छत्तीसगढ़ » बीजापुर

Posted Date : 18-Jan-2019
  • इलमिड़ी में जिला क्रिकेट, 24 टीम उतरेगी खिताबी भिडं़त के लिए

    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    बीजापुर, 17 जनवरी। जिले के उसूर ब्लाक के इलमिड़ी में जिला स्तरीय टेनिस बॉल क्रिकेट प्रतियोगिता का आयोजन वायसीसी इमलिड़ी द्वारा की गई है। इसमें जिलेभर की 24 टीमें खिताबी मुकाबले के लिए मैदान में उतरेगी।
    आठ दिवसीय चलने वाले क्रिकेट स्पर्धा के उद्घाटन अवसर पर  बुधवार को इलमिड़ी पहुंचे जिला पंचायत सदस्य व कार्यक्रम के मुख्यअतिथि कमलेश कारम ने मैच का आगाज छक्का लगाकर किया। इस दौरान उन्होंने खिलाडियों को संबोधित करते हुए कहा कि यहां के खिलाडिय़ों में प्रतिभा की कोई कमी नहीं है।हर खिलाडी अपनी प्रतिभा से ही आगे बढ़ता है।श्री कारम ने खिलाडिय़ों का मनोबल बढ़ाते हुए कहा कि आपको जिस खेल में रूचि है। उसे ही खेलें। तभी आप एक गांव से राष्ट्रीय स्तर तक पहुँच सकते है। 
    बुधवार से शुरू इलमिड़ी में शुरू हुए जिले स्तरीय टेनिस बॉल प्रतियोगिता में कुटरू, संकनपल्ली, आवापल्ली, पामगल, यूथ क्लब बीजापुर, वायसीसी इलमिड़ी, मोटलागुड़ा, चेरामंगी, तिम्मापुरए मोदकपालए लंकापल्लीए एंगपल्लीए फुतकेलए गंगालूरए मद्देडए पेगड़ापल्लीए तोयनारए भोपालपट्नमए नैमेड़ए सेंड्रापल्लीए भैरमगढ़ए मेट्टूपल्लीए आरपीसी कुटरू व सहित स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने हिस्सा लिया है।24 जनवरी को टूर्नामेंट का फ़ाइनल मुकाबला खेला जाएगा। खि़ताब पर कब्जा ज़माने वाली टीम को विधायक विक्रम मंडावी की ओर से 31000 रुपये का पहला इनाम दिया जाएगा।दूसरा इनाम 15000 रुपये बीएस नागेश की ओर से दिया जाएगा। प्रतियोगिता में बेस्ट बैट्समैनए बेस्ट बॉलरए बेस्ट विकेट कीपरए मैन ऑफ़ द सीरिजए मैन ऑफ द मैच के लिए भी पुरस्कार रखा गया है। 
    च के उद्घाटन के दौरान ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष सुकलू पूनेम, पूर्व जिला पंचायत सदस्य रत्ना सोढ़ी, जनपद सदस्य रेंगा नागेश, वीरेंद्र वासम, वेंकटेश्वर चापा, कन्ना बुरका, समैया माडे, नारायण ककेम, गोपाल बुरका व बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे।

     

     

     

