छत्तीसगढ़ » सुकमा

Previous123456789...1213Next
कोंटा नपं चुनाव: भाजपा ने की प्रत्याशियों की सूची जारी
01-Dec-2021 4:55 PM (8)

सुकमा, 1 दिसंबर। कोंटा भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष हुंगाराम मडकाम ने  कोण्टा नगर पंचायत के चुनाव के लिए सभी 15 वार्डों के लिए अधिकृत प्रत्याशियों की घोषणा कर दी है।

भाजपा के घोषित प्रत्याशियों के नाम इस प्रकार हैं- विवेकानंद वार्ड अजजा-कट्टम वेंकेटेश, चंद्रशेखर वार्ड अजजा-वेट्टी अनिल कुमार, भगत सिंह वार्ड अजजा-कवासी भीमे, इंद्रा गांधी वार्ड अनारक्षित महिला-जी. नागमणी, छत्रपति शिवाजी वार्ड अजजा महिला- सलवम रामुलम्मा, जवाहर लाल नेहरू वार्ड अनारक्षित-निली सतीष कुमार, अटल बिहारी वाजपेयी वार्ड अनारक्षित महिला-मंजुला चतुर्वेदी, अंबेडकर वार्ड अजा- पेद्दी दीपक कुमार, राजीव गांधी वार्ड अजजा महिला-अन्नु बोग्गम, सुभाष चंद्र बोस वार्ड अजजा- सुन्नम पेण्टा, डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी वार्ड अनारक्षित- जी. साई रेड्डी, पं. दीनदयाल उपाध्याय वार्ड अजजा- मडकम बाबूराव, शिर्डी सांई वार्ड अनारक्षित- पी. विजय नायडू, अल्लुरी सीताराम राजू वार्ड अनारक्षित-पुल्ली गोलू। महात्मा गांधी वार्ड अनारक्षित महिला-जैतूंनिषा खान।
 

कोंटा नपं चुनाव: भाजपा ने की प्रत्याशियों की सूची जारी
30-Nov-2021 9:57 PM (26)

सुकमा, 30 नवंबर। कोंटा भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष हुंगाराम मडकाम ने  कोण्टा नगर पंचायत के चुनाव के लिए सभी 15 वार्डों के लिए अधिकृत प्रत्याशियों की घोषणा कर दी है।


भाजपा के घोषित प्रत्याशियों के नाम इस प्रकार हैं-


विवेकानंद वार्ड अजजा-कट्टम वेंकेटेश, चंद्रशेखर वार्ड अजजा-वेट्टी अनिल कुमार, भगत सिंह वार्ड अजजा-कवासी भीमे, इंद्रा गांधी वार्ड अनारक्षित महिला-जी. नागमणी, छत्रपति शिवाजी वार्ड अजजा महिला- सलवम रामुलम्मा, जवाहर लाल नेहरू वार्ड अनारक्षित-निली सतीष कुमार, अटल बिहारी वाजपेयी वार्ड अनारक्षित महिला-मंजुला चतुर्वेदी, अंबेडकर वार्ड अजा- पेद्दी दीपक कुमार, राजीव गांधी वार्ड अजजा महिला-अन्नु बोग्गम, सुभाष चंद्र बोस वार्ड अजजा- सुन्नम पेण्टा, डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी वार्ड अनारक्षित- जी. साई रेड्डी, पं. दीनदयाल उपाध्याय वार्ड अजजा- मडकम बाबूराव, शिर्डी सांई वार्ड अनारक्षित- पी. विजय नायडू, अल्लुरी सीताराम राजू वार्ड अनारक्षित-पुल्ली गोलू। महात्मा गांधी वार्ड अनारक्षित महिला-जैतूंनिषा खान।
 

लखमा ने शालाओं का किया औचक निरीक्षण
30-Nov-2021 8:53 PM (24)

छिंदगढ़, 30 नवम्बर। उद्योग मंत्री कवासी लखमा ने आज ग्राम पंचायत पेंदलनार पहुंच प्राथमिक शालाओं का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने बालक आश्रम-प्राथमिक शाला पेंदलनार और प्राथमिक शाला ईरपा, आवासपारा का निरीक्षण किया। प्राथमिक शालाओं की शिक्षण व्यवस्थाओं का जायजा लिया और दैनिक उपस्थिति पंजी का अवलोकन भी किया। प्राथमिक शाला पेंदलनार में स्कूली बच्चों से मुलाकात की और शिक्षकों की समीक्षा की। मंत्री श्री लखमा ने बच्चों के उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुए बच्चों को प्रतिदिन स्कूल आने के लिए प्रोत्साहित किया। इसके साथ ही शिक्षकों को प्रतिदिन दिन बच्चों की उपस्थिति दर्ज करने के लिए कहा।
 
उन्होंने कहा कि आदिवासी समाज के उत्थान के लिए बच्चों को गुणवत्ता शिक्षा प्रदाय करना शासन की प्राथमिकता हैं। इसी का परिणाम है की आज आजादी के 70 बरस बाद इन अंदरूनी क्षेत्रों में स्कूल का संचालन किया जा रहा है, जिससे यहां के बच्चे भी गुणवत्ता शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। जिन क्षेत्रों में शिक्षक पहुंच नहीं पाते थे, आज वहां स्कूल संचालित हो रहे हैं। उन्होंने शिक्षकों को दो टूक कहा की प्रतिदिन अपना कर्तव्य निभाएं, स्कूल आए बच्चों को पढ़ाए अन्यथा सख्त कार्यवाही की जाएगी।
 

सुकमा में मुठभेड़, नक्सली ढेर
27-Nov-2021 4:29 PM (26)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
सुकमा, 27 नवंबर।
कल शाम सुकमा के ताड़मेटला के जंगल में पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई। मुठभेड़ के बाद जवानों ने एक नक्सली का शव बरामद किया है। सुकमा एसपी सुनील शर्मा ने इसकी पुष्टि की है।

चिंतलनार थाना क्षेत्रान्तर्गत ताड़मेटला के जंगल में  कोबरा 201 और डीआरजी की संयुक्त पार्टी के साथ नक्सलियों की मुठभेड़ हुई। बताया जाता है कि चिंतालनार से कोबरा 201 और डीआरजी की संयुक्त पार्टी निकली थी, वापसी के दौरान  मुठभेड़ हुई।

एक नक्सली का शव बरामद किया गया है। कई नक्सलियों के मारे जाने और घायल होने की खबर है।
 

स्वच्छता सर्वेक्षण रैंकिंग में दिल्ली में गूंजा दोरनापाल का नाम
20-Nov-2021 10:08 PM (51)

राष्ट्रपति के हाथों मिला स्वच्छता में उत्कृष्ट पुरस्कार

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दोरनापाल, 20 नवंबर।
छत्तीसगढ़ को स्वच्छ अमृत महोत्सव कार्यक्रम में सबसे स्वच्छ राज्य श्रेणी में पुरस्कृत किया गया है। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने नई दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के हाथों अवार्ड ग्रहण किया। इस सम्मान समारोह में प्रदेश के सर्वाधिक 67 नगरीय निकायों को भी उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए विभिन्न श्रेणियों में पुरस्कार दिये गए हैं जिनमें सुकमा जिले का दोरनापाल नगर पंचायत भी शामिल है। इस उत्कृष्ट कार्य के लिए नगर पंचायत अध्यक्ष बबिता माड़वी, सीएमओ राजू नायक, इंजीनियर उत्तम सिंह कंवर सम्मानित किए गए। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के अलावा आवासन और शहरी कार्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी, राज्य मंत्री कौशल किशोर भी शामिल रहे।

