छत्तीसगढ़ » सरगुजा

Previous12Next
Date : 25-Jun-2019

त्रिलोक कपूर सरगुजा प्रेस क्लब के कार्यवाहक अध्यक्ष नियुक्त 

अम्बिकापुर, 25 जून। सरगुजा प्रेस क्लब की बैठक मंगलवार को स्थानीय उच्च विश्रामगृह में आयोजित की गई। बैठक में मुख्य रूप से गृह निर्माण मंडल के तहत प्रेस क्लब को आबंटित भूमि का कार्य आगे बढऩे पर चर्चा हुई।इस बैठक में सर्वसम्मति से वरिष्ठ पत्रकार त्रिलोक कपूर कुशवाहा को सरगुजा प्रेस क्लब का कार्यवाहक अध्यक्ष नियुक्त किया गया।इसके अतिरिक्त प्रेस क्लब के लिए आबंटित भवन में प्रेस क्लब संचालित करने का भी निर्णय लिया गया।प्रेस क्लब के सदस्यों व पदाधिकारीयो के निर्वाचन की प्रक्रिया के लिए नए प्रेस क्लब भवन में आगामी बैठक में चर्चा की जाएगी।बैठक में अरुण सिंह,राजेश सराठे,अजय नारायण पांडेय,तरुण अम्बष्ट,मनोज गुप्ता,असीम सेन गुप्ता,अनंगपाल दीक्षित,अमरविजय,प्रणय राज राणा, अविनाश सिंह,भूपेश सिंह,लव कुशवाहा,दीपक कश्यप,दीपक गुप्ता सहित अन्य प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के पत्रकार उपस्थित थे।

 


Date : 25-Jun-2019

अलग-अलग घटनाओं में दो लोगों की जहर सेवन कर लेने से और एक की सर्पदंश से मौत
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अंबिकापुर, 25 जून।
अलग-अलग घटनाओं में दो लोगों की जहर सेवन कर लेने से और एक की सर्पदंश से मंगलवार को मेडिकल कॉलेज अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई।पुलिस ने सभी मामलों में मर्ग कायम कर लिया है।

जानकारी के अनुसार लखनपुर थाना क्षेत्र के ग्राम कुंवरपुर निवासी बुधनी पिता भजन राम उम्र 15 वर्ष कक्षा दसवीं की छात्रा थी।गत शनिवार को वह घर में अकेली थी।उसी दौरान उसने अज्ञात कारणों से जहर सेवन कर लिया।गंभीर स्थिति में उसे मेडिकल कॉलेज अस्पताल आईसीयू में दाखिल किया गया था,जहां मंगलवार की दोपहर उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई

दूसरे मामले में लखनपुर थाना क्षेत्र के ग्राम जूना निवासी शारदा कुमारी पिता सुख साय भुइयां उम्र 18 वर्ष 24 जून की दोपहर 3 बजे घर से पैदल बिना किसी को कुछ बताएं निकली थी।शाम 5 बजे वह घर वापस आई।उस दौरान छोटी बहन ने बताया कि शारदा के पास से जहर की बदबू आ रही है।परिजनों ने जब देखा तो उसने बताया कि मैंने जहर सेवन कर लिया है। आनन-फानन में उसे लखनपुर अस्पताल पर जो लेकर पहुंचे, वहां से उसे मेडिकल कॉलेज अस्पताल रिफर कर दिया गया। बीती रात उसके उपचार के दौरान मौत हो गई।

एक अन्य मामले में बसंतपुर के करमडीहा निवासी चंद्रदेव पति रूपाली राम धोबी उम्र 45 वर्ष गत 20 जून को दोपहर 3 बजे अपने साढू शंकर राम के साथ बगीचे में आम लेने गया था। उसी दौरान सांप के काटने से गंभीर स्थितियों से वाड्रफनगर ले जाया गया, जहां से उसे मेडिकल कॉलेज अस्पताल में दाखिल कराया गया था।आज उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई।

 


Date : 25-Jun-2019

मृतकों में तीन अंबिकापुर के, घायलों में भी सरगुजा के कई , 40 घायलों में 7 नाजुक

छत्तीसगढ़ संवाददाता
अम्बिकापुर, 25 जून।
अंबिकापुर से सासाराम  (झारखंड) जा रही यात्री बस आज तडक़े अंबिकापुर-गढ़वा नेशनल हाईवे 343 पर झारखंड अनराज डेम के पास बेकाबू होकर घाटी में गिर गई।  हादसे में 6  की मौत हो गई है। 40 घायल हो गए जिनमें से सात का हालत नाजुक बताई जा रही है

इनका इलाज गढ़वा के सदर अस्पताल में चल रहा है। मृतकों में तीन अंबिकापुर नगर के महामाया चौक के  गुप्ता व जयसवाल परिवार के हैं। इसके अलावा गंभीर व घायलों में कई सरगुजा संभाग के हैं। 
घटना की सूचना मिलते ही बलरामपुर कलेक्टर संजीव कुमार झा के निर्देश पर प्रशासनिक अमला मौके पर पहुंच राहत कार्य में जुटा हुआ था। एसपी गढ़वा शिवानी तिवारी भी मौके पर पहुंची और लोगों को  उचित उपचार दिलाने व राहत कार्य में जुटी हुई थी।
मृतकों में अंबिकापुर निवासी दंपत्ति लवली गुप्ता और पति  प्रमोद गुप्ता,  तथा  लक्ष्मण जयसवाल आत्मज कलिकाप्रसाद महामाया वार्ड अंबिकापुर की मौत हो गई है,इसके अलावा तीन अन्य मृतक झारखंड के पलामू जिला के रहने वाले हैं। 

बताया जा रहा है कि बस में  लगभग  60 यात्री  सवार थे।  अनराज घाटी बेहद ही खतरनाक है। वहां आए दिन हादसे होते रहते हैं। इसके पूर्व भी वहां कई हादसे हुए हैं और दर्जनों  मौत हुई है। बलरामपुर कलेक्टर संजीव कुमार झा ने बताया कि मृतकों व घायलों की जानकारी के लिए एसडीएम रामानुजगंज अजल लकड़ा मोबाईल नम्बर 9425252314, तहसीलदार रामानुजगंज,भरत कौशिक मोबाईल नम्बर 9179912851,एसडीओपी रामानुजगंज नितेश कुमार गौतम 9479193802, 7974146827 घटना स्थल पर पहुंच गये हैं। घटना के संबंध में जानकारी इन अधिकारियों से प्राप्त की जा सकती है।

