास कुमार सोनी अशासकीय व्रन्दावन पब्लिक स्कूल संकुल लुड़ेग, गनपत सिंह ठाकुर, बिरहोर पारा, संकुल बुलडेगा, प्रेम शिला नाग कुम्हिड़ोल संकुल मुड़ापारा को विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी ने कारण बताओ नोटिस जारी कर जानकारी मांगी है।  विकास खण्ड शिक्षा अधिकारी डी.आर.भगत ने बताया कि कुल सात प्रधान पाठकों को उनके स्कूल के छात्रों के छात्रवृत्ति के सबन्ध में ऑन लाइन जानकारी समय पर नहीं भरने के कारण नोटिस जारी की गई है।

इतने दिनों से कई बार इन्हें जानकारी देते हुए स्पष्ट रूप से कहा गया था कि वे जल्द जानकारी भर कर भेजें जिससे कोई भी पात्र  छात्रवृत्ति से वंचित न होने पाये पर इन सात प्रधान पाठकों के द्वारा जानकारी नहीं दी गई। तीन कार्य दिवस के अंदर जबाब देने कहा गया है। अगर समय अवधि में समाधान कारक जबाब नही प्राप्त होता है। तो इनके विरुद्ध एक पक्षीय कार्रवाई की जाएगी।


18-Jan-2021 5:53 PM 78

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
जशपुर, 18 जनवरी।
जशपुर जिले के बगीचा में करोड़ों की जमीन के कई हकदार हैं,  लेकिन दस्तावेजों में हेराफेरी करके परिवार के एक ही सदस्य द्वारा जमीन को बेचने का  मामला सामने आया है। अब इस पांच एकड़ जमीन के बाकी हकदार न्याय के लिए चक्कर लगा रहे हैं। यह मामला है जशपुर जिले के बगीचा स्थिति ग्राम लोटा का है। पीडि़त परिवार की महिला खेमावती, नंदनी बाई, कमला बाई, टोभा बाई, बंसती (द्रोपती) ने कई बार लिखित शिकायत जशपुर कलेक्टर के अलावा विभिन्न अधिकारियों को करते हुए यह बताया था कि उनकी जमीन ग्राम लोटा में प.ह.नं. नं. 18 में खसरा नं. 05 में रकबा 2.1280 हेक्टेयर जमीन है। जिसका नरेश चंद पिता चेतनराम द्वारा अवैध तरीके से न केवल बेच दिया गया है बल्कि बाकी हिस्सेदारों को भी इस खरीदी बिक्री की सूचना तक नहीं दी है। 

पीडि़तों का कहना है कि इस पूरे फर्जीवाड़े की शिकायत संबंधी तहसीलदार से लेकर जशपुर जिले के कलेक्टर को भी लगातार की जा रही है। इतना ही नहीं मामला स्थानीय न्यायालय से लेकर उच्च न्यायालय तक भी पहुंचा है और सभी जगहों से उनके पक्ष में कार्रवाई के आदेश भी हुए, लेकिन नरेश चंद ने अधिकारियों के साथ मिलकर पूरी जमीन को न केवल हथिया लिया है बल्कि टुकड़ों में लगातार बेच रहा है। 

खेमावती, नंदनी बाई, कमला बाई, टोभा बाई, बंसती (द्रोपती)ने यह भी आरोप लगाया है कि इस पूरे मामले में बगीचा के तहसीलदार ने बकायदा जमीन की खरीदी बिक्री को अवैध बताया है। साथ ही साथ सभी अभिलेखों को दुरूस्त करने के लिए क्षेत्र के राजस्व निरीक्षक को निर्देश जारी किया था लेकिन अभिलेखों की दुरूस्ती नहीं होने से नरेश चंद ने जमीन को बेचकर करोड़ो रुपए कमा लिए हैं और तहसीलदार के आदेश को रद्दी की टोकरी में डाल दिया गया है।  पीडि़त महिलाओं का कहना है कि नरेश चंद के इस फर्जीवाड़े के मामले में जिला कलेक्टर कड़ी कार्रवाई करे और उनके साथ इंसाफ करते हुए उनके हिस्से की बेची गई जमीनों की रजिस्ट्री निरस्त करते हुए उन्हें उनका हक दिलवाने की पहल करें।  इस आशय का पत्र जशपुर जिला कलेक्टर सहित राज्यपाल, मुख्यमंत्री, गृहमंत्री के अलावा अन्य सभी वरिष्ठ अधिकारियों को भी भेजा गया है।  
 


