छत्तीसगढ़ » धमतरी

Previous123Next
Posted Date : 19-Jan-2019
  • कुरूद, 19 जनवरी। शासकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था कुरूद में प्रथम दीक्षांत समारोह का आयोजन किया गया। जिसमें भूतपूर्व उत्तीर्ण प्रशिक्षणार्थियों को राष्ट्रीय व्यावसायिक प्रमाण पत्र का वितरण किया गया। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि पूर्व नगर पंचायत  अध्यक्ष ज्योति भानु चन्द्राकर थीं। अध्यक्षता प्राचार्य योगेश देवांगन ने की। विशिष्ट अतिथि के रूप में उर्वशी बांधेकर सरपंच चरमुडिय़ा, आरके.बसाक प्रशिक्षण अधीक्षक थे। 

    कार्यक्रम में श्रीमती चन्द्राकर ने कहा कि निरंतर प्रयास से ही सफलता मिलती है। जीवन में सफलता के सूत्र प्रदान करते हुए स्वरोजगार में अपना भविष्य तलाशने चाहिए। प्राचार्य श्री देवांगन ने भूतपूर्व उत्तीर्ण प्रशिक्षणार्थियों को बधाई एवं शुभकामनाएं प्रेषित करते कहा कि प्रशिक्षण का अपने जीवन में उपयोग करते हुए अपने हुनर का उपयोग समाज की उन्नति में करेे। इलेक्ट्रीशियन के भूतपूर्व उत्तीर्ण प्रशिक्षणार्थी सुरेन्द्र चन्द्राकर ने अपने प्रशिक्षण के दिनों को याद करते हुए अपनी सफलता का श्रेय संस्था के उच्च कोटि प्रशिक्षण को दिया। दीपक सिन्हा, गजेन्द्र साहू, प्रफुल्ल शाह, जयमल साहू, इन्द्रजीत साहू, पी.एल. साहू, हरेन्द्र कुमार मगेन्द्र, राघवेन्द्र सिन्हा, मोहित साहू ,धनेन्द्र साहू ,डाकेश सिन्हा आदि उपस्थित थे। 

     

     

  •  

Posted Date : 19-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    कुरुद, 19 जनवरी। संत गुरू घासीदास महाविद्यालय में 18 जनवरी  को सेना के छोटे हथियारों एवं मानचित्र अध्ययन की विशेष परेड कराई गई। परेड में महाविद्यालय के एन.सी.सी. अधिकारी कैप्टन डॉ. ओमजी गुप्ता, बटालियन से  सूबेदार मेजर राजपाल सिंह, सूबेदार संदू राज, सी.एच.एम. जसवंत सिंह एवं हवलदार अमर थापा ने बच्चों को प्रशिक्षणदिया। 
     सूबेदार श्री सिंह ने छात्रों को सेना के बारे में एवं इसमें वर्तमान में प्रचलित हथियारों के बारे में रोचक जानकारी देते हुए छात्र सैनिकों की रूचि बढ़ाकर उनमें हथियारों के प्रति उत्सुक्ता को बढ़ाया एवं उनकी जिज्ञासाओं को शांत किया। सूबेदार संदू ने एस.एल.आर. से कैडेटों को रूबरू कराया और उसे खोलने जोडऩे एवं उसके मुख्य कलपुर्जो की जानकारी दी। जसवंत सिंह ने छात्रों को नक्शे को समझने एवं उसका रणक्षेत्र में उपयोग कैसे किया जाता हैं इसके बारें में विस्तार से समझाया। छात्रों को प्रोटेक्टर और कम्पास की मदद से जमीन से मानचित्र एवं मानचित्र से ज़मीन में अपनी स्थिति का पता लगानें की बारीकी से जानकारी दी। 
    हवलदार अमर थापा ने 22 रायफल की बनावट, बारीकि एवं उसे खोलनें जोङने के तरीके से कैडेटों को अवगत कराकर उसका अभ्यास कराया। इस प्रशिक्षण में प्राचार्य ओपी चन्द्राकर, उ.मा.वि. चर्रा कें एएनओ. खुमन साहू, केयर टेकर कुण्डेल राहुल नेताम, जवाहर नवोदय विद्यालय विवेक खोखर उपस्थित थे। इस प्रशिक्षण में कुरूद ब्लॉक के महाविद्यालय से 50 एवं विद्यालयों से 120 कैडेटों ने भाग लिया।

