छत्तीसगढ़ » कोरिया

Previous123Next
Date : 19-Oct-2019

प्रदेश में प्रसिद्ध शक्तिपीठ के रूप में विख्यात मां महामाया मन्दिर तक जर्जर सड़क, धरना-अनशन पर बैठे, जिला प्रशासन द्वारा  नवनिर्माण शुरू

छत्तीसगढ़ संवाददाता
चिरमिरी, 19 अक्टूबर।
रतनपुर (खडग़वां) स्थित कोरिया जिले सहित सम्पूर्ण छत्तीसगढ़ प्रदेश में प्रसिद्ध शक्तिपीठ के रूप में विख्यात मां महामाया मन्दिर तक जर्जर सड़क का नवनिर्माण कार्य जिला प्रशासन द्वारा धरना-अनशन पर बैठे आंदोलनकारी वरिष्ठ अधिवक्ता विजय प्रकाश पटेल को दिए लिखित आश्वासन के मुताबिक प्रारम्भ कर दिया गया है। 

श्री पटेल ने जिला व स्थानीय प्रशासन के कलेक्टर, विधायक, एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदार, थाना प्रभारी एवं मुकेश जायसवाल, अशोक श्रीवास्तव, बब्बी शर्मा, दीपू शर्मा, श्री गांगुली इत्यादि विभिन्न राजनैतिक दलों सहित स्थानीय जागरूक नागरिक, ग्रामीण जन, इलेक्ट्रॉनिक व प्रिन्ट मीडिया के समस्त पत्रकार साथियों का आभार व्यक्त किया है। उन्होंने विशेष रूप से जिला व स्थानीय प्रशासन के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया है, जिन्होंने उनके अनिश्चितकालीन धरना-अनशन को समाप्त करने के लिये जो वादा किया और लिखित आश्वासन दिया, उसे पूरा कर दिखाया। 

उल्लेखनीय है कि इसी माह 8  अक्टूबर विजयादशमी के दिन श्री पटेल मन्दिर दर्शनार्थ पहुंचे और जर्जर मार्ग की दशा देख प्रवेश द्वार पर ही धरने पर बैठ गए थे। जिसके बाद जिला प्रशासन द्वारा लिखित आश्वासन पर धरना समाप्त किया गया था।


Date : 19-Oct-2019

प्रदेश में प्रसिद्ध शक्तिपीठ के रूप में विख्यात मां महामाया मन्दिर तक जर्जर सड़क, धरना-अनशन पर बैठे, जिला प्रशासन द्वारा  नवनिर्माण शुरू

छत्तीसगढ़ संवाददाता
चिरमिरी, 19 अक्टूबर।
रतनपुर (खडग़वां) स्थित कोरिया जिले सहित सम्पूर्ण छत्तीसगढ़ प्रदेश में प्रसिद्ध शक्तिपीठ के रूप में विख्यात मां महामाया मन्दिर तक जर्जर सड़क का नवनिर्माण कार्य जिला प्रशासन द्वारा धरना-अनशन पर बैठे आंदोलनकारी वरिष्ठ अधिवक्ता विजय प्रकाश पटेल को दिए लिखित आश्वासन के मुताबिक प्रारम्भ कर दिया गया है। 

श्री पटेल ने जिला व स्थानीय प्रशासन के कलेक्टर, विधायक, एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदार, थाना प्रभारी एवं मुकेश जायसवाल, अशोक श्रीवास्तव, बब्बी शर्मा, दीपू शर्मा, श्री गांगुली इत्यादि विभिन्न राजनैतिक दलों सहित स्थानीय जागरूक नागरिक, ग्रामीण जन, इलेक्ट्रॉनिक व प्रिन्ट मीडिया के समस्त पत्रकार साथियों का आभार व्यक्त किया है। उन्होंने विशेष रूप से जिला व स्थानीय प्रशासन के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया है, जिन्होंने उनके अनिश्चितकालीन धरना-अनशन को समाप्त करने के लिये जो वादा किया और लिखित आश्वासन दिया, उसे पूरा कर दिखाया। 

उल्लेखनीय है कि इसी माह 8  अक्टूबर विजयादशमी के दिन श्री पटेल मन्दिर दर्शनार्थ पहुंचे और जर्जर मार्ग की दशा देख प्रवेश द्वार पर ही धरने पर बैठ गए थे। जिसके बाद जिला प्रशासन द्वारा लिखित आश्वासन पर धरना समाप्त किया गया था।


Date : 19-Oct-2019

अंत्यावसायी सहकारी विकास समिति मर्या. कोरिया द्वारा अनुसूचित जाति-जनजाति, अल्पसंख्यक टर्म एवं सफाई कामगारों के आर्थिक विकास हेतु क्षेत्र के बेरोजगार युवा-युवतियों को विधायक डॉ. विनय जायसवाल के प्रयास से लोन दिया

छत्तीसगढ़ संवाददाता
चिरमिरी, 19 अक्टूबर।
जिला अंत्यावसायी सहकारी विकास समिति मर्या. कोरिया द्वारा अनुसूचित जाति-जनजाति, अल्पसंख्यक टर्म एवं सफाई कामगारों के आर्थिक विकास हेतु रोजगार मूलक योजनाओं के क्रियान्वयन हेतु वित्तीय वर्ष 2019-20 हेतु व्यवसाय स्थापित करने के लिए क्षेत्र के बेरोजगार युवा-युवतियों को विधायक डॉ. विनय जायसवाल के अथक प्रयास से लोन दिया गया।

जिसमें सर्वप्रथम बसंत लाल ग्राम सैदा को पैसेंजर विहिकल के लिए, सुरदयाल सिंह ग्राम फुनगा को कपड़ा दुकान के लिए, इसी प्रकार पुष्पारानी मनी मोहल्ला मनेंद्रगढ़ को ब्यूटीपार्लर हेतु, उत्तम सिंह महुआ दफाई हल्दीबाड़ी को केटरिंग हेतु इसी प्रकार सुमित चंदेल रेल्वे कॉलोनी मनेंद्रगढ़ को ऑनलाइन कैफ़े हेतु, राजकुमार दलगंजन दफाई  छोटाबजार को बैंड बाजा हेतु, निखिल कोरी रेल्वे स्टेशन रोड़ गांधीवार्ड मनेंद्रगढ़ को मोटर गैरिज हेतु, इसी प्रकार तबससुन अंसारी जनपद पंचायत मनेंद्रगढ़ को किराना दुकान हेतु, अभिषेक कुमार मनेन्द्रगढ़ को हार्डवेयर हेतु आदि अन्य को भी लोन प्रदाय किया गया।

 


