अंतरराष्ट्रीय

Previous12Next
Date : 25-Jun-2019

नई दिल्ली, 25 जून। दुनिया के सबसे अमीर लिस्ट में दूसरे नंबर पर मौजूद बिल गेट्स ने अपनी एक बड़ी गलती के बारे में बताया है। माइक्रोसॉफ्ट के को-फाउंडर गेट्स का कहना है कि काफी पहले माइक्रोसॉफ्ट का अपना मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम हुआ करता था, जिसे विंडोज फोन में दिया गया। लेकिन माइक्रोसॉफ्ट का ये मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम गूगल के एंड्रॉयड और एप्पल के आईओएस को टक्कर नहीं दे पाया और आखिरकार 2017 में इसे कंपनी ने बंद कर दिया गया।
गूगल ने एंड्रॉयड डेवेलप किया और इसने नोकिया के मोबाइल आईओएस को पीछे करते हुए दुनिया भर में अपनी पहुंच बना ली। माइक्रोसॉफ्ट के को फाउंडर बिल गेट्स अपनी सबसे बड़ी गलती इसे ही मानते हैं कि उन्होंने गूगल को एंड्रॉयड डेवेलप करने का मौका दिया। माइक्रोसॉफ्ट अभी दुनिया की बड़ी टेक कंपनियों में शामिल है लेकिन, गेट्स को लगता है कि उन्होंने ऑपरेटिंग सिस्टम में पूंजी लगाई होती तो माइक्रोसॉफ्ट सबसे बड़ी कंपनी होती। बिल गेट्स ने एक वेंचर कैपिटल फर्म विलेज ग्लोबल को हाल ही में दिए गए एक इंटरव्यू ये बातें कही हैं। उन्होंने एंड्रॉयड को स्टैंडर्ड नॉन ऐपल फोन प्लैटफॉर्म बताया है। 
गूगल ने 2005 में 5 करोड़ डॉलर में एंड्रॉयड को खरीदा था। वह आज दुनिया का सबसे पॉपुलर स्मार्टफोन ऑपरेटिंग सिस्टम है। एंड्रॉयड ना खरीदने पर बिल गेट्स को 28 हज़ार अरब रुपये का नुकसान हुआ और गूगल ने बाजी मार ली। ओरिजिनल आईफोन को 2007 में पेश किया गया था और पहला एंड्रॉयड फोन 2008 में लॉन्च किया गया था। मौजूदा समय में  एंड्रॉइड और द्बह्रस् पर काम करने वाली ऐप्स की संख्या काफी ज्यादा है। एंड्रॉयड की 85 फीसदी स्मार्टफोन आईओएस माक्रेट है और माइक्रोसॉफ्ट कहीं भी मौजूद नहीं है।  (न्यूज18)

 


Date : 24-Jun-2019

नोम पेन्ह, 24 जून । कंबोडिया के तटीय शहर शिहानोकविले में एक निर्माणाधीन इमारत हादसे में मरने वालों की संख्या बढक़र 18 से 24 हो गई है।मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार शनिवार को  निर्माणाधीन  इमारत के ढहने से 24 लोग घायल भी हुए हैं।      
कंबोडिया के प्रधानमंत्री हुन सेन ने दुर्घटना स्थल का दौरा किया और तलाश एवं बचाव अभियान अभी भी जारी है। हाल के वर्षों में शिहानोकविले में चीनी होटलों और कैसिनों की संख्या बहुत बढ़ गई है।  
मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है जिनमें चीनी कंपनी के स्वामित्व वाली इस निर्माणाधीन इमारत का मालिक निर्माण कर रहे फर्म के प्रमुख और ठेकेदार भी शामिल हैं। एक कंबोडियाई भू-स्वामी को भी पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है।  प्रांतीय गर्वनर ने कहा है कि इमारत ढहने के समय करीब 50 श्रमिक घटनास्थल पर मौजूद थे। कंबोडिया में हाल के वर्षों में इमारत ढहने की घटनाएं बढ़ गई हैं जो इमारत निर्माण के तरीकों से संबंधी कई सवाल खड़े करती है। (वार्ता)
 


