छत्तीसगढ़ » बीजापुर

Date : 16-Feb-2020

फेडरेशन ने मांगों को लेकर विधायक को सौंपा ज्ञापन 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बीजापुर, 16 फरवरी।
सहायक शिक्षक फ़ेडरेशन के प्रांतीय आह्वान पर प्रदेश के 90 विधायकों को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन के संबंध में आज सहायक शिक्षक फेडरेशन बीजापुर के जिलाध्यक्ष व ब्लॉक अध्यक्ष के नेतृत्व में बीजापुर विधायक विक्रम शाह मंडावी को 4 सूत्रीय मांगों के साथ अनुकम्पा नियुक्ति का मांग पत्र सौंपा गया।

ज्ञापन में प्रमुख रूप से सहायक शिक्षकों को प्रथम नियुक्ति तिथि से गणना कर वेतन विसंगति दूर किया जाए, राज्य शासन के घोषणा अनुरूप समस्त पंचायत संवर्ग शिक्षकों को शिक्षा विभाग में संविलियन किया जाए, अनुकम्पा नियुक्ति के आवेदन का निराकरण किया जाये, सहायक शिक्षकों को पूर्व सेवा अवधि को जोड़कर पदोन्नति या उच्चत्तर वेतनमान प्रदान करने बजट में शामिल किया जाये। उक्त मांगो के संबंध में विधायक द्वारा  मुख्यमंत्री से चर्चा कर बजट सत्र में शामिल कर मांग पूरा करने का आश्वासन दिया गया। 

जिलाध्यक्ष पुरुषोत्तम झाड़ी ने बताया कि प्रदेश के सहायक शिक्षकों की समस्याओं के संबंध में समय-समय पर शासन प्रशासन को अवगत कराया जाता रहा है परंतु अभी तक किसी भी प्रकार की पहल नहीं की गई। प्रदेश में अभी लगभग 1 लाख से ज्यादा सहायक शिक्षक अपनी सेवा दे रहे हंै, इसलिए मुख्यमंत्री से निवेदन है कि फेडरेशन की 4 सूत्रीय मांगों पर विचार करते हुए समस्याओं का निराकरण करें। 
इसी क्रम में संगठन द्वारा जिले के एक शिक्षक स्व. राजैया पुलसे की मृत्यु उपरांत उनकी पत्नी अनुसूर्या पुलसे को योग्यता अनुसार तृतीय श्रेणी के पद पर व जिले के समस्त एल.बी.संवर्ग के पात्र हितग्राहियों को अनुकम्पा नियुक्ति प्रदान करने का मांग पत्र सौंपा गया। जिस पर विधायक द्वारा उक्त मांग व स्थानीय समस्याओं के निराकरण के लिए आगामी दिनों में जिला व ब्लाक के शिक्षा अधिकारियों व संगठन के पदाधिकारियो की बैठक करने की बात कही। 

इस अवसर पर जिलाध्यक्ष पुरुषोत्तम झाड़ी, कुश रायडू, गोपाल कृष्ण पाण्डे, महेश शेट्टी, रमेश कारम, राजेश मिश्रा, इकबाल खान, कमल नारायण कुंजाम, टी.अनुपूर्णा, संजय डोंगरे, विजय कुमार, चंद्रभान निषाद, रखुवीर भारती, हनुमंत मोरला, रोमनाथ कोर्राम, तुलसीराम पटेल, नरेंद्र चंद्राकर, देवेन्द शाह, सत्यम धुर्वा, दिनेश कोलमूल, भीमा चेप्पा,विनीत सिंह, दुर्गेश तोगर, सदानन्द आत्राम व अन्य शिक्षक उपस्थित थे।


Date : 14-Feb-2020

बीजापुर जिला पंचायत के शंकर अध्यक्ष व कारम उपाध्यक्ष, पर्यवेक्षक मंत्री कवासी लखमा की मौजूदगी में निर्णय