     

     

  •  

Posted Date : 19-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता 

    धमतरी, 19 जनवरी। नए एसपी बालाजी राव ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय में पहली क्राइम बैठक ली। उन्होंने जिले के 13 थानों और 2 चौकी प्रभारियों समेत अन्य पुलिस अफसरों को लोकसभा चुनाव की तैयारी में जुटने और हर हाल में अपराधों पर लगाम लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने दो टूक कहा कि अपराधों पर अंकुश नहीं लगा, तो थानेदारों की छुट्टी कर दी जाएगी। 
    एसपी ने सभी थानेदारों को अवैध शराब, सट्टे के कारोबार में लिप्त लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने कहा। पुलिस और पब्लिक के बीच समन्वय बनाने पर भी जोर दिया। जिलेभर के थानेदारों के साथ एसपी की पहली बैठक थी, इसलिए उन्होंने अधिकारियों से उनके क्षेत्र और अपराध की संक्षिप्त जानकारी ली। इसके बाद गुम इंसान, मर्ग, लोगों की ओर से की गई शिकायतों के निराकरण के बारे में पूछताछ की। कुछ थानों में शिकायत पेंडिंग रहने पर नाराजगी जताते हुए समय में निराकरण करने के लिए कहा। 
    ट्रैफिक व्यवस्था हर हाल में सुधारे 
    एसपी बालाजी राव ने एएसपी केपी चंदेल और डीएसपी पंकज पटेल को कानून व्यवस्था के साथ-साथ शहर की ट्रैफिक व्यवस्था हर हाल में सुधारने निर्देश दिए। थाने में शिकायत लेकर पहुंचने वाले फरियादियों से अच्छा व्यवहार करने और उनकी समस्याओं का निराकरण करने कहा। कानून को हाथ में लेने वालों पर भी कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए। काम में कोताही बरतने वालों पर सीधे कार्रवाई की चेतावनी दी। 

  •  

Posted Date : 19-Jan-2019
  • रिपोर्ट मिलने के बाद सरकार लेगी फैसला- लखमा

    छत्तीसगढ़ संवाददाता 
    धमतरी, 19 जनवरी। आबकारी मंत्री कवासी लखमा परिवार के साथ गंगरेल पहुंचे। उन्होंने मां अंगार मोती का दर्शन कर राज्य की खुशहाली की कामना की। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने सत्ता में आने के बाद प्रदेश में शराबबंदी का ऐलान जरुर किया है, इसके लिए हाई पावर कमेटी बनाई गई है, जो देश के उन राज्यों का अध्ययन करेगी, जहां पहले से शराबबंदी हो चुकी है। यह कमेटी अपनी रिपोर्ट जल्द ही सरकार को सौंपेगा, फिर शराबबंदी पर फैसला लिया जाएगा। हमारी सरकार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जैसे नहीं, जो बिना सोचे-समझे रातों-रात नोटबंदी जैसे शराबबंदी का फैसला ले। कांग्रेस की सरकार सभी वर्गों के बारे में सोचती है। इसलिए राज्य से भाजपा का सफाया कर हमारी सरकार बैठी है। 
    भाजपा में विवाद रुकने वाला नहीं
    मंत्री ने भाजपा पर भी निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि भाजपा में विवाद रुकने वाला नहीं है और उनके ही नेता पार्टी को डूबा डाले। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा था कि कांग्रेस मुक्त भारत होगा, पर हम ये कहते है कि यदि भाजपा मुक्त होता है, तो वह पहला राज्य छत्तीसगढ़ होगा। मंत्री लखमा ने लोकसभा चुनाव में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में राज्य में लोकसभा चुनाव लड़कर पूरे 11 सीट पर जीत दर्ज करेंगे। 
    स्थानीय लोगों को मिलेगा रोजगार 
    गंगरेल पहुंचने और माता अंगार मोती का आशीर्वाद लेने के बाद मंत्री लखमा ने कहा कि गंगरेल को सबसे बेहतर पर्यटन क्षेत्र के रूप में विकसित करना तो उनकी सरकार की प्राथमिकता तो है ही, यहां स्थानीय लोगों को प्राथमिकता के आधार रोजगार भी दिया जाएगा। मंदिर ट्रस्टी ने उनका सम्मान किया। इसके बाद मंत्री ने वाटर स्पोटर्स का लुत्फ उठाया। साथ ही गंगरेल बांध में होने वाली समस्याओं को जल्द दूर करने का आश्वासन भी दिया। 