Date : 24-Jun-2019

ढाका, 24 जून । बंगलादेश में मौलबी बाजार के कुलौरा में बोरोमाचल पुल पर रविवार रात उपवन एक्सप्रेस के पांच डिब्बों के पटरी से उतर जाने से कम से कम चार लोगों की मौत हो गयी और 100 से अधिक घायल हो गए।
इस दुर्घटना में पूर्वोत्तर शहर सिल्हेट से ढाका की ओर जा रही ट्रेन के पांच डिब्बे पटरी से उतर गये जिनमें  एक डिब्बा नहर में गिर गया और दो नहर के किनारे गिरे। अंधकार के कारण कर्मियों को बचाव कार्य में समस्याओं का सामना करना पड़ा।  इस हादसे में चार लोगों की मौके पर ही मौत हो गयी और 100 से अधिक घायल हो गये। मृतकों की संख्या बढऩे की आशंका है। (वार्ता)
 


Date : 24-Jun-2019

नई दिल्ली/सिडनी, 24 जून। सिडनी हवाई अड्डे पर एक कर मुक्त (ड्यूटी-फ्री) दुकान से कथित तौर पर वॉलेट चुराने के मामले में एयर इंडिया ने अपने रीजनल डायरेक्टर (पूर्वी क्षेत्र) रोहित भसीन को निलंबित कर दिया। भसीन के बिना अनुमति के एयर इंडिया परिसर में प्रवेश करने पर भी रोक लगा दी गई है। अधिकारियों ने रविवार को यह जानकारी दी। परिसर में प्रवेश करने पर रोक लगाने के अलावा उन्हें अपना पहचान पत्र जमा कराने का भी निर्देश दिया गया है।
रोहित भसीन को एआई301 विमान के एक कमांडर (पायलट) के तौर पर तैनात किया गया था। उनका विमान 22 जून की सुबह 10।45 बजे (स्थानीय समय) सिडनी हवाई अड्डे से दिल्ली के लिए प्रस्थान करने वाला था। एयरलाइन के एक प्रवक्ता ने कहा, प्रारंभिक रिपोर्ट के मुताबिक एक कैप्टन मिस्टर रोहित भसीन सिडनी में एक कर मुक्त दुकान से वॉलेट चोरी करते पकड़े गए। भसीन क्षेत्रीय निदेशक भी हैं।
एयर इंडिया ने इस घटना की जांच शुरू कर दी है और तब तक कैप्टन को निलंबित कर दिया गया है। एयरलाइन द्वारा शनिवार को जारी निलंबन आदेश में कहा गया, ऑस्ट्रेलिया के क्षेत्रीय प्रबंधक द्वारा दी गई रिपोर्ट के मुताबिक आपने सिडनी हवाई अड्डे पर 22 जून, 2019 को उड़ान एआई 301 के प्रस्थान से पहले एक ड्यूटी फ्री दुकान से कथित तौर पर सामान चोरी की हरकत की है। आपके खिलाफ किसी भी अनुशासनात्मक कार्रवाई के शुरू करने और जांच पूरी होने तक आपको तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाता है।  (भाषा)
 


