छत्तीसगढ़ » बीजापुर

Posted Date : 09-Apr-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    बीजापुर, 9 अपै्रल। प्रधानमंत्री के बीजापुर दौरे का विरोध जताते हुए नक्सलियों ने सोमवार को जमकर उत्पात मचाया। पहले बीजापुर-भोपालपटनम मार्ग पर कोडेपाल के पास एक के बाद एक कई विस्फोट किए, उसके बाद कुटरू के पास गश्त से लौट रहे जवानों से भरी बस को विस्फोट कर उड़ा दिया। आईईडी विस्फोट से 2 जवान घटना स्थल पर ही शहीद हो गए, वहीं 7 घायल हैं।  घटना स्थल बीजापुर जिला मुख्यालय से 30-35 किलोमीटर दूर है। घटना की पुष्टि डीआईजी पी. सुन्दर राज ने की है।
    एएसपी दिव्यांश पटेल ने बताया कि बस कुटरू गई थी। इसमें ड्राइवर के अलावा आठ जवान सवार थे। वे नक्सली पर्चों को निकालते आ रहे थे। सुरक्षा के लिए रास्ते में आरओपी लगी थी और बस के पीछे तीन व आगे चार बाइक पर जवान चल रहे थे। तभी तुमला के पास बस को नक्सलियों ने ब्लास्ट कर उड़ा दिया। बस नाले के किनारे जा गिरी और इसके परखच्चे उड़ गए। नक्सलियों ने गोलीबारी नहीं की और ब्लास्ट के बाद चले गए। 
    मौके पर ही ड्राइवर लवन गावड़े निवासी बालोद व आनंद राव निवासी मिन्नूर मद्देड़ शहीद हो गए। घायल जवान संतोष कुमार,  मनीष वाचम, सुखराम माड़वी, मासाराम कुडिय़म, सुखनाथ मंडावी, भोजराज मौर्य एवं पैकूराम घायल हो गए। इनका इलाज जिला हॉस्पिटल में चल रहा है। घायलों का हाल जानने डीआईजी रतनलाल डांगी व एएसपी दिव्यांश पटेल हॉस्पिटल पहुंचे थे। 
    बीजापुर-भोपालपटनम मार्ग पर सीरियल ब्लास्ट
     इससे पहले नक्सलियों ने आज सुबह बीजापुर-भोपालपटनम मार्ग पर कोडेपाल के पास एक के बाद एक 10 विस्फोट किए हैं। सीरियल विस्फोट के बाद नक्सली और पुलिस जवानों के बीच मुठभेड़ भी हुई, जिसमें एक जवान घायल हो गया है। मोदकपाल एसआई ने मुठभेड़ व ब्लॉस्ट की पुष्टि की है। 
    मिली जानकारी के मुताबिक बीजापुर-भोपालपटनम मार्ग पर सीआरपीएफ 85 बटालियन के जवान सोमवार सुबह महादेव घाट से कोडपाल के बीच रोड ओपनिंग के लिए निकले हुए थे। इसी दौरान नक्सलियों ने महादेव घाट पर विस्फोट कर जवानों पर फायरिंग करना चालू कर दिया। पुलिस पार्टी ने भी जवाबी फायरिंग की। बताया जा रहा है कि इस दौरान नक्सलियों ने एक के बाद एक 10 धमाके किए। पुलिस व नक्सलियों के बीच गोलीबारी में एक जवान घायल हो गया। 
    पर्चा फेंक पीएम दौरे का विरोध
    नक्सली पीएम नरेन्द्र मोदी के दौरे का विरोध कर रहे हैं।  नक्सलियों ने बीजापुर-भोपालपट्टनम सड़क पर महादेव घाट के पास बड़ी संख्या में पोस्टर्स और बेनर्स फेंके हैं। प्रधानमंत्री 14 अपै्रल को छत्तीसगढ़ के दौरे पर आने वाले हैं। पीएम यहां आयुष्मान भारत योजना को देश को समर्पित करेंगे, साथ ही कई योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास भी करेंगे। 
    पर्चें में नक्सलियों ने नरेन्द्र मोदी पर बस्तर के विकास के नाम पर अमूल्य खनिज संपदा को कॉरपोरेटस को सौंपने का आरोप लगाया है। पर्चा में नक्सलियों ने वर्ष 2019-22 तक नक्सल आंदोलन के खत्म नहीं होने की बात कही है। दक्षिण बस्तर सब जोनल ब्यूरो की ओर से जारी किए गए प्रेस नोट में नक्सलियों ने स्वीकार किया है कि तड़पाल, कलेड़ा और मोददुम मुठभेड़ में दर्जनों नक्सली मारे गए। इससे बड़ा नुकसान हुआ है। 
    कल भी नक्सलियों ने प्रेस नोट जारी कर 5 घटनाओं का जिक्र किया था, जिससे पूर्व भाजयुमो अध्यक्ष और पूर्व जिला पंचायत सदस्य जगदीश कोड्रा और तुमनार सड़क निर्माण कार्य के ठेकेदार विशाल सरवैया की हत्या की जिम्मेदारी ली थी। 
    नक्सलियों ने लिखा था कि किस्टराम के कासाराम में एंटीलैंडमाइन व्हीकल में ब्लॉस्ट कर 9 जवानों की हत्या की थी। ये बैनर-पोस्टर भाकपा माओवादी पश्चिम डिवीजन कमेटी ने लगाए हैं। पोस्टर-बैनर से इलाके के लोगों में दहशत है। 

