छत्तीसगढ़ » राजनांदगांव

Previous1234567Next
Posted Date : 15-Sep-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 15 सितंबर। डोंगरगांव ब्लॉक के पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष शांतिलाल बोहरा की शनिवार को पत्थर खदान में गिरने से मौत हो गई। 
    डोंगरगांव के रहने वाले श्री बोहरा आज सुबह अर्जुनी स्थित अपने क्रशर खदान में  फिसल गए और   गिरने उनकी मौके पर ही मौत हो गई।  उन्हें जख्मी हालत में राजनांदगांव मेडिकल कॉलेज में दाखिल कराने लाया गया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। चिकित्सकों ने अत्याधिक रक्त स्राव होने की वजह से उनकी मृत्यु की पुष्टि की।  
    श्री बोहरा कंट्रक्शन के कारोबार में बड़े व्यापारी माने जाते थे। साथ ही कांग्रेस की राजनीति में भी उनकी दखल रही है। दो बार ब्लॉक अध्यक्ष रहे बोहरा पूर्व मंत्री स्व. गीतादेवी सिंह के बेहद करीबी रहे।  

  •  

Posted Date : 15-Sep-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 15 सितंबर। छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र और मध्यप्रदेश के सीमा पर नक्सलियों के रेड कारीडोर  को ध्वस्त करने के लिए राजनांदगांव में शनिवार को  पुलिस अफसरों की एक अहम बैठक हुई। बैठक में आगामी विधानसभा चुनाव के दौरान नक्सलियों के उपद्रव और हिंसा की रोकथाम पर भी लंबी चर्चा हुई। दुर्ग रेंज आईजी जीपी सिंह की अगुवाई में हुई बैठक में पांच जिलों के पुलिस अधीक्षक और आईजी  भी शामिल हुए। 
    यह पहला मौका है कि बैठक में तीनों राज्यों के सरहदी थानों के प्रभारियों को भी विशेषतौर पर शामिल किया गया। साथ ही पुलिस अनुविभागीय अधिकारियों को भी बैठक में आमंत्रित किया गया। बैठक में बालाघाट आईजी वेक्टेश्वर राव  मौजूद थे। बताया गया है कि नक्सलियों की रणनीति का जवाब देने के लिए यह बैठक बुलाई गई। पुलिस के पास पुख्ता सूचना है कि नक्सली माड के रास्ते गढ़चिरौली, गोंदिया, बालाघाट से लेकर मंडला और ढिंढोरी से नया रेड कारीडोर बनाने की कोशिश में है। नक्सलियों ने रेड कारीडोर बनाने के लिए ही एमएमसी जोन का गठन किया है। 
     बैठक में सभी राज्यों के पुलिस अधिकारियों के बीच बेहतर समन्वयक और संवाद बनाने पर जोर दिया गया है। आईजी जीपी सिंह ने बैठक में हाल ही में समर्पण करने वाले कुख्यात नक्सली पहाड़ सिंह के जरिए मिली अहम सूचनाओं को भी दीगर राज्य के पुलिस अधिकारियों के साथ साझा किया। बताया जाता है कि नक्सली राजनांदगांव जिले के सरहद से सटे राज्यों की सीमा से नया कारीडोर बनाने की जी-तोड़ कोशिश कर रहे हैं। इस कारीडोर में नक्सलियों ने कान्हा नेशनल पार्क के रिजर्व टाईगर जोन को भी  शामिल किया है। 
     आईजी श्री सिंह ने  मुंहतोड़ जवाब देने के लिए तीनों राज्य में सीमा मुक्त नक्सल अभियान की शुरूआत करने पर खास जोर दिया।   बताया जा रहा है कि नक्सलियों के साथ दमदारी से लडऩे के लिए पुलिस अफसरों ने नए तरीके पर भी चर्चा की है। सीमा के थानेदारों को आपस में सामंजस्य बिठाने पर अफसरों ने खास ध्यान देने को कहा है।
     राजनांदगांव जिले की भौगोलिक परिस्थिति को दृष्टिगत रखकर भी कई निर्णय लिए गए हैं। 
    नक्सली राजनांदगांव और कवर्धा जिले में चुनाव के दौरान उपद्रव कर सकते हैं। महाराष्ट्र पुलिस से मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में प्रस्तावित विधानसभा के दौरान अतिरिक्त सतर्कता के साथ काम करने पर भी सहमति बनी है। बैठक में बालोद एसपी आईके एलसेला, कबीरधाम एसपी लाल उमेश सिंह, राजनांदगांव एसपी कमलोचन कश्यप समेत अन्य अधिकारी शामिल थे।
    कलेक्टर भीम सिंह भी शामिल
    बार्डर मीटिंग में राजनांदगांव कलेक्टर भीम सिंह भी शामिल हुए। बताया गया है कि चुनाव के दौरान पुलिस की अहम भूमिका के मद्देनजर कलेक्टर ने बैठक में भाग लिया। नक्सल इलाकों में प्रशासनिक अधिकारियों और आम लोगों की सुरक्षा को लेकर कलेक्टर ने आलाधिकारियों के साथ चर्चा की। प्रशासनिक स्तर पर चुनाव की तैयारी को लेकर भी कलेक्टर ने पुलिस अफसरों को अहम जानकारी दी। आमतौर पर पुलिस की बैठक में कलेक्टर नहीं होते, लेकिन विधानसभा चुनाव के चलते कलेक्टर ने बैठक में शामिल होने की रूचि ली। आईजी जीपी सिंह समेत अन्य अधिकारियों से चुनाव के दौरान प्रशासन की सहायता के लिए कलेक्टर ने अपनी तरफ से आवश्यक सुझाव दिए।