 

 


Date : 23-Jun-2019

सालिड एंड वेस्ट मैनेजमेंट को सिंगरौली के अफसरों ने जाना, सेनेटरी पार्क देख कहा काबिले तारीफ

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 23 जून।
शहर के 50 वर्ष पुराने सांडबार बिलासपुर का डंम्पिग यार्ड गंदगी का पर्याय बन चुका था। राजधानी मार्ग होने के कारण प्रदेश के बड़े शहरों से लोगों का आनाजाना होता था जो अंबिकापुर शहर के लिए अच्छा संदेश नहीं दे रहा था। हर शख्स यहां एक वर्ष पूर्व नाक बंद कर आवाजाही करता था।डंपिंग यार्ड से लगी बस्ती में लोग खाना भी मच्छरदानी के अंदर खाया करते थे। नगर निगम अंबिकापुर व जिला प्रशासन की मेहनत और जनता के सहयोग से आज 50 वर्ष की नकारात्मकता दूर कर अंबिकापुर का सेनेटरी पार्क हिन्दुस्तान का स्वच्छता के लिए सकारात्मकता का प्रतीक बन गया है। 
रविवार को नगर निगम सिंगरौली से स्वच्छता कोऑर्डिनेटर अमित कुमार सिंह, स्वच्छता नोडल अधिकारी संतोष पांडेय, स्वच्छता निरीक्षक संतोष तिवारी, जितेंद्र सिंह, एमएसडब्ल्यू के प्लांट प्रोजेक्ट हेड राघवेंद्र सिंह और आईसीसी के आशीष शुक्ला अंबिकापुर के स्वच्छता मॉडल को जानने पहुंचे थे। नगर निगम आयुक्त मनोज सिंह सहित स्वच्छता अधिकारी अवधेश पांडे के साथ मिलकर सिंगरौली नगर निगम की टीम ने सेनेटरी पार्क को जब देखा और उसके बारे में जानकारी ली तो हैरान रह गए। सिंगरौली के अधिकारियों ने कहा की स्वच्छता को लेकर अंबिकापुर में विकसित किया गया मॉडल काबिले तारीफ है।

अधिकारियों ने कहा सिंगरौली में भी करेंगे लागू
अंबिकापुर में सॉलिड एंड लिक्विड वेस्ट मैनेंजमेंट को देखने मैसूर, सूरत, हैदराबाद, नवी मुंबई, राजकोट, मोहाली, चंडीगढ़, रांची, कोयंबटूर जैसे चर्चित व सुंदर शहरों के प्रतिनिधि आ चुके हैं सॉलिड एंड लिक्विड वेस्ट मैनेंजमेंट को देखने के बाद अंबिकापुर के 50 वर्ष पुराने डंम्पिग यार्ड की बदली सूरत और सेनेटरी पार्क के विकसित रूप को देख दंग रह गए। हर किसी ने सेनेटरी पार्क को देख जमकर तारीफ की थी और अपने शहर को भी इसी तर्ज पर विकसित करने का संकल्प लिया है। सिंगरौली के अधिकारियों ने भी कहा कि अंबिकापुर में हमारी सोच से ज्यादा काम हुए हैं। सिंगरौली नगर निगम में भी यहां की तर्ज पर काम किए जाने हमारी कोशिश रहेगी।

 


Date : 23-Jun-2019

कनहर नदी में पानी पहुंचा, लोगों ने ली राहत की सांस

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
रामानुजगंज, 23 जून
। सरहदी क्षेत्रों की जीवनदायिनी माने जाने वाली कन्हर नदी में 2 माह बाद आज रात 2 बजे के करीब पानी आया। कल तक पूर्णत: सूखी नदी में अचानक दोनों किनारा भर गया एवं एनीकट के ऊपर से पानी जाने लगा।कन्हर नदी में पानी देखने के लिए नगरवासियों की सुबह से ही भीड़ उमड़ पड़ी।कन्हर में पानी आने से नगर वासियों ने राहत की  सांस ली। गौरतलब है  कि नगर की जल प्रदाय व्यवस्था पूर्णत: कन्हर नदी पर आश्रित है।ऐसे में विगत 2 माह से पूर्णत: कन्हर नदी के सूख जाने से नगर में नगर पंचायत को नियमित पेयजल आपूर्ति करने में काफी मशक्कत करना पड़ रहा था।कल तक पर पानी नहीं आने से पूरे नगरवासी चिंतित थे इस बीच आज रात 2 बजे के करीब पूर्णत: सूखी नदी में दोनों किनारा लबालब पानी से हो गया। कुसमी एवं जशपुर क्षेत्र में हुई मूसलाधार बारिश के बाद कन्हर नदी में पानी लबालब भर पाया।कन्हर नदी में पानी आने से नगर वासियों में खुशी की लहर है वहीं अब नगर में जल समस्या से मुक्ति मिलेगी।

 


Date : 23-Jun-2019

जनजागृति सेवा समिति का वार्षिक उत्सव 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 23 जून।
छत्तीसगढ़ जन जागृति सेवा समिति के दो वर्ष सफलता पूर्वक पूर्ण होने पर अनाथ बच्चों के आश्रम में बैठक एवं वार्षिक उत्सव का आयोजन किया गया है।मुख्य अतिथि कवि एवं रचनाकार रंजीत साराथी एवं समिति के प्रदेशाध्यक्ष प्रभा,आनंद सिंह यादव तथा विशिष्ट अतिथि कवि राजनारायण दिवेदी, मुकूंद लाल साहू, श्रीमती पूर्णिमा पटेल,अध्यक्ष सीतापुर संतोष त्रीपाठी को मंच पर सर्व प्रथम सभी अतिथियों को स्वामी विवेकानंद जी की जीवनी पर आधारित पुस्तीका, डायरी, पेन देकर उनका स्वागत एवं सम्मानीत किया गया।

