छत्तीसगढ़ » रायपुर

Previous12Next
Posted Date : 19-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    रायपुर, 19 जनवरी। दूसरे की ट्रक का नंबर अपनी ट्रक में लिखने वाले ड्राइवर को गिरफ्तार कर ट्रक जब्त किया गया। ट्रांसपोर्ट का काम करने वाले एक व्यक्ति ने पार्किंग में किसी और गाड़ी में अपनी ट्रक का नंबर प्लेट देखकर पुलिस में शिकायत की। जिसके बाद ट्रक ड्राइवर को धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार किया गया। आरोपी झारखण्ड का रहने वाला बताया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। 
    पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक एक ट्रक ड्राइवर द्वारा किसी और की गाड़ी का नंबर लिखकर चलाया जा रहा था। रावाभाठा के ट्रांसपोर्ट नगर की पार्किंग में रखे ट्रक के नंबर पर अचानक ध्यान जाने पर ट्रांसपोर्टर पंकज कुमार सिंह को इसलिए हैरानी हुई कि उसकी ट्रांसपोर्ट की ट्रक का नंबर किसी और ट्रक में लिखा हुआ था।
    बजरंग नगर उरकुरा में रहने वाला पंकज अपने आफिस जाने के लिए शुक्रवार को निकला था। रास्ते में उसकी नजर ट्रांसपोर्ट नगर की पार्किंग में रखे उस ट्रक के नंबर प्लेट पर पड़ गई जिसमें उसके ट्रांसपोर्ट से चलने वाली एक ट्रक का नंबर लिखा हुआ था। जिसके बाद उसने उस गाड़ी के मालिक का पता लगाने की कोशिश की। 
    तब ड्राईवर महावीर रजक ने बताया कि उस ट्रक को वह चलाता है। झारखण्ड में रहने वाला महावीर बताया कि वही उसका मालिक भी है। उससे गाड़ी के दस्तावेज के बारे में पूछा गया। उसे पूछा गया कि उसने दूसरी गाड़ी का नंबर अपनी गाड़ी में लिखा है तो उसने गोलमोल जवाब देने लगा।
    पंकज कुमार ने बताया कि उसका केरियर ट्रांसपोर्ट का काम है। ट्रक लगाकर कमीशन पर काम करता है। उसकी ट्रांसपोर्ट में प्रमोद राय की ट्रक के लिए जो नंबर रजिस्टर्ड है उसे महावीर ने अपनी दस चक्कों वाली ट्रक में लिखवा लिया है। उसने बताया कि वह महावीर को करीब 1 साल से जानता है। लेकिन किसी और नंबर से गाड़ी चलाने की वजह समझ नहीं आ रही है। उसने माना कि गाड़ी चोरी की हो इसकी संभावना भी नहीं है। कागजात नहीं ऐसा हो सकता है। लेकिन कागजात नहीं हो तो किसी और नंबर से गाड़ी चलाने का कोई मतलब नहीं। उसने कहा कि किसी अन्य माल के परिवहन के लिए उक्त नंबर का इस्तेमाल करना चाहा होगा।

     

     

     

     

  •  

Posted Date : 18-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    रायपुर, 18 जनवरी। प्रदेश के नर्सिंग कॉलेजों में हजारों रुपये की फीस जमा करा सैकड़ों बच्चों को प्रवेश दिए गए, लेकिन उससे जुड़े प्रवेश फॉर्म व अन्य दस्तावेजों में भारी गड़बड़ी सामने आई है। कहीं नाम, पता और तारीख गलत है, तो कहीं प्राचार्य के हस्ताक्षर, सील-मुहर नहीं है। ऐसे में चिकित्सा शिक्षा विभाग ने उन सभी कॉलेजों को 10 हजार रुपये की पेनाल्टी के साथ गलती सुधारने 25 जनवरी तक का समय दिया है। इसके बाद उन सभी कॉलेजों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। 
    प्रदेश में करीब छह दर्जन नर्सिंग कॉलेज संचालित हैं, जहां बीएससी नर्सिंग में ऑनलाइन प्रवेश दिए गए। इसके बाद भी सीट नहीं भरने पर 12वीं के आधार पर प्रवेश प्रक्रिया शुरू की गई। शासन ने व्यापमं से प्रवेश परीक्षा देने वालों को भी कॉलेजों में प्रवेश देने का आदेश जारी किया था, जिसकी जानकारी कॉलेजों को 10 जनवरी तक चिकित्सा शिक्षा विभाग को देनी थी। कॉलेजों ने वहां की खाली सीटों पर प्रवेश भी दिए, पर दर्जनभर कॉलेजों ने यह प्रवेश देने में भारी गड़बड़ी की है। प्रवेश-पत्रक में जिस तरह की गड़बड़ी सामने आई है, उससे उन बच्चों का नामांकन दर्ज नहीं हो पाएगा और वे सभी परीक्षा से वंचित हो जाएंगे। 
    बताया गया कि चिकित्सा शिक्षा विभाग को भेजी गई जानकारी में पत्थलगांव, जशपुर में संचालित लवकुश इंस्टिट्यूट ऑफ नर्सिंग प्रबंधन ने 2018-19 में किए गए दाखिले को 2019, 2020 व 2021 दर्शा दिया है। सीजी इंस्टीट्यूट ऑफ नर्सिंग, बिलासपुर ने छात्रों का अलॉटमेंट नंबर ही गलत भर दिया है। बोधनी देवी इंस्टिट्यूट ऑफ, जगदलपुर के प्रवेश पत्रक में ओवर राइटिंग है। आधा दर्जन कॉलेजों के पत्रक में वहां के डॉयरेक्टर की सील-मुहर, (बाकी पेजï 5 पर)
    हस्ताक्षर नहीं हैं। इसी तरह और कई कॉलेजों के प्रवेश पत्रक में भारी गड़बड़ी हुई है। विभाग ने सभी कॉलेज प्रबंधक को नोटिस जारी कर अपनी गलती तुरंत सुधारने कहा है। वे यह गलती 10 हजार की पेनाल्टी के साथ 25 जनवरी तक सुधार सकते हैं। इसके बाद जांच करते हुए उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी, ताकि बच्चों का भविष्य आगे खराब न हो।
    अतिरिक्त संचालक, काउंसिलिंग प्रभारी चिकित्सा शिक्षा डॉ. निर्मल वर्मा का कहना है कि ऑनलाइन प्रवेश देने में गलती नहीं हुई है। अंतिम दो दिनों में जो प्रवेश दिए गए हैं, वहां भारी गड़बड़ी हुई है। नाम, पता, सील मुहर, ओवर राइटिंग, वर्ष समेत तमाम तरह की गलती होने के कारण उन सभी कॉलेजों को नोटिस जारी किया गया है। कॉलेज प्रबंधन को अपनी गलती जल्द सुधारने कहा गया है। ऐसा नहीं करने पर गलत प्रवेश-पत्रक वाले बच्चों का प्रवेश निरस्त हो जाएगा। उन्हें विवि से नामांकन नंबर नहीं मिल पाएगा और वे सभी परीक्षा में बैठ नहीं पाएंगे। 