     

  •  

Posted Date : 09-Apr-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    बीजापुर, 9 अप्रैल। प्रधानमंत्री के बीजापुर दौरे का विरोध जताते हुए नक्सलियों ने आज बीजापुर भोपालपटनम मार्ग पर एक के बाद एक 10 विस्फोट किए विस्फोट में एक जवान के घायल होने की सूचना है। वहीं विस्फोट के बाद मुठभेड़ की खबर है।
    मिली जानकारी के मुताबिक बीजापुर भोपालपटनम मार्ग पर सीआरपीएफ 85 बटालियन के जवान महादेव घाट से कोडपाल के बीच रोड ओपनिंग के लिए निकले हुए थे। इसी दौरान नक्सलियों ने महादेव घाट पर विस्फोट कर जवानों पर फायरिंग करना चालू कर दिया। पुलिस पार्टी ने भो जवाबी फायरिंग प्रारम्भ कर दिया है। विस्फोट में 1 जवान के घायल होने की खबर भी है। पुलिस व नक्सलियों के बीच गोलीबारी जारी है। बताया जा रहा है कि इस दौरान नक्सलियों ने एक के एक बाद 10 धमाके किए हैं।
      प्रधानमंत्री के दौरे से पहले मिला नक्सली पर्चा
    इधर एक पर्चा जारी कर नक्सलियों ने वर्ष 2019-22 तक नक्सल आंदोलन के खत्म नहीं होने की बात कही है।  दक्षिण बस्तर सब जोनल ब्यूरो की ओर से जारी किए गए प्रेस नोट में नक्सलियों ने स्वीकार किया है कि तड़पाल, कलेड़ा और मोददुम मुठभेड़ में दर्जनों नक्सली मारे गए। इससे बड़ा नुकसान हुआ है। नक्सलियों ने इस पर्चे में पटनम के भाजपा नेता जगदीश और पीएमजीएसवाय के ठेकेदार की हत्या की जिम्मेदारी भी ली है। नक्सलियों ने सुकमा के किस्टारम के कासाराम में एंटीलैंडमाइन हमले में 9 जवानों की हत्या कर 4 हथियार लूटने का दावा भी किया है।

  •  

Posted Date : 03-Apr-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    बीजापुर, 3 अप्रैल। जिला बल, डीआरजी और सीआरपीएफ की संयुक्त टीम ने अलग-अलग थाना क्षेत्रों से आगजनी व विस्फोट की घटना में शामिल रहे 9 नक्सल-आरोपियों को गिरफ्तार किया है।
    बीजापुर थाना से सीआरपीएफ  85 बटालियन और जिला बल की संयुक्त टीम एरिया डामिनेशन के लिए पोंजेर की ओर रवाना हुई थी। मुखबिर की सूचना पर जवानों ने ग्राम पोंजेर से आगजनी मामले में लिप्त दो वारंटी नक्सलियों माडवी बुधराम व गुड्डू माडवी को घेराबंदी कर पकड़ा गया। इन पर गंगालूर मार्ग पर बीते 14 मार्च को पामलवाया के पास 1 जेसीबी, 1 अजाक्स, 2 बारब्रेटर रोलर, 1 डबल ड्रम रोलर, तथा 1 पानी टेंकर में आग लगाने का आरोप है। दूसरी तरफ  भोपालपट्नम थाना क्षेत्र से डीआरजी और जिलाबल के जवानों ने विस्फोट व आगजनी मामले के 7 नक्सलियों को धर दबोचा है। बारेगुडा में निर्माण कार्य में लगे दो जेसीबी वाहन में आगजनी की घटना में शामिल रहे नक्सली पूनेम हनुमैया, कोर्राम कन्हैया, पवन कुम्मरम तथा पेंटैया तोडसम को पकड़ा गया। वहीं वरदली के जंगल से विस्फोट में शामिल चिडेम कन्हैया, नानैया कुमरम व मड़े इस्तारी को पकड़ा गया। उक्त नक्सली 23 मार्च को उल्लूर के पास विस्फोट की घटना में शामिल रहे। पकडे गए सभी नक्सलियों को न्यायालय बीजापुर में पेश किया गया।

