छत्तीसगढ़ » सुकमा

Previous123Next
12-Aug-2020 3:34 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दोरनापाल, 12 अगस्त।
बुधवार सुबह सुकमा जिले के पूलनपाड़ के जंगल में मुठभेड़ हुई। जिसमें जवानों ने 4 नक्सलियों को मार गिराया। मारे गए नक्सलियों में दो वर्दीधारी भी शामिल हैं। मौके से जवानों ने 3 भरमार बंदूक और एक 303 राइफल व बड़ी संख्या में नक्सल सामान भी बरामद की है। समाचार लिखे जाने तक मारे गए नक्सलियों का शव लेकर जवान लौट रहे हैं। आने के बाद ही ज्यादा जानकारी मिल सकेगी। मुठभेड़ की पुष्टि बस्तर के आईजी पी. सुंदरराज ने की है।

जानकारी के मुताबिक, नक्सलियों की मौजूदगी की सूचना पर मंगलवार रात ऑपरेशन लॉन्च किया गया था। जगरगुंडा थाने से सीआरपीएफ 223 बटालियन और डीआरजी के जवान और नरसपुरम कैंप से कोबरा 201 बटालियन के जवानों को रवाना किया गया। चिंतलनार क्षेत्र में 50 से ज्यादा नक्सलियों के मौजूद होने की सूचना मिली थी।

जवान बुधवार सुबह करीब 6.30 बजे चिंतलनार और जगरगुंडा के बीच पूलनपाड़ के जंगलों में पहुंचे थे कि नक्सलियों ने फायरिंग शुरू कर दी। जवाब में जवानों ने भी कार्रवाई की। इस दौरान करीब 3.30 घंटे 9 बजे तक रुक-रुक कर फायरिंग चलती रही। जवानों को भारी पड़ता देख नक्सली जंगल का फायदा उठाकर भाग निकले।

इसके बाद जवानों ने सर्चिंग में चार नक्सलियों के शव बरामद किए। इनमें दो वर्दी में थे, जबकि दो अन्य ग्रामीण वेशभूषा में थे। मौके से जवानों ने 3 भरमार बंदूक और एक 303 राइफल भी बरामद की है। मारे गए नक्सलियों के नाम अभी सामने नहीं आ सके हैं। जवानों के लौटने के बाद ही उनकी पहचान हो सकेगी।

सुकमा एसपी शलभ सिन्हा ने बताया कि स्थानीय सूचना के आधार पर लगातार अलग-अलग इलाके में ऑपरेशन चला रहे हैं। कल सूचना मिली थी कि जगरगुंडा के आसपास के इलाके में नक्सलियों की एक बड़ी टीम हथियार से लैस होकर आसपास घूम रही है। इसी के तहत प्लान बनाया था, जिसमें कोबरा 201, सीआरपीएफ़ 223 व डीआरजी के जवान संयुक्त ऑपरेशन में निकले थे। सभी पार्टियां कल रात को अपने-अपने इलाके से निकली थी। आज सुबह डीआरजी की टीम सर्च कर रही थी, तभी नक्सलियों ने फायरिंग की। जवानों ने जवाबी फायरिंग की। लगभग दो घंटे की मुठभेड़ चली, जिसमें काफी हैवी फायरिंग हुई। उनकी तरफ से बम भी दागे गए। जब नक्सली भाग गए तो सर्चिंग करने पर घटनास्थल से 4 पुरूष नक्सली के शव बरामद हुए हैं, जिसमें 2 वर्दीधारी हैं। एक 3नाट3 समेत चार हथियार भी बरामद किया गया। काफी नक्सलियों के घायल होने की खबर है। नक्सलियों को घायलों को उठाते हुए देखा गया है। मौके से काफी बड़ी संख्या में नक्सल सामान बरामद हुआ है। जिससे अंदाजा है कि 40-50 नक्सली रहे होंगे। फायरिंग को देखते हुए मुठभेड़ में जगरगुंडा एरिया कमेटी के बड़े नक्सली लीडर व प्लाटून भी शामिल हो सकते हैं। आगे बतााया कि अभी जवान लौटे नहीं है, जब वे आएंगे, तभी पूरी जानकारी मिल पाएगी। 


11-Aug-2020 10:03 PM

सुकमा, 11 अगस्त। पिछले कुछ महीनों से पाकेला पंचायत में नेटवर्क पूरी तरह से ध्वस्त हैं। किसी भी प्रकार के कार्य वर्तमान समय में नेटवर्क के बिना संभव नहीं है। उक्त बातें समाज सेविका व अधिवक्ता दीपिका शोरी ने जारी विज्ञप्ति में कही।

 उन्होंने कहा कि सभी नेटवर्क की कंपनियों द्वारा अपने -अपने नेटवर्क को सबसे बेहतर होने का दावा करती है, पर पाकेला में ना ही बीएसएनएल नेटवर्क सही है ना ही जियो। नेट चलाने या फिर किसी को फोन करने या फिर एंबुलेंस सेवा हेतु संपर्क के लिए पाकेला से 3-5  किलोमीटर जा कर नेटवर्क ढूँढ कर फोन करना पड़ता है। जियो और बीएसएनएल के उपभोक्ताओं द्वारा प्रत्येक माह नेट, फोन काल, मैसज पैक करवाया जाता है पर उसका लाभ उपभोक्ताओं को नहीं मिल पा रहा है।