     

     

  •  

Posted Date : 18-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    खरोरा, 18 जनवरी। आज सुबह करीब साढ़े 8 बजे   बंगाली मुरा मोड़ पर रायपुर के स्कूली बच्चों को शिवरीनारायण ले जा रही बस की डंपर से जबरदस्त भिड़ंत हो गई$, जिसमें एक दर्जन छात्र-छात्राओं, शिक्षकों, डंपर चालक को चोटें आई हैं।  प्राचार्य को गंभीर हालत में रायपुर भेजा गया है।  
     आज सुबह शासकीय निवेदिता उच्चतर माध्यमिक विद्यालय गुरुनानक चौक रायपुर की छात्र-छात्राएं एवं शिक्षक महेश टूर एंड ट्रैवल्स की बस से शिवरीनारायण घूमने जा रहे थे। तभी खरोरा बंगोली मुरा मोड़ पर विपरीत दिशा से आ रही डंपर से  भिड़ंत हो गई।
    घायल छात्र-छात्राओं का प्राथमिक इलाज खरोरा व बंगोली अस्पातल में किया गया। घायलों में कल्याणी,  अनु राम  शिक्षिका, सीता यादव छात्रा, लक्ष्मी राजपूत, बसंती यादव, आरडी बर्मन, वैशाली, आमना खातून को प्राथमिक इलाज कर छुट्टी दे दी गई। वहीं गंभीर रूप से घायल स्कूल के प्राचार्य टी आर चंद्राकर को रायपुर मेकाहारा भेजा गया। वहीं डंपर चालक के भी घायल होने की खबर है। घटनास्थल पर मौजूद छात्र-छात्राओं ने बताया कि बस तेज रफ्तार थी और चालक काबू नहीं रख पाया।  

     

  •  

Posted Date : 17-Jan-2019
  • रायपुर, 16 जनवरी। अस्वस्थ हालत में सड़क किनारे बैठे एक व्यक्ति से स्कूटी सवार ने ठगी की। उसके बैग अपनी गाड़ी रखवा लिया। मदद के नाम पर कुछ दूर तक उसे अपनी गाड़ी बिठाया और बाद में बैग लेकर भाग गया। बैग में नकद रकम और जमीन के दस्तावेज थे। 

    पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक धमतरी में रहने वाले अजय कुमार मिश्रा रायपुर में पटवारी से मिलने आया था। अस्वस्थता के चलते भाटागांव के पास सड़क किनारे बैठे थे उसी दौरान वहां से जा रहा स्कूटी सवार मदद के पूछा। उसने मदद करने के नाम पर उसे गाड़ी से छोडऩे के बारे में कहा। स्कूटी सवार ने अजय का बैग ले लिया और उसे अपनी डिकी में रख लिया। इसके बाद उसे स्कूटी में भी बिठा लिया। सुंदर नगर टोल नाके के पास अजय ने गाड़ी रूकवाया जैसे ही वह उतरा वैसे ही स्कूटी सवार बैग निकालने के बजाय तेजी से वहां से भाग गया। 
    अजय चिल्लाता रहा लेकिन स्कूटी सवार वापस नहीं आया। बैग में करीब 12 हजार रूपए और जमीन के दस्तावेज रखे थे। बाद में अजय ने इसकी शिकायत डीडी नगर थाने दर्ज कराई।

     

     

  •  

Posted Date : 17-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    रायपुर, 17 जनवरी। सड़क हादसों में दो बाइक में सवार लोगों की मौत हो गई। एक व्यक्ति द्वारा लापरवाही से तेज बाइक चलाने से गिरने पर पीछे बैठे साथी की गंभीर रूप से घायल होने पर मौत हो गई। दूसरे हादसे में एक युवक को बाइक से जाते समय अज्ञात वाहन ने जोरदार ठोकर मार दिया। जिसकी मौके पर मौत हो गई।

    पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक उरकुरा बजरंग नगर में रहने वाला श्रीकांत सिंह फैक्ट्री में काम के लिए रोज की तरह तोरन लाल वर्मा के साथ निकला था, जो कि तेज और लापरवाही से बाइक चलाने से गिरने के बाद घायल हो गया था। बाद में इलाज के दौरान अस्पताल में उसकी मौत हो गई।

    श्रीकांत बाइक में पीछे बैठा था, तोरणलाल चला रहा था। रावाभाठा के गुरूद्वारा के पास पहुंचे उसी दौरान तेजी और लापरवाही के चलते बाइक अनियंत्रित हो गई। दोनों बाइक से गिर गए।जिससे तोरण को चेहरे पर चोटें आईं और गंभीर रूप से घायल होने पर श्रीकांत को श्रीनारायणा अस्पताल में भर्ती कराया गया था। हादसा सोमवार रात हुआ था। बुधवार को इलाज के दौरान श्रीकांत की मौत हो गई।खमतराई थाने के अंतर्गत हुए इस हादसे पर पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले को जांच में ले लिया।

