इतिहास

Date : 02-Apr-2019

पोप जॉन पोल द्वितीय का असल नाम कैरोल वॉयतिला था. पोप जॉन पॉल द्वितीय एक ऐसे पोप थे जिन्होंने दुनिया के सबसे अधिक देशों का दौरा किया था. जॉन पॉल द्वितीय 1978 में पोप बनाए गए. लगभग 400 साल के बाद वह पहले पोप थे, जो इटली नहीं बल्कि पोलैंड से थे. वह 27 साल पोप रहे. इस दौरान उन्होंने इस्लाम और यहूदी धर्म के साथ संबंधों को बेहतर बनाने की कोशिश की और कैथोलिक चर्च की गलतियों के लिए माफी मांगी. अपने कार्यकाल में उन्होंने कई देशों की यात्रा की और चर्च को एक नया चेहरा दिया.

पोप जॉन पॉल द्वितीय का जन्म पोलैंड के क्राकोव शहर के पास 1920 को हुआ था. स्कूल की पढ़ाई के बाद उन्होंने क्राकोव की यागीलोनियन यूनिवर्सिटी से दर्शन शास्त्र और साहित्य की पढ़ाई की. उन्होंने रंगमंच में भी बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया. 1941 में नाजियों ने क्राकोव पर कब्जा कर लिया और यूनिवर्सिटी को बंद कर दिया. 1941 तक पोप के परिवार के सभी सदस्यों की मौत हो गई और वे अकेले बच गए. 1942 में युद्ध के खत्म होने के बाद वे यागीलोनियन में वापस लौटकर धर्मशास्त्र की पढ़ाई की. इसके बाद उन्होंने दो डॉक्टरेट की उपाधि हासिल की. 38 साल की उम्र में उन्हें आर्चबिशप बनाया गया. समय के साथ पोप जॉन पॉल द्वतीय ने धार्मिक आजादी जैसे विषयों पर अपने विचार दुनिया के सामने रखे. आर्चबिशप के तौर पर उनका सम्मान तो था मगर वैटिकन से बाहर उन्हें लोग कम ही जानते थे और शायद ही किसी को उम्मीद थी वह पोप जॉन पॉल के उत्तराधिकारी बनेंगे जो केवल 33 दिनों के कार्यकाल के बाद चल बसे थे. इसके बाद रोम स्थित सिस्टीन चैपल के कार्डिनलों ने दो दिन की बैठक के बाद कैरोल वॉयतिला को नया पोप चुना जिसके 

  • 1984 - स्क्वाड्रन लीडर राकेश शर्मा, मिशन सोयूज़ टी-11 के तहत अंतरिक्ष जाने वाले पहले भारतीय अंतरिक्ष यात्री बने।
  • 1989 - फिलिस्तीन मुक्ति संगठन के नेता यासर अराफात फिलिस्तीन के राष्ट्रपति निर्वाचित।
  • 2011- भारतीय क्रिकेट टीम ने मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में श्रीलंका को हराकर आईसीसी विश्व कप, 2011 की ट्रॉफी अपने नाम की। 
  • 1902 - शास्त्रीय गायक बड़े ग़ुलाम अली खां का जन्म हुआ। 
  • 1889-चाल्र्स एम. हॉल ने ऐल्युमिनियम को उसके अयस्क से अलग करने की विद्युत अपघटन विधि का पेटेन्ट कराया जिसे उन्होंने 23 फरवरी 1886 को आविष्कृत किया था।
  • 1935- स्कॉटलैण्ड के भौतिकशास्त्री रॉबर्ट वॉट्सन वॉट ने राडार के लिए पेटेन्ट प्राप्त किया।
  • 1934-अमरीकी गणितज्ञ पॉल जोजफ़ का जन्म हुआ, जिन्हें समुच्चय सिद्धान्त पर आधारभूत कार्य करने के लिए वर्ष 1966 में फील्ड मैडेल का पुरस्कार प्रदान किया गया।
  • 1931-फ्रांसीसी-ऑस्ट्रेलियाई चिकित्सक  जैकस फ्रान्सिस अल्बर्ट पियरे मिलर का जन्म हुआ, जिन्होंने 1962 में जीवों में रोगप्रतिरोधक क्षमता के विकास में थाइमस ग्रन्थि का महत्व बताया। उन्होंने बताया कि थाइमस द्वारा टी. कोशिकाओं का निर्माण होता है।
  • 1995 -स्वीडन के खगोल भौतिकीविद् हैनेज़ ओलोफ गोएस्टा अल्फ्वैन  का निधन हुआ, जो प्लाज़्मा भौतिकी (आयनीकृत गैसों का अध्ययन) के क्षेत्र के संस्थापकों में से एक माने जाते हैं। उन्हें चुम्बकीय जलगतिकी (मैग्नेटोहाइड्रोडायनामिक्स) पर आधारभूत अनुसंधान के लिए 1970 में फ्रान्स के लुइस नील के साथ भौतिकी का नोबेल पुरस्कार मिला। (जन्म-30 मई 1908)
  • 1952 - फ्रांसीसी खगोल शास्त्री बरनार्ड (फर्डीनैन्ड) ल्याट का निधन हुआ, जिन्होंने 1930 में कोरोनोग्राफ का आविष्कार किया। यह ऐसा उपकरण है जो सूर्यग्रहण के बिना भी सूर्य के प्रभामंडल (कोरोना) का अध्ययन करने में सहायक है। इसमें एक चक्का होता है जो सूर्य की चमकीली सतह को ढंक लेता है। (जन्म-27 फरवरी 1897)।
  • 1765 - रूस के कवि और साहित्यकार मिखाइल लोमीनोसोव का निधन हुआ। वे सन 1711 ईसवी में जन्मे थे  । रुसी साहित्य की अत्याधिक सेवा के कारण उन्हें इस साहित्य का जनक कहा जाता है।
  • 1805-बच्चों की कहानियां लिखने के लिए विख्यात लेखक और कवि क्रिस्टन ऐंडरसन का डेनमार्क में जन्म हुआ। ऐंडरसन के जन्म दिन को विश्व में बाल पुस्तक दिवस के रुप में मनाया जाता है।
  • 1982 -अर्जेन्टाइना की नौसेना ने फ़ाकलैंड या मालवीनास द्वीप पर आक्रमण करके छापामारों के प्रभाव वाले इस द्वीप पर क़ब्ज़ा कर लिया। 
  • 1840 -प्रसिद्ध फ्रांसीसी उपन्यासकार ईमेल ज़ोला पेरिस में जन्मे। उनका सबसे प्रसिद्ध उपन्यास प्रकृतिवाद था जो वर्ष 1888 में प्रकाशित हुआ। उनका देहान्त 29 दिसम्बर वर्ष 1902 ईसवी को हुआ।


 


Date : 01-Apr-2019

अप्रैल फूल डे को ऑल फूल्स डे भी कहा जाता है. सालों पहले पश्चिम के कुछ लोगों ने अप्रैल महीने की पहली तारीख को मूर्ख बनाने का दिन घोषित कर दिया. फिर क्या था धीरे धीरे यह दिवस दुनिया भर में प्रसिद्ध हो गया. इस दिन लोग तरह तरह के मजाक और बेवकूफ बनाने के तरीकों का सहारा लेकर एक दूसरे की हंसी उड़ाने की जुगत में लगे रहते हैं. अप्रैल फूल डे के दिन लोग खुद को दूसरे से ज्यादा बुद्धिमान बताने की कोशिश में रहते हैं. अप्रैल फूल को लेकर ठीक ठीक जानकारी नहीं है कि इसकी शुरुआत कब से हुई लेकिन ऐसा मानना है कि यह सदियों से अलग अलग संस्कृतियों में मनाया जाता है.


कुछ इतिहासकारों का मानना है कि यह 1582 से मनाया जा रहा है. ऐसा कहा जाता है कि जब फ्रांस ने जूलियन कैलेंडर से ग्रेगोरियन कैलेंडर को अपनाया तो उस समय लोगों को इसकी जानकारी मिलने में बहुत देर हुई. उस समय लोगों को यह समझ में नहीं आया कि नए कैलेंडर के मुताबिक साल की शुरूआत एक जनवरी को हो गई है. वह मार्च के आखिरी सप्ताह से लेकर एक अप्रैल तक नए साल का जश्न मनाते रहे. इस तरह से इन लोगों का मजाक उड़ाया जाने लगा. अलग अलग देशों में इसे मनाने का अलग अलग कारण है. वैसे इंग्लैंड में अप्रैल फूल के दिन मनोरंजक और रोचक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है. कार्यक्रम के जरिए लोग दूसरे पर मूर्खता भरे गीत गाकर मनोरंजन करते हैं. वहीं स्कॉटलैंड में मूर्ख दिवस को हंटिंग द फूल के नाम से जाना जाता है. इस दिन यहां लोग मुर्गा चुराते हैं जो कि पहली अप्रैल की खास परंपरा है.

आधुनिक समय में अखबार, रेडियो और इंटरनेट पर अप्रैल फूल डे की चलन तेजी से बढ़ी है. पाठकों का मनोरंजन करने के लिए अखबार तरह तरह के चुटकुले और चित्रों का सहारा लेते हैं. 1957 में बीबीसी ने एक अप्रैल को लोगों को बेवकूफ बनाने के लिए एक मनगढ़ंत रिपोर्ट दिखाई थी जिसमें बताया गया था कि कैसे स्विस के किसान स्पेगेटी की बंपर फसल की उम्मीद कर रहे हैं. इस रिपोर्ट में लोगों को नुडल्स उगाते हुए भी दिखाया गया था. बीबीसी ने इस तरह से हजारों दर्शकों और पाठकों को बेवकूफ बनाया था.

 

  • 1875- सर फ्रांसिस गैल्टन ने पहली बार समाचारपत्र में मौसम-मानचित्र छापा।
  • 1890 -इलेक्ट्रिक ट्रॉली कार का पेटेन्ट उसके निर्माता बेल्जिय़म के चाल्र्स वेन डेपॉएल को प्रदान किया गया।
  • 1936 - भारत के उड़ीसा (अब ओडि़शा) राज्य की स्थापना हुई, जो कि पहले कलिंग या उत्कल के नाम से जाना जाता था।
  • 1973 - भारत के कार्बेट नेशनल पार्क में चीताओं को बचाने के लिए  टाइगर बचाओ अभियान चलाया गया।
  • 1979 - ईरान मुस्लिम गणराज्य घोषित।
  • 1996 - बैंक ऑफ़ टोकियो और मित्सुबिशी बैंक के विलय से बना विश्व का सबसे बड़ा बैंक न्यू बैंक आफ़ टोकियो-मित्सुबिशी ने अपना कार्य आरम्भ किया।
  • 1997 - मार्टिना हिंगिस टेनिस इतिहास में सबसे कम उम्र की नंबर एक महिला खिलाड़ी बनीं।
  • 2005 - नेपाल में आपातकाल लागू होने के बाद बंदी बनाये गये गिरिजा प्रसाद कोइराला के साथ 285 राजनैतिक बंदियों को रिहा किया गया।
  • 2008 -  मुम्बई की विशेष अदालत ने 47 करोड़ रुपये के शेयर घोटाले के मामले में केतन पारेख और हितेन दलाल सहित 5 अभियुक्तों को एक-एक साल की सज़ा सुनाई।
  • 2010 -  राष्ट्रपति प्रतिभा सिंह पाटिल का ब्योरा दर्ज करने के साथ 15वीं जनगणना का काम शुरू हो गया। इसके तहत आबादी का बायोमीट्रिक डाटाबेस तैयार किया जाएगा। 
  • 2010 -  पर्सनल कम्प्यूटर के युग की शुरुआत करने वाले। हेनरी एडवर्ड रॉबर्ट्स का निधन हुआ। 
  • 1919-अमेरिकी चिकित्सक जोजफ़ ई. म्यूरे का जन्म हुआ, जिन्हें रोगों के इलाज के लिए अंग तथा कोशिका प्रत्यारोपण सम्बन्धित कार्य के लिए ई. डॉनेल थॉमस के साथ 1990 में चिकित्सा/शरीर क्रिया विज्ञान का नोबेल पुरस्कार प्रदान किया गया।
  • 1865-आस्ट्रियन रसायनज्ञ रिचर्ड जि़ग्मॉन्डी का जन्म हुआ, जिन्हें कोलाइड विलयन का विषमांगी स्वभाव बताने के लिए वर्ष 1925 में रसायन विज्ञान का नोबेल पुरस्कार मिला। उन्होंने अपने अनुसंधान के लिए अल्ट्रामाइक्रो स्कोप का आविष्कार किया। (निधन-23 सितम्बर 1929)
  • 1968-रूसी भौतिकशास्त्री  लेव डेविडोविच लैन्डॉव का निधन हुआ, जिन्होंने मंद ताप भौतिकी, परमाणु भौतिकी, नाभिकीय भौतिकी, ठोस अवस्था, तारकीय ऊर्जा और प्लाज़्मा भौतिकी जैसे क्षेत्रों में काम किया। भौतिकी के कई शब्द उनके नाम से हैं। अत्यधिक मंद ताप (2.18 केल्विन) पर द्रव हीलियम के विलक्षण अतितरल (सुपरफ्लुइड) व्यवहार को प्रतिपादित करने वाले सिद्धांत के लिए उन्हें 1962 का नोबेल पुरस्कार प्रदान किया गया। (जन्म-22 जनवरी 1908)
  • 1901-फ्रांसीसी रसायन विज्ञानी  फ्रांस्वा मैरी रॉउल्ट का निधन हुआ, जिन्होंने विलयन पर नियम दिए। वे  राउल्ट्स के नियम से प्रसिद्ध हैं। इससे घुले हुए पदार्थ का आण्विक भार ज्ञात करना सम्भव हुआ। (जन्म 10 मई 1830)
  •  महत्वपूर्ण दिवस-अप्रैल फूल दिवस। 

Date : 31-Mar-2019

लगता ही नहीं कि उनकी जुदाई उनकी जिंदगी से लंबी हो चुकी है. भारतीय फिल्मों की महान अदाकारा मीना कुमारी आज ही के दिन 1972 में गुजर गईं और उस वक्त उनकी उम्र थी, सिर्फ 39 साल.
पाकीजा रिलीज हुए कुछ हफ्ते ही हुए थे कि मीना कुमारी बुरी तरह बीमार पड़ गईं. उनके लीवर में तकलीफ थी और किस्से हैं कि इसकी वजह जरूरत से ज्यादा शराब थी. फिल्म तो खूब चल निकली. साहिबजां यानि मीना कुमारी और सलीम अहमद खान (राजकुमार) के इश्क के चर्चे हर जुबान पर थे और ट्रेन में गुजरते वक्त तो जेहन में जरूर कौंधता था, "आपके पांव देखे, बहुत हसीन हैं.. उन्हें जमीन पर मत उतारिएगा, मैले हो जाएंगे."
बैजू बावरा, दिल अपना और प्रीत पराई और भाभी की चूड़ियां जैसी दर्जनों फिल्मों की कामयाबी ने मीना कुमारी को बॉलीवुड की ट्रेजडी क्वीन बना दिया. हुस्न पर उनकी अदाकारी भारी पड़ती थी या अदाकारी पर हुस्न, इस पर तो अब भी बहस हो सकती है. लेकिन हुस्न और अदाकारी के बीच उनकी तन्हाई और खामोशी किसी को नहीं दिखी. 15 साल बड़े शादीशुदा कमाल अमरोही पर जब मीना का दिल आया, तो वह सिर्फ 19 की थीं. फिर भी दोनों ने शादी की. कहते हैं कि दोनों की शख्सियत इतनी बुलंद थी कि एडजस्ट करना दूभर हो गया और आठ साल बाद दोनों अलग हो गए. मीना के दिल से कमाल नहीं निकल पाए. फिर प्यार की कमी प्याले से भरने की कोशिश की.
कमाल भी कम परेशान न थे. तलाक हो चुका था पर चाहत नहीं घटी थी. 1964 में दोनों ने फिर शादी कर ली. लेकिन तब तक प्यार में प्याले की गांठ लग चुकी थी. मीना कुमारी नशे के आगोश में ऐसी बह चुकी थीं कि कमाल अमरोही बताते हैं कि "घर के बाथरूम में डिटॉल की शीशी में भी ब्रांडी भरी होती थी". अमरोही ने कई शीशियां हटाईं, मीना को लेकर ख्वाबों की फिल्म पाकीजा पूरी की, भले ही इसमें 16 साल क्यों न लग गए हों. ब्लैक एंड व्हाइट गानों को दोबारा रंगीन में शूट क्यों न किया गया. लेकिन मीना की जिंदगी की रंगत शराब के आस पास ही सिमट कर रह गई.
पाकीजा रिलीज होते ही भारतीय दर्शकों के मन में छा गई. पर 126 मिनट की इस फिल्म की कामयाबी देखने मीना कुमारी 126 दिन भी जिंदा नहीं रह पाईं. उधर "ठारे रहियो ओ बांके यार" पर दुनिया झूम रही थी, इधर मीना कुमारी का सफर 31 मार्च, 1972 को ठहर गया. अगला पड़ाव मुंबई के पास मझगांव का कब्रिस्तान था, जहां अगले दिन माहजबीं बानो यानि मीना कुमारी को लिटा दिया गया.

