छत्तीसगढ़ » सुकमा

Previous1234567Next
13-Apr-2021 9:43 PM 10

सुकमा, 13 अप्रैल। कलेक्टर  विनीत नंदनवार के निर्देशानुसार जिला मुख्यालय के सभी कार्यालयों में अधिकारी-कर्मचारियों द्वारा कोविड-19 नियमों का पालन सुनिश्चित किए जाने के उद्देश्य से डिप्टी कलेक्टर  रूपेंद्र पटेल द्वारा जिला मुख्यालय में संचालित विभिन्न कार्यालयों का निरीक्षण  किया गया। कार्यालय में कार्यरत अधिकारी-कर्मचारी के द्वारा मास्क न पहनने, कोविड यथोचित व्यवहार ना किए जाने के परिणामस्वरुप चालानी कार्यवाही की गई। आज कुल 11 अधिकारी-कर्मचारियों पर 4900 रुपए अर्थदण्ड की चालानी कार्यवाही की गई।

 


11-Apr-2021 9:33 PM 11

  सीमा क्षेत्रों में की जा रही प्रवेश करने वालों की कोरोना जांच   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

सुकमा, 11 अप्रैल। सुकमा जिले में कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम के लिए जिला प्रशासन द्वारा जिले में सख्त आदेश लागू किए गए हैं। आम जन, व्यवसायियों, दुकान संचालकों से कोविड रोकथाम हेतु दिशा निर्देशों का पालन करने की अपील की जा रही है। वहीं निर्देशों का उल्लंघन करने पर राजस्व एवं पुलिस विभाग की संयुक्त टीम द्वारा व्यक्तियों पर अर्थदंड की कार्यवाही लगातार जारी है। सुकमा नगरपालिका क्षेत्र में मास्क न पहनने पर 44 लोगों पर जुर्माना लगाया गया और दंड स्वरूप 27 हजार 500 रुपए की वसूली की गई। 

इसके साथ ही जिले से लगे राज्यों की सीमा पर प्रवेश करने वाले व्यक्तियों की कोरोना जांच की जा रही है। उल्लेखनीय है कि आंध्रप्रदेश, ओडिशा एवं तेलांगना राज्यों की सीमा सुकमा से लगती है। जांच नाकों पर राजस्व, पुलिस एवं स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा जिले में प्रवेश करने वालो का कोरोना जांच किया जा रहा है। 

गादीरास बाजार में 15 कारोबारियों पर जुर्माना

जिला प्रशासन दुकान संचालकों और बाजार व्यापारियों को भी कोविड निर्देशों का पालन करने, दुकान में कर्मचारियों द्वारा मास्क का उपयोग करने, ग्राहकों में उचित दूरी बनाए रखने के लिए गोले बनाना आदि की अपील की जा रही है। उल्लघंन करने पर 48 घंटों के लिए दुकान सील किए जाने के साथ ही अर्थदंड भी वसूला जा रहा है। इसी अनुक्रम में आज गादीरास बाजार में कोविड-19 नियमों का उल्लंघन करने वाले 15 व्यापारियों पर 15000 रु की चालानी कार्रवाई की गई।


09-Apr-2021 8:01 PM 15

   ग्रामीण क्षेत्रों में केवल वनोपज, साग-सब्जी, फल क्रय विक्रय की अनुमति   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

सुकमा,  9 अप्रैल। जिला सुकमा अंतर्गत कोरोना वायरस संक्रमण के नियंत्रण एवं रोकथाम हेतु कलेक्टर  विनीत नंदनवार द्वारा नगरपालिका परिषद सुकमा, नगर पंचायत दोरनापाल एवं कोन्टा में लगने वाले साप्ताहिक बाजारों को आगामी आदेश पर्यन्त तक पूर्णत: प्रतिबंधित किया गया है। ग्रामीण क्षेत्रों में लगने वाले साप्ताहिक बाजारों में केवल वनोपज एवं साग-सब्जी-फल का कय-विक्रय, सोशल व फिजिकल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करते हुए किया जा सकेगा। शेष सभी प्रकार की गतिविधियां पूर्णत रू प्रतिबंधित रहेंगी। ग्रामीण क्षेत्रों के साप्ताहिक बाजारों में अन्य जिलों व अन्य राज्यों से आने वाले व्यवसायियों का प्रवेश पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा। प्रसारित आदेश के उल्लघंन करने वाले व्यक्ति/प्रतिष्ठान पर भारतीय दण्ड संहिता 1860 की धारा 188 राहपठित आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51 से 60 एवं महामारी नियंत्रण अधिनियम 1897 की धारा 3 व अन्य विधियों के तहत विधि अनुकूल कार्यवाही की जाएगी।


06-Apr-2021 9:13 PM 19

सुकमा, 6 अप्रैल। कलेक्टर विनीत नन्दनवार के मार्गदर्शन में जिले में कोविड-19 की रोकथाम के लिए सुरक्षात्मक उपाय के निर्देश दिए गए हैं। सुरक्षात्मक नियमों का उल्लघंन करने वालों के खिलाफ सतत् कार्यवाही के लिए राजस्व, पुलिस एवं संबधित निकाय के अधिकारियों की दल गठित किए गए हैं। जिनके द्वारा मास्क नहीं पहनने वालों और फिजिकल दूरी का पालन नहीं करने वालों पर सतत् तौर पर कार्रवाई की जा रही है।