16-Jan-2021 7:51 PM 20

   पत्थलगांव सिविल अस्पताल को फूलों-गुब्बारों से सजाया   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

पत्थलगांव, 16 जनवरी। कोरोना टीकाकरण अभियान की आज से शुरुआत  हुई।  इसके लिए सिविल अस्पताल के अधिकारी और कर्मचारी शुक्रवार रात से ही पूरी तैयारी करते रहे। सिविल अस्पताल को खूब सजाया गया फूल से लेकर रंगीन गुब्बारों से पूरे अस्पताल को सजाया गया था।

 जिले से आये टीकाकरण अभियान राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के नोडल अधिकारी पुष्पेंद्र सोनी और जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. रंजीत टोप्पो ने मिल कर  इस पूरे टीकाकरण अभियान का जायजा लिया इस टीकाकरण के पहले चरण में कूल 100, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी और कर्मचारियों को पहले दिन टीका लगना है। सिविल अस्पताल के बीएमओ डॉक्टर जेम्स मिंज अपने विभाग के अधिकारियों कर्मचारियों के साथ पूरी तैयारी में सुबह से मुस्तैद रहे।

प्रधानमंत्री मोदी के द्वारा देश वासियों को सम्बोधित करने का लाइव कार्यक्रम के बाद टीकाकरण अभियान की शुरुवात की गई। सबसे पहले गार्ड उन स्वास्थ्य कर्मियों का टेली करते देखे गए फिर उन्हें वेटिंग हाल में भेजा गया और फिर उन्हें दिए समय और पर्ची के मिलान के बाद वैक्सीन लगाना शुरू किया गया सबसे पहला कोविड वैक्सीन पवन वेषडव को लगाया गया। सिविल अस्पताल के बीएमओ डॉक्टर जेम्स मिंज को भी वेक्सीन लगाई गई वैक्सीन लगाने के बाद उन्हें आधे घण्टे के लिए अस्पताल में ही डॉक्टरों ने अपनी देखरेख में रखा गया।  इस मौके पे समाज सेवी महेंद्र अग्रवाल, शहर वासी एवं अस्पताल के अधिकारी कर्मचारी मौजूद रहे।


16-Jan-2021 7:45 PM 20

   अनुसूचित जाति, जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम की समीक्षा बैठक   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

पत्थलगांव, 16 जनवरी।  कलेक्टर  महादेव कावरे ने अनुसूचित जाति, जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के अंतर्गत प्रकरणों की समीक्षा बैठक ली। उन्होंने अत्याचार निवारण से संबंधित प्रकरणों में स्वीकृत राहत राशि की स्वीकृति व भुगतान सहित अन्य एजेंडा पर विस्तार से चर्चा की।

बैठक में कलेक्टर कावरे ने एसटी, एससी अत्याचार निवारण के प्रकरणों की थाने वार समीक्षा करते हुए लंबित प्रकरणों का निराकरण में तेजी लाने की हिदायत दी। उन्होंने सहायक आयुक्त आदिवासी विकास तथा अन्य अधिकारियों को आपसी समन्वय के साथ अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के विभिन्न उपबंधों के त्वरित क्रियान्वयन के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने एसटी एवं एससी वर्ग के साथ अपराध एवं अत्याचार के प्रकरणों में पीडि़तों को राहत हेतु समुचित उपाय एवं दोषियों के समन हेतु निहित कठोर दंडात्मक प्रावधान के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए। उन्होंने पीडि़त पक्ष के आश्रितों, साक्षियों को यात्रा भत्ता, भरण पोषण व्यय, एवं परिवहन व्यय के साथ ही सुरक्षा सहित अन्य सुविधाओं की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित  करने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए। विशेष लोक अभियोजक श्री रजक ने बताया कि जिले में माह जुलाई 2020 से दिसंबर 2020 तक 01 प्रकरण में अपराधी को सजा एवं 01 प्रकरण में दोषमुक्ति की कार्यवाही की गई है।

सहायक आयुक्त आदिवासी सुश्री त्रिपाठी ने बताया कि जिले में वर्ष 2020-21 में अनुसूचित जाति एवं जनजाति के कुल 10 प्रकरण स्वीकृत किए गए है। जिसके अंतर्गत 1 प्रकरण में पीडि़त पक्ष को राहत राशि प्रदान किया गया है एवं शेष 09 प्रकरण में भुगतान की कार्रवाही की जा रही हैै।

