छत्तीसगढ़ » दन्तेवाड़ा

Previous123456789...2526Next
10-May-2021 8:53 PM (16)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दंतेवाड़ा, 10 मई। कलेक्टर दीपक सोनी ने जिले के सभी विकासखण्डों/ नगरपालिका/ नगर पंचायत के व्यापारी संघ के प्रतिनिधियों से वीडियो कान्फ्रेंंसिंग के माध्यम से चर्चा किया गया। जिसमें कलेक्टर द्वारा कोविड-19 के चेन को तोडऩे हेतु लगाये गये लॉकडाउन के दौरान राशन सामग्रियों में कालाबाजारी रोकने के संबंध में आवश्यक निर्देश दिये।

उन्होंने व्यापारियों से अपील की है कि वे जनता को मुद्रित दर से अधिक में आवश्यक सामग्री को न बेचें। वर्तमान में पूरे राज्य में लॉकडाउन है।परंतु, माल वाहक वाहनों के आवागमन में प्रतिबंध नहीं है। अतएव सभी व्यापारी खाद्य सामग्री/ राशन /आवश्यक सामग्री को परिवहन करा सकते हैं। जिले में किसी भी प्रकार की खाद्य सामग्रियों के भण्डारण में कमी न रहे। किसी भी दुकान या प्रतिष्ठान में मुद्रित दर से अधिक दर में सामग्री बेचने की शिकायत पर जिला प्रशासन द्वारा दण्डात्मक कार्यवाही की जावेगी। जिले में कालाबाजारी को रोकने के लिए शिकायत सेल का गठन किया गया है। जिसका दूरभाष नम्बर 07856252412  है, उस पर कोई भी शिकायत कर सकता है। साथ ही दंतेवाड़ा एवं बड़े बचेली दोनों अनुभाग में एसडीएम को सीधे मोबाईल में भी सम्पर्क कर सूचना दे सकते हैं। पूर्व में जारी होम डिलीवरी हेतु पंजीकृत दुकानों के अतिरिक्त कोई और दुकानदार कोविड-19 नियमों का पालन करते हुए होम डिलीवरी देना चाहता है, तो वे भी संबंधित एसडीएम कार्यालय में आवेदन कर पास बनवा सकते हैं। जिले में कालाबाजारी को रोकने के लिए संयुक्त कलेक्टर अभिषेक अग्रवाल को सतत् निरीक्षण व निगरानी की जिम्मेदारी दी गयी है।


10-May-2021 8:49 PM (18)

दंतेवाड़ा, 10 मई। कलेक्टर दीपक सोनी की अध्यक्षता में जिले में बाढ़ आदि नैसर्गिक विपत्तियों से निपटने के लिए गठित आपदा प्रबंधन समिति की वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में आगामी मानसून में बाढ़ एवं वर्षा से उत्पन्न विपत्तियों से निपटने की तैयारियों के संबंध में विस्तार से चर्चा की गईं। बैठक में जिला एवं तहसीलस्तर पर बाढ़ नियंत्रण कक्ष सहित आपदा प्रबंधन के लिए कार्य योजना के संबंध में विस्तार से विचार विमर्श किया गया। कार्य योजना के तहत् विभिन्न विभागों के अधिकारियों को सौंपे गए दायित्व की समीक्षा की गई।

बैठक में संयुक्त कलेक्टर एवं प्रभारी आपदा प्रबंधन आस्था राजपूत ने बताया कि बाढ़ एवं नैसर्गिक विपत्तियों में निपटने के लिए बाढ़ नियंत्रण कक्ष की स्थापना कर दी गई है। इसी तरह तहसील स्तर कक्ष की स्थापना किए जाने के निर्देश कलेक्टर श्री सोनी ने दिए। बैठक में विपत्तियों से निपटने हेतु विभिन्न विभागों की जिम्मेदारी तय की गई है। इसमें खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति निगम को पहुंचविहीन क्षेत्रों में बाढ़ की स्थिति में जहां पहुच पाना संभव नहीं होता है। वहां पर्याप्त मात्रा में खाद्य सामग्री नमक केरोसीन जीवन रक्षक दवाएं आदि पहले से ही संग्रहित करने की जिम्मेदारी दी गई है। अवगत कराया गया कि 4 माह का खाद्यान भंडारण कर लिया गया है।

लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा पेयजल की शुद्धता रखते हुए, कुंआ, हेण्डपंप और अन्य पेयजल स्त्रोंतों के लिए ब्लीचिंग पाउडर इत्यादि की व्यवस्था किए जाने के निर्देश दिए गए। जिन क्षेत्रों में प्रति वर्ष बाढ़ आती है, उन क्षेत्रों में सतत् निगरानी रखने तथा बाढ़ की स्थिति में नाव या डोंगे से आवागमन न करने के निर्देश दिए। इन स्थानों में विशेष व्यवस्था की जाएगी और आवश्यकता पडऩे पर ऐसे क्षेत्र के लोगों से सुरक्षित स्थानों पर पहुचाने एवं ठहरने के लिए कैम्प आदि का सम्पूर्ण कार्य योजना तैयार कर आवश्यक कार्यवाही करने की जिम्मेदारी तहसीलदारों को दी गई है। नगर सेना को जिम्मेदारी दी गई है कि वे बाढ़ से बचाव से संबंधित जो भी उपकरण जिले में उपलब्ध है , उन्हें दुरस्त कराएं। नगरीय विभाग के नगर पालिका अधिकारी को निर्देशित किया गया है कि वे अपने संबंधित नगरीय निकाय क्षेत्र में तमाम नाले व नालियों की निरतर साफ-सफाई करवाएं। पीडब्लूडी को जल्द से निर्माणाधीन पुल का निमार्ण करने के दिये निर्देश। साथ ही नगरीय क्षेत्र में जर्जर भवनों की पहचानकर आवश्यकतानुसार मानसून के दौरान भवनों की निगरानी करें तथा उन मकानों में निवासरत परिवारों को अन्यत्र बसाए जाने की व्यवस्था करें। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की जिम्मेदारी यह होगी।