इसी अनुक्रम में जिले के प्रमुख चैक चैराहों पर टीम द्वारा बिना मास्क के घुमने वाले व्यक्तियों पर चालानी कार्यवाही की जा रही है। गत दिवस जिले के कुल 117 लोगों पर कोविड-19 निर्देशों का उल्लघंन किए जाने के फलस्वरूप कार्यवाही करते हुए 37 हजार 400 रुपए अर्थदण्ड वसूला गया। जिसमें नगर पालिका सुकमा में 38, नगर पंचायत कोण्टा में 39, नगर पंचायत दोरनापाल में 25 और छिन्दगढ़ में 15 लोगों के खिलाफ जुर्माना वसूला गया।


01-Apr-2021 8:57 PM 24

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दोरनापाल, 1 अप्रैल। सुकमा जिले के चिंतलनार कैम्प में  कमांडेंट सौमित्र राय के मार्गदर्शन में उप कमांडेंट  अभिजीत सिंग राठौड़, सहायक कमांडेंट पवन बड़ गुज्जर की मौजूदगी में सिविक एक्शन प्रोग्राम किया गया है। जिसमें आस पास के ग्रामीणों को साड़ी , लुंगी , गमछा और बच्चों के लिए खेलकूद के सामग्रियाँ तथा पुस्तकों का आवंटन किया गया, जिसे पाकर ग्रामीण व बच्चे प्रपुल्लित नजर आए।

 ज्ञात हो कि सरकार को सुरक्षाबलों से ग्रामीणों के बेहतर तालमेल के लिए सीआरपीएफ कोबरा समय समय पर इस तरह के आयोजन करती रहती है जिसके अंतर्गत ग्रामीणों को जरूरत की सामग्री मुहैया कराई जाती है।

इस दौरान उप कमांडेंट अभिजीत सिंह व पवन गुज्जर ने ग्रामीणों से मिलकर उनकी समस्याएं भी जानीं। इस दौरान इलाके के ग्रामीण व जवान मौजूद रहे ।


01-Apr-2021 8:01 PM 19

   प्रथम चक्र का मतदान 16 अप्रैल एवं तृतीय चक्र के मतदान 20 अप्रैल को   

सुकमा, 1 अप्रैल। जिला वनोपज सहकारी यूनियन मर्यादित सुकमा वनमण्डल अंतर्गत 25 प्राथमिक वनोपज सहकारी समितियों के बोर्ड निर्वाचन की प्रक्रिया 25 मार्च से प्रारंभ हो चुकी है। प्राथमिक वनोपज सहकारी समितियों के बोर्ड निर्वाचन हेतु रिटर्निंग अधिकारी द्वारा संस्था के बोर्ड के 11 पदों का आरक्षण करते हुए कार्यक्रम जारी किया गया है।

जारी कार्यक्रम के अनुसार प्रथम चक्र में गोलापल्ली, कोण्टा, एर्राबोर, पालाचलमा, किस्टाराम, जग्गावरम, दोरनापाल, दुब्बाटोटा, पोलमपल्ली, बोडकेल, मिचीगुड़ा, जगरगुण्डा एवं पोंगाभेजी के प्राथमिक वनोपज सहकारी समितियों का नियोजन पत्र 08 अप्रैल तक प्राप्त किया जाएगा। 09 अप्रैल को नियोजन पत्रों के जाँच के पश्चात् 10 अप्रैल को नियोजन पत्रों की वापसी, प्रतीक चिन्हों का आबंटन सहित निर्वाचन उम्मीदवारों की अंतिम सूची का प्रकाशन किय जाएगा। प्रथम चक्र के आमसभा, मतदान एवं मतगणना 16 अप्रैल को की जाएगी।

तृतीय चक्र का कार्यक्रम 12 से 20 तक 

तृतीय चक्र में केरलापाल, फूलबगड़ी, कोण्डरे, मुरतोण्डा, गुम्मा, छिन्दगढ़, गादीरास, कुकानार, पुसपाल, तोंगपाल, पड़वारास एवं सुकमा के प्राथमिक वनोपज सहकारी समितियों का नियोजन पत्र 12 अप्रैल तक प्राप्त किया जाएगा। 13 अप्रैल को नियोजन पत्रों के जाँच के पश्चात् 15 अप्रैल को नियोजन पत्रों की वापसी, प्रतीक चिन्हों का आबंटन सहित निर्वाचन उम्मीदवारों की अंतिम सूची का प्रकाशन किय जाएगा। तृतीय चक्र के आमसभा, मतदान एवं मतगणना 20 अप्रैल को की जाएगी।