Date : 24-Jun-2019

वाशिंगटन, 24 जून । इसे नए पीढ़ी की जीवनशैली कहें या स्टाइल, लेकिन हर चार में से एक महिला रोमांस और लंबे रिश्ते के इरादे से नहीं, बल्कि केवल मुफ्त के खाने का आनंद लेने के लिए डेट पर जाती हैं। एक अध्ययन में यह जानकारी सामने आई है। इस नए फिनोमिना को ‘फूडी कॉल’ कहा जाता है, जहां एक महिला किसी ऐसे व्यक्ति को डेट करती है, जिससे वह प्यार का इराद न रखकर केवल मुफ्त के खाने का लुफ्त उठाना पसंद करती हैं। नए शोध में यह देखा गया, जहां एक ऑनलाइन अध्ययन में 23 से 33 फीसदी महिलाओं ने इस बात को स्वीकार किया कि वे ‘फूडी कॉल’ में लगी हैं। कैलिफोर्निया स्थित अजुसा पैसिफिक यूनिवर्सिटी और यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया-मेरेड के शोधकर्ताओं ने पाया कि जिन महिलाओं ने व्यक्तित्व लक्षणों (साइकोपैथी, मैकियावेलिज्म, नार्सिसिज्म) के ‘डार्क ट्रायड’ पर उच्च स्कोर किया, साथ ही साथ पारंपरिक भूमिका विश्वासों को व्यक्त किया है। वह एक ‘फूडी कॉल’ में संलग्न है और उन्हें यह स्वीकार्य लगता है। 
सोशल साइकोलॉजिकल एंड पर्सनैलिटी साइंस नामक पत्रिका में एजुसा पैसिफिक यूनिवर्सिटी के ब्रायन कॉलिसन ने एक लेख में कहा, कई डार्क लक्षणों को रोमांटिक संबंधों में भ्रामक और शोषणकारी व्यवहार से जोड़ा गया है, जिनमें वन नाइट स्टैंड, झूठे संभोग सुख का अनुभव कराना या अनचाही यौन तस्वीरें भेजना शामिल हैं। पहले अध्ययन में 820 महिलाओं को शामिल किया गया। उन्होंने उन सवालों की एक श्रृंखला का जवाब दिया जो उनके व्यक्तित्व लक्षणों, लिंग भूमिकाओं के बारे में विश्वास और उनके ‘फूड कॉल’ के इतिहास को मापते हैं।  उनसे यह भी पूछा गया कि क्या उन्हें लगता है कि ‘फूडली कॉल’ सामाजिक रूप से स्वीकार्य है। 
पहले समूह कि 23 फीसद महिलाओं ने इस बात को स्वीकार किया कि वह ‘फूड कॉल’ में शामिल हैं। जानकारी के अनुसार, अधिकांश ने कभी-कभार या शायद ही कभी ऐसा किया। हालांकि जो महिलाएं एक फूडी कॉल में व्यस्त थीं, उनका मानना था कि यह अधिक स्वीकार्य है, इसके अलावा ज्यादातर महिलाओं का मानना है कि फूडी कॉल बेहद अस्वीकार्य हैं। दूसरे अध्ययन में 357 विषमलैंगिक महिलाओं के प्रश्नों के समान सेट का विश्लेषण किया गया और यह पाया गया कि 33 प्रतिशत ने ‘फूडली कॉल’ में संलिप्त हैं। (आईएएनएस)
 


Date : 23-Jun-2019

मॉस्को, 23 जून। अमेरिका के मैनहट्टन में दैनिक समाचार पत्र 'न्यूयॉर्क टाइम्स' की इमारत के बाहर विरोध प्रदर्शन कर रहे 70 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। 
यह सभी लोग जलवायु संकट की खबरों को कवर करने के मीडिया के तरीकों पर ध्यान आकर्षित करने के लिए शनिवार को समाचार पत्र के कार्यालय के बाहर प्रदर्शन कर रहे थे। सीएनएन ने न्यूयॉर्क पुलिस के प्रवक्ता के हवाले से यह जानकारी दी। 
सीएनएन के अनुसार प्रदर्शनकारी पारिस्थितिकीय नुकसान का अहिंसात्मक विरोध करने के लिए मशहूर अंतरराष्ट्रीय आंदोलन 'एक्सिटंग्शन रेबेलियन' संगठन से संबंधित हैं।  
'एक्सिटंग्शन रेबेलियन' की प्रवक्ता इवे मोशेर ने कहा कि हालांकि न्यूयॉर्क टाईम्स अच्छी रिपोर्टिंग कर रहा है लेकिन यह जलवायु संकट को उस तरह से कवर नहीं कर रहा है जिस तरह से करना चाहिए। मीडिया को इसे द्वितीय विश्व युद्ध की तरह कवर करना चाहिए जहां प्रत्येक दिन इससे संबंधित खबरें सुर्खियों में हों। न्यूयॉर्क पुलिस विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि प्रदर्शनकारियों के खिलाफ आरोप लंबित हैं।  (स्पूतनिक)
——————-

 


Date : 23-Jun-2019

मास्को, 23 जून। मैक्सिको के दक्षिण-पश्चिम तटीय इलाके प्यूर्टो मादेरो में शनिवार देर रात भूकंप के झटके महसूस किए गए। 
अमेरिकी भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण विभाग (यूएसजीएस) के मुताबिक रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 5.6 मापी गयी। भूकंप का केन्द्र सतह से 38.4 किलोमीटर की गहराई में था। (स्पूतनिक)


