छत्तीसगढ़ » राजनांदगांव

Previous1234Next
Posted Date : 25-Apr-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 25 अप्रैल।
    प्रशिक्षु आईएएस अधिकारी एवं सहायक कलेक्टर के रूप में पदस्थ रहे रोहित व्यास की परिवीक्षा अवधि समाप्त होने के पश्चात जिले से स्थानांतरित होने पर 24 अप्रैल को जिला प्रशासन की ओर से उन्हें विदाई दी गई। कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आयोजित विदाई समारोह में कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य, जिला पंचायत सीईओ तनुजा सलाम, अपर कलेक्टर ओंकार यदु, एसएन मोटवानी सहित वनमंडलाधिकारी पंकज राजपूत उपस्थित थे।

    इस अवसर पर कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य ने रोहित व्यास के कार्यों एवं व्यवहार की मुक्तकंठ से सराहना करते उन्हें एक कर्तव्यनिष्ठ, जिज्ञासु एवं अत्यंत संवेदनशील अधिकारी बताया। उन्होंने कहा कि श्री व्यास में निरंतर कुछ न कुछ सीखने की ललक के अलावा अपने कार्यों के प्रति प्रतिबद्धता एवं समर्पण का भी उत्कृष्ट गुण है। इस अवसर पर जिले के सभी अधिकारी-कर्मचारियों ने श्री व्यास के व्यवहार कुशलता एवं संवेदनशीलता की भूरी-भूरी प्रशंसा करते उन्हें शुभकामनाएं दी।
    कलेक्टर श्री मौर्य ने श्री व्यास के कार्यों एवं गुणों की सराहना करते कहा कि वे शासकीय कार्यों का समय-सीमा में निष्पादन करने के अलावा अपने व्यक्तिगत जीवन के लिए भी समय निकाल लेते हैं। यह एक अच्छे अधिकारी का सबसे महत्वपूर्ण गुण होता है। उन्होंने कहा कि श्री व्यास ने उन्हें सौंपे गए प्रत्येक कार्यों का पूरी ईमानदारी एवं निष्ठापूर्वक निर्वहन किया है। श्री व्यास को इस जिले में अपनी परवीक्षा अवधि के दौरान दो-दो कलेक्टरों के साथ कार्य करने का अवसर भी प्राप्त हुआ है। उन्होंने आशा व्यक्त किया कि राजनांदगांव जिले में प्राप्त अनुभव श्री व्यास के आगामी प्रशासनिक जीवन में पथ प्रदर्शक करने में सहायक सिद्ध होगी।

    इस अवसर पर सहायक कलेक्टर रोहित व्यास ने अपने पदस्थापना के दौरान जिले के प्रत्येक अधिकारियों एवं कर्मचारियों से मिले सहयोग व आत्मीय व्यहार की प्रशंसा करते सभी के प्रति आभार व्यक्त किया। उन्होंने एक प्रशिक्षु आईएएस अधिकारी के रूप में जिले के अलग-अलग स्थानों में विभिन्न पदों में पदस्थापना के दौरान अधिकारी-कर्मचारियों से मिले सहयोग एवं अनुभवों के संबंध में विस्तार पूर्वक जानकारी दी। श्री व्यास ने कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य के कार्यों एवं व्यवहार की प्रशंसा करते उन्हें एक योग्य, कुशल एवं संवेदनशील प्रशासनिक अधिकारी बताया।

    जिला पंचायत सीईओ तनुजा सलाम ने रोहित व्यास के कार्यों एवं व्यवहार की सराहना करते उन्हें अपने कार्यों के प्रति प्रतिबद्ध, उत्साही एवं ऊर्जावान अधिकारी बताया। अपर कलेक्टर ओंकार यदु ने श्री व्यास की जिज्ञासु प्रवृत्ति की सराहना करते कहा कि उनमें निरंतर नए-नए कार्यों को सीखने की ललक है। अपर कलेक्टर श्री मोटवानी ने श्री व्यास को एक मेहनती एवं उत्साही अधिकारी बताया। इस अवसर पर उन्होंने श्री व्यास को अपने स्वरचित पुस्तक की प्रति भी भेंट की। वनमंडलाधिकारी पंकज राजपूत ने रोहित व्यास को एक कुशल एवं ऊर्जावान अधिकारी के अलावा एक बहुत अच्छा खिलाड़ी एवं कलाकार भी बताया। इस अवसर पर नगर निगम आयुक्त  चंद्रकांत कौशिक एवं जिले के अन्य अधिकारियों ने श्री व्यास के कार्यों व्यवहारों की भूरी-भूरी सराहना करते उनकी उज्ज्वल भविष्य की कामना की। कार्यक्रम का संचालन एसडीएम डोंगरगढ़ प्रेमप्रकाश शर्मा ने किया। कार्यक्रम में जिले के सभी एसडीएम, जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों के अलावा जिला स्तरीय अधिकारीगण उपस्थित थे।

     

  •  

Posted Date : 25-Apr-2019
  • राजनांदगांव। जिले में गर्मी बेतहाशा पड़ रही है। अप्रैल के आखिरी सप्ताह में गर्मी पूरे शबाब पर है। माहांत में पारा 44 डिग्री के आसपास पहुंच सकता है। तेज धूप के कारण घर से निकलने के बाद सूर्य की चुभन से बचने कई तरह के उपाय करते लोग नजर आ रहे हैं। एक बच्चे को लेकर निकली मां इसी तरह कोशिश करते नजर आ रही हैं। तस्वीर / छत्तीसगढ  / अभिषेक यादव

     

  •  

Posted Date : 25-Apr-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 25 अप्रैल।
    पड़ोसी जिले दुर्ग में लोकसभा चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी के पक्ष में खुलेआम प्रचार करते कैमरे में कैद हुए राजनांदगांव शिक्षा महकमे के पीटीआई सुनील नागदौने को आखिरकार निलंबन झेलना पड़ा। कलेक्टर ने सख्ती दिखाते पीटीआई को प्रचार का वीडियो वायरल होने के बाद दो दिन के भीतर नोटिस देकर जवाब मांगा था। संतोषप्रद जवाब नहीं होने के बाद कलेक्टर ने नागदौने को निलंबित कर दिया है।

