छत्तीसगढ़ » रायपुर

Previous1234567Next
Date : 24-Jan-2020

प्रदेश के नवनिर्वाचित महापौर और सभापतियों ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के साथ दिल्ली में पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी से मुलाकात की, सोनिया-राहुल की सलाह- जीत पर अहंकार न करें, गरीबों की सेवा करें
छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 24 जनवरी।
प्रदेश के नवनिर्वाचित महापौर और सभापतियों ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के साथ दिल्ली में पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी से मुलाकात की। दोनों नेताओं ने नगरीय निकाय चुनाव में सफलता के लिए बधाई दी। साथ ही साथ राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेसजनों को जीत पर अहंकार नहीं होना चाहिए। उन्हें अधोसंरचना के काम तो करने ही हैं, लेकिन गरीबों के लिए कार्यों को प्राथमिकता से किया जाना चाहिए। 

प्रदेश के सभी नगर निगमों में महापौर और सभापति पद पर कांग्रेस के उम्मीदवार विजयी हुए हैं। आज सभी नवनिर्वाचित महापौर और सभापति एक साथ प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया, मुख्यमंत्री श्री बघेल व प्रदेश अध्यक्ष श्री मरकाम के साथ 10 जनपथ पहुंचे। उनके साथ पार्टी के राष्ट्रीय महामंत्री मोतीलाल वोरा और सरकार के आधा दर्जन मंत्री भी थे। 

सभी महापौरों और सभापतियों ने अपना परिचय दिया। पार्टी अध्यक्ष ने उन्हें बधाई दी। पार्टी के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष मोतीलाल वोरा ने सोनिया गांधी को बताया कि आज से 52 साल पहले वर्ष-1968 में वे भी पार्षद रहे हैं। पार्षद का पद राजनीति की पहली सीढ़ी होती है। इस मौके पर राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेसजनों को अहंकार नहीं होना चाहिए। उन्हें  नवनिर्वाचित पदाधिकारियों को अधोसंरचना के काम तो करने ही हैं। गरीबों की सेवा भी करनी है। गरीबों के लिए आवास और शुद्ध पेयजल की व्यवस्था हो, प्रशासनिक कार्यों में किसी तरह की रूकावट न हो, यह भी ध्यान देना जरूरी है। उन्होंने कहा कि लगातार जीत हासिल करने के लिए सभी को बधाई दी और कहा कि सबको साथ लेकर काम करें। ऊंचाई पर पहुंचने के बाद ऊंचाई पर बनाए रखना जरूरी है।

पार्टी के नेताओं ने यह भी बताया कि घोषणा पत्र के अहम किया गया है और उसी के अनुरूप किसानों, आदिवासियों और गरीबों के हितों में कार्य एवं फैसले लिए जा रहे हैं। इस मौके पर सरकार के मंत्री रविन्द्र चौबे, जयसिंह अग्रवाल, अनिला भेडिय़ा, प्रेमसाय सिंह और अन्य नेता भी थे। नवनिर्वाचित महापौरों में एजाज ढेबर, राजकिशोर प्रसाद, प्रदीप बाकलीवाल, रामशरण यादव, डॉ. अजय तिर्की, सफीना साहू सहित अन्य नगर पालिकों के अध्यक्ष और सभापति भी थे।


Date : 24-Jan-2020

रायपुर समेत 8 जिलों में जल्द खुलेंगे 14 नए ई-साक्षरता केंद्र, सरकार ने दी मंजूरी, 36 केंद्र पहले से संचालित

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 24 जनवरी। शिक्षामंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम की पहल पर रायपुर, दुर्ग समेत प्रदेश के 8 जिलों में 14 नए अतिरिक्त ई साक्षरता केंद्र मंजूर किए गए हैं। इन केंद्रों को मिलाकर प्रदेश में ई- साक्षरता केंद्र की संख्या 36 से बढक़र 50 हो गई है। स्कूूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने इन सभी केंद्रों को गुणवत्तापूर्ण बनाने के निर्देश भी दिए हैं।

प्रदेश के मंत्री, विधायक व हाल ही में म्युनिसिपल चुनाव जीतकर आए महापौर व अन्य पदाधिकारियों की ई साक्षरता केंद्र खोलने को लेकर लगातार मांग बनी हुई है। उनकी मांग पर ही शासन ने नए ई साक्षरता केंद्र की स्वीकृति दी है। सीएम भूपेश बघेल की मंशाअनुरूप प्रदेश में ‘गढ़बो डिजिटल छत्तीसगढ़’ कार्यक्रम शुरू किए गए हैं। इस कार्यक्रम का शुभारंभ सीएम ने 28 फरवरी 2019 को रायपुर में किया था। इसके बाद लगातार इन केंद्रों का विस्तार किया जा रहा है। इन केंद्रों में डिजिटल साक्षरता के अलावा व्यक्तित्व विकास, श्रेष्ठ पालकत्व, आत्मरक्षा, वित्तीय साक्षरता, विविध साक्षरता, चुनावी साक्षरता, कौशल विकास, जीवन मूल्य व नागरिक कर्तव्य जैसे महत्वपूर्ण विषयों पर मार्गदर्शन दिया जा रहा है।

बताया गया कि ‘गढ़बो डिजिटल छत्तीसगढ़’ के अंतर्गत नए ई साक्षरता केंद्र रायपुर, दुर्ग, सूरजपुर, नारायणपुर, राजनांदगांव, बलरामपुर, सरगुजा व कबीरधाम जिले में मंजूर किए गए हैं। स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. टेकाम ने बताया कि यह कार्यक्रम प्रदेश के क्षेत्र के डिजिटल असाक्षरों को एक नवाचारी कार्यक्रम है। इन केंद्रों में एक महीने में तय पाठ्यक्रम अनुसार शिक्षार्थियों को प्रशिक्षण दिया जाता है। यह कोर्स पूरा करने के बाद आंतरिक मूल्यांकन किया जाता है। अंत में छत्तीसगढ़ इंफोटेक प्रमोशन सोसायटी(चिप्स)द्वारा ऑनलाइन मूल्यांकन किया जाता है, जिसमें अभी तक 5 हजार 7 सौ शिक्षार्थी सफल हो चुके हैं।

विशेषज्ञ बताते और सिखाते हैं मोबाइल, कंप्यूटर से जुड़े काम

बताया गया कि गढ़बो डिजिटल छत्तीसगढ़ में 15 से 60 आयु समूह के डिजिटल असाक्षरों को प्रशिक्षित ई-एजुकेटर द्वारा एक महीने में डिजिटल उपकरणों का उपयोग करना सिखाया जाता है। डिजिटल साक्षरता के अंतर्गत कम्प्यूटर, मोबाइल से जुड़े कई काम सिखाए जाते हैं। इसमें डिजिटल डिवाइस चलाना, कम्प्यूटर के पुर्जे, मोबाइल फोन, टेबलेट, इंटरनेट, ईमेल, सोशल मीडिया, फेसबुक, ट्वीटर, व्हाटसअप की जानकारी देते हुए उसके उपयोग की जानकारी दी जाती है। वहीं विभिन्न सेवाओं का ऑनलाइन भुगतान, ऑनलाइन बुकिंग, रेल, बस टिकिट बुक करना, मोबाइल रिचार्ज, टीवी रिचार्ज, बिजली बिल आदि भुगतान तथा विभिन्न सेवाओं के लिए ऑनलाइन फार्म भरना भी सिखाया जाता है।

 


