छत्तीसगढ़ » बेमेतरा

22-Aug-2021 7:56 PM (360)

बेमेतरा, 22 अगस्त। निषाद समाज कंडरका पठारीडीह क्षेत्रीय समिति के पूर्व अध्यक्ष एवं कंडरका के पूर्व सरपंच नरोत्तम निषाद का 19 अगस्त को निधन हो गया। वे कुछ दिनों से अस्पताल में भर्ती थे। उनका अंतिम संस्कार शुक्रवार 20 अगस्त को कांडरका में किया गया। वे जीवन भर समाज सेवा करते रहे।  वे पुनिया बाई निषाद के पति, शंकर, भरत, परमानंद के बड़े भाई, सरोज, सुमन और किरण के पिता, हेमलता, साक्षी, शुभम, लवली, चारू के नाना थे। उनके निधन पर सामाजिकजनों समेत निषाद समाज रायपुर महानगर कार्यकारिणी सदस्यों ने श्रद्धांजलि दी है।
 


05-Jul-2021 6:58 PM (745)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बेमेतरा,  5 जुलाई।  छत्तीसगढ़ निषाद समाज रायपुर महानगर समिति के सदस्यों ने बेमेतरा जिला के अमोरा गांव में जाकर निषाद परिवार के मुखिया के निधन के बाद उनसे मुलाकात की और आर्थिक सहयोग दिया।

 ग्राम अमोरा, पोस्ट बीजाभाट, जिला बेमेतरा निवासी झड़ी राम निषाद का निधन होने के कारण उनके परिवार को आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ रहा है। परिवार में उनकी दो बेटिया हैं, बड़ी सुपुत्री पदमनी निषाद 33 वर्ष की है और छोटी सुपुत्री 17 वर्ष की है। बड़ी बेटी एक पैर से दिव्यांग है एवं छोटी बहन की पढ़ाई भी छूट गई है। उनके पास खेती-बाड़ी भी नहीं है। पिताजी की मृत्यु के पश्चात उनके अंतिम संस्कार के कार्यक्रम एवम् अपनी आर्थिक स्थिति को संभालने के लिए निषाद समाज में मदद की गुहार लगाई थी।

जिला बेमेतरा में मुलाकात करने पहुंचे महानगर इकाई के अध्यक्ष बसंत निषाद, सचिव मुकेश निषाद, दऊआ राम निषाद एवं महानगर महिला समिति कार्यकारिणी सदस्य मीना निषाद,  अनिता निषाद आदि ने जाकर उनसे मुलाकात की एवं उन्हें आर्थिक सहयोग प्रदान किया। इस परिवार की इस विकट परिस्थिति में तकलीफ को कम करने के लिए लोगों को सहयोग देने के लिए निवेदन भी किया गया है।


13-Jun-2021 5:37 PM (251)

साजा, 13 जून। नगर पंचायत साजा क्षेत्र की जनता के लिए बहुत ही लाभकारी योजना जिससे कई लोगों की बिस्तर उपलब्ध नहीं होने के कारण शहर में जाकर अपने स्वस्थ की इलाज हेतु जाना होता था। क्षेत्र के  विधायक रविन्द्र चौबे कैबिनेट मंत्री की अनुशंसा पर शासकीय चिकित्सालय हेतु 50 बिस्तर की सुविधा की और शासकीय स्कूल कन्या हाई स्कूल साजा तथा बालक हाई स्कूल साजा के अधोसंरचना हेतु 1-1 करोड़ रुपये की घोषणा मुख्यमंत्री मंत्री भूपेश बघेल द्वारा घोषणा की गई। इसके लिए नगर पंचायत साजा अध्यक्ष शालिनी मनोज जायसवाल व ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के  अध्यक्ष संतोष वर्मा, जनपद पंचायत साजा अध्यक्ष दिनेश वर्मा, नगर पंचायत साजा के विधायक प्रतिनिधि मनोज जायसवाल, नगर पंचायत साजा के उपाध्यक्ष युगेश्वर सोनी , पार्षदगण अवधेष गोयल, पुष्पा प्रकाश सिन्हा, नरेन्द्र यादव, खेमेश्वरी दिनेश साहू, एवं नगर वासी ने इस सौगात के लिये मंत्री को धन्यवाद ज्ञापित किया तथा हर्ष व्यक्त किये।


06-Jun-2021 5:40 PM (85)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
साजा, 6 जून।
साजा मानव उत्थान सेवा समिति और मानव सेवा दल जिला बेमेतरा द्वारा झुग्गी झोपड़ी निवासी एवं कोरोना प्रभावित  जरूरतमंद परिवारों को राहत सामग्री के रूप में सूखा राशन का वितरण शासकीय आदर्श उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में शनिवार को किया गया। 

खाद्य सामग्री प्राप्त करने हेतु साजा, डोंगीतराई  जाता, नवागांव कला गौरमाटी, हड़ुवा घोटवानी, देवकर के 40 हितग्राही उपस्थित थे, जिन्हें  कोविड-19 के नियमों का पालन करते हुए सूखा राशन वितरण नपं अध्यक्ष शालिनी मनोज जायसवाल, तहसीलदार चंद्रशेखर चंद्राकर, महात्मा भुनेश्वरी बाई एवं आत्मा शैला बाई आई  की उपस्थिति में  किया गया। 