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बीजापुर, 14 फरवरी।
यहां जिला पंचायत के अध्यक्ष व उपाध्यक्ष का चुनाव काफी गरम माहौल में सम्पन्न हुआ। इसमें शंकर कुडिय़म को अध्यक्ष व कमलेश कारम को उपाध्यक्ष चुना गया है। वहीं दूसरी ओर इस निर्णय से आहत भोपालपटनम के कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने नाराजगी जताते हुए पार्टी से इस्तीफा देने की धमकी तक दे डाली। इस दौरान माहौल काफी गर्मा गया था।  

कांग्रेस पार्टी से पर्यवेक्षक बनाकर बीजापुर आये प्रदेश के आबकारी मंत्री कवासी लखमा ने यहां सर्किट हाउस में सभी नवनिर्वाचित जिला पंचायत सदस्यों को एक बंद कमरे में बुलाकर बैठक कर आपसी सलाह मशवरा किया। इसके बाद मंत्री लखमा की मौजूदगी में ही जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए नैमेड क्षेत्र से दूसरी बार जिला पंचायत सदस्य बने शंकर कुडिय़म को अध्यक्ष व पामेड़ क्षेत्र से दूसरी बार चुनाव जीतकर आये कमलेश कारम को उपाध्यक्ष बनाने का निर्णय लिया गया। इसकी खबर लगते ही समर्थकों में खुशी की लहर दौड़ गई और रंग गुलाल लगाकर पटाखे फोड़े गए। 

वहीं भोपालपटनम से आये कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने इस निर्णय से नाराज होकर पार्टी से इस्तीफा देना की बात कही। उनका कहना था कि भोपालपटनम क्षेत्र के तिमेड़ से लगातार चुनाव जीत रहे बसन्त राव ताटी को उपाध्यक्ष बनाया जाए। कार्यकर्ताओं ने मंत्री के सामने ही अपनी नाराजगी जाहिर की। कार्यकर्ताओं ने कहा कि कांग्रेस हमेशा भोपालपटनम क्षेत्र से लीड करती है, लेकिन पार्टी ने अपने तुगलगी निर्णय से उस क्षेत्र की उपेक्षा की है।

ज्ञात हो कि गुरुवार को भैरमगढ़ जनपद पंचायत के चुनाव में भी कांग्रेस समर्थित सदस्य भावेश कोरसा ने भी उन्हें उपाध्यक्ष नहीं बनाए जाने से नाराज होकर जनपद सदस्य के पद से इस्तीफा देने की बात कही थी।


Date : 14-Feb-2020

मंत्री को घेरने निकले किसान व भाजपा नेताओं के हाथ खाली, मंत्री हेलीकॉप्टर से आए और चले गए, एनएच को जाम कर धान खरीदी की मियाद बढ़ाने सौंपा ज्ञापन

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बीजापुर, 14 फरवरी।
जिले में बारदाना की मांग और धान खरीदी की मियाद बढ़ाये जाने को लेकर मंत्री कवासी लखमा को घेरने एनएच पर बैठे किसान व भाजपा नेताओं के हाथ खाली रह गए। मंत्री हेलीकॉप्टर से आये और वापस हेलीकॉप्टर से ही लौट गए। तीन घण्टे के जाम के बाद किसान ज्ञापन देकर हटे।

अपनी मांगों को लेकर लगातार आंदोलित किसान व भाजपा नेताओं ने आज राष्ट्रीय राजमार्ग 63 में स्थित धनोरा में तीन घण्टे तक एनएच जाम कर रखा था। इनकी कोशिश थी कि वे आबकारी मंत्री कवासी लखमा को यहां घेरकर उनसे बारदाना व खरीदी की मियाद बढ़ाये जाने को लेकर बात करेंगे। लेकिन भाजपा व किसान की यह मंशा पूरी नहीं हो सकी। मंत्री कवासी लखमा हेलीकॉप्टर से बीजापुर आये और हेलीकाप्टर से ही वापस लौट गए।  राष्ट्रीय राजमार्ग को जाम करके आंदोलन कर रहे किसानों व भाजपा नेताओं से मिलने तहसीलदार टीपी साहू प्रदर्शन स्थल पहुंचे। किसानों ने उन्हें राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौपकर एनएच से हटे। इस दौरान एनएच के दोनों छोर पर गाडिय़ों की कतार लगी रही। प्रदर्शन में पहुंचे सैकड़ों किसानों भूपेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और उन्हें किसान विरोधी बताया। 