 कि बाढ़ की स्थिति में संक्रामक बीमारियों की संभावनाओं को दृष्टिगत रखते हुए बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में चिकित्सा दल का गठन कर आवश्यक जीवन रक्षक दवाओं की व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत अश्विनी देवांगन, एडीएम अभिषेक अग्रवाल और नोडल अधिकारी आस्था राजपूत उपस्थित थी।


10-May-2021 8:46 PM (17)

दंतेवाड़ा, 10 मई। मां के सम्मान में हर साल मई के दूसरे रविवार को मदर्स डे मनाया जाता है। कोरोना गाइड लाइन की वजह से इस बार भव्य आयोजन तो नहीं हुये। अपने घरों में सभी लोगों ने मदर्स डे मनाया, वहीं दूसरी ओर दंतेवाड़ा में एक अनोखा मदर्स डे देखने को मिला। यहां गौमाता के साथ मदर्स डे मनाया गया। पशुधन विकास विभाग के द्वारा गौमाता के सम्मान में मदर्स डे का आयोजन किया गया। पशु धन विकास विभाग द्वारा संचालित मां दंतेश्वरी गौ संवर्धन केंद्र में सभी गाय एवं बछड़ों को नहला धुला कर रंग बिरंगे सोहई बांधे गये। उनकी आरती और पूजा की गई।

 और पूड़ी, केला व चारा खिलाया गया। वहां बछड़ों को अपनी मां का दूध पीने का मनोरम दृश्य भी देखने को मिला। पशु धन विकास विभाग के उप संचालक अजमेर कुशवाहा ने बताया कि कलेक्टर के निर्देश में पहले जिले के गोठानों में कार्यक्रम का आयोजन होने वाला था परन्तु कोविड 19 के संक्रमण को देखते हुए केंद्र के स्टॉफ के साथ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। हम केंद्र से यहां के गौ से उत्पादित ए टू मिल्क, दही, पनीर, घी आदि का बड़ी मात्रा में विक्रय करते हैं। साथ ही कोरोना संकट में भी उनके दूध निर्मित गोल्डन मिल्क को पीने से इम्युनिटी बढ़ाने में मदद मिल रही है, इसलिए उनका आभार मानते हुए गौ माता के सम्मान में मदर्स डे का आयोजन किया गया।


10-May-2021 8:27 PM (15)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बचेली/किरंदुल, 10 मई। मेटल माईन्स वर्कर्स यूनियन (एमएमडब्ल्यूयू) इंटक द्वारा स्व. दीपक कर्मा को श्रद्धांजलि अर्पित करने एक वर्चुअल श्रद्धांजलि सभा आयोजित की गई।

सभा के शुरूआत में स्व. दीपक कर्मा के छायाचित्र पर पुष्पाजंलि अर्पित कर, दो मिनट का मौन रखा गया। जिसके बाद इंटक के राष्ट्रीय महामंत्री संजय सिंह ने विचार रखते हुए दीपक के अवसान को कांग्रेस एवं इंटक के लिए अपूरणीय क्षति बताया।

केए पापाचन ने कहा कि युवा नेता को ऐसा चले जाने दंतेवाड़ा क्षेत्र व पूरे छत्तीसगढ़ के लिए बहुत बड़ी हानि है। इसके अलावा किरंदुल ब्लॉक कंाग्रेस अध्यक्ष एके सिंह, प्रदेश इंटक सचिव पुष्पलता साहु, पार्षद किरणजायसवाल, बीना साहु ने भी अपने विचार रखे। इस दौरान भिलाई इंटक से वंश बहादुर सिंह, बचेली ब्लॉक अध्यक्ष संतोष दुबे, कोड़ेनार सरपंच मीना मंडावी, जिला महामंत्री तपनदास, इला पटेल, अमृत टंडन, रतनी मंडावी, अनुपमा भद्रा, पीएल साहु, जफर अली, जोविन्स पापाचन, अरविंद गुप्ता, छाया वेल्डन, कृष्णा भंडारी, महेश मल्लाह, एल रमेश, चंद्र कुमार मंडावी, तोमन श्री, रंजीत परीक्षा, राकेश लाल, एल शेषनाथ, संतोष कुमार, अजय मंडल सहित बड़ी संख्या में कंाग्रेस व इंटक के सदस्यों ने उपस्थिति दी।

कार्यक्रम का संचालन इंटक के महामंत्री आशीष यादव ने किया।


10-May-2021 11:47 AM (17)

दंतेवाड़ा, 9 मई। पुलिस ने बुरगुम में नक्सली स्मारक धराशायी किया। पुलिस को सूचना मिली थी कि दंतेवाड़ा व सुकमा जिले के सीमांत इलाके में स्थित बुरगुम में नक्सली स्मारक का निर्माण किया गया है। उक्त स्मारक को  मुठभेड़ में मारे गए विज्जे और अनिल की शहादत के स्मारक के रूप में बनाया गया था। जिला आरक्षी बल के जवान बुरगुम के उस स्थान पर पहुंचे, जहां नक्सलियों द्वारा स्मारक बनाया गया था। जवानों द्वारा गांव की घेराबंदी उपरांत स्मारक विध्वंस कर दिया गया।