 

  • 1889-पेरिस में एफिल टावर का उद्घाटन किया गया।
  • 1959- 14 वें दलाई लामा, तेनजिऩ ग्यातसो, भारत की सीमा पार करी और राजनीतिक में शरण ली।
  • 1979 -अरब संघ के सदस्य देशों ने इस संघ में मिस्र की सदस्यता को स्थगित कर दी और अधिकांश देशों ने मिस्र से संबंध तोड़ लिए।   मिस्र के विरुद्ध अरब देशों की यह कड़ी प्रतिक्रिया कैम्पडेविड के लज्जाजनक समझौते पर क़ाहेरा द्वारा हस्ताक्षर किये जाने का परिणाम थी।  अमरीका के भारी दबाव के बाद सन 1980 में अरब संघ में मिस्र की वापसी की भूमिका प्रशस्त हुई।
  • 1981-कृत्रिम रूप से निर्मित एककोशिकीय जीवाणु स्यूडोमोनस बैक्टीरियम (अब बर्खोल्डेरिया सेपेशा) के लिए आनन्द चक्रबर्ती को पेटेन्ट जारी किया गया। यह जीवाणु तैलीय प्रदूषण कम करने के काम आता है। यह समुद्र में जहाजों से रिसे हुए कच्चे तेल को सूक्ष्म कार्बनिक पदार्थों में तोड़ देता है।
  • 1997 - वासलेव क्लार्क को नया नाटो सैनिक कमांडर नियुक्त किया गया।
  • 2001 - यूगोस्लाविया के पूर्व राष्ट्रपति मिलोसेविच की गिरफ़्तारी के लिए पुलिस का धावा, अपने ही घर में नजरबंद, यूरोपीय मंत्रियों ने क्योटो संधि को जीवित घोषित किया।
  • 2005 - संयुक्त राष्ट्र संघ ने उत्तर कोरिया को अनाज की आपूर्ति रोकी।
  • 2008 - साहित्यकार  कृष्णा सोबती को के.के.बिड़ला फाउण्डेशन का वर्ष 2007 का  व्यास सम्मान  देने की घोषणा की गई। रेवती मेनन को  दयावती मोदी स्त्री शक्ति सम्मान, 2007  प्रदान किया गया।
  • 1972 - भारतीय अभिनेत्री मीना कुमारी का निधन हुआ। 
  • 1596 -फ्रांस के विश्व विख्यात दार्शनिक गणितज्ञ और भौतिक शास्त्री रेने डेकार्ट का जन्म हुआ। 
  • 1809 -रुस के ड्रामा लेखक निकोलाय वासीलियोविच गोगोल का यूक्रेन में जन्म हुआ।  
  • 1934-इटली के भौतिकशास्त्री कार्लो रबिया का जन्म हुआ,  जिन्हें 1960 में भारी तथा अल्पायु वाले उपपरमाण्विक डब्ल्यू कण एवं ज़ेड कण की खोज के लिए 1984 में साइमन वान डर मीर के साथ भौतिकी का नोबेल पुरस्कार प्राप्त हुआ।
  • 1945 -जर्मन जैव रसायनज्ञ हैन्स फिशर का निधन हुआ,  जिन्हें लाल रक्त कोशिकाओं के वर्णक हीमिन तथा पौधों के हरे वर्णक क्लोरोफिल के संघटकों पर अनुसंधान करने, तथा खासकर 1929 में हीमिन का संश्लेषण करने के लिए वर्ष 1930 में रसायन विज्ञान का नोबेल पुरस्कार दिया गया। ( जन्म 27 जुलाई 1881)
  • 1978- अमेरिकी शरीर क्रिया विज्ञानी चाल्र्स हरबर्ट बेस्ट का निधन हुआ,  जिन्होंने अग्न्याशय से निकलने वाले इंसुलिन नामक हार्मोन की खोज, तथा मधुमेह में उसके महत्व की खोज में डॉ. फ्रेड्रिक बेन्टिंग की सहायता की।  (जन्म 27 फरवरी 1899).

Date : 30-Mar-2019

वॉशिंगटन में 30 मार्च, 1981 को गुलाबी दोपहर थी. राष्ट्रपति रीगन होटल के पास से गुजर रहे थे, तभी ताबड़तोड़ छह गोलियां चल गईं. पूरा अमेरिका सकते में आ गया. जेहन में जॉन एफ कैनेडी और अब्राहम लिंकन की तस्वीर कौंधने लगी.
रीगन की छाती में गोली लगी थी, जो उनके शरीर को भेदती हुई फेफड़ों तक पहुंच चुकी थी. गोली दिल से सिर्फ एक इंच की दूरी पर थी. ऐसी हालत में जब उन्हें जॉर्ज वाशिंगटन अस्पताल पहुंचाया गया, तो वहां स्ट्रेचर नहीं था. रीगन चलते हुए अस्पताल के अंदर गए, फिर मूर्छा छाने लगी. सांस लेने में दिक्कत होने लगी और वो घुटनों के बल जमीन पर बैठ गए.
अमेरिका में इससे पहले जब भी किसी राष्ट्रपति पर गोली चली थी, वह जानलेवा ही साबित हुई थी. अब्राहम लिंकन, जेम्स गार्डफील्ड, विलियम मैकिनले और जॉन कैनेडी इसकी मिसाल हैं. सिर्फ 69 दिन पुराने राष्ट्रपति रीगन पर भी गोली चलने के बाद अमेरिका में हताशा छा गई. अमेरिका में 1980 के दशक में टेलीविजन बुलंदियों तक पहुंच चुका था. रीगन पर हमले की खबर जंगल में आग की तरह फैली. एक अनचाहा डर लोगों को परेशान करने लगा.
फिल्मों में भी काम कर चुके हैं रीगन
इस हमले की कहानी भी अजीब है. जॉन हिंकले जूनियर नाम के एक सिरफिरे ने जूडी फोस्टर की फिल्म टैक्सी ड्राइवर कई बार देख ली थी और वह जूडी से "प्यार" कर बैठा था. जूडी ने इस एकतरफा प्यार को खारिज कर दिया, तो हिंकले ने सोचा "कुछ ऐसा किया जाए कि दुनिया मुझे जाने और तब जूडी भी मेरी कद्र करेगी". चूंकि टैक्सी ड्राइवर फिल्म का हीरो रॉबर्ट डी नीरो राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार की हत्या की साजिश रचता है, इसलिए हिंकले जूनियर ने भी ऐसा ही करने का इरादा किया.
कैनेडी की हत्या के बाद अमेरिकी राष्ट्रपतियों की सुरक्षा बहुत कड़ी कर दी गई थी. उन्हें आम तौर पर बुलेटप्रूफ जैकेट पहनना होता था और उनकी सुरक्षा में लगे लोगों को भी. लेकिन 30 मार्च, 1981 को जब राष्ट्रपति रीगन हिल्टन होटल से अपनी लिमोजीन कार की तरफ जा रहे थे, तो उन्होंने बुलेटप्रूफ जैकेट नहीं पहनी थी क्योंकि यह सिर्फ 30 फीट की बात थी. लेकिन इसी दायरे में हिंकले जूनियर भी मशहूर जर्मन पिस्तौल रोएम के साथ खड़ा था.
रीगन जैसे ही वहां से गुजरे, हिंकले जूनियर ने सिर्फ दो सेकेंड में पूरी छह गोलियां खाली कर दीं. लेकिन संयोग से कोई भी गोली राष्ट्रपति को सीधे नहीं लगी. इतने समय में ही उनकी सुरक्षा टीम ने राष्ट्रपति को अपनी ओट में ले लिया. उन्हें उनकी कार तक पहुंचाया गया, जहां छठी और आखिरी गोली बुलेटप्रूफ शीशे से टकराकर उनकी बाईं छाती में धंस गई. अस्पताल तक पहुंचने में सिर्फ चार मिनट लगे, लेकिन तब तक राष्ट्रपति रीगन खून की उलटियां करने लगे थे.
पर आधुनिक इलाज ने उन्हें बचा लिया. उनका सफल ऑपरेशन हुआ. गोली निकाल दी गई और जब उन्होंने आंख खोली, तो मजाकिया लहजे में पूछा, "उम्मीद है कि आप सब यहां रिपब्लिकन ही होंगे."
महीने भर के अंदर राष्ट्रपति रीगन काम पर लौट आए. उन्होंने अपने दोनों कार्यकाल पूरे किए. आठ साल तक अमेरिका के राष्ट्रपति रहे और वहां के गिनती के शानदार राष्ट्रपतियों में शुमार हुए. शीत युद्ध खत्म करने में भी रीगन का बड़ा योगदान रहा और जर्मन राजधानी में बर्लिन की दीवार के बारे में उनकी कही गई बात आज भी याद की जाती है, "मिस्टर गोर्वाचोव, इस दीवार को गिरा दीजिए..."

  • 1878-लुई पाश्चर ने  बताया कि बीमारियों की वजह सूक्ष्मजीव होते हैं।
  • 1897 -रॉयल इंस्टीट्यूट में जे. जे. थॉमसन ने इलेक्ट्रॉन के खोज की घोषणा की।
  • 1945 - जर्मन तानाशाह हिटलर एवं उसकी पत्नी इवा ब्राउन द्वारा आत्महत्या।
  • 1985 - अमेरिकी पर्वतारोही रिचर्ड डिक बास (55 वर्ष) माउंट एवरेस्ट पर सर्वाधिक उम्र में चढऩे वाले व्यक्ति बने।
  • 1999 - लेविंस्की-क्लिंटन मामले को दुनिया के सामने लाने वाले पत्रकार माइकल इशिकॉफ़ को अंग्रेज़ी साप्ताहिक पत्रिका न्यूज वीक का  नेशनल मैंगनीज अवार्ड प्रदान किया गया, हिन्द महासागर के द्वीप कोमोरोस में सेना द्वारा सत्ता पर कब्ज़ा।
  • 2002 - पाकिस्तान में राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ़ के अगले 5 वर्षों के कार्यकाल में वृद्धि के लिए जनमत संग्रह सम्पन्न।
  • 2004 - फजुला (ईराक) में हिंसा में 10 अमेरिकी सैनिक मारे गये।
  • 2005 - नरेश के असाधारण अधिकार बरकरार रखते हुए नेपाल में इमरजेंसी समाप्त।
  • 2006 - वर्ष 2011 क्रिकेट विश्वकप की मेजबानी भारतीय उपमहाद्वीप को मिली।
  • 2007 - नेत्रहीन पायलट माइल्स हिल्टन ने विमान से आधी दुनिया का चक्कर लगाकर रिकार्ड बनाया।
  • 2008 - चालक रहित विमान लक्ष्य का उड़ीसा के बालासोर जि़ले के चांदीपुर समुद्र तट से सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया।
  • 2010 - हिन्दी चलचित्रों के सदाबहार अभिनेता देव आनंद को शुक्रवार को मुंबई में दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से तथा प्राण को  फाल्के आइकॉन  से सम्मानित किया गया। 
  • 1870 -भारत के प्रसिद्ध फि़ल्म निर्माता-निर्देशक एवं पटकथा लेखक  दादा साहब फाल्के का जन्म हुआ।
  • 1857- स्विस मनोचिकित्सक यूजीन ब्ल्यूलर का जन्म हुआ, जिन्होंने मानसिक बीमारियों को समझने में अहम योगदान दिया तथा एक खास तरह की मानसिक बीमारी को  स्किज़ोफ्रीनिया  नाम दिया, जिसे पहले डीमेन्शिया प्रीकॉक्स कहा जाता था। (निधन-15 जुलाई 1939)
  • 1777 -भौतिकशास्त्री कार्ल फ्रेड्रिक गॉस का जन्म हुआ, जिनके कार्य ने गणित के लगभग हर क्षेत्र की दशा तथा दिशा बदल दी। चुम्बकत्व तथा वैद्युतिकी में इनके योगदान के मद्देनजर इनके नाम पर चुम्बकीय क्षेत्र की इकाई का नाम गॉस रखा गया है।(निधन- 23 फरवरी 1855)
  • 1777 -जर्मनी के खगोल शास्त्री और गणितज्ञ चार्ल फ्रेडरेक गाओस का जन्म हुआ।   उन्हें फ़ीसागोरस जैसे गणितज्ञों की पंक्ति में गिना जाता है। 78 वर्ष की आयु में इस जर्मन विद्वान का निधन हुआ। 
  • 1947- अंग्रेज़ जीवाणुविज्ञानी सर ऐल्म्रॉथ ऐडवर्ड राइट  का निधन हुआ,  जिन्होंने टायफाइड से बचाव हेतु प्रतिरक्षण विकासित किया। इसके अलावा इन्होंने क्षयरोग तथा निमोनिया के टीके भी ईजाद किए। (जन्म 10 अगस्त 1861)
  • 1942 - वनस्पति विज्ञानी जे.सी. आर्थर का निधन हुआ, जिन्होंने परजीवी कवकों (खासकर रस्ट) का अध्ययन किया और उनके बारे में महत्वपूर्ण जानकारियां दीं। (जन्म 11 जनवरी 1850).

Date : 29-Mar-2019

29 मार्च को बैरकपुर में ईस्ट इंडिया कंपनी के अंग्रेज अफसर पर पहली गोली मंगल पांडे ने चलाई और बाकी सिपाहियों को भी ब्रिटिश अधिकारियों पर हमला बोलने को कहा. अंग्रेजी सेना ने मंगल पांडे को गिरफ्तार कर लिया और बाद में मुकदमा चलाकर फांसी दे दी. उस समय सेना में लाए गए नए एनफील्ड राइफल और कारतूस को लेकर सिपाही मंगल पांडे ने विरोध जताया था.

माना जा रहा था कि उन कारतूसों को बनाने में गाय और सूअर की वसा का इस्तेमाल किया गया था. ये दोनों ही चीजें हिंदू और मुसलमानों दोनों के लिए अपवित्र मानी जाती हैं. इस विरोध ने पूरे उत्तर भारत में विद्रोह की एक लहर चला दी थी. भारत में इसे आजादी की पहली लड़ाई कहा गया लेकिन ब्रिटिश शासन ने उसे विद्रोह का नाम दिया.
कोलकाता के बाहरी क्षेत्र के बैरकपुर में अंग्रेजी शासन ने 1765 में अपनी पहली छावनी बनाई थी. उसी बैरकपुर परेड ग्राउंड में 8 अप्रैल 1857 को मंगल पांडे को फांसी पर लटका दिया गया. उनके विद्रोह ने मेरठ से दिल्ली तक विरोध की लहर चला दी थी. आजादी का पहला संग्राम विफल रहा. लेकिन इस विद्रोह का असर बहुत व्यापक रहा. सामूहिक नेतृत्व के अभाव के कारण विद्रोह को कुचला भी जा सका. इतिहासकार मानते हैं कि 1857 के विद्रोह ने ही आजादी की लड़ाई की मजबूत नींव रखी थी.