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक जशपुर बालाजीराव, सीईओ जिला पंचायत के.एस.मण्डावी, अपर कलेक्टर आई.एल. ठाकुर, सहायक आयुक्त आदिमजाति कल्याण विभाग आंकाक्षा त्रिपाठी, प्रभारी उप संचालक जिला लोक अभियोजक  विकास टोप्पो, विशेष लोक अभियोजक   अजीत रजक, एपीसीडी बासुकीनाथ गुप्ता, सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी बैठक में उपस्थित थे।


16-Jan-2021 7:40 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

पत्थलगांव, 16 जनवरी।  ग्राम पंचायत सचिव और रोजगार सहायक अपनी अपनी मांग को लेकर हड़ताल पर है। जो अब क्रमिक हड़ताल में तब्दील हो चुका है। शुक्रवार को उनकी मांगों पर पत्थलगांव ब्लाक सरपंच संघ ने समर्थन किया है।

जनपद के हड़ताल स्थल में पहुंच कर सरपंच संघ के अध्यक्ष यदु बाज अपने पदाधिकारीयो एवं सरपंचों के साथ धरना स्थल पहुंचकर पँचायत सचिव और रोजगार सहायकों को अपना समर्थन दिया। सरपंच संघ का कहना है कि सचिवों के आंदोलन से ग्राम पंचायत के सभी विकास  कार्य पूरी तरह से प्रभावित हो रहे हंै।

ग्राम पंचायतों के कामकाज ठप होने के बाद सरपंच संघ भी रोजगार सहायक एवं सचिव संघ के आंदोलन के समर्थन में आ गए सरपंच संघ ने उपरोक्त सभी मांगों को तत्काल पूर्ण करने के लिए सरकार से निवेदन किया एवं हड़ताल पर बैठे पँचायत सचिव व रोजगार सहायकों के साथ कदम से कदम मिलाते हुए हड़ताल का पूरा समर्थन किया।

सरपंच संघ के अध्यक्ष यदु बाज उपाध्यक्ष संगीत पैंकरा सरंक्षक जोरसाय, लक्ष्मी नारायण सिंह, श्री मति धनमती प्रधान , गीता पैकरा, अनिता पैकरा, लक्ष्मी नारायण सिंह, गायत्री पैकरा, भास्कर सिंह, भागीरथी सिंह पोर्ते ,मर्नियानुस मिंज , मंगलाई , सुकरी टोप्पो, कृष्ण कुमार नाग,  विनोद कुमार सिदार, कुंवर साय नेटी, कमिल साय लकड़ा,  तेरेसा केरकेट्टा, केदारनाथ पैकरा, श्रवण कुमार, शिव रतन सिंह नाग ,गजाधर नाग, काशी प्रसाद पैकरा, जानकी बाई सिदार, बाबूलाल तिग्गा, अंजना किंडो,अंजिला सिंह,  दुतिला मरावी ,जय सिंह पैकरा ,दशरथ राम पैकरा, चंदन सिंह सिदार, जयमति पैकरा, जगमोहन नाग,सेलेस्तिना एक्का , गीता मिंज, श्रीमती सुजाता कुजूर, श्रीमती सुशीला पैकरा ,श्रीमती निर्जला नाग, रामप्रसाद बघेल, सुंदर सायभगत ,यदुनंदन बाज, लघु साय पैकरा, राजकुमारी पैकरा, पारस पैकरा, संगीत पैकरा, अंजू तिर्की, अरुण एक्का, श्रीमती दुर्गावती पैकरा, सुशीला पैकरा, रेशमा तिग्गा , नंद कुमार कौशिक, अनिता पैकरा समेत अन्य सरपंच मौजूद थे वही धरना स्थल पर पूर्व ब्लाक अध्यक्ष टिपेन्द्र यादव ,सरंक्षक राम दुलार पटेल, रमेश जायसवाल,  रिक्की राहुल चौहान, गनपत सिदार, जालिन्दर कुजूर, भानुक सिदार,विजय यादव, गोकुल चौहान, रामधनी लकड़ा, गजानन्द पैंकरा, सुरेश यादव, श्रवण बंजारे, लक्ष्मण नाग, विजय डनसेना, रामलाल धिरही, राधेराम पैंकरा, फुलसिंह सिदार, अनुप राठिया, शितल गुप्ता, बोट साय सिदार, लोहार साय, निलकुसुम, माधुरी माहेश्वरी, लक्ष्मी नाग, मीरा यादव, बरत बाई समेत भारी संख्या में अन्य सचिव और रोजगार सहायक मौजूद रहे।