    मुजगहन थाने के अंतर्गत धुसेरा में रहने वाले सागर बंजारे को बाइक से जाते समय अज्ञात वाहन ने जोरदार ठोकर मार दिया। टक्कर इतनी जोरदार थी कि गंभीर रूप से घायल होने पर सागर की मौत मौके पर हो गई। हादसा बुधवार शाम डुण्डा चक्रधारी टेऊडर्स के सामने हुई। 

                   

                   

                   

                   

                   

     

     

     

     

  •  

Posted Date : 17-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    भानपुरी, 16 जनवरी। प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण में कार्य आवास मित्रों को नियमित  करने तथा प्रतिमाह निश्चित वेतनमान देने की मांग की है। छत्तीसगढ़ आवास मित्र अनियमित कर्मचारी कल्याण संघ के आवास मित्रों ने नारायणपुर विधायक चंदन कश्यप को ज्ञापन सौंपा गया गया।
    जिसमें बस्तर जिला के आवास मित्र अध्यक्ष अनिल दास, महेंद्र चौहान, कमल साय, मुरली, सोन सिंह, चमरू यादव, सोमेश पानीग्राही आदि समस्त आवास मित्रों ने  कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के अंतर्गत 2016-17 से आवास मित्र अपनी सेवा देते हुए आ रहे हैं तथा आवास मित्रों के अथक श्रम और प्रयास के स्वरूप छत्तीसगढ़ के गरीबों के आवास निर्माण हेतु दो बार संपूर्ण भारत में पहला स्थान प्राप्त हुआ है। यह है कि अत्यधिक श्रम के साथी हमें उचित प्रतिफ ल पा रहा है। इसके कारण विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी द्वारा हमें आश्वासन किया गया था कि जैसे ही सरकार सत्ता में स्थापित होगी। अनियमित कर्मचारियों आवास मित्रों को नियमित किया जाएगा। इन्हीं वादों एवं घोषणा पत्र को आधार मानकर छत्तीसगढ़ की समस्त आवास मित्र संघ के पदाधिकारियों एवं सदस्यों ने कांग्रेस पार्टी का व्यापक ढंग से साथ दिया। इसी संदर्भ और आशा के साथ छत्तीसगढ़ आवास मित्र संघ द्वारा निम्नलिखित मांगे हैं जिनसे अवगत कराना चाहते छत्तीसगढ़ में कार्यरत समर्थ आवास मित्रों को शासन द्वारा किसी अन्य कार्य सलंग्न किया जाए सभी आवास मित्रों का 62 वर्ष तक कार्य सुरक्षित किया जाए। पूर्व में कार्यरत आवास मित्र जो कि नहीं सामान्य कारणों से निष्कासित किए गए हैं। उन्हें तत्काल कार्य में वापस स्थापित किया जाए।

  •  

Posted Date : 16-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    रायपुर, 16 जनवरी। आमानाका थाने के अंतर्गत एक नाबालिग का अपहरण करने वाले एक युवक को गिरफ्तार कर लिया गया।उसने नाबालिग को जबरदस्ती बाइक में बिठाया और अपने घर में ले जाकर बंद कर दिया था। नाबालिग की मां की शिकायत के बाद ने कार्रवाई की और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। इसके अलावा आजाद चौक और गुढिय़ारी थानों में नाबालिगों के लापता होने की शिकायत दर्ज कराई गई।
    पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक एक साढ़े 15 साल की लड़की को सूरज साहू मंगलवार दोपहर जबरदस्ती अपने बाइक में बिठाकर ले गया और अपने घर में बंद कर दिया। उसने उसे एक कमरे में बंद करके बाहर से ताला लगा दिया। मामला आमानाका के तेंदुआ गांव का है। डेयरी का काम करने वाली एक महिला की साढ़े 15 साल की बेटी नवमी कक्षा में पढ़ती है। उसके स्कूल से पिता को मोबाईल फोन पर पता चला कि वह स्कूल नहीं गई है। 
    महिला अपने बेटे के साथ बेटी को खोजने निकल गई। तब पता चला कि उसकी बेटी को गांव का सूरज नाम का लड़का गाड़ी में बिठाकर अपने घर ले गया है। महिला अपने देवर के साथ सूरज के घर गई तो बाहर में खड़े सूरज ने बताया कि वह कुछ नहीं जानता उसे उसकी लड़की के बारे में कुछ नहीं पता। इसके बाद गांव के लोग इक_े हो गए। उस पर दबाव डाला गया पुलिस में शिकायत की बात कही गई तब उसने ताला खोला जहां नाबालिग बैठी मिली। इसके बाद 112 की मदद ली गई। जिसके बाद पुलिस ने मौके से सूरज साहू को गिरफ्तार कर लिया।
    बढ़ई पारा आजाद चौक के पास से एक 14 साल के लड़के को अज्ञात व्यक्ति अपने साथ बहला फुसलाकर ले गया।घटना रविवार सुबह की बताई गई। अशोक नगर गुढिय़ारी से एक 11 साल 9 महीने का लड़का भी लापता हो गया। 5 जनवरी की सुबह घर के पास से उसे कोई बहला फुसलाकर अपने साथ ले गया। मंगलवार को इस संबंध में शिकायत दर्ज कराई गई।

     

