छत्तीसगढ़ » जशपुर

Previous12Next
25-May-2020

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

पत्थलगांव, 25 मई। एक युवक ने पेड़ में गमछे से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मामला पत्थलगांव थाना क्षेत्र के मुड़ापारा पंचायत का है। सोमवार सुबह ग्रामीणों ने मुड़ापारा के 30 वर्षीय विराट नाग का शव घर से कुछ दूरी पर कटहल पेड़ में फांसी पर झूलते देखा। ग्रामीणों ने परिजनों को जानकारी दी, उसके बाद इस घटना की जानकारी पुलिस को दी गई। युवक की आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल पाया है।  लगातार आ रहे आत्महत्या के मामले पुलिस के लिए चुनौती बनती जा रही है। विदित हो कि एक दिन पूर्व ही लुड़ेग के समीप बेलडेगी पंचायत में एक युवती ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। अभी उसकी जांच चल ही रही थी कि एक और फांसी का मामला सामने आ गया।

 


24-May-2020

जशपुरनगर, 24 मई। छत्तीसगढ़ शासन की राजीव गांधी किसान न्याय योजना लॉकडाउन के समय में जशपुर जिले के आदिवासी किसानों को आर्थिक संबल दे रही है। फरसाबहार विकासखंड के ग्राम खुटसेरा के किसान अनूप साय पैंकरा को इस योजना के तहत 21 मई को उनके खाते में 17 हजार रुपए की राशि जमा हुई है। वर्ष 2019-20 में कोनपारा धान खरीदी केन्द्र में उन्होंने अपना धान बेचा था। जिसके तहत उन्हें अंतरण राशि प्राप्त हुई है।

 उन्होंने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को धन्यवाद देते हुए कहा कि लॉकडाउन के इस विपदा वाले घड़ी में शासन ने सही समय पर खाते में पैसे दिए हैं। जून-जुलाई में खेती बाड़ी का काम शुरू हो जाता है और किसानों को खेती बाड़ी के लिए खाद-बीज की आवश्यकता होती है ऐसे समय में पैसे आने से उनकों अपने खेतों के लिए हाईब्रीड बीज एवं खाद खरीदने में आसानी होगी ताकि वे उन्नत खेती करके अपने परिवार का भरण-पोषण कर सके।उन्होंने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ शासन ने प्रदेश के किसानों की समस्याओं को समझा और राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत् लॉकडाउन के कठिन दौर से गुजर रहे किसानों के खातों में बोनस राशि अंतरित की गई ।

 


24-May-2020

जशपुरनगर, 24 मई। कलेक्टर निलेश कुमार महादेव क्षीरसागर के निर्देशन में जशपुर जिले में विभिन्न विकासखंडों में लगभग 648 क्वॉरंटीन सेंटर बनाया गया है। क्वॉरंटीन सेंटर में लगभग 2401 श्रमिकों, मजदूरों यात्रियों को रखा गया है। जिसमें पुरूषों की संख्या 1875 एवं महिलाओं की संख्या 526 शामिल है। जशपुर विकासखंड के 65 क्वॉरंटीन सेंटर में 244 लोगों को रखा गया हैं। इसी प्रकार  मनोरा के 32 क्वॉरंटीनसेंटर में 162 लोगों को, दुलदुला विकासखंड के 90 क्वॉरंटीनसेंटर में 212 लोगों को, कुनकुरी विकासखंड के 153 क्वॉरंटीन सेंटर में 232 लोगों को, फरसाबहार विकासखंड के 50 क्वॉरंटीन सेंटर में 587 लोगों को, कासंाबेल विकासखंड के 50 क्वॉरंटीन सेंटर में 242 लोगों को, पत्थलगांव विकासखंड के 105 क्वॉरंटीन सेंटर में 471 लोगों को एवं बगीचा विकासखंड के 103 क्वॉरंटीन सेंटर में 251 लोगों को रखा गया है। 

कलेक्टर श्री क्षीरसागर के निर्देश पर एसडीएम, जनपद सीईओ और नगरीय निकाय के अधिकारियों द्वारा क्वारेंटाईन सेंटर में पानी, बिजली, शौचालय, भोजन के साथ बुनियादी सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। साथ ही उनका स्वास्थ्य परीक्षण एवं निंग कराई जा रही है। इसके बाद 14 दिनों के क्वॉरंटीन अवधि में उन्हें रखा जा रहा है। इस दौरान मेडिकल टीम के द्वारा उनकी सतत निगरानी की जा रही है।