     

     

  •  

Posted Date : 19-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता 

    धमतरी, 19 जनवरी। तहसील साहू समाज शहर अध्यक्ष का चुनाव शुक्रवार को बांसपारा स्थित सामाजिक भवन में हुआ। समाज ने दोबारा यशवंत साहू को शहर अध्यक्ष बनाकर समाजसेवा करने का मौका दिया। उन्होंने कहा कि पहली प्राथमिकता समाज के पिछड़े लोगों को मदद करने का होगा। इसके अलावा उपाध्यक्ष निर्विरोध चुने गए। 
    शहर अध्यक्ष का कार्यकाल खत्म होने के बाद तहसील साहू समाज शहर का चुनाव हुआ, जिसमें शुक्रवार को नामांकन की प्रक्रिया में अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं महिला उपाध्यक्ष के लिए निर्धारित समयावधि में एकल नामांकन हुआ। एकल नामांकन होने के कारण अध्यक्ष, पुरुष उपाध्यक्ष एवं महिला उपाध्यक्ष का निर्विरोध निर्वाचन हुआ, जिसकी घोषणा जिला साहू समाज के अध्यक्ष दयाराम साहू ने की। यशवंत साहू अध्यक्ष, गोपीकिशन साहू उपाध्यक्ष और महिला उपाध्यक्ष चंद्रभागा साहू निर्विरोध निर्वाचित हुई। इसके पूर्व में भी लगातार 2 कार्यकाल से यशवंत साहू अध्यक्ष हैं। तहसील का दर्जा प्राप्त होने के बाद यह उनका पहला कार्यकाल होगा। इस मौके पर प्रदेशाध्यक्ष विपिन साहू, चितरंजन साहू, केजुराम साहू, संतराम साहू, लक्ष्मीनारायण साहू, मनीष साहू, विजय साहू, केशव साहू, कोमल साहू आदि उपस्थित थे। 
    नए कार्यकाल में होगी नई रुपरेखा
    नवनिर्वाचित अध्यक्ष यशवंत साहू ने कहा कि नए कार्यकाल में समाज के उत्थान के लिए नई योजनाएं लाई जाएंगी। पहले एक सप्ताह में नई कार्यकारिणी की घोषणा होगी। आर्थिक रुप से पिछले लोगों के लिए काम करेंगे। इसके अलावा शिक्षा के क्षेत्र में प्रतिभावान छात्रों के लिए नए कार्यक्रम लाएंगे। आईपीएस, आईएएस बनने के लिए मोटिवेशनल कार्यक्रम होगा। सामाजिक कार्यशाला आयोजित कर रुढ़ी वादिता को दूर करने का प्रयास किया जाएगा। 

     

     

  •  

Posted Date : 18-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    धमतरी, 18 जनवरी। टाइगर रिजर्व सीतानदी अभयारण्य में तीन ग्रामीणों ने बिजली के करंट से लकड़बग्घे का शिकार कर लिया। वन विभाग ने तीनों आरोपितों को गिरफ्तार कर वन्यप्राणी संरक्षण के तहत मामला दर्ज किया है। 
    जिले के वनांचल ब्लाक नगरी के कट्टीगांव निवासी रामप्रसाद, श्यामाचरण और हीरालाल ने आठ जनवरी को जंगली जानवरों का शिकार करने की नीयत से जंगल के कक्ष क्रमांक 334 में विद्युत ट्रांसफार्मर से कनेक्शन खींचकर 100 मीटर के दायरे में करंट लगा दिया था। रात में लकड़बग्घा उस क्षेत्र में आया और करंट की चपेट में आ गया, जिससे उसकी मौत हो गई। ग्रामीणों की सूचना पर वन विभाग हरकत में आया। लकड़बग्घे की लाश को बरामद कर पंचनामा के बाद पीएम कराया गया। लकड़बग्घे की उम्र 7 वर्ष आंकी गई है। 
    रिमांड पर भेजे गए जेल 
    इस मामले में सीतानदी अभयारण्य के सहायक संचालक आरके रायस्त ने बताया कि ग्रामीण तीनों आरोपितों के खिलाफ वन्यप्राणी संरक्षण अधिनियम 1972 की धारा विभिन्न् धाराओं के तहत गिरफ्तार मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर नगरी के न्यायालय में पेश किया गया। न्यायालय के रिमांड पर उन्हें जेल भेज दिया गया है।

