छत्तीसगढ़ » बेमेतरा

Previous12Next
Posted Date : 19-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता 

    बेमेतरा, 19 जनवरी। छत्तीसगढ़ चेंबर ऑफ कॉमर्स एवं इंडस्ट्रीज इकाई बेमेतरा के सदस्य एवं व्यापारियों ने पुलिस अधीक्षक प्रशांत ठाकुर से मिलकर शहर की यातायात समस्या से अवगत कराया। एसपी ने समस्याओं के निराकरण का भरोसा दिलाया।
    चेंबर के सदस्यों ने शहर में ट्रैफिक व्यवस्था, हाई स्पीड वाहनों, शहर में बस स्टापेज, कई जगह पर बैरी गेट्स की आवश्यकता पर ध्यान आकृष्ट कराया। छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कॉमर्स के प्रदेश उपाध्यक्ष चंदन सोनी ने कुछ विशेष स्थानों में वाहनों में हार्न को प्रतिबंधित करने एवं प्रतीक चिन्हों  को चस्पा करते हुए जागरूकता लाने की बात कही।
    पुलिस अधीक्षक ने सभी विषयों को गंभीरता से लिया और त्वरित कार्यवाही का आश्वासन दिया। उन्होंने चेम्बर औफ कॉमर्स को सामाजिक क्षेत्र में रचनात्मक कार्य करते रहने का सुझाव भी दिया।
     इस दौरान चंदन सोनी, चेंबर ऑफ कॉमर्स के जिलाध्यक्ष रविपाल सिंह अरोरा, दीपक मोटवानी, संतोष बजाज, विनय लखोटिया, मुकेश चांडक, अरुण सोनी एवं रूपेश पांडे आदि मौजूद थे।

     

  •  

Posted Date : 18-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    बेमेतरा, 18 जनवरी। कलेक्टर महादेव कावरे ने कल सवेरे 10.40 बजे बेमेतरा स्थित परिवहन कार्यालय, उप संचालक महिला एवं बाल विकास विभाग एवं खंड शिक्षा अधिकारी (बीईओ) कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान अनेक कर्मचारी समय पर उपस्थित नहीं हुए थे। उन्होंने स्टॉफ को निर्देश दिए कि वे निर्धारित समय पर कार्यालय पहुंचे। 
        आम नागरिकों द्वारा जिलाधीश को कुछ कार्यालयों में विलंब से कर्मचारियों के दफ्तर पहुंचने की शिकायत मिली थी। कलेक्टर ने परिवहन कार्यालय में लोक सेवा गारंटी अधिनियम 2011 के अंतर्गत आम नागरिकों को दी जा रही सेवाओं की जानकारी ली। उन्होंने लोक सेवा गारंटी का फ्लेक्सी कार्यालय के बाहर प्रदर्शित करने के निर्देश जिला परिवहन अधिकारी को दिए। उन्होंने कार्यालय परिसर में भी साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखने को कहा। प्रीति ठाकुर परिवहन आरक्षक द्वारा विगत तीन दिन से उपस्थिति पंजी में हस्ताक्षर नहीं किया गया है।
     इसी तरह प्रवीण साहू सहायक गे्रड -03 ने भी दो दिन तक हस्ताक्षर नहीं किया। निरीक्षण के समय पूछने पर उनके स्टॉफ द्वारा बताया गया कि वे आज रायपुर प्रवास पर है इस कारण उनका हस्ताक्षर नहीं है। दोनों कर्मचारियों को शोकॉज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए है। कलेक्टर ने परिवहन कार्यालय की सीढ़ी मरम्मत के निर्देश आर.टी.ओ. को दिए। महिला बाल विकास विभाग के कार्यालय के निरीक्षण में केवल दो ही कर्मचारी उपस्थित पाए गए। कार्यालय के लिपिक मानसिंह क्षत्री ने 10 से 17 जनवरी तक उपस्थिति पंजी में हस्ताक्षर नहीं किया है। 
    इसी तरह राजलक्ष्मी सोनी द्वारा भी 06 से 17 जनवरी तक हस्ताक्षर नहीं किया गया है, उन्हें शोकॉज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। इसी तरह बीईओ कार्यालय के निरीक्षण के दौरान 11 में से केवल तीन ही कर्मचारी उपस्थित मिले। जिनमें एक अन्यत्र संलग्न और एक कर्मचारी अर्जित अवकाश पर है जबकि 6 कर्मचारी समय पर कार्यालय नहीं पहुंचे थे, उन्हें शोकॉज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। बीईओ धरमलाल डहरिया स्वयं कार्यालय में समय पर उपस्थित नहीं हुए थे। समय पर कार्य में उपस्थित नहीं होने वाले कर्मचारियों में एस. नारायण गहरवार, भूपेन्द्र कुमार पांडेय, धन्नूलाल साहू, जयप्रकाश करमाकर, भानू प्रताप शर्मा शामिल हंै। कलेक्टर ने विलंब से आने वाले कर्मचारियों को ताकिद किया है कि वे समय पर कार्य पर उपस्थित हो अन्यथा उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।  

     

     

     

     

  •  

Posted Date : 18-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता 

    बेमेतरा, 18 जनवरी।  शासकीय बालक उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय बेमेतरा में वार्षिक स्नेह सम्मेलन का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभांरभ विधायक बेमेतरा आशीष कुमार छाबड़ा के मुख्य आतिथ्य व अवनीश राघव तथा सुमन गोस्वामी के विशिष्ट आतिथ्य में मॉ सरस्वती की प्रतिमा पर दीप प्रज्जवलित कर हुआ। सरस्वती वंदना कक्षा 11 वीं के छात्र रविकुमार भारती द्वारा प्रस्तुत किया गया। 
    शाला के प्राचार्य आलोक तिवारी द्वारा शाला का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया। जिसमें विद्यालय की उपलब्धि तथा आवश्यकताओं पर प्रकाश डाला गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विधायक आशीष छाबड़ा ने कहा कि यह विद्यालय जिले का आदर्श विद्यालय रहा है। मेरी राजनीतिक यात्रा की शुरूआत इसी विद्यालय से छात्र संघ अध्यक्ष के रूप में हुई है। तब से लेकर आज तक मैंने जो लक्ष्य रखा उसे प्राप्त किया। इसका श्रेय मैं अपने सभी गुरूजनों को समर्पित करता हूॅं। जिनके आशीर्वाद से मैं इस मुकाम पर पहॅुंचा। अत: आप सभी छात्रों को बड़े भाई होने के नाते यह कहना चाहूॅगा कि आप अपना लक्ष्य स्वयं तय करें तथा अपने शिक्षकों के मार्गदर्शन में काम करें, सफलता निश्चित मिलेगी। 
     विशिष्ट अतिथि अवनीश राघव व सुमन गोस्वामी ने अपने उद्बोधन में छात्रों को कभी निराश न होने की प्रेरणा दी। उन्होंने कहा कि असफलता ही सफलता की कुंजी है। इस मंच के माध्यम से अपनी कला को बहुत आगे तक ले जा सकते हंै। कार्यक्रम में उपस्थित कलेक्टर महादेव कावरे द्वारा बच्चों के कार्यक्रम की सराहना करते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की।  बच्चों द्वारा प्रस्तुत पारंपरिक कर्मा ,पंथी ,जैसे अनेक कार्यक्रम प्रस्तुत किये गए जिसे सभी दर्शकों के द्वारा सराहा गया। कार्यक्रम का संचालन टी.डी.जांगड़े व्या. एवं मनोज बक्शी व्या. द्वारा किया गया तथा आभार प्रदर्शन सांस्कृतिक प्रभारी शशिकिरण तिवारी द्वारा किया गया। 

     

     