Date : 19-Oct-2019

देवगढ़ परिक्षेत्र में साल के पेड़ों की अंधाधुंध कटाई, मिले कई ताजा कटे ठूंठ
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बैकुंठपुर, 19 अक्टूबर।
कोरिया वनमंडल के देवगढ़ परिक्षेत्र में साल के पेड़ों की अंधाधुंध कटाई जारी है, रावतसरई से लेकर बेलार्ड के जंगलों में ‘छत्तीसगढ़’ ने मौके पर कटे दर्जनों पेड़ों की ठूंठ मिलने पर पास में काम करा रहे वन विभाग के बीट गार्डो को जानकारी दी, जिसके बाद कटे पेडों का उन्होंने पीओआर बनाया, इस मौके पर पेड़ों को काट कर बनाए गए झालों को भी वन विभाग के कर्मचारियों ने तोड़ा।

जानकारी के अनुसार कोरिया वनमंडल के देवगढ़ परिक्षेत्र के सुरजपुर जिले की सीमा से लगा रावतसरई गांव है, इसके पहले पडऩे वाले सिंगपानी, बेलार्ड के बाद घने साल के जंगल है, जहां साल के पेड़ों की अंधाधुंध कटाई जारी है, मुख्य मार्ग पर कई पेड़ों के ठंूठ आसानी से देखे जा सकते हैं, ‘छत्तीसगढ़’ को शनिवार को 12.30 बजे बेलार्ड के आगे जंगलों में दर्जनों पेड़ों के ठूंठ नजर आए, जिसके पास लेंटाना कटाई में लगे बीट गार्ड राजीव कुमार और महेन्द्र पैकरा के साथ ग्रामीणों को मौके पर बुलाकर ताजा कटे पेड़ों के ठूंठों को पीओआर करने को कहा, जिसके बाद दोनों बीट गाडों ने सभी पेड़ों के ठूठों का पीओआर किया, वहीं पेड़ों को काट कर जंगल में बनाए झालों को भी तोड़ा। यहां मुख्यमार्ग पर लगे पेड़ों की अवैध कटाई जारी है।
गौरतलब है कि इन दिनों देवगढ़ परिक्षेत्र में कैम्पा मद से करोड़ों के कार्य जारी है, जिनमें जंगल में लगे लैंटाना की कटाई की जा रही है। ग्रामीणों की माने तो वन विभाग के अधिकारियों का इस ओर कभी आना होता ही नहीं है। जंगल की सुध लेने वन अमले की तरफ से कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। 

 


Date : 18-Oct-2019

पार्षदों द्वारा नगरीय निकायों में महापौर और अध्यक्ष पद का चुनाव किये जाने के राज्य सरकार के फैसले का छत्तीसगढ़ प्रदेश महिला कांग्रेस उपाध्यक्ष बबीता सिंह ने अप्रत्यक्ष चुनाव प्रणाली को भूपेश सरकार का सराहनीय क़दम बताया

चिरमिरी, 18  अक्टूबर। पार्षदों द्वारा नगरीय निकायों में महापौर और अध्यक्ष पद का चुनाव किये जाने के राज्य सरकार के फैसले का छत्तीसगढ़ प्रदेश  महिला कांग्रेस उपाध्यक्ष बबीता सिंह ने स्वागत करते हुए अप्रत्यक्ष चुनाव प्रणाली को भूपेश सरकार का सराहनीय व स्वागत योग्य क़दम बताया हैं। 

प्रदेश महिला कांग्रेस उपाध्यक्ष श्रीमती सिंह ने कहा कि भारत में प्रधानमंत्री इसी प्रणाली से चुना जाता है, मुख्यमंत्री का चुनाव भी इसी अप्रत्यक्ष प्रणाली से होता हैं। राजनीति में सक्रिय छोटे और आम कार्यकर्ता प्रत्यक्ष प्रणाली में महापौर हेतु चुनाव क्षेत्र बड़ा होने और खर्चीली चुनाव प्रक्रिया के चलते सीधे तौर पर महापौर का चुनाव नहीं लड़ पाते और इस प्रकार से सक्रिय प्रतिभावान कार्यकर्ता पीछे रह जाते हैं! 

पार्षदों के माध्यम से महापौर के निर्वाचन में ऐसे ऊर्जावान कार्यकर्ताओं को अपनी काबिलियत को साबित करने का मौका मिलेगा जो स्वागत योग्य है। 


Date : 18-Oct-2019

सेंट जोसेफ स्कूल में चोरी,  ऑलमारी के लॉक को तोडक़र जरूरी कागजातों में हेरफेर के उपरांत ऑलमारी में रखी 270 रूपए की राशि चोरी

मनेन्द्रगढ़, 18 अक्टूबर। बीती रात साउथ झगराखांड स्थित सेंट जोसेफ कान्वेंट स्कूल में अज्ञात चोरों ने चोरी की वारदात को अंजाम दिया। प्रधानपाठक की रिपोर्ट पर पुलिस द्वारा विवेचना की जा रही है।

बीती रात अज्ञात चोरों ने सेंट जोसेफ कान्वेंट स्कूल साउथ झगराखांड के मुख्य द्वार का ताला तोडक़र स्कूल में प्रवेश किया और कार्यालय के भीतर रखी ऑलमारी के लॉक को तोडक़र जरूरी कागजातों में हेरफेर के उपरांत ऑलमारी में रखी 270 रूपए की राशि चोरी कर ली। 

विद्यालय के प्रधानपाठक रिजवान खान ने बताया कि सुबह विद्यालय के गेट का ताला टूटने की खबर मिलने पर जब वे विद्यालय पहुंचे तो मेन गेट का ताला टूटा हुआ था और कार्यालय का कमरा भी खुला हुआ था। उन्होंने बताया कि कुछ वर्षों पूर्व भी विद्यालय में चोरी की घटना घट चुकी है, लेकिन आज तक चोरों का पता नहीं चल सका है।


Date : 18-Oct-2019

कोरिया में 77 नवीन ग्राम पंचायतों का गठन, ग्रामीणों ने जताया राज्यमंत्री के प्रति आभार

छत्तीसगढ़ संवाददाता,

मनेन्द्रगढ़, 18 अक्टूबर। सविप्रा उपाध्यक्ष (राज्यमंत्री) एवं भरतपुर-सोनहत विधायक गुलाब कमरो की परिश्रम व सूझबूझ रंग लाई है। कोरिया जिले में 77 नवीन ग्राम पंचायतों के गठन में राज्यमंत्री का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। जिले में इतनी बड़ी मात्रा में नए ग्राम पंचायतों के अस्तित्व में आने पर ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री, पंचायत मंत्री एवं विधायक कमरो के प्रति आभार जताया है।