गौरतलब है कि भारत सरकार के आवासन एवं शहरी कार्यमंत्रालय द्वारा हर साल देश के समस्त शहरों एवं राज्यों के मध्य स्वच्छ सर्वेक्षण का आयोजन किया जाता है। इसमें विभिन्न मापदंडों के अंतर्गत शहरी स्वच्छता का आंकलन किया जाता है। मुख्य रूप से घर-घर से कचरा एकत्रीकरण, कचरे का वैज्ञानिक रीति से निपटान, खुले में शौच मुक्त शहर, कचरा मुक्त शहर आदि का थर्ड पार्टी के माध्यम से आंकलन करते हुए नागरिकों के फीडबैक को भी इसमें शामिल किया जाता है। इसी आधार पर राज्यों एवं शहरों की रैंकिंग जारी कर उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले राज्यों तथा शहरों को पुरस्कृत किया जाता है।

छत्तीसगढ़ देश का ऐसा एक मात्र प्रदेश है, जहां पर नरवा, गरूवा, घुरवा एवं बाड़ी के सिद्धांतों के अनुरूप 9000 से अधिक स्वच्छता दीदियों द्वारा घर-घर से 1600 टन गीला एवं सूखा कचरा एकत्रीकरण करते हुए वैज्ञानिक रीति से कचरे का निपटान किया जा रहा है। इसके अलावा भारत सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ को देश का प्रथम ओडीएफ़ प्लस प्लस राज्य घोषित किया गया है। नई दिल्ली में पुरस्कार ग्रहण करने मुख्यमंत्री के साथ ही शहरी विकास मंत्री शिव कुमार डहरिया, अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू, विभाग की सचिव अलरमेलमंगई डी, आवासीय आयुक्त एम गीता, स्वच्छ भारत मिशन के डायरेक्टर सौमिल रंजन चौबे आदि समारोह में उपस्थित रहे।

इस पर नगर पंचायत अध्यक्षा बबिता ने कहा कि ये मुख्यमंत्री जी की नीति का नतीजा है । इसका श्रेय सफाई कर्मचारियों को जाता है औऱ नगर की जनता को जो स्वच्छता को लेकर अपनी सामाजिक जिम्मेदारी निभा रहे है साथ ही सभी वार्डो के पार्षद जो नगर की स्वच्छता में अपनी जिम्मेदारी निभाते रहे हैं।

कोंटा चुनाव की तैयारियों के बीच केदार ने पहुंच कार्यकर्ताओं में भरा जोश
20-Nov-2021 10:07 PM (27)

दिवंगत वरिष्ठ भाजपाई महेन्द्रपाल भदौरिया के परिवार से मिले

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दोरनापाल, 20 नवंबर।
सुकमा जिले में पूर्व मंत्री एवं भाजपा प्रदेश प्रवक्ता केदार कश्यप आगामी नगरी निकाय चुनाव को लेकर कार्यकर्ताओं में जोश भरने कोंटा पहुंचे।

कोंटा पहुंचने से पहले केदार कश्यप दोरनापाल में दिवंगत वरिष्ठ भाजपा नेता स्व. महेंद्र पाल सिंह भदोरिया के घर पहुंचे और उनके परिवार जनों से मुलाकात की। साथ ही स्व. महेंद्र पाल सिंह के पुत्र और नगर पंचायत दोरनापाल के नेता प्रतिपक्ष धर्मेंद्र सिंह भदोरिया से भी उनका हाल जाना। इसके अलावा वादों के भाजपाई पार्षदों से भी केदार कश्यप ने मुलाकात की और उनका हाल जानते हुए वर्तमान में नगर पंचायत की स्थिति की भी जानकारी ली।

इस दौरान भाजपा जिलाध्यक्ष हूंगा राम मरकाम विशेष आमंत्रित प्रदेश कार्यसमिति के सदस्य अरुण सिंह भदोरिया धनीराम बारसे मरकाम भीमा, महेंद्र भदौरिया, संजय सोढ़ी सोहन लाल नायक ,बलिराम नायक, रामलाल गुप्ता, दोरनापाल नेता प्रतिपक्ष धर्मेंद्र भदोरिया वार्ड पार्षद राधा नायक पुष्प लता भदौरिया, मडक़म पोदीये ,कोसी ठाकुर, लक्ष्मी चौहान, सोढ़ी मंगी आदि उपस्थित रहे।

गौरतलब है कि नगरीय निकायों में आगामी दिसंबर में चुनाव होना है। सुकमा जिले के कोंटा नगर पंचायत में भी यह चुनाव होना है, जिसको लेकर सभी राजनीतिक पार्टी का अभी से पहुंचना जारी है। इसी क्रम में भाजपा नेता केदार कश्यप भी कोंटा पहुंचे। कोटा में भी कार्यकर्ताओं से मिलकर बैठक लिए और चुनाव की तैयारियों की समीक्षा भी की। दोरनापाल में केदार भाजपाइयों को भी कोंटा चुनाव के मद्देनजर तैयार रहने के निर्देश दिए।

हजारों दीयों से जगमगाया सुकमा का शबरी घाट
20-Nov-2021 5:01 PM (25)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
सुकमा, 20 नवंबर।
कार्तिक पूर्णिमा की संध्या पर हजारों दीयों की रोशनी से जगमगा उठा सुकमा का शबरी घाट। यहां मनोरम दृश्य सुकमा के लिय बिल्कुल ही नया था। यह पं.सुशील त्रिपाठी के मार्गदर्शन व नारायणी मानस मण्डली सेवा व विभिन्न सामाजिक संगठनों के सहयोग से संभव हो सका। शबरी घाट में कार्तिक पूर्णिमा के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम के लिए लोगों ने अपने ओर से दीपक, तेल और बातियाँ ले आए थे।

दीपोत्सव के इस कार्यक्रम को लेकर शहर के सभी वर्गों में काफी उत्साह देखने को मिला और पूरे शबरी घाट पे व आसपास मेला सा माहौल बन गया। बच्चे से लेकर बूढ़े तक सभी वर्ग के लोगों की सहभागिता से यहां का उत्साह और भी कई गुना बढ़ गया।

शबरी घाट में पूजा-अर्चना के बाद एक साथ हजारों दीयों की रोशनी में शबरीघाट की सुंदरता भी कई गुना बढ़ गई। वहीं नदी में दोनों में छोड़ी गयी दीपक की रौशनी ।                                                            
शबरी के किनारों के साथ ही पानी में ज्योति ऐसे लग हो रही थी, मानो आकाश से तारे शबरी के तट पर आ पहुंचे हो, इस मनोरम दृश्य को देख लोगों के चेहरे चमक उठे। आयोजकों ने बताया कि सुकमा में ऐसे पहला आयोजन है, जो ऐतिहासिक होने के साथ सभी नगरवासियों के सहयोग से सम्पन्न हुआ हो।

बस्तर टाइगर पुलिस बटालियन में भर्ती न होवें...
12-Nov-2021 9:30 PM (24)

 

गंगालूर एरिया कमेटी ने जारी किया प्रेसनोट

जगदलपुर, 12 नवंबर। नक्सलियों के गंगालूर एरिया कमेटी ने प्रेसनोट जारी कर कहा कि सरकारी पुलिस प्रशासन में तनावपूर्ण गुलाम बनकर नौकरी करने वाले पुलिस जवानों व उनके परिजनों रिश्तेदारों को हमारी माओवादी पार्टी यह अपील कर रही है।

साम्राज्यवादियों के एजेंट केन्द्र-राज्य सरकारी पुलिस प्रशासन में कठोर राज्य यंत्र पुलिस नौकरी में तनावपूर्ण जिंदगी में गुजरते हुये शोसक-शासक वर्गों के लिये जान गंवाना मोर की पंखों से भी कीमत कम है। विगत महिनों में अमित शाह पुलिस अधिकारियों की बैठक कर समाधान प्रहार 3 का रणनीतिक योजना के तहत सीआरपीएफ, सीएसएफ, आईटीबीपी, कोबरा, डीआरजी, एसटीएफ इत्यादि बलों को पद अधिकारियों ने दबावकर जिबरदस्ती मोटीवेशन कर दलित गरीब आदिवासियों व अल्प संख्यक जनता के ऊपर नरसंहार, अत्याचार हत्या करवाने भेज रहे हैं। बस्तर के अंदरूनी इलाकों में माओवादी उन्मूलन अभियानों में पिछड़े जाति के पुलिस जवनों को जान गंवाना पड़ रहा है। इसका नतीजा ही सामने आ रही है। फिलहाल बीजापुर जिला लिंगनपल्ली पुलिस कैम्प में 8 नवंबर 2021 को सीआरपीएफ 50वीं बटालियन के जवानों ने आपसी विवाद में रितेश रंजन ने फायरिंग कर चार जवानों को मौत की घाट उतारा और तीनों को घायल करना मानसिक तनाव बिगडऩे से नहीं हुआ, यह एक मनगढ़ंत कहानी है। पूर्व में भी ऐसी कई घटनाएं हो चुकी है।