11-Aug-2020 9:15 PM

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

सुकमा, 11 अगस्त। जिले में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए कलेक्टर चन्दन कुमार ने स्वास्थ्य विभाग को सैंपल कलेक्शन में तेजी लाने के निर्देश दिए।

 मंगलवार को जिला कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित समय सीमा बैठक में उन्होंने कहा कि सुकमा, छिंदगढ़, कोंटा और दोरनापाल क्षेत्र में प्रतिदिन 100-100 व्यक्तियों के एंटीजन टेस्ट सहित  100 आरटीपीसीआर टेस्ट किया जाना सुनिश्चित करें। उन्होंने शासकीय अधिकारी-कर्मचारियों को अपना कोरोना जांच करवाने के निर्देश भी दिए। कलेक्टर ने जिले में प्रगतिरत विकास कार्यों की समीक्षा कर आवश्यक निर्देश दिए।

कलेक्टर ने कोंटा विकासखंड अन्तर्गत दूरस्थ क्षेत्रों में मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने के साथ ही बंडा, मेहता और तिमिलवाड़ा में उचित मूल्य की दुकान संचालित करवाने को प्राथमिकता देते हुए एसडीएम कोंटा हिमांचल साहू को आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। साथ ही गोलापल्ली क्षेत्र में जल्द से जल्द स्वास्थ्य केंद्र संचालित करने के निर्देश दिए।

 उन्होंने आवारा पशुओं के कारण होने वाली समस्याओं को देखते हुए सुकमा के मुख्य नगरपालिका अधिकारी को शहर में आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिए।

दोरनापाल के सीएमओ  एम.कृष्णाराव को कोरोना के बढ़ते संक्रमण के दौरान बिना अनुमति के राजधानी रायपुर जाने पर नाराजगी जाहिर करते हुए शो कॉज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। कृषि, मत्स्य एवं उद्यानिकी विभाग को पंजीकृत कृषकों को किसान कार्ड वितरित करने के कार्य गति में तेजी लाने के निर्देश दिए। वन नेशन वन राशन कार्ड के तहत हितग्राहियों का आधार कार्ड  की जानकारी पोर्टल में एंट्री की कार्यवाही में धीमी गति से नाराजगी जाहिर करते हुए कार्य में गति लाने के निर्देश दिए। गोधन न्याय योजना के तहत सभी पंजीकृत गोबर विक्रेताओं की पूर्ण जानकारी उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। बैठक में सीईओ जिला पंचायत श्री नूतन कुमार कंवर सहित विभाग प्रमुख उपस्थित थे।


11-Aug-2020 9:10 PM

सुकमा। जिले में 2 दिनों से बारिश हो रही है। लगातार बारिश से शबरी नदी का जलस्तर बढ़ गया। भारत मौसम विज्ञान विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में आगामी 48 घंटों तक गरज, चमक के साथ आकाशीय बिजली गिरने और भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। इस दौरान सुकमा जिले के सभी लोगों को सावधान और अद्यतन रहने की अपील की गई है।


11-Aug-2020 7:52 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

सुकमा, 11 अगस्त। जिले में आज छ: लोगों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनमें सुकमा नगरपालिका क्षेत्र से 3 व्यक्ति तथा कोंटा नगर पंचायत और दोरनापाल नगर पंचायत क्षेत्र से एक-एक व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार संध्या 6 बजे की स्थिति में सुकमा से तीन व्यक्ति और एक पुलिस कांस्टेबल तथा कोण्टा से एक सीआरपीएफ जवान सहित दोरनापाल से एक व्यक्ति की कोरोना जांच रिपोर्ट पाजीटिव आई है।

इन सभी मरीजों को जिला कोविड अस्पताल में दाखिल कराया गया है तथा उनके संपर्क में आए लोगों की ट्रेसिंग की जा रही है। इसके साथ ही स्वास्थ्य विभाग द्वारा आवश्यक कारवाई की जा रही है।


10-Aug-2020 10:30 PM

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

तोंगपाल, 10 अगस्त। एआईएसएफ प्रदेश अध्यक्ष आदिवासी छात्र नेता महेश कुंजाम, कटेकल्याण ब्लाक के ग्राम पंचायत जगंमपाल,  छिन्दगढ़ ब्लाक के कुन्दनपाल जोन में पहुँच कर विश्व आदिवासी दिवस मनाया गया। इस अवसर गाँव के जागा पुजारी के द्वारा परम्परागत रीति नियम के साथ प्राकृतिक माटी आया की सेवा अर्जी कर कार्यक्रम सम्पन्न हुआ।

सर्वप्रथम गांव के पटेल कोसा ने सम्बोधित करते हुए कहा कि हम सभी आदिवासी समाज को एकजुट होना है और समाज को आगे बढ़ाने के लिए काम करना व हमारी रीति रिवाज संस्कृति को कायम रखते हुए अपनी पहचान बढ़ाना है।

महेश कुंजाम ने कहा कि आज हमारे लिए महत्वपूर्ण दिन व खुशी का दिन है और हम सभी को आज के दिन में अपनी आदिवासी परम्परा रीति रिवाज सांस्कृति वेशभूषा के साथ एकजुटता का बिगुल बजाना है, और अपनी अस्मिता को बचाये रखने के लिए युवक व युवती को आगे आने की जरूरत है।