31-Mar-2021 9:01 PM 24

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

सुकमा, 31 मार्च। प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए सुकमा जिले में संक्रमण के फैलाव को रोकने हेतु त्वरित कदम उठाने के निर्देश कलेक्टर विनीत नंदनवार ने दिए। मंगलवार को जिला कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित समय सीमा की बैठक में कलेक्टर ने कहा कि कोरोना पर नियंत्रण के लिए पूरे जिले में लागू धारा 144 का सख्त पालन करवाने के साथ ही अंतरराज्यीय सीमाओं पर दूसरे राज्यों से आने वाले लोगों की जांच एवं होम क्वारंटीन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि प्रदेश में कोरोना के बढ़ते हुए मामलों को देखते हुए जिले में सावधानी बरतना आवश्यक है जिससे समय रहते संक्रमण का प्रभावी रोकथाम किया जा सके।

मास्क नहीं पहनने पर 500 रुपये जुर्माना

श्री नंदनवार ने राजस्व एवं पुलिस विभाग की संयुक्त टीम को मास्क नहीं पहनने वालों पर 500 रुपए की जुर्माने की कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया। इसके साथ ही अंतरराज्यीय सीमाओं पर दूसरे राज्यों से आने वाले मुसाफिरों की कोरोना जांच सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। दूसरे राज्य से आने वाले मुसाफिरों को सात दिन तक अनिवार्य तौर पर क्वारंटीन में रहना होगा। शासन द्वारा जारी कोविड निर्देशों का उल्लघंन करने वाले व्यक्तियों पर सख्त दंडात्मक कार्यवाही करने के लिए एसडीएम एवं तहसीलदारों को निर्देशित किया।

जिले के समस्त दुकान एवं प्रतिष्ठान अब रात्रि 8 बजे तक ही संचालित किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि पूर्व की भांति इस बार भी समस्त दुकान संचालकों, व्यवसायियों एवम् व्यापारियों से कोविड की रोकथाम में सहयोग की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि दुकानों में अनिवार्य रूप से कोविड दिशा निर्देशों का पालन किया जाना सुनिश्चित किया जाए। किसी भी दुकान या प्रतिष्ठान में शासन द्वारा जारी निर्देशों का उलंघन किए जाने पर 7 दिवस के लिए दुकान बंद करने के निर्देश एसडीएम को दिए। इसके साथ ही जिले में रात्रि 8 बजे से सुबह 6 बजे तक आवाजाही प्रतिबंधित रहेगी।

 टीकाकरण में लाएं तेजी

कलेक्टर ने कोविड-19 टीकाकरण की विभागवार एवं विकासखण्डवार प्रथम एवं द्वितीय डोज की अद्यतन स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि 45 से 60 वर्ष के आयु वर्ग एवं 60 वर्ष से अधिक के लोगों को शत प्रतिशत टीकाकरण के निर्देश दिए। समस्त कार्यालयों में अधीनस्थ कर्मचारियों द्वारा अनिवार्य रूप से मास्क और सैनिटाइजर का उपयोग और फिजिकल दूरी का अनिवार्य रूप से पालन लिए जाने के लिए कार्यालय प्रमुखों को निर्देशित किया।

बच्चों को सुपोषित भविष्य देना प्राथमिकता

समय सीमा बैठक में कलेक्टर  नंदनवार ने सभी विभागों के प्रगतिरत कार्यों की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने कहा कि जिले से कुपोषण दूर करना और बच्चों को सुपोषित भविष्य देना उनकी प्राथमिकता है। इसलिए जिले में संचालित सभी सुपोषण केंद्रों में लाभार्थी बच्चों की शत प्रतिशत उपस्थिति बने रहे। उन्होंने कहा कि किसी भी केंद्र में कोई भी बिस्तर रिक्त नहीं होना चाहिए। साथ ही चिन्हांकित 34 ग्राम पंचायतों में मासिक तौर पर बच्चों के वजन कार्यकम के लिए सारिणी तैयार करने के निर्देश संबंधित अधिकारी को दिए।

श्री नंदनवार ने मातृत्व वंदना योजना, जननी सुरक्षा योजना, भगिनी प्रसूता योजना एवं मनरेगा अन्तर्गत अपंजीकृत पात्र गर्भवती महिलाओं का पंजीयन शीघ्र कराने के सख्त निर्देश स्वास्थ्य, श्रम, महिला बाल विकास एवं मनरेगा विभाग को दिए। उन्होंने सडक़ निर्माण कार्यों की धीमी गति पर लोक निर्माण विभाग के प्रति नाराजगी जाहिर करते हुए कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होंने राजस्व, स्वास्थ्य, जल संसाधन, क्रेडा, कृषि, पशुधन विकास, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी सहित अन्य विभागों की जानकारी लेते हुए सम्बंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए।


28-Mar-2021 4:04 PM 23

कोंटा। गर्मी आने के साथ सुकमा वनमण्डल के गोलापल्ली परिक्षेत्र में आग लगाने की सूचना पर वन अमला लगातार गस्त कर बुझाने लगा हुआ है। अमले के साथ साथ वन सुरक्षा समिति के कार्यकर्ता भी लगे हुए हैं । अब लगभग आधा दर्जन जगहों पर आगजनी को फैलने से रोका गया । 