 इसके उपरांत सर्व प्रथम अनाथ आश्रम में निवासरत बच्चों द्वारा संगीत, कविता, नृत्य, रचना सुनाया गया। इस अवसर पर समिति की ओर से निवासरत 80 बच्चों को मुख्य अतिथियों द्वारा स्वामी विवेकानंद की वाणी पुस्तक, कॉपी, पेन, पेन्शील, रबर, कटर, भेंट स्वरूप देकर सम्मानित किया गया। बच्चों को प्रदेशाध्यक्ष प्रभा द्वारा अपने हाथों से खाना खिलाया गया।।इस के उपरांत मुख्य अतिथियों द्वारा अपनी प्रतिनिधि रचनाएं, कविता व संगीत बच्चों को सुनाकर सभी को योग दिवस की बधाई एवं शुभकामनाएं दी गई।

योग एवं शिक्षा पर भी सभी ने प्रकाश डाला। अंत में समिति के प्रदेशाध्यक्ष प्रभा आनंद सिंह यादव ने अपने उद्बोधन में कहा की आज इन बच्चों से मिलकर बहुत ही अच्छा लग रहा है। इस अनाथ आश्रम के अधीक्षीका एवं शिक्षकों द्वारा इन बच्चों को जो संस्कार व शिक्षा दिया गया है वह बहुत ही साराहनीय कार्य है। इन बच्चों के लिए शासन द्वारा अच्छी शिक्षा एवं दीक्षा व कौशल विकास, संगीत, साहित्य, कला, खेल, आदि की ओर विशेष ध्यान देना चाहिए।सभी बच्चों को कहा गया कि आज अतंरराष्ट्रीय योग दिवस पर हम सभी को संकल्प लेना चाहिए की प्रतिदिन अपने स्वास्थ्य को ठीक रखने के लिए 30 मिनट का योग एवं व्ययाम अनिवार्य रूप से करना चाहिए। 

 


Date : 23-Jun-2019

उजाला एलईडी बल्ब वितरण योजना के तहत बल्ब बेचने वाले गायब, उपभोक्ता फ्यूज बल्ब लेकर लगा रहे कार्यालय का चक्कर

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
रामानुजगंज, 23 जून।
बलरामपुर-रामानुजगंज जिले में उजाला एलईडी बल्ब वितरण योजना के तहत जिले के 68 हजार एलईडी बल्ब उपभोक्ताओं ने 70 रुपए प्रति एलईडी बल्ब जो 9 वॉट , फिलिप्स कंपनी का था खरीदा था। जिले भर में एलईडी बल्ब की बिक्री जिले के समस्त विद्युत विभाग के कनिष्ठ अभियंता कार्यालय से हुई थी जिसकी 3 साल की गारंटी थी। परंतु एलईडी के निर्धारित टारगेट के बिक्री के बाद विक्रय करने वाले गायब हो गए। हजारों उपभोक्ता के एलईडी फ्यूज हो गए अब वे बदलने के लिए अपने को ठगा महसूस कर रहे हैं। जिले के 68 हजार  एलइडी बल्ब लेने वाले उपभोक्ताओं के साथ बड़ा धोखा हुआ।                                                                           

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ शासन के द्वारा बिजली की कम खपत को प्रोत्साहित करने के लिए एलईडी बल्ब मार्केट रेट से कम में उपभोक्ताओं को 9 वाट का एलईडी बल्ब 70 रूपए में उपलब्ध कराया गया एवं इसकी 3 साल की गारंटी दी गई थी।बलरामपुर रामानुजगंज जिले में 2016 से अगस्त 2018 तक एलईडी बल्ब का बिक्री किया गया जहां 68 हजार एलईडी बल्ब की बिक्री हुई निर्धारित टारगेट पूरा करने के बाद जब बदलने की बारी आई तब जिले के विद्युत विभाग के समस्त कनिष्ठ अभियंता कार्यालयों से जहां से एलईडी बल्ब की बिक्री हुई थी वहां से विक्रय करने वाले गायब हो गए।हजारों की संख्या में उपभोक्ताओं के एलईडी बल्ब फ्यूज हो गए हैं अब वे बदलने के लिए भटक रहे हैं।                                                          बाजार से लेते तो ऐसी स्थिति निर्मित नहीं होती

अब उपभोक्ता जिनके एलईडी बल्ब फ्यूज हो गए हैं वह कहने लगे हैं कि बाजार से ही लेते तो ज्यादा ठीक रहता कम से कम बदल तो देते। हम एलईडी बल्ब फ्यूज होने के बाद भी नहीं बदल पा रहे हैं इस प्रकार तो यह बाजार से भी काफी महंगा पड़ गया।

चक्कर काटने को मजबूर है उपभोक्ता
जिले के समस्त कनिष्ठ अभियंता कार्यालयों में ऐसा कोई दिन नहीं रहता होगा कि कोई न कोई एक उपभोक्ता अपना फ्यूज एलईडी बल्ब लेकर नहीं पहुंचता होगा। परंतु उसे निराशा हाथ लगती है जब उसे पता चलता है कि एलईडी बल्ब बदलने वाले बहुत पहले से यहां अपना बोरिया बिस्तर समेट चुके हैं।                                                                                

3 साल की गारंटी,3 माह भी नहीं मिली ग्राहकों को सेवा
जिले में एलईडी बल्ब की बिक्री अगस्त 2018 तक हुई परंतु एलइडी बल्ब के निर्धारित टारगेट के बिक्री के बाद 3 माह भी ग्राहकों को सेवा नहीं मिली।अब ग्राहक अपने आप को ठगा महसूस कर रहे हैं ।  


Date : 23-Jun-2019

संजीवनी एक्सप्रेस खुद खोज रही संजीवनी, हालत जर्जर

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
लखनपुर, 23 जून।
लखनपुर विकासखण्ड अंतर्गत एक बड़े स्वास्थ्य केंद्र के रूप में जाना जाने वाला सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र इन दिनों संजीवनी एक्सप्रेस वाहन के जर्जर हालत को लेकर काफी चर्चा का विषय बना हुआ है। आजकल संजीवनी एक्सप्रेस अपने उद्धार के लिए संजीवनी मांगती नजर आ रही है।  

