इतिहास

आज का इतिहास 21 जून
आज का इतिहास 21 जून
Date : 21-Jun-2019

बॉस्टन के ऑगस्टस रसेल पोप ने दुनिया को अपने इलेक्ट्रोमैग्नेटिक अलार्म सिस्टम से रूबरू कराया. 21 जून 1853 को उन्होंने इसका पेटेंट कराया. इलेक्ट्रोमैग्नेटिक अलार्म सिस्टम बनाने में उन्होंने सहजबुद्धि का शानदार इस्तेमाल किया.इससे पहले तक चेतावनी के लिए घंटी, सीटी या कुत्तों का इस्तेमाल किया जाता था. ऑगस्टस ने इसकी जगह इलेक्ट्रिक सर्किट के सिद्धांत का सहारा लिया. उन्होंने दरवाजे और खिड़की के बंद होने की प्रक्रिया को एक सर्किट में बदल दिया. दरवाजे या खिड़की के खुलते ही यह सर्किट टूट जाता और करंट में अचानक आए अंतर से मशीन का चुंबक झनझना उठता. उन्होंने इसे एक हथौड़े से जोड़ा. इलेक्ट्रोमैग्नेटिक कंपन हथौड़े को हिलाता और पीतल की घंटी उठती. लेकिन मुश्किल यह थी कि दरवाजा या खिड़की बंद करने के बाद भी अलार्म बंद नहीं होता था. इस मुश्किल को हल किया एडविन होल्म्स ने. एडविन ने 1857 में ऑगस्टस से पेटेंट खरीदा और इलेक्ट्रिक अलार्म सिस्टम बनाने वाली पहली कंपनी बनाई. उन्होंने इसका ऐसा प्रचार किया कि लोग ऑगस्टस को भूल ही गए. न्यूयॉर्क में कई जगहों पर होल्म्स इलेक्ट्रिक प्रोटेक्शन कंपनी के अलार्म लगने लगे. आज ऑगस्टस की खोज को तकनीक काफी समृद्ध बना चुकी है. आज अलार्म सिस्टम हाई टेक हो चुके हैं. इलेक्ट्रॉनिक और मैकेनिकल इंजीनियरिंग इन्हें वायरलेस सेंसर बना चुकी है. ये अब न सिर्फ पहरेदारी कर रहे हैं बल्कि आग और गैस रिसाव की भी फौरन जानकारी देते हैं.

  • 1808-फ्रांसीसी रसायनज्ञ जोजफ़ लुइ गे लुसाक ने बोरॉन तत्व की खोज की।
  • 1853-लिफाफों को मोडऩे वाली मशीन बनाने के लिए डॉ. रसैल एल. हैवेस को पेटेन्ट जारी किया गया।
  • 1945-दूसरे विश्व युद्ध में अमरीका को मिली अहम कामयाबी। इस लंबी लड़ाई में करीब 7 हजार अमरीकी सैनिक मारे गए थे। करीब तीन महीने की लड़ाई के बाद अमरीका ने जापान के ओकीनावा द्वीप पर 21 जून 1945 के दिन कब्ज़ा कर लिया। जापान के दक्षिणी तट से 550 किलोमीटर की दूरी पर बसा ओकिनावा द्वीप अमरीकी सेना के लिए बेहद अहम था क्योंकि वहां से जापान पर हवाई और समुद्री रास्ते से हमले करना आसान है। इस विजय की घोषणा अमरीकी सैन्य अधिकारी चेस्टर निमिट्ज़ ने की।
  •  जैसे-जैसे अमरीकी सेना द्वीप के पास पहुंची, ऊंची चोटियों पर तैनात कई जापानी सैनिकों ने वहां से कूद कर जान दे दी, ताकि उन्हें युद्ध-बंदी ना बनाया जा सके। हालांकि अमरीकी सेना ने 4 हजार जापानी सेनिकों को युद्ध-बंदी बना लिया। एक अप्रैल को शुरू हुई इस लड़ाई में 90 हजार जापानी सैनिक मारे गए। अमरीकी सेना को पूरे द्वीप पर कब्ज़ा करने में समय लगा क्योंकि राजधानी ओकीनावा में पहाड़ और गुफाओं का फायदा उठाते हुए जापानी सेना ने उन्हें कड़ी टक्कर दी।
  • 1999 - कोसोवो लिबरेशन आर्मी (के.एल.ए.) तथा कोसोवो शांति सैनिक बल के बीच विसैन्यीकरण समझौता संपन्न।
  • 2001 - पाकिस्तान के राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ़ ने आतंकवादी विरोधी क़ानून बहाल किया ।
  • 2002 - यूरोपियन यूनियन के 15 राष्ट्राध्यक्षों की सेविलिया (स्पेन) में बैठक शुरू।
  • 2004 - चीन ने भारत और पाकिस्तान वार्ता का समर्थन किया।
  • 2005 - डोनाल्ड त्यांग हांगकांग के नये प्रशासक बने।
  • 2008 - फिलीपीन्स में विनाशकारी तूफ़ान फेंगसेन की चपेट में आने से सैकड़ों लोगों की मृत्यु। 
  • 1927 - रेमन मैग्सेसे पुरस्कार सम्मानित एक वरिष्ठ पत्रकार बी. जी. वर्गीज का जन्म हुआ। 
  • 1912 - प्रसिद्ध हिन्दी साहित्यकार, नाटककार और कहानीकार विष्णु प्रभाकर का जन्म हुआ। 
  • 1887-कनाडा के भूविज्ञानी नॉर्मन एल. बॉवेन का जन्म हुआ,  जो प्रायोगिक पाषाण विज्ञानियों में गिने जाते हैं। उन्होंने प्रायोगिक रूप में पत्थरों के उद्गम तथा उनके रासायनिक अपघटकों के बारे में अध्ययन किया।  (निधन-11 सितम्बर 1956) 
  • 1876-डच भौतिकशास्त्री  विलेम हेन्ड्रिक कीसम का जन्म हुआ,  जिन्होंने पहली बार 1926 में हीलियम पर दाब डालकर उसे ठोस रूप में परिवर्तित किया। (निधन- 24 मार्च 1956)
  • 1994 -अमेरिकी खगोलशास्त्री  वलियम विल्सन मॉरगन का निधन हुआ, जिन्होंने पहली बार प्रमाण दिया कि आकाशगंगा का आकार सर्पिल है। उन्होंने अपना जीवन येर्केस ऑब्ज़र्वेटरी में बिताया, वे तीन साल तक वहां के निदेशक भी रहे। (जन्म 3 जनवरी 1906)
  • 1874-स्वीडन के भौतिकशास्त्री ऐन्डर्स जोनास ऐंग्स्ट्रॉम का निधन हुआ, जो स्पेक्ट्रोस्कोपी के शुरुआती वैज्ञानिकों में जाने जाते हैं। इनके नाम पर ही लम्बाई की एक छोटी इकाई को ऐंग्स्ट्रॉम कहा जाता है। (जन्म-13 अगस्त 1814)
  • महत्वपूर्ण दिवस- विश्व संगीत दिवस,  विश्व हाइड्रोग्राफ़ी दिवस ।

Related Post

Comments