इतिहास

Previous123456Next
Posted Date : 19-Jan-2019
  • भारत की पहली और इकलौती महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी आज ही के दिन पहली बार नेता चुनी गईं. कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व को लेकर मोरारजी देसाई के साथ उनका लंबा संघर्ष चला. लेकिन 19 जनवरी को उन्हें नेता चुन लिया गया.
    लाल बहादुर शास्त्री के अचानक निधन के बाद भारत में प्रधानमंत्री चुना जाना था और पूर्व वित्त मंत्री मोरारजी देसाई का नाम सबसे आगे चल रहा था. इस मामले में इंदिरा ने चार दिन पहले तक अपना नाम भी नहीं रखा था. लेकिन आखिरी मौके पर कांग्रेस ने उनके नाम पर मुहर लगाई और तय हुआ कि इंदिरा गांधी भारत की अगली प्रधानमंत्री बनेंगी. हालांकि अपने कैबिनेट की घोषणा करने तक वह प्रधानमंत्री पद नहीं संभाल पाईं. इससे पहले 16 में से 11 भारतीय राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने इंदिरा गांधी के नाम पर हरी झंडी दे दी.
    अंग्रेजी अखबार द गार्डियन के रिपोर्टर ताया जिनकिन ने अगले दिन यानि 20 जनवरी, 1966 को अपनी रिपोर्ट में लिखा, "48 करोड़ लोगों की प्रधानमंत्री के नाते 48 साल की इंदिरा गांधी दुनिया की सबसे ताकतवर महिला बन गई हैं. हालांकि सीलोन (आज के श्रीलंका) की श्रीमती बंदारनायके ने दुनिया की पहली महिला प्रधानमंत्री बनने में उनसे बाजी मार रखी है."
    इस रिपोर्ट में लिखा गया, "उन्हें भारी बहुमत से कांग्रेस पार्टी का नेता चुना गया और उन्होंने मोरारजी देसाई को पराजित कर दिया. पूर्व वित्त मंत्री देसाई को कभी नेहरू का तार्किक उत्तराधिकारी माना जाता था लेकिन 20 महीने पहले उन्हें श्री शास्त्री से भी शिकस्त खानी पड़ी थी."
    उस वक्त रेस में गुलजारीलाल नंदा का भी नाम आगे चल रहा था. लेकिन जब उन्हें पता चला कि इंदिरा गांधी भी इस रेस में हैं, तो नंदा ने अपना नाम वापस ले लिया. औपचारिक तौर पर इंदिरा गांधी ने 24 जनवरी को पद भार संभाला.

    • 1649 - इंग्लैंड नरेश चाल्र्स प्रथम  के खिलाफ मुकदमा शुरू हुआ।
    • 1795 - फ्रांसीसी फ़ौजों ने हॉलैंड को तबाह किया।
    • 1894-प्रोफेसर जेम्स डेवर ने द्रव वायु की कई खूबियों को दिखाया। बाद में उन्होंने रॉयल संस्थान में ठोस वायु को प्रदर्शित किया। ।
    • 1915 -पेरिस के जॉर्ज क्लॉड को सिस्टम ऑफ इल्युमिनेटिंग बाई ल्यूमिनेसेन्ट ट्यूब शीर्षक से एक अमेरिकी पेटेन्ट जारी किया गया। इसके बाद चमकने वाले विज्ञापनों का दौर शुरू हुआ।
    • 1918 - बोलेविको ने पेट्रोगाड स्थित संविधान सभा को भंग कर दिया।
    • 1942 - द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान जापान ने बर्मा पर कब्ज़ा किया।
    • 1945 - सोवियत सेनाओं ने द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान पोलैंड की लोद्ज यहूदी बस्ती को नाज़ी पहरे से आज़ाद कराया। इस बस्ती के लाखों यहूदी निवासियों को हिटलर के आदेश पर यातनागृहों में मौत के घाट उतार दिया गया था।
    • 1956- सूडान अरब लीग का नौंवा सदस्य बना।
    • 1966 - इंदिरा गांधी को भारत का तीसरा प्रधानमंत्री चुना गया।
    • 1986 - पहला कम्प्यूटर वायरस सी.ब्रेन सक्रिय किया गया।
    • 1995 - चेचन्या के अलगाववादी राष्ट्रपति भवन से भाग निकले और रूसी तोपख़ाने ने उसे नष्ट कर दिया।
    • 2005 - सानिया मिजऱ्ा लॉन टेनिस के  आस्ट्रेलिया ओपन  के तीसरे दौर में पहुंचने वाली पहली भारतीय महिला बनीं।
    • 2007 - जवाहर लाल नेहरू पुरस्कार ओमान के सुल्तान काबूस बिन सईद बिन तैमूर अल सईद को प्रदान करने का फैसला।
    • 2008- सार्वजनिक क्षेत्र की पेट्रोलियम कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन ने ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल इंडिया के साथ समझौता किया।
    • 2010- पश्चिम बंगाल बिहार और उड़ीसा ने बीटी बैंगन का विरोध किया। देश के कुल बैंगन उत्पादन में इन तीन राज्यों का 60 प्रतिशत हिस्सा है। इसमें पश्चिम बंगाल 30 प्रतिशत, उड़ीसा 20 प्रतिशत व बिहार 11 प्रतिशत हिस्सेदारी रखता है। 
    • 1935 - बंगाली फि़ल्म अभिनेता सौमित्र चटर्जी का जन्म हुआ। 
    • 1905 -नोबेल पुरस्कार विजेता रबीन्द्रनाथ टैगोर के पिता और भारतीय चिंतक, विचारक  देवेन्द्र नाथ टैगोर  का निधन।
    • 1990 - भारतीय विचारक और धर्मगुरु आचार्य रजनीश का पुणे में निधन।
    • 1995 -  हिन्दी साहित्यकार उपेंद्रनाथ अश्क का निधन हुआ। 
    • 1736 -  स्कॉटलैंड के उपकरण निर्माता और आविष्कारक जेम्स वॉट का जन्म हुआ जिनके भाप इंजन ने यूरोप में औद्योगिक क्रांति की नींव रखी। निधन- 25 अगस्त 1819)
    • 1813 -अंग्रेज़ अन्वेषक और इंजीनियर  सर हेनरी बेसेमर का जन्म हुआ जिन्होंने कम खर्चे में इस्पात का विनिर्माण करने की पहली प्रक्रिया का निर्माण किया, और बेसेमर कन्वर्टर के विकास में अग्रणी भूमिका निभायी। कन्वर्टर पिघले लोहे में से अशुद्धियां दूर करता है। (निधन- 15 मार्च 1898)
    • 1878-  फ्रांसीसी वैज्ञानिक  हेनरी विक्टर रेग्नॉल्ट का निधन हुआ जो गैस की विशेषताओं पर किए गए अपने कार्य के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने ठोस, द्रव तथा गैस, तीनों की विशिष्ट ऊष्मा पर प्रयोग किए। (जन्म-21 जुलाई 1810)।
    ...
  •  


Posted Date : 18-Jan-2019
  • चोट लग जाने पर डॉक्टर एक्स रे कराने की सलाह देते हैं, लेकिन 18 जनवरी 1896 से पहले यह काम मुमकिन नहीं था.1896 में आज ही के दिन पहली बार एक्स रे मशीन को दुनिया के सामने लाया गया. एक्स रे मशीन चिकित्सा के क्षेत्र में क्रांतिकारी अविष्कार की तरह सामने आई. इसमें एक्स किरणों के इलेक्ट्रोमैग्नेटिक विकिरण की तकनीक का इस्तेमाल होता है. इस विकिरण की मदद से शरीर के भीतर हड्डियों की तस्वीर ली जाती है. एक्स किरणों का इस्तेमाल इस तरह की चिकित्सीय जांच के अलावा स्टेरिलाइजेशन और फ्लोरेसेंस में भी होता है.
    एक्स रे की खोज ब्रिटेन के वैज्ञानिक विलियम क्रुक्स की इलेक्ट्रिकल डिसचार्ज ट्यूब की मदद से हुई. 1895 में विलहेल्म रोएंटगेन ने क्रुक्स ट्यूब पर प्रयोग के दौरान एक्स किरणों के विकिरण को देखा. पहली एक्स रे तस्वीर रोएंटगेन ने अपनी पत्नी के हाथ की निकाली. इस तस्वीर में हड्डियों के साथ अंगूठी की भी आकृति उभर कर सामने आई. इससे काफी कुछ स्पष्ट हो गया. 1896 में एचएल स्मिथ ने एक्स किरणों के विकिरण की तकनीक का इस्तेमाल कर पहली एक्स रे मशीन बनाकर 18 जनवरी को दुनिया के सामने पेश की.
    .1940 और 1950 के दशक में एक्स रे मशीन का इस्तेमाल जूतों की दुकानों में माप के लिए भी होता था. शीघ्र ही इसके विपरीत प्रभावों का पता चलने पर इनका इस्तेमाल बंद हो गया. सबसे पहले इसके ऐसे इस्तेमाल पर रोक अमेरिकी प्रांत पेनसिल्वेनिया में 1957 में लगी थी.
    .1670 - हेनरी मोरगन ने पानामा पर कब्ज़ा किया।
    .1778 - जेम्स कुक हवाई द्वीपसमूह की खोज करने वाले पहले यूरोपियन बने। इसका नाम उन्होंने सेंडविच आइलैंड रखा।
    .1896 - एक्सरे मशीन का पहला प्रदर्शन किया गया।
    .1969 -पहली बार ऐरीज़ोना विश्वविद्यालय के खगोलशास्त्रियों ने पल्सर तारे की पहचान की।
    .1994 -अमेरिका के ऊर्जा विभाग ने सौर पैनल लगाने की घोषणा की जो पहले के सौर पैनलों से दुगुनी क्षमता के थे।
    .2003 - लीबिया संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग का अध्यक्ष नियुक्त।
    .2005 -सुप्रीम कोर्ट ने सांसदों को पेट्रोल पम्प आवंटित नहीं करने की सिफ़ारिश की। तीन कैरेबियाई देशों त्रिनिदाद-टोबेगो, ग्रेनेडा, सेंट विसेंट व ग्रेंडाइस के प्रधानमंत्रियों ने साथ मिलकर राजनीतिक एकीकरण का प्रस्ताव रखा। 
    .2006 - संयुक्त राज्य अमेरिका में इच्छा मृत्यु पर सुप्रीम कोर्ट ने मुहर लगायी।
    .1841 - महाराष्ट्र के विद्वान  महादेव गोविन्द रानाडे का जन्म हुआ।
    .1942 - मुक्केबाज़ मुहम्मद अली का जन्म हुआ।
    .1947 - प्रसिद्ध भारतीय गायक और अभिनेता कुंदन लाल सहगल का निधन जालंधर में हुआ।
    .1955 -भारत के प्रसिद्ध कहानीकार, लेखक और पत्रकार सआदत हसन मंटो का निधन हुआ। 
    .2003 -हिन्दी भाषा के प्रसिद्ध कवि और लेखक हरिवंश राय बच्चन  का निधन 
    .1933 -भौतिकशास्त्री, अभियन्ता और कोलाहल न्यूनन प्रणाली के आविष्कारक रे डॉल्बी का जन्म हुआ। वे कार में बजने वाले कैसेट से लेकर सिनेमाघरों की सराउन्ड साउन्ड  की नई पद्धतियों को सामने लाने के लिए जाने जाते हैं।
    .1861-जर्मन रसायनज्ञ हेन्ज़ गोल्डश्मिट का जन्म हुआ,  जिन्होंने थर्माइट का आविष्कार किया। यह प्रणाली अब रेल की पटरियों तथा ट्रॉम रेल की वेल्डिंग के लिए विश्वप्रसिद्ध है। पहला वेल्ड किया हुआ ट्रैक ऐसेन में रखा गया। यह तरीका  गोल्डश्मिट की न्यूनन प्रक्रिया से विकसित हुआ जिसकी उन्होंने कार्बन मुक्त धातु का निर्माण करते समय जांच की।  (निधन-25 मई 1923)
    .1971- अमेरिकी महिला सिविल इंजीनियर, वास्तुकार  नोरा स्टेन्टन ब्लैश बार्ने का निधन हुआ। 1905 में वह अमेरिका की पहली महिला सिविल इंजीनियर बनीं। (जन्म-30 सितम्बर .1883)
    .1908 - डच नेत्र-रोग विशेषज्ञ  हर्मन स्नेलेन का निधन हुआ, जिनका स्नेलेन चार्ट, जो काली रेखाओं से बना था, आंखों की तीक्ष्णता ज्ञात करने के काम आता है। (जन्म 19 फरवरी .1834)।

     

    ...
  •  


Posted Date : 17-Jan-2019
  • संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद दुनिया की सबसे ताकतवर संस्था है. वह अंतरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा पर फैसले करती है. उसकी पहली बैठक आज ही के दिन 1946 में हुई थी.
    सुरक्षा परिषद संयुक्त राष्ट्र के छह प्रमुख अंगों में से एक है. विश्व में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए सुरक्षा परिषद के पास अहम कदम उठाने और दण्ड देने का अधिकार भी है. सुरक्षा परिषद शांति और सुरक्षा से जुड़े मसलों पर विचार करता है, प्रस्ताव पास करता है और गलती कर रहे देशों को दंड भी देता है. ताजा उदाहरण विवादास्पद परणामु कार्यक्रम के लिए ईरान पर आर्थिक प्रतिबंध लगाना है.
    संयुक्त राष्ट्र संघ की ही तरह उसके सर्वोच्च अंग सुरक्षा परिषद का गठन भी द्वितीय विश्व युद्ध के अंत में शांति व्यवस्था पर नियंत्रण के मकसद से हुआ था. हालांकि शुरुआती सालों में अमेरिका और सोवियत संघ के बीच शीत युद्ध के कारण इसकी भूमिका नगण्य ही रही लेकिन सोवियत संघ के विघटन के बाद इसकी ताकत नाटकीय ढंग से बढ़ती दिखाई दी. कुवैत, नामिबिया, कंबोडिया, बोस्निया, रवांडा, सोमालिया, सूडान और कांगो गणराज्य में संयुक्त राष्ट्र को शांति कार्यक्रमों में अलग अलग स्तर की सफलता मिली.
    सुरक्षा परिषद में 15 सदस्य हैं. इनमें पांच स्थाई सदस्य (संयुक्त राज्य अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस, रूस और चीन) हैं और दस अस्थायी सदस्य. इस समय सुरक्षा परिषद के दुनिया भर में 15 अलग अलग शांति कार्यक्रमों पर करीब सवा लाख शांतिरक्षक सैनिक तैनात हैं.
    शीत युद्ध की समाप्ति के बाद संयुक्त राष्ट्र में सुधार करने और विकासशील देशों के बढ़ते प्रभाव को फैसला लेने की प्रक्रिया में शामिल करने की मांग की जा रही है. सुरक्षा परिषद का विस्तार कर उसमें प्रमुख विकासशील देशों को शामिल करने की मांग भी है. भारत के अलावा जर्मनी, जापान और ब्राजील ने भी सुरक्षा परिषद की स्थाई सीटों पर दावा जताया है.