 इस अवसर पर सर्व आदिवासी समाज पदाधिकारीगण, शिक्षक शिक्षिका, कर्मचारी व छात्र छात्राओं के साथ  कार्यक्रम को सफल बनाया। आदिवासी समाज की समाजसेविका अधिवक्ता दीपिका शोरी गादीरास के मिचिपार में पहुंच कर आदिवासी दिवस की बधाई देते हुए समाज को एकजुट रहकर समाजहित में कार्य करने का संदेश दिया।

 


10-Aug-2020 9:55 PM

आदिवासी दिवस पर निकाली बाइक रैली

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

कोंटा, 10 अगस्त। विश्व आदिवासी दिवस के अवसर पर कोंटा में ब्लाक के आदिवासियों के द्वारा पारंपरिक वेशभूषा में ढोल-नगाड़ों की धुन पर नृत्य संगीत के साथ बाइक रैली निकाली। यह बाइक रैली को स्थानीय हाईस्कूल के मैदान से प्रारम्भ कर पूरे नगर में भ्रमण किया गया। इस रैली में ब्लॉक के सभी बड़ी संख्या में आदिवासी शामिल हुए, वहीं हाईस्कूल के मैदान में सम्मेलन का आयोजन किया गया।

 आदिवासी युवक-युवतियां ढोल-नगाड़े के साथ झूमते नजर आए। बाइक रैली के पश्चात पैदल मार्च का आयोजन किया गया जो पुरानी बस्ती पहुंचा और वहां पर ग्राम देवता मां मुत्यालअम्मा की पूजा-अर्चना की गई। झंडोत्तोलन के मुख्य अतिथि रहे जपं अध्यक्ष सुन्नम नागेश ने कहा कि भारत सहित पूरी दुनिया की विविधतापूर्ण जनजातीय संस्कृति सम्पूर्ण मानव समाज की अनमोल धरोहर है। आधुनिक युग में आदिवासी समझ भी शिक्षा ज्ञान, विज्ञान, कला, संस्कृति आदि जीवन के क्षेत्र में तेजी से तरक्की कर रहा है।

इस अवसर पर हमें ये संकल्प लेना है जल, जंगल, दोहन काफी सोच-समझकर करना होगा। अन्यथा भावी पीढ़ी को हम जल और जंगल की तस्वीर दे पाएंगे? अगर आज भारत में कोरोना काल में आदिवासी बहुल जिलों में सबसे कम कोरोना केस सामने आ रहे हैं। तो आप समझ सकते हैं कि प्रकृति कितनी शक्तिशाली है।

इस दौरान जनपद पंचायत अध्यक्ष सुन्नम नागेश, मडकम कृष्णा, सोयम मुका, कवासी मनोज, पोडियम सुक्का आदि आदिवासी नेता मौजूद रहे।


09-Aug-2020 11:20 PM

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

तोंगपाल, 9 अगस्त। आज तोंगपाल के कन्या हाई स्कूल में शिक्षा विभाग की सरस्वती योजना के तहत बालिकाओं को निशुल्क सायकिल एवं पाठ्य सामग्री तथा गणवेश के वितरण के कार्यक्रम में  मुख्य अतिथि के रूप में जिलापंचायत अध्यक्ष कवासी हरीश पधारे थे। इस कार्यक्रम के अध्यक्ष के रूप में देवली नाग अध्यक्ष जनपद पंचायत छिंदगढ़ तथा विशेष अतिथि के तौर पर राजू साहू अध्यक्ष नगरपालिका सुकमा,बेनमती ठाकुर, नाजि़म खान ,मानकदयी नाग ,तोंगपाल सरपंच मदन नाग तथा कांग्रेसी कार्यकर्ता उपस्थित थे।

सर्वप्रथम जिलापंचायत अध्यक्ष द्वारा सरस्वती माता की पूजा और कन्या हाई स्कूल के छात्राओं द्वारा मातृ वंदना पश्चात इस कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। कवासी हरीश ने राज्य सरकार के द्वारा शिक्षा के स्तर में जो मुख्यमंत्री भुपेश बघेल के द्वारा चलाये जा रही योजनाओं के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि पहले सुकमा जिला पिछड़ा हुआ था। जब से राज्य में कांग्रेस की सरकार बनी है तब से सुकमा जिले की काया ही पलट गई है चाहे शिक्षा के क्षेत्र में हो या अन्य क्षेत्रों में भी सुकमा जिले का विकास हो रहा है। कवासी लखमा के द्वारा तोंगपाल तथा आस पास के बच्चों को कॉलेज में पढऩे की तकलीफों को देखते हुवे तोंगपाल में नवीन कॉलेज का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि कोविड 19 महामारी को देखते हुवे आज पढ़ाई के स्तर में भी बदलाव के संकेत देखे जा रहे है । राज्य सरकार के दिशानिर्देशों के तहत आगे पढ़ाई में बच्चों की सुविधा और सुरक्षा अनुसार निर्णय लिए जा रहे हैं।

कार्यक्रम में छिंदगढ़ विकासखंड के बीईओ कमलेश श्रीवास्तव, बीआरसी वाशिम खान और तोंगपाल के प्राचार्य पीएल नायक ,राजीव दीक्षित  तथा शिक्षक गण उपस्थित थे।


