छत्तीसगढ़ » कोण्डागांव

Previous123456789...3940Next
07-May-2021 8:44 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोण्डागांव, 7 मई। नाबालिग के अपहरण के आरोपियों को धनोरा पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

 पुलिस के अनुसार प्रार्थी ने थाना आकर रिपोर्ट दर्ज कराया कि 27 मार्च को प्रार्थी की नाबालिग बेटी को पुराना ग्रामीण बैंक धनोरा के पास आरोपी द्वारा अपने साथी के साथ फोन करके बहला-फुसलाकर बुलाया गया और पीडि़ता को मोटर सायकल में जबरदस्ती बैठाकर अपहरण कर ले गये। प्रार्थी की रिपोर्ट पर थाना धनोरा में अपराध दर्ज कर विवेचना में लिया गया। विवेचना के दौरान अपहृता व आरोपी की पता तलाश दौरान नाबालिग अपहृता को लाटापारा बड़ेडोंगर के पास से 31 मार्च को बरामद किया गया।  आरोपी फरार थे, जिनकी गिरफ्तारी हेतु लगातार तलाश की जा रही थी।

थाना प्रभारी निरीक्षक सोनसिंह सोरी द्वारा थाना स्तर पर विशेष टीम गठित कर 5 मई को थाना धनोरा से बल रवाना होकर पता तलाश करते हुये थाना उरंदाबेड़ा क्षेत्र के बारदा में दबिश देकर आरोपी जयसिंह यादव (25) बागझर जिला नारायणपुर व सह आरोपी अजय यादव (22) घोटियामुण्डा ग्राम पंचायत चांदाबेड़ा जिला कोण्डागांव दोनों को पुलिस ने घेराबंदी कर पकड़ा। जिन्हेें 5 मई को गिरफ्तार कर न्यायालय के समक्ष पेश कर न्यायिक रिमाण्ड पर जेल भेजा गया।


07-May-2021 8:41 PM 17

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोण्डागांव, 7 मई। जिला स्वास्थ्य व परिवार कल्याण अधिकारी डॉ. अमृत लाल रोहलेडऱ व नोडल अधिकारी नर्सिंग होम एक्ट डॉ. सूरज सिंह राठौर द्वारा नेताम हॉस्पिटल कोण्डागांव का निरीक्षण किया गया।

निरीक्षण के दौरान पाया गया कि नेताम हॉस्पिटल में कोरोना संक्रमित महिला को भर्ती कर इलाज व प्रसव कराया गया। जिसके बाद टीम के द्वारा नेताम हॉस्पिटल के प्रसव कक्ष को सीलबंद कर दिया गया। उक्त अस्पताल कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज हेतु मान्यता प्राप्त नहीं है। फिर भी उनके द्वारा इस प्रकार का कृत्य किया गया। अस्पताल द्वारा कोरोना गाईडलाईनों का भी पालन नहीं किया गया। जिसके कारण अन्य सामान्य मरीज व अस्पताल स्टॉफ में भी कोरोना संक्रमण फैलने की संभावना है। जिस पर मुख्य चिकित्सा व स्वास्थ्य अधिकारी कोण्डागांव टीआर कुँवर द्वारा मामले को गंभीरता से लेते हुए नेताम हॉस्पिटल कोण्डागांव को नोटिस जारी कर तीन दिवस के भीतर जवाब मांगा गया है।


07-May-2021 8:39 PM 18

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोण्डागांव, 7 मई। कोण्डागांव जिले का एक बड़ा हिस्सा पड़ोसी राज्य ओडिशा से लगा हुआ है, जो कि आंध्र प्रदेश और छत्तीसगढ़ के प्रवेश का मुख्य मार्ग माना जाता है। वहीं इन दिनों आंध्रप्रदेश में कोरोना का नया वैरिएंट मिलने से कोण्डागांव जिला में ओडिशा की ओर से आने वाले सभी वाहनों पर कड़ाई से प्रतिबंधित कर दिया है। कोण्डागांव के एसडीएम बीआर ध्रुव ने बताया, कलेक्टर के निर्देश पर उन्होंने ओडिशा बॉर्डर प्रवेश एरला नाका का 6 मई को निरीक्षण किया। यहां किसी के भी प्रवेश पर कोरोना जांच अनिवार्य किया गया है।