    .1882 -थॉमस एल्वा एडिसन के टेलीफोन में किए गए नए सुधार के लिए पेटेन्ट जारी किया गया  एडिसन से इसे कार्बन माइक्रोफोन कहा।
    .1941 - सुभाषचन्द्र बोस ब्रिटिश पहरे से चुपचाप ढंग से निकलकर जर्मनी के लिए रवाना हुए।
    .1945 - द्वितीय विश्वयुद्ध की समाप्ति के दिनों में सोवियत सेना का पोलैण्ड की राजधानी वारसा में आगमन।
    .1961 - जनवादी कोंगो के प्रधानमंत्री पेट्रिस लुमुम्बा की देश के  नए सैन्य शासकों ने हत्या कर दी।
    .2007 - आस्ट्रेलिया के क्रिकेटर माइकल बेवन ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लिया।
    .2008-  केन्द्र सरकार ने विकलांगों को नौकरियां देने के लिए 1800 करोड़ रुपये की एक योजना को मंज़ूरी प्रदान की। मेडागास्कर में हिन्द महासागर के ताड़ के पेड़ की नई प्रजाति मिली। 
    .2010- भारत के उच्चतम न्यायालय ने ग़ैरक़ानूनी तरीक़े से हमला किए जाने की स्थिति में आत्मरक्षा के अधिकार की प्रो-ऐक्टिव परिभाषा देते हुए कहा है कि क़ानून का पालन करने वाले लोगों को कायर बनकर रहने की ज़रूरत नहीं है। उ 
    .1863 - आधुनिक रंगमंच को अपनी यथार्थवादी शैली से नया रूप देने वाले महान रूसी रंगकर्मी  कोंस्तेंतिन स्तानिस्लावस्की  का जन्म हुआ।
    .1888 - भारत के प्रसिद्ध साहित्यकार, निबन्धकार और व्यंग्यकार बाबू गुलाबराय का जन्म हुआ। 
    .1945 - पटकथा लेखक और हिन्दी फि़ल्मों के गीतकार जावेद अख्तर का जन्म।
    .1918 - प्रसिद्ध फि़ल्म निर्माता-निर्देशक कमाल अमरोही का जन्म हुआ। 
    .2010- भारत के प्रसिद्ध माक्र्सवादी राजनीतिज्ञ ज्योति बसु का निधन। 
    .1834 -जर्मन वैज्ञानिक ऑगस्ट वाइज़मैन का जन्म हुआ,  जो कि आनुवंशिकता-विज्ञान के संस्थापकों में माने जाते हैं। उन्हें विशेष कर के उपार्जित लक्षणों की वंशानुगति  तथा  जर्मप्लाज़्म  सिद्धान्तों के लिए जाना जाता है।  (निधन- 5 नवम्बर 1914)
    .1706-अमेरिकी मुद्रक और प्रकाशक, लेखक, वैज्ञानिक तथा राजनयिक बेन्जामिन फ्रैंकलिन का जन्म हुआ। विद्युत पर किए गए अपने व्यापक प्रयोगों के लिए प्रसिद्ध। तडि़त चालक और बाइफोकल चश्में उन्हीं के विचार थे। (निधन-17 अप्रैल 1790)
    .1910-जर्मन भौतिकशास्त्री  हैनरिक विल्हेम ज्यॉर्ज कोह्लरॉश का निधन हुआ, जिन्होंने एलेक्ट्रोलाइट्स की विशेषताओं के बारे में पड़ताल की। एलेक्ट्रोलाइट्स वे पदार्थ होते हैं जो विलयन में आयनों के स्थानांतरण द्वारा विद्युत का संचालन करते हैं। उन्होंने एलेक्ट्रोलाइट्स के व्यवहार को समझने में योगदान दिया। (जन्म 14 अक्टूबर 1840)
    .1890 -स्कॉटिश अमेरिकी वैज्ञानिक  पीटर हेन्डरसन का निधन हुआ, जो अमेरिकी बाग़वानी के जनक माने जाते हैं। उन्होंने 1847 में 500 डॉलर की पूंजी के साथ बाग़वानी की शुरुआत की। उन्होंने व्यावसायिक फूलों की खेती पर प्रैक्टिकल फ्लोरीकल्चर (1868) नामक पुस्तक लिखी। (जन्म 9 जून 1822)।

     

    ...
  •  


Posted Date : 16-Jan-2019
  • आज ही के दिन 1761 में अंग्रेजों ने पांडिचेरी को फ्रांस के कब्जे से छीन लिया था. फ्रांस के साथ यह लड़ाई कर्नाटक युद्ध के अंतिम चरण में हुई.
    कर्नाटक के तीन युद्ध हुए. तीनों 1746 से 1763 के बीच हुए. अगस्त 1639 को ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी ने विजयनगर के राजा पेडा वेंकट राय से कोरोमंडल तट चंद्रगिरी में कुछ जमीन खरीदी. वेंकट राय ने अंग्रेज व्यापारियों को यहां एक फैक्ट्री और गोदाम बनाने की अनुमति दी थी. एक साल बाद ब्रिटिश व्यापारियों ने यहां सेंट जॉर्ज किला बनवाया जो औपनिवेशिक गतिविधियों का गढ़ बन गया. लेकिन प्रथम कर्नाटक युद्ध में इंग्लैंड को हराकर फ्रांसीसी फौजों ने 1746 में मद्रास और सेंट जॉर्ज के किले पर अपना कब्जा जमा लिया. इसके बाद अगले दो सालों तक तमाम कोशिशों के बाद भी वे सेंट डेविड किले को अंग्रेजों से नहीं छीन सके. प्रथम युद्ध के अंत में ब्रितानी कंपनी ने 1749 में एक्स ला शापेल सन्धि के तहत मद्रास को हासिल कर लिया.
    तत्कालीन पांडिचेरी का फ्रांसीसी गवर्नर डूप्ले था. कर्नाटक के प्रथम युद्ध की सफलता से डूप्ले की महत्वाकांक्षाएं बढ़ गई थीं. द्वितीय युद्ध में फ्रांस ने आसफजाह के खिलाफ दक्कन की सूबेदारी के लिए मुजफ्फरजंग का साथ दिया और उसके पक्ष की जीत भी हुई. फ्रांसीसियों को इस जीत से काफी फायदा मिला और उत्तरी सरकार के कुछ क्षेत्र मिल गए. इससे उनकी हिम्मत काफी बढ़ गई थी. लेकिन कर्नाटक के द्वितीय युद्द के अंत में 1755 में इंग्लैंड और फ्रांस में ‘पांडिचेरी की सन्धि' हुई जिसके अनुसार दोनों पक्ष युद्ध विराम पर सहमत हो गए. कुल मिलाकर इस युद्ध में अंग्रेजों की स्थिति मजबूत रही.
    कर्नाटक के तीसरे सप्तवर्षीय (1756-1763) युद्ध में इंगलैंड तथा फ्रांस में फिर से ठन गई थी. इस बार लड़ाई कर्नाटक की सीमा लांघ कर बंगाल तक में फैल गई. 1757 में फ्रांसीसी सरकार ने काउंट लाली को इस संघर्ष से निपटने के लिए भारत भेजा. दूसरी ओर बंगाल पर कब्जा करके अपार धन अर्जित कर लेने के कारण अंग्रेज दक्कन को जीत पाने में सफल रहे. लाली ने 1758 में ‘फोर्ट सेंट डेविड' को तो अपने अधिकार में ले लिया, परन्तु 1760 में अंग्रेजी सेना ने सर आयरकूट के नेतृत्व में वाडिवाश की लड़ाई में फ्रांसीसियों को बुरी तरह से मात दी. 16 जनवरी 1761 को अंग्रेजों ने फ्रांसीसियों से पांडिचेरी को छीन लिया.

    .1547 - इवान चतुर्थ इवान द टैरिबल रूस का जार बना।
    .1556 - फि़लिप द्वितीय स्पेन के सम्राट बने।
    .1581 - ब्रिटिश संसद ने रोमन कैथोलिक मत को ग़ैर क़ानूनी घोषित किया।
    .1761- पांडेचेरी पर से अंग्रेज़ों ने फ्रांसीसियों का अधिकार हटा दिया।
    .1920 - लीग ऑफ़ नेशंस ने पेरिस में अपनी पहली काउंसिल मीटिंग की।
    .1969 - सोवियत अंतरिक्ष यानों सोयुज 4 और सोयुज 5 के बीच पहली बार अंतरिक्ष में सदस्यों का आदान-प्रदान हुआ।
    .1978- नासा ने 35 लोगों के नाम अंतरिक्ष यान में उड़ान भरने के लिए दिए जिनमें पहली महिला अंतरिक्ष यात्री सैली के. राइड तथा अमेरिका के पहले अश्वेत अंतरिक्ष यात्री ग्युअन एस. ब्लफर्ड जूनियर भी शामिल थे।
    .1991 - पहला खाड़ी युद्ध (अमेरिका की इराक के खिलाफ सैन्य कार्रवाई शुरू)।
    .1992 - भारत एवं ब्रिटेन के बीच प्रत्यर्पण संधि।
    .1996 - हब्बल अंतरिक्ष दूरबीन के वैज्ञानिकों ने अंतरिक्ष में 100 से अधिक नई आकाशगंगा को खोज निकालने का दावा किया।
    .2003 - भारतीय मूल की कल्पना चावला दूसरी अंतरिक्ष यात्रा पर रवाना।
    .2006 - समाजवादी नेता माइकल बैशलेट चिली की प्रथम महिला राष्ट्रपति चुनी गयीं।
    .2008 - सेतुसमुद्रम परियोजना पर योजना का मसौदा पेश करने के लिए सर्वोच्च न्यायालय ने केन्द्र सरकार को दो हफ्ते का समय दिया।
    .1926 - संगीतकार ओ. पी. नैय्यर का जन्म हुआ। 
    .1901 - भारत के प्रसिद्ध राष्ट्रवादी, समाज सुधारक, विद्वान और न्यायविद महादेव गोविंद  रानाडे का निधन हुआ। 
    .1938 -बांग्ला भाषा के अमर कथाशिल्पी और सुप्रसिद्ध उपन्यासकार शरत चंद्र चट्टोपाध्याय का निधन हुआ। 
    .1932 -अमेरिकी जन्त ुविज्ञानी ड्यान फॉज़ी का जन्म हुआ, जिन्होंने रवान्डा (मध्य अफ्रीका) के पहाड़ी तथा जंगली गोरिल्लों पर बरसों तक अध्ययन किया। उन्होंने रवान्डा में कैरिसोके अनुसंधान केन्द्र स्थापित किया तथा वर्ष 1967-1980 तक उसका मार्गदर्शन किया।  (निधन- 26 दिसम्बर 1985) 
    .1767-  स्वीडिश रसायनशास्त्री  ऐन्डर्स गुस्ताव एकेबर्ग का जन्म हुआ, जिन्होंने 1802 में नए तत्व टैन्टेलम की खोज की। उन्होंने उप्पसला विश्वविद्यालय से स्नातक करने के उपरान्त वहीं पर शिक्षण कार्य किया जहां उन्होंने ऐंटनी-लॉरेंट लेवॉइजि़ए के रसायनशास्त्र से विद्यार्थियों को परिचित कराया। उन्होंने अपने विद्यार्थी जॉन्स जैकब बजऱ्ीलियस की प्रतिभा को निखारने में बहुत योगदान दिया जो कि रसायन विज्ञान को दिया हुआ यह उनका अप्रतिम योगदान है। (निधन-11 फरवरी 1813)
    .1967-अमेरिकी भौतिकशास्त्री और वेन डी ग्राफ जनरेटर के आविष्कारक रॉबर्ट जेमिसन वेन डी ग्राफ का निधन हुआ।  वेन डी ग्राफ  एक प्रकार का उच्च वोल्टेज इलेक्ट्रोस्टैटिक जेनरेटर होता है जो नाभिकीय अनुसंधान में कण त्वरक के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है। (जन्म 20 दिसम्बर 1901)
    .1874- जर्मन कोशिका वैज्ञानिक,  मैक्स (जोहान सिगिमन्ड) शल्ट्ज़ का निधन हुआ, जो खासकर सूक्ष्मदर्शी ऐनॉटॉमी में अपने अनुसंधान के लिए जाने जाते हैं। इन्होंने कोशिका की अवधारणा में सुधार किया। शल्ट्ज़ ने प्रोटोज़ोआ के बारे में बताया। (जन्म 25 मार्च 1825)

     

    ...
  •  


Posted Date : 15-Jan-2019

  • आज के दिन 1934 में भारत और नेपाल ने अब तक का सबसे खतरनाक भूकंप झेला. 8.7 तीव्रता वाले इस भूकंप में करीब 11,000 जानें गईं और भारी नुकसान हुआ.
    भारतीय राज्य बिहार और पड़ोसी नेपाल की सीमा के पास के इलाके में आए भूकंप ने उत्तरी बिहार और नेपाल में भारी तबाही मचाई. भूकंप का केंद्र पूर्वी नेपाल से करीब 10 किलोमीटर दूर माउंट एवरेस्ट के दक्षिण में था. पूर्व में पूर्णिया से पश्चिम में चंपारन तक करीब 320 किलोमीटर के क्षेत्र, और उत्तर में काठमांडू से दक्षिण में मुंगेर तक इसका प्रभाव देखने को मिला. यह भारतीय प्रायद्वीप में अब तक का सबसे खतरनाक भूकंप माना जाता है.
    नेपाल में काठमांडू, भक्तापुर और पाटन को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ और सडक़ों में गहरी दरारें पड़ गईं, हालांकि प्रसिद्ध मंदिर पशुपतिनाथ को ज्यादा नुकसान नहीं हुआ. इस भूकंप में मुजफ्फरपुर और मुंगेर शहर पूरी तरह बर्बाद हो गए और मोतीहारी और दरभंगा शहरों में जान माल का भारी नुकसान हुआ.
    भूकंप का असर मुंबई, असम और पंजाब में भी महसूस किया गया. भूकंप केंद्र से करीब 650 किलोमीटर दूर कोलकाता में भी कई इमारतों में झटके महसूस किए गए. यहां तक कि कोलकाता के सेंट पॉल कैथीड्रल की मीनार को भी क्षति पहुंची. सिर्फ बिहार में ही करीब 7,500 लोगों के मरने की बात सामने आई. महात्मा गांधी ने भी इस घटना पर शोक जताया था और प्रभावित परिवारों से मिलने बिहार गए थे.

    .1934- भारत के पूर्वी राज्य बिहार और पड़ोसी देश नेपाल की सीमा के पास 15 जनवरी 1934 को आए भयानक भूकंप में 11 हजार से ज़्यादा लोगों की मौत हो गई थी। रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 8.3 नापी गई थी। भारत के मौसम विभाग के मुताबिक भूकंप दोपहर में कऱीब दो बजे आया था। वहीं नेपाल के तीन प्रमुख शहरों, काठमांडू, भटगांव और पाटन में भी कई इमारतें ढह गई और सडक़ों में दरारें पैदा हो गईं।
    .1973-अमरीकी राष्ट्रपति निक्सन ने उत्तरी वियतनाम पर की जा रही बमबारी रोकने के आदेश दे दिए थे। पेरिस में उत्तरी और दक्षिणी वियतनाम के साथ अमरीका के प्रतिनिधियों की वार्ता के बाद ये फ़ैसला किया गया। इसके बाद उत्तरी वियतनाम पर हमले तो रोक दिए गए, लेकिन दक्षिणी वियतनाम, लाओस और कम्बोडिया पर हमले जारी रहे। अगले ढाई महीने में राष्ट्रपति निक्सन ने शांति समझौते का ऐलान कर दिया और अमरीकी सेना वियतनाम से लौट गई। वियतनाम में लड़ाई वर्ष 1955 में शुरू हुई थी और अमरीका की सेना का पूरा दख़ल वर्ष 1965 से हुआ। इस लड़ाई में 45 हजार  से भी ज़्यादा अमरीकी सैनिक, दक्षिणी वियतनाम के कऱीब पौने दो लाख सैनिक और उत्तरी वियतनाम के नौ लाख से ज़्यादा सैनिक मारे गए। आखिरकार अप्रैल 1975 के दिन उत्तरी और दक्षिणी वियतनाम एक हो गया।
     .1998 - ढाका में त्रिदेशीय भारत, बांग्लादेश तथा पाकिस्तान का शिखर सम्मेलन प्रारम्भ।
    .1999 - एनी फ्रैंक घोषणा पत्र  पर हस्ताक्षर करने वाले प्रथम विश्व नेता संयुक्त राष्ट्रसंघ के महासचिव कोफी अन्नान बने, पाकिस्तान में सभी नागरिक प्रशासनिक कार्य सेना को हस्तांतरित।
    .2006 - ब्रिटिश हाईकोर्ट ने क्वात्रोच्चि के दो बैंक खातों पर से प्रतिबंध हटाने का आदेश दिया।
    .2008 - सरकारी क्षेत्र की कंपनी गैस अथोरिटी ऑफ़ इण्डिया लिमिटेड (गेल) के बोर्ड ने महाराष्ट्र के दाभोल से बंगलुरु तक गैस पाइप लाइन बिछाने के प्रोजेक्ट को मंज़ूरी दी। उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री मायावती ने गंगा एक्सप्रेस वे परियोजना  का शिलान्यास किया। खगोलविदों ने धरती से 25 करोड़ प्रकाश वर्ष दूर की आकाश गंगा के जीवन के लिये जरूरी तत्व खोजने का दावा किया। 
    .2009 - दादा साहेब फाल्के पुरस्कार विजेता और प्रसिद्ध फि़ल्म निर्माता तपन सिन्हा का निधन। फि़ल्म स्लमडॉग मिलेनियर को बाफ्टा पुरस्कार की श्रेणियों में स्थान मिला।
    .2010 - तीन घंटे से भी अधिक की अवधि वाला शताब्दी का सबसे लंबा सूर्य ग्रहण लगा। भारत में यह 11 बजकर 06 मिनट पर शुरू होकर 3 बजकर पांच मिनट पर खत्म हुआ। दोपहर .1.15 पर सूर्य ग्रहण अपने चरम पर था। यह वलयाकार सूर्य ग्रहण था। इसके कारण ऊपरी वातावरण पर तथा पृथ्वी के वातावरण पर पडऩे वाले प्रभावों के अध्ययन के लिए भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने छह रॉकेटों का प्रक्षेपण किया। 
    .1998 - भारत के भूतपूर्व कार्यकारी प्रधानमंत्री गुलज़ारीलाल नन्दा  का निधन हुआ। 
    महत्वपूर्ण दिवस-  थल सेना दिवस।

