छत्तीसगढ़ » जान्जगीर-चाम्पा

Date : 19-Oct-2019

रेसलर की दुनिया में राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपनी विशिष्ट पहचान बनाने वाले जांजगीर के प्रतीक तिवारी अब धारावाहिक लाल इश्क में आएंगे नजर, मुंबई में चल रही सीरियल की शूटिंग

छत्तीसगढ़ संवाददाता
जांजगीर-चांपा, 19 अक्टूबर।
रेसलर की दुनिया में राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपनी विशिष्ट पहचान बनाने वाले जिले के लाल प्रतीक तिवारी अब पर्दे पर नजर आएंगे। इन दिनों वह मुम्बई में धारावाहिक लाल इश्क के निर्देशक प्रवीण एवं मनीष के मार्गदर्शन में शूटिंग में व्यस्त हंै।

जांजगीर-चांपा जिले के नवागढ़ विकासखंड अंतर्गत मां संवरीन दाई की पावन धरा ग्राम अमोरा (महंत) निवासी रामगुलाम तिवारी व मंजू तिवारी के इकलौते पुत्र रेसलर एवं अनेक मेडल विजेता प्रतीक तिवारी की शुरू से ही रेसलर के अलावा अभिनय में रुचि थी। अब उसका यह भी सपना साकार होने लगा है।

 गौरतलब है कि एंड टीवी पर शनिवार एवं रविवार को रात 9 से 11 बजे तक महाएपिसोड में प्रसारित होने वाले लाल इश्क धारावाहिक में प्रतीक तिवारी अब तक किंगकांग की भूमिका निभाते नजर आ रहा था लेकिन अब शनिवार को वह पंडित की भूमिका में एवं रविवार को राऊला यानी रावण की भूमिका में नजर आएगा। ग्रामवासी एवं क्षेत्र के लोग टीवी धारावाहिक में इस छोटे से गांव के युवा कलाकार को किरदार निभाते हुए देखने बड़ी बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। ग्रामवासियों का कहना है कि पहले तो हम प्रतीक को मौत के मुकाबले में प्रतिद्वंद्वियों से दो-दो हाथ करते देखते थे लेकिन अब वह धारावाहिक में कई रूप में नजर आएगा जो हमारे गांव के लिए बहुत ही गौरव की बात है।


Date : 19-Oct-2019

रात के अंधेरे में सड़क पर बैठी गाय से बाइक सवार तीन लोग टकराये, मौके पर ही दो की मौत, एक घायल

छत्तीसगढ़ संवाददाता
जांजगीर -चांपा, 19 अक्टूबर।
रात के अंधेरे में सड़क पर बैठी गाय नजर नहीं आई और बाइक सवार तीन लोग गाय से टकरा गए। यह हादसा इतना जबरदस्त था कि मौके पर ही बाइक सवार दो लोगों की मौत हो गई, तो वहीं एक अन्य घायल है। उसका इलाज बिलाईगढ़ के अस्पताल में चल रहा है। 

जानकारी के अनुसार शिवरीनारायण निवासी अटल वैष्णव, दिलीप भैना और अमलडीहा निवासी वीरेंद्र प्रधान शिवरीनारायण में एक ठेकेदार के अंदर प्राइवेट काम करते थे। गुरुवार की सुबह तीनों शिवरीनारायण से बाइक में पवनी गए थे। वहां से तीनों युवक फोर व्हीलर में रायपुर गए थे। रायपुर से वापस पवनी लौटने के पश्चात रात को तीनों युवक पल्सर बाइक से वापस शिवरीनारायण लौट रहे थे। 

इस दौरान टुंड्री के पास उनकी बाइक रात लगभग 10.30 बजे सड़क पर बैठी एक गाय से टकरा गई। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि दिलीप भैना व अटल वैष्णव की मौके पर ही मौत हो गई। वही वीरेंद्र प्रधान को 112 के माध्यम से बिलाईगढ़ के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उसका इलाज चल रहा है।