07-May-2021 7:59 PM 12

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोण्डागांव, 7 मई। भारतीय जीवन बीमा अभिकर्ता संघ के बैनर तले संघ के पदाधिकारियों का एक दल 5 मई को कोण्डागांव के कलेक्टर कार्यालय पहुंचा। यहां पहुंच कर संघ के माध्यम से जीवन बीमा व प्रीमियम प्वाइंट खोले जाने के संबंध में ज्ञापन दिया गया। इस बारे में संघ के संरक्षक कमलेश मोदी ने बताया, जीवन बीमा डाकघर पोस्ट ऑफिस बैंक आदि की तरह ही एक फाइनेंसियल संस्था है। इनसे जुड़े प्रीमियम प्वाइंट को 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ खोले जाने की अनुमति दी जाए, क्योंकि यदि किसी का प्रीमियम मिस होता है और उनके साथ कोई कैजुअल्टी होती है, तो उसका लाभ हितग्राही को नहीं मिल पाएगा।


07-May-2021 7:32 PM 15

कोण्डागांव, 7 मई। कोण्डागांव जिले अंतर्गत अलग-अलग गांव में रहने वाले 5397 ग्रामीण मजदूर ऑन रिकॉर्ड कोण्डागांव जिले से बाहर या छत्तीसगढ़ राज्य से बाहर मजदूरी के लिए पलायन किया है। इस बारे में जिला पंचायत कोण्डागांव के नोडल अधिकारी सीएल धु्रव ने बताया, कोण्डागांव जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले 5397 मजदूर बोर वाहन या अन्य कार्य के लिए कोण्डागांव से बाहर पलायन किया है, जिनमें से 97 मजदूरों का वापसी भी हो चुका है। इन्हें कोविड-19 प्रोटोकॉल के तहत कैरिनतीं में रखने के बाद समय अनुसार घर वापसी किया जा रहा है। वहीं उन्होंने आगे बताया जिले के अधिकांश मजदूर खेती के दौरान अपने घर वापसी करते हैं, जो खेती कार्य से नहीं जुड़े हैं उन मजदूरों को मनरेगा के तहत रोजगार दिलाया जाएगा।

 


07-May-2021 7:29 PM 15

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
कोण्डागांव, 7 मई।
आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष कोमल हुपेंडी ने राज्यपाल और मुख्यमंत्री को ईमेल के माध्यम से भेजे पत्र के द्वारा आग्रह किया है, कि कोरोना की तीसरी लहर से निपटने की तैयारी अभी से शुरू कर देनी चाहिए। ततसंबंध में उन्होंने आगे कहा कि गत वर्ष कोरोना की पहली लहर के बाद से ही देश और दुनिया के महामारी विशेषज्ञ कोरोना की दूसरी लहर के खतरे की आशंका से केंद्र सरकार को आगाह करते आ रहे थे, पर जब भारत में महामारी की दूसरी लहर अपने भयावह रूप में सिर पर आ खड़ी हुई तब, उसने केंद्र और राज्य सरकार की तैयारियों की पोल खोलकर रख दी।

आज जब हम कोरोना की दूसरी लहर का तांडव देख रहे हैं, तब देश दुनिया के महामारी विशेषज्ञ तीसरी और चौथी लहर की संभावना को खारिज नहीं कर रहे हैं। इसका सबसे दु:खद पहलू यह है कि हर नई लहर पहले के मुकाबले ज्यादा ताकतवर होगी। इसके लिए हमें अभी से महामारी के मद्देनजर स्वास्थ्य सुविधाओं को पुख्ता करना ही होगा। 

केंद्र सरकार टोटल बजट का लगभग दो फीसदी ही स्वास्थ्य के क्षेत्र में खर्च करती है, जो भारत जैसे विशाल देश में ऊँट के मुँह में जीरा के समान है। इस बजटीय प्रावधान को कई गुना बढ़ाना पड़ेगा, ताकि राज्यों को स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए आधारभूत संरचना हेतु केंद्र का योगदान मिल सके। इसी प्रकार राज्यों को भी अपने बजट का बड़ा हिस्सा स्वास्थ्य के क्षेत्र में खर्च करना होगा।

छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव के समय काँग्रेस ने स्वास्थ्य के क्षेत्र में बड़े बड़े वादे किए थे। स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव के यूनिवर्सल हेल्थ प्लान और सभी मेडिकल कॉलेज को मल्टी स्पेशलिटी हॉस्पिटल में परिवर्तित करने की योजना का क्या हुआ, किसी को पता नहीं। 