  • 1953 - हिलैरी तथा तेनजिंग नोर्गे द्वारा विश्व की सर्वोच्च चोटी माउंट एवरेस्ट पर विजय।
  • 1974 -मेरीनर-10 ने पहली बार बुद्ध ग्रह का नजदीक से फोटो लिया।
  • 1980-पहला नाखून प्रत्यारोपण किया गया।
  • 1982 - तेलुगु देशम पार्टी (भारत क्षेत्रीय राजनीतिक पार्टी) की स्थापना एन.टी. रामाराव द्वारा की गई। 
  • 1999 - पराग्वे के राष्ट्रपति रॉल क्यूबास का इस्तीफ़ा।
  • 2001 - संयुक्त राज्य अमेरिका का ग्लोबल वार्मिंग पर क्योटो संधि को मानने से इंकार।
  • 2003 - तुर्की एयरलाइंस विमान के अपहरणकर्ताओं  ने आत्मसमर्पण किया।
  •  1913 -  हिन्दी के प्रसिद्ध कवि तथा गांधीवादी विचारक भवानी प्रसाद मिश्र का जन्म हुआ। 
  •  1929 - भारतीय अभिनेता उत्पल दत्त का जन्म हुआ। 
  •   1963 - , हिन्दी के प्रसिद्ध साहित्यकार सियारामशरण गुप्त का निधन हुुआ। 
  •   1927 -अंग्रेज़ जैव रसायनज्ञ जॉन रॉबर्ट वेन का जन्म हुआ, जिन्हें प्रोस्टाग्लैंडिन्स को खोजने, उन्हें पृथक करने तथा उनके पर्यवेक्षण के लिए स्यून के. बर्गस्ट्रॉम और बेंग्ट इंगेमर सैमुएल्सन के साथ सन् 1982 का नोबेल पुरस्कार मिला। प्रोस्टाग्लैंडिन्स एक प्रकार के वसीय अम्ल होते हैं जो दर्द के दौरान मांसपेशियों को प्रभावित करता है।(निधन-19 नवम्बर 2004)
  • 1853-अमेरिका के इलेक्ट्रिकल इंजीनियर  एलिहू थॉमसन  का जन्म हुआ,  जिनके प्रत्यावर्ती धारा में अनुसंधान ने सफलतापूर्वक प्रत्यावर्ती धारा मोटर के निर्माण में मदद की।  (निधन-13 मार्च 1937)
  • 1892-अंग्रेज़ चिकित्सक और शरीर रचना विज्ञानी सर विलियम बॉमैन का निधन हुआ, जिन्होंने गुर्दे (किडनी) की कार्यात्मक इकाई नेफ्रॉन की खोज की। इनके नाम पर गुर्दे में पाई जाने वाली छोटी ग्रन्थियों को  बॉमैन कैप्सूल  नाम दिया गया। ये ग्रन्थियां गुर्दे में लाखों की संख्या में होती हैं जो रक्त को छानती हैं। (जन्म-20 जुलाई 1816)
  •  1997 -ब्रिटेन के जैव रसायनज्ञ तथा विषाणु विज्ञानी नॉर्मन विंगेट पियरी का निधन हुआ, जिन्होंने फ्रेड्रिक बॉडेन के साथ पता लगाया कि विषाणुओं में पाया जाने वाला आनुवंशिक पदार्थ राइबोन्यूक्लिक एसिड (आरएनए) होता है। (जन्म-1 जुलाई 1907)
  • महत्वपूर्ण दिवस- आर्य समाज स्थापना दिवस (1875) 

Date : 28-Mar-2019

तुर्की के इन दो सबसे बड़े शहरों का नाम बदलना देश के आधुनिकीकरण के लिए उठाए जा रहे तमाम कदमों में से एक था. इसका श्रेय आधुनिक तुर्की के संस्थापक मुस्तफा कमाल अतातुर्क को दिया जाता है. तुर्की की सेना के जनरल कमाल अतातुर्क ने देश को एक आधुनिक और समृद्ध देश के तौर पर खड़ा कर तेजी से बदलते विश्व में तुर्की के लिए जगह बनाई. दुनिया के बहुत से देशों ने खुद को धार्मिक आधार पर पहचान से जोड़ा जबकि अतातुर्क ने तुर्की को यूरोपीय मॉडल पर आधारित देश बनाया. वह तुर्की भाषा बोलने वालों को यूरोपीय मॉडल पर बने आधुनिक राज्य में बदलने में कामयाब रहे.

तुर्की में पुरुषों और महिलाओं के लिए 1933 में ही मताधिकार लागू किया गया. उन्होंने एक ऐसे संविधान की नींव रखी जो साफ तौर पर इस्लामी कानून जैसा नहीं था. नए संविधान में इस्लामी पोशाक, बहुविवाह पर पाबंदी और शराब बेचने की इजाजत थी. इस तरह तुर्की दुनिया का अकेला ऐसा मुस्लिम बहुमत वाला देश बना जो कि धर्मनिरपेक्ष है. ये एक लोकतांत्रिक गणराज्य है जिसके एशियाई हिस्से को अनातोलिया और यूरोपीय हिस्से को थ्रेस कहते हैं.

  • 1797- न्यू हैम्पशायर के नैथेनियल ब्रिग्स को वाशिंग मशीन के लिए पेटेन्ट जारी किया गया।
  • 1866 -पहली एम्बुलेन्स अपनी सेवा पर रवाना हुई।
  • 1969 - सं.रा. अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति आइजनहावर का निधन।
  • 2000 - वेस्टइंडीज के कोर्टनी वाल्स ने 435 विकेट लेकर कपिल देव का रिकार्ड तोड़ा।
  • 2005 - इंडोनेशिया के सुमात्रा द्वीप में शक्तिशाली भूकम्प से भारी तबाही।
  • 2006 - अमेरिका ने पाकिस्तान के पेशावर में स्थित अपना वाणिज्य दूतावास बंद किया।
  • 2007 - अमेरिका में सीनेट ने इराक से सेना वापसी को मंजूरी प्रदान की।
  • 2008 -  केन्द्र सरकार ने चालीस उत्पादों के निर्यात से रियासतें समाप्त करने की घोषणा की। आस्कर विजेता व पटकथा लेखक ऐबीमैन का निधन। 
  • 1972 - एबिय जे जोस, भारतीय पत्रकार और मानवाधिकार कार्यकर्ता।
  • 2006 -  हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री और स्वतन्त्रता सेनानी बंसीलाल का निधन हुआ। 
  • 1930- अमेरिकी भौतिकशास्त्री जेरम आइज़ैक फ्रीडमैन का जन्म हुआ, जिन्हें रिचर्ड ई. टेलर तथा हेनरी डब्ल्यू. केन्डल के साथ वर्ष 1990 का नोबेल पुरस्कार मिला।
  • 1897-अमेरिकी रसायनज्ञ तथा अभियंता  विक्टर मिल्स का जन्म हुआ, जिन्होंने बच्चों के लिए सुलभ डायपर पैम्पर्स का निर्माण किया। (निधन-1 नवम्बर 1997)
  • 1849 -आस्ट्रिया के वनस्पति वैज्ञानिक स्टीफन एन्डलिकर का निधन हुआ, जिन्होंने पादप वर्गीकरण का तरीका बताया। वर्ष 1830 में उन्होंने वनस्पति विज्ञान पर अपने पहले आलेख लिखे। इनकी पुस्तक जेनेरा प्लैन्टेरम सेकन्डम ओर्डाइन्स नैचुरालेस डिस्पोसिटा (1836-1850) वनस्पति विज्ञान की महान किताबों में मानी जाती हैं। (जन्म-24 जून 1804)
  • 1982 - अमेरिकी भौतिकशास्त्री  विलियम फ्रैन्सिस ज्याक का निधन हुआ, जिन्हें रासायनिक ऊष्मप्रवैज्ञिकी और खासकर न्यूनतम तापमान पर द्रव्य की अवस्था और एन्ट्रॉपी पर किए उनके कार्य के लिए उन्हें 1949 में रसायन विज्ञान का नोबेल मिला। (जन्म-12 मई 1895)।

Date : 27-Mar-2019

चुनाव के अंतिम नतीजे भी अपेक्षा के अनुरूप ही रहे. कम्युनिस्ट पार्टी के बहुत से वरिष्ठ नेताओं को चुनाव में हार का मुंह देखना पड़ा. सोवियत संघ में इन संसदीय चुनावों में पहली बार नागरिकों को यह विकल्प मिला था कि वे कम्युनिस्ट पार्टी के नेताओं के अलावा भी किसी को वोट दे सकें.

यह चुनाव इस मायने में भी ऐतिहासिक माने जाते हैं कि यह पहला मौका था जब सोवियत संघ का विरोध करने वालों को भी जनता के सामने आने का मौका मिला. रूसी अखबार 'इजवेस्तिया' के हवाले से यह कहा गया कि इन चुनावों में ज्यादातर क्षेत्रों में करीब 80 से 85 फीसदी लोगों ने अपने वोट का इस्तेमाल किया. अखबार ने तो इन नतीजों को एक नए युग की शुरूआत कह डाला और उस नए युग को "लोकतंत्र की तानाशाही" का नाम दे डाला.

कुल 1,500 सीटों के लिए हुए चुनाव में कम्युनिस्ट पार्टी के बाहर के बहुत सारे उम्मीदवार चुने गए. भारी मतों के साथ बोरिस येल्तसिन ने नई सरकार बनाई. सन 1991 तक सोवियत संघ अस्तित्व में रहा. संवैधानिक रूप से तो सोवियत संघ 15 स्वशासित गणतंत्रों का संघ था लेकिन असल में पूरे देश के प्रशासन और अर्थव्यवस्था पर केन्द्रीय सरकार का कड़ा नियंत्रण था. रूस इस संघ का सबसे बड़ा गणतंत्र और राजनैतिक, संस्कृतिक और आर्थिक केंद्र था. 1989 का साल यूरोप में भी भारी उथल पुथल का साल था.

जर्मनी के पूर्वी पड़ोसी देश पोलैंड में भी जून 1989 में पहली बार स्वतंत्र चुनाव हुए. यहां जनता ने भारी बहुमत से लोकतंत्र और मुक्त बाजार वाली आर्थिक व्यवस्था को अपनाने के पक्ष में मतदान किया.

  • 1884- पहली लम्बी टेलीफोन कॉल बोस्टन और न्यूयॉर्क में हुई।
  • 1933- रेगिनेल्ड गिब्सन और ऐरिक विलियम फावसेट ने पॉलीइथाइलीन की खोज की।
  • 1982 - ए.एफ़.एम.ए. चौधरी बांग्लादेश के राष्ट्रपति नियुक्त।
  • 2000 - रूस में 52.52 प्रतिशत मत प्राप्त कर रूस के कार्यवाहक राष्ट्रपति ब्लादीमीर ब्लादीमिरोविच पुतिन ने राष्ट्रपति चुनाव जीता।
  • 2003 - रूस ने घातक टोपोल आर एस-12 एम बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया। मान्टो कार्लो में 12वीं अम्बर शतरंज प्रतियोगिता के फ़ाइनल राउंड में 1.5 अंक की जीत से विश्वनाथन आनंद ने तीसरा खि़ताब जीता।
  • 2006 - यासीन मलिक ने कश्मीर में जनमत संग्रह कराए जाने की मांग की।

Date : 26-Mar-2019

1947 में अंग्रेजों से आजादी मिलने के साथ ही ब्रिटिश इंडिया को भारत और पाकिस्तान में बांट दिया गया. आजादी के बाद मुस्लिम बहुल आबादी वाले इलाके को मिलाकर पाकिस्तान बना. पाकिस्तान के दो हिस्से थे. एक भारत के पश्चिमी हिस्से में पश्चिम पाकिस्तान जो राजनीतिक रूप से ज्यादा शक्तिशाली था और दूसरा हिस्सा भारत के पूर्वी हिस्से में जो पूर्वी पाकिस्तान कहलाया.

पश्चिमी पाकिस्तान में सिंध, पठान, बलोच और उर्दू भाषी मुहाजिर रहते थे जबकि पूर्वी पाकिस्तान की आबादी बंगला बोलने वाली थी. देश के राजकाज में पूर्वी पाकिस्तान की ज्यादा नहीं चलती थी और यह बात वहां के लोगों को नहीं भाती थी. जब उर्दू को राजभाषा घोषित कर दिया गया तो बंगलाभाषियों का असंतोष और बढ़ गया. इस असंतोष को देखते हुए पूर्वी पाकिस्तान के नेता शेख मुजीब-उर-रहमान ने अवामी लीग का गठन किया और 1970 के चुनावों में भारी मतों से जीत हासिल की. लेकिन संसद में बहुमत हासिल करने के बाद भी उन्हें प्रधानमंत्री बनाने की बजाय राजनीति में ज्यादा सशक्त पश्चिमी पाकिस्तान के सैनिक शासकों ने उन्हें जेल में डाल दिया.

इसी घटना ने पाकिस्तान के विभाजन के बीज बोए. 25 मार्च की देर रात राष्ट्रपिता माने जाने वाले बंगबंधु शेख मुजीब-उर-रहमान ने बांग्लादेश के स्वतंत्रता संग्राम का आह्वान किया और देश को आजाद घोषित कर दिया. उन्हें 26 मार्च को ही गिरफ्तार कर लिया गया. इस संघर्ष में बहुत खूनखराबा हुआ और लाखों लोगों ने भागकर पड़ोसी देश भारत में शरण ली. अगले नौ महीने तक चली आजादी की यह लड़ाई पाकिस्तानी सेना के खिलाफ एक गृहयुद्ध बन गई और भारत पाकिस्तान युद्ध में पाकिस्तानी सेना की हार के साथ खत्म हुई. बांग्लादेश की मुक्ति वाहिनी को भारत ने सैनिक सहयोग दिया. पाकिस्तानी सेना ने आखिरकार 16 दिसंबर 1971 को भारतीय सेना के सामने आत्मसमर्पण कर दिया. इस दिन को बांग्लादेश विजय दिवस के रूप में मनाता है.