  •  

Posted Date : 03-Apr-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    भोपालपटनम/बीजापुर, 3 मार्च। नक्सलियों की मद्देड़ एरिया कमेटी ने भोपालपटनम ब्लॉक में कार्यरत एक शिक्षाकर्मी पर कई आरोप लगाते गंभीर परिणाम भुगतनेे की चेतावनी दी है। नक्सलियों ने नगर पंचायत के बीचो-बीच और रूद्रारम में पर्चे लगाकर ये धमकी दी है। पूर्व भाजयुमो नेता जगदीश कोण्डरा की हत्या के कुछ दिनों बाद ऐसे पर्चे मिलने से नगर में दहशत का माहौल है। 
    नगर पंचायत में लगे पर्चे को पुलिस ने बरामद किया है। लेकिन सोमवार की दोपहर तक रूद्रारम में एक घर के बांस की बाड़ में लगे पर्चे को नहीं हटाया गया था। लोग दहशत के कारण इसे नहीं हटा रहे हैं। 
    बताया गया कि शिक्षाकर्मी रूद्रारम निवासी है और उन पर नक्सलियों ने 2003 में हमला किया था। नक्सलियों ने आरोप लगाया है कि उन्हें दो से तीन बार चेतावनी दी गई है, लेकिन वे नहीं सुधरे। नक्सलियों ने उन पर नेतागिरी करने, पुलिस से नजदीकी रखने और एक विवाहिता को भगा कर ले जाने का आरोप लगाया है। नक्सलियों ने कहा है कि वे विवाहिता को गांव लेकर आए और शिक्षक की तरह काम करें। समाज के साथ अच्छे से रहे नहीं तो हश्र ठीक नहीं होगा। 
    भोपालपटनम नगर पंचायत में शाम ढलते ही खौफ  बढऩे लगता है। पूर्व भाजयुमो नेता की हत्या के बाद से ग्रामीण रात को बाहर निकलने से डरतेे हैं। अब नगर में पर्चे मिलनेे से दहशत और बढ़ गई है। इधर पुलिस ने भी आसपास सर्चिंग बढ़ा दी है। 

  •  

Posted Date : 30-Mar-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    बीजापुर, 30 मार्च। सर्चिंग पर गए सीआरपीएफ  का एक जवान नक्सलियों की आईईडी की जद में आ गया। जवान के दोनों पैरों में गंभीर चोट आई है। घायल जवान को जिला अस्पताल में भर्ती किया गया है। उसे बेहतर इलाज के लिए हेलीकाप्टर से रायपुर भेजने की तैयारी की जा रही है।
     बीजापुर से सीआरपीएफ  85 बटालियन के जवान शुक्रवार को सुबह से सर्चिंग पर निकले थे। महादेव और चिन्नकवाली के बीच नक्सलियों द्वारा गड़ाए आईईडी ब्लास्ट हो गया। इसकी चपेट में आने से जवान लक्ष्मण राव गंभीर रूप से घायल हो गया। जवान के दोनों पैरों में चोट आई है।

  •  

Posted Date : 23-Mar-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    बीजापुर, 23 मार्च। जिले के भोपालपट्टनम के पास नक्सल विस्फोट में आने से दो जवान घायल हो गए।  प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए जगदलपुर या रायपुर भेजने की तैयारी की जा रही है।
    एसपी मोहित गर्ग ने बताया कि जवान भोपालपट्टनम से उल्लूर के लिए सर्चिंग पर निकले थे। इसी दौरान नक्सलियों ने इन्हें निशाना बनाते हुए विसफोट किया। घटना में  एसआई योगेश पटेल और सिपाही  इंद्रजीत सिंह को गम्भीर चोट आई है। भोपालपटनम के अस्पताल में प्राथमिक उपचार किया जा रहा है।
    ज्ञात हो कि दो दिन पहले ही कोंडागांव में नक्सलियों के बड़े नेताओं के जुटने की खबर आई थी। इसके बाद से बस्तर में एलर्ट जारी कर दिया गया था। आशंका जताई गई थी कि नक्सली बड़ी वारदात की फिराक में हैं।

  •  

Posted Date : 05-Jan-2018
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    बीजापुर, 5 दिसंबर। गंगालूर थाना क्षेत्र के कावडग़ांव के जंगल में हुई मुठभेड़ में पुलिस ने 3 वर्दीधारी नक्सलियों को मार गिराया। इनमें एक महिला शामिल है। घटनास्थल से  हथियार और नक्सल सामान बरामद किए गए हैं।
    पुलिस के अनुसार कोबरा 204 और जिला बल के जवानों के साथ यह मुठभेड़ हुई। घटना स्थल से तीन हथियार बरामद किए गए हैं। इनमें बरामद  एक 303 रायफल,एक भरमार बंदूक,एक कट्टा समेत भारी मात्रा में नक्सल सामान बरामद किए गए हैं। बीजापुर एसपी एम आर अहिरे ने घटना की पुष्टि करते कहा कि मारे गए नक्सलियों की पहचान की जा रही है।