     

  •  

Posted Date : 09-Sep-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    डोंगरगढ़, 9 सितंबर। डोंगरगढ़ के आलीवारा गांव में रविवार सुबह एक तेज रफ्तार  वाहन बेकाबू होकर  पेड़ से टकरा गया। हादसे में से करीब आधा दर्जन बच्चे जख्मी हो गए।  वाहन में बच्चे सवार होकर कहीं जा रहे थे। 
    पुलिस के अनुसार सुबह करीब 10 बजे वाहन एकाएक पेड़ से टकरा गई। बताया जाता है कि वाहन की आगे सीट में बैठे एक बच्चा बुरी तरह से घायल हुआ है। तेज रफ्तार वाहन पर चालक नियंत्रण खो बैठा जिससे यह हादसा हुआ।

  •  

Posted Date : 09-Sep-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 8 सितंबर। शहर से सटे हल्दी में शनिवार देर रात को एक सोने-चांदी के कारोबारी को तीन अज्ञात लोगों ने गोली मारकर बुरी तरह से जख्मी कर दिया।  राहगीरों की मदद से उसे नांदगांव मेडिकल कॉलेज अस्पताल लाया गया। जहां से उसे भिलाई के एक निजी अस्पताल में  भेजा गया है । कारोबारी की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। 
     एएसपी राजेश अग्रवाल ने बताया कि बीती रात 9 से 10 बजे के बीच सिंघोला का सोने-चांदी के व्यापारी युवराज साहू हल्दी से घर लौट रहा था। गांव से कुछ दूर पहले बाईक सवार तीन युवकों ने  ओव्हरटेक कर रोका। उसके रूकते ही एक ने गोली मार दी। इसके बाद मोटरसाईकिल सवार वहां से फरार हो गए।  व्यापारी की पसली में गोली लगी है।  
    पुलिस का कहना है कि युवराज साहू फेरी व्यापारी है। वह आसपास के हाट-बाजारों और गांवों में घुमकर कारोबार करता है। पुलिस को प्रारंभिक जांच में वारदात में  कट्टे के इस्तेमाल के साक्ष्य मिले हैं।  यह जानलेवा हमला लूटपाट अथवा पुरानी रंजिश के चलते हो सकता है। पुलिस दोनों बिंदुओं पर मामले की छानबीन कर रही है। राजनांदगांव में बीते अरसे में फायरिंग की यह तीसरी वारदात है।  