Date : 24-Jan-2020

राकेश गुप्ता समेत 5 डॉक्टर मेडिकल काउंसिल सदस्य, चुनाव में सबसे ज्यादा वोट मिले, विजयी घोषित

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 24 जनवरी। छत्तीसगढ़ मेडिकल काउंसिल का चुनाव बीती शाम-रात यहां मेडिकल कॉलेज परिसर में कराया गया। इस दौरान मेडिकल काउंसिल के लिए डॉ. राकेश गुप्ता, डॉ. महेश सिन्हा समेत पांच सदस्य चुने गए। चुनाव में इन सभी डॉक्टरों ने ज्यादा वोट हासिल किए।

पिछले डेढ़ महीने से जारी छत्तीसगढ़ मेडिकल काउंसिल की चुनाव प्रक्रिया शाम से शुरू हुए, जो रात तक चलती रही। छत्तीसगढ़ राज्य बनने के बाद पहली बार हुई सीधे चुनाव की प्रक्रिया में 17 प्रत्याशी मैदान में थे, जिसमें से सर्वाधिक मत प्राप्त करने वाले पांच प्रत्याशियों को चुनाव अधिकारी डॉ सुरेंद्र पामभाई ने विजयी घोषित किया। सितंबर 2019 तक छत्तीसगढ़ काउंसिल की सदस्यता प्राप्त किए 9361 डॉक्टरों में से 2160 डॉक्टरों ने मताधिकार का प्रयोग किया।

एक टीम के रूप में चुनाव में उतरे वरिष्ठ निश्चितना विशेषज्ञडॉ. महेश सिन्हा, देश के वरिष्ठ तम मूत्र रोग विशेषज्ञ एवं मेडिकल कानून विशेषज्ञ डॉ. ललित शाह, कान नाक गला रोग विशेषज्ञ और रायपुर हॉस्पिटल बोर्ड के अध्यक्ष डॉ. राकेश गुप्ता, स्त्री रोग विशेषज्ञ की संस्था फॉक्सी की अध्यक्ष एवं इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की महासचिव डॉ. आशा जैन और इंडियन मेडिकल एसोसिएशन स्टूडेंट विंग में सक्रिय सदस्य डॉ यशवंत चंद्रवंशी ने चुनाव में विजय हासिल की। डॉ. आशा जैन छत्तीसगढ़ मेडिकल काउंसिल में चुनाव जीतने वाली पहली महिला डॉक्टर और डॉ. यशवंत चंद्रवंशी छत्तीसगढ़ मेडिकल काउंसिल में सबसे कम उम्र के डॉक्टर रहेंगे।

डॉ. राकेश गुप्ता व चुनाव जीते सभी सदस्यों ने विश्वास व्यक्त किया है कि आने वाले दिनों में छत्तीसगढ़ मेडिकल काउंसिल में पूरे छत्तीसगढ़ की मेडिकल बिरादरी की मंशा के अनुरूप आमूलचूल परिवर्तन किए जा सकेंगे। छत्तीसगढ़ मेडिकल काउंसिल में सदस्यों की संख्या के अनुपात में निर्वाचित प्रतिनिधियों को प्रतिनिधित्व मिल सकेगा। टीम की यह कोशिश लगातार बनी रहेगी। उन्होंने पूरी टीम की ओर से छत्तीसगढ़ के चिकित्सक समुदाय को बहुमत दिलाने के लिए धन्यवाद दिया है और विश्वास व्यक्त किया है कि उनकी अपेक्षाओं के अनुरूप पूरी टीम काम करेगी।

 

 


Date : 24-Jan-2020

सोमानी की सकुशल वापसी, उद्योगपति कारोबारी एसएसपी से मिले, बधाई

सिलतरा में अतिक्रमण हटाने व थाना खोलने की मांग

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 24 जनवरी। छत्तीसगढ़ मिनी स्टील प्लांट एसोसिएशन, छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस व्यापार प्रकोष्ठ, उरला इंडस्ट्रीयल एसोसिएशन, छत्तीसगढ़ स्टील रि-रोलर्स एसोसिएशन और अन्य औद्योगिक एवं व्यापारिक संगठनों ने एसएसपी आरिफ शेख से मिलकर उद्योगपति प्रवीण सोमानी की सकुशल घर वापसी पर छत्तीसगढ़ शासन एवं पुलिस विभाग को बधाई एवं धन्यवाद किया। सभी संगठनों ने शासन एवं पुलिस प्रशासन को छत्तीसगढ़ सुरक्षित होने का आभार व्यक्त किया।

छत्तीसगढ़ मिनी स्टील प्लांट एसोसिएशन के महासचिव मनीष धुप्पड़ ने बताया कि उद्योगपतियों एवं कारोबारियों ने एसएसपी से चर्चा में सिलतरा औद्योगिक क्षेत्र में एक अलग थाना चालू करने पर भी जोर दिया और कहा कि औद्योगिक क्षेत्र में संगठनों द्वारा एक प्रस्तावित जगह चिन्हित कर पुलिस विभाग को दिया जाएगा। दूसरी ओर उद्योगपतियों एवं कारोबारियों ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को उरला एवं सिलतरा औद्योगिक क्षेत्र की सभी शराब दुकान बंद करने एवं छोटे-छोटे ठेले व खोमचों जहां नशीले पदार्थ बिकते हंै, उन सभी अतिक्रमण दुकानों को चिन्हित कर हटाने की मांग की है। प्रतिनिधि मंडल में कांग्रेसी व्यापार प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष राजेंद्र जग्गी महामंत्री प्रमोद जैन, मनीष धुप्पड़, उपाध्यक्ष सुमीत गुप्ता उरला एसोसिएशन के अध्यक्ष अश्वनी गर्ग, योगेंद्र नारंग, अजय अग्रवाल प्रमुख रूप से शामिल थे।

उल्लेखनीय हैकि बिहार के एक कुख्यात गिरोह ने सिलतरा के उद्योगपति प्रवीण सोमानी का 15 दिन पहले अपहरण कर लिया था, लेकिन रायपुर पुलिस ने उन्हें सकुशल वापस छुड़ा लाया। अपहर्ता, उद्योगपति के परिवार वालों से 50 करोड़ की फिरौती मांग रहे थे।

 


Date : 24-Jan-2020

पुनिया-बघेल के नेतृत्व में सोनिया-राहुल से मिले नवनिर्वाचित महापौर-सभापति

रायपुर, 24 जनवरी। छत्तीसगढ़ कांग्रेस के प्रभारी पीएल पुनिया और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में पार्टी के नवनिर्वाचित महापौर व सभापतियों ने राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी और राहुल गांधी से मुलाकात की। इस मौके पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम, विधानसभा अध्यक्ष चरणदास महंत, केबिनेट मंत्री टीएस सिंह देव, ताम्रध्वज साहू, रविंद्र चौबे, अमरजीत भगत, प्रेमसाय सिंह, जयसिंह अग्रवाल, अनिला भेडिय़ा और नगर निगम के नवनिर्वाचित महापौर और सभापति भी थे। दोनों ने सभी को नगरीय निकाय चुनाव में जीत की बधाई दी। 

 


Date : 23-Jan-2020

हर ग्रामीण परिवार के लिए शुध्द पेयजल उपलब्ध कराने घरेलू नल कनेक्शन 
छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 23 जनवरी।
कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन के निर्देश पर जिला पंयायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. गौरव कुमार सिंह ने आज जल-जीवन मिशन के अंतर्गत गठित जिला जल और स्वच्छता मिशन समिति की बैठक कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में ली। 