  •  

Posted Date : 18-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    बेमेतरा, 18 जनवरी। पुलिस ने शासकीय धान चोरी करने के मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों से 63 बोरों में रखे गए को लेकर 31 क्विंटल धान बरामद किया गया है।
    पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार ग्राम चारभाठा में बुधवार को मुखबिर से सूचना मिली कि एक पिकअप में सरकारी धान भरा हुआ है और गांव में खड़ा हुआ है। थाना प्रभारी ने धान चोरी की आशंका से तस्दीक करने के लिए टीम को रवाना किया। जहां चारभाठा रोड पर एक सफेद रंग के छोटा हाथी वाहन में 23 कट्टा धान भरा हुआ मिला। आरोपी चालक चारभाठा निवासी जितेश दिवाकर ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि इस धान को उसने मनीष टंडन के कहने पर उनके घर से भरकर बेमेतरा रवाना हुआ है। जिसके बाद पुलिस ने मनीष टंडन के घर जाकर कड़ाई से पूछताछ की।
     जिसमें मनीष ने बताया कि उसने छत्तीसगढ़ राज्य सरकारी के शासकीय में भरा हुआ 40 कट्टा धान बेचने के उद्देश्य छुपा कर रखा था। साथ ही मनीष के पास से 23 नग खाली सरकारी बोरा जब्त किया गया। आरोपी ने बताया कि पहचान छुपाने के लिए बोले को बदल दिया था। उसने बताया कि सरकारी धान को उसने रात में सड़क पर आने वाले अंजान ड्राइवरों  से कम मूल्य में खरीदा था। जिसके बाद सरकारी विपणन समिति के अधिकारी की पुष्टि के बाद विधिवत कार्यवाही करते हुए कुल 25 क्विंटल 20 किलो धान कुल कीमत 51,660 रुपए और छोटा हाथी वाहन को जब्त किया गया। दोनों आरोपियों को न्यायालय में पेश किया गया। जहां से उसे न्यायिक रिमांड पर लिया गया है। 

     

  •  

Posted Date : 17-Jan-2019
  • नवागढ़ विधायक का ब्लॉक सरपंच संघ ने किया सम्मान 

    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    बेमेतरा, 17 जनवरी। ब्लॉक सरपंच संघ नवागढ़ द्वारा क्षेत्रीय विधायक गुरूदयाल सिंह बंजारे का कल सम्मान किया गया। नवागढ़ के शुभ-मंगल भवन में आयोजित समारोह में कलेक्टर महादेव कावरे, जिला पंचायत के सीईओ एस. आलोक, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व डी.एस. उइके, सरपंच संघ अध्यक्ष सुशीला जोशी सहित जनपद पंचायत के अनेक सरपंच उपस्थित थे। 
     विधायक ने कहा, मैं नवागढ़ विधानसभा क्षेत्र के विकास के लिए त्रि-स्तरीय पंचायती राज प्रतिनिधियों के साथ कदम से कदम मिलाकर चलूंगा और अंचल के विकास के लिए दलगत राजनीति से उपर हटकर काम करूंगा। क्षेत्र के सभी नागरिक मेरे लिए सम्मानीय है, मैं उनकी सेवा में हमेशा तत्पर रहूूंगा। 
    कलेक्टर श्री कावरे ने कहा कि सरपंच एवं जनपद पंचायत के सीईओ आपस में तालमेल एवं समन्वय बनाकर चलें तो क्षेत्र का विकास होगा। उन्होंने 23 जनवरी को आयोजित होने वाली ग्रामसभा में ग्रामीणों की सहभागिता के लिए सरपंचों से अपील की। विकासखंड में महात्मा गांधी नरेगा के अंतर्गत विभिन्न निर्माण कार्य कराये जा रहे हैं, इसके अलावा प्रत्येक ग्राम पंचायतों में प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के अंतर्गत आवास निर्माण का कार्य भी कराया जा रहा है। कलेक्टर ने कहा कि कई कार्य अधूरे या शुरू ही नहीं हुए है, उसे जल्द से जल्द प्रारंभ करें और समय पर पूरा भी करें। 
    प्रधानमंत्री आवास में बेमेतरा जिला का प्रतिशत अन्य जिलों से कम है, इसके लिए पंचायत सचिव, आवास मित्र एवं रोजगार सहायक को आगे आना होगा। उन्होंने राज्य सरकार की मंशा है कि नरवा, गरवा, घुरवा अउ बाड़ी का संरक्षण करना है। 
    समारोह को सरपंच मुर्रा सुशीला जोशी, सरपंच मगरघटा नरेन्द्र शर्मा, घुरसेना अमिता बघेल, जनपद पंचायत सदस्य देविका वर्मा, पूर्व जिला पंचायत सदस्य सुरेन्द्र तिवारी (दाढ़ी) ने भी संबोधित किय। विधायक के सम्मान में एक बड़ी माला पहनाकर उनका अभिनंदन किया गया। 
    इस अवसर पर जनपद पंचायत के सीईओ आनंदरूप तिवारी, तहसीलदार भूपेन्द्र कुमार गांवरे,  पूर्व जिला पंचायत सदस्य ज्ञानदास रात्रे, झम्मन बघेल, दुर्गाप्रसाद बघेल (मुंगेली), जावेद खान (छिरहा), जीवन टंडन सरपंच बहरबोड़ उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन ग्राम पंचायत अमलडीहा के सरपंच विजय कुमार वर्मा ने किया। 

     

     

     

