छत्तीसगढ़ » कोण्डागांव

Previous123Next
Date : 16-Oct-2019

जंगल से पीटीएस पहुंची चीतल फेंसिंग तार में फंस कर घायल 

कोण्डागांव, 16 अक्टूबर। जंगल से भटक कर आज वयस्क मादा चीतल नेशनल हाइवे 30 पर स्थित बोरगांव के बुनकर संस्था और पीटीएस कैंप के बीच काटेदार जाली में फंसकर घायल हो गया। सूचना मिलते ही वन विभाग के माध्यम से प्राथमिक उपचार के बाद जंगल सफारी रायपुर के लिए भेजा गया।

जानकारी अनुसार, एक वयस्क मादा चीतल भटकते हुए बोरगांव पहुंच गई। अकेले मादा चीतल को देख आवारा कुत्तों ने उस पर हमला कर दिया। चीतल पुलिस प्रशिक्षण केन्द्र (पीटीएस) की ओर भागने लगी, जिसे देख कर प्रशिक्षु जवानों ने उसे कुत्तों के झुंड से बचाया। लेकिन घबराई चीलत लगातार भाग रही थी, और भागते हुए पीटीएस कैंप व बुनकर संस्था के बीच नुकीले धारदार फेंसिंग तार में फंसा गई। घटना की सूचना मिलने के बाद उत्तर वन मंडल केशकाल (कोण्डागांव) के फरसगांव वन परिक्षेत्र अमला और पीटीएस के प्रशिक्षु जवानों ने मशक्कत के बाद चितल को नुकीले धारदार फेंसिंग तार के बीच से निकाला। 

इस संबंध में फरसगांव के वन परिक्षेत्र अधिकारी एमके यदु ने बताया कि, घायल मादा चीतल लगभग डेढ़ वर्षीय है, और आवारा कुतों के दौड़ाने से बोरगांव के पीटीएस कैंप के काटेदार तार से जख्मी हो गई है। इसका प्राथमिक उपचार पशु चिकित्सक विभाग के माध्यम से करवाया गया है। अब बेहतर उपचार के लिए जंगल सफारी रायपुर रेफर किया जा रहा है।  सहायक पशु चिकित्सक अधिकारी डीपी साहू ने बताया कि, धारदार जाली में फंसने से चीतल काफी चोटिल हो गई है। 
इससे शरीर के कई जगहों पर चोट पहुंचा है। इसका प्राथमिक उपचार के बाद उसे बेहतर उपचार के लिए अन्य स्थान पर भेजना जरूरी है था इस इसे उसे रिफर किया गया।

 


Date : 16-Oct-2019

पार्षद के माध्यम से अध्यक्ष चुनने के मामले पर गरमाई राजनीति, भाजपा ने दिया धरना, ज्ञापन

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोण्डागांव, 16 अक्टूबर।
छत्तीसगढ़ में निकाय चुनाव में अध्यक्षों का चुनाव सीधे मतदाताओं के माध्यम से ना होकर अब पार्षदों के माध्यम से चुनने के फैसले को लेकर छत्तीसगढ़ की राजनीति गरमाई हुई है। कोण्डागांव में भी इसका असर 16 अक्टूबर को देखने के लिए मिला। कोण्डागांव की भाजपा इस फैसले के विरोध में नगर के चैपाटी मैदान में एक दिवसीय धरना देकर राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपी। वहीं इस पूरे मामले पर गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है। 
धरना दे रहे भाजपा पदाधिकारियों बताया कि, छत्तीसगढ़ शासन के माध्यम से गठित मंत्रिमंडलीय उपसमिति ने शासन की मंशा के अनुरूप महापौर व अध्यक्ष का चुनाव अप्रत्यक्ष रूप से कराने की अनुशंसा की है। साथ ही निकाय चुनाव इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन के बदले बैलेट पेपर से कराने की सिफारिश भी की गई है। इन दोनों पर्व नियोजित सिफारिशों से अब इस बात का स्पष्ट खुलासा हो गया है कि, कांग्रेस सरकार इस चुनाव को गलत तरीके से प्रभावित करना चाहती है। शासक के इस निर्णय से सत्ता बल, धनबल और बाहुबल के जमकर दुरूप्रयोग का रास्ता खुलेगा और निसंदेह ऐसा ही कांग्रेस की सरकार करना भी चाहती हैे। इसके अलावा चुंकि निकायों में दल बदल विरोधी कानून भी लागू नहीं है। इससे प्रदेश में खरीद फरोख्त आदि की आशंका को भी बल मिलेगा। साथ ही सबसे महत्तपूर्ण नगरीय निकाय चनावों में मतदाताओं से अपना महापौर चुनने का अधिकार छीन लेने की कोशिश भी घोर आपत्तिजनक और निंदनीय है। 

पूर्व में भी पार्षद ही चुनते थे अध्यक्ष - ताम्रध्वज साहू
विभागीय बैठक और चित्रकूट विधानसभा उपचुनाव के लिए प्रचार में जा रहे छत्तीसगढ़ के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू 15 अक्टूबर को कोण्डागांव पहुंचे। यहां पहुंच कर उन्होंने प्रदेश सरकार के निकाय चुनाव के लिए, लिए गए फैसले पर अपना प्रतिक्रिया दिया। 

गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि, यह फैसला कोई एकाएक अचानक नहीं लिया गया है। इसके लिए सरकार ने पूरी परिस्थिति को देखा और सोच-विचार कर ही निर्णय लिया हैं। ऐसे चुनाव पहले भी होते थे, जिसमें पार्षद के माध्यम से ही अध्यक्ष चुने जाते थे। सरकार ने कहीं भी गलत तरीके से निकाय चुनाव को लेकर कोई निर्णय नहीं लिया है।

 