उन्होंने कहा कि जल-जीवन मिशन अंतर्गत प्रत्येक ग्रामीण परिवार को शुध्द पेय जल उपलब्ध कराने के लिए घरेलू नल कनेक्शन दिया जाना है। घरेलू नल कनेक्शन के साथ-साथ सार्वजनिक संस्थान जैसे ग्राम पंचायत भवन, स्कूल, आंगनबाड़ी केन्द्र, स्वास्थ्य केन्द्र, कल्याण केन्द्र आदि में भी नल कनेक्शन दिया जाना है। पानी की आपूर्ति के लिए बुनियादी ढांचे का निर्माण कर प्रत्येक ग्रामीण परिवार को पर्याप्त मात्रा में पानी नियमित रूप से उपलब्ध कराना है। बुनियादी ढांचे के विकास को 12 से 18 महीने में तीन चरणों में पूर्ण किया जाना है। 
बैठक में उन्होंने कहा कि जल-जीवन मिशन के अंतर्गत पानी की निरन्तर पूर्ति के लिए पेय जल स्रोतो का विकास और मौजूदा स्रोतो का संवर्धन किया जाना है। पहले से स्थापित ग्रामीण क्षेत्रों की जल गुणवत्ता की निगरानी के लिए प्रयोगशाला की सुविधा का उपयोग किया जाएगा। ऐसे जगह जहां पानी की गुणवत्ता में कमी हो, वहां दूषित पदार्थो को हटाने केे लिए उपचार संयंत्र भी लगाया जाना है। 

पानी की गुणवत्ता की निगरानी ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी होगी। जिला जल-जीवन मिशन के तहत गांवों में ग्राम जल और स्वच्छता समिति का गठन किया जाएगा। इस समिति में 10 से 15 सदस्य शामिल हो सकेगें तथा इनका कार्यकाल 2 से 3 साल तक होगा। 

इस मिशन के तहत मौजूदा स्रोत से किसी एक गांव अथवा अधिक गंाव को पानी की आपूर्ति की योजना बनाई जा सकती है। इस अवसर पर जल-जीवन मिशन के तहत गठित समिति के समस्त सदस्य उपस्थित थे। 

 


Date : 23-Jan-2020

विश्वविद्यालयों से जुड़े कई मुद्दों पर फैसले में सरकार चाहती है अपना अधिकार

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 23 जनवरी। सरकार कुलपति चयन और कुछ अन्य बिंदुओं को छोडक़र विश्वविद्यालयों से जुड़े फैसले खुद लेना चाहती है। उच्च शिक्षा विभाग ने राज्यपाल को इस आशय का सुझाव भी दिया है। ताकि  फैसले लेने में देरी न हो।

कुलाधिपति की हैसियत से राज्यपाल प्रदेश के विश्वविद्यालयों से जुड़े फैसले लेते हैं। विश्वविद्यालयों से कुलपति चयन से लेकर शैक्षणिक कैलेण्डर तय करने का अधिकार राज्यपाल के पास होता है। प्रदेश में दर्जनभर विश्वविद्यालय हो चुके हैं। ज्यादातर विश्वविद्यालयों में अधोसंरचना से लेकर अन्य तरह की समस्याएं हैं। जिनका निराकरण करने के लिए उच्च शिक्षा विभाग चाहकर भी कोई फैसले नहीं ले पा रहा है।

सूत्रों के मुताबिक उच्च शिक्षा विभाग ने सुझाव भेजा है कि कुलपति की नियुक्ति और अन्य जरूरी बिन्दुओं को छोडक़र बाकी के अधिकार सरकार को सौंप दिया जाए, ताकि उच्च शिक्षा से जुड़े अन्य विषयों पर तेजी से निर्णय लिया जा सके। बताया गया कि कर्नाटक और आंध्रप्रदेश में कुछ इसी तरह की व्यवस्था है। वहां तो राज्यपाल ने कुलपतियों की नियुक्ति का अधिकार भी राज्य शासन को दे दिया है। अधिकार न होने के कारण उच्च शिक्षा विभाग को कई फैसले लेने में देरी होती है।

बताया गया कि विश्वविद्यालयों में भी कई तरह की विसंगतियां सामने आई है। मसलन, पं. रविशंकर विवि में अभी तक जीएसटी को पाठ्यक्रम में शामिल नहीं किया गया है। यहां अभी भी सेल्स टैक्स की पढ़ाई हो रही है। जबकि अन्य विवि में सेल्स टैक्स की जगह जीएसटी को पाठ्यक्रम में शामिल किया गया है। इसको लेकर भी कई बार विश्वविद्यालय से लेकर राजभवन तक का ध्यान आकृष्ट कराया गया, लेकिन कोई फैसला नहीं हो पाया है।


Date : 23-Jan-2020

 गुरुकुल महिला महाविद्यालय द्वारा इंटर कॉलेज कयाकिग में गितेश्वर ने मारी बाजी
छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 23 जनवरी।
गुरुकुल महिला महाविद्यालय द्वारा गुरुवार को इंटर कॉलेज कायकिंग एवं कैनोइंग प्रतियोगिता का विवेकानंद सरोवर में आयोजिन किया गया। प्रतियोगिता में डिग्री कॉलेज, गुरुकुल कॉलेज, डागा कॉलेग, छत्तीसगढ़ कॉलेज, दुर्गा कॉलेज, फूलचंद कॉलेज, शास. महाविद्यालय महासमुंद कॉलेज, पैलोटी कॉलेज एवं साइंस कॉलेज की भागीदारी रही। 

कैनोइंग पुरुष 1 हजार मीटरमें छत्तीसगढ़ कॉलेज के गितेश्वर साहू प्रथम, महंत कॉलेज के संजू साहू द्वितीय तथा महंत कॉलेज के महेंद्र तृतीय रहे। कैनोइंग महिला 1 हजार मीटर में विप्र महाविद्यालय की रमा प्रथम तथा स्वाति द्वितीय रही। तीसरा स्थान महंत कॉलेज के शालू ने प्राप्त किया।

कायकिग पुरुष 1 हजार मीटर में महंत विद्यालय के ओंकार प्रथम और रुपेंद्र द्वितीय रहे। पैलोटी कॉलेज के हेमंत तीसरा स्थान प्राप्त किया। कायकिग महिला में डागा कॉलेज की नीतू सोनवाने प्रथम, विप्र कॉलेज के प्रीति बघेल द्वितीय तथा डिग्री गल्र्स कॉलेज के देवकुमारी साहू तृतीय रही। कैनोइंग 5 सौ मीटर पुरुष में महेंद्र, तिरथ, चंचल तथा कायकिंग महिला वर्ग में नीतू, देवकुमारी, प्रीति बघेल क्रमश: प्रथम, द्वितीय तथा तृतीय रही।  इस अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि प्रवीण जैन, प्राचार्य डॉ. संध्या गुप्ता, विपिन चंद शर्मा सहायक संचालक, डॉ. रविन्द्र मिश्रा सहित क्रीड़ा अधिकारी शामिल रहे। 

 


Date : 23-Jan-2020

प्रधानमंत्री ने प्रदेश में 90 प्रतिशत पुलिस थानों के ऑनलाईन किए जाने की प्रशंसा की

रायपुर, 23 जनवरी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा नई दिल्ली से प्रधानमंत्री प्रगति पोर्टल के अंतर्गत वीडियों कॉन्फ्रेंस के जरिए क्राईम एण्ड क्रिमिनल नेटवर्क एण्ड सिस्टमस (सीसीटीएनएस) के संबंध में राज्यों की समीक्षा की गई। 

