छत्तीसगढ़ » बीजापुर

Previous123456789...1314Next
16-Sep-2021 8:39 PM (20)

   किसानों की मांग के बहाने भाजपा ने दिखाई ताकत   

धरना-प्रदर्शन में जुटे हजारों किसान व कार्यकर्ता

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 16 सितंबर। भाजपा ने किसानों की मांग व भूपेश सरकार की वादा खिलाफी के विरोध में अपनी ताकत दिखाते हुए धरना प्रदर्शन कर जमीन पर अर्धसमाधि ली और कलेक्ट्रेट तक विशाल रैली निकाली। इस बीच भाजपा कार्यकर्ताओं ने सरकार के खिलाफ खूब नारेबाजी की।

यहां नये बस स्टैंड के पास भाजपा किसान मोर्चा के बैनर तले भाजपा ने एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया। जिले के चारों ब्लाक भोपालपटनम, उसूर, भैरमगढ़ व बीजापुर से बड़ी संख्या में आये किसान व भाजपा कार्यकर्ताओं ने भूपेश सरकार की वादा खिलाफी व किसानों को गड्ढे में धकेलने के विरोध में अनोखा प्रदर्शन करते हुए भाजपाइयों ने जमीन पर अर्धसमाधि ली।

करीब तीन हजार से ज्यादा की जुटी भीड़ को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री महेश गागड़ा ने कहा कि भूपेश सरकार किसान विरोधी है। ये सरकार लगातार प्रदेश के किसानों और युवाओं को गड्ढे में धकेलने का काम कर रही। भूपेश सरकार ने किसानों से किया वादा अब तक पूरा नहीं किया है।

पूर्व मंत्री गागड़ा ने कहा की भूपेश सरकार किसानों व बेरोजगार युवाओं को धोखा देकर सत्ता में आई है। वही उन्होंने कहा कि यहां खाली पड़े जमीनों का पट्टा विधायक, जिला पंचायत अध्यक्ष व जिला पंचायत सदस्य अपने अपने रिस्तेदारो को देने में लगे है। बेरोजगार युवाओं को भत्ता भी नहीं दिया जा रहा है। गागड़ा ने कहा कि भाजपा के सत्ता में आते ही किसानों बेरोजगारों की मांगों को प्राथमिकता से पूरा किया जाएगा।

धरना के बाद पारंपरिक तरीके से पूर्व मंत्री महेश गागड़ा के नेतृत्व में विशाल रैली निकली गई। जो नये बस स्टैंड से निकालकर मुख्यमार्ग से होते हुए पेट्रोल पंप के पहुंची। यहां रैली को रोक दिया गया। भाजपा नेताओं ने यही छह सूत्रीय मांगों को लेकर राज्यपाल के नाम एडीएम को ज्ञापन सौपा।

इस दौरान भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार, किसान मोर्चा बीजापुर प्रभारी अभिलाष तिवारी, किसान मोर्चा जिलाध्यक्ष घासीरम नाग, महामंत्री सतेंद्र ठाकुर, जिलामंत्री जागर लक्षमैय्या, युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष बलदेव उरसा, सुखलाल पुजारी, संजय लुक्कड़, बिलाल खान, नंदकिशोर राणा, गौतम राव सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे।


16-Sep-2021 8:36 PM (17)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 16 सितंबर। यहां नगर पालिका के एक वार्ड में अधूरे नाली निर्माण का मामला सामने आया है। जिसमें अधूरे निर्माण पर पूरा भुगतान किए जाने का दबाव बनाया जा रहा है। जबकि वार्ड में नाली निर्माण नहीं होने से वार्डवासियों को गंदे पानी की समुचित निकासी नहीं हो पा रही है और वार्डवासियों को गंदगी के बीच रहने मजबूर होना पड़ रहा है।

नगर पालिका के वार्ड क्रमांक 13 में बलराम जायसवाल के घर से राधेश्याम सोनी के घर तक और फिर बसंत वर्मा के घर से ठाकुर जी के घर तक कुल 380 मीटर नाली का निर्माण 13 लाख 46 हजार की लागत से किया जाना है। इसके लिए पालिका ने निर्माण की मियाद तीन माह रखी है। इसका ठेका एक ठेकेदार को दिया गया है। अब कार्य अवधि समाप्त होने को है। लेकिन नाली निर्माण अधूरा पड़ा है। बावजूद भुगतान को लेकर पालिका पर ठेकेदार द्वारा लगातार दबाव बनाया जा रहा है। जबकि पालिका के जिम्मेदारों का कहना है कि बेतरतीब व अधूरे नाली निर्माण का भुगतान करना असंभव है।

नगर पालिका के इंजीनियर विनय देवांगन ने बताया कि वार्ड 13 में कुल 380 मीटर नाली का निर्माण होना है,  लेकिन वर्तमान में 175 मीटर ही नाली का निर्माण हो पाया है। वह भी बेतरतीब तरीके से किया गया है। इंजीनियर देवांगन का कहना है कि ठेकेदार आकाश चांडक से कहा गया है कि वे तय मियाद से पहले नाली निर्माण को दुरुस्त कर पूरा कर लें, लेकिन पिछले कुछ दिनों से उन्होंने काम बंद कर दिया है और भुगतान के लिए वे लगातार कह रहे हंै।

इंजीनियर का कहना है कि ठेकेदार द्वारा अब तक 175 मीटर  नाली निर्माण ही किया गया है, वह बेतरतीब है। उनसे निर्माण सही करने को कहा गया है। उन्होंने बताया कि जितना नाली निर्माण ठेकेदार द्वारा किया गया है। उसका मूल्यांकन  4 लाख 50 हजार के करीब का होता है। किंतु ठेकेदार द्वारा 13 लाख 46 हजार का पूरा भुगतान करने को कहा जा रहा हैं।  उन्होंने आगे बताया कि ठेकेदार ने काम जल्द शुरू नहीं किया तो टेंडर निरस्त कर फिर से नए टेंडर की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