Date : 23-Jun-2019

वाशिंगटन, 23 जून। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शनिवार को कहा है कि ईरान के खिलाफ अमेरिका नए प्रतिबंध लगाएगा और उसके खिलाफ सैन्य कार्रवाई करने को लेकर अभी भी विचार किया जा रहा है। 
  श्री ट्रंप ने शनिवार को संवाददाताओं से कहा  कि ईरान के खिलाफ अमेरिका अतिरिक्त प्रतिबंध लगायेगा जिनमें से कुछ प्रतिबंधों को धीरे-धीरे और कुछ को तेजी से लागू कर दिया जाएगा।
  अमेरिकी राष्ट्रपति से जब यह सवाल किया गया कि क्या ईरान के खिलाफ सैन्य कार्रवाई को लेकर अभी भी विचार किया जा रहा है तब उन्होंने कहा, ''जब तक समस्या का समाधान नहीं हो जाता तब तक इस पर विचार होता रहेगा।ÓÓ
श्री ट्रंप ने कहा कि अमेरिका ईरान को परमाणु हथियार विकसित करने नहीं देगा। प्रतिक्रिया स्वरूप ईरान की सेना ने सैन्य कार्रवाई करने की गलती को लेकर अमेरिका को चेतावनी देते हुए कहा है कि ईरान के खिलाफ किसी भी तरह का हमला करना अमेरिका को महंगा पड़ेगा।  (शिन्हुआ)


Date : 23-Jun-2019

वाशिंगटन, 23 जून। अमेरिका के पूर्वोत्तर राज्य  न्यू हैम्पशायर एक टू-लेन राजमार्ग पर एक ट्रक ने शुक्रवार की रात मोटरसाइकिलों को टक्कर मार दी, जिसके कारण सात लोगों की मौत हो गयी। स्थानीय मीडिया ने शनिवार को यह जानकारी दी। 
मृतकों में से पांच लोग जर्हेड्स मोटरसाइकिल क्लब के सदस्य थे। स्थानीय मीडिया ने क्लब के सदस्य डग हेवर्ड के हवाले से बताया कि दुर्घटना के शिकार हुए क्लब के सदस्य सक्रिय और अनुभवी मरीन शामिल थे, जबकि दो लोग उनके दो समर्थक थे। 
पुलिस ने बताया कि इस दुर्घटना में दो अन्य मोटरसाइकिल सवार घायल हुए हैं, जिनमें से एक को हेलिकॉप्टर के जरिये अस्पताल पहुंचाया गया।(शिन्हुआ)


Date : 23-Jun-2019

बर्लिन, 23 जून । पुल से पेशाब करने की वजह से ऐसी अफरातफरी मची कि कई लोग घायल हो गए। घायलों को एंबुलेंस से हॉस्पिटल ले जाया गया। ये मामला जर्मनी की राजधानी बर्लिन का है। 
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, बर्लिन में पुल से पेशाब करने की वजह से नीचे से गुजर रही टूरिस्ट बोट पर अफरातफरी मच गई। कई लोग घायल हो गए। इसके बाद रेस्क्यू वर्कर्स को बुलाना पड़ा। 
घटना शनिवार शाम की है। बर्लिन फायर डिपार्टमेंट ने माना कि एक व्यक्ति के जैन्नोवित्ज पुल के ऊपर से पेशाब करने की वजह से टूर बोट में सवार कई लोग घायल हो गए। 
डीडब्ल्यूडॉटकॉम की रिपोर्ट के मुताबिक, घटना के बाद 4 लोगों को एंबुलेंस से हॉस्पिटल ले जाया गया। पुलिस ने इस मामले में अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ हमले का मामला दर्ज कर लिया है। आरोपी की तलाश की जा रही है।
वहीं, सोशल मीडिया पर लोगों ने इस घटना को लेकर गुस्सा जताया है। एक सोशल मीडिया यूजर ने लिखा कि बर्लिन में ऐसी घटना की किसी ने उम्मीद नहीं की होगी। (आजतक)
 