शालिनी जायसवाल ने कहा कि मानव उत्थान समिति सेवा समिति द्वारा बेसहारा गरीब जरूरतमंद परिवारों को राहत सामग्री प्रदान करना, नेक पहल है, जिससे हमें प्रेरणा लेने की आवश्यकता है। 
तहसीलदार चंद्राकर ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण जिन लोगों की रोजी-रोटी छिन गई है उन परिवारों की सहायता कर समिति ने भलाई का कार्य किया है तथा आगे भी ऐसे ही सहयोग की अपेक्षा की कामना करते हुए साजा क्षेत्र की ओर से धन्यवाद प्रेषित की। 

इस अवसर  मानव सेवा दल छत्तीसगढ़ के प्रांतपाल उग्रसेन पटेल, जिला प्रधान रोहित कुमार नायक, साजा शाखा प्रधान धन कुमार साहू, मानव उत्थान सेवा समिति के सदस्य राम प्रताप साहू, जीवन साहू, जानकी साहू, कुमारी बाई, परमानंद साहू, ओम प्रकाश साहू, पंचलाल मरकाम, भगवानी दास, लक्ष्मण साहू, संतोष वर्मा, गजाधर सिंह व लीलरिया, पुरुषोत्तम साहू, बबला निर्मलकर, डोमार साहू सहित यूथ ग्रुप के  सभी सदस्य उपस्थित रहे। 
 


14-Mar-2021 1:19 PM (76)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बेमेतरा, 14 मार्च।
पत्नी पर चरित्र शंका करते हुए पति ने एक सरकारी कर्मी की शुक्रवार को दिन दहाड़े हत्या कर दी थी, उसी दिन मानसिक रूप से परेशान पत्नी ने जहर का सेवन कर लिया। परिजनों ने इसकी सूचना गांव के कोटवार को दी और महिला को तत्काल बेमेतरा जिला अस्पताल लाया गया, जहां उनका उपचार जारी है।

प्राप्त जानकारी अनुसार महिला ने शुक्रवार शाम जहर खाकर खुदकुशी की कोशिश की। परिजनों को शाम 6 बजे इनकी जानकारी हुई। महिला जिला चिकित्सालय में भर्ती है।

गौरतलब हो कि महिला के पति हेमंत वर्मा ने चरित्र शंका को लेकर शुक्रवार की सुबह लगभग साढ़े 9 बजे हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी के पास पीडब्ल्यूडी कर्मी गणेश वर्मा की कैंची से कई वार कर तथा बाइक चढ़ाकर हत्या कर दी थी। वह अभी जेल में है। बताया जाता है कि उक्त घटना से लेकर वह मानसिक रूप से परेशान थी।


08-Mar-2021 4:47 PM (89)

युद्ध हथियार से नहीं हौसले से लड़ा जाता है

आशीष मिश्रा

बेमेतरा, 8 मार्च (‘छत्तीसगढ़’)।  विधानसभा में महिला नेतृत्व को धकेलने की चलन जमाने से है ,सत्यता तो यह है कि यदि आरक्षण न हो तो महिलाओं को सरपंच न बनने दे।  विधानसभा के कुछ महिलाओं ने अपने दम पर मुकाम हासिल कर यह साबित कर दिया कि युद्ध हथियार से नहीं हौसले से लड़ा जाता है।   

राजनीतिक दिशा बदलने में सक्षम 
विधानसभा की राजनीतिक दिशा बदलने  में सक्षम महिलाओं में  जिला पंचायत सदस्य प्रज्ञा निर्वाणी एक है, जिन्हें त्रिस्तरीय पंचायत का खासा अनुभव है।  निर्वाणी  के बढ़ते प्रभाव से आहत लोगों ने राजनीतिक ग्राफ गिराने का हर सम्भव प्रयास किया पर सफलता की राह बनती गई। राजनीति समाज सेवा है, आवाज है गरीबों की यह साबित करते हुए इस जिला पंचायत सदस्य ने एक दशक से कम समय मे  एक शतक से अधिक समाजिक सरोकार के कार्य किया। पति डॉ. सौरभ निर्वाणी, कुशल, उदार,रणनीतिकार है जो  विरोधियों को फील्ड में घूमने मजबूर कर देते हैं। सास प्रभा निर्वाणी  नगर  पालिका बेमेतरा की अध्यक्ष रही ,ससुर पेशे से वकील है, घर राजनीति का किताब की जगह पूरी लाइब्रेरी है।   जिसका असर नवागढ़ विधानसभा के  बालसमुंद से केबाछी तक दिखाई दे रहा है। 

टिकट नहीं मिलने पर भी जीता निर्दलीय चुनाव
विधानसभा में इन दिनों जिला पंचायत सदस्य सुशीला जोशी के सितारे बुलंदियों पर है, राजनीति में स्नातकोत्तर जोशी चर्चा में उस समय आई जब बतौर मुर्रा सरपँच  तत्कालीन मंत्री दयालदास बघेल के खिलाफ सडक़ की लड़ाई लड़ी। पुरुष दावेदारों के मुकाबले जोशी ने  जमकर विरोध किया। सत्ता परिवर्तन के बाद जोशी के बढ़ते प्रभाव को रोकने का  प्रयास किया गया।  जिला पंचायत चुनाव में कांग्रेस ने टिकट नहीं  दी। सत्ता के तमाम चतुर खिलाड़ी जोशी को राजनीति से बाहर करने पूरी तैयारी के साथ लड़े, पर जनता की अदालत का फैसला आया और बतौर निर्दलीय चुनाव जीतकर साबित कर दिया कि सत्ता जागीर नहीं ,जनता गुलाम नहीं। 