ज्ञात हो कि अक्टूबर में उक्त नाली निर्माण की अवधि खत्म हो रही है, लेकिन निर्माण कार्य अब तक बंद है। वहीं इस बारे में जानकारी लेने ठेकेदार आकाश चांडक को कॉल किया गया, लेकिन उन्होंने कॉल रिसीव नहीं किया।

इस संबंध में मुख्य नगर पालिका अधिकारी पवन मेरिया का कहना है कि भुगतान को लेकर दबाव जैसी कोई बात नहीं है। जितना काम हुआ है, उसके मूल्यांकन के आधार पर ही भुगतान किया जाएगा। नाली का काम ठेकेदार को पूरा करने कहा गया है।


16-Sep-2021 8:35 PM (18)

बीजापुर, 16 सितंबर।  इन दिनों बीजापुर में सियासी पारा चढ़ा हुआ है। भाजपा से कांग्रेस में आने वाले कार्यकर्ताओं को भाजपा अपना सदस्य नहीं मान कर उन्हें कांग्रेसी ही बता रहे हंै।

बुधवार को गंगालूर क्षेत्र के चेरपाल से सरपंच, उपसरपंच, पूर्व उपसरपंच व कार्यकर्ताओं के कांग्रेस प्रवेश करने के बाद सियासत तेज हो गई है। गंगालूर क्षेत्र की जिला पंचायत सदस्य पुष्पा राव ने इसे सिरे से खारिज करते हुए उन्हें भाजपा का सदस्य होने से साफ इंकार किया हैं। उन्होंने कहा कि वे कभी भाजपा के प्राथमिक सदस्य रहे ही नहीं। बल्कि त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में वे सभी भाजपा के विरोध में कांग्रेस के पक्ष में काम किये थे। इतना ही नहीं श्रीमती राव ने कहा है कि कांग्रेसी अपने ही कार्यकर्ताओं को गमछा पहनाकर एक षडयंत्र के तहत पार्टी प्रवेश करा रहे है। क्योंकि कांग्रेस के पास कार्यकर्ताओं का अभाव हैं।   मीडिया को जारी अपने बयान में जिला पंचायत सदस्य पुष्पा राव ने आगे कहा कि कांग्रेस के कार्यकर्ता स्थानीय विधायक से नाराज व असंतुष्ट है। उनकी निष्क्रियता को देखते विधायक कार्यकर्ता बनाने में लगे है। उन्होंने नसीहत देते हुए कहा कि विधायक को ऐसे कृत्य से बचना चाहिए।


16-Sep-2021 6:27 PM (17)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता 
बीजापुर, 16 सितंबर।
जिले में इन दिनों चैन मार्केटिंग के नाम पर कंपनियों के अघोषित एजेंट की तरह लोगों को कंपनी एमडी वाली सुविधा की बात बताने वाले लोगों की संख्या बढ़ती ही जा रही है। ज्यादातर ये लोग सरकारी सेवा से जुड़े लोग हैं, जो रोजमर्रा के घरेलू सामान को 20 से 25 प्रतिशत डिसकाउंट पर दिलाने और आगे चार का क्रम बना क्लाइंट को जोडऩे की बात कहते हैं। 

इस चैन मार्केट से जुड़े लोग क्लांइट की तलाश में जब निकलते हैं तो बेढंगे टाई लगा कर अधिक मुनाफा के सब्जबाग क्लाइंट को दिखाते नजर आएंगे। इनके निशाने में घरेलू और कामकाजी महिलाएं ज्यादा होती है। माई एड बैंक, फ्यूचर मेकर जैसे कंपनियों के बाद अब दुबई की कंपनी में को-ऑनर बनाने के नाम पर लोगों से मोटी रकम जमा कराई जा रही है। बस स्टैंड पारा निवासी रविन्द्र झाड़ी ने बताया कि  माई ऐड बैंक के नाम से 10 लाख रूपये जमा करवाये गए स्थानीय एजेंट पर दबाव बनाने पर मात्र 2 लाख रुपये की वापसी हुई है।

दियाडोना डीएमसीसी दुबई के एक नामी कंपनी में को-ऑनर बनाने के नाम पर ग्यारह-ग्यारह लाख रुपये जमा करवाये जा रहे हैं।
इस बारे में डिप्टी कलेक्टर सुरेंद्र ठाकुर ने बताया कि जिले में अब तक चिटफंड कंपनियों से पीडि़तों के 20 हजार से ज्यादा आवेदन आये हैं। जिनकी राशि का सही आंकलन नहीं हो पाया है। हमने संबंधित एजेंटों से जमा की गई राशि का ब्यौरा मांगा है।इस बारे में एसपी कमलोचन कश्यप ने अनभिज्ञता जाहिर करते हुए कहा कि उनके यहां अभी तक कोई शिकायत नहीं मिली है।

 


15-Sep-2021 8:41 PM (36)

वेक्सीनेशन को लेकर ग्रामीण इलाके में बढ़ रही दिलचस्पी

बीजापुर, 15 सितंबर। जिले में कोरोना के मामले अब धीरे-धीरे कम हो रहे है। बीते 2 दिनों में एक भी पॉजिटिव मामले सामने नहीं आये हैं, पर अब भी बीजापुर में 6 मामले सक्रिय हैं। जिला सर्विलेंस अधिकारी डॉ. विकास गोबेल ने बताया कि अब तक कोरोना के पहले डोज का टीका 98.3 प्रतिशत व दूसरे डोज का टीका 86.4 प्रतिशत लोगों ने लगवा लिया है। डॉ. विकास की माने तो ग्रामीण इलाके में टिके को लेकर जागरूकता आ रही है। जिसके लिए मैदानी स्तर के कर्मचारी मितानिन, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, शिक्षक, पंचायत प्रतिनिधियों सहित स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की भूमिका रही है। डॉ. विकास गोबेल ने बताया कि जिले में सक्रिय कोरोना मामले में 3 भैरमगढ़ व 3 बीजापुर में हैं, जो होम आइसोलेटेड हो कर उपचार ले रहे हैं।