     

     

  •  

Posted Date : 17-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता 

    खरोरा, 17 जनवरी। धरसींवा विधायक बनने के बाद अनिता शर्मा का मंगलवार को प्रथम बार खरोरा नगर आगमन हुआ। विधायक अनिता शर्मा शाम करीब साढ़े चार बजे नगर पहुंची। 
    कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने विधायक का भव्य स्वागत किया। नगर में जगह-जगह स्वागत वाले बैनर पोस्टर लगाए गए थे। नगर के मुख्य मार्ग पर आभार रैली निकाली गई। बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं के साथ विधायक ने रैली में जीप पर सवार होकर नगर भ्रमण किया। 
    इस दौरान विधायक अनिता शर्मा ने जनता का अभिवादन किया। नगर में मुख्य रूप से तिगड्डा चौक में आभार सभा का आयोजन किया गया। तिगड्डा चौक के पास आयोजित आभार सभा में वरिष्ठ कांग्रेस नेता के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने विधायक को फूलों से स्वागत किया। इस दौरान देवव्रत नायक, मंडल दास गिलहरे, बबलू भाटिया सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे। 
     आभार सभा में विधायक अनिता शर्मा ने चुनाव में ऐतिहासिक जीत के लिए सभी जनता का आभार जताया। उन्होंने कहा कि क्षेत्र का सर्वांगीण विकास करना और आम जनता की समस्याएं दूर करना मेरी पहली प्राथमिकता है। उन्होंने विधानसभा चुनाव की तरह आगामी लोकसभा चुनाव में भी कांग्रेस को ऐतिहासिक जीत दिलाने जनता से अपील की।  इस अवसर पर ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष देवव्रत नायक, बबलू भाटिया प्रदेश युवा कांग्रेस महामंत्री, अश्वनी वर्मा जनपद सदस्य उपाध्यक्ष, तिल्दा, मुकेश भारद्वाज, जनपद सदस्य केसला, खुबी डहरिया, मंडल दास गिलहरे, सुरेंद्र गिलहरे  सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता एवं नगरवासी उपस्थित थे।