09-Aug-2020 10:28 PM

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

कोंटा, 9 अगस्त। शनिवार सुबह रेड जोन बने कोंटा में पुलिस द्वारा कोरोना जागरूकता के लिए फ्लैग मार्च निकाला गया। थाना कोंटा से शुरू हुए फ्लैग मार्च का पूरे नगर भ्रमण के पश्चात स्थानीय बस स्टैंड में समापन हुआ। करीब तीन किमी के इस फ्लैग मार्च में कोंटा पुलिस के अलावा अनुविभागीय अधिकारी मौजूद रहे।

 कार्यक्रम के समापन पर अनुविभागीय अधिकारी हिमांचल साहू ने बस स्टैंड में संबोधित करते हुए सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क लगाने के साथ कोरोना से बचाव के उपाय बताए। कोंटा थाना प्रभारी शिवानंद सिंह ने कहा कि अभी लॉकडाउन खत्म हुआ है कोरोना नहीं। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सिर्फ सावधानी रखनी है।

ज्ञात हो कि कोंटा तीन राज्यों का बॉर्डर इलाका होने के कारण के कारण यहां शुरुवात से ड्यूटी पर रहे सुरक्षा जवानों का संक्रमण का खतरा ज्यादा है। ऐसी परिस्थिति में भी दिन रात ड्यूटी पर मुस्तैद सुरक्षा जवान भी अपने अधिकारी के साथ इस फ्लैग मार्च में शामिल रहे। हाथों में जागरूकता की तख्ती लेकर नगरवासियों को जागरूक करने के बाद एक साथ सुरक्षा जवान अपने अधिकारी व जवानों के साथ सेल्फी लेकर तनाव दूर करते नजर आए।

 पुलिस ने लोगों को समझाया कि खरीदारी के दौरान मास्क लगाएं और दूसरे व्यक्ति से निर्धारित दूरी बनाकर खड़े होकर समान खरीदने की अपील की। पुलिस ने लोगों को भरोसा दिलाया कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाने के लिए पुलिस प्रशासन आपकी सुरक्षा के लिए तैनात है। बिना मास्क के बेझिजक घूमने वाले को कार्रवाई की चेतावनी दी गई। इस दौरान एसआई कंसारी, समाजसेवी सैय्यद फारुख अली भी मौजूद रहे।


08-Aug-2020 10:53 PM

कोंटा, 8 अगस्त। शनिवार सुबह रेड जोन बने कोंटा में पुलिस द्वारा कोरोना जागरूकता के लिए फ्लैग मार्च निकाला गया। थाना कोंटा से शुरू हुए फ्लैग मार्च का पूरे नगर भ्रमण के पश्चात स्थानीय बस स्टैंड में समापन हुआ। करीब तीन किमी के इस फ्लैग मार्च में कोंटा पुलिस के अलावा अनुविभागीय अधिकारी मौजूद रहे।

 कार्यक्रम के समापन पर अनुविभागीय अधिकारी हिमांचल साहू ने बस स्टैंड में संबोधित करते हुए सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क लगाने के साथ कोरोना से बचाव के उपाय बताए। कोंटा थाना प्रभारी शिवानंद सिंह ने कहा कि अभी लॉकडाउन खत्म हुआ है कोरोना नहीं। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सिर्फ सावधानी रखनी है। 

ज्ञात हो कि कोंटा तीन राज्यों का बॉर्डर इलाका होने के कारण के कारण यहां शुरुवात से ड्यूटी पर रहे सुरक्षा जवानों का संक्रमण का खतरा ज्यादा है। ऐसी परिस्थिति में भी दिन रात ड्यूटी पर मुस्तैद सुरक्षा जवान भी अपने अधिकारी के साथ इस फ्लैग मार्च में शामिल रहे। हाथों में जागरूकता की तख्ती लेकर नगरवासियों को जागरूक करने के बाद एक साथ सुरक्षा जवान अपने अधिकारी व जवानों के साथ सेल्फी लेकर तनाव दूर करते नजर आए। 

 पुलिस ने लोगों को समझाया कि खरीदारी के दौरान मास्क लगाएं और दूसरे व्यक्ति से निर्धारित दूरी बनाकर खड़े होकर समान खरीदने की अपील की। पुलिस ने लोगों को भरोसा दिलाया कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाने के लिए पुलिस प्रशासन आपकी सुरक्षा के लिए तैनात है। बिना मास्क के बेझिजक घूमने वाले को कार्रवाई की चेतावनी दी गई। इस दौरान एसआई कंसारी, समाजसेवी सैय्यद फारुख अली भी मौजूद रहे।


08-Aug-2020 4:01 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
तोंगपाल, 8 अगस्त।
सुकमा जिले के विकासखंड छिंदगढ़ के ग्राम पंचायत चिंतलनार में एक बार फिर प्रधानमंत्री आवास योजना में धोखाधड़ी का मामला सामने आया है, परन्तु इस बार यह आरोप सरपंच एवं सचिव पर नहीं ग्राम पंचायत में इस योजनांतर्गत हितग्राहियों को मटेरियल सप्लाई करने वाले ठेकेदार पर है।