 

 


24-May-2020

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

पत्थलगांव, 24 मई। जशपुर में कल एक कोरोना पॉजिटिव मरीज के सामने आने के बाद जिले का प्रशासनिक अमला अलर्ट हो गया है। मरीज को मेडिकल कॉलेज रायगढ़ में भर्ती किया गया है। साथ ही मरीज के संपर्क में आने वालों की तलाश शुरू हो गई है। बताया जा रहा है कि कोरोना पॉजिटिव मरीज 18 मई को मुंबई से लौटा था। उसके साथ पत्नी और एक साल की बच्ची भी है।

जानकारी के मुताबिक वह सपरिवार चराईडांड़ तक आने के बाद पिकअप के जरिये पतराटोली आया। उसके बाद उसे क्वॉरंटीन सेंटर में शिफ्ट किया गया था। कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग में यह पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि इस बीच वह किन किन लोगों के संपर्क में आया है। ट्रेसिंग टीम क्वॉरंटीन सेंटर पहुंच चुकी है। साथ साथ जिले का प्रशासनिक अमला और स्वास्थ्य विभाग की टीम भी मौके पर पहुंच गई है।

जशपुर सीएमएचओ पी. सुथार ने बताया कि दुलदुला के जिस क्वॉरंटीन सेंटर में कोरोना पॉजिटिव मरीज की पुष्टि हुई है। उस क्वॉरंटीन सेंटर में कुल 20 प्रवासी मजदूर रुके हुए हैं। दो दिन पहले इन मजदूरों का रैंडम टेस्ट किया गया था। उन्नीस मजदूरों के सैम्पल भी लिए जा रहे हैं। मरीज को मेडिकल कॉलेज रायगढ़ में भर्ती किया गया है।

 


22-May-2020

जशपुरनगर, 22 मई। कलेक्टर श्री निलेश कुमार महादेव क्षीरसागर के निर्देशन में जषपुर जिले में विभिन्न विकासखंडों में लगभग 648 क्वारेंटाईन सेंटर बनाया गया है। क्वारेंटाईन सेंटर में लगभग 1951 श्रमिकों, मजदूरों यात्रियों को रखा गया है। जिसमें पुरूषों की संख्या 1516 एवं महिलाओं की संख्या 435 शामिल है। 

 

 

 

 


22-May-2020

जशपुरनगर, 22 मई। कलेक्टर निलेशकुमार महादेव क्षीरसागर ने आज कोरोना वायरस संक्रमण से सुरक्षा एवं बचाव के लिए बगीचा विकासखंड के जनपद पंचायत अध्यक्ष जगनराम को जशपुर में महुआ से बन रहे हर्बल युक्त एवं केमिकल मुक्त सेनिटाइजर दिया गया और भी लोगों को सेनिटाइजर का उपयोग करने के लिए कहा। 

 


22-May-2020

'छत्तीसगढ़' संवाददाता
जशपुरनगर, 22 मई।
विश्व जैव विविधता दिवस के अवसर पर आज ग्राम पनचक्की में जिला प्रशासन, वनविभाग, युवा वैज्ञानिक समर्थ जैन और वन विभाग की स्व-सहायता समूह की महिलाओं के संयुक्त तत्वावधान में महुआ से बने शुद्ध हर्बल युक्त सेनेटाईजर का शुभारंभ किया गया। इस अवसर पर उपस्थित पत्रकारों एवं अन्य गणमान्य लोगों को नि:शुल्क सेनेटाईजर का वितरण किया गया। 

विधायक जशपुर विनय भगत ने कहा कि जशपुर जिला ग्रीन-टी के नाम से जाना जाता था। अब जशपुर जिला सेनिटाईजर बनाने के अविष्कार के रूप से भी जाना जाएगा।  कलेक्टर निलेशकुमार महादेव क्षीरसागर ने वन विभाग, युवा वैज्ञानिक समर्थ जैन और समूह की महिलाओं का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि सब के सहयोग से आज हम महुआ से शुद्ध हर्बल सेनिटाइजर बनाने में सफल हुए हैं। यह सेनेटाईजर केमिकल मुक्त, 100 प्रतिशत हर्बल युक्त उत्पादन है। आगामी कुछ दिनों में जिले के सन्ना, कुनकुरी, पत्थलगांव में सेनेटाईजर बनाने का कार्य प्रारंभ किया जाएगा। 