पिता की विरासत को संभाल रहीं शशि
पूर्व मंत्री डेरहु प्रसाद घृतलहरे की पुत्री जिला पंचायत सदस्य शशि प्रभा गायकवाड़, करीब एक दशक से नवागढ़ विधानसभा की राजनीति में सक्रिय हैं।  पिता की राजनीतिक विरासत सम्हालने की लालसा लिए पूरे विधानसभा की गलियां छान चुकी शशि ने सक्रियता बरकरार रखी है।  विधानसभा टिकट की दावेदारी करने वाली इस जिला पंचायत का प्रभाव कम नहीं है, यदि पिता की राह पकड़ी तो दिग्गजों को जमीन नजर आ जाएगा। बेमेतरा में बैठकर नवागढ़ पर नजर रखने वाली इस महिला नेत्री को नेतृत्व विरासत में मिला है।

बालकुमारी की पकड़ है मजबूत
नवागढ़ विधानसभा के दाढ़ी क्षेत्र से जिला पंचायत सदस्य बनी बालकुमारी  धु्रव की राजनीतिक लगाव यह बताता है कि वे दीर्घकालिक राजनीति के पक्षधर हैं, अन्य जिला पंचायत सदस्यों की तरह इनका भी प्रभाव कम करने का प्रयास जारी है पर सेमरिया से झालम तक आदिवासी बाहुल्य ग्राम है जो परिणाम  प्रभावित करने के लिए पर्याप्त है। 

कम समय में मिली अधिक लोकप्रियता 
रसोई से सीधे राजनीति में आई जिला पंचायत सदस्य बनी बिंदिया अश्वनी मिरे ने कम समय मे अधिक लोकप्रियता हासिल की है। पद मिलने के बाद मतदाताओं को भूलकर आराम करने वाले जनप्रतिनिधियों को आईना दिखाने का काम मिरे ने किया है।  मिरे ने राजनीति में नई शुरुआत यह की है कि लोगों को जनप्रतिनिधियों के दरवाजे जाने की जगह जनप्रतिनिधि खुद मतदाता के दरवाजे जाए, सूखा , बाढ़, अकाल , बीमारी, महामारी, जन्मोत्सव, मेला, खेल, सुख हो दुख मिरे अपने मतदाता के घर तक दस्तक देती है, जिला पंचायत में मुखर हैं।  शिक्षक पति का निलंबन स्वीकार किया पर सत्ता का रोटी नहीं कबूला। 

सामाजिक बुराई के खिलाफ महिलाओं को खड़ाकर बदली गांव की सूरत 
समाज सेवा के लिए जरूरी नहीं की राजनीति का झंडा हो, हौसले के डंडे से भी बाहुबलियों को घर में कैद होना पड़ता हैं, विषम परिस्थितियों के बाद नवागढ़ विधानसभा में सामाजिक बुराई के खिलाफ महिला कमांडो का गठन कर नवागढ़ निवासी शबीना खान ने महिलाओं में एक नई समाजिक चेतना जागृत किया।  पूरे ब्लाक में अवैध शराब , शराबियों के हुड़दंग के खिलाफ महिलाओं को डंडा व टार्च पकड़ाया ,नतीजा सफल रहा। 

शाम को शीशी से गुलजार गली में सन्नाटा पसरा, पियक्कड़ ढीले पड़ गए, इस अभियान को दूसरा बड़ा लाभ स्वच्छता में मिला  जब सडक़ व गली चलने लायक हुई। शबीना के साथ चली महिलाएं यही नहीं रुकी, गाँव मे टीम बनाकर स्वच्छता अभियान को गति दिया, कोरोना संकट में जनसेवा की मिसाल बनी। स्वरोजगार से घर परिवार चलाने में सहयोगी है , स्वसहायता समूह बनाकर महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने में सफल है। नवागढ़ ब्लाक की महिलाओं का पैरा आर्ट राज्य की सीमा से आगे निकल चुकी है। जनसेवा व स्वालम्बन में आगे ब्लाक की इन महिलाओ को हल्के में लेना भारी पड़ सकता है।
 


07-Mar-2021 2:14 PM (87)

कर्मियों को नोटिस-सीएमएचओ 
‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बेमेतरा, 7 मार्च।
जिले के नवागढ़ सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र से 90 डोज कोरोना वैक्सीन चोरी होने की खबर से हडक़ंप मच गया था। आनन-फानन में सीएमएचओ डॉ. सतीश शर्मा ने नवागढ़ पुलिस को एफआईआर दर्ज करने के लिए पत्र भेजा।  कलेक्टर ने नवागढ़ तहसीलदार को अस्पताल भेजकर जानकारी ली। शनिवार को दिनभर इस पर समूचा अस्पताल प्रबंधन खोजबीन करता रहा। शाम लगभग पांच बजे सीएमएचओ ने पत्र जारी कर चोरी की घटना से इंकार किया और जिला भंडार में अतिरिक्त डोज मिलने से जिले को मिले वैक्सीन का सही हिसाब होना बताया।

बेमेतरा के सीएमएचओ डॉ. सतीश शर्मा का कहना है कि बेमेतरा भंडार, नवागढ़ परिवहन करने व मिलान करने वाले कर्मचारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया जा रहा है। कोई वैक्सीन चोरी नहीं हुई है। नवागढ़ भेजे गए वैक्सीन में से 90 डोज जिला भण्डार में सुरक्षित मिला है, इसमें जिसकी भी लापरवाही होगी, कार्रवाई तय है।


04-Mar-2021 7:17 PM (98)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बेमेतरा,  4 मार्च। बलौदाबाजार जिले के सिमगा क्षेत्र के निजी स्कूल में पढ़ रहे बच्चे की टीसी व अन्य दस्तावेज स्कूल संचालक द्वारा देने से मना करने पर परेशान होकर पिता ने सवा साल पहले खुदकुशी कर ली थी। पुलिस ने जांच के बाद आरोपी स्कूल संचालक के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है।