15-Sep-2021 8:39 PM (26)

चिटफंड कंपनियों में लाखों गवाने के बाद भी लोगों की दिलचस्पी बरकार

बीजापुर, 15 सितंबर। जिले में इन दिनों चैन मार्केटिंग के नाम पर कंपनियों के अघोषित एजेंट की तरह लोगों को कंपनी एमडी वाली सुविधा की बात बताने वाले लोगों की संख्या बढ़ती ही जा रही है। ज्यादातर ये लोग सरकारी सेवा से जुड़े लोग हैं, जो रोजमर्रा के घरेलू सामान को 20 से 25 प्रतिशत डिसकाउंट पर दिलाने और आगे चार का क्रम बना क्लाइंट को जोडऩे की बात कहते हैं।

इस चैन मार्केट से जुड़े लोग क्लांइट की तलाश में जब निकलते हैं तो बेढंगे टाई लगा कर अधिक मुनाफा के सब्जबाग क्लाइंट को दिखाते नजर आएंगे। इनके निशाने में घरेलू और कामकाजी महिलाएं ज्यादा होती है।

माई एड बैंक, फ्यूचर मेकर जैसे कंपनियों के बाद अब दुबई की कंपनी में को-ऑनर बनाने के नाम पर लोगों से मोटी रकम जमा कराई जा रही है। बस स्टैंड पारा निवासी रविन्द्र झाड़ी ने बताया कि  माई ऐड बैंक के नाम से 10 लाख रूपये जमा करवाये गए स्थानीय एजेंट पर दबाव बनाने पर मात्र 2 लाख रुपये की वापसी हुई है।
दियाडोना डीएमसीसी दुबई के एक नामी कंपनी में को-ऑनर  बनाने के नाम पर ग्यारह-ग्यारह लाख रुपये जमा करवाये जा रहे हैं।

इस बारे में डिप्टी कलेक्टर सुरेंद्र ठाकुर ने बताया कि जिले में अब तक चिटफंड कंपनियों से पीडि़तों के 20 हजार से ज्यादा आवेदन आये हैं। जिनकी राशि का सही आंकलन नहीं हो पाया है। हमने संबंधित एजेंटों से जमा की गई राशि का ब्यौरा मांगा है।

इस बारे में एसपी कमलोचन कश्यप ने अनभिज्ञता जाहिर करते हुए कहा कि उनके यहां अभी तक कोई शिकायत नहीं मिली है।


15-Sep-2021 8:39 PM (25)

बीजापुर, 15 सितंबर। इन दिनों यहां राजनीतिक उठा पटक के बीच गहमा गहमी का माहौल बना हुआ है। बीते दिनों भाजयुमो नेता ने कांग्रेस प्रवेश करने के 24 घण्टे बाद कांग्रेस को ही झटका दे दिया और वापस भाजपा में लौट गए।  सोमवार को विधायक विक्रम मंडावी व कांग्रेस के अन्य नेताओं के सामने भैरमगढ़ युवा मोर्चा के मंडल अध्यक्ष हितेंद्र नाग ने कांग्रेस प्रवेश कर लिया था, लेकिन दूसरे दिन ही वे कांग्रेस को झटका देते हुए वापस भाजपा में लौट गए।  इस नाटकीय घटनाक्रम के बाद पूर्व मंत्री महेश गागड़ा ने एक वीडियो जारी किया है, जिसमें उन्होंने कांग्रेस व विधायक विक्रम मंडावी पर गंदी राजनीति करने का आरोप लगाया हैं। उन्होंने कहा कि जब भाजपा सत्ता में थी और वे बीजापुर के विधायक थे, तब ऐसी घटना कभी नहीं हुई। पूर्व मंत्री गागड़ा ने कहा कि जो लोग अपनी समस्या लेकर जा रहे हैं, उन्हें भी कांग्रेस का गमछा पहनाकर जबरन कांग्रेस प्रवेश कराया जा रहा है।


15-Sep-2021 8:35 PM (22)

बीजापुर, 15 सितंबर। बुधवार को एक बार फिर भाजपा को बड़ा झटका लगा है। गंगालूर क्षेत्र के सरपंच उपसरपंच समेत छह भाजपा के सक्रिय कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस का हाथ लिया। जि़ला मुख्यालय स्थित विधायक निवास में बस्तर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष व बीजापुर विधायक विक्रम मंडावी व जि़ला कांग्रेस कमेटी बीजापुर के अध्यक्ष लालू राठौर के समक्ष चेरपाल की सरपंच पिंकी पुनेम, उपसरपंच गोपाल पुजारी, पुरुषोत्तम जेट्टी व रेड्डी पंचायत के उपसरपंच संतोष मंचाल, प्रवीण गोंगला व कन्हैया पेरमा ने कांग्रेस की रीति नीति व क्षेत्रीय विधायक की कार्य शैली से प्रभावित होकर कांग्रेस प्रवेश कर लिया। विधायक व जिलाध्यक्ष ने उन्हें गमछा पहनाकर कांग्रेस प्रवेश कराया। इस दौरान कांग्रेस पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद रहे।


14-Sep-2021 10:10 PM (45)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 14 सितंबर। भोपालपटनम में कृषि विभाग द्वारा आयोजित कार्यक्रम में स्व सहायता समूह की महिलाओं को कृषि यंत्र का वितरण किया गया।