    ...
  •  


Posted Date : 14-Jan-2019
  • प्रसिद्ध वेदांती, संगीतज्ञ, दार्शनिक और नोबेल शांति पुरस्कार विजेता अलबर्ट श्वाइत्सर का जन्म 14 जनवरी, 1875 को हुआ था. श्वाइत्सर एल्सेस प्रांत में पैदा हुए जो तब जर्मनी में था लेकिन बाद में फ्रांस का हिस्सा बना.
    अलबर्ट श्वाइत्सर ने दर्शन और थीयोलॉजी की पढ़ाई स्ट्रासबुर्ग, पेरिस और बर्लिन की यूनिवर्सिटी में की. एक पादरी के रूप में काम करने के बाद उन्होंने मेडिकल स्कूल में दाखिला लिया. इस ट्रेनिंग के बाद वह अफ्रीका में धर्म-प्रचारक बनना चाहते थे. श्वाइत्सर को संगीत की भी खूब समझ थी और वे अपनी पढ़ाई का खर्च निकालने के लिए कॉन्सर्ट में संगीत आयोजन कर पैसे कमाया करते थे. जब तक उनकी मेडिकल की पढ़ाई पूरी हुई और एमडी की डिग्री मिली, उनकी कई किताबें प्रकाशित हो चुकी थीं. इनमें ईसा मसीह पर उनकी प्रसिद्ध किताब 'दि क्वेस्ट' और संगीतकार योहान सेबास्टियन बाख पर लिखी एक किताब भी शामिल हैं.
    मेडिकल की पढ़ाई पूरी कर श्वाइत्सर अपनी पत्नी समेत अफ्रीका चले गए. लैम्बारिनी में उन्होंने एक अस्पताल की स्थापना की. कुछ ही समय बाद प्रथम विश्व युद्ध छिड़ गया. जर्मनी में पैदा हुए श्वाइत्सर को युद्ध बंधक के रूप में एक फ्रेंच नजरबंदी कैंप में भेज दिया गया. 1918 में वहां से छोड़े जाने के बाद वे 1924 में लैम्बारिनी वापस लौटे. अगले तीन दशकों तक वह यूरोप भर में जगह जगह संस्कृति और नैतिकता के विषयों पर भाषण देते रहे. उनका दर्शन एक मूल सिद्धांत पर आधारित था और वह इसे "जीवन के सम्मान" का सिद्धांत कहते थे. विचार यह था कि हर जीवन को सम्मान और प्यार मिलना चाहिए. सभी इंसानों को ब्रह्मांड और उसकी सभी कृतियों के साथ व्यक्तिगत और आध्यात्मिक संबंध रखना चाहिए. श्वाइत्सर के अनुसार जीवन के प्रति श्रद्धा रखने से सभी इंसान अपने आप एक ऐसा जीवन जीने लगेंगे जो दूसरों की सेवा में समर्पित होगा.
    अफ्रीका में मरीजों की सेवा के दौरान उन्होंने कुष्ठ और दूसरे कई तरह के खतरनाक रोगों का इलाज किया. 1952 में अपने इन्हीं कामों के लिए उन्हें नोबेल शांति पुरस्कार से सम्मानित किया गया. इनाम की राशि का इसतेमाल भी उन्होंने कुष्ठरोगियों की बेहतरी के लिए ही किया. 1950 से लेकर 1965 में अपने देहांत तक श्वाइत्सर न्यूक्लियर टेस्ट और न्यूक्लियर हथियारों के विरूद्ध लिखते रहे.

    • 1514 - पोप लियो एक्स ने दासता के विरुद्ध आदेश पारित किया।
    • 1758 - ईस्ट इंडिया कंपनी को भारत में लड़ाई में जीती हुई संपत्ति अपने पास रखने का अधिकार इंग्लैंड नरेश ने दिया।
    • 1760 - फ्रांसीसी जनरल लेली ने पांडिचेरी अंग्रेज़ों के हवाले कर दिया।
    • 1761 - पानीपत की तीसरी लड़ाई मराठों और अहमदशाह अब्दाली के बीच हुई। भारत में मराठा शासकों और अहमदशाह दुर्रानी के बीच पानीपत का तीसरा युद्ध हुआ। 
    • 1878-ऐलेक्ज़ेन्डर ग्राहम बेल के पहले टेलीफोन का प्रदर्शन रानी विक्टोरिया के समक्ष उनके ऑस्बॉर्न हाउस एस्टेट में किया गया। बेल ने 1876 में टेलिफोन को पेटेन्ट किया। रानी उनके टेलीफोन से बहुत प्रभावित हुईं और उन्होंने ऑस्बॉर्न हाउस तथा बकिंघम पैलेस के बीच में निजी लाइन बिछाने का आदेश दिया।
    • 1994 - यूक्रेन, रूस तथा संयुक्त राज्य अमरीका द्वारा मास्को में परमाणु अस्त्र कम करने संबंधी समझौते पर हस्ताक्षर।
    • 1999 - भारत का पहला अत्याधुनिक  हवाई यातायात परिसर, दिल्ली राष्ट्र को समर्पित किया गया।   
    • 2007 - नेपाल में अंतरिम संविधान को मंजूरी मिली।
    • 1551 - मुग़ल काल में अकबर के नवरत्नों में से एक अबुल फज़़ल का जन्म हुआ।  
    • 1926 - भारत की सामाजिक कार्यकर्ता और लेखिका महाश्वेता देवी  का जन्म हुआ। 
    • 1905 -हिन्दी और मराठी फि़ल्मों की प्रसिद्ध अभिनेत्री  दुर्गा खोटे का जन्म हुआ।  
    • 1943- अमेरिकी जैव रसायनज्ञ तथा अंतरिक्षयात्री शैन्नॉन ल्यूसिड का जन्म हुआ, जो 1996 में रूसी अंतरिक्ष स्टेशन मीर में रिकार्ड तोड़ 188 दिनों तक रहीं। पहली यात्रा उन्होंने 1985 में डिस्कवरी में की, फिर अक्टूबर 1989 तथा अगस्त 1991 में अटलांटिस में की और फिर 1993 में। इस तरह वह चार अलग-अलग बार अंतरिक्ष में जाने वाली पहली महिला बन गईं और सबसे अधिक समय (838 घंटे 54 मिनट) तक अंतरिक्ष में रहने वाली महिला का कीर्तिमान उनके नाम है।
    • 1890-अमेरिकी आविषज्ञ तथा जैव रसायनज्ञ  रोला एन. हार्गर का जन्म हुआ, जिन्होंने मानव रक्त में अल्कोहल की मात्रा ज्ञात करने का पहला उपकरण बनाया जिसे ड्रन्कोमीटर(1931) कहते हैं। (निधन- 8 अगस्त 1983)
    • 1742 - अंग्रेज़ गणितज्ञ तथा खगोल शास्त्री  ऐडमन्ड हेली का निधन हुआ, जिन्हें मुख्य रूप से एक चमकदार, कई बार दिख चुके धुमकेतु को पहचानने (जिसे बाद में उनके नाम पर हेली पुच्छलतारा कहा गया) तथा उसके कक्षा की गणना और उसकी वापसी का सही अनुमान लगाने के कारण जाना जाता है। (जन्म-8 नवम्बर 1656)
    • 1949 -अमेरिकी मनोचिकित्सक  हैरी स्टैक सुलिवन का निधन हुआ, जिन्होंने पारस्परिक सम्बन्धों पर आधारित मनोचिकित्सा का एक सिद्धान्त प्रस्तुत किया। उनका विश्वास था कि चिंता या अन्य मनोरोगात्मक लक्षण, व्यक्ति और उसके सामाजिक परिवेश के बीच संघर्षों की उपज होते हैं। उनका यह भी मानना था कि व्यक्तित्व का विकास भी अन्य लोगों के साथ सम्पर्कों की श्रृंखला के कारण होता है। (जन्म- 21 1892)
    • महत्वपूर्ण दिवस- मकर संक्रांति
    ...
  •  


Posted Date : 13-Jan-2019
  • करीब सौ साल पहले किसी को विश्वास नहीं होता था कि मनुष्य कभी पृथ्वी को छोड़कर चांद पर जा सकेगा. एक मशहूर अखबार ने तो कह भी दिया कि रॉकेट कभी उड़ नहीं सकते. 13 जनवरी 1920 को न्यूयॉर्क टाइम्स ने अपने संपादकीय में खास तौर से लिखा कि रॉकेट कभी उड़ नहीं सकते. इससे पहले रॉबर्ट गोडार्ड नाम के वैज्ञानिक का एक रिसर्च आधारित लेख छपा था. इसमें उन्होंने एक ऐसी वैज्ञानिक प्रक्रिया का वर्णन किया था जिससे रॉकेट में बैठकर मनुष्य पृथ्वी के गुरुत्वाकर्षण को तोड़ कर बाहर जा सकता है. इस लेख को आज अंतरिक्ष यात्रा को संभव करने वाले सबसे अहम शोधों में गिना जाता है.
    इस लेख के छपने के एक ही दिन बाद न्यूयॉर्क टाइम्स ने एक बेनाम संपादकीय में लिखा कि रॉकेट में वैज्ञानिक यंत्रों को लेकर जाना नामुमकिन है. लेखक का कहना था कि अंतरिक्ष में वेक्यूम होने की वजह से वहां उड़ना असंभव है. अखबार का मानना था कि अगर रॉकेट को धकेलने के लिए हवा नहीं है, तो वह उड़ भी नहीं सकेगा.
    कुछ वक्त बाद न्यूयॉर्क टाइम्स ने अपने इस दावे को वापस ले लिया लेकिन गोडार्ड पर वैज्ञानिक भी विश्वास नहीं करना चाहते थे. गोडार्ड को अमेरिकी नौसेना के साथ करार करने का मौका मिला लेकिन उनके पास शोध के लिए पैसे नहीं थे. इसका फायदा जर्मन तकनीक को हुआ, जिसके वैज्ञानिकों ने वी 2 रॉकेट बनाया. कहा जाता है कि सोवियत रूस के कुछ जासूसों को गोडार्ड की रिपोर्टें मिलीं और उन्होंने इसका इस्तेमाल अपने रॉकेट कार्यक्रम के लिए किया था.
    ----

    • 1610-  गैलिलियो गैलिली ने ज्युपिटर का चौथा चन्द्रमा खोजा जिसे कैलिस्टो के नाम से जाना जाता है। हाल में पता चला है कि कैलिस्टो, बुध ग्रह से भी बड़ा है तथा वहां के धरातल पर काफी मात्रा में बर्फ और द्रव जल मौजूद है।
    •   1607 - स्पेन में राष्ट्रीय दिवालिएपन की घोषणा के बाद  बैंक ऑफ जेनेवा  का पतन हुआ।
    • 1709- मुग़ल शासक बहादुर शाह प्रथम ने सत्ता संघर्ष में अपने तीसरे भाई कमबख्श को हैदराबाद में पराजित किया।
    • 1818- उदयपुर के राणा ने मेवाड़ के संरक्षण के लिए अंग्रेज़ों के साथ संधि की।
    •  1849 - द्वितीय आंग्ल सिख युद्ध के दौरान चिलियांवाला की प्रसिद्ध लड़ाई शुरू हुई।
    • 1889- असम के युवाओं ने अपनी साहित्यिक पत्रिका  जोनाकी  का प्रकाशन शुरू किया।
    •  1910 - न्यूयॉर्क शहर में दुनिया का पहला सार्वजनिक रेडियो प्रसारण प्रारम्भ हुआ।
    •  1948- राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने हिन्दू-मुस्लिम एकता बनाए रखने के लिए आमरण अनशन शुरू किया।
    • 1976-मुद्रित सामग्री को पढऩे वाली पहली मशीन का उसके आविष्कारक रेमन्ड कजऱ्वेल द्वारा सार्वजनिक प्रदर्शन किया गया। 
    • 1999 - नूर सुल्तान नजरवायेव पुन: कजाकिस्तान के राष्ट्रपति चुने गए।
    •  2009 - जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फ़ारुख़ अब्दुल्ला नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष बनाए गए। 
    •  1870  अमेरिकी जीवविज्ञानी रॉस ग्रैन्विले हैरिसन का जन्म हुआ, जिन्होंने सर्वप्रथम सफल जीव-ऊतक संवर्धन (टिश्यू कल्चर) विकसित किया। वे अंग प्रत्यारोपण तकनीक के अग्रणी रहे। प्राथमिक प्रयोग में उन्होंने अलग रंगों के मेढकों के भ्रूण के भागों को आपस में जोड़ा और इस तरीके से उत्पन्न भ्रूण के विकास के समय कोशिकाओं की गति का अवलोकन किया। (निधन-30 सितम्बर 1959)
    •  1858 -जर्मन शरीर क्रिया वैज्ञानिक तथा रोगविज्ञानी ऑस्कर मिनकोस्की का जन्म हुआ, जिन्होंने प्रस्तावित किया कि मधुमेह (डायबिटीज़) अग्न्याशय (पैंक्रियाज़) के किसी तत्व (बाद में हार्मोन इंस्युलिन पाया गया) के अवरोध का नतीजा है। शरीर में वसा का उपापचय कैसे होता है, यह ज्ञात करने के बाद 1889 में ऑस्कर मिनकोस्की तथा जोसफ वॉन मेरिंग ने मधुमेह में अग्न्याशय की भूमिका से परदा उठाया। (निधन-18 जुलाई 1931)
    •   1900-नॉर्वे के रसायनज्ञ  पीटर वॉग का निधन हुआ, जिन्होंने अपने जीजाजी केटो गुल्डबर्ग के साथ 1864 में  द्रव्यमान अनुपाती अभिक्रिया (मास ऐक्शन) का सिद्धांत प्रकाशित किया। सिद्धांत के अनुसार किसी रासायनिक परिवर्तन की दर उसके अभिकारकों के सांद्रण पर निर्भर करती है। (जन्म-29 जून 1833)  
    •  1875-आयरलैण्ड के सर्जन  रॉबर्ट ऐडम्स का निधन हुआ, जो हृदय, श्वसन, नस, तथा जोड़ों की बीमारियों की जानकारी में योगदान के कारण जाने जाते हैं, खासकर वात-रोग जिससे वे खुद भी पीडि़त थे। उन्होंने एक ऐसी स्थिति के बारे में बताया जिसमें हृदय की धड़कनें मंद हो जाती हैं, क्षणिक चक्कर आते हैं और मांसपेशियां जल्दी-जल्दी संकुचित होती हैं। जिसे अब ऐडम स्टोक्स रोग या सिन्ड्रोम के नाम से जाना जाता है।(जन्म-1791।
    ...
  •  