अब समय आ गया है कि सरकार अपने घोषणापत्र में किए वादे पूरा करें। कोरोना महामारी की तीसरी लहर से पहले प्रदेश के प्रत्येक ब्लॉक में कम से कम 50 बेड का ऑक्सीजन, वेंटिलेटर युक्त हॉस्पिटल बन जाना चाहिए। आपात स्थिति में सामुदायिक भवनों, छात्रावास, स्कूल आदि को हॉस्पिटल में परिवर्तित करने की पूर्व तैयारी की जानी चाहिए और इसके लिए बजट सुरक्षित रखना चाहिए। मेडिकल स्टॉफ की वर्तमान में भी कमी है, उसे तत्काल भरा जाना चाहिए और आपात स्थिति में कार्य करने के लिए प्रशिक्षित लोगों की टीम भी बनाई जानी चाहिए।
 


07-May-2021 7:28 PM 15

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
कोण्डागांव, 7 मई।
कोण्डागांव जिले के अंतर्गत ग्राम गिरोला के देवेन्द्र दिवान ने शांति फाउंडेशन समाज सेवी संस्था के कार्य से प्रेरित हो कर,अपने पिता की स्मृति मे जरूरत मंद परिवारों को सब्जियां बांटी।

शांति फाउंडेशन द्वारा लोगों की मदद को देखते हुए देवेंद्र दिवान ने भी फाउंडेशन की सहायता की। उनके द्वारा कोरोना के कारण लॉकडाउन में फसे जरूरत मदं परिवार की सहायता व कोरोना पीडि़त जरूरत मंदो के लिए सब्जियां दान की। जिसको फाउंडेशन के द्वारा सब्जी जरूरतमंदों में बाटा जा रहा है। 

इस दौरान फाउंडेशन के सभी सदस्य मौजूद रहे मुकेश यादव, बनकिन पाल, यतिन्र्द सलाम, अतुल सिंह ठाकुर, राहुल लिलहारे, पंकज बाकची, घंसु मानिकपुरी, मुकेश सोनी, अफराज खान, सत्यम धु्रव, राजेन्द्र धुर्वे।
 


07-May-2021 7:16 PM 14

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
कोण्डागांव, 7 मई।
कलेक्टर सह टास्क फोर्स अध्यक्ष पुष्पेंद्र कुमार मीणा व पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ तिवारी द्वारा 5 मई को जिला टास्क फोर्स की बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित की गई। 

इस बैठक में टास्क फोर्स के सदस्यों द्वारा सभी विकासखण्डों के नोडल अधिकारियों से कोरोना संक्रमण के कारणों के संबंध में विश्लेषण किया गया। इस दौरान टास्क फोर्स के सदस्यों द्वारा कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग के कार्य में सटीकता व तत्परता लाने हेतु व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने पर चर्चा की गयी। इस वीडियो कॉन्फ्रेंस में कलेक्टर ने सभी अधिकारियों को किसी मरीज के पॉजिटिव पाए जाने पर उससे निजी तौर पर संपर्क कर उससे कोरोना के उन तक पहुंचने के कारण की जांच करने के लिए निर्देश दिए। जिसके लिए जिला प्रशासन द्वारा नए दिशा-निर्देशों के अनुसार प्रश्नावली का निर्माण किया गया है। इस प्रश्नावली का प्रयोग कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग के लिए जाने वाले दलों द्वारा किया जाएगा। जिला प्रशासन का यह प्रयास रहा है कि कोरोना के कारणों की तह तक पहुंच संक्रमण फैलाने वाले कारकों को जानकर कोरोना फैलाने से रोका जाए। इसके लिए प्रतिदिन स्वास्थ विभाग द्वारा प्रयास किया जा रहा है। कलेक्टर ने कांटेक्ट ट्रेसिंग के लिए अधिकारियों के प्रयासों की सराहना की साथ ही कहा कि आने वाले दिनों में कोरोना को रोकने के लिए एक कांटेक्ट ट्रेसिंग, वैक्सीनेशन व एक्टिव सर्विलांस पर जोर देना होगा।