छत्तीसगढ़ के मुख्य सचिव आर.पी. मण्डल ने प्रधानमंत्री को जानकारी दी कि छत्तीसगढ़ प्रदेश में 446 पुलिस थाने है। इन पुलिस थानों को कम्प्यूटराईस करके 446 में से 437 को ऑनलाईन किया जा चुका है। इसमें से 9 थाना पहुंचविहीन क्षेत्र में है। जिसमें से 4 इस महीने में ऑनलाईन हो जाएंगे। राज्य में 27 हजार पुलिस कर्मियों में से 26 हजार 500 पुलिस कर्मियों को क्राईम एण्ड क्रिमिनल नेटवर्क एण्ड सिस्टम्स (सीसीटीएनएस) के अंतर्गत ट्रेनिंग प्रदान की गई है। प्रधानमंत्री द्वारा वीडियों कांफ्रेसिंग में छत्तीसगढ़ में 90 प्रतिशत पुलिस स्टेशनों को ऑनलाईन करने के कार्य की प्रशंसा भी की गई।


Date : 23-Jan-2020

बढ़ती बेरोजगारी के खिलाफ युवा कांग्रेस का राष्ट्रव्यापी अभियान, पकौड़े बनाकर की शुरूआत, टोल फ्री नंबर भी
छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 23 जनवरी।
युवा कांग्रेस ने देश में बढ़ती बेरोजगारी के खिलाफ पकौड़े बनाकर आज यहां गांधी मैदान स्थित कांग्रेस भवन से एक राष्ट्रव्यापी अभियान की शुरूआत की। इस दौरान युवा कांग्रेस अध्यक्ष पूर्णचंद कोको पाढ़ी के नेतृत्व में अभियान की शुरूआत करते हुए राष्ट्रीय बेरोजगारी रजिस्टर(एनआरयू) की मांग की गई। इस दौरान वरिष्ठ कांग्रेस नेता गिरीश देवांगन, शैलेष नितिन त्रिवेदी प्रमुख रूप से मौजूद रहे। 

प्रदेश युवा कांग्रेस महामंत्री एवं प्रवक्ता सुबोध हरितवाल ने बताया कि भारत में बढ़ती बेरोजगारी को देखते हुए छत्तीसगढ़ प्रदेश युवा कांग्रेस द्वारा एक राष्ट्रव्यापी अभियान शुरू किया जा रहा है। जिसका उद्देश्य-भारत सरकार अविलम्ब राष्ट्रीय बेरोजगारी रजिस्टर का निर्माण करें रखा गया है। बेरोजगारी समस्या की ओर ध्यानाकर्षण एवं भारत के युवाओं को एक मुखर अभिव्यक्ति प्रदान करने के उद्देश्य से छग युवा कांग्रेस की ओर से राष्ट्र्रीय बेरोजगारी रजिस्टर की मांग को लेकर यह अभियान की शुरु किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय बेरोजगारी रजिस्टर की मांग इसलिए आवश्यक है कि आज देश में बेरोजगारी की स्थिति विगत 45 वर्षों में सर्वाधिक भयावह हो गई है। बेरोजगार भारतीय व्यक्ति निर्धारित टोल फ्री नंबर पर एक मिस्ड कॉल से इस अभियान से जुड़ सकते हैं। 

 


Date : 23-Jan-2020

बिलासपुर-कोरबा में पाइप लाईन के जरिए मिलेगी रसोई गैस, भगत ने योजना में रायपुर-सरगुजा को शामिल करने की मांग

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 23 जनवरी।
भारत सरकार के पेट्रोलियम मंत्रालय और इण्डियन ऑयल कार्पोरेशन द्वारा नई दिल्ली मेें सिटी गैस वितरण विषय पर आयोजित कार्यशाला में छत्तीसगढ़ के खाद्य मंत्री अमरजीत भगत शामिल हुए। कार्यशाला में केन्द्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद थे। 

श्री भगत ने बताया कि भारत सरकार के पेट्रोलियम और गैस मंत्रालय द्वारा छत्तीसगढ़ में प्रारंभिक तौर पर पाइप लाईन के माध्यम से गैस वितरण के लिए बिलासपुर और कोरबा जिले को चयन किया गया है। श्री भगत  ने पीएनजी और सीएनजी योजना में रायपुर एवं सरगुजा जिले को भी शामिल करने की मांग की। उन्होंने कार्यशाला में छत्तीगढ़ में धान से एथेनाल बनाने की कार्ययोजना और प्रस्ताव पर भी चर्चा की। 

श्री भगत ने बताया कि पाइप प्राकृतिक गैस (पीएनजी) से घरेलू क्षेत्र में खाना पकाने और हीटिंग, कूलिंग के लिए प्राकृतिक गैस का निरंतर सप्लाई पाइप लाईन के माध्यम से किया जाएगा। पाइप लाईन नेटवर्क में दबाव को नियंत्रण रखने के लिए सेफ्टी वाल्ब लगाए जाएंगे। इससे किसी प्रकार की गैस रिसाव आदि संबंधी खतरा नहीं रहेगा। श्री भगत ने बताया कि पीएनजी के अलावा संपीडि़त प्राकृतिक गैस (सीएनजी) का प्रयोग परिवहन क्षेत्र में ईंधन के तौर पर किया जाएगा। प्राकृतिक गैस को 200-250 केजी, सेमी दाब पर संपीडि़त किया जाता है। द्रर्व इंधनों की तुलना में स्वर्च्छ इंधन होने के कारण सीएनजी के प्रयोग से वाहन प्रदूषण में कमी आएगी। 

कार्यशाला में बताया गया कि प्राकृतिक गैस आधुनिक युग का ईंधन है। इसके एक अणु में कार्बन का केवल एक और हाइड्रोजन के चार परमाणु है। प्राकृतिक गैस में कार्बन और हाइड्रोजन का सबसे न्यूनतम अनुपात है और यह पूरी तरह जल जाती है। इस कारण इसे स्वच्छतम जीवाश्म ईंधन के तौर पर जाना जाता है। प्राकृतिक गैस दक्ष, गैर-प्रदूषक और अपेक्षाकृत किफायती होने के कारण आज के आधुनिक औद्योगिक जगत की अधिकांश जरूरतों को पूरा करने में सक्षम है। तेल की कीमतों और वितरण में समय-समय पर होने वाले अनिश्चितता और अस्थिरता के कारण प्राकृतिक गैस को देश-विदेश के ऊर्जा समूह में एक प्रमुख ईंधन के रूप में उभरने में सहायता मिली है।  

 


Date : 23-Jan-2020

जिला अस्पताल में 17 विशेषज्ञों की नि:शुल्क ओपीडी, सोमवार से शनिवार, सवेरे 10 से 12 बजे अलग-अलग, विभागों के सुपरस्पेश्लिस्ट डॉक्टर करेंगे इलाज

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 23 जनवरी।
जिला अस्पताल में मरीजों को सुपरस्पेश्लिस्ट डाक्टरों की सेवाएं उपलब्ध कराई जा रही है। निजी अस्पतालों के विभिन्न विभागों के 17 विशेषज्ञ यहां नियमित रूप से मरीजों का इलाज करेंगे। जिला अस्पताल द्वारा इलाज के लिए आने वाले सुपरस्पेश्लिस्ट डाक्टरों का विभागवार और दिनवार रोस्टर तैयार किया गया है। जिला अस्पताल के विशेषज्ञों के साथ ही अब लोगों को निजी क्षेत्र के नामी हृदय रोग, किडनी रोग, अस्थि रोग, रक्त रोग, न्यूरोलॉजी, लेप्रोस्कोपिक सर्जन, गैस्ट्रो (मेडिसीन एवं सर्जरी), दर्द प्रबंधन तथा कान-नाक-गला विशेषज्ञों की सेवाएं नि:शुल्क मिलेंगी।  