  •  

Posted Date : 18-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    बीजापुर 17 जनवरी।  ''बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओंÓÓ अभियान के अगले चरण में जनपद पंचायत उसूर के मुख्यालय आवापल्ली में शिविर का आयोजन किया गया एवं शिविर स्थल में ''बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओÓÓ अभियान के लिए सामूहिक रूप से कलेक्टर केडी कुंजाम द्वारा उपस्थित महिलाओं एवं अन्य जनसमूह को शपथ दिलाई गई। 
    इस अवसर पर आयोजित सभा को संबोधित करते हुए कलेक्टर श्री कुंजाम ने कहा कि जिले के इस सुदूर अंचल में पुरूषों की तुलना में महिलाओं का प्रतिशत कम है। पुरूष की तुलना में महिलाओं की संख्या कम होने पर उसके काफी दुष्परिणाम सामने आते हैं। महिलाओं के प्रति हिंसक प्रवृत्ति को बढ़ावा मिलता है सामाजिक रूप से भी इस विषमता के अप्रत्यक्ष परिणाम गंभीर होते हंै। प्रदेश में इसी लिंगानुपात को दूर करने महिलाओं को शैक्षणिक व सामाजिक जीवन स्तर उच्च किए जाने प्रदेश में रायगढ़ के बाद बीजापुर को विशेष रूप से इस अभियान के अंतर्गत शामिल किया गया है। आज उसूर जनपद पंचायत क्षेत्र में 1 हजार पुरूषों के पीछे मात्र 977 महिलाएं हैं, जो कि बीजापुर जिले के औसत से भी कम है। इसे हमें दूर करना है। श्री कुंजाम ने कहा कि बेटीयों को बचाना है उन्हें शिक्षित करना है ताकि वे भी समाज की मुख्यधारा में शामिल हो सके। 
    श्री कुंजाम ने कहा कि ऐसा नहीं कि महिलाएं पुरूषों की तुलना में किसी क्षेत्र में किसी से कम हो। आज महिलाएं आटोचालक से लेकर फ ाइटर प्लेन तक उड़ा रही है और अंतरिक्ष में जा रही है। घर के सारे कामकाज महिलाए ही करती है फिर यह गैर असमानता क्यों? उन्होंने उपस्थित महिलाओं से अपील की और कहा कि लड़कियों को पढऩे अवश्य भेजे। एक पढ़ी लिखी लड़की पुरूष की तुलना में ज्यादा लोगों को प्रभावित करती है। अशिक्षित रहने से आगे चलकर काफ ी दुष्परिणाम सामने आते है। उन्होंने लड़के लड़की दोनों को ही बराबर का महत्व देने को कहा और इसके लिए हमें सिर्फ अपनी सोच बदलनी है। जिस दिन यह सोच बदलेगी परिवर्तन की प्रक्रिया आपने आप ही शुरू हो जाएगी। उन्होंने महिलाओं को अच्छी शिक्षा के साथ ही साथ स्वास्थ्य में भी ध्यान किए जाने को कहा। अंत में अपने संबोधन में उन्होंने उपस्थित महिलाओं से कहा कि वे अपने घरों में शौचालय अवश्य बनवाएं। 
    इस मौके पर उपस्थित जनसमूह को ÓÓबेटी बचाओ बेटी पढ़ाओंÓÓ हेतु सामूहिक रूप से शपथ दिलायी गई। इसके पूर्व शिविर को जनपद पंचायत उसूर अध्यक्ष श्रीमती लक्ष्मी करतम ने भी संबोधित किया। शिविर स्थल में स्वास्थ्य विभाग द्वारा स्टॉल लगाकर महिलाओं का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। शाउमावि आवापल्ली की छात्राएं राजलक्ष्मी करतम एवं साथियों द्वारा गीत प्रस्तुत कर कार्यक्रम की शुरूआत की गई। कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय आवापल्ली की छात्राओं द्वारा आकर्षक नृत्य प्रस्तुत किया गया, वहीं कस्तूरबा गांधी विद्यालय की छात्रा कृष्टा यालम द्वारा मनमोहक कविता पाठ किया गया। शिविर में जिला महिला एवं बाल विकास अधिकारी रविकांत धु्रर्वे द्वारा विभागीय योजनाओं की जानकारी दी गई। उन्होंने बताया कि आज बेटीयां हर क्षेत्र में काम कर रही है। उन्होंने ''मेरी बेटी मेरा अभियान का नाराÓÓ भी दिया।
    इस अवसर पर भोपालपटनम से आए कला जत्था के कलाकारों द्वारा आकर्षक प्रस्तुति दी गई। शिविर में जिला पंचायत सदस्य सुश्री जानकी कोरसा, जनपद पंचायत अध्यक्ष श्रीमती लक्ष्मी, अनुविभागीय अधिकारी भो.पटनम डीसी बंजारे, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत उसूर एबी गौतम सहित स्थानीय पंचायत पदाधिकारी, बड़ी संख्या में महिलाएं, स्कूली छात्राएं व अन्य उपस्थित थे।  

     