मुख्य अतिथि राज्य कृषक कल्याण परिषद के सदस्य बसंत राव ताटी ने किसानों व स्व सहायता समूह की महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार प्रदेशभर में लगातार विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाएं चला रही है। इसका लाभ ज्यादा से ज्यादा उठाये।

उन्होंने कहा कि स्व सहायता समूह की महिलाएं समूह के माध्यम से ज्यादा से ज्यादा आय अर्जित कर आर्थिक स्थिति को मजबूत बनाये। इस दौरान श्री ताटी ने किसानों को ग्रास कटर व स्व सहायता समूह की महिलाओं को मिनी राइस मिल का वितरण किया।

 इस अवसर सांसद प्रतिनिधि कामेश्वर गौतम, सेवानिवृत्त कृषि अधिकारी बीआर गोडबोले, एडीओ कोर्राम अरुण वासम सहित अधिकारी कर्मचारी व बड़ी संख्या में किसान उपस्थित रहे।


13-Sep-2021 11:11 PM (56)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 13 सितंबर। शहीद वेंकटराव महाविद्यालय में एमएससी की पढ़ाई शुरु नहीं होने से अब इस पर  बयानबाजी शुरू हो गई। मुख्य विपक्षी पार्टी भाजपा ने इस मसले पर क्षेत्रीय विधायक को आड़े हाथ लेते हुए उन पर छात्रों को गुमराह करने का आरोप लगाया है।

पूर्व मंत्री महेश गागड़ा व भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार ने संयुक्त रूप से बयान जारी कर आरोप लगाया कि क्षेत्रीय विधायक का अतिउत्साह में बगैर जानकारी के विद्यार्थियों को एमएससी खुलने की गलत जानकारी देकर आभार लेने की लालसा हास्यास्पद है।

 भाजपा नेताओं ने कहा कि पीजी कॉलेज के विद्यार्थियों ने एमएससी कक्षाओं की मांग को लेकर रैली कर उच्च शिक्षा विभाग को ज्ञापन दिया था, साथ ही क्षेत्रीय विधायक से भी विज्ञान संकाय खोलने की मांग छात्रों की ओर से किया गया था, जिस पर विधायक ने उसी दौरान एमएससी कक्षाएं चालू होने की जानकारी विद्यार्थियों को दे दी। जिस पर विद्यार्थियों ने विधायक का आभार व्यक्त कर खुशी जाहिर कर दी। 

उन्होंने कहा कि अब मामला विधायक के लिए हास्य का विषय बन गया है। नेताद्वय ने जारी बयान में कहा कि विधायक श्रेय लेने के चक्कर में विद्यार्थियों को गुमराह कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रशासन व महाविद्यालय प्रशासन की ओर  से आज पर्यन्त तक कोई प्रस्ताव या जानकारी भेजा ही नहीं गया है और ऐसे में कक्षाएं प्रारंभ होने का इंतजार करना हास्यप्रद से कम नहीं।

नेताओं ने कहा कि इस विषय पर विधायक प्रयासरत भी नहीं है। वे महज दिखावा कर रहे हैं। इसलिए विद्यार्थियों से झूठ कहा है। विधायक पूरी तरह से इस प्रक्रिया से ही अनभिज्ञ हैं, इसलिए अतिउत्साहित होकर आभार लेने की लालसा में हास्य का पात्र बने हैं।

 भाजपा नेताओं ने आगे कहा है कि जब भाजपा की सरकार थी, उस दौरान पीजी कला संकाय की आवश्यकता थी। इसलिए हमने इस आवश्यकता को पूरा किया। जिसमें आज राजनीति विज्ञान,भूगोल और अर्थशास्त्र विषय संचालित है। आज विज्ञान संकाय की विद्यार्थियों को दरकार है। इस पर विधायक गंभीरता दिखाते हुए कक्षाएं चालू करवाये।


13-Sep-2021 11:05 PM (36)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 13 सितंबर। सोमवार को विधायक निवास बीजापुर में प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं और क्षेत्रीय विधायक विक्रम शाह मंडावी के कार्यों से प्रभावित होकर भैरमगढ़ युवा मोर्चा के मंडल अध्यक्ष एवं वरिष्ठ भाजपा नेता हितेंद्र नाग ने कांग्रेस का दामन थाम लिया।

बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं बीजापुर के विधायक विक्रम शाह मंडावी, छ.ग. युवा आयोग के सदस्य अजय सिंह, जि़ला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष लालू राठौर, जि़ला पंचायत सदस्य नीना रावतिया, जि़ला पंचायत सदस्य सोमारु कश्यप, वरिष्ठ कांग्रेसी जयकुमार नायर, जि़ला कांग्रेस कमेटी बीजापुर के उपाध्यक्ष रितेश दास, जि़ला कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता ज्योति कुमार, सह-प्रवक्ता प्रवीण उद्दे, जनपद उपाध्यक्ष सोनू पोटाम, किसान कांग्रेस के जि़ला अध्यक्ष टी? गोवर्धन राव एवं विधायक प्रतिनिधि सुखदेव नाग के समक्ष कांग्रेस प्रवेश किया।

नेताओं ने कांग्रेस पार्टी का गमछा पहनाकर हितेंद्र नाग का पार्टी में स्वागत किया। इस दौरान बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित रहे।


13-Sep-2021 7:07 PM (32)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भोपालपटनम, 13 सितम्बर।
भोपालपटनम के हाटबाजार में नि:शुल्क आयुष स्वास्थ्य एवं जनजागरूकता शिविर का एक दिवसीय आयोजन संचालनालय रायपुर के आदेशानुसार एवं जिला आयुर्वेद अधिकारी डॉ.अरविन्द मरावी बीजापुर के मार्गदर्शन में शासकीय आयुर्वेद औषधालय चेरपल्ली के तत्वावधान में भोपालपटनम के साप्ताहिक हाटबाजार स्थल में नि:शुल्क आयुष स्वास्थ्य एवं जनजागरूकता शिविर का आयोजन 12 सितंबर रविवार को किया गया। 