  • 1872-थॉमस जे. मार्टिन के नाम आग बुझाने की कल (फायर एक्स्टिग्विशर) का पेटेन्ट जारी किया गया।
  • 1953-डॉ. जोनस साल्क ने पोलियो के नए टीके की खोज की घोषणा की।
  • 1974 - लाता गांव, हेन्वाल घाटी, गढ़वाल हिमालय में गौरा देवी के नेतृत्व में 27 महिलाओं के एक समूह ने पेड़ों को बचाने के लिए पेड़ों के आसपास घेरा बना लिया और उन्हें अपने इस प्रयास से भारत में चिपको आंदोलन को आरंभ किया।
  • 1995 - 15 सदस्यीय यूरोपीय यूनियन के सात देशों के बीच आंतरिक सीमा नियंत्रण समाप्त।
  • 1998 - चीन ने अमेरिकी इरीडियम नेटवर्क के दो उपग्रहों को सफलतापूर्वक पृथ्वी की कक्षा में स्थापित किया।
  • 1999 - द. अफ्ऱीका के राष्ट्रपति नेल्सन मंडेला ने देश की प्रथम प्रजातांत्रिक संसद के विघटन की घोषणा की।
  • 2003 - पाकिस्तान ने 200 कि.मी. की दूरी तक मार करने वाली परमाणु प्रक्षेपास्त्र  अब्दाली  का परीक्षण किया।
  • 2006 - मेलबर्न में 18वें राष्ट्रमंडल खेलों का समापन।
  • 2008 - भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड कोष में 2.90 करोड़ रुपये की हेराफेरी के मामले में बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष जगमोहन डालमिया को गिरफ़्तार किया गया। टाटा मोटर्स ने अमेरिकी कंपनी  जगुआर  और  लैंड रोवर का अधिग्रहण किया। युसुफ़ रजा गिलानी ने पाकिस्तान के 25वें प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली। भारत व पाकिस्तान ने एक-दूसरे के युद्ध बंदियों को रिहा करने के लिए विदेश मंत्रालय स्तर पर बातचीत शुरू की। 
  • 1907 -हिन्दी कवयित्री और हिन्दी साहित्य में छायावादी युग के चार प्रमुख स्तंभों में से एक  महादेवी वर्मा का जन्म हुआ। 
  • 1893 - बंगाली सिनेमा के प्रसिद्ध अभिनेता और निर्देशक धीरेन्द्र नाथ गांगुली का जन्म हुआ। 
  • 1962 -भारत के कम्प्यूटर इंजीनियरराजीव मोटवानी का जन्म हुआ,  जिन्होंने सैद्धान्तिक कम्प्यूटर विज्ञान पर कार्य किया। सन् 2001 में उन्हें गोडेल पुरस्कार प्रदान किया गया वे स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय में कम्प्यूटर विज्ञान के प्रोफेसर थे।  (निधन- 5 जून 2009)
  • 1911- ब्रिटेन के शरीर क्रिया वैज्ञानिक सर बर्नार्ड काट्ज़ का जन्म हुआ,  जिन्होंने पता लगाया कि तंत्रिका कोशिकाएं किस तरह से मांसपेशियों तक संकेत पहुंचाती हैं। उनके इस कार्य के लिए उन्हें जूलियस एक्सेलरॉड तथा अल्फ वॉन यूलर के साथ 1970 में चिकित्सा/ शरीर क्रिया विज्ञान का नोबेल पुरस्कार मिला।
  • 1996- संयुक्त राज्य के इलेक्ट्रिक इंजीनियर  डेविड पैकार्ड का निधन हुआ, जो हेवलेट-पैकार्ड कम्पनी के सहसंस्थापक थे, जो कम्प्यूटर, प्रिन्टर आदि उपकरणों के निर्माण में अग्रणी है। उन्होंने कंपनी की स्थापना सन् 1939 में विलियम आर. हेवलेट के साथ की। (जन्म-7 सितम्बर 1912)
  • 1981-ब्रिटेन के जैव रसायनज्ञ सीरिल डीन डार्लिंगटन का निधन हुआ, जिन्होंने गुणसूत्रों पर किए अपने अनुसंधान से वंशानुगति के आधारभूत तंत्र की समझ को और विकसित किया तथा गैमीट्स निर्माण के समय गुणसूत्रों के व्यवहार को स्पष्ट किया। (जन्म 19 दिसम्बर 1903)।

Date : 25-Mar-2019

35 हॉर्सपावर क्षमता वाली डाइमलर कंपनी की मर्सिडीज कार को पहला आधुनिक ऑटोमोबाइल कहना गलत नहीं होगा. एमिल येलिनेक के निर्देशों के हिसाब से 1900 में विलहेल्म मायबाख ने जो कार बनाई उसे फ्रांस के नीस शहर में 5 दिनों तक चलने वाले "वीक ऑफ नीस" में जनता के सामने लाया गया. जर्मनी में बनी मर्सिडीज का नाम स्पैनिश भाषा से लिया गया. शब्द था 'मर्सी', जिसका मतलब है "दया". लेकिन माना जाता है कि कार का नाम असल में कंपनी के ऑस्ट्रियन मालिक एमिल येलिनेक की बेटी मर्सिडीज येलिनेक के नाम पर रखा गया था.

इससे पहले किसी कार में इतने सारे नए फीचर्स नहीं थे. प्रेस्ड स्टील फ्रेम और हनीकोंब रेडिएटर जैसी नई तकनीकों वाली पहली मर्सिडीज की पहली ड्राइव तो बहुत जोशोखरोश के साथ शुरू हुई लेकिन कुछ दूर चलकर ही कार बंद हो गई. लेकिन नीस ऑटोमोबाइल सप्ताह के खत्म होते होते लोग इस मशीन की स्पीड और पावर के दीवाने हो चुके थे. उस समय दर्शकों में शामिल कानश्टाट के एक जाने माने फ्रेंच पत्रकार ने कार की डिजाइन, क्षमता और कारीगरी से प्रभावित होकर तभी कह दिया था, "हम मर्सिडीज युग में प्रवेश कर चुके हैं!"

जर्मनी की यह निर्माता मर्सिडीज बेंज डाइमलर की एक कंपनी है जिसका मुख्यालय श्टुटगार्ट शहर में है. मर्सिडीज बेंज नाम 1926 से प्रचलन में आया. इनका नारा है, "सर्वश्रेष्ठ या फिर कुछ नहीं". यह ऑडी और बीएमडब्ल्यू के साथ जर्मनी की तीन प्रमुख लक्जरी कार कंपनियों में शामिल है.

  • 1589 -फ्रांस में हेनरी चतुर्थ के शासन संभालने के साथ ही इस देश में बोरबन शासन श्रंखला का राज आरंभ हुआ। इससे पहले तक बालवा वंश के लोगों का फ्रांस पर शासन था। बोरबन श्रंखला ने 200 वर्ष तक फ्रांस पर शासन किया और इस श्रंखला के अंतिम नरेश लुई सोलहवें को सन 1789 में फ्रांस की क्रांति की सफलता के बाद मृत्युदंड दे दिया गया।
  • 1665-क्रिश्चियन ह्यूगेस ने शनि के चन्द्रमा टाइटन की खोज की।
  • 1857-फ्रेड्रिक लैगेनहाइम ने सूर्यग्रहण का फोटोग्राफ लिया।
  • 1957 - इटली की राजधानी रोम में यूरोप के विभिन्न देशों के राजनेताओं ने संयुक्त यूरोपीय बाज़ार के प्रस्ताव पर हस्ताक्षर किए। इस प्रस्ताव के आधार पर सदस्य देशों के बीच आपस में कोई भी सामान बेचना और खऱीदना सरल हो गया।
  • 1987 - दक्षेस (सार्क) देशों का स्थायी सचिवालय नेपाल की राजधानी काठमांडू में खोला गया।
  • 1999 - भारत द्वारा पाकिस्तानी नागरिकों के आठ वर्गों को वीसा मामले में छूट देने की घोषणा।
  • 2003 - सद्दाम नहर और फरात पुल पर इराक का कब्ज़ा। पहले पोर्टेबल कम्प्यूटर बनाने वाले एडम ओस्बोर्न का देहांत।
  • 2005 - संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने सूडान के लिए शांति सेना की मंजूरी दी।
  • 2008 -  टाटा ग्रुप की पुणे स्थित फर्म  कम्यूटेशन रिसर्च लैबरटरीज  ने इंटरनेशनल फर्म याहू से गठजोड़ किया।   अंतरिक्ष यान एंडेवर सफलतापूर्वक अपने मिशन को अंजाम देने के बाद अंतर्राष्ट्रीाय अंतरिक्ष स्टेशन से रवाना हुआ। 
  • 1931 - स्वाधीनता संग्राम में  महत्वपूर्ण योगदान देने वाले गणेश शंकर विद्यार्थी  का जन्म हुआ। 
  • 1914- अमेरिकी कृषि वैज्ञानिक नॉर्मन अर्नेस्ट बोरलॉग का जन्म हुआ, जिन्हें 1970 में शांति का नोबेल पुरस्कार मिला। वे हरित क्रांति के सूत्रधार माने जाते हैं। विश्व में गेहूं की पैदावार बढ़ाने के लिए उन्होंने मैक्सिको और भारत, पाकिस्तान के वैज्ञानिकों के साथ मिलकर उन्नत किस्में तैयार की। (निधन-12 सितंबर 2099)
  • 1844- जर्मन वनस्पति वैज्ञानिक गुस्टाव हेनरिक ऐडॉल्फ ऐंगलर का जन्म हुआ, जो अपने पादप वर्गीकरण के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने पौधों की भौगौलिक विशेषताओं तथा उनके वर्गीकरण पर काम किया। (निधन-10 अक्टूबर 1930)
  • 1995- अमेरिका के समाजशास्त्री जेम्स सैम्युअल कॉलमैन का निधन हुआ,  जिन्होंने गणितीय समाजशास्त्र को प्रचलित किया। जिसने शिक्षा नीति को प्रभावित किया। वे पेशे से कैमिकल इंजीनियर थे परंतु बाद में उन्होंने समाजशास्त्र में काम किया। (जन्म-12 मई 1926)
  • 1712- अंग्रेज़ वनस्पति वैज्ञानिक, चिकित्सक  नीहेमाइया ग्रीव का निधन हुआ, जो पादप संयंत्र शरीर रचना विज्ञान के संस्थापकों में से एक माने जाते हैं। उन्होंने पौधों के आंतरिक भागों का अध्ययन किया। (जन्म-26 सितम्बर 1641)।

Date : 23-Mar-2019

28 सितंबर 1907 में जन्मे भगत सिंह मात्र 12 साल के थे जब जलियांवाला बाग कांड हुआ. इसने उनके मन में अंग्रेजों के खिलाफ गुस्सा भर दिया. आजादी के लिए अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई में वह महात्मा गांधी के अहिंसात्मक तरीकों से सहमत नहीं थे. उन्होंने अपने लिए क्रांतिकारी रास्ता चुना.
काकोरी कांड में रामप्रसाद बिस्मिल के साथ चार और क्रांतिकारियों को फांसी की सजा मिलने पर उनका गुस्सा और बढ़ गया. इस मामले में 16 और क्रांतिकारियों को जेल की सजा सुनाई गई. उसके बाद भगत सिंह चन्द्रशेखर आजाद के साथ हिन्दुस्तान रिपब्लिकन एसोसिएशन में शामिल हो गए.
1928 में साइमन कमीशन के बहिष्कार के लिए जबरदस्त प्रदर्शन हुए. इसी दौरान लाठी चार्ज में लाला लाजपत राय को गंभीर चोटें आईं और बाद में उनकी मौत हो गई. इसका बदला लेने के लिए भारतीय क्रांतिकारियों ने पुलिस सुप्रिटेंडेंट स्कॉट की हत्या की योजना बनाई. 17 दिसंबर 1928 को लाहौर कोतवाली के सामने स्कॉट की जगह अंग्रेज अधिकारी जेपी सांडर्स पर हमला हुआ, जिसमें उनकी जान चली गई.
आठ अप्रैल 1929 को भगत सिंह ने अपने क्रांतिकारी साथी बटुकेश्वर दत्त के साथ मिलकर ब्रिटिश भारत की दिल्ली स्थित तत्कालीन सेंट्रल एसेंबली में बम फेंके. हालांकि इस हमले का मकसद अंग्रेज सरकार को डराना था इसलिए बम सभागार के बीच में फेंके गए जहां कोई नहीं था.
घटना के बाद वहां से भागने के बजाय वह खड़े रहे और खुद को अंग्रेजों के हवाले कर दिया. करीब दो साल जेल में रहने के बाद 23 मार्च 1931 को भगत सिंह को राजगुरु और सुखदेव के साथ फांसी पर चढ़ा दिया गया. बकुटेश्वर दत्त को आजीवन कारावास की सजा मिली.

  •  
  • 1821-फ्रांस में बॉक्साइट की खोज हुई। बॉक्साइट एल्युमिनियम का अयस्क होता है। उसे उस गांव के नाम पर बियॉक्साइट नाम दिया गया, पर बाद में इसे बॉक्साइट कहा गया।
  • 1950-संयुक्त राष्ट्र विश्व मौसम विज्ञान संस्था की स्थापना हुई।
  • 1995 - रैनटो रूगीएरो विश्व व्यापार संगठन के पहले महानिदेशक नियुक्त, भारत के विश्वनाथन आनंद ने प्रोफ़ेशनल चेस एसोसियेशन कैंडीडेट्स के फ़ाइनल श्रृंखला को जीता।
  • 1996 - ताइवान में पहली बार राष्ट्रपति के लिए सीधे चुनाव सम्पन्न।
  • 1999 - पराग्वे के उपराष्ट्रपति पुई मारिया अरगाना की हत्या।
  • 2001 - रूसी अंतरिक्ष स्टेशन मीर की जल समाधि।
  • 2003 - दक्षिण अफ्रीका में वाडरर्स में विश्व कप क्रिकेट के फ़ाइनल में आस्ट्रेलिया ने भारत को 125 रनों से हराकर विश्व कप पर कब्ज़ा बरकरार रखा।
  •  2008- भारत ने ज़मीन से ज़मीन पर मार करने वाली मिसाइल अग्नि-1 का सफल परीक्षण किया। अमेरिकी अंतरिक्ष यात्रियों राबर्ट वेनकेन और साइक फ़ोरमैन ने अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन की मरम्मत के लिए अंतिम स्पेसवॉक किया। नासा ने पृथ्वी से 7.5 अरब प्रकाश वर्ष की दूरी पर हुए एक अंतरिक्ष विस्फोट को देखा। 
  • 1910 -  भारतीय स्वतंत्रता सेनानी डॉ. राममनोहर लोहिया का जन्म हुआ। 
  • 1992 - भारत के पांचवें लोकसभा अध्यक्ष गुरदयाल सिंह ढिल्लो का निधन हुआ। 
  • 1937-अमेरिकी वैज्ञानिक रॉबर्ट सी. गैलो का जन्म हुआ,  जिन्होंने 1984 में एड्स के वायरस ह्यूमन इम्यूनोडिफिशिएन्सी वायरस की खोज की। वे लगातार एड्स पर अनुसंधान करते रहे और 1996 में इन्होंने पता किया कि एक प्राकृतिक यौगिक कीमोकाइन्स एच.आई.वी. को अवरुद्ध कर देता है। इससे एड्स की रोकथाम को बल मिला।
  • 1881-जर्मन रसायनज्ञ  हरमन स्टॉडिंगर का जन्म हुआ, जिन्हें सन् 1953 में पॉलीमर की लंबी श्रृंखला की संरचना के बारे में बताया और सिंथेटिक रबर के आविष्कार में योगदान दिया। सन् 1920 में स्टॉडिंगर ने बताया कि पॉलीमर कई इकाइयों के दुहराव से बनते हैं। (निधन-9 सितम्बर 1965)
  • 1946- अमेरिकी रसायनज्ञ  गिल्बर्ट न्यूटन ल्युविस  का निधन हुआ,  जिन्होंने लैंगम्यूर के साथ परमाणु सिद्धान्त दिया। उन्होंने संयोजकता पर भी सिद्धान्त प्रतिपादित किए। (जन्म-23 अक्टूबर 1875)
  •  1993 -आयरलैण्ड के चिकित्सक  डेनिस पार्सन्स बर्किट का निधन हुआ, जिन्होंने बर्किट्स लिम्फोमा का पता लगाया। वर्ष 1957 में युगाण्डा में उन्होंने कई बच्चों में गले और सिर का ट्यूमर देखा और पता लगाया कि यह एक तरह का कैंसर था। (जन्म-28 फरवरी 1911)
  •  महत्वपूर्ण दिवस- विश्व मौसम विज्ञान दिवस, भगत सिंह, सुखदेव एवं राजगुरु का शहीद दिवस।  
  • ----

Date : 20-Mar-2019


अफ्रीकी महाद्वीप के दक्षिण-पश्चिमी तट पर बसा एक बड़ा और कम जनसंख्या वाला देश है, नामीबिया. लंबे संघर्ष के बाद 1990 में मिली आजादी के बाद से यहां स्थाई शासन चल रहा है.सन् 1800 में जर्मनी ने दक्षिण-पश्चिमी अफ्रीका के कुछ हिस्से पर कब्जा कर लिया था. 1908 में जब इस इलाके में हीरों की खोज होने लगी तो बहुत सारे यूरोपीय देशों की इस क्षेत्र में दिलचस्पी बढ़ी और बड़ी संख्या में यूरोपीय लोगों का यहां आना शुरु हो गया. पहले विश्व युद्ध के छिड़ने पर दक्षिण अफ्रीका ने यहां अपना कब्जा जमा लिया और तबसे ही लीग ऑफ नेशंस के अंतर्गत इस इलाके में दक्षिण अफ्रीका का शासन चलने लगा. उनका शासन दूसरे विश्व युद्ध के बाद तक चला.

