छत्तीसगढ़ » कोरबा

Previous123Next
Date : 16-Oct-2019

मंदी के खिलाफ प्रदर्शन कर बीसीपीपी व बंद प्लांट चालू करने की मांग

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोरबा, 16 अक्टूबर।
देश में फैलती मंदी से निपटने में मोदी सरकार की विफलता, अर्थव्यवस्था की बर्बादी और आम जनता की बदहाली के खिलाफ वामपंथी पार्टियों के राष्ट्रव्यापी आह्वान पर कोरबा में माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी  अभियान चला कर तानसेन चौक में धरना प्रदर्शन कर कलेक्टर के माध्यम से प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। माकपा नेता प्रशांत झा ने कहा कि नोटबंदी, जीएसटी और एफडीआई के दुष्परिणाम अब सामने आने लगे हैं। 

देश में जीडीपी की दर में भारी गिरावट आने से स्पष्ट है कि उद्योग-धंधे और खेती-किसानी दोनों चौपट हो गए हैं, जिससे पिछले ढाई सालों में ही चार करोड़ लोग अकल्पनीय ढंग से बेरोजगार हो गए हैं। आम जनता की क्रयशक्ति में गिरावट आना ही इस मंदी का मुख्य कारण है। मंदी से निपटने के नाम पर इस सरकार ने कॉर्पोरेटों और धनी तबकों को करों में छूट के रूप में जो बेल-आउट पैकेज दिया है, उससे एक सप्ताह में ही उनकी तिजोरी में 13 लाख करोड़ रुपये जमा हो गए हैं, जबकि जरूरत सार्वजनिक कल्याण कार्यों में निवेश के जरिये रोजगार पैदा करके मांग बढ़ाने की थी। इसके उलट वह निजीकरण-विनिवेशीकरण की ऐसी नीतियां लाद रही है जिससे बेरोजगारी  और आर्थिक असमानता में और वृद्धि होगी। आम जनता के जीवन-स्तर में गिरावट आएगी। माकपा ने जिले में बीसीपीपी प्लांट सहित सभी बंद प्लांटों को चालू करने की मांग की है ताकि युवाओं को रोजगार मिल सके। सभा को धनबाई कुलदीप, एसएन बैनर्जी, एसएन घोष, वीएम मनोहर, जनाराम कर्ष, राम पूजन ने भी संबोधित किया।

 


Date : 16-Oct-2019

 20 फीट गहरे गड्ढे में गिरा मोपेड सवार, मौत

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोरबा, 16 अक्टूबर।
काम निपटाने के बाद घर लौट रहा ठेका कर्मी दुर्घटना का शिकार हो गया। अंधेरे में उसे 20 फीट गहरा गड्ढा नजर नहीं आया। वह वाहन सहित गड्ढे में गिर गया। इस घटना में उसकी मौत हो गई। मामले में पुलिस ने मर्ग कायम कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। जानकारी के अनुसार बांकीमोंगरा थाना अंतर्गत चाकाबुड़ा के आश्रित ग्राम सलिहापारा में निवासरत कुंजराम अघरिया निजी कोल कंपनी में ठेका कर्मचारी था, जो अपनी मोपेड वाहन में ड्यूटी आना-जाना करता था। कल रात ड्यूटी से छुटने के बाद वह अपनी मोपेड से सलिहापारा अपने घर जा रहा था। चाकाबुड़ा-देवरी मार्ग पर 20 फीट गड्ढा उसे नजर नहीं आया और वह वाहन सहित उसमें गिर गया। घटना में उसकी मौत हो गई। मामले की सूचना पर पुलिस ने विवेचना प्रारंभ कर दी है।

 


Date : 16-Oct-2019

6 डीजल चोर चढ़े पुलिस के हत्थे, बोलेरो में भरा 420 लीटर डीजल जब्त

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोरबा, 16 अक्टूबर।
एसईसीएल की कोयला खदानों में धावा बोलकर डीजल चोरी की जा रही है। बीती रात भी कुछ डीजल चोर बोलेरो में सवार होकर कुसमुंडा खदान में डीजल चोरी करने घुसे थे। कुसमुंडा पुलिस और खदान के सुरक्षाबलों ने मिलकर डीजल चोरी कर भाग रहे 6 युवकों को पकड़ा है। जेरीकेन में डीजल भरकर अपनी बोलेरो से भाग रहे चोरों को पकड़ते हुए पुलिस ने 420 लीटर डीजल जब्त किया है।

जानकारी के अनुसार बोलेरो क्रमांक सीजी-12-7383 में सवार कुछ युवक डीजल चोरी करने कुसमुंडा खदान में घुसे हुए थे। जिसकी भनक खदान में तैनात विभागीय सुरक्षाकर्मियों को लग गई। कुसमुंडा पुलिस को तत्काल सूचित किया गया। कुसमुंडा पुलिस ने सुरक्षाकर्मियों के सहयोग से घेराबंदी करते हुए बोलेरो में भाग रहे युवकों को धर दबोचा। पकड़े गए युवकों में शब्बीर मेमन, अकरम मेमन, राजा खान, दीवाली दास, अभिषेक दास व सोहराब खान शामिल हैं। बताया जा रहा है कि डीजल चोर एक दर्जन से अधिक जेरीकेन में 420 लीटर डीजल चोरी कर भाग रहे हैं।