10-May-2021 11:45 AM (15)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बचेली, 9 मई।   कोरोना से लडऩे में एनएमडीसी पिछले साल भर से महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है। देशभर में कोविड महामारी फैला हुआ है, दंतेवाड़ा जिला में इसका असर है। ऐसे में जिला प्रशासन के साथ मिलकर एनएमडीसी कोरोना जंग को जीतने के लिए सभी प्रयास कर रही है। कोविड केयर सेंटर से लेकर टीककारण तक सभी व्यवस्थाएॅ जो एनएमडीसी द्वारा दी जा रही है वह अन्य इलाको के तुलना में बेहतर है। मिली जानकारी के अनुसार इस कड़ी में मुख्यालय एनएमडीसी प्रबंधन द्वारा बचेली के अपोलो अस्पताल में स्वास्थ्य सुविधा को बढ़ाते हुए वेंटीलेंटर व ऑक्सीजन कंसेंट्ेटर उपलब्ध कराए है। इस पर मेटल माईन्स वर्कर्स यूनियन इंटक एवं संयुक्त खदाना मजदूर संघ दोनो यूनियनो ने प्रबंधन की सकारात्मक कार्यवाही के लिए प्रबंधन के उच्चाधिकारियो का आभार देते हुए धन्यवाद दिया है।

एमएमडब्ल्यू के महामंत्री आशीष यादव ने बताया कि गत दिनो गत मार्च महिने में विशाखापट्टनम में संपन्न बैठक में यूनियन की मंाग पर सकारात्मक कार्यवाही करते हुए मुख्यालय प्रबंधन ने एनएमडीसी अपोलो केन्द्रीय अस्पताल को 5 नए वेंटीलेंटर, 3 हाईफलो ऑक्सीजन मशीन और 7 ऑक्सीजन  कंसेट्ेटर उपलब्ध कराए है। इस तरह अपोलो अस्पताल में कुल 10 वेंटीलेंटर उपलब्ध है।

  एसकेएमएस सचिव टीजे शंकरराव ने कहा कि कोविड महामारी से लडऩे यूनियन द्वारा स्वास्थय सुविधा बढ़ाने यूनियन द्वारा मांग किया गया था, जिस पर प्रबंधन ने त्वरित कार्यवाही की है और वेंटीलेंटर, ऑक्सीजन कॉन्सट्ेटर की व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही सीटी स्कैन मशीन एवं ऑक्सीजन प्लांट की व्यवस्था की जानी है जो कि अभी पेंडिंग है। एसकेएमएस यूनियन मंाग करती है कि जल्द से जल्द सीटी स्कैन मशीन एवं ऑक्सीजन प्लंट की व्यवस्था की जाये।

    दोनों यूनियनों के कर्मचारियों की ओर से एनएमडीसी के सीएमडी सुमित देब एवं बोर्ड ऑफ डायरेक्टर के सभी अधिकारी पीके शतपथी, अमिताभ मुखर्जी, आलोक कुमार मेहता, सेामनाथ नंदी, एसपी हिमांशु, बचेली परियेाजना के अधिशासी निदेशक एके प्रजापति, उपमहाप्रबंधक प्रदीप सक्सेना सहित ऑल इंडिया एनएमडीसी वर्कर्स फेडरेशन का धन्यवाद देते हुए आभार व्यक्त किया है। अत्याधुनिक उपकरणों की मदद से एनएमडीसी कर्मियो, उनके परिजनो सहित बचेली नगर व आसपास के गॉव के नागरिको के इलाज में सहयोग मिलेगा और मरीजो को कोरोना महामारी से बचाने में कामयाब होगे। पिछले वर्ष से एनएमडीसी ने कोविड से लडऩे के लिए स्थानीय मंगल भवन को कोविड केयर सेंटर बनाया गया है, टीकाकारण के लिए भी उचित व्यवस्था की गई है।


08-May-2021 9:08 PM (29)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दंतेवाड़ा, 8 मई। दंतेवाड़ा के गीदम स्थित डेडीकेटेड कोविड हॉस्पिटल में ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट आज शुरू हो गया। इस प्लांट की क्षमता 260 लीटर प्रति मिनट है। यह डेडीकेटेड कोविड हॉस्पिटल में भर्ती मरीजों की जरूरतों को पूरा करेगा। आज इस प्लांट का सफल ट्रायल हुआ।

कलेक्टर दीपक सोनी ने भी इस प्लांट का निरीक्षण किया। उनके साथ पुलिस अधीक्षक डॉ. अभिषेक पल्लव, सीएस डॉ. संजय बघेल, मेडिकल स्टॉफ भी थे। कलेक्टर श्री सोनी ने प्लांट के बारे में पूरी जानकारी ली। उन्हें बताया गया कि इस प्लांट के शुरू होने से अब अस्पताल को अतिरिक्त ऑक्सीजन की जरूरत नहीं पड़ेगी। एक साथ यह 100 बिस्तरों पर ऑक्सीजन सप्लाई कर सकता है। इससे सिलेंडरों पर निर्भरता खत्म हो जाएगी। कलेक्टर ने अस्पताल में कोविड के मरीजों के लिए की गई सुविधाओं का भी जायजा लिया।


