इतिहास

इतिहास में 20 फरवरी
19-Feb-2021 10:32 PM 49
इतिहास में 20 फरवरी

भवानी प्रसाद मिश्र

  • 1868 - अमृत बाज़ार पत्रिका का बांग्ला में साप्ताहिक रूप में प्रकाशन शुरू हुआ।
  • 1935 - कैरोलाइन मिकेल्सन अंटार्कटिक पहुंचने वाली पहली महिला बनीं।
  • 1947 - ब्रिटिश प्रधानमंत्री क्लेमेंट एटली ने भारत को आज़ादी देने के बारे में घोषणा की।
  • 1962 - जान एच ग्लेन अमेरिका के प्रथम अंतरिक्ष यात्री बने।
  • 1968 - मुंबई के के.ई.एम. अस्पताल के डॉक्टर पी.के. सेन ने हृदय प्रत्यारोपण का पहला आपरेशन किया।
  • 1976 - मुंबई हाई में कच्चे तेल का व्यावसायिक स्तर पर उत्पादन शुरू हुआ।
  • 1986 - सोवियत संघ द्वारा सेल्युत-7 की अपेक्षा अधिक विकसित अंतरिक्ष स्टेशन मीर (शान्ति) का प्रक्षेपण।
  • 1987 -  हिमाचल प्रदेश भारतीय संघ का 24वां राज्य बनाया गया।  मिजोरम और अरुणाचल प्रदेश का क्रमश: 23वां एवं 24वां राज्य के रूप में उद्घाटन। 
  • 1999 -  भारत के प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने पाकिस्तान की ऐतिहासिक बस यात्रा की। दूरदर्शन पर खेल चैनल शुरू हुआ। 
  • 2007 - यूरोपीय संघ कार्बन डाई आक्साइड के उत्सर्जन को 2010 तक 20 प्रतिशत कम करने को सहमत।
  • 2008-  रक्षा सौदे में ऑफ़सेट नीति को मंजूरी मिली।  
  • 2009- भ्रष्टाचार के आरोप में कोलकाता काईकोर्ट के न्यायाधीश सौमित्र सेन के खिलाफ महाभियोग चला। 
  • 1985 - हिन्दी के प्रसिद्ध कवि तथा गांधीवादी विचारक भवानी प्रसाद मिश्र का निधन हुआ। 
  • 1894 -  अमेरिकी मनोजीवविज्ञानी कर्ट पॉल रिक्टर का जन्म हुआ, जिन्होंने दिमाग के उन हिस्सों का पता लगाया जो प्रतिदिन की सोने की दिनचर्या, चाल और गतिविधियों को नियंत्रित करता है। सन् 1927 में पहली बार उन्होंने एक पत्रक में जैविक घड़ी के बारे में लिखा।  (निधन-21 दिसम्बर 1988)
  • 1844 -भौतिकशास्त्री  लेडविग एड्वर्ड बोल्ट्ज़मैन का जन्म हुआ, जिन्होंने सांख्यिकीय यांत्रिकी (स्टैटिस्टिकल मैकेनिक्स) की नींव रखी। इनका सिद्धान्त अणु और परमाणुओं की विशेषताओं और व्यवहार को उनसे बने पदार्थों की विशेषताओं और व्यवहार से संबद्ध करता है। (निधन- 5 सितम्बर 1906)
  • 1956-जर्मन भौतिकशास्त्री  हेनरिक जॉर्ज बर्खाजऩ का निधन हुआ, जिन्होंने 1919 में बर्खाजऩ प्रभाव की खोज की। यह सिद्धान्त धातुओं की चुम्बकीय विशेषताओं में परिवर्तन के बारे में था। ध्वनिशास्त्र तथा चुम्बकत्व पर उनके अनुसंधान ने यह साबित किया कि चुम्बकीयकरण से केवल एक अणु पर नहीं बल्कि पूरे पदार्थ पर प्रभाव पड़ता है। (जन्म 2 दिसम्बर 1881) 
  • 1955- जीवाणु विज्ञानी ओस्वाल्ड थियोडेर ओवेरी का निधन हुआ,  जिनके न्यूमोकोकस जीवाणु पर किए कार्य ने उन्हें इम्यूनोकेमिस्ट्री के संस्थापकों में से एक बना दिया। उनके अनुसंधान ने आनुवांशिकी तथा आण्विक जीवविज्ञान की आधारशिला रखने का काम किया। (जन्म 21 अक्टूबर 1877)।
  • महत्वपूर्ण दिवस - विश्व सामाजिक न्याय दिवस। 

 

अन्य पोस्ट

Comments