बोलेरो के शीशे में लगा दिया था मिट्टी तेल
कुसमुंडा खदान से चोरी कर भाग रहे डीजल चोरों ने पुलिस को चकमा देने दिलचस्प तरीका अपनाया था। उन्होंने बोलेरो के शीशे में मिट्टी तेल लगा दिया था ताकि बाहर से भीतर का नजारा कोई न देख पाए। चोरों के इस अनोखे तरकीब से पुलिस भी हैरान नजर आ रही है।


Date : 16-Oct-2019

सरईसिंगार चौक के पास दो ट्रेलर के बीच जोरदार भिड़ंत 

कोरबा, 16 अक्टूबर। हरदीबाजार मार्ग पर भारी वाहनों का दबाव बढ़ता जा रहा है। पुलिस व यातायात अमला द्वारा यातायात व्यवस्था दुरूस्त करने का प्रयास किया जा रहा है, लेकिन इसके बाद भी लापरवाह वाहन चालक सुधरने को तैयार नहीं है। एक बार फिर चालकों की लापरवाही से दुर्घटना हुई। हरदीबाजार चौकी अंतर्गत सरईसिंगार चौक के पास दो ट्रेलर वाहनों के बीच जोरदार भिड़ंत हो गई। हादसे में दोनों वाहन चालक बाल-बाल बच गए। पुलिस ने मामले में आरोपी वाहन चालकों के खिलाफ कार्रवाई की है।


Date : 16-Oct-2019

स्कूल में लगे पंप की चोरी करने वाले दो युवक को पुलिस ने पकड़ा

कोरबा, 16 अक्टूबर। स्कूल में लगे पंप की चोरी करने वाले दो युवक को पुलिस ने पकड़ा है। जानकारी के अनुसार मोरगा चौकी क्षेत्र के गुरसिया निवासी शंकर सिंह पिता बीर सिंह मिडिल स्कूल परला में हेडमास्टर है जो 15 मई  को स्कूल परिसर में लगे सबमर्सिबल पंप की चोरी होने की रिपोर्ट लिखाई थी। मामले में पुलिस ने अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया था। मुखबिर से पुख्ता जानकारी मिलने पर पुलिस ने चुन्नी लाल व अरविंद को पकड़ा।  पूछताछ में दोनों युवक ने पंप की चोरी करना कबूल लिया। निशानदेही पर पुलिस ने पंप जब्त कर लिया है। दोनों के खिलाफ पुलिस ने धारा 379, 34 भादवि के तहत कार्रवाई की है।


Date : 16-Oct-2019

कबाड़ बीनती महिला से मारपीट, जुर्म दर्ज

कोरबा, 16 अक्टूबर। कुसमुंडा थाना क्षेत्र के कुचैना मोड़ निवासी सकीना बेगम घूम-घूमकर कबाड़ बीनती है। ईमलीछापर की ओर गंगाराव पन्नी के साथ शीशी बीनने गई थी। तभी यहां रहने वाला राजकिशोर यादव (35) ने सकीना से विवाद करते हुए मारपीट की। घर पहुंचकर इसकी जानकारी महिला ने अपने पति असगर अली को दी। इसके बाद मारपीट करने वाले की पहचान करने पूछताछ की। इसके बाद कुसमुंडा थाना में रिपोर्ट लिखाई।

 मामले में पुलिस ने महिला से मारपीट करने वाले युवक के विरूद्ध धारा 294, 506, 323 भादवि के तहत कार्रवाई की है।


Date : 16-Oct-2019

एसईसीएल अधिकारी के सूने मकान में हुई चोरी, जेवर-नगदी पार

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोरबा, 16 अक्टूबर।
जिले में चोरी की वारदात बढऩे लगी है। सूने मकानों को चोर निशाना बना रहे हैं। मानिकपुर चौकी क्षेत्र में भी चोरों ने एसईसीएल अधिकारी के सूने आवास को निशाना बनाकर स्वर्णाभूषण व 50 हजार रुपए की चोरी कर ली है। मामले की रिपोर्ट मानिकपुर चौकी में दर्ज कराई गई है।

जानकारी के अनुसार मानिकपुर चौकी अंतर्गत एसईसीएल मानिकपुर कालोनी में ओपन कास्ट सिविल महाप्रबंधक अरविंद वर्मा निवासरत है। अरविंद वर्मा अपने परिवार के साथ पिछले कुछ दिनों से रायपुर गए हुए थे। उनके मकान में ताला लटका हुआ था। चोरों ने मकान का ताला तोड़कर आलमारी में रखे सोने-चांदी के आभूषण एवं 50 हजार रुपए की चोरी कर ली। आज सुबह जब अरविंद वर्मा अपने घर पहुंचे तो चोरी का पता चला। मामले में पुलिस ने अज्ञात चोरों के खिलाफ धारा 457, 380 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर उनकी पतासाजी प्रारंभ कर दी है। 