  •  

Posted Date : 17-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    धमतरी, 17 जनवरी। धमतरी-रायपुर फोरलेन और सांकरा से श्यामतराई बाईपास रोड निर्माण का काम सुस्त गति से चल रहा है। दो साल में धमतरी-रायपुर फोरलेन निर्माण का काम केवल 40 प्रतिशत और सांकरा से श्यामतराई बाईपास रोड काम केवल 20 प्रतिशत हो पाया है। बायपास पर 7 पुल-पुलिया बननी है, लेकिन अभी तक केवल अर्थवर्क ही चल रहा है। यदि निर्माण कार्य की यही गति रही तो ये समय पर पूरे नहीं हो पाएंगे। निर्माण कार्य के कारण दोनों रोड संकरी हो गई हैं। यदि ऐसा ही हाल रहा, तो 2020 तक भी यह पूरा नहीं हो पाएगा। जबकि निर्माण कार्य पूरा करने की समय अवधि 2019 है। 
    इसका निर्माण 16 नवंबर 2016 में शुरू हुआ था। दो साल में 35 प्रतिशत भी काम नहीं हो पाया है। रोड के एक तरफ खुदाई के कारण रोड संकरी हो गई है, इससे आए दिन दुर्घटनाएं हो रही हैं। रोड भी खराब हो चुकी है, जगह-जगह से रोड उखड़ चुकी है। पिछले एक साल में कुरुद से अर्जुनी के बीच 23 किमी नेशनल हाइवे पर 70 से अधिक दुर्घटनाएं हुईं। बड़ी दुर्घटनाओं में 10 लोगों की जान जा चुकी है। इधर बाइपास निर्माण भी 40 प्रतिशत ही हो पाया है। बायपास के अभाव में बीच शहर से भारी वाहन गुजर रहे हैं। इसके कारण भी आए दिन दुर्घटनाएं हो रही हैं। दोनों निर्माण कार्यों की लागत 304 करोड़ है। कलेक्टर की मानें, तो मामला शासन स्तर का है। उन्होंने बताया कि पिछली बार बैठक में जाने पर पता चला था कि दूसरे ठेकेदार को टेंडर देने की प्रक्रिया चल रही है। 
    बढ़ सकती है लागत 
    राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 30 में फोरलेन का काम पहले चरण में रायपुर से कोड़ेबोड़ सेक्शन तक 10.200 किमी, दूसरे चरण में कोड़ेबोड़ से धमतरी सेक्शन तक 44.400 किमी सड़क बननी है। 2019 तक निर्माण कार्य पूरा करना है। दोनों कार्यों की लागत 304 करोड़ 4 लाख 66 हजार रुपए है। यदि काम में तेजी नहीं लाई गई, तो 2019 तक भी निर्माण कार्य पूरा होना मुश्किल है। इधर 5 महीने से काम बंद है, ऐसे में निर्माण की लागत और ज्यादा बढ़ सकती है। 
    77 किमी पार करने लग रहे ढाई घंटे  
    पहले धमतरी से रायपुर तक 77 किमी का सफर डेढ़ घंटे का था। रोड संकरी होने के कारण अब ढाई घंटे लग रहे हैं। इधर सबसे ज्यादा दुर्घटनाएं डांडेसरा से छाती के बीच हो रही है। जगह-जगह बड़े-बड़े गड्ढे हो गए हैं। ट्रैफिक दबाव के कारण डांडेसरा से छाती रोड डेंजर जोन बन गया है। 9 सितंबर को ग्राम छाती के पास बेकाबू ट्रक की चपेट में आने से बाइक सवार 3 की मौत हो गई थी।
    बाईपास रोड में देरी से बढ़ रहा आक्रोश 
    सांकरा से श्यामतराई तक बाइपास रोड बनना है। फोरलेन और बाइपास दोनों काम साथ-साथ शुरू हुआ और 2019 तक दोनों काम को पूरा करना है। बाइपास रोड निर्माण कार्य भी 40 प्रतिशत ही हो पाया है। बाइपास रोड बनने के बाद सांकरा से शहर के सोरिद पुल तक ट्रैफिक दबाव 50 प्रतिशत कम हो जाएगा। काम में लेटलतीफी से लोगों में भी आक्रोश है। शहरवासी रौनक अग्रवाल, सुशील पांडेय, पीजी कालेज की छात्रा प्रियंका, अनामिका ध्रुव ने कहा कि बाइपास रोड निर्माण में देरी से नुकसान रोड पर चलने वाले लोगों को ही है, जितना जल्दी काम पूरा होगा, लोगों की समस्याएं भी उतनी जल्दी दूर होगी। 

     

     

     

     