Date : 19-Oct-2019

केएसके प्लांट के खिलाफ आमरण अनशन वाले 67 मजदूरों को जेल, प्रशासन ने आधी रात पंडाल उखाड़ा, खदेड़ा

छत्तीसगढ़ संवाददाता

जांजगीर-चांपा, 19 अक्टूबर। जांजगीर-चांपा जिले के अकलतरा क्षेत्र के नरियरा-तरौद स्थित केएसके महानदी पॉवर प्लांट की नीति के खिलाफ मजदूरों द्वारा किए जा रहे आमरण अनशन के दूसरे दिन आधी रात को प्रशासन ने पंडाल को उखाडक़र फेंक दिया।

आमरण अनशन कर रहे मजदूरों के समर्थन में बैठे 67 मजदूरों को पुलिस उठाकर जांजगीर ले गई और जमे हुए अन्य ग्रामीणों को भी खदेड़ा गया। रात में पुलिस लाइन में मजदूरों को रखने के बाद 67 मजदूरों को धारा 151 के तहत जेल भेज दिया गया है। प्रशासन की आधी रात की गई कार्रवाई के विरोध में शनिवार कहीं न कहीं बाकी मजदूर और उनके परिवार के लोग भी आंदोलन कर सकते हैं।

आंदोलनकारी मजदूर, प्लांट प्रबन्धन द्वारा निलम्बित 35 मजदूरों को बहाल करने की मांग करते धरना, फिर क्रमिक भूख हड़ताल और फिर आमरण अनशन कर रहे थे। वहीं देखा जाए तो बीते दिन ही आमरण अनशन में समर्थन में मजदूर संघ के प्रदेश अध्यक्ष भी आये हुए थे। मजदूरों द्वारा किये जा रहे अपने आंदोलन को तेज करने से सरकार और प्रशासन पर दबाव बढ़ रहा था, इसी के चलते आधी रात आंदोलन स्थल पर भारी पुलिस बल के साथ प्रशासनिक अधिकारी पहुंचे और मजदूरों पर आमरण अनशन खत्म करने का दबाव डाला गया और मजदूरों के द्वारा न मनाने पर मजदूरों के आंदोलन को कुचलने के लिए मौके पर समर्थन में मौजूद 67 मजदूरों को पकडक़र पुलिस उठा ले गई।

यहां 67 मजदूरों पर धारा 151 के तहत जेल भेज दिया गया है। प्रशासन की कार्रवाई के वक्त जांजगीर एसडीएम, एएसपी, डीएसपी और कई थानों के टीआई समेत सौ से ज्यादा पुलिसकर्मी तैनात रहे।

 


Date : 18-Oct-2019

सिंघरा गांव में शिवसैनिकों ने किया एक दिवसीय धरना-प्रदर्शन, छह सूत्रीय मांगों को लेकर तहसीलदार को सौंपा ज्ञापन 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
जांजगीर-चांपा, 18 अक्टूबर।
जनपद पंचायत मालखरौदा के ग्राम सिंघरा में शिवसेना जिलाध्यक्ष ठा.ओंकार सिंह गहलौत के निर्देश पर चंदन धीवर (जिला सचिव) के नेतृत्व में जनहित की 6 सूत्रीय मांगों व समस्याओं को लेकर बाजार चौंक में एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया गया। 

ज्ञापन में मांग की गई है कि ग्राम सिंघरा में स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौंचालय निर्माण के बावजूद अब तक हितग्राहियों को प्रोत्साहन राशि नहीं मिली है। उन्हें शीघ्र प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाए। इसी तरह ग्राम सिंघरा में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत हितग्राहियों द्वारा आवास निर्माण किया गया है, लेकिन हितग्राहियों को अब तक राशि नहीं मिल सकी है। आवास की राशि तत्काल दिया जाए। 