वनमण्डलाधिकारी कृष्ण कुमार जाधव ने कहा कि कोविड-19 कोरोना संक्रमण से मुक्त करने और लोगों के लिए हर्बल युक्त प्राकृतिक पद्धति से सेनेटाईजर बनाया गया है। जिसका उपयोग जशपुर के लोगों के साथ प्रदेश के लोग भी कम कीमत पर  सेनेटाईजर का उपयोग आसानी से कर सकेंगे। 

 इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक  शंकरलाल बघेल, सीआरपीएफ कमांडेंट अनिल कुमार प्रसाद, जिला पंचायत के सीईओ के.एस.मण्डावी, उपमण्डलाधिकारी एस.गुप्ता और स्व-सहायता समूह की महिलाएं एवं पत्रकार गण उपस्थित थे। 

 


21-May-2020

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

जशपुरनगर, 21 मई। मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ के किसानों के लिए राजीव गांधी किसान न्याय योजना का आज रायपुर से शुभारंभ किया। जशपुर जिले से विधायक विनय भगत, कलेक्टर निलेशकुमार महादेव क्षीरसागर, जिला पंचायत सीईओ के.एस.मण्डावी, डिप्टी कलेक्टर आर.एन.पाण्डेय, कृषि विभाग के उपसंचालक एम.आर.भगत वीडियो कांफ्रेंस से जुड़े। इस अवसर पर विधायक विनय भगत एवं कलेक्टर श्री क्षीरसागर के जिले के समस्त किसानों को बधाई दी। 
छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा प्रांरभ की गई देश में अपनी तरह की पहली योजना राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत् प्रदेश के किसानों को धान, मक्का और गन्ना उत्पादक किसानों के खातों में राशि आज दी गई है। अपेक्स बैंक के अरविन्द शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि जशपुर जिले के राजीव गांधी किसान योजना के तहत् पहली किश्त के रूप से 15 हजार 256 किसानों को 14 करोड़ 53 लाख 35 हजार की राशि पहली किश्त के रूप से डीपीटी के माध्यम से किसानों के खातों में अंतरित की गई। किसानों को खेती किसानी के लिए प्रोत्साहित करने एवं उन्हें उपज का सही दाम दिलाने के लिए चार किश्तों में उन्हें राशि दी जा ही है। आज पहली किश्त किसानों को दी गई है। जिले के किसानों को तीन किश्तों में लगभग 41 करोड़ 52 लाख रुपए की राशि और दी जाएगी। 

जिले के किसान टिकलीपारा के ईश्वरचंद ने खुशी जाहिर करते हुए कहा है कि आज उनके खाते में राजीवगांधी किसान न्याय योजना के तहत 29 हजार 400 रुपए की राशि आ गई है। फरसाबहार के गांव रामकुमार ने बताया कि उनके खाते में डीपीटी के तहत् 34 हजार 92 रुपए की राशि आ गई हैं। फरसाबहार के किसान रघुनाथ ने उनके खाते में 19 हजार 900 रुपए की राशि जमा हो गई है। इसी प्रकार तपकरा ग्राम के संतोष ने बताया कि उनके खाते में 14 हजार 300 रुपए की प्रथम किश्त के रूप में आ गई है। सभी किसानों ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और छत्तीसगढ़ शासन को धन्यवाद देते हुए कहा कि लॉकडाउन के दौरान विपदा की घड़ी में यह राशि हमारे के लिए संजीवनी का काम करेंगी। 


21-May-2020

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

पत्थलगांव, 21 मई। जशपुर जिले के वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं माध्यमिक शिक्षा मंडल के सदस्य पवन अग्रवाल ने कहा है कि राजीव गांधी किसान न्याय योजना छत्तीसगढ़ के किसानों की खुशहाली के लिए मिल का पत्थर साबित होगी। श्री अग्रवाल आज यहां पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि कार्यक्रम के दौरान पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे।

  उन्होंने आज अपने संबोधन में कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर छत्तीसगढ़ सरकार ने इस महत्वकांक्षी योजना की शुरुआत की है। श्री अग्रवाल ने बताया कि कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज राजीव गांधी किसान न्याय योजना की शुरुआत की है। इस न्याय स्कीम की शुरुआत से पूरी पार्टी के लोग काफी खुश है।