Date : 23-Jun-2019

लॉस एंजलिस, 23 जून । अमेरिका में हवाई प्रांत के ओहू द्वीप में  शुक्रवार की शाम हुए विमान दुर्घटना में 11 लोगों की मौत हुई थी। स्थानीय अधिकारियों ने शनिवार को 11 लोगों की मौत होने की पुष्टि की। 
होनोलुलु के दमकल विभाग ने शनिवार को अपराह्न में ट््वीट कर कहा, ''डिलिंघम एयरफील्ड के पास दुर्घटनाग्रस्त हुए विमान में 11 लोग सवार थे और इस दुर्घटना में सभी लोगों की मौत हो गई थी।ÓÓ दमकल विभाग ने बताया कि हादसे के कारणों की जांच की जा रही है। 
होनोलुलु के दमकल विभाग के प्रमुख मैनुएल नेवेस ने बताया कि दमकल विभाग को  स्थानीय समयानुसार शाम साढ़े छह बजे विमान दुर्घटना की सूचना मिली थी। इसके  बाद दमकलकर्मी मौके पर पहुंचे और विमान को आग की लपटों में घिरा हुआ पाया  है।  
दमकल विभाग ने प्रारंभ में इस दुर्घटना में छह लोगों के मारे जाने की सूचना दी थी। मृतकों की संख्या शुक्रवार की रात बढ़कर नौ हो गयी थी तथा शनिवार को अधिकारियों ने इस दुर्घटना में 11 लोगों की मौत की पुष्टि की। (शिन्हुआ)


Date : 23-Jun-2019

श्रीनगर, 23 जून। जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले में रविवार को सुरक्षाबलों के घेराबंदी एवं तलाश अभियान के दौरान हुई मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गये। 
आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि आतंकवादियों के छिपे होने की खुफिया जानकारी के आधार पर जम्मू-कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान समूह (एसओजी), राष्ट्रीय राइफल्स (आरआर) और केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) ने आज तड़के बारिश के बावजूद शोपियां जिले में कीगम क्षेत्र के दारमदोरा गांव में संयुक्त रूप से घेराबंदी और तलाश अभियान शुरू किया। 
गांव से बाहर निकलने के सभी रास्तों को बंद करने के बाद सुरक्षाबल के जवान जब एक विशेष क्षेत्र की ओर बढ़ रहे थे तो वहां पहले से छिपे हुए आतंकवादियों ने उन पर स्वचालित हथियारों से अंधाधुंध गोलियां चलायीं। सुरक्षाबलों ने भी जवाबी कार्रवाई की जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गयी। सुरक्षाबलों की जवाबी कार्रवाई में दो आतंकवादी मारे गए और उनके शव बरामद कर लिए गए हैं। आतंकवादियों के पास से हथियार एवं गोला-बारूद भी बरामद किये गये। 
प्रशासन ने लोगों से पुलिस के साथ सहयोग करने और मुठभेड़ वाली जगह नहीं जाने का अनुरोध किया है। गांव के आस-पास के इलाके में किसी भी प्रकार के विरोध प्रदर्शन को रोकने के लिए अतिरिक्त सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है।
इसके अलावा प्रशासन ने किसी भी प्रकार की अफवाह को फैलने से रोकने के लिए एहतियातन मोबाइल इंटरनेट सेवा पर रोक लगा दी है। (वार्ता)


Date : 23-Jun-2019

वाश्ंिागटन 23 जून  अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने शनिवार को कहा कि अमेरिका सोमवार को ईरान पर बड़े पैमान पर नये प्रतिबंध लगायेगा। 
श्री ट्रम्प ने ट््वीट कर कहा, ''हम सोमवार को ईरान पर बड़े पैमाने पर अतिरिक्त प्रतिबंध लगाने जा रहे हैं। मैं उस दिन का इंतजार कर रहा हूं जब ईरान से प्रतिबंध हट जायेंगे और वह फिर से एक उत्पादक और समृद्ध राष्ट्र बन जायेगा। ((स्पूतनिक))