मिली जानकारी अनुसार मृतक पवन चौहान (52) किरीतपुर थाना बेमेतरा दो  दिसम्बर 2019 के 2-3 दिन पूर्व घर से कहीं चला गया था, घर नहीं आया था। दो  दिसम्बर 2019 की सुबह करीब 11 बजे वापस घर आया तो घर वालों के पूछने पर कुछ नहीं बताया और मेरे बच्चों का भविष्य बर्बाद हो गया बोलकर परेशान थे, बार-बार यही शब्द बोल रहा था। दोपहर व रात में खाना नहीं खाया था। पवन का लडक़ा व अन्य छोटे बच्चे रात्रि करीब 10 बजे खाना खाकर अपने कमरे में सोने चले गये थे। वह घर के बरामदा में अपने पास रखे जहर को जिंदा नहीं रहूंगा बोलकर खा लिया। कुछ समय बाद पवन चौहान को उल्टी होने पर 108 एम्बुंलेंस के शासकीय अस्पताल बेरला लेकर गये, जहां से रिफर करने पर मेकाहारा अस्पताल रायपुर ले गये ,जहां उपचार के दौरान 3 दिसम्बर 2019 को सुबह 8 बजे पवन चौहान की मौत हो गई। जिसे अस्पताली मेमो प्राप्त होने पर थाना मौदहापारा रायपुर में बिना नम्बरी मर्ग पंजीबद्ध कर असल नम्बरी हेतु थाना बेमेतरा को प्राप्त होने पर थाना बेमेतरा के मर्ग क्र. 06/2020 धारा 174 जाफौ कायम कर जांच कार्रवाई में लिया गया।

उक्त घटना के संबंध में वरिष्ट अधिकारियों को अवगत कराया गया। जिस पर पुलिस अधीक्षक दिव्यांग पटेल के निर्देशन में एसडीओपी बेमेतरा राजीव शर्मा के द्वारा थाना प्रभारी बेमेतरा निरीक्षक राजेश मिश्रा एवं थाना स्टाफ को मर्ग जांच कार्रवाई के लिए निर्देशित किया गया।

मर्ग जांच के दौरान मृतक की पत्नी, बेटी एवं अन्य गवाह का कथन एवं उपलब्ध साक्ष्य से निजी स्कूल के संचालक युगल किशोर देवांगन के द्वारा मृतक पवन को अपने बच्चों का टीसी एवं अंकसूची मांग करने पर पैसा दो नहीं तो टी.सी. एवं अंकसूची नहीं दूंगा बोलकर अत्यधिक मानसिक एवं शारीरिक रूप से प्रताडि़त करने से जहर सेवन कर आत्महत्या करने के लिए उत्प्रेरित करना पाये जाने पर धारा 306 पंजीबद्ध कर आरोपी युगल किशोर देवांगन (48)वार्ड नं. 11 सिमगा जिला बलौदाबाजार के विरूद्ध पर्याप्त साक्ष्य पाये जाने से 3 मार्च को गिरफ्तार कर न्यायालय बेमेतरा में पेश किया गया। जहां से उसे जेल भेज दिया गया।


03-Mar-2021 6:50 PM (823)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बेमेतरा, 3 मार्च। अपने बच्चे के हमउम्र बच्चे प्रतीक प्रजापति (3) की जान को खतरे में देखकर मजदूर महिला ललिता ध्रुव (35) अपने जान की परवाह न करते हुए धधकते ईंटों के बीच कूद गई, लेकिन सिर पर सैकड़ों ईंट गिर जाने के कारण वह बाहर नहीं आ सकी और जलने से महिला व बच्चे की मौत हो गई। 

महिला बच्चे को अपनी आगोश में लेकर अंतिम सांस तक बच्चे को बचाने के लिए संघर्ष करती रही। इन्हें बचाने के लिए 5-6 लोगों ने कोशिश की, लेकिन वे सफल नहीं हो सके। महिला के साहसी कदम को लोगों ने नमन किया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले के नवागढ़ ब्लॉक के ग्राम पुटपुरा में मंगलवार की सुबह राजमणि पाड़े के ईटभ_े में मजदूरों द्वारा बनाए गए कच्चे ईंटों को पकाने के लिए आग लगाया था, तभी राजा प्रजापति का 3 साल का नाती प्रतीक प्रजापति खेलते हुए भ_े के पास पहुँच गया। उसी समय भ_े का एक हिस्सा धंसने लगा जिसे देखकर काम कर रही ललिता ध्रुव बच्चे को बचाने के लिए जलते ईंटों के बीच कूद गई , लेकिन दुर्भाग्यवश धधकते हुए सैकड़ों ईंट महिला व बच्चे पर गिर गया जिसके नीचे दबकर दोनों गंभीर रूप से जल गए। बच्चे का सिर व ऊपरी अंग पूरी तरह से जल गया। हादसे के दौरान दोनों को बचाने के फेर में राजमणि भी झुलसा है।

दोनों परिवार में छाया मातम

मृतक बालक के परिजन हादसे के बाद से सदमे में है। वहीं ललिता के परिवार में भी मातम छाया हुआ है। ललिता के दो छोटे-छोटे बच्चे हैं, जो अपनी माँ को बार-बार पुकारते व तलाशते नजर आए। सरपंच कुंभराम साहू ने बताया कि राजमणि का परिवार बीते 25 वर्षो से ईंट भ_ा लगाकर ईंट पकाने के काम करते आ रहा है, पर कल तक किसी प्रकार की घटना नहीं हुई थी , लेकिन आज हुई अनहोनी में दो लोगों की मौत हो गई।