फिर 1966 में वहां के मार्क्सवादी साउथ-वेस्ट अफ्रीका पीपल्स ऑर्गनाइजेशन स्वापो के छापामारों ने दक्षिण अफ्रीकी शासन के खिलाफ लड़ाई छेड़ दी. करीब 25 सालों तक नामीबिया के लोगों ने बुश वार या घात लगाकर किए जाने वाले हमलों से प्रशासन को परेशान कर दिया. संयुक्त राष्ट्र शांति उपायों को मानते हुए 1988 में जाकर दक्षिण अफ्रीका पूरे नामीबियाई क्षेत्र को छोड़ने के लिए तैयार हुआ. 1990 में उन्हें दक्षिण अफ्रीकी शासन से पूरी आजादी हासिल हुई. आजादी के समय देश में ऐसे समझौते किए गए जिसके कारण वहां रह रहे गोरे लोग वहीं बने रहे. ये लोग आज भी खेती और कई दूसरे आर्थिक क्षेत्रों में देश के लिए सक्रिय योगदान कर रहे हैं.

  • 1739 - नादिरशाह ने दिल्ली सल्तनत पर कब्ज़ा किया। मयूर सिंहासन के गहने चोरी किये और उन्होंने दो महीने तक दिल्ली में लूटमार की थी।
  • 1815 -नेपोलियन बोनापार्ट फ्रांस का सम्राट बना किन्तु 18 जून वर्ष 1815 को वाटरलू मैदान में उसकी सत्ता का सूर्यास्त हो गया और 28 जून को सेनेट द्वीप में बंदी बना दिया गया। उसी स्थिति में 5 मई वर्ष 1821 को उसका देहान्त हुआ।
  • 1898 -रेडियम का पता चला। यह धातु अत्यंत दुर्लभ और मूल्यवान है। इसको पिछली शताब्दी के महान वैज्ञानिकों पियर क्यूरी और मैडम क्यूरी ने खोजा। इस खोज से चिकित्सा संसार और विज्ञान के मैदान में महान क्रांति आईं।
  • 1990 - अर्धरात्रि में नामीबिया की स्वतंत्रता की घोषणा। निकोला टेस्ला को विद्युत के बेतार ट्रान्समिशन के लिए पेटेन्ट प्राप्त हुआ।
  • 1934 -रुडॉल्फ कुन्हॉड ने जर्मनी में पहले राडार का परीक्षण किया।
  • 1991 - बेगम ख़ालिदा जिया बांग्लादेश की राष्ट्रपति निर्वाचित।
  • 1999 - प्रख्यात ब्रिटिश अमूर्त चित्रकार पैट्रिक हेरोन का निधन।
  • 2002 - नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा 6 दिवसीय यात्रा पर भारत पहुंचे, जिम्बाब्वे राष्ट्रमंडल से निलम्बित।
  • 2003 - इराक पर अमेरिकी हमला शुरू।
  • 2006 - अफग़़ानिस्तान के विदेश मंत्री ने दावा किया कि ओसामा बिन लादेन पाकिस्तान में है।
  • 2009 - न्यायमूर्ति चन्द्रमौली कुमार प्रसाद इलाहाबाद उच्च न्यायालय के मूख्य न्यायाधीश नियुक्त हुए। 
  • 1846 -इटली के चिकित्सक  ज्यूलियो बिज़ोजिऱो का जन्म हुआ, जिन्होंने खून में प्लेटलेट्स का महत्व बताया और यह पता लगाया कि रक्त कोशिकाओं का निर्माण अस्थि मज्जा में होता है। (निधन-8 अप्रैल 1901)
  • 1856 -अमेरिकी अन्वेषक और इंजीनियर  फ्रेड्रिक डब्ल्यू. टेलर ता जन्म हुआ,  जिन्हें वैज्ञानिक प्रबन्धन का जनक कहा जाता है। उनकी औद्योगिक प्रबन्धन की प्रणाली से हर देश के विकास और उद्योग को लाभ मिला है। (निधन-21 मार्च 1915)
  • 1727-अंग्रेज़ भौतिकशास्त्री और गणितज्ञ  सर आइज़ैक न्यूटन का निधन हुआ,  जिनके नियम आज भौतिकी के आधारभूत नियमों में शुमार किए जाते हैं। उन्होंने पृथ्वी की गुरुत्वाकर्षण शक्ति के बारे में बताया तथा जड़त्व पर महत्वपूर्ण नियम दिए। ( जन्म-25 दिसम्बर 1642)
  • 1932-सोवियत जैव रसायनज्ञ  इल्या इवानोविच इवानोव का निधन हुआ, जिन्होंने पालतू जानवरों में कृत्रिम गर्भाधान विधि का विकास किया था। उन्होंने स्पैलेन्जऩी (जिन्होंने खोज किया कि यह सम्भव है) के कार्य को आगे बढ़ाया और 1901 में पहले कृत्रिम गर्भाधान केन्द्र की स्थापना की। (जन्म-1 अगस्त 1870)।
  • महत्वपूर्ण दिवस-  विश्व विकलांग दिवस और  सामाजिक अधिकारिता स्मृति दिवस। 

Date : 19-Mar-2019

1971 में तत्कालीन पूर्वी पाकिस्तान की आजादी की लड़ाई में भारत ने जिस तरह बांग्लादेश के अस्तित्व में आने की राह पर साथ दिया, वही दोनों देशों के बीच गहरी दोस्ती और अच्छे संबंधों की नींव बनी. 19 मार्च, 1972 को मैत्री संधि पर दोनों देशों के हस्ताक्षर के बाद आपसी सहयोग का एक नया दौर शुरू हुआ. बीते चालीस सालों में भारत-बांग्लादेश संबंधों ने भी कई उतार चढ़ाव देखे लेकिन हर हाल में मित्रता बरकरार रही.

पाकिस्तान से युद्ध खत्म होने के तुरंत बाद बांग्लादेश में बनी आवामी लीग की सरकार ने सीधे तौर पर भारत समर्थक नीतियां अपनाईं. 1971 से लेकर 1975 तक के समय को दोनों देशों के संबंधों को मजबूत बनाने वाला समय माना जाता है. शांति और सहयोग की बुनियाद पर हुई मैत्री संधि में जिन साझे मूल्यों का जिक्र था उनमें उपनिवेशवाद की निंदा और गुटनिरपेक्षता शामिल था. दोनों देशों ने एक दूसरे को यह वायदा भी दिया कि वे कला, साहित्य और सांस्कृतिक क्षेत्रों में आपसी सहयोग को बढ़ावा देंगे.

संधि के अनुच्छेद 6 में इस बात का भी उल्लेख था कि दोनों देश मिलकर संयुक्त नदी आयोग बनाएंगे जिससे पानी के बंटवारे को लेकर दोनों के हितों को सुनिश्चित किया जा सके. बाढ़ से बचने, नदी के घाटी क्षेत्र और पनबिजली के विकास को मिलकर बढ़ावा देने पर भी संधि में सहमति बनी.

भारत और बांग्लादेश के गहरे ऐतिहासिक संबंध सदियों पुराने हैं. साझे इतिहास, धर्म, और संस्कृति वाले दोनों देशों के बीच मित्रता का संबंध 1972 की मैत्री संधि से भी कहीं ज्यादा गहरा माना जाता है.

  • 1883-जैन मैट्सलाइगर ने जूता बनाने की पहली मशीन का आविष्कार किया।
  • 1958-ब्रिटेन का पहला प्लैनेटेरियम लंदन प्लैनेटेरियम  खुला।
  • 1972 - भारत और बांग्लादेश के बीच में मित्रता संधि पर हस्ताक्षर किया।
  • 1982 - ब्रिटेन एवं बेटिकन में 400 वर्षों के अंतराल के बाद राजनयिक संबंध स्थापित।
  • 1996 - बोस्निया हर्जेगोविना की राजधानी सरायेवो का पुन: एकीकरण।
  • 1999 - यूरोपीय आयोग के अध्यक्ष जैकस सांटर का अपने पद से इस्तीफ़ा।
  • 2001 - तालिबान द्वारा 100 गायों की बलि, ब्रिटेन के उच्च सदन ने संगीतकार नदीम के प्रत्यर्पण का प्रस्ताव ठुकराया।
  • 2004 - अमेरिका ने विश्व व्यापार संगठन में पहली बार चीन पर मुकदमा ठोका।
  • 2007 - पाकिस्तान की मुख्तारन माई को यूरोपीय परिषद का मानवाधिकार सम्मान प्रदान किया गया।
  • 2008 - पाकिस्तान के राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ़ ने सबरजीत की फ़ांसी 30 अप्रैल, 2008 तक रोकी। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के विस्तार पर बने नये मसौदे को भारत सहित अधिकतर देशों ने खारिज किया। 
  • 1982 - प्रसिद्ध भारतीय क्रांतिकारी और राजनीतिज्ञ जे. बी. कृपलानी  का निधन हुआ। 
  • 1998 -भारतीय कम्युनिस्ट नेता और केरल के पूर्व मुख्यमंत्री  ईलमकुलम मनक्कल शंकरन नंबूदिरीपाद का निधन हुआ। 
  • 2011 - बालीवुड अभिनेता नवीन निश्चल का निधन हुआ, जिन्हें  गऱीबों का राजेश खन्ना कहा जाता था।
  • 1978 -  प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी एवं पूर्व लोकसभा अध्यक्ष  एम. ए. अय्यंगार का निधन हुआ। 
  • 1900 -फ्रांसीसी भौतिकशास्त्री  फ्रेड्रिक जूलियट क्यूरी का जन्म हुआ, जो प्रसिद्ध वैज्ञानिक आइरीन जूलियट क्यूरी के पति थे। उन्हें कृत्रिम रेडियोधर्मी तत्व का आविष्कार करने के लिए इनकी पत्नी के साथ 1935 में नोबेल पुरस्कार दिया गया। (निधन- 14 अगस्त 1958)
  • 1943- अमेरिकी रसायनज्ञ  मेरियो मोलिना का जन्म हुआ जिन्हें ओज़ोन परत के विघटन के कारणों पर अनुसंधान करने के लिए एफ. शेरवुड रॉलैन्ड और पॉल क्रूज़ेन के साथ 1995 का रसायन विज्ञान का नोबेल पुरस्कार मिला। उनके अनुसंधान ने साबित किया कि कुछ औद्योगिक गैंसें वातावरणीय ओज़ोन परत के क्षय के लिए जिम्मेदार हैं।
  • 1987 -फ्रांस के भौतिकशास्त्री  लुई विक्टर डी ब्रॉग्ली का निधन हुआ,  जो मुख्य रूप से क्वान्टम सिद्धान्त पर किए गए अपने अनुसंधान तथा इलेक्ट्रॉन के तरंग स्वरूप की खोज के लिए जाने जाते हैं। इन्होंने पदार्थ की कण और तरंग दोनों विशेषताओं के बारे में बताया। (जन्म 15 अगस्त 1892)
  • 1968-ऑस्ट्रियन तंत्रिका विज्ञानी तथा मनोचिकित्सक कार्ल थ्योडर ड्यूसिक का निधन हुआ, जिन्हें पराश्रव्य निदान (अल्ट्रासोनिक डायग्नोसिस) के जनक के रूप में जाना जाता है। (जन्म 1908)।

Date : 18-Mar-2019

सत्य और अहिंसा को हथियार बनाकर भारत की आजादी के लिए लड़ने वाले मोहनदास करमचंद गांधी को राजद्रोह के मामले में ब्रितानी अदालत ने सजा सुनाई. 1922 में गांधी जी ने “यंग इंडिया” नाम का एक लेख लिखा. इसके कारण देश में कई जगहों में लोग भड़क उठे और ब्रितानी सरकार परेशान हो गई. लेकिन ब्रितानी अदालतों में भी महात्मा गांधी का बहुत सम्मान था. उन्हें सजा सुनाते हुए जज ने कहा कि अगर बाद में सरकार उनकी सजा कम करेगी तो इसकी सबसे ज्यादा खुशी उन्हें ही होगी.

1919 में भारत में अपना औपनिवेशिक राज चला रहे ब्रितानी हुक्मरानों ने रॉलैट एक्ट पेश किया. इस एक्ट के तहत राजद्रोह के आरोप लगने पर किसी भी भारतीय को बिना सुनवाई के ही सजा दी जा सकती थी. राज के इसी एक्ट के विरोध में महात्मा गांधी ने 'सत्याग्रह' आंदोलन शुरू किया. यह एक अहिंसात्मक आंदोलन के रूप में ही शुरु हुआ जिसे सविनय अवज्ञा आंदोलन कहा गया. लेकिन लोग इस आंदोलन से जुड़ते गए और यह जंगल की आग जैसे फैल गया.

इसी कड़ी में उत्तर प्रदेश के चौरीचौरा में प्रदर्शन कर रहे लोग हिंसक हो गए. भीड़ ने पुलिस स्टेशन में आग लगा दी और वहां मौजूद 22 लोगों की मौत हो गई. इस हिंसक घटना के बाद महात्मा गांधी ने आंदोलन वापस ले लिया. लेकिन ब्रितानी सरकार ने उनको देशद्रोह का दोषी करार देकर 6 साल की जेल की सजा सुना दी, जो 18 मार्च से शुरू हुई. सिर्फ दो साल के बाद ही 1924 में लगातार खराब होती सेहत को देखते हुए उन्हें जेल से रिहा कर दिया गया.

  • 1834-होलिडेज़बर्ग और जॉनस्टोन पेनसिलवेनिया में पहली रेल सुरंग का निर्माण हुआ।
  • 1987 -उच्चतापीय अतिचालकता की घोषणा हुई।
  • 2000 - उगांडा में प्रलय दिवस सम्प्रदाय के 230 सदस्यों ने आत्मदाह किया।
  • 2006 - संयुक्त राष्ट्र ने  मानवाधिकार परिषद के गठन का प्रस्ताव मंजूर किया।
  • 2007 - उत्तर कोरिया ने परमाणु कार्यक्रम बंद करने का कार्य प्रारम्भ किया। पाकिस्तान क्रिकेट टीम के कोच बॉब वूल्मर का निधन।
  • 2008 - टाटा समूह के अध्यक्ष रतन टाटा को भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, खडग़पुर में  डॉक्टर ऑफ़ सांइस  की मानद उपाधि से सम्मानित किया। भारती इंटरप्राइजेज के अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुनील भारती मित्तल अमेरिका के विशिष्ट उद्यमी अकादमी में शामिल होने वाले प्रथम भारतीय बने। पाकिस्तान की सरकार ने विवादित इर्ब इंटेलिजेंस ब्यूरो के प्रमुख एजान शाह को बर्ख़ास्त किया। 
  • 2009 - केन्द्रीय मंत्री मण्डल ने मेघालय में राष्ट्रपति शासन लगाने की सिफ़ारिश की। 
  • 1938 - अभिनेता शशि कपूर का जन्म हुआ। 
  • 1956 - प्रसिद्ध मराठी विद्वान नारायण शास्त्री मराठे  का निधन हुआ। 
  • 1858 - जर्मन तापीय इंजीनियर  रुडॉल्फ क्रिश्चियन कार्ल डीज़ल का जन्म हुआ, जिन्होंने अंतर्दहन इंजन का आविष्कार किया। आज इसे हम डीज़ल इंजन के नाम से जानते हैं।(निधन--29 सितम्बर 1913) 
  • 1936 -अमेरिकी समूद्र-भूवैज्ञानिक  चाल्र्स डेविस हॉलिस्टर का जन्म हुआ, जिन्होंने गहरे समुद्र पर अध्ययन किया तथा बताया कि समुद्र का गहरा तल बिल्कुल शांत नहीं रहता बल्कि वहां पर कई छोटे तूफान और धाराएं चलती रहती हैं।(निधन-23 अगस्त 1999 
  • 1998-जापानी इंजीनियर  हीडियो शिमा का निधन हुआ, जिन्होंने टोक्यो और ओसाका को जोडऩे वाली विश्व की पहली उच्च गति की बुलेट ट्रेन बनायी। यह सेवा 1934 में शुरू हुई जिसकी गति 138 मील प्रति घण्टा थी। वे अपने जीवनकाल में और भी शक्तिशाली लोकोमोटिव के निर्माण में लगे रहे।(जन्म- 20 मई 1901) 
  • 1989-अंग्रेज़ भू-भौतिक शास्त्री, खगोलशास्त्री और गणितज्ञ   सर हेरॉल्ड जेफरीज़ का निधन हुआ, जिन्होंने सौरमंडल के उद्गम के रहस्यों को समझने का प्रयत्न किया और उन्होंने -100 0ष्ट से भी कम तापमान पर गैस का पृष्ठ ताप का मापन किया। (जन्म-22 अप्रैल 1891) 
  • 1834-होलिडेज़बर्ग और जॉनस्टोन पेनसिलवेनिया में पहली रेल सुरंग का निर्माण हुआ।
  • 1987 -उच्चतापीय अतिचालकता की घोषणा हुई।
  •  महत्वपूर्ण दिवस- आयुध निर्माण दिवस,  विश्व मांस बहिष्कार दिवस और  कारख़ाना अध्यादेश दिवस ।