  •  

Posted Date : 29-Dec-2017
  • प्रीति दुर्गम बनी बीजापुर के युवाओं की प्रेरणा

    छत्तीसगढ़ संवाददाता 
    बीजापुर, 29 दिसम्बर। बीजापुर जिले में पली-बढ़ी प्रीति दुर्गम से इस कथित पिछड़े इलाके को नई पहचान मिली है। मूलत: उसूर की रहने वाली प्रीति दुर्गम का चयन डिप्टी कलेक्टर के लिए हुआ है। वह अजा वर्ग में इस पद पर अव्वल रही हैं। 
    जिला मुख्यालय में पदस्थ शिक्षक राऊतपारा निवासी दुर्गम नागेश व श्रीमती मीना दुर्गम की बेटी प्रीति बीजापुर की पहली युवती है, जो डिप्टी कलेक्टर बनी है। उनकी प्राथमिक शिक्षा अल्फ ा पब्लिक स्कूल से हुई। उसके बाद उन्होंने जगदलपुर में दीप्ती कान्वेंट व केन्द्रीय विद्यालय में बारहवीं तक की शिक्षा ग्रहण की। 2012 में सीआईएमटी भिलाई से कंप्यूटर साइंस में बीई करने के बाद नई दिल्ली में यूपीएससी की कोचिंग ली। वे फि र चार साल से छग में ही पीएससी की तैयारी कर रही थी। चार साल की मेहनत रंग लाई और वे डिप्टी कलेक्टर के लिए चयनित हो गईं। 
    अजा वर्ग में डिप्टी कलेक्टर के दो पद थे। इसमें भी वे टॉप पर रहीं। उन्होंने डिप्टी कलेक्टर के अलावा लेखाधिकारी, वाणिज्य कर अधिकारी, श्रम अधिकारी समेत विभिन्न पदों को चॉइस में रखा था। वे कहती हैं कि डिप्टी कलेक्टर में चयन को लेकर उन्हें थोड़ा संदेह था। चयन होने पर उन्हें काफी खुशी हुई। वे कहती हैं कि बचपन से ही उनकी इच्छा सिविल सर्विसेस में जाने की थी। उनका पैतृक निवास उसूर में है। इधर, राऊतपारा स्थित उनके निवास पर पर्व-सा माहौल है। सुबह से नाते-रिश्तेदारों व मित्रों का तांता लगा है। सुबह से ही पूरे परिवार को बधाई मिल रही है।

  •  

Posted Date : 12-Dec-2017
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    बीजापुर, 12 दिसम्बर। भैरमगढ़ से केशकुतुल मार्ग पर चल रहे सड़क निर्माण कार्य में लगे एक टिप्पर को नक्सलियों ने आग के हवाले कर दिया। इस घटना को अंजाम देने के बाद नक्सली वहां से चले गए।
    सोमवार की शाम गिट्टी भरकर केशकुतुल जा रही टिप्पर को नक्सलियों ने भैरमगढ़ थाना से करीब 3 किलोमीटर दूर गढ़पारा हनुमान मंदिर के पास रोक लिया। जहां नक्सलियों ने पहले वाहन से ड्राइवर व हेल्पर को नीचे उतारा फि र डीजल टैंक फोड़कर उसमें आग लगा दी। आगजनी से वाहन आधे से ज्यादा जलकर खाक हो गया है। टिप्पर गीदम के एक ठेकेदार की थी।

