छत्तीसगढ़ » सरगुजा

Previous12Next
Posted Date : 10-Nov-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता 
    लखनपुर, 9 नवम्बर। लखनपुर थाना क्षेत्र के पुुराना जर्जर हो चुके स्टेट जमाने के एक कुंऐ में एक महिला का शव मिलने से सनसनी का माहौल निर्मित हो गया। पुलिस की उपस्थिति में आसपास के लोगो व नगर पंचायत सफाई कर्मियों की मदद से शव को बाहर निकाला गया। महिला के गले में गमछा लपेटा हुआ मिला। पुलिस ने मामले में प्रथम दृष्या आशंका जताई जा रही है कि किसी ने महिला का गला गमछा से घोट उसकी हत्या कर दी होगी और शव कुंऐ में फेक दिया होगा। पुलिस पंचनामा पश्चात महिला के शव को पीएम के लिए भिजवा दिया है। पुलिस ने पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ स्पष्ट कह पाना बताया। जानकारी के मुताबिक पुलिस ने कुंऐ से महिला का शव निकलवाकर तफतीश की तो पता चला की महिला लखनपुर नगर के वार्ड क्रमांक 1 झीनपुरी पारा की रहने वाली है।  महिला का नाम शुशिला उर्फ रामबसिया दास उर्म 28 वर्ष है। 
    बताया गया कि महिला की शादी के बाद उसका पति विजय दास उसे छोड़ दिया था, जिसके बाद से महिला की  मानसीक स्थिति ठीक नही थी। गत 4 नवम्बर को वह बिना बताये घर से कहीं चले गयी थी, जिसकी रिपोर्ट परिजनों ने लखनपुर थाने में दर्ज कराई थी। शुक्रवार को महिला का शव कुंऐ में संदिग्ध अवस्था में मिला। पुलिस ने मामले में विवेचना शुरू कर दी है। 

  •  

Posted Date : 10-Nov-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता 

    अंबिकापुर, 10 नवंबर। कोतवाली पुलिस एवं मणिपुर चौकी पुलिस ने दीपावली के मध्य नजर शहर के अंदर जुआ खेल रहे 13 फड़ से 54 लोगों पर कार्रवाई करते हुए कई हजार रुपए जप्त किए हैं। पुलिस ने बताया कि जेल कॉलोनी में जुआ खेल रहे तीन लोगों को पकड़ कर 1260 रु बरामद किया गया है।वहीं कोतवाली क्षेत्र में वार्ड क्रमांक 37 पार्षद गली में 7 जुआरियों को पकड़कर 3800 रुपए बरामद किया गया है।
    खाल पारा प्रतापपुर नाका में चार लोगों को पकड़कर 1200 जप्त किए गए हैं।भाटापारा मे 4 लोगों के पास से 460, सुंदरपुर जंगलपारा से 5 लोगों के पास से 870, महादेव गली मे जुआ खेल रहे तीन लोगों के पास से 1480, मटन मार्केट में 3 लोगों के पास से 1800, संगम गली में 14 लोगों के पास से 4000 से अधिक, वहीं केना बांध में 3 फड़ से 2,000 से अधिक रुपए जप्त किए गए हैं। पुलिस ने सभी मामलों में 13 जुआ एक्ट के तहत कार्रवाई की है।

  •  

Posted Date : 10-Nov-2018
  • सरगुजा टीम गुवाहाटी रवाना

    छत्तीसगढ़ संवाददाता 
    अंबिकापुर, 10 नवंबर। इस्ट जोन अंतरमहाविद्यालयीन स्तर महिला बास्केटबाल का प्रतियोगिता गुवाहाटी, आसाम में आयोजित हो रही है। इस प्रतियोगिता में सरगुजा विश्वविद्यालय की महिला टीम भी सभागिता लेगी। इस सरगुजा विश्वविद्यालय के महिला खिलाडिय़ों मे दीप्ति तिर्की कप्तान,प्रिती बखला ,राधा खलखो , आशा किण्डों , साक्षी लकड़ा , प्रतिमा खलखो , अल्पना एक्का , मीरा सिंह , निकीता गुप्ता , दिव्या मिश्रा , रिफत परवीन , अंशु अलीसा बड़ा टीम कोच सुश्री अंकाक्षा, टीम मैनेजर एस अली शामिल है।
    सरगुजा विश्वविद्यालय कि महिला का विगत दस दिनों से सरगुजा जिला बास्केटबाल संघ के तत्वावधान में राष्ट्रीय कोच राजेश प्रताप सिंह के देख - रेख में प्रशिक्षण कैम्प चला। इस प्रशिक्षण कैम्प महिला टीम को मैच के बारिकींयो के आधार पर अभ्यास कराया गया और साथ सरगुजा जिला बास्केटबाल संघ के मुख्य टीमों के बीच अभ्यास मैच लगातार कराया गया जिससे टीम को मैच पोजिशन व डिफेंस का वर्कआउट कराया गया है। राष्ट्रीय कोच राजेश प्रताप सिंह ने बताया कि इस टीम में वर्क आउट का कम समय मिला। फिर भी इस टीम को सभी प्रकार से तैयार किया गया है।  श्री सिंह ने बताया कि आज 9 नवंबर को सरगुजा विश्वविद्यालय की महिला बास्केटबाल टीम का पहला मैच अमरकंटक महाविद्यालय के बीच खेला गया, जिसमें सरगुजा महाविद्यालय की महिला टीम 26-11के स्कोर से जीत गये।9 नवम्बर को ही दुसरा मैच को बस्तर महाविद्यालय के बीच खेला जाएगा ।