  •  

Posted Date : 17-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    बेमेतरा, 17 जनवरी। विधायक नवागढ़ गुरूदयाल सिंह बंजारे ने बुधवार दोपहर को नगर पंचायत कार्यालय नवागढ़ पहुंचकर कराये जा रहे विभिन्न निर्माण कार्यों की जानकारी ली। इस अवसर पर कलेक्टर महादेव कावरे, नगर पंचायत अध्यक्ष गिरेन्द्र महिलांग, एसडीएम डी एस उइके, सीएमओ संजय भीमटे, पार्षद राहुल खुराना उपस्थित थे।
    स्थानीय नागरिकों ने विधायक को बेजा कब्जा हटाने के नाम पर छोटे-छोटे व्यावसायियों की दुकान तोड़े जाने के संबंध में शिकायत की। इसके अलावा उन्होंने नगर पंचायत द्वारा आज से लगभग 8 वर्ष पूर्व 32 दुकानें निर्मित हैं, उसमें दुकान आबंटित करने के नाम पर राशि जमा करवायी गई है, इसमें 109 लोगों ने पैसा जमा किया है, किन्तु किन्ही कारणवश दुकानों का आबंटन अभी तक नहीं हुआ है। इसके अलावा नागरिकों ने नगर पंचायत के कर्मचारियों द्वारा अशिष्ट व्यवहार किए जाने की शिकायत की। विधायक ने लोगों को भरोसा दिलाया कि सभी के साथ समान व्यवहार होगा, गरीब-अमीर का भेदभाव नहीं होगा। श्री बंजारे ने कहा कि किसी भी व्यक्ति के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा। 
     कलेक्टर ने दुकान आवंटन के संबंध में लोगों को आश्वस्त किया कि एसडीएम नवागढ़ की अध्यक्षता में एक कमेटी बनाई जा रही है, जो एक सप्ताह में जांच कर रिपोर्ट कलेक्टर को सौंपेंगे। जिलाधीश ने मुख्य नगर पालिका अधिकारी को स्पष्ट निर्देश दिए कि कार्यालय का स्टॉफ समय पर ड्यूटी आएं और आम नागरिकों से शिष्ट व्यवहार करें। बिना किसी वजह से अपने सीट से गायब न रहें,  अन्यथा संबंधित कर्मचारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। कलेक्टर ने नवागढ़ के गौरव पथ निर्माण कार्य की जानकारी ली और इसे शीघ्र पूरा करने के निर्देश दिए। राज्य शासन द्वारा शंकर नगर से तालाब किनारे होकर बस स्टैंड पहुंच मार्ग तक 9 करोड़ की लागत से इसका निर्माण कार्य कराया जा रहा है। लगभग 80 प्रतिशत कार्य पूर्ण हो चुका है। नवागढ़ के विभिन्न वार्डों में सी.सी. रोड मरम्मत एवं नाली निर्माण का कार्य कराया जा रहा है। 
    विधायक एवं कलेक्टर द्वारा नवागढ़ के वार्डों का पैदल भ्रमण कर निर्माण कार्य के संबंध में जानकारी ली। कलेक्टर ने स्वीकृत कार्यों को शीघ्र प्रारंभ करने के निर्देश दिए एवं निर्माणाधीन कार्यों को समय पर पूरा करने मुख्य नगर पालिका अधिकारी को निर्देशित किया। नगर पंचायत के प्लेसमेन्ट कर्मचारी देवसिंह गायकवाड़ के संबंध में शिकायत की गई कि वह ड्यूटी पर उपस्थित नहीं रहता और काम कहीं और कर रहा है। कलेक्टर ने सीएमओ को साफ चेतावनी दी कि नगर पंचायत के स्टॉफ पर अंकुश रखें। 
    उप अभियंता को शोकॉज नोटिस - विधायक एवं कलेक्टर के समक्ष नगर पंचायत के उप अभियंता अशोक कंवर द्वारा आम नागरिकों के साथ दुव्र्यवहार किए जाने की शिकायत की गई। कलेक्टर ने उनके विरूद्ध शोकॉज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए और अपनी कार्यप्रणाली में सुधार लाने की हिदायत दी, अन्यथा संबंधित उप अभियंता के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। 
    सीएमओ व इंजीनियर के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं, नवागढ़ नगर पंचायत में अनियमितता सिर से ऊपर है।
    गुरुदयाल सिंह बंजारे,
     विधायक- नवागढ़।
    नगर पंचायत नवागढ़ में जिन कार्यों को अधूरा व जारी बताया गया है, वे काम मौके पर नहीं मिले। विधायक ने अन्य कार्यों की जांच के लिए कहा है। राज्य शासन को सीएमओ व इंजीनियर के खिलाफ कार्रवाई करने और नगर के कार्यों की जांच का प्रस्ताव भेजा गया है।
    महादेव कावरे, कलेक्टर - बेमेतरा

     

     

     

     

  •  

Posted Date : 17-Jan-2019
  • बेमेतरा, 17 जनवरी। जिला बेमेतरा अंतर्गत विकासखण्ड बेमेतरा, नवागढ़, एवं बेरला के 36 शाला भवनों के अत्यंत जर्जर होने के कारण डिसमेंटल करने का आदेश कलेक्टर महादेव कावरे द्वारा दिया गया। जिसमें बेमेतरा विकासखण्ड अंतर्गत शासकीय प्राथमिक शाला मरका, शा.प्रा.शाला नरी, शा.प्रा.शाला राउरपुर, शा.प्रा.शाला करचुवा, शा.प्रा.शाला बाराडेरा, शा.प्रा.शाला सिंघनपुरी, शा.प्रा.शाला मुटपुरी, शा.प्रा.शाला खाम्ही (ब), शा.प्रा.शाला खाम्ही (अ), शा.प्रा.शाला भनसुली (अ), शा.प्रा.शाला बटार, शा.प्रा.शाला कुरदा एवं शा.पू.माध्य. शाला खाम्ही शामिल है। विकासखण्ड नवागढ़ अंतर्गत शा.पू.माध्य.शाला ठेंगाभाट, शा.प्रा.शाला करमन, शा.प्रा.शाला किरता, शा.प्रा.शाला मुर्रा, शा.प्रा.शाला कातलबोड़, शा.प्रा.शाला करमसेन, शा.प्रा.शाला पिरैया, शा.पू.माध्य.शाला नगधा, शा.प्रा.शाला नवागॉंव, शा.प्रा.शाला बुंदेली, शा.प्रा.शाला मेढ़की, शा.प्रा.शाला नेऊर, शा.पू.माध्य.शाला बदनारा, एवं शा.प्रा.शाला पौसरी शामिल है। विकासखण्ड बेरला अंतर्गत शा.प्रा.शाला बोरिया, शा.प्रा.शाला कुम्ही, शा.प्रा.शाला लावातरा, शा.प्रा.शाला बेरलाकला, शा.प्रा.शाला चेटुवा, शा.प्रा.शाला सोरला, शा.प्रा.शाला बहेरा, शा.प्रा.शाला घटियाकला एवं शा.प्रा.शाला गोड़गिरि शामिल है। नियम व शर्तें- उपरोक्त जर्जर शालाओं के मलबे (पुराना दरवाजा, खिड़की, बल्ली, खपरैल एवं अन्य) की नियमानुसार नीलामी पश्चात डिस्मेंटल की कार्यवाही संबंधित विभाग द्वारा किया जाएगा। नीलामी की कार्यवाही का पर्यवेक्षण शाला प्रबंधन समिति एवं संबंधित विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी द्वारा किया जाएगा। नीलामी से प्राप्त राशि शाला प्रबंधन समिति द्वारा शाला विकास मद में जमा किया जाएगा।

  •  

Posted Date : 17-Jan-2019
  • बेमेतरा, 17 जनवरी। बेरला थाना के ग्राम तिलई में मजदूर के घर शादी के लिए रखे जेवर व नगदी चोरी हो गए। 

    पुलिस के अनुसार ग्राम तिलई में अटल आवास में रहने के लिए गए मजदूर तीरथ राम गायकवाड़ के पुराने घर में चोरी हो गई। बताया गया कि प्रार्थी ने अटल आवास योजना के तहत शासन से मिले मकान में 14 जनवरी को रहना शुरू किया। वहीं पुराने मकान में आधे सामान रखा हुआ था। नए घर में मन नहीं लगने के कारण वह परिवार के साथ पुराने मकान में गए तो वहां उसने देखा कि उसके मकान के दरवाजे के ताला टूटा हुआ था, और घर के अंदर अंधेरा था। स्थिति को देखकर घर में चोरी होने की आशंका हुई तो लड़की की शादी के लिए खरीदे गए सोना-चांदी के जेवर को देखा तो वह चोरी हो चुका था। दीवान के अंदर पर्स में रखे 3 नग सोने पत्ती पान, एक नग सोने का टाप्स, एक जोड़ी चांदी का पायल सहित कुल 20 हजार रुपए का सामान चोरी हो गया। चोर कमरे में लगा बल्ब भी चुरा ले गया। प्रार्थी ने बुधवार को बेरला थाना पहुंच कर प्रकरण दर्ज कराया है।

     

     

     

     

     