     अंबागढ़ चौकी ब्लॉक के दाऊटोला सरकारी स्कूल में पदस्थ नागदौने के फेसबुक एकाउंट में राजनीतिक दलों के प्रमुख नेताओं के साथ सीधा संपर्क जाहिर तौर पर नजर आता है। वह राजनीतिक गतिविधियों में खुलेआम भाग लेते रहे हैं। बताया गया है कि राजनांदगांव लोकसभा के प्रत्याशी भोलाराम साहू के पक्ष में डोंगरगढ़ में हुए चुनावी रैली और सभाओं में भी नागदौने ने बेहिचक अपनी भागीदारी निभाई थी। बताया जाता है कि कई लोगों ने नागदौने को कांग्रेस का झंडा लेकर प्रचार करते देखा। वहीं डोंगरगढ़ थाना के सामने एक होर्डिंग्स में लंबे समय तक नागदौने ने कांग्रेस नेताओं के साथ बैनर भी लगाया था। 

     बताया जा रहा है कि दुर्ग लोकसभा प्रत्याशी प्रतिमा चंद्राकर के लिए भोलाराम साहू के साथ प्रचार करते नागदौने ने मतदाताओं से सीधे संपर्क साधा। वीडियो में नागदौने हाथ जोड़कर मतदाताओं से कांग्रेस के पक्ष में वोट डालने की अपील करते नजर आ रहे हैं। 

    इस मामले में भाजपा की ओर से जिला निर्वाचन अधिकारी को लिखित में शिकायत की गई थी। बताया जाता है कि नागदौने को कलेक्टर ने कल दोपहर बाद निलंबित कर दिया। निलंबन अवधि में उनका मुख्यालय मोहला विकासखंड शिक्षा अधिकारी के कार्यालय में रखा गया है। 

     

  •  

Posted Date : 25-Apr-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 25 अप्रैल।
    कांग्रेस नेता निखिल द्विवेदी और उसके एक साथी पर डोंगरगांव के एक व्यापारी के साथ मारपीट किए जाने के मामले में एफआईआर दर्ज किया गया है। बताया गया है कि व्यापारी ने न सिर्फ बल्कि अपनी पत्नी के साथ भी हाथापाई किए जाने का आरोप द्विवेदी और उसके साथी पर लगाया है। डोंगरगांव पुलिस ने दोनों के विरुद्ध आपराधिक प्रकरण दर्ज करते हुए विवेचना शुरू कर दी है।

    इस संबंध में थाना प्रभारी टीडी डहरिया ने बताया कि लेनदेन के मामले में मारपीट का मामला सामने आया है। शिकायत के बाद अपराध दर्ज कर लिया गया है। बताया गया है कि डोंगरगांव के मुकेश कुमार जैन का निखिल द्विवेदी के साथी दुष्यंत वैष्णव के साथ मटेरियल सप्लाई कारोबार में कुछ रुपए बकाया है। इसके चलते जैन रुपए के लिए दुष्यंत वैष्णव पर दबाव बनाए हुए थे। कल इसी बात को लेकर दोनों के बीच विवाद हुआ और बात मारपीट तक पहुंच गई। पुलिस का कहना है कि पति के बीच बचाव के लिए उतरी पत्नी के साथ भी आरोपियों ने मारपीट की है।

     मिली जानकारी के मुताबिक मुकेश जैन को दुष्यंत वैष्णव से करीब 50 हजार रुपए की लेनदारी है। काफी समय से दोनों के बीच रुपए को लेकर विवाद चलता रहा है। उधर एनएसयूआई के पूर्व राष्ट्रीय महासचिव व कांग्रेस नेता निखिल द्विवेदी ने पुलिस कार्रवाई पर सवाल उठाते हुए कहा कि विवाद के दौरान वह अपने कार में बैठे हुए थे। 

    जैन द्वारा मारपीट किए जाने के कारण वह बीच-बचाव करने की कोशिश कर रहे थे। जैन ने उन्हें (द्विवेदी) को धक्का दे दिया और इसके बाद द्विवेदी के समर्थकों ने जैन की धुनाई कर दी। द्विवेदी ने पत्नी के साथ मारपीट किए जाने के पुलिस के दावे को झूठा करार दिया है। बताया गया है कि कांग्रेस नेता ने इस मामले में आला नेताओं को पुलिस की शिकायत भी की है।

     

  •  

Posted Date : 25-Apr-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 25 अप्रैल।
    जैन समाज की एक और मुमुक्षु बहन ने गुरुवार को अपने गुरू के सानिध्य में बेंगलुरु से पहुंचकर वैराग्य जीवन में प्रवेश किया। 
    आज सुबह जैन समाज की मुमुक्षु गिरिष्मा मकाणा ने तपस्वी के तौर पर अपने गुरू श्रीश्री 1008 विजयराज के सानिध्य में दीक्षा ली। बेंगलुरु की मूल निवासी गिरिष्मा बीबीएम तक शिक्षित हंै। बताया गया है कि राजनांदगांव में उनके गुरू के ठहराव होने के कारण गिरिष्मा ने यहां दीक्षा ली। 

    इससे पहले एक भव्य शोभायात्रा निकालकर मुमुक्षु बहन का समाज ने अभिनंदन किया। उदयाचल में भव्य दीक्षा महोत्सव का आयोजन हुआ। ओडिशा छत्तीसगढ़ शांत क्रांति संघ के प्रांतीय अध्यक्ष केशरी सावा ने समाज के गणमान्य नागरिकों से कार्यक्रम में शामिल होने की अपील की थी। बताया गया है कि आज सुबह भव्य शोभायात्रा में महिला-पुरूषों, युवाओं के अलावा बुजुर्गों ने भी तपस्वी बहन गिरिष्मा को विदाई देने के लिए अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। 

     

     

  •  

Posted Date : 25-Apr-2019
  • रेल्वे प्रबंधन और स्टॉफ की मदद से जच्चा-बच्चा सकुशल
    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 25 अप्रैल।
    ट्रेन की राह तक रही एक 26 साल की गर्भवती महिला ने कल राजनांदगांव स्टेशन में एकाएक प्रसव पीड़ा होने के कुछ मिनटों में एक स्वस्थ शिशु को जन्म दिया। बताया गया है कि प्रसव पीड़ा से कराह रही गर्भवती महिला को तत्काल रेल्वे प्रबंधन ने मदद की। जिसके चलते स्टेशन में ही महिला को प्रसव हुआ। दोनों जच्चा-बच्चा की सेहत बिल्कुल बेहतर है। प्रसव के बाद बेहतर उपचार के लिए दोनों को राजनांदगांव मेडिकल कॉलेज सह अस्पताल में एम्बुलेंस से भेजा गया। 