  •  

Posted Date : 17-Jan-2019
  • ड्राइवर की पिटाई कर आरंग में छोड़ा

    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    धमतरी, 17 जनवरी। रायपुर से 21 टन सरिया (छड़) लेकर मलकानगिरी ओडि़शा जा रहे ट्रक को 5 अज्ञात नकाबपोश युवकों ने एनएच-30 पर ग्राम मरौद के पास रोक लिया। ट्रक ड्रायवर के हाथ-पैर बांधकर उसकी गाड़ी में ही पिटाई की। नकाबपोशों ने ड्राइवर को आरंग के पास उतार दिया। ट्रक लेकर भाग गए। ड्रायवर की रिपोर्ट पर पुलिस ने छानबीन शुरू की तो ट्रक रायपुर के पचपेड़ी नाके के पास मिला है। 
    कुरुद पुलिस के अनुसार ट्रक क्र. सीजी 18 एच 1494 का चालक पप्पू यादव (25) रायपुर से 21 टन सरिया (छड़) लेकर मलकानगिरी ओडिशा जाने के लिए निकला था। एनएच-30 पर ग्राम मरौद स्थित तालाब के पास रात करीब 9.30 बजे स्कार्पियो ने ओवरटेक कर ट्रक को रोका और 5 नकाबपोश युवक उतरकर ट्रक में चढ़ गए। आरोपियों ने चालक पप्पू को कट्टा दिखाकर पहले ट्रक से नीचे उतारकर पिटाई की। फिर गाड़ी में बिठाकर उसके हाथ-पैर बांध दिए। आरोपी ट्रक सहित ड्रायवर को साथ ले गए और आरंग के पास सुनसान जगह पर उसे उतार दिया। किसी तरह चालक जान बचाकर मंदिर हसौद थाने गया। घटना की जानकारी दी। यहां के टीआई ने कुरुद टीआई को इस घटना की जानकारी दी। इसके बाद ड्रायवर बुधवार को कुरुद थाने गया। रिपोर्ट कराई। 
    सीसी कैमरे से आरोपियों की तलाश  
    कुरुद टीआई प्रणाली बैद्य ने बताया कि घटना की जानकारी मंदिर हसौद थाने से मिली। ट्रक ड्रायवर बुधवार देर-शाम को थाने आया। पूरी घटना की जानकारी मिलने के बाद अज्ञात 5 नकाबपोश युवकों के खिलाफ धारा 395 के तहत अपराध दर्ज किया गया है। उनकी तलाश सीसी कैमरों की मदद से की जा रही है। जांच-पड़ताल करने पर ट्रक रायपुर के पचपेड़ी नाका से बरामद हुआ है। ट्रक में 10 लाख का 21 टन सरिया था। 

     

     

  •  

Posted Date : 17-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    धमतरी, 17 जनवरी। एक कॉलेज छात्रा का अपहरण कर उसके साथ अश्लील हरकत करने और मारपीट व गाली-गलौच करने का मामला सामने आया है। छात्रा ने परिजनों के साथ थाने पहुंचकर 4 युवकों के खिलाफ अपहरण, छेड़छाड़, मारपीट का मामला दर्ज कराया है। पुलिस ने आरोपियों को हिरासत में ले लिया और उनसे पूछताछ कर रही है। 
    अर्जुनी थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली छात्रा परीक्षा देने कोतवाली थाना इलाके में स्थित पीजी कॉलेज में गई थी। वहां वैन लेकर पहले से खड़े आरोपी मोहित (21), दिनेश (26), अमर कुर्रे (19) और राहुल (21) ने उसे वैन से घर छोड़ देने की बात की। आरोपी युवती के गांव के ही हैं। परिचित होने के चलते उसने विश्वास किया और वैन में बैठ गई। बैठने के बाद आरोपी छात्रा के साथ अश्लील हरकत करने लगे। उसके विरोध करने पर गाली-गलौच करने लगे।
    आरोपी ने छात्रा के पिता को फोन कर किडनैप की बात कही
    पीडि़ता के पिता को फोन कर मोहित ने कहा कि उसने उसकी लड़की का किडनैप कर लिया है और वे शादी करने जा रहा है। इधर परिजन काफी परेशान हो गए। आरोपियों ने करीब दो घंटे तक उसे वैन में शहर के कई हिस्सों में घुमाया फिर शाम करीब 6 बजे कॉलेज के गेट पर छोड़कर चले गए।
    पीडि़ता ने परिजनों को बताई आपबीती
    पीडि़त छात्रा ने घर जाकर परिजनों से पूरी बात बताई। परिजन उसे लेकर रात करीब 10 बजे कोतवाली थाने पहुंचे और आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कराया। पुलिस ने बुधवार को आरोपियों को हिरासत में ले लिया। उनसे पूछताछ चल रही है। 
    बताया गया कि पीडि़ता की हाल में सगाई हुई है। उसका रिश्ता एक परिवार में तय हो चुका है। परिजन शादी की तैयारियों में लगे थे। इसी बीच किडनैप कर जबरदस्त शादी की बात सुन उनके होश उड़ गए। 