108 के कर्मचारियों से बात करने पर उन्होंने बताया कि वाहन की हालत काफी खराब है जिससे मरीजो को लाने ले जाने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। हमेशा ही वाहन के कहीं भी अटक जाने का खतरा बना रहता है।संजीवनी एक्सप्रेस के खराब हालात में होने से विकासखंड के अंतर्गत विभिन्न जगहों से आने वाले मरीजो को भी निजी वाहनों का सहारा लेना पड़ता है, जहां मरीजो के परिजनों की मोटी राशि इसके पीछे खर्च हो जाती है।लखनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में संजीवनी एक्सप्रेस साहित कई ऐसे वाहन हैं जहां वाहनों के रखरखाव नही होने से जर्जर हालत में पहुच चुके है और इन वाहनों को जैसे तैसे घसीट कर चलाया जा रहा है।ऐसे में अगर कहीं इन वाहनों को लंबी दूरी तय करनी हो तो ये वाहन जवाब दे देते हैं जिसके बाद अस्पताल प्रशासन भी अपने हाथ खड़े कर देता है।

किसी भी जरूरतमंद के लिए ये वाहन एक जरिया हैं जिससे उचित चिकित्सा सुविधा मुहैया होती है अगर ये जीवन रक्षक वाहन ही ऐसे हालात में होंगे जिसमें इनका उपयोग न हो सके तो फिर कई सारी जिंदगियों को समय पर चिकित्सा दे बचाने में चिकित्सक भी असफल रह जाएंगे। इन वाहनों के रखरखाव का ध्यान रखा जाए ताकि किसी भी परिस्थिति में लोगो को चिकित्सा प्रदाय करने में कोई परेशानी का सामना न करना पड़े।नगरवासियों सहित संजीवनी एक्सप्रेस के कर्मचारियों ने इस सबंध में जल्द से जल्द व्यवस्था सुधार की मांग करते हुए शासन प्रशासन का ध्यानाकर्षण कराया है ताकि इन वाहनों का रखरखाव सही ढंग से हो सके और लोगो को उचित समय पर चिकित्सा वाहनों की सुविधा प्राप्त हो सके।

 


Date : 22-Jun-2019

सरगुजा में मानसून की दस्तक, कई जगहों पर जोरदार बारिश

झड़ी से किसानों के चेहरे खिले,गर्मी से अब लोगों को राहत

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 22 जून।
 सरगुजा में 6 दिन विलंब के बाद आखिरकार मानसून ने दस्तक दे दी है।सरगुजा के कई क्षेत्रों में जोरदार बारिश हुई है जिससे किसानों के लिए काफी राहत की बात है।काले बादल के साथ क्षेत्र में शनिवार की सुबह से मूसलाधार बारिश शुरू हो गई जो पूरे दिन गिरती रही।बारिश से किसानों के चेहरे पर मुस्कान लौट आई है। पिछले कुछ दिनों से चिलचिलाती धूप व भीषण गर्मी से परेशान किसानों को खेती के लिए मानसून का काफी इंतजार था।लगातार वर्षा ने किसानों के खेतों में पानी भर दिया है। जिससे किसान अपने खेतों में काम पर लग गए हैं।आज सुबह से ही बारिश की झड़ी से शहर सहित पूरा जिला तरबतर हो गया। बारिश का दौर दिनभर जारी रहा, जिसके चलते आषाढ़ की शुरुआत में ही सावन सी झड़ी लगी दिखाई दी। कभी तेज तो कभी रिमझिम बारिश से तापमान में भी गिरावट आई, जिससे गर्मी काफूर हो गई। 
शुक्रवार की शाम से ही सरगुजा में घने बादल आसमान में छा गए थे।गत रात को हल्की फुल्की बारिश हुई लेकिन आज सुबह से ही सरगुजा में बारिश होना शुरू हो गया।सुबह से लेकर देर शाम तक बारिश का दौर जारी था।दिनभर बारिश होने की वजह से तापमान में भी काफी गिरावट हुई। 4 दिन पहले जहां सरगुजा का तापमान 40 डिग्री पर था।बारिश की वजह से शनिवार को सरगुजा संभाग के अंबिकापुर मुख्यालय में अधिकतम तापमान 30 डिग्री व न्यूनतम 22 डिग्री के आसपास रहा।मौसम विज्ञानी अक्षय मोहन भट्ट के अनुसार बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बनने से उसका प्रभाव पूर्वी छत्तीसगढ़ में भी बना हुआ है। छत्तीसगढ़ में मानसून तो पहुंच चुका है परंतु शनिवार की रात तक मानसून कोरिया के इलाके से होते हुए एमपी और यूपी तक बढ़ जाएगा।यूं तो तीन-चार दिन से मौसम बदला हुआ था, लेकिन शनिवार की सुबह से ऐसी बारिश शुरू हुई जो दिनभर जारी रही।मौसम विभाग के अनुसार हालांकि अभी ये मानसून की बारिश नहीं है, लेकिन आषाढ़ की शुरुआत में ही इस बारिश ने जनमानस को तरबतर कर दिया।मौसम विज्ञान का यह भी कहना है कि यह मानसून का आगाज है।माना जा रहा है पूरे दिन बारिश की झड़ी के चलते भीषण गर्मी के साथ ही उमस भरी गर्मी से न केवल लोगों को निजात मिली, बल्कि मौसम भी खुशनुमा हो गया।शहर के अलावा अंचल में भी झमाझम बारिश ने लोगों के चेहरों पर चमक ला दी। 