  •  

Posted Date : 18-Jan-2019
  • नैमेड़ व बीजापुर के बीच दुगोली के पास हुआ हादसा

    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    बीजापुर, 17 जनवरी। यहाँ से करीब 15 किलोमीटर दूर दुगोली के पास सड़क हादसे में दो सहायक आरक्षकों की मौत हो गई, वहीं एक गंभीर रूप से घायल है। उसे बेहोशी की हालत में जिला अस्पताल लाया गया है , जहां उसका उपचार जारी है।
    मिली जानकारी के मुताबिक बीजापुर में पदस्थ सहायक आरक्षक गुदमा निवासी उमेश वेलादी, सहायक आरक्षक मोहन मुडिय़म व सहायक लक्ष्मण नई मोटरसाइकिल से नैमेड़ से बीजापुर तेज रफ़्तार से आ रहे थे। शाम 4 बजे के करीब दुगोली के पास पहुँचते ही सामने अचानक सूअर के आ जाने से बाइक अनियंत्रित हो गई। इससे बाइक सामने से आ रही गुप्ता ट्रेवल्स की यात्री बस में जा टकराई। भिड़ंत इतनी जबरदस्त थी कि घटना स्थल पर ही मोहन और लक्ष्मण की मौत हो गई। वहीं उमेश को गंभीर चोट आने से उसे जिला अस्पताल लाया गया है, यहाँ उपचार चल रहा है। 
    बताया गया है कि मोहन बेदरे व लक्ष्मण भद्रकाली में पदस्थ रहे। खबर लिखे जाने तक घायल उमेश को होश आ चुका था। उसके परिवार के लोग भी अस्पताल पहुँच चुके थे। इधर बीजापुर थाना प्रभारी चन्द्रशेखर बारीक ने बताया कि घटना स्थल से एक आधार कार्ड बरामद हुआ है। घायल के होश में आने के बाद पूछताछ में घटना की वास्तविकता सामने आ आएगी।

     

     

  •  

Posted Date : 15-Jan-2019
  • कोदईमाता के दर्शन को उमड़ेगा जनसमुदाय

    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    बीजापुर, 14 जनवरी। जिले के पहले मेले के साथ जैतालुर में सोमवार से तीन दिवसीय मेले का शुभारंभ हो गया है। शहर से 3 किमी की दूरी पर स्थित जैतालुर गांव में मंगलवार को कोदईमाता के दर्शन के लिए लोग दूर-दूर से बड़ी संख्या में पहुंचेंगे व माता का आशीर्वाद लेंगे। गौरतलब है कि नए वर्ष के साथ ही पहले मेला व मड़ई का आगाज जिले में जैतालुर से होता है। जैतालुर मेला समिति के सदस्य प्रभुनाथ भोयर, सुखनाथ भोयर, लक्ष्मण पुजारी, जलंधर राणा ने बताया कि इस मेले का आयोजन हमारे पूर्वजों के समय से चला आ रहा है। उन्होंने बताया कि सोमवार को कोदईमाता का श्रृंगार किया गया और उन्हें आभूषण पहनाए गए। जिन  भक्तों ने मन्नत मांगी थी और जिनकी मन्नत पूर्ण हुई है वे भक्त मंगलवार की शाम  को मन्नत पूरी होने पर पशुओं की बलि देंगे। तीन दिन चलने वाले इस मेले में मंगलवार का दिन खास रहेगा जहां बड़ी संख्या में लोग पहुंचेंगे। मेले को सुचारु रूप से संचालित करने के लिए मेला समिति ने तैयारिया पूरी कर ली है। सदस्यों ने बताया कि मेले के आयोजन के लिए तीन गांव जैतालुर, इटपाल और मांझीगुड़ा के लोग आपस मे चंदा इक_ा कर मेले को सुचारू रूप से चलाते है। हालांकि जिला प्रशासन की ओर से पहले मेले के लिए कोई भी राशि मेला समिति को नहीं दी जाती।
    कोदाई माता मेले के महत्त्व को देखते हुए जिला प्रशासन ने एक दिन का अवकाश घोषित किया है। जैतालुर के सरपंच श्रीमती बाकडे व सचिव चंद्रशेखर झाड़ी द्वारा एसडीएम को सूचना दे दी गई है। जनपद सीईओ योगेश यादव को भी मेले में स्वास्थ्य सुविधा व पेयजल व वाहनों की पार्किंग व्यवस्था के लिए अवगत करा दिया गया है।
    एएसपी  दिव्यांग लालजी भाई पटेल ने बताया कि सुरक्षा की दृष्टि से भी पुलिस विभाग ने अस्थायी कैम्प बनाया हुआ है। आस पास के इलाकों में जवान लगातार गश्त कर रहे हैं।  इलाकों की सुरक्षा व शांति व्यवस्था बनाने के पुलिस कई जगहों पर टी पॉइंट बनाकर आने जाने वाले लोगों की चेकिंग करेगी व वाहनों पर भी पुलिस की नजर बने रहेगी। एक बूथ भी बनाया गया है जिसमें महिला प्रभारी रहेगी, जिसमें किसी महिलाओं के साथ छेड़छाड़ की घटना न हो पाए। यातायात व्यवस्था भी दुरुस्त की गई है ताकि कोई दुर्घटना न हो पाए। काफ ी संख्या में पुलिस के जवान तैनात हैं ताकि कोई भी अनहोनी न हो पाए।