इस अवसर पर सन्नू हेमला, मंगल सिगलेम, नारायण मरकाम, अनिल हेमला, लक्ष्मण, रमेश ताती, सन्नू दुब्बा, राकेश कोरसा व भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार व अन्य भाजपा नेता मौजूद रहे।

 


Date : 13-Feb-2020

नरेगा तालाब में मशीन का उपयोग, भाजपा की शिकायत के बाद काम बंद

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बीजापुर, 13 फरवरी।
जिले के धुर नक्सल प्रभावित उसूर में नरेगा योजना के तहत बनाये जा रहे तालाब के काम में मशीन के उपयोग किये जाने की भाजपा की शिकायत के बाद काम बंद करा दिया गया है।

भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार ने बताया कि उसूर के कलमूपारा में स्थानीय कांग्रेस नेता पिलपू कडती द्वारा नरेगा योजना के तहत तालाब निर्माण कराया जा रहा है। इस काम में मजदूरों की जगह मशीन से काम लिया जा रहा था। 

श्री मुदलियार ने बताया कि इसकी जानकारी जैसे ही उन्हें मिली वे कलेक्टर से मिलकर उन्हें इसकी जानकरी दी। कलेक्टर ने उन्हें सीईओ को भेजकर कार्रवाई कराने की बात कही। कलेक्टर ने सीईओ व अन्य अधिकारियों को भेजकर कार्य पर रोक लगाने की कार्रवाई की। श्री मुदलियार ने बताया कि मजदूरों के हक़ पर कांग्रेस नेता डाका डालने का काम कर रहे हंै। ज्ञात हो कि उसूर जिले का अतिसंवेदनशील गांव है। यहां पंचायत के कार्य हमेशा से ही विवादों में रहा है।

 


Date : 12-Feb-2020

घटिया सड़क का मामला तूल पकड़ा, भाजपा करेगी कोर्ट में परिवाद दायर- भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार 

बीजापुर, 12 फरवरी। नगर पालिका क्षेत्र के शांतिनगर में बनी सड़क पंद्रह दिन में ही खराब होने का मामला अब तूल पकड़ लिया है। इस मामले में भाजपा ने प्रशासन से जांच कर ठेकेदार को ब्लैकलिस्ट करने की मांग की थी। लेकिन अब तक कार्रवाई नहीं होने से आहत भाजपा अब न्यायालय की शरण में जाकर परिवाद दायर करेगी।

बुधवार को भाजपा कार्यालय में भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार ने पत्रकारों को बताया कि नगर के शांतिनगर वार्ड 7 में प्रशासकीय स्वीकृति से 26 प्रतिशत अधिक दर पर जय माँ वेंकटेश्वरी कंस्ट्रक्शन को निविदा मिली थी। 500 मीटर की बनाई गई बीटी सड़क 15 दिन भी नहीं टिक सकी और खराब हो गई। इस मामले को लेकर भाजपा ने कलेक्टर से शिकायत कर एक ज्ञापन सौंपा था और ठेकेदार को ब्लैकलिस्ट करने की मांग की गई थी। इस पर कलेक्टर ने जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया था। लेकिन शिकायत के एक माह बीतने को है। बावजूद कार्रवाई नहीं की गई। 