Posted Date : 12-Jan-2019
  • 1948 में इसी दिन महात्मा गांधी ने अपना अंतिम भाषण दिया और सांप्रदायिक हिंसा के विरुद्ध अनशन में बैठने का फैसला किया. 1947 में भारत के विभाजन से बहुत दुखी थे.
    माना जाता है कि गांधी का यही भाषण और इसके बाद अनशन उनकी हत्या का कारण बने. 12 जनवरी को उन्होंने दिल्ली में ऐलान किया कि वह अगले दिन से अनशन पर बैठेंगे. उन्होंने कहा कि वह अलग अलग समुदायों के बीच दोस्ती देखना चाहते हैं, खास तौर से हिंदुओं, मुस्लिमों और सिखों के बीच.
    1947 में भारत और पाकिस्तान अलग हो गए. पाकिस्तान से कई हिंदू और सिख परिवारों को अपने गांव और शहर छोड़कर भारत आना पड़ा जबकि कई मुस्लिम परिवारों ने पाकिस्तान को अपना नया मुल्क बनाने का फैसला किया. लेकिन बंटवारा अपने साथ असीम दुख और हिंसा भी लेकर आया. औपचारिक आंकड़ों के मुताबिक भारत से करीब 70 लाख लोग और पाकिस्तान से करीब उतने ही लोग अपने घर छोड़कर दूसरे देश आ गए थे. इसके बाद कई महीनों तक हिन्दू, मुसलमान और सिख आपस में झगड़ते रहे.
    महात्मा देश की इस हालत स बहुत ही निराश थे. उन्होंने तय किया कि वह 13 जनवरी को अनशन पर तब तक बैठे रहेंगे जब तक तीनों समुदायों के प्रतिनिधि उन्हें आश्वासन नहीं देते कि वह आगे से शांति बनाए रखेंगे. पांच दिन की भूख हड़ताल के बाद गांधी की शर्त मान ली गई और देश में शांति लाने का पूरा प्रयास किया गया.
    लेकिन हिन्दू कट्टरपंथी वीर सावरकर और उनके शिष्यों को गांधी को खत्म करने का बहाना मिल गया. वह कई सालों से महात्मा को खतरा मान रहे थे. उन्होंने गांधी को भारत के विभाजन का जिम्मेदार ठहराया और हिन्दू राष्ट्र की सुरक्षा का हवाला देकर उनकी हत्या को सही ठहराने की कोशिश की. नथुराम गोडसे ने 30 जनवरी 1948 को दिल्ली में गांधी पर गोली चलाई. महात्मा के अंतिम शब्द, "हे राम, हे राम" थे.

    • 1924- गोपीनाथ साहा ने कोलकाता के पुलिस आयुक्त चाल्र्स ऑगस्टस टेगार्ट समझकर ग़लती से एक आदमी की हत्या कर दी। इसके बाद उसे गिरफ़्तार कर लिया गया।
    • 1950- स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद 12 जनवरी 1950 में संयुक्त प्रांत का नाम बदल कर 'उत्तर प्रदेशÓ रखा गया।
    • 1991- अमरीकी संसद ने इराक़ के खिलाफ सैनिक कार्रवाई करने की मंज़ूरी दे दी थी। इससे पहले संयुक्त राष्ट्र ने तत्कालीन इराक़ी राष्ट्रपति सद्दाम हुसैन को 15 जनवरी तक कुवैत से अपनी सेना हटाने को कहा था और ऐसा ना करने पर इराक़ को सैन्य कार्रवाई के लिए तैयार रहने की चेतावनी दी थी।
    • 2001 - भारत का इंडोनेशिया-रूस-चीन संधि से इंकार, नैफ नदी पर बांध निर्माण योजना के कारण बांग्लादेश-म्यांमार सीमा पर तनाव के बाद सेनाएं तैनात।
    • 2002 - पाकिस्तान के राष्ट्रपति जनरल परवेज मुशर्रफ़ ने राष्ट्र के नाम ऐतिहासिक संदेश प्रसारित किया, पाकिस्तान ने आतंकवादी संगठन लश्कर व जैश पर प्रतिबंध लागू करने की घोषणा की जबकि वांछित पाक अपराधियों को भारत को सौंपने से इन्कार किया।
    • 2003 -भारतीय मूल की महिला लिंडा बाबूलाल त्रिनिदाद की संसद अध्यक्ष बनीं।
    • 2006 - भारत और चीन ने हाइड्रोकार्बन पर एक महत्वपूर्ण सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए।
    • 2009- प्रसिद्ध संगीतकार ए. आर. रहमान प्रतिष्ठित गोल्डन ग्लोब अवार्ड जीतने वाले पहले भारतीय बने। इलाहाबाद विश्वविद्यालय के वैज्ञानिक डॉ. जयन्त कुमार ने दुनिया का सबसे पुराना उल्का पिंड क्रेटर खोजा।
    • 2010- भारत सरकार द्वारा नागर विमानन क्षेत्र पर आतंकी हमलों की आशंका के बीच विमान अपहरण रोधी क़ानून 1982 में मौत की सज़ा की धारा जोड़ी गई। 
    • 1863 -भारतीय दार्शनिक  स्वामी विवेकानंद का जन्म हुआ। 
    • 1917 - भारतीय अध्यात्मवादी महर्षि महेश योगी का जन्म हुआ। 
    • 1918 - हिन्दी फि़ल्म संगीतकार, गायक और निर्माता-निर्देशक सी. रामचन्द्र  का जन्म हुआ। 
    • 1665 -फ्रांस के गणितज्ञ पियरडी फऱमा का निधन हुआ। वे 1601 में पैदा हुए थे। फरमा डेकार्ट के समकालिक और उनसे तथा उनकी रचनाओं से पूरी तरह परिचित थे। उन्होंने गणित से संबंधित कई नियम बनाए जो उन्हीं के नाम से जाने जाते हैं। उन्होंने इस विषय में कई प्रसिद्ध पुस्तकें भी लिखीं हैं। सन 1679 में पियरडी फरमा का निधन हुआ।
    • 1876 -अमरीकी लेखक जेक लंदन का जन्म हुआ। उन्होंने अपने जीवन के कई वर्ष उत्तरी धु्रव और दक्षिण के तूफ़ानी समुद्र में बिताए और विभिन्न जातियों और लोगों से परिचित हुए। उन्होंने अपनी पुस्तकों में जिन दृश्यों का चित्रण किया है उनमें से लगभग सभी को उन्होंने स्वयं निकट से देखा था। इस अमरीकी लेखक ने अपनी 40 वर्ष की आयु में 18 वर्ष लेखन में बिताए। उन्होंने 51 लम्बी और 125 छोटी कहानियां लिखीं।
    • महत्वपूर्ण दिवस- राष्ट्रीय युवा दिवस, भारत ।
    ...
  •  


Posted Date : 11-Jan-2019
  • आज ही के दिन 1962 में पेरू के उत्तर पश्चिम हिस्से में बर्फीले तूफान और चट्टान खिसकने से कम से कम 2,000 लोगों की मौत हुई.
    पेरू की सबसे ऊंची पहाड़ी श्रंखला एंडीस से अचानक लाखों टन बर्फ, चट्टानें, कीचड़ और मलबा नीचे की तरफ गिरने लगे. यह हादसा आधी रात को हुआ था. मलबे के नीचे रानराहिरका ग्राम समेत आठ और शहर दब गए. बर्फ और चट्टान के मलबे के नीचे आने से इन शहरों में भारी बर्बादी हुई. बर्फीले तूफान के कारण राहत और बचाव कार्य में दिक्कतें आई. मलबे में दबे कुछ लोगों को जिंदा बचा लिया गया.
    पेरू की वायुसेना ने अपने दो जहाजों को राहत सामग्री और कुछ लोगों को लेकर भेजा जिन्हें क्षेत्र में जाने वाले रास्तों को खोलने का काम दिया गया था. पेरू में 1970 में एक और बर्फीले तूफान में करीब 20,000 लोग मारे गए थे. 1962 में आए बर्फीले तूफान और चट्टान खिसकने से सिर्फ 2,000 लोगों की मौत हुई थी लेकिन 1970 में इससे भी बड़ी तबाही सामने आई.

    • 1569 - इंग्लैण्ड में पहली लाटरी का शुभारंभ हुआ।
    • 1613 - जहांगीर ने ईस्ट इंडिया कम्पनी को सूरत में कारख़ाना लगाने की अनुमति दी।
    • 1681 - ब्रैडेनबर्ग और फ्रांस के बीच रक्षा गठबंधन हुआ।
    • 1922 - लियोनार्ड थॉमसन पहले व्यक्ति थे जिन्हें इंसुलिन का इंजेक्शन मधुमेह रोग के उपचार के रूप में दिया गया। इससे पहले मधुमेह एक ऐसा रोग हुआ करता था जिसका पता लगने के महीनों या हफ्तों में ही रोगी की मौत हो जाती थी। थॉमसन को जेम्स कॉलिप द्वारा विकसित किए इन्सुलिन का डोज़ दिया गया जिससे उसकी हालत में सुधार हुआ और वह मधुमेह के साथ 13 साल तक जीवित रहे।
    • 1954-पहली बार यूनाइटेड किंगडम के बी.बी.सी. टेलिविजऩ पर मौसम का पूर्वानुमान दिखाया गया। इसे बी.बी.सी. के लाइम ग्रोव स्टूडियो से प्रसारित किया गया। जिसमें मौसम विभाग के जॉर्ज कावलिंग ने चित्रफलक पर पिन से लगे हुए हाथ से बने हुए दो चार्ट लेकर प्रस्तुत किया।
    • 1955 - भारत के अख़बारी कागज़़ का उत्पादन प्रारम्भ हुआ।
    • 1999 - भारत में शहरी भूमि सीमा क़ानून निरस्त।
    • 2001 - भारत और इंडोनेशिया के मध्य पहली बार रक्षा समझौता।
    • 2010 - भारत ने उड़ीसा के बालासोर में हवा से हवा में मार करने वाली मिसाइल अस्त्र के दो सफल परीक्षण किए। इस मिसाइल को भारतीय रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) ने विकसित किया है। 
    • 1966 - स्वतंत्र भारत के तीसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री का निधन हुआ।  
    • 2008 - सर एडमंड हिलेरी का निधन हुआ जिन्होंने शेरपा तेनजि़ंग के साथ माउंट एवरेस्ट पर कदम रखा था। 
    • 1872- अमेरिका के अन्वेषक और रेडियो संचार के अग्रणी और संचार अभियान्त्रिकी के जाने माने शिक्षक जार्ज वाशिंगटन पियर्सका जन्म हुआ, जिन्होंने पियर्स ऑसिलेटर की खोज की जो क्वार्ट्ज़ क्रिस्टल के प्रयोग से रेडियो ट्रान्समिशन को ठीक-ठीक तथा नियत आवृत्ति में रखता है और फ्रीक्वेन्सी मीटर को समान परिशुद्धता प्रदान करता है। (निधन- 25 अगस्त 1956)
    • 1889-अमेरिका के आनुवांशिकीविद् केल्विन ब्लैकमैन ब्रिजेस का जन्म हुआ,  जिन्होंने फलमक्खी (ड्रॉसोफिला मेलेनोगैस्टर) पर प्रयोग कर के आनुवांशिकी में गुणसूत्रों की भूमिका के बारे में उन्नत समझ विकसित की। उन्होंने 1910 में थॉमस हन्ट मॉर्गन के साथ प्रयोगशाला सहायक के रूप में काम करना शुरू किया और यह जानने का प्रयत्न किया कि गुणसूत्रों में परिवर्तन होने पर वंशानुगत परिवर्तनों पर कैसा प्रभाव पड़ता है।  (निधन- 27 दिसम्बर 1938)
    • 1991-अमेरिकन भौतिकशास्त्री  कार्ल डेविड एन्डरसन का निधन हुआ, जिन्होंने ऑस्ट्रिया के विक्टर फ्रान्सिस हेस्स के साथ पॉजि़ट्रॉन की खोज की। इसके लिए उन्हें 1936 का नोबेल पुरस्कार प्रदान किया गया। (जन्म-3 सितम्बर 1905)
    • 1882 -जर्मन शरीर क्रिया वैज्ञानिक थ्योडोर श्वॉन का निधन हुआ,  जिन्होंने कोशिका विभाजन द्वारा यह बताया कि कोशिका जीवों की आधारभूत इकाई है जो हमारे प्रारम्भिक भाग (दांत, हड्डियां, मांस, उपास्थियां और स्नायु तंत्र आदि) का निर्माण करती है। उन्होंने कोशिका सिद्धान्त तथा आधुनिक ऊतक विज्ञान की नींव रखी। उन्होंने किण्वन (फर्मेन्टेशन) पर भी काम किया, तथा पेप्सिन नामक एन्ज़ाइम की खोज की। (जन्म-7 दिसम्बर 1810) 
    ...
  •  


Posted Date : 10-Jan-2019
  • आज दुनिया के कई देश मेट्रो से यात्रा का आनंद उठा रहे हैं. इसकी शुरुआत 1863 में आज ही के दिन लंदन में विश्व की पहली अंडरग्राउंड रेल सेवा के साथ हुई थी.
    लंदन की तेज रफ्तार और भीड़ भाड़ वाली जिंदगी में मेट्रो सेवा के आने से बड़ी क्रांति आई. 10 जनवरी, 1863 को लंदन में मेट्रो सेवा को आम लोगों के इस्तेमाल के लिए खोल दिया गया. मेट्रो सेवा की योजना के बाद इसे अंजाम देने के लिए 1853 में इस काम की जिम्मेदारी चीफ इंजीनियर सर जॉन फॉलर को दी गई. दस साल बाद पहली बार पैडिंगटन से फैरिंगडॉन स्ट्रीट स्टेशनों के बीच यह ट्रेन चली, जो मेट्रोपोलिटन लाइन पर थी. ट्यूब के नाम से मशहूर लंदन की अडरग्राउंड रेल सेवा दर्जन भर से ज्यादा रूट और 270 स्टेशनों के बीच चलती है.
    मेट्रो के आने से आज दुनिया के कई बड़े शहरों में रोजमर्रा का सफर आम आदमी के लिए आसान हो गया है. लंदन की अंडरग्राउंड रेल सेवा दुनिया की पहली मेट्रो व्यवस्था थी, कई दूसरे बड़े शहरों में मेट्रो सेवा लाने के लिए लंदन मेट्रो की व्यवस्था को आदर्श बनाया गया. शहर भर में मकड़ी के जाल की तरह फैले मेट्रो के रूट इसके आसान से मैप से भली तरह समझे जा सकते हैं. लंदन अंडरग्राउंड के अलग अलग रूटों को अलग अलग रंग देकर मैप में तब्दील करने का काम 1933 में किया गया. अब दुनिया भर की मेट्रो रेल सेवाएं इसी की नकल करते हुए अपने मैप तैयार करती हैं.
    भारत के पहली मेट्री (कोलकाता) की शुरुआत 1984 में हुई जबकि दिल्ली की मेट्रो 2002 में ही शुरू हुई. आज दिल्ली और एनसीआर इलाकों में लोगों के लिए सफर करने का यह सस्ता और आसान तरीका है.