     

     

  •  

Posted Date : 14-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    बीजापुर, 13 जनवरी। गंगालूर पहुंचे क्षेत्रीय विधायक विक्रम मंडावी का वहां के ग्रामीणों ने बाजे-गाजे के साथ भव्य स्वागत किया। ग्रामीणों ने विधायक के आगमन पर उन्हें फ ूलमाला पहनकर उनकी आगवानी की।
    विधानसभा का सत्र खत्म होते ही विधायक विक्रम मंडावी क्षेत्र के मतदाताओं का आभार व्यक्त करने गांव-गांव पहुंच रहे है। रविवार को विधायक मंडावी अपने समर्थकों के साथ गंगालूर पहुंचे। यहां ग्रामीण ने उनका बाजे-गाजे के साथ भव्य स्वागत किया। साथ ही ग्रामीणों ने उन्हें बुनियादी सुविधा के लिए एक ज्ञापन भी सौंपा। यहां से पहले श्री मंडावी चेरपाल व रेड्डी गांव पहुंचकर ग्रामीणों से मिले और उनका आभार व्यक्त किया। बता दें विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को बीजापुर में ऐतिहासिक जीत मिली है। विधायक मंडावी गांव-गांव पहुंचकर ग्रामीणों का आभार व्यक्त कर रहे है।

     

  •  

Posted Date : 12-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    बीजापुर, 11 जनवरी। यहां से करीब 35 किलोमीटर दूर जांगला व माटवाड़ा के बीच सड़क हादसे में एक युवा कांग्रेस कार्यकत्र्ता की मौत हो गई। मृतक का शुक्रवार को बीजापुर में अंतिम संस्कार किया गया।
    जानकारी के मुताबिक युवा कांग्रेस कार्यकत्र्ता श्याम एनेल 24 बीजापुर निवासी अपनी मोटरसाइकिल से बुधवार को बीजापुर से भैरमगढ़ की ओर जा रहा था। इसी दौरान माटवाड़ा व जांगला के बीच बाइक दुर्घटनाग्रस्त हो गई और श्री एनेल की मौके पर ही मौत हो गई। जांगला थाना प्रभारी केशव कोसले के मुताबिक घटना संभवतारू बुधवार की रात की है लेकिन उन्हें इसकी सुचना गुरुवार शाम साढे 6 बजे मिली। उन्होंने बताया गया कि शव को पीएम के लिए भेज दिया गया है। पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का कारण स्पष्ट हो सकेगा। इधर शुक्रवार को बीजापुर में मृतक का अंतिम संस्कार स्थानीय मुक्तिधाम में किया गया। इसमें परिजनों के साथ क्षेत्रीय विधायक विक्रम मंडावी व लोग शामिल हुए।

     

     

     

  •  

Posted Date : 12-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    बीजापुर, 11 जनवरी। जिले के बासागुड़ा थाना क्षेत्र में आज तड़के प्रेशर बम की चपेट में आने से एक गाय की मौत हो गई। नक्सलियों ने संभवता यह बम गश्त पर निकलने वाले जवानों को निशाना बनाने के उद्देश्य से लगा रखा था।
    बताया गया है कि बासागुड़ा थाना से महज तीन किलोमीटर दूर कुम्हारपारा में शुक्रवार की सुबह 6 बजे के करीब एक गाय की प्रेशर आईईडी की जद में आने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई। सूत्रों के मुताबिक नक्सलियों ने यहां प्रेशर आईईडी जवानों को निशाना बनाने के उद्देश्य से लिए प्लांट कर रखा था। क्यों कि इस मार्ग में लगभग 1 किलोमीटर का सड़क का काम चल रहा है। इसकी सुरक्षा के लिए जवान हर रोज गश्त पर रहते हैं। गुरुवार को जवान गश्त पर नहीं जा सके थे। शुक्रवार को जवान गश्त पर निकलते इससे पहले ही प्रेशर आईईडी फ ट गया और इसकी चपेट में आकर एक गाय की मौत हो गई।

     

     

  •  

Posted Date : 11-Jan-2019
  • एसबीआई नगद भुगतान को तैयार नहीं, विकास पर लगा ग्रहण