दूसरी ओर सीआरपीएफ के डीजी कुलीप सिंह, एडीजी जुल्पीकार हसन, एडीजी नितिन अग्रवाल, डीआईजी योग्यान सिंह, सुकमा एसपी सुनील शर्मा, राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल उनके लाशों में दुख व्यक्त नहीं करते हैं, क्योंकि उच्च वर्ग के बड़े दलाल पूंजीपति मुकेश अंबानी, अदानी जैसे करोड़ पतियों को फायदे के लिये देश के पिछड़े तबकों के बेरोजगार युवा-युवतियों को पुलिस नौकरी देकर खूनी खराबी करते हुए देश का जल, जंगल, जमीन खनिज संपदाओं को विदेशी कारपोरेट घरानों को सौंप रहे हैं। कुछ मुट्ठी भर लोगों के लिये पुलिस नौकरी कर पालतू न मरे, सभी पुलिस जवान सोचिए। अपनी परिवार के साथ अच्छी नौकरी कर अच्छी जिंदगी जीने के लिये वर्गहीन समाज स्थापित करने लिये हमारी वर्ग संघर्ष व जनयुद्ध में आगे आवे। इस शोषक-शासक वर्ग जड़ों को उखाड़ फेंके समानता समाज के लिये किसान, मजदूरों ने कर रहे आंदोलन में भाग लेवें।

अधिकारियों के दबाव व प्रताडऩा के खिलाफ संघर्ष करो...
12-Nov-2021 9:30 PM (18)

दक्षिण सब जोनल ब्यूरो ने प्रेसनोट जारी कर की पुलिस जवानों से अपील

जगदलपुर, 12 नवंबर। नक्सलियों के दक्षिण सब जोनल ब्यूरो ने प्रेसनोट जारी कर कहा कि केंद्र-राज्य सरकारों द्वारा मु_ीभर विदेशी व दलाल पूंजीपतियों के फायदे व सुरक्षा के लिए बस्तर को सैनिक शिविर बनाया गया। कारपोरेट-सेक्युरिटी को मजबूत व विस्तार किया जा रहा है। कैंपों की तैनाती के विरोध में हजारों की तादाद में जनता आंदोलन कर रही है। इससे आप समझ सकते हैं कि किसकी सेवा व सुरक्षा के लिए आप इस्तेमाल हो रहे है और किसके विरोध में आप काम कर रहे हैं।

 शांति व सुरक्षा के नाम से सरकारें आप लोगों के द्वारा जनता पर हमले करवा रही हैं। देश में आर्थिक महामंदी के कारण बेरोजगारी समस्या विकराल रूप ले लिया। सिर्फ पुलिस विभाग छोडक़र बाकी सभी विभागों में नयी नियुक्तियां बंद कर दी। पुलिस भर्ती के लिए जरूरत रही योग्यताएं ताक में रखकर गांवों से जानवरों का शिकार करने में माहिर युवकों को ही भर्ती करने पर जोर दे रही है। गरीबी, भ्रष्टाचार व बेरोजगारी की वजह से आप लोगों को मजबूरी में आप में से कुछ लोग उच्चस्तर पढ़ाई रहने के बवजूद इस विभाग में भर्ती होना पड़ रहा है। आपकी पढ़ाई से बिल्कुल संबंध नहीं जोडऩे वाली पुलिस नौकरी में भर्ती होना पड़ रहा है, इससे मानसिक तनाव और हताशा से जीने की स्थिति रहती है।

आप अपना पेट पालने के लिए मजबूरी में शोषक वर्ग के लिए काम कर रहे राज्यतंत्र के हिस्से के रूप में काम कर रहे है. यहां के पाकृतिक संसाधनों को लूटने के लिए शोषक वर्ग एक हथियार के रूप में आपको इस्तेमाल कर रहे हैं। आप पर भी शोषण, दबाव, प्रताडऩा जारी है. आप पर दबाव डालते हुए गुलामों जैसा इस्तेमाल कर रही है। आप लोगों से अपने ही किसानों मजदूरों छात्रों माँ भाई, बहनों पर हमले करवा रही है।

अपने परिवारों से दूर रहते हुए अनजान इलाके में लोंगो का जबरदस्त विरोध झेलते हुए आला आधिकारियों की प्रताडऩा का शिकार होते हुए आप मानसिक तनाव में रहने की संभावना बनी रहती है, इसीलिए सुकमा जिले के मराईगुड़ा सीआरपीएफ बेस कैंप में हुई दर्दनाक घटना जैसी घटनाओं का सिलसिला जारी हैं। आप अत्माहत्याएं आपस में हत्याएं करना छोडि़एं अपनी बंदूकों को आला अधिकारियों पर तानिए. पुलिस विभाग में रहते हुए जनविरोधी कामों में शामिल मत होवे. यथासंभव नौकरी छोडि़ए।

आज भगवाकरण, कारपोरेटीकरण के विरोध में देशव्यापी किसान, मजदूर, छात्र, आदिवासी, महिलाओं ने अपने अधिकारों के लिए संघर्ष तेज किया है. ऐसे महौल में आप लोग इन न्यायोचित संघर्षों को दबाने के नाकम प्रयासों में शामिल न होते हुए इन जनवादी संघर्षों में भाग लेने से ठीक रहेगा। जनविरोधी नीतियों पर प्रश्न उठाने वालों को देशद्रोही के रूप में चित्रित करने का प्रयास किया जा रहा है। आपके दिमागों में ऐसे जहरीले प्रचार से भरने की कोशिश किया जा रहा है। आप  अपनी सामाजिक स्फूर्ति कायम रखिए. मानवीय मूल्यों को बचाईए। आप हमारे वर्ग दुश्मन नहीं है, आप जनता पर हमला करने आते हैं, तभी हमें प्रतिरोध करना पड़ रहा है।

 आप अधिकारियों के दबाव में गुलाम जैसा न रहते हुए अपने अधिकारों के लिए संघर्ष कीजिए। जल-जंगल-जमीन, अस्तित्व अस्मिता अधिकार के लिए संघर्ष कर रहे जनता के पक्ष में रहिए।

उगते सूर्य को दिया अघ्र्य, सुख-समृद्धि की कामना
11-Nov-2021 9:46 PM (32)

 

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

सुकमा,  11 नवंबर।  सूर्योपासना का महापर्व छठ के चौथे दिन गुरूवार की सुबह सुकमा शबरी नदी घाट पर जाकर व्रतियों ने सूर्य को अघ्र्य देकर पारण किया और फिर प्रसाद ग्रहण कर व्रत का समापन किया।

छठ पर्व के चौथे एवं अंतिम दिन तडक़े ही सूरज को अघ्र्य देने के लिए व्रती और उनके परिजन अपने घरों से पूजा सामग्रियों के साथ घाटों पर पहुंचे और घुटने तक पानी में खड़े होकर व्रतधारियों ने सूप, बांस की डलिया में मौसमी फल, गन्ना सहित पूजन सामग्री और गाय के दूध से भगवान सूर्य को अघ्र्य दिया और सुख-समृद्धि की कामना की। इसके बाद छठ व्रतियों ने प्रसाद ग्रहण किया और इसी के साथ ही व्रत और उपवास का चार दिनों तक चलने वाला यह पर्व संपन्न हो गया।