  •  

Posted Date : 07-Sep-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 7 सितंबर। वार्डो की सफाई व्यवस्था में सुधार नही आने और शहर में तेजी से फैलते डेंगू व अन्य बीमारियों का रोकथाम नही करने के खिलाफ छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस पार्टी ने महापौर मधुसूदन यादव और आयुक्त अश्वनी देंवागन के कक्ष के बाहर ेगोबर से भरी टोकरियां फेंक दी। इससे पहले जोगी कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने निगम परिसर में प्रदर्शन करते नारेबाजी किया। महापौर मधुसूदन यादव व आयुक्त के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे भी लगाएं। वही निगम के कुछ कर्मचारियों पर दलाली का आरोप लगाते हुए भी नारेबाजी की। शहर अध्यक्ष मेहूल मारू के अगुवाई में वार्ड नं. 16 के पार्षद विनय झा ने अपनी वार्ड की सफाई व्यवस्था को लेकर लिखित में शिकायत किया। पार्षद झा का आरोप है कि वार्ड के मिलचाल, सिविल लाईन रोड, बजरंग चौक, जेल रोड़ व क्वार्टर क्षेत्र मिलचाल में गंदगी होने की शिकायत की। 
    कीचड़ व गंदगी होने के कारण स्कूली बच्चे सड़क दुर्घटना में जमी हो रहे है। इधर जनता कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने महापौर और आयुक्त की गैरमौजूदगी में उनके कक्ष के सामने गोबर की टोकरियां फेंक दी। इसके चलते दोनो के कक्ष के सामने गंदगी पसर गई। बाद में निगम कर्मियों ने कक्ष के सामने के हिस्से की सफाई की। इस प्रदर्शन के बाद वापस लौटे जनता कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने वार्ड से डेयरी हटाने के लिए निगम प्रशासन को एक सप्ताह की मोहलत दी है।

  •  

Posted Date : 05-Sep-2018
  • राजनांदगांव, 5 सितंबर। प्रदेश सरकार की चौथी बार सरकार बनाने के उद्देश्य से जुड़ी दूसरे चरण की विकास यात्रा को हरी झंडी दिखाने के लिए बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे अमित शाह ने मंच में पहुंचते डोंगरगढ़ के कुर्रूभांठ मैदान में मौजूद जनसमुदाय का हाथ उठाकर जहां अभिवादन किया। वहीं प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने भी उपस्थित लोगों की ओर हाथ हिलाकर उनका अभिनंदन किया। इससे पहले ऊपर मंदिर स्थित मां ब लेश्वरी के मंदिर में पहुंचकर राष्ट्रीय अध्यक्ष शाह और मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने पूजा-अर्चना की। कुर्रूभांठ मैदान में दोनों नेताद्वय  को सुनने और देखने के लिए समूचे जिले और राज्यभर से कार्यकर्ता और पदाधिकारी पहुंचे। 
    सरकारी आयोजन होने की वजह से पूरे राज्य का प्रशासनिक तंत्र भी वहंा मौजूद रहा। मंच पर पहुंचते ही शाह का स्थानीय नेताओं ने हाथ जोड़कर स्वागत किया। मंच पर प्रदेश के मंत्री मौजूद थे। जिनमें प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक, अजय चंद्राकर, राज्यसभा सांसद सरोज पांडे, प्रभारी मंत्री राजेश मूणत, वन मंत्री महेश गागड़ा, सांसद अभिषेक सिंह, पूर्व सांसद अशोक शर्मा, पूर्व मंत्री लीलाराम भोजवानी, खूबचंद पारख, राजनांदगांव महापौर मधुसूदन यादव, भाजपा जिलाध्यक्ष संतोष अग्रवाल समेत अन्य लोग मौजूद थे।

     

  •  

Posted Date : 30-Aug-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 30 अगस्त। जिले के औंधी इलाके में बीती रात नक्सलियों ने मुखबिरी का आरोप लगाते एक ग्रामीण युवक की गला घोंटकर हत्या कर दी।  
     औंधी से सटे सारदा गांव में रात 11 बजे नक्सली आ धमके और आदिवासी युवक तेजराम मंडावी (30 वर्ष) को घर से बाहर निकाला। इसके बाद  उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी।  दुर्ग रेंज आईजी जीपी सिंह ने बताया कि मखबिरी के आरोप में युवक की हत्या नक्सलियों द्वारा की गई है। बैसे युवक का कभी भी पुलिस से वास्ता नहीं रहा है।  मृतक ग्रामीण इलाकों में बे्रड एव अन्य सामान बेचता था। बताया गया है कि महाराष्ट्र से आए नक्सलियों ने यह वारदाता की है।