ग्राम सिंघरा में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत हितग्राहियों से 10-20 हजार रुप तक राशि सरपंच व सचिव के द्वारा लिए जाने पर ही आवास का लाभ दिया जा रहा है। जिसकी जांच कर राशि वसूली करने वाले दोषी ब्यक्तियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराया जाए। ग्राम सिंघरा में संचालित मां सरई श्रृंगार महिला स्व सहायता समूह के द्वारा शासकीय राशि का दुरूपयोग करते हुए भ्रष्टाचार किया जा रहा है। इसकी शिकायत ग्रामीण कर चुके हैं, लेकिन अब तक कोई कार्रवाई नहीं हो सकी है। उन्होंने राज्यपाल, मुख्यमं़ी व प्रभारी मंत्री के नाम तहसीलदार को ज्ञापन दिया। इस दौरान धनाराम साहू (किसान सेना जिलाध्यक्ष), राजेन्द्र चन्द्रा (जिला उपाध्यक्ष), चंदन धीवर (जिला सचिव), कार्तिक साहू (विधान सभा प्रभारी चन्द्रपुर), बलभद्र पटेल (विधान सभा अध्यक्ष सक्ती),  मोहन सारथी (आटो संघ अध्यक्ष), भुषण साहू (किसान सेना अध्यक्ष मालखरौदा), वेद प्रकाश पटेल (ब्लॉक उपाध्यक्ष मालखरौदा), सोनाऊ राम चन्द्रा, वेदराम टण्डन, जीवन यादव, राजकुमार सारथी, नरेंद्र यादव सहित बडी संख्या में शिवसैनिक, ग्रामवासी उपस्थित थे। 


Date : 18-Oct-2019

संदिग्ध स्थिति में मजदूर की मौत, शव को दफनाया, मृतका की पत्नी की रिपोर्ट के बाद कब्र खोदकर शव को बाहर निकाला और पोस्टमार्टम के लिए भेजा 

छत्तीसगढ़ संवाददाता

जांजगीर-चांपा, 18 अक्टूबर। संदिग्ध स्थिति में मजदूर की मौत के बाद उसके शव को दफन कर दिया गया। मृतका की पत्नी की रिपोर्ट के बाद आज कब्र खोदकर शव को बाहर निकाला और उसे पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। इस दौरान रायगढ़ और जांजगीर चांपा जिले की पुलिस बड़ी संख्या में मौजूद थी।

जैजैपुर क्षेत्र के ग्राम खम्हारडीह राजकुमार चन्द्रा अपनी पत्नी त्रिवेणी चन्द्रा और छोटे पुत्र ईश्वर चन्द्रा के साथ ग्राम पूंजीपथरा रायगढ़ में रहता था। वह अंजली पावर प्लांट उज्जवलपुर गिरवानी पूंजीपथरा में काम करता था। रोज की तरह बीते 12 सितंबर को राजकुमार चंद्रा काम करने कंपनी गया था। जब वह घर से काम पर निकला तो पूरी तरह स्वस्थ था। कुछ देर बाद राजकुमार चंद्रा की हार्ट अटैक में मौत होने और उसकी लाश अस्पताल में होने की खबर परिजनों को दी गई। उसकी पत्नी तत्काल अस्पताल पहुंची, तब ठेकेदार नागेश्ववर बरेठ ने उसे वहां रोने से मना करते हुए किसी तरह की सहयोग राशि नहीं मिलने का हवाला दिया। 

इसके बाद ठेकेदार ने कुछ लोगों के सहयोग से शव को उसके गृहग्राम खम्हारडीह लाया गया। के बाद शव को दफन कर दिया गया। इधर, कंपनी से किसी तरह का सहयोग नहीं मिलने और मामला संदिग्ध लगने पर मृतक की पत्नी ने पूंजीपथरा थाना में रिपोर्ट दर्ज कराई। 

 


Date : 17-Oct-2019

व्यवहार न्यायालय में स्वच्छता अभियान चला, न्यायाधीशों अधिवक्ताओं एवं कर्मचारियों को संबोधित करते हुए कहा कि सफाई सभी के लिए आवश्यक है