प्रकृति पूजन के महापर्व छठ के अवसर पर सुकमा में उत्साह का माहौल देखने को मिला। बिहार-झारखंड से जुड़े समाज के लोगों में महापर्व को लेकर खासा उत्साह देखने को मिला। इस दौरान छठ पूजा के पारंपरिक गीत गूंजते रहे।

 छठ का पर्व 8 नवंबर को नहाय-खाय के साथ शुरू हुआ था। दूसरे दिन खरना पर गुड़ की खीर बनाई गई और तीसरे दिन डूबते सूर्य को अघ्र्य दिया गया। आखिरी दिन उगते सूर्य को अघ्र्य देने के साथ ही छठ पर्व संपन्न हो गया।

नंद कुमार पटेल को किया याद
08-Nov-2021 9:16 PM (23)

सुकमा,  8 नवंबर। जिला युवा कांग्रेस ने दिवंगत पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नंद कुमार पटेल के जन्मदिन पर उनके छायाचित्र पर माल्यार्पण व मौन धारण कर याद किया। इस दौरान जिला युवा कांग्रेस के अध्यक्ष लक्ष्मण माड़वी नगर पालिका अध्यक्ष राजू साहू दुर्गेश रॉय युवा कांग्रेस के महा सचिव राजेश नारा रिंकू दास शेख गुलाम रोहित पाण्डेय प्रताप मनोज अनवर उपस्थित रहे।

चारपाई पर गर्भवती को लेकर मीनपा कैंप पहुंचे ग्रामीण
06-Nov-2021 9:36 PM (44)

 

सुरक्षाबलों ने करवाई एम्बुलेंस की व्यवस्था

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दोरनापाल, 6 नवंबर।
सुकमा जिला मुख्यालय के कोंटा ब्लॉक के मिनपा कैम्प में एक गर्भवती के प्रसव के लिए जद्दोजहद उस वक्त नजर आई, जब दुर्गम बीहड़ों में स्थित एलमागुंडा के ग्रामीण गर्भवती को चारपाई में लेकर मीनपा कैम्प के पास पहुंचे। उन्होंने जवानों को समस्या बताई। आदिवासी मां और शिशु की जान बचने सुरक्षाबलों ने कोशिश शुरू की और महिला को स्वास्थ्य सुविधा का वक्त रहते लाभ दिलाया।

गौरतलब है कि जिले में सुकमा पुलिस व प्रशासन के संयुक्त प्रयास से चलाए जा रहे पूना नार्कोम अभियान से अब ग्रामीणों में विश्वास के साथ ग्रामीणों तक शासन की योजना का लाभ भी पहुंच रहा है।

ज्ञात हो कि लगभग साढ़े दस बजे कैम्प मिनपा में एलमागुंडा के दो लडक़े बाइक में आये व बताया कि एक महिला दो दिन से प्रसव पीड़ा में है और उसको अस्पताल पहुंचाने के लिए एम्बुलेंस चाहिए। उन्होंने यह भी बताया कि कुछ लोग उसको चारपाई पर ला रहे हैं और वो दस-पंद्रह मिनट में पहुंचने वाले ही हैं। इसकी सूचना तुरन्त कैम्प मिनपा में मौजूद वरिष्ठ अधिकारी विक्रम सिंह टूआईसी 131 बटालियन सीआरपीएफ को दी और लभ शर्मा एसी/150 बटालियन व दिनेश पाल सिंह एसी. एफ/ 131 बटालियन कैम्प के गेट पर पहुंचे। वहां पूरे मामले की जानकारी लेकर तुरन्त 102 व 108 के माध्यम से एम्बुलेंस मंगवाने की कोशिश की, मगर सरकारी औपचारिकताओं व संभवत: एम्बुलेंस अनुपलब्धता के कारण नहीं मिली।

स्वास्थ्य सुविधा दिलाने के लिए जद्दोजहद
 स्वास्थ्य सुविधा मुहैया करवाने ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी से भी बात की गई, किन्तु उनसे संपर्क नहीं हो पाया। इसके बाद कैम्प मिनपा के अधिकारियों द्वारा तुरन्त थाना प्रभारी चिंतागुफा निरीक्षक मनीष मिश्रा को सपंर्क किया गया। जिनके द्वारा जल्द से जल्द एम्बुलेंस की व्यवस्था कर भिजवाने का आश्वासन दिया गया। जब तक उक्त महिला को चारपाई में लेकर कुछ लोग कैम्प मिनपा पहुंच चुके थे।

इसी बीच 241 बस्तरिया बटालियन व 150 बटालियन के जवानों ने गर्भवती महिला व गांव वालों के लिए खाने पीने का भी उचित इंतजाम किया। इस प्रकार सीआरपीएफ व सुकमा पुलिस के सम्मिलित प्रयासों से लगभग साढ़े बारह बजे एम्बुलेंस पहुंच चुकी थी और प्रसूूता को सकुशल भिजवाया जा सका।

सीआरपीएफ के अधिकारियों द्वारा महिला के परिवार को आर्थिक मदद का प्रस्ताव भी दिया गया। उन्होंने बताया कि उनके पास पर्याप्त रुपये नहीं है। सीआरपीएफ के अधिकारियों द्वारा कुछ आर्थिक मदद की गई। इस संबंध में पुलिस अधीक्षक सुकमा सुनील शर्मा ने कहा कि अंदरूनी इलाकों में कैम्प की स्थापना के साथ साथ पूना नर्कोम अभियान के तहत दूरदराज के ग्रामीणों को हमारे सुरक्षाबल के जवान हमेशा ही मदद को सामने आते हैं। इस बार भी जब ग्रामीणों ने इसकी जानकारी दी। हमारे जवानों ने उन्हें मदद मुहैया करवाई। हमारा प्रयास इलाके में सुरक्षा के साथ ग्रामीणों को शासन की योजना औऱ सुविधाओं का लाभ पहुंचाना है।

नक्सल प्रभावित किस्टाराम पहुंचे लखमा-मंडावी
27-Oct-2021 9:00 PM (236)

सुविधा शिविर में हुए शामिल
‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
कोंटा,  27 अक्टूबर।
बुधवार सुबह 11 बजे हेलीकॉप्टर से मंत्री कवासी लखमा व बीजापुर विधायक विक्रम मंडावी किस्टाराम पहुँचे, जहां सुविधा शिविर में शामिल हुए।

हेलीपैड पर कांग्रेस के नेता व कार्यकर्ताओं ने जोशीला स्वागत किया उसके बाद सीधे सुविधा शिविर पहुँचे, जहां जनप्रतिनिधियों ने स्वागत किया। वहीं आश्रम भवन 2 करोड़ 38 लाख व हार्ट बाजार 49 लाख का उद्धघाटन किया गया।

सभा को संबोधित करते हुए विक्रम मंडावी ने कहा कि प्रदेश के मंत्री कवासी लखमा बस्तर के विकास को लेकर गंभीर हंै और अंतिम व्यक्ति तक शासन की योजना पहुँचे, इसका प्रयास कर रहे हैं। हमारी सरकार हर वर्ग के बारे में सोच रही है और सुविधा शिविर में लोगों को फायदा पहुँचा रही है।

कलेक्टर विनित नंदनवार ने कहा कि यहां पिछले 8 दिनों से सुविधा शिविर लगा हुआ है, जिसमें सैकड़ों लोगों को लाभ मिला है। जब तक लोगों के राशन, आधार व आयुष्मान कार्ड नहीं बन जाता, तब तक शिविर का संचालन होता रहेगा। इस दौरान बोड्डू राजा, राजू साहू, जाकिर हुसैन, हपका मारा, सुन्नम नागेश, सीताराम, सुधीर पांडे, कडती देवे समेत भारी संख्या में लोग पहुँचे थे।

ग्रामीणों के बीच पहुँचे मंत्री
सभा से पहले मंत्री कवासी लखमा ग्रामीणों के बीच पहुँच गए। नक्सल प्रभावित किस्टाराम में आयोजित सभा में पहुँचे ग्रामीणों से काफी देर तक चर्चा की। ग्रामीणों ने बताया कि पालाचलमा, टेटेमगड़ू में चावल नहीं मिलने की शिकायत ग्रामीणों ने की, जिसके बाद तत्काल मंत्री कवासी लखमा ने एसडीएम को इन गांवों में राशन देने की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। साथ ही पलाचलमा, बुरकलंका, कोटकपल्ली, डब्बाकोन्टा में सोसायटी खोलने के निर्देश दिए।
 