  •  

Posted Date : 29-Aug-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 29 अगस्त। खैरागढ़ के आमनेर नदी के उफान में एक ग्रामीण युवक लापता हो गया है। लछना पंचायत के आश्रित ग्राम टोला के 20 साल का युवक दिनेश गोंड 26 अगस्त को मवेशियों को नदी पार कराने की कोशिश के दौरान बह गया था। इसके बाद से उसका अब तक पता नही चला है। 
    गातापार पुलिस ने गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करने के बाद युवक की तलाश करने गोताखोरो की मदद ली है। बताया गया है कि कल पूरे दिन और आज गोताखोरों की   टीम गांव से लेकर प्रधानपाठ बैराज तक तलाशी अभियान चला रही है। थाना प्रभारी लक्ष्मण केंवट ने बताया कि  आमनेर नदी में अब जलस्तर बढ़ा हुआ है। जिससे ढूंढा नहीं जा सका है।

     

  •  

Posted Date : 28-Aug-2018

  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 28 अगस्त। डोंगरगांव से सटे बगदई नदी में कुछ दिन पहले सिर कटी लाश की शिनाख्ती एक महिला आरक्षक के रूप में हुई है। करीब चार दिन पहले नदी में एक अज्ञात महिला का शव पुलिस को मिला था। जांच में पता चला कि अंबागढ़ चौकी थाने में पदस्थ एक महिला आरक्षक लापता है। इसके बाद पुलिस ने शव को महिला आरक्षक के रूप में चिन्हित किया।  अंबागढ़ चौकी एसडीओपी योगेश साहू ने बताया कि बगदई नदी में मिले लाश की महिला आरक्षक आरती कुंजाम के रूप में की गई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। बताया गया है कि महिला आरक्षक आरती कुंजाम  करीब छह दिन से बगैर सूचना थाने से गायब थी।  

    इस दौरान बगदई नदी में मिले शव और महिला आरक्षक के संबंध में जब पड़ताल की गई तो इसका खुलासा हुआ। 
    बताया गया है कि महिला आरक्षक आरती कुंजाम की अज्ञात लोगों ने हत्या कर दी। पुलिस को आरती का शव टुकड़ों में मिला था। महिला आरक्षक के हाथ-पैर व सिर को काटकर फेंका गया।  

  •  

Posted Date : 26-Aug-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 26 अगस्त। शहर के लखोली संजय नगर में बलात्कार के आरोपी युवक ने आज सुबह  फांसी लगा ली। पुलिस का कहना है कि युवक के विरूद्ध कल ही कोतवाली में एक युवती ने शारीरिक शोषण करने की शिकायत की थी।  पुलिस उसकी तलाश कर रही थी।  
     कोतवाली प्रभारी वीरेन्द्र चर्तुेवेदी ने बताया कि संजय नगर के 23 साल के युवक सिद्धार्थ वाल्दे का की लाश आज उसके घर पर फांसी पर मिली।  उस पर एक युवती ने दैहिक शोषण  की  शिकायत की थी।  युवती का आरोप था कि दोनों के बीच अंतरंग दृश्यों को आरोपी युवक ने कुछ दिन पहले सोशल मीडिया में वायरल  कर दिया था। कोतवाली पुलिस ने कल ही युवक पर 307 के तहत जुर्म दर्ज पंजीबद्ध किया। पुलिस में शिकायत होने की सूचना के बाद मृतक फरार था। कल देर शाम को वह घर लौटा था।