जनपद पंचायत छिंदगढ़ के प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण की तकनीकी समन्वयक नेहा कुंवर मंडावी द्वारा मुख्य कार्यपालन अधिकारी को लिखे पत्र के अनुसार ग्राम पंचायत चिंतलनार में 12 आवासों के निर्माण हेतु हितग्राहियों के खाते में डाली गई, जिसमें ठेकेदार ने 13 लाख 95 हजार रु में से 13 लाख 15 हजार रु. अपने खाते में हस्तांतरण करवाया, परन्तु उक्त राशि में से 5 लाख 39 हजार 8 सौ रु का ही कार्य किया है, जबकि 7 लाख 75 हजार 200 रु. का गबन किया गया है। 

तकनीकी समन्वयक ने ठेकेदार प्रफुल्ल वर्मा महतारी सप्लायर के खिलाफ पुलिस थाना पुसपाल में एफआईआर दर्ज करवाया है, जिसकी वसूली किए जाने के संबंध में भी शिकायत दर्ज की गई। थाना प्रभारी पुसपाल विजय पटेल का कहना है कि अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है।


08-Aug-2020 3:59 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
तोंगपाल, 8 अगस्त।
जिला मुख्यालय सुकमा से 20 किमी दूर छिंदगढ़ विकासखंड कार्यालय के समीप ही कई बच्चे मवेशी चराते नजर आए, इनमें डीएवी स्कूल की पांचवीं की छात्रा है, जो कि डॉक्टर बनने की चाह लिए मवेशी चरा रही थी।

‘छत्तीसगढ़’ ने उस बच्ची से नाम पूछा तो उसने बताया कि मेरा नाम भानुप्रिया है। मेरे पिता का नाम पोज्जा वेक्को है, मैं डीएवी रोकेल में पांचवीं कक्षा में पढ़ती हूं। पढक़र क्या बनना है पूछने पर कहा डॉक्टर। 

अभी पढ़ाई कैसे कर रही हो, कोई शिक्षक आपके घर या गांव आते हैं, पूछने पर मायूसी से कहा कि कोई नहीं आता है। पूरा साल खराब हो रहा है, और बताया कि एक बहन और है, वो भी पढ़ाई नहीं कर पा रही है।

भानुप्रिया अपने गांव रेड्डीपाल के ही कुछ लडक़ों लक्ष्मण, सोनू, गंगा जिन्होंने घर की परेशानियों के कारण या अन्य किसी वजह से पढ़ाई छोड़ दी, उनके साथ ही खंड मुख्यालय के पास के जंगल में राष्ट्रीय राजमार्ग 30 के किनारे मवेशियों को चराते अक्सर नजर आती है।

इस संबंध में जिला शिक्षा अधिकारी सुकमा जेके प्रसाद से चर्चा करने पर उन्होंने बताया कि हम कोशिश कर रहे हैं व्यवस्था सुधारने हेतु, परन्तु जिन शिक्षकों को इस कार्य के लिए जिम्मेदारी दी गई है, उसके लिए शासन के द्वारा स्वेच्छिक कार्य निर्धारित किया गया है, जिसके कारण यह अव्यवस्था आ रही है परन्तु जल्द ही ठीक कर दिया जाएगा।


07-Aug-2020 11:19 PM

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

कोंटा, 7 अगस्त। आज सीआरपीएफ तथा सुकमा पुलिस के संयुक्त प्रयासों एवं नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत पांच जनमिलिशिया सदस्यों ने सीआरपीएफ 219 बटालियन के समक्ष आत्मसमर्पण किया। आत्मसमर्पित नक्सलियों ने ग्रामवासियों को विश्वास दिलाया कि अब कोई भी गलत कार्य में शामिल नहीं होंगे।

 शुक्रवार को माओवादियों की खोखली विचारधारा और उनके शोषण अत्याचार भेदभाव एवं हिंसा से तंग आकर प्रतिबंधित नक्सली संगठन को छोड़कर मुख्यधारा में शामिल होने के लिए राजीव कुमार ठाकुर पुलिस उप महानिरीक्षक कोंटा रेंज व 219 बटालियन के कमाण्डेन्ट अनिल कुमार, सुनील वर्मा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक व पुलिस अनुविभागीय अधिकारी कोंटा कृष्ण पटेल एवं थाना प्रभारी कोंटा शिवानंद सिंह के समक्ष कट्टम गणेश, सुन्नम लच्छा, कवासी श्रीनू, कट्टम रमा, मुचाकी सोमे ने आत्म समर्पण किया। सभी आत्मसमर्पित सदस्यों ने ग्रामवासियों को विश्वास दिलाया कि अब कोई भी गलत कार्य में वे नक्सलियों का साथ नहीं देंगे।

इस दौरान पुलिस उप महानिरीक्षक राजीव ठाकुर ने आत्मसमर्पित सदस्यों को हिंसा रास्ता छोड़कर मुख्यधारा से जुडऩे पर बधाई दी तथा यह भी बोले कि आपके प्रत्येक समस्या का निदान और आपकी भलाई के लिए हम सदैव तत्पर हैं और रहेंगे, कभी भी किसी भी समय आप हमसे किसी भी प्रकार की सेवा ले सकते हैं, हम हमेशा आपका सहयोग करेंगे।