     

     

     

  •  

Posted Date : 16-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    धमतरी, 16 जनवरी। नगरी ब्लाक के ग्राम भुरसीडोंगरी निवासी श्रीकांत गंजीर को 26 जनवरी को राष्ट्रीय बाल वीरता पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। उन्होंने अपने सहपाठी आशीष नेताम (9) की जान बचाई थी। आशीष तालाब में डूब रहा था। श्रीकांत को तैरना नहीं आता फिर भी उसने सहपाठी को डूबते देख तालाब में छलांग लगाई और अपनी सूझ बूझ से उसे बचा लिया। घटना 23 दिसंबर 2017 की है। श्रीकांत की बहादुरी देख गांव के सरपंच सुखचंद मरकाम सहित नगरी क्षेत्रवासियों ने श्रीकांत को वीरता पुरस्कार देने की मांग की थी। महिला बाल विकास विभाग ने प्रकरण बनाकर पुरस्कार के लिए शासन को भेजा था, जिसे स्वीकार कर लिया गया। अब 26 जनवरी को दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी इन्हें सम्मानित करेंगे। वीरता पुरस्कार के लिए श्रीकांत के चयन पर सिहावा विधायक डॉ. लक्ष्मी ध्रुव ने शुभकामनाएं दी है। पुरस्कार लेने के लिए मंगलवार को श्रीकांत अपने परिवार और महिला बाल विकास विभाग की टीम के साथ दिल्ली रवाना हुआ। 
    ऐसे बचाई थी जान 
    23 दिसंबर 2017 को भुरसीडोंगरी निवासी आशीष नेताम मूर्ति विसर्जित करने गांव के तालाब में गया था। विसर्जन के दौरान वह गहरे पानी में चले गया और डूबने लगा। इसी समय सहपाठी श्रीकांत गंजीर साइकिल से घर जा रहा था। आशीष को डूबते देख श्रीकांत ने साइकिल पटककर तत्काल तालाब में छलांग लगा दिया और सूझबूझ से आशीष की जान बचाई थी। उसे तैरना नहीं आता फिर भी उसने अपनी जान का परवाह नहीं की। 
    छत्तीसगढ़ से 3 बच्चों को मिलेगा वीरता पुरस्कार 
    राष्ट्रीय बाल वीरता पुरस्कार के लिए 3 बच्चों का चयन हुआ है। 26 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा इन्हें सम्मानित किया जाएगा। धमतरी जिले के ग्राम भुरसीडोंगरी निवासी श्रीकांत (11) पिता बिटेश्वर गंजीर के अलावा आवासीय परिसर पेंशनबाड़ा रायपुर निवासी झगेन्द्र साहू (11) पिता स्व. सम्मनलाल साहू और आदर्श नगर रायपुर निवासी रितिक साहू (13) पिता जनक साहू को वीरता पुरस्कार मिलेगा। 

     