    • 1824-ब्रिटेन के रसायनशास्त्री जोजफ़ ऐस्पीडियन ने सीमेंट बनाई। उनकी इस उपलब्धि को निर्माण के क्षेत्र में महत्वपूर्ण प्रगति समझा जाता है। वे बहुत दिनों से कोई ऐसा पदार्थ बनाने के प्रयास में थे जो इमारतों को मज़बूती प्रदान करे। बहुत दिनों के अध्ययन और शोधकार्य के बाद अंतत:  वे सीमेंट बनाने में सफल हो गए। बाद में सीमेंट में कुछ और पदार्थों को मिलाकर इसे और भी मज़बूत बना दिया गया।
    • 1839- भारतीय चाय इंग्लैंड पहुंची।
    • 1911 - पहली हवाई फोटोग्राफ खींची गई, जो अमेरिका में एक हवाई जहाज़ से ली गई थी जो सैन डिएगो, कैलिफोर्निया के ऊपर उड़ रहा था। इसके पायलट चाल्र्स हैमिल्टन थे और फोटो लिया था मेजर एच.ए. जिम्मी एरिक्सन ने।
    • 1920- संयुक्त राष्ट्रसंघ की स्थापना हुई।
    • 1947-नेशनल फाउन्डेशन फॉर इन्फेन्टाइल पैरालिसिस द्वारा वित्तपोषित तीन साल के अनुसंधान के बाद स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों ने पोलियो के वायरस का पृथक्करण करने में सफलता प्राप्त की। यह कार्य स्टैनफोर्ड के रसायन विभाग के डॉ. ह्यूबर्ट एस. लॉरिंग और सी.ई. श्वेर्ट ने किया था।
    • 1963-स्वीजऱलैंड के सोलवेल और टीटस नामक व्यक्ति इलेक्ट्रानिक घड़ी बनाने में सफल हुए। इस घड़ी में चाबी भरने की आवश्कता नहीं होती थी।
    • 2001 - प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी इंडोनेशिया पहुंचे, मेडकाउ बीमारी के प्रति प्रशासनिक लापरवाही के कारण जर्मनी के दो मंत्रियों का इस्तीफ़ा ।
    • 2003 - उत्तर कोरिया परमाणु अप्रसार संधि से हटा।
    • 2006- प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह ने 10 जनवरी को प्रति वर्ष विश्व हिन्दी दिवस के रूप मनाए जाने की घोषणा की थी।
    • 2008-   कार निर्माण की अग्रणी आटोमोबाइल कंपनी  टाटा मोटर्स ने एक लाख रुपये वाली कार नैनो पेश की।  विशेष रेल परियोजनाओं के लिए भूमि अधिग्रहण के मामले में रेल क़ानून, 1989 में संशोधन करने वाले प्रस्ताव को मंजूरी दी।
    • 2010- भारतीय मूल के अमेरिकी फूड सिक्युरिटी एक्सपर्ट राजीव शाह ने अमेरिका के विदेश मंत्रालय के अधीनस्थ संस्था  यूएस एजेंसी फॉर इंटरनैशनल डिवेलपमेंट (यूएसएआईडी) के प्रमुख की जि़म्मेदारी संभाल ली है। इसके साथ ही वह बराक ओबामा प्रशासन में सर्वोच्च पद संभालने वाले भारतीय बन गए। 
    • 1886 - भारत के शिक्षाविद, अर्थशास्त्री एवं न्यायविद् जॉन मथाई, का जन्म हुआ। 
    • 1911 -वैज्ञानिक नॉर्मन हेटली का जन्म हुआ, जिन्होंने पेनिसिलीन को उसके फफूंद से अलग करने की समस्या हल की और उसके अधिक मात्रा में उत्पादन करने का मार्ग प्रशस्त किया। (निधन-5 जनवरी 2004) 
    • 1573 - जर्मनी के खगोलशास्त्री  साइमन मारियसका जन्म हुआ, जो टेलिस्कोप के सबसे पहले प्रयोग करने वालों में से एक थे। उन्होंने एन्ड्रोमेडा नामक गैलेक्सी के बारे में बताया। वे टाइको ब्राहे के शिष्य थे। (निधन- 26 दिसम्बर 1624)  
    • 1970-रूसी अंतरिक्ष यात्री  पावेल बेल्यायेव का निधन हुआ, जो 18 मार्च 1965 को प्रक्षेपित ऐतिहासिक डोस्खोव 2 अंतरिक्ष अभियान के पायलट थे। बेल्यायेव 1960 में अंतरिक्ष अभियान के लिए चुने गए। इससे पहले वे सेना के पायलट थे।  (जन्म-26 जून 1925) 
    • महत्वपूर्ण दिवस-*  हिन्दी दिवस,   एयर डिफ़ेंस आर्टिलरी दिवस।
    ...
  •  


Posted Date : 09-Jan-2019
  • 19वीं शताब्दी के सबसे साहसी यूरोपीय शासकों में गिने जाने वाले नेपोलियन बोनापार्ट तृतीय की मृत्यु 1873 में आज ही के दिन हुई थी.
    चार्ल्स लुई नेपोलियन बोनापार्ट फ्रांस के पहले शासक नेपोलियन पहले के भाई लुई बोनापार्ट के तीसरे बेटे थे. उनका जन्म 1808 में पैरिस में हुआ. 1815 में जब नेपोलियन प्रथम का शासन खत्म हुआ तो वह अपनी मां के साथ स्विट्जरलैंड चले गए. उनका काफी बचपन जर्मनी और इटली में भी बीता. सत्ता दोबारा हासिल करने की बात हमेशा लुई नेपोलियन के दिमाग में रही. इसलिए 1832 में उन्होंने संघर्ष शुरू किया और खुद को और अपनी सोच को लोगों के सामने लाने के लिए राजनीति और सैन्य मामलों पर कई लेख लिखे. उनकी कई कोशिशें विफल रहीं. 1846 में उन्हें देश छोड़ कर इंग्लैंड चले जाना पड़ा. लेकिन उन्होंने अपना संघर्ष जारी रखा.
    1848 की क्रांति के बाद 1850 में लुई नेपोलियन तृतीय फ्रांसीसी गणराज्य के पहले राष्ट्रपति चुने गए. 1852 तक राष्ट्रपति पद संभालने के बाद वह दोबारा शासक के तौर पर स्थापित हुए और 1870 तक बने रहे. 1870 में फ्रांस के प्रशिया के साथ युद्ध में उनकी हार हुई. इसके साथ ही फ्रांस में तृतीय गणराज्य की स्थापना हुई. बंदी बनाकर कुछ महीने उन्हें जर्मनी में रखा गया और उसके बाद इंग्लैंड भेज दिया गया जहां 9 जनवरी 1873 को उनकी मृत्यु हो गई.

    • 1431 - फ्रांस में जोन ऑफ आक  के विरूद्ध मुक़दमे की शुरुआत हुई।
    • 1816-सर हम्फ्री डेवी का सेफ्टी लैम्प पहली बार एक कोयले की खान में इस्तेमाल हुआ। कोयले की खानों में निरंतर जानलेवा धमाके होते रहते थे, क्योंकि ज्वलनशील गैस मीथेन छोटे से लैम्प से भी आग पकड़ लेती थी। डेवी ने अपने वैज्ञानिक सोच से ऐसा लैम्प बनाया जिसमें लौ के चारों ओर उपयुक्त महीन तार की जाली थी जो बाहर की गैस को प्रज्वलित होने से बचाती थी।
    • 1969 -पराध्वनिक (सुपरसोनिक) कॉनकॉर्ड जेटलाइनर विमान की ब्रिस्टल, इंग्लैन्ड में पहली परीक्षण उड़ान हुई।
    • 1914 - महात्मा गांधी दक्षिण अफ्रीका से भारत लौटे।
    • 1918 -   भालू घाटी के युद्ध-रेड इंडियनों और अमेरिकी सैनिकों के बीच अंतिम युद्ध  बैटल ऑफ बियर वैली  का आगाज़ हुआ।
    • 2001 - बांग्लादेश में हिन्दुओं की सम्पत्ति लौटाने संबंधी विधेयक मंजूर।
    • 2007 - जापान में पहला राज्य मंत्रालय गठित हुआ।
    • 2008 - श्रीलंका की सेना ने लिट्टे के इलाके पर कब्ज़ा किया। 
    • 2009 - लोकसभा अध्यक्ष सोमनाथ चटर्जी को सार्वजनिक क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने के लिए बेबी जान फाउंडेशन पुरस्कार के लिए चुना गया।
    • 1889- ऐतिहासिक उपन्यासकार एवं निबंधकार वृंदावनलाल वर्मा का जन्म हुआ।   
    • 1950-अंग्रेज़ आनुवांशिकविद् सर ऐलेक जैफरीज़ का जन्म  हुआ, जिन्होंने 10 सितम्बर 1984 को मानवों, जानवरों तथा अन्य जीवों की उनके डी.एन.ए. से अनन्य पहचान पता करने वाली डी.एन.ए. फिंगर प्रिन्टिंग तकनीक की खोज की। आज यह तकनीक फॉरेन्सिक विज्ञान में जांच के लिए पैतृक मामले सुलझाने के लिए तथा आनुवांशिक बीमारियों को समझने में बहुत कारगर है।
    • 1922 -भारतीय वैज्ञानिक और अमेरिकन जैवरसायनज्ञ  हरगोविन्द खुराना का जन्म हुआ, जिन्हें (मार्शल डब्ल्यू. नीरेनबर्ग और रॉबर्ट डब्ल्यू. हॉले के साथ) जेनेटिक कोड तथा प्रोटीन संश्लेषण में उसके कार्यों की व्याख्या करने के लिए 1968 में शरीर क्रिया विज्ञान, चिकित्सा विज्ञान का नोबेल पुरस्कार प्राप्त हुआ। इन्होंने योजनाबद्ध तरीके से न्यूक्लिक एसिड की जांच करने का एक नियम तैयार किया।
    • 1799 -इटली की गणितज्ञ और दर्शनशास्त्री  मारिया गीटैना आग्नेसी का निधन हुआ, जो पश्चिमी जगत की पहली महिला गणितज्ञ थीं। प्रपोज़ीशनेस फिलॉसफीसी (1738) में उन्होंने दर्शनशास्त्र और प्रकृति विज्ञान पर निबन्धों की श्रृंखला प्रस्तुत की। ऐनालिटिकल इन्स्टिट्यूशन्स के उनके दो ग्रंथ शैक्षणिक समाज द्वारा प्रशंसित किए गए।(जन्म-16 मई 1718)
    • 1843- अंग्रेज़ कोयला खदान प्रबंधक  विलियम हेडली का निधन हुआ, जो भाप इंजन (लोकोमोटिव) के निर्माण में अग्रणी रहे। उन्होंने गियर्ड ट्रैक की अपेक्षा पहियों और पटरी के बीच में घर्षण के आसंजन बल से भारी गाड़ी को चलाने में सफलता प्राप्त की। (जन्म 13 जुलाई 1779)
    • महत्वपूर्ण दिवस- विश्व हास्य दिवस,   प्रवासी भारतीय दिवस।
    ...
  •  


Posted Date : 08-Jan-2019
  • भारतीय सिनेमा की वह पहली फिल्म जिसने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर वाहवाही बटोरी फिल्मकार बिमल रॉय की थी. आज ही के दिन 1965 में उन्होंने दुनिया को कहा था अलविदा.
      मधुमती, बंदिनी, सुजाता और देवदास उनकी कुछ बेहद मशहूर फिल्मों के नाम हैं. लेकिन जिस फिल्म ने उन्हें अंतरराष्ट्रीय ख्याति दिलाई वह थी 'दो बीघा जमीन'. बिमल रॉय की इस फिल्म को 1954 में हुए कान फिल्म महोत्सव में सम्मानित किया गया.
    बिमल रॉय का जन्म 12 जुलाई 1909 को सुआपुर में हुआ था जो अब बांग्लादेश में है. सिनेमा सीखने के लिए रॉय कोलकाता आ गए और बतौर कैमरा असिस्टेंट काम करने लगे. उन्होंने 1935 में निर्देशक पीसी बरुआ के साथ फिल्म देवदास में सहायक निर्देशक के तौर पर काम किया. धीरे धीरे कोलकाता में फिल्म निर्माण उद्योग घट रहा था और मुंबई इसकी जगह ले रहा था. रॉय 1950 में अपनी टीम के साथ मुंबई चले आए. बंबई आए उनके करीबी साथियों में ऋषिकेष मुखर्जी भी शामिल थे. बिमल रॉय को समाज की सच्चाइयों को दिखाती यथार्थवादी फिल्मों के लिए जाना गया. उनकी फिल्मों में आम आदमी के जीवन की स्पष्ट छाप होती थी.
    अपने फिल्मी करियर में फिल्मफेयर अवार्ड के अलावा कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार जीत चुके रॉय की फिल्म मधुमती ने 1958 में नौ फिल्मफेयर अपने नाम किए. यह रिकॉर्ड 37 सालों तक कायम रहा. 1959 में वह मॉस्को अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में जूरी के सदस्य भी रहे. 8 जनवरी 1962 को सिर्फ 55 साल की उम्र में कैंसर से जूझते हुए उनकी मौत हो गई.

    .1838-अमेरिका में पहला तार-संदेश भेजा गया जो बिन्दुओं और लकीरों से बना था। सूचना पद्धति का आविष्कार मॉरिसटाउन, न्यूजर्सी के अल्फ्रेड वैल ने सितम्बर 1837 में किया था।
    .1935 -स्पेक्ट्रोफोटोमीटर के लिए पहला अमेरिकी पेटेन्ट वेलेस्ले के प्रोफेसर आर्थर कॉब हार्डी के नाम ज़ारी किया गया जिसे उन्होंने फोटोमेट्रिक ऐपेरेटस कहा।
    .1996 - फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांंस्वा मितरां का 79 वर्ष की आयु में पेरिस में देहान्त।
    .2001 - आइवरी कोस्ट में विद्रोह विफल, भारतीय प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी वियतनाम व इंडोनेशिया की सात दिवसीय यात्रा पर वियतनाम पहुंचे, भारत-वियतनाम ने कई समझौतों पर हस्ताक्षर किये, घाना में जैसी रालिंग्स का दो दशक पुराना शासन समाप्त, जॉन कुफारे राष्ट्रपति बने।
    .2003 - श्रीलंका सरकार और लिट्टे के बीच नकोर्न पथोम (थाइलैंड) में वार्ता शुरू।
    .2008 -केन्द्र सरकार ने अरुण रामनाथन को वित्तीय क्षेत्र का सचिव नियुक्त किया। 
    .2009 - पूर्व उपराष्ट्रपति भैरोसिंह शेखावत ने लोकसभा चुनाव लडऩे की घोषणा की। 
    .1909 - उपन्यासकार आशापूर्णा देवी का जन्म हुआ। 
    .1925 - साहित्यकार मोहन राकेश का जन्म हुआ। 
    .1884 - प्रसिद्ध धार्मिक व सामाज सुधारक केशव चन्द्र सेन का निधन हुआ।  
    .1942-अंग्रेज़ भौतिकशास्त्री स्टीफन हॉॅकिंग का जन्म हुआ,जो अपने क्षेत्र के महान शोधकर्ताओं में गिने जाते हैं। इनके अनुसंधान का मुख्य क्षेत्र सैद्धान्तिक ब्रह्माण्ड-विज्ञान और क्वान्टम गुरुत्वाकर्षण हैं। हॉकिंग सिर्फ एक व्हील चेयर पर अपना जीवन बिता रहे हैं और कम्प्यूटर की सहायता के बिना बोलने में असमर्थ हैं। 
    .1823 -अंग्रेज़ प्रकृतिविद तथा जैव भूगोलविद् अल्फ्रेड रसैल वैलेस का जन्म हुआ, वे पहले पश्चिमवासी थे जिन्होंने .उष्णकटिबंधीय इलाकों के प्राकृतिक निवास स्थानों का अध्ययन किया। मुख्य रूप से उन्हें प्राकृतिक चयन द्वारा .प्रजातियों की व्युत्पत्ति के सिद्धान्त को स्वतंत्र रूप से प्रतिपादित करने के लिए जाना जाता है। (निधन- 7 नवम्बर 1913)
    .1997 -अमेरिकन जीव रसायनज्ञ मेल्विन केल्विन का निधन हुआ, जिन्होंने उस प्रणाली को स्पष्ट रूप से समझाया जिसके द्वारा कार्बन-डाई-आक्साइड हरे पौधों में सम्मिलित होती है। इसके लिए उन्हें 1961 में रसायन विज्ञान का नोबेल पुरस्कार प्राप्त हुआ। (जन्म-8 अप्रैल 1911)
    .1662-इटली के प्राकृतिक दर्शनशास्त्री, गणितज्ञ गैलिलियो गैलिली का निधन हुआ, जिन्होंने वैज्ञानिक दृष्टिकोण को बढ़ावा दिया तथा उन्होंने दूरबीन को और विकसित करने का काम किया। (जन्म-15 फरवरी 1564)