बाघा ने जुटाया सुराग
चोरी की खबर मिलते ही कोतवाली टीआई दुर्गेश शर्मा, मानिकपुर चौकी प्रभारी अशोक पाण्डेय दलबल के साथ मौके पर पहुंचे थे। उन्होंने घटनास्थल का मुआयना किया। इसके अलावा पुलिस खोजी डॉग की मदद भी ली गई। डॉग स्क्वायड प्रभारी सुनील गुप्ता के निर्देशन में बाघा ने महत्वपूर्ण सुराग जुटाए हैं, जिसके आधार पर पुलिस ने अपनी तफ्तीश आगे बढ़ा दी है।


Date : 14-Oct-2019

मैं नार्को टेस्ट के लिए तैयार हूं- ननकीराम

कोरबा, 14 अक्टूबर। राज्य में कांग्रेस के नेताओं का कनेक्शन नक्सलियों से रहता है। इसमें सबसे पहला नाम मंत्री कवासी लखमा का है। उक्त आरोप पूर्व गृहमंत्री ननकी राम कंवर ने लगाया।

आबकारी मंत्री कवासी लखमा के बयान पर पूर्व गृहमंत्री ननकी राम ने पलटवार करते हुए कहा कि मैं नार्को टेस्ट के लिए तैयार हूं, पर पहले लखमा जवाब दें कि झीरमघाटी में नक्सली नरसंहार के दौरान मैं कवासी लखमा हूं कहने पर नक्सली फायरिंग बंद कर उन्हें क्यों छोड़ दिया। कांग्रेस के नेताओं का नक्सलियों से कनेक्शन रहा है। इनमें सबसे पहला नाम लखमा का है, इसकी पहले जांच की जाए। लखमा ने कुछ दिन पहले पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह व ननकी राम का नार्को टेस्ट कराने की मांग की थी। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार के दबाव पर इसके पूर्व डीएमएफ की बैठक में विकास कार्यों को स्वीकृति नहीं मिल सकी।


Date : 14-Oct-2019

वाहन पार्किंग ठेका पर नहीं बन रही बात, यात्रियों की बाइक असुरक्षित

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
कोरबा, 14 अक्टूबर।
रेलवे स्टेशन परिसर में संचालित वाहन पार्किंग ठेका पर बात नहीं बन पा रही है। पूर्व के ठेका को समाप्त किए जाने के बाद नए सिरे से स्टैण्ड का ठेका नहीं हो पाने से यात्रियों की बाइक असुरक्षित ढंग से पार्किंग स्थल में खड़ी रह रही है। वाहन की सुरक्षा की पूरी जिम्मेदारी मालिक की है।

रेलवे स्टेशन परिसर में यात्रियों के वाहनों को सुरक्षित खड़ी करने के लिए रेलवे ने 12 साल पहले पार्किंग सुविधा शुरू की। जिसके बाद से अब तक एक ही ठेकेदार द्वारा पार्किंग का संचालन किया जा रहा था। ठेकेदार द्वारा पार्किंग में मनमानी करने की शिकायत लंबे समय से हो रही थी। ज्यादा किराया वसूलने व यात्रियों से विवाद आम बात हो गई थी। कई मामले कोतवाली भी पहुंचे। ठेकेदार पर पुलिस ने कार्रवाई की लेकिन रेलवे प्रबंधन की ओर से कड़ी कार्रवाई नहीं होने से ठेकेदार की मनमानी जारी थी। 

रेलवे अधिकारियों के दौरे के दौरान लगातार जब पार्किंग के ठेकेदार की मनमानी की शिकायत हुई, तब डेढ़ माह पहले ठेका निरस्त किया गया। इसके नए ठेकेदार को पार्किंग सौंपने टेंडर निकाला गया। रेलवे को नया ठेकेदार भी मिल गया है लेकिन अब तक पर्याप्त रकम जमा नहीं करने के कारण पार्किंग संचालन शुरू नहीं हुआ है। दूसरी ओर शहर के स्टेशन से ट्रेन में आवाजाही करने वाले लोगों को पुराने पार्किंग स्थल में स्वयं के जिम्मेदारी से खुले में वाहन को छोडऩा पड़ रहा है। 


Date : 14-Oct-2019

दैनिक उपयोग की सारी चीजें कपड़े जेवर और नगद 30,000 रुपए भी लेकर पत्नी गायब
छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोरबा, 14 अक्टूबर।
पाली थाना अंतर्गत सूर्योदय नगर पाली निवासी आनंद मार्को की पत्नी संतोषी मार्को (31 वर्ष) बिना बताए घर से कहीं चली गई है जिनका कहीं पता नहीं चल रहा है। 