    मिली जानकारी के मुताबिक डोंगरगांव ब्लॉक की रतनबाग गांव की 26 वर्षीय महिला चंद्रकली बिलासपुर जाने के लिए स्थानीय स्टेशन में ट्रेन का इंतजार कर रही थी। इस दौरान वह प्लेटफार्म नंबर एक पर बैठी हुई थी। तभी उसे प्रसव पीड़ा शुरू हुई। महिला के पीड़ा को देखते हुए रेल्वे के स्थानीय अधिकारियों ने आनन-फानन में महिला पुलिस कर्मियों के साथ उनका वहीं प्रसव कराया। 

    बताया गया है कि प्रसव कराने के लिए सफेद कपड़े से घेरा कर दिया गया और उसकी सफलतापूर्वक डिलवरी कराई गई। डिलवरी के पश्चात 102 एम्बुलेंस में दोनों को अस्पताल भेजा गया। बताया गया है कि दोनों की स्थिति सामान्य है। इस दौरान स्टेशन परिसर में काफी भीड़ रही। लोगों ने रेल्वे प्रबंधन की तत्परता को लेकर सराहना की।

     

  •  

Posted Date : 25-Apr-2019
  • आग उगल रहे सूरज से नौनिहाल थे परेशान

    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 25 अप्रैल।
    बेहताशा गर्मी से परेशान होकर आखिरकार कई निजी स्कूलों ने समय पहले ग्रीष्मकाल अवकाश की घोषणा कर दी। कई स्कूलों में सुबह से ही नौनिहालों की क्लास चल रही थी। पिछले दो दिन से पारा एकदम बढऩे लगा है। आज भी तापमान में वृद्धि होने के कारण लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। बताया जाता है कि अगले एक-दो दिन में 43 डिग्री पार हो सकता है। फिलहाल 40 और 41 डिग्री सेल्सियस तापमान स्थिर है। इस दौरान सबसे ज्यादा छोटे बच्चों के लिए परेशानी खड़ी हो रही है। बताया जाता है कि आगामी 30 अप्रैल से स्कूलों के पट बंद हो जाएंगे। प्रशासन ने गर्मी को देखते हुए सुबह का वक्त में स्कूल संचालन के लिए बदलाव किए हैं। इसके बावजूद बच्चों को राहत नहीं मिली। पिछले कुछ दिनों से परिजन निजी स्कूलों पर  समय में कटौती किए जाने का दबाव बनाए हुए थे।  बढ़ते तापमान के कारण सुबह से ही गर्म हवाओं का झोंका चल रहा है। न सिर्फ छोटे बच्चे बल्कि अन्य लोगों को भी गर्मी से हलाकान होना पड़ रहा है। लिहाजा कई स्कूलों ने आज से ही अवकाश घोषित कर दिया है। इसी के साथ ही करीब डेढ़ माह तक स्कूलों में ग्रीष्मकालीन की छुट्टियां होगी। नए सत्र के लिए 16 जून से स्कूलें प्रारंभ होगी। 

     

  •  

Posted Date : 25-Apr-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 25 अप्रैल।
    राजनांदगांव के ढाबा स्थित किशोरों के सम्प्रेक्षण गृह की हालत सुरक्षा में लगातार हो रही चूक के कारण बे-पटरी हो गई है। लंबे समय से सम्प्रेक्षण गृह से बच्चों के फरार होने की घटनाओं ने प्रशासन के नाक में दम कर रखा है। मंगलवार की रात को तीन और बच्चे सम्प्रेक्षण गृह की सुरक्षा खामियों का फायदा उठाते हुए भागने में कामयाब हो गए।
     बताया गया है कि तीन अपचारी बालक रात को खाना खाने के बाद मौका देखते फरार हो गए। इससे पहले 23 फरवरी को भी तीन अपचारी बालक खिडक़ी का ग्रिल तोडक़र फरार हो गए थे। बाद में किसी तरह दो को पकड़ा गया। आज पर्यंत एक अपचारी बालक फरार है। 
     मामले की लालबाग पुलिस को सूचना दी गई। इसके बाद पुलिस ने अपचारी बालकों की तलाश में एक टीम गठित कर खोजबीन शुरू की है। अब तक बच्चे पुलिस की पहुंच से दूर है। 
    इस संबंध में जिला बाल संप्रेक्षण अधिकारी चंद्रशेखर लाड़े ने ‘छत्तीसगढ़’ से चर्चा में कहा कि फरार बच्चों की तलाश की जा रही है। फरार तीन में से दो पर गंभीर मामलों में न्यायालय में सुनवाई चल रही है। 
    पर्याप्त सुरक्षाकर्मी और स्टॉफ के बाद भी फरार हो रहे बच्चे
    सम्प्रेक्षण गृह की सुरक्षा में तैनाती के लिए मुहैया कराई गई व्यवस्था काफी हद तक बेहतर है। इसके बाद भी बच्चे सुरक्षाकर्मियों को झांसा देकर भागने में कामयाब हो रहे हैं। मिली जानकारी के मुताबिक सम्प्रेक्षण गृह की सुरक्षा के लिए एक हवलदार समेत चार जवानों को जवाबदारी मिली है। इसके अलावा सम्प्रेक्षण गृह में बच्चों के लिए अलग-अलग स्टॉफ भी तैनात है। भोजन पकाने से लेकर अन्य जरूरी स्टॉफ सम्प्रेक्षण गृह में कार्यरत हैं। फिलहाल एक स्टोर कीपर का ही पद रिक्त है। स्टोर कीपर की नियुक्ति आदेश जारी हो गया है, लेकिन चयनित उम्मीदवार ने पदभार ग्रहण नहीं किया। 

     

     

     

  •  

Posted Date : 25-Apr-2019
  • कुम्हालोरी में अंधविश्वास तथा योग पर कार्यक्रम आयोजित