Date : 16-Oct-2019

मालगांव के किसानों को मिला मृदा स्वास्थ्य कार्ड

कोण्डागांव, 16 अक्टूबर। प्रधानमंत्री मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना अन्तर्गत खरीफ वर्ष 2019-20 कृषि विभाग के माध्यम से एक दिवसीय शिविर का आयोजन 15 अक्टूबर को ग्राम पंचायत मालगांव बाजार स्थल में किया गया। इस दौरान उपस्थित किसानो को जैविक खेती, मृदा सूक्ष्म तत्वों, जैव उर्वरकों, मृदा सुधार व उसके संतुलित उपयोगो के संबंध में विस्तार से बताने के साथ ही उन्हे प्रधानमंत्री मृदा स्वास्थ्य कार्ड का वितरण किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि जनपद सदस्य रामचंद नेताम, सरपंच सुकल बाई, उप सरपंच उदरन शोरी, वरिष्ठ कृषि अधिकारी जगदीश पाण्डे, ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी, जीआर नाग, खोमेश्वर साहू, बीटीएम योगेश्वर कुमार देवांगन, कृषक मित्र राजूराम बघेल, रामलाल मरकाम व कुल 130 किसान शामिल हुए।

 


Date : 15-Oct-2019

चेहल्लुम पर निकली ताजिया जुलूस

कोण्डागांव, 15 अक्टूबर। चेहल्लुम पर मंगलवार को इमाम हसन-हुसैन की शहादत को याद करते हुए ताजिया जुलूस निकाला गया। कोण्डागांव के इमाम बारगाह सरगीपालपारा से बस स्टैण्ड, मस्जिद चैक होते हुए जय स्तंभ चैक तक पारंपरिक अस्त्र-शस्त्रों के प्रदर्शन के साथ जुलूस निकाला गया। 

इस बारे में जानकारी देते हुए समीर हुसैन इरानी ने बताया कि, हजरत इमाम हुसैन और शौहदा ए कर्बला की याद में चेहल्लुम पर दुलदुल, अलम व मातमी दस्तों का जुलूस 15 अक्टूबर की दोपहर कोण्डागांव में निकाला गया। कर्बला में शहीद हुए हजरत इमाम हुसैन और उनके जांनिसार 72 साथियों के गम में मंगलवार को यहां जुलूसे चेहल्लुम मातमी सदाओं के साथ निकला। वहीं कोण्डागांव के विभिन्न स्थानों से चेहल्लुम का जुलूस निकला। इसमें बड़ी संख्या में शिया समुदाय के लोगों ने सीना जनी के साथ-साथ छुरियों और जंजीरों का भी मातम किया। कर्बला के शहीदों की याद में हुसैनाबाद में अकीदत मंदों ने हजरत इमाम हुसैन की शहादत के 40वें दिन चेहल्लुम कर इमाम हुसैन व उनके साथियों को याद कर श्रद्धाजंलि देकर उनका चालिसवां अकिदत के साथ मनाया गया। हुसैन मुझसे और मैं हुसैन से हूं इन शहादतों की याद के रूप में चेहल्लुम कर इमाम को लोग श्रद्धाजंलि देते हंै। कोण्डागांव में ओडिशा, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के दूर दराज से शिया समुदाय द्वारा चेहल्लुम में बड़े पैमाने पर पहुंच कर इमाम बारगाह से मातमी जुलूस -ए-अजा निकाल कर जाता है। 

 


Date : 15-Oct-2019

गिट्टी परिवहन करते 4 हाईवा जब्त

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोण्डागांव, 15 अक्टूबर।
'छत्तीसगढ़' की खबर का असर हुआ। डिप्टी कलेक्टर व प्रभारी खनिज अधिकारी धनंजय नेताम और सहायक खनिज अधिकारी गौतम नेताम ने आज तड़के कार्रवाई करते हुए 4 हाईवा को जब्त किया है।

जानकारी अनुसार, इन दिनों कोण्डागांव में रेत का अवैध खनन व परिवहन धड़ल्ले से चल रहा है। इसे लेकर 'छत्तीसगढ़Ó के 12 अक्टूबर के अंक में 'रेत के अवैध कारोबार को लेकर प्रशासन की चुप्पीÓ शीर्षक से प्रमुखता से खबर प्रकाशित किया गया था। इसके बाद 15 अक्टूबर की तड़के 5 बजे 4 हाईवा को अवैध गिट्टी परिवहन करते जब्त किया गया है।

इस बारे में जानकारी देते हुए डिप्टी कलेक्टर व प्रभारी खनिज अधिकारी धनंजय नेताम ने बताया कि, कलेक्टर नीलकंठ टीकाम के निर्देशन पर 15 अक्टूबर की सुबह खनिज विभाग की दल बना कर नेशनल हाईवे 30 से गुजरने वाले हाईवा ट्रक का जांच किया गया। जांच के दौरान कोण्डागांव में प्रिंस ढिल्लो, बनियागांव में नीलम सुराना और दहीकोंग में भोमा चौधरी के हाईवा को अवैध गिट्टी के साथ जब्त किया जा गया है। इसके अलावा रेत के अवैध कारोबार पर शिकंजा कसने के उद्देश्य से जोंदरापदर और किबाईबालेंगा रेत खदान का निरीक्षण किया गया। हालांकि यहां से खनिज अधिकारियों को खाली हाथ लौटना पड़ा। अधिकारियों के अनुसार अब अवैध कारोबार पर लगातार कार्रवाई जारी रहेगी।

 


Date : 15-Oct-2019

एकलव्य के उत्कृष्ट बच्चों को कलेक्टर ने किया सम्मानित

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोण्डागाांव, 15 अक्टूबर।
कलेक्ट्रेट के सभाकक्ष में आयोजित समय-सीमा बैठक में जिले के सुदूर गांव गोलावंड में स्थित एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय के छात्र-छात्राओं को कलेक्टर नीलकंठ टीकाम ने 15 अक्टूबर को सम्मानित किया।
 इन छात्राओं ने रायपुर के पं. दीनदयाल उपाध्याय ऑडिटोरियम में 11 अक्टूबर को आयोजित एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालयों के राज्य स्तरीय सांस्कृतिक उत्सव प्रतियोगिता के गायन विधा में उत्कृृष्ट प्रदर्शन किया था। इसके अनुसार एकल गायन में खिलेश्वरी ने प्रथम स्थान व समूह गायन में नम्रता, सुधारानी, दीपिका, संतोषी, नवीना, उमेश्वरी, मनीष व सोमारु के दल ने द्वितीय स्थान अर्जित किया। 