Date : 17-Mar-2019

आधुनिक इतिहास में मानवाधिकार के लिए आज की तारीख सबसे अहम मानी जा सकती है. 17 मार्च, 1992 को दक्षिण अफ्रीका में जनमत संग्रह हुआ, जिसमें चमड़ी के रंग के आधार पर इंसानों में भेद करने के नियम को खत्म कर दिया गया.
दो साल पहले ही 1990 में अश्वेतों के महान नेता नेल्सन मंडेला को जेल से रिहाई मिली थी. राष्ट्रपति एफडब्ल्यू डी क्लार्क ने देश का काया बदलने का मन बना लिया था और वह चाहते थे कि इस मुद्दे पर लोगों से राय ली जाए कि क्या वे रंगभेद की नीति को जारी रखना चाहते हैं या नहीं. 1948 से दक्षिण अफ्रीका में रंगभेद था और इसकी वजह से दुनिया भर ने उस पर पाबंदी लगा रखी थी. हालांकि संसद में कुछ पार्टियां इस प्रस्ताव के खिलाफ थीं.
राष्ट्रपति को डर था कि अगर रंगभेद जारी रहा तो देश में गृह युद्ध और भड़क सकता है और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर दक्षिण अफ्रीका की स्थिति और खराब हो सकती है. देश के करीब 33 लाख श्वेत वोटरों से 17 मार्च, 1992 को पूछा गया कि क्या वे रंगभेद के नियम को खत्म करना चाहते हैं. करीब 28 लाख लोगों ने वोटिंग में हिस्सा लिया और 68.73 फीसदी लोगों ने ऐसा करने का फैसला सुनाया. हालांकि "नहीं" कहने वालों की तादाद भी 31.2 फीसदी रही. सरकार ने टेलीविजन, रेडियो और समाचारपत्रों में "हां" कहने के लिए खूब इश्तेहार चलाए.
बरसों तक गुलामी में रहने के बाद जंजीर टूट गई. नेल्सन मंडेला के 27 साल तक जेल में रहने की तपस्या पूरी हुई. नोबेल शांति पुरस्कार जीतने वाले राष्ट्रपति डी क्लार्क ने अगले दिन एलान किया, "हमने रंगभेद वाली किताब बंद कर दी है." मंडेला ने मुस्कुरा कर फैसले का स्वागत किया और केपटाइम्स अखबार ने पूरे पन्ने पर आलीशान अक्षरों में छापा, "यस, इट्स यस!".

  • 1898 -न्यूयॉर्क में पहली प्रायोगिक पनडुब्बी का प्रदर्शन जॉन हॉलैण्ड द्वारा किया गया।
  • 1950-एक नए रेडियो सक्रिय तत्व-98 का आविष्कार कैलिफॉर्निया में हुआ जिसे बाद में कैलिफोर्नियम नाम दिया गया।
  • 1994 - रूस द्वारा नाटो की शान्ति सहयोग योजना में शामिल होने का निर्णय।
  • 1996 - लाहौर में सम्पन्न छठे विल्स विश्व कप का खिताब श्रीलंका ने आस्ट्रेलिया को हराकर जीता।
  • 1998 - झू रोंगजी चीन के नये प्रधानमंत्री निर्वाचित।
  • 2008-भारत में चीनी मिलों को ब्याज मुक्त ॠण देने के लिए  चीनी विकास निधि संशोधन विधेयक  2008 ध्वनि मत से पारित हुआ। अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन केन्द्र पर पहुंचे वैज्ञानिकों ने मशीनी मानव को तैनात किया। लोकतंत्र की बहाली के बाद पाकिस्तानी संसद का पहला सत्र शुरू। 
  • 1990 - साइना नेहवाल, बैडमिंटन खिलाड़ी 
  • 1962- भारतीय-अमेरिकी वैज्ञानिक तथा नासा की अंतरिक्ष यात्री  कल्पना चावला एक  का जन्म हुआ। उनका पहला अंतरिक्ष अभियान 19 नवम्बर, 1997 में शुरू हुआ। इसके पश्चात वे दोबारा वर्ष 2000 में अंतरिक्ष अभियान के लिए चुनी गईं। फरवरी  2003 को कोलम्बिया अंतरिक्ष यान एसटीएस-107 हादसे में उनकी मौत हो गईं। यह हादसा यान के पृथ्वी के वायुमण्ल में प्रवेश के दौरान हुआ। वे अंतरिक्ष में जाने वाली भारतीय मूल की पहली महिला थीं। (निधन-1 फरवरी 2003)
  • 1881-स्विस शरीर क्रिया विज्ञानी  वॉल्टर रुडॉल्फ हेस का जन्म हुआ, जिन्हें मस्तिष्क के विभिन्न क्षेत्रों के महत्वपूर्ण कार्यों खासकर हाइपोथैलेमस का बाकी अंगों के कार्य निर्धारित करने और भूख लगने, नींद सुरक्षा प्रणाली आदि में महत्व का पता लगाने के लिए ऐन्टोनियो एगेस मोनिज़ के साथ 1949 का नोबेल पुरस्कार मिला। (निधन-12 अगस्त 1973)
  • 1741- अंग्रेज़ चिकित्सक  विलियम विदरिंग का जन्म हुआ, जिन्होंने डिजिटैलिस के औषधीय इस्तेमाल का काफी अध्ययन किया। वनस्पति विज्ञान में रुचि होने के कारण इस बात पर शोध किया कि गांवों में लोग किस तरह वनस्पतियों के जरिए इलाज करते हैं। निधन-6 अक्टूबर 1799)
  • 1956 -फ्रांसीसी रसायनज्ञ  आइरीन जूलियट क्यूरी का निधन हुआ, जो मैरी क्यूरी तथा पियरे क्यूरी की बेटी थीं। इन्होंने अपने पति फ्रेड्रिक जूलियट क्यूरी के साथ कृत्रिम रेडियोधर्मिता की खोज की जिसके लिए उन्हें 1935 का नोबेल पुरस्कार मिला।  (जन्म-12 सितम्बर 1897)
  • 1853-आस्ट्रियन भौतिकशास्त्री  क्रिश्चियन डॉपलर का निधन हुआ,  जिन्होंने बताया कि किस तरह ज्ञात की हुई ध्वनि तथा प्रकाश की आवृत्ति स्रोत तथा ज्ञातकर्ता के सापेक्ष गति द्वारा प्रभावित होता है। इसे डॉपलर प्रभाव कहा जाता है। (जन्म-29 नवम्बर 1803)।

Date : 16-Mar-2019

हालाबजा शहर राजधानी बगदाद से कोई 250 किलोमीटर दूर है. साल 1988 में 16 मार्च को इराकी वायु सेना के 20 विमानों ने 11 बजे दिन में केमिकल हथियारों का जखीरा इसी शहर के आम लोगों पर छोड़ दिया. जानकारों का दावा है कि इनमें मस्टर्ड गैस, सारीन, टाबून और एक्सवी के अलावा साइनाइड का भी इस्तेमाल किया गया.

इस शहर में कुर्द बहुल लोग रहते हैं, जो स्वायत्तता की मांग कर रहे थे और उनसे निपटने के लिए इराकी राष्ट्रपति सद्दाम हुसैन ने केमिकल अली की मदद से जहरीली गैसों का इस्तेमाल किया. चश्मदीदों का कहना है कि न सिर्फ शहर, बल्कि इससे बाहर निकलने के सभी रास्तों पर भी रासायनिक हथियार चलाए गए, "इनमें से 50 मीटर ऊंचा धुआं उठा, जो पहले सफेद, फिर काला और ऊपर पीला नजर आया."

यह घटना ईरान इराक युद्ध के आखिरी दिनों की है. घायल लोगों को ईरानी राजधानी तेहरान के अस्पताल में दाखिल कराया गया. ज्यादातर मस्टर्ड गैस के शिकार थे. जिनकी जान बच पाई, उन्हें रासायनिक हमले की वजह से सांस लेने में दिक्कत हो रही थी या उनकी आंखों की रोशनी चली गई थी. चमड़ी का बुरा हाल था. कुछ रिपोर्टों के मुताबिक हादसे में 75 फीसदी महिलाएं और बच्चे शिकार बने.

मरने वालों के बारे में पक्का आंकड़ा नहीं है. लेकिन बताया जाता है कि उनकी संख्या 3200 से 5000 के बीच रही होगी. इससे दोगुने लोग जख्मी हुए. सद्दाम हुसैन के चचेरे भाई अली हसन अल माजिद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर "केमिकल अली" के रूप में जाने जाते थे और इस हमले में उनका हाथ बताया जाता है.

हादसे में किसी तरह जान बचाने वाले एक शख्स ने बरसों बाद याद ताजा की, "अचानक बमों जैसा विस्फोट हुआ और लोग गैस गैस चिल्लाते हुए भागे. मैं अपनी कार में बैठा और उसकी सारी खिड़कियां बंद करके भागा. रास्ते में कुछ लोग हरे रंग की उलटियां कर रहे थे और कुछ जोर जोर से हंस रहे थे. फिर हंसते हंसते बेहोश हो कर गिर रहे थे. मेरी कार पता नहीं कितने ही मासूम लोगों के शरीर को कुचलते हुए गुजरी होगी. बाद में मैं भी बेहोश हो गया. होश आया, तो मुझे सेब की तरह की खुशबू आई, फिर अंडे की तरह आने लगी."

  • 1919- वायरलेस टेलिफोन का आविष्कार हुआ जिससे विमान में पायलट बातें कर सकें।
  • 1960 -न्यूयॉर्क में सौर ऊर्जा से चलने वाली कार का प्रदर्शन किया गया।
  • 1998 - चीनी राष्ट्रपति जियांग जेमिन अगले कार्यकाल के लिए पुन: राष्ट्रपति निर्वाचित।
  • 1999 - फैंटम जैसे कॉमिक चरित्र के जनक लियोन ली फ़ाक का निधन।
  • 2003 - ग्रीन स्मिथ दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम के कप्तान बने।
  • 2004 - रूस में नौ मंजिला इमारत में विस्फोट, 21 मरे।
  • 2005 - संयुक्त राष्ट्र संघ के महासचिव कोफ़ी अन्नान ने सुपाचयी पानिचपकड़ी को अंकटाड का नया अध्यक्ष नामांकित किया।
  • 2006 - चुनाव के तीन महीने बाद ईराक की नयी संसद ने शपथ ग्रहण की।
  • 2007 - एक ओवर में छह छक्के लगाकर दक्षिण अफ्रीका के हर्शेल गिब्स ने विश्व रिकार्ड बनाया।
  • 2008 -  मुद्रास्फीति विगत नौ महीने के उच्चतम स्तर 5.11 फ़ीसदी पर पहुंची।  परवेज मुशर्रफ़ ने पाकिस्तान में सज़ा-ए-मौत पा चुके भारतीय नागरिक सबरजीत सिंह के डेथ वारंट पर दस्तखत किये।  
  • 2009 - विदेश मंत्रालय में विशेष सचिव सरत सब्बरवाल पाक में भारत के नये उच्चायुक्त नियुक्त हुए। शिवालिक वर्ग के तीन स्टाल्थ फ्रिगेटो में अमेरिकी इंजनों को लगाने पर अमेरिकी प्रशासन ने रोक लगाई। 
  • 1789-जर्मन भौतिकशास्त्री जॉर्ज साइमन ओम का जन्म हुआ, जिन्होंने 1825 के अपने प्रयोग से साबित कर दिखाया कि कोई भी विद्युतचालक पूरी तरह चालक नहीं होता। उसमें कुछ न कुछ प्रतिरोध ज़रूर होता है। उन्होंने 1826 में सुप्रसिद्ध नियम दिए जिन्हें हम  ओम के नियम  के तौर पर जानते हैं।  (निधन-6 जुलाई 1854)
  • 1918 -अमेरिकी भौतिकशास्त्री  फ्रेड्रिक रीनेस का जन्म हुआ, जिन्हें 1956 में न्यूट्रीनो की खोज करने के लिए 1995 का नोबेल पुरस्कार प्रदान किया गया। रीनेस को भौतिकशास्त्री मार्टिन लेविस पर्ल के साथ नोबेल मिला था। न्यूट्रीनो परमाणु का एक सूक्ष्म तथा उदासीन कण होता है। (निधन- 26 अगस्त 1998)
  • 1998 - ब्रिटेन के रसायनज्ञसर हेरेक हैरॉल्ड रिचर्ड बर्टन  का निधन हुआ, जिन्हें जटिल यौगिकों की त्रिआयामी संरचना का अध्ययन करने के लिए नार्वे के ऑड हेसेल के साथ 1969 का नोबेल पुरस्कार मिला। (जन्म-8 सितम्बर 1918)
  • 1935-स्कॉटलैण्ड के शरीर क्रिया वैज्ञानिक जॉन जेम्स रिकार्ड मैक्लियॉड  का निधन हुआ जिन्होंने मधुमेह पर अनुसंधान किया और इंस्युलिन हार्मोन का नामकरण किया। वर्ष 1923 में इन्हें सर फ्रेड्रिक बेन्टिंग के साथ इंस्युलिन की खोज तथा शुगर के उपापचय में उसके महत्व को बताने के लिए शरीरक्रिया विज्ञान/चिकित्सा का नोबेल पुरस्कार मिला। (जन्म-6 सितम्बर 1876)

Date : 15-Mar-2019

टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में इंग्लैंड के अल्फ्रेड शॉ ने पहली गेंद डाली. ऑस्ट्रेलिया के चार्ल्स बैनरमैन ने इस गेंद का सामना किया और पहला शतक भी लगाया. बैनरमैन ने इस मैच में 18 चौके लगाकर 165 रन बनाए. बैनरमैन आउट नहीं हुए बल्कि उन्हें चोट लगने के बाद पैवेलियन लौटना पड़ा. इंग्लैंड के गेंदबाज जॉर्ज जूलिएट की गेंद से उनकी एक अंगुली में चोट लग गई और उन्हें पिच से वापस आना पड़ा. बैनरमैन का 165 रनों का स्कोर सात साल तक टेस्ट क्रिकेट का सर्वोच्च स्कोर रहा. 1884 में ये रिकॉर्ड बिली मर्डोक ने दोहरा शतक लगाकर तोड़ा.
पहले टेस्ट से जुड़ी कई रोचक जानकारियां हैं. इस टेस्ट मैच की कोई समयसीमा नहीं थी. दोनों टीमों को दो दो पारियां खेलनी थीं. चाहे इसके लिए कितने दिन भी लगें. इसी मैच में ऑस्ट्रेलिया के बिली मिडविंटर ने टेस्ट क्रिकेट में पहली बार पांच विकेट लिए. इसके बाद इसी मैच में इंग्लैंड के अल्फ्रेड शॉ ने पांच और ऑस्ट्रेलिया के टॉम कैंडल ने सात विकेट लिए.