15-Jan-2021 9:23 PM 28

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

पत्थलगांव, 15 जनवरी। फरसाबहार कोतबा क्षेत्र में हाथियों का आतंक बढ़ता ही जा रहा है। हाल के दिनों में  हुई 3 मौत के बाद फिर एक वृद्ध महिला को हाथी ने सूंड से पटक कर मार डाला। घटना शुक्रवार की सुबह की बताई जा रही है।

कोतबा नगर से समीप ग्राम पंचायत अम्बाकछार के जंगल में हाथी के हमले से एक वृद्ध महिला की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि अहीर समाज के लोग यहां दूध का व्यापार करने बाहर से आते हैं और दूध बेच कर अपना जीवन यापन करते हैं। जंगल के निकट टाकमुण्डा ग्राम में डेरा लगाए हुए थे और अपनी भैंसों को जंगलों में चराई के लिए छोड़ दिये थे। सुबह लगभग 6 बजे जंगलों से भैसों को लेने गए थे पर वहीं हाथी से सामना हो गया। साथ गए अन्य चार व्यक्ति तो भागने में सफल रहे लेकिन वृद्ध महिला दंतैल की चपेट में आ गई और सूंड से पटक कर हाथी ने महिला को मार डाला।

इस घटना की सूचना के बाद वन अमला व स्थानीय प्रशासन घटना स्थल तक पहुंचे। क्षेत्र के ग्रामीणों ने बताया कि दो हाथियों को जंगलों में देखा गया है। लेकिन हाथियों की अधिक होने की बात कही जा रही है।


15-Jan-2021 2:47 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
 पत्थलगांव, 15 जनवरी।
जशपुर जि़ले के दुलदुला में एक हाथी ने सुबह से ही उत्पात मचा रखा है। जानकारी के मुताबिक सुबह-सुबह एक दंतैल ने पतराटोली से दुलदुला के बीच सडक़ पर ही डेरा जमा दिया। बीच सडक़ पर दंतैल को देख इस सडक़ से गुजरने वाली तमाम गाडिय़ां 100-200 मीटर दूर पर ही खड़ी हो गयी और आस पास के लोगों की भीड़ लग गई। इस बीच एक स्कूटी सवार दंतैल हाथी से बाल-बाल बच गया। हाथी कुछ देर बाद बभनी गाँव की ओर रवाना हो गया।

जानकारी के मुताबिक स्कूटी सवार को सडक़ पर हाथी होने का अंदेशा नहीं था और वह तेजी से सडक़ पार करने लगा। तभी वह जैसे ही दंतैल के पास पहुंचा दंतैल ने उसे सूंड में लपेटने की कोशिश करने लगा। राहत की बात ये है कि स्कूटी सवार हाथी को देखते ही सक्रिय हो गया और किसी तरह बच निकला। फिलहाल हाथी बभनी गाँव की ओर रवाना हो गया है।

 


13-Jan-2021 9:23 PM 22

  धरना-प्रदर्शन में जमकर बोला हमला  

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

पत्थलगांव, 13 जनवरी। बुधवार को पंचायती धर्मशाला के सामने लगभग एक हजार लोगों को मौजूदगी में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णु देव साय की अगुवाई में कांग्रेस सरकार के खिलाफ एक दिवसीय धरना प्रदर्शन में हुंकार भरी। विष्णु देव साय ने खुली वाहन में खड़े होकर नगर की सडक़ों पर भ्रमण किया। इस दौरान भारी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता मौजूद रहे, जो बाइक रैली में साथ चल रहे थे।

 इस मौके पर उपस्थित जन समुदाय को संबोधित करते हुए श्री साय ने  कहा कि राज्य में कांग्रेस ने बड़े बड़े वायदा कर के सरकार तो बना लिया पर दो साल का बोनस, बेरोजगारी भत्ता समेत कई घोषणा ठंडे बस्ते में डाल दिया, 3200 रुपये क्विंटल देने की बात कहने वाली सरकार ने अभी तक पिछले साल के धान खरीदी के एक कि़स्त नहीं दे पाई, जबकि प्रदेश के एक वरिष्ठ मंत्री ने इस वर्ष धान खरीदी से पूर्व पिछले साल के बकाया बोनस देने की बात कहते हुए कहा था कि बोनस नहीं मिला तो मंत्री पद से इस्तीफा देने की बात कही थी फिर धान खरीदी शुरू भी हो गयी और बकाया बोनस का कहीं भी अता पता नहीं है, अब देखना होगा अपने द्वारा किये गए वादा के अनुरूप वरिष्ठ मंत्री इस्तीफा देते हैं या नही।