ज्ञात हो कि विगत दिनों स्वास्थ्य विभाग द्वारा कराए गए कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग के अनुसार पाया गया कि 3 मई को संक्रमित पाए गए मरीजों में 31 प्रतिशत मरीज केवल विवाह समारोह में सम्मिलित होने की वजह से संक्रमित हुए थे, जो कि सभी कारणों में सर्वाधिक था। इसके पश्चात प्राथमिक संपर्क में आने से 30 प्रतिशत, दुकानों तथा बाजारों व हॉस्पिटलों से 12 प्रतिशत, द्वितीयक कांटेक्ट से 13 प्रतिशत, यात्रा के कारण 2 प्रतिशत, 1.6 प्रतिशत मृत्यु संस्कारों में जाने से तथा 7 प्रतिशत लोगों में कोरोना का कारण अज्ञात रहा। इस प्रकार आंकड़ों को देखते हुए प्रशासन द्वारा लोगों को विवाह संस्कारों में ना जाने की अपील की है। केवल अत्यंत आवश्यक होने पर ही विवाह व मृत्यु संस्कारों में जाएं।
 


06-May-2021 8:48 PM 45

कोण्डागांव, 6 मई। कोण्डागांव जिले अंतर्गत विकासखंड केशकाल की कचारपारा निवासी 26 वर्षीय युवती को उसके ही मंगेतर ने 5 मई को पेट्रोल डालकर जिंदा जलाने का कोशिश की। इस घटना में युवती 80 फीसदी तक जलकर बुरी तरह से झुलस गई है, जिसके चलते उसे केशकाल के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से कोण्डागांव की जिला अस्पताल में दाखिल किया गया है। भर्ती रखी कोमरा ने बताया, उसके होने वाले पति अमित मंडावी ने नशे की हालत में उसे जिंदा जलाने की कोशिश करते हुए, उस पर पेट्रोल डालकर आग लगा दिया।


06-May-2021 8:47 PM 31

कोण्डागांव, 6 मई। सोशल मीडिया में ऐसे, तो हजारों लोग मनोरंजन के साधन के रूप में प्रयोग करते हैं, परंतु इस डिजिटल जमाने में सोशल मीडिया कई बार लोगों के जीवन में परिवर्तन का साधन बनकर उभरता है। इसी का एक उदाहरण 4 मई को सामने आया, जहां एक महिला द्वारा ट्विटर पर कोण्डागांव डिस्ट्रिक्ट एकाउंट को टैग करते हुए लिखा था कि कोण्डागांव विकासखंड के भगदेवा में एक परित्यक्ता महिला घर पर दो बच्चों के साथ निवास करती है। उसके पास खाने के लिए राशन व कोई भी आजीविका का साधन नहीं है। लॉकडाउन में उसे सहायता की आवश्यकता है।

इस ट्विटर पोस्ट को संज्ञान में लेते हुए कलेक्टर पुष्पेंद्र कुमार मीणा ने तत्काल विकासखंड के अधिकारियों को मौके पर जाकर महिला की सहायता हेतु निर्देशित किया गया। जिसके तहत 5 मई को जनपद पंचायत सीईओ अमित भाटिया द्वारा भगदेवा ग्राम पहुंच महिला से मुलाकात की गई। जमीनी स्तर पर जांच में पाया कि महिला के साथ ससुराल पक्ष की कहा सुनी के बाद महिला अकेले निवास कर रही है व उसके साथ दो बच्चे हैं, जिनमें ढाई साल की बेटी व डेढ़ साल का बेटा भी है।

इस पर सीईओ द्वारा महिला को 50 किलो चावल व एक हजार रुपये की तुरंत आर्थिक सहायता दी गई। साथ ही परिवार से भिन्न उसके लिए राशन कार्ड निर्माण की प्रक्रिया चालू कर दी गई। महिला को मुख्यमंत्री सुखद सहारा पेंशन योजना से भी जोड़ा जा रहा है। इस मदद के लिए महिला द्वारा कलेक्टर व प्रशासन को आभार व्यक्त किया गया।

जिन्होंने उसकी इस कठिन समय में सहायता के लिए हाथ आगे बढ़ाया।


05-May-2021 9:27 PM 20

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोण्डागांव, 5 मई। पश्चिम बंगाल में फैली हिंसा के विरोध में भाजपा देश भर में धरना दे रही है। इसी क्रम में छत्तीसगढ़ प्रदेश नेतृत्व के साथ-साथ जिला इकाई से लेकर सभी दस मंडलों के भाजपा कार्यकर्ताओं ने अपने अपने निवास से काली पट्टी बांधकर हाथों में ममता बनर्जी और तृणमूल कांगे्रस विरोधी तख्तियां लिए मंडल स्तर पर प्रदर्शन किया। पांच मई को दोपहर 2 से 5 बजे के मध्य कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए कार्यकर्ताओं ने अपने अपने घर के बाहर धरना प्रदर्शन किया। कार्यकर्ताओं ने हिंसा और हमलों की तीखी निंदा की।