  •  

Posted Date : 02-Dec-2017
  • तेंदूपत्ता बोनस शुरू

    छत्तीसगढ़ संवाददाता
     बीजापुर, 2 दिसंबर। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने शनिवार को प्रदेश के लगभग 11 लाख तेन्दूपत्ता संग्राहकों के लिए भी बोनस तिहार की शुरूआत कर दी। उन्होंने जिला मुख्यालय बीजापुर से इसका शुभारंभ किया। इस अवसर पर उन्होंने नक्सल हिंसा पीडि़त दो जिलों बीजापुर और दंतेवाड़ा के जिला लघु वनोपज संघों के कुल 64 हजार 798 तेन्दूपत्ता संग्राहकों के लिए लगभग 17 करोड़ रूपए का बोनस ऑनलाइन वितरित किया। 
     मुख्यमंत्री ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि तेंदूपत्ता संग्राहकों की मेहनत का एक-एक पैसा सरकार के खाते में नहीं बल्कि वनवासियों के खाते में जाएगा। जिले के विकास में बाधा डालने वाले कितने भी रोक लें, लेकिन हमने संकल्प लिया है हर गांव की सड़क पक्की बनाकर रहेंगे। मुख्यमंत्री ने तेंदूपत्ता संग्राहकों को बोनस, चक्रीय निधि का ऋ ण वितरण, मेधावी छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति व राष्ट्रीय आजीविका मिशन के तहत् हितग्राहियों को रीवाल्विंग फं ड का वितरण किया। 
    मिनी स्टेडियम में आयोजित विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि 2007 और 2017 के बीजापुर में फ र्क साफ  नजर आता है और जिला निर्माण की सार्थकता सिद्ध होती है। केवल नारे लगाने से नहीं बल्कि काम करने से विकास होता है। जिस तरह मैदानी क्षेत्रों के लिए धान का महत्व है, उसी तरह दंतेवाड़ा व बीजापुर क्षेत्र के वनवासियों के लिए तेंदूपत्ता से बढ़कर दूसरा महत्व की चीज नहीं हो सकती।
    इस आयोजन में बीजापुर जिला स्थापना उत्सव भी मनाया गया है और अब ग्रामीणों के बीच ढोल और मांदर की थाप फि र से सुनाई देने लगी है। यह उत्सव सिर्फ  जिले का नहीं बल्कि हर गांव-गांव का उत्सव है। समय अब बदल रहा है। इस उत्सव की सार्थकता तब और ज्यादा बढ़ जाएगी जब यहां के बच्चे एसपी और कलेक्टर बनकर काम करेंगे। 
    विकास विरोधी तत्व स्कूल, पुल-पुलिया तोड़कर विकास में बाधा पहुंचाते हैं, लेकिन हम रूकेंगे नहीं, हमने संकल्प लिया है हरेक सड़क को पक्की सड़क बनाकर रहेंगे। विकास और आपके सहयोग के जरिए ही आतंकवाद और नक्सलवाद धीरे-धीरे बंद होता जा रहा है। यह साबित करता है यहां के लोग शांति के उपासक हैं। हमने संकल्प लिया है बीजापुर जिले का हर गांव, पारा और घर अगले छह महीने में पूरी तरह से बिजली की रोशनी से जगमगाने लगेगा। स्पोर्टस एकेडमी के जरिए यहां के बच्चे गोल्ड मेडल हासिल कर रहे हैं यही असली परिवर्तन है। मिंगाचल का पुल निर्माण जिले के विकास के लिए मील का पत्थर है। अब यहां के निवासी 12 महीने बगैर बाधा के आवागमन कर देश और दुनिया से जुड़े रहेंगे। 
    उन्होंने कहा कि जिला आज से 17 साल पहले 1 करोड़ की राशि के लिए तरसता था वहां आज हम 212 करोड़ के विकास कार्यों की सौगात दे रहे हैं। 
    सीएम के उद्बोधन से पूर्व वन मंत्री महेश गागड़ा ने जिले के तेंदूपत्ता संग्राहकों को बधाई देते हुए कहा कि जब हम छोटे थे तब तेंदूपत्ता का दर व बोनस के लिए रैली निकाला करते थे। आज मुख्यमंत्री के प्रयासों से इसकी आवश्यकता वनवासियों को नहीं पड़ती है। 2003 में तेंदूपत्ता संग्रहण दर 450 रूपए था जो आज मुख्यमंत्री के प्रयासों से 2500 रूपए हो गया है। इससे लोगों के जीवन में बड़ा परिवर्तन आना शुरू हो गया है। 
    समारोह में सांसद दिनेश कश्यप ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में राजस्व मंत्री प्रेमप्रकाश पाण्डेय, आदिमजाति कल्याण मंत्री केदार कश्यप, वन विकास निगम के अध्यक्ष श्रीनिवास मद्दी, बीजापुर जिपं अध्यक्ष जमुना सकनी, दंतेवाड़ा जिपं अध्यक्ष कमला नाग, पूर्व विधायक भीमा मंडावी, कमिश्नर बस्तर दिलीप वासनिकर, आईजी बस्तर विवेकानंद सिन्हा, डीआईजी पी सुंदरराज, बीजापुर कलेक्टर डॉ. अय्याज तम्बोली, दंतेवाड़ा कलेक्टर सौरव कुमारए डीएफ ओ बीजापुर गुरूनाथन एन, डीएफ ओ दंतेवाड़ा आरके जांगड़े, भाजपा जिला अध्यक्ष जी वेंकट सहित भाजपा पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद थे। 
    कोण्डागांव में 6 करोड़ का बोनस वितरण
    बीजापुर कार्यक्रम के बाद मुख्यमंत्री कोण्डागांव जिले के ग्राम धनोरा (केशकाल) पहुंचे, जहां आयोजित बोनस तिहार में लघु वनोपज जिला यूनियन-कोण्डागांव जिले के केशकाल, दक्षिण कोण्डागांव वन मंडल और नारायणपुर जिले के वन मंडल नारायणपुर की प्राथमिक वनोपज समितियों के सम्मेलन में 74 हजार 791 संग्राहकों को 6 करोड़ रूपए से ज्यादा बोनस मुख्यमंत्री के हाथों आन लाइन वितरित किया गया।
    आज आठ जिलों में
     मुख्यमंत्री कल 3 दिसंबर को राज्य के नक्सल हिंसा प्रभावित आठ जिलों सुकमा, जगदलपुर और राजनांदगांव के तेन्दूपत्ता बोनस वितरण कार्यक्रमों में शामिल होंगे। राजनांदगांव जिले का कार्यक्रम मोहला में आयोजित किया जाएगा। मुख्यमंत्री की घोषणा के अनुरूप राज्य में 10 दिवसीय तेन्दूपत्ता बोनस तिहार आज दो दिसम्बर से शुरू होकर 11 दिसम्बर तक चलेगा। बोनस तिहार प्राथमिक वनोपज सहकारी समितियों के सम्मेलनों के साथ आयोजित किया जा रहा है।
     इस दौरान मुख्यमंत्री प्रदेश के सात स्थानों पर आयोजित सम्मेलनों में 18 जिला वनोपज सहकारी संघों (यूनियनों) के तेन्दूपत्ता संग्राहकों को बोनस का वितरण करेंगे।