जिला कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष पवन अग्रवाल ने कहा कि हमारे देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव जी के दिल में अन्नदाता किसान, खासतौर पर महिला और आदिवासी किसानों के लिए बहुत प्यार था, इसलिए वे समय-समय पर इन सबके बीच में जाकर सीधे संवाद करते थे और तकलीफों की जानकारी लेते थे। वे मानते थे कि किसान और खेती ही भारत के विकास की असली पूंजी है।

श्री अग्रवाल ने कहा कि,भारत रत्न से सम्मानित हमारे पूर्व प्रधानमंत्री की याद में राजीव गांधी किसान न्याय योजना की ऐतिहासिक शुरुआत छत्तीसगढ़ सीएम भूपेश बघेल के नेतृत्व में आज से कर दी गई है।  

इस महत्वाकांक्षी योजना से 19 लाख धान, मक्का, गन्ना पैदा करने वाले किसानों को सीधे 5700 करोड़ रुपये खाते में जाएंगे। आज 1,500 करोड़ की पहली किश्त दी गई।


20-May-2020

लुड़ेंग क्वॉरंटीन सेंटर में रखे गये दो मजदूर कोरोनाग्रस्त के साथ रहे

छत्तीसगढ़ संवाददाता
पत्थलगांव, 20 मई।
महाराष्ट्र के ठाणे जिले से लौटे दो मजदूरों के लैलूंगा क्वॉरंटीन सेंटर में कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद उनकी ट्रेवल हिस्ट्री सामने आई है,उसके बाद जशपुर प्रशासन अलर्ट हो गया है। 

बताया जा रहा है कि लैलूंगा के कोरोना पॉजिटिव प्रवासी मजदूर के सम्पर्क में लुड़ेग क्वॉरंटीन सेंटर में रखे गये दो मजदूर भी आये हैं। एहतियातन स्वास्थ्य विभाग ने लुड़ेग क्वॉरंटीन सेंटर में रखे गये सभी लोगों का सैंपल लेकर एम्स भेज दिया है, जिनकी रिपोर्ट का इंतजार है।

स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि क्वॉरंटीन सेंटर में रखे सभी लोगों का स्वास्थ्य विभाग समय-समय पर सेहत जांच कर रहा है।

सड़क किनारे दुकानें, सामाजिक दूरी की धज्जियां
 पत्थलगांव के जशपुर रोड व अंबिकापुर रोड पर सड़क किनारे बिना सामाजिक दूरी व सैनिटाइजर के दुकानें लगाई जा रही हैं जिसकी वजह से भारी भरकम भीड़ जुट रही है जो कभी भी खतरे की घंटी साबित हो रही है। इस समय प्रवासी मजदूरों का लगातार एनएच-43 से आना-जाना लगा हुआ है, जिसके कारण कभी भी कोरोना के मामले आ सकते हैं। 

विगत दिनों नगर के लोगों द्वारा स्थानीय प्रशासन का ध्यान इस ओर आकृष्ट कराए जाने पर पत्थलगांव एसडीएम ने नगर पंचायत के सीएमओ जय मंगल सिंह परिहार द्वारा इस बाजार को लेकर अलाउंस किया था जिसमें दुकान लगाए जाने को लेकर जुर्माना एवं तत्काल हटाए जाने की ऐलान किया गया था। किंतु आज 3 दिन से ज्यादा समय होने के बाद भी बाजार में भीड़ बढ़ रही है।

 

 


19-May-2020

जशपुरनगर, 19 मई। कलेक्टर निलेशकुमार महादेव क्षीरसागर को गोंड़ यूथ टीम के द्वारा कलेक्टोरेट कक्ष में कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षा एवं बचाव एवं राहत के लिए मुख्यमंत्री कोरोना रिलिफ फंड में 10 हजार रुपए का डिमांड ड्राफ्ट सौंपा गया। कलेक्टर श्री क्षीरसागर ने युवाओं को सराहनीय कार्य के लिए धन्यवाद दिया। इस अवसर पर गोंड़ यूथ टीम के अध्यक्ष तुफान सिंह, सचिव डेस्की नंदन राम एवं संरक्षक राजकुमार राव उपस्थित थे।


19-May-2020

जशपुरनगर, 19 मई। कलेक्टर निलेश कुमार महादेव क्षीरसागर के निर्देशन में जशपुर जिले में विभिन्न विकासखंडों में लगभग 648 क्वॉरंटीन सेंटर बनाया गया है। क्वॉरंटीन सेंटर में लगभग 1282 श्रमिकों, मजदूरों यात्रियों को रखा गया है। जिसमें पुरूषों की संख्या 975 एवं महिलाओं की संख्या 307 शामिल है।  क्वॉरंटीन सेंटर में पानी, बिजली, शौचालय, भोजन के साथ बुनियादी सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। 