 जिलाध्यक्ष दीपेश अरोरा ने कहा कि महामारी के दौरान जहां मानव समाज एक दूसरे की जान बचाने के लिए प्रयासरत हैं, वहीं पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के परिणाम के बाद ममता बनर्जी के संरक्षण में तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं, उपद्रवियों व गुंडों द्वारा भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ लगातार हिंसा, मारपीट, तोडफ़ोड़, आगजनी और उनकी हत्या की जा रही है, जो निंदनीय है।

भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष लता उसेंडी ने हिंसा पीडि़तों और मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि देते कहा कि भाजपा परिवार का प्रत्येक कार्यकर्ता बंगाल के भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ खड़ा है। सत्ता में आए हुए लोग इसी तरह राजधर्म की बजाय गुंडा धर्म की पालन करेंगे तो लोकतंत्र बचेगा ही नहीं। यह प्रजातंत्र के मानदंडों और मापदंडों के खिलाफ  है। टीएमसी को इस हिंसा को रोकना चाहिए।

इस दौरान नगर पालिका अध्यक्ष हेमकुवर पटेल, उपाध्यक्ष जसकेतु उसेंडी, मनोज जैन, गोपाल दीक्षित, तरुण साना, आकाश मेहता, रीता शुक्ला, जैनेंद्र सिंह ठाकुर, रौनक दीवान, प्रतोष त्रिपाठी, बंटी नाग, संतोष पात्र, अविनाश सोढ़ी, विश्वजीत, अभिषेक चौधरी, महेंद्र पारख, सुनील कोर्राम, विक्की रवानी, ओम प्रकाश, अविरल अरोरा, गुलशन दुआ, तिमिर प्रकाश, बिट्टू पाणिग्रही, प्रवीण जैन ने धरना दिया ।


05-May-2021 9:21 PM 18

कोण्डागांव, 5 मई। कलेक्टर पुष्पेंद्र कुमार मीणा की ओर से जारी आदेश अनुसार कोण्डागांव जिले में 5 मई की सुबह 6 बजे से लेकर 16 मई की रात 12 बजे तक के लिए लॉकडाउन 3.0 लागू किया गया है। इस बार लॉकडाउन में कई तरह की छूट दिए गए हैं, जिसमें मोहल्लों के किराना दुकानों को सुबह 6 से शाम 5 बजे तक खोले जाने की अनुमति दी गई है, इसके अलावा कृषि पेट्रोल पंप, स्वास्थ्य रसोई गैस आदि पर भी छूट दिया गया 


05-May-2021 9:15 PM 14

कोण्डागांव, 5 मई। भारतीय जनता पार्टी कोण्डागांव के माध्यम से 4 मई को सेवा ही संगठन अभियान-2 के तहत पं. दीनदयाल रसोई का भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष लता उसेंडी, नपा कोण्डागांव की अध्यक्ष हेम कुंवर पटेल व अन्य पदाधिकारियों की उपस्थिति में शुभारंभ किया गया। इसके तहत कोरोना संक्रमित व्यक्ति या परिवार जो भोजन बनाने में असमर्थ हैं, ऐसे जरूरतमंद लोगों को नि:शुल्क भोजन उपलब्ध करवाया जाएगा। जिलाध्यक्ष दीपेश अरोरा ने बताया, कि दोपहर के भोजन के लिए सुबह 9 बजे तक और रात्रि भोजन के लिए शाम 5 बजे तक जिलाध्यक्ष के मोबाइल नंबर 9424292015 व अन्य पदाधिकारियों के नम्बर पर सम्पर्क किया जा सकता है।


05-May-2021 6:50 PM 18

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
कोण्डागांव, 5 मई।
विगत दिनों जिले में राज्य शासन के निर्देशानुसार टीकाकरण का कार्य जिला प्रशासन द्वारा निरंतर किया जा रहा है। जिसके लिए सभी विभागों व जनप्रतिनिधियों के द्वारा लोगों को जागरुक कर टीके लगवाने हेतु प्रेरित किया जा रहा है। 