27-Mar-2021 9:28 PM 20

सुकमा, 27 मार्च। छत्तीसगढ़ में मनरेगा (महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम) श्रमिकों को 1 अप्रैल 2021 से प्रतिदिन 193 रूपए मजदूरी मिलेगी। भारत सरकार के ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा मनरेगा के अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए राज्यवार प्रतिदिन मजदूरी की दर का राजपत्र में प्रकाशन कर दिया गया है।

मनरेगा के तहत काम करने वाले अकुशल हस्त कर्मकारों हेतु छत्तीसगढ़ के लिए 193 रूपए प्रतिदिन की मजदूरी तय की गई है। यह नई दर 1 अप्रैल 2021 से प्रभावी होंगी। केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा चालू वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए 190 रूपए मजदूरी दर निर्धारित थी। आगामी वित्तीय वर्ष के लिए इसमें तीन रूपए की बढ़ोतरी की गई है।


24-Mar-2021 9:28 PM 28

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दोरनापाल, 24 मार्च। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय नेतृत्व के आह्वान पर भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश सोनी के निर्देश व भाजपा जिलाध्यक्ष हुंगाराम मरकाम के मार्गदर्शन एवं भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा के नेतृत्व में 24 व 25 मार्च को जिला सुकमा के सभी मण्डलों में स्वास्थ्य केंद्र के वैक्सीनेशन सेंटर में भारतीय जनता पार्टी पिछड़ा वर्ग मोर्चा के द्वारा हेल्पडेस्क लगाकर आम नागरिकों को कोरोना टीका लगाने हेतु अपील की गई। 

टीका लगाने वाले आम लोगों को शाल व श्रीफल भेंट वेक्सिनेशन सेंटर दोरनापाल में किया गया। जिसमें बुजुर्ग महिला की वेक्सीनेशन के समय सहयोग साथ ही सीआरपीएफ के जवान, शिक्षक व स्वास्थ्य कर्मियों को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए पुष्प एवं गुलदस्ते के साथ सम्मान किया गया।
 
कार्यक्रम में मुख्य रूप से भाजपा  मण्डल अध्यक्ष दुलाल शाह, जिला उपाध्यक्ष कोशी ठाकुर, भाजपा जिला महामंत्री व जिला प्रभारी कोरोना वेक्सिनेशन संजय शुक्ला, पिछड़ा वर्ग मोर्चा जिला उपाध्यक्ष बलिराम नायक, महिला मोर्चा महामंत्री राधा नायक, भाजयुमो जिला महामंत्री धर्मेन्द्र सिंह भदौरिया, पार्षद पुष्पलता भदोरिया, लक्ष्मी चौहान, सोडी मंगली और जिला संयोजक सुचना एवं प्रौद्योगिकी प्रकोष्ठ भाजपा चन्द्र शेखर उपस्थित रहे।


24-Mar-2021 9:14 PM 23

कोंटा, 24 मार्च। भाजपा मंडल अध्यक्ष सेमल नरेश ने जारी विज्ञप्ति में कहा कि आगामी चुनाव के मद्देनजर पोलावरम बांध को राजनीतिक मुद्दा बनाया जा रहा है। समाचार पत्र के माध्यम से ज्ञात हुआ कि भाजपा व भाजपा के समर्पित सलवा जुडूम के नेता भी अंदरुनी प्रचार-प्रसार में लगे है, ऐसी जानकारी मिली है। यह समाचार पूरी तरह गलत है, और हम इसका खण्डन करते हंै। 

किसी भी सलवा जुडूम नेता का भाजपा पार्टी से कोई लेना देना नहीं है और ना ही वह हमारे पार्टी का सदस्य है। यह हमारी पार्टी को बदनाम करने की  साजिश है। इसके पूर्व में भी नगर पंचायत चुनाव में हमारे पूर्व मंडल अध्यक्ष स्व. जी. अप्पल स्वमी रेड्डी के साथ दुव्र्यवहार किया गया।

भाजपा प्रदेश संग़ठन व भाजपा जिला संग़ठन के द्वारा इसे लेकर किसी भी प्रकार से कोई दिशानिर्देश नहीं दिया गया है। भाजपा जिला अध्यक्ष हूँगाराम मरकाम के नेतृत्व में हमारी पार्टी पोलावरम बांध के मुद्दे को लेकर नगरवासियों व डूबान अंतर्गत आने वाले पंचायतों के साथ रहेंगे और जन हित में लगातार कार्य करते रहेंगे।


23-Mar-2021 9:52 PM 38

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
सुकमा, 23 मार्च।
जिला कांग्रेस कमेटी द्वारा स्थानीय प्रेस क्लब में आयोजित पत्रवार्ता में भाजपा को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि कांग्रेस की भूपेश सरकार ने राजीव गांधी किसान न्याय योजना की भुगतान के साथ स्पष्ट हो गया कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार और कांग्रेस पार्टी जो कहती है वह करती है। एक तरफ जब देश भर के किसान समर्थन मूल्य के लिए महिनों से आंदोलनरत हंै, उस समय छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार ने अपने राज्य के 21.5 लाख किसानों से लगभग 91.5 लाख मीट्रिक टन धान घोषित समर्थन मूल्य में खरीद कर एक रिकार्ड बनाया है। धान खरीदी के बाद राज्य के किसानों को प्रोत्साहित करने के लिए कांग्रेस सरकार ने किसानों को न्याय योजना के माध्यम से 10 हजार रू प्रति एकड़ की सहायता दे रही है।