08-May-2021 8:47 PM (18)

   टीचर्स एसोसिएशन ने दिवंगत शिक्षकों को दी श्रद्धांजलि   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दंतेवाड़ा/बचेली, 8 मई। छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन जिला अध्यक्ष उदयप्रकाश शुक्ला जिला सचिव नोहर सिंह साहू, प्रमोद भदौरिया, कमल किशोर रावत, पोरस कुमार बिंझेकर, जीआर नाग ने मांग करते हुए कहा है कि कोविड के रोकथाम में कोरोना पॉजिटिव होने के कारण मध्यप्रदेश के पटवारी के मृत्यु होने पर उसके आश्रित को 50 लाख का बीमा राशि स्वीकृत किया गया है।

कोरोना से दिवंगत शासकीय कर्मचारियों के आश्रित को विशेष पेंशन देने बिहार मंत्रिपरिषद ने 30 अप्रैल 2021 को निर्णय लिया है। इसी तरह छत्तीसगढ़ में भी कोरोना में ड्यूटी कर रहे शिक्षकों को भी कोरोना वारियर्स की दर्जा देते हुए दिवंगत के परिजन को 50 लाख का बीमा कवर दिया जावे, तथा तृतीय श्रेणी पद पर अनुकम्पा नियुक्ति प्रदान किया जावे।

ज्ञात है कि विषम परिस्थिति में भी शिक्षक जिम्मेदारी पूर्वक ड्यूटी कर रहे है, जब जब आवश्यकता होती है कि अन्य विभाग के भी काम को शिक्षक ही सहर्ष स्वीकार करके अपने इति कर्तव्यो का कुशल निर्वहन करते आ रहे है, पर जब भी शिक्षकों के हितों की बात होती है,तो शासन, प्रशासन में बैठे जिम्मेदार लोग मुंह फेर लेते है फिर भी शिक्षक कभी अपनी जिम्मेदारी से पीछे नहीं हटे वे निरन्तर शासन-प्रशासन के निर्देश का पालन कर ही रहे है, प्रदेश में कोरोना डयूटी से 300 से अधिक शिक्षको को मृत्यु हो गई पर उन्हें 50 लाख के बीमा कवर में नहीं लाया गया, अब तक कोरोना वारियर्स का दर्जा नही ंदिया गया है, परिजनों को अनुकम्पा नियुक्ति नहीं मिली, इससे शिक्षकों में भारी आक्रोश है।

शिक्षक कर रहे हंै जोखिम भरी ड्यूटी

 अस्पताल में ड्यूटी, शमशान घाट में ड्यूटी, वैक्सीनेशन में ड्यूटी, सेम्पल लेने में ड्यूटी, रेल्वे स्टेशन व बस स्टैंड में ड्यूटी,चेक पोस्ट में ड्यूटी, कांट्रेक्ट ट्रेसिंग में ड्यूटी, कोविड सेंटर में ड्यूटी, क्वॉरंटीन सेंटर में ड्यूटी, टेस्टिंग में ड्यूटी, इसके बावजूद शासन ने शिक्षको को नहीं माना फ्रंटलाइन वर्कर्स।

कटेकल्याण ब्लॉक व दंतेवाड़ा ब्लॉक से शिक्षक रविन्द्र कुमार शोरी, चिंतेश्वर धु्रव जो ड्यूटी में रहते दिवंगत हो गए थे। इस संबंध में जिला शिक्षा अधिकारी  राजेश कर्मा, खंड शिक्षा अधिकारी दंतेवाड़ा दामोदर धु्रव व कृष्ण कुमार साहू खंड शिक्षा अधिकारी कटेकल्याण से संगठन ने त्वरित अग्रेसिया राशि भुगतान की मांग की। जिस पर अधिकारियों ने दिवंगत हुए परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए तुरन्त अग्रेशिया राशि का भुगतान किया गया संगठन ने इस त्वरित पहल का स्वागत किया व स्थापना लिपिक मुकेश सोनी व जितेंद्र सेठिया व कार्यालय को धन्यवाद ज्ञापित किया।


08-May-2021 8:41 PM (20)

   टीकाकारण, अनुकंपा नियुक्ति, स्वास्थ्य सुविधा बढ़ाने, सहायता राशि सहित अन्य मुद्दों पर चर्चा   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बचेली, 8 मई। कोविड संक्रमण की दूसरी लहर में खतरनाक ढंग से बढ़ रहे संक्रमण पर चिंता व्यक्त करते हुए कोविड से संबंधित मुद्दों पर गहन विचार-विमर्श कर कर्मचारियेा के हित में विभिन्न मंागों को लेकर एनएमडीसी वर्कर्स फेडरेशन के माध्यम का उठाने का निर्णय एनएमडीसी इंटक से संबद्ध यूनियनों की वर्चुअल बैठक में लिया गया।

मध्यप्रदेश राष्ट्रीय हीरा खदान मजदूर संघ इंटक के महामंत्री समर बहादुर सिंह की अध्यक्षता में संपन्न हुई। बैठक में बचेली, किरंदुल, दौणामलै, पन्ना, नगरनार, हैदराबाद, पालोंचा, विशाखापट्टन तथा रायपुर के इंटक के पदाधिकारी शामिल हुए।