  •  

Posted Date : 10-Nov-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता 
    अंबिकापुर,10 नवंबर। दीपावली त्यौहार के दिन सड़क दुर्घटना में एक ही परिवार के तीन लोगों सहित अलग-अलग 6 लोगों की मौत हो गई। दीपावली के दिन परिवार के तीन लोगों की मौत से पूरे परिवार में मातम का माहौल पसर गया।त्यौहार की सारी खुशियां दुखों में तब्दील हो गई।
    जानकारी के अनुसार नमना कला निवासी सुनील मरावी पिता स्वर्गीय दशरथ मरावी उम्र 21 वर्ष अपनी मां 50 वर्षीय बिंदेश्वरी और भांजा आयुष पिता देवनंदन उम्र 6 वर्ष के साथ दीपावली के दिन मोटरसाइकिल से बिहारपुर लटोरी गया था।वहां अपने जीजा से मिलकर तीनों मोटरसाइकिल से ही वापस लौट रहे थे। सुबह 7 बजे जैसे ही वह चठिरमा स्कूल के पास पहुंचे, उसी दौरान विपरीत दिशा से आ रही ट्रक के चालक शिवपाल ने लापरवाही पूर्वक वाहन चलाते हुए तीनों को अपनी चपेट में ले लिया। मौके पर ही तीनों की मौत हो गई। दीपावली के दिन एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत से परिवार में मातम पसर गया। 
    दूसरे मामले में भठ्ठी रोड निवासी कमलेश तिवारी पिता शिव कुमार तिवारी उम्र 50 वर्ष गुरुवार की दोपहर मोटरसाइकिल से बतौली गया था।वहां से वापस लौटते दौरान लटोरी तुलसी नाला के पास अज्ञात वाहन की ठोकर से घायल हो गया था। उसे मेडिकल कॉलेज अस्पताल लाकर दाखिल कराया गया ,जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई।
    गुरुवार को ही दरिमा थाना क्षेत्र के ग्राम रकेली निवासी सुनीता पोर्ते पिता हेमंत पोर्ते उम्र 18 वर्ष और उसकी छोटी बहन मनीता सहित भाई मोनाको तीनो लोग परिचित की मोटरसाइकिल लेकर मैनपाट की ओर घूमने चले गए थे।वहां से वापस आते दौरान छोटी बहन मनिता मोटरसाइकिल चला रही थी,उसी दौरान मोटरसाइकिल अनियंत्रित होकर एक पेड़ से टकरा गई। इस दुर्घटना में तीनो लोग घायल हो गए।तीनों को मेडिकल कॉलेज अस्पताल लाया गया, जहां उपचार के दौरान सुनीता की मौत हो गई। एक अन्य मामले में गढ़वा क्षेत्र के ग्राम बलीगढ़ रमकंडा निवासी जंगली भुइयां उम्र 38 वर्ष साइकिल से अपनी बेटी गीता को इलाज कराने के नाम पर कनकपुर गया था। वहां इलाज कराने के बाद बेटी को रिश्तेदार के घर छोड़कर वह अकेले साइकिल से घर वापस जा रहा था। उसी दौरान अज्ञात वाहन की ठोकर से वह गंभीर रूप से घायल हो गया।संजीवनी की सहायता से उसे रामानुजगंज के बाद बलरामपुर लाया गया।वहां से उसे मेडिकल कॉलेज अंबिकापुर रेफर कर दिया गया। यहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई।

  •  

Posted Date : 09-Nov-2018
  • अम्बिकापुर, सीतापुर व लुण्ड्रा में 48 प्रत्याशी मैदान पर

    छत्तीसगढ़ संवाददाता

    अम्बिकापुर, 9 नवम्बर। विधानसभा आम निर्वाचन के दूसरे चरण में सरगुजा जिले में 20 नवम्बर को होने वाले मतदान के दौरान कुल 5 लाख 88 हजार 638 मतदाता लुण्ड्रा, अम्बिकापुर एवं सीतापुर विधानसभा क्षेत्र के कुल 48 प्रत्याशियों के लिए मताधिकार का उपयोग करेंगे। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. सारांश मित्तर ने जिले के सभी मतदाताओं से 20 नवम्बर को अपने मताधिकार का उपयोग करने का आग्रह किया है। 
    लुण्ड्रा विधानसभा क्षेत्र के कुल 1 लाख 75 हजार 982 मतदाताओं में पुरूष मतदाताओं की संख्या 87 हजार 850, महिला मतदाताओं की संख्या 88 हजार 125 एवं तृतीय लिंग वाले मतदाताओं की संख्या 7 हैं। इस क्षेत्र में लिंगानुपात 1 हजार 3 है तथा 1 हजार 298 दिव्यांग मतदाता हैं। 
    इस विधानसभा क्षेत्र में कुल 25 सेक्टर बनाए गए हैं। लुण्ड्रा विधानसभा क्षेत्रांतर्गत सरगुजा जिले के अम्बिकापुर विकासखण्ड में मतदान केन्द्रों की संख्या 73, लुण्ड्रा में 128 तथा लखनपुर में 53 मतदान केन्द्र स्थापित किये गये हैं। सरगुजा जिला अंतर्गत विधानसभा क्षेत्र लुण्ड्रा में 2 मतदान केन्द्र शहरी क्षेत्र में तथा 252 ग्रामीण क्षेत्र में स्थित हैं। इस प्रकार लुण्ड्रा विधानसभा क्षेत्रांतर्गत 254 मतदान केन्द्र स्थापित किये गये हैं।
    अम्बिकापुर विधानसभा क्षेत्र के कुल 2 लाख 24 हजार 596 मतदाताओं में पुरूष मतदाताओं की संख्या 1 लाख 12 हजार 454 तथा महिला मतदाताओं की संख्या 1 लाख 12 हजार 117 एवं तृतीय लिंग वाले मतदाताओं की संख्या 25 हैं। इस क्षेत्र में लिंगानुपात 997 है तथा 1 हजार 351 दिव्यांग मतदाता हैं। इस विधानसभा क्षेत्र में कुल 29 सेक्टर बनाए गए हैं। 
    अम्बिकापुर विधानसभा क्षेत्रांतर्गत सरगुजा जिले के अम्बिकापुर विकासखण्ड में मतदान केन्द्रों की संख्या 147, लखनपुर में 49 तथा उदयपुर में 77 मतदान केन्द्र स्थापित किये गये हैं। विधानसभा क्षेत्र अम्बिकापुर अंतर्गत 108 मतदान केन्द्र शहरी क्षेत्र में तथा 165 ग्रामीण क्षेत्र में स्थित हैं। इस प्रकार अम्बिकापुर विधानसभा क्षेत्रांतर्गत 273 मतदान केन्द्र स्थापित किये गये हैं। 
    सीतापुर विधानसभा क्षेत्र के कुल 1 लाख 88 हजार 60 मतदाताओं में पुरूष मतदाताओं की संख्या 92 हजार 977, महिला मतदाताओं की संख्या 95 हजार 77 एवं तृतीय लिंग वाले मतदाताओं की संख्या 6 हैं। इस क्षेत्र में लिंगानुपात 1 हजार 23 है तथा 1 हजार 64 दिव्यांग मतदाता हैं।
     इस विधानसभा क्षेत्र में कुल 25 सेक्टर बनाए गए हैं। सीतापुर विधानसभा क्षेत्रांतर्गत सरगुजा जिले के अम्बिकापुर विकासखण्ड में मतदान केन्द्रों की संख्या 26, बतौली में 69, सीतापुर में 64 तथा मैनपाट में 85 मतदान केन्द्र स्थापित किये गये हैं। विधानसभा क्षेत्र सीतापुर अंतर्गत 6 मतदान केन्द्र शहरी क्षेत्र में तथा 238 ग्रामीण क्षेत्र में स्थित हैं। इस प्रकार सीतापुर विधानसभा क्षेत्रांतर्गत 244 मतदान केन्द्र स्थापित किये गये हैं।   