इस शिविर का प्रारंभ आनकारी सुधाकर सेवानिवृत्त प्रधान अध्यापक के द्वारा आयुर्वेद का देवता भगवान धन्वन्तरि का पूजा अर्चना कर शिविर को प्रारंभ किया गया। जनसामान्य एवं हाटबाजार में आये हुए ग्रामीण लोगों को वर्तमान में चल रही कोरोना महामारी बारे में बचाव व उपाय  की  जानकारी दिया गया। 

शिविर में समान्यत: वात रोग चर्म रोग  मधुमेह  उदय रोग  सर्दी  खांसी  ज्वर  आदि कुल 240 रोगियों का नि:शुल्क आयुष पद्धति से उपचार कर आयुर्वेदिक दवाइयां वितरण किया गया जिसमें कोरोना महामारी के गाइडलाइन का पूरी तरह पालन किया गया व मास्क और सेनिटाइजर का वितरण किया गया। 

आयुष काढ़ा त्रिकुटु चूर्ण का काढ़ा का भी वितरण किया गया। होम्योपैथी रोग प्रतिरोधक अर्शेनिक अल्बम को भी शिविर में वितरण किया गया। इस शिविर का प्रभारी डॉ.विष्णु प्रसाद साव आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारी चेरपल्ली रहे है। शिविर में आयुर्वेदिक औषधालय के फार्मासिस्ट औषधालय सेवक अंशकालीन स्वच्छक का सराहनीय योगदान रहा है।
 


12-Sep-2021 7:17 PM (49)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 12 सितंबर।  पेड़ो के बीच चांदनी रात में  चांदी की तरह चमकदार पेड़ दिखे तो सिहरन सी दौड़ जाएगी। पर यह कोई और नहीं बल्कि औषधीय गुणों से पूर्ण कुल्लू नाम से जाना जाने वाला पेड़ है। इस पेड़ को वानस्पतिक नाम ईस्टर कुलिया यूरेन भी कहा जाता है।वही इस पेड़ को स्थानीय बोली गोंडी में पांडरुमराम भी कहा जाता है।

कोयाइटपाल  निवासी लेकम मंगू बताते हैं कि पांडरूमराम की गोंद और बीज दोनों औषधी गुणों से भरपुर है। जिसके कारण इस पेड़ को कोई नही मारता। इसकी लकड़ी जलावन या इमारती जैसी कोई बात नही है। सिर्फ गोंद और बीज के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है।

यह पेड़ चिकना और चमकीला होता है। जिसके कारण ब्रिटिशों ने इसका नामकरण अंग्रेजी मेम के टांगों से करते हुए इसे लेडी लेग का नाम दिया। यह दूधिया चांद में चमकदार दिखता है। इस लिए गोस्ट ट्री भी कहा गया है।

गंगालूर निवासी पवन हल्लुर बताते हैं कि स्थानीय मराठी में कोग्लाय के नाम से इसे जाना जाता है। इसका गोंद प्रसव के बाद मां को खिलाया जाता है। इसके बीज और गोंद दोनों औसधि गुणों से पूर्ण है।

बीजापुर वन मंडल के डीएफओ अशोक पटेल कहते हैं कि बीजापुर में कुल्लु के पेड़ छत्तीसगढ़ में सर्वाधिक हैं। करीब तीन सौ से ज्यादा पेड़ बीजापुर वन मंडल क्षेत्र में मौजूद हैं। कुल्लु के गोंद पर सरकार ने समर्थन मूल्य भी जारी किया हुआ है। इस पेड़ की कटाई स्थानीय समुदाय द्वारा नही की जाती  जिसके कारण आज भी यह संरक्षित है।टिश्यू कल्चर द्वारा इस पेड़ की संख्या बढ़ाये जाने के प्रयास छत्तीसगढ़ के कुछ स्थानों में की गई पर परिणाम उतने अच्छे नही मिले हैं।

अशोक पटेल बताते हैं कि बीजापुर के जंगलों में सर्वाधिक पाए जाने के कारण हमारी विशिष्ठ पहचान भी है। कुल्लु पेड़ों की संख्यात्माक रूप से छत्तीसगढ़ में हम पहले स्थान पर हैं।


11-Sep-2021 10:15 PM (55)

 उच्च शिक्षामंत्री से मिलकर छात्र सौप चुके है ज्ञापन

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता 

बीजापुर, 11 सितंबर। यहां शासकीय शहीद वेंकटराव महाविद्यालय में पिछले 15 सालों से एमएससी की पढ़ाई शुरू नहीं हो सकी है। जिसके चलते इस जिले के छात्र एमएससी की पढ़ाई के लिए अन्य जिलों की ओर रुख कर रहे है। जबकि इस बारे में उच्च शिक्षामंत्री को भी ज्ञापन सौपा जा चुका हैं। बावजूद पढ़ाई शुरू नहीं हो सकी है।

 वर्ष 2006 में शासकीय शहीद वेंकटराव महाविद्यालय की शुरुआत की गई।  15 साल बीत जाने के बावजूद इस  महाविद्यालय में एमएससी की पढाई शुरू नहीं हो सकी है। वर्तमान में विद्यार्थियों को दूसरे जिलों बस्तर दन्तेवाड़ा जैसे पड़ोसी जिलों के महाविद्यालय में जाकर पढऩे को मजबूर होना पड़ रहा है। जहां छात्र-छात्राओं को विषम परिस्थितियों के चलते उन्हें आर्थिक दिक्कत का भी सामना करना पड़ता है। जिले के अधिकांश ग्रामीण अंचल के विद्यार्थी यूजी तक शिक्षा ग्रहण कर नहीं पाते है।