साथ ही उनका स्वास्थ्य परीक्षण एवं स्क्रीनिंग कराई जा रही है। इसके बाद 14 दिनों के क्वॉरंटीन अवधि में उन्हें रखा जा रहा है। इस दौरान मेडिकल टीम के द्वारा उनकी सतत निगरानी की जा रही है।

 

 


19-May-2020

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

जशपुरनगर, 19 मई। कृषि विभाग द्वारा किसानों की मदद करने एवं खेती से उनकी आमदनी अधिक बढ़ाने के उद्देश्य से किसानों को जोड़कर बगीचा विकासखंड में पायलेट प्रोजेक्ट के तहत 71 हेक्टेयर में गन्ना की खेती की जा रही है। 

कृषि विभाग के उपसंचालक एम.आर.भगत ने बताया कि पहली बार नगदी फसल गन्ना को विकासखंड बगीचा में मॉडल के तौर पर कुल 71 हैक्टेयर पर पॉलीबैग गन्ना का उत्पादन किया जा रहा है। पॉलीबैग गन्ना प्रदर्शन जिला प्रशासन के सहयोग से स्वीकृत कर पौधा रोपण का कार्य किया जा रहा है। अब तक कुल 20 कृषको के यहां 40 हैक्टेयर में पॉलीबैग गन्ना का रोपण किया जा चुका है। 

श्री भगत ने जानकारी दी कि इस वर्ष पॉलीबैग गन्ना पौधे से कृषकों तक अधिक उत्पादन का लाभ पहुंचाया जा सकता है। आगामी वर्ष में जिले में समस्त आठों विकासखंड में गन्ना की खेती को प्रोत्साहित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि पड़ौसी जिला अम्बिकापुर में शक्कर का कारखाना होने से कृषकों को मार्केट की व्यवस्था नहीं करना पड़ेगा। जिससे फसल का उचित दाम किसानों को मिलेगा और कृषकों की आर्थिक स्थिति में सुधार के साथ उनके आय में बढ़ोतरी होगी।  

किसानों से सोसायटी से खाद-बीज का अग्रिम उठाव करने की अपील
जशपुरनगर, 19 मई।  कलेक्टर निलेशकुमार महादेव क्षीरसागर के मार्गदर्शन में जशपुर जिले में आगामी मौसम की संभावनाओं को देखते हुए किसान भाई-बंधु के लिए जिले में खाद्य-बीज का भण्डारण सोसायटियों में पर्याप्त मात्रा में किया गया है। कृषि विभाग के उपसंचालक एम.आर भगत ने बताया कि किसानों की मांग के आधार पर 15310 क्विंटल के विरूद्ध धान बीज 6707 क्विंटल सभी समितियों में भण्डारण किया गया था। 

समितियों के माध्यम से कुल 860 क्विंटल धान बीज का वितरण किया गया है। परियोजना मद से  116 क्विंटल मक्का बीज भण्डारण किया गया है। आगामी खेती किसानी को देखते हुए किसानों को खाद-बीज के वितरण का कार्य तीव्र गति से प्रारंभ है। अन्य दलहन तिलहन बीजों का भण्डारण करने के लिए बीज निगम को मांग पत्र भी दिया जा चुका है। 

उन्होंने बताया कि खरीफ में उर्वरक वितरण मांग कुल 15000 मैट्रिक टन के एवज में 6795  मैट्रिक टन का भण्डारण कर 1325 मैट्रिक टन उर्वरक का वितरण सोसायटी के माध्यम से किसानों को किया जा चुका है। किसान भाई बंधु को सोसायटी के माध्यम से खाद एवं बीज के अग्रिम उठाव के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारियों के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में विशेष अभियान चलाकर किसानों को खाद-बीज उठाव के लिए अपील की जा रही है। आगामी दिनों में मानसून को देखते हुए कृषि विभाग द्वारा सभी आदान सामग्री बीज निगम को तत्काल भण्डारण करने के लिए भी निर्देश दिया गया है। 

 

 


