इतिहास

इतिहास में 27 अप्रैल
इतिहास में 27 अप्रैल
27-Apr-2019

आज के दिन एक ऐसी घटना हुई जिसे इतिहास में काले अक्षरों में लिखा गया.
27 अप्रैल 1940 में नाजियों ने पोलैंड के ओस्वीसिम में यातना शिविर का निर्माण शुरू किया. इसे आउश्वित्स के नाम से जाना जाने लगा और इसे बनाने के आदेश वरिष्ठ नाजी अफसर हाइनरिष हिमलर ने दिए. आउश्वित्स के दरवाजे पर "आरबाइट माख्ट फ्राई" लिखा गया था, जिसका अर्थ है "मेहनत आजाद करती है."
आउश्वित्स में तीन बड़े कैंप थे जिनमें पांच शवदाह केंद्र थे. इस यातना शिविर में करीब 11 लाख बंदियों को मारा गया लेकिन कुछ अनुमानों के मुताबिक मारे गए लोगों की संख्या 20 लाख तक हो सकती है. इनमें से ज्यादातर बंदी यहूदी थे. ज्यादातर कैदियों को सिक्लोन बी नाम की जहरीली गैस से खास कमरों में मारा गया लेकिन कई कैदी भूख और कड़ी मजदूरी की वजह से अपनी जान खो बैठे. इस शिविर में नाजियों ने कई बर्बर प्रयोग भी किए.
पहले तो आउश्वित्स में जर्मनी का विरोध कर रहे पोलैंड के निवासियों को कैद करने की बात थी. लेकिन 1941 में हिमलर ने तय किया कि यह यातना शिविर यूरोप में रह रहे सारे यहूदियों को खत्म करने का काम करेगा. इस सिद्धांत को "अंतिम निपटारा" का नाम दिया गया और इसके तहत यूरोप भर से यहूदियों को जमा कर उन्हें मारने की योजना बनाई गई और इसे अमल में भी लाया गया.
पश्चिमी मित्र देशों के जर्मनी पर हमले के बाद आउश्वित्स को यहूदियों को दी गई यातना की याद में स्मारक घोषित किया गया.

* 1828-लंदन शहर में पहला ज़ूलॉजिकल गार्डन खुला। यह ब्रिटेन का पहला वैज्ञानिक चिडिय़ाघर था।

* 1970 -हाहनियम (तत्व-105) की खोज की घोषणा की गई।
 * 1999 - यूनेस्को द्वारा एक कोरियाई लोक गायक के नाम पर एक नए पुरस्कार अरिरंग की घोषणा, दक्षिण कोरिया एवं थाइलैंड के बीच प्रत्यर्पण संधि पर हस्ताक्षर।
* 2005 - टुलुज (फ्रांस) में एयरबस निर्मित दुनिया के सबसे बड़े विमान ए-380 ने पहली परीक्षण उड़ान भरी।
* 2008 - राजस्थान सरकार ने प्रत्येक जि़ला मुख्यालय पर विकलांगों के लिए मोबाइल कोर्ट स्थापित करने का निर्णय लिया। पाकिस्तान ने अपने विदेश सचिव रियाज मुहम्मद ख़ान को बर्ख़ास्त कर उनके स्थान पर चीन में पाकिस्तान के राजदूत सलमान बशीर को विदेश सचिव नियुक्त किया। मोरक्को की एक गद्दा फ़ैक्ट्री में आग लगने से 55 लोगों की मृत्यु। 
* 2010 - यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (यूआईडीएआई) ने भारत के नागरिकों की पहचान का एक बड़ा सबूत बनने जा रहे यूनीक आइडेंटिफिकेशन नंबर को अब नया ब्रांड नाम आधार  के साथ नया लोगो पेश किया। 
* 1912 - प्रसिद्ध अभिनेत्री और नृत्यांगना ज़ोहरा सहगल का जन्म हुआ। 
 * 1875-फ्रांसीसी भौतिकविद् मॉरिस डी ब्रॉग्ली का जन्म हुआ,   जिन्होंने एक्स किरणों के अध्ययन में काफी योगदान दिया। सन् 1921-22 में उन्होंने अपने भाई लुई के साथ मिलकर बोर के परमाणु माडल पर अध्ययन किया। (निधन-14 जुलाई 1960)
 *1896 -अमेरिकी रसायनज्ञ वैलेस ह्यूम कैरोथर्स का जन्म हुआ, जिन्होंने 1935 में नायलॉन की खोज की। यह पहला संश्लेषित पॉलीमर रेशा था जिसे एडिपिक अम्ल तथा हेक्सामिथाइलीनडाइएमीन के संघनन से बनाया गया था।  (निधन-29 अप्रैल 1937)
*2002 -अमेरिकी महिला  रूथ हैन्डलर का निधन हुआ, जिन्होंने सन् 1959 में बार्बी गुडिय़ा का आविष्कार किया। वे 1942 में स्थापित मैटेल कम्पनी की सहसंस्थापक थीं जहां पहले फोटो फ्रेम बनते थे। बाद में वहां खिलौने भी बने  और आज उसकी बार्बी गुडिय़ा बच्चों के बीच लोकप्रिय है। (जन्म 4 नवम्बर 1916)
*1936-अंग्रेज़ गणितज्ञ कार्ल पियर्सन का निधन हुआ, जो आधुनिक सांख्यिकी के संस्थापकों में से एक थे। उन्होंने जीवविज्ञान,  आनुवांशिकता तथा विकास में सांख्यिकी के प्रयोग की पहल की। (जन्म 27 मार्च 1857)
 महत्वपूर्ण दिवस- विश्व रंगमंच (थिएटर) दिवस।
--

 

--

अन्य पोस्ट

Comments