     

     

    ...
  •  


Posted Date : 02-Jan-2019
  • जिस आम आदमी का सपना आज की दिल्ली में पूरा हुआ दिखता है, 1989 में आज ही के दिन उसी दिल्ली के आम आदमी का सपना क्रूरता से कुचल दिया गया था. नाम है, सफदर हाशमी.
    अद्भुत कलाकार, शानदार इंसान और समाज के दंभ पर हल्ला बोलने की ताकत रखने वाले हाशमी को एक राजनीतिक पार्टी के समर्थकों ने 1989 के नए साल के मौके पर बड़ी बेरहमी से पीटा. एक जनवरी को दिल्ली के पास हुई घटना में हाशमी को इतनी चोट आई कि उनका शरीर बर्दाश्त नहीं कर पाया और अगले दिन यानी दो जनवरी, 1989 को उन्होंने दम तोड़ दिया पर हाशमी की सोच आज भी जिंदा है.
    दिल्ली में ही पैदा हुए हाशमी तब सिर्फ 34 साल के थे. बला के क्रांतिकारी और हिन्दू मुस्लिम एकता की मिसाल. समाज में घुले अपराधों और भ्रष्टाचार के खिलाफ जिस तरह उनकी आवाज गूंजती, वैसे ही जन नाट्य मंच के थियेटर शो भी. उन्होंने 19 साल में यह ग्रुप बना डाला और 1976 में सीपीएम में शामिल हो गए.
    दिल्ली के प्रतिष्ठित सेंट स्टीफेंस कॉलेज से इंग्लिश में एमए करने के बाद हाशमी ने कहीं पैसे वाली नौकरी करने से ज्यादा समाज की बुराइयों पर तंज करने का फैसला किया. थियेटर के अलावा उन्होंने कविताएं भी लिखीं और स्केच भी बनाए.
    वह अपने नाटकों में उसी आम आदमी का जिक्र करते थे, जिनका नाम अब आम आदमी पार्टी के अरविंद केजरीवाल लिया करते हैं. आम आदमी के दर्द को हाशमी के थियेटरों में जिस बेचैनी से उठाया जाता, लोग मंत्रमुग्ध हो जाते. सफेद टोपी लगाए, बगल में रूल दबाए सफदर हाशमी की एक तस्वीर आज भी जेहन में कौंधती रहती है. यह उनका करिश्माई अंदाज ही था कि न सिर्फ उनके नाटकों को चाहने वाले, बल्कि उनसे एक बार भी मुलाकात करने वालों के लिए सफदर दिल में बस जाते.
    औरत, गांव से शहर तक, राजा का बाजा होते हुए जब उनके थियेटर का सफर नुक्कड़ नाटक हल्ला बोल पर पहुंचा, तो सफदर ने इसे गाजियाबाद नगर निगम चुनाव के वक्त प्रस्तुत करने का फैसला किया. 1 जनवरी, 1989 को वह इसे साहिबाबाद के झंडापुर गांव में जब पेश कर रहे थे, तभी एक राजनीतिक दल के समर्थकों ने उन पर हमला बोल दिया. नुक्कड़ नाटक अधूरा छूट गया. सफदर बुरी तरह घायल हुए और अगले दिन दो जनवरी, 1989 को उन्होंने दम तोड़ दिया.
    सफदर की पत्नी मालाश्री हाशमी ने उनकी मौत के दो दिन बाद चार जनवरी को फिर झंडापुर गांव का रुख किया और तीन दिन पहले के अधूरे नुक्कड़ नाटक को पूरा किया.

    • 1843-डाक सेवा, वर्तमान समय की भांति नियमित रूप से आरंभ हुई और आस्ट्रिया की राजधानी विएना में पहली पत्रपेटिका लगाई गयी। 
    • 1839-फ्रांस के फोटोग्राफर लुइस डेग्यूरे ने पहली बार चांद की तस्वीर खींची।
    • 1960- जॉन रेनॉल्ड्स ने  सौर मंडल की आयु 4 अरब 95 करोड़  वर्ष बतलाई।
    • 1954-  भारत में पद्म विभूषण पुरस्कार की स्थापना  की गई थी। भारत रत्न पुरस्कार भी प्रारंभ किए गए। 
    • 1973- जनरल एस. एफ. ए. जे. मानिक शॉ को फ़ील्ड मार्शल बनाया गया।
    • 1989 - रणसिंधे प्रेमदास श्रीलंका के राष्ट्रपति बने।
    • 1991- तिरुअनंतपुरम हवाई अड्डा को अंतर्राष्ट्रीय स्तर का बनाया गया।
    • 2001 - बांग्लादेश में फ़लवा अवैध घोषित।
    • 2002 - अर्जेन्टीना में 12 दिन में पांचवां राष्ट्रपति नियुक्त, देश दिवालिया घोषित, काठमाण्डू में दक्षेस विदेश मंत्रियों की बैठक प्रारम्भ, पाकिस्तान आतंकवादियों को सौंपने के लिए सशर्त तैयार।
    • 2009- रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया ने बाज़ार में 20 करोड़ रुपये के राहत पैकेज देने का निर्णय लिया।  
    • 2010-सोमालियाई जलदस्युओं ने इटली के जेनओआ से सोमालिया होते हुए भारत के कांडला बंदरगाह आ रहे सिंगापुर ध्वजवाहक एमवी प्रमोनी नामक रसायनिक जलपोत का अपहरण कर लिया।   
    • 1878 -केरल के प्रसिद्ध समाज सुधारक मन्नत्तु पद्मनाभन का जन्म हुआ। 
    • 1940 -  भारतीय अमरीकी गणितज्ञ एस. आर. श्रीनिवास वद्र्धन का जन्म हुआ। 
    • 2011- प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी एवं पूर्व लोकसभा अध्यक्ष बली राम भगत का निधन हुआ। 
    • 1822 -जर्मनी के महान वैज्ञानिक  रुडॉल्फ क्लॉशियस का जन्म हुआ, जो ऊष्मागतिकी (थर्मोडॉयनॉमिक्स) के संस्थापकों में से एक थे। जिन्होंने ऊष्मागतिकी के प्रथम और द्वितीय नियम प्रतिपादित किए।(निधन- 24 अगस्त 1888)
    • 1872 -अमेरिकन रसायनशास्त्री अल्बर्ट कूम्ब्स बार्नेस का जन्म हुआ, जिन्होंने एन्टिसेप्टिक ऐर्गाइरॉल (1902) की खोज की। यह एक सिल्वर-प्रोटीन यौगिक है जो जलीय घोल में इस्तेमाल होता था। बार्नेस का सोचना था कि वह अपने साथी नागरिकों का जीवन स्तर बेहतर बना सकता है। (निधन-24 जुलाई 1951)
    • 1892 -अंग्रेज़ खगोलशास्त्री  सर ज्यॉर्ज बिडेल ऐरी का निधन हुआ, जो सातवें ऐस्ट्रोनॉमर रॉयल  बने। अपने जीवन में उन्होंने प्रकाशिकी में व्यतिकरण धारियों पर अनुसंधान किया, इन्द्रधनुष का गणितीय अध्ययन किया, और एक गहरी खदान में ऊपर-नीचे झूलते हुए पेन्डुलम की सहायता से पृथ्वी के घनत्व की गणना की। (जन्म-27 जुलाई 1801) 
    • 1917-अंग्रेज़ नृविज्ञानी (मानव वैज्ञानिक)  सर ऐडवर्ड बर्नेट टेलर का निधन हुआ, जो सांस्कृतिक नृविज्ञान के संस्थापक माने जाते हैं। अमेरिका की यात्रा करने के बाद वे क्यूबा गए जहां पर वे मानव जाति वैज्ञानिक हेनरी क्रिस्टी से मिले। उन्होंने साथ में मैक्सिको के दौरे किए, जहां क्रिस्टी के प्रभाव ने टेलर की मानवविज्ञान की रुचि को और बढ़ावा दिया। (जन्म 2 अक्टूबर 1832)
    ...
  •  


Posted Date : 01-Jan-2019
  • 1 जनवरी 1978 को एयर इंडिया का बोइंग 747 हादसे का शिकार हुआ था. इस विमान में सवार सभी 213 लोगों की मौत हो गई थी.
    मुंबई के छत्रपति शिवाजी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे को उस जमाने में सहारा अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के नाम से जाना जाता था. उड़ान भरने के महज 101 सेकेंड के भीतर एयर इंडिया का यह विमान पानी में जा गिरा. बोइंग 747 दुबई के लिए रवाना हुआ था लेकिन नियति को कुछ और ही मंजूर था. 101 सेकेंड के अंदर ही विशालकाय जहाज मलबे में तब्दील हो गया. इस विमान में 190 यात्री और 23 चालक दल के सदस्य सवार थे. इस हादसे में सभी की मौत हो गई.
    शुरुआत में इस बात की आशंका जताई जा रही थी कि विमान में कोई धमाका या फिर बाहरी हमला हुआ था. लेकिन अरब सागर से निकाले गए मलबे से यह बात गलत साबित हुई. महीनों तक चली जांच के बाद पता चला कि विमान में किसी किस्म की तकनीकी खराबी आने के कारण यह हादसा हुआ.

    • 1862 - भारतीय दंड संहिता लागू किया गया।
    • 1877 - इंग्लैण्ड की महारानी विक्टोरिया भारत की साम्राज्ञी बनी।
    • 1896 -जर्मन वैज्ञानिक विल्हेम रोएन्टजऩ ने एक्स किरणों के बारे में लिखित सामग्री और कुछ फोटोग्राफ अपने मित्र वैज्ञानिकों को भेजे और फिर लोगों को पहली बार एक्स किरणों के बारे में पता चला।
    • 1906 - ब्रिटिश सरकार ने भारतीय मानक को स्वीकार किया।
    • 1950 - अजाइगढ़ का राज्य भारत संघ में मिलता है।
    • 1959 - आज ही के दिन  क्यूबा के राष्ट्रपति फ्लुजेंसियो बतिस्ता को 32 साल के फि़देल कास्त्रो और उनके लगातार बढ़ते आ रहे साथियों के कारण देश छोड़ कर भागने को मजबूर होना पड़ा था।
    • 1978 - एयर इंडिया के एक विशालकाय बोइंग जहाज़ 747 जहाज़ ने शाम के धुंधलके में बंबई के अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से दुबई के लिए उड़ान भरी और चंद ही मिनटों में समुद्र में गिर गया। जहाज़ पर सवार सभी 213 लोग इस हादसे में मारे गए।
    • 1985 - लीबिया सरकार द्वारा सभी नागरिकों के लिए सैन्य प्रशिक्षण अनिवार्य घोषित।
    • 1993 - चेकोस्लोवाकिया का दो स्वतंत्र गणराज्यों- चेक एवं स्लोवाक के रूप में विभाजन।
    • 1994 - उत्तरी अफ्रीका मुक्त व्यापार समझौता (नाफ्टा) व्यापारिक बना।
    • 1995 - विश्व व्यापार संगठन अस्तित्व में आया।
    • 1997 - भारत-बांग्लादेश के मध्य जल बंटवारे की संधि प्रभावी।
    • 1999 - यूरोप के 11 देशों की साझी मुद्रा यूरो का प्रचलन प्रारम्भ।
    • 2001 -कलकत्ता का नाम आधिकारिक तौर पर कोलकाता हुआ। 
    • 2004 - चेक राष्ट्रपति वाक्लाव हावेल को गांधी शांति पुरस्कार प्रदान किया गया। सार्क देशों ने दक्षिण एशिया को मुक्त व्यापार क्षेत्र बनाने वाली साफ्टा संधि और सार्क आतंकवाद विरोधी संधि को मंजूरी दी।
    • 2006 - दक्षेस देशों के बीच मुक्त व्यापार समझौता साफ़्टा लागू।
    • 2008- भूटान के इतिहास में पहली बार चुनाव में जीते नेशनल काउंसिल के 15 प्रतिनिधियों के नामों की घोषणा की गई। 
    • 1892 -  भारत के प्रसिद्ध क्रांतिकारी महादेव देसाई का जन्म हुआ।
    • 1971 - ग्वालियर राजघराने के स्वर्गीय माधवराव सिंधिया के पुत्र  ज्योतिरादित्य सिंधिया  का जन्म हुआ।
    • 1874 -जाने माने अमेरिकन भौतिकशास्त्री और रेडियो इंजीनियर अलबर्ट हॉयट टेलर का जन्म हुआ, जो  नौसैनिक राडार के जनक के रूप में जाने जाते हैं। इन्होंने अमेरिका में राडार के विकास की नींव रखी। (निधन-11 दिसम्बर 1961)
    • 1894-भारत के प्रमुख गणितज्ञों तथा भौतिक वैज्ञानिकों में से एक सत्येन्द्र नाथ बोस का जन्म हुआ जिन्होंने अलबर्ट आइन्स्टाइन के साथ प्रसिद्ध बोस-आइन्स्टाइन सांख्यिकी  का प्रतिपादन किया, और क्वॉन्टम सिद्धान्त तथा प्लांक के  कृष्णिका विकिरण  नियम के बारे में भी लिखा। आज ये क्वॉण्टम भौतिकी क्षंत्र में अनुसंधान के बुनियादी साधन हैं।(निधन-4 फरवरी 1974)
    • 1995 - अमेरिकन वैज्ञानिक यूजीन पॉल विग्नर का निधन हुआ, जिन्हें 1963 में क्वॉन्टम अभियान्त्रिकी में अभूतपूर्व योगदान के लिए  मारिया गोएपर्ट मेयर  और  जोहानेस हेन्स जेनसेन  के साथ संयुक्त रूप से पुरस्कार प्राप्त किया। इन्होंने परमाणु के नाभिक और मूलकणों के सिद्धान्त तथा मूलभूत समरूपता सिद्धान्त में योगदान देकर परमाणु बम तथा परमाणु ऊर्जा के विकास में अहम भूमिका निभाई। (जन्म 17 नवम्बर 1902) 
    • महत्वपूर्ण दिवस -आर्मी मेडिकल कोर स्थापना दिवस, नागालैंड दिवस, राष्ट्रीय विज्ञान कांग्रेस स्थापना दिवस। 
    ...
  •  


Posted Date : 01-Jan-2019
  • मुंबई के छत्रपति शिवाजी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे को उस जमाने में सहारा अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के नाम से जाना जाता था. उड़ान भरने के महज 101 सेकेंड के भीतर एयर इंडिया का यह विमान पानी में जा गिरा. बोइंग 747 दुबई के लिए रवाना हुआ था लेकिन नियति को कुछ और ही मंजूर था. 101 सेकेंड के अंदर ही विशालकाय जहाज मलबे में तब्दील हो गया. इस विमान में 190 यात्री और 23 चालक दल के सदस्य सवार थे. इस हादसे में सभी की मौत हो गई.

    शुरुआत में इस बात की आशंका जताई जा रही थी कि विमान में कोई धमाका या फिर बाहरी हमला हुआ था. लेकिन अरब सागर से निकाले गए मलबे से यह बात गलत साबित हुई. महीनों तक चली जांच के बाद पता चला कि विमान में किसी किस्म की तकनीकी खराबी आने के कारण यह हादसा हुआ.