  •  

Posted Date : 16-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    रायपुर, 16 जनवरी। मौदहापारा इलाके सेे दो दिन पहले लापता स्क्रैप कारोबारी की लाश मिली है। टाटीबंध के पास तेंदुआ गांव में बुधवार को उसकी लाश मिलने के बाद पुलिस जांच में जुट गई है। कारोबारी 3 लाख रुपए ले कर लापता हो गया था।
    मोहम्मद सिराज सोमवार शाम से लापता था। पुलिस की टीमें दो दिन से उसकी तलाश कर रही थी। सिराज को रजा नाम ने बुलाया था। कबीर नगर का रहने कबाड़ी का काम करने वाला रजा भी घर में नहीं था। उससे संपर्क करने की कोशिश की जा रही थी। लाश मिलने के बाद पुलिस अब हत्यारों के तलाश में जुट गई है। सिराज की कॉल डिटेल भी पुलिस खंगाल रही है।
    जिस कारोबारी के पास सिराज को जाना बताया गया था उसने पुलिस का फोन नहीं उठाया। बताया जा रहा है जब तक सिराज का मोबाईल चालू था। पुलिस उसका फोन टेऊस नहीं कर पाई। पुलिस को जिस जगह पर लाश मिली है। वहां से हथौड़ा भी बरामद किया गया है। हो सकता है हथौड़े से ही सिराज की हत्या की गई हो। पुलिस का कहना है कि पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कहा जा सकेगा।

     

     

     

  •  

Posted Date : 16-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    खरोरा, 16 जनवरी। नगर परिक्षेत्र के धान खरीदी केंद्र ग्राम अंसौदा में सूखत के नाम से ज्यादा खरीदी करने का आरोप किसानों ने लगाया है। आरोप है कि समर्थन मूल्य पर हो रही धान खरीदी में धान बेचने वाले किसानों को खुलेआम नुकसान पहुंचाया जा रहा है। किसानों की धान तौल के लिए बोरी में भरते समय प्रत्येक बोरी में ज्यादा धान भरी जा रही है। इसका सीधा नुकसान किसानों को हो रहा है।
    शासन के नियम के अनुसार एक बारदाने में 40 किलो धान भरा जा सकता है। उसमें बारदाने के वजन के बदले 680 ग्राम ज्यादा धान भरने की छूट है। इस छूट की आड़ में समिति वाले 12 सौ ग्राम से 15 सौ ग्राम तक ज्यादा धान भर रहे हैं। किसान आपत्ति करें तो कह दिया जाता है कि परिवहन समय पर नहीं होने से धान फड़ में पड़े रहने से सूखता है। जिसके बाद एक बोरे का वजन 40 किलो से कम हो जाता है। 
    जब अंसौदा धान खरीदी केंद्र में 'छत्तीसगढ़Ó ने पड़ताल की तो पता चला कि यहां किसानों से ली गई धान के प्रत्येक बोरे में एक किलो से बारह सौ ग्राम तक अधिक तौल कर ले रहे थे। जब प्रभारी बलराम सोनी को बताया गया तो उन्होंने कहा कि हो गई गलती सुधार कराएंगे। 
    रोजाना का घालमेल 
    परिक्षेत्र के मात्र एक केंद्र के हिसाब से रोजाना हर केंद्र को मिलाकर एक लाख से ज्यादा का घालमेल हो रहा है। सूखत की आड़ में किसानों के धान से समिति वाले अपने नुकसान की भरपाई कर लेते हैं। केंद्र में इलेक्ट्रॉनिक काटा नहीं होने का भी फायदा उठाया जाता है। 
    क्या है सूखत 
    सूखत यानि धान का सूखना है। एक बोरे में 40 किलो के हिसाब से धान भरा रहता है। जब कस्टम मिलिंग होती है तो ट्रक में लोड होने के बाद धान के तौल में जो अंतर आए वह सूखत की मात्रा होती है। परिवहन नहीं होने पर सूखता है। नियमों के तहत 40 किलो के बाद बारदाने के वजन के बराबर 680 या 700 ग्राम तक तौल सकते हैं। इससे ज्यादा नहीं तौल सकते हैं। 
    समर्थन मूल्य 2050 रुपए प्रति क्विंटल है। इस हिसाब से एक किलो धान की कीमत 20 रुपए पड़ता है। कर्मचारी 12 सौ ग्राम से 15 सौ ग्राम से ज्यादा तौलते हैं। यानि एक बोरे में बीस से बाईस रुपए का काटा मारा जाता है।
    एक सोसायटी में दिनभर में एक एवरेज हजार से बारह सौ से ज्यादा कट्टा धान खरीदा जाता है। एक बोरे में बीस रुपए भी हिसाबे तो रोजाना बीस हजार एवरेज से ज्यादा रुपए होता है। 
    किसान पुनाराम वर्मा, दशरथ यादव, मन्नू, धर्मेंद्र का कहना है कि वजन सही होना चाहिए। परिवहन नहीं होने का बहाना बनाकर सूखत का बोल कर किलो डेढ़ किलो ज्यादा तौला जा रहा है।