जानकारी हो कि, पूर्व में भी जगदलपुर में आयोजित संभाग स्तरीय सांस्कृतिक प्रतियोगिता में इन छात्रा को एकल गायन में प्रथम स्थान मिला था। इस प्रकार इस राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में प्रथम स्थान अर्जित करने वाले छात्रा खिलेश्वरी को 8 हजार रुपए नगद व समूह गायन में नम्रता और उनके साथियों को 15 हजार रुपए पुरस्कार दिए गए। 

समय सीमा के बैठक में कलेक्टर ने सभी छात्र-छात्राओं को जिला प्रशासन की ओर से स्मृति चिन्ह देकर उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। इस मौके पर छात्राओं ने कलेक्टर के समक्ष अपने गायन विधा का भी प्रदर्शन किया। इस दौरान सहायक आयुक्त आदिवासी विकास जीएस सोरी सहित सभी जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

 


Date : 15-Oct-2019

हाईवे पर बोलेरो की चपेट में बाइक चालक की मौत, दूसरा गंभीर

कोण्डागांव, 15 अक्टूबर। कोण्डागांव जिला से होकर गुजरने वाली नेशनल हाईवे 30 पर लगातार गंभीर हादसे और मौतों का सिलसिला थम नहीं रहा है। एक बार फिर 15 अक्टूबर की दोपहर सिटी कोतवाली अंतर्गत नेशनल हाईवे 30 दहीकोंगा में सड़क हादसा हुआ है। इस हादसा में बाईक चालक की मौके पर ही मौत हो गई है, वहीं बाइक सवार युवक गंभीर रूप से घायल हो गया है। घायल युवक का जिला अस्पताल में उपचार जारी है। उपचार कर रहे डॉ. केके सोरी के अनुसार घायल युवक के गंभीरता को देखते हुए उसे प्राथमिक उपचार के बाद हायर सेंटर रेफर किया जाएगा।

जानकारी अनुसार, केशरपाल भानपुरी निवासी परेश्वर बघेल (22) पिता बालमन बघेल अपने मित्र कुलेश्वर कश्यप (22) पिता हेमचंद कश्यप के साथ किसी निजी कार्य से कोण्डागांव आ रहे थे। कोण्डागांव आने से पहले दोनों युवक जैसे ही नेशनल हाईवे 30 दहीकोंगा पहुंचे, तो परेश्वर की बाइक सीजी 17 केएस 2428 से यू टर्न ले रहे बोलेरो सीजी 27 बी 0920 से टकरा गई। इस टक्कर से परेश्वर बघेल की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं कुलेश्वर कश्यप को सिटी कोतवाली टीआई राजेन्द्र मंडावी ने स्वयं से गंभीर हालत में जिला अस्पताल आरएनटी में दाखिल करवाया है। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, तेज रफ्तार से आ रही बाईक के सामने बोलेरो चालक ने अचानक यू टर्न ले लिया, जिसके चलते यह हादसा हुआ। कोतवाली पुलिस मामला पंजीबद्ध कर विवेचना कर रही है।


Date : 15-Oct-2019

शिल्पियों की बड़ी मांग हुई पूरी,  कच्चा माल आपूर्ति के लिए बैंक की स्थापना

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोण्डागांव, 15 अक्टूबर।
स्थानीय शिल्पकारों कच्चा माल आपूर्ति की समस्या को देखते हुए कलेक्टर नीलकंठ टीकाम ने कच्चा माल आपूर्ति बैंक की स्थापना करवाया है। इस बैंक के संचालन का जिम्मा शिल्प उद्योग सरकारी संस्थाओं को दिया गया है। अब पूर्व से संचालित संस्था शिल्प उद्योग सरकारी संस्थाओं के नाम 50 लाख रुपए की स्वीकृति पर 8 अगस्त को प्रथम किस्त की राशि 40 लाख रुपए संस्था को ऋण (ब्याजविहीन) के रूप में अनुदान दिया गया। इस प्रकार इस कच्चा माल बैंक की स्थापना से शिल्पकारों की एक बड़ी समस्या दूर हुई। स्थानीय शिल्पी अब शिल्प के रॉ-मटेरियल आसानी से मुख्यालय से ही प्राप्त कर सकते है जो बाजार मूल्य से कम दर पर सदैव उपलब्ध रहेगा। 

जानकारी अनुसार, अपनी बेजोड़ शिल्प कलाकृतियों के लिए कोण्डागांव देश-दुनिया में विख्यात है, यहां से निर्मित विभिन्न प्रकार के ढोकरा (बेलमेटल), लौह, मृत्तिका, बांस, तुम्बा इत्यादि शिल्प अपनी गढऩे की विशेषता के बलबूते कला व संस्कृति के क्षेत्र में ऊंचा दर्जा रखते है। लेकिन इसका दूसरा पहलू यह भी है कि जिले के पारम्परिक बेलमेटल घड़वा व लौह शिल्प के लिए कच्चे माल की उपलब्धता शिल्पकारों की प्रमुख समस्या रही है। क्योंकि इन कलाकृतियों के निर्माण के लिए लगने वाली सभी सामग्रियां स्थानीय स्तर पर उपलब्ध नहीं है जिन्हें स्थानीय शिल्पकार दूसरे स्थानों से मंगाते रहे है। यह सामग्रियां कभी-कभी न तो समय पर, न ही उचित मूल्य और मात्रा पर मिलती है। स्वाभाविक है इसका प्रभाव शिल्प निर्माण, लागत और मूल्य पर पड़ेगा। इस प्रकार कुल मिलाकर कारीगरो को समय व मांग के आधार पर मेहनत का वास्तविक मूल्य नहीं मिल पाता है।