बता दें कि भरतपुर-सोनहत विधायक गुलाब कमरो ने विधायक दल की बैठक में नवीन पंचायत गठन की तिथि बढ़ाने का मुद्दा उठाया था। विधायक दल की बैठक में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं पंचायत मंत्री टीएस सिंहदेव के द्वारा नवीन पंचायत गठन की तिथि बढ़ाई गई और अब नवीन ग्राम पंचायतों का अंतिम प्रकाशन कर दिया गया है। कोरिया जिले में पांच ब्लाक मनेन्द्रगढ़, बैकुण्ठपुर, भरतपुर, सोनहत और खडग़वां को मिलाकर पूर्व में कुल 286 ग्राम पंचायतें थीं, अब पुनर्गठन के तहत् पांचों ब्लाकों में 77 नवीन ग्राम पंचायतों के अस्तित्व में आने के बाद जिले में कुल 363 ग्राम पंचायतें हो गई हैं। मनेन्द्रगढ़ ब्लाक में पूर्व में 57 ग्राम पंचायतें थीं यहां 15 नवीन ग्राम पंचायतों के बढऩे के बाद कुल 72 ग्राम पंचायतें हो गई हैं। इसी प्रकार भरतपुर ब्लाक में पूर्व में 64 ग्राम पंचायतें थीं यहां 20 नई ग्राम पंचायतें बनने के बाद कुल 84 ग्राम पंचायतें हो गई हैं। वहीं सोनहत ब्लाक में पूर्व में 32 ग्राम पंचायतें थीं अब 10 नए ग्राम पंचायतों के अस्तित्व में आने के बाद सोनहत ब्लाक में कुल 42 ग्राम पंचायतें, बैकुण्ठपुर ब्लाक में पहले 69 ग्राम पंचायतें हुआ करती थीं अब 19 नवीन ग्राम पंचायतों के बनने के बाद यहां कुल 88 ग्राम पंचायतें हो चुकी हैं। वहीं खडग़वां ब्लाक में पूर्व में 64 ग्राम पंचायतें थीं, 13 नवीन ग्राम पंचायतों के गठन के बाद अब यहां 77 ग्राम पंचायतें हो चुकी हैं। विधायक दल की बैठक के बाद नवीन ग्राम पंचायतों का अंतिम प्रकाशन कर दिया गया है। नवीन ग्राम पंचायतों के अस्तित्व में आने से ग्रामीणों में व्यापक हर्ष है। नए ग्राम पंचायत बनने से ग्रामीणों को सुविधाएं अधिक मिलेंगी। स्वतंत्र पंचायत बनने से गाँव के विकास को गति मिलेगी साथ ही आश्रित ग्रामों से कई बार विकास कार्यों को लेकर मन मुटाव होता था उनसे भी ग्रामीणों को छुटकारा मिलेगा। ग्रामीण अपने ग्राम पंचायत के विकास के लिए स्वयं सहभागी बनेंगे।

 

 


Date : 17-Oct-2019

जंगल में घेराबंदी कर अंतरराज्यीय कबाड़ गिरोह सरगना समेत 10 आरोपियों को हिरासत में लिया, 2 पिकप, 1 बोलेरो, स्क्रेप एंगल बरामद
छत्तीसगढ़ संवाददाता
बैकुंठपुर, 17 अक्टूबर।
मंगलवार की रात कोरिया पुलिस ने तर्रा बसेर के जंगल में घेराबंदी कर अंतरराज्यीय कबाड़ गिरोह के सरगना शकील अहमद सहित 10 आरोपियों के साथ चोरी की सामग्री बरामद की गई है।

प्रेस कॉन्फें्रस में  एएसपी पंकज शुक्ला ने बताया कि पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला के निर्देश पर कटघोडी साफ्ट में हुई चोरी में 10 आरोपियों को हिरासत में लिया गया है, जिसमें मनेन्द्रगढ़ का शकील अहमद,नॉढिया जनकपुर का हेतराम, कोरिया कॉलरी का शंकर दयाल, झगराखण्ड का मनोज गुप्ता, बैकुंठपुर अमरपुर का संत कुमार, कोरिया कॉलरी का राजन सिंह, लालपुर मनेन्द्रगढ़ का मंता प्रसाद, लालपुर का रंजीत और कोरिया कॉलरी का बाबूलाल को हिरासत में लिया गया है इनके साथ 2 पिकप, 1 बोलेरो, स्क्रेप एंगल बरामद किया गया है। 

क्या था मामला 
मंगलवार की रात चरचा कालरी के कटघोडी स्थित विभागीय सॉफ्ट जहां से डोली के माध्यम से कालरी कर्मचारियों व खदानों में उपयोग किए जाने वाले सामानों को खदान के अंदर ले जाया जाता है। रात के लगभग दो बजे बीस-पच्चीस की संख्या हथियारबंद लोग परिसर में घुस गए और वहां उपस्थित लैंप रूम कर्मचारियों व दूसरे कक्ष में कार्यरत कर्मचारियों को उन्हीं के कार्यालय के कमरों में बंद कर दिया। इसके बाद चोरों के गिरोह ने वहां रखे लैपटॉप कंप्यूटर के पूरे सिस्टम को निकाल लिया। परिसर के अंदर रखे महंगे बिजली के केबल व अन्य कीमती सामानों के बंडल बनाकर ले जाने की तैयारी कर रहे थे। 

कमरे में बंद कर्मचारियों ने मोबाइल के माध्यम से घटना की जानकारी क्षेत्र प्रबंधक को दी, जिस पर क्षेत्रीय प्रबंधक ने कोरिया पुलिस अधीक्षक को अवगत कराया। घटना की जानकारी मिलते ही चरचा कालरी के विभागीय सुरक्षा प्रहरी भी घटनास्थल पर पहुंचे और परिसर के अंदर दाखिल हुए, जहां उन्होंने कई हथियारबंद लोगों को चहल-कदमी करते और निकलते देखा।  दोनों सुरक्षाकर्मी वापस बाहर निकलकर प्रबंधन को सूचित किए।

उल्लेखनीय है कि चरचा कालरी के छठ घाट में 1 वर्ष पूर्व चरचा कालरी के बी पॉइंट से विभागीय लोहे के भारी सामानों की चोरी कर पिकअप से समान पार किया जा रहा था,  किंतु कई टन वजनी चोरी के लोहे से भरी पिकअप चरचा थाने के पीछे छठ घाट के नाले में फंस गई थी और पुलिस के पकड़ में आ गई, सूत्रों की मानें तो पकड़ा गया सरगना ही उस प्रकरण में भी मुख्य आरोपी शकील अहमद ही था, जो उस वक्त भागने में कामयाब हो चुका था, पुलिस विगत 1 वर्ष से खोज रही थी किंतु इस कार्रवाई के दौरान आरोपी पकड़ में आ गया।