पति के अनुसार संतोषी 9 तारीख को ही अपने मायके मरवाही से वापस लौटी थी। पति आनंद पेशे से ट्रेलर ड्राइवर है जो घर पर नहीं था। गत 12 अक्टूबर दोपहर लगभग 1.30 बजे संतोषी अपने दोनों पुत्र बड़ा पुत्र (17 वर्ष), छोटा पुत्र (13 वर्ष) को खाना खिलाने के बाद उन्हें सुला कर घर से कहीं निकल गई है। जिसका कहीं पता नहीं चल पा रहा है। पति के अनुसार खाने में कुछ नशीली दवाई का उपयोग पत्नी के द्वारा किया गया था जिससे बच्चों को मां के बाहर निकलने का पता नहीं चल सका।

पति ने बताया कि वह अपने साथ अपने दैनिक उपयोग की सारी चीजें कपड़े जेवर और नगद  30,000 रुपए भी लेकर गई जिससे लगता है कि उसके द्वारा जानबूझकर यह कदम उठाया गया है। फिलहाल पति के द्वारा किसी प्रकार का आपसी विवाद नहीं बताया गया है। घर से निकलने के पश्चात उससे किसी भी प्रकार का संपर्क या बातचीत नहीं हो पाया है जिससे पता नहीं चल पा रहा है कि वह कहां है। पति के द्वारा पाली थाने में गुम इंसान की सूचना दर्ज करा दी गई है। पाली पुलिस ने उसकी खोजबीन प्रारंभ कर दी है।


Date : 14-Oct-2019

लव मैरिज के एक साल बाद मायके से रुपए लाने मना करने पर पिटाई, पुलिस ने पति के विरूद्ध दहेज के नाम पर प्रताडि़त व मारपीट करने का जुर्म दर्ज किया
छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोरबा, 14 अक्टूबर।
रामपुर चौकी साडा कॉलोनी शिव मंदिर के पास रहने वाली एक नवविवाहिता को लव मैरिज हुई शादी के एक साल बाद पति ने मायके से रुपए लाने कहा। मना करने पर पति ने पत्नी की हाथ-मुक्के से पिटाई करता था। इसकी रिपोर्ट नविवाहिता ने रामपुर चौकी में लिखाई। मामले में पुलिस ने पति के विरूद्ध दहेज के नाम पर प्रताडि़त व मारपीट करने का जुर्म दर्ज किया है।

जानकारी के अनुसार साडा कॉलोनी ईडब्ल्यूएस-18 में विष्णु गुप्ता पिता श्यामलाल गुप्ता रहता है। उसने अगस्त 2018 में ललीता साहू से मंदिर में प्रेम विवाह किया था। इसके बाद से ललीता पति के साथ रहने लगी थी। शादी के एक साल बाद मायके से रुपए लाने का दबाव बनाया जा रहा था। जब महिला ने मना किया तो पति विष्णु गुप्ता मारपीट भी करता था। इसी बात को लेकर 11 अक्टूबर को भी विष्णु ने ललिता से मारपीट की। इसकी जानकारी मोबाइल पर विवाहिता ने अपने माता-पिता को दी। इसके बाद रामपुर चौकी पहुंचकर रिपोर्ट लिखाई। बयान के आधार पर पुलिस ने दहेज के नाम पर प्रताडि़त करने वाले पति विष्णु गुप्ता के विरूद्ध कार्रवाई की है।


Date : 14-Oct-2019

जिला अस्पताल में जहर सेवन पीडि़ता को नहीं मिला स्ट्रेचर
कोरबा, 14 अक्टूबर। जिला अस्पताल में सुविधाओं का बुरा हाल है। ऐसी ही एक अव्यवस्था फिर से नजर आई। डॉयल 112 से जहर सेवन पीडि़ता को अस्पताल लाया गया, लेकिन उसे भीतर ले जाने न तो कोई वार्ड ब्वाय बाहर आया और न ही उसे मदद के लिए स्ट्रेचर मिल सका। 

बालको थाना अंतर्गत नकटीखार निवासी हरप्रसाद की पत्नी आशा सेन ने अपने रूद्रनगर खरमोरा स्थित दूसरे मकान में जहर सेवन कर लिया। पड़ोसियों द्वारा इसकी सूचना डॉयल 112 की टीम को दी गई। डॉयल 112 में तैनात आरक्षक संजू श्रीवास्तव एवं चालक गजेन्द्र यादव महिला को वाहन से जिला अस्पताल लेकर पहुंचे। इस दौरान परिजन महिला को अस्पताल के भीतर ले जाने स्ट्रेचर की तलाश करते रहे, लेकिन न तो उन्हें स्ट्रेचर मिला और न ही पीडि़ता को वार्ड तक ले जाने कोई वार्ड ब्वाय मौजूद मिला। अस्पताल के बाहर खड़े दो युवकों ने किसी तरह महिला को वार्ड तक पहुंचाया। 

जिला अस्पताल में इस तरह की लापरवाही का यह कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी कई मामले सामने आ चुके हैं। 