    राजनांदगांव, 25 अप्रैल। शासकीय दिग्विजय महाविद्यालय के दर्शन एवं योग विभाग द्वारा ग्राम कुम्हालोरी में अंधविश्वास तथा योग पर एक सामाजिक जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया। सर्वप्रथम  दर्शन एवं योग के विद्यार्थियों ने ग्राम का भ्रमण कर अंधविश्वास क्या है तथा योग क्या है विषय पर पाम्प्लेट का वितरण किया। तत्पश्चात ग्रामीणों को प्रो. नीरा सिंह ने योग का महत्व बताते अनेक सरल आसन करवाए तथा बताया कि अपने जीवन में यदि हम 10 मिनट योग के लिए निकाल पाए तो अनेक असाध्य बीमारियों से बच सकते हैं। विद्यार्थियों ने ग्रामीणों के समक्ष अनेक कठिन आसनों का प्रदर्शन किया, जो विभिन्न बीमारियों के निदान के लिए उपयोगी थे। 

    इस अवसर पर डॉ. एचएस अलरेजा ने कहा कि भारत का विकास तभी संभव है, जब भारत के गांवों का विकास हो। विकास का अर्थ है स्वस्थ शरीर तथा उसमें स्थित स्वस्थ वैज्ञानिक बुद्धि गांव ही नहीं शहर के पढ़े-लिखे लोग भी यह अंधविश्वास मानते हैं कि किसी अंगूठी या धागे बांधने से हमारी जिंदगी बदल जाएगी। अब हमें टोने-टोटके, सिंदूर, नीबू, मिर्ची, ताबिज, अंगूठी जैसे अंधविश्वास से ऊपर उठना है। अंधविश्वास से मुक्त मस्तिष्क तथा योगयुक्त जीवन ही आधुनिक मनुष्य की पहचान है। कार्यक्रम का संचालन विजय कुमार ने किया। इस अवसर पर सरपंच सामतराम पटेल, उप सरपंच राजेश साहू, पंच राजेश्वर कोटारे, शाला अध्यक्ष ओंकारदास साहेब, शिक्षक आरआर साहू तथा ग्रामवासी उपस्थित थे। कार्यक्रम में डिपेन्द्र कुमार, वरूण कुमार, जीतेश साहू, हेमंत साहू, संतोष गोसाई, पूनम, देविका, अंगेश्वरी साहू ने सहयोग दिया।

     

  •  

Posted Date : 25-Apr-2019
  • पशु-पक्षियों के पानी पीने भी पात्र में पानी रखें

    राजनांदगांव, 25 अप्रैल। नगर निगम आयुक्त चंद्रकांत कौशिक ने बताया कि ग्रीष्म ऋतु में जल स्तर कम हो जाने के कारण लगभग 25 प्रतिशत कुंए, हैंडपंप एवं ट्यूबवेल पूर्ण रूप से सूख रहे हैं। इस कारण नागरिकों के दैनिक आवश्यकताओं की प्रतिपूर्ति कर पाना असंभव सा हो रहा है। वर्तमान परिवेश में कूलरों में पानी की कुछ-कुछ व्यवस्था तो हो जा रही है, परन्तु ऐसा लगता है कि भविष्य में आने वाली पीढिय़ों को पानी इतने सहज एवं सरल रूप से उपलब्ध नहीं हो पाएगा। 

    उन्होंने कहा कि जल है तो जीवन है, इसे व्यर्थ न जाने दें। ग्रीष्म ऋतु में पक्षियों को भी पानी की समस्या से जूझना पड़ता है। इसके लिए अपने घरों के आंगन, छत, उद्यान या बाहर किसी पात्र में प्रतिदिन पानी रखे, ताकि पक्षियों को पेयजल उपलब्ध हो सके। नगर निगम द्वारा पहल कर नगर निगम कार्यालय एवं उद्यान में पक्षियों के पानी पीने के लिए पेड़ों एवं उपर के स्थानों पर पात्र बांधकर पानी रखा जा रहा है।

    आयुक्त श्री कौशिक ने बताया कि ग्रीष्म ऋतु में पशु पक्षियों को भी पेयजल समस्या से गुजरना पड़ता है। जिसके लिए हम सबको प्रयास करना है। उन्होंने नागरिकों से अपील की है कि पक्षियों के  लिए अपने घरों के आंगन, छत, बाहर व उद्यान मेें रस्सी द्वारा पात्र को बांधकर उसमें प्रतिदिन पानी भरे जिससे पक्षी आसानी से पानी पी सके। उसी प्रकार घर के बाहर छोटे से पात्र रखकर पानी भरे। जिससे पशु को भी पेयजल उपलब्ध हो सके।

     

     

     

  •  

Posted Date : 25-Apr-2019
  • राजनांदगांव, 25 अप्रैल। जिले के कन्या शिक्षा परिसर अंबागढ़ चौकी में शिक्षा सत्र 2019-20 में कक्षा 6वीं में प्रवेश हेतु आयोजित प्रवेश चयन परीक्षा का परीक्षा परिणाम घोषित कर दिया गया है। प्राचार्य कन्या शिक्षा परिसर ने बताया कि संस्था में कक्षा 6वीं के रिक्त 26 सीटों में छात्राओं की प्रवेश हेतु 13 फरवरी 2019 को प्रवेश चयन परीक्षा का आयोजन किया गया था। इसके अंतर्गत अनुसूचित जनजाति वर्ग के कुल 21 सीटों के लिए प्रीति, दूरपति, रूबि ठाकुर, उमेश्वरी गावरे, फलेश्वरी, प्राची, खेमलता, देविका, दाक्षी, भाग्यश्री, टिकेश्वरी, स्नेहा, आकांक्षा, डिलेश्वरी, टीया, रेणुका, लक्ष्मी, शैलेन्द्री, कृतिका, प्रीति आर्य, मोनिका उईके का चयन किया गया है। इसी तरह अनुसूचित जाति वर्ग के कुल 3 सीटों के लिए अंकिता, अंशु एवं संध्या तथा अन्य पिछड़ा वर्ग के दो सीटों के लिए दिव्या एवं माधुरी निषाद का चयन किया गया है।  चयनित छात्राओं को प्रवेश हेतु बुलावा पत्र उनके पते पर प्रेषित कर दिया गया है। इन सभी चयनित छात्राओं को 15 मई 2019 तक आवश्यक दस्तावेजों के साथ शासकीय कन्या परिसर अंबागढ़ चौकी में सुबह 10 से दोपहर 3 बजे तक पालक के साथ उपस्थित होकर प्रवेश लेना होगा। चयन सूची का अवलोकन कन्या शिक्षा परिसर अंबागढ़ चौकी के सूचना पटल पर किया जा सकता है।