ऑन गवर्नमेंट ड्यूटी लिखकर करते थे चोरी का काम
वाहन चोर गिरोह द्वारा चोरी में उपयोग की गई बोलेरो वाहन क्रमांक एमपी 18 सी 7815 के सामने के कांच में लाल रेडियम से ऑन गवर्नमेंट ड्यूटी लिखा हुआ है जिसे देख कर लोग यही सोचते हैं कि शायद यह सरकारी गाड़ी है और कोई विरोध नहीं करते, वाहन चोरी में प्रयुक्त महिंद्रा कंपनी की योद्धा पिकअप न्यू सोल्ड गाड़ी है इसमें किसी प्रकार का नंबर नहीं, वही दूसरे पिकअप में सीजी 16 ए/2635 लिखा हुआ है।

 

 


Date : 17-Oct-2019

सोनहत पहुंची विधायक अम्बिका, महामाया मंदिर में किया दर्शन बाजार भ्रमण कर व्यापारियों और ग्रामीणों से की मुलाकात

छत्तीसगढ़ संवाददाता

बैकुंठपुर, 17 अक्टूबर। बैकुंठपुर विधायक अम्बिका सिंहदेव बुधवार की शाम सोनहत बाजार स्थल पर पहुची , उन्होंने पूरा बाजार भ्रमण कर व्यापारियों से मुलाकात किया इस दौरान उन्होंने व्यापारियों की समस्याओं को भी सुना , अम्बिका सिंह देव से मुलाकात कर व्यापारी  भी हर्षित नजर आए

विधायक अम्बिका सिंहदेव ने सोनहत बाजार स्थल पर स्थित महामाया मन्दिर पहुच कर दर्शन कर आशीर्वाद लिया उन्होंने पूरा मन्दिर परिसर घूम कर वट वृक्ष की फैली हुई संरचनाओं का अवलोकन किया

बाजार स्थल पर ग्रामीणों ने अम्बिका सिंहदेव से मुलाकात कर कोरिया कुमार को भी याद किया गौर तलब है कि कोरिया कुमार भी इसी तरह बिना लाव लश्कर के सोनहत बाजार स्थल का भ्रमण किया करते थे , ग्रामीणों से मिलकर उनकी समस्याओं के बारे में खेती पानी की स्थिति की जानकारी अक्सर लिया करते थे, और विधायक बनने के बाद अम्बिका सिंहदेव भी उसी तर्ज पर दौरे कर रही है जिससे लोग खासे प्रभावित हैं, अम्बिका सिंहदेव के दौरे के दौरान कृष्णा राजवाड़े ,राजन पाण्डेय पुष्पेंद्र राजवाड़े लव प्रताप सिंह ,राघवेंद्र प्रताप सिंह सोनू साहू राजकुमार साहू प्रफुल पाण्डेय वीरेंद्र राजवाड़े, सोना सिंह और सोनहत के कई स्थानीय जन साथ रहे


Date : 17-Oct-2019

अवैध रेत खनन के खिलाफ ग्रामीण जुटे, हाइवा कब्जे में

छत्तीसगढ़ संवाददाता

बैकुंठपुर, 17 अक्टूबर। भरतपुर के मवई में रेत तस्करों के खिलाफ ग्रामीण लामबंद हो गए है। बुधवार रात अवैध रेत ले जा रहे हाइवा को लगभग सौ से सवा सौ महिला सहित ग्रामीणों ने रोके रखा। जिसके बाद कुछ हाइवा को भगा ले गए, वहीं एक हाइवा को ग्रामीणों ने घेरे रखा, जिससे चालक उस हाइवा को छोड़ भाग गया। मौके पर रायपुर की एक कार को भी ग्रामीणों ने अपने कब्जे में ले रखा है। ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। आज सुबह भी मौके पर 11 हाइवा और 2 जेसीबी मशीन खड़ी हुई थी। समाचार लिखे जाने तक जिला प्रशासन और पुलिस का कोई भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा है।

जानकारी के अनुसार कोरिया जिले का भरतपुर तहसील अवैध रेत के मामले में बीते 7 महीने से सुर्खियों में है, यहां की नदियों में प्रतिबंधित समय होने के बाद भी अवैध रेत उत्खनन जारी है। वहीं बुधवार सुबह घुघरी स्थित मवई नदी से रेत निकालने पहुंचे रेत तस्करों को घेरने देर शाम से ही ग्रामीण इकठ्ठा होने लगे थे।सैंकड़ों की संख्या में उपस्थित ग्रामीणों ने रात 9.30 पर हाइवा को रेत ले जाने से मना किया, जिसके बाद बवाल मच गया, कुछ हाइवा धीरे धीरे खिसकने लगे, जबकि एक हाइवा को ग्रामीणों ने अपने कब्जे में ले लिया, वहीं ग्रामीणों के अनुसार एक कार जो ठेकेदार की बताई जा रही है उसे भी रोक रखा है। ग्रामीण पूरी रात मौके पर मौजूद रहे। ग्रामीण भरतपुर से अधिकारियों का इंतज़ार कर रहे हैं ताकि उन वाहनों को सुपुर्द कर कार्रवाई की जा सके। वहीं पूरे दिन ग्रामीणों ने अधिकारियों को मौके पर बुलाने का प्रयास किया परंतु कोई भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा।

ग्रामीणों ने भरतपुर जनपद अध्यक्ष सुखवंती सिंह को इसकी सूचना दी। जिस पर सुखवंती सिंह के मौके पर पहुंचने की बात ग्रामीणों ने बताई है। ज्ञात हो कि अवैध रेत उत्खनन को लेकर पहले भी जनपद अध्यक्ष आंदोलन कर चुकी है।


Date : 16-Oct-2019

मितानीन स्वस्थ्य पंचायत सम्मेलन में शामिल हुई अंबिका

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बैकुंठपुर, 16  अक्टूबर।
कोरिया जिलामुख्यालय बैकुंठपुर मितानीन स्वस्थ्य पंचायत सम्मेलन का आयोजन किया गया, जिसमें बैकुंठपुर विधायक अंबिका सिंहदेव, जनपद अध्यक्ष सूर्यप्रताप जिला समन्वयक रेखा शिवहरे, प्रमिला सिंह, ब्लाक संमन्यवक लक्ष्मी चिकनजूरी के साथ बैकुंठपुर तहसील की मितानीनों के साथ एमटी कार्यकर्तााओ काफी संख्या में उपस्थित रही।