    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    बीजापुर, 10 जनवरी। बीते वर्ष उसूर ब्लाक के नौ पंचायतों में मनरेगा के तहत कराए गए कामों का मजदूरी भुगतान आज पर्यन्त नहीं हो सका है। मजदूरी भुगतान नहीं होने से अब पंचायतों के कामों से मजदूर परहेज कर रहे हंै। ऐसी स्थिति में अन्दुरुनी इलाके में होने वाले कामों पर ग्रहण लग सकता है।
    जिले के सर्वाधिक नक्सल प्रभावित उसूर ब्लाक के तिम्मापुर, फुतकेल, हीरापुर, यंगपल्ली, लंकापल्ली, सेमलडोडी, उसूर, गलगम व संकनपल्ली में वर्ष 2017-18 में मनरेगा के तहत तालाब, गायशेड, डबरी, बोल्डर चेकडेम का काम पंचायतों द्वारा कराया गया था। इन पंचायतों में ढाई हजार के करीब मजदूरों ने काम किया था। मजदूरों को भुगतान किया जाने वाला लगभग 23 लाख रुपये का मेहनताना मजदूरों का अब तक नसीब नहीं हो सका है। दरअसल इसके पीछे की एसबीआई आवापल्ली द्वारा पंचायतों को नगद भुगतान नहीं किये जाने की वजह बताया गया है। जबकि उक्त सभी पंचायतों में नगद भुगतान किए जाने का प्रावधान है। इसके बाद भी एसबीआई आवापल्ली शाखा द्वारा नगद भुगतान नहीं किया जा रहा है। अब भुगतान के आभाव में यहां के मजदूर मनरेगा के काम में दिलचस्पी नहीं दिखा रहे हैं। ऐसा नहीं है कि इसकी जानकारी जिला प्रशासन को नहीं है। बावजूद भुगतान को लेकर अब तक कोई सार्थक पहल भी प्रशासन द्वारा नहीं की गई है। इस संबंध में सीईओ जनपद पंचायत उसूर बी गौतम का कहना है कि कई बार बैंक अधिकारियों से भुगतान के बारे में कहा गया है लेकिन बैंक मैनेजर पांच हजार से ज्यादा के नगद देने से इंकार कर रहे है। श्री गौतम के मुताबिक उन्होंने इस बात की जानकारी समय सीमा की बैठक में कलेक्टर व सीईओ जिला पंचायत को भी दी है। 
    इधर आवापल्ली एसबीआई के ब्रांच मैनेजर पुष्पराज सिंह से सम्पर्क करने पर उन्होंने कहा कि वे अभी बहार है और वैसे भी वे मीडिया से बात करने के लिए अधिकृत नहीं है। वहीं इस मामले में सीईओ जिला पंचायत राहुल वेंकट ने बताया कि आवापल्ली में एसबीआई का चेस्ट ब्रांच नहीं है। कैश भी हेलीकाप्टर से भेजा जाता है। प्रशासन आवापल्ली में एक और ब्रांच की स्थापना करने की कोशिश कर रहा है। इस समस्या को जल्द सुलझा लिया जाएगा।

     