छत्तीसगढ़ संवाददाता
सक्ती, 17 अक्टूबर।
राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती समारोह के तहत जिला एवं सत्र न्यायाधीश जांजगीर राजेश कुमार श्रीवास्तव के आदेशानुसार 17 अक्टूबर को व्यवहार न्यायालय शक्ति में सवेरे 7 से 9.30 बजे तक सफाई अभियान प्रथम अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश संतोष कुमार आदित्य के मार्गदर्शन में चलाया गया।

 इस अवसर पर एडीजे आदित्य ने सफाई अभियान में उपस्थित न्यायाधीशों अधिवक्ताओं एवं कर्मचारियों को संबोधित करते हुए कहा कि सफाई सभी के लिए आवश्यक है। पर्यावरण को स्वच्छ बनाए रखने के लिए तथा स्वयं को स्वस्थ बनाए रखने के लिए सफाई आवश्यक है। आज देशभर में स्वच्छता अभियान जोर-शोर से चल रहा है। इसमें सभी को अपना योगदान देना चाहिए, इस सफाई अभियान की सफलता के लिए सबकी सहभागिता आवश्यक है। प्रदूषण फैलाने वाले तथा पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने वाले सामग्री का प्रयोग करने से सभी को बचना चाहिए। प्लास्टिक के डिस्पोजल प्लेट पॉलीथिन थैला का प्रयोग को हतोत्साहित करना चाहिए। प्लास्टिक से होने वाले नुकसान के बारे में जागरूकता अभियान चलाकर आम जनता को बताने की आवश्यकता है। इसकी शुरुआत हमें अपने अपने घर से करना होगा।

स्वच्छता अभियान के अंतर्गत न्यायालय कक्ष, छत बरामदा एवं परिसर का वृहद साफ-सफाई न्यायाधीशों अधिवक्ताओं एवं कर्मचारियों द्वारा मिलकर किया गया। इस अवसर पर द्वितीय अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश वंदना दीपक देवांगन न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी राजेश्वरी सूर्यवंशी न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी भारती कुलदीप अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष ऋषिकेश चौबे दिगंबर चौबे नरेश सेवक राकेश महंत गिरधर जायसवाल सुरित चंद्रा पीडब्ल्यूडी के सब इंजीनियर सूर्यवंशी न्यायालयीन कर्मचारी पीडी महंत छोटे माथु नागर प्रमोद यादव दिनेश ठाकुर मुकेश तंबोली जगतपाल सुशील कैथवास रूपेश परमार देवेंद्र वर्मा धनंजय पटेल वृंदा कंवर जय नारायण देवांगन गणपत यादव पवन कुमार भूतपूर्व सैनिक जितेंद्र राठौर शिव राठौर उर्मिला देवांगन आदि उपस्थित थे। 

सफाई अभियान पश्चात प्रथम अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश संतोष कुमार आदित्य ने सभी को स्वच्छता की शपथ दिलाई।


Date : 15-Oct-2019

मीटर रीडरों ने बोला हल्ला, रैली निकालकर राज्यपाल व मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन

छत्तीसगढ़ संवाददाता
जांजगीर-चांपा,।
मीटर रीडिंग संघ के बैनर तले सोमवार को जांजगीर के कचहरी चौक में अपनी विभिन्न मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन किया गया। इस दौरान संघ ने जांजगीर शहर में रैली निकाली तो वहीं राज्यपाल व मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन भी दिया गया। इस आंदोलन को शिवसेना ने भी समर्थन दिया।

बता दें कि जांजगीर-चांपा जिले में मीटर रीडिरों की संख्या तीन सौ से अधिक है, जो सालों से काम कर रहे हैं। रीडरों के मुताबिक बिजली कंपनी उनसे मीटर रीडिंग, बिजली बिल वितरण, डिसकनेक्श्न, बकाया वसूली सहित अन्य काम कराती है लेकिन उचित पारिश्रमिक देने में कोताही बरती जाती है।

