छत्तीसगढ़ » बलरामपुर

Date : 19-Jun-2019

शासन की महत्वाकांक्षी योजना नरवा, गरूवा, घुरूवा एवं बाड़ी योजनान्तर्गत राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के स्वसहायता की महिलाओं ने स्टॉप व चेकडेम का सफाई कर रोका पानी 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बलरामपुर, 19जून ।
शासन की महत्वाकांक्षी योजना नरवा, गरूवा, घुरूवा एवं बाड़ी योजनान्तर्गत राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के महिलाओं सुराजी ग्राम नरवा योजनान्तर्गत जिले में एक बहुत ही वृहद एवं उल्लेखनीय कार्य किया गया है। बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के कुल 646 स्टॉपडेम,चेक डेम जो वर्षों से मृतप्राय थे, उन्हें पुनर्जीवित करने का कार्य किया गया है। उक्त कार्य से हजारों हेक्टेयर धान के फसल को लाभ मिलेगा।

राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन अन्तर्गत स्व सहायता समूह की महिलाओं ने इन सभी स्टॉपडेम,चेकडेम का सफाई करते हुए पानी रोकने का संकल्प लिया एवं जिले में सिंचाई एवं फसल उत्पादन के क्षेत्र में क्रांति लाने का संकल्प लिया। समूह की महिलाओं ने इस संकल्प की पूर्ति करने के लिए सामूहिक रूप से श्रमदान कर जिले में 646 स्टॉपडेम,चेकडेम के विरूद्ध 312 डेम के सफाई एवं बांधने का कार्य सफलतापूर्वक पूर्ण कर लिया है, जिससे हजारों हेक्टेयर भूमि में सिंचाई के साधन में सहयोग के रूप में एक बड़ी सफलता है। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन टीम के सतत् मॉनिटरिंग एवं सहयोग के माध्यम से इस कार्य को सफल बनाया जा सका है। इस योजना के क्रियान्वयन से फसल के पैदावार बढ़ेंगे तथा आय के साधन में वृद्धि होगी एवं कृषकों के जीवन में सुधार होगा।

 ज्ञातव्य है कि इससे पूर्व भी स्व सहायता समूह की महिलाओं ने लगभग एक लाख उन्नत घुरूवा,भू-नाडेप का निर्माण कर जैविक खेती का संकल्प लेते लगभग 7.96 करोड़ रूपये की बचत जैविक खाद से होना सुनिश्चित किया ह, जो उनके दृढ़ संकल्प, लगन एवं विकास के प्रति प्रतिबद्धता को प्रदर्शित करता है।