Date : 14-Oct-2019

डीएमएफ से 320 करोड़ के विकास कार्यों को मंजूरी दी गई, स्वास्थ्य, शिक्षा सहित विभिन्न विकास कार्य शामिल
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
कोरबा, 14 अक्टूबर।
जिला खनिज न्यास की गवर्निंग काउंसिल की बैठक जिला पंचायत सभाकक्ष में आयोजित हुई। बैठक की अध्यक्षता प्रभारी मंत्री एवं गवर्निंग काउंसिल के पदेन अध्यक्ष डॉ. पे्रमसाय सिंह टेकाम ने की। बैठक में डीएमएफ से 320 करोड़ के विकास कार्यों को मंजूरी दी गई है। जिसमें स्वास्थ्य, शिक्षा सहित विभिन्न विकास कार्य शामिल हैं। 

एक घंटे तक चली बैठक में विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई। चर्चा के दौरान डीएमएफ के पुराने कार्य जो शुरू ही नहीं हो पाए थे, उन्हें निरस्त कर दिया गया जिस पर बैठक में उपस्थित पूर्व गृहमंत्री ननकीराम ने आपत्ति जताई। उनकी आपत्ति पर गौर करते हुए उन्हें आश्वस्त किया गया कि पूर्व निरस्त किए गए कार्यों को नए सिरे से शुरू किया जाएगा। इसके लिए प्रस्ताव पेश करने की सहमति बनी। बैठक में सांसद एवं समिति की सदस्य श्रीमती ज्योत्सना महंत, सदस्य प्रशांत मिश्रा, मदन राठौर एवं पूर्व गृहमंत्री ननकीराम कंवर सहित कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल उपस्थित रही। प्रबंधकारिणी के सभी सदस्य और विभिन्न विभाग के विभाग प्रमुख पूर्ण जानकारी के साथ बैठक में पहुंचे थे। उक्त जानकारियों के आधार पर नवीन विकास कार्यों की रणनीति तय की गई। बैठक में प्रभारी मंत्री ने विकास कार्यों को शीघ्र शुरू करने की बात कही है।


Date : 13-Oct-2019

हाट-बाजार क्लिनिक योजना, सीएम का जताया आभार

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोरबा, 13 अक्टूबर।
कोरबा जिले के दूरस्थ इलाकों में शुरू हुए हाट अस्पतालों में जांच कराने वाले ग्रामीण सरकार की व्यवस्था से खुश और संतुष्ट नजर आये। आज लाईफ लाईन एक्सपे्रस का शुभारंभ करने कोरबा प्रवास पर पहुंचे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इन हाट-बाजार क्लिनिकों में ईलाज करा चुके कई ग्रामीणों से मुलाकात की और योजना के बारे में फीडबेक लिया। कोरकोमा, मुढुनारा, टेपानारा, गोड़मा, नकटीखार, भैंसमा, गोढ़ी से लेकर कोरबा शहर के बाजारों में हाट क्लिनिकों में ईलाज करा चुके लोगों ने मुख्यमंत्री को गरीबों के ईलाज के लिए शुरू की गई इस योजना पर आत्मीय धन्यवाद और बधाईयां दीं। चारपारा कोहडिय़ा के भरत चंदा ने मुख्यमंत्री को पुष्पगुच्छ भेंटकर इस योजना की शुरूआत के लिए बधाई दी और योजना की प्रषंसा की।  

भारत  चंद्रा ने बताया कि पहले-पहले तो बाजार में दुकानों के बीच अचानक डाक्टरों और मेडिकल स्टाफ की मौजूदगी साग-सब्जी और देैनिक जरूरतों की चीजें खरीदने आसपास के गांवों से पहुंचे ग्रामीणों के लिए अचंभे का विषय बन गया था। परंतु जब सरकार की योजना का पता चला और डाक्टरों की मौजूदगी के सबब की जानकारी उन्हें मिली तब से नि:शुल्क स्वास्थ्य परीक्षण कराने के लिए महिला, पुरूषों और बच्चों की भीड़ लग जाती है। लोग डाक्टरों से फ्री में जांच कराते हैं, दूर तक जाना नहीं पड़ता, दवाईयां भी मुफ्त में मिल जाती हैं। श्री चंद्रा ने इस योजना की शुरूआत के लिए मुख्यमंत्री को अपनी तरह से धन्यवाद ज्ञापित किया और कहा कि अब गरीबों की बीमारी की चिंता करने वाली सरकार आ गई है।

 


Date : 13-Oct-2019

लौटते मानसून की बारिश ने बिगाड़ी फसलों की सेहत

बारिश के कारण फसल के फूल लगे झडऩे, बदरा धान का खतरा

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोरबा, 13 अक्टूबर।
पिछले कुछ समय से बारिश थमी हुई थी, खेत सूख रहे थे। अचानक लौटते मानसून से जिले में जमकर बदरा बरसा। इस पानी ने जहां सूखे खेतों की प्यास बुझाई। वहीं फसलों की सेहत को भी बिगाड़ दिया है। बूंदा-बांदी और बारिश के कारण धान की फूल झडऩे लगे, जिससे बदरा धान पैदावार का खतरा बढ़ गया है। इस परिस्थिति में किसानों की चिंता बढ़ गई है। 