8 दिनों से चल रहा शिविर
पिछले 8 दिनों से किस्टाराम में सुविधा शिविर संचालित किया जा रहा है, जिसमें किस्टाराम, पालाचलमा, कोटकपल्ली, सिंगराम, एलकंगुड़ा, कासाराम, गोलापल्ली, धर्मपेंटा के लोग पहुँचे है और अपना आधार, आयुषमान, पेंशन व राशन कार्ड बनवा रहे है। अब तक करीब 20 हजार लोगों को फायदा मिल चुका है।

किस्टाराम सुविधा शिविर में सैकड़ों ग्रामीण लाभांवित
26-Oct-2021 5:13 PM (30)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
कोंटा, 26अक्टूबर।
दूरस्थ नक्सल प्रभावित क्षेत्र किस्टाराम में आयोजित सुविधा शिविर में भारी संख्या में ग्राम पंचायत किस्टाराम, करीगुण्डम, पालाचलमा, पोटकपल्ली, सिंगाराम, गंगलेर, गोलापल्ली के ग्रामीण पहुंचे। उनके चेहरे पर खुशी और संतोष साफ तौर पर झलक रही थी। आखिर उन्हें आधार, राशन कार्ड, आयुष्मान कार्ड और पेंशन जैसी मूलभूत सुविधाओं का लाभ पहली बार मिला। बड़ी संख्या में महिला, पुरुष और युवा शिविर में पहुंचकर अपना आधार कार्ड, राशन कार्ड, आयुष्मान कार्ड बनवा रहे हैं, वहीं राजेश नारा, वेको हूँगा, वेको कोसा ने ग्रामीणों को राशन कार्ड वितरण किया।

ज्ञात हो कि 20 से 28 अक्टूबर तक किस्टाराम में सुविधा शिविर का आयोजन किया जा रहा है। किस्टाराम सरपंच सीताराम ने बताया कि शिविर का आयोजन और ग्रामीणों को शिविर स्थल लाने के लिए वाहन की व्यवस्था, भोजन आदि की व्यवस्था से ग्रामीणों को सुविधा मिल रही है। उन्होंने मंत्री कवासी लखमा व जिला पंचायत अध्यक्ष हरीश कवासी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि इन शिविर के कारण बहुत से ग्रामीणों को उनके गांव के निकट ही आधार कार्ड, राशन कार्ड आदि प्रदाय हो रहे है, जिसके लिए पहले उन्हे बहुत मशक्कत करनी पड़ती थी।

लखमा की पहल से ग्रामीणों को शासकीय योजनाओं का मिल रहा लाभ
योग आयोग सदस्य राजेश नारा ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं उद्योग मंत्री कवासी लखमा के अथक प्रयासों से सुकमा जिले के सुदूर अंचल एवं संवेदनशील क्षेत्र के निवासियों को शासकीय योजनाओं का लाभ मिल रहा है। आधार कार्ड, राशन कार्ड जैसी मूलभूत चीजों के अभाव में अधिकतर ग्रामीण शासकीय योजनाओं का लाभ लेने से वंचित थे। अब प्रशासन द्वारा सुविधा शिविर के माध्यम से ये कमी भी पूर्ण की जा रही है।

शिविर के संचालन और शिविर तक पहुंचने के लिए की गई व्यवस्थाओं के कारण संबंधित क्षेत्र के ग्रामीण बड़ी आसानी से शिविर पहुंच कर सुविधा का लाभ ले रहे हैं। इस दौरान वेको हूँगा, वेको कोसा भी उपस्थित रहे।
 

किस्टाराम सुविधा शिविर में सैकड़ों ग्रामीण लाभांवित
25-Oct-2021 10:14 PM (41)

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

कोंटा, 25 अक्टूबर। दूरस्थ नक्सल प्रभावित क्षेत्र किस्टाराम में आयोजित सुविधा शिविर में भारी संख्या में ग्राम पंचायत किस्टाराम, करीगुण्डम, पालाचलमा, पोटकपल्ली, सिंगाराम, गंगलेर, गोलापल्ली के ग्रामीण पहुंचे। उनके चेहरे पर खुशी और संतोष साफ तौर पर झलक रही थी। आखिर उन्हें आधार, राशन कार्ड, आयुष्मान कार्ड और पेंशन जैसी मूलभूत सुविधाओं का लाभ पहली बार मिला। बड़ी संख्या में महिला, पुरुष और युवा शिविर में पहुंचकर अपना आधार कार्ड, राशन कार्ड, आयुष्मान कार्ड बनवा रहे हैं, वहीं राजेश नारा, वेको हूँगा, वेको कोसा ने ग्रामीणों को राशन कार्ड वितरण किया।

ज्ञात हो कि 20 से 28 अक्टूबर तक किस्टाराम में सुविधा शिविर का आयोजन किया जा रहा है। किस्टाराम सरपंच सीताराम ने बताया कि शिविर का आयोजन और ग्रामीणों को शिविर स्थल लाने के लिए वाहन की व्यवस्था, भोजन आदि की व्यवस्था से ग्रामीणों को सुविधा मिल रही है। उन्होंने मंत्री कवासी लखमा व जिला पंचायत अध्यक्ष हरीश कवासी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि इन शिविर के कारण बहुत से ग्रामीणों को उनके गांव के निकट ही आधार कार्ड, राशन कार्ड आदि प्रदाय हो रहे है, जिसके लिए पहले उन्हे बहुत मशक्कत करनी पड़ती थी।

 लखमा की पहल से ग्रामीणों को शासकीय योजनाओं का मिल रहा लाभ
योग आयोग सदस्य राजेश नारा ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं उद्योग मंत्री कवासी लखमा के अथक प्रयासों से सुकमा जिले के सुदूर अंचल एवं संवेदनशील क्षेत्र के निवासियों को शासकीय योजनाओं का लाभ मिल रहा है। आधार कार्ड, राशन कार्ड जैसी मूलभूत चीजों के अभाव में अधिकतर ग्रामीण शासकीय योजनाओं का लाभ लेने से वंचित थे। अब प्रशासन द्वारा सुविधा शिविर के माध्यम से ये कमी भी पूर्ण की जा रही है।

शिविर के संचालन और शिविर तक पहुंचने के लिए की गई व्यवस्थाओं के कारण संबंधित क्षेत्र के ग्रामीण बड़ी आसानी से शिविर पहुंच कर सुविधा का लाभ ले रहे हैं। इस दौरान वेको हूँगा, वेको कोसा भी उपस्थित रहे।

गणेश मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा, भंडारा
25-Oct-2021 10:13 PM (26)

सुकमा, 25 अक्टूबर। जिले के ग्राम पंचायत रोकेल के लसकेपारा में भगवान श्री गणेश की बहुप्रतीक्षित मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा विगत दिनों हुई। मंदिर निर्माण के अवसर पर सोमवार को विशाल भंडारे का आयोजन संस्थापक श्री धूम्रकेतु सेवा संस्थान के गुरुदेव पं. राकेश पांडेय उत्तरप्रदेश एवं उनके शिष्य पं. राघवेंद्र शर्मा की उपस्थिति में संपन्न हुआ।

सर्वप्रथम भगवान श्री गणेश जी की प्रार्थना करने के पश्चात कन्याभोज के उपरांत भंडारे का शुभारंभ किया गया, जिसमें आसपास के गाँव के हजारों श्रद्धालुओं ने प्रसाद ग्रहण किया, साथ ही राहगीरों ने भी प्रसाद ग्रहण किया।