अतिरिक्त  पुलिस अधीक्षक सुनील वर्मा ने कहा कि सुकमा पुलिस सदैव आपकी सेवा के लिए तैयार हैं तथा किसी भी प्रकार की समस्या होने पर आप लोगों या तो सीआरपीएफ कैम्प या पुलिस चौकी कोंटा में लिखित या मौखिक शिकायत  दर्ज या बता सकते हैं। आत्मसमर्पित  सदस्यों को छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा दी जाने वाली सभी सुविधाओं का लाभ जल्द से जल्द प्रदान की जाएगी। साथ ही यह भी कहा कि उक्त सदस्यों के आत्मसमर्पण करने से यह स्पष्ट होता है कि सुकमा में अमन चैन की लहर लौट रही है, और वाला समय बहुत सुखद होगा।


07-Aug-2020 11:08 PM

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

दोरनापाल, 7 अगस्त। पूरे देश भर में जहां अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन की खुशी अलग अलग तरीके से मनाई जा रही थी। वही सुकमा जिले के दोरनापाल में भी यूथ हिंदू संगठन के द्वारा भव्य कार्यक्रम किया गया। इस कार्यक्रम में सुबह सुंदरकांड का पाठ संगठन द्वारा कराया गया जिसके बाद भगवान राम की आरती के बाद संध्या बाइक रैली भी यूथ हिंदू संगठन के युवाओं द्वारा निकाली गई इसके बाद हनुमान चालीसा का पाठ व हनुमान की आरती के बाद यूथ हिंदू संगठन द्वारा मंदिर में 108 दिये इसके अलावा मुख्य मार्ग क्रमांक 30 के डिवाइडर में 1008 दीए जलाकर आतिशबाजी भी की गई। साथ ही 1008 दिये से प्रज्वलित मुख्य मार्ग किसी दिवाली से कम नहीं लग रहा था।

कार्यक्रम में नगर पंचायत अध्यक्षा बबीता, उपाध्यक्ष युधपति यादव ,विधायक प्रतिनिधि रविंद्र मंडल ,पार्षद राधा मंडावी पार्षद पुष्पलता भदोरिया पार्षद सोढ़ी मंगली ,पार्षद लक्ष्मी सिंह,पार्षद सोढ़ी मंगी ने भी शामिल होकर लोगों के बीच खुशी जाहिर की इस कार्यक्रम में संगठन से जुड़े संगठन के प्रमुख शिव प्रसाद गुप्ता, महेंद्रपाल सिंह भदोरिया ,सुरेश सिंह चौहान, कोरसा सन्नू ,रामलाल गुप्ता,नंद किशोर गांधी, दीपक चौहान,दुर्गेश गुप्ता,धर्मेंद्र भदोरिया ,अमिन्द्र बघेल, धर्मेंद्र चौहान मनीष शुक्ला,प्रदीप शुक्ला दिनेश गुप्ता ,राजू चौहान, आत्मानंद गुप्ता, बब्बल चौहान,दीपक गुप्ता इसके अलावा दोरनापाल यूथ हिंदू संगठन के युवा अर्जित हलदर ,आदर्श तोमर, गौरव गुप्ता, आदर्श शुक्ला , कान्हा गुप्ता,संदीप गुप्ता,जुगल गांधी ,राहुल राजपूत, रोशन सिंह चौहान,अभय भदौरिया,जय सिंह चौहान, शुभम सिंह चौहान,रतीभान गुप्ता,तुलसी सन्त ,सत्यजीत हलदर, जितेंद्र ताप?िया, मनोरंजन ,अजय चंद्राकर, विद्यानंद गुप्ता समेत अन्य लोग पूरे कार्यक्रम में शामिल रहे ।


06-Aug-2020 10:10 PM

कोंटा, 6 अगस्त।  आंध्र के संक्रमित युवक के संपर्क में कोंटा के 17 ग्रामीणों की आने की सूचना मिलते ही सभी को कोंटा के क्वारंटीन सेंटर में रखा गया। इन सभी क्वांटीन ग्रामीणों की रिपोर्ट का इंतजार है।

कोविड-19 की चपेट में आकर विकास खंड कोंटा रेड जोन के घोषित हुआ है। हालही में कोंटा बॉर्डर से लगे आंध्र के वीरापुरम गांव का एक युवक संक्रमित होने के बावजूद कोंटा पहुंच कर ग्राम बंडा व मे_ागुडा, ढोन्ड्रा  के युवकों के साथ कोंटा में बेझिजक घूमा व बंडा के समारोह में पहुंचकर 17 लोगों के सम्पर्क में रहा। इसके पश्चात आंध्र ईस्टगोदावरी पुलिस को संक्रमित व्यक्ति के कोंटा में घूमने की खबर मिलते ही उसको लेकर चले गई। इसके पश्चात कोंटा में हड़कंप मच गया। आनन फानन में स्थानीय अनुविभागीय अधिकारी राजस्व कोंटा हिमांचल साहू व मुख्य कार्यपालन अधिकारी इरफेन्द्र पटेल के द्वार संक्रमित व्यक्ति से संपर्क में आये लोगों का पता लगवाकर उन्हें कोंटा के क्वारंटीन सेंटर में रखा गया। 

 संक्रमित से सम्पर्क में 17 ग्रामीणों का स्वास्थ्य  विभाग के द्वारा सभी 17 लोगों का सेम्पल जगदलपुर सेन्टर भेजा गया, जिसकी रिपोर्ट आना  बाकी है। कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति से विकास खण्ड कोंटा के 17 ग्रामीणों ने सम्पर्क किया , हालांकि इन सभी ग्रामीणों को कोंटा क्वारंटाईन केंद्र में स्थानीय प्रशासन के द्वारा रखा गया है। इन सभी क्वांटीन ग्रामीणों की रिपोर्ट का इंतजार है। स्थानीय कोंटा नगर में भय का वातावरण हैं, क्योंकि यह 17 ग्रामीणों ने अन्य कई लोगों से सम्पर्क किया हैं ।