इस संबंध में स्थानीय शिल्पकारों के माध्मय से शासन को विगत कई वर्षों से इस समस्या के बारे में अवगत कराया जा चुका है। इसे देखते हुए कलेक्टर नीलकंठ टीकाम ने इस समस्या को गंभीरता पूर्वक लिया गया और उन्होंने सर्वप्रथम पूर्व में निर्मित संस्था की कर्मशाला भवन का जीर्णोद्धार कराने के निर्देश दिए। ताकि कच्चा माल आपूर्ति बैंक की स्थापना की जा सके। इसके अलावा उनके निर्देशानुसार कच्चा माल आपूर्ति बैंक की संचालन के लिए राशि भी स्वीकृत की गई है।


Date : 15-Oct-2019

चुनावी रैली में आपत्तिजनक बयान दिया हरियाणा सीएम ने, युकां ने किया पुतला दहन

कोण्डागाांव, 15 अक्टूबर। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर एक चुनावी रैली में आपत्तिजनक बयान दिया है। उनके इस बयान के बाद बवाल मच गया है। कांग्रेस ने पलटवार करते हुए मुख्यमंत्री खट्टर से तुरंत माफी मांगने को कहा है। इसी विरोध की कड़ी में कोण्डागांव की युवा कांग्रेस के बैनर तले हरियाणा सीएम मनोहर लाल खट्टर का आज पुतला दहन किया गया।

 युवा कांग्रेस ने कोण्डागांव के कांग्रेस भवन से जुलूस रैली निकलकर खट्टर का बस स्टैण्ड में पुतला दहन किया। पुतला दहन के दौरान जिला कांग्रेस महामंत्री जेपी यादव, गीतेश गांधी, कपिल चोपड़ा, शहर महिला कांग्रेस अध्यक्ष तबस्सुम बानो, जिला युवा कांग्रेस अध्यक्ष विशाल शर्मा, रितेश पटेल, सौरभ आचार्य, विधानसभा अध्यक्ष नारायणपुर देवेंद्र कोर्राम, उपाध्यक्ष वरुण सेठिया, नंदू दीवान, हेमंत भोयर, शानू सेठिया, सरपंच सुखराम पोयाम, प्रवीण मिश्रा, कल्पेश दीवान, सोनिया पोयाम, देवसिंह, सालिक राम, हरि राम, सरपंच गंगाराम कोर्राम, विजय बघेल, पूर्व सरपंच बोदालाल मरकाम, रिंकू आचार्य सहित भारी संख्या में कांग्रेस मौजूद रहे।


Date : 15-Oct-2019

वापस लौटते मानसून से फसलों को नुकसान, दोहरी मार झेल रहे किसान
राज शार्दूल
विश्रामपुरी, 15 अक्टूबर (छत्तीसगढ़)।
लौटते मानसून से धान एवं मक्के की फसल को नुकसान हो रहा है। फसल पकने की कगार पर है किंतु कीट प्रकोप एवं बारिश से किसान चिंतित हैं। जिले में लगातार हो रही बारिश से धान एवं मक्का की खड़ी फसल को नुकसान हो रहा है। इस समय हो रही बारिश से अर्ली वैरायटी धान को ज्यादा नुकसान होते दिख रहा है। वहीं कहीं-कहीं मूसलाधार बारिश एवं तेज हवा किसानों पर मुसीबत बरपा रही है।।

अर्ली वैरायटी धान को ज्यादा नुकसान
लगातार बारिश से अर्ली वैरायटी धान को ज्यादा नुकसान हो रहा है। कई किसान जो कम समय में पकने वाली धान लगाते हैं इस समय लगातार हो रही बारिश से उन किसानों के धान खराब होने की संभावना बढ़ गई है। मौसम की मार के चलते किसान पकी हुई धान की फसल को भी नहीं काट पा रहे हैं। बारिश से खेतों में पानी भर गया है किसान बार-बार खेतों से पानी की निकासी के लिए कोशिश में लगे हैं किंतु लगातार हो रही बारिश से खेत में पुन: जल भराव की स्थिति निर्मित हो रही है। ऐसी स्थिति में पके हुए धान को सबसे ज्यादा खतरा दिख रहा है।

दोहरी मार झेल रहे किसान
किसान पकी हुई धान को काटने की तैयारी में हंै, किंतु चाह कर भी धान नहीं काट पा रहे। यदि किसी तरह धान काट भी ली जाए तो बारिश होने से साल भर की मेहनत खराब हो जाएगी। वहीं धान को नहीं काटने से कीट प्रकोप का खतरा है। इस समय धान की फसल को बारिश की जरूरत नहीं होती है। केशकाल, बेड़मा, कोरगांव, विश्रामपुरी, सलना गमरी बडेराजपुर माकड़ी आदि क्षेत्र में इस समय बारिश से फसलों को नुकसान होते दिखाई दे रहा है

फसलों में कीट प्रकोप 
इस समय धान की खड़ी फसल को कीट प्रकोप से खतरा बना हुआ है। कटुआ एवं माहों से किसान परेशान है। कई किसानों को इस समय खेतों में कीटनाशक दवाओं का छिडक़ाव करते हुए देखा जा सकता है। मारंगपुरी के किसान लक्ष्मण नेताम, महेश मरकाम एवं लखमा नेताम ने बताया कि उनके खेतों में कटुआ का प्रकोप हुआ है ।उन्होंने खेत में गिरे हुए बालियों को दिखाते हुए कहा कि इस समय उनके साल भर की कमाई मिट्टी में मिलते हुए दिख रहा है। जिससे वह बेचैन हैं। किसानों ने बताया कि कटवा एवं माहो बेहद खतरनाक बीमारी है। जो एक-दो दिन में ही खेतों को सफाचट कर देती है।  धान में कटुआ होने से जहां धान की बालिया़ कटकर खेत में ही गिर  जाती है वही माहो धान का रस चूस लेती है जिससे धान बदरा हो जाता है।