 श्री गौरीगणेश मंदिर के संस्थापक गुरुदेव पं. राकेश पांडेय ने बताया कि विगत कई वर्षों से वो विभिन्न स्थानों पर गौरीगणेश मन्दिर की स्थापना श्री धूम्रकेतु सेवा संस्थान के माध्यम से करवा रहे हैं, जिसमें अब तक 6-7 मंदिर का निर्माण हो चुका है व कुछ निर्माणाधीन है। इसी कड़ी में इस मंदिर का भी निर्माण हुआ है जिसमें कैबिनेट मंत्री कवासी लखमा के साथ-साथ राजा राठौर दोरनापाल, अशोक चौहान कूकानार, बबलू सिंह चौहान छिंदगढ़, राकेश सिंह गौतम नकुलनार, अरुण सिंह परिहार बस्तर,संजय सविता केशलूर, वेदव्यास शिक्षक दरभा,अर्जुन श्रीवास सचिव तोंगपाल, जितेंद्र चौहान शिक्षक गीदम, राजेन्द्र बाफना सुकमा एवं रामचंद यादव सुकमा का विशेष सहयोग रहा। साथ ही यह भी कहा कि प्रत्येक वर्ष गणेश चतुर्थी के अवसर पर यहाँ भंडारे का आयोजन किया जाएगा।

सीआरपीएफ ने ग्रामीणों-छात्रों को दिखाई भुज फि़ल्म
24-Oct-2021 9:34 PM (26)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

छिंदगढ़, 24 अक्टूबर। 227 वीं वाहिनी के.रि.पु.बल तोंगपाल के द्वारा पिछले तीन वर्षों से आसपास के नक्सल प्रभावित क्षेत्र में कैंप लगाकर अनेकों बार सिविक एक्शन प्रोग्रामों का आयोजन किया जा चुका है, जिससे के.रि.पु.बल और ग्रामिणों के बीच अच्छे संबंध स्थापित हुए हैं।

इसी बीच कमाण्डेंट 227 बटा. के.रि.पु.बल द्वारा क्षेत्र के शिक्षण संस्थाओं का भी दौरा किया गया, जिसमें उन्होंने स्कूल के छात्रों को देश के प्रति सेवा भक्ति एवं देशभक्ति कायम रखने एवं वीरों की वीर गाथाओं से रूबरू कराने के लिए रात्रि को देशभक्ति चलचित्र (फिल्म) दिखाने का आयोजन किया, जिसमें तोंगपाल स्थित शासकीय छात्रावास के बच्चों और ग्रामीणों को भुज फिल्म दिखाई गई। साथ ही वाहिनी कमाण्डेन्ट पी.मनोज कुमार द्वारा ग्रामीणों एवं युवाओं व बच्चों को बताया कि हमें आजादी वर्षों की मेहनत के बाद मिली, इसलिए हमने अपने बच्चों को सच्चा देश भक्त बनाने के लिए उन्हे बचपन से ही आजादी और मातृभूमि से प्रेम का महत्व बताना है।

चित्रकोट के दुर्गम और दूरस्थ क्षेत्रों के दौरे पर विधायक, ग्रामीणों से हुए रूबरू
24-Oct-2021 5:28 PM (44)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
सुकमा, 24 अक्टूबर।
आज विधायक चित्रकोट राजमन बेंजाम अपने क्षेत्र भ्रमण के दौरान विधानसभा क्षेत्र के अतिसवेंदनशील क्षेत्र कुकानार के ग्राम पंचायत बोकड़ा ओंडार पहुँचे और ग्रामीणों से मुलाकात कर उनकी समस्याओं से रूबरू हुए।

अपने क्षेत्र में विधायक को पहुँच देख बोकड़ा ओंडार के ग्रामीण खुशी से झूम उठे और उनसे अपने मन के विचार साझा किये। विधायक राजमन बेंजाम के समक्ष ग्रामीणों ने अपने क्षेत्र की ज्वलंत समस्याओं को उनके समक्ष रखा। पांच गाँवों के ग्रामीणों ने विधायक को अपनी मूल समस्या बंदोबस्त त्रुटि से अवगत कराया, जिसे विधायक ने तत्काल निराकरण करने का आश्वासन दिया और तत्कालीन मांग पर कार्रवाई करते हुए सी.सी. सडक़ निर्माण कार्य की स्वीकृत करने की घोषणा भी ग्रामीणों के समक्ष की।

अपने क्षेत्र के जनता से रूबरू होते हुए विधायक राजमन बेंजाम ने ग्रामीणों को भूपेश सरकार के जन कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी और कहा प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एक किसान पुत्र होने के नाते प्रदेश के किसानों को फायदा पहुंचाने हर संभव प्रयास करते रहे हंै। आज उनके इन्हीं कार्यशैली के कारण पूरे देश के सर्वक्षेष्ठ मुख्यमंत्री बन गए हंै।

विधायक चित्रकोट ने कहा कि मेरे विधायक बनने के पश्चात मैंने अपने आप में एक संकल्प लिया कि मैं अपने क्षेत्र के हर ग्राम पंचायत में जाकर वहाँ के ग्रामीणों की समस्या दूर करने का प्रयास करूंगा। पर दुर्भाग्यवश मेरे विधायक बनते ही कोरोना माहमारी आ गया और मैं आप लोगो तक नही पहुँच पाया। कोरोना प्रभाव में कमी  उपरांत मैं इस समय अपने क्षेत्र के मूल समस्या पेयजल को लेकर काम कर रहा हूं, जिस प्रकार हर घर बिजली आयी उसी प्रकार से हर घर पेयजल भी होगी।

विधायक बेंजाम के साथ प्रदेश महासचिव रुकमणी कर्मा,अध्यक्ष बिरसिंग बघेल,विधायक प्रतिनिधि बलीराम कश्यप,सुनील यादव,हिरमा कुंजाम,मीडिया प्रतिनिधि मोहनीश नाग,सोनाधर नाग,साधु राम, जगदीश पटेल ,राजमन बघेल,सुकमन यादव,सुखमन नाग,रामधर बघेल,आयता मंडावी,अशोक चौहान,गोबरे भदौरिया,धर्मेंद्र सिंह,अनुज(गुड्डा )चौहान,नानु चौहान, अनुज चौहान,संजय नाग,सोमाराम नाग,रामसिंग नाग एवं अन्य लोग उपस्थित रहे।
 

राज्य सरकार के खिलाफ आंदोलन होगा तेज
23-Oct-2021 10:04 PM (43)

सीपीआई ने की पोंदुम में बैठक

सुकमा, 23 अक्टूबर। छिन्दगढ़ ब्लाक के ग्राम पंचायत पोन्दुम में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी की बैठक आयोजन किया गया, जिसमें बैठक मडक़म मासा की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। इस अवसर पर प्रमुख रूप से सीपीआई जिला सचिव रामा सोड़ी, एआईएसएफ प्रदेश अध्यक्ष महेश कुंजाम, ब्लाक सचिव सीपीआई गंगा राम नाग, जनपद सदस्य जीआर नेगी, गंगा बघेल, नौजवान सभा ब्लाक अध्यक्ष गंगा नाग उपस्थित रहे।

इस बैठक में वर्तमान सरकार की जुमला नीति के खिलाफ जन आंदोलन तेज करने की बात कही गई। सरकार ने जो चुनावी वादे किये थे, वे जुमला साबित हुआ है। इन मुद्दे को लेकर सरकार के खिलाफ संघर्ष करने का अह्वान किया गया।

इस दौरान सरपंच अमाशु नाग, मडक़म धुरवा, उपसरपंच मुका राम मरकाम, महादेव कवासी, लखमा नाग, भीमा मरकाम, हेमन्त आदि पार्टी कार्यकर्ता व ग्रामवासी उपस्थित रहे।

1 नवंबर से धान खरीदी करें राज्य सरकार-दीपिका
23-Oct-2021 10:02 PM (45)

छिंदगढ़ , 23 अक्टूबर। भाजयुमो प्रदेश उपाध्यक्ष व अधिवक्ता दीपिका शोरी ने राज्य सरकार से 1 नवंबर से धान खरीदी करने की मांग की है।