मेटल माईन्स वर्कर्स यूनियन इंटक के महामंत्री आशीष यादव एवं एमएमडब्ल्यूयू शाखा किंरदुल के तदर्थ समिति के सचिव एके सिंह ने बताया कि बैठक में कर्मियो के टीकाकारण, अनुकंपा नियुक्ति, स्थानीय अस्पतालो में स्वास्थ्य सुविधा बढ़ाने, सहायता राशि संबंधी विषयों पर चर्चा हुई। बताया कि अब तक 9 एनएमडीसी कर्मियो की मौत कोविड संक्रमण से हो चुकी है। ऑल इंडिया एनएमडीसी वर्कर्स फेडरेशन के माध्यम से मंाग उठाई गई है कि जिन कर्मचारियों की कोविड 19 से मृत्यु हुई है, उनके आश्रित परिजनों को कंपनी में अनुकंपा नियुक्ति प्रदान की जाए। लेकिन अभी तक सकारात्मक निर्णय नहीं लिया गया है, जिसे फेडरेशन के माध्यम से दुबारा पुरजोर तरीके से उठाया जायेगा।

एनएमडीसी प्रबंधन द्वारा टीकाकारण के लिए सरकार पर निर्भर न रहते हुए स्वयं टीका खरीदकर अपने कर्मियों, ठेका श्रमिकों और उनके आश्रित परिजनों को जल्द से जल्द टीकाकारण करवाया जाये। साथ ही कंपनी द्वारा टीकाकारण के लिए विशेष अवकाश देने  प्रावधान किया गया है। इस आदेश में सुधार करते हुए अवकाश टीकाकारण का दिन या उसके अगले दिन देने हेतु संशोधन किया जाए।

परियेाजना से कोरोना से संक्रमित व्यक्तियों को हैदराबाद, बैंग्लोर, विशाखापट्टनम, रायपुर व दिल्ली जैसे शहरों में इलाज के लिए रेफर किया जा रहा है।

वर्तमान स्थिति में अस्पतालों में बेड के लिए बढ़ते दवाब के वजह से अस्पतालों द्वारा मरीजों की स्थिति में आशिक सुधार होने के बाद उन्हें होम क्वारंटीन, आईसोलेशन में रहने का सुझााव देते हुए अस्पताल से छुट्टी दी जा रही है। वापस घर लौटने के कुछ दिन बार दुबारा स्वास्थ्य खराब हो रहा है। इन बड़े शहरों में क्वारेंटीन सुविधा प्रदान कर होटले से टाईअप कर डिस्चार्ज मरीजो को डॉक्टरी सलाह  पर वहॉ रखने का इंतजाम किया जाए।  लॉकडाउन के कारण सार्वजनिक परिवहन बंद रहने के कारण बड़े शहरों में इलाजरत मरीज को डिस्चार्ज होने के बाद वापस घर आने हेतु साधन उपलब्ध नहीं होते हैं। मरीजों को उनके घर भेजने एनएमडीसी के क्षेत्रीय कार्यालयों द्वारा वाहन उपलब्ध कराने की व्यवस्था की जाए।

एनएमडीसी कर्मी की मृत्यु कोविड संक्रमण से होने पर अंतिम संस्कार हेतु दी जाने वाली सहायता राशि को दुगुना किया जाए। संक्रमित कर्मचारियों को एकमुश्त बीस हजार सहायता राशि दिया जाए। संक्रमण की स्थिति पूरी तरह से सामान्य होने तक प्रत्येक कर्मचारियों को दो हजार रूपये प्रतिमाह मास्क, सेनिटाईजर की खरीदी हेतु प्रदान की जाए। जिन कर्मियों की मृत्यु कोविड 19 संक्रमण से हुई है उनके परिजनों को प्रबंधन द्वारा घोषित 15 लाख रूपये की सहायता राशि का भुगतान जल्द से जल्द किया जाए।

इसके अलावा पन्ना दौणोमलै परियोजना अस्पताल में तत्काल सीटी स्कैन व वेंटीलेटर खरीदे जाये। साथ ही दोनों परिेयोजना के लिए तत्काल 4 जीवन रक्षक उपकरणों से सुसज्जित एम्बुलेंस खरीदी जाये। इसके अलावा दौणोमलै कर्नाटक में उत्पादन बंद रहने के दौरान वहॉ के 11 कर्मचारियों का स्थानांतरण बचेली, किरंदुल व नगरनार किया गया था। उत्पादन पुन: प्रारंभ होने के बाद अभी तक इन कर्मियों का स्थानंतरण दौणामलै में नहीं किया गया है।


08-May-2021 7:32 PM (27)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दंतेवाड़ा, 8 मई। दंतेवाड़ा में नक्सली उन्मूलन अभियान में पुलिस को शुक्रवार को कामयाबी मिली है। जिले के बारसूर थाना अंतर्गत हादांवाड़ा के जंगल से पुलिस ने दो ईनामी नक्सल आरोपियों को गिरफ्तार किया।

पुलिस के अनुसार गिरफ्तार नक्सलियों में हांंदावाड़ा पंचायत डीएकेएमएस अध्यक्ष बालकू उर्फ गुड्डू अलामी (25 वर्ष) प्रमुख रूप से शामिल है। उक्त नक्सली लीडर नक्सली संगठन में हांदावाड़ा पंचायत डीएकेएमएस अध्यक्ष के रूप में सक्रिय था। राज्य शासन द्वारा उक्त नक्सली की गिरफ्तारी पर 1 लाख रूपये का पुरस्कार घोषित किया गया था। इसी कड़ी में हांदावाड़ा पंचायत डीएकेएमएस सदस्य गोदरू अलामी को भी हांदावाड़ा के जंगलों से हिरासत में लिया गया।