उपरोक्त पत्रवार्ता में जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष महेश्वरी बघेल, जिला कांग्रेस के प्रवक्ता जगरनाथ राजू साहू, शेख सज्जार,कपिल सिंह, बचन सिंह, राजेश नारा,सहित अन्य कांग्रेसी नेता उपस्थित थे।


23-Mar-2021 5:55 PM 29

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
सुकमा,23 मार्च।
प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते आंकड़ों को देखते हुए कलेक्टर श्री विनीत नंदनवार ने कल समय सीमा बैठक में जिले में कोविड संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए सभी आवश्यक तैयारियां करने के निर्देश दिए। उन्होंने सभी अधिकारियों और अधीनस्थ कर्मचारियों को कोविड ऐप्रोप्रीएट व्यवहार का अनिवार्य रूप से पालन करने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही जिले में चल रही कोविड टीकाकरण में तेजी लाने के निर्देश दिए ताकि अधिक से अधिक लोगों को कोविड के संक्रमण से सुरक्षित किया जा सके। 

कलेक्टर  नंदनवार ने आमजन से कोविड संक्रमण की रोकथाम हेतु शासन के जारी निर्देशों का आवश्यक रूप से पालन करने की अपील की है। उन्होंने कहा कि कोविड की रोकथाम हेतु शासन प्रशासन के साथ आम जन की भी महत्ती जिम्मेदारी है। सार्वजनिक जगहों, बाजार, दुकानों में अनावश्यक भीड़ ना लगाने, फिजिकल दूरी का पालन करने और अनिवार्य रूप से फेस मास्क का उपयोग करने की अपील की। इसके साथ ही राजस्व एवम् पुलिस विभाग के अधिकारियों को संयुक्त टीम का गठन कर जिले में मास्क का प्रयोग ना करने वाले व्यक्तियों पर सख्त कार्यवाही करने निर्देशित किया है। जिले में बिना अनुमति के कोई भी मेला मड़ई या अन्य सार्वजनिक आयोजन नहीं किया जाएगा।

दुकान संचालकों को सख्त हिदायत, अन्यथा 48 घंटे के लिए दुकान होंगे सील 
श्री नंदनवार ने आज बैठक में कोविड संक्रमण की रोकथाम को प्राथमिकता देते हुए जिले के सभी दुकान संचालक, व्यवसायियों, ठेला आदि संचालकों को अनावश्यक भीड़ इक_ा ना करने, समस्त कर्मियों एवं ग्राहकों द्वारा मास्क का प्रयोग सुनिश्चित करवाने के लिए एसडीएम एवं सीएमओ को निर्देशित किया है। दुकान संचालकों द्वारा निर्देशों का पालन ना किए जाने के फलस्वरूप 48 घंटे तक दुकान सील कर दी जाएंगी। इसके साथ ही अन्य जिलों तथा सीमावर्ती राज्यों से प्रवेश करने वाले व्यक्तियों का अनिवार्य रूप से कोविड जांच करने के लिए निर्देशित किया। 

विभागीय कार्यों की हुई विस्तृत समीक्षा
कलेक्टर  नंदनवार ने सोमावार को सभाकक्ष में आयोजित समय सीमा बैठक में समस्त विभागीय कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने स्वास्थ्य, महिला एवं बाल विकास, कृषि, शिक्षा, जल संसाधन, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, लोक निर्माण, मनरेगा, राजस्व आदि समस्त विभागों की विस्तृत चर्चा करते हुए अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। शासन द्वारा जारी आदेश के अनुरूप तत्काल प्रभाव से जिले में संचालित समस्त छात्रावास, स्कूल, आंगनबाड़ी को आगामी आदेश तक बंद करने के निर्देश दिए। वहीं कक्षा 10 वीं एवम् 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं के लिए आवश्यक तैयारियां किए जाने के लिए कहा। उन्होंने धान उठाव की जानकारी लेते हुए कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए। इसके साथ ही समस्त विभागीय कार्यों की जानकारी ली।