  •  

Posted Date : 10-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    बीजापुर, 9 जनवरी। मध्यान भोजन के लिए एक स्कूल में बनाया जा रहा किचन शेड निर्माण विभागीय उदासीनता के चलते भ्रष्ट्राचार की भेंट चढ़ गई है।  गुणवत्ताविहीन कार्य होने से अब कार्य एजेंसी भी सवालों के घेरे में आ गई है।
    जिला मुख्यालय में संचालित प्राथमिक शाला हल्बापारा पदेड़ा स्कूल में बीजापुर के ठेकेदार किरण रेड्डी द्वारा किचन शेड सह भण्डार निर्माण किया जा रहा है। सलवा जुडूम के चलते उक्त संस्था को बीजापुर में शिफ्ट कर संचालित किया जा रहा है। यहां मध्यान भोजन के लिए किचन शेड का निर्माण करने जिला शिक्षा अधिकारी को कार्य एजेंसी बनाया गया है। जिला शिक्षा अधिकारी ने उक्त कार्य का जिम्मा अपने पसंदीदा ठेकेदार रेड्डी को दिया है। पैसे बचाने के चलते सरकारी काम में गुणवत्ता को दरकिनार करते हुए मनमुताबिक कालम और बिना बेस के शेड का निर्माण करवाया जा रहा है। इतना ही नहीं दीवारों में प्लास्टर करने के कुछ घंटों के भीतर ही उस पर रंगाई पोताई तक कर गई है। जिला कार्यालय से महज 1 किलोमीटर दूर हो रहे घटिया निर्माण कार्य को देखने की फ ुरसत भी संबंधित अधिकारीयों को नहीं है। अधिकारी व ठेकेदार के गठजोड़ के चलते स्तरहीन निर्माण जिले में फ लफू ल रहा है। जबकि जिले भर में इस तरह के करीब बीस काम जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा ठेकेदारों को दिया गया है। अब सवाल यह उठता है कि जब  जिला मुख्यालय में संवेदशील प्रशासन के नाक के नीचे ही निर्माण की ऐसी स्थिति है। तो फि र जिले के अन्य तीन ब्लाकों में निर्माण की स्थिति क्या होगी इसका अंदाजा सहज ही लगाया जा सकता है। 
    इधर घटिया निर्माण को लेकर पार्षद पुरुसोत्तम सल्लुर व स्कूल के हेड मास्टर तुकाराम सार्वा ने भी आपत्ति दर्ज की है। पार्षद सल्लुर का कहना है कि जिस दिन काम शुरू हुआ था। उसी दिन उन्होंने कार्य को लेकर आपत्ति दर्ज की थी। किचन शेड निर्माण में बिना बेस के ही दीवार खड़ी कर दी गई। इसमें क्यूरिंग तक नहीं किया गया। श्री सल्लुर के मुताबिक लगभग जहां भी ऐसे शेड बन रहे है। सभी जगह की यही स्थिति है। उन्होंने ने कहा कि इसकी शिकायत वे कलेक्टर से करेंगे। 
    वहीं स्कूल के हेड मास्टर तुकाराम सार्वा का कहना है कि उनके बिना जानकारी के महज दो दिनों में यह काम कराया गया है। काम अच्छा नहीं हुआ है। श्री सार्वा ने कहा कि इसकी सुचना वे अपने उच्च अधिकारीयों को देंगे। इस संबंध में जिला शिक्षा अधिकारी प्रमोद ठाकुर ने कहा कि उन्होंने ठेकेदार रेड्डी को गुणवत्ता पूर्वक कार्य करने की समझाइश दी है। ऐसा नहीं करनी की स्थिति में ठेकेदार का भुगतान रोक दिया जाएगा।

     

     

  •  

Posted Date : 08-Jan-2019
  • कबड्डी, वॉलीबाल, तीरअदांजी में लड़कियों ने दिखाया दम

    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    कोण्डागांव, 7 जनवरी। यह देखना सुखद: है कि पूर्व मे जिले के जिन स्थानो की पहचान एक अशांत क्षेत्र के रूप मे थी आज वहां जनजागरण की लहर देखने को मिल रही है। और इस लहर ने स्थानीय जन जीवन के सभी पहलुओ को एक साथ प्रभावित किया है। विकासखण्ड फरसगांव का ग्राम भोंगापाल की भी गिनती इन्हीं अशांत ़क्षेत्रो मे होती थी। जहां एक समय इस क्षेत्र में खौफ और डर के साया था। आज इसी वन ग्राम भोंगापाल में आयोजित खेल महोत्सव के सफल आयोजन से क्षेत्र मे विकास एंव बदलाव की बानगी देखने को मिल रही है। जिस प्रकार इस खेल महोत्सव में ग्रामीण युवक एंव युवतियों ने विभिन्न प्रकार के खेलो जैसे कबड्डी, वॉलीबाल, तीरदांजी मे जिस उत्साह पूर्वक भाग ले रहे है वह वास्तव मे काबिले तारीफ है। इसके अलावा पूरे ग्राम में मेले मड़ई जैसा आयोजन दिखाई दे रहा है और तरह-तरह के खाने-पीने के स्टॉल दैनिक जरुरतो के दुकान भी आयोजन स्थल में खुल गए है। 
    इस मौके पर पहुंचे कलेक्टर नीलकण्ठ टीकाम ने युवा खिलाडिय़ो को उत्साह वर्धन किया। इस संबंध में उनका मानना था कि इस क्षेत्र मे प्रतिभाओ की कमी नही है। अगर इन प्रतिभाओ को सही तरीके से फोकस किया जाये तों यहां से भी राष्ट्रीय अंतराष्ट्रीय स्तर पर प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ी निकल सकते है। उन्हे बस एक बेहतर मंच उपलब्ध कराने की आवश्यकता है। इस तथ्य को ध्यान मे रखकर सभी विकास खण्डो मे स्थानीय स्तर पर खेल प्रतियोगिताओ का आयोजन किया जा रहा है। ज्ञात हो कि भोंगापाल खेल महोत्सव की मॉनिटरिंग कलेक्टर द्वारा प्रतिदिन की जा रही है। खेल प्रतियोगिता के दौरान कबड्डी, वॉलीबाल, तीरदांजी, रस्साखींच, एंव 100 एंव 400 मीटर दौड़ स्पर्धाये तो होगी ही साथ ही पारम्परिक खेल भारा दौड़, मटका दौड़, चम्मच दौड़, बोरा दौड़ जैसी प्रतियोगिताओ को भी शामिल किया गया हैं। इसके तहत सभी स्पर्धाओ के तहत पुरस्कार की नगद राशि प्रदान की जायेगी। 
    खेल अधिकारी अशोक उसेण्डी ने इस संबध मे बताया की जिले मे पहली बार मुख्यालय के सुदूर अंचल मे खेल महोत्सव का आयोजन किया गया है जहां सभी क्षेत्रो से आये खिलाडिय़ो के ठहरने भोजन आदि की पुख्ता व्यवस्था की गई है और खेल के समापन दिवस पर सभी खिलाडिय़ो को पुरस्कृत किया जायेगा। इस क्रम मे कलेक्टर की उपस्थिति के दौरान महिलाओ की वॉलीबाल स्पर्धा का फाइनल मैच खेला गया जिसमे बड़ेराजपुर की टीम ने मांझीआठंगांव की टीम को हराया। इसके साथ ही महिला कबड्डी, सेमीफाइनल मे रांधना ने चिंगनार को और कोनगुड़ ने गोलावण्ड को हराकर फाइनल मे प्रवेश किया। महिला कबड्डी का फाइनल मैच आज दिनांक 7 जनवरी को खेला जायेगा। उल्लेखनीय है कि खेल महोत्सव के साथ ही आयोजित एनएसएस कैंप के स्वयं सेवक छात्र-छात्राओं ने पूरे मैदान की सफाई की जिम्मेदारी ले रखी थी और सभी कैडेट के साथ सीईओ जिला पंचायत नुपूर राशि पन्ना ने भी खेल मैदान की सफाई किया। 