पत्रकार वार्ता में जिलाध्यक्ष मुदलियार ने आरोप लगाया कि शासन व प्रशासन के संरक्षण के चलते अब तक जांच शुरू ही नहीं कि गई है। उन्होंने कहा कि  एक सप्ताह में अगर जांच शुरू नहीं कि गई तो भाजपा कोर्ट का शरण जाकर परिवाद दायर करेगी। श्री मुदलियार ने साथ ही एंटी करप्शन ब्यूरो में भी शिकायत की जाएगी। पत्रकारवार्ता में मंडल अध्यक्ष भुवन सिंह चौहान, नंदकिशोर राणा, संजय गुप्ता, विजयलक्ष्मी मोरला व डोलेश्वर झाड़ी भी मौजूद थे।


Date : 12-Feb-2020

धान खरीदी बंद, किसानों ने सौंपा ज्ञापन, जल्द समस्या के निराकरण करने की मांग की

छत्तीसगढ़ संवाददाता

बीजापुर, 11 फरवरी। जिले में लगातार धान खरीदी, बारदाना और टोकन की समस्या झेल रहे किसानों ने आज कलेक्टोरेट पहुंच कर एसडीएम को ज्ञापन सौंपा है।

गंगालूर, रेड्डी और चेरपाल के सैकड़ों किसान धान खरीदी केंद्र गंगालूर में बारदाना का अभाव और किसानों का पूरा धान की खरीदी की मांगों को लेकर कलेक्टर से मिलने कलेक्टोरेट पहुंचे थे। कलेक्टर के अवकाश पर होने के चलते एसडीएम से मिलकर उन्हें ज्ञापन दिया एवं जल्द समस्या के निराकरण करने की मांग की।

किसानों ने कहा है कई सप्ताह से धान खरीदी बंद है, और प्रदेश सरकार की ओर से अतिरिक्त पांच दिवस बढ़ाया गया है। सरकार धान खरीदी को उपलब्धि बता कर ढोल पीट रही है, वहीं दूसरी ओर बारदाना उपलब्ध नहीं करवाना सरकार की दोहरी मानसिकता को दर्शाता है। सरकार किसानों को गुमराह कर रही है। लोनधारी किसान चिंतित और परेशान हैं। किसानों ने जल्द व्यवस्था पूर्ण न होने की स्थिति में राष्ट्रीय राजमार्ग बाधित करने की बात कही है।

इस दौरान भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार, युवा कल्याण समिति गंगालूर के उपाध्यक्ष फूलचंद गागड़ा, सचिव सन्नू हेमला एवं सैकड़ों किसान उपस्थित थे।

धान खरीदी केंद्र गंगालूर के लेम्प्स प्रबंधक डी आर जैन ने बताया कि  इस केंद्र में कुल 562 किसानों का पंजीयन है तथा 251 किसानों का टोकन कट गया है जिसमें 70 किसानों का टोकन कटने के बाद भी बारदाना के अभाव में धान नहीं ले पा रहे हैं। कुल 305 लोनधारी किसान हैं जिसमे 200 किसानों का ही धान खरीद पाये हैं। अभी गंगालूर लेम्प्स को 30 हजार बारदाना की मांग है, पर मात्र 2500 बोरे ही पहुंचे हैं।


Date : 10-Feb-2020

बीजापुर में मुठभेड़, 2 जवान शहीद, 2 घायल, 1 नक्सली ढेर

बीजापुर, 10 फरवरी (छत्तीसगढ़)। बीजापुर जिले में सुरक्षा बल के जवानों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में सीआरपीएफ के 2 जवान शहीद हो गए और 2 घायल हैं। वहीं 1 नक्सली भी मारा गया है। जानकारी के अनुसार सोमवार की सुबह पामेड़  थाना क्षेत्र के जंगलों में जवान सर्चिंग पर निकले थे। तभी नक्सलियों ने फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में एक नक्सली मारा गया। वहीं सीआरपीएफ कोबरा बटालियन के 2 जवानों के शहीद होने की भी खबर है। वहीं 2 जवान घायल बताए जा रहे हैं।