इसी क्रम में जिला पंचायत अध्यक्ष देवचंद मातलाम द्वारा प्रशासन की सहयोग के लिए जिन स्थानों पर टीकाकरण किया जाना है। उन ग्रामों में टीकाकरण के लिए लोगों को जागरूक करने सभाओं के माध्यम से जन जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। अब तक कोण्डागांव जिले के अंतर्गत 50 से अधिक ग्रामों में जिला पंचायत अध्यक्ष द्वारा सभाएं आयोजित की जा चुकी हैं। 

इसके तहत 3 मई को जिला पंचायत अध्यक्ष द्वारा जिले के सुदूर वनांचलों में बसे माडग़ाव के आश्रित ग्राम भंडारपाल व कुदाड़वाही, ग्राम पंचायत कुएँ के आश्रित ग्राम कुमुड़ व चेरबेड़ा, ग्राम पंचायत उमरादहा, ग्राम पंचायत होनहेड के आश्रित ग्राम घोडाझर, उपरचन्देली, उपरमुरवेंड,ग्राम पंचायत गढ़धनोरा के आश्रित ग्राम राँधा, तुमुसकोनाड़ी में दौरा कर लोगों को टीके के फायदे व कोरोना से बचाव की एकमात्र उपाय के रूप में टीके को बताते हुए लोगों को गोंडी भाषा में अधिक से अधिक टीका लगवाने की अपील करते हुए कहा कि गोंडी संस्कृति को बचाना हम सभी का कर्तव्य है। जिसके लिए टीकाकरण कराना अति आवश्यक है, ताकि हम सब जिंदा रहें और गोंडी संस्कृति को आगे बढ़ाएं। प्रशासन-शासन द्वारा नि:शुल्क टीका सभी को लगवाया जा रहा है। यह हमारी संस्कृति को बचाने का एक सफल प्रयास है। आज कई जनजातियां खत्म होने के कगार पर हैं। ऐसा ना हो कि हमारी गोंडी संस्कृति भी समाप्ति की ओर चली जाए। इसका हमें ख्याल रखना है। हम जिंदा रहेंगे तो ही हमारी संस्कृति भी जिंदा रहेगी, इसीलिए कोरोना का टीका अवश्य लागवाईये।

इससे पहले 2 मई को उनके द्वारा गौरगाँव, सिदावंड, गुडऱीपारा, प्रधानचेर्रा, अडेंगा, बाण्डापारा, एटे कोनहाडी, निरा छिंदली, ऊंदरी, सिंगनपुर, टाटीरास, गारका, गुलबापारा, बटराली, कोदोभाट पहुंच जागरूकता शिविर लगाया गया था। जहां ग्राम के पटेल, गायता, पुजारी, सरपंच, पंचगण, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, शिक्षक, मितानिन, वरिष्ठ जनों के साथ उन्होंने टीकाकरण के सम्बंध में चर्चा की थी। इस दौरान उनके साथ जनपद पंचायत सीईओ एसके नाग, तहसीलदार राकेश साहू, सीडीपीओ दीपेश बघेल सहित अन्य कर्मचारी व ग्रामीण जन उपस्थित रहे।

ज्ञात हो कि ग्रामों में विभिन्न माध्यमों से प्राप्त भ्रामक जानकारियों के कारण टीके के प्रति लोगों में डर का माहौल बन गया था। जिला पंचायत अध्यक्ष द्वारा चलाए जा रहे लगातार अभियान से सकारात्मक नतीजे सामने आते दिख रहे हैं। जिन-जिन गांवों में उनके द्वारा सभाएं की गई। वहां टीकाकरण का प्रतिशत बढ़ता हुआ दिखाई दे रहा है व वे ग्रामीण जो अब तक टीके के संबंध में जानकारी ना होने कारण विरोध कर रहे थे। उनके द्वारा भी टीकाकरण अभियान के लाभों को जानने के बाद उसका जोरों से सहयोग व प्रचार किया जा रहा है।
 


05-May-2021 6:27 PM 14

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
विश्रामपुरी, 5 मई। 
क्षेत्रीय विधायक संतराम नेताम ने हॉटस्पॉट एवं कंटेनमेंट जोन घोषित किए गए लोगों के घरों तक साग सब्जी एवं सूखा राशन पहुंचा रहे हैं।  
जिले में कोरोना की दूसरी लहर में शहरी क्षेत्र के अलावा ग्रामीण क्षेत्र में भी बड़ी संख्या में कोरोना पाजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ रही है। जिला प्रशासन के द्वारा जिले को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है वहीं शहरी क्षेत्र के अलावा ग्रामीण क्षेत्र के कई गांवों को भी हॉटस्पॉट घोषित किया गया है।  