खेतों में गिरे धान
कहीं कहीं मूसलाधार बारिश एवं तेज हवा के चलते धान खेत में गिरे हैं जहाँ खेतों में भरे पानी एवं बारिश से फसल खराब होने की आशंका है। वहीं कीटप्रकोप का भी खतरा बना हुआ है। यह किसानों के लिए बड़ी मुसीबत है कि न तो इस समय अधपके धान को काटा जा सकता है न ही कीटनाशक दवाओं का उस पर छिडकाव किया जा सकता है।

बडेराजपुर एवं केशकाल क्षेत्र के ग्रामीण किसानों ने बताया कि वे प्रतिवर्ष एक दूसरे किसानों से सलाह लेकर ही खेतों में कीटनाशक दवा का प्रयोग करते हैं। कृषि विभाग के अधिकारी न तो कभी मिलते हैं न ही वह खेतों की तरफ दिखाई देते हैं। कई बार किसानों को उचित सलाह नहीं मिलने से फसल एवं पैसे की बर्बादी होती है।

 


Date : 14-Oct-2019

संयुक्त योजनाओं से किया जाएगा चुरेगांव का समग्र विकास- कलेक्टर

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोण्डागाांव, 14 अक्टूबर।
अनुविभाग केशकाल के अंतिम सीमा पर बसे गांव चुरेगांव का कलेक्टर नीलकंठ टीकाम ने दौरा किया।

ज्ञात हो कि  कोण्डागांव जिला का यह गांव अंतिम सरहदी गांव है, और इस गांव से नारायणपुर व कांकेर की सीमा लगभग जुड़ी हुई है। जिला का अंतिम गांव होने के बावजूद विगत् दो वर्षों में कलेक्टर की विशेष पहल पर इस क्षेत्र में पुल-पुलिया, रोड सहित अन्य अधोसंरचनात्मक निर्माण कार्यों का विकास हुआ है। अब जिला प्रशासन के माध्यम से मयूरडोंगर, चारगांव क्लस्टर की तर्ज पर चुरेगांव में भी वन अधिकार पट्टाधारी कृषकों के लिए भूमि समतलीकरण, कुआं, तालाब, डबरी निर्माण, उन्नत कृषि उद्यानिकी, पशुपालन, मुर्गी पालन आदि विभागीय योजनाओं के संयुक्त क्रियान्वयन के लिए कार्ययोजना बना ली गई है। इसके लिए गांव चुरेगांव में ही 80 हितग्राहियों के 230 एकड़ भूमि का चयन कर लिया गया है। 
इस मौके पर ग्रामीणों से रुबरु होते हुए कलेक्टर नीलकंठ टीकाम ने कहा कि, पुरानी विचारधारा को छोड़ते हुए अब आर्थिक समृद्धि सम्मान व स्वाभिमान के साथ जीविकोपार्जन करने का समय आ गया है। वन संसाधन व ग्रामीणों का आपसी रिश्ता संरक्षण का है परन्तु सिर्फ वनोपजो के सहारे जीवन-यापन नहीं किया जा सकता है। अब इन वनों से ही अतिरिक्त आय के स्त्रोत ढूढंने होंगे। 

कलेक्टर ने इस दौरान कौशल विकास की आवश्यकता पर जोर देते हुए कहा कि, महिलाओं और युवाओं का स्व-सहायता समूह बनवाकर उन्हें विभिन्न ट्रेड जैसे सीमेंट पोल, तार फेंसिंग, फ्लाई एश ब्रिक्स, डिजाइनर चुड़ी, एलईडी बल्ब निर्माण कार्य का प्रशिक्षण सत्र प्रारंभ करवाया गया है। इसी प्रकार अब हैण्डलूम (हथकरघा) को भी आजीविका के नए स्त्रोत के रुप में प्रस्तुत किया गया है। 

इस मौके पर विभिन्न विभागों जैसे उद्यानिकी, कृषि, पशुधन, कौशल विभाग के माध्यम से अपने-अपने विभागीय योजनाओं की जानकारी देते हुए इसमें भागीदारी की अपील की गई। कलेक्टर के साथ चुरेगांव में जिला पंचायत सदस्य लद्दूराम उईके, पूर्व सदस्य मनहेर कोर्राम, एसडीएम दीनदयाल मण्डावी, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास जीएस सोरी, सहायक संचालक (कृषि) बालसिंग बघेल, कार्यपालन अभियंता (पीएमजेएसवाय) अरुण शर्मा सहित जिले की दूरस्थ सीमा पर स्थित सवालवाही, कावागांव, बुइकीजुगानार जैसे गांव के ग्रामीण भी बड़ी संख्या में शामिल रहे।

 


Date : 14-Oct-2019

सहायक संचालक ने किया ई-साक्षरता केन्द्र का निरीक्षण

कोण्डागाांव, 14 अक्टूबर। राज्य साक्षरता मिशन प्राधिकरण के संचालक एस प्रकाश के निर्देशन में प्रदेश के शहरी क्षेत्र में डिजिटल साक्षरता के लिए मुख्यमंत्री शहरी कार्यात्मक साक्षरता कार्यक्रम प्रारम्भ किया गया है। कोण्डागांव में कलेक्टर नीलकंठ टीकाम के आदेशानुसार और जिला पंचायत सीईओ नुपुर राशि पन्ना के मार्गदर्शन में ई-साक्षरता केन्द्र आश्रय स्थल में संचालित है।