  •  

Posted Date : 16-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    कुम्हारी, 16 जनवरी। पश्चिम बंगाल से सुनहरे भविष्य के सपने लेकर पढ़ाई के लिए छत्तीसगढ़ आई छात्रा की मदद के लिए श्री रावतपुरा सरकार इंस्टीट्यूट ने अपने हाथ आगे बढ़ाये हैं। अटल नगर स्थित रावतपुरा सरकार इंस्टीट्यूट में डी.एड. सेकंड ईयर की छात्रा प्रियंका घोष की सालभर की फीस संस्थान ने माफ  कर दी है। अब संस्थान छात्रा के ईलाज पर आने वाले खर्च का जिम्मा उठाने की तैयारी में है।
    पीजीडीसीए, एमबीए करने के बाद छात्रा डी.एड. फाइनल ईयर की पढ़ाई कर रही है, लेकिन 'वेस्कुलाइटिस पेनÓ नामक बीमारी ने उसे आ घेरा है। गौरतलब है कि इस बीमारी में शरीर का अंग धीरे-धीरे गलने लगते हैं और पूरे शरीर में असहनीय दर्द होता है। छात्रा का सीएमसी वेल्लूर के बाद कोलकाता के एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। छात्रा को चेकअप के लिए हर छह महीने में एक बार कोलकाता जाना पड़ता है। प्रियंका वर्ष 2006 से इस बीमारी से पीडि़त है। लेकिन वर्ष 2014 में 'वेस्कुलाइटिस पेनÓ नामक इस बीमारी का पता चला। छात्रा को हर महीने करीब दस से बारह हजार रुपये की दवाइयां खरीदनी पड़ती हैं। कई बार रुपयों का इंतजाम नहीं हो पाने से दवाईयां भी नहीं खरीद पाती है। 
    छात्रा की माली हालत नहीं है ठीक
    छात्रा के माता पिता कोलकाता में रहते हैं, बीते दिनों एक हादसे में छात्रा की मां की रीढ़ की हड्डी फ्रैक्चर हो गई थी  जिसके बाद खेती-किसानी करके उसके पिता बमुश्किल छोटे बेटे की पढ़ाई का खर्च, पत्नी का इलाज और घर का खर्च चला रहे हैं। पिता की आर्थिक स्थिति भी ऐसी नहीं है कि वे अपनी बेटी के इलाज की सभी दवाईयां खरीद सकें।
    इलाज के लिए छात्रा को करना पड़ा रेस्टोरेंट में काम
     इलाज का खर्च निकालने के लिए छात्रा ने बीमारी की हालत में ही रेस्टोरेंट में देर रात 12 बजे तक काम किया है। वहां से हटाये जाने के बाद देवेन्द्र नगर स्थित अपने किराये के मकान में बच्चों को ट्यूशन देने के साथ साथ एक नर्सिंग कॉलेज में पढ़ा भी रही हैं।
    सरकार और प्रशासन से नहीं मिली मदद
    छात्रा ने अपनी बीमारी के इलाज के लिए पूर्व मुख्यमंत्री से लेकर पूर्व कृषि मंत्री और पूर्व स्थानीय विधायक के अलावा रायपुर के तत्कालीन कलेक्टर से भी मदद की गुहार लगाई थी। लेकिन सिवाय अंबेडकर अस्पताल रेफर करने के और कोरे आश्वासन के सिवाय कुछ हासिल नहीं हुआ। आखिर में थक हारकर छात्रा ने रावतपुरा सरकार संस्थान को अपनी पीड़ा से अवगत कराया। जिसके बाद संस्थान ने अपने सामाजिक सरोकारों को समझकर एवं मानवीयता दिखाते हुए छात्रा के पूरे साल भर की फीस माफ कर दिया है। साथ ही संस्थान छात्रा की दवाईयों का खर्च उठाने पर भी विचार कर रहा है। 

  •  

Posted Date : 15-Jan-2019
  • रायपुर, 15 जनवरी। सिलतरा के जगदीश इस्पात कंपनी में रविवार को एक मजदूर की पीठ पर गर्म लोहा गिर गया। जिससे वह बुरी तरह घायल हो गया। सुरक्षा इंतजाम में लापरवाही से हादसा होने का आरोप लगाया गया है। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक मिथलेश वर्मा जगदीश इस्पात में काम के दौरान गर्म लोहा गिरने से बुरी तरह झुलस गया। इस हादसे के लिए साथ काम करने वाले चंदन महतो को दोषी बताया गया है। उस पर धक्का देने का आरोप लगाया गया है। रविवार को करीब 7 बजे मिथलेश रोलिंग मिल मशीन के पास काम कर रहा था।उसी दौरान चंदन महतो ने उसे पैर को ठोकर मार दिया। जिससे वह जमीन पर गिर गया। गर्म लोहे का छड़ मशीन से निकल रहा था जो उसके पीठ से गुजर गया। उसे तुरंत सुयश अस्पताल में भर्ती कराया गया। मिथलेश करीब चार महीने से जगदीश इस्पात में काम कर रहा था।उसका आरोप है कि कंपनी की ओर से सुरक्षा के लिए हेलमेट, बाडी गार्ड, हेंड ग्लोब व जूता भी उपलब्ध नहीं कराया गया है। उसने चंदन महतो और एनबी सिंग को हादसे के लिए दोषी बताकर दोनों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

     

  •  

Posted Date : 15-Jan-2019
  • रायपुर, 15 जनवरी। राष्ट्रवादी विचारक, पांचजन्य के पूर्व संपादक तथा आरएसएस के पूर्व प्रचारक, 93 वर्षीय देवेन्द्र स्वरूप का आज नईदिल्ली में निधन हो गया। वे भाजपा के रायपुर शहर जिलाध्यक्ष राजीव अग्रवाल के चाचा थे। 

    श्री स्वरूपजी संघ के थिंकटेक कहे जाते थेद्य वे संघ के पूर्व प्रचारक व संघ के मुखपत्र पान्चजन्य के काफ़ी समय तक संपादक रहे। वे आपातकाल में जेल में रहे, और अभी दो महीने पहले तक उनका लिखना जारी रहा। उन्होंने एक दर्जन से ज्यादा पुस्तकें लिखी थीं। स्वरूपजी ने रायपुर के कई दौरे किये। देश की साहित्य, पत्रकार बिरादरी और लेखक संघों ने उनके निधन पर शोक संवेदना व्यक्त की है। 
    रामबिसाल शर्मा 
    रायपुर, 15 जनवरी। भाटापारा निवासी रामबिसाल शर्मा (मुंगेलीवाले) 86 वर्ष, का मंगलवार 15 जनवरी को निधन हो गया। अंतिम संस्कार भाटापारा में शाम चार बजे किया जाएगा। वे हरिहर प्रसाद शर्मा, वरिष्ठ पत्रकार वीरेन्द्र शर्मा (गुड्डू) के पिता व किरण शर्मा के ससुर थे।