  •  

Posted Date : 23-Aug-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 23 अगस्त।  कुख्यात नक्सली पहाड़ सिंह उर्फ कुमारसाय ने गुरूवार को दुर्ग रेंज आईजी जीपी सिंह के समक्ष समर्पण कर दिया। 42 लाख के इनामी इस नक्सली की छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र व मध्यप्रदेश पुलिस को लंबे समय से तलाश थी।  
     दुर्ग रेंज आईजी जीपी सिंह ने बताया कि पहाड़ सिंह ने नक्सली नेताओं के दोहरे रवैय्ये से हताश होकर समर्पण का रूख किया है। एमएससी जोन के एसजेडसी मेंबर व गोंदिया-राजनांदगांव-बालाघाट डिवीजनल कमेटी के सचिव रहा पहाड़ सिंह का नक्सली संगठन में बड़ा ही रूआब रहा है। उसकी गिनती नक्सली संगठन में शीर्ष नेताओं में होती रही है।
     राजनांदगांव के गैंदाटोला क्षेत्र के फाफामार निवासी पहाड़  ने करीब 25 साल से नक्सलियों के साथ काम किया है। वर्ष 1999 में देवरी दलम कमांडर देवचंद उर्फ चंदू ने उसे प्रचार-प्रसार के लिए नाट्य चेतना मंडली में छह माह के लिए काम सौंपा। उसके कार्य से प्रभावित होकर उसे देवरी दलम में बतौर सदस्य शामिल किया। वर्ष 2003 में उसे देवरी एरिया कमेटी का सदस्य बनाया गया। इसके बाद 2006 में   टाडा-मलाजखंड संयुक्त एरिया का सचिव नियुक्त किया गया।
     इसी तरह 2008 में उसे गढ़चिरौली-गोंदिया डिजीवन में सदस्य नामित किया गया। वर्ष 2014 के अधिवेशन में नक्सलियों की केंद्रीय कमेटी ने महाराष्ट, छत्तीसगढ़ व मध्यप्रदेश के ट्राईजक्शन के लिए नया एमएससी जोन बनाया। इसके तहत उसे गोंदिया-राजनांदगांव-बालाघाट का सचिव बनाया गया।  उसे  2014-15 में उत्तर गढ़चिरौली डीकेएसजेडसी को पृथक करने के बाद कबीरधाम, मंडला, उमरिया, मुंगेली, बालाघाट तथा अचानकमार  में नक्सल गतिवधि को तेज करने की जिम्मेदारी दी गई। 
    पुलिस के मुताबिक  पहाड़ सिंह के समर्पण से नक्सलियों के विस्तार जोन एमएससी को जोरदार झटका लगा। पुलिस ने पहाड़ सिंह के हवाले से बताया कि आंध्रप्रदेश व महाराष्ट्र के नक्सलियों की मनमानी के कारण वह मुख्यधारा में लौटा। लंबे समय से छत्तीसगढ़ के आदिवासी मुद्दों को लेकर संगठन में दोहरी नीति चलती रही है। पुलिस ने बताया कि बेरोजगारी और उसके जीवन में कुछ घटनाओं से विचलित होने से पहाड़ सिंह नक्सली बनने के लिए विवश हुआ था।
    इस समर्पण से पुलिस  उत्साहित है। आईजी सिंह ने राजनांदगांव एसपी कमललोचन कश्यप और नक्सल ऑपरेशन एएसपी वाईपी सिंह को बधाई दी है। वहीं राज्य के पुलिस मुखिया एएन उपाध्याय व नक्सल डीजीपी डीएम अवस्थी ने दुर्ग रेंज आईजी व नांदगांव पुलिस की प्रशंसा की है।

  •  

Posted Date : 20-Aug-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव/मानपुर, 20 अगस्त। नक्सलियों ने बीती रात मानपुर में एक पूर्व सरपंच की   हत्या कर दी। 70 साल के जिस बुजुर्ग को नक्सलियों ने मौत के घाट उतारा है वह समाजसेवा से भी जुड़ा था।  
    एसपी कमललोचन कश्यप ने बताया कि  ग्रामीण चैतु तुलावी की नक्सलियों ने हत्या की है। बताया गया है कि मानपुर से 3 किमी दूर स्थित धब्बा गांव में कल नक्सलियों ने चैतु को रात करीब 8 बजे घर से उठा लिया। गांव के बाहर खेत में नक्सलियों ने टंगिया मारकर उसकी जान ले ली। काफी देर तक घर वापस नहीं आने पर तलाश में निकले ग्रामीणों को खेत में उसकी  लाश मिली। घटनास्थल पर फेंके गए पर्चे में मुखबिरी का आरोप लगाया गया है। 

     