22-Mar-2021 9:08 PM 57

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

सुकमा, 22 मार्च । बठेनाकांड पर विज्ञप्ति जारी करते हुए भाजयुमो प्रदेश उपाध्यक्ष व अधिवक्ता दीपिका शोरी ने कहा कि जिस क्षेत्र में यह घटना घटी है वह छत्तीसगढ़ सरकार के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का विधानसभा क्षेत्र  है। जहां सिलसिलेवार इस प्रकार की कई घटनाएं घट रही है। ग्राम बठेना में एक ही परिवार के 5 लोगों की लाश मिली है तथा पुलिस के अनुसार मृतक के द्वारा लिखित सुसाइट नोट भी पाया गया है जिसे पुलिस सार्वजनिक करने से बच रही है। अत: एक ही परिवार के 5 सदस्यों की लाश मिलने से छत्तीसगढ़ के सतनामी समाज के लोगों में डर व भय का वातावरण व्याप्त हो गया है। आज पूरे छत्तीसगढ़ प्रदेश में कानून नाम की कोई चीज नहीं रह गई है आज हर वर्ग अपने आप को शोषित महसूस कर रहा है। प्रदेश में अराजकता का माहौल है गुंडों एवं माफियाओं का बोलबाला है। महिलाओं पर हो रहे अत्याचार में छत्तीसगढ़ अग्रणी हो रहा है मैं इस घटना की कड़ी निंदा करती हूं  व महिलाओं में इस घटना से जो असुरक्षा की भावना का जन्म हो रहा इस लिए इस भयावाह घटना की उच्च स्तरीय सीबीआई जांच की मांग करती हूँ जिससे सही न्याय हो सके व अपराधियों को उनके इस घृणित कृत्य हेतु कड़ी सजा मिल सके।


20-Mar-2021 8:49 PM 30

सुकमा, 20 मार्च।शुक्रवार की देर शाम कूकानार पहुंचे सर्व आदिवासी समाज के प्रांताध्यक्ष सोहन पोटाई, प्रदेश अध्यक्ष पद धारण करने के बाद पहली बार सुकमा जिले के  कूकानार पहुँचे,जहा पर सर्व आदिवासी समाज के सदस्यों के द्वारा स्वागत कार्यक्रम रखा गया। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए सोहन पोटाई ने कहा कि हमें किसी भी प्रकार की समस्या में एक दूसरे का साथ देना है,जब तक मुझमें जान है,मैं हमेशा समाज के लिए कार्य करता रहूंगा,मैं कभी भी झुकने वाला नहीं हूं ,समाज के लिए इसी ऊर्जा से हमेशा कार्य करता रहूंगा।


19-Mar-2021 8:48 PM 41

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

सुकमा, 19 मार्च। छिन्दगढ़ ब्लाक के ग्राम पंचायत कोडरीपाल के ग्रामीण पेरमा पुजारी, पटेल व गांव के मुखियों के निमंत्रण पर सुकमा के रामराजा मनोज देव  कोडरीपाल पहुँचे। कोडरीपाल में साप्ताहिक बाजार के नए स्थान के लोकार्पण पर कूकानार, छिन्दगढ़, पोंन्दूम, डोण्डपाल, तालनार, गुम्मा एवं कोडरीपाल के देवी-देवता भी कोडरीपाल के ग्रामीण, पेरमा, पुजारी मुखियाओं के आमंत्रण पर पहुंचकर विधिविधान से हुए यहां के पूजा पाठ में शामिल हुए।

 रामराजा देव के पहुँचते ही ग्राम पंचायत के सभी ग्रामीणों ने फूल मालाओ से भव्य स्वागत कर मंदिर में पूजा-पाठ कर,  मंदिर पर कलश जला कर एक जुलूस के रूप में सैकड़ों ग्रामीणों के साथ सप्ताहिक बाजार स्थल पर ले जाकर विधिवत रूप से पूजा पाठ कर बाजार स्थल पर कलश रख कर प्रवेश द्वार पर सरपंच के साथ मनोज देव ने फीता काटकर बाजार का उद्घाटन किया। उद्घाटन कार्यक्रम में प्रमुख रूप से दन्तेवाडा के कुमा सिरहा,पूर्व सरपंच केनिराम,मुखिया आयताराम बघेल,पटेल लैखनराम, पडियार जगनाथ,पेरमा मंगला,पुजारी बोंदुबघेल, ग्राम प्रमुख मंगड़ू,सिरहा कुमार बघेल, उपसरपंच खेमलाल,पंच सोमारुराम, व कुकानार क्षेत्र के मुखिया गण एवं ग्रामीण विशेष रूप से उपस्थित रहे ।

सुकमा जमींदार परिवार से पुराना नाता है कोडरीपाल का

कोडरीपाल के पूर्व सरपँच केनीराम ने बताया कि सुकमा के रामराजा मनोज देव के पूर्वजों ने हमारे पूर्वजों के अनुरोध पर कोडरीपाल में लक्ष्मी देवी के नाम पर गुरुवार के दिन बाजार का आधार शिला रखा था, इसलिए हम समस्त ग्रामवासियों के अनुरोध पर सुकमा के रामराजा ने आकर आज वही पुरानी परंपरा को दोहराकर पुन: कोडरीपाल के नए बाजार स्थल का लोकार्पण किया है। हम समस्त ग्रामवासी सुकमा के रामराजा के सदैव आभारी रहेंगे।

व्यापारिक दृष्टिकोण से भी महत्त्वपूर्ण है यह बाजार

कोडरीपाल के इस बाजार से मलखानगिरी 30 किमी, सुकमा 30 किमी,छिन्दगढ़ 15 किमी,पुसपाल 12 किमी,कूकानार 22 किमी,तोंगपाल 30 किमी की दूरी पर स्थित है जिससे इस बाजार का व्यापारिक दृष्टि से भी महत्व बढ़ जाता है।