  •  

Posted Date : 16-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    बेमेतरा, 16 जनवरी। चोरी का प्रकरण दर्ज कराने वाले प्रार्थी के साथ आया उसका सगा भाई ही चोरी का आरोपी निकला। पुलिस ने आरोपी से 82 हजार का सामान बरामद किया है। इसमें जेवर व बर्तन भी शामिल हंै। आरोपी भुनेश्वर के खिलाफ चोरी का मामला दर्ज कर भेज दिया गया है।
    पुलिस के अनुसार ग्राम करही में 6 जनवरी को रामेश्वर वर्मा के घर बर्तन एवं नगद चोरी हो गया। वारदात के वक्त रामेश्वर परिवार समेत लोलेसरा आया था। उसके छोटे भाई ने उसे फोन कर चोरी होने की सूचना दी। 
    प्रार्थी का मकान और आरोपी का घर अगल-बगल में है। प्रार्थी चोरी रिपोर्ट दर्ज कराने आरोपी के साथ ही बेमेतरा थाने पहुंचा था। पुलिस आरोपी को चोरी होने की जानकारी देता रहा। पूछताछ में आरोपी ने पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की। इससे पुलिस का संदेह गहरा गया।
    पुलिस को सूचना मिली कि आरोपी सामान बेचने की फिराक में है। थाना प्रभारी राजेश मिश्रा ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली कि एक व्यक्ति सामानों की बिक्री के बारे में आस-पास बात कर रहा है। सामानों को छुपा कर रखा है। थाना प्रभारी ने तत्काल टीम बना कर आरोपी को गिरफ्तार करने भेजा।
    मशक्कत के बाद आरोपी को मोबाइल लोकेशन के आधार पर पकड़ा गया। बारीकी से पूछताछ करने पर आरोपी टूट गया और चोरी करना स्वीकार किया। 
    उसके पास सोने का झुमका, सोने का लॉकेट, सोने का मंगलसूत्र , जोड़ी चांदी की पायल,  चांदी का करधन, एक जोड़ा चांदी का चाबी छल्ला  बरामद किया गया। साथ ही पीतल की परात, पीतल की गुंडी भी जब्त की गई।

     

  •  

Posted Date : 15-Jan-2019
  • विधायक ने राजस्व अफसरों को दी सख्त हिदायत 
    छत्तीसगढ़ संवाददाता

    बेमेतरा, 15 जनवरी। तहसील कार्यालय में राजस्व विभाग की बैठक विधायक आशीष छाबड़ा ने ली। विशेष रूप से कलेक्टर महादेव कावरे एवं एसडीएम डीएन कश्यप भी मौजूद थे। विधायक  छाबड़ा ने पटवारियों को हिदायत देते हुए कहा कि बहुत ज्यादा शिकायतें आ रही हैं, किसानों एवं आम जनता का काम नहीं हो रहा है, आगे से शिकायत नहीं आनी चाहिए अगर शिकायत मिलती है तो कड़ी कार्रवाई होगी। तहसील कार्यालय एवं आसपास में दलाल नहीं दिखने चाहिए नहीं तो कार्रवाई निश्चित होगी। 
    विधायक ने निर्देश दिया कि जाति प्रमाण पत्र, मृत्यु प्रमाण पत्र बनने में कोई भी देरी न की जाए। साथ ही किसानों को कार्यालय में किसी भी प्रकार की समस्या का सामना न करने पड़े। विधायक छाबड़ा ने पटवारियों से पूछा कि अवैध प्लाटिंग हो रही है, उनको नक्शा कौन उपलब्ध करा रहा है। कंतेली, मोहभ_ा, कोबिया में अवैध प्लाटिंग की शिकायत है, इस पर तत्काल कार्रवाई करें। विधायक ने पूछा कि पांच डिसमिल से कम प्लॉटों की रजिस्ट्री में से शासन ने रोक हटा दी है, अब कोई भी रजिस्ट्री नहीं रुकना चाहिए, यह आमजनता व किसानों की सरकार है, आम नागरिकों के काम लोक सेवा गारंटी अधिनियम 2011 के तहत समय से पहले होना चाहिए। 
    कलेक्टर श्री कावरे ने कहा कि राजस्व विभाग के कामकाज आम जनता से जुड़ा होता है। राजस्व अधिकारी अपने प्रभार क्षेत्रों का नियमित भ्रमण करें और आम जनता की समस्याओं से रू-ब-रू होकर इसका त्वरित निराकरण करना सुनिश्चित करें। जिलाधीश ने कहा कि पटवारी अपने निर्धारित मुख्यालय में रहें, इससे लोगों के काम में आसानी होगी। उन्होंने राजस्व पुस्तक परिपत्र 6-4 के तहत प्राकृतिक आपदा से मौत के सहायता राशि के प्रकरण शीघ्र तैयार करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने नामांतरण, बंटवारा, सीमांकन एवं फौती के प्रकरणों पर त्वरित कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होंने पटवारी एवं राजस्व निरीक्षक आवास के संबंध में भी जानकारी ली। 
    विधायक ने तहसीलदार और एसडीएम से स्पष्ट कहा कि तहसील ऑफिस के बाबू को सुधारना होगा। कई ऐसे व्यक्ति हैं जो अपने परिजनों की मृत्यु प्रमाण पत्र के लिए 800 रुपए तक दिए हैं। इस तरह का काम ना हो , शिकायत मिली तो कार्रवाई होगी।  कहा कि आज से काम को बेहतर करें। सबको जनता की सेवा करना है। जनहित के लिए काम करें । मेरी मदद की जरूरत हो तो मैं 24 घंटे तैयार हूं। परेशानी हो तो कलेक्टर को बता सकते हैं।  बैठक के दौरान पार्षद ने अवैध प्लाटिंग करने की बात भी रखी, जिसके लिए जांच कराने की बात कही गई।
    पटवारियों ने कहा कि जिले में दस्तावेजों को दुरुस्त करने के लिए कंप्यूटर लैब हो। जहां पर दुरुस्त करने के संसाधनों पर वर्तमान में सुधार के प्रकरण आने पर जिले का प्रकरण रायपुर भेजा जाता है, जिसके कारण महीनों लग जाता है। 
    बर्ड फ्लू लक्षण व बचाव की दी जानकारी 
    बेमेतरा, 15 जनवरी।  मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने वर्तमान में राज्य में बर्ड फ्लू की संभावना के मद्देनजर इससे बचाव एवं रोकथाम के लिए इसके लक्षण के उपाय बताए।   लक्षण - बुखार, गला खराब होना, खांसी, सर दर्द, मांस पेशियों में दर्द, जुकाम और नाक बहना इत्यादि।  उपचार हेतु ओसेल्टामिविर केप्सूल, पीपीई किट, ट्रिपल लेयर मास्क, एन 95 मास्क इत्यादि बेमेतरा जिले के जिला चिकित्सालय एवं सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में उपलब्ध हैं। 
    मनुष्यों में संक्रमण की स्थिति की त्वरित निदान एवं त्वरित उपचार से परिणाम बेहतर हो सकते हैं। बचाव के उपाय- पक्षियों की मृत्यु वाले क्षेत्र में किसी व्यक्ति को सर्दी, खांसी बुखार की शिकायत हो तो तत्काल निकट के चिकित्सक से संपर्क करें, पक्षियों के पंख, लार तथा अपशिष्ट पदार्थों को न छुयें, पक्षियों की देखभाल करते समय हमेशा नाक व मुंह को मास्क या घने कपड़े से ढंक कर रखें, गर्भवती महिलाएं एवं बच्चे जानवरों और पक्षियों के संपर्क में आने से बचें, रोग से मृत पक्षियों या पोल्ट्री को न खाएं, कच्चा या अधपका मांस न खायें, पोल्ट्री पक्षियों या इनके उत्पादों के संपर्क में आने वालों का बार-बार अपने हाथ साबून और पानी से धोना चाहिए, मांस और अंडों का अच्छी तरह से धोने के बाद ही उपयोग करें, जहां तक संभव हो शाकाहारी होने की कोशिश करें, पालतु और गैर पालतु पक्षियों में अचानक मृत्यु की जानकारी मिले तो तत्काल इसकी सूचना निकट के पशु चिकित्सा अधिकारी को देवें, मृत पक्षियों को हाथ न लगायें तथा समुचित निष्पादन किया जावे।

     

     

     

     

     

     