सितंबर व अक्टूबर माह में पानी की कमी से जूझ रहे खेतों के लिए असमय बारिश एक ओर वरदान साबित हुआ है, वहीं धान की बालियों को प्रभावित किया है। जिले में पखवाड़े भर से बारिश का दौर जारी रहा। अलग-अलग स्थानों में खंड वर्षा जारी रही। खेतों में मोटे किस्म के धान की बालियां आने लगी है। पतले प्रजाति के धान में फूल आने लगे हैं। किसानों की मानें तो असमय होने वाली बारिश व बूंदाबांदी के कारण धान के फूल में झडऩ होती है। इससे वह बीज के रूप में विकसित नहीं हो पाता। इस तरह से किसानों को अपेक्षित पैदावार नहीं मिल पाती। बारिश के कारण व तेजी से मौसम में हो रहे परिवर्तन के चलते धान के पौधों में कीट प्रकोप का भी असर दिखाई देने लगा है। धान की बेहतर पैदावार के लिए आशान्वित किसान अब बारिश की बजाय मौसमी बीमारी से निजात की जुगत में लग गए हैं। मौसमी परिवर्तन व बारिश का दौर जारी रहने के कारण दवाओं का छिड़काव संभव नहीं हो पा रहा है। लिहाजा किसान बारिश थमने का इंतजार कर रहे हैं। तनाशोख पत्तीछेदक माहो आदि बीमारियों से ग्रस्त हो रहे धान की फसल के लिए दवा छिड़काव रोकथाम बेकार ही साबित हो रहे हैं। उल्लेखनीय है कि अक्टूबर से नवंबर माह के बीच धान की फसल तेजी से विकसित होते हैं। धान की बालियों में दाने आने की प्रक्रिया में तेजी आ जाती है। लिहाजा ऐसे समय में कीट प्रकोप भी तेज हो जाता है। उस पर मौसमी मार के चलते किसानों को उत्पादन के नाम पर घाटे के सौदे का निर्वहन करना पड़ता है। जुलाई में लंबे अंतराल तक बारिश नहीं होने के कारण किसानों को रोपाई के लिए खासी परेशानियों का सामना करना पड़ा था। थरहा रोपाई में होने वाली लेटलतीफी दूरगामी असर करता है। कई बार समय पर बारिश नहीं होने के कारण किसानों को वयस्क थरहा का रोपाई के लिए मजबूर होना पड़ता है, जिसका भी उत्पादन पर आंशिक असर होता है। जिले में जारी बारिश का दौर यदि लंबे समय तक जारी रहा तो यह फसल के लिए नुकसानदेय साबित हो सकता है।


Date : 13-Oct-2019

घोटमार जंगल में पुटू बिनने गए ​ग्रामीण पर हाथी का हमला

कोरबा, 13 अक्टूबर। रविवार की सुबह घोटमार जंगल में पुटू बिनने गए ग्रामीण का सामना हाथी से हो गया। हाथी को देखकर जब तक ग्रामीण कुछ समझ पाता दंतैल ने उसे सुंड से उठाकर दूर फेंक दिया जिससे उसकी जान तो बच गई लेकिन पैर टूट गया। हाथी के चले जाने के बाद हिम्मत जुटाकर ग्रामीण घर पहुंचा जिसे उपचार के लिए स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया। घटना की सूचना वन विभाग को दे दी गई है। 

करतला वन परिक्षेत्र अंतर्गत ग्राम धौराभांठा निवासी खुलाश सिंह 50 वर्ष आज सुबह लगभग 7 बजे घोटमार जंगल में पुटू बिनने गया हुआ था। इस दौरान उसका सामना हाथी से हो गया। हाथी को सामने देखकर उसके होश उड़ गए वो संभलपाता, उससे पहले ही हाथी ने उसे सुंड से उठाकर दूर फेंक दिया जिससे उसके पैर में चोट आई है। परिजनों ने उसे करतला के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया है। घटना के बाद ग्रामीणों में दहशत व्याप्त है।

 वन अमला हाथियों के झुंड को खदेडऩे में जुट गया है। बताया जा रहा है कि करतला वन परिक्षेत्र में दर्जनों की संख्या में हाथी विचरण कर रहे हैं। ग्रामीणों को जंगल की ओर न जाने की हिदायत दी गई है। इसके बाद भी वन विभाग की चेतावनी को दरकिनार कर ग्रामीण जंगल की ओर जा रहे हैं। 


Date : 12-Oct-2019

नगर निगम चुनाव प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से होगा, इसका फैसला कमेटी के द्वारा किया जाएगा