राज्य सरकार पूरी तरह से धान खरीदी में फेल हो चुकी है। पिछले बरस की तुलना में कई किसानों का रकबा कम कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि  किसान प्रदेश में आत्महत्या कर रहे हंै, नकली खाद नकली बीज व दवा  बिक रही हं। मुख्यमंत्री व गृह मंत्री दोनों ही दुर्ग जिले के है। दुर्ग जिले का ही एक किसान नकली कीटनाशक व खाद की वजह से फसल नुकसान होने पर आत्महत्या कर चुका है। भाजपा किसानों के साथ सदैव खड़ी है। हम सरकार को विवश कर देंगे कि धान खरीदी की समय सीमा बढ़ाये। साथ ही किसानों का घटा रकबा भी वापस जोड़े। उन्होंने कहा कि 22 तारीख को जिला मुख्यालय में बड़ा आंदोलन किया जाएगा।

पूर्व विधायक शिवशंकर साय पैंकरा ने कहा कि प्रदेश में मौजूद कांग्रेस सरकार को छग से 2023 में हम उखाड़ फेकेंगे। हम लगातार धान खरीदने में बरती जा रही लापरवाही से वाकिफ है। भोले भाले किसानों से छल किया जा रहा है। जबकि किसान अपनी अथक मेहनत से खेतों में काम कर फसल लगा रहे है। उन्हें धान खरीदी केंद्रों में धान बेचने के लिए रोजाना चक्कर काटना पड़ रहा है। आखिर कांग्रेस सरकार किसानों के हितों का ख्याल कब करेगी। हर तरफ भष्टाचार ने अपना पैर जमा लिया है।


13-Jan-2021 9:19 PM 30

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

पत्थलगांव, 13 जनवरी। शासकीय करण की मांग को सेकर पंचायत सचिवों ने क्रमिक भूख हड़ताल शुरु कर दी है। दूसरे दिन बैठे बुधवार को महिला पँचायत सचिवों ने मोर्चा संभालते हुए क्रमिक भूख हड़ताल में आगे आईं।

 महिला सचिव लीलावती भगत, भरत भाई, शशि कला सिंह, मीरा यादव, पार्वती यादव, नील कुसुम,माधुरी माहेश्वरी, शीला देवी, एवं रवि नेपाल सहित 9 सचिव क्रमिक भूख हड़ताल में बैठे।  पँचायत सचिव अरुण शाह ने बताया कि लगातार पहले दिन से हम सब कलम बन्द काम बंद कर अपनी एक सूत्रीय मांग को लेकर अनिश्चित कालीन हड़ताल पर हंै, पर अब तक राज्य की सरकार के द्वारा हमारा शासकीय करण करने किसी तरह की पहल नहीं की गई है। जबकि कांग्रेस सरकार ने अपने घोषणा पत्र में हमें दो साल की सेवा अवधि पूर्ण करने पर शासकीयकरण करने की बात कही थी, पर सत्ता में आने के बाद अपने किए वादों पर अब तक अमल करती नहीं दिख रही है। जबकि हम 1995 से ग्राम पंचायतों में अपनी सेवाएं दे रहे है। आखिर कब सुनेगी सरकार हमारी बातों को।

पंचायत सचिव संघ के पूर्व ब्लाक अध्यक्ष टिपेन्द्र यादव ने बताया कि इसी तरह क्रमिक भूख हड़ताल लगातार 20 तारीख तक जारी रहेगी फिर 21 से 24 जनवरी प्रांत स्तर धरना बूढ़ातालाब रायपुर में भूख हड़ताल किया जाएगा। आगामी 25 जनवरी को राजधानी रायपुर में परिवार सहित धरनास्थल में जंगी रैली के माध्यम से मुख्यमंत्री निवास का घेराव किया जाएगा,  26 से समस्त सचिवों द्वारा धरना प्रदर्शन राजधानी रायपुर में किया जाना है।