पुलिस अधीक्षक दंतेवाड़ा द्वारा दोनों नक्सलियों की गिरफ्तारी पर 10-10 हजार रूपये का पुरस्कार घोषित किया गया था।


07-May-2021 8:46 PM (26)

दंतेवाड़ा, 7 मई।  जिले के धुर नक्सल प्रभावित इंद्रावती नदी पार के गांव कुर्सिंगबहार में नक्सलियों द्वारा निर्मित स्मारक को शुक्रवार को स्थानीय ग्रामीणों नें ध्वस्त कर दिया। पुलिस अधीक्षक डॉ. अभिषेक पल्लव ने बताया कि इंद्रावती नदी पार के गांवों में भी जनता में पुलिस का विश्वास बढ़ा है आने वाले समय में पुलिस द्वारा जनता का विश्वास जीत लिया जाएगा।


07-May-2021 8:37 PM (20)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दंतेवाड़ा, 7 मई। कोरोना के बढ़ते संक्रमण चेन को रोकने कलेक्टर  दीपक सोनी, पुलिस अधीक्षक डॉ. अभिषेक पल्लव द्वारा जिले के अंदर कड़ाई से लॉकडाउन का पालन कराने के साथ इंटर स्टेट बार्डर एवं इंटर डिस्ट्रिक्ट बार्डर की सुरक्षा पर भी ध्यान दिया जा रहा है। प्रतिदिन जिले के राजस्व अधिकारी,  थाना, चौकी प्रभारी एवं जिनकी ड्यूटी लगी है, उनके द्वारा बैरियर व चेक पोस्ट चेक किये जा रहे हैं। नियमों के अनुरूप बार्डर पर ही आने-जाने वालों के टेस्ट कर जिले में प्रवेश दिया जा रहा है।

कलेक्टर दीपक सोनी, पुलिस अधीक्षक डॉ. अभिषेक पल्लव जिले के गीदम जांच चौकी, बड़े सुरोखी जांच चौकी, नकुलनार जांच चौकी, कटेकल्याण और भूसारास जांच चौकी में अन्य जिला एवं राज्य को जोडऩे वाले मार्गों में बने चेक पोस्ट के निरीक्षण करने दौरे पर थे। वे चेकपोस्ट पर अचानक पहुंचे, ड्यूटी पर तैनात कर्मचारियों से वाहनों एवं आने जाने वालों से पूछताछ तथा रजिस्टर में नाम एंट्री की जानकारी लिये।

कर्मचारियों को वाहनों से आने वालों के ई-पास एवं टेस्टिंग रिपोर्ट देखने तथा ग्रामीणों को रोक-टोक करने के निर्देश दिये। 24 घंटे चेक पोस्ट पर चौकसी रखने व साथ ही स्वास्थ्य टीम सहित एम्बुलेंस की सुविधा भी रखने के निर्देश दिए। थाना प्रभारी को दिन व रात के समय चेक पोस्ट को औचक चेक करने के लिए निर्देशित किया गया है। उसके बाद वे चेक पोस्ट पर कर्मचारियों को निर्देशित किये कि बाहरी राज्य और अन्य जिलों से आने वालों की जानकारी रखे, जिससे प्रशासन को उन्हें जांच के बाद उन्हें क्वारंटाईन किये जाने में आसानी हो। यहां जांच के बाद पॉजिटिव रिपोर्ट आने पर कोविड केयर सेंटर और दन्तेवाड़ा जिले के प्रवासी लोगों का नेगेटिव रिपोर्ट आने पर क्वारन्टाईन सेंटर भेजा जाए। इस दौरान साथ में एसडीएम अबिनाश मिश्रा एवं अन्य अधिकारी कर्मचारी मौजूद थे।


07-May-2021 7:40 PM (21)

  जिन शहरों में संक्रमितों की संख्या अधिक, वहां से लगातार हो रहा बसों का आवगमन   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बचेली, 7 मई। बसों में यात्रा करने वाले यात्रियों से कोविड संक्रमण नहीं फैलता है? यह सवाल इसलिए भी है क्योंकि बचेली नगर सहित पूरे दंतेवाड़ा जिले में पिछले 20 दिनों से लॉकडाउन लगा हुआ है। लॉकडाउन का पालन कराने व संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए नगरीय प्रशासन, पुलिस प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग पूरी जिम्मेदारी सेे दिन रात लगे हुए है। लेकिन इस बीच बसों का संचालन जारी है।

राजधानी रायपुर, बिलासपुर, दुर्ग, भिलाई, कांकेर, जगदलपुर से बसों के माध्यम से आना-जाना कर रहे हैं। इन सब शहरों में दंतेवाड़ा जिला के तुलना में संक्रमितों की संख्या अधिक है। सुबह बसे बचेली के विभिन्न बस स्टॉप में रूकती है, बसों से इन शहरों से यात्रा कर यात्री उतरते हैं। अब इनमें कौन कोरोना से संक्रमित है या नहीं है यह किसी को नहीं पता। लॉकडाउन में इधर-उधर घूमने वालों को चेक करने चौक-चैराहों पर पुलिस तैनात है। अस्पताल या एनएमडीसी कार्यालय में प्रवेश करने से पूर्व में तापमान चेक करने भी वहां कर्मी अलग से मौजूद है। लेकिन इन यात्रियों को चेक करने कोई नहीं है। लॉकडाउन के दौरान ही अनुविभागीय अधिकारी एवं इंसीडेंट कमंाडर कोविड बड़े बचेली द्वारा अपोलो चिकित्सा प्रशासक एवं शासकीय स्वास्थ्य केन्द्र को बचेली के बस स्टैंड में बाहर से आने वाले आगुंतको का कोरोना टेस्टिंग कराने एवं दवाई किट वितरण करने की व्यवस्था करने के निर्देश दिए गए थे।