     

    ...
  •  


Posted Date : 31-Dec-2018
  • 1964 में आज ही के दिन डोनाल्ड कैम्पबेल ने अपनी जेट नाव में बैठ कर बनाया था पानी पर सबसे तेज गति का विश्व रिकार्ड.
    31 दिसंबर को कैम्पबेल ने पानी में सबसे तेज गति तय करने का विश्व रिकार्ड बनाया था. इसके अलावा वह ऐसे पहले शख्स थे जिसने धरती और पानी पर सबसे तेज स्पीड तय करने का कीर्तिमान एक ही साल के अंदर बनाया. पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया के पर्थ शहर में अपनी ब्लूबर्ड नाम की स्पीडबोट में बैठ कर उन्होंने 276.33 मील प्रति घंटा की रफ्तार पकड़ी. ऐसा करके उन्होंने 1959 का अपना ही पिछला रिकार्ड तोड़ा जो 260.35 मील प्रति घंटे का था.
    कैम्पबेल ने इसके बाद धरती पर सबसे तेज गति में गाड़ी चलाने का रिकार्ड भी रचा. 1964 में ही जुलाई के महीने में उन्होंने केन्द्रीय ऑस्ट्रेलिया की एक सड़क पर 403.1 मील प्रति घंटा की रफ्तार पकड़ी. इस रिकार्ड को कुछ ही महीनों के अंदर आर्ट आरफोन नाम के एक अमरीकी ड्राइवर ने 536.71 मील प्रति घंटा के नए रिकार्ड के साथ तोड़ डाला. आरफोन ने अपनी जेट कार को ऊटाह के बॉर्नविल साल्ट फ्लैट्स में चलाया.
    कैम्पबेल ने 4 जनवरी 1967 को फिर से अपना रिकार्ड तोड़ने की कोशिश की. अपनी ब्लूबर्ड के7 के साथ उन्होंने 300 मील प्रति घंटा का नया रिकार्ड बना भी डाला. लेकिन इस कोशिश में उनकी जेट नाव के आगे का हिस्सा उठा और नाव हवा में 50 फीट की उंचाई तक उछल गई. नाव के वापस पानी में गिरने पर उसके टुकड़े टुकड़े हो गए और इस हादसे में कैम्पबेल की मौत हो गई. कुल 46 साल के इस स्पीड किंग के मृत शरीर के बरामद होने में करीब 34 साल लग गए. 2001 में जाकर उनके शरीर के इकट्ठे किए गए अवशेषों को दफनाया जा सका. आज तक डोनाल्ड कैम्पबेल का एक ही साल में दो दो रिकार्ड बनाने का कीर्तिमान कोई भी नहीं तोड़ पाया है.

     

    • 1600-  पूर्वी, दक्षिण-पूर्वी एशिया और ख़ास तौर पर भारत के साथ व्यापार के लिए इसी दिन  ब्रिटेन की महारानी एलिज़ाबेथ प्रथम ने शाही फऱमान जारी करते हुए ईस्ट इंडिया कंपनी को पंजीकृत किए जाने के आदेश जारी किए थे।
    • 1802 - पेशवा बाजीराव द्वितीय को ब्रिटिश संरक्षण प्राप्त हुआ।
    • 1861 - चेरापूंजी (असम में 22990 मिमि बारिश हुई जो विश्व में किसी भी स्थल पर होने वाली सर्वाधिक वर्षा है।
    • 1879 -न्यूजर्सी के मेनलो पार्क में अन्वेषक थॉमस एडिसन ने पहली बार अपने विद्युत लैंप का प्रदर्शन किया।
    • 1929 - महात्मा गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने लाहौर में पूर्ण स्वराज्य के लिए आंदोलन शुरू किया।
    • 1951-रेडियोधर्मी ऊर्जा को विद्युत ऊर्जा में बदलने वाली पहली बैटरी की घोषणा हुई।
    • 1981 - घाना में सैनिक क्रांति द्वारा राष्ट्रपति डाक्टर लिम्मान सत्ताच्युत एवं फ़्लाइट लेफ़्िटनेंट जेरी रालिंग्स ने सत्ता संभाली।
    • 1984 - राजीव गांधी 40 वर्ष की उम्र में भारत के सातवें प्रधानमंत्री बने।  मो. अज़हरुद्दीन ने इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच खेलकर अपने अंतर्राष्ट्रीय   क्रिकेट जीवन की शुरुआत की।   
    • 1988 - परमाणु प्रतिष्ठानों पर हमले रोकने के लिए भारत और पाकिस्तान ने एक समझौते पर हस्ताक्षर किया जो 27 जनवरी 1991 से प्रभावी हुआ।
    • 1997 - मोहम्मद रफ़ीक तरार पाकिस्तान के 9वें राष्ट्रपति निर्वाचित।
    • 1998 - रूस द्वारा कजाकिस्तान अंतरिक्ष केंद्र से तीन उपग्रहों का सफल प्रक्षेपण।
    • 2001 - भारत ने पाकिस्तान को 20 वांछित अपराधियों की सूची सौंपी; अर्जेन्टीना के राष्ट्रपति फर्ऩांडों रूआ ने अपने पद इस्तीफ़ा दिया।
    • 2003 - भारत और सार्क के दूसरे देशों के विदेश सचिवों ने शिखर सम्मेलन से पहले वार्ता शुरू की।
    • 2004 - ब्यूनर्स आयर्स (अर्जेन्टीना) के एक नाइट क्लब में आग लगने से 175 लोगों की मौत।
    • 2005 - सुरक्षा कारणों से संयुक्त राज्य अमेरिका ने मलेशिया में अपने दूतावास को अनिश्चित काल के लिए बंद किया।
    • 2007 - म्यांमार की सैन्य सरकार ने सात विपक्षी नेताओं को गिरफ़्तार किया।
    • 1956 - मध्यप्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री पंडित रवि शंकर शुक्ल का निधन हुआ। 
    • 1952-  न्यूज़ीलैण्ड के गणितज्ञ वॉन फ्रेड्रिक रैन्डल जोन्स का जन्म हुआ, हैं जिन्हें फंक्शनल विश्लेषण एवं नॉट सिद्धान्त के लिए 1990 में फील्ड मेडल मिला। सन् 1984 में इन्होंने वॉन न्यूमैन अल्जेब्रा और ज्योमैट्रिक टोपोलॉजी में परस्पर सम्बन्ध ढूंढ़ा।
    • 1898 -माया सभ्यता के लोगों के बारे में अध्ययन करने वाले जाने माने अंग्रेज़ नृवंश विज्ञानी सर जॉन ऐरिक सिडनी थॉमसन का जन्म हुआ।  (निधन- 9 सितम्बर 1975)  
    • 1940 -फ्रांसीसी चिकित्सक और भौतिकविद् आर्सेन डी अर्सॉन्वल का निधन हुआ, जो विद्युत, ऊष्मा एवं प्रकाश को चिकित्सा में लाने वाले अग्रणी माने जाते हैं। (जन्म 8 जून 1851)
    • 1679-इटली के शरीर क्रिया विज्ञानी  गियोवानी अल्फॉन्सो बोरेली का निधन हुआ, जो मांसपेशीय गतियों और शरीर के अन्य कार्यों को स्थैतिकी और गतिकी के नियमों के अनुसार समझाने वाले पहले व्यक्ति थे।  (जन्म 28 जनवरी 1608)
    ...
  •  


Posted Date : 30-Dec-2018
  • 1922 में आज ही के दिन यूएसएसआर की स्थापना हुई थी. करीब 7 दशकों तक एक बेहद शक्तिशाली कम्युनिस्ट राष्ट्र के रूप सोवियत संघ का अस्तित्व रहा.
    रूस की क्रांति के बाद वहां यूएसएसआर यानि 'यूनियन ऑफ सोवियत सोशलिस्ट रिपब्लिक्स' की स्थापना हुई थी. इसमें रूसी संघ, बेलारूस. यूक्रेन और ट्रांसकॉकेशियन फेडरेशन के सदस्य देश शामिल थे. 1936 में ही ट्रांसकॉकेशियन फेडरेशन के देश जॉर्जिया, अजरबाइजान और अर्मीनिया रिपब्लिक में विभाजित हो गए. सोवियत यूनियन के नाम से प्रसिद्ध नया कम्युनिस्ट देश यूएसएसआर, रूसी साम्राज्य का भविष्य था. सोवियत यूनियन दुनिया भर में मार्क्स के साम्यवादी सिद्धांतों पर आधारित पहला राष्ट्र था.
    1917 में रूसी क्रांति के दौरान और उसके तुरंत बाद करीब 3 साल तक चले रूसी गृह युद्ध में व्लादिमीर लेनिन के नेतृत्व वाली बोल्शेविक पार्टी ने सोवियत सेनाओं पर नियंत्रण रखा. सोवियत सेना वर्कर्स एंड सोल्जर्स कमेटी का एक ऐसा गठजोड़ थी जिसका मकसद पूर्व रूसी साम्राज्य में एक सोशलिस्ट राज्य की स्थापना करना था. यूएसएसआर में सरकार का पूरा नियंत्रण कम्युनिस्ट पार्टी और उसके पोलितब्यूरो के हाथों में था. पोलितब्यूरो के अध्यक्ष का पद सबसे शक्तिशाली पद था जो शासन का कार्यभार संभालता था. सभी सोवियत उद्योग धंधों की मिल्कियत और प्रबंधन भी राज्य के हाथों में ही था. कृषि भूमि का बंटवारा राज्य द्वारा संचालित कलेक्टिव फार्म्स के रूप में हुआ था.
    1922 में स्थापना के कुछ दशक बाद रूसी आधिपत्य वाला सोवियत यूनियन दुनिया की सबसे शक्तिशाली सत्ता बन कर उभरा. इसमें - रूस, यूक्रेन, जॉर्जिया, बेलोरूसिया, उज्बेकिस्तान, अर्मेनिया, अजरबाइजान, कजाखस्तान, किर्गिस्तान, मॉल्डोवा, तुर्कमेनिस्तान, ताजिकिस्तान, लात्विया, लिथुएनिया और एस्तोनिया - ये 15 देश शामिल हुए. 1991 में क्म्युनिस्ट सरकार के पतन के साथ ही सोवियत यूनियन भी खत्म हुआ.

    • 1913 -डॉ. विलियम डेविड कूलिज ने लैम्प के फिलामेन्ट के लिए मृदु टंग्सटन बनाने का तरीका पेटेन्ट कराया।
    • 1924 -एड्विन हबल ने आकाशगंगा के अलावा बाहर दूसरी नीहारिका के होने की घोषणा की।
    • 1947-रोमानिया के नरेश के त्यागपत्र के साथ ही इस देश में राजशाही शासन व्यवस्था का अंत हुआ और लोकतंत्र की स्थापना हुई। 
    • 1996 - ग्वाटेमाला में गत 36 वर्षों से चला आ रहा गृहयुद्ध समाप्त।
    • 2000 - जनरल उमर-इल बशील दोबारा सूडान के राष्ट्रपति चुने गये, कोलंबिया विश्व का सबसे हिंसक एवं ख़तरनाक देश घोषित।
    • 2001 - लश्कर-ए-तोइबा का संस्थापक प्रमुख हफ़ीज मोहम्मद पाकिस्तान में गिरफ़्तार; महमूद अजहर जेल भेजे गए।
    • 2006 - इराक के पूर्व कथित तानाशाह सद्दाम हुसैन को फ़ांसी दी गई।
    • 2007 - स्वर्गीय बेनजीर भुट्टो के पुत्र बिलावल को पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी का चेयरमैन चुना गया।
    • 2008 - सूर्यशेख गांगुली ने 46वीं राष्ट्रीय ए शतरंज चैम्पियनशिप का खिताब जीता। 
    • 1975 - दुष्यंत कुमार, हिन्दी के कवि और गज़़लकार।
    • 1990 - रघुवीर सहाय, हिन्दी के साहित्यकार व पत्रकार।
    • 2009 - राजेन्द्र अवस्थी-भारत के प्रसिद्ध साहित्यकार, पत्रकार और  कादम्बिनी पत्रिका के सम्पादक। 
    • 1931-वेल्श के मौसम विज्ञानी सर जॉन थ्योडर हॉटन का जन्म हुआ, जिन्होंने 1960 के दशक के अंत में लोगों का ध्यान कार्बन डाइआक्साइड की बढ़ती मात्रा की तरफ खींचा जो कि ग्लोबल वार्मिंग का एक प्रमुख कारण है। इसे हरितगृह प्रभाव (ग्रीनहाउस इफेक्ट) कहते हैं।
    • 1934-अमेरिकी खगोल भौतिकविद्  जॉन बी. बैह्कॉल का जन्म हुआ, जिन्होंने न्यूट्रीनो खगोल भौतिकी के विकास में अग्रणी भूमिका निभायी। जिन्होंने बताया कि न्यूट्रीनो (अपपरमाण्विक कण जिनमें आवेश नहीं होता, और द्रव्य के साथ बेहद कमज़ोर परस्पर करते हैं) यह समझने में सहायक हो सकते हैं कि तारे कैसे चमकते हैं।
    • 1691-ऐंग्लो-आयरिश रसायनज्ञ और प्राकृतिक दार्शनिक  रॉबर्ट बॉयले का निधन हुआ, जो गैस की विशेषताओं पर प्रयोग की पहल करने के लिए जाने जाते हैं। इन्होंने गैस की विशेषताओं पर अपने नियम दिए। वे लन्दन की रॉयल सोसाइटी के संस्थापक सदस्यों में एक थे।(जन्म 25 जनवरी 1627)
    • 1695 -अंग्रेज़ गणितज्ञ  सर सैम्युअल मॉर्लैण्ड का निधन हुआ, जिन्होंने मैकेनिकल कैल्कुलेटर का आविष्कार किया।(जन्म 1625)।
    ...
  •  


Posted Date : 28-Dec-2018
  • आज ही के दिन इटली के शहर मेसिना में यूरोपीय इतिहास का सबसे भयंकर भूकंप आया था. इस भूकंप ने कई शहरों को तबाह कर दिया और लाखों लोग मारे गए.
    28 दिसंबर 1908 में दक्षिणी इटली के मेसिना और रेजो कालाब्रिया में आए भूकंप और सूनामी के बाद एक लाख से ज्यादा लोग मारे गए थे. एक के बाद एक आई प्राकृतिक आपदाओं में मेसिना और रेजो कालाब्रिया समेत कई तटीय शहर तबाह हो गए. स्थानीय समय के मुताबिक तड़के 5 बजकर 20 मिनट पर जमीन के महज 8 किलोमीटर भीतर जबरदस्त हलचल हुई थी. भीषण भूकंप करीब 35 सेकेंड तक महसूस किया गया.
    भूकंप का केंद्र मेसिना और कालाब्रिया के बीच बना जलमार्ग था. पानी के भीतर भूकंप आने के बाद समंदर में सूनामी आ गया जिस कारण 39 फीट ऊंची लहरें उठीं. इन लहरों ने पास के तटीय इलाकों में भारी तबाही मचाई. रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 7.1 मापी गई थी और इसके झटके 300 किलोमीटर तक महसूस किए गए.
    सबसे ज्यादा तबाही इमारतों के गिरने के कारण हुई थी. महीनों तक राहत और बचाव का काम जारी रहा. भूकंप और सूनामी के 18 दिन बाद राहत कर्मियों ने दो बच्चों को जिंदा बचा लिया.