Date : 22-Jun-2019

लखनपुर साक्षरता मिनी स्टेडियम में विश्व योग दिवस का आयोजन

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
लखनपुर, 22 जून।
साक्षरता मिनी स्टेडियम में विश्व योग दिवस का आयोजन शुक्रवार सुबह 7 बजे पतंजलि योगपीठ एवं अधिकारियो और गणमान्य नागरिक के द्वारा किया गया।योग से शरीर का विकास होता है और मन प्रबल होता है। योग न केवल व्यक्ति को स्वस्थ व निरोगी बनाता है बल्कि उसे अनुशाषित करता है।नियमित योग से तन मन को भी स्वस्थ रखा जा सकता है, योग भारतीय संस्कृति की अनमोल विरासत है इसके माध्यम से हम स्वस्थ जीवनशैली अपनाते हुए बीमारियों से बच सकते है।हर व्यक्ति चुस्त दुरुस्त रहने के लिए प्रतिदिन योगाभ्यास करे।यह सब बातें आये अधिकारी और योगपीठ के द्वारा कही गयी। इस दौरान वहां उपस्थित पतंजलि योगपीठ जिला प्रभारी अजय गुप्ता, लखनपुर विकासखंड शिक्षा अधिकारी सूरज प्रताप सिंह, नगर पंचायत सी एम ओ दीपक एक्का, जनपद अनिल वर्मा, शिक्षक शशिधर पांडेय, पतंजलि योगपीठ लखनपुर प्रभारी प्रदीप गुप्ता, गुपुत गुप्ता, कमला जायसवाल, चक्रधर पटेल, अनिमेष सहित सैकड़ों की संख्या में महिला पुरूष और छोटे बच्चे उपस्थित रहे।


Date : 22-Jun-2019

जनता से की जा रही वादाखिलाफी व फैल रहे अराजकता के विरोध में भाजपा का एक दिवसीय धरना प्रदर्शन

छत्तीसगढ़ संवाददाता,
अम्बिकापुर, 22 जून।
प्रदेश की कांग्रेस सरकार द्वारा जनता से की जा रही वादाखिलाफी व फैल रहे अराजकता के विरोध में सरगुजा भाजपा द्वारा शनिवार को नगर के गांधी चौक स्थित डाटा सेंटर के सामने एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया गया।धरना में प्रमुख रूप से रामप्रताप सिंह,अनुराग सिंह देव,अखिलेश सोनी जी सहित सैकड़ों पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

धरना प्रदर्शन में भाजपा के वरिष्ठ पदाधिकारियों ने आरोप लगाया कि वर्तमान कांग्रेस सरकार के 6 महीनो के कार्यकाल मे पुरे प्रदेश की बिजली व्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है।किसानो को मिलने वाले खाद-बीज में भ्रष्टाचार की जा रही है।स्वास्थ सुविधा सहित अनुभवहीन शासन प्रणाली के कारण प्रदेश की जनता त्राहि-त्राहि कर रही है।जनता की आवाज सरकार तक पंहुचाने के लिए प्रदेश संगठन के निर्देश पर भाजपा जिला सरगुजा द्वारा जिला स्तरीय एक दिवसीय धरना-प्रदर्शन किया गया। 


Date : 21-Jun-2019

पानी की खपत के हिसाब से देना होगा बिल, हर नल कनेक्शन में लगेंगे मीटर-निगम अधिकारी
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अंबिकापुर, 21 जून।
बहुत जल्द शहर के सभी नल कनेक्शन में पानी मीटर लगेंगे। ताकि लोगों को 24 घंटे पानी मिल सके।नल की पाइप में पानी 24 घंटे रहेगा जिसको जब पानी की जरूरत होगी वो नल चालू करके उपयोग कर सकता है,इसके बदले में निर्धारित शुल्क लगेगा जो निगम ने अभी तय नहीं किया है।इसका निर्धारण जल्द हो जाएगा।निगम अधिकारियों के अनुसार अमृत मिशन का काम खत्म होते ही मीटर लगाने का काम शुरू कर दिया जाएगा।

निगम का दावा है कि आपके घर के नल में 24 घंटे पानी रहेगा।जरूरत के हिसाब से पानी खपत कर सकते हैं उतना का ही बिल आएगा।अफसरों का कहना है कि इससे पानी की बर्बादी नहीं होगी।जल टैक्स वसूल नहीं हो पाता है।इससे पानी चोरी भी पकड़ी जाएगी।अभी निगम को लक्ष्य के मुताबिक पानी का कर नहीं मिलता।आधे से कम की वसूली होती है। इसलिए निगम की यह योजना फायदेमंद हो सकती है। 

हर घर पानी पहुंचाने के उद्देश्य से शुरू हुई योजना 
इस योजना को हर घर पानी पहुंचाने की नियत से शुरू की गई है।मेयर डॉक्टर अजय तिर्की कहते हैं, योजना के माध्यम से हर घर तक पानी पहुंचाएंगे।दिसंबर तक यह प्रोजेक्ट पूरा करने का लक्ष्य है फिलहाल 90 किलोमीटर तक का काम अमृत मिशन के तहत हो चुका है।

शहर के प्रति व्यक्ति को 156 लीटर पानी देने की योजना 
निगम के अफसरों की माने तो शहर में जितनी आबादी है उनमें सामान्य नल कनेक्शन 9881 और भागीरथी योजना के अंतर्गत 7500 घरों को निगम पानी सप्लाई कर रहा है।अमृत मिशन प्रोजेक्ट के पूरा होने के बाद नलों में मीटर लगाकर प्रति व्यक्ति हर रोज 156 लीटर के हिसाब से पानी दिया जाएगा उसके बाद ज्यादा खपत पर अतिरिक्त शुल्क लगेगा जिसका निर्धारण अभी नहीं किया गया है। 

पकड़ी जाएगी अवैध नल कनेक्शन की चोरी-
जल शाखा प्रभारी हेमंत सिन्हा ने कहा कि फिलहाल शहर में कई नल कनेक्शन अवैध रूप से संचालित हो रहे हैं।अमृत मिशन में कनेक्शन शिफ्टिंग के दौरान यह सभी अवैध कनेक्शन सामने आ जाएंगे।

 


Date : 21-Jun-2019

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर जिला स्तरीय योग कार्यक्रम 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 21 जून।
पंचम अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर आज सरगुजा जिला मुख्यालय अम्बिकापुर में वरिष्ठ जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों एवं कर्मचारियों, पंतजली योग पीठ एवं आर्ट ऑफ लिविंग के योगाचार्यां तथा 22 संस्थाओं के प्रतिभागियों की उपस्थिति में जिला स्तरीय योग कार्यक्रम सम्पन्न हुआ।कार्यक्रम में सीतापुर विधायक अमरजीत भगत, जिला पंचायत सदस्य राकेश गुप्ता, श्रीमती सरीता सिंह, विधायक प्रतिनिधी, बालकृष्ण पाठक सहित अन्य जनप्रतिनिधी सरगुजा संभाग के कमिश्नर श्री ऐ.के.टोप्पो, कलेक्टर डॉ. सारांश मित्तर, पुलिस अधिक्षक आशुतोष सिंह, अपर कलेक्टर निर्मल तिग्गा अतिरिक्त पुलिस अधिक्षक ओम चंदेल, अनुविभागीय राज्यस्व अधिकारी श्री अजय त्रिपाठी, जिला शिक्षा अधिकारी संजय गुप्ता, जिला परियोजना गिरीश गुप्ता सहित अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी तथा बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएं और अन्य प्रतिभागी उपस्थित हुये। 