सम्मेलन की मुख्य अतिथि बैकुंठपुर विधायक अम्बिका सिंहदेव ने कहा कि स्वस्थ पंचायत सम्मेलन के जरिये मुझे आप लोगो के बीच आने का मौका मिला है, पहली बार आपकी शिकायत सुनने का मौका मिला है, आप समाज में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है, आपसे किसी को कोई शिकायत नही है, अपने आपको कमजोर ना समझे, मैंने आप लोगो की समस्याओं को गंभीर से सुना, मैं उसके त्वरित समाधान के लिए विभागों से बात कर प्रयास करूंगी। हमारी कांग्रेस की सरकार हर तरह से महिलाओं को मजबूत करने का प्रयास किया जा रहा है।  आप सब कुपोषण से लडऩे के लिए आगे आये समाज को एक नई दिशा दे।

इस संबंध में जिला समन्यवक रेखा शिवहरे का कहना है कि सामुदायिक स्तरीय निगरानी से कई समस्या आसानी से हल हो जाती है,राज्य संसाधन केन्द्र द्वारा संचालित यह समिति हर वर्ष ऐसा सम्मेलन का आयोजन करती है, जिसमें गांव की छोटी छोटी समस्याओं को एकत्रित कर यहां लाया जाता है, जवाबदार लोगों के सम्मुख उसे पढकर बताया जाता है, ताकि उसका जल्दी निराकरण हो सके।

जानकारी के अनुसार स्वस्थ्य पंचायत सम्म्लेन शुरू होने के पूर्व बैकुंठपुर तहसील से आई मितानीनों व एमटी ने विशाल रैली निकाली, रैली प्रेमाबाग शुरू होकर शहर के मुख्य मार्गो से होकर वापस प्रेमाबाग पर खत्म हुई। बताया गया कि ग्राम स्तर पर ग्राम स्वच्छता एवं पेाषण समिति के माध्यम से निगरानी और कार्ययोजना का निर्माण कर समस्या का समाधान किया जाता है। सम्मेलन में मितानीन प्रोत्साहन राशि की 8 , मनरेगा की 35, शौचालय निर्माण की 8 9, स्वास्थ्य संबंधी मध्यान्ह भोजन 6 3, हैंडपंप 41 सोलर उर्जा, पेंशन 74, आंगनबाडी 17, मातृवंदना योजना 51, रोड पुलिया 15, जननी सुरक्षा की 31, शराब बंदी की 6  शिकायतें,  स्कूल बांउड्री, टॉवर, फुलवारी, स्मार्ट कार्ड संबंधी कइ समस्याओं को पढकर उपस्थित लोगो को बताया गया और उनसे समय सीमाा में समस्याओं का हल करने की मांग की गई। इसके अलावा फुलवारी कार्यक्रम को लेकर ये मांग की गई कि जो राशि उन्हें दी जाती थी अब वो नही मिल रही है पहले राशि सीधे पंचायत के जरिये फुलवारी केंद्रों तक पहुंचती थी, पर बीते 3 साल से ऐसा नही हो रहा है। सम्मेलन में  फुलवारी योजना से होने वाले लाभ के बारे में बताया गया। मितानिनें ने बताया कि उन्हें हर महीने पैसा नही आता है जो आता भी है वो कट कर आता है। सम्मेलन में बढिय़ा काम करने वालो को सम्मानित भी किया गया।


Date : 16-Oct-2019

सट्टा कारोबार के खिलाफ हिन्दू सेना ने एसपी को सौंपा ज्ञापन

छत्तीसगढ़ संवाददाता
चिरमिरी, 16 अक्टूबर।
हिन्दू सेना कोरिया छग की चिरमिरी इकाई ने सोमवार को चिरमिरी में व्याप्त सट्टे के कारोबार पर रोक लगाने के लिए ज्ञापन दिया। 

चिरमिरी क्षेत्र के अलग-अलग हिस्सों जैसे छोटा बाज़ार डोमनहिल गोदरीपारा हल्दीबाड़ी पोड़ी आदि क्षेत्रों में कई दस्को से चल रहे सट्टे के कारोबार पर रोक लगाने के लिए हिन्दू सेना के पदाधिारियों ने एसपी कोरिया को ज्ञापन दिया। 

हिन्दू सेना महिला विंग की प्रदेश महामंत्री भारती सिंह ने बताया कि यदि हमारे मुहिम को प्रशासन हलके में लिया अथवा चिरमिरी क्षेत्र में चल रहे सट्टे के कारोबार पर जल्द अंकुश नहीं लगाया गया तो हिन्दू सेना अपने सभी साथियों के साथ उग्र आंदोलन करने के लिए विवश होगा। एएसपी ने आश्वासन दिया कि इस पर जल्दी ही कार्रवाई की जाएगी। 

आवेदन सौंपने के दौरान हिन्दू सेना के ब्लाक अध्यक्ष अजय पांडेय नगर अध्यक्ष संतोष देवांगन सूरज देवांगन नगर अध्यक्ष महिला विंग सुनैना खटीक दीप रोशनी ज्योति सिंह लक्ष्मी आदि हिन्दू सेना के पदाधिकारी मौजूद रहे।


Date : 16-Oct-2019

प्राथमिक शाला सोनहत का आकस्मिक निरीक्षण किया, एसडीएम ने बच्चों के साथ किया मध्यान्ह भोजन

बैकुंठपुर, 16 अक्टूबर। अनुविभागीय अधिकारी राजस्व सोनहत कौशल तेंदुलकर ने प्राथमिक शाला सोनहत का आकस्मिक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने राज्य स्तरीय परीक्षा का अवलोकन किया और बच्चों से मुलाकात की।

एसडीएम सोनहत ने बच्चों के साथ साप्ताहिक अंडा सब्जी के साथ खुद भोजन कर बच्चों का उत्साहवर्धन किया। उन्होंने बच्चों से पूछा कि कितने बच्चे हैं जो पहले से अंडा खाते हैं। इसी दौरान उन्होंने भोजन में अंडे का महत्व उससे मिलने वाले विटामिन के बारे में बताया। 

एसडीएम सोनहत के साथ कांग्रेस के पदाधिकारी और शिक्षकों ने भी भोजन किया।एस डी एम सोनहत ने बच्चों से सामान्य पूछताछ गिनती पहाड़ा हिंदी वर्णमाला अंग्रेजी अल्फाबेट के अतिरिक्त बच्चों से कविता कहानी पूछे बच्चो ने तत्काल जवाब भी दिया और कविताये भी एसडीएम को सुनाई। एसडीएम ने हाथ धोने के तरीके स्वच्छता के प्रति जागरूकता के साथ साथ गुड टच बैड टच के बारे में बच्चो को बताया। इसके अलावा उन्होंने स्कूल के शिक्षकों को  स्मार्ट क्लास के माध्यम से एलईडी टीवी द्वारा इस पर वीडियो दिखाने को कहा और बच्चो को नित नई चीजें भी सीखने को कहा। 