ऑस्ट्रेलिया ने इस मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया. पहली पारी में ऑस्ट्रेलिया ने बैनरमैन की सेंचुरी की बदौलत 245 रन बनाए. इसके जवाब में इंग्लैंड की टीम 196 रनों पर आउट हो गई. हालांकि ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी में बैनरमैन चल नहीं पाए और पूरी टीम 104 रनों पर आउट हो गई. दूसरी पारी में इंग्लैंड को जीतने के लिए सिर्फ 153 रन बनाने थे लेकिन पूरी टीम 108 रन बनाकर आउट हो गई. पहला टेस्ट मैच चार दिनों तक खेला गया.


1892 -एस्केलेटर की रूपरेखा को उसके आविष्कारक न्यूयॉर्क के जेसी डब्ल्यू. रेनो ने पेटेन्ट कराया।
1959-न्यूयॉर्क में ब्रूकहेवेन राष्ट्रीय प्रयोगशाला में पहली बार चिकित्सकीय शोध के लिए एक नाभिकीय ऊर्जा केन्द्र बनाया गया।
1920 -अमेरिकी चिकित्सक ई. डॉनेल थॉमस का जन्म हुआ, जिन्हें एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में मेरू-रज्जु का प्रत्यारोपण करने के लिए 1990 में जोजफ़ ई. म्युरे के साथ चिकित्सा का नोबेल पुरस्कार मिला। यह ल्यूकीमिया तथा अन्य रक्त कैंसर के उपचार में एक बड़ी उपलब्धि थी।
1854-जर्मन जीवाणु वैज्ञानिक ऐमिल ऐडॉल्फ वॉन बेरिंग का जन्म हुआ, जो इम्यूनोलॉजी (प्रतिरोधक क्षमता) विज्ञान के संस्थापक के रूप में जाने जाते हैं। उन्हें सीरम सिद्धान्त के लिए 1901 का पहला नोबेल पुरस्कार मिला। डिप्थीरिया के इलाज में उसका उपयोग होता है। 1890 में एस. किटैसेटो के साथ काम करते हुए उन्होंने पाया कि जिस जानवर में टेटनस तथा डिप्थीरिया के विरुद्ध प्रतिरोधक क्षमता अच्छी हो उसके द्रव द्वारा हमारे शरीर में भी वैसी ही क्षमता विकसित की जा सकती है। (निधन-31 मार्च 1917)
2004-इंजीनियर तथा भौतिकशास्त्री  विलियम हेवार्ड पिकरिंग का निधन हुआ, जो अमेरिका के पहले उपग्रह एक्सप्लोरर के निर्माण दल के प्रमुख थे। उन्होंने 1930 के समय में नेहेर और रॉबर्ट मिलिकन के कॉस्मिक किरणों के प्रयोग में भी सहयोग दिया। (जन्म-24 दिसम्बर-1910)
1898-अंग्रेज़ अन्वेषक और इंजीनियर सर हेनरी बेसेमर का निधन हुआ, जिन्होंने कम खर्चे में इस्पात बनाने की पहली प्रक्रिया का निर्माण किया, तथा बेसेमर कन्वर्टर के विकास में अग्रणी भूमिका निभाई। कन्वर्टर पिघले लोहे से अशुद्धियां दूर करता है। ( जन्म-19 जनवरी 1813)
1646- फ्रांस के विख्यात वस्तुकलाकार हारडोइन मैन्सर का जन्म हुआ। वे लुई चतुर्थ के काल में पैदा हुए थे उन्होंने लुई चतुर्थ के ही आदेश पर वार्सा के महल का निमार्ण पूरा किया इसका निर्माण एक अन्य कलाकार ने आरंभ किया था। वार्सा महल पेरिस के निकट बना हुआ है। यह विश्व के बड़े ऐतिहासिक महलों में है। इस महल में बहुत महत्वपूर्ण घटनाए हुई हैं। और ऐतिहासिक समझौतों पर हस्ताक्षर हुए। इनमें सन 1919 में प्रथम विश्व युद्ध का शांति समझौता भी शामिल है।
1798-आगोस्ट कैन्ट नामक फ्रांसीसी दार्शनिक और गणिज्ञ का जन्म हुआ। कैन्ट 18 वर्ष की आयु में गणित के शिक्षक बन गये। दर्शनशास्त्र में वे फ्रांसीसी दार्शनिक सेन साइमन के विचारों से प्रभावित थे। उन्होंने दर्शन शास्त्र के सिद्धान्त साकरात्मवाद के आधार शिला रखी। केंट की विचारधारा के प्रचार ओर प्रसार के परिणाम स्वरुप दर्शनस्त्र ओर विज्ञान विचार और मन की दुनिया से निकलकर व्यवहारिक चरण में प्रविष्ट हुआ। सन 1857 में कैंट का निधन हुआ।
1989 - मिस्र के पूर्वोत्तरी भाग में ताबा नामक क्षेत्र ज़ायोनी शासन के वर्षों के अतिग्रहण से मुक्त हुआ। इस शासन ने सीना मरुस्थल को जो ताबा के पूरब में स्थित है 1967 ईसवी के युद्ध के दौरान अपने क़ब्ज़े में कर लिया था।  सन 1989 में ज़ायोनी सेनाएं इस क्षेत्र से निकलने पर विवश हुई थीं।


Date : 14-Mar-2019

14 मार्च 1879 को प्रतिभा और बुद्धि के धनी अलबर्ट आइंस्टाइन का जन्म जर्मनी के उल्म शहर में एक मध्यवर्गीय परिवार में हुआ था. आइंस्टाइन के पिता इलेक्ट्रिकल इंजीनियर थे. आइंस्टाइन के सापेक्षता के सिद्धांत ने भौतिकी की दुनिया ही बदल दी. कण और ऊर्जा सिद्धांत पर उनका योगदान क्वांटम यांत्रिकी को सफल में बनाने में मददगार साबित हुआ. जर्मनी और इटली में बचपन बिताने के बाद आइंस्टाइन ने स्विट्जरलैंड के ज्यूरिख में भौतिकी और गणित की पढ़ाई की. 1905 में वे स्विस नागरिक बने और उसके बाद उन्हें ज्यूरिख यूनिवर्सिटी से पीएचडी की उपाधि मिली. इतिहासकारों के मुताबिक यह समय आइंस्टाइन के जीवन का "चमत्कार वर्ष" था.

1905 में आइंस्टाइन ने सापेक्षता के सिद्धांत पर शोध पेपर लिखे जिन्हें आधुनिक भौतिक विज्ञान के मूल स्तंभों में माना जाता है. सापेक्षता के सिद्धांत में आइंस्टाइन ने कहा था कि इस ब्रह्मांड में कोई भी वस्तु प्रकाश की गति से तेज नहीं चल सकता है. द्रव्यमान-ऊर्जा का समीकरण e=mc2 देने वाले आइंस्टाइन को 1921 में सैद्धांतिक भौतिकी, खासकर प्रकाश-विद्युत उत्सर्जन की खोज के लिए नोबेल पुरस्कार दिया गया था.

आइंस्टाइन का बचपन आम बच्चों की तरह नहीं गुजरा था. उन्हें बचपन में कई तरह की मुश्किलों का सामना करना पड़ा. लेकिन तेज दिमाग वाले आइंस्टाइन ने सभी मुसीबतों को पार पाते हुए सैद्धांतिक भौतिक विज्ञान की दुनिया बदल डाली. वे एक भावनाशील हृदय वाले इंसान थे. जब जर्मनी में हिटलर शासन में नाजियों की हिंसा और उत्पीड़न का तांडव शुरू हुआ तो आइंस्टाइन ने इस कृत्य की घोर निंदा की. उन्हें जर्मनी छोड़ना पड़ा. 1940 में आइंस्टाइन अमेरिकी नागरिक बने. इसके बाद का जीवन उन्होंने अमेरिका में ही बिताया. 18 अप्रैल 1955 को 76 वर्ष की उम्र में आइंस्टाइन का निधन हुआ. लोग आज आइंस्टाइन के दिमाग को कंप्यूटर से तुलना करते हैं.

 

  • 1956 -पहले व्यावसायिक श्वेत-श्याम वीडियो रिकॉर्डर का आविष्कार हुआ।
  • 1961-अमेरिका में मानव निर्मित तत्व, लॉरेन्शियम (परमाणु संख्या 103) का आविष्कार हुआ।
  • 1995 - यूक्रेन में स्थित चेरनोबिल परमाणु ऊर्जा संयंत्र वर्ष 2000 तक बंद करने की घोषणा, भारत चौथी बार एशिया कप क्रिकेट चैंपियन बना।
  • 2000 - रूस की संसद ने संयुक्त राज्य अमेरिका और रूस के बीच  स्टार्ट-2  परमाणु शस्त्र कटौती संधि का अनुमोदन किया।
  • 2005 - भारत और अमेरिका ने अपने-अपने उड़ान क्षेत्र एक-दूसरे की एयरलाइनों के लिए खोलने का ऐतिहासिक समझौता किया।
  • 2006 - चीन में प्रथम बौद्ध विश्व सम्मेलन शुरू।
  • 2008 -उत्तर प्रदेश सरकार ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश का भौगोलिक नक्शा बनाने की घोषणा की। किर्लोस्कर ब्रदर्स को दामोदर घाटी निगम (डीवीसी) की कोडरमा ताप विद्युत परियोजना से 166 करोड़ 77 लाख रुपये का आर्डर मिला। 40 वर्ष बाद भारत व बांग्लादेश के बीच सम्बन्धों को मज़बूत बनाने के लिए मैत्री एक्सप्रेस कोलकाता और बांग्लादेश की राजधानी ढाका से एक दूसरे देश के लिए रवाना हुई।  
  • 1922 -  भारतीय संगीतकार, शास्त्रीय गायक उस्ताद अली अकबर खान का जन्म हुआ। 
  • 1629 -डच गणितज्ञ, खगोलशास्त्री तथा भौतिकशास्त्री क्रिस्टिएन हाइगैन का जन्म हुआ,  जिन्होंने  प्रकाश के तरंग सिद्धान्त  की स्थापना की। उन्होंने शनि के छल्लों का सही रूप ज्ञात किया। (निधन- 8 जुलाई 1695)
  • 1927-अमेरिकी रसायनज्ञ  ऐलेन मैक्डियरमिड का जन्म हुआ, जिन्हें दीर्घ जटिल यौगिकों (पॉलीमर) के आविष्कार तथा विकास में योगदान के लिए जाना जाता है। इसके लिए उन्हें ऐलन हीगर तथा हिडेकी शिराकावा के साथ 2000 में रसायन विज्ञान का नोबेल पुरस्कार प्राप्त हुआ। (निधन-7 फरवरी 2007)
  • 1964-अमेरिकी जीवविज्ञानी रैचेल लुइ कार्सन  का निधन हुआ, जिन्होंने पर्यावरण प्रदूषण और समुद्र के प्राकृतिक इतिहास पर अनेक लेख लिखे। उन्होंने अपनी पुस्तक साइलेन्ट स्प्रिंग (1962) में कीटनाशकों के ज्यादा प्रयोग से होने वाले प्रभाव बताए तथा लोगों को जागरूक करने की अपील की। (जन्म-27 मई 1907)
  • 1962 -महान भारतीय इंजीनियर मोक्षगुण्डम विश्वेश्वरैया का निधन हुआ, जिन्होंने अपने अभियान्त्रिक कौशल कावेरी नदी पर बांध का निर्माण किया तथा बाढ़-रोधी तंत्र विकसित किया। उनके जन्म दिन 15 सितम्बर को  इंजीनियर्स डे  के रूप में मनाया जाता है। (जन्म 15 सितम्बर 1860)।

Date : 13-Mar-2019

जालियांवाला बाग हत्याकांड भारत के इतिहास में सबसे भयानक दिनों में से एक है. 13 अप्रैल 1919 को अमृतसर में स्वर्ण मन्दिर के निकट जलियांवाला बाग में बैसाखी के दिन रौलेट एक्ट का विरोध करने के लिए एक सभा हो रही थी. इस सभा को भंग करने के लिए अंग्रेज अफसर जनरल माइकल ओ डायर ने अंधाधुंध गोलियां चलवा दीं. इस हादसे में हजार से ज्यादा लोग मारे गए और 2000 से ज्यादा जख्मी हुए. सैकड़ों महिलाओं, बूढ़ों और बच्चों ने जान बचाने के लिए कुएं में छलांग लगा दी.

अंग्रेजों का मकसद था भारतीय स्वतंत्रता के लिए उठ रही आवाजों को दबाना, लेकिन इस घटना ने आजादी की आग को और हवा दे दी. बचपन में ही मां बाप को खो चुके उधम सिंह की परवरिश अनाथालय में हुई थी. इस घटना ने उनके मन में भी गुस्सा भर दिया. पढ़ाई लिखाई के बीच ही वह आजादी की लड़ाई में कूद पड़े. जनरल डायर को मारना उनका खास मकसद बन गया.

1934 में वह लंदन जाकर रहने लगे. 13 मार्च 1940 को 'रॉयल सेंट्रल एशियन सोसायटी' की लंदन के 'कॉक्सटन हॉल' में बैठक थी. इस बैठक में डायर को भी शामिल होना था. ऊधम भी वहां पहुंच गए. जैसे ही डायर भाषण के बाद अपनी कुर्सी की तरफ बढ़ा किताब में छुपी रिवॉल्वर निकालकर उधम सिंह ने उसपर गोलियां बरसा दीं. डायर की मौके पर ही मौत हो गई. उधम सिंह को पकड़ लिया गया और मुकदमा चला. 31 जुलाई 1940 को उन्हें फांसी दे दी गई.

  • 1877-कानों के मफलर के लिए एक किशोर चेस्टर ग्रीनवुड को पेटेन्ट जारी किया गया। एक बार सर्दी में स्केटिंग करते हुए कानों में चुभन महसूस हुई तो उसने इससे बचने के लिए बीवर के फर को एक पतले फ्रेम में लगाया और कानों को ढंक लिया। उसके बाद कानों के मफलर की मांग बढ़ती गई।
  • 1930- क्लाइड डब्ल्यू. टॉमबॉफ ने प्लूटो ग्रह की खोज की।
  • 1997 - सिस्टर निर्मला का चयन नेता के रूप में ईन्डियन मिशनरीज ऑफ चैरिटी में मदर टेरेसा द्वारा किया गया।
  • 1999 - शेख़ हमाज बिन ईसा अल ख़लीफ़ा बहरीन के नये शासक बने, 23 वर्षों के अंतराल के बाद श्रीलंका सरकार ने हत्या एवं मादक द्रव्य तस्करी सदृश अपराधों के लिए मृत्युदंड की सज़ा पुन: बहाल करने का निश्चय किया।
  • 2002 - राबर्ट मुगावे पुन: जिम्बाब्वे के राष्ट्रपति निर्वाचित, पाकिस्तान के राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ़ की जापान यात्रा प्रारम्भ, सी.टी.बी.टी. पर हस्ताक्षर के लिए समय मांगा।
  • 2003 - इराक पर ब्रिटेन के प्रस्तावों को फ्ऱांस ने नामंजूर किया।
  • 2008 - राज्यपाल ने खाद्य सुरक्षा और मानक संशोधन विधेयक, 2008 को पारित किया।  हिन्दुस्तान टाइम्स  और पाकिस्तान के अखबार  डॉन  को पत्रकारिता के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए कुलिश सम्मान प्रदान किया गया।  नासा का अंतरिक्ष यान एंडेवर सकुशल अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन पर पहुंचा। सैक्स स्कैण्डल में फंसे न्यूयार्क के गवर्नर एलिमट स्पित्जर ने अपने पद से इस्तीफ़ा देने की घोषणा की। 
  • 1980 - संजय-मेनका गांधी के पुत्र और युवा राजनेता वरुण गांधी का जन्म हुआ। 
  • 2004 -  भारत के प्रसिद्ध सितार वादक विलायत खां का निधन हुआ।  
  • 1720-स्विस प्रकृतिविद् चाल्र्स बनेट का जन्म हुआ, जिन्होंने अनिषेकजनन (पार्थेनोजेनेसिस) की खोज की। इसका अर्थ होता है बिना निषेचन के प्रजनन। उन्होंने पता लगाया कि कीट अपने शरीर के छिद्रों से सांस लेते हैं जिसे उन्होंने स्टिग्मैटा नाम दिया।  (निधन- 20 मई 1793)
  • 1733 -अंग्रेज़ पादरी, राजनैतिक सिद्धान्तवादी तथा भौतिक वैज्ञानिक  जोजफ़ प्रीस्टले का जन्म हुआ, जिन्होंने आक्सीजन तत्व की खोज की। उन्होंने सोडा-वाटर बनाने का तरीका ईजाद किया था। इसके अलावा इन्होंने सल्फर डाइआक्साइड, अमोनिया, नाइट्रोजन आक्साइड, कार्बन मोनोआक्साइड और सिलिकन फ्लोराइड आदि गैसों की खोज की। (निधन-6 फरवरी 1804)
  • 1845- ब्रिटेन के रसायनज्ञ तथा मौसमविज्ञानी  जॉन फ्रैड्रिक डैनियल का निधन हुआ, जिन्होंने डेनियल सेल का आविष्कार किया। यह सेल पुराने समय के वोल्टाइक सेल से कहीं उन्नत था। सन् 1820 में इनके अनुसंधान से सापेक्षिक आर्द्रता मापने के लिए हाइग्रोमीटर नामक यंत्र का आविष्कार हुआ। (जन्म-12 मार्च 1790)।

Date : 12-Mar-2019

आज का दिन भारत के इतिहास में ब्लैक फ्राइडे के रूप में जाना जाता है. 1993 में इस दिन मुंबई में हुए सिलसिलेवार बम धमाकों में 257 लोग मारे गए और करीब 800 जख्मी हुए.ये धमाके दिसंबर 1992 और जनवरी 1993 में हुए सांप्रदायिक दंगों के बदले के रूप में सामने आए. बाबरी मस्जिद को गिराए जाने के बाद फैले इन दंगों में करीब 2000 लोगों की मौत हुई थी, जबकि हजारों लोग बेघर भी हुए. हमलों की साजिश सोने के तस्कर और गैंगस्टर टाइगर मेमन ने रची थी. मेमन ने इस काम को दाऊद इब्राहीम की मदद से अंजाम दिया था.