बड़ेराजपुर ब्लॉक के ग्राम पलना में एक आरएमपी डॉक्टर, मारंगपुरी में एक बुजुर्ग तथा बैजनपुरी में एक पूर्व जनपद सदस्य की मौत से ग्रामीण क्षेत्र मे भी कोरोना का खौफ बढ़ गया है। वही पॉजिटिव मरीजों की लगातार संख्या बढऩे से जिला प्रशासन ने उन जगहों को चयनित करके हॉटस्पॉट घोषित किया है।  

हॉटस्पॉट क्षेत्र में किसी भी बाहरी लोगों का आना जाना मना है वही घर के लोग भी दवाई एवं अन्य अत्यावश्यक कार्य से ही बाहर निकल सकते हैं। ऐसी स्थिति में  विधायक ने अपने गृह ग्राम पालना एवं मारंगपुरी में भी पहुंचकर क्वारंटीन पर रह रहे लोगों के घरों में सूखा राशन हरी सब्जी के अलावा सेनेटाइजर मास्क इत्यादि पहुंचा रहे हैं। सोमवार एवं मंगलवार को विधायक ने केशकाल एवं विश्रामपुरी के ग्रामीण क्षेत्र में पहुंचकर लोगों की सहायता की है। 

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि जो संपन्न लोग हैं उन्हें  किसी प्रकार का दिक्कत नहीं होती किंतु जो लोग गरीब हैं उनके पास पर्याप्त राशन पानी नहीं होता जिससे उन्हें संकट का सामना करना पड़ता है। ऐसी स्थिति को देखते हुए उन्होंने ग्रामीण क्षेत्र में वाहनों में राशन पानी लेकर क्वॉरंटीन पर रह रहे गरीब लोगों के घरों में राशन पहुंचाने का कार्य कर रहे हैं। 
इसके अलावा उन्होंने ग्रामीण क्षेत्र में सरपंच एवं अन्य जनप्रतिनिधियों को भी बताया है कि जहां कहीं भी गरीबों को राशन पानी की जरूरत हो तो  उनसे संपर्क कर सकते हैं।
 


05-May-2021 6:13 PM 23

खेतों में ही खराब हो रही थी फसल

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

विश्रामपुरी, 5 मई। कोंडागांव जिले में लॉकडाउन के चलते शहरी क्षेत्रों में जहां सब्जी मार्केट पूरी तरह बंद है वहीं साप्ताहिक  बाजार नहीं लगने से लोगों को सब्जियां के लिए परेशान होना पड़ रहा है। ग्रामीण क्षेत्र में लोग सब्जियों के लिए साप्ताहिक बाजार पर ही निर्भर करते हैं। ग्रामीण सब्जियों के अलावा किराने एवं अन्य जरूरत के सामानों के लिए भी हाट बाजारों पर ही आश्रित रहते हैं। लॉकडाउन के बाद से हाट बाजार पूरी तरह बंद है ऐसी स्थिति में जहां लोगों को सब्जी नहीं मिल पा रही है वहीं किसानों को भी अपने खेतों में उगाई सब्जियों को बेचने की चिंता सता रही है।

बड़ेराजपुर की महिला  सरिता पटेल एवं विनीता पटेल ने कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए घर घर जाकर सब्जियां बेचने का कदम उठाया। उन्होंने बताया कि  उनके घर में टमाटर, बरबटी, लौकी एवं अन्य सब्जियों का उत्पादन होता है जिसे साप्ताहिक हाट बाजारों में बेचकर कुछ पैसा कमा लेती थीं। इस समय लाकडाउन के चलते पखवाड़े भर से  बाजार हाट बंद होने से हरी सब्जियां खेतों में ही सूख रही हैं जिसके चलते सब्जियों को तोडक़र टोकनी में भरकर आस-पास के गांव में पैदल घूमकर बेच लेती हैं।

वनीता एवं सरिता सिर पर सब्जी का बोझा रखकर 5-6 किलोमीटर पैदल चल लेती हैं। वे तीन सौ से चार सौ रुपये की सब्जियां बेच लेती हैं। सप्ताह में 2 से 3 दिन सब्जियां घुमा कर बेच रही हैं जिससे बाड़ी में पड़ी सब्जियां भी खराब नहीं होती वहीं इससे आमदनी भी हो जाती है। इन दिनों ग्रामीण क्षेत्र में कई महिलाएं  ऐसे ही सब्जियां बेच रही हैं।