     

  •  

Posted Date : 25-Oct-2018
  •  पुरानी रंजिश को लेकर की हत्या

    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    कुसमी, 25 अक्टूबर। बलरामपुुुर जिला के कुसमी थाना अंतर्गत विगत दिनों 14 अक्टूबर को मोटरसाइकिल समेत गायब देवसरा निवासी उपसरपंच पति की अंबिकापुर - कुसमी मुख्य मार्ग पर देवसरा मोड़ में पुलिया के नीचे शनिवार 20 अक्टूबर को करीब 11 बजे मोटरसाइकिल समेत संदिग्ध अवस्था मे लाश मिलने से गांव में सनसनी सा माहौल निर्मित हो गया।  माामले में कुुसमी पुुुलिस ने 24 अक्टूबर को हत्या में शामिल दो आरोपियों को न्यायालय में पेश करने के बाद जेल भेज दिया हैै।
     कुसमी थाना प्रभारी उमेश कुमार बघेल ने इस मामले में बताया कि देवसरा की सरपंच बसंती बाई के पति रामविलास सिंह की हत्या दो व्यक्ति रामप्रवेश देवसरा निवासी व कुलदीप लरंगी निवासी ने मिलकर की है जो हत्या को अंजाम देने के बाद दोनों फरार हो गए थे। जिनमें से रामप्रवेश को बलरामपुर व कुलदीप को चंदो ग्राम के करचा से पकड़ लिया गया।
     श्री बघेल ने आगे बताया कि आरोपी रामप्रवेश ने ही फोन कर रामविलाश सिंह को बुलाया था। रामप्रवेश और रामविलाश का छोटी-मोटी बात को लेकर लड़ाई होते रहता था। हाल ही में दो महीने पहले मृतक की बकरी रामप्रवेश की बहन के खेत को चर दी थी जिसे लेकर दोनों के रिश्तेदारों में  लड़ाई हुई, इसको लेकर भी रंजिश था। इसके अलावा भी कई बातों को लेकर हमेशा दोनों में विवाद होता रहता था। 
    इसी बीच रामप्रवेश ने लरंगी निवासी कुलदीप से फोन करवाकर डीपाडीह के नाबार्ड रीड्स में किसान उत्पादक समूह में शामिल होने के लिए बुलाया। डीपाडीह में दस्तावेजो कि छायाप्रति जमा करने के बाद शराब पिलाकर वापसी में देवसरा मोड़ के पास पुलिया के नीचे पहले तो धक्का मारा  मृत होना देख दोनों आरोपी घटना स्थल से फरार हो गये।  
    पीएम रिपोर्ट में भी हत्या, परिवार वालो ने जताया था हत्या का संदेह
    इस मामले में उपसरपंच पति के रिश्तेदारों सहित गाँव के अन्य लोगों ने हत्या होने का आशंका जताया था और पुलिस पर सहयोग न करने का आरोप लगाया था। परिजन 2009 में  मृतक के दामाद के संदिग्ध मौत पर सबूत नहीं मिलने पर पुलिस द्वारा कोई करवाई न होने पर नाराज थे।  परिजन पुन: सबूत न होने के कारण हत्या को दुर्घटना करार तो नहीं दे दी जाएगी जिसे लेकर परिजन पुलिस से नाराज होकर सहयोग न करने का आरोप लगाकर हंगामा कर रहे थे। किन्तु इस मौत पर कई सबूत मिले थे जो प्रथम दृष्टि से ही हत्या नजर आ रहा था। अंतत: पोस्टमार्टम रिपोर्ट भी हत्या होना बताया गया व पुलिस ने आरोपियों को हत्या के मामले में जेल भेज दिया।  

  •  

Posted Date : 25-Oct-2018
  •  भाजपा-कांग्रेस में आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू तो निर्दलीय भी ठोंक रहे ताल