     

  •  

Posted Date : 25-Apr-2019
  • अस्पताल के अपशिष्ट को खुले में फेंकने का मामला
    छत्तीसगढ़ संवाददाता 
    राजनांदगांव, 25 अप्रैल।
    नगर निगम द्वारा ग्रीष्म ऋतु में निगम सीमांतर्गत संक्रमण बीमारी फैलने की आशंका को देखते अस्पतालों, होटलों, खोमचे, फल व सब्जी दुकानों आदि के लाईसेंस निरीक्षण, सड़े-गले खाद्य पदार्थों को नष्ट करने एवं भवनों की जांच हेतु टीम गठित की गयी है। उक्त टीम द्वारा प्रतिदिन निरीक्षण कर विनिष्टीकरण की कार्रवाई की जा रही है। साथ ही स्वच्छता के अभाव व गंदगी फैलाने पर अर्थदंड भी वसूला जा रहा है। इसी कड़ी में बुधवार को नगर निगम आयुक्त चंद्रकांत कौशिक, नयाब तहसीलदार कोमल ध्रुव सहित नगर निगम की टीम द्वारा तुलसी नर्सिंग होम चौखडिय़ापारा का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान साफ-सफाई का अभाव एवं अस्पताल के अपशिष्ट को खुले में फेंकना पाया गया, जिस पर 10 हजार रुपए अर्थदंड की कार्रवाई की गई। 

    आयुक्त श्री कौशिक ने बताया कि प्र. स्वास्थ्य अधिकारी अजय यादव एवं उनकी टीम द्वारा अस्पताल, डेयरी, फल-सब्जी, होटलों, भवनों आदि की निरंतर जांच कर साफ-सफाई लाईसेंस आदि के आभाव में अर्थदंड की कार्रवाई की जा रही है। साथ ही डेंगू मलेरिया जैसे संक्रामक बीमारी से बचाव के लिए टीम द्वारा सडक़ों, मोहल्लों व घरों के आसपास गंदगी फैलाने वालों से भी अर्थदंड वसूला जा रहा है। इसी कड़ी में टीम द्वारा तुलसी नर्सिंग होम में साफ-सफाई के अभाव, अस्पताल के अपशिष्ट को खुले में फेंकना एवं गीला व सूखा कचरा एक साथ रखे पाया गया, जो ठोस अपशिष्ट प्रबंधन नियम 2016 का खुला उल्लंघन है। जिसके आधार पर उक्त नर्सिंग होम से 10 हजार रुपए अर्थदंड वसूला गया एवं नर्सिंग होम सील करने की चेतावनी अस्पताल प्रबंधक को दी गई। पूर्व मेेंं भी उक्त नर्सिंग होम को इस संबंध में नोटिस दी गई थी, किन्तु उनके द्वारा पालन नहीं किया गया।

    आयुक्त श्री कौशिक ने बताया कि इसी प्रकार जिला चिकित्सालय में नगर निगम द्वारा गत् पखवाड़े स्वच्छता अभियान चलाया गया था। उसमें अस्पताल के सफाई ठेकेदार द्वारा कचरा जलाने पर राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण के निर्देशानुसार 25 हजार रुपए अर्थदंड वसूला गया। उन्होंने बताया कि निजी एवं शासकीय चिकित्सालयों को अस्पताल के अपशिष्ट को अलग से रखकर निर्धारित स्थान में डाला जाना है, ताकि जनमानस पर इसका कोई बुरा प्रभाव न पड़े, किन्तु कतिपय चिकित्सालयों द्वारा इसका पालन नहीं किया जाता है, जो ठोस अपशिष्ट प्रबंधन नियम 2016 के विरूद्ध है। उन्होंने सभी चिकित्सालयों के संचालकों से अस्पताल के अपशिष्ट को निर्धारित स्थान पर डालने की अपील की है।

     

  •  

Posted Date : 25-Apr-2019
  • राजनांदगांव, 25 अप्रैल। आचार्य विजय राजश्री ने कहा कि साधना में तन सक्रिय, मन सबल, बुद्धि सजग और आत्मा धैर्यवान होना चाहिए। साधना के लिए तन मन बुद्धि आत्मा सब चाहिए। यह चारों बातें जिसमें है वही साधना उपयुक्त है।

    आचार्य श्री ने कहा कि प्रथम तथ्य है तन में सक्रियता । आज हम सक्रिय हैं किनमें सार्थक कार्यों में या निरर्थक कार्यों में, उपयोगी या अनुपयोगी कार्यों में, उचित या अनुचित कार्यों में? उन्होंने कहा कि आत्म उन्नति के कार्यों में तन बहुत कम सक्रिय रहता है । कहीं घूमने जाना हो या संसार के कार्यों को करना हो तो तन बहुत सक्रिय रहता है। आचार्य श्री ने कहा कि मैं आपका चौकीदार हूं। आपने मुझे चौकी पर बैठाकर चौकीदार बनाया है। मेरा कार्य है समाज में अवांछित कार्यों व तत्वों को प्रविष्ट करने से रोकना व वांछित तत्वों को बाहर नहीं जाने देना। उन्होंने कहा कि बेटा बीमार है तो रातभर जाग लोगी और सास बीमार है तो आप उपेक्षा कर दोगी! साधना आपके इस लोक आ और परलोक दोनों को सुधारती है। संसार के काम आप तत्काल करते हैं। जबकि साधना के लिए कल कर लेंगे ऐसा सोच कर टालते जाते हैं।

     

  •  

Posted Date : 25-Apr-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 25 अप्रैल।
    प्रशिक्षु आईएएस अधिकारी एवं सहायक कलेक्टर के रूप में पदस्थ रहे रोहित व्यास की परिवीक्षा अवधि समाप्त होने के पश्चात जिले से स्थानांतरित होने पर 24 अप्रैल को जिला प्रशासन की ओर से उन्हें विदाई दी गई। कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आयोजित विदाई समारोह में कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य, जिला पंचायत सीईओ तनुजा सलाम, अपर कलेक्टर ओंकार यदु, एसएन मोटवानी सहित वनमंडलाधिकारी पंकज राजपूत उपस्थित थे।