Date : 22-Jun-2019

न्यूयॉर्क, 22 जून । अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर एक लेखिका ने यौन शोषण करने का सनसनीखेज आरोप लगाया है। न्यूयॉर्क में एक पत्रिका में छपी रिपोर्ट के मुताबिक एक लेखिका ने दावा किया कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने 1990 के मध्य में मैनहट्टन डिपार्टमेंट स्टोर के एक ड्रेसिंग रूम में उनका यौन उत्पीडऩ किया था।
हालांकि इस गंभीर आरोपों को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सिरे से खारिज कर दिया और कहा, मैं अपने जीवन में इस महिला से कभी नहीं मिला। अपने बयान में ट्रंप ने इस आरोप को फर्जी समाचार बताया और कहा कि इसका कोई सबूत नहीं है।
ट्रंप ने कहा, कोई टिप्पणी नहीं? कोई निगरानी नहीं? कोई वीडियो नहीं? कोई रिपोर्ट नहीं? आसपास कोई बिक्री परिचारक नहीं, मैं इस बात की पुष्टि करने के लिए बर्गडॉर्फ गुडमैन को धन्यवाद देना चाहूंगा कि उनके पास ऐसी किसी भी घटना का कोई वीडियो फुटेज नहीं है, क्योंकि ऐसा कभी नहीं हुआ।
हालांकि इस मामले में ट्रंप की कंपनी ने एसोसिएटेड प्रेस के टिप्पणी के अनुरोध का जवाब नहीं दिया। ट्रंप अभी भी इन कंपनियों के मालिक हैं। आरोप लगाने वाली महिला ईजीन कैरोल ने  ट्रंप के खिलाफ आरोप को, हिंसक पुरुषों, के बारे में अपनी आगामी किताब में शामिल किया है।
कैरोल ने लिखा है कि 1995 या 1996 में उनकी ट्रंप से दोस्ती थी और इसी की वजह से बर्गडॉर्फ गुडमैन में रियल एस्टेट मुगल माने जाने वाले ट्रंप ने उन्हें ड्रेसिंग रूम की दीवार की तरफ धक्का दे दिया और अपनी पैंट उतार दिया और उसे भी ऐसा करने पर मजबूर कर दिया। कैरोल ने कहा कि काफी संघर्ष के बाद ट्रंप उसे दोबारा धक्का देकर स्टोर से भाग गए थे।
2016 के राष्ट्रपति चुनाव प्रचार के दौरान, एक दर्जन से अधिक महिलाओं ने ट्रंप पर पहले के सालों में यौन शोषण का आरोप लगाया था। ट्रंप ने इन आरोपों से इनकार कर दिया था और कहा था कि महिलाएं झूठ बोल रही है। ऐसे मामलों में आम तौर पर सहमति के बिना ग्रोपिंग और चुंबन शामिल होता है लेकिन कैरोल ने आरोप लगाया कि ट्रंप ने उन्हें संबंध बनाने के लिए मजबूर किया। (आजतक)
 

 


Date : 22-Jun-2019

नई दिल्ली, 22 जून । स्कॉटलैंड के अनुसंधानकर्ताओं ने धूसर रंग वाली सील मछली का अध्ययन करते हुए एक चौंकाने वाला खुलासा किया है। अनुसंधानकर्ताओं का कहना है कि ये मछली इंसानी आवाज और, ट्विंकल, ट्विंकल लिटिल स्टार, जैसे धुनों की नकल कर सकती है। यूनिवर्सिटी ऑफ सेंट एंड्रूयज के अनुसंधानकर्ताओं ने तीन प्रशिक्षित सीलों को लोकप्रिय धुनों के हिस्से की नकल करते हुए दिखाया है।
अनुसंधानकर्ताओं की टीम द्वारा पता लगाए गए तथ्य गुरुवार को प्रकाशित हुए। इस अध्ययन ने अनुसंधानकर्ताओं को वोकल लर्निंग और इंसानी भाषा के विकास को बेहतर तरीके से समझने का अवसर दिया। 
इस अनुसंधान में यह निकलकर सामने आया कि बोलने में होने वाली परेशानियों के अध्ययन में भी यह सील मछली महत्वपूर्ण साबित हो सकती है क्योंकि यह भी उसी तरह से वाक् नली का इस्तेमाल करती है जैसे मनुष्य करते हैं। (भाषा)
 


Date : 22-Jun-2019

टेगुसिगलपा, 22 जून। होंडुरास में राष्ट्रपति जुआन ऑरलैंडो हर्नांडेज के खिलाफ जारी प्रदर्शन के दौरान तीन लोग मारे गये हैं। स्थानीय मीडिया ने यह जानकारी दी है। 
इससे पहले मीडिया रिपोर्टों में बताया गया था कि श्री हर्नांडेज के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान दो लोगों मारे गये हैं। पैस न्यूज ने शुक्रवार को अपनी रिपोर्ट में बताया कि रोड जाम करने के दौरान पुलिस द्वारा की गई गोलीबारी में एक 17 वर्षीय युवक मारा गया। इसके साथ ही पुलिस और सैनिकों द्वारा की गई गोलीबारी में मारे गए लोगों की संख्या तीन हो गई है। 
राष्ट्रीय सुरक्षा अधिकारियों ने अशांति के बीच देशभर में सेना और पुलिस को तैनात करने का निर्णय लिया है। उल्लेखनीय है कि होंडुरास में लोग चिकित्सा तथा शिक्षा के निजीकरण के प्रस्ताव का विरोध कर रहे हैं और इसको लेकर राष्ट्रपति हर्नांडेज के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। 
 (स्पूतनिक)