  •  

Posted Date : 14-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    रायपुर, 14 जनवरी। जिले के अलग-अलग थानों के अंतर्गत जुआ खेलते 20 लोगों को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने आरोपियों से नकद रकम और मोबाईल के अलावा 7 बाइक भी जब्त कर लिया। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक अभनपुर थाने के अंतर्गत जुआ खेल रहे 4 लोग पकड़े गए। 
    उनके पास से 7 बाइक और चार मोबाईल के अलावा नकद रकम 70 हजार 620 रूपए जब्त किए गए। गिरफ्तार चार लोगों में एक नाबालिग भी है। पुलिस को सारखी गांव में कुछ लोगों के जुआ खेलने की जानकारी के कार्रवाई की गई। पुलिस ने मौके से कुलेश्वर भाले, हृदय सिन्हा, संतोष डहरे के अलावा एक नाबालिग को गिरफ्तार किया।इसी तरह विधानसभा थाने के अंतर्गत पुलिस की कार्रवाई में 6 लोगों को गिरफ्तार कर करीब 3 हजार, नयापारा के अंतर्गत 6 लोगों को गिरफ्तार कर करीब ढाई हजार, नेवरा थाने के अंतर्गत 4 लोगों को गिरफ्तार करीब 4 हजार रूपए जब्त किए गए।

     

  •  

Posted Date : 14-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    रायपुर, 14 जनवरी। अलग-अलग सड़क हादसों में तीन लोगों की मौत रविवार को हुई। टाटीबंध के पास बाइक को अज्ञात ट्रक ने रौंद दिया जिससे उसमें सवार एक महिला पत्रकार समेत दो लोगों की मौत हो गई। एक अन्य घटना में ट्रक की बाइक को ठोकर मारा जिससे बाइक में पीछे बैठी एक महिला की मौत हो गई।
    पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक मोहनीष कुमार माथुर बीती रात पत्रकार बिंदेश्वरी शर्मा के साथ दुर्ग से रायपुर आ रहे थे। उसी दौरान हादसे का शिकार हो गए। टाटीबंध के एनफील्ड शो रूम के पास अज्ञात ट्रक जोरदार ठोकर मार दिया। पीछे से मारे गए ठोकर से पल्सर बाइक दूर छिटक गई। जिसके बाद सड़क पर गिरने के बाद ट्रक ने दोनों को रौंद दिया। मौके पर ही मोहनीष और बिंदेश्वरी की मौत हो गई। हादसा रात करीब 8 बजे हुआ।
    तिल्दा नेवरा थाने के अंतर्गत सड्डु की ओर आ रहे बाइक को एक ट्रक ने जोरदार ठोकर मार दिया। जिससे पीछे बैठी दो महिलाओं में से एक की मौत हो गई। ठोकर जोरदार थी और सिर पर गंभीर चोट लगी थी जिससे मौके पर ही महिला की मौत हो गई।शत्रुघन निषाद तिजियाबाई निषाद और पांचो बाई के साथ बाइक से एक दशगात्र कार्यक्रम के बाद लौट रहा था। उसी दौरान हादसा हुआ। हादसा खपरीकला के पास हुआ। एक ट्रक ने जोरदार ठोकर मार दिया जिससे तिजिया बाई घायल हो गई और पाचो बाई की मौत हो गई।

     

  •  

Posted Date : 14-Jan-2019
  • भानपुरी, 13 जनवरी। विकासखंड बस्तर मुख्यालय नगर पंचायत बस्तर की बेटी तेजस्वी परिहार बनी डेंटल डॉक्टर जो बस्तर के लिए बहुत ही गर्व की बात है। इस बेटी ने पूरे बस्तर संभाग में अपना नाम रोशन किया। रुगटा कॉलेज ऑफ  डेंटल साइंस एंड रिसर्च भिलाई में अध्यनरत छात्रा ने अपनी लगन और मेहनत से पढ़ाई कर आज डॉक्टर की डिग्री हासिल की। 12 जनवरी को रुगटा साइंस रिसर्च कॉलेज भिलाई में एक सेमिनार आयोजित किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि टीएस सिंह देव स्वास्थ्य मंत्री छत्तीसगढ़ शासन के आतिथ्य में एवं युवा विधायक  देवेंद्र यादव भिलाई के कर कमलों द्वारा आयोजित सेमिनार में नए डॉक्टसॅ को डॉक्टर डेंटल स्पेशलिस्ट की डिग्री प्रदान की गई। इस दौरान ग्राम बस्तर की छात्रा कुमारी तेजस्वी परिहार को भी डॉक्टर डेंटल की डिग्री प्राप्त की जो बस्तर के लिए गौरव की बात है। बस्तर की बेटी ने ग्राम बस्तर का मान सम्मान बढ़ाया है। कुमारी तेजस्वी परिहार के डॉक्टर बनने पर ग्राम बस्तर वासियों में अत्यंत हर्ष व्याप्त है। कुमारी तेजस्वी परिहार बस्तर के प्रतिष्ठित एवं  वरिष्ठ नागरिक  अरुण सिंह परिहार की सुपुत्री है। इस सेमिनार में संजय रुगटा चेयरमैन एवं रुगटा साइंस कॉलेज भिलाई  डॉक्टर प्रदीप तभनेदेन एवं रुगटा साइंस कॉलेज के डॉक्टर अधिकारी कर्मचारी एवं समस्त स्टॉप उपस्थित थे।

     

     

     