इस योग कार्यक्रम में विकासखण्ड एवं जिला स्तर पर कुल 2 लाख 33 हजार 542 प्रतिभागी शामिल हुये। योग कार्यक्रम का आयोजन केन्द्रीय जेल, रेल्वे स्टैण्ड एवं बस स्टैण्ड आदि स्थानों पर किया गया।सभी स्थानों पर आयोजित योग कार्यक्रमों में लोग उत्साह पूर्व शामिल हुये।योग कार्यक्रम के दौरान नेहरू युवा केन्द्र द्वारा स्वच्छ भारत मिशन इन्टर्नशीप के तहत ग्रामीण युवा मण्डल को 30 हजार रूपये का प्रथम पुरस्कार, नयी सोच युवा मण्डल को 20 हजार रूपये का द्वितीय पुरस्कार तथा, श्री सुभम अग्रवाल को 10 हजार रूपये का नगद पुरस्कार एवं प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया।


Date : 21-Jun-2019

सिटी स्कैन मशीन के लिए चाहिए दो रेडियोलॉजिस्ट, डीएमई से चल रही प्रबंधन की चर्चा
मशीन हो गई स्टाल,लर्निंग लाइसेंस भी मिला-कंपनी
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अंबिकापुर, 21 जून।
मेडिकल कॉलेज अस्पताल में सीटी स्कैन मशीन का स्थापित करने का काम लगभग पूरा हो चुका है।विप्रो कंपनी के अनुसार मशीन पूरी तरह से स्टाल हो चुकी है, परंतु कॉलेज के डीन ने रायपुर से प्रशिक्षित लोगों को लाकर चेक करने की बात कही है।दूसरी तरफ सीटी स्कैन की रिपोर्ट के लिए दो रेडियोलॉजिस्ट की आवश्यकता को देखते हुए डीएमई से चर्चा की जा रही है।

अस्पताल में पूर्व में स्थापित सीटी स्कैन मशीन की रिपोर्ट मुंबई नानावटी अस्पताल से आती थी।इससे प्रत्येक मरीज 200 रुपए रिपोर्ट के लिए प्रबंधन को वहां देना पड़ता था।इसे लेकर अब यही रेडियोलॉजिस्ट की नियुक्ति किए जाने की बात सामने आ रही है। मेडिकल कॉलेज अस्पताल में वर्तमान की बात करें तो मात्र एक रेडियोलॉजिस्ट डॉक्टर सरिता सिंह है, जो सोनोग्राफी और एक्सरे का काम देखती है।मात्र एक रेडियोलॉजिस्ट होने की वजह से सीटी स्कैन की रिपोर्ट संबंधी कार्य मे काफी दिक्कत होना तय है।सीटी स्कैन के लिए दो रेडियोलॉजिस्ट नियुक्त करने को लेकर मेडिकल कॉलेज डीन द्वारा डीएमई से चर्चा की गई है। दूसरी ओर मशीन से निकलने वाले विकरण संबंधी लाइसेंस की प्रक्रिया भी कर दी गई है।मुंबई से फिलहाल मशीन को संचालित करने लर्निंग लाइसेंस जारी कर दिया गया है।

सड़क की जगह अब बनेगा गार्डन
नवीन ऑपरेशन थिएटर के सामने भविष्य में मरीजों को लाने ले जाने की दिक्कत को देखते हुए ऑपरेशन थिएटर के पीछे से सड़क बनाने की बात पूर्व में प्रबंधन ने कही थी, परंतु सिटी स्कैन मशीन कक्ष के बाहर लगातार हो रही चोरी को देखते हुए अब उसके बगल से निकलने वाले रास्ते मे सड़क ना बनाकर वहां गार्डन बनाने की बात अधीक्षक ने कही है।अधीक्षक ने कहा कि वह गार्डन बना देने से सीटी स्कैन में मरीज लेकर पहुंचे परिजन गार्डन में आराम कर सकेंगे।इस व्यवस्था को बनाने शुक्रवार को डीन विष्णु दत्त और अस्पताल अधीक्षक डॉक्टर आरके दास ने स्थिति का जायजा लिया।

 


Date : 21-Jun-2019

बिजली बिल में अनियमितता, उपभोक्ताओं ने उच्चाधिकारियों के पास की शिकायत 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
लखनपुर, 21 जून।
लखनपुर विकासखंड अंतर्गत विभिन्न कई ग्राम पंचायतों में इन दिनों बिजली बिल संबंधी समस्या से लोगों को काफी परेशानी हो रही है। लखनपुर क्षेत्र अंतर्गत आने वाले ग्राम पंचायत लैंगा,सरनापारा निवासी वंश राम एवं बृजलाल के नाम से दो-दो बिजली बिल आने पर अब दोनों ही बिजली उपभोक्ता उच्चाधिकारियों के दरवाजे पे चक्कर लगाने मजबूर हैं।

ग्राम लैंगा निवासी वंश राम ने बताया कि लगभग तीन महीने से फर्जी रूप से मेरे तथा ग्राम के ही बृजलाल के नाम से दो बिजली बिल आया है और बिजली बिल की वसूली की जा रही है। बिजली बिल के भुगतान के रूप में अब तक हमारे द्वारा करीब तीन हजार रुपये तक का बिजली बिल   विभाग को दिया जा चुका है। हमारे नाम से ही खासपारा ग्राम पोतका के स्थान के नाम पर बिजली बिल दिया जाकर राशि वसूल की जा रही है। 