दीपिका ने विज्ञप्ति जारी कर कहा, मैं लगातार  सुकमा जिले के विभिन्न गांवों का दौरा कर रही हूं, जहाँ किसानों ने अपनी समस्या बताते हुए कहा है कि मौसम के मार के कारण सही उपज भी नहीं हुई है अगर सरकार लेटलतीफी करती है तो किसानों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है, इसलिए मैं  कांग्रेस सरकार से मांग करती हूँ  कि किसानों के धान की खरीदी 1 नवंबर से शुरू करे, ताकि उनको धान रखने में कोई समस्या न हो क्योंकि अब किसानों का  धान कटाई चालू हो चुका है, यदि 1 नवंबर से धान खरीदी नहीं होती है तो किसानों को भंडारण में परेशानी का सामना करना पड़ेगा। साथ ही साथ उन्होंने सरकार से अपील की कि गत वर्षों की बोनस एवं धान की  शेष बची हुई राशि भी तत्काल जारी कर अपने किए गए वादों को पूर्ण करें।

धान खरीदी केंद्रों में उचित व्यवस्था हो

दीपिका ने यह भी कहा कि धान खरीदी केंद्रों में धान के रखरखाव के लिए उचित व्यवस्था हो,किसानों को लाइन न लगाना पड़े इस बात की चिंता राज्य सरकार को करनी चाहिए किसानों के लिए पेयजल की उत्तम व्यवस्था होनी चाहिए ,समय से पहले राज्य सरकार के द्वारा बारदाना की व्यवस्था की जाए पिछली बार की तरह बारदाना की कमी न हो।

धान खरीदी हेतु डिजिटल कांटे का उपयोग हो

दीपिका ने यह भी कहा कि पिछले वर्ष धान खरीदी  केंद्रों में किसानों को ठगने की खबरें भी आ रही थी प्रति बोरा 4 से 5 किलो धान कटौती की जा रही थी सामान्य कांटे से झुकती में धान लिया जा रहा था सरकार को हर खरीदी केंद्रों में डिजिटल कांटे का उपयोग करना चाहिए जिससे किसानों को सही तौल पर सही राशि प्राप्त हो

अन्न दाता परेशान न हो

सुकमा जैसे वनवासी क्षेत्रों में हमारे अन्नदाता विषम परिस्थितियों में व सीमित साधनों में अपना तन,मन और धन लगाकर कृषि कार्य करते हैं इसलिए इन्हें किसी भी प्रकार की समस्या न हो अन्न दाता परेशान न हो इस बात की चिंता राज्य सरकार को अवश्य करना चाहिए।  जिससे उनके परिवार के सदस्य खुशहाली के साथ आने वाला दीपावली त्योहार मना पाएं।

 

 

 

पुलिस स्मृति दिवस पर शहीदों को किया नमन
21-Oct-2021 9:21 PM (34)

छिंदगढ़, 21 अक्टूबर। 227वीं वाहिनी केरिपुबल के द्वारा 21 अक्टूबर को वाहिनी मुख्यालय तोंगपाल में पुलिस स्मृति दिवस मनाया गया। इस अवसर पर सर्वप्रथम पी. मनोज कुमार  कमाण्डेन्ट 227वीं वाहिनी केरिपुबल ने बल की परम्पराओं के अनुसार शहीद स्मारक स्थल पर बल के शहीद जवानों को याद किया और पुष्पमाला वर्थ चढ़ाकर श्रद्धांजलि दी।

 

उन्होंने अपने संबोधन में अधिनस्थ अधिकारी, जवानों को संबोधित करते हुए पुलिस शहीद स्मृति दिवस के महत्व के बारे में बताया । उन्होंने बताया कि संघशासित प्रदेश लद्दाख के बर्फीले हॉट स्प्रिंग में सन् 1959 मे केरिपुबल की एक टुकडी तैनात थी। 21 अक्टूबर 1959 को लद्दाख के हॉट स्प्रिंग में केरिपुबल के एक छोटे से गष्ती दल पर चीनी सेना द्वारा घात लगाकर हमला किया गया । इस चीनी आक्रमण का बल के जवानों ने डटकर मुकाबला किया । मातृभूमि की रक्षा के लिए लड़ते हुऐ 10 जवानों ने अपना सर्वोच्च बलिदान दिया। हमारे बल के लिए व पूरे पुलिस बल के लिए गौरव की बात है कि केरिपुबल के इन वीर जवानों के इस असाधारण शौर्य को याद करने के लिए 21 अक्टूबर को देशभर में सभी पुलिस बल द्वारा पुलिस स्मृति दिवस के रूप मे मनाया जाता है।

उन्होंने कहा कि राष्ट्रहित में शहादत की जो ज्योति हमारे जवानों ने जलाई है, उसकी लौ निरंतर जलती रहे । यह हमारा सर्वोपरि उत्तरदायित्व एवं कर्तव्य है। इस वर्ष भी वीरता एंव बलिदान की परम्परा को कायम रखते हुये देशभर में आज पुलिस बलो के 295 एवं केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के 82 कुल 377 सभी पुलिस बल के अधिकारियों व जवानों ने मातृभूमि की रक्षा करते हुये अपने प्राण न्योछावर कर दिये। उन्होंने ंसभी जवानों से आहवान किया कि पुलिस स्मृति दिवस पर हम सभी यह प्रतिज्ञा करें कि देश की अखण्डता एवं एकता के लिए हम हमेशा अपना सर्वस्व न्यौछावर करने के लिए तत्पर रहेंगे।

इस अवसर पर ओम जी शुक्ला द्वितीय कमान अधिकारी,  बद्रीलाल जाट, उपकमाण्डेन्ट , डॉ. नितिन जेल्दी , चिकित्सा अधिकारी वाहिनी के अधिनस्थ अधिकारी एंव जवान उपस्थित रहे।

30 साल बाद किस्टाराम में मनी विजया दशमी
17-Oct-2021 7:43 PM (38)

ग्रामीणों व पुलिस ने किया रावण का दहन

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोन्टा, 17 अक्टूबर। सुकमा जिले के अतिसंवेदनशील व नक्सल प्रान्त के नाम से वाकिफ ग्राम किस्टाराम सुरक्षा बलों के जवानों व ग्रामीणों ने मिलकर कर विजयदशमी पर्व को हर्षोल्लास के साथ मनाया। पुलिस व ग्रामीणों ने मिलकर रावण के पुतला को बना कर शुक्रवार के शाम को थाना किस्टाराम के सामने स्थित मैदान में सभी ग्रामीण एक जुट होकर दशहरा को मनाया।

थाना प्रभारी प्रमोद ने बताया कि असत्य पर सत्य की विजय को चरितार्थ करते हुए ग्रामीणों एवं पुलिस बल के जवानों ने एक साथ मिलकर बहुत ही हर्ष उल्लास के साथ गाजे बाजे व बैंड के साथ मनाया है। इससे पहले 1982 में यहां रावण दहन हुआ था। नक्सलियों के आतंक को अब यहां के ग्रामीण धीरे-धीरे दरकिनार कर रहे है। इस प्रान्त में नक्सली ही रावण रूपी राक्षस है, जिसको आज ग्रामीणों ने पुतला बना कर दहन किया। विकास विरोधी नक्सलियों के फोटो लगा कर रावण का पुतला बनाया गया। जिसके दहन पर ग्रामीणों ने खूब नाचा।