चौकी प्रभारी राजेन्द्र कश्यप ने बताया की सुबह ईटभठ्ठे के धकसने से हुए हादसे में दो लोगों की मौत हुई है। मृतकों में एक 3 साल का बालक व एक 35 वर्षीय महिला सामिल है। पुलिस ने आवश्यक कार्यवाही कर मर्ग कायम कर विवेचना में लिया है।


02-Mar-2021 4:21 PM (94)

ट्रक सहित 26 लाख का गुटखा-तंबाकू बरामद

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बेमेतरा, 2 मार्च।
दुर्ग-बेमेतरा स्टेट हाइवे में 6 फरवरी को हुए गुटखा-तंबाकू लूट के मामले में बेमेतरा पुलिस  ने एमपी पुलिस की मदद से 26 लाख के सामान के साथ 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। मामले का खुलासा बेमेतरा एसपी दिव्यांग पटेल ने किया है। आरोपियों को पकडऩे के लिए एमपी पुलिस व बेमेतरा पुलिस ने प्लान किया था।

पुलिस के अनुसार उक्त प्रकरण में घटनास्थल से लेकर मध्यप्रदेश तक के राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित टोल एवं अन्य स्थानों के करीब 100 विभिन्न स्थानों के सीसीटीवी फुटेज का भी विश्लेषण किया गया। प्राप्त सीसीटीवी फुटेज एवं एकत्रित साक्ष्य के आधार पर ट्रक क्र. एमएच 40 बीएल 3125, ट्रक क्र. आरजे 09 जीसी 5962 की संलिप्तता पाई गई। बारीकी से विवेचना करने पर पाया गया कि यह घटना देवास जिले के निगरानी बदमाश एवं कुख्यात लूट के आरोपी, जिनके विरूद्ध दर्जनों अपराधिक प्रकरण देवास एवं आसपास के जिलों में पंजीबद्ध हैं, के द्वारा घटित की गई है तथा इनके साथ ब्यावरा के कुछ व्यापारी भी घटना में शामिल पाये गये।

प्रकरण में उपयोग किया गया ट्रक क्र. आरजे 09 जीसी 5962 का मालिक जगदीश चंद शर्मा (45) राजगढ़ थाना परसोली जिला चितौडग़ढ़ राजस्थान को 19 फरवरी को गिरफ्तार कर चितौडग़ढ़ न्यायालय से ट्रांजिट रिमांड प्राप्त कर 24 फरवरी को बेमेतरा न्यायालय में पेश किया गया। उक्त दोनों वाहन की फुटेज जिला राजगढ़ मध्यप्रदेश के ब्यावरा तहसील तक का फुटेज प्राप्त होने पर पुलिस अधीक्षक  द्वारा टीम बनाकर माल मुल्जिम पता तलाश हेतु भेजी गई। इस संबंध में जिले के वरिष्ठ अधिकारियों को भी सूचना मिली थी कि लूटे गये राजश्री गुटखा और तम्बाकू वहां के स्थानीय व्यापारियों के पास उनके ब्यावरा स्थित गोदाम में रखा गया है। इस सूचना पर उप निरीक्षक बीनू राम ठाकुर व उनके टीम के द्वारा ब्यावरा तहसील से व्यापारी मितेश अग्रवाल (31) ब्यावरा जिला राजगढ़, दीपक उर्फ सोनू अग्रवाल (40) शहीद कॉलोनी गरबा ग्राउंड ब्यावरा जिला राजगढ़ मध्यप्रदेश के गोदाम में रेड करने पर राजश्री गुटखा के 152 बोरे बंद अवस्था में मिले तथा तम्बाखू के 50 बोरा बंद अवस्था में मिले, जिसे खोलकर देखा गया। उपरोक्त गुटखा  6 फरवरी को केय पान सुगंधा सिरगिट्टी बिलासपुर द्वारा हेमंत ट्रेडर्स राजनांदगांव को सप्लाई किये गये राजश्री पानमसाला से मिलान हुआ। इन्हीं आरोपियों के माध्यम से अशोक गुप्ता (32) निवासी ब्यावरा जिला राजगढ़ मध्यप्रदेश तथा अनुराग जैन गुना मध्यप्रदेश के द्वारा भी 105 बोरा गुटखा एवं तम्बाकू खरीदा गया था, जिसमें से 38 बोरा राजश्री गुटखा व 9 बोरा जब्त किया गया है।

आरोपी मितेश अग्रवाल मध्यप्रदेश तथा दीपक उर्फ सोनू अग्रवाल मध्यप्रदेश से 152 बोरा राजश्री गुटखा एवं 50 बोरा तम्बाकू ब्यावरा में 25 फरवरी को  बरामद करने के पश्चात उक्त आरोपियों को गिरफ्तार कर स्थानीय ब्यावरा शहर के न्यायालय से ट्रांजिट रिमांड प्राप्त कर 28 फरवरी को बेमेतरा के न्यायालय में पेश किया गया है, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है। अशोक गुप्ता मध्यप्रदेश तथा अनुराग जैन मध्यप्रदेश से 47 बोरा राजश्री गुटखा एवं तम्बाकू 27 फरवरी को गुना में जब्त करने के पश्चात गुना न्यायालय से ट्रांजिट रिमांड प्राप्त कर बेमेतरा लाया गया है,  जिन्हें 1 मार्च को  बेमेतरा न्यायालय में प्रस्तुत किया गया है। उक्त 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर बेमेतरा जेल भेज दिया गया है।
 