    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    अम्बिकापुर, 25 अक्टूबर। जैसे-जैसे चुनावी पारा चढऩे लगा है ,वैसे-वैसे हाई प्रोफाइल मानी जाने वाली अम्बिकापुर विधानसभा सीट के लिए भाजपा-कांग्रेस के नेता आमने-सामने सीधी टक्कर देने के मूड में नजर आने लगे है। अम्बिकापुर के लिए भाजपा से जहां अनुराग सिंहदेव प्रत्याशी बनाए गए हैै, वहीं कांग्रेस से टीएस सिंहदेव का लडऩा तय है। इसके साथ ही अन्य पार्टियों से अभी प्रत्याशी तय तो नहीं हुए है परन्तु कुछ प्रत्याशी निर्दलीय चुनाव मैदान में उतरने की तैयारी कर फ्रन्ट में मोर्चा संभाल लिए है। अब स्थिती यह बता रही है कि भाजपा-कांग्रेस जहां आमने-सामने होकर यह मान रही है कि सीधी टक्कर तो आपस में ही होना है तो क्यों ना एक दूसरे के विरूद्ध मोर्चा खोल लिया जाए और मोर्चा खोल भी लिए है।                 
    एक ओर जहां भाजपा से अनुराग सिंहदेव के प्रत्याशी घोषित होते ही पार्टी ने संगठन स्तर पर एक बैठक कर पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओ द्वारा एकजुटता का दावा कर जोर-शोर से प्रचार करना शुरू कर दिया है। तो वहीं टीएस सिंहदेव पहले से ही संगठन की बैठक में प्रचार-प्रसार सहित अन्य जिम्मेदारी अलग-अलग सौंपकर एवं स्वयं जनसम्पर्क कर चुनावी रणभूति के लिए तैयार है।
    उल्लेखनीय है कि अम्बिकापुर विधानसभा सीट 2008 के पूर्व अजजा आरक्षित रही। 2008 में परिसीमन के बाद सामान्य हुई सीट में पहली बार टीएस सिंहदेव कांगे्रस से व अनुराग सिंहदेव भाजपा से प्रत्याशी घोषित बनाए गए, जहां कांटे की टक्कर में कांग्रेस को उस चुनाव में 56 हजार 222 मत व भाजपा को कुल 55274 मत प्राप्त होने पर 948 मतो से कांग्रेस को विजय मिली थी। इसी प्रकार 2013 के विधानसभा चुनाव में फिर एक बार दोनो आमने-सामने खड़े नजर आए, जहां भाजपा के अनुराग सिंहदेव व कांगे्रस के टीएस सिंहदेव के बीच सीधे मुकाबले में कांगे्रस 19558 मत से बाजी अपने पाले में  ले गई। इस हिसाब से इस बार 2018 में तीसरी बार फिर से भाजपा के अनुराग सिंह देव व कांग्रेस के टीएस सिंहदेव आमने-सामने नजर आ रहे है , जहां इस बार यह मुकाबला और भी रोचक होने की राह पर है क्योंकि कांग्रेस जहां चुनाव के लिए योजनानुसार अपनी पूरी तैयारी को लेकर आश्वस्थ है। वहीं भाजपा इस बार संगठन स्तर पर बैठक लेकर अपनी पुरानी सभी गलतियों से सबक लेकर एकजुट होकर अम्बिकापुर में खोई प्रतिष्ठा वापस लाने लोगों के बीच जाने का मन बना चुकी है। 
    अब देखना है कि दोनो पार्टियां प्रचार-प्रसार के लिए कितना कसरत करती है कौन-कौन सी ट्रिक से मतदाताओं को लुभाती है ,यह तो समय के साथ-साथ चुनावी समर में पता चल जाएगा। लेकिन चुनावी विशेषज्ञ व जानकारो का कहना है कि इस बार किसी के लिए राह आसान नहीं माना जा सकता है। ऊंट किस करवट बैठेगा यह तो मतदाता ही जान सकते है, क्योंकि भाजपा कांग्रेस सहित कुछ निर्दलीय प्रत्याशियों की जोर आजमाइस के साथ-साथ जनता कांग्रेस जोगी व बसपा के गठबंधन से चुनावी अखाड़ा और कड़ा हो सकता है , जिससे अम्बिकापुर विधानसभा सीट में परिणाम चौकाने वाला  हो सकता है।

  •  

Posted Date : 13-Oct-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता 
    अम्बिकापुर, 13 अक्टूबर। प्रतापपुर थाना क्षेत्र के ग्राम सेमरा में शुक्रवार को मजदूरों को लेकर जा रहा पिकअप वाहन मार्ग में अनियंत्रित होकर एक पेड़ से टकरा गया।इस दुर्घटना में एक मजदूर की मौत हो गई। वाहन में सवार आधा दर्जन से अधिक मजदूर घायल हो गए। कुछ मजदूरों को मेडिकल कॉलेज अस्पताल लाकर दाखिल कराया गया है।कुछ का उपचार प्रतापपुर व अंबिकापुर मिशन अस्पताल में भी चल रहा है।
    जानकारी के अनुसार प्रतापपुर थाना क्षेत्र के ग्राम सेमरा कला से शुक्रवार की सुबह कुछ मजदूरों को पिकअप से लेकर ग्राम करसी ले जाया जा रहा था।दरअसल ग्राम करसी में पीएम आवास के तहत निर्माण कार्य चल रहा है। मजदूरों को ले जाते हुए पिकअप वाहन चालक की लापरवाही के कारण ग्राम सेमरा में वाहन अनियंत्रित होकर एक पेड़ से टकरा गई। घटना के बाद आहत मजदूरों को प्रतापपुर अस्पताल ले जाया गया जहां से सेमरा कला निवासी भूखन पिता सुकुल कवर उम्र 48 वर्ष सहित सूरज बली भुवनेश्वर और अन्य को मेडिकल कॉलेज अस्पताल रेफर कर दिया गया,यहां उपचार के दौरान भूखन की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि उक्त पिक अप में गांव का ही एक छात्र कमलेश उम्र 14 वर्ष प्रतापपुर स्कूल में पढऩे जा रहा था वह भी इस दुर्घटना में घायल हो गया सभी घायलों का उपचार जारी है।

  •  

Posted Date : 12-Oct-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    अंबिकापुर, 12 अक्टूबर। अंबिकापुर में आज भाजपा के कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि भाजपा नेताओं के आधार पर चुनाव नहीं जीतती, वह लाखों लाख कार्यकर्ताओं के बल पर चुनाव जीतती है। कार्यकर्ता ही भाजपा की जान हैं। शाह ने  कांग्रेस और राहुल पर तंज कसा कि कांग्रेस गठबंधन बना रही है और भाजपा से लडऩे आ रही है। मैं उनके साहस की दाद देता हूं।  मुझे समझ में नहीं आता कि राहुल को कैसे छत्तीसगढ़ में सरकार बनाना दिखता है। राहुल गांधी बता दें यहां किसके दम पर सरकार बनाने निकले हैं। सरकार का नेतृत्व कौन करने वाला है, नकली सीडी बनाने वाले सरकार नहीं बना सकते।  
    अमित शाह ने कहा भाजपा ही एक ऐसी पार्टी है जो गरीबों को आगे बढ़ाती है। एक छोटे से कार्यकर्ता को भी विधायक, सांसद और प्रधानमंत्री तक बनाती है। उन्होंने कहा कि भाजपा में वंशवाद नहीं चलता। उन्होंने  कहा किरमन ने नक्सलवाद को उखाड़ फेंका, छग को पावर हब बनाया, गरीबों को खाद्यान्न सुरक्षा दी, उनके  पैरों में चरणपादुका पहुंचाई। उन्होंने प्रदेश में बहुत काम किया और आज  उनके नेतृत्व में चुनाव लड़ा जा रहा है और वे फिर से छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री बनेंगे। चौथी बार सरकार बनाने का संकल्प लीजिए और ऐसा नारा लगाइये कि कांग्रेसियों के दिल दहल जाएं। 
    शाह ने कहा कि बूथ कार्यकर्ता भाजपा की जान है, जीत का आधार है। हमें चौथी बार सरकार बनानी है और हम प्राणपण से जुट जाएं। छत्तीसगढ़ का चुनाव देश का भविष्य बनाने जा रहा है।
    इससे पहले छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि सरगुजा में आने वाले दिनों में विधानसभा सीटों पर भाजपा का ही कमल खिलेगा। अमित शाह आपके माथे पर जीत का तिलक लगाने आएं हैं।
    नया छत्तीसगढ़ बनाने सरगुजा आए हैं। पिछली बार सरगुजा में उनका जो स्वागत हुआ था उसे वे अभी तक भूल नहीं पाए हैं और बार-बार याद करते हैं। उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि यहां कांग्रेस मुद्दाविहीन है। संगठन विहीन है। सीडी बना रही है। ऐसे कांग्रेस को जनता सबक सिखाएगी। उन्होंने कहा कि 65 प्लस का लक्ष्य को कार्यकर्ता ही पूरा करेगी।