 रीडरों ने धरना के जरिए कहा कि कांग्रेस ने चुनाव पूर्व घोषणापत्र में मीटर रीडरों को नियमित करने का उल्लेख किया था, लेकिन चुनाव के बाद मीटर रीडिरों को नियमित करना तो दूर उन्हें दो जून की रोटी के लाले पड़ गए हैं। उनका कहना है कि स्पाट बीलिंग का काम छत्तीसगढ़ के लोगों के बजाय हैदराबाद की कंपनी को दिया गया है, जिससे यहां के लोग उपेक्षित है। धरना के जरिए रीडरों ने मांग की है कि उन्हें कलेक्टोरेट दर पर पारिश्रमिक दिया जाए। स्पाट बिलिंग का काम रीडरों से कराया जाए। वहीं रीडरों की दस माह की बकाया रैली दीपावली पूर्व दिया जाए। 

उन्होंने कहा कि इन मांगों से शासन प्रशासन को लगातार अवगत कराया जा रहा है। इसके बावजूद उनकी सुनवाई नहीं हो रही है। 

धरना को शिवसेना जिला प्रमुख ठा. ओंकार सिंह गहलौत ने संबोधित करते हुए कहा कि आज गांवों में तरह तरह की समस्या है। शौचालय का निर्माण दबावपूर्वक कराया गया लेकिन अब प्रोत्साहन राशि देने में आनाकानी की जा रही है। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि जल्द ही मीटर रीडर सहित ग्रामीणों की समस्या दूर 


Date : 15-Oct-2019

प्रतिमा डांस ग्रुप ने मारी बाजी, लगभग 15 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया

जांजगीर-चांपा,  15 अक्टूबर। ग्राम पंचायत सिलादेही में दशहरा के अवसर पर डांस प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें किकिरदा, चंद्रपुर, रायगढ़, सारंगढ़, बलौदाबाजार, मिरचिद, मनेन्द्रगढ़ सहित आसपास के लगभग 15 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया। 

इसमें प्रतिमा डांस ग्रुप दुर्ग भिलाई ने अपने शानदार अभिनय वेशभूषा व नृत्य कौशल मे प्रथम विजेता होने का गौरव हासिल कर 10001 रुपए पर कब्जा किया। द्वितीय पुरस्कार बमलेश्वरी डांस ग्रुप कांटाहरदी 7001 रुपए व तृतीय पुरस्कार मयूरी डांस ग्रुप रायगढ़ 4001 रुपए, चतुर्थ पुरस्कार त्रिवेणी संगम बलौदाबाजार 2001 रुपए, पंचम पुरस्कार ओसीजी डांस ग्रुप मिरचिद को 1001 रुपए प्रदान किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि सरपंच जानकी रामधन सारथी ने कहा कि मंच के माध्यम सें कलाकारों में अपने कला प्रदर्शन करने की ललक होती हैं और अपनी प्रतिभा को दिखाने के लिए ऐसे मंच की जरूरत होती है। विशिष्ट अतिथि लक्ष्मी कर्ष, तारेश्वर जायसवाल, संजू साहू, अनिल पटेल, देवकीनंदन तिवारी, टुकेश्वर जायसवाल थे। 

कार्यक्रम का संचालन हीरालाल कटकवार ने किया। कार्यक्रम में गोवर्धन, रामकुमार कटकवार, मिलन केंवट, राजू साहू, महावीर साहू, संतोष आदित्य, किरण, बिट्टू सारथी, सोनू केंवट, रामनारायण डडसेना, मनवा पटेल, बिर्रा थाना स्टाफ सियाराम यादव, कमलेश लहरे आदि बड़ी संख्या में मौजूद थे।
 

 


Date : 15-Oct-2019

परमेश्वरी देवी शिक्षण समिति द्वारा परमेश्वरी पब्लिक स्कूल के विद्यार्थी का शालेय वार्षिक खेलकूद तीरंदाजी प्रतियोगिता में राज्य स्तर के लिए चयनित