बताया गया कि स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने शासकीय अस्पतालों में सुपरस्पेशियालिटी इलाज उपलब्ध कराने निजी क्षेत्र के विशेषज्ञों की सेवाएं लेने के निर्देश दिए थे। उनकी पहल पर रायपुर जिला अस्पताल में 1 जनवरी से चार सुपरस्पेश्लिस्ट डाक्टरों के साथ शुरू इस सुविधा का अब विस्तार किया गया है। रायपुर जिला अस्पताल में 17 विभागों के विशेषज्ञ अलग-अलग दिन सवेरे 10 बजे से दोपहर 12 बजे तक मरीजों को नि:शुल्क ओपीडी सेवाएं देंगे। 

महीने के पहले एवं तीसरे सोमवार को हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. जावेद अली खान व दूसरे एवं चौथे सोमवार को हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. प्रणय जैन ओपीडी सेवाएं देंगे। गैस्ट्रो (मेडिसीन) विशेषज्ञ डॉ. नीताजी गरद और गैस्ट्रो (सर्जरी) विशेषज्ञ डॉ. अजित मिश्रा हर सोमवार को जिला अस्पताल में इलाज करेंगे। मंगलवार को लेप्रोस्कोपिक सर्जन डॉ. विष्णु गुप्ता और अस्थि रोग विशेषज्ञ डॉ. श्रीधर राव, बुधवार को न्यूरोलॉजिस्ट डॉ. राहुल पाठक, नेफ्रोलॉजिस्ट डॉ. प्रवाश चौधरी तथा गैस्ट्रो (सर्जरी) विशेषज्ञ डॉ. पुष्पेन्द्र नाइक ओपीडी में मौजूद रहेंगे।
गुरूवार को दर्द प्रबंधन विशेषज्ञ डॉ. सुधीर टिचकुले व डॉ. सुनील जैन, हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. भावेन्द्र चुग एवं किडनी रोग विशेषज्ञ डॉ. साईनाथ पत्तेवार ओपीडी सेवाएं देंगे। रक्त रोग विशेषज्ञ डॉ. विकास गोयल हर गुरूवार को शाम पांच बजे से छह बजे तक उपलब्ध रहेंगे। शुक्रवार को किडनी रोग विशेषज्ञ डॉ. सुनील चौधरी, गैस्ट्रो (मेडिसीन) विशेषज्ञ डॉ. प्रशांत सिंह तथा शनिवार को कान-नाक-गला विशेषज्ञ डॉ. राकेश गुप्ता रायपुर जिला अस्पताल में मरीजों का उपचार करेंगे।

 


Date : 23-Jan-2020

बजट पर उद्योगपतियों-व्यापारियों से सीएम ने लिए सुझाव, औद्योगिक क्षेत्रों में छोटे उद्योगों के कलस्टर विकसित करने पहल, प्रवीण सोमानी को छुड़ाने पर सराहना

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 23 जनवरी।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गुरूवार को यहां अपने निवास पर आयोजित बैठक में छत्तीसगढ़ के उद्योग और व्यापार जगत के विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ वित्तीय वर्ष 2020-21 के बजट के संबंध में विस्तृत विचार विमर्श किया। उद्योग जगत के प्रतिनिधियों ने कई अहम सुझाव भी दिए। 

बैठक में प्रतिनिधियों ने छत्तीसगढ़ के व्यापार और उद्योग जगत को बढ़ावा देने के संबंध में अनेक महत्वपूर्ण सुझाव दिए। मुख्यमंत्री ने इन सुझावों पर गंभीरता से विचार कर निर्णय लेने का आश्वासन दिया। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने बैठक में मिले अनेक सुझावों पर सहमति भी दी। व्यापार और उद्योग जगत के प्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री की इस पहल की सराहना करते हुए बैठक में कहा कि राज्य सरकार की नीतियों से छत्तीसगढ़ के उद्योग और व्यापार जगत में उछाल आया है। बैठक में अपर मुख्य सचिव वित्त अमिताभ जैन, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव गौरव द्विवेदी, उद्योग विभाग के प्रमुख सचिव मनोज कुमार पिंगुआ, उद्योग विभाग के संचालक अनिल टुटेजा सहित फिक्की, सीआईआई, उरला इंडस्ट्रिज एसोसिएशन, छत्तीसगढ़ चेम्बर आफ कामर्स और क्रेडाई सहित विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधि उपस्थित थे। 

उद्योग और व्यापार जगत प्रतिनिधियों ने बताया कि छत्तीसगढ़ के स्टील उद्योगों में बिजली की खपत में 5 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी हुई है जबकि अन्य उद्योगों में 15 प्रतिशत तक वृद्धि दर्ज की गई है। प्रतिनिधियों ने बताया कि सात वर्षों तक नकारात्मक वृद्धि वाले प्रदेश के लघु उद्योगों में 16 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है। प्रतिनिधियों ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में अर्थव्यवस्था को मजबूती प्रदान करने के लिए किसानों की कर्ज माफी और 25 सौ रूपए प्रति क्विंटल पर धान की खरीदी जैसी योजनाओं का सकारात्मक प्रभाव छत्तीसगढ़ के उद्योग और व्यापार जगत पर पड़ा है। 

मुख्यमंत्री ने बैठक में कहा कि प्रदेश के इंडस्ट्रियल क्षेत्रों में अग्निशमन केन्द्र खोलने, एनएमडीसी से छत्तीसगढ़ के स्पंज और आयरन उद्योगों को उचित मूल्य पर आवश्यकतानुसार आयरन ओर उपलब्ध कराने, फ्लाई एश से होने वाले प्रदूषण को रोकने और इसकी खपत बढ़ाने के लिए रायपुर से लेकर रायगढ़ जैसे मैदानी इलाकों में सडक़ों के निर्माण में फ्लाई एश के उपयोग को बढ़ावा देने की पहल की जाएगी। 

मुख्यमंत्री ने इंडस्ट्रियल क्षेत्रों में कौशल विकास केन्द्र और आईटीआई प्रारंभ करने, स्कूलों में ‘उद्यमशीलता पर पाठ्यक्रम‘ (इंटरप्रोन्यूरशिप क्यूरिकुलम) प्रारंभ करने के सुझाव पर विचार करने, नगरनार सहित अन्य औद्योगिक क्षेत्रों में छोटे और लघु उद्योगों के कलस्टर विकसित करने के लिए सुविधाएं उपलब्ध कराने, बस्तर तथा प्रदेश के पिछड़े क्षेत्रों में उद्योगों की स्थापना के प्रस्तावों को जल्द मंजूरी प्रदान करने का आश्वासन दिया। उद्योग प्रतिनिधियों ने राज्य सरकार की नरवा, गरवा, घुरवा और बाड़ी योजना के तहत नालों की रिचार्जिंग योजना की सराहना की। प्रतिनिधियों ने ग्रामीण क्षेत्रों में खाद्य प्रसंस्करण इकाईयों की स्थापना, ग्रीन एनर्जी और प्रदेश में पर्यटन उद्योग को बढ़ावा देने के सुझाव भी दिए।
 बैठक में उद्योग और व्यापार जगत के प्रतिनिधियों ने रायपुर के व्यवसायी प्रवीण सोमानी की सकुशल वापसी के लिए मुख्यमंत्री द्वारा की गई पहल और छत्तीसगढ़ पुलिस द्वारा की गई तत्परता से कार्यवाही के लिए मुख्यमंत्री के प्रति आभार प्रकट किया। बैठक में सीआईआई के बीएल अग्रवाल, फिक्की की छत्तीसगढ़ इकाई के चेयरमेन प्रदीप टंडन, विजय आनंद झंवर, श्री भार्गव, सीआईआई के रमेश अग्रवाल, उरला इंडस्ट्रिज एसोसिएशन के अध्यक्ष अश्विन गर्ग और छत्तीसगढ़ चेम्बर आफ कामर्स के जितेन्द्र बरलोटा भी उपस्थित थे।