24-Feb-2021 6:12 PM (90)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बेमेतरा, 24 फरवरी।
राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत एक दिवसीय ‘स्ट्रेस मैनेजमेंट’ (तनाव प्रबंधन) विषय पर मितानिन ट्रेनरों का संवेदीकरण कार्यशाला का आयोजन किया गया। सोमवार को बेमेतरा जिला मुख्यालय के एक होटल में आयोजित तनाव प्रबंधन कार्यशाला में नवागढ व बेमेतरा ब्लॉक की 54 मितानिन ट्रेनरों को प्रशिक्षण दिया गया। 

इस कार्यशाला का उद्देश्य मितानिन ट्रेनरों को तनाव का मानसिक, भावनात्मक और शारीरिक स्वास्थ्य पर दूरगामी प्रभावों को समझाने और तनाव  से निपटने के लिए पहचान व प्रबंधन पर जानकारी दी गई। बलौदाबाजार जिला अस्पताल से पहुंचे मनोचिकित्सक डॉ. राकेश कुमार प्रेमी ने ‘स्ट्रेस मैनेजमेंट’ पर व्याख्यान की शुरुआत मानसिक तनाव का प्रबंधन कर तनाव से बचने के विभिन्न उपायों के बारे में चर्चा से की। डॉ. प्रेमी ने  तनाव को दूर करने के लिए शाररिक सक्रियता बढाने के लिए खेल-खेल के माध्यम से जानकारियां दी। इसी तरह मोटिवेशनल विडियो स्पीच क्लीप को देखने, सकारात्मक सोच, संगीत, चिकन डांस, गहरी सांस लेना, योगा व प्राणायाम सहित जीवन कौशल विकास पर आधारित जानकारियां दी गई।

बलौदाबाजार की एनसीडी जिला कार्यक्रम समन्वयक डॉ. सुजाता पांडेय ने बताया,  चिकन डांस से ब्रेन को रिलेक्सेशन महसूस होता है। इससे शरीर के अंगों में तरंग व शांत मन अचानक से चहक उठता है। तनाव को लेकर मन में आने वाले नकारात्मक सोच गायब हो जाते हैं। नृत्य को एक विकासवादी उपहार के रूप में देखा जा सकता है जो अपनी संज्ञानात्मक दिशा, भावनात्मक प्रभाव और शारीरिक ऊर्जा के माध्यम से, नृत्य तनाव को रोकने, कम करने और भगाने  का एक साधन है। मस्तिष्क, शरीर और स्वयं को एकीकृत करते हुए, नृत्य को व्यायाम के एक रूप में भी देखा जा सकता है।

डॉ. सुजाता पांडेय ने बताया, तनाव के दो प्रकार अच्छा तनाव व बुरा तनाव होते हैं। अच्छा तनाव हमें प्रेरित करता है, ऊर्जा को केंद्रित करता है जो अल्पावधि का होता है। यह रोमांचक लगता है और इससे कार्य बेहतर होते है। जबकि बुरा तनाव चिंता पैदा करने वाला एक नकारात्मक तनाव है जो व्यक्ति की  क्षमताओं को कम करता है जो दीर्घावधि का होता है। और मानसिक और शारीरिक बीमारी को जन्म देता है।

प्रशिक्षक के रुप में स्पर्श क्लीनिक बेमेतरा जिला अस्पताल की मानसिक स्वास्थ्य नर्सिंग ऑफिसर गोपिका जायसवाल ने मितानिन को बताया, मानसिक रोगियों की पहचान कैसे करें एवं साथ ही कार्यक्षेत्र में तनाव को कैसे कम करें। 

उन्होंने बताया, तनाव प्रबंधन से पहले रोगी की पहचान करना जरुरी पहलू है। तनाव से पीडि़त व्यक्ति में अचानक चिड़चिड़ापन का बढना, जरुरत से ज्यादा बोलना, रहन-सहन में बदलाव, दैनिक दिनचर्या को पूर्ण नहीं करना, मन किसी और तरफ भटकना, परिवार व दोस्तों से अलग-थलग रहना तनाव के प्रमुख लक्षण हैं। उन्होंने बताया मानसिक तनाव के बारे में जैसे ही पता चले इसके प्रबंधन के लिए प्रशिक्षित मनोरोग चिकित्सक से मरीज का काउंसलिंग कर थोड़ा समझाने की कोशिश करना जरुरी है। मरीज को तनाव से उबारने के लिए फैमली थैरेपी व ग्रुप थैरेपी, म्यूजिक थैरेपी व बातचीत के जरिये समस्या का निराकरण करना है।

कार्यशाला मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एस.के. शर्मा, सिविल सर्जन डॉ. वंदना भेले, जिला एनसीसी नोडल अधिकारी डॉ. दीपक मिरे, डीपीएम अनुपमा तिवारी व सागर शर्मा सहित अन्य स्टाफ भी उपस्थित थे। 


07-Feb-2021 9:04 PM (117)

  बिलासपुर से नांदगांव जा रही थी  

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बेमेतरा, 7 फरवरी। बीती रात बेमेतरा थाना क्षेत्र के देवरबीजा में लाखों का राजश्री गुटखा भरी 2 ट्रकों के ड्राइवरों को बंधक बनाकर लूट लिया गया। दोनों ट्रक बिलासपुर से नांदगांव जा रही थी। दोनों ड्राईवरों से पूछताछ की जा रही है।