छत्तीसगढ़ संवाददाता
सक्ती, 15 अक्टूबर।
परमेश्वरी देवी शिक्षण समिति द्वारा संचालित विद्यालय परमेश्वरी पब्लिक स्कूल शक्ति के प्रतिभागियों का शालेय वार्षिक खेलकूद तीरंदाजी प्रतियोगिता में उत्कृष्ट प्रदर्शन रहा। जिसने 14 वर्ष बालिका वर्ग तीरंदाजी क्षेत्र स्तर (संभाग स्तर) प्रतियोगिता में कु. जानसि सिदार एवं कु. वैष्णवी देवांगन का चयन एवं 14 वर्ष बालक वर्ग क्षेत्र स्तर (संभाग स्तर) प्रतियोगिता में प्रियांशु मरकाम का चयन तथा 17 वर्ष बालक वर्ग क्षेत्र स्तर (संभाग स्तर) प्रतियोगिता में डिकेश देवांगन, देवाशीष देवांगन एवं फूलचंद देवांगन का चयन हुआ। साथ ही विद्यालय के छात्र-छात्राओं ने अपना उत्कृष्ट खेल कौशल का प्रदर्शन जारी रखते हुए, राज्य स्तर तीरंदाजी प्रतियोगिता कोंडागांव में 18  से 22 अक्टूबर तक होने वाले 14 वर्ष बालिका वर्ग राज्य स्तर तीरंदाजी प्रतियोगिता में कु. जानसि सिदार एवं 17 वर्ष बालक वर्गराज्य स्तर तीरंदाजी प्रतियोगिता में डिकेश देवांगन, देवाशीष देवांगन एवं फूलचंद देवांगन ने अपना स्थान बनाने में कामयाब रहे। 
सभी खिलाड़ी विद्यालय के क्रीड़ा शिक्षक श्री वीरेंद्र कुमार देवांगन  के मार्गदर्शन में तीरंदाजी खेल का निरंतर अभ्यास कर रहे हैं। संस्था प्रबंधन समिति एवं विद्यालय परिवार उनके उज्जवल भविष्य की कामना करता है।

 


Date : 14-Oct-2019

झुमका में रामलीला, 58  वर्षों से हो रहा मंचन, रविवार को राज्याभिषेक की तैयारी, राम वनवास, केंवट, बाल्मिकी मिलन एवं चित्रकूट निवास का मंचन हुआ

छत्तीसगढ़ संवाददाता

सरसींवा, 14 अक्टूबर। समीपस्थ ग्राम झुमका में रामलीला का शुभारंभ हुआ। रविवार को भगवान श्रीराम के राज्याभिषेक की तैयारी, राम वनवास, केंवट, भारद्वाज बाल्मिकी मिलन एवं चित्रकूट निवास का मंचन हुआ। सोमवार को सुमंत की वापसी, दशरथ मरण, भरत का मामा घर से वापसी, भरत केंवट संवाद, भरत भारद्वाज मिलन एवं राम भरत मिलाप का मंचन होगा ।

इस संबंध में नाटक मंडली के संचालन कर्ता दाऊ लाल साहू एवं प्रदीप दुबे ने बताया कि यहां सन 196 2 से रामलीला का भव्य मंचन किया जा रहा है । सरसींवा निवासी स्व.नीलकंठ दुबे के दिशा निर्देशन में प्रारंभ हुआ श्रीरामलीला जो अभी तक जारी है। स्व. श्री दुबे के निधन पश्चात हमारे संचालन में श्री रामलीला नाटक का मंचन हो रहा है। यह मंचन गोस्वामी कृत श्रीरामचरित मानस पर आधारित है। मंगलवार को सीता हरण, जटायु उद्घार, राम शबरी मिलन एवं नारद संवाद, बुधवार को श्रीराम एवं सुग्रीव की मित्रता,  बाली वध एवं लंका दहन गुरुवार को सेतु बांध, अंगद रावण संवाद, लक्ष्मण शक्ति बाण, कुम्भकरण, मेघनाद एवं अहिरावण वध प्रमुख हैं।