11-Jan-2021 10:32 PM 23

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
पत्थलगांव, 11 जनवरी।
रविवार की रात हाथी के हमले में पत्थलगांव वन परिक्षेत्र के अलग अलग जगहों में कुल तीन लोगों की मौत हो गई जिसमें एक सरईटोला और झिमकी में दो लोगों की हाथी के कुचलने से मौत हुई है।

लुड़ेग के पास सरई टोला के जंगल में एक व्यक्ति को हाथी ने उसे कुचल कर मार डाला। जंगल में पहले से हाथियों की मौजूदगी के बावजूद जंगल के रास्ते ही जाने की जिद्द ने दिलसाय पिता सिरजु चौहान (50) की जान ले ली गाँव वालों ने उसे जाने के लिए के लिए मना किया पर उन सभी की बातों को अनसुना कर जंगल के रास्ते ही जाने लगा और वहीं हाथी ने उसे पटक कर कुचल दिया जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

वहीं झिमको में हाथियों ने गांव के नजदीक आकर झिमकी बाजार के पास जगत पिता छतर (62) को और नया खूंटापानी के पास करू पिता संतराम (65) को हाथी ने कुचल कर मार डाला। 

ग्रामीणों का कहना है कि जंगलों के खत्म होने से हाथी रोजाना गाँव के नजदीक वितरण करते रह रहे है। गाँव वालों को अपने फसल बचाने और घरों को बचाने के लिए रात भर जाग कर रहने को मजबूर होना पड़ रहा है।

फारेस्ट एसडीओ आर. आर. पैंकरा ने बताया कि नजदीक जाने के बाद हाथी से बच पाना संभव नहीं होता जो हाथी की गतिविधियों से वाकिफ होते हैं। वे तो अपनी जान बचाने में सफल हो जाते हैं, पर सभी नहीं। इसलिए आम लोगो को हाथी से दूरी बनाए रखना चाहिए। बीती रात को अलग अलग जगहों में हाथी के द्वारा कुल तीन लोगों को कुचल कर मार डाला है। एक जंगल में और दो गांव के नजदीक की घटना है। उच्च अधिकारियों को पूरी जानकारी दी गई है। जिनके घटना स्थल आने की सूचना है। हमारी फारेस्ट विभाग की टीम वही आसपास मौजूद है। मैं घटना स्थल में हूं हमारे उच्च अधिकारी भी पहुच गए है। सभी मृतकों के परिवार वालो को 25 हजार की तात्कालिक सहायता राशि दे दी गई है।

कलेक्टर महादेव कावरे ने हाथी के हमले में हुए तीन मौतो पर बेहद दुखद बताया। साथ ही जल्द से जल्द 6-6, लाख रु. की सहायता राशि देने की बात कही।


11-Jan-2021 8:54 PM 21

  अव्यवस्था पर भाजपा पदाधिकारियों ने जताई नाराजगी   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

पत्थलगांव, 11 जनवरी। धान खरीदी केंद्र केराकछार में अव्यवस्था से भाजपा पदाधिकारी नाखुश दिखे। उनका कहना है कि बगैर ड्रेनेज जमीन पर रखने से बारिश की स्थिति में धान  खराब हो सकते हैं, जबकि धान को खरीद कर उसे बेहतर तरीके से ड्रेनेज के ऊपर धान रखने का स्पष्ट आदेश सभी धान खरीदी केंद्र को है। वहीं केराकछार धान खरीदी केंद्र को एक ऑपरेटर के भरोसे ही छोड़ दिया गया है।

सांसद गोमती साय के द्वारा भाजपा ग्रामीण मंडल अध्यक्ष खेमानिधि और महामंत्री हेमंत कुमार को केराकछार धान केंद्र जाकर किसानों से खरीदे गए धान के रख रखाव एवं  धान खरीदी की जांच करने भेजने पर वहां की अव्यवस्था से नाखुश दिखे। ग्रामीण मंडल अध्यक्ष ने कहा कि सांसद से धान के रखरखाव में बेहद अनियमितता बरतने एवं ऑपरेटर के भरोसे ही धान खरीदने की बात की जानकारी देने की बात कही। इस तरह तो बिना डे्रनेज के धान  रखने से तो धान के खराब होने के आसार है।