पुलिस के अनुसार 6 फरवरी की रात को बिलासपुर से राजनांदगांव जा रही राजश्री पान मसाला से लोड ट्रकों देवरबीजा बस स्टैंड से निकला, तभी अज्ञात लोगों ने ड्राइवरों को बंधक बना लिया और उसमें रखे करीब 30 लाख का गुटखा लूट ले गए।

जानकारी मिलने के बाद बेमेतरा एसपी दिव्यांग पटेल, एएसपी विमल बैस, साजा टीआई हर्ष प्रसाद पांडे, बेमेतरा टीआई राजेश मिश्रा पुलिस टीम के साथ पहुंचे। एसपी ने आसपास के क्षेत्रों का मुआयना किया। दोनों ट्रक को देवकर चौकी में खड़े किये हंै और ड्राईवरों से कड़ी पूछताछ कर रहे हंै।


30-Jan-2021 6:14 PM (107)

पढ़ाई-लिखाई का खर्चा वहन करेंगे 

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बेमेतरा, 30 जनवरी।
गरीबों को सीधी मदद के राज्य सरकार के दावे खोखले नजर आ रहे है । प्रशासनिक संवेदनहीनता का खामियाजा गरीबों को भुगतना पड़ रहा है। सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं मिलने पर बेरला ब्लॉक के अकोला गांव रहवासी दम्पति ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। 

ये बातें किसान नेता योगेश तिवारी ने पीडि़त परिवार से चर्चा के दौरान कही। किसान नेता ने बताया कि यह मामला प्रशासन की संवेदनहीनता का प्रत्यक्ष उदाहरण है। योगेश तिवारी प्रशासन से मदद नहीं मिलने पर पीडि़त परिवार को आर्थिक मदद के लिए गांव गए थे। बेरला पुलिस के अनुसार 22 जनवरी सुबह करीब 11 बजे ग्राम अकोली निवासी दम्पति देवधर व उसकी पत्नी केवरी निषाद ने पारिवारिक विवाद के कारण जहर खा लिया। इलाज के लिए अस्पताल ले जाने पर डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। 

किसान नेता योगेश तिवारी ने परिवार से चर्चा के बाद बताया कि मृतक आर्थिक तंगी से गुजर रहा था। मृतक दम्पत्ति के दो बच्चे हैं। आधार कार्ड में त्रुटि के कारण सरकारी योजना का लाभ नहीं मिल रहा था। नतीजतन तंगी से गुजर रहे परिवार को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। अकोली में शोक संतप्त परिवार से मिलकर किसान नेता ने ढांढस बंधाया और उन्होंने परिवार को आर्थिक मदद करने के साथ दोनों बच्चों की पढ़ाई का बीड़ा उठाया। प्रशासन और जनप्रतिनिधियों की संवेदनहीनता पर नराजगी जाहिर करते हुए कहा कि घटना के बाद से अब तक कोई भी अधिकारी व जनप्रतिनिधि पीडि़त परिवार से मिलने नहीं पहुंचा है। 

यहां प्रशासन की संवेदनहीनता साफ दिखाई दे रही है। क्षेत्र के कुछ जनप्रतिनिधि फोटो खिंचाकर वाहवाही लूटने में लगे हैं, लेकिन गरीब परिवार के मदद के नाम पर वो सक्रियता नजर नहीं आती है। इसलिए जनसरोकार को प्राथमिकता देते हुए आर्थिक मदद करने के साथ बच्चों की आगे की पढ़ाई में मदद की जिम्मेदारी उठाई है। इस दौरान पूर्व सरपंच राजू परगनिहा, लखन चक्रधारी, हरीश निषाद, कुलेश्वर कुर्रे, दिनेश सारंग आदि उपस्थित थे।
 


01-Jan-2021 6:45 PM (105)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

थानखम्हरिया, 1 जनवरी। कोरोनकाल के अवसादग्रस्त माहौल के बीच एक लंबे अंतराल के बाद नगर में साहित्य व संगीत से ओतप्रोत सफल कार्यक्रम का कल शाम आयोजन हुआ। प्रदेश की प्रतिष्ठित संस्था श्री साईनाथ फाउंडेशन द्वारा नगर में स्थित साईनाथ पब्लिक स्कूल के प्रांगण में आयोजित जुरमिल कार्यक्रम के अंतर्गत स्थानीय साहित्यकारों सहित बेमेतरा, कवर्धा, मुंगेली, लोरमी व आसपास क्षेत्र के अनेक साहित्य व संगीतप्रेमीयों का देर रात तक जमावड़ा बना रहा।

 आयोजन प्रमुख युवा गज़़लगो आशीष राज सिंघानिया के सधे हुए संचालन के साथ नववर्ष के आगमन की पूर्व संध्या पर आयोजित इस कार्यक्रम में युवा गायक शंकर्षण मिश्रा, शिवम सोनी व रजत सिंह चौहान ने अपनी सुमधुर गायकी से सबका दिल जीत लिया।

 नगर के वरिष्ठ साहित्यप्रेमी महेंद्र सिंह विरदी व अंचल के वरिष्ठ साहित्यकार विनोद शर्मा के आतिथ्य में आयोजित काव्य संध्या में नगर के ढाल सिंह राजपूत, कमल शर्मा, इंद्रपाल सिंह पसरिजा, बेमेतरा के प्रतुल कुमार वैष्णव, लोरमी के संस्कार साहू, कवर्धा के प्रेमिश शर्मा, पारसमणि शर्मा व अभिषेक पाण्डेय कृष्णम ने अपनी उत्कृष्ट रचनाओं की प्रस्तुति देकर सभी की प्रशंसा व खूब वाहवाही बटोरी।