  •  

Posted Date : 15-Jan-2019
  • बेमेतरा, 15 जनवरी। विधायक आशीष छाबड़ा ने रायपुर में पंचायत और स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव से मुलाकात की। उन्होंने बेमेतरा के विकास संबंधी मुद्दों पर चर्चा की। इसमें सबसे अहम मुद्दा बेमेतरा हॉस्पिटल रहा। विधायक में मंत्री से बेमेतरा के लोगों के लिए 100 बिस्तर वाले अस्पताल में डॉक्टरों की कमी को जल्द पूर्ण करने सहायता मांगी। मंत्री सिंहदेव ने मांग को पूरा करने का आश्वासन दिया है। विधायक ने बेमेतरा के विकास के लिए अन्य मांगे रखी जिसे उन्होंने पूरा करने का भरोसा दिया है। मंत्री ने आश्वासन दिया कि बेमेतरा के विकास में हर संभव मदद करेंगे।

     

     

     

     

     

  •  

Posted Date : 14-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता 

    बेमेतरा, 14 जनवरी। नगर के बेसिक स्कूल मैदान में टेलिस्कोप के माध्यम से बच्चों ने चांद देखा। छत्तीसगढ़ विज्ञान सभा के स्काई वाचिंग प्रोग्राम के तहत न्यूटोनियन टेलिस्कोप के माध्यम से स्कूली बच्चों को चांद दिखाया। कलेक्टर महादेव कावरे की विशेष पहल पर यह कार्यक्रम हुआ। 
    टेलीस्कोप में चांद देखने के साथ ही बच्चों के मन में उठ रहे सवालों का पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय के खगोल वैज्ञानिक प्रोफेसर लक्ष्मीकांत ने जवाब दिया। खगोल विज्ञान के जानकार एनआरडीए से जुड़े हुए खगोलज्ञ डिप्टी कलेक्टर विश्वास मेश्राम ने न्यूटोनियन टेलीस्कोप से विभिन्न स्कूलों के बच्चों को चांद दिखाया।
    डिप्टी कलेक्टर विश्वास मेश्राम ने बताया कि वर्तमान विज्ञान के पितृ पुरुष वैज्ञानिक गैलीलियों ने आज से 409 वर्ष पूर्व सन 1609 में दूरबीन के माध्यम से सौर मंडल में स्थित चांद में गड्ढे देखे और उन्हीं के खोज के बाद खगोल विज्ञान में आगे कदम बढ़ते गए और कई ग्रहों की खोज हुई। अभी जो हम न्यूटोनियन टेलीस्कोप से चांद को देखेंगे, उनमें चांद 36 गुना बड़ा दिखाई देता है।
    वैज्ञानिक सोच के प्रचार-प्रसार के क्षेत्र में काम करने वाली स्वमसेवी संस्था छत्तीसगढ़ विज्ञान सभा ने 150 व्यास के न्यूटोनियन टेलीस्कोप के माध्यम से स्काई वाचिंग कराया। लोगों ने चंद्रमा में के गड्ढे, क्रेटर्स, मंगल ग्रह का अवलोकन किया। रात में रात्रि कालीन अवकाश के तारा मंडलों के बारे में अवगत हुए।  छात्रा मीनाक्षी वर्मा , रानू दुबे, प्रतिभा यादव, प्रकाश कुमार, अमर सिंह ने आज के अनुभव को अनूठा बताया। कार्यक्रम एस्ट्रोनॉमी सोसायटी आफ इंडिया के दुनिया भर में चल रहे खगोल विज्ञान के 100 घंटे के तहत आयोजित किया गया। इस दौरान कलेक्टर भी मौजूद रहे।
    बच्चों ने ये पूछे सवाल
    टेलिस्कोप में चांद देखने के बाद बच्चों ने सौर मंडल, तारा मंडल, उपग्रह, उल्का पिंडो के अलावा दूसरे ग्रह में जीवन है या नहीं, ग्रह नक्षत्रों की स्थिति, सूर्य के जीवन का अंत है या नहीं, जैसे सवाल किए। खगोल वैज्ञानिक प्रोफेसर लक्ष्मीकांत ने तर्क पूर्ण जवाब देकर बच्चों की जिज्ञासा को पूर्ण किया।

     

     

  •  

Posted Date : 14-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    बेमेतरा, 14 जनवरी। जिले में आयुर्वेद गांवों का गठन कर औषधालय का संचालन 10 साल से किया जा रहा है। पर जिले के कई औषधालय में डॉक्टरों की कमी है। कई डॉक्टरों के पास दो या तीन औषधालय का प्रभार है। इससे कामकाज प्रभावित हो रहे हैं, वहीं मरीजों को भी परेशानी हो रही है।
    संचालनालय आयुर्वेद योग एवं प्राकृतिक चिकित्सा, यूनानी सिद्ध एवं होम्योपैथी, आयुष छत्तीसगढ़ योजना के तहत जिले में 27 औषधालय का संचालन किया जा रहा है। जिले के बेमेतरा विकासखंड 6 औषधालय, नवागढ़ में 6, बेरला में 7, साजा में 8 औषधालय का संचालन किया जा रहा है। जहां एक-एक चिकित्सक, एक फार्मासिस्ट, ओपीडीएस, एक सहायक का पद स्वीकृत है। जिसमें से जिले में 27 डॉक्टर के स्वीकृत पद में से 14 कार्यरत हैं, वहीं 13 पद रिक्त है। फार्मासिस्ट के 27 पद में से 25 में कार्यरत हैं। वहीं औषधालय सहायक के 27 पद में से 15 में स्टॉफ है, वहीं 12 पद रिक्त है। ओपीडीएस के 27 पद में से 23 में स्टॉफ हंै, 4 पद रिक्त है। 27 आयुर्वेदिक औषधलय में से 18 के पास भवन है। वहीं 9 औषधालय दीगर भवनों में चल रहे हंै।
    डॉक्टरों की कमी 
    ग्राम पंचायत बोरतरा में दो आयुर्वेदिक अस्पताल बनाए गए हैं, जहां पर डॉक्टरों की कमी है। ग्रामीण बदरुद्दीन कुरैशी ने बताया कि एक भी डॉक्टर नहीं होने से शो-पीस बना हुआ है। अस्पताल एक फार्मासिस्ट के भरोसे चल रहा है। पुन्नू जंधेल, कुंभकरण जंगेल एवं विक्की वर्मा ने बताया कि छोटी-बड़ी बीमारी के लिए 12 किलोमीटर दूर साजा जाना पड़ता है। इसी तरह की स्थिति छिरहा, धुरसेना, कुरा, नांदघाट, कुसमी, बारगांव, टकसिवा, देवकर, परपोड़ी, खैरझितिकला के औषधालयों की है। जहाँ पर स्थायी डॉक्टर की नियुक्ति नहीं है। 
    काम हो रहे प्रभावित
    आयुर्वेदिक अस्पतालों में बेहतर स्वास्थ्य के लिए उन्हें उपाय बताए जाते हैं। मौसम अनुसार खानपान एवं रहन-सहन की जानकारी दी जाती है। औषधियों के महत्व को समझाते हुए उनके संरक्षण के लिए प्रेरित किया जाता है। जड़ी- बूटियों को अपनी जलवायु और बाजार के अनुसार खेती के लिए किसान को प्रेरित किया किया जाता है। आयुर्वेदिक व योग को बढ़ावा दिया जाता है। ये सभी काम डॉक्टरों की कमी की वजह से प्रभावित हो रहे है।
    अधूरी व्यवस्था के कारण
    हो रही दिक्कतें
    प्रदेश में 2008-09 से आयुष के तहत औषधालय शासन ने खोले हैं। जिले में प्रथम चरण में 9 औषधालय और दूसरे चरण में 9 एवं तीसरे चरण में 10 औषधालय शुरू किए गए हैं। जिसमें से अब तक जिले के 27 और साधनों के पास भवन नहीं है। जिसमें कामकाज का संचालन प्रभावित हो रहा है। प्रभावित केंद्रों में नांदघाट, कुर्रा, मउ, गोड़गिरी,  देवरबीजा, खेड़ा, बारगांव  एवं जेवरा है। इन केंद्रों में अस्थाई व्यवस्था कर कामकाज का संचालन किया जा रहा है।