 शिक्षा  से सम्बंधित विषय में  विद्यार्जन के कारण प्रतियोगी परीक्षाओं एवं सम्बंधित विषय में समझ का अभाव उत्पन्न होता है। जिसके कारण मानसिक स्थितियां अक्सर बनी रहती है।

 विदित हो कि दन्तेवाड़ा किरन्दुल भानपूरी एवं अन्य जैसे छोटे कस्बो में एमएससी की कक्षाएं संचालित हो रही है।  लेकिन वर्ष 2006 से बीजापुर में संचालित शासकीय शहीद वेंकटराव पीजी महाविद्यालय में एमएससी की कक्षायें संचालित नही है। छात्रों के  मुताबिक शहीद वेंकटराव महाविद्यालय में न तो एमएससी  के प्रोफेसर है और  ना ही स्टाप हैं। एमएससी की क्लास यहां नहीं लगने से छात्रों को पिछले डेढ दशक से जगदलपुर दन्तेवाड़ा किरन्दुल भानपूरी एवं अन्य क्षेत्रों पर निर्भर होना पड़ रहा है। इस समस्या को लेकर बीजापुर जिले के छात्र-छात्राओं ने उच्च शिक्षा मंत्री से मुलाकात कर लिखितरूप से एक पत्र भी सौंपा है। बावजूद अब तक इस पर कोई अमल नहीं हो पाया हैं।

इस बारे में प्रोफेसर नारायण झाड़ी ने बताया कि इस संबंध में मंत्रालय से कुछ बिंदुओं पर जानकारी मंगाई गई थी। यहां से उस जानकारी को भेज दिया गया है। अब मंत्रालय से आदेश आते ही एमएससी की पढ़ाई शुरू कर दी जाएगी। लेकिन अभी तक मंत्रालय से कोई आदेश नहीं आया है।


11-Sep-2021 10:14 PM (32)

पुलिस द्वारा छात्रों को परेशान करने का लगाया आरोप

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता 

बीजापुर, 11 सितंबर। यहां से करीब  25 किमी दूर गंगालूर में सैकड़ों की संख्या में जुटे पालनार और तोडक़ा के छात्रों और पालकों ने रैली निकाल कर प्रदर्शन किया व  राज्यपाल के नाम डिप्टी कलेक्टर उमेश पटेल को ज्ञापन सौंपा।

गंगालूर के तहसील कार्यालय के सामने बड़ी संख्या छात्र व पालक जुटे और अपनी मांगों को लेकर बरसते पानी में प्रदर्शन किया। उनका आरोप है कि पुलिस प्रशासन द्वारा छात्रों को कई तरह की प्रताडऩा पहले से दी जा रही है। पर पिछले कुछ समय से चिंताजनक रूप से बढ़ोत्तरी हुई है। आश्रम छात्रावास और स्कूलों से छात्रों को पकड़ कर माओवादी मामलों में फंसा कर जेल भेजा जा रहा है। जिससे कई छात्र अपनी पढ़ाई अधूरी छोडऩे को मजबूर हैं। ग्रामीणों का आरोप है कि कोरचोली के 10 वीं के छात्र सहित चेरपाल में पढऩे वाले कक्षा 8वीं और 5 वीं में पढऩे वाले छात्रों को डीआरजी और सीआरपीएफ जवानों ने पकड़ कर फर्जी केस बना जेल भेज दिया है। जिससे भय का माहौल बन गया है।

ग्रामीणों ने राज्यपाल को भेजे ज्ञापन में कहा है कि बच्चों की शिक्षा के अधिकार पर कोई आंच न आये। जेलों में बंद नाबालिग छात्रों को रिहा करें तथा बंद स्कूलों को फिर से शुरू करें। इधर प्रदर्शन कर रहे छात्रों व पालकों को तहसीलदार ने आश्वासन दिया तब जाकर वे उन्हें ज्ञापन सौपकर वापस लौट गए।


11-Sep-2021 10:13 PM (25)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता 

बीजापुर, 11 सितंबर। सर्व आदिवासी समाज के भैरमगढ़ ब्लॉक ईकाई की बैठक शुक्रवार को सर्व आदिवासी भवन में आयोजित की गई। बैठक में ब्लॉक ईकाई सामान्य व महिला प्रकोष्ठ के गठन सर्वसम्मति से किया गया। इसमें सीताराम मांझी को सर्वसम्मति से सर्व आदिवासी समाज भैरमगढ़ ब्लाक ईकाई का अध्यक्ष चुना गया है। वही महिला प्रकोष्ठ के लिए सुमन कोरसा को अध्यक्ष बनाया गया।  इसके अलावा ब्लाक में एक सचिव, चार उपाध्यक्ष, सहसचिव, प्रवक्ता, मीडिया प्रभारी, सहमीडिया प्रभारी तथा पांच सलाहकार बनाये गए हैं। इसके अलावा एक संरक्षक भी होंगे।