  •  

Posted Date : 13-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता 
    अभनपुर, 13 जनवरी। नगर में विधायक धनेन्द्र साहू की आभार रैली निकाली गई। धनेन्द्र साहू ने मां शीतला मंदिर में पूजा अर्चना कर नगर भ्रमण किया। आभार रैली में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ नगर के हजारों लोग उपस्थित थे।
    आभार रैली शीतला मंदिर प्रांगण में सभा के रूप में परिवर्तित हो गई। विधायक श्री साहू ने सभा को संबोधित करते हुए कहा, मंै सभी जनता का हृदय से आभारी हूं, जो मुझे प्रचंड बहुमत से विजयी बनाकर सेवा का अवसर प्रदान किया। आज हमारी सरकार किसानों के हितों को देखते हुए कर्ज माफ , 2500 रूपये धान खरीदी की जा रही है। हमारी सरकार रबी फसल के लिए पानी के लिए योजना बना रही है। शीघ्र ही इसके बारे में निर्णय लिया जाएगा। रैली में जगह-जगह विधायक धनेन्द्र साहू का फूल मालाओं के साथ स्वागत किया गया। रैली में प्रमुख रूप से पुनीत राम साहू, कचरू लाल भट्टर, मुरारी दास वैष्णव, सुशील शर्मा, सुनील कौशल, रेवती यादव, राणू राठी, उपजीत सचदेवा, रीजवान भाटी, प्रमोद मिश्रा, सपन पांडे, सोनजीत धु्रव, उत्रसेन गहिरवारे, दिनेश अंबिलकर, प्रेमु बंजारे, ईश्वर साहू, विरेन्द्र सिन्हा, राकेश बघेल आदि लोग उपस्थित थे।

  •  

Posted Date : 13-Jan-2019

  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    रायपुर, 13 जनवरी। प्रदेश में आयुष्मान भारत योजना और मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत स्मार्ट कार्ड से मुफ्त इलाज के करीब सवा लाख क्लेम मिले हैं। इनमें से 81 हजार से अधिक क्लेमों का भुगतान बीमा कंपनी की ओर से कर दिया गया है। वहीं 39 सौ क्लेम अलग-अलग कारणों से निरस्त किए गए हैं। 
    प्रदेश में 16 सितंबर 2018 से आयुष्मान भारत योजना शुरू हुई है और उससे यहां के करीब 40 लाख गरीब परिवार जुड़े हैं। वहीं करीब 25 लाख परिवार मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना से जोड़े गए हैं। आयुष्मान योजना से गरीबों को पांच लाख एवं एमएसबीवाय से 50 हजार तक मुफ्त इलाज की सुविधा उपलब्ध हैं। लोग सरकारी के साथ अनुबंधित निजी अस्पतालों में जाकर अपना इलाज करा रहे हैं, लेकिन पिछले तीन साल का बकाया भुगतान न होने से दर्जनों निजी अस्पतालों में स्मार्ट कार्ड से इलाज बंद है और वे सभी कोर्ट जाने की तैयारी में हैं। 
    स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक प्रदेश में आयुष्मान योजना की शुरूआत से अभी तक स्मार्ट कार्ड से मुुफ्त इलाज के एक लाख 27 हजार क्लेम मिले हैं। इसमें से 81 हजार से अधिक क्लेमों का भुगतान रेलीगेयर हेल्थ इंश्योरेंश कंपनी की ओर से कर दिया गया है। करीब चार हजार क्लेमों का भुगतान आजकल में किया जा रहा है। करीब छह हजार क्लेमों की जानकारी अस्पतालों से मंगायी गई है। इस तरह बीमा कंपनी से 94 फीसदी क्लेमों का भुगतान 15 दिनों में किया गया। करीब 30 हजार क्लेम पिछले 15 दिनों के भीतर आए हैं और उसका भी निराकरण जल्द किया जाएगा। 
    सीईओ, स्वास्थ्य आयुक्त आर. प्रसन्ना ने बताया कि प्रदेश में 608 सरकारी व 464 निजी अस्पताल स्मार्ट कार्ड योजना के तहत पंजीकृत हैं। तीन पंजीकृत अस्पतालों का एकाउंट नंबर गलत होने के कारण बीमा कंपनी द्वारा उनके क्लेम का भुगतान नहीं किया जा सका है, उन्हें डीडी या चेक से जल्द ही क्लेम भुगतान किया जाएगा। उन्होंने बताया कि सभी जिलों में दिसंबर-2018 में जिला स्तरीय समस्या निवारण समिति की बैठक आयोजित की जा चुकी है। बैठक में सभी अस्पतालों की समस्याएं सुनी गईं।

  •  

Posted Date : 12-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    रायपुर, 12 जनवरी। एक छात्रा का मोबाईल लूट कर भागने वाला युवक गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही थी। उसी दौरान आरोपी की जानकारी मिलने पर उससे थाने में ले जा कर पूछताछ के बाद गिरफ्तारी की गई।
    बूढ़ापारा के राधा श्रृष्टि गल्र्स हास्टल में रहने वाली बीकाम प्रथम वर्ष की छात्रा सुहानी हालदार का मोबाईल पैदल जाते समय मयंक तिवारी छीन लिया था। वह बाइक से आया और मोबाईल छीन कर तेजी से भाग गया।सुहानी कालीबाड़ी कोचिंग क्लास से निकलकर अपने हास्टल जा रही थी। सुहानी की सहेली श्रीषा साथ में ही पैदल चल रही थी। जैसे ही श्रीषा थोड़ा आगे बढ़ी मंयक वहां आ गया। सुहानी मोबाईल से बात कर रही थी, उसी दौरान मंयक ने उससे मोबाईल छीन लिया। घटना शुक्रवार दोपहर हुई थी।पुलिस में शिकायत के बाद कोतवाली पुलिस ने जांच शुरू की। घटना वाली जगह के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे थे उसी दौरान पुलिस को मंयक के संबंध में जानकारी मिली। आमापारा में आजाद चौक के पास रहने वाले मयंक को थाने में लाकर पूछताछ की। उसने मोबाईल लूटना स्वीकार कर लिया। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लूट में इस्तेमाल किया गया बाइक भी जब्त कर लिया।
    बाइक सवार से मोबाइल लूटा
    कोतवाली थाने के अंतर्गत बाइक रोक मोबाईल से बात कर रहे युवक से अन्य बाइक सवारों ने मोबाईल लूट लिया। गुरूवार रात संजय नगर का प्रकाश साहू नगर निगम गेट के सामने बात करने के लिए रूका तभी उसका मोबाइल लूट लिया गया। बाइक में सवार दो लोग स्कार्फ बांधे प्रकाश से मोबाईल छीन कर भाग गए।