कोरबा,। नगर निगम चुनाव प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से होगा, इसका फैसला कमेटी के द्वारा किया जाएगा, 15 अक्टूबर को  यह तय होगा कि निगम चुनाव किस आधार पर होंगे। उक्त बातें मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कोरबा प्रवास के दौरान मीडिया से चर्चा के दौरान कही। श्री बघेल शनिवार को दुुनिया की पहली चलित रेल अस्पताल लाइफ लाइन एक्सप्रेस के उद्घाटन समारोह में पहुंचे थे। लाइफ लाइन एक्सप्रेस वृहद स्वास्थ्य शिविर का शनिवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने फीता काटकर शुभारंभ किया। (विस्तृत समाचार पेज 12 पर)

 


Date : 12-Oct-2019

मारपीट के मामले में दो और नाबालिग गिरफ्तार, भेजे गए बाल संप्रेषण गृह, वीडियो वायरल

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोरबा, 12 अक्टूबर।
पुलिस ने प्रेमनगर में हुए मारपीट के मामले में दो और नाबालिगों को गिरफ्तार किया है। वहीं इस घटना का एक वीडियो भी सामने आया है। जिसमें करीब दो दर्जन लोग एक युवक को जमीन पर पटककर एक साथ लाठियां बरसा रहे। वहीं कुछ उन्मादी युवक कार में तोडफ़ोड़ करते नजर आ रहे हैं। रात होने की वजह से लाठी बरसाती भीड़ ही नजर आ रही। माना जा रहा है जिसकी पिटाई की जा रही वह सुनील सिंह है।

प्रेमनगर के दुर्गा पंडाल में चल रहे डांस कॉम्पिटिशन के दौरान कपाटमुड़ा निवासी भानू खूंटे का भांजा अभिषेक खूंटे ने सात अक्टूबर की रात को हंगामा किया तो समिति के राजेश व राकेश ने उसकी पिटाई कर दी। इसके बाद भानू खूंटे अपने दोस्तों को लेकर पंडाल में कुछ विवाद किया। दूसरे दिन आठ अक्टूबर को दशहरा के दिन राजेश व राकेश अपने करीब दो दर्जन साथियों के साथ प्रेमनगर मुख्य मार्ग में कार में सवार भानू खूंटे, सुनील सिंह व मृगेश साहू को रोक लिया। अब तक केवल यह बात सामने आई थी कि पिटाई की वजह से सुनील सिंह की मौत हो गई।  अब एक वीडियो सामने आ गया है। 
 

 


Date : 12-Oct-2019

करतली ओपन कास्ट कोयला खदान खोले जाने के विरोध में अड़े ग्रामीण

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोरबा, 12 अक्टूबर।
एसईसीएल कोरबा क्षेत्र की करतली ओपन कास्ट कोयला खदान खोलने का ग्रामीणों ने विरोध करते हुए कहा कि अधिसूचना जारी होने के 14 साल बीत जाने के बाद भी ग्रामसभा नहीं की गई। ग्रामीण को अंधेरे में रखकर अब सीधे पर्यावरणीय लोक सुनवाई किया न्यायोचित नहीं है। कोरबा पांचवी अनुसूची में शामिल है और कृषकों का एकमात्र जीविकोपार्जन का जरिया कृषि है। भू-अर्जन से जीविकोपार्जन की समस्या उत्पन्न होगी। इसके साथ ही पेशा कानून का उल्लंघन किया जा रहा है।

एसईसीएल कोरबा क्षेत्र की करतली ओपन कास्ट खदान पाली ब्लॉक के ग्राम करतली में खोली जाएगी। इस परियोजना के लिए 134.192 हेक्टेयर जमीन का अधिग्रहण किया जा रहा है। खदान खोलने से पहले शुक्रवार को क्षेत्रीय पर्यावरण संरक्षण मंडल ने पर्यावरणीय लोक सुनवाई आयोजित की। 

अपर कलेक्टर नेपाल सिंह नौरोजी एव पर्यावरण अधिकारी आरपी शिंदे समेत तहसीलदार, नायब तहसीलदार की उपस्थिति में हुई सुनवाई के दौरान विधायक मोहित समेत अन्य जनप्रतिनिधि व ग्रामवासी उपस्थित रहे। सुनवाई के दौरान ग्रामीणों ने परियोजना का विरोध जताया। अधिकांश ग्रामीणों ने सामूहिक तौर पर तैयार किए गए लिखित विरोध पत्र अपर कलेक्टर को सौंपा। इसमें विधायक ने भी अपनी सहमति जताई। 

ग्रामीणोंं का कहना है कि ओपन कास्ट खदान से पांच लाख राजकीय वृक्ष की कटाई होने की संभावना है। इससे पर्यावरण पूरी तरह प्रभावित होगा। इसके साथ ही खदान के 25 से 30 किलोमीटर की परिधि में निवासरत किसानों के जनजीवन पर गलत असर पड़ेगा। खदान के प्रदूषण व विषैले पदार्थ से गंभीर बीमारी होने से भी इनकार नहीं किया जा सकता है। छोटे नदी नाले का जलस्तर कम हो जाएगा और कृषकों के समक्ष खेती किसानी के साथ ही पेयजल की समस्या उत्पन्न हो जाएगी। 