विगत 10 अक्टुबर को राज्य साक्षरता मिशन प्राधिकरण सहायक संचालक दिनेश कुमार टांक ने नगर के ई-साक्षरता केन्द्र का निरीक्षण किया। टांक ने न केवल शिक्षार्थियों से डिजीटल साक्षरता की आवश्यकता व उद्देश्यो पर चर्चा की अपितु शिक्षार्थियों को साक्षरता संबंधी विभिन्न गीत भी सीखाए। इस दौरान डीपीओ संजय कुमार राठौर, बीपीओ डीएस पोटाई, वेणुगोपाल राव, स्त्रोत शिक्षक दीपक प्रकाश, अनुप श्रीवास्तव, गुडिया राम नेताम, ई-एजुकेटर सुन्दर रेड्डी सहित समस्त शिक्षार्थी उपस्थित रहे।

 


Date : 14-Oct-2019

आईटीबीपी के एसआई ने रक्तदान कर बचाई बच्चे की जान

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोण्डागाांव, 14 अक्टूबर।
भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल 29वीं वाहिनी में पदस्थ सब इंस्पेक्टर राजीव दीक्षित ने कोण्डागांव के जिला अस्पताल आरएनटी में 16 वर्ष के बीमार किशोर को रक्त देकर उसे जीवनदान दिया है। 

जानकारी अनुसार, विकासखण्ड माकड़ी खुटगांव निवासी शंकर दास के पुत्र चरण दास (16) को गंभीर हालत में  जिला अस्पताल आरएनटी में भर्ती किया गया है। उपचार कर रहे डॉक्टरों के अनुसार चरणदास को खून की अत्यंत आवश्यकता थी, लेकिन उसका रक्त समूह ओ नेगेटिव होने से काफी परेशानी हो रही थी और बिना रक्त के चरण का इलाज भी संभव नहीं था। ऐसे में चरण के परिजनों ने भारतीय तिब्बत सीमा पुलिस बल 29वीं वाहिनी से रक्त के लिए संपर्क किया।

भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल 29वीं वाहिनी के सेनानी समर बहादुर सिंह को जैसे ही मामले की जानकारी लगी, उन्होंने 29वीं वाहिनी के तैनात सब इंस्पेक्टर राजीव दीक्षित को ओ नेगेटिव रक्तदान के लिए अस्पताल भेजा। सब इंस्पेक्टर राजीव दीक्षित ने भी जरूरत को समझते हुए बिना देर किए रक्तदान कर बच्चे की जान बचाई। इसके बाद से बच्चे के स्वास्थ्य में सुधार भी हो रहा है। 

जानकारी हो, भारत तिब्बत सीम पुलिस बल 29वीं वाहिनी कोण्डागांव और नारायणपुर में नक्सल विरोधी दमन अभियान में शामिल है। वे समय-समय पर अपने एओआर में आम गरीब जनता के लिए मेडिकल कैंप व अन्य आवश्यकतानुसार सिविक एक्शन कैंप लगाकर जनता की सेवा में तत्पर रहते हैं। 
बस्तर की खबरें पेज 7 पर भी

 


Date : 14-Oct-2019

मोदे-बेडमा को मोदे पंचायत से अलग करने की मांग, कलेक्टर को ज्ञापन 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
फरसगांव, 14 अक्टूबर।
कल ग्राम पंचायत मोदे के ग्रामीणों ने कोंडागांव कलेक्टर को ज्ञापन सौंप मोदे-बेडमा को मोदे पंचायत से अलग करने की मांग की।

फरसगांव विकासखंड में 9 नवीन ग्राम पंचायतों का गठन किया गया है। पूर्व में विकासखंड में कुल 59 पंचायतें हुआ करती थीं, पर अब 9 नए पंचायत बनने के बाद अब ग्राम पंचायतों की संख्या 68 हो गई है। इसके बाद से कहीं-कहीं विरोध के स्वर उठने लगे हैं। ग्राम पंचायत मोदे के ग्रामीण कल कोंडागांव कलेक्टर नीलकंठ टेकाम के बंगले में पहुंच ज्ञापन सौंपा, जिसमें मोदे-बेडमा को मोदे पंचायत से अलग करने की मांग की गई है।

 विदित हो कि नवीन पंचायत कन्हारगांव गठित होने के बाद मोदे-बेडमा गांव को शामिल किया है, किन्तु मोदे-बेडमा के ग्रामीण कुछ दिन पहले ही जिले के कलेक्टर नीलकंठ टेकाम से मिले तथा पूर्व के पंचायत मोदे में ही अपने आप को यथावत रखने की मांग की।

 अब ग्राम पंचायत मोदेवासियों ने भी कलेक्टर कोंडागांव से गुहार लगाई है कि मोदेबेडमा वासियों को हम पंचायतवासी अपने पंचायत में नहीं रखना चाहते, क्योंकि उनके द्वारा जमीन-जंगल को उजाड़ा जाता है, उन्हें नवीन पंचायत कन्हारगांव में ही शामिल किया जाए, क्योंकि कन्हारगांव और मोदेबेडमा दोनों पास-पास हैं।

 इधर नवीन पंचायत कन्हारगांव के ग्रामीणों का कहना है कि मुख्यालय कन्हारगांव होगा, तब ही नवीन पंचायत स्वीकार होगा अन्यथा पूर्व के ही पंचायत मोदे में ही रहना बेहतर होगा। कन्हारगांव की जनसंख्या लगभग 650 से अधिक है, इसलिए इसका मुख्यालय भी यही होगा।

 ज्ञापन सौंपने के दौरान मुख्य रूप से निर्मल नाग, लक्ष्मी भारद्वाज, देवसिंग, बलराम, सत्यप्रकाश, चादर पटेल, बिसरू, जगतु, भारत, दिनेश, उमाकांत, राहुल, सुखबति, शांति, भागमती, सविता सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे

 


Date : 13-Oct-2019

गुम बच्चे को दो घंटे में पुलिस ने पिता से मिलाया 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोण्डगाांव, 13 अक्टूबर।
सिटी कोतवाली कोण्डागांव अंतर्गत प्रेमनगर में रहने वाला 4 साल का मासूम आज सुबह भटक कर नेशनल हाईवे 30 के पास पहुंच गया। मासूम पर पुलिस की पर नजर पड़ी। इसके बाद पुलिस ने मासूम को महिला जवानों के साथ कोतवाली के बाल मित्र कक्ष में रखा। मासूम इतना छोटा था कि, वह अपने घर का पता नहीं बता पाया। ऐसे में लगभग 2 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने बच्चे के परिवारीजनों को ढूंढ निकाला और उसके परिजनों के हवाले किया। 