    इस अवसर पर कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य ने रोहित व्यास के कार्यों एवं व्यवहार की मुक्तकंठ से सराहना करते उन्हें एक कर्तव्यनिष्ठ, जिज्ञासु एवं अत्यंत संवेदनशील अधिकारी बताया। उन्होंने कहा कि श्री व्यास में निरंतर कुछ न कुछ सीखने की ललक के अलावा अपने कार्यों के प्रति प्रतिबद्धता एवं समर्पण का भी उत्कृष्ट गुण है। इस अवसर पर जिले के सभी अधिकारी-कर्मचारियों ने श्री व्यास के व्यवहार कुशलता एवं संवेदनशीलता की भूरी-भूरी प्रशंसा करते उन्हें शुभकामनाएं दी।

    कलेक्टर श्री मौर्य ने श्री व्यास के कार्यों एवं गुणों की सराहना करते कहा कि वे शासकीय कार्यों का समय-सीमा में निष्पादन करने के अलावा अपने व्यक्तिगत जीवन के लिए भी समय निकाल लेते हैं। यह एक अच्छे अधिकारी का सबसे महत्वपूर्ण गुण होता है। उन्होंने कहा कि श्री व्यास ने उन्हें सौंपे गए प्रत्येक कार्यों का पूरी ईमानदारी एवं निष्ठापूर्वक निर्वहन किया है। श्री व्यास को इस जिले में अपनी परवीक्षा अवधि के दौरान दो-दो कलेक्टरों के साथ कार्य करने का अवसर भी प्राप्त हुआ है। उन्होंने आशा व्यक्त किया कि राजनांदगांव जिले में प्राप्त अनुभव श्री व्यास के आगामी प्रशासनिक जीवन में पथ प्रदर्शक करने में सहायक सिद्ध होगी।

    इस अवसर पर सहायक कलेक्टर रोहित व्यास ने अपने पदस्थापना के दौरान जिले के प्रत्येक अधिकारियों एवं कर्मचारियों से मिले सहयोग व आत्मीय व्यहार की प्रशंसा करते सभी के प्रति आभार व्यक्त किया। उन्होंने एक प्रशिक्षु आईएएस अधिकारी के रूप में जिले के अलग-अलग स्थानों में विभिन्न पदों में पदस्थापना के दौरान अधिकारी-कर्मचारियों से मिले सहयोग एवं अनुभवों के संबंध में विस्तार पूर्वक जानकारी दी। श्री व्यास ने कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य के कार्यों एवं व्यवहार की प्रशंसा करते उन्हें एक योग्य, कुशल एवं संवेदनशील प्रशासनिक अधिकारी बताया।

    जिला पंचायत सीईओ तनुजा सलाम ने रोहित व्यास के कार्यों एवं व्यवहार की सराहना करते उन्हें अपने कार्यों के प्रति प्रतिबद्ध, उत्साही एवं ऊर्जावान अधिकारी बताया। अपर कलेक्टर ओंकार यदु ने श्री व्यास की जिज्ञासु प्रवृत्ति की सराहना करते कहा कि उनमें निरंतर नए-नए कार्यों को सीखने की ललक है। अपर कलेक्टर श्री मोटवानी ने श्री व्यास को एक मेहनती एवं उत्साही अधिकारी बताया। इस अवसर पर उन्होंने श्री व्यास को अपने स्वरचित पुस्तक की प्रति भी भेंट की। वनमंडलाधिकारी पंकज राजपूत ने रोहित व्यास को एक कुशल एवं ऊर्जावान अधिकारी के अलावा एक बहुत अच्छा खिलाड़ी एवं कलाकार भी बताया। इस अवसर पर नगर निगम आयुक्त  चंद्रकांत कौशिक एवं जिले के अन्य अधिकारियों ने श्री व्यास के कार्यों व्यवहारों की भूरी-भूरी सराहना करते उनकी उज्ज्वल भविष्य की कामना की। कार्यक्रम का संचालन एसडीएम डोंगरगढ़ प्रेमप्रकाश शर्मा ने किया। कार्यक्रम में जिले के सभी एसडीएम, जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों के अलावा जिला स्तरीय अधिकारीगण उपस्थित थे।

     

  •  

Posted Date : 24-Apr-2019
  • जय तुलसी नर्सिंग होम में ताला लगाने की कार्रवाई शुरू

    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 24 अप्रैल।
    शहर के मध्य संचालित  जय तुलसी नर्सिंग होम को सील करने के लिए निगम की एक टीम अस्पताल में पहुंचकर सील करने की कार्रवाई शुरू की। बताया गया है कि जय तुलसी नर्सिंग होम में लगातार मेडिकल नियमों का माखौल उड़ाया जा रहा था। कई बार निगम  प्रशासन की ओर से उपयोग के बाद मेडिकल सामानों के अपशिष्ट को उचित तरीके से नष्ट करने के लिए नर्सिंग होम की संचालिका डॉ. विजयश्री जैन को हिदायत दी गई। 

    बताया गया है कि बार-बार ताकिद किए जाने के बावजूद नर्सिंग होम की संचालिका ने  निगम के निर्देशों का पालन नहीं किया। पूर्व में निगम ने खराब व्यवस्था के कारण नर्सिंग होम पर अर्थदंड भी लगाया। अर्थदंड का अब तक नर्सिंग होम की ओर से भुगतान नहीं किया गया। इधर निगम की एक टीम ने आज नर्सिंग होम में धावा बोल दिया। इस संबंध में निगम के स्वास्थ्य अधिकारी अजय यादव ने बताया कि बार-बार चेतावनी देने के बावजूद नर्सिंग होम की ओर से नियमों का पालन नहीं किया गया। जिसके चलते आज नर्सिंग होम को सील करने की कार्रवाई की जा रही है। 