Date : 23-Jan-2020

इटली के लक्जरी ब्रांड, फेरारा ने लॉन्च किया अपना नया कलेक्शन

रायपुर, 23 जनवरी। इस सीजऩ में, अपने वार्डरोब में मौजूद पुराने कलेक्शन से बाहर निकलकर इटालियन लक्जऱी ब्रांड, फेरारा के बिल्कुल नए एवं बेहद शानदार कलेक्शन को एक्सप्लोर कीजिए।

फेरारा के फैब्रिक्स अपने आप में बेजोड़ हैं, साथ ही इसने भारतीय बाजार को अच्छी तरह समझते हुए बिल्कुल लेटेस्ट ट्रेंड को अपनाया है। इसके द्वारा बाजार में उतारे गए विभिन्न प्रकार के फैब्रिक्स में कैश़्मिर, मोहेयर और मैरिनो वूल ब्लेंड्स शामिल हैं। फेरारा ने अपने फैब्रिक्स में इटालियन डिजाइन को बेहद बारीकी से शामिल किया है, और सिलकर तैयार करने के बाद तो ये फैब्रिक्स वाकई बेहद शानदार नजऱ आते हैं। 

कंपनी ने अपने कलर-रेंज से हमेशा सबको प्रभावित किया है, और इस कलेक्शन के कलर-रेंज की बात की जाए तो इनमें मर्लोट, हेज़ेल, शुगर ऑमन्ड, ग्रीन ऑलिव, फ़ॉरेस्ट बायोम, इवनिंग ब्लू, ब्लूस्टोन, टायरियन पर्पल, फ्रॉस्ट ग्रे, पालोमा, चिकरी कॉफ़ी और वेनिला कस्टर्ड जैसे आकर्षक रंग शामिल हैं। 

फेरारा को न केवल क्लासिक सूटिंग फैब्रिक्स के लिए जाना जाता है, बल्कि यह जैकेट की व्यापक रेंज के लिए भी मशहूर है, जिसमें सबसे बेहतरीन ट्वीड्स भी शामिल हैं। लक्जऱी फेरारा फैब्रिक्स के निर्माण में कैश़िमर, मोहेयर ऊन, रेशम जैसे एग्जॉटिक फाइबर का बड़े पैमाने पर इस्तेमाल किया जाता है। इस रेंज में कुछ बेहद खूबसूरत व अव्वल दजऱ्े के फाइबर का इस्तेमाल हुआ है, जिनमें शामिल हैं।

कैशमिर को बेजोड़ एवं बेहद मुलायम बनावट, सुंदरता और गर्माहट प्रदान करने के लिए जाना जाता है, और यह जानवरों से प्राप्त होने वाले हर तरह के फाइबर में सबसे हल्का होता है। इस फाइबर में कुदरती तौर पर सबसे ज्यादा कर्ल / क्रिम्प होते हैं। कैश़्मिर फाइबर का बाहरी स्तर छोटा और बेहद चिकना होता है, तथा फाइबर के बीच हवा की एक परत मौजूद होने की वजह से यह बेहद हल्की और नरम होती है। कैशमिर को बेहद उच्च गुणवत्ता वाले ऊन के साथ मिश्रित किए जाने के बाद, यह और भी ज्यादा टिकाऊ हो जाता है तथा मौसम में बदलाव के लिए अत्यधिक अनुकूल होता है। 

फेरारा के लेटेस्ट कलेक्शन के अंतर्गत सुपर 180ह्य, 140ह्य, एवं 100ह्य, वूल और कैश़्मिर जैकेटिंग तथा सुपर 180ह्य, और 140ह्य, शूटिंग शामिल है। 
मोहेयर को अंगोरा गोट से प्राप्त किया जाता है, और हजारों सालों से तुर्की में इसका उत्पादन किया जाता रहा है। मोहायर अत्यंत परिष्कृत होते हैं और इनमें कुदरती चमक होती है। इस फाइबर पर रंग चढ़ाना आसान होता है तथा इसे कई अलग-अलग रंगों वाले फैब्रिक्स के तौर पर तैयार किया जा सकता है। इस फाइबर की बेहद आश्चर्यजनक परंतु सबसे अनोखी विशेषता यह है कि, यह पहनने वाले को गीला होने पर भी गर्म रखता है! यह फाइबर अपने एंटी-पिलिंग, एंटी-मैटिंग और एंटी-क्रशिंग जैसे गुणों के लिए भी काफी मशहूर है। इस सीजऩ में, फेरारा ने मोहेयर का इस्तेमाल करते हुए कई तरह के प्रोडक्ट्स को बाजार में उतारा है, जिनकी फिनिशिंग त्रुटिहीन और बेहद शानदार है। 

इस कलेक्शन के बारे में बताते हुए, श्री विक्रम महालदार, एमडी एवं सीईओ, ह्रष्टरू ने कहा, "विश्वस्तर के फैब्रिक्स को उपलब्ध कराना ही फेरारा का विजऩ रहा है। इस सीजऩ में, कैश़्मिर और मोहेयर के साथ एग्जॉटिक वूल ब्लेंड्स पर विशेष ध्यान दिया गया है जिसका उद्देश्य ग्राहकों को 'लक्जऱी का एहसास' कराना है। यह रेंज वाकई बेहद शानदार है और विवेकशील लोगों के लिए है।"

 


Date : 23-Jan-2020

पत्नी, बच्ची की गला घोंटकर युवक खुद फांसी पर झूला, मानसिक रूप से परेशान था, जांच जारी

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 23 जनवरी। तेलीबांधा थाना क्षेत्र के फुंडहर गांव में एक युवक ने अपनी पत्नी व एक छोटी बच्ची की गला घोंटकर हत्या करने के बाद खुद फांसी पर झूल गया। पुलिस मौके पर पहुंचकर जांच-पड़ताल में जुटी है। हत्या, खुदकुशी का कारण मानसिक परेशानी बताया जा रहा है।

पुलिस के मुताबिक शहर से लगे फुंडहर गांव में आज दोपहर एक किसान परिवार में तीन लोगों की मौत की खबर से सनसनी फैल गई। किसान युवक प्रवीण निषाद (24) ने अपनी पत्नी टुकेश्वरी निषाद (21) व बच्ची दीक्षा निषाद(3) की किसी बात पर गला घोंटकर हत्या कर दी। इसके बाद उसने खुद वहीं फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। महिला गर्भवती थी और उसका मायका सोनपुर पाटन बताया जा रहा है।

घटना के बाद सीएसपी समेत तेलीबांधा पुलिस मौके पर पहुंची। इस दौरान महिला व बच्ची का शव कमरे में पड़ा रहा। वहीं युवक का शव फांसी पर लटकता रहा। पुलिस ने तीनों का शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस का कहना है कि घटना स्थल पर शराब की बोतल पाई गई है। माना जा रहा है कि खेती-किसानी करने वाला यह युवक दिमागी रूप से परेशान था और इसी के चलते उसने घटना को अंजाम दिया। घटना को लेकर पूछताछ-जांच चल रही है। बाकी जानकारी पीएम रिपोर्ट आने और उन दोनों के परिवारवालों के आने के बाद पता चल पाएगा।