सर्व आदिवासी समाज भैरमगढ़ ब्लॉक के अध्यक्ष पद के लिए  सीताराम मांझी को सर्व सम्मति से चुना गया। सचिव पद के लिए सुनील उरसा को चुना गया। चार उपाध्यक्ष पद के लिए दो पर पाकलु राम कोरसा व प्रताप कुजूर को चुना गया। जबकि परधान व भतरा समाज के प्रमुख के मौजूद नहीं होने के चलते समाज के लिए उक्त पद को खाली रखा गया है। वही सहसचिव सोनसिंग मांझी, प्रवक्ता पुरुषोत्तम शाह मंडावी, मीडिया प्रभारी लच्छूराम मोडिय़ाम, सहमीडिया प्रभारी बामन पोडिय़ाम तथा सलाहकार पद पर सीएस नेताम, सहदेव नेगी, पीलातुश मिंज व परधान व भतरा समाज के लिए दो पद रिक्त रखा गया हैं। वही ब्लॉक संरक्षक के लिए आयतुराम तेलाम चुने गए है।  महिला प्रकोष्ठ के लिए अध्यक्ष पद का दायित्व सुमन कोरसा को सौपा गया है। जबकि सचिव पद की जिम्मेदारी मनीषा कुंजाम को दी गई है। इस तरह उपाध्यक्ष पद  कुमारी कुरूद व दीपा खेश को चुना गया है। जबकि यहां भी परधान व भतरा समाज के लिए दो पद रिक्त रखा गया है। सहसचिव के लिए सामबती पोयाम को चुना गया है। इधर सभी नवनियुक्त पदाधिकारियों को सर्व आदिवासी समाज ने बधाई दी हैं।


11-Sep-2021 6:49 PM (35)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भोपालपट्टनम, 11 सितंबर।
आयुर्वेद औषधालय सकनापल्ली के अंतर्गत ग्रामपंचयत वाडला में नि:शुल्क आयुष स्वास्थ्य एवं जनजागरण शिविर का आयोजन 9 सितंबर को ग्राम वाडला में संचालनालय आयुष रायपुर आदेशानुसार एवं जिला आयुर्वेद अधिकारी डॉ. अरविंद मरावी के मार्गदर्शन में सम्पन्न हुआ, जिसमें पंचायत के सरपंच चंद्रा कुडेम के द्वारा पूजा अर्चना कर शिविर को प्रारंभ किया गया।

ग्रामीणों को वर्तमान में चल रही कोरोना महामारी के बचाव एवं उपाय के बारे में जानकारी देते हुए त्रिकुटु चूर्ण का काढ़ा एवं होम्योपैथी औषधी आर्सेनिक अल्बम वितरण किया गया एवं रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाने के लिए आयुर्वेद के उपाय बताए गए। शिविर में वात रोग त्वचा रोग उदय रोग  स्त्रीरोग सर्दी खांसी आदि कुल 228 रोगियों का नि:शुल्क उपचार किया गया  इस शिविर में ग्रामपंचयत वाडला के सहायक सचिव  कोटवार  मितानीन  आयुर्वेद के फार्मासिस्ट औषधालय सेवक एवं अंशकालीन स्वच्छक का सराहनीय योगदान रहा है। यह जानकारी आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारी सकनापल्ली के डॉ.आरसी पटेल ने दी है।
 


11-Sep-2021 6:46 PM (38)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भोपालपट्टनम, 11 सितंबर।
भोपालपटनम में हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी श्री कृष्णा पामभोई क्लब में  सार्वजनिक गणेश उत्सव समिति के द्वारा भोपालपटनम के वृदय स्थल में निर्मित क्लब भवन में श्री गणेश की स्थापना कर नवरात्रि  का पर्व बड़े ही धूमधाम व हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है। 

क्लब प्रांगण को साज सज्जा कर तोरण लगाकर सजाया गया और श्री गणेश समिति के सभी सदस्य शाम को बजा गाजा के साथ आरती लेकर मूर्तिकार दुष्यन्त कुमार देहारी के घर से श्री गणेशजी की मूर्ति लाकर क्लब भवन में स्थापित कर पूरे विधि विधान के साथ नवरात्रि तक नगर के पंडित दत्तात्रेय शर्माजी के द्वारा भक्ति श्रद्धा के साथ  पूजा पाठ किया जाता है, जिससे पूरे नगर।व बस्ती में भक्तिमय वातावरण बना रहता है। लोग दोवो में महादेव के पुत्र प्रथम पूज्य श्रीगणेश को बड़ी श्रद्धा भक्ति के साथ पूजते है।

भोपालपटनम  नगर में शिवमंदिर प्रांगण में भी श्रीगणेश की स्थापना किया गया इसके अलावा नगर में बाजार पारा  राजापारा ब्लाकपारा में भी श्रीगणेश जी का स्थापना कर बड़े ही श्रध्दा भक्ति के साथ पूजा अर्चना किया जा रहा है इसके अलावा भोपालपटनम तहसील के  गांवों  गोल्लगुड़ा  तिमेड  गुनलापेंटा  रुद्रारम चेरपल्ली  बारेगुड़ा वर्दली लिंगपुर व।विभिन्न गांवों में भी  श्रीगणेश जी मूर्ति स्थापना कर पूजा पाठ किया जा रहा है।
 


11-Sep-2021 1:38 PM (44)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बीजापुर, 11 सितंबर।
नक्सलियों की खोखली विचारधारा प्रताडऩा व भेदभाव पूर्ण व्यवहार से तंग आकर इंद्रावती एरिया कमेटी के ग्राम रेका के मिलिशिया कमांडर ने पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया।

यहां पुलिस अधीक्षक कमलोचन कश्यप, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पंकज शुक्ला व उप पुलिस अधीक्षक आशीष कुंजाम के समक्ष रेका के मिलिशिया कमांडर संतु राम कश्यप उर्फ सागर (21) बारसूर जिला दंतेवाड़ा ने नक्सल पंथ से तौबा कर आत्मसमर्पण कर दिया। नक्सली संतु 2018 में इंद्रावती एरिया कमेटी के अंतर्गत ग्राम रेका में मिलिशिया सदस्य के रूप में भर्ती हुआ। इस दौरान उसे वहां एक माह का ट्रेनिंग दिया गया। इस दौरान उसके साथ 13 अन्य मिलिशिया सदस्य शामिल थे। इसके बाद 2019 में संतु को मिलिशिया कमांडर का काम सौंपा गया। इस दौरान संगठन में वह भरमार बंदूक रखता था।  