  •  

Posted Date : 17-Aug-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 17 अगस्त। राजनांदगांव-खैरागढ़ ओवरब्रिज पर आज सुबह बेकाबू बाइक ट्रक से टकरा गई जिससे चालक की मौत हो गई।
      चिखली चौकी प्रभारी लाल मुनाई ने बताया कि आज सुबह करीब 11.30 बजे  ओवरब्रिज में बाइक सवार पीयूष साहू  ट्रक से जा टकराया।  हेलमेट नहीं पहने होने के कारण उसके सिर को गंभीर चोटें आई थीं। लहुलुहान पीयूष को अस्पताल ले जाया जा रहा था कि रास्ते में  उसने दम तोड़ दिया। चिखली पुलिस मामले की विवेचना कर रही है।  ट्रक चालक को हिरासत में ले लिया गया है।

  •  

Posted Date : 16-Aug-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 16 अगस्त। जिले के मोहला इलाके में कल दोपहर नक्सल  विस्फोट में आईटीबीपी के दो जवान जख्मी हो गए।  अंदरूनी इलाकों में नक्सलियों की चहल-कदमी की सूचना पर पैरामिलिट्री फोर्स  के सुरक्षाकर्मी महाराष्ट्र सीमा तक सर्चिंग कर जब  लौट रहे थे, उसी दौरान घात लगाए नक्सलियों ने विस्फोट कर दिया।  
    दुर्ग रेंज आईजी जीपी सिंह ने 'छत्तीसगढ़Ó को बताया कि मोहला इलाके के हिड़कोटोला-मिस्प्री में नक्सलियों ने विस्फोट किया। जिसमें आईटीबीपी के विप्लव भौमिक (त्रिपुरा) और शिवालय संकट (कर्नाटक) को मामूली चोटें आई हैं।आईटीबीपी के जवान गश्त करने के बाद वापस भोजटोला बेस कैम्प लौट रहे थे। घटनास्थल  के करीब पहुंचते ही नक्सलियों ने विस्फोट कर दिया। जिसमें विप्लव भौमिक के पैर में ज्यादा चोट पहुंची है। जबकि विस्फोट के चलते शिवालय संकट के कान पर असर पड़ा है। 
    दोनों को घायल हालत में राजनांदगांव जिला मेडिकल कॉलेज में कल घटना के बाद शाम 4 बजे दाखिल किया गया है। फिलहाल दोनों की स्थिति खतरे से बाहर है। 

     

  •  

Posted Date : 16-Aug-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 16 अगस्त। राजनांदगांव आबकारी अमले ने राज्य का अब तक का सबसे बड़ा अवैध शराब जब्त किया है।  तस्कर सरगना छत्तीसगढ़ आम्र्स फोर्स का एक पूर्व सिपाही निकला है। आबकारी अमले ने करीब 22 लाख रुपये  की 615 पेटियां जब्त की है। इसके अलावा अवैध शराब के कारोबार में प्रयुक्त एक सफारी कार भी बरामद की है। फिलहाल  गिरफ्तार चार आरोपियों से आबकारी अधिकारी पूछताछ कर रहे हैं। 
     सहायक आयुक्त आबकारी नीतू नोतानी ठाकुर ने  बताया कि अंबागढ़ चौकी ब्लॉक के बोगाटोला के दो घरों से करीब 400 पेटी शराब मिले। इससे पहले आबकारी अमले ने एक टाटा सफारी वाहन से 10 पेटी शराब जब्त की। सफारी वाहन में सवार आरोपी जीतू विश्वकर्मा और आशाराम मुलेटी की निशानदेही पर बोगाटोला से लालसाय और दिनेश कटंगे के घर से बड़ी खेप बरामद की गई। 
    सहायक आयुक्त के मुताबिक 615 पेटियों से मात्र 80 पेटी महाराष्ट्र की शराब है। जबकि शेष पेटियां मध्यप्रदेश की है। बताया गया है कि इस कारोबार में लिप्त मुख्य आरोपी जीतूराम  विश्वकर्मा छत्तीसगढ़ आम्र्स फोर्स से करीब डेढ़ साल पहले स्वेच्छिक सेवानिवृत्त हुआ था। उसने सीएफ के लिए करीब 26 साल की सेवाएं दी। सेवानिवृत्त होने के बाद से वह अवैध शराब का कारोबार  कर रहा था। 
    बताया जा रहा है कि मुख्य आरोपी जीतूराम विश्वकर्मा कुछ महीने पहले आबकारी महकमे के लिए बतौर मुखबिरी करने की पेशकश की थी। आलाधिकारियों का कहना है कि महकमे को चकमा देने के इरादे से वह मुखबिरी करना चाहता था। बताया गया है कि शराब की बाजार कीमत लगभग 22 लाख रुपये है। इससे पहले बीजापुर में सर्वाधिक मात्रा में 460 पेटी अवैध शराब जब्त हुई थी। राजनांदगांव आबकारी अमले ने  राज्य की सबसे बड़ी कार्रवाई की है।  महकमे ने शातिर माफिया को घेराबंदी के बाद पकड़ा। बताया गया है कि शराब की बड़ी खेप के मामले में राजनांदगांव के कुछ नामचीन हस्तियों से तार जुड़े हैं। 