07-May-2021 7:12 PM (22)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बचेली, 7 मई।
कोविड 19 महामारी से उपचार के लिए एनएमडीसी अपोलो अस्पताल बचेली में चिकित्सा सुविधा को लेकर बचेली नगर पालिकाध्यक्ष पूजा साव ने परियोजना के प्रमुख को पत्र लिखकर एनएमडीसी प्रबंधन से सीटी स्कैन व मेडिकल ऑक्सीजन  प्लंट की व्यवस्था करने की मांग  की है। 

पूजा साव ने कहा कि एनएमडीसी बैलाडिला क्षेत्र में लौह अयस्क का खनन करते हुए लाभांश और उत्पादन में वृद्वि करते हुए नवरत्न कंपनी का दर्जा हासिल कर चुकी है। लेकिन आज पर्यन्त तक बैलाडीला काम्पलेक्स में एक सीटी स्कैन मशीन नही है और कोविड 19 महामारी के इस दौर में जो मेडिकल ऑक्सीजन  की सख्त जरूरत होती है वह भी बाहर से विक्रय किये सिंलेंडर पर आश्रित है। 

उन्होंने पत्र लिखकर एनएमडीसी प्रबंधन से तत्काल सीटी स्कैन मशीन एवं मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट लगाने की व्यवस्था करने की मांग है ताकि इस क्षेत्र की जनता को बेहतर चिकित्सा सुविधा मिल सके। 
 


07-May-2021 5:30 PM (23)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

 दंतेवाड़ा, 7 मई। देश में कोरोना की दूसरी लहर खतरनाक होती जा रही है। लगातार बढ़ते कोरोना के मामले के बीच जिला प्रशासन की चिंता भी बढ़ चुकी है, जिला प्रशासन द्वारा कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों के कारण जिले में पाबंदियों को लागू कर दिया गया है।

नए ए.पी. स्ट्रेन के संक्रमण के कारण आपके परियोजना क्षेत्र में कार्यरत अधिकारी/कर्मचारी एवं उनके परिवार के सदस्यों को विशाखापट्नम, हैदराबाद एवं आन्ध्रप्रदेश के शहरों में जाने पर सख्ती से रोक लगावे। किसी भी अधिकारी/कर्मचारी को अतिआवश्यक न होने पर अवकाश स्वीकृत न किया जावे। आन्ध्रप्रदेश से आने वाले सभी अधिकारी/कर्मचारी एवं ठेकेदारों को अपनी परियोजना में प्रवेश न दिया जावे। अति आवश्यक होने पर अनुविभागीय अधिकारी बड़े बचेली की अनुमति पश्चात् कोविड टेस्ट कराकर अनिवार्यत: 10 दिवस का संस्थागत क्वारेंटाईन की शर्त पर ही जिले में प्रवेश दिया जा सकेगा।

 

 

 

 

 


07-May-2021 5:30 PM (23)

दंतेवाड़ा, 7 मई। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी दीपक सोनी के आदेशानुसार नोवेल कोरोना वायरस  कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण की रोकथाम हेतु दन्तेवाड़ा जिले में 16 मई तक लॉकडाउन किया गया है। कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण एवं नये ए.पी. स्ट्रेन के संक्रमण की संभावना के कारण आंध्रप्रदेश एवं तेलंगाना राज्य से आने वाले समस्त अंतरराज्यीय बसों को जिले में प्रवेश पर प्रतिबंधित किया गया है।


07-May-2021 5:27 PM (32)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बचेली, 7 मई। एक बार फिर से लॉकडाउन बढ़ गया। जिला प्रशासन ने दंतेवाड़ा जिले में 16 मई तक लॉकडाउन लगाया है, यह तीसरी बार है, जब जिलों में लॉकडाउन बढ़ा है। कोविड संक्रमितों की संख्या में कमी नहीं होने के कारण प्रशासन द्वारा यह निर्णय लिया गया है। बचेली में गुरूवार की सुबह पुलिस प्रशासन व नगरीय प्रशासन द्वारा सब्जी बाजार व्यवस्थित करते उक्त स्थान से हटवाया गया।

उपनिरीक्षक केशव ठाकुर व उनकी टीम तथा नगर पालिका से हेमंत मंडावी, विश्वजीत मलिक, जयराम मंडावी के द्वारा जिला प्रशासन के नये आदेशानुसार सब्जी वालों को केन्द्रीय विघालय मैदान, घड़ी चौक के आसपास बेचे जा रहे सब्जी संचालकों को वहां से हटवाया गया। उनसे कहा गया कि एक जगह पर दुकान लगाकर या ठेले खड़ी कर सब्जी न बेचे।

 नगर में निर्धारित समय सुबह 6 से शाम 5 बजे तक घुम-घुमकर सब्जी बेचने की अनुमति दी गई। पूर्व में एक स्थान पर दुकान लगाकर सब्जी बेची जा रही थी, जिसमें लोगों की भीड़ बढ़ रही थी। कोविड के बढ़ते संक्रमण के कारण अब एक स्थान पर दुकान लगाकर सब्जी बेचने पर प्रतिबंध रहेगा।