नाटक मंडली में व्यास मास्टर पुनीराम साहू एवं नेहरू साहू तबला वादक रमाशंकर साहू एवं रिंगाळू साहू, बेंजो मास्टर देव प्रसाद, पेड़ मास्टर नंदलाल,  मंजीरा मास्टर कृष्ण कुमार एवं ड्रेसक रामप्रसाद चेतन प्रसाद झाड़ू राम साहू प्रमुख रूप से हैं।

 


Date : 12-Oct-2019

संकुल प्रभारी-शैक्षिक समन्वयकों ने काम करने जताई असमर्थता

छत्तीसगढ़ संवाददाता
जांजगीर-चांपा, 12 अक्टूबर।
नए-नए विवादों को लेकर बलौदा स्थित विकासखंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय इन दिनों सुर्खियों में बना हुआ है। 

विकासखंड क्षेत्र के सभी संकुल के प्रभारियों एवं शैक्षिक समन्वयकों द्वारा काम करने को लेकर असमर्थता जताने से संबंधित है। विकासखंड क्षेत्र में कार्यरत संकुल प्रभारी एवं शैक्षिक समन्वयकों ने विकासखंड शिक्षा अधिकारी पर गाली-गलौज एवं दुव्यर्वहार करने का आरोप लगाया है। 

बलौदा विकासखंड क्षेत्र के संकुल प्रभारियों एवं शैक्षिक समन्वयकों ने जिला शिक्षा अधिकारी को सौंपे ज्ञापन में कहा है कि बलौदा के विकासखंड शिक्षा अधिकारी द्वारा क्षेत्र के सभी संकुल प्रभारियों एवं शैक्षिक समन्वयकों से गाली-गलौज एवं दुव्यर्वहार किया जा रहा है। इस वजह से उन्हें उक्त पद पर बने रहते हुए काम करने में परेशानी हो रही है। 
ज्ञापन में आगे कहा गया है कि विकासखंड शिक्षा अधिकारी के रवैये से वे परेशान हैं और उक्त पदों पर बने रहते हुए कार्य करने में असमर्थ हैं। इसलिए उनके ज्ञापन पर शीघ्र उचित कार्यवाही की जाए। बता दें कि बलौदा स्थित विकासखंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय पिछले कुछ दिनों से कई मामलों को लेकर सुर्खियां बटोर रहा है। यहां पदस्थ विकासखंड शिक्षा अधिकारी से शिक्षक ही नहीं, अधिकांश स्टॉफ नाखुश हैं। वहीं विकासखंड शिक्षा अधिकारी की मनमानी से अन्य लोग भी परेशान हैं। जिससे कोई भी काम समय पर नहीं हो पा रहा है। विकासखंड शिक्षा अधिकारी की शिकायत उच्चाधिकारियों तक लगातार पहुंच रही है। अबकी बार संकुल प्रभारी एवं शैक्षिक समन्वयकों ने एकजुट होकर उनके खिलाफ मोर्चा खोला है। संकुल प्रभारी एवं शैक्षिक समन्वयकों द्वारा ज्ञापन की प्रति कलेक्टर, राजीव गांधी शिक्षा मिशन के जिला समन्वयक को भी प्रेषित की गई है।

 


Date : 12-Oct-2019

मजदूर और जेसीबी चालक के भरोसे छोड़ी 31 करोड़ की जल आवर्धन योजना

छत्तीसगढ़ संवाददाता
जांजगीर-चांपा, 12 अक्टूबर।
नगरपालिका जांजगीर-नैला क्षेत्र के निवासियों की प्यास बुझाने के लिए 31 करोड़ 21 लाख रूपए जल आवर्धन योजना में खर्च हो रहे हैं, जिससे शहर के पच्चीस वार्डो में पाइप लाइन के जरिए पानी पहुंचाया जा सके। लेकिन, ठेकेदार की लापरवाही के कारण करोड़ों की योजना फेल होती दिख रही है। 