     

  •  

Posted Date : 12-Aug-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 12 अगस्त। शहर के बसंतपुर क्षेत्र  के महेश नगर चौक में एक ट्रक ने 8वीं के छात्र को चपेट में ले लिया जिससे उसकी मौके पर ही  मौत हो गई।  हादसे से गुस्साए लोगों ने ट्रक चालक की जमकर पिटाई  कर दी।  मौके पर पहुंची पुलिस ने चालक को हिरासत में लिया।
    आज दोपहर   एक बजे  भदौरिया चौक से बसंतपुर की ओर जा रही ट्रक ने महेश नगर चौक पर साइकिल चला रहे  हंसराज कराड़े को अपनी चपेट में ले लिया।  बताया गया कि उक्त बालक छुरियाडोंगरे का रहने वाला है और महेश नगर स्थित छात्रावास में रहकर  बल्देवप्रसाद मिश्र स्कूल में 8वीं कक्षा में अध्ययनरत था।  

  •  

Posted Date : 11-Aug-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 11 अगस्त। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने  आज  यहां टेडेसरा में सरकारी बीपीओ शुरू करते हुए कहा कि प्रदेश में खुल रहे सिलसिलेवार बीपीओ से राष्ट्रीय स्तर पर राज्य के शिक्षित युवाओं को पहचान बनाने में सहायता मिलेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि दंतेवाड़ा एवं बीजापुर जैसे दुर्गम जिलों में सरकार द्वारा खोले गए बीपीओ बेहतर काम कर रहे हैं। नतीजतन युवाओं के लिए रोजगार के लिए उन्मुक्त वातावरण तैयार हुआ है। टेडेसरा स्थित नए बीपीओ का लोकार्पण करते मुख्यमंत्री ने जिले के कलेक्टर भीम सिंह एवं जिला पंचायत सीईओ चंदन कुमार की तारीफ करते कहा कि दोनों अधिकारियों के मार्गदर्शन में खुला बीपीओ केंद्र जिले के युवाओं के लिए फायदेमंद साबित होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि बीपीओ के जरिए स्थानीय युवा राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बनाने में कामयाब होंगे। साथ ही अंतर्राष्ट्रीय एवं राष्ट्रीय कंपनियों के साथ काम करने का सुनहरा अवसर भी मिलेगा। 
    मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन के पश्चात कुछ प्रशिक्षणार्थियों को नियुक्ति पत्र भी सौंपा। बीपीओ में एक हजार युवाओं को रोजगार प्रदान करने का लक्ष्य रखा गया है। कार्यक्रम में प्रदेश के पंचायत मंत्री अजय चंद्राकर, सांसद अभिषेक सिंह,  खूबचंद पारख, अशोक शर्मा, नीलू शर्मा, कोमल जंघेल, सरोजनी बंजारे, भरत वर्मा, नरेश डाकलिया, रमेश पटेल, सचिन बघेल, कलेक्टर भीम सिंह, जिला पंचायत सीईओ चंदन कुमार, एसडीएम अतुल विश्वकर्मा समेत अन्य उपस्थित थे। इधर मुख्यमंत्री ने सोमनी स्थित मॉडल कॉलेज का भी लोकार्पण किया। समाचार लिखे जाने तक मुख्यमंत्री अन्य कार्यक्रमों में शामिल होने सोमनी से राजनांदगांव रवाना हुए।