19-Mar-2021 8:40 PM 35

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

सुकमा, 19 मार्च। कोरोना अवधि में स्कूल बंद रहने के बाद 15 फरवरी से समस्त हाई स्कूल, हायर सेकेण्डरी स्कूल पुन: संचालित हो रहे हंै, वहीं अप्रैल से माध्यमिक शिक्षा मंडल की बोर्ड परीक्षाएं भी प्रारंभ होने जा रही है। ऐसी स्थिति में छात्र-छात्राओं को अध्ययन एवं परीक्षा की तैयारी के लिए बहुत ही कम समय मिल पाया है। जिले के समस्त स्कूलों के सुचारु संचालन का जायजा लेने के उद्देश्य से जिला शिक्षा अधिकारी सुकमा  जे.के.प्रसाद द्वारा स्कूलों का औचक निरीक्षण किया जा रहा है।

जिले में सभी स्कूलों में छात्र-शिक्षक नियमित उपस्थिति व्यवस्था एवं अध्यापन कार्य के प्रति सजग जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा सख्त कदम उठाते हुए 9, 13, 15 एवं 17 फरवरी को हाईस्कूल दुब्बाटोटा, पोलमपल्ली, हायर सेकेण्डरी दोरनापाल तथा कन्या शिक्षा परिसर सुकमा, बुड़दी, झापरा, मुरतोंडा, कुइमेलपरा, नीलावरम, पुसपाल, पाकेला, तोंगपाल, कोकावाड़ा, कोमाकोलेंग आदि स्कूलों का औचक निरीक्षण किया गया।

इस दौरान बिना किसी पूर्व सूचना के अनुपस्थित रहने वाले 13 प्राचार्य एवं शिक्षकों का अनुपस्थित दिवस का अवैतानिक किया गया। कार्य पर लापरवाही के लिए हाईस्कूल नीलावरम, पोटाकेबिन हाईस्कूल पाकेला, हाईस्कूल कोमाकोलेंग, हायर सेकेण्डरी कोकावाड़ा के प्राचार्य के विरुद्ध कठोर दण्डात्मक कार्रवाई की गई है। कुछ शिक्षकों को कारण बताओ नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया है।


18-Mar-2021 9:07 PM 31

   चिउरवाड़ा में पुल और उप स्वास्थ्य केंद्र का लोकार्पण   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

सुकमा, 18 मार्च। नक्सल प्रभावित ग्राम चिउरवाड़ा कीगर्भवती महिलाओं को प्रसव कराने के लिए अब जगदलपुर, भद्राचलम और मलकानगिरी नहीं जाना पड़ेगा। उन्हें अब स्थानीय स्तर पर ही उच्च स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध होगी। छिंदगढ़ विकासखंड के ग्राम चिउरवाड़ा में उप स्वास्थ्य केंद्र के लोकार्पण अवसर पर उद्योग मंत्री कवासी लखमा ने ये बातें कही।

 इसके साथ ही मंत्री श्री लखमा ने ग्राम चिउरवाड़ा में लेदा चित्तलनार मार्ग पर 25 लाख की लागत से बने पुलिया का लोकार्पण भी किया। इस पुल के निर्माण से क्षेत्र के कई गांव तक आवगमन सुगम हो जाएगा, चिडपाल कुमकोलेंग, सौतनार, धामनकोंटा, कुपिडीह आदि गांव के ग्रामीणों को इस पुल से सुविधा मिलेगी। इस अवसर पर मंत्री श्री लखमा ने कहा कि जिले में जिन संवेदनशील क्षेत्रों में सडक़ नहीं थी, स्वास्थ्य सुविधाएं नहीं पहुंच रही थी, जहां बिजली नहीं थी, आज वहां ग्रामीण सरलता से आवागमन कर रहे हैं, अपने गांव में ही स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ ले रहे हैं, गली मोहल्ले बिजली से जगमगा रहे हैं। यह इस बात का प्रमाण है कि सुकमा जिले का विकास हो रहा है, यहां के ग्रामीणों का विकास हो रहा है।

उन्होंने अपने संबोधन में ग्राम चिउरवाड़ा में देव गुड़ी और रंगमंच बनवाने की घोषणा भी की। इसके साथ ही मंत्री श्री लखमा ने ग्रामीणों की सुविधा हेतु कुमाकोलेंग और चिउरवाड़ा में शीघ्र ही बस परिवहन की शुरुआत करने के बात कही।


17-Mar-2021 8:55 PM 67

तोकापाल, 17 मार्च। तोकापाल ब्लॉक मुख्यालय के शासकीय उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय तोकापाल में नए बने संकुलों के प्राचार्य एवं संकुल समन्वयकों की आवश्यक बैठक जिला मिशन समन्वयक अशोक पांडे की उपस्थिति में आयोजित की गई। जिसके तहत नई शिक्षा नीति एवं समग्र शिक्षा अभियान के तहत अब संकुलों की जिम्मेदारी सम्बन्धित क्षेत्र के प्राचार्य की होगी। जो न केवल बच्चों की नियमित उपस्थति को देखेंगे,बल्कि बच्चों में गुणवत्तायुक्त शिक्षा लाने की जवाबदारी भी होगी। शालाओं में अब शाला समिति को भी सक्रिय करने एवं संकुल क्षेत्रांतर्गत प्राथमिक से हायर सेकेंडरी स्कूल तक व्यवस्था की जवाबदारी भी होगी।