  •  

Posted Date : 08-Jan-2019
  • ग्रामीणों ने कलेक्टर को सौंपा चार सूत्रीय मांगों का ज्ञापन

    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    बीजापुर, 7 जनवरी। पिछले पांच साल इन्द्रावती टायगर रिजर्व के बफर जोन क्षेत्र से गिट्टी निकाल रही की- स्टोन कंपनी को बंद करने की मांग ग्रामीणों ने कलेक्टर से की है।ग्रामीणों ने चार सूत्रीय मांगों का ज्ञापन भी कलेक्टर को सौपा है।
    सोमवार को कलेक्ट्रेट पहुंचे ईटपाल ग्राम पंचायत के ग्रामीणों ने कलेक्टर केडी कुंजाम से मुलाकात की।ग्रामीणों ने कलेक्टर को चार सूत्रीय मांग का ज्ञापन सौपा। इसमें ग्रामीणों की प्रमुख मांग की- स्टोन कंपनी को बंद करने की है। ग्रामीणों ने बताया कि ईटपाल पंचायत के जैतालुर से करीब पांच सालों से की- स्टोन कम्पनी इन्द्रावती टायगर रिजर्व के बफर जोन क्षेत्र से गिट्टी उत्खनन कर रही है।आसपास रहने वालों को काफी परेशानी हो रही है।कई घरों को नुकशान हुआ है।ग्रामीणों ने कहा कि ब्लास्ट की वजह से जिन घरों को नुकशान हुआ है।उन्हें शीघ्र मुआवजा दिया जाए।ग्रामीणों ने की स्टोन कम्पनी को तत्काल बंद करने, व पामभोई पेट्रोल पम्प से जैतालुर तक डामरीकृत सडक बनवाने की मांग की। ग्रामीणों ने चेतावनी देते हुए कहा  की-स्टोन कम्पनी जल्द बंद नहीं की गई तो ग्रामवासी उग्र आन्दोलन के लिए बाध्य होंगे। जिसकी जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी।
    बता दे कि जिले के अलग अलग हिस्सों में सडक निर्माण का काम कर रही। की - स्टोन कम्पनी जिला मुख्यालय से लगे जैतालुर में बफर जोन क्षेत्र से गिट्टी उत्खनन का काम रही है। बावजूद इन्द्रावती टायगर रिजर्व का अमला मुखदर्शक बना देख रहा है। इससे पूर्व भी कई बार कम्पनी को बंद करने की मांग स्थानीय ग्रामीणों ने की थी।बावजूद कोई कार्यवाई अब तक नहीं हुई। ज्ञापन सौपने आये ग्रामीणों में पूर्व सरपंच जगबन्धु मांझी, के.राजैया, के.मुतैया, तुलसी राम, बिजेंद्र सिंह, चेरपा बुच्चा, हिरा सिंह, हीरैया चेरपा, जगन्नाथ भोयर व दशरथ भोयर शामिल थे। 