  •  

Posted Date : 17-Nov-2017
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    बीजापुर, 17 नवंबर। जिले के नैमेड़ थाना क्षेत्र के गुदमा में सड़क निर्माण में लगे एक जेसीबी व दो ट्रैक्टरों को नक्सलियों ने आग के हवाले कर दिया। गुदमा से एरामांगी के बीच 15 किलोमीटर तक सड़क निर्माण का काम चल रहा है। बीती रात कुछ हथियार बंद नक्सली वहां पहुंचे और सड़क काम में लगे मुंशी के साथ मारपीट की। इसके बाद नक्सली एक जेसीबी व दो टै्रक्टरों में आग लगा दी। साथ ही पर्चे लगाकर काम बंद करने धमकी दी है। बताया जा रहा है कि गाडिय़ां पीएसए कंस्ट्रक्शन कंपनी की है।  

     

  •  

Posted Date : 12-Nov-2017
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    बीजापुर, 12 नवम्बर। बीजापुर से लगभग 10 किलोमीटर दूर मनकेली के जंगल में रविवार को एसटीएफ और डीआरजी के जवानों ने मुठभेड़ में 3 नक्सलियों को मार गिराया है। जवानों ने घटना स्थल से एक इंसास रायफल व भरमार बंदूक बरामद किया है।  
     बीजापुर से शुक्रवार को डीआरजी व एसटीएफ  की संयुक्त टीम गोरना-मनकेली के तरफ नक्सलियों के होने की सूचना पर निकली थी। रविवार की सुबह मनकेली के तालाब के पास नक्सलियों ने पुलिस को देख फायरिंग शुरू कर दी। इस मुठभेड़ में दोनों तरफ  से एक घण्टे तक फायरिंग चली। जिसमें कुछ नक्सलियों को गोली लगने पर नक्सली पीछे हटने लगे। सर्चिंग के दौरान तीन पुरुष नक्सलियों के शव बरामद किया गया है। साथ ही तीन हथियार एक इंसास रायफ ल, एक 303 रायफ ल, एक देशी मेड़, भरमार रायफल, एक रेडियो, वायर, एक टिफि न बम, चाइना ग्रेनेड एवं नक्सली साहित्य बरामद किया गया। 
    इस ऑपरेशन में लगभग 90 पुलिस जवान शामिल थे।  नक्सलियों की संख्या लगभग 30 के आस पास बताई जा रही है। वापस लौट रही पुलिस पार्टी पर बार-बार नक्सली हमला कर रहे थे। 
    बीजापुर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने बताया कि हमारे जवानों को आज एक बड़ी सफ लता मिली है। तीन नक्सलियों को आज मार गिराया है। मिलेट्री प्लाटून की रैंक के नक्सलियों से मुठभेड़ होने की आशंका उन्होंने व्यक्त की है। उन्होंने संभावना व्यक्त करते हुए कहा कि सर्चिंग के दौरान कई नक्सली इस घटना में मारे व घायल हुए होंगे। मारे गए नक्सलियों के शाम तक शिनाख्त नहीं हो पाई है।