ग्रामीणों ने कहा कि खदान खोलने के सभी नियम कायदों को दरकिनार कर लोक सुनवाई आयोजित की जा रही है। वर्ष 2009 में अधिसूचना जारी की गई और अब प्रक्रिया अपनाई जा रही है, इसलिए खदान खोलने का सभी ग्रामवासी एकजुटता के साथ विरोध करते हैं। सांसद प्रतिनिधि प्रशांत मिश्रा, विधायक प्रतिनिधि दीपक सोनकर, जनपद सदस्य, करतली सरपंच, उपसरपंच कुलदीप मरकाम, पूर्व जिला पंचायत सरदस्य कोईतरमा देवी सलाम समेत काफ ी संख्या में ग्रामीणों ने पत्र में हस्ताक्षर किया है।


Date : 11-Oct-2019

गणेश व 15 हाथियों का दल कर रहा फसल नुकसान, परेशान किसानों ने डीएफओ को सौंपा ज्ञापन

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायगढ़, 11 अक्टूबर।
वन परिक्षेत्र रायगढ़ में हाथियों की समस्या बढ़ते जा रही है। पूर्व में बंगुरसिया व जुनवानी सर्किल में गणेश हाथी के साथ करीब पंद्रह हाथियों का दल फसल नुकसान कर रहा था। वहीं गणेश के साथ अब करीब 15 हाथियों का दल कभी ओडि़सा तो कभी जामगां सर्किल में फसल नुकसान कर रहा है। जहां बीती रात भी ग्राम अड़बहाल में किसानों के फसल को हाथियों ने काफी मात्रा में नुकसान किया। इससे परेशान ग्रामीणों ने आज डीएफओ व कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर एक आवेदन सौंप कर उचित कार्रवाई की मांग की है।

इस संबंध में ग्रामीणों ने बताया कि जामांग सर्किल के ग्राम अड़बहाल में एक अक्टूबर से लेकर लगातार हाथियों का दल पहुंच रहा है और हर रात किसी न किसी ग्रामीणों के खेतों में घुस कर फसल को नुकसान करने में लगे हुए हैं। उन्होंने बताया कि बीटगार्ड दो अक्टूबर को आया और फसल का नुकसान देखकर चले गया। इसके बाद से बीटगार्ड रायगढ़ मिटिंग में होने की बात कहते हैं। ग्रामीणों ने अपने ज्ञापन में बीटगार्ड को हटाने की भी मांग की है। इसके अलावा ग्रामीणों का कहना है कि पिछले वर्ष की रबी फसल के नुकसान का भी मुआवजा अब तक नहीं मिला है। 

ज्ञापन में उल्लेख है कि ओडिशा में जिस प्रकार तार द्वार हाथी से फसल की सुरक्षा की जा रही है। उसी प्रकार हमारे गांव में भी फसलों को सुरक्षित रखा जाए। ग्रामीणों ने ज्ञापन सौंप कर इस मामले में उचित कदम उठाते हुए सही मुआवजा दिलाने की मांग की है। ज्ञापन सौंपने के दौरान रामलाल पटेल, प्रहलाद सिदार, कन्हैया पटेल, सुभाष पटेल, शौकीलाल पटेल, रामलाल मालाकार, कालाचंद मालाकार, गोवर्धन पटेल, देवानंद सिदार, प्रेमलाल सहित अन्य ग्रामीण मौजूद थे। वहीं इस मामले में बीटगार्ड से जब मोबाइल पर चर्चा की गई, तो उसका कहना था कि हाथियों द्वारा नुकसान करने पर नियमानुसार तत्काल आंकलन कर रिपोर्ट बनाया जा रहा है। 

गांव में गणेश की दहशत 
ग्रामीणों की अगर माने तो गणेश हाथी की मौजदूगी के कारण पूरे क्षेत्र में दहशत का माहौल है। उनका कहना है कि हर दिन कोई न कोई गांव पहुंच कर गणेश हाथी व 15 हाथी का एक दल नुकसान कर रहा है और पूरे क्षेत्र में गणेश हाथी के होने के कारण डर का माहौल बना हुआ है। फिलहाल विभाग के अधिकारियों की मानें तो गणेश हाथी के व्यवहार में पहले की अपेक्षा काफी बदलाव है और सिर्फ फसल खा रहा है कोई जनहानि रायगढ़ वन परिक्षेत्र में नहीं किया है। 

मनोज पांडे, डीएफओ, रायगढ़ वन मंडल ने बताया कि किसानों के फसल को हाथियों ने जो नुकसान किया है। उसके लिए ग्रामीण आवेदन लेकर पहुंचे थे। वन परिक्षेत्र अधिकारी को नुकसान का आंकलन करवा कर तीन दिवस के भीतर रिपोर्ट विभाग में जमा करने कहा गया है। उसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।


Previous123Next