जानकारी अनुसार, रविवार की सुबह लगभग 9 बजे सिटी कोतवाली के पास एक बच्चा साइकिल चलाता हुआ मिला। बच्चे से जब उसके परिजनों के बारे में पूछा गया तो वह कुछ बता नहीं सका। जिसके बाद पुलिस अधिकारियों ने बच्चे के परिजनों की तलाश शुरू की। पुलिस की खोज के बाद बच्चा पुलिस आरक्षक फूल सिंह का ही पुत्र ज्ञात हुआ। फूलसिंह की पदस्थापना जिला कलेक्टर कार्यालय में है और वह जब अपने बेटे की खोज में सिटी कोतवाली पहुंचा तो अपने बेटे को सुरक्षित देख कर काफी खुश हुआ। उसने पुलिस अधिकारियों और जवानों को धन्यवाद दिया। 

 


Date : 13-Oct-2019

केशकाल में अड़ेंगा से निकाली गांधी विचार यात्रा

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोण्डगाांव, 13 अक्टूबर।
गांधी विचार यात्रा के तीसरे दिन विधानसभा क्षेत्र केशकाल के अड़ेंगा से निकाली। इस पदयात्रा में गांधी जी के विचार दर्शन पर ग्रामीणों से चर्चा की गई। 

इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष देवचंद मतलाम, प्रदेश सचिव सगीर अहमद कुरैशी, ब्लॉक कॉग्रेस अध्यक्ष गिरधारी सिंहा, राजेन्द्र ठाकुर, युवा कांग्रेस के प्रदेश सचिव श्रीपाल कटारिया, एनएसयूआई के प्रदेश सह सचिव कौनेन अहमद कुरैशी, युवा कांग्रेस के ब्लॉक अध्यक्ष शुभम राणा, रोहित कटारिया, रवि गोयल, शिवदयाल नेताम, चिंता राम पटेल, सरपंच प्रेम सागर नाग, युवा कांग्रेस के नगर अध्यक्ष वसीम शेख, अशोक पटेल, विहान नाग, तौफीक मेमन, रुपेश धु्रव, पंकज रजक, हरिवंश सूर्यवंशी, बंटी यादव, हमेश बघेल, लतेश पाण्डे, खिलेंद्र बघेल सहित अनेक ग्रामीण शामिल हुए।

 


Date : 13-Oct-2019

जनपद पंचायत ने निकाली गांधी विचार यात्रा

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोण्डगाांव, 13 अक्टूबर।
ग्राम पंचायत नरिहा के राजाबेड़ा स्कूल प्रांगण में जनपद पंचायत कोण्डागांव प्रभारी मुख्य कार्यपालन अधिकारी चैतन धु्रव के नेतृत्व में रविवार को गांधी विचार यात्रा का आयोजन किया गया। इसमें ग्राम के स्कूली बच्चे, सरपंच, पंच, गायता, पुजारी, महिला समूह के सदस्य व ग्रामीण भारी संख्या में उपस्थिति रहे। इसमे गांधी के प्रिय भजन का गायन करते हुए गल्लियों में भ्रमण किया गया। 

छात्रा गुदराम के माध्यम से गांधी का वेष धारण किया गया, जो आकर्षण का केन्द्र रहा। ग्रामीणों ने भ्रमण के दौरान पूजा अर्चना कर उन्हें 1120 रुपए भेंट प्रदान किया। इसके बाद मुख्यमंत्री की लोकवाणी को रेडियों के माध्यम से श्रवण किया गया।

आयोजित सभा में वाद-विवाद, गीत, रंगोली, रस्सी खीच, मटका फोड़ और गांव के महिला-पुरूषों द्वारा पारंपरिक रेला पाटा का न्रत्य किया गया। रंगोली में राधिका व साथी, वाद-विवाद में रूपसिंह व साथी, रस्सी खीच में दशाय बाई व साथी ने भाग लिया। इसी तरह अन्य कार्यक्रमों में ग्रामीणों ने बड़चड कर हिस्सा लिया। पंचायत द्वारा सभी प्रतिभागियों को ईमान दिया गया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से करारोपण लोमेन गौतम, मेघनाथ मरकाम, सचिव गुलाब सार्वा, जनपद सदस्य समलू राम नेताम, गांव के मुख्या दशरू, रामसाय, काहरू, गुदराम भी उपस्थिति रहे। 

 


Date : 13-Oct-2019

कलेक्टर ने महिला स्वसहायता समूह के साथ सुनी लोकवाणी

कोण्डगाांव, 13 अक्टूबर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की रेडियो वार्ता लोकवाणी का श्रवण आज कोण्डागांव के सामुदायिक भवन में कलेक्टर नीलकंठ टीकाम ने स्थानीय स्वसहायता समूह की महिलाओ की उपस्थिति में श्रवण किया। 

रेडियो वार्ता मे मुख्यमंत्री ने सर्वप्रथम प्रदेश की आराध्य देवियो का स्मरण करते हुए छत्तीसगढ़ को मातृ शक्तियो की भूमि बताया। इसके साथ ही उन्होने सम्पूर्ण प्रदेश मे पोषण और मातृत्व के विषय पर प्रकाश डालते हुए कहा कि, छत्तीसगढ़ मे 15 से 49 वर्ष की महिलाए एनिमिया से पीडि़त है। चुकि 18  साल से कम से कम 35 साल की उम्र तक आम तौर पर गर्भवती माताओ को एक बड़ी जिम्मेदारी निभानी पड़ती है। राज्य चिकित्सा अमले को बढ़ाने के लिए बड़े पैमाने पर विशेषज्ञ डॉक्टरों, स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं स्टॉफ नर्सों व अन्य डाक्टरों की भर्ती प्रक्रिया शुरू की जाएगी। इसके साथ ही उन्होंने आगामी दीपावली के लिए प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं दी।