  •  

Posted Date : 17-Oct-2017
  • तवा फेंक में जूनियर नेशनल खेलेगी नरसापुर की संजना
    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    बीजापुर, 17 अक्टूबर। उसूर ब्लॉक के धुर नक्सल प्रभावित और सुख-सुविधा से दूर बसे गांव नरसापुर की आठवीं की छात्रा पुजारी संजना ने तवा फेंक के स्कूल जूनियर वर्ग में छग के सभी खिलाडिय़ों को पछाड़ दिया। 
    पुजारी संजना तिम्मापुर बालिका आवासीय विद्यालय में कक्षा आठवीं में पढ़ती है। वह तिम्मापुर से पचास किमी दूर बसे नरसापुर गांव के किसान धरमैया की पुत्री है। पिता ने उसे तिम्मापुर आवासीय विद्यालय में कक्षा पंाचवीं में भर्ती कराया था। तब से वह अधीक्षिका श्रीमती ज्योति शांडिल्य के मार्गदर्शन में तवा फेंक का अभ्यास कर रही है। आखिरकार पिछले पखवाड़े बिलासपुर में हुई राज्य स्तरीय स्पर्धा में वह अव्वल आई। उसने रायपुर की सान्या को फ ाइनल में शिकस्त दी। तीसरे क्रम पर भिलाई की मज्जू आई। संजना का चयन जूनियर नेशनल में हुआ है। भौतिक सुविधा से कोसों दूर बसे नरसापुर गांव की बेटी संजना नेशनल में छग का प्रतिनिधित्व करेगी। राजीव गांधी शिक्षा मिशन की ओर से डीपीसी विजेन्द्र राठौर व एपीसी मारूति कापेवार ने पांच हजार रूपए प्रदान करते उज्जवल भविष्य की कामना की। अभी नेशनल गेम की तिथि व स्थान तय नहीं किया गया है। 

     

  •  

Posted Date : 04-Sep-2017
  • बंदूक-सामान के साथ शव बरामद

    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    बीजापुर, 4 सितम्बर। बीजापुर पुलिस ने एक वर्दीधारी नक्सली ढेर करने में बड़ी सफ लता मिली है तथा घटना स्थल से एके रायफ ल वाकई टाकी और भारी मात्रा में दैनिक उपयोग की सामग्री बरामद किया है।
    जिले में चलाए जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत 1 सितम्बर की रात को जिला बल जांगला थाना व बेदरे थाना के साथ 204 कोबरा की संयुक्त दल फ रसेगढ़ के जंगलों में नक्सलियों के मौजूद होने की सूचना पर निकली थी। गड़तुल व मुकाबेली के जंगलों में पहुंचने पर नक्सलियों को देख कर पुलिस पार्टी ने हमला कर दिया और नक्सलियों को सम्भालने का मौका ही नहीं दिया, मुठभेड़ लगभग 30 मिनट चली। जिसमें बीजापुर पुलिस को एक वर्दीधारी नक्सली को मार गिराने में बड़ी मिली व इसके साथ एक एके 47 रायफ ल भी शव के साथ बरामद किया। इस ऑपरेशन में पुलिस का संयुक्त दल करीब 150 जवान थे।
    मिली जानकारी के अनुसार नक्सलियों की संख्या लगभग 40 से 50 के आस पास थे। मुठभेड़ लगभग रविवार की शाम 4-5 बजे के आस पास हुई। मुठभेड़ करीब 30 मिनट तक चली। ततपश्चात नक्सली अपने को घिरता हुआ देख कर जंगलों की आड़ लेकर भाग गए। इस दल की अगुवाई असिस्टेंट कमांडेंट अभिनव पांडे 204 कोबरा ने की थी। मुठभेड़ के बाद घटना स्थल की सर्चिंग करने पर एक  एके 47 रायफल, मैगजीन, आठ नग कारतूस, वायरलेस सेट, सोलर प्लेट, वर्दी, छाता 3 नग, वायर, पि_ु, पाना पेचिस एवं दैनिक उपयोग की सामग्री बरामद किया है। मारे गए नक्सली की अभी पहचान नहीं हो पाई। फ रसेगढ़ थाना का मामला है। 