06-Aug-2020 10:09 PM

कोंटा, 6 अगस्त। सीआरपीएफ 217 बटालियन के द्वारा 217 बटालियन के कमाण्डेन्ट अशोक कुमार के मार्गदर्शन में सीआरपीएफ की ओर से बेरोजगारों को प्रशिक्षण देकर स्वावलंबी बनाने के लिए  विकास खण्ड कोंटा के अतिसवेधनशील क्षेत्र दोर्रामंगू , लिंगपल्ली , मरईगुड़ा वन ,कन्हाईगुडा , जग्गावरम  युवाओं के लिए ड्राइविंग का कोर्स दो माह पूर्व प्रारम्भ कर पूर्ण रूप से चार पहिया वाहन चलाने सीखने के बाद उन्हें प्रमाण पत्र दिया गया। 

इस अवसर पर सीआरपीएफ 217 बटालियन के द्वितीय कमान अधिकारी भवानी प्रताप यादव ने कहा कि इन जनकल्याणकारी योजनाएं का मुख्य उद्देश्य सामज के कमजोर युवाओं को चुनकर उन्हें विकसित करना हैं , ताकि आम जनता अधिक से अधिक लाभान्वित हो तथा सुरक्षा बलों व पब्लिक के रिश्ते और मजबूत हो सके। उन्होंने कहा कि पहले भी 217 बटालियन के द्वारा ऐसी कल्याणकारी योजनाओं का सफलतापुर्वक आयोजन किया जा चुका हैं। ऐसे जनकल्याणकारी आगे भी किया जाएगा। जिससे समाज के गरीब तबके के लोग ज्यादा से ज्यादा लाभान्वित होंगे।

 उन्होंने कहा कि बेरोजगारों को आत्मनिर्भर बनाने के मकसद व नक्सल प्रभावित इलाके के ग्रामीणों को रोजगार उपलब्ध करवाने एवं मुख्य धारा से जोडऩे के प्रयास के क्रम में 217 बटालियन सीआरपीएफ की ओर से निशुल्क मोटर ड्राइविंग की ट्रेनिंग दी गई। इस प्रशिक्षण का मुख्य उद्देश्य नक्सल प्रभावित क्षेत्र के युवाओं को शिक्षा के अभाव एवं बेरोजगारी के कारण गलत कदम बढ़ाने से रोकना है तथा व्यवसायिक ज्ञान अर्जित कर रोजगार प्राप्त करने में सहायता प्रदान करवाना है। इस दौरान 217 बटालियन के ऐसी प्रभांसु व पुलिस अनुविभागीय अधिकारी मरईगुड़ा पंकज पटेल ,थाना प्रभारी मरईगुड़ा संदीप टोप्पो मौजूद रहे ।


06-Aug-2020 9:45 PM

तोंगपाल, 6 अगस्त। अयोध्या में राम मंदिर भूमिपूजन के अवसर पर तोंगपाल नगरवासियों ने कई कार्यक्रम आयोजित किए। एक दिन पहले से ही बजरंग दल राष्ट्रीय, स्वयंसेवक, हिंदू संगठन के अन्य दलों द्वारा गांव में भगवा झंडे एवं मंदिर प्रांगण में आयोजन, लोगों से जनसंपर्क करना प्रारंभ कर दिया था। 

दुर्गा मंदिर प्रांगण में सुबह से लेकर रात तक कई कार्यक्रम आयोजित किए गए। जिसमें सुबह लिटीरास, मारेंगा के लोगों के द्वारा रामायण पाठ किया गया तत्पश्चात शाम को सुंदरकांड किया गया एवं हर्षोल्लास के साथ आतिशबाजी एवं दीप प्रज्वलित कर मिठाइयां बांटी।

इस अवसर पर तोंगपाल क्षेत्र के कार सेवक लिटीरास, तोंगपाल, हमीरगढ़ के लोग उपस्थित रहे, जिनमें लखन, सुनेर, पाण्डर, रामजी, इंदर, दसरु, मुरली, कैलाश, तुलाराम, दौसी, सुकुल, भीमा, सुखदेव आदि शामिल थे।

 इस मौके पर समाज सेविका दीपिका शोरी ने कहा कि बड़े सौभाग्य की बात है, आज यह ऐतिहासिक दिन का आरंभ है। आज राम मंदिर की आधारशिला प्रधानमंत्री नरेंद मोदी ने रखी है। कार सेवकों को भी नमन करती हूं, उन्होंने इतनी महेनत की, पीड़ा सहन किया, तब जाकर आज ये दिन दिखने को मिला है।

 


06-Aug-2020 9:23 AM

सुकमा, 5 अगस्त। आज अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण का भूमिपूजन किया गया है। जिसका जिलेवासियों में उत्साह देखने को मिला है। जैसे ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शिलान्यास किया, ठीक उसी समय नगरपालिका सुकमा श्री राम मंदिर के समक्ष जमकर आतिशबाजी की गई व नगरवासियों ने एक-दूसरे को शुभकामनाएं दी और श्रीराम के नारों से नगर गूंज उठा।