 

 


Date : 13-Oct-2019

 थल सेना जवान की सड़क हादसे में मौत

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोण्डगाांव, 13 अक्टूबर।
थल सेना जवान की सड़क हादसे में मौत हो गई है। युवक कोण्डागांव के ग्राम पंचायत खण्डाम का रहने वाला है। 

जानकारी अनुसार, कोण्डागांव के खण्डाम गांव का निवासी भिबीचंद कोर्राम थलसेना में बतौर आरक्षक पदस्थ है। रविवार को भिबीचंद कोर्राम हैदराबाद से अपना प्रशिक्षण पूरा कर खण्डाम स्थित घर लौटा था। आज ही घर लौटे भिबीचंद दोस्तों से मिलने के लिए काफी उत्सुक था। ऐसे में उसने मिठाई की दूकान से मिठाई भी खरीदा था। इसके बाद वह जैसे ही फरसगांव की ओर अपनी बाइक से रवाना हुआ, कोण्डागांव की ओर से आ रहे ट्रक की चपेट में आ गया। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। 

परिजनों के अनुसार, मृत जवान कुछ माह पूर्व भारतीय थल सेना में बतौर आरक्षक भर्ती हुआ था। इसके बाद से वह हैदराबाद में सेना के तौर-तरीकों का प्रशिक्षण ले रहा था। प्रशिक्षण पूरा कर मृत जवान आज घर लौटा था, यहां लौटने के बाद अपने मित्रों से मिलने के लिए गांव से निकला ही था कि, कोण्डागांव से कुछ दूर नेशनल हाईवे 30 पर नारायणपुर तिराहा में उसकी बाइक सामने से आ रहे ट्रक से टकरा गई। 

प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो, घटना के तत्काल बाद मामले की सूचना सिटी कोतवाली पुलिस समेत यातायात पुलिस को दे दी गई थी। यातायात पुलिस की बात की जाए तो, घटना के लगभग 45 मिनट के बाद वह मौके पर पहुंची। सिटी कोतवाली टीआई राजेन्द्र मंडावी का कहना है कि, वे सड़क हादसे वाले ट्रक को पकडऩे में व्यस्त थे। इसके चलते घटनास्थल पर कुछ देरी से पहुंचे हैं। 

 


Date : 12-Oct-2019

कुपोषण को हराना वर्तमान समय की सबसे बड़ी स्वास्थ्य चुनौतियों में से एक है

कोण्डागांव, 12 अक्टूबर। अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस और राष्ट्रीय साक्षरता दिवस के अवसर पर कलेक्ट्रेट स्थित सभागार में 11 अक्टूबर को एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया था। 

कार्यशाला में कलेक्टर नीलकंठ टीकाम ने कहा कि कुपोषण को हराना वर्तमान समय की सबसे बड़ी स्वास्थ्य चुनौतियों में से एक है। इस चुनौती को स्वीकार करते हुए प्रत्येक शून्य से पांच वर्ष तक के बच्चों और गर्भवती महिलाओं सहित 15 से 49 वर्ग आयु की महिलाओं को कुपोषण एवं एनीमिया से मुक्त कराने के लिए मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के रुप में एक महायज्ञ प्रारंभ हुआ है और आगामी तीन वर्षो में पूरे प्रदेश को कुपोषण से मुक्ति दिलाने की शुरुवात हो गई है। 

कार्यशाला में जिले के चयनित 25 गांव पंचायतों के आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सक्रिय स्व-सहायता समूह, सुपोषण मित्रो को सुपोषण अभियान को सफल बनाने की रणनीति से अवगत कराया गया। इसके अलावा कार्यशाला में निबंध, चित्रकला में भाग लेने वाली छात्राओं एवं सुपोषण अभियान के उत्कृष्ट क्रियान्वयन के लिए मैदानी कार्यकर्ताओं को सम्मानित किया गया। इनमें चित्रकला प्रतियोगिता में झामिन साहू, संजूलता कश्यप, सोनिया साहू, कशिश पोयाम, निबंध प्रतियोगिता में दीप शिखा साहू, कल्पना साहू, भारती धृतलहरे, प्रियंका कोर्राम, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता रीता कश्यप, पार्वती यादव, बती बघेल के नाम शामिल हैं। 

महिला स्व-सहायता समूह को मिलेगा 50 हजार का पुरस्कार
जानकारी हो, हसलनार गांव में पदस्थ आंगनबाड़ी कार्यकर्ता रीता बघेल ने अपने आंगनबाड़ी केन्द्र के 6 गंभीर कुपोषित बच्चों के स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान देकर उन्हें सामान्य श्रेणी में लाकर उत्कृष्ट कार्य किया है। इस दौरान कलेक्टर ने घोषणा किया कि आगामी छह माह के भीतर जिले की महिला स्व-सहायता समूह द्वारा अपने सदस्य महिलाओं को एनीमिया मुक्त करने पर 50 हजार की पुरस्कार राशि दी जायेगी।

 इसके अलावा स्कूलों और महाविद्यालयों में अध्ययनरत छात्राओं को भी एनीमिया मुक्त करने पर संस्थाओं को भी पुरस्कृत किया जाएगा। इस मौके पर सीईओ जिला पंचायत नुपूर राशि पन्ना, एसडीएम पवन कुमार प्रेमी, डिप्टी कलेक्टर डीआर ठाकुर, सीएमएचओ डॉ. एसके कनवर, जिला शिक्षा अधिकारी राजेश मिश्रा, परियोजना अधिकारी इमरान अख्तर सहित आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, स्व-सहायता समूह की महिलाएं, स्कूली छात्राएं उपस्थित रही।


Previous123Next