छत्तीसगढ़ » नारायणपुर

03-Jul-2020 10:30 PM

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

नारायणपुर, 3 जुलाई। आज भारतीय जनता युवा मोर्चा जिला संगठन द्वारा प्रदेश नेतृत्व के आह्वान पर जिले में निवासरत कार्यकर्ताओं द्वारा अपने घरों में पुतला दहन किया। 
जिलाध्यक्ष सुदीप झा ने बताया कि भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष विजय शर्मा के आह्वान पर संपूर्ण प्रदेश भर में 3 जुलाई को 3 बजे तीन कार्यकर्ताओं की उपस्थिति में छत्तीसगढ़ सरकार का 3000 पुतला दहन का आयोजन किया गया था। इसी तारतम्य में भारतीय जनता युवा मोर्चा जिला नारायणपुर के कार्यकर्ताओं पदाधिकारियों ने भी अपने निवास के सामने जिले भर के विभिन्न मंडलों में छत्तीसगढ़ सरकार का 100 पुतला दहन किया है। इस अनोखे  प्रदर्शन में युवाओं ने उत्साह पूर्वक बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया।
छत्तीसगढ़ की सरकार ने युवाओं का विश्वास खो दिया है आलम यह है कि बेरोजगार मुख्यमंत्री निवास के सामने आत्महत्या कर रहे  है ऐसे में युवाओं से जुड़े अनेक विषयों के प्रति शासन के ध्यानाकर्षण के लिए धारा 144 और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए सिर्फ पांच की संख्या में युवा मोर्चा के कार्यकर्ता प्रदर्शन करना चाहे तो उन्हें सैकड़ों की संख्या में पुलिस ने विगत दिनों रोका था 13 जिलों में 1 जुलाई वाला कार्यक्रम नहीं होने दिया गया। इसी से क्षुब्ध होकर के भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने प्रदेश भर में अपने निवास के सामने इस कार्यक्रम को अंजाम देना तय किया। 

भाजयुमों ने राज्य सरकार से कई मांगें की। मांगें नहीं मानने की दशा में भारतीय जनता युवा मोर्चा आंदोलन के  लिए बाध्य होगी जिसकी पूर्ण जिम्मेदारी राज्य सरकार की होगी। पुतला दहन के दौरान भाजयुमो महामंत्री राहुल पटेल ,नरेन्द्र मेश्राम, प्रशांत ठाकुर , मण्डल अध्यक्ष जैकी कश्यप ,रवि साहू ,प्रितेश जैन ,अविनाश देवांगन ,संत नाथ उसेंडी एवं सभी कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों ने अपने अपने घरों में पुतला दहन किया।

 


03-Jul-2020 10:29 PM

नारायणपुर, 3 जुलाई। तेंदूपत्ता संग्राहकों एवं ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल व वनमंत्री के नाम कलेक्टर नारायणपुर को ज्ञापन सौंपा। जिसमें बीजापुर, दंतेवाड़ा, सुकमा जिले की तरह ही नारायणपुर में भी तेंदूपत्ता संग्राहकों को नगद राशि भुगतान करने की मांग की गई है। संग्राहकों ने यह भी कहा कि अगर एक हफ्ते के अंदर में नगद भुगतान नहीं होता है तो उग्र आंदोलन कर कलेक्ट्रेट व वनमण्डल नारायणपुर का घेराव कर मांग करेंगे।

इस अवसर पर गौतम गोलछा, रूपसाय सलाम, बुधराम वड्डे, राजूराम दुग्गा, संतनाथ उसेण्डी, संतोष साहू सहित एडका इरको, हितुलवाड़, कतुरलबेड़ा ,अमासरा कान्हरगांव, देवगांव गढ़बेंगाल, जमरी, बोरण्ड नेलवाड़, कापसी, फरसगांव रेमावंड, खोडग़ांव, भरांडा आदि गांवों के सैकड़ों की संख्या में जिले के विभिन्न क्षेत्रों से आए ग्रामीण उपस्थित थे।