जिला मिशन समन्वयक अशोक पाण्डे ने बताया कि आने वाले समय में अब संकुल समन्वयक तीन काल खंड लेंगे, उन्हें अनिवार्य रूप से आश्रित शालाओं में अध्यापन करवाना होगा। एपीसी गणेश तिवारी ने शिक्षकों के साथ पीएलसी को सक्रिय रखकर किस प्रकार बेहतर कार्य करना है, इसकी जानकारी विस्तार से दी गई। अब सभी गांव, वार्ड के प्रमुख स्थलों में प्रिंटरिच वातावरण तैयार करना है। बैठक में प्राचार्यों को संकुल हेतु 18 निर्देशों के पालन करने एवं हर माह चर्चा पत्र पर दस एजेंडा का चर्चा शिक्षकों से करते हुए क्रियान्वयन और मानिटरिंग करना है। अब संकुल समन्वयक के साथ संकुल प्राचार्य संकुल की व्यवस्था देखेंगे।बच्चों की गुणवत्ता में सुधार लाने संकुलों को छोटा कर व्यवस्था में कसावट लाने की तैयारी शुरू हो गई है।

इस अवसर पर डीएमसी अशोक पांडे, एपीसी गणेश तिवारी,राजेन्द्र पाण्डे, बीईओ तोकापाल बलीराम बघेल, बीईओं दरभा राजेश उपाध्याय,बीआरसी तोकापाल अजय शर्मा, एबीईओं पूनम सलाम,प्राचार्य सी एम चौधरी सहित तोकापाल व दरभा ब्लॉक के सभी हाई, हायर सेकेंडरी स्कूल के प्राचार्य, संकुल शैक्षिक समन्वयक बैठक में मौजूद रहे।


17-Mar-2021 8:48 PM 16

   उद्योग मंत्री ने किया मुख्यमंत्री सुपोषण केंद्र का शुभारंभ'   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

सुकमा, 17 मार्च। उद्योग मंत्री कवासी लखमा ने आज दोरनापाल और कोंटा में सुपोषण केंद्र का शुभारंभ किया। उन्होंने सुपोषण केंद्र का अवलोकन किया और केंद्र में भर्ती महिलाओं और बच्चों से मुलाकात की।

उन्होंने इस अवसर पर कहा कि बस्तर संभाग के कुछ जिलों में मलेरिया और कुपोषण के प्रकोप को देखते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बस्तर संभाग से मलेरिया और कुपोषण को दूर करने का जिम्मा लिया है। जिसके लिए सुकमा सहित अन्य जिलों में सुपोषण केंद्र का संचालन किया जा रहा है। अब जिले की महिला और बच्चे कुपोषण को मात देने लगे हंै। शासन और प्रशासन के जरिए कुपोषित बच्चों और एनीमिक महिलाओं को स्वस्थ और पौष्टिक आहार, अंडे, मूंगफली चिक्की, रेडी टू ईट प्रदाय किया जा रहा है, जिसका परिणाम है कि सुकमा में कुपोषण की दर में 12 फीसदी की कमी आई है।

कोंटा और दोरनापाल में 184.00 लाख की लागत से 50 बिस्तर के सुपोषण केंद्र बनाए गए हैं, जिनके संचालन से सुकमा जिले के अंदरूनी क्षेत्रों के बच्चों को भी कुपोषण जैसी गंभीर बीमारी से उबारने के लिए महिला एवं बाल विकास तथा स्वास्थ्य विभाग काम कर रही है।

मंत्री कवासी लखमा ने कहा कि प्रदेश में सुपोषण को बढ़ावा देने और कुपोषण को जड़ से समाप्त करने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा सुपोषण अभियान की शुरुआत की गई है। जिसके अन्तर्गत संचालित सुपोषण केंद्रों के माध्यम से कुपोषित बच्चों एवम् एनीमिक महिलाओं का चिन्हांकन कर बेहतर स्वास्थ्य सुविधा के साथ ही गरम और पौष्टिक भोजन प्रदान किया जा रहा है, जिसके सफल परिणाम दिखने लगे है।

कवासी लखमा ने कहा कि बस्तर क्षेत्र के सुदूर अंचलों में कुपोषण को कम करने में सहायता मिली है। उन्होंने सुपोषण केंद्र के बच्चों को चिक्की वितरण करते हुए कहा कि स्वस्थ और सुपोषित बच्चों से ही देश का भविष्य उज्जवल है, इसलिए बच्चों को शुरुआत से ही पौष्टिक आहार देना आवश्यक है। उन्होंने इस अवसर पर सुपोषण रथ को हरी झंडी भी दिखाई।

इस अवसर पर सुकमा नगरपालिका अध्यक्ष  जगन्नाथ साहू, जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष श्रीमती माहेश्वरी बघेल सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण, कलेक्टर  विनीत नंदनवार, अधिकारी-कर्मचारी और नगरवासी उपस्थित थे।


Previous1234567Next