  •  

Posted Date : 05-Jan-2019
  • पामेड़ और टेकलेर के बीच चल रहा था सड़क निर्माण कार्य

    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    बीजापुर, 4 जनवरी। पडोसी राज्य तेलंगाना से लगे पामेड़ थाना क्षेत्र में बीते दिनों नक्सलियों ने सड़क निर्माण कार्य में बाधा डालते हुए एक ट्रेक्टर को आग के हवाले कर दिया।
    बताया गया है कि जिले के अंतिम थाना क्षेत्र पामेड़ धर्मारम के बीच टेकलेर के पास सड़क निर्माण का काम एक कंस्ट्रक्शन कम्पनी के द्वारा किया जा रहा था। गुरुवार को भी यहां डब्लू बीएम का काम चल रहा था। इसी बीच कुछ नक्सली वहां आ धमके और सड़क कार्य में लगी ब्लेड ट्रेक्टर को आग के हवाले कर दिया। इतना ही नहीं ड्राइवर को दोबारा काम करने पर जान से मारने की धमकी दी। इधर घटना के बाद एक बार फि र इलाके में चल रहे सड़क निर्माण कार्य में लगे ठेकेदारों में दहशत व्याप्त है।

  •  

Posted Date : 29-Dec-2018
  • विधायक आभार जताने पहुंचे गांव-गांव, मिलने उमड़े लोग

    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    भोपालपटनम, 28 दिसम्बर। स्थानीय  विधानसभा सीट से बंपर वोट से जीते विधायक विक्रम शाह मण्डावी ने भोपालपटनम ब्लॉक के दो दिनी तूफ ानी दौरे पर गांव-गांव में लोगों से मिलकर साफ गोई से कहा कि जो काम हो सकेगा, उसके लिए ही हां कहेंगे लेकिन वे ना हो सकने वाले काम को करवाने का वादा कभी नहीं करेंगे। 
    विक्रम मण्डावी ने कहा कि भोपालपटनम की जनता ने उन्हें इस ब्लॉक से नौ हजार वोटों से लीड दिलाई है और वे इसके आभारी हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार आ गई है और उसने अपने वादे के मुताबिक किसानों का कर्ज माफ कर दिया है और धान का समर्थन मूल्य बढ़ाया जा रहा है। पिछले विधायक के उलट वे हर गांव जाएंगे और लोगों की समस्या के दूर करेंगे। लोग कभी भी उनसे संपर्क कर सकते हैं और लोगों से उनकी दूरी कभी नहीं कम होगी। गुरूवार को वे संगमपल्ली, मद्देड़, केसाईगुड़ा, दमपाया, गोरला, सण्ड्रापल्ली, चेरपल्ली, रूदा्ररम, भोपालपटनम एवं आसपास के गांव गए। उनकी स्वागत में लोगों ने जमकर आतिशबाजी की। लोगों ने फ ूलों के हार से उनका स्वागत किया। इस मौके पर एआईसीसी मेंबर श्रीमती नीना रावतिया उद्दे, जिला पंचायत उपाध्यक्ष शंकर कुडिय़म, सदस्य बसंत राव ताटी, मिच्चा मुतैया, जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष लालू राठौर, पूर्व अध्यक्ष अजय सिंह, कुशाल खान, प्रवक्ता ज्योति कुमार, पुरूषोत्तम खत्री, व्यापारी प्रकोष्ठ के अध्यक्ष बब्बू राठी, लच्छूराम मोडिय़ामी, सुकदेव नाग,  मोहित चौहान, अभिषेक सिंह, वीरेन्द्र ठाकुर आदि मौजूद थे। 
    रमन गए अब मोदी की बारी-नीना
    एआईसीसी मेंगर श्रीमती नीना रावतिया उद्दे ने कहा कि केन्द्र में भाजपा झूठे वादे कर सत्ता में आई। छग में रमन सिंह ने लोगों से वादाखिलाफ ी की और भाजपा छग में बुरी तरह हार गई। अब केन्द्र से मोदी सरकार को हटाने का वक्त आ गया है। श्रीमती नीना ने कहा कि देश चलाना सिर्फ कांग्रेस को आता है और कांग्रेस झूठे वादे नहीं करती है। ये जनता बखूबी जानती है। 

     

  •