छोटे सब्जी विक्रेताओं का कहना है कि हमारी इतनी आय नहीं है एवं वर्तमान परिस्थिति के बीच ठेला की व्यवस्था करें। घूम-घूमकर बेचने में हमें काफी परेशानियां होगी, हमें नुकसान होगा। इस लॉकडाउन में हमें काफी नुकसान हो रहा है, सब्जियों व फलों को स्टोर करने की व्यवस्था हमारे पास नहीं है, ऐसे में हमारी सब्जियां व फल खराब होगी, जिससे हमें नुकसान हो रहा है।


06-May-2021 8:47 PM (28)

दंतेवाड़ा, 6 मई। कोरोना वायरस के घातक आंध्रप्रदेश स्ट्रेन को दन्तेवाड़ा जिले में प्रवेश से पहले ही रोकथाम के लिए दन्तेवाड़ा जिले की सभी सीमाओं में चौकसी बढ़ा दी गई है। कलेक्टर दीपक सोनी द्वारा सीमाओं में अतिरिक्त सतर्कता बरतने के निर्देशों के बाद जिले के अधिकारी सभी सीमाओं का निरीक्षण कर सभी यात्री वाहन और मालवाहक वाहनों को रोककर उनमें बैठे यात्रियों, वाहन चालक और उनके सहयोगियों की कोरोना जांच लगातार जारी रखने के निर्देश दे रहे हंै।

ज्ञात हो कि नये आंध्रप्रदेश स्ट्रेन को रोकने के जिला प्रशासन ने बाहर से आने वाले सभी यात्रियों की जांच के निर्देश दिये है। मालवाहक वाहनों के वाहन चालक और क्लीनर को भी कोरोना जांच के बाद ही जिले में प्रवेश दिया जा रहा है। इसके अलावा यात्री बसों के सवारियों से कोरोना टेस्ट रिपोर्ट की माँग की जा रही है, रिपोर्ट नहीं होने की स्थिति में स्वास्थ्य जाँच दल द्वारा कोरोना टेस्ट किया जा रहा है। यहां सुरक्षा व्यवस्था को भी कड़ी कर दी गई है। यहां जांच के बाद पॉजिटिव रिपोर्ट आने पर कोविड केयर सेंटर और दन्तेवाड़ा जिले के प्रवासी लोगों का नेगेटिव रिपोर्ट आने पर क्वारन्टीन सेंटर भेजा जा रहा है। जिले के गीदम जांच चौकी, बड़े सुरोखी जांच चौकी, नकुलनार जांच चौकी, कटेकल्याण और भूसारास जांच चौकी में कोरोना जाँच किया जा रहा है।

कोरोना वायरस के नये ए.पी. स्ट्रेन के संक्रमण की संभावना को देखते हुये आन्ध्रप्रदेश से दन्तेवाड़ा जिले में वन मार्ग के माध्यम से प्रवेश करने वाले लोगों की निगरानी एवं आवागमन निषेध हेतु वनमण्डलाधिकारी, जिला दन्तेवाड़ा को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है।

जिले के समस्त जनपद अंतर्गत आने वाले समस्त ग्राम पंचायत जिनकी सीमा किसी अन्य राज्य या अन्य जिले से लगती है तो आन्ध्रप्रदेश से प्रवेश पूर्णता: प्रतिबंधित किया जावे एवं अन्य जिलों से दन्तेवाड़ा जिले में प्रवेश पश्चात अनिवार्यत: कोरोना टेस्टिंग एवं 10 दिवस के क्वारंटाईन किये जाने की शर्त पर ही प्रवेश देवेंं।


06-May-2021 8:44 PM (17)

बचेली/किरंदुल, 6 मई। दिवंगत पूर्व नेता प्रतिपक्ष महेन्द्र कर्मा व दंतेवाड़ा विधायक के पुत्र दंतेवाड़ा नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष दीपक कर्मा के निधन पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए ब्लॉक कंाग्रेस एवं मेटल माईन्स वर्कर्स यूनियन शाखा किरंदुल द्वारा भावभीनी श्रद्धांजलि दी गई। ब्लॉक कांग्रेस किरंदुल के अध्यक्ष एके सिंह ने कहा कि इस कठिन समय में उनके परिवार को इस दुख को सहने की शक्ति दे। इस कोरोना ने युवाओं के सबसे लोकप्रिय नेता को हमसे छीन लिया। विदित हो कि  दीपक कर्मा पिछले दिनो कोरोना से संक्रमित थे। जगदलपुर में इनका इलाज चल रहा था, सुधार नहीं होने के कारण रायपुर एमएमआई अस्पताल में भर्ती किया गया था। देर रात उनका निधन हो गया।


06-May-2021 6:12 PM (15)

दंतेवाड़ा, 6 मई। जिला मुख्यालय को सातधार से जोडऩे वाले राज्य मार्ग के दौरान मुख्य सडक़ के इर्द-गिर्द स्थित  गुलमोहर के के फूल शबाब पर हैं। भीषण गर्मी के दौरान गुलमोहर के पेड़ फूलों से परिपूर्ण हो कर लाल छटा बिखेर रहे हैं। जिससे आवागमन करने वाले राहगीरों का ध्यान सहज ही गुलमोहर की ओर चला जाता है।


Previous123456789...2526Next