18-May-2020

छत्तीसगढ़' संवाददाता
जशपुरनगर, 18 मई।
कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी निलेशकुमार महादेव क्षीरसागर ने नोवेल कोराना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण के बचाव सुरक्षा के लिए संपूर्ण जशपुर जिले में दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 के अंतर्गत प्रभावशील धारा 144 को लॉकडाउन की अवधि 17 मई 2020 के पश्चात आने वाले प्रत्येक शुक्रवार रात्रि 11 बजे से सोमवार सुबह 06 बजे तक बढ़ाया जाये। मई 2020 में प्रत्येक शुक्रवार रात्रि 11 बजे से सोमवार सुबह 06 बजे तक निम्न गतिविधियां प्रतिबंधित किया जाएगा।  ज्ञातव्य है कि वर्तमान में कोरोना वायरस संक्रामक बीमारी पर पूरी तरह काबू नहीं पाया जा सका है। अभी भी संक्रमण की स्थिति कई स्थानों पर संभावित है। अत: संक्रमण से बचाव हेतु जिला जशपुर में स्वास्थ्यगत आपातकालीन स्थिति को नियंत्रण में रखने के लिए यह उचित प्रतीत होता है कि जशपुर जिले में वर्तमान स्थिति को देखते हुए लॉकडाउन के दौरान भारत सरकार एवं राज्य शासन द्वारा दी गई छूट को प्रतिबंधित करते हुए सप्ताह में कम से कम 02 दिन पूर्णतया लॉकडाउन किया जाये।

जिले में समस्त सार्वजनिक परिवहन सेवायें, जिसमें निजी बसें, टैक्सी, ऑटो रिक्शा, बसें, ई-रिक्शा इत्यादि शामिल है के परिचालन को तत्काल प्रभाव से बंद किया जाता है। केवल ईमरजेंसी एवं मेडिकल सेवा वाले व्यक्तियों को वाहन द्वारा आवागमन की अनुमति रहेगी। ऐसे निजी वाहन जो इस आदेश के अंतर्गत आवश्यक वस्तु सेवाओं के उत्पादन एवं परिवहन का कार्य कर रहे है उन्हें भी अपवादित आवश्यकताओं को देखते हुए परिवहन की छूट रहेगी। 

आवश्यक सेवायें प्रदान करने वाले निम्न कार्यालय एवं प्रतिष्ठान को छोड़कर सभी दुकानें, व्यवसायिक प्रतिष्ठान, कार्यालय, साप्ताहिक हाट-बाजार, आदि अपनी सम्पूर्ण गतिविधियोंं को बंद रखे्रगें। प्रतिबंध में बाहर रखे गए प्रतिष्ठानों एवं सेवाओं की सूची निम्नानुसार है:-
जिले में रात्रि निषेधाज्ञा आवश्यक गतिविधियों के अतिरिक्त शाम 7 बजे से प्रात: 7 बजे तक समस्त व्यक्तिगत गतिविधियां प्रतिबंधित रहेगी। कानून व्यवस्था एवं स्वास्थ्य सेवा से संबंधित पदाधिकारी एवं कर्मचारी। स्वास्थ्य सेवाएं जिसके अंतगर्त सभी अस्पताल, मेडिकल कॉलेज, लॉयसेंस प्राप्त पंजीकृत क्लीनिक भी शामिल है इन्हें लॉकडाउन में छूट दी गई है। दवा दुकान, चश्में की दुकान एवं दवा उत्पादन की इकाई एवं संबंधित परिवहन। खाद्य आपूर्ति से संबंधित परिवहन सेवायें। खाद्य पदार्थ, दूध, ब्रेड, फल एवं सब्जी, चिकन, मटन, मछली एवं अण्डा के विक्रय अथवा वितरण, भण्डारण या परिवहन की गतिविधियां जारी रहेंगी। दुग्ध संयंत्र अथवा मिल्क प्लांट जारी रहेगा। घर पर जाकर दूध बांटने वाले दूध विक्रेता एवं पेपर हॉकर प्रात: 6:30 बजे से 9:30 बजे तक लॉकडाउन से मुक्त रहेगें। मास्क सेनेटाईजर, दवाईयां, ए.टी.एम. वाहन, एल.पी.जी गैस सिलेण्डर का वाहन एवं अन्य आवश्यक वस्तुएं अथवा सेवाएं जो इस आदेश में उल्लेखित हो को परिवहन करने वाले वाहन। बिजली, पेयजलापूर्ति, एवं नगरपालिका सेवाएं जेल एवं अग्निशमन सेवाओं को लॉकडाउन में छूट दी गई है। ए.टी.एम. टेलीकॉम, इंटरनेट सेवाएं या आईटी आधारित सेवाएं, मोबाईल रिचार्ज एवं सर्विसेस दुकाने। पेट्रोल एवं डीजल पंप एवं एलपीजी, सीएनजी गैस के परिवहन एवं भण्डारण की गतिविधियां। खाद्य, दवा एवं चिकित्सा उपकरण सहित सभी आवश्यक वस्तुओं की ई-कामर्स आपूर्ति। टेक अवे अथवा होम डिलीवरी रेस्टोरेंट, पूर्व से विभिन्न होटलों मेें रूके हुए अतिथियों के लिए डायनिंग सेवाएं। सुरक्षा कार्य में लगी एजेंसियां एवं निजी एजेंसिया। प्रिंट एवं इल्केट्रानिक मीडिया। मनरेगा अथवा धान परिवहन के कार्य। राज्य सरकार द्वारा विशेष आदेश से निर्धारित कोई सेवा प्रत्येक शुक्रवार रात्रि 11 बजे से सोमवार सुबह 06 बजे तक समयावधि को छोड़कर शेष दिवसों में छूट आदेश मेे भी यथावत रहेगी। यह आदेश जशपुर जिले की संपूर्ण सीमा क्षेत्र के लिए 01 जून 2020 या आगामी आदेश तक प्रभावशील रहेगी। उक्त आदेश का उल्लंघन करने पर कार्यवाही भी की जाएगी। 