इस संबंध में अब तक इन बिजली उपभोक्ताओं ने उच्चाधिकारियों के पास भी शिकायत की तथा आर्थिक स्थिति को देखते हुए बिजली बिल माफी की बात कही जिस पर उच्चधिकारियों ने उस स्थान का हवाला देते हुए यह कहकर मामले को टाल देना चाहा कि जहां बिजली बिल का भुगतान किया है वहां जाकर बिजली बिल माफ़ करा लीजिये।  बाद इसके अब ये उपभोक्ता बिजली विभाग के कार्यालय का चक्कर लगाते नजर आ रहे हैं। 


Date : 21-Jun-2019

कलेक्टर ने तालाब सौंदर्यीकरण का निरीक्षण कर मिट्टी निकालने के कार्य में तेजी लाकर बारिश से पहले पूर्ण करने के निर्देश दिए

लखनपुर, 21 जून। कलेक्टर डॉ सारांश मित्तर ने गत दिवस लखनपुर नगर पंचायत अन्तर्गत चल रहे तालाब सौंदर्यीकरण कार्य का निरीक्षण कर मिट्टी निकालने के कार्य में तेजी लाकर बारिश से पहले पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि तालाब के किनारे इंटरलॉकिंग लगवाये ताकि बारिश में सड़क से बहकर पानी सीधे तालाब में जमा हो।   कलेक्टर ने नगर के देवतालाब एवं टेटेंगा तालाब सौंदर्यीकरण कार्य का निरीक्षण के दौरान  मुख्य  तालाब से निकाले जा रहे मिट्टी के उपयोग,मिट्टी डम्प करने के स्थान आदि के संबंध में मुख्य नगर पालिका अधिकारी से पूछताछ की। उन्होंने तालाबों के सौंदर्यीकरण के लिए अधोसंरचना मद से प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि तालाबों के आसपास के खाली जमीन में गार्डन विकसित करने हेतु कार्ययोजना भी तैयार करें। गार्डन बनने से एक ओर जहां तालाब के सुंदरता बढ़ेगी वहीं खाली जमीन पर अतिक्रमण पर रोक भी लगेगी।  मुख्य नगर पालिका अधिकारी दीपक एक्का ने बताया कि नगर के 14 तालाबों के सौंदर्यीकरण का काम चल रहा है। तालाबों से निकलने वाली मिट्टी को किसानों के मांग के अनुसार उनके खेतो में पहुँचाई जा रही है। इसके साथ ही आसपास के गड्ढों में भी डाला जा रहा है। उन्होंने बताया कि तालाब सौंदर्यीकरण में जनप्रतिनिधियों एवं नागरिकों का पूरा सहयोग मिल रहा है।

इस मौके पर अपर कलेक्टर कुलदीप शर्मा,अनुविभागीय दण्डाधिकारी अजय त्रिपाठी,नगर पंचायत अध्यक्ष राजेश अग्रवाल सहित अन्य जनप्रतिनिधी एवं अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद थे।

 


Date : 21-Jun-2019

शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन में पारदर्शिता लाने सुशासन पर एक दिवसीय राज्य स्तरीय प्रशिक्षण आयोजित
अम्बिकापुर, 21जून
। शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन में पारदर्शिता लाने तथा जवाबदेही तय करने के लिए सुव्यवस्थित दस्तावेजीकरण किया जाएगा। राज्य शासन की इस पहल को अमलीजामा पहनाने के लिए यहां जिला पंचायत सभाकक्ष में सुशासन पर एक दिवसीय राज्य स्तरीय प्रशिक्षण आयोजित किया गया। प्रशिक्षण में महात्मा गांधी नरेगा के प्रचार-प्रसार अधिकारी एवं कुशल प्रशिक्षक संदीप सिंह चौधरी ने महात्मागांधी राष्ट्रीय रोजगार गारण्टी अधिनियम के तहत संचालित विभिन्न कार्यक्रमों के सुचारू क्रियान्वयन के संबंध में सुशासन पर प्रशिक्षण दिया। 

प्रशिक्षण में बताया गया कि महात्मा गांधी नरेगा के तहत क्रियान्वित प्रत्येक कार्य के लिए एक वर्क फाईल तैयार कर उसमें निर्माण कार्य संबंधित सभी आवष्यक अभिलेखों एवं दस्तावेजों का क्रमानुसार संधारण करना आवश्यक है। इस संबंध में वर्क फाईल के रखरखाव एवं दस्तावेजों के संधारण में एकरूपता लाने के उद्देश्य से भारत सरकार द्वारा एक सांकेतिक फ्रेम वर्क जारी किया गया है। 

प्रशिक्षण के प्रथम सत्र में वर्क फाईल के दस्तावेजों की मानक सूची वर्क फाईल के दस्तावेजों के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई।  संदीप सिंह चौधरी ने बताया कि वर्क फाईल संधारण के लिए राज्य स्तर पर तय किये गये मानक के अनुरूप फाईलों के रंग निर्धारित किये गये है। प्रशिक्षण के द्वितीय सत्र में सूचना संचार के माध्यम से नागरिक सूचना पटल के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। 

प्रशिक्षण में बताया गया कि मनरेगा के अंतर्गत संचालित कार्यक्रमों के लिए ग्राम पंचायत स्तर पर सात प्रकार के रजिस्टर संधारित किये जाते हैं। रजिस्टर क्रमांक एक में जाब कार्ड आवेदन, जॉब कार्ड पंजीकरण जॉब कार्ड निर्गत तथा रोजगार संबंधी रिपोर्ट, रजिस्टर क्रमांक दो में ग्रामसभा की बैठक,कार्यवाही विवरण,संकल्प और कार्यों की प्राथमिकता सूची,विषेष समाजिक अंकेक्षण ग्राम सभा की बैठक एवं पालन प्रतिवेदन,रजिस्टर क्रमांक 3 में कार्यों का आबंटन एवं मजदूरी का भूगतान, रजिस्टर क्रमांक चार में कार्य का विस्तृत विवरण,रजिस्टर क्रमांक 5 में स्थाई संपत्ति का विवरण,रजिस्टर क्रमांक छ: में शिकायत का विवरण तथा रजिस्टर क्रमांक सात में सामग्री का विवरण दर्ज किया जाता है। 

प्रशिक्षण में  जिला पंचायत की अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती सोनमती तिर्की सहित सरगुजा, जशपुर एवं बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के कार्यक्रम अधिकारी,तकनीकी सहायक एवं ग्राम रोजगार सहायक एवं संबंधित अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।