 प्रदेश के सुप्रसिद्ध हास्य कलाकरद्वय कौशल साहू व अनूप श्रीवास्तव ने हास्य-व्यंग्य-मिमिक्री से श्रोताओं का मनोरंजन करते हुए पूरे कार्यक्रम को बेहद यादगार बना दिया। आयोजन समिति की ओर से वीरेंद्र जोशी, रुद्रेश अग्रवाल, विकास सिंघानिया, प्रतीक सिंघानिया, मृणाल परिहार, हर्ष बिंदल, आयुष बंसल, दीपक केडिया व शिव केडिया ने आगंतुकों का स्वागत व सम्मान किया। गीत, गज़़ल, मुक्तक व मधुर सांगीतिक प्रस्तुतियों का आनंद लेने ठिठुरती ठंड के बीच भी नगर के श्रोतागण देर रात तक कार्यक्रम स्थल पर जमे रहे।


29-Dec-2020 5:30 PM (121)

भाजपा का धरना-प्रदर्शन, ज्ञापन

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
साजा, 29 दिसंबर।
किसानों की समस्या को लेकर सोमवार को किसान मोर्चा के तत्वाधान में भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य मूलचंद शर्मा, ईश्वर पटेल, प्रेमलाल वर्मा, रोहित सिंह ठाकुर, चंद्रशेखर साहू, सहित क्षेत्र के वरिष्ठ भाजपा नेताओं के उपस्थति में मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा गया।

ज्ञापन में कहा गया है कि अगर किसानों के साथ अन्याय बंद नहीं किया गया तो किसान मोर्चा आने वाले समय में प्रदर्शन करेगा। आवश्यकता पडऩे पर चक्का जाम भी किया जा सकता है। 
इस संबंध में प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य मूलचंद शर्मा ने बताया कि वर्तमान में जो धान खरीदी जारी है उसमें किसानों को  50 प्रतिशत  बोरा लाने को कहा जा रहा है। बोरे के अभाव में किसानों का धान निकल नहीं पा रहा है और किसान अपना धान नहीं बेच पा रहे हैं। जो वर्तमान में सरकार की ओर से दिए गए निर्देश है जिसमें प्रति बोरा 35 के हिसाब से  बाजारों में खरीदने को किसान मजबूर हो गए हैं। वहीं सरकार ने 15 रुपये प्रति बोरा देना निर्धारित कर दिया है। इस आधार पर प्रत्येक किसान को लगभग  20 का अंतर और बाहर आ रहा है। इसी तरह  प्रदेश में सरकार के द्वारा किसानों के  धान के रकबे को पूर्व में काट दिया गया। मौका निरीक्षण के बाद भी गिरदावरी में अनियमितता बरती गई। राजस्व निरीक्षकों तथा पटवारियों ने मौके का निरीक्षण नहीं कर मात्र पूछताछ के आधार पर रकबे की कटाई कर दी जिससे किसान काफी प्रभावित हुआ है। 

आगे कहा कि इसके पूर्व उन किसानों को जिनका रकबा ठीक था और पूर्व में जो धान बेचा गया था उस सर्वे में भी काफी कटौती कर दी गई है इसके बावजूद सरकार द्वारा  पूरा धान खरीदने की दुहाई दी जा रही है जबकि  जिन रकबों का अंतर आया है उसमें राजस्व अधिकारी  आवेदन जरूर ले रहे हैं लेकिन उसकी बिक्री की अनुमति की गारंटी नहीं ले रहे हैं। 

इसी तरह सरकार ने अतिवृष्टि के मामले को लेकर किसानों के खाते में पैसा डालने की बात कही है लेकिन साजा क्षेत्र के अनेक गांव से शिकायतें निरंतर आ रही हैं। आरोप है कि क्षतिपूर्ति की राशि में भेदभाव किया जा रहा है और अनेक गांव को छोड़ दिया गया है। किसानों की पिछली सरकार के 2 वर्ष का बोनस भी पूरा नहीं आया है  किसानों का कर्जा माफ करने का वादा अधूरा है। बेरोजगारों को 2500 रूपये भत्ता देने की बात कही गई थी लेकिन आज तक इस संबंध में कारगर उपाय नहीं किए गए हैं और न ही भत्ता देने की कार्रवाई की जा रही है। प्रदेश में दस लाख युवाओं को ेरोजगार देने की बात भी झूठी साबित हुई। इसी तरह प्रदेश में किसानों के हित में जो निर्णय लिए गए थे और जो वादा सरकार ने किया था उसे पूरा करने में सरकार विफल रही है। 

प्रदेश में शराबबंदी का वादा भी नहीं निभाया गया है बल्कि घर बैठे शराब बेचने की और भेजने की व्यवस्था कर दी गई है। सरकार की वादाखिलाफी के खिलाफ किसान मोर्चा  शीघ्र ही व्यापक धरना-प्रदर्शन की तैयारी की जा रही है।  उन्होंने साजा क्षेत्र में प्रदेश की सरकार में प्रतिनिधित्व कर रहे कृषि कैबिनेट मंत्री से भी आग्रह किया गया है कि क्षेत्र में आकर किसानों की समस्या का जायजा लेवें और उन्हें राहत प्रदान करें। किसानों के साथ हो रहे अन्याय की भी सुधि लें। ज्ञापन सौंपने के दौरान  पूरण साहू, लालाराम साहू, झगन कन्नौजे, नरपत सिंह, ज्वाला सिंह ठाकुर, मुकेश वैष्णव, बुलाक साहू, सोनऊ निषाद तथा अनेकों लोग मौजूद रहे।