Date : 22-Jun-2019

अबुजा, 22 जून । नाइजीरिया के अशांत पश्चिमोत्तर राज्य जामफरा में एक सशस्त्र समूह के हमले में कम से कम 18 लोग मारे गये हैं तथा कई अन्य लोग घायल हुए हैं। राष्ट्रीय सरकार के प्रतिनिधि ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। 
संसद में इस क्षेत्र के सरकारी प्रतिनिधि कबीर माई पैलेस ने बताया कि कम से कम 50 मोटरसाइकिल से आये बंदूकधारियों ने तीन समुदाय के लोगों पर हमला किया। उन्होंने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण तथा चिंताजनक बताया। 
अमीर मुहम्मद बावा ने बताया कि बंदूकधारियों ने लोगों पर अंधाधुंध गोलिबारी की, जिसके कारण कम से कम 18 लोग मारे गये तथा कई अन्य लोग घायल हो गये। उन्होंने बताया कि इस क्षेत्र में सुरक्षा एक गंभीर विषय है क्योंकि सशस्त्र समूह स्वतंत्र रूप से स्थानीय समुदायों के बीच अपनी गतिविधियां चला रहा है। (शिन्हुआ)
 


Date : 21-Jun-2019

नई दिल्ली, 21 जून । अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने 13 करोड़ अमेरिकी डॉलर कीमत वाले मानवरहित अमेरिकी निगरानी ड्रोन विमान को मार गिराए जाने के बाद ईरान पर सैन्य हमला कर देने को शुक्रवार को मंज़ूरी दे दी, लेकिन हमला करने से पहले ही फैसला पलट दिया। 
रिपोर्ट के अनुसार, फैसले में शामिल या जानकारी रखने वाले वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों ने बताया कि डोनाल्ड ट्रंप ने शुरू में रडार तथा मिसाइल बैटरियों जैसे कुछ ठिकानों पर सैन्य हमले की मंज़ूरी दे दी थी। अधिकारियों ने यह भी कहा कि यह हमला शुक्रवार को सूर्योदय से ठीक पहले होना था, ताकि ईरानी सेना तथा नागरिकों को कम से कम खतरा हो।
समाचारपत्र ने एक वरिष्ठ अधिकारी के हवाले कहा, विमान हवा में थे, और पोत अपनी पोजीशन पर मौजूद थे, लेकिन कोई मिसाइल नहीं दागी गई, जब तक शांत रहने का आदेश पहुंचा।
अखबार ने यह भी कहा कि इस तरह अचानक फैसले को पलट दिए जाने से  ट्रंप द्वारा मध्य पूर्व के ठिकानों पर किया जाने वाला तीसरा सैन्य हमला टल गया। इससे पहले, ट्रंप सीरिया में मौजूद ठिकानों पर 2017 और 2018 में हमले कर चुके हैं।
समाचारपत्र ने कहा कि फिलहाल यह स्पष्ट नहीं है कि ईरान पर हमले अब भी किए जा सकते हैं या नहीं। यह भी जानकारी नहीं मिल पाई है कि हमले रोक देने का फैसला अमेरिकी राष्ट्रपति का इरादा बदलने की वजह से किया गया था या प्रशासन की लॉजिस्टिक्स या रणनीति संबंधी चिंताओं की वजह से।
इससे पहले, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने गुरुवार को कहा था कि ईरान ने अमेरिकी ड्रोन को गिराकर, बड़ी गलती, की है। अमेरिका और ईरान दोनों ने स्वीकार किया था कि ईरानी सुरक्षाबलों ने अमेरिकी सैन्य निगरानी ड्रोन को मार गिराया है, लेकिन दोनों ने इस बारे में अलग-अलग जानकारी दी थी। ट्रंप ने कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो के साथ मीडिया को संयुक्त रूप से संबोधित करते हुए कहा, यह ड्रोन स्पष्ट रूप से अंतरराष्ट्रीय सीमा पर था। हमारे पास यह सभी तथ्यों के साथ दर्ज है, और हम सिर्फ बातें नहीं बना रहे हैं। ईरान ने बड़ी गलती की है।