  •  

Posted Date : 10-Aug-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 10 अगस्त।  डोंगरगांव के वयोवृद्ध स्वतंत्रता सेनानी दामोदर दास  टावरी का आज शुक्रवार सुबह निधन हो गया।  वह राजनांदगांव जिले के स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों में से एक थे।आज सुबह स्थानीय ममता नगर स्थित अपने बेटे के आवास में 104 वर्ष की  आयु में आखिरी सांस ली। मूलत: महाराष्ट्र के वर्धा जिले के रहने वाले श्री टावरी देश की आजादी के बाद डोंगरगांव में ही बस गए। उन्होंने आजादी के अंादोलन में बढ़-चढ़कर भाग लिया और वर्धा सेवाश्रम में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के सानिध्य में देश के लिए खुद को समर्पित कर दिया। आजादी की लड़ाई में उन्हें  फांसी की सजा भी सुनाई थी। बाद में जवाहर लाल नेहरू के प्रयासों के बाद उनकी सजा को दो साल के कारावास में बदल दिया गया। स्व. टावरी का देश के ज्यादातर प्रधानमंत्री व राष्ट्रपति ने भी सम्मानित किया। तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने उन्हें ताम्रपत्र देकर सम्मानित किया। 

  •  

Posted Date : 08-Aug-2018
  • दो गंभीर रायपुर भेजे गए

    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 8 अगस्त। डोंगरगांव क्षेत्र में स्थित एक पेपर मिल में  गैस टंकी की सफाई करते एक मजदूर की दम घुटने से मौत हो गई।  वहीं हादसे में तीन मजदूरों को बेहोशी में राजनांदगांव लाया गया जहां से दो को रायपुर भेजा गया है। मृतक समेत अन्य   तीनों उत्तरप्रदेश और बंगाल के निवासी हैं। 
     डोंगरगांव थाना प्रभारी ने बताया कि धनलक्ष्मी पेपर मिल में कल शाम 8.30 बजे के आसपास मजदूर की मौत की खबर मिली। पुलिस मौके पर पहुंची तो बताया गया है कि कमलेश सेन, विनोद गौतम, भूर्तनाथ महतो और चंद्रेश निषाद नामक मजदूर  गैस की टंकी  सफाई करने उतरे थे। इसी बीच चारों की तबीयत बिगडऩे लगी। घुटन महसूस होने पर सभी बाहर निकलने के लिए चढऩे लगे। किसी तरह निकले तो इन सबको  राजनांदगांव अस्पताल भेजा गया। यहां इलाज के दौरानं कमलेश सेन की मौत हो गई। जबकि विनोद  और भूर्तनाथ  को रायपुर भेजा गया है। चंद्रेश  का स्थानीय मेडिकल कॉलेज में इलाज जारी है उसकी हालत खतरे से बाहर है। 
    मजदूर के परिजनों का कहना है कि मिल प्रबंधन की लापरवाही के चलते यह हादसा हुआ है। टंकी का उपयोग केमिकल के लिए किया जाता है। मजदूरों को बिना किसी तकनीकी विशेषज्ञ की निगरानी के सफाई का काम सौंप दिया गया। उन्होंने मिल मालिक के विरूद्व अपराध दर्ज करने की मांग की है।

  •  

Posted Date : 03-Aug-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    राजनांदगांव, 3 अगस्त। आज तड़के जन्मदिन की पार्टी के लिए ढाबा जाने के दौरान एक युवक की उसके ही एक साथी ने  जान ले ली।  आरोपी  फरार  है।  
     खैरागढ़ एसडीओपी पुष्पेन्द्र नायक ने बताया कि राजनांदगांव के गौरीनगर के युवकों की टोली में से एक युवक बसंत ठाकुर की उसके दोस्त आकाश निषाद ने चाकू मारकर जान ले ली।  बसंत ठाकुर के जन्मदिन की पार्टी में शामिल होने के लिए 3 मोटर साइकिल में सवार होकर 9 युवक ठेलकाडीह जा रहे थे। इसी बीच मृतक और आरोपी आकाश के बीच मोबाइल को लेकर विवाद शुरू हो गया और आकाश ने चाकू से कातिलाना हमला कर दिया। उसके बाद वह घटनास्थल से फरार हो गया। घटना के बाद पीछे आ रहे अन्य दोस्तों ने उसे अस्पताल लाया, जहां उसने दम तोड़ दिया। बताया गया है कि  युवक नशे में थे। पुलिस मृतक के सभी साथियों से पूछताछ कर रही है।

  •  



Previous1234567Next