  •  

Posted Date : 11-Oct-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    अम्बिकापुर, 11 अक्टूबर। मेरा बूथ मजबूत अभियान के तहत भाजपा अध्यक्ष अमित शाह कल 12 अक्टूबर  को सरगुजा संभाग मुख्यालय अम्बिकापुर में 14 विधानसभा क्षेत्र के बूथ अध्यक्ष, बूथ सचिव व कार्यकर्ता की बैठक लेंगे। श्री शाह बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं को मार्गदर्शन देते हुए चार्ज करेंगे और चुनावी मंत्र देंगे। श्री शाह के साथ मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह,संगठन मंत्री सौदान सिंह  विशेष रूप से उपस्थित रहेंगे।
     शाह अंबिकापुर कला केंद्र मैदान में सरगुजा, जशपुर,बलरामपुर, सूरजपुर, कोरिया के लगभग 25 हजार बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं से सीधा संवाद करेंगे। भाजपा प्रदेश मंत्री अनुराग सिंह देव ने बताया कि राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के आगमन को लेकर संभाग भर के कार्यकर्ताओं में उत्साह है। श्री सिंह देव ने संभाग के सभी बूथ कार्यकर्ताओं से उपस्थित होने का आग्रह किया है।

  •  

Posted Date : 28-Sep-2018
  • मनेन्द्रगढ़, 28 सितंबर। बीती रात सड़क हादसे में छग सशस्त्र बल के प्लाटून कमांडर अविनाश सिंह चंदेल की  मौत हो गई।
    प्लाटून कमांडर अविनाश सिंह चंदेल जांजगीर-चांपा जिले के रहने वाले थे और मनेंद्रगढ़ इलाके में पदस्थ थे। कल शाम वे निजी कार्य से  शहर की ओर निकले थे। इसी दौरान उन्हें चक्कर आया और  बाइक बेकाबू हो गई और वे गिर पड़े। गिरने से सिर पर गंभीर चोटें आई थीं। स्थानीय लोगों ने अस्पताल पहुंचाया। उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई। 

  •  

Posted Date : 26-Sep-2018
  • सिर्फ नांदगांव से लडूंगा
    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    अम्बिकापुर, 26 सितंबर।  अटल विकास यात्रा में सरगुजा पहुंचे मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह  आज सर्किट हाउस में पत्रकारों से रूबरू हुए। उन्होंने कि बस्तर से सरगुजा तक की यात्रा में अपार जन समुदाय उमड़ रहा है। यह इस बात का प्रतीक है कि 2018 में प्रदेश में और 2019 में केंद्र में भाजपा की सरकार बनेगी। इस यात्रा के माध्यम से सरकार जनता के बीच जाकर उनसे आशीर्वाद ले रही है, और योजनाओं के बारे मे जानकारी दे रही है। पंद्रह बरसों में सरकार ने जो विकास किया है जनता के बीच चिन्हांकित कर रहे हंै। 

    श्री सिंह ने कहाा कि कांग्रेस 50-60 वर्षों में गरीबों के लिए कोई भी योजना नहीं बनाया। भाजपा सरकार के 15 वर्ष में आमूलचूल परिवर्तन हुआ। जनता के बीच जाकर इसका उदाहरण देता हूँ,ये एक गेम चेंजर है। इससे सरकार के प्रति विश्वास बढ़ेगा। धान खरीदी की नई व्यवस्था की जा रही है। पूरे देश मे छत्तीसगढ़ अकेला ऐसा राज्य है जो किसानो को इस वर्ष धान का समर्थन मूल्य प्रति क्विंटल 200 बढ़ा दिया गया है।अब किसानों को धान का बोनस भी प्रति क्विंटल 300 जोड़कर मिलेगा। इसके अलावा तेंदूपत्ता बोनस भी बढ़ा दिया गया है।
    श्री सिंह ने आगे कहा कि कल सरगुजा व अम्बिकापुर के लिये बड़ी सौगातों का क्रियान्वयन हुआ। मेडिकल कालेज, पीएमआवास, सैनिक स्कूल, मातृ शिशु अस्पताल का लोकार्पण, हर घर बिजली देने की योजना सहित कई सौगात दी गई है। 
    पत्रकारों ने मुख्यमंत्री से पूछा कि सरगुजा से आपको कितनी अपेक्षा है, तो मुख्यमंत्री ने कहा कि सरगुजा उनके लिए हमेशा से प्राथमिकता पर रहा है, उन्हें विश्वास है कि इस बार यहां की जनता उन्हें भरपूर सहयोग देगी और विधानसभा व लोकसभा सीटों में भाजपा को जीताएगी। पत्रकारों द्वारा पूछा गया कि वह 2025 को किस रूप में देख रहे हैं? श्री सिंह ने कहा कि 25 में प्रदेश की रजत जयंती होगी। कल्पना है कि जीडीपी दोगुनी हो, शत प्रतिशत बच्चे स्कूल जाएं, सड़क, पुल,रेल, हवाई सेवा का और अधिक विस्तार हो। खरसिया में उमेश और उसकी माँ की गिरफ्तारी के प्रश्न पर डॉ रमन सिंह ने कहा कि कोई राजनैतिक दृष्टि से कार्यक्रम में आएगा तो स्वागत है। पर कोई काला झंडा दिखाने आएगा तो गिरफ्तार होगा। 
    पुलिस कर्मियों की बर्खास्तगी के सवाल पर कहा मैं दिखवाता हूँ। लिपिकों की मांग व आंदोलन के संदर्भ में  कहा कि सचिव स्तर पर चर्चा हो रही है, शीघ्र ही कुछ निर्णय निकलेगा। जोगी कांग्रेस व बसपा के गठबंधन से भाजपा को नुकसान होने के प्रश्न पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इस गठबंधन से भाजपा को कोई नुकसान नहीं होगा।

