इतिहास

आज का इतिहास 26 जून
आज का इतिहास 26 जून
Date : 26-Jun-2019

आजकल इस्तेमाल होने वाला टूथब्रश चीन की देन है. 26 जून, 1498 को ही पहली बार आधुनिक टूथब्रश के पहले मॉडल का चीन के एक राजा ने पेटेंट करवाया था.
अमेरिकी डेंटल एसोसिएशन के अनुसार 1448 में ही पहली बार एक चीनी शासक ने सूअर के बालों और हड्डियों से एक ब्रश तैयार करवाया. चीन के मिंग वंश के राजा होंगझी ने ऐसा पहला मॉडल पेटेंट करवाया. यहीं से दांत साफ करने के लिए आधुनिक टूथब्रश की नींव पड़ी. बाद में यह डिजाइन यूरोप की ओर बढ़नी लगी. यूरोप में बड़ी मात्रा में ब्रश बनाने के लिए विलियम ऐडिस ने साइबेरिया और उत्तरी चीन से सूअर के बालों का आयात करने की शुरुआत की.
17वीं शताब्दी तक कई पश्चिमी देशों में भी दांतो को साफ करने के लिए टूथब्रश का चलन आम नहीं था. 19वीं सदी में जाकर जानवरों के बालों से बने ब्रश की जगह पर कृत्रिम रेशों का इस्तेमाल शुरू हुआ. 1938 में डुपॉन्ट नाम की अमेरिकी कंपनी ने ब्रश के लिए नायलॉन का इस्तेमाल किया. इस पहले नायलॉन ब्रश का नाम था डॉक्टर वेस्ट्स मिरैकल.
ब्रश के पहले भी दांत साफ करने के लिए दुनिया के कई हिस्सों में चबाने वाली लकड़ियों की टहनियों का इस्तेमाल होता था. भारतीय आयुर्वेदिक चिकित्सा में नीम और बरगद और मुसलमानों में अरक के पेड़ की टहनी को दांत साफ करने के लिए उपयोगी माना जाता था. इन सभी लकड़ियों में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं. आज इस मामले में तकनीक इतनी आगे बढ़ चुकी है कि ब्रश स्मार्टफोन से जोड़े जा रहे हैं. अब तो डॉक्टर भी कहते हैं कि बैटरी से चलने वाले ब्रश दांतों को बेहतर रूप से साफ कर पाते हैं. और तो और अब ब्लू टूथ से चलने वाले ब्रश भी आ गए हैं जिसमें स्मार्टफोन ऐप के जरिये यह दिखता है कि दांत सही तरह से साफ किया जा रहा है या नहीं.

  • 1498-चीन में टूथब्रश का आविष्कार हुआ जिसे बांस की लकड़ी पर हॉग की गर्दन से लिए गए बालों को समकोण पर लगाकर बनाया गया था।
  • 1894 -गैसोलिन से चलने वाले आटोमोबाइल के लिए जर्मनी के कार्ल बेन्ज़ को पेटेन्ट प्राप्त हुआ।
  •  945 - सेन फ्रांसिसको में संयुक्त राष्ट्र घोषणा पत्र पर हस्ताक्षर।
  • 1992 - भारत ने  तीन बीघा गलियारा 999 वर्षों के लिए बांग्लादेश को पट्टे पर दिया।
  • 1999 - अमेरिकी ऊर्जा विभाग के हथियार कार्यक्रम के प्रमुख विक्टर रीस का इस्तीफ़ा, बुडापेस्ट (हंगरी) में विश्व विज्ञान सम्मेलन की शुरुआत, आई.ओ.सी. से अध्यक्ष जे.ए. समारांच को  बेस्ट स्पोट्र्स लीडर आफ़ द सेंचुरी अवार्ड  प्रदत्त।
  • 2000 - अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल द्वारा बांग्लादेश को टेस्ट का दर्जा दिया गया।
  • 2004 - पाकिस्तान के प्रधानमंत्री जमाली का इस्तीफ़ा, शुजात हुसैन नये कार्यवाहक प्रधानमंत्री बने।
  • 2008 - बहुर्राष्ट्रीय कम्पनी रियोरिटो ने मध्य प्रदेश के बुन्देलखण्ड क्षेत्र में छतरपुर जि़ले के तहत हीरा खनन के लिए खनिज पट्टा माइनिंग लीज हासिल कर बंदर डायमंड प्रोजेक्ट शुरू करने की घोषणा की। बिजली परियोजनाओं के लिए कास्टिंग फोर्जिंग एवं बेलेंस आफ प्लाट उपकरणों को बनाने के लिए एनटीपीसी व भारत फोर्ज ने बीएफ-एनटीपीसी एनर्जी सिस्टम लिमिटेड नामक संयुक्त उद्यम बनाया। 
  • 1838 - बंगाली उपन्यासकार बंकिमचंद्र चटर्जी का जन्म हुआ।  
  • 1888 -  मराठी रंगमंच के महान नायक और प्रसिद्ध गायक बाल गन्धर्व का जन्म हुआ।  
  • 2004 - भारतीय फि़ल्म निर्माता यश जौहर का निधन हुआ। 
  • 1910 -अमेरिकी रसायनज्ञ और टेफ्लॉन के अन्वेषक (यह पॉलीटेट्राफ्लोरोइथाइलीन का ट्रेडमार्क नाम है) रॉय जे. प्लंकेट का जन्म हुआ । आज टेफ्लॉन धातु के बर्तनों में जंगरोधी के रूप में काम आता है तथा रेडियोधर्मी वस्तुएं बनाने के काम आता है। (निधन-12 मई 1994 )
  • 1937-अमेरिकी भौतिकशास्त्री रॉबर्ट सी. रिचर्डसन का जन्म हुआ,  जिन्हें डगलस ओशेरॉफ और डेविड ली के साथ हीलियम के समस्थानिक-3 की अतिद्रवता (सुपरफ्ल्युडिटी) की खोज की जिसके लिए उन्हें 1996 में भौतिकी का नोबेल पुरस्कार प्रदान किया गया।
  • 1943- आस्ट्रिया के रोगप्रतिरोधक विज्ञानी और चिकित्सक  कार्ल लैंडस्टीनर का निधन हुआ,  जिन्हें सन् 1930 में शरीर क्रिया विज्ञान/चिकित्सा का नोबेल पुरस्कार प्राप्त हुआ। उन्होंने रक्त समूहों पर भी काम किया। (जन्म-14 जून 1868)
  • 1796 -अमेरिकी खगोलशास्त्री, उपकरण निर्माता तथा अन्वेषक डेविड रिटैनहाउस का निधन हुआ, जिन्होंने शुक्र के वातावरण का अध्ययन किया। (जन्म 8 अप्रैल 1732)
  • महत्वपूर्ण दिवस-मादक द्रव्यों के सेवन एवं उनके अवैध व्यापार के विरूद्ध अंतर्राष्ट्रीय दिवस।

Related Post

Comments