     

  •  

Posted Date : 12-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    बेमेतरा, 12 जनवरी। नौकरी लगाने के नाम पर थान खम्हरिया निवासी शुभम सिंघानिया 1.19 लाख की ठगी की शिकार हो गर्इं। पीडि़ता की शिकायत पर थान खम्हरिया थाना में धारा 420, 34 के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है। 
    प्राप्त जानकारी के अनुसार शुभम सिंघानिया के मोबाइल पर आदित्य मल्होत्रा, अनुराग सिंह व अन्य मोबाइल धारक ने नौकरी लगाने का नाम पर एक राय होकर झांसा दिया। छलपूर्वक उनसे कुल 1,19,999 रुपए बैंक खाते में जमा करवा कर धोखाधड़ी की। इसकी लिखित शिकायत थाने में की गई है। बताया गया कि शुभम सिंघानिया पिता श्याम सिंघानिया बीसीए तक पढ़ी हैं।
    पीडि़ता ने पुलिस को बताया कि 5 अक्टूबर 2018 को उनके मोबाइल पर फोन आया, कहा गया कि उसने जॉब के लिए अप्लाई किया था, आपको किस फील्ड में जॉब चाहिए। प्रार्थिया ने उसे डाटा एंट्री ऑपरेटर पोस्ट में काम करने की जानकारी दी। उन्हें बताया गया कि पहले इंटरव्यू लिया जाएगा जो तीन राउंड में होगा। पहले ऑनलाइन, टेलिफोनिक, फेस-टू-फेस होगा। फिर फोन करने वालों ने ऑनलाइन परीक्षा ली। इसके बाद 5 अक्टूबर को मैसेज आया कि डॉक्यूमेंट, हाईएस्ट , क्वालीफिकेशन, आईडी प्रूफ, एड्रेस प्रूफ, पासपोर्ट साइज फोटो कलरफुल को व्हाट्सएप पर सेंड करें। इस प्रार्थिया ने जानकारी सेंड कर दी। पहली बार 1499 रुपए डालने कहा गया। बैंक शाखा थान खम्हरिया में खाते से प्रार्थिया ने रकम जमा करा दी। 11 अक्टूबर को डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के लिए 6500 रुपए फीस ली गई। 15 अक्टूबर को मोबाइल पर ईमेल से नौकरी के लिए ऑफर लेटर भेजा गया। इसके अलावा कई किश्तों में और रकम जमा कराया। जब नौकरी नहीं मिली, तब उन्हें ठगी का एहसास हुआ।
    16 अक्टूबर को अनुराग सिंह ने मोबाइल पर ट्रेनिंग के लिए 14,500 जमा करने को कहा गया। 17 अक्टूबर को ईमेल से प्रार्थिया कोअप्वाईमेंट लेट सेंड किया गया। फिर खाते में 24,500 जमा करने कहा गया। प्रार्थिया ने दो किस्तों में 20 हजार एवं 4,500 जमा किए।  23 अक्टूबर को बांड फीस के तौर पर 34,500 जमा कराया। फिर 18,500 मांगे गए। 25 अक्टूबर को यह राशि भी दी गई। आदित्य मल्होत्रा के मोबाइल पर गेट पास फीस 35,000 हजार रुपए जमा करने कहा। खाते की जानकारी मोबाइल पर दी।  29 अक्टूबर को 20,000 हजार रुपए भेजा। इसके बाद सभी मोबाइल नंबर बंद कर दिए गए। बीते 14 नवंबर को फोन कर राशि मांगी, जिसे वापस करने का भरोसा दिलाया। प्रार्थिया रकम का इंतजार करती रही लेकिन आज तक उन्हें नौकरी व रुपए दोनों नहीं मिली है। तब प्रार्थिया को धोखाधड़ी का एहसास हुआ।

     

     

  •  

Posted Date : 11-Jan-2019
  • नदारद प्राचार्य को नोटिस 

    छत्तीसगढ़ संवाददाता  
    बेमेतरा, 11 जनवरी। कलेक्टर महादेव कावरे ने कल बेरला ब्लॉक के अंतर्गत शासकीय हायर सेकण्डरी स्कूल देवरबीजा के प्राचार्य एच.के. गंगबोइर को शोकॉज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए हंै। 
    कलेक्टर ने देवरबीजा प्रवास के दौरान स्कूल का आकस्मिक निरीक्षण किया। इस दौरान प्राचार्य गैरहाजिर पाये गए। परीक्षा प्रभारी डी.एस. ठाकुर ने बताया कि प्राचार्य ने दुर्ग जाने की उन्हें जानकारी दी है। स्कूल के छात्र एवं छात्राओं के प्रसाधन केन्द्र में गंदगी को देखकर कलेक्टर भड़क उठे और परीक्षा प्रभारी शिक्षक डी.एस. ठाकुर को शीघ्र ही इसकी साफ-सफाई करवाने के निर्देश दिए। शिक्षा के पवित्र स्थल में बाथरूम एवं प्रसाधन केन्द्र में गंदगी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। निरीक्षण के दौरान वहां दुर्गन्ध भी आ रही थी। कलेक्टर ने प्रसाधन केन्द्र की साफ-सफाई नहीं होने पर गंभीरता से लिया। 
    कलेक्टर ने स्कूल के विभिन्न कक्षा में जाकर बच्चों से उनके पढ़ाई-लिखाई की जानकारी ली एवं पाठ्यक्रम से संबंधित  सवाल-जवाब भी पुछे। उन्होंने संस्कृत, रसायन, कामर्स, आटर््स कक्षा में जाकर प्रश्न पूछे। जैसे -मकर संक्राति क्यों मनाया जाता है ? असम एवं तमिलनाडु में इस पर्व को किस नाम से जाना जाता है ? छत्तीसगढ़ के वर्तमान विधानसभा अध्यक्ष एवं नेता प्रतिपक्ष का नाम का सही जवाब एक भी छात्र नहीं दे सके। जबकि प्रदेश के नये मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का नाम विद्यार्थियों ने एक स्वर से लिया। जिला पंचायत सीईओ ने सम-सामयिक विषयों की जानकारी रखने के लिए समाचार पत्र एवं टीवी में न्यूज चैनल आदि देखने का सुझाव दिया। इससे आप लोगों का सामान्य ज्ञान में वृद्धि होगी। कलेक्टर ने स्कूल में शुचिता योजना के अंतर्गत स्थापित सेनेटरी नेपकिन मशीन का अवलोकन किया और इसकी नियमित रिफलिंग करने के निर्देश शिक्षकों को दिए।  