    आयुष्मान भारत योजना के विरोध पर कहा कि पैकेज को लेकर बात चल रही है शीघ्र ही निराकरण होगा। सरगुजा विश्वविद्यालय का नाम गहिरा गुरु विश्वविद्यालय किए जाने के प्रश्न पर मुख्यमंत्री ने कहा कि कोई राजनीति नहीं है। गहिरा गुरु शराबबंदी व अन्य सेवाओं को लेकर प्रदेश में एक मॉडल के रूप में उनकी पहचान थी,वे एक अच्छे समाजसेवी थे। सूरजपुर के भटगांव विस से चुनाव लडऩे पर उन्होंने कहा कि हर जगह यही पूछा जाता है। मैं सिर्फ राजनांदगांव से चुनाव लडूंगा।

  •  

Posted Date : 21-Sep-2018
  •  छत्तीसगढ़ संवाददाता
    अम्बिकापुर, 21 सितंबर। अंबिकापुर से रामानुजगंज जा रही यात्री बस स्टेयरिंग फेल हो जाने से संजय पार्क के समीप पेड़ से टकरा गई।  फंसे चालक को बड़ी मशक्कत से निकाला जा सका। वहीं सवार दो दर्जन से अधिक यात्री घायल हो गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को  अस्पताल में भर्ती कराया। बस का चालक व एक अन्य युवक गंभीर रूप से घायल है, जिनका उपचार जारी है।       
    आज सुबह छाबड़ा ट्रेव्हल्स की बस रामानुजगंज के लिए निकली थी।   32 सीटर इस बस में 35 यात्री सवार थे। हादसे के बाद  आसपास के लोगों ने  फंसे लोगों को बाहर निकाला और इसकी सूचना पुलिस को दी। बस का सामने का हिस्सा बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया था जिसके कारण बस चालक संजय प्रसाद, कुसमी अपनी सीट में ही फंस गया था, काफी मशक्कत के बाद  उसे बाहर निकाला जा सका।   वहीं सवार राहुल गुप्ता गंभीर रूप से घायल हो गया।  
    यात्रियों के अनुसार दुर्घटनाग्रस्त बस कंडम थी। यात्रियों की जान जोखिम में डाल सड़क पर चल रही थी। इस मार्ग पर इस तरह की कई  बसें  हैं जो जर्जर स्थिति में  दौड़ रही हैं। जिसके कारण आए दिन  स्टेयरिंग फेल व जाम होने के कारण दुर्घटनाएं होती रहती हैं।

     

  •  

Posted Date : 11-Sep-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    अम्बिकापुर, 11 सितंबर। आगामी छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में पहली बार अंबिकापुर विस सीट से   किन्नर मुस्कान निर्दलीय लड़कर अपना भाग्य आजमाएगी। मुस्कान ने इसकी घोषणा आज प्रेस वार्ता के दौरान की। मुस्कान ने कहा कि जनता ने भाजपा-कांग्रेस दोनों को देख लिया है। अंबिकापुर की हालत बहुत खराब है। भ्रष्टाचार का यहां बोल बाला है, सड़कों की स्थिति ऐसी है कि चलना दूभर हो गया है। अंबिकापुर में कुछ भी नहीं हो रहा है इसलिए मैंने अंबिकापुर विधानसभा से चुनाव लडऩे ठानी है। उसने  कहा कि हम निस्वार्थ होते हैं,इसलिए जनता हमें चुनेगी।   
    वार्ता के दौरान रायगढ़ की महापौर मधु किन्नर ने कहा कि रायगढ़ में जनता ने भाजपा-कांग्रेस किसी को न चुनकर मुझे जिताया। रायगढ़ में बहुत अच्छा काम हो रहा है। मधु ने कहा कि मेरी जीत के बाद भाजपा-कांग्रेस के लोग मेरी टांग खींचने में लग गए थे। इसके बावजूद मैंने मंत्रियों से लड़कर रायगढ़ के विकास के लिए फण्ड लाया ,और विकास किया। रायगढ़ में मेरे महापौर बनने के बाद एक भी भ्रष्टाचार नहीं हुआ है। 
    मधु ने कहा कि भारत में जो पढ़े लिखे किन्नर हैं, उन्हें नौकरी मिलनी चाहिए। किन्नर समाज के लोग आगे आएं और विधायक, महापौर, सरपंच सहित अन्य राजनीतिक पदों में अपना भाग्य आजमाएं ।  मुस्कान अंबिकापुर विधानसभा सीट से चुनाव लडऩे तैयार है। भाजपा कांग्रेस को तो आप देख ही चुके हैं। इस बार मुस्कान को जिताएं और विकास करने का मौका दें। 
    वार्ता के दौरान पत्रकारों ने मुस्कान से पूछा कि आपके चुनाव लडऩे के पीछे कोई राजनीतिक पार्टी का हाथ है, जो  वोट काटने  आप को चुनाव लड़वा रहे है?    मुस्कान ने कहा कि वे अपनी मर्जी से चुनाव लड़ रही हैं, किसी भी राजनीतिक पार्टी का हाथ नहीं है,अगर वह जीतती है तो भाजपा या कांग्रेस के साथ नहीं जाएंगी।

     