 


Date : 23-Jan-2020

उद्योगपति सोमानी की वापसी, अब गिरोह के मुखिया व अन्य आरोपियों की तलाश, स्थानीय स्तर पर भी मदद करने वाले पकड़े जाएंगे

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 23 जनवरी। सिलतरा के उद्योगपति प्रवीण सोमानी की 14 दिन बाद सकुशल वापसी के बाद पुलिस अब अपहरणकर्ताओं के मुखिया पप्पू चौधरी समेत बाकी 10 आरोपियों की तलाश में जुट  गई है। पुलिस अफसरों का दावा है कि जल्द ही बाकी आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा। इससे परे स्थानीय स्तर पर अपहरणकर्ताओं के मददगारों की भी तलाश हो रही है।

एसएसपी आरिफ शेख ने ‘छत्तीसगढ़’ से चर्चा में कहा कि पुलिस की अलग-अलग टीम अब बाकी आरोपियों की तलाश कर रही है और उनका मानना है कि वे सभी एक-एक कर जल्द पकड़ लिए जाएंगे। स्थानीय स्तर पर मदद करने वालों के लिए भी अलग से टीम लगाई गई है और यह पता लगाया जा रहा है कि अपहरणकर्ताओं को यहां कहां-कहां और किस तरह से मदद की गई, जिसके चलते वे उद्योगपति के अपहरण में सफल हुए। पकड़े गए दो आरोपियों से पूछताछ में पता चला कि अपहरण को लेकर यहां तीन महीने तक रेकी की गई थी।

बताया गया कि चंदन सोनार गिरोह ने इसके पहले सूरत गुजरात के एक कारोबारी सुहैल हिंगोरा का दमन से अपहरण किया था और उनसे 9 करोड़ की फिरौती वसूली थी। पं. बंगाल से भी एक कारोबारी का अपहरण किया गया था। छत्तीसगढ़ में इस गिरोह का यह पहला काम माना जा रहा है। फिर भी यह पता लगाया जा रहा है कि इस गिरोह का यहां और किसी बड़े वारदात में हाथ तो नहीं रहा। यह भी पता लगाया जा रहा है कि सोमानी के अलावा और कोई विकल्प था क्या। इस बड़े अपहरण को लेकर सभी पहलुओं की जांच की जाएगी और जो भी इस पूरे मामले में शामिल होंगे, उनकी गिरफ्तारी की जाएगी।

उद्योगपति सोमानी के अपहरण में बिहार के चंदन सोनार गिरोह का हाथ रहा। गिरोह के मुखिया पप्पू चौधरी ने यहां के उद्योगपति सोमानी के अपहरण की साजिश गुजरात के सूरत जेल में रची थी। गुजरात, ओडिशा, बिहार, यूपी और कर्नाटक राज्य के बड़े बदमाशों के साथ बनाए गिरोह में पप्पू चौधरी के अलावा शिशिर गंजाम ओडिशा, तूफान कालिया गंजाम ओडिशा, सुमन कुमार नालंदा, अनिल चौधरी दोंदेकला, बाबू प्रदीप भुइंया, अजमल अंबेडकर नगर यूपी, आफताब नेता अंबेडकर नगर, अंकित बेंगलुरू, मुन्ना नायक गंजाम ओडिशा शामिल रहे। इसमें मुन्ना नायक व पप्पू चौधरी का रिश्तेदार अनिल चौधरी हिरासत में ले लिया गया है।

उल्लेखनीय है कि स्टील कारोबार से जुड़े उद्योगपति सोमानी का 8 जनवरी की रात  यहां से अपहरण कर लिया गया था। चर्चा थी कि उनके परिजनों से 10 करोड़ फिरौती की मांग की जा रही थी। रायपुर पुलिस ने अपहरण को गंभीरता से लेते हुए तुरंत 8 टीम बनाई और अलग-अलग जगहों पर तैनात की। 10वें दिन गंजाम ओडिशा में एक आरोपी मुन्ना नायक के होने का क्लू मिला और वह पकड़ा गया। उससे पूछताछ में अपहरणकर्ताओं और उसके गिरोह का पता चला। इसके बाद रायपुर पुलिस बिहार, झारखंड, यूपी समेत कई जगहों पर लापता उद्योगपति की तलाश में जुटी रही।

सम्मानित होंगे पुलिस अफसर-कर्मी

उद्योगपति को गिरोह के चंगुल से छुड़ाकर लाने में शामिल एसएसपी समेत पांच दर्जन से अधिक पुलिस अफसर, कर्मी जल्द ही सम्मानित किए जाएंगे। बताया गया कि रायपुर छत्तीसगढ़ पुलिस ने बिहार, यूपी पुलिस के साथ मिलकर मुख्य आरोपी पप्पू चौधरी बिद्दीपुर वैशाली बिहार के परिजनों पर दबाव बनाया, तब जाकर आरोपी उद्योगपति सोमानी को यूपी के फैजाबाद-सुल्तानपुर के बीच एक झोपड़ी में बेहोशी की हालत में छोड़ फरार हो गए। पुलिस फिर उद्योगपति सोमानी को लेकर बीती आधी रात रायपुर लौट आई। इस पूरे ऑपेरशन में यहां से एसएसपी आरिफ शेख, दो एएसपी, चार डीएसपी समेत पांच दर्जन से अधिक पुलिस जवान शामिल रहे। पुलिस, बिहार, यूपी पुलिस की मदद से सोमानी को अपह्र्ताओं के चंगुल से छुड़ाने में सफल रही।


Date : 23-Jan-2020

अपहरण से लौटे सोमानी सीएम से मिले, श्री सोमानी ने मुख्यमंत्री द्वारा इस कठिन दौर में उनकी सकुशल रिहाई के लिए की गई पहल के लिए मुख्यमंत्री और छत्तीसगढ़ पुलिस के प्रति आभार व्यक्त किया

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 23 जनवरी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपहरणकर्ताओं के चंगुल से सकुशल वापस लौटे रायपुर के उद्योगपति प्रवीण सोमानी को बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। श्री सोमानी ने अपने परिवार के साथ आज सुबह मुख्यमंत्री श्री बघेल से यहां उनके निवास में सौजन्य मुलाकात की।

उद्योगपति श्री सोमानी ने मुख्यमंत्री द्वारा इस कठिन दौर में उनकी सकुशल रिहाई के लिए की गई पहल के लिए मुख्यमंत्री और छत्तीसगढ़ पुलिस के प्रति आभार व्यक्त किया। इस दौरान आईजी आनंद छाबड़ा और एसएसपी आरिफ शेख भी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने श्री सोमानी की सकुशल रिहाई में छत्तीसगढ़ पुलिस को मिली सफलता के लिए पुलिस के अधिकारियों और कर्मचारियों को बधाई दी। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ पुलिस के लिए यह एक बड़ी उपलब्धि है।

उल्लेखनीय है कि स्टील कारोबार से जुड़े उद्योगपति सोमानी का 8 जनवरी की रात  यहां से अपहरण कर लिया गया था। छत्तीसगढ़ पुलिस ने अपहरण को गंभीरता से लेते हुए तुरंत 8 टीम बनाई और अलग-अलग जगहों पर तैनात की। (बाकी पेजï 5 पर)