 


Date : 16-Oct-2019

11 करोड़ के लोन में मिात्र 4 करोड़ की वसूली, अंत्यावसायी सहकारी विकास विभाग ने बीते 19 साल में दिए लोन
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बैकुंठपुर, 15 अक्टूबर।
कोरिया में जिला अंत्यावसायी सहकारी विकास विभाग द्वारा बीते 19 साल में जारी किए गए 11 करोड़ रूपए के लोन में सिर्फ 4 करोड़ की ही वसूली हो सकी है, 7 करोड़ रूपऐ बकाया है। विभाग द्वारा वसूली के लिए जाने पर हितग्राही स्थल पर नहीं मिल रहें हैं। कई जगह कुछ लोग हितग्राहियों के नाम से ऋण लेकर उसका फायदा तो उठा रहे है परन्तु लोन भरने में आना कानी कर रहे हैं।

इस संबंध में जिला अंत्यावसायी सहकारी विकास समिति कोरिया के प्रभारी अधिकारी कमलेश देवांगन का कहना है कि विभाग ने योजना शुरू होने से अब तक 11 करोड़ रुपये से अधिक राशि ऋण के रूप में हितग्राही को दिया है, जहां अब भी सात करोड़ से ऊपर की राशि वसूली करने को शेष है। कई हितग्राही स्थल पर नहीं मिल रहे, वहीं कुछ वाहन के लोन दूसरे के द्वारा लेने का हवाला देकर ऋण राशि जमा नहीं कर रहे हैं, जिन्हें नोटिस जारी कर राशि जमा करने को कहा गया है। राशि जमा नहीं करने पर कोर्ट के माध्यम से वसूली के लिये आगे की कार्रवाई की जाएगी। 

जानकारी के अनुसार अनुसूचित जाति और जनजाति वर्ग, पिछड़ा वर्ग, सफाई कामगार व अल्पसंख्यक वर्ग के लोगों को व्यवसाय के लिए अंत्यावसायी सहकारी विकास समिति द्वारा वर्ष 2000 से लेकर वर्ष 2019 तक 11 करोड़ रुपए से अधिक के लोन बांटे गए। कई अधिकारी आए और लौट गए, परन्तु ऋण वसूली नहीं हो पाई। अब हालात यह है कि कई हितग्राही अपने दिए पते पर नहीं मिल रहे, तो कई हितग्राही ऐसे हैं जो वाहन तो लिए हैं किंतु उनके पास वाहन नहीं है उनके नाम से लिये गए वाहन किसी और के द्वारा उपयोग किया जा रहा। विभाग द्वारा नोटिस देने के बाद भी हितग्राही कार्यालय नहीं पहुंच रहे, जिससे इस ऋण राशि को वसूलने में दिक्कत हो रही। बीते 19 साल में विभाग को करीब 7 करोड़ 46  लाख 8 2 हजार 552 रुपए की वसूली करनी है। सालों से पैसा बांटने के बाद विभाग वसूली नहीं कर पा रहा है। अब रकम की वसूली के लिए राज्य सरकार ने जिला अंत्यावसायी विभाग को पत्र भेजा है। 

पूरा नहीं कर पा रहे लक्ष्य 
योजना के हिसाब से बांटे गए रकम की वसूली के लिए हर साल लक्ष्य तैयार किया जाता है। प्लान के अनुसार हर साल टीम को वसूली का लक्ष्य पूरा करना होता है मगर विभाग दिया गया लक्ष्य पूरा नहीं कर पा रहा है। वर्ष 2019 में विभाग बमुश्किल से अब तक दिए गए ऋण  राशि मे केवल 2 करोड़ 6 3 लाख 14 हजार 413 रुपए ही वसूल कर पाया है, जबकि विभाग को करीब 7 करोड़ से ऊपर का लोन वसूल करना है। इसमें करीब 1 करोड़ की राशि तो पिछले वित्तीय वर्ष 2017 से 2019 तक की ही बताई जा रही है।

लोन किसी और के नाम 
विभागीय सूत्रों की माने तो हितग्राही के नाम से किसी दूसरे व्यक्ति ने उसके दस्तावेज से ट्रेक्टर, बुलेरो, पिकअप, जीप, ऑटो व अन्य वाहन निकाल लिए है, जहां हितग्राहियों के पास वर्तमान में वाहन ही नहीं ह,ै जिससे अधिकारियों को इस स्थिती में राशि को वसूलने में समस्या हो रही है। वहीं जिन अधिकारियों ने यह ऋण दिया वे अब जिले में मौजूद भी नहीं है।

 


Date : 16-Oct-2019

ग्रामीणों ने कलेक्टर जनदर्शन में चार वर्षों में हुए कार्यों की जांच की मांग 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बैकुंठपुर, 16  अक्टूबर।
जनपद पंचायत खडगवां के ग्राम पंचायत तोलगा के कुछ ग्रामीणों ने पिछले दिनों कलेक्टर जनदर्शन कार्यक्रम में शिकायत प्रस्तुत कर बीते चार वित्तीय वर्षों के दौरान कराये गये कार्यो की जांच की मांग की है। ग्रामीणों का आरोप है कि सरपंच सचिव के द्वारा विभिन्न निर्माण कार्य में अनियमितता की गयी है तथा कई कार्य तो दिखाई भी नही देते लेकिन स्वीकृत राशि आहरित कर लिया गया है। 

इस संबंध में मिली शिकायत के अनुसार ग्राम पंचायत तोलगा के ओमप्रकाश साहूु ने कलेक्टर जनदर्शन में पिछले दिनों दिये अपने शिकायत में उल्लेख किया है कि ग्राम पंचायत तोलगा में वित्तीय वर्ष 2015-16 ,2016 -17, 2017-18  तथा 2018 -19 में कुल चार वर्षो के कार्यो की सूची संलग्न कर शिकायत में बताया कि सरपंच सचिव के द्वारा फर्जी तरीके से राशि का आहरण कर लिया गया है जबकि पंचायत में कार्य नही कराया गया है कार्य कही दिखता नही है। उक्त सभी वित्तीय वर्षो के दौरान स्वीकृत कार्यो की जॉच कराकर दोषियों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई किए जाने की मांग की गई है। 