  •  

Posted Date : 09-Sep-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    अंबिकापुर, 9 सितंबर। । रविवार सुबह अंबिकापुर बिलासपुर मार्ग में शिवनगर के पास सड़क हादसे में दो लोगों की मौत हो गई। वहीं 6 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए जिन्हें इलाज के लिए अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। जानकारी के अनुसार कोरबा जिले के मोरगा से बोलेरो  में 8 लोग सवार होकर उदयपुर विकासखंड अंतर्गत ग्राम बसवार जा रहे थे, तभी शिव नगर के पास वाहन का पिछला चक्का फट गया ओर बोलेरो अनियंत्रित हो कर 20 मीटर तक पलटती रही, जिससे मौके पर ही दो लोगों की मौत हो गई जबकि 6 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए, जिन्हें तारा चौकी पुलिस सहायता केंद्र के पुलिसकर्मियों व स्थानीय लोगों के सहयोग से वाहन से निकालकर निजी कंपनी के वाहन से अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल रेफर किया गया। हादसे में मोरगा निवासी बिकेश अग्रवाल पिता सत्यपाल अग्रवाल व भीमसेंट पिता केंदा उरांव की मौत हुई है।

  •  

Posted Date : 30-Aug-2018
  • अंबिकापुर-रामानुजगंज  हाईवे में  हादसा

    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    अम्बिकापुर, 30 अगस्त। अंबिकापुर-रामानुजगंज नेशनल हाईवे  में आज सुबह बघिमा के पास गया बिहार से अंबिकापुर जा रही यात्री बस खड़ी ट्रक से जा टकराई। टक्कर इतनी तेज थी कि केबिन के परखच्चे उड़ गए और 4 की मौके पर ही  मौत हो गई। हादसे का कारण चालक को झपकी आना बताया जा रहा है। 15 घायलों का इलाज अलग-अलग अस्पतालों में चल रहा है।
    प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार बस तेज रफ्तार में थी  और हादसे के बाद  चालक मौके से फरार हो गया। घटना की सूचना मिलते ही बरियों पुलिस दल बल के साथ मौके पर पहुंची और राहत कार्य में जुट गई। बस-ट्रक के बीच फंसे 2 का शव   क्रेन की मदद से  निकला गय।  2 शव ट्रक के चक्के के नीचे पड़े हुए थे। पुलिस ने सात लोगों को 108 के माध्यम से अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल  भेजा है। 8 लोगों को राजपुर व बरियो स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है। अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती एक यात्री की स्थिति गंभीर बनी हुई है।
     हादसे में मृतकों के नाम औरंगाबाद धनोरा निवासी रजनीकांत शर्मा, नेवरा औरंगाबाद निवासी अभिषेक तिवारी, धनोरा औरंगाबाद निवासी मिथलेश शर्मा, गया बिहार निवासी मोहम्मद कमरुल हसन हैं। 
     घायल ललन सिंह यादव निवासी रोहतास, मोहम्मद शाहिद औरंगाबाद, शिव शंकर कुमार गया ,मनोहर यादव बलरामपुर, महमूद अंसारी गिरीडीह, राजेश यादव लुंड्रा, मनोहर गया बिहार को  अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भेजा गया , जहां महमूद अंसारी की स्थिति गंभीर बनी हुई है। शेष 8 लोगों लोगों का उपचार बोरियों व राजपुर स्वास्थ्य केंद्र में चल रहा है।

  •  

Posted Date : 31-Jul-2018
  •  छत्तीसगढ़ संवाददाता
    अम्बिकापुर/बतौली, 31 जुलाई। बरसात के बाद अम्बिकापुर-पत्थलगांव राष्ट्रीय राजमार्ग 43 पूरी तरह से बदहाल हो गया है। मंगलवार की सुबह बेलकोटा के पास ट्रक के मार्ग में फंस जाने से महाजाम लग गया। पुलिस जाम को हटाने प्रयास करती रही, लेकिन मार्ग में दल-दल व गड्डे के कारण वाहन नहीं निकल सकी। 5 घंटे से जाम के बाद वाहनों को पुलिस द्वारा परिवर्तित मार्ग बरगीडीह, लमगांव, रघुनाथपुर होते हुये अम्बिकापुर की ओर रवाना किया गया। वाहन चालकों को अम्बिकापुर पहुंचने 15-20 किमी का अतिरिक्त सफर करना पड़ रहा है। 
    गौरतलब है कि राष्ट्रीय राजमार्ग के चेंउर नाला शांतिपारा से सुआरपारा तक सड़क में जानलेवा गड्डे और कीचड़ काफी तकलीफदेह साबित हो रही हैं। वाहन फंसने के बाद वाहन स्वामी या गाडिय़ों के सवार लोग धक्के लगाकर या जेसीबी, क्रेन व ट्रेक्टर बुलाकर वाहन निकालने का प्रयास करते है। पिछले वर्ष 2017 में जीवीआर कंट्रक्शन कंपनी द्वारा मिट्टी डालकर नाला से सुआरपारा तक सड़क निर्माण की शुरूआत की गई थी। कंपनी आर्थिक तंगी के कारण काम छोड़ कर भाग खड़ी हुई। 
    30 जनवरी को जीवीआर कंपनी ने अपना काम समेट लिया था और 15 मार्च से पार्थ कंपनी ने कार्य को हैण्ड ओव्हर लेते हुये संधारण और सुधार कार्य प्रारंभ किया। इस बीच 1 फरवरी से आज तक चेउर नाला से सुवारपारा तक के पेच वर्क में कोई भी संधारण या सुधार कार्य नहीं किया गया, जिसके कारण राष्ट्रीय राजमार्ग में अब बड़े-बड़े खतरनाक गड्डे और कीचड से आये दिन लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बारिश के बाद सड़क पर जाम की समस्या अब आम बात हो गई है। प्रतिदिन मार्ग में कोई न कोई वाहन फंस जाते हैं, जिसके कारण घंटो जाम की स्थिति उक्त नेशनल हाईवे में रहती है।  

  •  

Posted Date : 26-Jul-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    रामानुजगंज, 26 जुलाई। अम्बिकापुर से विजयनगर चलने वाली  यात्री बस महावीरगंज के पास उड़ो नदी में जा गिरी। हादसे मेें बस में सवार 6 यात्री घायल हो गए जिनमें से एक की हालत गंभीर है। 
    पुलिस के अनुसार आज सुबह अम्बिकापुर से विजयनगर जा रही यात्री बस अचानक बेकाबू होकर पुल से जा टकराई। उसके बाद नीचे जा गिरी। बस में एक दर्जन यात्री सवार थे। घटना के बाद आसपास मौजूद ग्रामीणों ने  यात्रियों को  बाहर निकाला और  इसकी सूचना विजय नगर पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से बस में फंसे सभी यात्रियों को बाहर निकाला और घायलों को अस्पताल पहुंचाया। रामानुजगंज स्वास्थ्य केंद्र में सभी का इलाज जारी है। अधिकांश घायलों के हाथ-पैर टूटे हैं, इनमें से एक की हालत को देखते हुए अम्बिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेजा गया है। 
    प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार बस  तेज  रफ्तार थी और बारिश के कारण चालक नियंत्रण नहीं रख सका।  अभी भी बस का एक हिस्सा पुल के नीचे जमीन में टिका और दूसरा हिस्सा पुल में फंसा हुआ है। 