    इधर नर्सिंग होम की संचालिका डॉ. विजयश्री जैन ने निगम अफसरों के साथ बदसलूकी भी की। कार्रवाई के दौरान कई बार रोकटोक की। संचालिका के व्यवहार को देखते हुए निगम आयुक्त चंद्रकांत कौशिक खुद नर्सिंग होम में पहुंचे। बताया गया है कि कलेक्टर ने कुछ दिन पूर्व सभी सरकारी-गैर सरकारी अस्पतालों को मेडिकल सामानों का बेहतर तरीके से उपयोग के बाद नष्ट किए जाने की प्रक्रिया पर ध्यान देने का निर्देश दिया था। माना जा रहा है यह कार्रवाई कलेक्टर के निर्देश के बाद हुई।

     

  •  

Posted Date : 24-Apr-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    राजनांदगांव, 24 अप्रैल। मौसम का मिजाज अनुकूल होने के कारण जिले में इस बार तेन्दूपत्ता तोड़ाई का कार्य निर्धारित समय से दो-तीन दिन पहले शुरू हो सकता है। बताया जा रहा है कि बेहतर मौसम  होने के कारण तेन्दूपत्ता की गुणवत्ता भी अच्छी हो सकती है। आमतौर पर एक मई से ही तेन्दूपत्ता तोड़ाई का कार्य शुरू होता है। इस बार दो-तीन दिन पहले यानी 28 व 29 अप्रैल के बीच तोड़ाई का कार्य शुरू हो सकता है। वन विभाग ने तोड़ाई की तैयारी शुरू कर दी है। राजनांदगांव वन मंडल के अलावा खैरागढ़ वन मंडल में भी तोड़ाई का कार्य जल्द ही शुरू हो सकता है। 

    मिली जानकारी के अनुसार राजनांदगांव जिले में  84 हजार 400 मानक बोरा तेन्दूपत्त तोड़ाई का लक्ष्य रखा गया है। जिसमें 50 हजार से अधिक तेन्दूपत्ता तोडऩे के लिए मजदूर कार्य करेंगे। इस संबंध में राजनांदगांव डीएफओ पंकज राजपूत ने ‘छत्तीसगढ़’ को बताया कि बीते वर्ष की तुलना में इस बार अच्छी तोड़ाई होने की संभावना है। मौसम का अब तक बेहतर साथ मिला है। पत्ते की गुणवत्ता भी अच्छी होगी। जानकारी के अनुसार वन विभाग द्वारा इस वर्ष भी तेन्दूपत्ता तोड़ाई का लक्ष्य निर्धारित कर लिया गया है। वर्ष 2019 में 84400 मानक बोरा तेन्दूपत्ता की तोड़ाई कराई जानी है। इसके लिए समितियों का गठन कर दिया गया है। वन क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले मोहला-मानपुर, अंबागढ़ चौकी, औंधी, पानाबरस, छुरिया सहित अन्य वन क्षेत्रों में तेन्दूपत्ता की तोड़ाई कराई जानी है। इसके लिए 50 समितियों का गठन किया गया है। 40 समितियों में अग्रिम क्रेताओं की नियुक्तियां भी करा दी गई है। अधिकारियों की माने तो इस वर्ष समय से पहले तेन्दूपत्ता तोड़ाई का कार्य कराया जाएगा। मानसून अच्छा होने से तेन्दूपत्ता की क्वालिटी भी काफी अच्छी है। तेन्दूपत्ता की तोड़ाई के लिए पारिश्रमिक राशि भी निर्धारित कर दी गई है।

     

  •  

Posted Date : 24-Apr-2019
  • धूर नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा पहुंचे पूर्व राष्ट्रीय संगठन महामंत्री संजय'
    छत्तीसगढ़ संवाददाता 
    राजनांदगांव, 24 अप्रैल।
    भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय संगठन महामंत्री संजय जोशी ने गत् दिवस दंतेवाड़ा स्थित पूर्व विधायक स्व. भीमा मंडावी के परिजनों से भेंट कर उन्हें ढांढ़स बंधाया। जोशी का दिवंगत विधायक   भीमा मंडावी से नजदीकी संबंध रहा है। बताया जा रहा है कि बेहद ही व्यस्त कार्यक्रम के बीच श्री जोशी ने रायपुर और राजनांदगांव के परिचित नेताओं के साथ मंडावी के निवास में जाने का मन बनाया। मंडावी के परिजनों से मिलकर उन्होंने उनके आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। बताया जा रहा है कि पूरे घटनाक्रम को लेकर श्री जोशी ने जानकारी ली। साथ ही राज्य सरकार द्वारा सुरक्षा संबंधी विषयों को लेकर भी उन्होंने परिजनों से सवाल किया। दंतेवाड़ा में करीब एक घंटे रहे श्री जोशी ने स्व. मंडावी के आकस्मिक निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया। बस्तर के इकलौते भाजपा विधायक भीमा मंडावी के काफिले को नक्सलियों ने विस्फोट कर उड़ा दिया था। जिसमें उसकी दर्दनाक मौत हो गई। इस घटना से न सिर्फ राज्य बल्कि भाजपा का केंद्र नेतृत्व भी हिल गया। श्री जोशी ने परिजनों के साथ मंडावी के साथ बिताए गए पल को याद करते साझा किया। बाद में वह राजधानी लौट आए। इस दौरान रायपुर के सच्चिदानंद उपासने, राजीव लोचन श्रीवास्तव, राजनांदगांव के विष्णु अग्रवाल, विजेन्द्र ठाकुर, शैलेष यादव, रामचरण कोर्राम, विनोद तिवारी, तौकीर रजा, विकल्प नंदा, नीतू भारद्वाज सहित अन्य लोग साथ में थे। 