     

     

  •  

Posted Date : 11-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    रायपुर, 11 जनवरी। लड़कियों को दोस्ती, प्यार का झांसा देकर उनसे शारीरिक संबंध बनाने के बाद ब्लेकमेल करने वाले 5 में से 4 लड़कों को गिरफ्तार किया गया था। आरोपियों में दो नाबालिग हैं, पांचवें आरोपी को अब तक पुलिस गिरफ्तार नहीं कर पाई है। आरोपियों से जब्त मोबाईल में अश्लील फिल्में पाई गई। आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था। मुख्य आरोपी का एक दिन का रिमांड पुलिस ने मांगा था। जिसके बाद उससे गुरूवार को पूछताछ की गई।

    लड़कियों से ब्लेकमेलिंग करने वालों में मुख्य आरोपी आर्दश अग्रवाल का रिमांड पुलिस ने कोर्ट से मांगा था। आदर्श को पुलिस ने गुरूवार को जेल पहुंचकर कस्टडी में लिया। उस पर 10 वीं क्लास की छात्रा से जबरदस्ती संबंध बना ब्लेकमेलिंग करने का आरोप है। छात्रा से साढ़े तीन लाख रूपए ब्लेकमेल करके ले लिया था। तेलीबंाधा थाने में एक और शिकायत के बाद सोहराब अली और दो अन्य नाबालिगों को गिरफ्तार किया गया।

    आदर्श और सोहराब अपने नाबालिग साथियों के साथ फेसबुक, इंस्टाग्राम जैसे सोशल प्लेटफार्म पर स्कूली लड़कियों को निशाना बनाया करते थे।फिर उन्हें दोस्ती और प्यार की बातों में उलझा कर शारीरिक संबंध बनाते थे। इस दौरान बनाए गए वीडियो और फोटोग्राफ से उन्हें ब्लेकमेल किया करते थे। एक बार बनाया गया वीडियो ब्लेकमेलिंग के लिए पैसे और जब तब संबंध बनाने के काम आता गया।

    आदर्श के मामले में लड़की अपनी नानी के बैंक खाते से पैसे निकालती रही। बाद में पासबुक अपडेट कराने पर कई बार करके निकाले साढ़े तीन लाख रूपए की जानकारी के बाद मामला सामने आया। इसी के बाद मामला पुलिस में पहुंचा। उधर तेलीबांधा थाने के अंतर्गत दर्ज मामले में लड़की एटीएम लेकर घर से निकली थी। रातभर घर से बाहर रहने से घबराकर पुलिस में शिकायत करने पर मामला सामने आया। लड़कों को पैसे देने के लिए लड़कियां घर से बिना बताए पैसे निकालती रहीं।लड़कों ने कितनी लड़कियों को अपना शिकार बनाया इसकी पूरी जानकारी नहीं हुई है। जब्त मोबाईल डाटा से इसकी और जानकारी मिल सकती है।

    लड़कों से मोबाईल जब्त किया गया था। उसकी जांच साइबर टीम के द्वारा की जा रही है। उम्मीद है मोबाईलों में अन्य डाटा की जानकारी मिल सकेगी। हो सकता है उन डाटा से अन्य पीडि़ताओं की भी जानकारी मिले। पुलिस ने गुरूवार को आदर्श अग्रवाल से पूछताछ की। उसे इंस्टाग्राम, फेसबुक अकाउंट में मिले दर्जनभर लड़कियों से संबंधित मैसेज के बारे में पूछा गया। दोनों ही अकाउंट में कई मैसेज डिलेट किए गए थे। जिसे लेकर कई अनुमान लगाया जा रहे हैं। पुलिस आदर्श से मिली जानकारी के आधार पर जांच आगे बढ़ा रही है। जांच अधिकारी दिव्या शर्मा ने बताया कि पांचवें आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। उन्होंने इस संबंध में अन्य कोई जानकारी नहीं दी।

                   

     

     

     

     

     

  •  

Posted Date : 11-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    खरोरा, 11 जनवरी।  सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की पानी टंकी को देखकर हर कोई हैरत में पड़ गया। टंकी के अंदर मरी हुई सड़ी झिपकली मिली। इसका पानी मरीज और उनके परिजन पीते रहे है। काई की मोटी परतें जमा हो गई हैं और पानी बदबूदार हो चुका है, जिसमें 00कीड़े तैरते नजर आ रहे हैं। 
    बीएमओ तिल्दा ए.के. सिन्हा का कहना है कि उक्त संबंध में पत्र जारी कर जवाब माँगा जायेगा। संबंधित  पर कार्रवाई की जायेगी। कलेक्टर डॉ बसवराजू एस ने कहा कि ऐसी लापरवाही नही चलेगी। सफाईकर्मी की जिम्मेदारी हैं।इस पर कार्रवाई की जायेगी। 
    छत्तीसगढ़  ने छत लगी टंकियों को  जाकर देखा। एक टंकी में मरी छिपकली थी। तो वही अन्य टंकी में गंदगी की परत पानी में तैर रही थी। जिस टंकी से पीने के पानी की सप्लाई होती है उसे कभी साफ नहीं किया गया है।  सभी टंकियों के ढक्कन गायब हैं। ऐसी खुली टंकियों का  पानी मरीज पी रहे हंै।
    स्वास्थ्य विभाग के नियमों के अनुसार अस्पताल में मरीजों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए हर पखवाड़े पानी की टंकी की सफाई करनी अनिवार्य है। जिसके लिए बाकायदा रजिस्टर भी लगाया जाता है कि किस तिथि को साफ सफाई की गई। जब भी कोई अधिकारी अस्पताल की जांच के लिए आता है तो उस रजिस्टर की जांच की जाती है।

  •  



Previous12Next