आत्मसमर्पित नक्सली संतु उर्फ सागर 2019 में ग्राम टोनडेर कोडेनार थाना के पास चित्रकोट रोड में एन्टीलैंड माइंस वाहन को बम विस्फोट किया, जिसमें 14 जवान शहीद हो गए थे। साथ ही उनके हथियार भी लूट लिए गए थे। 2019  में ग्राम कोटोली थाना कोड़ेनार के ग्रामीण आयतु लेकाम की हत्या में शामिल रहा। 2020  में कडादी थाना कोड़ेनार के ग्रामीण की हत्या में शामिल रहा। वहीं 2020 में ग्राम टोंडेर थाना कोड़ेनार के पास 2 पुलिया तोडऩे में शामिल रहा। इधर आत्मसमर्पित नक्सली को उत्साहवर्धन के लिए शासन की आत्मसमर्पण व पुनर्वास नीति के तहत दस हजार रुपये नगद प्रोत्साहन राशि दी गई।


09-Sep-2021 8:27 PM (57)

अक्टूबर 2019 से जून 2021 तक 37.20 फीसदी बच्चे हुए सुपोषित

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बीजापुर, 9 सितंबर।
ढाई लाख से अधिक जनसंख्या वाला बीजापुर जिला आदिवासी बाहुल्य जिला है। यह जिला प्रारंभ से ही धूर नक्सली प्रभावी होने अतिवादी शक्तियों के प्रभाव एवं सांस्कृतिक एवं धार्मिक कारणों से विकास की मुख्य धारा से कई गांव अलग रहे है, ऐसे में इन गांवों में पोषण शिक्षा एवं स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं एवं कुपोषण मुख्य समस्या बना है। इसे देखते हुए, 2 अक्टुबर 2019 को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान पूरे प्रदेश में शुरू की गई। इस अभियान से जिले मे लगातार कुपोषण एवं एनीमिया को दूर करने के लिए प्रयास किये जाते रहे है। 

फरवरी  2019 में किये गए वजन के अनुसार बीजापुर में 0 से 5 वर्ष तक के बच्चों में 38.5 प्रतिशत बच्चें कुपोषित पाये गये थे। इसके अनुसार कुल 27876 बच्चों में से 10732 बच्चों के कुपोषित होने की बात सामने आई । जिसे देखते हुए  कलेक्टर रितेश अग्रवाल ने बच्चों को सुपोषित करने के लिए सुपोषण अभियान के अंतर्गत अतिरिक्त पौस्टिक आहार फोरटी फाईड मुंगफल्ली चिक्की, बिस्कीट, अण्डा एवं गरम भोजन आंगनबाडी केन्द्रों में प्रदाय करना प्रारंभ कराया। जिसके परिणाम स्वरूप अक्टुबर 2019 में जहां 10732 बच्चें कुपोषित थे। जून 2021 तक 6739 कुपोषत बचें।इस प्रकार कुपोषित बच्चों की संख्या में 37.20 प्रतिशत की कमी देखी गई। 

जिले में कुपोषण, मातृमृत्यु दर, शिशुमृत्यु दर, एनीमिया को कम करने हेतु मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान अंतर्गत अतिरिक्त पौष्टिक आहार के रूप में सभी 1 से 6 वर्ष तक के लगभग 27883 बच्चे, 3435 गर्भवती माताओं, 3494 शिशुवती माताओं, 2751 शाला त्यागी, किशोरी बालिकाओं तथा 15 से 49 वर्ष से आयु वर्ग की 9113 एनीमिक महिलाओं को गर्म भोजन एवं पौष्टिक अतिरिक्त आहार अण्डा, चिक्की, बिस्किट से लाभांवित किया जा रहा हैं।

मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के सफलतापूर्ण क्रियान्वयन हेतु जिले के समस्त ऑगनबाड़ी केन्द्रों में पोषण वाटिका का लक्ष्य रखा गया है। प्रारंभिक चरण में मनरेगा से अभिसरण कर जिले के 276 ऑगनबाड़ी केन्द्रों में पक्के पोषण वाटिका पूर्ण कर लिया गया है, एवं 6342 हितग्राहियों में पोषण बाडी का निर्माण किया गया है। जिससे निरंतर उत्पादित हरे साग सब्जी का उपयोग घरों एवं केन्द्रों में आहार में उपयोग किया जा रहा है। जिले में कुल 15 स्व सहायता समूहों के द्वारा अण्डा उत्पादन का कार्य किया जा रहा है। उनके द्वारा उत्पादित अण्डों को लगभग 170 ऑगनबाड़ी केन्द्रों में क्रय किया जा रहा है। अभियान अंतर्गत नियमित गंभीर कुपोषित बच्चों को चिकित्सीय सुविधा उपलब्ध कराया जा रहा हैं इसके अंतर्गत 2700 बच्चों का स्वास्थ्य लाभ दिलाया गया है। इन सबका सकरात्मक परिणाम दिखाई दे रहा है कि जिले के 65 ऑगनबाड़ी केन्द्र वर्तमान में कुपोषण मुक्त हो गये है। जिले के ऐसे 26 केन्द्र जो वर्षों से संचालित नहीं थे उन्हे पुन: संचालित किया गया है। जिले के 220 ऑगनबाड़ी केन्द्रों को मॉडल ऑगनबाड़ी केन्द्र के रूप में उन्नयन किया जा रहा हैं जिसमें स्वच्छ पानी, पोषण वाटिका बच्चों के लिए कीटस एलिमेंट्री एवं ऑगनबाडी भवनों को आर्कषक बनाया जा रहा है।
 


Previous123456789...1314Next