जब उनसे पूछा गया कि वह ईरान की कथित कार्रवाई का क्या जवाब देंगे, तो उन्होंने कहा था, आपको इसकी जानकारी होगी। एक सवाल का जवाब देते हुए ट्रंप ने इससे इंकार किया था कि उनके सलाहकार उन्हें ईरान के साथ युद्ध की तरफ धकेल रहे हैं। (एजेंसियां)
 


Date : 21-Jun-2019

नई दिल्ली, 21 जून । बदहाल अर्थव्यवस्था के बाद अब पाकिस्तान इन दिनों एक नए संकट से जूझ रहा है। दरअसल, पाकिस्तान के चार राज्यों में टिड्डी ने इतना कोहराम मचा रखा है कि आम लोगों से लेकर सरकार परेशान है। 
आलम यह है कि पाकिस्तानी सरकार ने टिड्डी की बढ़ती तादाद को काबू करने के लिए हवाई जहाज से एंटी टिड्डी स्प्रे किया है। यहां तक कि पाकिस्तान सरकार ने मीरपुर जिले के एयरपोर्ट पर कई जहाज भी इसके लिए तैनात किए हैं। 
इस समस्या को लेकर पाकिस्तान के मुनाबाव में बुधवार सुबह भारत-पाकिस्तान की टिड्डी नियंत्रण संगठन के अधिकारियों के बीच 4 घंटे तक बातचीत भी चली। 
पाकिस्तान के अधिकारियों ने बताया कि उन्होंने दस हजार हेक्टेयर में टिड्डी के खिलाफ कंट्रोल कार्यक्रम चला रखा है। यहां तक कि खुद प्रधानमंत्री इमरान खान भी इसे लेकर गंभीर है। इसके लिए उन्होंने 3 दिन पहले ही केंद्रीय खाद्य सुरक्षा शोध मंत्री को मीरपुर भेजा है।  
बताया जा रहा है कि टिड्डी के कारण पाकिस्तान में फसलें बर्बाद हो रहीं हैं। किसानों को इस कारण भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है। 
वहीं, मानसून के पूर्व बारिश और साथ में तेज आंधी को देखते हुए भारत भी इसे लेकर चिंतित है। जानकारों का कहना है कि हवा की दिशा-दशा अनुकूल मिलने पर टिड्डी राजस्थान की तरफ आ सकते हैं। 
भारत ने टिड्डी से निपटने के लिए तैयारी कर रखी है। कुछ दिन पहले राजस्थान के जैसलमेर में बड़ी तादाद में टिड्डी देखे गए थे। इसके पहले वर्ष 1993 में भी भारत और पाकिस्तान में टिड्डी बड़ा संकट बन गया था। (आजतक)
 

 


Date : 20-Jun-2019

इस्लामाबाद, 20 जून । पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को भारतीय कवि और नोबेल पुरस्कार विजेता रवींद्रनाथ टैगोर के एक प्रसिद्ध कोट (उद्धरण) का श्रेय गलत तरीके से लेबनानी-अमेरिकी कवि खलील जिब्रान को देने पर ट्रोल किया गया। लोगों ने उनको फॉरवर्ड मेसेज को सोशल मीडिया पर शेयर न करने की भी सलाह दी। 
दरअसल इमरान खान ने एक प्रेरक कोट अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया था। इस कोट में लिखा था, मैं सोया और सपना देखा कि जीवन आनंद है। मैं जागा और देखा कि जीवन सेवा है। मैंने सेवा की और पाया कि सेवा आनंद है। 
इस कोट का श्रेय उन्होंने लेबनानी-अमेरिकी कवि खलील जिब्रान को दिया और लिखा कि जिन्होंने जिब्रान के इन शब्दों को समझा व संतोष से जी सकते हैं। 
इमरान खान को शायद अपनी गलती का एहसास नहीं हुआ, लेकिन उनका ट्वीट देख लोगों ने जरूर यह गलती पकड़ ली और फिर उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया। 
कुछ लोगों ने कॉमेंट करते हुए बताया कि यह कोट असल में रवींद्रनाथ टैगोर का है। यूजर्स ने पाकिस्तानी पीएम को सलाह दी कि वह कुछ फॉरवर्ड करने से पहले चेक कर लिया करें। एक शख्स ने मीम बनाया जिसमें मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर थी जिसके साथ लिखा गया था मैं रवींद्रनाथ टैगोर से इमरान खान की ओर से माफी मांगता हूं। (भाषा)
 


Previous12Next