इसी तरह जनपद पंचायत खडगवां अंतर्गत ग्राम पंचायत लोटाबहरा में भी वर्ष 2015-16  से अब तक के कार्यो की सूची संलग्न कर ग्राम के अशोक कुमार ने जॉच की मांग की है। शिकायत में आरोप लगाया गया है कि ग्राम पंचायत लोटाबहरा के सरपंच सचिव के द्वारा फर्जी तरीके से निर्माण कार्यो की राशि आहरित कर गोल माल किया गया है।  उल्लेखनीय है कि जनपद पंचायत खडगवां क्षेत्र. में मनरेगा योजना के तहत सबसे ज्यादा कार्यो की स्वीकृति प्रदान की गयी थी और यही सबसे ज्यादा मनरेगा योजना के कार्यो में भष्टाचार भी किये जाने की शिकायत हैं।


Date : 16-Oct-2019

मवई नदी के पुल के पास अवैध रेत-परिवहन फिर शुरू, खनिज अधिकारी ने कहा शिकायत नहीं मिली

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बैकुंठपुर ,16  अक्टूबर।
कोरिया जिले के भरतपुर जनपद क्षेत्र के मवई नदी के पुल के पास से अवैध रूप से रेत उत्खनन एवं परिवहन फिर से शुरू हो गया है। मामले को लेकर जिला खनिज अधिकारी त्रिवेणी देवांगन ने कहा कि हमारे खनिज निरीक्षक दौरे पर जा रहे हैं। जिसके बाद ही सही स्थिति के बारे में पता चल सकेगा। उन्होंने कहा कि इस संबंध में अभी तक अवैध रेत उत्खनन व परिवहन की शिकायत नहीं मिली है। वहीं जनपद अध्यक्ष सुखवंती सिंह का कहना हैं कि मैंने मामले को लेकर मुख्यमंत्रीजी को भी पत्र लिखा था, परंतु अवैध रेत उत्खनन पर किसी भी तरह की रोक नहीं लग रही है, मैं मौके पर जा रही हूं।

जानकारी के अनुसार मंगलवार की रात एक बार फिर रेत माफिया अपने साथ 7 हाईवा और 2 जेसीबी लेकर ग्राम घुघरी स्थित मवई नदी पहुंचें, रात भर में उन्होंने रेत निकालने के लिए कच्ची सडक़ बनाई और परिवहन का काम शुरू कर दिया, सुबह जब ग्रामीणों को इसकी भनक लगी तो घर ग्रामीणों ने मौके पर पहुंचकर विरोध जताया। ग्रामीण पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों को फोन कर थक गये किसी ने फोन नहीं उठाया। इसी बीच भरतपुर जनपद अध्यक्ष सुखवंती सिंह गांव पहुंचने वाली है।

मवई पुल पर 2006  में एक पुल बना हुआ था, इसके बाद एक नया पुल बन गया, रेत माफियाओं ने पुराने पुल के एक हिस्से को तोड़ डाला, ग्रामीणों के अनुसार माफियाओं ने पुल को तोडक़र रास्ता बना दिया है, जिससे अवैध रेत निकाला जा सकेगा।

भगवानपुर में भी जारी उत्खनन
उधर, भरतपुर के भगवानपुर क्षेत्र स्थित बनास नदी से अवैध रेत परिवहन जारी है, वन क्षेत्र आने के कारण खनिज विभाग कार्यवाही के लिए वन विभाग को पत्र लिख रहा है, परंतु राजस्व क्षेत्र में खनिज विभाग कार्रवाई करने आगे नहीं आ रहा है। 

ज्ञात हो कि भरतपुर जनपद क्षेत्र के प्रमुख नदियों से अवैध रेत उत्खनन को लेकर ग्रामीणों में भारी नाराजगी है लेकिन इस दिशा में खनिज विभाग के जिम्मेदार अधिकारी कोई कार्रवाईनहीं कर रहे हैं तथा प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा भी किसी तरह की कार्रवाई नहीं हो रही है। इधर, विभागीय अधिकारियों को शिकायत का इंतजार है जबकि ग्रामीणों द्वारा क्षेत्र के प्रशासनिक अधिकारियों कई बार शिकायत दी जा चुकी है लेकिन अब तक किसी तरह की कार्रवाई नहीं हुई।

हंगामे के बाद लगा था ब्रेक
6  सितंबर को लमवई नदी के पुल के पास रेत अवैध रूप से उत्खनन एवं परिवहन के कारण रेत परिवहन में लगे हाईवा वाहन की चपेट में आने से एक मकान क्षतिग्रस्त हो गया था, जनपद अध्यक्ष सुखवंती सिंह और ग्रामीणों के हंगामे के अवैघ उत्खनन पर ब्रेेक लग गया था मामले में जनपद अध्यक्ष सुखवंती सिंह के मोर्चा संभालने के बाद पोकलेन मशीन को हटाने के लिए विवश होना पड़ा था।


Date : 15-Oct-2019

जिला अस्पताल में मिलेगी सीटी स्कैन की सुविधा

छत्तीसगढ़ संवाददाता
मनेन्द्रगढ़, 15 अक्टूबर।
सविप्रा उपाध्यक्ष (राज्यमंत्री) गुलाब कमरो द्वारा कोरिया जिले में कोयला खनन प्रभावित क्षेत्रों में विकास हेतु सीएसआर मद से मूलभूत सुविधा व निर्माण कार्य कराने अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक (सीएमडी) एसईसीएल बिलासपुर को मांग पत्र सौंपा था, जिसका असर अब दिखने लगा है। सीएमडी के निर्देश पर जीएम बैकुंठपुर ने कलेक्टर कोरिया से अग्रिम कार्रवाई हेतु अनुशंसा मांगी है।

बता दें कि राज्यमंत्री ने अपने मांग पत्र में विकासखंड मुख्यालय मनेंद्रगढ़ में मेडिकल कॉलेज की स्थापना, जिला चिकित्सालय बैकुंठपुर में सीटी स्केन मशीन की सुविधा, सोनहत तहसील अंतर्गत ग्राम कटगोड़ी एवं मनेंद्रगढ़ तहसील अंतर्गत ग्राम नागपुर व सरभोका (डोंगरीटोला) में पेयजल की स्थाई सुविधा, सिरौली, लालपुर व पिपरिया में सीसी सड़क निर्माण, नगर पंचायत खोंगापानी में माध्यमिक शाला भवन, खोंगापानी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में बाउंड्रीवाल निर्माण, मनेंद्रगढ़ सिद्धबाबा मंदिर पहुंच मार्ग पर सीढ़ी एवं सीसी सड़क निर्माण, केंद्रीय चिकित्सालय मनेंद्रगढ़ में ब्लड बैंक शुरू करने व सोनहत तहसील अंतर्गत ग्राम बसेर स्थित प्राथमिक व माध्यमिक शाला में बाउंड्रीवाल निर्माण कराए जाने संंबंधी मांग पत्र सौंपते हुए सीएसआर मद से स्वीकृति प्रदान किए जाने मांग की थी। 