  •  

Posted Date : 17-Jul-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    अम्बिकापुर, 17 जुलाई। सरगुजा  के लुंड्रा  विधायक चिंतामणि महाराज ने लवईडीह ग्राम की एक महिला के घुनघुट्टा नदी में डूब जाने व ग्रामीणों के लिए पुल व नाव की मांग को लेकर मंगलवार को लवईडीह घुनघुट्टा नदी में जल सत्याग्रह शुरू कर दिया है। विधायक हर दो घंटे में पांच कदम गहरे पानी की ओर बढ़ रहे हैं। विधायक के जल सत्याग्रह ने प्रशासन को सख्ते में डाल दिया है। मौके पर प्रशासन की टीम विधायक की गतिविधियों पर नजर रखे हुये हैं, वहीं एनडीआरएफ की टीम नदी में डूबी महिला को खोजने के प्रयास में जुटी हुई थी। 
          जानकारी के मुताबिक लवईडीह ग्राम जो दो हिस्सों में बंटा हुआ है। बीच में घुनघुट्टा का डूबान का पानी है, जहां तीस से पच्चास फीट तक की गहराई है। इस पानी के एक ओर करीब तीन सौ लोगों की आबादी है तो दूसरी ओर करीब आठ सौ लोग रहते हैं। 
    ग्रामीणों को एक छोर से दूसरे छोर जाना होता है तो करीब पांच से सात किमी घुमकर उन्हें एक छोर से दूसरे छोर सफर करना पड़ता है। ग्रामीण इस डूबान को टायर ट्यूब से पार करते हैं, और हादसों का शिकार बनते हैं।
    हादसों की बढ़ती संख्या को देखते हुए और लगातार मांग के बाद नाव और बोट की व्यवस्था की गई थी लेकिन मैनपाट कार्निवाल के समय हटा ली गई और फिर शुरु नहीं हुई। इस बीच  लवईडीह ग्राम की एक महिला इस डूबान क्षेत्र को पार करते समय बह गई। उसकी मौत  के अंदेशा को लेकर आक्रोशित हो गए हैं और वे विधायक चिंतामणी महाराज के साथ मांगों को लेकर जल सत्याग्रह शुरू कर दिया। 
    विधायक व ग्रामीणों का कहना है कि जब तक मामले में उचित निर्णय व कार्यवाही नहीं होती वे हर दो घंटे में वे और गहरे पानी की ओर पांच कदम बढ़ते जायेंगे। विधायक चिंतामणी के साथ जनपद सदस्य राकेश गुप्ता व गांव के महिला व पुरूष दोनों जल सत्याग्रह में शामिल हैं।  

  •  

Posted Date : 09-Jul-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    रायपुर, 9 जुलाई। सरकार ने सरगुजा कलेक्टर सुश्री किरण कौशल को यथावत पद पर रखने के लिए केन्द्रीय चुनाव आयोग से अनुमति मांगी है। बताया गया कि सुश्री कौशल पिछले चुनाव में सरगुजा जिला पंचायत सीईओ रह चुकी हैं और आयोग के नए निर्देश के चलते उनकी अन्यत्र पोस्टिंग करनी पड़ सकती है। 
    चुनाव आयोग ने साफ किया है कि पदोन्नत होने से पहले भी यदि कोई अफसर उसी स्थान या जिले में पदस्थ रहा है तो भी उसे हटना होगा। भाप्रसे की अफसर सुश्री किरण कौशल पिछले विधानसभा चुनाव के दौरान सरगुजा में जिला पंचायत के पद पर थीं। साथ ही निर्वाचन कार्य से जुड़ी रही हैं, लेकिन सरगुजा में कलेक्टर पद पर काम करते उन्हें महज डेढ़ साल ही हुए हैं। 
    राज्य सरकार के उच्च पदस्थ सूत्रों के मुताबिक पिछले चुनाव में सुश्री कौशल की जिम्मेदारी अलग थी। ऐसे में उन्हें यथावत पद पर रहने की अनुमति देने के लिए चुनाव आयोग से गुजारिश की गई है। आयोग ने तीन साल एक ही जिले में पदस्थ रहने वाले अथवा पिछले चुनाव में उसी जिले में निर्वाचन कार्य से जुड़े अफसरों को हटाने के निर्देश दिए हैं। इसके लिए 30 अगस्त तक का समय दिया गया है।  
    बताया गया कि आयोग का रूख अभी साफ नहीं हुआ है। यदि आयोग इसकी अनुमति नहीं देता है, तो उन्हें किसी दूसरे जिले में पदस्थ किया जा सकता है। सुश्री किरण कौशल की गिनती काबिल अफसरों में होती है, इसलिए उन्हें दूसरे जिले में कलेक्टर बनाया जा सकता है। ऐसे में दो या तीन जिलों के कलेक्टरों को इधर से उधर किया जा सकता है। 
    दूसरी तरफ, नगरीय प्रशासन सचिव डॉ. रोहित यादव की पोस्टिंग केन्द्रीय मंत्री सुरेश प्रभु के सचिव के रूप में हो गई है। डॉ. यादव भी प्रतिनियुक्ति पर जाने के लिए तैयार हैं। उनकी पत्नी सुश्री रितु सैन छत्तीसगढ़ भवन दिल्ली में आवासीय आयुक्त के पद पर पदस्थ हैं। अभी तक सरकार ने उन्हें रिलीव नहीं किया है। माना जा रहा है कि हफ्तेभर के भीतर उन्हें रिलीव करने पर फैसला हो सकता है। ऐसे में मंत्रालय में सचिवों के प्रभार में भी छोटा सा फेरबदल हो सकता है।

  •  



Previous12Next