 केरा कछार धान खऱीदी केंद्र के नोडल अधिकारी एवं प्राधिकृत अधिकारी अंतरंग पांडे से जब बिना ड्रेनेज के धान रखने की बात पूछी गई तो उन्होंने कहा कि मेरे द्वारा प्रबंधक गोविंद यादव को दस दिनों में दो बार नोटिस काट कर बिना डेनेज के रखे धान का उठाव कराने एवं उन धानों को सुरक्षित रखने कहा है। पर अब तक प्रबंधक द्वारा धान को सुरक्षित रखने किसी तरह की कोशिश नहीं की गई है। अब इन बातों को मैं अपने उच्च अधिकारियों को सूचित कर प्रबंधक के ऊपर धान के रखरखाव में बरती जा रही लापरवाही की जानकारी देने एवं कार्रवाई के लिए कहूंगा। साथ ही केराकछार धान खरीदी केंद्र को एक ऑपरेटर के भरोसे धान खरीदी की बात पर उन्होंने कहा कि शासन के आदेश पर ही पूर्व प्रबंधक को ही प्रभारी प्रबंधक बनाया गया है।


11-Jan-2021 8:41 PM 23

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

पत्थलगांव, 11 जनवरी। सोमवार को पंचायत सचिव और रोजगार सहायकों ने मिलकर जनपद में अपने हड़ताल की जगह पर भैंस के आगे बीन बजाई। ज्ञात हो कि प्रदेश के पंचायत सचिव कई दिनों से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं,  साथ ही रोजगार सहायक संघ भी अपनी मांगों को लेकर हड़ताल में शामिल हो गए हैं।

 आंदोलनकारी अब तरह-तरह के तरीके निकाल कर प्रदर्शन कर रहे हैं। शुक्रवार को तो संघ ने भीख मांगकर राशि इक_ा किया था,  वहीं 9 जनवरी को घंटी और थाली बजाकर प्रशासन का विरोध जताया गया।

 सचिव संघ ने अब आगे क्रमिक भूख हड़ताल करने की बात कह रहे हंै। पंचायत सचिवों का कहना है कि राज्य सरकार अपने ही चुनाव घोषणा पत्र की बात को अमल में नहीं ले रही है, जबकि सत्ता में आने के बाद जल्द ही प्रदेश के सचिवों को दो साल की अवधि में उनका शासकीयकरण कर देना चाहिए था।


11-Jan-2021 6:21 PM 14

पत्थलगांव, 11 जनवरी।  आज पत्थलगांव साप्ताहिक बाजार में जिला आयुर्वेद अधिकारी जसपुर के मार्गदर्शन में विकासखंड स्तरीय निशुल्क आयुष स्वास्थ्य मेला का आयोजन किया गया। जिसका शुभारंभ स्थानीय पार्षद के द्वारा किया गया इस शिविर में आयुर्वेद एवं होम्योपैथी चिकित्सा पद्धति के माध्यम से 513 मरीजों का निशुल्क उपचार एवं दवा वितरण किया गया जिसमें 403 रोगियों को उपचार आयुर्वेदिक पद्धति से एवं 110 रोगियों का उपचार होम्योपैथिक चिकित्सा पद्धति से किया गया। 

शिविर में चिकित्सक डॉक्टर नवीन होता, अंकुर जैन ,श्याम चरण साहू ,शशिकांत साहू आदि ने चिकित्सा सेवाएं शिविर में प्रदान की वही नेपाल साहू ,पितांबर कुमार, प्रेम एक्का,मूलचंद भारद्वाज का भी विशेष योगदान रहा। डाक्टरहोता ने शिविर के माध्यम से लोगों को बताया कि कोरोनावायरस की रोकथाम एवं उपचार इम्यूनिटी बूस्टर एवं 2 गज की दूरी मास्क है जरूरी के नारे को बुलंद करते हुए आयुष का काढ़ाका भी वितरण किया गया ।

इस शिविर में हिमोग्लोबिन शुगर जांच मलेरिया जांच भी किया गया। इस शिविर से काफी लोगों को इसका लाभ प्राप्त हुआ एवं चिकित्सा से संबंधित कई जानकारियां प्राप्त हुई।
 


10-Jan-2021 8:25 PM 20

छत्तीसगढ़ संवाददाता

जशपुरनगर, 10 जनवरी। खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने आज जशपुर विकासखंड के टिकैतगंज में स्व. भीखराम भगत की 83वीं जयंती कार्यक्रम में शामिल हुए एवं सामाजिक कुडूख मासिक पत्रिका पड़हा पुंप का विमोचन किया और समाज को स्व. भीखराम भगत जी के जयंती के लिए 3 लाख रूपए देने की घोषणा की।