कार्यस्थल पर टेक्निकल इंजीनियर के बिना ही मजदूर और जेसीबी चालक के भरोसे ही कार्य किया जा रहा है। उक्त कार्य इंजीनियर की मौजूदगी में किया जाना चाहिए जिससे गड्ढों का लेबल और पाइप ज्वाइंट सही रहे। पाइप बिछाने के लिए वार्डो में बनी नाली, बीएसएनएल वॉयर, पुरानी पाइप लाइन तक को तोड़ दिया जा रहा है, जिससे विवाद की स्थिति भी निर्मित हो रही है।

 जल आवर्धन योजना के कार्य को देखकर लोगों का यही कहना है कि करोड़ों गए पानी में। बता दें कि एक दशक पहले भी करोड़ों फूंकने के बाद लोगों को सही पानी नहीं मिल सका। इस बार भी उसी प्रकार से कार्य किया जा रहा है।

गौरतलब है कि जल आवर्धन योजना के तहत चांपा से होकर गुजरी हंसदेव नदी से जिला मुख्यालय जांजगीर के घरों में पानी पहुंचाना है। इसके लिए मल्टी अर्बन इन्फ्रा सर्विसेस प्राइवेट लिमिटेड को ठेका मिला है। इस कार्य के लिए 31 करोड़ 21 लाख खर्च होना है, जिसके तहत 90 किलोमीटर पाइप लाइन बिछाना है। कार्य का वर्क आर्डर बीते पांच अगस्त को जारी हुआ है। वहीं ठेकेदार को दो साल की समयावधि दी गई है। 

नदी से पानी लाने बिरगहनी के पास देवरहा में इंटकवेल बनेगा। साथ ही फिल्टर प्लांट का निर्माण भी होगा। रेल लाइन के किनारे पाइप लाइन के जरिए फिल्टर प्लांट से पानी शहर की टंकी में पहुंचेगा। इसके लिए शहर में दो जगह पर 9 लाख और 24 लाख लीटर क्षमता की पानी टंकी भी बनाई जाएगी, जहां से पाइप लाइन के जरिए शहर के घरों में पानी पहुंचेगा। 

शहरवासियों को पानी के लिए हर रोज तकलीफों का सामना करना पड़ता है। खासकर, गर्मी के दिनों में स्थिति और विकराल हो जाती है। इसीलिए, एक दशक पहले करोड़ों रूपए नल-जल योजना में खर्च किए गए थे लेकिन, वह कार्य पूरी तरह फ्लॉप रहा था। शहरवासियों की मांग को देखते हुए फिर एक बार करोड़ों रूपए खर्च किया जा रहा है।

इस पर शहर के लोगों का कहना है कि जब सिचाई विभाग के एसडीओ, इंजीनियर और ठेकेदार के कार्यस्थल पर दिनभर डटे रहने के बाद भी 11 सौ मीटर नाली का सही निर्माण नहीं हो सका तो 90 किलोमीटर पाइप लाइन बिछाने का कार्य बिना टेक्निकल इंजीनियर के कैसे संभव हो पाएगा। 

अजय आर्यन, प्रोजक्ट मैनेजर, मल्टी अर्बन इन्फ्रा सर्विसेस प्रा. लि. ने बताया कि कार्यस्थल में सुपरवाइजर और इंजीनियर मौजूद रहते हंै। पाइप लाइन का कार्य उनकी देखरेख में हो रहा है।

मनोज सिंह, सीएमओ, नगरपालिका जांजगीर-नैला का कहना है कि नगरपालिका क्षेत्र को तीन जोन में बांटा गया है, जिसकी निगरानी की जवाबदारी तीन सब इंजीनियरों को दी गई है। साथ ही एक कार्यपालन अभियंता को भी कार्यालय में दो दिनों के लिए संलग्न किया गया है। वहीं नपा अध्यक्ष के निवेदन पर कलेक्टर ने सहायक अभियंता जल आवर्धन योजना के विषेशज्ञ अधिकारी को भी इस कार्य में संलग्न किया है। गुणवत्तापूर्ण कार्य पर पूरा जोर दिया जा रहा है।