 

 

 

 


18-May-2020
जशपुरनगर, 18 मई। कलेक्टर निलेश कुमार महादेव क्षीरसागर के मार्गदर्शन में फरसाबहार विकासखंड में मुख्यमंत्री सहायता केन्द्र स्थापित किया गया है जहां अन्य राज्य से जशपुर जिले आने वाले व अपने गृह ग्राम जाने वाले मजदूरों और यात्रियों को आवागमन मुख्य मार्ग में चरण पादुका का वितरण किया गया। साथ ही श्रमिकों को मास्क लगाने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है और एक दूसरे से सामाजिक दूरी बनाकर रखने के लिए कहा जा रहा है।  

18-May-2020

जशपुरनगर, 18 मई। कलेक्टर निलेश कुमार महादेव क्षीरसागर के निर्देशन में जशपुर जिले में विभिन्न विकासखंडों में लगभग 648 क्वॉरंटीन सेंटर बनाया गया है। क्वॉरंटीन सेंटर में लगभग 1106 श्रमिकों, मजदूरों यात्रियों को रखा गया है। कलेक्टर श्री क्षीरसागर के निर्देश पर एसडीएम, जनपद सीईओ और नगरीय निकाय के अधिकारियों द्वारा क्वॉरंटीन सेंटर में पानी, बिजली, शौचालय, भोजन के साथ बुनियादी सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है।  सेंटर में मजदूर अन्य राज्य से वापस आने के उपरांत संबंधित तहसीलों में उन्हें भेजा जाएगा। जहां उनका स्वास्थ्य परीक्षण एवं स्क्रीनिंग कराई जा रही है। इसके बाद 14 दिनों के क्वॉरंटीन अवधि में उन्हें रखा जा रहा है। इस दौरान मेडिकल टीम के द्वारा उनकी सतत निगरानी की जा रही है।

 

 

 


18-May-2020

छत्तीसगढ़ संवाददाता
पत्थलगांव, 18 मई।
रविवार दोपहर शराबी पति ने पत्नी की डंडे से पीट-पीट कर हत्या कर दी। आरोपी पुलिस हिरासत में है। पुलिस जांच जारी है। घटना पत्थलगांव थाने के बरपाली की है। थाना प्रभारी संतलाल आयाम ने बताया कि रविवार को पति जीवन लकड़ा रोज की तरह घर पहुंचा था। घर पहुंचते ही चरित्र शंका को लेकर पति जीवन और पत्नी रजंती लकड़ा के बीच झगड़ा शुरू हो गया और झगड़ा इतना बढ़ गया कि आरोपी ने लकड़ी के पाटा और डंडे से पत्नी के सिर में मार कर हत्या कर दी। घटना की जानकारी मिलते ही पत्थलगांव थाना प्रभारी के साथ पुलिस मौके पर पहुंच कर आरोपी जीवन को गिरफ्तार कर लिया। 