  •  

Posted Date : 11-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    बेमेतरा, 11 जनवरी। जिले में बढ़ रहे दुर्घटनाओं को रोकने के लिए लोगों को यातायात नियमों के प्रति जागरुक करने के साथ-साथ यातायात नियम तोडऩे वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करना आवश्यक है। इसके साथ-साथ जिले के लोगों को साइबर क्राइम का शिकार होने से बचने के लिए जागरूकता अभियान चलाना जरूरी है। यह दोनों कार्य प्राथमिकता के साथ करना है। उक्त बातें नव पदस्थ पुलिस अधीक्षक प्रशांत ठाकुर ने जिले के समस्त राजपत्रित अधिकारी थाना -चौकी प्रभारियों की बैठक व पत्रकार वार्ता में कही।
    नवपदस्थ एसपी प्रशांत ठाकुर ने जिला मुख्यालय में पार्किंग स्थल और नॉन वेंडिंग जोन में ठेला-गुमटी लगाए जाने पर कार्रवाई करने की बात कही। एसपी ठाकुर ने सवालों का जवाब देते हुए कहा कि जरूरत पडऩे पर शहर के चौक चौराहे पर यातायात पुलिस की नए सिरे से ड्यूटी लगाई जाएगी, साथ ही स्कूलों के सामने  स्कूल लगने व छुट्टी होने के समय पुलिस तैनात किए जाएंगे। शहर के जेंडर जोन में पुलिस बल तैनात किया जाएगा।
    पेट्रोलिंग व सोशल पुलिसिंग पर दिया जोर 
    एसपी ने कहा कि जिले के सभी थानों में पेट्रोलिंग बढ़ाई जाएगी। जिससे अधिक से अधिक क्षेत्र कवर हो सके और जिले में सोशल पुलिसिंग पर जोर दिया जाएगा। जिससे पुलिस और आम जनता के बीच बेहतर तालमेल बन सके। हर व्यक्ति पुलिस को फोन कर जानकारी दे सकता है। आने वाले दिनों में थाने में प्रमुख अधिकारियों के मोबाइल नंबर भी चश्मा किए जाएंगे। जिससे लोगों को तत्काल मदद मिल सके। इसके अतिरिक्त कम्युनिटी पुलिसिंग पुलिस इन के तहत विश्वसनीय पुलिस और मजबूत पुलिस की तर्ज पर समय-समय पर थाना चौकी क्षेत्र में छोटे-छोटे टीम बनाकर जागरूकता अभियान चलाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने महिला अपराध संबंधी जागरूकता अभियान , साइबर जागरूकता , ट्रैफिक नियमों के संबंध में जागरूकता अभियान चलाने पर जोर दिया है। साथ ही कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए असामाजिक तत्वों पर कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए।
    असामाजिक तत्वों व अवैध कारोबारियों पर होगी कार्रवाई
    उन्होंने समस्त थाना चौकी प्रभारियों को जिले में होने वाले अवैध जुआ, सट्टा, गांजा, शराब बिक्री एवं कबाड़ीयो के ऊपर त्वरित व  प्रभावी कार्यवाही करने के सख्त निर्देश दिए। साथ ही किसी भी थाना क्षेत्र में इस संबंध में शिकायत प्राप्त होने पर पृथक टीम भेजकर कार्रवाई करने की और संबंधित थाना चौकी प्रभारी के विरुद्ध विभागीय कार्यवाही करने की बात कही। इसके अलावा ह्यूमन ट्रैफिकिंग तथा गुम बालक- बालिकाओं के संबंध में दर्ज अपराध को प्राथमिकता के आधार पर त्वरित कार्यवाही करने के निर्देश दिए।
    सप्ताह में दो दिन सुनेंगे 
    पुलिस कर्मियों की समस्या
    पुलिस कर्मियों की समस्या व परेशानी का निराकरण करने और अच्छे कार्य करने वालो  को प्रोत्साहित किया करने के लिए यथासंभव कोशिश करने की बात पुलिस अधीक्षक प्रशांत ठाकुर ने आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कहा कि मंगलवार और शुक्रवार को पुलिस अधिकारी कर्मचारी अपनी समस्या रख सकते हैं। बैठक एस एएसपी विमल सिंह बैस, डीएसपी सुनील डेवीड व थाना चौकी प्रभारी उपस्थित थे।

     

     

     

  •  

Posted Date : 10-Jan-2019
  • बेमेतरा, 10 जनवरी। भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने किसानों के साथ धोखाधड़ी और विश्वासघात करने का आरोप लगाते हुए कांग्रेस सरकार पर नाराजगी जाहिर करते हुए बेमेतरा कलेक्टर महादेव कावरे को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा, जिसमें वादा पूरा करने की अपील की। साथ ही ज्ञापन में लिखा कि यदि किसानों से किया वायदा पूरा नहीं होगा तो हजारों किसान सड़क पर उतर आने बाध्य होंगे। 
    ज्ञापन में बताया गया कि कांग्रेस पार्टी की सरकार बनने के 10 दिन के भीतर ही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कर्जमाफी की घोषणा कर दी थी, जिसमें 16 लाख 65 हजार से अधिक किसानों का 6100 करोड़ रुपये का कर्ज माफ किया जायेगा तथा कर्ज माफ करने के साथ ही उन किसानों के पैसे वापस किए जाएंगे, जिन्होंने कर्ज अदा कर दिया था। परन्तु जिले के बहुत से किसानों को बैंक से खाली हाथ निराश वापस लौटना पड़ रहा है । जिला सहकारी बंैक की 16 शाखाओं ने 84 हजार 464 किसानों को कर्ज दे रखा है, जिनमें से केवल 17 हजार किसानों ने ही कर्ज चुकाया है।
     स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया , बैंक ऑफ़ महाराष्ट्र, एच.डी.एफ.सी बैंक, डी.बी.आई. बैंक, यूनाइटेड बैंक, देना बैंक, यूको बैंक तथा अन्य सभी राष्ट्रीयकृत बैंकों से किसानों ने ऋ ण लिया है, उनका ऋण माफ नहीं किया जा रहा है। किसान बैंक के दरवाजे से वापस हो रहे है ं। जिसको लेकर भाजयुमो के कार्यकर्ताओं ने किसानों के साथ धोखाधड़ी और विश्वासघात करने का आरोप लगाया। 
    भारतीय जनता युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष विकास घरडे ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा, जहां भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ.देव नारायण तोड़ी, भाजयुमो जिला महामंत्री आशीष सोनी, अंजू बघेल, प्रवीण राजपूत, नितेश शर्मा, निशा चौबे, नीलू कुशवाहा, मोंटी साहू, होलू राम साहू, मुकेश साहू, डोमेंद्र राजपूत, मनीष चौबे, परमेश्वर सिन्हा, दिलीप देवांगन, गौकरण साहू, प्रवीण वर्मा, दिनानाथ साहू उपस्थित थे।

     

     

     

     