    • 1849-ऐसा कहा जाता है कि ड्राइक्लीनिंग की खोज अचानक तब हुई जब एम. जॉली बेलिन नामक एक दरजी के मेज़दान पर उसका लैम्प गिरा जिसमें तारपीन का तेल था। उन्होंने पाया कि जहां तेल गिरा था वह जगह साफ हो गई थी। उसके बाद उन्होंने पहली ड्राइ-क्लीनिंग की दुकान खोली।
    • 1869-विलियम फिनले सेम्पल को च्यूइंग गम के लिए पेटेन्ट हासिल हुआ।
    • 1896- भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के कोलकाता अधिवेशन में पहली बार बन्दे मातरम् गाया गया।
    • 1926- इंपिरियल एयरवेज ने भारत और इंग्लैंड के बीच यात्री और डाक सेवा शुरू की।
    • 1928- कोलकाता में पहली बार बोलती फि़ल्म मेलोडी ऑफ लव प्रदर्शित हुई।
    • 1995 - पोलैंड के अन्वेषक मारके कार्मिस्की एक ही वर्ष में उत्तरी एवं दक्षिणी धु्रवों पर झंडा फहराने वाले पहले व्यक्ति बने, विश्व सिनेमा का दूसरी सदी में प्रवेश।
    • 2002 - मशहूर फ़ैशन फ़ोटोग्राफऱ हर्वे रिट्स का लास एंजेल्स में निधन।
    • 2003 - इस्रायल ने कजाकिस्तान के बैंकानूर अंतरिक्ष स्टेशन से दूसरा वाणिज्य उपग्रह छोड़ा।
    • 2007 - रूस ने ईरान के बुशेहर विद्युत संयंत्र के लिए परमाणु ईधन की दूसरी खेप खेप भेजी।
    • 2008- अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त कवि और साहित्यकार प्रो. सुरेश वात्स्यायन का निधन  । 
    • 1937 - भारतीय उद्योगपति रतन टाटा का जन्म हुआ। 
    • 1952 -भारतीय राजनेता अरुण जेटली का जन्म हुआ। 
    • 1972 - वकील, लेखक, राजनीतिज्ञ और दार्शनिक चक्रवर्ती राजगोपालाचारी का  निधनहुआ। 
    • 1977 -हिन्दी कवि  सुमित्रानंदन पंत का निधन हुआ। 
    • 1798 - स्कॉटलैण्ड के खगोलशास्त्री थॉमस हेन्डरसन का जन्म हुआ, जो पहले स्कॉटिश ऐस्ट्रोनॉमर रॉयल (1834), जो किसी तारे (अल्फा सेन्टॉरी, केप ऑफ गुड होप में देखा गया) का पैरेलेक्स मापने वाले पहले वैज्ञानिक थे। (निधन-23 नवम्बर 1844)
    • 1814-अंग्रेज़ कृषि विज्ञानी  सर जॉन बैनेट लैवेस का जन्म हुआ, जिन्होंने कृत्रिम उर्वरक उद्योग की स्थापना की और विश्व का पहला कृषि अनुसंधान केन्द्र खोला। (निधन- 31 अगस्त 1900) 
    • 1919-स्वीडन के भौतिकविद्  जोहानेस रॉबर्ट रिडबर्ग का निधन हुआ, जिन्होंने 1890 में किसी तत्व की स्पेक्ट्रल लाइन के तरंग संख्याओं से संबंधित इम्पीरिकल सूत्र में रिडबर्ग स्थिरांक दिया। (जन्म 8 नवम्बर 1854) 
    • 1923 -फ्रांसीसी सिविल इंजीनियर  गुस्टैव ऐफिल का निधन हुआ, जिन्हें धातु के ढांचों के निर्माण में प्रसिद्धि प्राप्त थी। जिन्होंने पेरिस में ऐफिल टॉवर का निर्माण किया।(जन्म-15 दिसम्बर 1832)
    ...
  •  


Posted Date : 27-Dec-2018
  • पाकिस्तान की पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो की 2007 में आज ही के दिन रावलपिंडी में हत्या कर दी गई.
    21 जून 1953 में जन्मी बेनजीर भुट्टो जुल्फिकार अली भुट्टो की बेटी थीं. पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के संस्थापक जुल्फिकार अली भुट्टो 1973 से 1977 तक पाकिस्तान के प्रधानमंत्री रहे. 1977 में जुल्फिकार अली भुट्टो के तख्तापलट के बाद सेना प्रमुख जनरल जिया उल हक ने उनको बंदी बना लिया और शासन की बागडोर अपने हाथ में ले ली. अपने सहयोगियों की हत्या करवाने के आरोप में 1979 में जुल्फिकार अली भुट्टो को फांसी दे दी गई और इसके बाद बेनजीर को हिरासत में ले लिया गया. 1977 से 1984 के बीच वह कई बार जेल गईं. बाद में वह लंदन जाकर रहने लगीं.
    कुछ समय बाद जब बेनजीर पाकिस्तान वापस लौटीं तो टूटी फूटी उर्दू और चाल ढाल में अंग्रेजीयत वाली बेनजीर में लोगों को उम्मीद नजर आई और बहुत थोड़े समय में वो उनकी पसंदीदा नेता बन गईं. बेनजीर भुट्टो 1988 में भारी मतों से चुनाव जीतकर पाकिस्तान की और किसी मुस्लिम देश की पहली महिला प्रधानमंत्री बनीं. हालांकि इसके बाद 1990 में राष्ट्रपति गुलाम इसहाक खान ने भ्रष्टाचार के आरोप में उन्हें बर्खास्त कर दिया.
    1993 में वह फिर चुनाव जीतीं और दोबारा प्रधानमंत्री पद संभाला और 1996 में एक बार फिर भ्रष्टाचार के आरोप में बर्खास्त हुईं. भ्रष्टाचार के आरोपों से जूझ रहीं बेनजीर ने 1999 में पाकिस्तान छोड़ दिया.
    इस बीच वह दुबई और लंदन में रहीं. 2007 में वह चुनावों की तैयारियों के लिए फिर पाकिस्तान लौंटी. दो बार सत्ता संभाल चुकी बेनजीर जब तकरीबन आठ साल के निर्वासन के बाद वतन लौटीं तो लगा कि पाकिस्तान की जनता उनकी राहों में फूल बरसाने के लिए तैयार बैठी थी. निर्वासन के लंबे दौर ने भी न तो उनके करिश्मे को कम किया न उनकी पार्टी की ताकत को.
    भुट्टो को इस बात का अंदाजा था कि पाकिस्तान वापसी पर उनकी जान को खतरा है. उन्होंने 2007 में एक टीवी साक्षात्कार में भी यह बात कही थी. 27 दिसंबर 2007 को रावलपिंडी में एक चुनावी रैली के बाद उन पर एक आत्मघाती हमला हुआ जिसमें उनकी जान चली गई.

    • 1831 -चाल्र्स डार्विन ने बीगल बोट के जरिए में अपनी वैज्ञानिक यात्रा शुरू की।
    • 1845 -पहली बार डॉ. क्रॉफॉर्ड डब्ल्यू. लॉंग ने शिशु जन्म के समय निश्चेतक के रूप में ईथर का प्रयोग किया।
    • 1945 - वैश्विक अर्थव्यवस्था को मज़बूती प्रदान करने के लिए विश्व बैंक की स्थापना की गई।
    • 1960-फ्रांस ने अफ्रीका के सहारा रेगिस्तान में तीसरा परमाणु परीक्षण किया था। इस परीक्षण के साथ ही फ्रांस ऐसे परमाणु प्रक्षेपास्त्र विकसित करने के कऱीब पहुंच गया था।
    • 1979 - अफग़़ानिस्तान ने राजनीतिक परिवर्तन एवं हफीजुल्लाह अमीन की सैनिक क्रांति  में हत्या। 
    • 1985- यूरोप के विएना और रोम हवाई अड्डों पर 1985 में 27 दिसंबर के दिन ही चरमपंथियों ने हमला कर दिया था जिसमें कम से कम 16 लोग मारे गए थे और सौ से ज़्यादा ज़ख्मी हो गए थे। 
    • 1998 - चीन के परमाणु कार्यक्रम के जनक वांगकान धांग का निधन।
    • 2000 - आस्ट्रेलिया में विवाह पूर्व संबंधों को क़ानूनी मान्यता।
    • 2001 - भारत-पाक युद्ध रोकने के लिए संयुक्त राज्य अमेरिका व रूस सक्रिय; लश्कर-ए-तोइबा ने अब्दुल वाहिद कश्मीरी को अपना नया प्रमुख नियुक्त किया; संयुक्त राष्ट्र ने पाक आतंकवादी संगठन उम्मा-ए-तामीर ए बो  के खाते सील करने के आदेश दिये।
    • 2002 -  ईव नामक पहले मानव क्लोन ने संयुक्त राज्य अमेरिका में जन्म लिया।
    • 2007 - रावलपिंडी के पास पाकिस्तान की पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो की गोली मारकर हत्या।
    • 1797 - उर्दू-फ़ारसी के प्रख्यात शायर ग़ालिब का जन्म हुआ। 
    • 1965 - अभिनेता सलमान खान का जन्म हुआ। 
    • 1927-उत्तराखंड के पहले मुख्यमंत्री  नित्यानंद स्वामी का जन्म हुआ। 
    • 1822-फ्रांसीसी रसायनज्ञ लुई पाश्चर का जन्म हुआ, जो सूक्ष्मजीव विज्ञान के संस्थापक माने जाते हैं। जिन्होंने तरल पदार्थों में हानिकारक जीवाणुओं को नष्ट करने के लिए एक निश्चित तापमान पर रखने की विधि खोजी जिसे पाश्चरीकरण कहा जाता है। (निधन-28 सितम्बर 1895)
    • 1571- जर्मन खगोलशास्त्री जोहानेस केप्लर का जन्म हुआ,  जिन्होंने ग्रहों की गति के तीन नियम दिए जिन्हें केप्लर के नियम के नाम से जाना जाता है। (निधन-15 नवम्बर 1630)
    • 1914-अमेरिकी रसायनज्ञ  चाल्र्स मार्टिन हॉल का निधन हुआ, जिन्होंने एल्युमिनियम को उसके अयस्क से अलग करने का सस्ता विद्युत अपघटनी तरीका निकाला। (जन्म 6 दिसम्बर 1863)
    • 1923-अमेरिकी ग्लास निर्माता  माइकल जोजफ़ ओवेन्स का निधन हुआ, जिन्होंने स्वचालित ग्लास बनाने वाली मशीन का अविष्कार किया जिसने इस उद्योग में सचमुच एक क्रांति ला दी।(जन्म 1 जनवरी 1859)
    ...
  •  


Posted Date : 26-Dec-2018
  • साल 1606 में आज ही के दिन शेक्सपियर ने अपने मशहूर नाटक किंग लियर को पहली बार इंग्लैंड के राजा जेम्स प्रथम के दरबार में पेश किया था.
    महान नाटककार और अभिनेता विलियम शेक्सपियर के नाटक विश्वप्रसिद्ध हैं. 'किंग लियर' नाटक का पहला मंचन उन्होंने 26 दिसंबर 1606 को किया था. केवल 18 साल की उम्र में शेक्सपियर ने एन हैथवे से शादी रचाई और 1583 में उनकी पहली बेटी पैदा हुई. इसके बाद 1585 में इस युगल के जुड़वा बच्चे हुए. कुछ ही समय बाद शेक्सपियर अभिनेता बनने के लिए लंदन चले गए.
    साल 1592 आते आते वह लंदन में थिएटर की दुनिया के एक प्रतिष्ठित अभिनेता और नाटककार बन चुके थे. अपने नाटक 'कॉमेडी ऑफ एरर्स' और 'द टेमिंग ऑफ द श्रू' उन्होंने 1590 के दशक की शुरुआत में लिखे थे. इसी दशक के अंत में उन्होंने रोमियो एंड जूलिएट (1594-1595) और मर्चेंट ऑफ वेनिस (1596-1597) जैसी कालजयी रचनाएं भी कीं. उनकी सुप्रसिद्ध मार्मिक रचनाएं जैसे हैमलेट, ओथैलो, किंग लियर और मैकबेथ 1600 के बाद लिखी गईं.
    लंदन में शेक्सपियर एक लोकप्रिय रंगमंच दल 'द लॉर्ड चैम्बरलेंस मेन' के सदस्य बने. यही दल बाद में चलकर द किंग्स मेन कहलाया. यह दल ग्लोब थिएटर के नाम से प्रस्तुतियां दिया करता था. कुछ सालों में शेक्सपियर इस दल के मालिकों में से एक बन गए और कई सारी प्रस्तुतियों से भारी कमाई कर उन्होंने स्ट्रैटफोर्ड में एक आलीशान घर खरीदा.
    1610 में उन्होंने अपने अंतिम नाटक लिखे जिनमें द टेंपेस्ट (1611) और द विंटर्स टेल (1610-11) का नाम आता है. इन नाटकों के अलावा उन्होंने 100 से भी ज्यादा सोनेट लिखे जो 1609 में प्रकाशित हुए. शेक्सपियर के जीते जी उनका कोई भी नाटक प्रकाशित नहीं हुआ. निधन के बाद उनके नाटक दल के दो सदस्यों ने नाटकों की प्रतियां इकट्ठी कीं और उन्हें प्रकाशित करवाया. उसे ही अब शेक्सपियर के 'फर्स्ट फोलियो' के नाम से जाना जाता है.

     

    • 1898 -पोलिश-फ्रांसीसी विज्ञानी, मैरी स्क्लोडोव्स्का क्यूरी ने पिचब्लेन्ड अयस्क पर काम करते हुए रेडियोधर्मी तत्व रेडियम की खोज की।
    • 1975-पहले यात्री सुपरसोनिक जेट ट्युपोलेव-144 ने मास्को से अल्मा-अटा (कज़ाकिस्तान) के लिए पहली बार उड़ान भरी।
    • 1990-  ईरान के धार्मिक नेता अयातुल्लाह अली खुमैनी ने बयान दिया कि पैग़म्बर हजऱत मोहम्मद की निंदा के लिए लेखक सलमान रूशदी पर मौत का फ़तवा जारी रहेगा।
    • 2002 - संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिक्षद ने डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ़ कांगो में पुन: संघर्ष शुरू होने की सूचना दी।
    • 2004- हिंद महासागर में आए भयंकर भूकंप और उसके प्रभाव से शुरू हुई सुनामी में दक्षिणी एशिया में 10 हजार से अधिक लोगों की मौत हो गई थी। तेरह देशों को मिलाकर कुल मरने वालों की तादाद दो लाख थी।
    • 2006 - शेन वार्न ने अंतर्राष्ट्रीय टेस्ट क्रिकेट में 700 विकेट लेकर इतिहास रचा।
    • 2007 - तुर्क विमानों ने इराकी कुर्द ठिकानों पर हमले किए।
    • 1899 - स्वतंत्रता सेनानी अमर शहीद ऊधम सिंह का जन्म हुआ। 
    • 1530- मुग़ल सम्राट बाबर का निधन हुआ। 
    • 1976 - हिन्दी के यशस्वी कथाकार और निबन्ध लेखक यशपाल का निधन हुआ। 
    • 1893 -चीन में कम्युनिस्ट पार्टी के संस्थापक और अध्यक्ष माओ ज़े तुंग का जन्म हुआ।
    • 1896 -जर्मनी के इतिहासकार हेनरी टोराइचके का निधन हुआ। वे 1834 ईसवी में पैदा हुए थे। उनके द्वारा लिखा गया जर्मनी का इतिहास बहुत महत्वपूर्ण और विश्वसनीय माना जाता है। उनकी इस पुस्तक का नाम है जर्मनी 19वीं शताब्दी में।
    • 1838 -जर्मन रसायन विज्ञानी क्लीमेन्स एलेक्ज़ेण्डर विन्कलर का जन्म हुआ, जिन्होंने 1886 में जर्मेनियम तत्व की खोज की।(निधन-8 अक्टूबर 1904) 
    • 1825- जर्मन चिकित्सक फेलिक्स होप्पे-सेयलर का जन्म हुआ  जो जैव रसायन विज्ञान के अग्रणी माने जाते हैं। उन्होंने नई तकनीक अवशोषण स्पेक्ट्रोस्कोपी के द्वारा रक्त और मूत्र के रसायन का अध्ययन किया। (निधन-10 अगस्त 1895)
    • 1985-अमेरिकी जन्तु विज्ञानी  ड्यान फॉज़ी का निधन हुआ, जिन्होंने रवान्डा, मध्य अफ्रीका के पहाड़ी तथा जंगली गोरिल्लों पर बरसों तक निरंतर अध्ययन किया। उन्होंने रवान्डा में कैरिसोके अनुसंधान केन्द्र स्थापित किया तथा 1967-1980 तक उसके निदेशक रहे। उन्होंने 1983 में गोरिल्ला इन द मिस्ट नामक पुस्तक लिखी जिसमें उन्होंने लोगों को गोरिल्लों के खत्म होते आवास तथा शिकारियों के खतरे की चिंताओं से अवगत कराया।  (जन्म 16 जनवरी 1932)
    • 1931-अमेरिकी लाइब्रेरियन  मेल्विल डिवी का निधन हुआ, जिन्होंने अमेरिका में पुस्तकालय विज्ञान, खास करके, वर्गीकरण प्रक्रिया को विकसित किया। (जन्म 10 दिसम्बर 1851)।
    ...
  •  




Previous123456Next