इतिहास

 इतिहास में आज 9 फरवरी
इतिहास में आज 9 फरवरी
Date : 09-Feb-2020

कार उद्योग के अग्रणी रहे और लग्जरी कार ब्रांड मायबाख की शुरुआत करने वाले जर्मन इंजीनियर विलहेम मायबाख का आज ही दिन जन्म हुआ था.

विलहेल्म मायबाख का जन्म 9 फरवरी 1846 को जर्मनी के हाइलब्रोन में हुआ था. 1885 में मायबाख और उनके गुरू जर्मन इंजीनियर गोटलिब डाइमलर ने एक हाईस्पीड, फोर स्ट्रोक इंटरनल कम्बशन इंजन तैयार किया था. मायबाख और डाइमलर ने इस इंजन को एक साइकिल पर लगाया जो दुनिया की पहली मोटरसाइकिल के तौर पर भी जानी जाती है. इसके बाद दोनों ने उस इंजन को एक गाड़ी के साथ जोड़ा, जिसका निर्माण मोटर चालित वाहन के तौर हुआ.

1890 में डाइमलर और अन्य साझेदारों ने मिलकर डाइमलर मोटर कंपनी बनाई. कंपनी का गठन इंजन और गाड़ी बनाने के मकसद से किया गया. विलहेल्म मायबाख ने 1900 में पहली मर्सिडीज कार विकसित की थी. 1907 में मायबाख ने डाइमलर कंपनी छोड़ने के बाद अपने इंजीनियर बेटे के साथ नए सिरे से कारोबार की शुरुआत की. 1921 में वे अपनी पहली कार मायबाख के नाम से लेकर आए.

उनकी कार मायबाख डब्ल्यू 3 को बर्लिन ऑटो शो में पेश किया गया. 1920 और 1930 के दौर में अमीरों के लिए मायबाख दमदार, तकनीकी रूप से परिष्कृत कस्टम कार बनाने वाली कंपनी के तौर पर जाने जानी लगी. 29 दिसंबर 1929 को 83 साल की उम्र में मायबाख का निधन हो गया. दूसरे विश्व युद्ध के बाद कंपनी को मरम्मत के लिए बंद किया गया लेकिन वहां दोबारा उत्पादन कभी शुरू नहीं हो पाया.

मर्सिडीज ने 1960 में मायबाख को खरीद लिया लेकिन कार का निर्माण फिर भी नहीं किया गया. 1997 में मर्सिडीज बनाने वाली डाइमलर कंपनी ने मायबाख को दोबारा दुनिया के सामने लाने का फैसला किया. आज भी बाजार में मायबाख का नाम कायम है. मायबाख अभी भी बाजार में मर्सिडीज बेंज मायबाख के नाम से ही बिकती है.

  • 1649 -ब्रिटेन में लोकतांत्रित शासन का आरंभ हुआ।
  •  1973- बीजू पटनायक उड़ीसा की राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता चुने गए।
  •  1992-अलजीरिया के संसदीय चुनावों में इस्लामी प्रवृत्ति वाले धड़े की भारी सफलता के बाद इस देश में सत्तासीन सैनिकों ने चुनावों के परिणामों को निरस्त और अलजीरिया इस्लामी मुक्तिमोर्चे को गैर कानूनी घोषित कर दिया। कुछ समय बाद इस देश के कई नेताओं को गिरफ़तार भी कर लिया गया। सेनाधिकारियों के इस क़दम से इस देश में हिंसा का क्रम आरंभ हुआ जिसमें बहुत सारे लोग मारे जा चुके हैं। 
  • 1996 -वैज्ञानिकों ने एक नए तत्व की खोज की जिसे तत्व-112 कहा गया।
  • 2001 - शिवानतरा थाइलैंड के नए प्रधानमंत्री निर्वाचित, चीन-तिब्बत रेलामार्ग को मंजूरी, तालिबान का पाक से प्रत्यर्पण संधि से इंकार।
  • 2002 - अफग़़ानिस्तान की पूर्व तालिबान सरकार के विदेश मंत्री मुत्तवकील का आत्मसमर्पण।
  • 2007 - पाकिस्तान की विपक्ष पार्टी जमायती उलेमा इस्लामी ने जिन्ना को स्वतंत्रता सेनानी की सूची से हटाया।
  • 2008- प्रख्यात सामाजिक कार्यकर्ता  बाबा आम्टे का निधन।
  • 2010- भारत सरकार ने बीटी बैंगन की व्यावसायिक खेती पर अनिश्चित काल के लिए रोक लगाई। 
  • 2006-भारतीय फि़ल्म अभिनेत्री नादिरा का निधन हुआ (जन्म- 1932) 
  • 1846- जर्मन इंजीनियर तथा इंजन के अन्वेषक विल्हेम मेबैक का जन्म हुआ जिन्होंन स्प्रे-कार्बोरेटर की खोज की। ये पहली मर्सडीज़ आटोमोबाइल (1900-01) के मुख्य डिज़ाइनर भी थे। (निधन-29 दिसम्बर 1929
  • 1854 -डच चिकित्सक  ऐलेटा हेनरिएट जैकब्स का जन्म हुआ, जो परिवार नियोजन के क्षेत्र में अग्रणी थीं। इन्होंने पहला जन्म नियंत्रण चिकित्सालय खोला। वे नीदरलैन्ड की पहली महिला थीं जिन्होंने चिकित्सा विज्ञान की पढ़ाई की और पहली महिला चिकित्सक बनीं।(निधन- 10 अगस्त 1929)
  • 1994- अमेरिकी विषाणु वैज्ञानिक  हॉवर्ड मार्टिन टेमिन का निधन हुआ जिन्हें उनके प्रोफेसर रैनेटो डलबैक्को और उनके ही दूसरे विद्यार्थी डेविड बाल्टिमोर के साथ रिवर्स ट्रान्सक्रिप्टेज़ एन्ज़ाइम की खोज के लिए1975 का नोबेल पुरस्कार मिला। (10 दिसम्बर-1934)
  • 1865 -अमेरिकी नौसेना के अधिकारी और खगोलशास्त्री जेम्स मैल्विले गिलिस का निधन हुआ, जिन्होंने पहली प्रयोगशाला की स्थापना की जो पूर्णरूप से अनुसंधान के लिए थी। गिलिस 15 साल की उम्र से नौसेना से जुड़े थे और फिर खगोलशास्त्र की पढ़ाई खुद ही की। (6 सितम्बर 1811)
  • 1675- फ्रांस के साहित्यकार और लेखक वैलन्टाइन कोनरेर का 72 वर्ष की आयु में निधन हुआ। वे सन 1603 ईसवी में एक साहित्य प्रेमी परिवार में जन्मे थे। 
  •  

Related Post

Comments