  •  

Posted Date : 10-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    बेमेतरा, 10 जनवरी। बेरला थाना के ग्राम बारगांव के फार्म हाउस में महिला को रास्ते से अगवा कर बलात्कार करने के बहुचर्चित मामले में मंगलवार को जिला न्यायालय ने अपना फैसला सुनाया। अपर सत्र न्यायाधीश ममता पटेल ने इस मामले में आरोपी होरीलाल को धारा 342, 376, 394 और अन्य आरोपी शंकर साहू , बुधारू व  टीकम साहू को दोषी माना है। जिस पर चारों आरोपियों को धारा 376 के तहत 20-20 साल कठोर कारावास की सजा सुनाई है। वहीं धारा 394 व 342 के तहत 10-10 साल का सश्रम कारावास व अर्थदण्ड से भी दंडित किया है। सभी सजा एक साथ चलेगी। फैसले के बाद आरोपियों को जेल भेजा गया है। शासन की ओर से अतिरिक्त लोक अभियोजक सूरज मिश्रा ने इस मामले की पैरवी की।
    पुलिस में दर्ज कराए गए बयान के अनुसार 9 अगस्त 2017 को पीडि़ता अपनी बड़ी बहन के पास ग्राम देवरी गई हुई थी। जहां से अपने दो रिश्तेदारों के साथ मोटरसाइकिल से गृह ग्राम वापस लौट रही थी, इस दरमियान बेरला ब्लाक के ग्राम बारगांव स्थित होरी लाल यादव के अपने-अपने साथियों टीकम यादव , शंकर साहू , गोलू उर्फ बुधारू यादव के साथ मिलकर फार्म हाउस के पास पीडि़ता और उसके रिश्तेदारों को रुकवा कर जोर जबरदस्ती करते हुए फार्म हाउस के अंदर ले गए। जहां एक आरोपी युवक ने महिला के साथ चार पहिया वाहन के भीतर अनाचार किया और शेष आरोपियों ने महिला के हाथ व पैर पकड़े हुए थे। इसके पश्चात आरोपियों ने पीडि़त के सोने का झुमका, मंगलसूत्र लूटने के साथ मोटरसाइकिल को भी छीन लिया। रात्रि करीब 1 बजे पीडि़ता व रिश्तेदार पैदल चलकर ग्राम देवरी वापस लौटे और दूसरे दिन सुबह थाना बेरला पहुंचकर आरोपियों के विरुद्ध प्रकरण दर्ज कराया। प्रार्थियों द्वारा रिपोर्ट लिखवाने के बाद बेरला पुलिस ने प्रार्थियों की निशानदेही पर वारदात स्थल से एक कार, एक मोटरसाइकिल, 4 मोबाइल, बांस के डंडे और 1900 सौ रुपए नगद बरामद किया था। साथ ही साक्ष्य जुटाए थे। मामले की सुनवाई पूरी होने के बाद फैसला सुनाया गया है।
    शराब तस्करी करता था मुख्य आरोपी 
    प्राप्त जानकारी के अनुसार मामले में मुख्य आरोपी होरीलाल यादव घटनास्थल ग्राम बारगांव स्थित फार्म हाउस का मालिक है। आरोपी होरी लाल का पूर्व में अपराधिक रिकार्ड रहा है। थाना बेरला में उसके विरुद्ध प्रकरण दर्ज है। आरोपी क्षेत्र में शराब तस्करी का काम करता था। बेरला पुलिस ने ढाई साल पहले आरोपी हरिलाल के फार्म हाउस से 40 पेटी अवैध शराब जब्त किया था। जहां अवैध शराब बिक्री को लेकर आरोपी पर प्रकरण दर्ज कर जेल भेजा भेज दिया गया था।
    रिपोर्ट नहीं लिखाने की शर्त पर छोड़ा
    महिला के दिए बयान के अनुसार, आरोपियों में एक युवक ने उसके साथ दुष्कर्म किया, इसके पश्चात पीडि़ता और उसके दोनों रिश्तेदारों को नग्न कर वीडियो बनाया गया। आरोपियों ने पुलिस में रिपोर्ट नहीं लिखाने व 10-10 हजार रुपए की मांग कर तीनों को छोड़ा गया, जहां रात्रि करीब 1 बजे पीडि़ता व उसके दोनों रिशेतेदार ग्राम देवरी वापस लौट आए।कार्रवाई की मांग को लेकर सैकड़ो महिलाएं पहुंची थीं बेरला थाना आरोपियों पर कार्रवाई करने की मांग को लेकर जिला पंचायत अध्यक्ष कविता साहू, जनपद सदस्य प्रवीण वर्मा, महिला जिला भाजपा अध्यक्ष संध्या परगनिया थाना बेरला पहुंचे। वहीं समाजसेवी संस्था अंकुर के अध्यक्ष राहुल टिकरिहा के नेतृत्व में सैकड़ों महिलाएं थाना बेरला पहुंचकर आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की थी।
    एसएमएस बनाकर वायरल 
    करने की धमकी दी थी
     आरोपियों द्वारा पीडि़ता का (एसएमएस) वीडियो बनाकर वायरल करने की धमकी दी थी। वहीं महिला के दोनों रिश्तेदारों को भी नग्न कर उसका वीडियो बनाया गया था। इसे लेकर बेरला पुलिस भारत हरकत में आई और घटना का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होने से रोकने के लिए आस-पास के गांव में आपत्तिजनक वीडियो वायरल होने की स्थिति में सूचना देने को लेकर मुनादी कराई थी। इसके अलावा बेरला पुलिस ने वीडियो वायरल होने को लेकर आरोपियों से जब्त मोबाइल को साइबर सेल से भी जांच कराया था।

     

     

     

  •  

Posted Date : 10-Jan-2019
  • नदारद शिक्षक निलंबित

    छत्तीसगढ़ संवाददाता 
    बेमेतरा, 10 जनवरी। कलेक्टर महादेव कावरे ने कल बेमेतरा जिले के विकासखंड नवागढ़ के अंतर्गत शासकीय प्राथमिक शाला समेसर का आकस्मिक निरीक्षण किया। प्रभारी प्रधानपाठक दिलीप कुमार जांगड़े एवं सहायक शिक्षक साधना साहू उपस्थित थे। जबकि अन्य शिक्षिका गोपेश्वरी साहू का अवकाश का आवेदन पाया गया। वहीं दूसरी ओर सुनील कुमार साहू स्कूल से नदारद पाए गए। इस कारण उन्हें कलेक्टर ने निलंबित कर दिया। 
    इस दौरान उन्होंने स्कूली बच्चों की क्लास ली। जिलाधीश शिक्षक की भूमिका में नजर आए। बच्चों से गणित एवं अन्य विषय से संबंधित सवाल-जवाब भी किये। सही जवाब मिलने पर बच्चों को अपनी ओर से नगद राशि देकर सम्मानित भी किया। कक्षा दूसरी की छात्रा कुमारी नीलम ने गणित का जोंड़-घटाव हल करने पर कलेक्टर ने उन्हें नगद राशि से सम्मानित किया। कक्षा चैथी की छात्रा कुमारी संजना निषाद द्वारा पाठ्यपुस्तक धारा प्रवाह पढऩे पर उनसे प्रभावित होकर जिलाधीश ने नगद राशि से उन्हें सम्मानित किया। 

  •  

Posted Date : 10-Jan-2019
  • आंबा कार्यकर्ता-सुपरवाइजर को नोटिस

    छत्तीसगढ़ संवाददाता 
    बेमेतरा, 10 जनवरी।  कलेक्टर महादेव कावरे ने कल जिले के बेमेतरा ब्लाक के अंतर्गत ग्राम झाल एवं नवागढ़ ब्लाक के ग्राम समेसर के आंगनबाड़ी केन्द्र का औचक निरीक्षण किया।
     निरीक्षण के दौरान झाल स्थित केन्द्र में सवेरे 10:30 बजे तक एक भी बच्चा उपस्थित नहीं था। जिलाधीश के पूछे जाने पर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता राधा देवी साहू व सहायिका राधा बाई वर्मा ने बताया कि समीप के गांव में मेला होने के कारण आज केन्द्र में बच्चे नहीं आए हैं। कलेक्टर ने जिला महिला बाल विकास अधिकारी को निर्देश दिए कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के साथ साथ विभाग की सुपरवाइजर को भी शोकॉज नोटिस जारी करें। 
    ग्राम समेसर के आंगनबाड़ी केन्द्र के निरीक्षण के दौरान कार्यकर्ता कमला बघेल अनुपस्थित पायी गई। इसके पूर्व भी जून 2018 में कलेक्टर के निरीक्षण के दौरान आंबा. कार्यकर्ता ड्यूटी से नदारद थीं। केन्द्र की सहायिका खोरबाहरीन पाटिल उपस्थित थीं। कलेक्टर के निरीक्षण के समय बच्चों का मध्यान्ह भोजन बनाने की प्रक्रिया भी शुरू नहीं हो पाई थी। जिलाधीश ने जिला महिला एवं बाल विकास अधिकारी को आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को पद से हटाने की कार्यवही करने निर्देशित किया और संबंधित क्षेत्र की सुपरवाइजर वसुंधरा जोगी को शोकॉज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। 

     

  •  



Previous12Next