  •  

Posted Date : 30-Aug-2017
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता 
    बीजापुर, 30 अगस्त। उसूर ब्लाक के एक बड़े एरिया में माओवादियों को पैर जमाने से रोक रही सीआरपीएफ  की 229 बटालियन  अब किसानों की मदद के लिए भी आगे आई है और इसमें होने वाली परेशानियों को दूर कर रही है। 
    तीन साल से इस इलाके में तैनात सीआरपीएफ की 229 बटालियन  के जवान लाल लड़ाकों से मुकाबला करते शांति की स्थापना की कोशिश में लगे हैं और इस मकसद के साथ उन्होंने सामाजिक जिम्मेदारी भी उठाई है। बुधवार को उसूर ब्लॉक के चेरामंगी में सीआरपीएफ  ने एक सभा का आयोजन संपर्क अभियान के तहत किया। इसमें बताया गया कि करीब तीन साल से इस क्षेत्र में 229 बटालियन तैनात है। 
    इस दौरान बटालियन ने कार्यक्षेत्र में बसे गांवों के लोगों से जुडऩे की कोशिश की। इसी कड़ी में स्वास्थ्य शिविरों का आयोजन किया गया। लोगों से नजदीकी बनाने और उनकी मदद करने बटालियन की ओर से कई कार्यक्रम चलाए गए। गांव के लोगों को साइकिल का वितरण किया गया ताकि अंदरूनी गांव में कोई बीमार पड़ जाए तो उसे आवापल्ली तक आसानी से लाया जा सके। 
    हाल ही में इलाके में खेतों में कीट प्रकोप हुआ था। इसकी जानकारी कमाण्डेंट टी विश्वनाथ को मिली। उन्होंने किसानों को कीटनाशी का छिड़काव करने के लिए उपकरण उपलब्ध कराया। युवाओं को कंप्यूटर शिक्षा से जोडऩे के लिए बटालियन की ओर से आवापल्ली में एक सेंटर की स्थापना की गई। इसका लाभ इलाके के विद्यार्थी उठा रहे हैं। कमाण्डेंट की कोशिश से यहां एक मोबाइल टॉवर की स्थापना की गई। इससे आसपास के लोगों को राहत मिली। 
    बच्चों की शिक्षा के लिए भी बटालियन की ओर से लगातार सहायता प्रदान की जा रही है। बुधवार को संपर्क अभियान में चेरामंगी के अलावा चेरकडोडी, मुरकीनार, पेंकरम, दुगईगुड़ा,आवापल्ली, धारावरम, पुन्नूर, नुकनपाल समेत अंदरूनी गांवों से लोग बड़ी संख्या में आए थे। इस मौके पर द्वितीय कमान अधिकारी पालसिंह सिवाल, डिप्टी कमाण्डेंट बीपी सिंह, बीईओ बीएस नागेश, बीएमओ डॉ शैलेन्द्र कुमार, डॉ एस चंद्राकर, सहायक कमाण्डेंट कर्पूर बावला,भरत कुमार, कमल सिंह मीणा, सरपंच श्रीमती लक्ष्मी समेत अन्य अधिकारी-कर्मचारी मौजूद थे।  

  •  

Posted Date : 27-Jul-2017
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    बीजापुर, 27 जुलाई। बीजापुर जिले में 2 इनामी सहित 6 नक्सलियों ने गुरूवार को आत्मसमर्पण किया। इनमें एक महिला भी है। सभी नक्सली कलेक्टर अय्याज तम्बोली, पुलिस अधीक्षक के एल धु्रव एवं केरिपु बल के सेनानियों के समक्ष अलग-अलग पहुंचे थे। वहीं केरिपु ने एक नक्सली को गिरफ्तार किया है। उसके पास से बम, डेटोनेटर बरामद किया गया है।
    समर्पण करने वाले नक्सलियों में हपका पायकु ग्राम हल्लुर प्लाटून नं.13 का सेक्शन कमांडर है, जिस पर शासन द्वारा 3 लाख का इनाम घोषित है। वहीं माड़वी सोनू ग्राम डोडितमनार गंगालूर एलओएस सदस्य है, जिस पर शासन द्वारा 1 लाख का इनाम घोषित है। इसी प्रकार कड़ती भीमा ग्राम पोलमपल्ली, वेक्को आयतु ग्राम डालेर, राजू राम मोडियाम ग्राम मनकेली एवं पोडियम मोती महिला नक्सली ने समर्पण किया। इन सभी नक्सलियों को शासन द्वारा प्रोत्साहन राशि के रूप में दस-दस हजार रुपये दिया गया। इन सभी नक्सलियों ने अलग-अलग थाना क्षेत्रों व केरिपु के 199वीं वाहिनी, 222वीं वाहिनी, 168वीं वाहिनी के समक्ष समर्पण किया।
    दूसरी ओर केरिपु 168 व केरिपु 204 कोबरा ने संयुक्त कार्रवाई कर एक और नक्सली को बासागुड़ा थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया है। वह कई घटनाओं में शामिल था। मुखबिर की सूचना पर कोर्सागुड़ा जंगल में गश्त एवं तलाशी अभियान के लिए संयुक्त पार्टी नकली थी।  इस दौरान जंगल में पुनेम सन्नू ग्राम बिरागुड़ा थाना बासागुड़ा निवासी को गिरफ्तार किया गया। उसके पास से लोहे का पाइप बम, डेटोनेटर, वायर व 2 नग डेटोनेटर बरामद किया गया। 

  •