Date : 21-Jun-2019

ओपीएस स्कूल प्रांगण में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया  
अम्बिकापुर, 21जून।
आज शुक्रवार को ओपीएस स्कूल प्रांगण में अंतराष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया जिसमें विद्यार्थियों तथा शिक्षकों की भागीदारी रही। इस दौरान स्कूल एडमिनिस्ट्रेटर तहसीन अहमद खान ने योग के सम्प्रत्यय विषय पर प्रकाश डाला व वर्तमान जीवन में योग के महत्व को समझाया।

 


Date : 20-Jun-2019

तेज आंधी तूफान और बारिश ने जमकर तबाही मचाई, आंधी से कई घरों के छप्पर उड़े, गिरने गाज से छात्र की मौत

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अंबिकापुर, 20 जून।
 मैनपाट के तराई इलाके ग्राम वंदना में गुरुवार की दोपहर 1 बजे के लगभग तेज आंधी तूफान और बारिश ने जमकर तबाही मचाई।आंधी तूफान से जहां एक दर्जन से भी अधिक घरों के छप्पर उड़ गए, वही आकाशीय बिजली की चपेट में आने से अंकसूची लेने स्कूल जा रहे छात्र की मौके पर ही मौत हो गई। आंधी तूफान से क्षेत्र में एक लाख से अधिक की क्षति का अनुमान है।

जानकारी के अनुसार मैनपाट के तराई क्षेत्र सीतापुर थाना अंतर्गत ग्राम बंदना में गुरुवार की दोपहर अचानक तेज हवा तूफान ने लोगों को डरा दिया। तूफान इतना तेज था कि एक दर्जन से भी अधिक घरों के छप्पर उड़ गए।गांव में ही नरेश सिंह के होटल की भी छत उड़ गई।कई घरों का सामान भी क्षतिग्रस्त हो गया।तेज हवाओं के बाद बारिश शुरू हो गई। इस दौरान ग्राम जजगा निवासी छात्र माइकल टोप्पो स्कूटी से स्कूल कक्षा बारहवीं की अंकसूची लेने जा रहा था। रास्ते में तेज बारिश होने की वजह से वह सड़क किनारे स्कूटी खड़ी कर आम पेड़ के नीचे बारिश से बचने के लिए खड़ा था।उसी दौरान आकाशीय बिजली गिरने से मौके पर ही उसकी मौत हो गई। व्यवहारिक और पढ़ाई में तेज छात्र की मौत से परिजन सदमे में है।

जून में  गाज मौत का आंकड़ा 9 पर  
गाज से मौत का साल दर साल बढ़ रहे आंकड़े को काबू में करने के लिए अब तक शासन और प्रशासन कोई योजना नहीं बना पाई है।जून माह में ही अब तक आकाशीय बिजली से मरने वालों की संख्या सूरजपुर बलरामपुर और सरगुजा मिलाकर लगभग 9 या फिर उससे ज्यादा हो चुकी है।ग्रामीण क्षेत्रों में आकाशीय बिजली से लोगों को बचाने पिछले कुछ वर्षो में जो छोटे-मोटे प्रयास हुए हैं, वे भी अधिकारियों की लापरवाही और भ्रष्टाचार के भेंट चढ़ गए हैं।तकरीबन 6 साल पूर्व प्रशासन ने जिले के छात्रावासों में तडि़त चालक लगाने का प्रयास किया था।परंतु आज तक ऐसी कोई व्यवस्था नहीं की गई जिससे ग्रामीण क्षेत्रों में आकाशीय बिजली से लोगों को बचाया जा सके। 


Date : 20-Jun-2019

कलेक्टर ने किया अमेरा सहकारी समिति का आकस्मिक निरीक्षण
किसानों को आवश्यकतानुसार खाद-बीज देने समिति प्रबंधक को निर्देश दिए
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
लखनपुर, 20 जून ।
कलेक्टर डॉ सारांश मित्तर ने मंगलवार को लखनपुर जनपद के लहपटरा ग्राम पंचायत अंतर्गत आदिम जाति सेवा सहकारी समिति अमेरा का आकस्मिक निरीक्षण कर समिति प्रबंधक से खाद-बीज के भण्डारण तथा समय पर वितरण के संबंध में पूछताछ की। उन्होंने समिति प्रबंधक को किसानों की आवश्यकता अनुसार खाद एवं फसलों के बीज उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। इसके साथ ही किसानों को खाद बीज लेने की सुविधा को दृष्टिगत रखते हुए टोकन सिस्टम अपनाने कहा ताकि टोकन के आधार पर किसान बारी-बारी से खाद बीज का उठाव कर सकें। उन्होंने समिति में खाद बीज लेने आए किसानों के लिए  पेयजल की व्यवस्था करने के निर्देष भी दिये।

डॉ मित्तर ने  किसानों से पूछताछ करते हुए कहा कि समिति में खाद बीज लेने में किसी प्रकार की कठिनाई का सामना तो नहीं करना पड़ रहा है। किसानों ने बताया कि समिति में बीज लेने में कोई परेशानी नहीं हो रही है। खाद में अभी एनपीके ही दिया जा रहा है। यूरिया अभी समिति में उपलब्ध नहीं है। 

किसानों ने बताया कि वर्तमान धान उपार्जन केन्द्र किसानों की संख्या के हिसाब से स्थल छोटा होने के कारण धान रखने में परेशानी का सामना करना पड़ता है। उपार्जन केन्द्र को वर्तमान स्थल से अन्यत्र ले जाने के लिए शासकीय भूमि चिन्हाकित किया गया है लेकिन अतिक्रमण के कारण परिवर्तन नहीं हो पा रहा है। कलेक्टर ने समिति प्रबंधक को शीघ्रता से यूरिया के भण्डारण करने एवं तहसीलदार को उपार्जन केन्द्र के लिए चिन्हाकित जमीन से अतिषीघ्र अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही हेतु निर्देशित किया। इस मौके पर अपर कलेक्टर कुलदीप शर्मा,अम्बिकापुर अनुविभागीय दण्डाधिकारी अजय त्रिपाठी,तहसीलदार सुश्री श्रुति धु्रव सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।

 


Previous12Next