राज्यमंत्री के मांग पत्र पर गौर करते हुए सीएमडी के निर्देश पर क्षेत्रीय महाप्रबंधक बैकुंठपुर क्षेत्र ने कलेक्टर कोरिया को पत्र लिखकर जिले की बहुप्रतीक्षित मांग जिला चिकित्सालय में सीएसआर मद से सीटी स्कैन की स्थापन के संबंध में अनुशंसा मांगी है। राज्यमंत्री की इस सराहनीय पहल की जिले में सराहना की जा रही है। वर्तमान में सीटी स्कैन के लिए मरीजों को बड़े शहरों का रूख करना पड़ता है। 

 लेकिन अब जिला अस्पताल में सीटी स्कैन की सुविधा उपलब्ध होने से शरीर के विभिन्न अंगों से जुड़ी बीमारियों का पता लगाने में आसानी होगी। 

 


Date : 15-Oct-2019

जिला अस्पताल में अब होगा सिटी स्कैन, विधायक अम्बिका सिंहदेव ने एसईसीएल के अधिकारियों को सिटी स्कैन मशीन लगाने को कहा

बैकुंठपुर, 15 अक्टूबर। कोरिया जिले के एकमात्र जिला अस्पताल में अब सिटी स्कैन की सुविधा उपलब्ध होने वाली है, बैकुंठपुर विधायक अम्बिका सिंहदेव ने एसईसीएल के अधिकारियों को सिटी स्कैन मशीन लगाने को कहा है।

जानकारी के अनुसार वर्ष 2006  में अस्तित्व में जिला अस्पताल बैकुंठपुर में आज तक सिटी स्कैन मशीन नहीं है, इसके लिए पूर्व सरकार ने कुछ प्रयास किये परंतु मशीन नहीं आ पाई, नई सरकार बनते ही बैकुंठपुर विधायक अम्बिका सिंहदेव की प्राथमिकता में जिला अस्पताल रहा, सिटी स्कैन के लिए उन्होंने एसईसीएल से सीएसआर मद से मशीन लगाने को कहा है, जिस पर एसईसीएल राजी हो गया है। इससे पहले जिला अस्पताल में डीएमएफ मद से सिटी स्कैन मशीन के लिए भवन का निर्माण किया जा चुका है, बस मशीन आना बाकी है। जिला अस्पताल बने 13 वर्ष से ज्यादा बीत गए, शुरुआती दौर में सिटी स्कैन के लिए यहां के मरीजों को अम्बिकापुर जाना पड़ता था, कुछ वर्षों से शहर के निजी सिटी स्कैन सेंटरों पर जाना पड़ता है, जहां भारी खर्च कर सिटी स्कैन करवाना पड़ता है। दूसरी ओर जिला अस्पताल में जिले भर से दुर्घटनाओं के रेफर केस आते है, कई गरीब मरीज सिटी स्कैन नहीं करवा पाते हैं।


Date : 15-Oct-2019

जल आर्वधन योजना में मनमानी का आरोप, कलेक्टर से शिकायत

छत्तीसगढ़ संवाददाता

बैकुंठपुर, 15 अक्टूबर। कोरिया जिलामुख्यालय बैकुंठपुर नगर पालिका परिषद के उपाध्यक्ष और पार्षदों ने कलेक्टर से मिलकर जल आर्वधन योजना में मनमानी का आरोप लगाया है। कलेक्टर डोमन सिंह ने उपाध्यक्ष सहित पार्षदों को काम कराए जाने का आश्वासन दिया है।   उपाध्यक्ष सुभाष साहू का कहना है कि जल आर्वधन योजना भाजपा सरकार की देन है, वर्ष 2016 -17 में इसकी स्वीकृति मिली, इसके लिए कुल 31 करोड़ रू तत्कालिन भाजपा सरकार ने जारी किए। जल आवर्घन योजना का कार्य इस वर्ष आरंभ किया गया है। परन्तु नपा से कई वाडऱ्ों में इसके कार्य पर रोक लगा दी है। ऐसे में बीते समय के जुड़े वार्डों में पानी कैसे मिलेगा। योजना पूर्व में जुडं़े वार्डों को ध्यान में रखकर स्वीकृत की गई थी। पालिका क्षेत्र में 21 वार्ड है। अब नगर पालिका से 7 वार्डो को हटाया गया है, ऐसे में इन 7 वार्डो में पीने के पानी के पाईप लाइन का विस्तार रोक दिया गया है। ऐसे में यदि कार्य शुरू नहीं होता है तो आने वाले दिनों मे वे बडा आंदोलन करेगें।


Date : 15-Oct-2019

ग्रामीणों ने मजदूरी भुगतान कराने कलेक्टर से की मांग

छत्तीसगढ़ संवाददाता

बैकुंठपुर, 15 अक्टूबर। कोरिया जिले में मनरेगा की मजदूरी को लेकर ग्रामीणों में भारी रोष है। मंगलवार को होने वाले जनदर्शन कार्यक्रम में दूर दूर से मजदूर अपनी मजदूरी की मांग के लिए पहुंचे है।

जानकारी के अनुसार जनपद पंचायत खडग़वां के ग्राम पंचायत करवां के ग्रामीण चालू वर्ष 2019 में जनवरी माह से मनरेगा के काम किये, जिसमे डबरी निर्माण, कुआं निर्माण में लगभग 70 मजदूरों ने काम किया, 10 महीने होने को है आज तक मजदूरी नहीड्ड मिली है, कलेक्टर कार्यालय पहुंचे सोमार साय, गीता, हिरमतिया, इतवार साय, बसबतिया, छोटेलाल, आशाराम, रामलाल, बुधवारिया, अब्दुल जब्बार, मान कुँवर, अंगद सिंह, नैन सिंह, अर्जुन, शेर सिंह, वीर सिंह, कौशल्या, शिव कुमार, अमर साय, फूलझर ने बताया कि सरपंच को बोलने पर वो सहायक सचिव से मिलने को बोलता है, जबकि सहायक सचिव का कहना है कि मैं पैसा बैंक में भेज चुका हूं, बैंक जाने पर वहां पता चलता है कि उनके खाते में पैसा पहुंचा ही नहीं है, उनका कहना है कि सर पर दीवाली का त्योहार है मजदूरी नहीं मिली तो वो कैसे त्योहार मनाएंगे, और लगी फसल कटवाने के लिए भी पैसे की जरूरत है। उन्होंने कलेक्टर से तत्काल मजदूरी दिलाये जाने की मांग की है।


Previous123Next