महिलाओं के इस प्रयास से जहां ग्रामीणों को लॉकडाउन की स्थिति मे सही दाम पर घर पहुंच ताजी सब्जियां मिल रही है वहीं इससे लोगों को घर से बाहर नहीं जाना पड़ता।

 ग्रामीण आशाराम , जगदीश प्रसाद, ईश्वर लाल आदि ने बताया कि कोरोना काल में सब्जियों के लिए बाहर जाने मे डर लगता है वहीं पुलिस से पूछताछ का भी सामना करना पड़ता है। यदि हरी सब्जियां न मिले तो लोग दाल ,आलू बड़ी आदि से काम चला रहे हैं। ऐसी स्थिति में कोरोना काल मे महिलाओं का घर पर सब्जी पहुंचा कर बेचना प्रशंसनीय है।


04-May-2021 8:42 PM 21

कोण्डागांव, 4 मई। कोरोना महामारी के बीच ग्रामीणों में भय का माहौल व्याप्त है, जिसके चलते कोण्डागांव अंचल के ग्रामीण क्षेत्रों में मार्गों को अवरुद्ध किया जा रहा है। इसे लेकर कोण्डागांव के एसडीएम बीआर धु्रव ने कहा कि मार्ग अवरुद्ध करना गलत है, ऐसी स्थिति में किसी भी इमरजेंसी मेडिकल व्हीकल के फंसने के चांस रहते हैं। उन्होंने आम लोगों से अपील किया है कि मार्ग अवरुद्ध ना करें। यदि 5 से अधिक कोविड संक्रमित होने पर प्रशासन के माध्यम से क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित करते हुए मार्गों में बेरिकेट्स करने की कार्रवाई की जाएगी।


04-May-2021 8:41 PM 13

कोण्डागांव, 4 मई। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 4 मई को कोण्डागांव जिले अंतर्गत कार्यरत मितानिन, हेल्थ वर्कर, डिस्टिक प्रोजेक्ट मैनेजर, बीएमओ, आरएचओ, बीपीएम, व अन्य स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों का ऑनलाइन वीसी के माध्यम से बैठक लिया।

 इस बैठक में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मुख्य रूप से मितानिनों को कोरोना महामारी से निपटने के लिए दिए गए प्रशिक्षणओं का जायजा लिया। जिसके चलते मितानिनों को मिले प्रशिक्षण की बारी-बारी से मितानिनों से ही जानकारी ली गई।


04-May-2021 8:38 PM 19

कोण्डागांव, 4 मई। जिला मुख्यालय कोण्डागांव के बंधा तालाब के पास संचालित नेताम क्लीनिक के प्रसव कक्ष को 3 मई की देर शाम सील कर दिया गया है। इस बारे में कोण्डागांव के मुख्य चिकित्सा व स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. टीआर कुंवर ने बताया, बार-बार समझाइश के बाद भी नेताम क्लीनिक के द्वारा कोविड-19 मामलों पर लापरवाही करते हुए गर्भवती महिला का प्रसव करवाया गया, जिसकी जानकारी विभाग को भी नहीं दी गई। जिसके चलते नेताम क्लीनिक के प्रसव कक्ष को सील किया गया है। वहीं इस मामले पर नेताम क्लीनिक के डॉ. मनहरण नेताम ने बताया कि महिला को जब प्रसव के लिए लाया गया, तो उसकी स्थिति काफी नाजुक थी, जिसके चलते सबसे पहले उसका प्रसव करवाना उचित समझा गया।


04-May-2021 8:37 PM 23

कोण्डागांव, 4 मई। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष व कोण्डागांव के विधायक मोहन मरकाम ने 3 मई को कोण्डागांव के जिला अस्पताल आरएनटी पहुंचे। यहां पहुंच कर उन्होंने अस्पताल की व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। मरकाम ने ओपीडी में पहुंचे मरीजों का हालचाल जाना, साथ ही मरीजों को दिए जाने वाले भोजन को चख कर व्यवस्था का मुआयना किया। निरीक्षण के दौरान मोहन मरकाम ने कहा कि कोण्डागांव के अस्पताल व स्वास्थ्य सुविधाओं का निरीक्षण करना उनकी पहली प्राथमिकता है।


Previous123456789...3940Next