17-May-2020

सभी सुविधाएं दी जा रही
‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
जशपुरनगर, 17 मई।
लॉकडाउन में दीगर राज्यों में फंसे जशपुर जिले के मजदूरों की वापसी के लिए विकासखंडवार, क्वॉरंटीन सेंटर बनाए गए हंै। जशपुर जिले में विभिन्न विकासखंडों में लगभग 648 क्वॉरंटीन सेंटर बनाए गए हैं। क्वॉरंटीन सेंटरों में लगभग 980 श्रमिकों, मजदूरों को ठहराया गया है। 

कलेक्टर निलेशकुमार महादेव क्षीरसागर के निर्देश पर एसडीएम, जनपद सीईओ और नगरीय निकाय के अधिकारियों द्वारा क्वॉरंटीन सेंटर में पानी, बिजली, शौचालय, भोजन के साथ बुनियादी सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है।  सेंटर में मजदूरों का स्वास्थ्य परीक्षण एवं स्क्रीनिंग कराई जा रही है। इसके बाद 14 दिनों के क्वॉरंटीन अवधि में उन्हें रखा जा रहा है। इस दौरान मेडिकल टीम के द्वारा उनकी सतत निगरानी की जा रही है।


17-May-2020

छत्तीसगढ़ संवाददाता

जशपुरनगर, 17 मई। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ राज्य के अंदर प्रवेश करने वाले श्रमिकों-मजदूरों और यात्रियों के लिए भोजन पानी छाया परिवहन की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। इसी कड़ी में कलेक्टर निलेश कुमार महादेव क्षीरसागर ने मुख्य आवागमन मार्ग में श्रमिकों की मदद के लिए सहायता केन्द्र स्थापित करने कहा है। छत्तीसगढ़ शासन एवं जिला प्रशासन की पहल पर जशपुर से रांची, जशपुर से बिलासपुर, जशपुर से रायपुर के रेल्वे स्टेशन से श्रमिकों यात्रियों को वापस लाने के लिए 13 बसों की व्यवस्था की गई है। साथ ही प्रत्येक विकासखंडवार 5-5 छोटे वाहन की भी व्यवस्था की गई है।

 जिला परिवहन अधिकारी प्रकाश रावटे ने बताया कि लगभग 438 श्रमिकों मजदूरों यात्रियों को बस एवं छोटे-बड़े वाहन की सुविधा उपलब्ध कराकर उनके गंतव्य स्थान तक पहुंचाया गया है। एसडीएम राहित व्यास, नानसाय भगत, योगेन्द्र श्रीवास, दशरथ सिंह राजपूत, रवि राही के मार्गदर्शन में पैदल चलकर जाने वाले श्रमिकों को तत्काल वाहन की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है और उन्हें उनके क्षेत्रों तक सहकुशल पहुंचाया जा रहा है।  

उन्होंने बताया कि जिल प्रशासन की टीम के साथ फ्लाईंग टीम निरंतर यात्रियों को लाने ले जाने के लिए सार्थक कार्य कर रही है। प्रत्येक श्रमिकों को वाहन से रवानगी के समय पानी बिस्किट भोजन भी दिया जा रहा है।  कोरोना वायरस संक्रमण की सुरक्षा एवं बचाव के लिए श्रमिकों को सेनेटाइजर भी दिया जा रहा है साथ ही उन्हें सोशल डिस्टेंस एवं मास्क लगाने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है।  वाहन चलाने वाले चालकों को सेनिटाइजर उपयोग करने कहा जा रहा है। इसके अलावा उन्हें कोरोना से बचाव के लिए सेफ्टी किट भी दिया गया है।

 

 


17-May-2020

छत्तीसगढ़ संवाददाता

जशपुरनगर, 17 मई। कलेक्टर निलेशकुमार महादेव क्षीरसागर के मार्गदर्शन में पत्थलगांव विकासखंड के एसडीएम  दशरथ सिंह राजपूत के दिशा निर्देश में नगर पंचायत कोतबा में मुख्यमंत्री श्रमिक सहायता केन्द्र स्थापित किया गया है। अन्य राज्य से आनेवाले जरूरतमंद श्रमिकों मजदूरों यात्रियों को चरण पादुका मुहैया कराया जा रहा है।  श्रमिकों ने छत्तीसगढ़ शासन एवं जिला प्रशासन का धन्यवाद देते हुए कहा है कि शासन द्वारा चरण पादुका मिलने से गर्मी से पैरों को राहत मिल रही है। अब सफर करने में दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ेगा। 


Previous12Next