पहला धमाका बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज बिल्डिंग के सामने हुआ और उसके बाद शहर के अलग-अलग हिस्सों में 12 धमाके हुए. अभी मुंबई सांप्रदायिक दंगों की तकलीफ से उबर भी नहीं पाया था कि इन धमाकों ने भीड़भाड़ भरे मुंबई शहर को हिला कर रख दिया.

इस मामले में सैकड़ों गिरफ्तारियां हुई और विशेष टाडा कोर्ट में मामले की चार्जशीट दाखिल की गई. 2007 में विशेष अदालत ने इस मुकदमे में 100 आरोपियों को सजा दी. टाइगर मेमन और उनके भाई याकूब मेमन समेत 12 लोगों को मौत की सजा सुनाई गई. 20 को उम्रकैद और 67 को 3 से 14 साल तक की सजा सुनाई गई. अपील के बाद सुप्रीम कोर्ट ने अपने अंतिम फैसले में टाइगर और याकूब की मौत की सजा को बरकरार रखते हुए बाकी दस की सजा को उम्र कैद में बदल दिया.

दाऊद इब्राहीम और टाइगर मेमन को आज तक गिरफ्तार नहीं किया जा सका है. माना जाता है कि वे पाकिस्तान में पनाह लिए हुए हैं. भारत सरकार कई बार पाकिस्तान को इनके खिलाफ सबूत देकर भारत को उन्हें सौंपे जाने की मांग कर चुकी है लेकिन पाकिस्तान ने अब तक इस मामले में सकारात्मक संकेत नहीं दिया है.

  • 1894-कोका कोला की पहली बोतल बिकी। कोका कोला की खोज अटलांटा के डॉ. जॉन पेम्बर्टन ने की थी।
  • 1912-पहली बार कैप्टन अल्बर्ट बेरी ने पैराशूट के जरिए विमान से छलांग लगाई।
  • 1992 - मारिशस गणराज्य घोषित।
  • 1993 - मुंबई में कई बम धमाके हुए और उनमें 300 लोग मारे गए और सैकड़ों से अधिक घायल हो गए।
  • 1998 - प्रथम टर्बोनेट इंजन निर्माता हेन्स जोशिम पाबस्ट वान ओहेन का निधन।
  • 2003 - सर्बिया के प्रधानमंत्री जोरान जिनजिब की बेलग्रेड में हत्या।
  • 2004 - दक्षिण कोरियाई संसद में महाभियोग पारित होने के बाद राष्ट्रपति रोह मू हुन पद से निलम्बित, लाहौर में दसवां दक्षेस लेखक सम्मेलन प्रारम्भ।
  • 2006 - ईराक में सद्दाम हुसैन के विरुद्ध मुकदमे की सुनवाई प्रारम्भ।
  • 2008 -  पुदुचेरी के उपराज्यपाल मुकुट मिथी ने अपने पद से इस्तीफा दिया। केन्द्रीय मंत्रिमण्डल ने नागालैण्ड में राष्ट्रपति शासन हटाने का निर्णय लिया। विश्व की सबसे लम्बी आयु की समझी जाने वाली महिला वारवा सेमेनिकोवा का रूस में 117 वर्ष की आयु में निधन। 
  • 2009 - वायुसेना में आपरेशंस निदेशालय के पहले महानिदेशक के तौर पर एयर मार्शल डी. सी. कुमारिया ने कार्यभार सम्भाला। 
  • 1913 - भारतीय राजनीतिज्ञ यशवंतराव चव्हाण का जन्म हुआ। 
  • 1838  अंग्रेज़ रसायनज्ञ, सर विलियम हेनरी पर्किन का जन्म हुआ। कोलतार से कुनैन का संश्लेषण करने वाले अपने प्रयोगों के समय पर्किन ने मिश्रित एनिलीन तथा सोडियम डाइक्रोमेट को मिलाने पर एक गाढ़ा रंग प्राप्त किया। उसे उन्होंने एनिलीन पर्पल नाम दिया। इन्होंने पहले कृत्रिम रंजक (डाई) का निर्माण किया। (निधन-14 जुलाई 1907)
  • 1832 -फ्रांस के रसायनज्ञ चाल्र्स फ्रीडेल का जन्म हुआ,  जिन्होंने 1877 में अमेरिकी रसायनज्ञ जेम्स मैसन क्राफ्ट के साथ मिलकर रासायनिक अभिक्रिया की खोज की जिसे फ्रीडेल क्राफ्ट अभिक्रिया के नाम से जाना जाता है। इसके अलावा उन्होंने कृत्रिम हीरे के निर्माण पर, तथा कीटोन और एल्डीहाइड पर भी काम किया। (निधन- 20 अप्रैल 1899)
  • 1942-सर विलियम हेनरी ब्रैग का निधन हुआ, जो ठोस अवस्था भौतिकी के शुरुआती वैज्ञानिकों में से एक थे जिन्हें अपने बेटे सर लॉरेन्स ब्रैग के साथ क्रिस्टलों की संरचना बताने के लिए 1915 में भौतिकी का नोबेल पुरस्कार मिला। उन्होंने एक्स-किरणों की तरंगदैध्र्य मापने के लिए एक्स-किरण स्पेक्ट्रोमीटर तैयार किया। (जन्म-2 जुलाई 1862)
  • 1898 - स्विटजऱलैण्ड के गणितज्ञ तथा भौतिकशास्त्री  जोहान जैकब बाल्मर का निधन हुआ, जिन्होंने परमाणु सिद्धान्त के विकास पर आधारित एक सूत्र दिया। बाल्मर का सबसे महत्वपूर्ण कार्य था उनकी स्पेक्ट्रल श्रृंखला जिसमें उन्होंने हाइड्रोजन परमाणु की स्पेक्ट्रमी रेखाओं के तरंगदैध्र्य के सापेक्ष एक सूत्र दिया। (जन्म-1 मई 1825)
  • महत्वपूर्ण दिवस-  केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल की स्थापना दिवस, तिब्बती महिला विकास दिवस, डांडी कूच दिवस (1930)। 

Date : 11-Mar-2019

15 मार्च 1990 को उन्होंने सोवियत संघ के राष्ट्रपति का कार्यभाल अपने जिम्मे लिया था. 1991 तक गोर्बाचेव दोनों पदों पर आसीन थे, लेकिन उनके खिलाफ तख्तापलट के असफल प्रयास के बाद उन्होंने इस्तीफा दे दिया.

गोर्बाचेव को सोवियत संघ में खुलेपन और पुनर्निर्माण की नीति की शुरुआत करने के लिए जाना जाता है. सामाजिक गठन और पारदर्शिता के विचारों के जरिए गोर्बाचेव ने साम्यवाद के ढांचे में बदलाव लाने की कोशिश की.

गोर्बाचेव का जन्म स्टाव्रोपोल क्राई के यूक्रेनी-रूसी परिवार में हुआ था. 1955 में उन्होंने मॉस्को स्टेट यूनिवर्सिटी से कानून की पढ़ाई पूरी की. कॉलेज को दौरान ही गार्बोचेव कम्युनिस्ट पार्टी में शामिल हो गए. 1970 में वह स्टाव्रोपोल क्राई में पार्टी के पहले सचिव नियुक्त हुए. इसके बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़ कर नहीं देखा. 1979 में उन्हें पार्टी की प्रबंधक समिति का सदस्य नियुक्त कर लिया गया. सोवियत नेताओं लियोनिड ब्रेजनेव, यूरी आंद्रोपोव और कोंस्टानटिन चेरनेंनको की मृत्यु के तीन साल के अंदर ही 11 मार्च 1985 को गोर्बाचेव को कम्युनिस्ट पार्टी का महासचिव बनाया गया. छोटी ही उम्र में उन्होंने बड़े नेता के रूप में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सुर्खियां बटोरीं.

अमेरिका के साथ शीत युद्ध को खत्म करने के प्रयासों और रूसी राजनीति में सकारात्मक भूमिका के लिए उन्हें 1990 में नोबेल शांति पुरस्कार से सम्मानित किया गया. उन्हीं के कार्यकाल में बर्लिन की दीवार गिरी और पूर्वी और पश्चिमी जर्मनी एक हुए. 1989 में उन्हें ओटो हान शांति पदक और 1992 में हार्वे पुरस्कार के अलावा कई यूनिवर्सिटियों ने डॉक्ट्रेट की पद्वी से सम्मानित किया.

2008 में गोर्बाचेव ने इंडेपेंडेंट डेमॉक्रेटिक पार्टी बनाकर रूसी राजनीति में वापसी का एलान किया था. 2009 में उन्होंने पार्टी के जल्द ही अस्तित्व में आने की बात कही थी. राजनीतिक पार्टी के गठन की यह गोर्बाचेव की तीसरी कोशिश थी. इससे पहले 2001 में उन्होंने सोशल डेमॉक्रेटिक पार्टी और 2007 में यूनियन ऑफ सोशल डेमॉक्रेट्स द्वारा इस तरह के प्रयास किए थे.

  • 1985 - मिखाईल गोर्बाचेव कोंस्तान्तिन चेरेंकों की मौत के बाद सोवियत संघ के सर्वोच्च नेता चुने गए। जब कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव के रूप में उनका नाम सामने आया तो दुनिया को बड़ा अचरज हुआ क्योंकि इस वक्त गोर्बाचेव महज़ 54 साल के थे। परंपरा के विपरीत गोर्बाचेव ने चेरेंकों की मृत्यु की घोषणा के एक दिन बाद अमरीका के साथ परमाणु हथियारों पर पूर्वनिर्धारित बात को निरस्त नहीं किया। जब गोर्बाचेव ने काम-काज संभाला था तब किसी को अंदाज़ नहीं था कि वो शीत युद्ध के दौरान अमरीका विरोधी महाशक्ति के आखिरी नेता होंगें।  गोर्बाचेव ने रूस और अमरीका के परमाणु हथियारों को कम करने के लिए कई संधियां कीं । बदलते हालातों के बीच गोर्बाचेव को 25 दिसंबर 1991 को इस्तीफ़ा देने के लिए मजबूर होना पड़ा। उसी साल 31 दिसंबर के दिन सोवियत संघ का झंडा आखिरी बार फहराया गया।
  • 2011-  जापान में प्रशांत तट पर तोहोकू के पास समुद्र में रिक्टर पैमाने पर 9 का भूकंप आया था। यह जापान के इतिहास में दर्ज अब तक का सबसे शक्तिशाली भूकंप था। इस भूकंप की वजह से समुद्र में सुनामी उठ खड़ी हुई जिसकी लहरें 133 फीट तक ऊंची थीं। इस भूकंप की वजह से पास ही में स्थित फुकुशिमा दईची परमाणु ऊर्जा संयंत्र को भीषण नुकसान पहुंचा और विकिरण वातावरण में रिसने लगा। इस परमाणु हादसे के कारण इस संयंत्र के चारों तरफ 80 किलोमीटर के दायरे में फैले लोगों को वहां से हटा दिया गया. जापान की नेशनल पुलिस एजेंसी के अनुसार भूकंप और सुनामी के चलते 15 हजार 850 लोग मारे गए थे।
  • 1960-पायनियर-5 को केप कैनेवरल, फ्लोरिडा से सौरमंडल के अध्ययन के लिए अंतरिक्ष में छोड़ा गया।
  • 1920-  अमेरिकी भौतिकशास्त्री निकोलास ब्लोएमबर्गन का जन्म हुआ, जिन्हें विद्युत चुम्बकीय विकिरण के द्रव्य के साथ अन्योन्य क्रिया पर स्पेक्ट्रोस्कोपिक अध्ययन के लिए अमेरिका के आर्थर लियोनार्ड शावलोव तथा स्वीडन के कार्ल मैने बोर्जे सीगबॉन के साथ वर्ष 1981 का नोबेल पुरस्कार मिला।
  • 1730-जर्मन-डैनिश जीवविज्ञानी ओट्टो फ्रेड्रिक मुलर का जन्म हुआ, जिन्होंने जीवाणुओं के प्रेक्षण पर ध्यान दिया। इसके पहले ल्यूवेनहॉक द्वारा ये धुंधले रूप में देखे गए थे। उस समय की सूक्ष्मदर्शियों की क्षमता उतनी अच्छी नहीं थी लेकिन मुलर पहले व्यक्ति थे जिन्होंने जीवाणुओं को स्पष्ट तौर पर देखा तथा उनका वर्गीकरण भी प्रस्तुत किया। (निधन-26 दिसम्बर 1784)
  • 1955 - स्कॉटलैण्ड के जीवाणुविज्ञानी सर ऐलेक्ज़ैन्डर फ्लेमिंग का निधन हुआ,   जिन्होंने 1928 में पेनिसिलिन की खोज की। इंफ्लुएन्ज़ा के विषाणु पर काम करते हुए उन्होंने देखा कि स्टेफाइलोकोकस के पालन की प्लेट में फफूंद अकस्मात ही अपने आप ही उत्पन्न हो गए, और उन्होंने अपने चारों तरफ जीवाणुरहित वृत्त बना लिया था। उन्होंने फिर प्रयोग में पाया कि वह फफूंद, स्टेफाइलोकोकस की वृद्धि को रोकता है। उन्होंने उस पदार्थ का नाम पेनिसिलिन रखा। (जन्म- 6 अगस्त 1881)
  • 1892-स्कॉटलैण्ड के रसायनज्ञ  आर्किबेल्ड स्कॉट कूपर का निधन हुआ, जिन्होंने आगस्ट केकुले से अलग कार्बन की चतु:संयोजकता और कार्बन के अणुओं की एक दूसरे से बंध बनाकर लंबी-लंबी श्रृंखलाएं बनाने की खासियत के बारे में बताया। इससे जैव पदार्थों में पाए जाने वाले यौगिकों के आधार को समझने में मदद मिली। उन्होंने ही तत्वों के प्रतीक में बंध को एक छोटी रेखा से दिखाने की शुरूआत की। (जन्म- 31 मार्च 1831)