     मां दंतेश्वरी के दर पर टेका माथा
    दंतेवाड़ा पहुंचे श्री जोशी ने प्रसिद्ध मंदिर मां दंतेश्वरी के दर पर माथा टेका। श्री जोशी का मंदिर समिति द्वारा स्वागत किया गया। साथ ही जोशी ने मंदिर के ऐतिहासिक विषय को लेकर उत्सुकतावश जानकारी ली। बिना किसी तामझाम के श्री जोशी ने विधि-विधान से मंदिर में पूजा-अर्चना की। परंपरागत धोती पहनकर जोशी ने मां दंतेश्वरी की आराधना करते खुशहाली की कामना की। बाद में उन्होंने मंदिर परिसर में चल रहे कार्यों को लेकर भी जानकारी ली।
    जगह-जगह हुआ स्वागत
    पूर्व राष्ट्रीय महामंत्री श्री जोशी का बस्तर प्रवास के दौरान राजधानी रायपुर से लेकर दंतेवाड़ा तक भाजपा कार्यकर्ताओं ने जोशीला स्वागत किया। राजधानी आगमन के बाद वह देर रात धमतरी पहुंचे। बताया गया है कि पूर्व विधायक इंदर चोपड़ा के निवास पर रात्रि भोजन करने के बाद वह सीधे जगदलपुर पहुंच गए। जगदलपुर से सुबह 9 बजे दंतेवाड़ा पहुंचकर मंडावी परिवार से मुलाकात की। इसके बाद उनका वापसी के दौरान बस्तर, कांकेर तथा अभनपुर में अभुतपूर्व स्वागत हुआ।

     

  •  

Posted Date : 24-Apr-2019
  • राजनांदगांव, 24 अप्रैल। नगर के सामाजिक सुरक्षा पेंशनधारियों की सुविधा को ध्यान में रखते नगर निगम द्वारा पेंशन का भुगतान वार्डों में शिविर लगाकर किया जा रहा है। इसी कड़ी में पेंशन का भुगतान  के लिए वार्डों में 5 अप्रैल से 10 मई तक शिविर का आयोजन किया जा रहा है। इसके तहत 25 व 26 अप्रैल को वार्ड नं. 23 के लिए सिंधु धर्मशाला लालबाग, वार्ड नं. 40 के लिए सामुदायिक भवन चौखडिय़ापारा एवं वार्ड नं. 44 व 45 के लिए कौरिनभाठा आंगनबाड़ी मेंं शिविर आयोजित किया जा रहा है। उक्ताशय की जानकारी देते नगर निगम आयुक्त चंद्रकांत कौशिक ने बताया कि कल 25 व 26 अप्रैल को सुबह 10.30 से शाम 5.30 बजे तक वार्ड नं. 23 के लिए सिंधु धर्मशाला लालबाग, वार्ड नं. 40 के लिए सामुदायिक भवन चौखडिय़ापारा एवं वार्ड नं. 44 व 45 के लिए कौरिनभाठा आंगनबाड़ी में शिविर का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने सामाजिक सुरक्षा पेंशनधारियों से वार्डों में आयोजित शिविर में उपस्थित होकर लाभ लेने की अपील की है।

     

     

  •  

Posted Date : 24-Apr-2019
  • राजनांदगांव, 24 अप्रैल। विश्व पुस्तक एवं वोप्य राइट दिवस पर वेसलियन अंग्रेजी स्कूल ने एक कार्यक्रम का आयोजन अपने लाइब्रेरी कक्ष में किया। बच्चों ने पुस्तक की उपयोगिता के विषय में अपने अनुभव साझा किए। वेसलियन स्कूल के व्याख्याता ने बताया कि विश्व के लगभग 100 देश इस महत्वपूर्ण दिवस का आयोजन कर रहे हैं। इसके इतिहास को उठाकर देखा जाए तो 23 अप्रैल को दुनिया के बड़े साहित्यकारों का या तो जन्म दिवस रहा है या फिर पुण्यतिथि। 23 अप्रैल को ही विश्व पुस्तक दिवस एवं कॉपी राइट-डे घोषित करने के पीछे बड़ा कारण यह रहा कि इसी तिथि पर अंग्रेजी के महान साहित्यकार एवं उपन्यासकार विलियम शेक्सपियर का जन्मदिन तथा पुण्यतिथि दोनों ही होती  है। आज के परिवेश में जब बच्चे पुस्तकों से दूर भाग रहे हैं, तब इस दिवस की प्रासंगिकता और बढ़ जाती है। पुस्तकें ज्ञान एवं नैतिकता की संदेश वाहक होती है। पुस्तकें ही अखंड संपत्ति तथा अलग-अलग संस्कृति की खिडक़ी कही जाती है। किसी भी विषय पर चर्चा का अच्छा औजार भी पुस्तकों को ही माना जाता है। आज के आयोजन में कक्षा बारहवीं के मास्टर अरविंदर चावला, इशिता पटेल, हर्ष देवांगन, हेमा साहू, अनुष्का वर्मा सहित लगभग 50 बच्चों ने हिस्सा लिया।

     

  •  

Posted Date : 24-Apr-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता 
    राजनांदगांव, 24 अप्रैल।
    अपर मुख्य सचिव पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग आरपी मंडल ने 23 अप्रैल को राजनांदगांव जिले के प्रवास के दौरान जिले में चल रहे विकास कार्यों का जायजा लिया। उन्होंने मनरेगा आयुक्त भीम सिंह, कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य, जिला पंचायत सीईओ तनुजा सलाम, ग्रामीण सेवा यांत्रिकी विभाग के मुख्य अभियंता केके कटारे, नरेगा के मुख्य अभियंता एसएन श्रीवास्तव सहित अधिकारियों के दल के साथ राजनांदगांव विकासखंड के ग्राम मोखला एवं डोंगरगढ़ विकासखंड के ग्राम मोतीपुर का दौरा कर विकास कार्यों का जायजा लिया।

    श्री मंडल ने संबंधित विभाग के अधिकारियों को इन ग्रामों में चल रहे विकास कार्यों को निर्धारित समयावधि में पूरा कराने के निर्देश भी दिए। इस दौरान सहायक कलेक्टर रोहित व्यास, एसडीएम राजनांदगांव मुकेश रावटे, एसडीएम डोंगरगढ़ प्रेमप्रकाश शर्मा सहित उप संचालक कृषि अश्वनी बंजारा, उप संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं डॉ. आरके सोनवाने, कार्यपालन अभियंता प्रधानमंत्री ग्रामीण सडक़ योजना श्री जयसवाल, कार्यपालन अभियंता मुख्यमंत्री ग्रामीण सडक़ योजना श्री दुबे, कार्यपालन अभियंता ग्रामीण सेवा यांत्रिकी विभाग सहित मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत एवं संबंधित विभाग के अधिकारियों के अलावा जनप्रतिनिधि एवं ग्रामीणजन उपस्थित थे। 

     

  •  



Previous1234Next