10वें दिन ओडिशा में एक आरोपी मुन्ना नायक का क्लू मिला और वह पकड़ा गया। पूछताछ में अपहरणकर्ताओं और उसके कुख्यात गिरोह का पता चला। इसके बाद पुलिस ने यूपी, बिहार पुलिस के साथ मिलकर एक बड़ा ऑपरेशन चलाते हुए उद्योगपति को सकुशल छुड़ा लिया।


Date : 23-Jan-2020

टीबी के कारण दिल धीरे-धीरे कठोर होकर ठीक से धडक़ नहीं पा रहा था, चुने की झिल्ली में बंद, हॉर्ट लंग मशीन की मदद से साधना को मिली नई जिंदगी

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 23 जनवरी। अम्बेडकर अस्पताल के एडवांस्ड कार्डियक इंस्टीट्यूट में इलाज के लिए पहुंची मरीज के साथ। मरीज के दिल को सुरक्षित रखने वाली झिल्ली पेरीकॉर्डियम में चुना जमने लगा था जिससे मरीज का दिल धीरे-धीरे कठोर होकर ठीक से धडक़ नहीं पा रहा था। एसीआई के हार्ट, चेस्ट एवं वैस्कुलर सर्जरी विभागाध्यक्ष डॉ. कृष्णकांत साहू एवं उनकी टीम ने 14 वर्षीय मरीज की इस जटिल बीमारी को समय रहते पहचान कर नई जिंदगी दी। दस दिन पहले इस मरीज का सफलतापूर्वक ऑपरेशन हुआ एवं मरीज सामान्य स्थिति में डिस्चार्ज होकर घर जाने को तैयार है।

बीमारी नहीं आ रही थी पकड़ में

मरीज को तीन महीने पहले गनियारी स्वास्थ्य केन्द्र से डॉ. कृष्णकांत साहू के पास भेजा गया। डॉ. साहू ने इस बीमारी को कन्फर्म करने के लिए हृदय एवं छाती का सीटी स्कैन करवाया जिससे यह देखा गया, हृदय के सीटी स्कैन से पता चला कि इसके पेरीकार्डियम में ऑपरेशन यानी चुना जम गया है जो हृदय की मांसपेशियों को भी अपनी गिरफ्त में ले लिया है।

एसीआई में हार्ट लंग मशीन नहीं थी इसलिए मरीज को अन्य हॉस्पिटल में जाने की सलाह दी गई परंतु मरीज की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं होने के कारण कहीं नहीं जा पा रहे थे इसलिए कुछ दिन तक दवाईयों से काम चलाया फिर कुछ समय बाद एसीआई में हॉर्ट लंग मशीन आ गई एवं उसकी सहायता से हृदय का ऑपरेशन किया गया। एसी आई. में शासन द्वारा संचालित डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना के अंतर्गत हार्ट के सभी बीमारियों में नि: शुल्क उपचार की सुविधा उपलब्ध है। भविष्य में अन्य उपकरण एवं मानव संसाधन आने पर ओपन हार्ट, बाइपास सर्जरी, वॉल्व प्रत्यारोपण एवं बच्चों के हृदय रोग के ऑपरेशन भी प्रारंभ किए जा सकेंगे। 

कॉर्डियोथोरेसिक वैस्कुलर सर्जन एवं विभागाध्यक्ष डॉ. कृष्णकांत साहू के साथ डॉ. निशांत चंदेल, एनेस्थेटिस्ट व आईसीयू इंटेसिविस्ट डॉ. ओपी सुंदरानी, एनेस्थेसियाटेक्नीशियन भूपेन्द्र, परफ्युजनिस्ट संदीप एवं डिगेश्वर के साथ सहयोगी नर्सिंग स्टॉफ राजेन्द्र व नरेन्द्र ऑपरेशन में शामिल थे।

 


Date : 23-Jan-2020

प्रधानमंत्री ने प्रदेश में 90 प्रतिशत पुलिस थानों के ऑनलाईन किए जाने की प्रशंसा की

रायपुर, 23 जनवरी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा नई दिल्ली से प्रधानमंत्री प्रगति पोर्टल के अंतर्गत वीडियों कॉन्फ्रेंस के जरिए क्राईम एण्ड क्रिमिनल नेटवर्क एण्ड सिस्टमस (सीसीटीएनएस) के संबंध में राज्यों की समीक्षा की गई।

छत्तीसगढ़ के मुख्य सचिव आर.पी. मण्डल ने प्रधानमंत्री को जानकारी दी कि छत्तीसगढ़ प्रदेश में 446 पुलिस थाने है। इन पुलिस थानों को कम्प्यूटराईस करके 446 में से 437 को ऑनलाईन किया जा चुका है। इसमें से 9 थाना पहुंचविहीन क्षेत्र में है। जिसमें से 4 इस महीने में ऑनलाईन हो जाएंगे। राज्य में 27 हजार पुलिस कर्मियों में से 26 हजार 500 पुलिस कर्मियों को क्राईम एण्ड क्रिमिनल नेटवर्क एण्ड सिस्टम्स (सीसीटीएनएस) के अंतर्गत ट्रेनिंग प्रदान की गई है। प्रधानमंत्री द्वारा वीडियों कांफ्रेसिंग में छत्तीसगढ़ में 90 प्रतिशत पुलिस स्टेशनों को ऑनलाईन करने के कार्य की प्रशंसा भी की गई।


Date : 23-Jan-2020

प्रतिभा सम्मान समारोह, महंत राम सुंदर दास ने कहा की दूधाधारी महाविद्यालय महिलाओं और नारी शिक्षा को आगे बढ़ाने में देश में सर्वोच्च स्थान पर है

रायपुर, 23 जनवरी। शासकीय दूधाधारी महिला महाविद्यालय मैं प्रतिभा सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। जिसमें छात्राओं ने वाद-विवाद एकल नृत्य भाषण सामूहिक नृत्य आदि की प्रस्तुति दी। इस दौरान समाजशास्त्र की विभागाध्यक्ष श्रद्धा गिरोलकर ने विद्यालय का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया आयोजन में डॉक्टर राम सुंदर दास मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित हुए।

अपनी अभिवादन में विचारों को प्रस्तुत करते हुए राम सुंदर दास महंत ने कहा की दूधाधारी महाविद्यालय महिलाओं और नारी शिक्षा को आगे बढ़ाने में देश में सर्वोच्च स्थान पर है जल्द ही यहां पर छात्राओं की समस्याओं का समाधान किया जाएगा साथ ही उन्होंने प्रतिभा से परिपूर्ण छात्राओं को बधाई दी। आयोजन में ट्रस्टी कमलेश जैन ने आर्थिक रूप से कमजोर छात्राओं की मदद करने के लिए यथासंभव कोशिश करने का आश्वासन देते हुए दिव्यांग छात्राओं को दी जाने वाले राशि को 25 सौ रूपए कर दिया। कार्यक्रम में कन्या भ्रूण हत्या को अभिशाप बताते हुए कहा गया कि आज देश में महिलाएं किसी से कम नहीं है वह समाज के साथ-साथ देश के विकास में साझेदारी बखूबी निभा रही हैं आयोजन में पूर्व छात्राएं भी शामिल रहे।

 आयोजन के द्वितीय चरण में छात्राओं ने सांस्कृतिक प्रस्तुति दी जिस में शिव स्तुति गणेश वंदना, सांस्कृतिक नृत्यों की प्रस्तुति देकर छात्राओं ने अतिथियों को आकर्षित किया।


Previous1234567Next