सीआरपीएफ 227 वीं वाहिनी ने हर्षोल्लास के साथ मनाया विजय दशमी का त्योहार
16-Oct-2021 5:20 PM (42)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
तोंगपाल, 15 अक्टूबर।
227 वी वाहिनी केरिपुबल के द्वारा महानवमी एंव विजय दशमी पर पूजा का आयोजन एंव भण्डारे में स्थानीय नागरिको को  भोजन के लिए आमंत्रित किया साथ ही केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल की 227 वीं वाहिनी द्वारा तोंगपाल स्थित मुख्यालय परिसर में आज वाहिनी के सभी जवानो एवं अधिकारीयो द्वारा महानवमी एंव विजय दशमी बडे हर्षोउल्लास के साथ मनाया गया तथा कैम्प में स्थित मदिंर में हवन आहुती दी गई एंव वाहिनी की ओर से भण्डारे का आयोजन किया गया । इस अवसर पर वाहिनी प्रमुख पी.मनोज कुमार कमाण्डेन्ट ने पूजा अर्चना कर शांति , सौहार्द एवं सदभावना की कामना करते हुए भण्डारे में वाहिनी के जवानों के साथ प्रसाद ग्रहण किया एवं आपसी प्रेम तथा बल के प्रति विश्वास बनाये रखने के लिए प्रेरित किया । इस अवसर पर वाहिनी प्रमुख पी . मनोज कुमार , कमाण्डेन्ट ,  ओम जी शुक्ला ( द्वितीय कमान अधिकारी )  बद्री लाल जाट ( उप 0 कमा 0 ) , अधिकारीगण , चिकित्सा अधिकारीगण  एंव जवान उपस्थित रहे ।
 

स्कूल में सक्षम बिटिया अभियान
09-Oct-2021 7:00 PM (113)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

सुकमा, 9 अक्टूबर। पिरामल फाउंडेशन द्वारा प्राथमिक एवं माध्यमिक शाला झलियारास में सक्षम बिटिया अभियान कार्यक्रम का आयोजन किया  गया।  कार्यक्रम  का मुख्य उद्देश्य गांव के सभी को शिक्षा के महत्व के प्रति जागरूक करना है ताकि गाँव का कोई भी बच्चा शिक्षा से वंचित न हो।

कार्यक्रम के दौरान सक्षम बिटिया अभियान में बताया कि बालिकाओं को आत्मनिर्भर एवं उनके आसपास की दुनिया की बेहतर समझ विकसित करने में सक्षम बनाना है। उनको किताबी ज्ञान न देकर सामाजिक व्यावसायिक ज्ञान देना है, साथ ही महत्वपूर्ण सोच कौशल को मजबूत करने के लिए, सहयोग, सहानुभूति और रचनात्मक को भी मजबूत करना है।

एक कदम शिक्षा की ओर

 टैग लाइन है ‘सक्षम बिटिया अभियान’  ‘संगिनी के संग पढ़ाई के नए रंग’ जैसे बड़े लक्ष्य व उन्हें पूर्ण करने के लिए फाउंडेशन के सदस्य हर समय तत्पर रहेंगे, ऐसे संकल्पों से कार्यक्रम स्थल गुंजायमान हो उठा।

 पिरमल फाउंडेशन से काजल  फटिंग और धु्रव , मुन्नालाल ठाकुर, शिवनाथ चुरेन्द व सभी स्वयंसेवकों की उपस्थिति में सभी ने बालिकाओं के सम्मान और सक्षम बिटिया अभियान का समर्थन करने की शपथ ली।

 

आंधप्रदेश में माह भर से बंधक नारायणपुर की आदिवासी बेटियों को छुड़ाया
04-Oct-2021 10:16 PM (136)

एसपी-भाजपा नेताओं ने वापसी में की मदद

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दोरनापाल, 4 अक्टूबर। नारायणपुर जिले के कई गांव की बेटियां आंधप्रदेश के कमलूर जिले के एक गाँव में लगभग 1 माह तक ठेकेदार के चंगुल में फंसी रही। एसपी-भाजयुमो प्रदेश उपाध्यक्ष दीपिका शोरी एवं प्रधानमंत्री जनकल्याण कारी योजना जागरुकता अभियान के जिला अध्यक्ष के संयुक्त प्रयास से आज छत्तीसगढ़ के  कोंटा पहुंचीं, जहां दीपिका एवं विजय के साथ स्थानीय युवकों ने इन्हें खाना खिलाकर नारायणपुर रवाना किया ।

मिली जानकारी के अनुसार नारायणपुर जिले के कोरेन्डा गाँव की बेटियों को चिंतूर के बाशा नामक होटल संचालक ने अपने घर में भवन निर्माण का कार्य कहकर बुलाया, परन्तु जब ये लड़कियां दो पुरुषों के साथ बाशा के घर चिंतूर पहुंची तो बाशा ने उन्हें भद्राचलम में काम है, कहकर गाड़ी में बिठाकर सीधे विजयवाड़ा होते हुए कमलूर जिले के सन्तोषीनगर ले गया एवं वहां इन्हें किसी ठेकेदार के हाथों सौंप कर वापस आ गया। उनके वहां पहुंचते ही ठेकेदार ने इन सभी का शोषण प्रारम्भ कर दिया। सुबह 3 से लेकर रात के 9 बजे तक कार्य करवाया जाता जिससे ये सभी बहुत परेशान हो गए थे।

आधार व मोबाइल ठेकेदार के द्वारा जब्त कर लिया गया था

इन सभी मजदूरों के मोबाइल एवं आधारकार्ड ठेकेदार के द्वारा जब्त कर लिया गया था  जिसके कारण ये लोग किसी से भी सम्पर्क करने में असमर्थ थे।

 मजदूरों ने आरोप लगाया कि इनकी प्रताडऩा से तंग आकर हम लोगों ने स्थानीय पुलिस थामा सन्तोषी नगर  में जाकर अपनी परेशानी बताई, परन्तु उन्होंने किसी भी प्रकार से हमारा कोई सहयोग नहीं किया जिसके कारण मजबूर होकर हमें वहीं शरण लेना पड़ा

युवतियों से की छेडख़ानी

पीडि़तों ने बताया कि कार्य करने के बाद रात में हम छत पर सोते थे, परन्तु ठेकेदार के द्वारा हमसे छेडख़ानी की जाती थी और गलत काम करने का प्रयास भी किया। जब हम सहमत नहीं हुए तो हमारे साथ मारपीट भी की गई इसके बाद डरकर हम सब एक दूसरे के साथ साथ सोते थे।

अधिवक्ता दीपिका शोरी(प्रदेश उपाध्यक्ष भाजयुमो छत्तीसगढ़) का कहना है कि इन सभी मजदूरों के विषय में जानकारी मिलते ही यह मामला एसपी नारायणपुर के संज्ञान लाकर सभी को सकुशल वापस छत्तीसगढ़ लाया गया,ये मानव तस्करी के श्रेणी के अंर्तगत आता है जो कि गैरकानूनी है और आदिवासी बालिकाओं को बंधक बनाकर रखा गया उनसे मारपीट कर अमानवीय एवं क्रूरतापूर्ण व्यवहार किया गया जो कि शारीरिक शोषण करने के उद्देश्य से किया गया था ऐसे कितने ही मामले हैं जो हमारे संज्ञान में नहीं है शासन को तत्काल सर्वे ऐसे लोगों की वापसी हेतु अभियान शुरू करना चाहिए एवं बिना कलेक्टर व एसपी के अनुमति व शासकीय रजिस्ट्रेशन के आदिवासी बालिकाओं का अन्य राज्यों में पलायन बन्द किया जाना चाहिए साथ ही अंतरराज्यीय स्तर पर चलने वाली बसों का आकस्मिक निरीक्षण किया जाना चाहिए जिससे आदिवासी बालिकाओं का शोषण बन्द हो सके।

पी.विजय(जिला अध्यक्ष प्रधानमंत्री जनकल्याणकारी योजना जागरुकता अभियान सुकमा ) का कहना है कि मुझे इन आदिवासी बालिकाओं के साथ कुछ पुरुषों को करनूर के सन्तोषीनगर में बंधक बनाए जाने की व इनके आधार व मोबाइल छीनकर मारपीट करने की जानकारी मिली थी। मैंने नारायणपुर एसपी साहब उदय किरण से बात कर उन्हें राहत पहुंचाई

नारायणपुर  के एसपी ने उदय किरण  ने बताया कि इस विषय में मुझे सूचना मिली थी, मैंने एसपी करनूर सुधीर कुमार रेड्डी से बात कर नारायणपुर के इन सभी मजदूरों छत्तीसगढ़ वापसी की व्यवस्था करवाई।

Previous123456789...1213Next