जिला मुख्यालय श्री राम मंदिर में सर्व हिंदू धर्म समाज द्वारा पूजा-अर्चना व हवन भक्तों द्वारा किया गया। वहीं शाम को अपने-अपने घर में दिये जलाए। श्री राम जयकारों से नगर गुंजायमान रहा व बजरंग दल द्वारा बस स्टैंड प्रागंण में जमकर आतिशबाजी की गई।

 


01-Aug-2020 10:06 PM

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

सुकमा, 1 अगस्त। पढ़ई तुंहर दुआर कार्यक्रम के तहत जिले के विकासखण्ड कोन्टा में अब शिक्षक लगातार ऑफलाइन कक्षाओं के संचालन से जुड़ते जा रहे हैं। आज छुट्टी के दिन होने के बाद भी उच्च प्राथमिक शाला कोण्टागांव के शिक्षकों के द्वारा मोहल्ला कक्षा का संचालन किया जा रहा था।

इस दौरान आकस्मिक निरीक्षण के लिए पहुंचे जि़ला शिक्षा अधिकारी जे के प्रसाद, सहायक आयुक्त  बद्रीश सुकदेव, जि़ला मिशन समन्वयक श्याम सिंह चौहान ने उपस्थित शिक्षकों को प्रोत्साहित करते हुए उन्हें मार्गदर्शन दिया। कोन्टा के गुट्टागुम्पू मोहल्ला स्कूल में प्राथमिक स्तर के 10 एवं माध्यमिक स्तर के 8 विद्यार्थी उपस्थित थे, जिन्हें संस्था के शिक्षकों के द्वारा सामाजिक दूरी एवं मास्क का उपयोग करते हुए अध्यापन करवाया जा रहा था।

इस दौरान विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी एस के दीप, विकासखण्ड स्रोत समन्वयक महेंद्र बहादुर सिंह, सहायक खण्ड शिक्षा अधिकारी  पी श्रीनिवास एवं संस्था प्रमुख तथा ब्लॉक नोडल टी श्रीनिवास वासु उपस्थित रहे।


01-Aug-2020 10:00 PM

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

सुकमा, 1 अगस्त। वैश्विक महामारी कोरोना के कारण स्कूल कॉलेज सब बंद है। छत्तीसगढ़ शासन की योजना पढ़ई तुन्हर दुआर के जरिए बच्चों को ऑनलाइन कक्षाओं से पढ़ाया जा रहा है, किन्तु सुकमा जैसे वन क्षेत्र में इंटरनेट की सुचारू उपलब्धता नहीं होने के कारण हर छात्र तक पहुंच पाने में मुश्किल आ रही थी। इसलिए जिला शिक्षा विभाग ने अब ऑफलाइन कक्षाओं का संचालन भी शुरू कर दिया है। शिक्षक गांव-गांव जाकर कहीं पेड़ के छांव में तो कहीं किसी छत के नीचे कक्षाएं संचालित कर रहे हंै, पूरे जिले में ऐसा ही किया जा रहा है।

कलेक्टर चन्दन कुमार ने कहा कि इस साल कक्षा 10वीं और 12वीं के परिणामों में सुकमा जिले के छात्रों ने उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुए प्रदेश में दसवीं कक्षा में पहला और बारहवीं कक्षा में छटवां स्थान प्राप्त कर गौरवांवित किया था। अगले साल भी सुकमा जिले को शिक्षा के क्षेत्र में बेहतर प्रदर्शन करना है, जिसके लिए छात्रों की पढ़ाई का नुकसान ना हो, इसीलिए ऑनलाइन सहित ऑफलाइन कक्षाएं संचालित की जा रही है। उन्होंने शिक्षा विभाग के इस प्रयास के लिए सराहना कि साथ ही कक्षाओं में शिक्षकों एवं छात्रों द्वारा कोरोना संक्रमण से बचने के लिए सावधानियां बरतने पर खुशी जाहिर की।

 जिला शिक्षा अधिकारी जे के प्रसाद द्वारा इन कक्षाओं का सतत अवलोकन किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि सभी जगह प्राथमिक, मिडिल एवं सेकंडरी कक्षाओं का संचालन किया जा रहा है और छात्रों में भी खासी रुचि दिख रही है। महीनों से स्कूलों के बंद होने के कारण पढ़ाई में बहुत नुकसान हुआ था लेकिन अब छात्रों को इस बात की खुशी है कि स्कूल स्वयं उन तक आकर शिक्षा पहुंचा रहा है। उन्होंने शुक्रवार को विकासखंड स्त्रोत समन्वयक अल्फ्रेड के साथ चिंगावरम, माडियारास, पड़वारास, कोर्रा,  माटेमरका, लेण्डीरास, और बुड़दी में संचालित कक्षाओं की व्यवस्था का अवलोकन किया तथा शिक्षकों एवं छात्रों को मार्गदर्शन दिया।

    वहीं आज छुट्टी के दिन भी उच्च प्राथमिक शाला कोण्टागांव के शिक्षकों के द्वारा मोहल्ला कक्षा का संचालन किया गया, जिसका अवलोकन जिला शिक्षा अधिकारी  जे के प्रसाद, सहायक आयुक्त  बद्रीश कुमार सुखदेवे और जिला मिशन समन्वयक श्याम सिंह चौहान ने किया।


Previous123Next