 प्रभारी मंत्री अमरजीत भगत ने कहा कि आज हम सभी समाज के लोग स्व.भीखराम भगत की जयंती के अवसर पर शामिल हुए है। समाज के क्षेत्र में कार्य करने वाले विभिन्न विभूतियों को याद किया और समाज के लोगों को उनके आदर्शों पर चलने के लिए आग्रह किया। उन्होंने कहा कि समाज के लोग प्रकृति के पुत्र है प्रकृति के गोद में जन्म लिए है, प्रकृति की पूजा करते है। उन्हीं के आशीर्वाद से सभी लोग सुख समृद्धि के साथ जीवन व्यतीत कर रहे हैं।

अमरजीत भगत ने स्थानीय कुडूख भाषा में संबोधित किया और स्थनीय गीत गाकर सभी को प्रोत्साहित किया। समाज के लोगां के साथ मादर की थाप पर नृत्य किया एवं अपनी हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी।

इस दौरान झारखंड के वित्त मंत्री डॉ. रामेश्वर उरांव ने सभी समाज के लोगों को संबोधित करते हुए शिक्षा स्वास्थ्य एवं अन्य क्षेत्र में भी पढ़ लिखकर आगे बढऩे के लिए प्रोत्साहित किया। विधायक विनय भगत, प्रितम राम भगत,गुलाब कमरो ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया।

इस अवसर पर झारखंड के वित्त मंत्री डॉ. रामेश्वर उरांव, जशपुर विधायक विनय भगत, लुंड्रा विधायक प्रितम राम भगत, कोरिया के सोनहत विधायक गुलाब कमरो, राजी देवान रामचंद्र प्रधान, राजी कहतो बसंत कुमार भगत,सुखदेव भगत बेल,रामकुमार भगत देवान,मांगे एक्का बेल, मंचन उरॉव देवान, खुदी भगत दुखी बेल,परमेश्वर भगत देवान,रन्जू उरॉव बेल,शिव टोप्पो देवान कलेक्टर महादेव कावरे, जिला पुलिस अधीक्षक बालाजीराव, जनपद पंचायत उपाध्यक्ष संजीव भगत, मनोजसागर यादव, अजय गुप्ता, सहित जनप्रतिनिधि एवं अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।


10-Jan-2021 7:07 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

पत्थलगांव, 10 जनवरी। छतीसगढ़ पंचायत संचिव संघ के आह्वान पर एक सूत्रीय मांग को लेकर अनिश्चितकालीन कलम बन्द काम बंद कर हड़ताल कर रहे पंचायत सचिवों का 16वे दिन भी जारी रहा।

शनिवार को लगातार पंचायत सचिव अपनी मांगों को लेकर 15 दिन हड़ताल में बैठे रहे सचिवों की अपनी मांग जिसमे उन्हें शासन से जल्द शासकीयकरण करने की मांग की है।

पंचायत सचिव रमेश जायसवाल ने कहा कि राज्य की भूपेश सरकार को हमारी मांगो पे जल्द विचार कर हम लोगो का शासकीयकरण कर देना चाहिए आज हम लोगो के हड़ताल का 15 वा दिन है। जो मांग के न माने जाने तक अनवरत आगे भी इसी तरह कलम बन्द काम बंद जारी रहेगा।

रोजगार सहायको भी अपनी मांगों को लेकर वही जनपद प्रांगण में ही अनिश्चितकालीन हड़ताल जारी है। रोजगार सहायकों के भी हड़ताल में चले जाने से काफी कार्य प्रभावित हो रहे है। अपनी मांगों को जल्द सरकार से मनवाने के लिए रोजगार सहायकों ने हड़ताल के माध्यम से अपनी बात सरकार तक पहुचा रहे है। और जल्द भूपेश सरकार से मांगे मानने की बात कह रहे है। पाकरगांव की सरपंच धनमती प्रधान ने कहा कि पंचायत सचिवों और रोजगार सहायकों के हड़ताल में चले जानेे से सभी ग्राम पंचायत के विकास कार्यो में रुकावटे आ रही है। जल्द ही राज्य सरकार।को पँचायत सचिवो एवं रोजगार सहायकों के हड़ताल समाप्त करवाने विचार करने की आवश्यकता है। जिससे ग्रामीण स्तर के रुके कार्यो को गति दी जा संके। अगर इसी तरह आगे भी हड़ताल जारी रहता है तो ग्रामीण स्तर पर काफी मुश्किले आएंगी।


Previous12345Next