  •  

Posted Date : 15-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    धमतरी, 15 जनवरी। सोमवार सड़क किनारे खड़े एक ट्रक को चालक ने ट्रक रिवर्स किया तो चक्के के नीचे एक फेरीवाला आ गया। कुचल गया। घटना स्थल पर ही उनकी मौत हो गई। पुलिस मृतक की शिनाख्त नहीं कर पाई है।  यह हादसा दोपहर 2 बजे का है। पुलिस के अनुसार बस स्टैंड के पीछे नर्सिंग होम-धर्म कांटा वाले मार्ग पर एक फेरीवाला सड़क से मोपेड के साथ गुजर रहे थे। तभी सामने से एक ट्रक आया, तो वे सड़क किनारे खड़े एक अन्य ट्रक पीछे खड़े हो गए। चालक ने जैसे ही ट्रक को रिवर्स किया तो फेरीवाला मोपेड के साथ ट्रक की चपेट में आ गया। उनकी घटना स्थल पर ही मौत हो गई। घटना की सूचना कोतवाली पुलिस को मिली। टीम ने घटना स्थल पर जाकर शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भिजवाया। टीआई राकेश मिश्रा ने बताया कि मृतक की शिनाख्त नहीं हो पाई है। चालक को हिरासत में लेकर ट्रक जब्त कर लिया है। 
    1 से 14 जनवरी तक 
    छह सड़क हादसे हो चुके हैं 
    इस साल 1 से 14 जनवरी तक 6 सड़क हादसे शहर और आसपास इलाके में हो चुकी है, जिसमें 4 लोगों की मौत हुई है। 1 जनवरी को स्टेशन पारा निवासी जगदीश को रात 9 बजे प्रशांत टॉकीज के पास अज्ञात बाइक ने टक्कर मारी थी। उनकी मौके पर मौत हो गई। सिहावा अंतर्गत ग्राम बोध सेमरा निवासी हेमंत को बिरनपुर चौक में अज्ञात बाइक ने टक्कर मारी। जिला अस्पताल में उनकी मौत हो गई। नेशनल हाईवे में वेयर हाउस के पास अर्जुनी निवासी रवि उर्फ रविंद्र को एक ट्रक ने चपेट में ले लिया। उनकी भी मौत अस्पताल में हो गई। भोयना के पास गाय से टकराने से बाइक चालक लितेश्वर के सिर में गंभीर चोट आने से घटना स्थल पर मौत हो गई। 
    सालभर में 133 की गई 
    सड़क हादसे में जान 
    जिले में आए दिन सड़क हादसे हो रहे हैं, लेकिन व्यवस्था दुरूस्त करने में पुलिस नाकाम ही साबित हो रही है। बीते साल 2018 में 347 सड़क हादसे हुए हैं, जिसमें 133 की मौत और 314 घायल हुए हैं, जबकि शहर में 35 लोगों की हादसे में मौत हो चुकी है शक्वहरवासी हादसे की वजह ट्रैफिक दबाव और पुलिस की लचर व्यवस्था मान रहे हैं। 

  •  

Posted Date : 15-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    धमतरी, 15 जनवरी। उत्तरी कर्नाटक से मध्य महाराष्ट्र तक बनी द्रोणिका का असर जिले में भी देखने को मिल रहा है। यही वजह है कि अंचल से ठंड अचानक जैसे गायब हो गई। तापमान थोड़ा बढ़ा और सोमवार को ठंड से अच्छी राहत मिल गई। रात का तापमान करीब 15 डिग्री पहुंच गया है। बीते माहभर में पहली बार रात का तापमान इतना ज्यादा पहुंचा है।
     मौसम विज्ञानियों की मानें, तो अगले 48 घंटे मौसम ऐसे ही रहेगा। फिर न्यूनतम तापमान में हल्की गिरावट आएगी। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि मध्य और दक्षिण भारत में ठंड का सीधा असर उत्तरी छत्तीसगढ़ से आने वाली हवा पर निर्भर करता है। 
    संक्रांति के पहले हर साल रहती है ठंड ज्यादा 
    दिसंबर से लेकर जनवरी में मकर संक्रांति से पहले तक ठंड ज्यादा रहती है। पिछले 1 दशक में 2011 और 1-2 और साल ही ऐसे रहेे हैं, जिनमें संक्रांति से पहले राजधानी में रात का तापमान 14 डिग्री के करीब पहुंचा है। हालांकि जनवरी के पूरे महीने में रात का तापमान 15-16 डिग्री तक भी पहुंचा है, लेकिन दूसरे हफ्ते में ऐसी स्थिति कम ही रही है। छत्तीसगढ़ में मकर संक्रांति से ठंड कम होने लगती है, लेकिन पहाड़ और घने जंगल वाले उत्तर और दक्षिणी छत्तीसगढ़ में जनवरी और फरवरी तक ठंड रहती है। खासतौर पर सुबह-सुबह और रात के समय में ठंड ज्यादा महसूस होती है। 
    14-15 डिग्री के आसपास रहने की संभावना  
    जनवरी का पहला पखवाड़ा सामान्य ठंड में बीत रहा है। सोमवार को मकर संक्रांति की वजह से ठंड कम होने लगी। इससे संभावना जताई जा रही है कि ठंड की विदाई का समय नजदीक है। 
    रायपुर लालपुर मौसम वैज्ञानिक पीएल देवांगन ने बताया कि उत्तर से ठंडी हवा का एक-दो स्पैल आने के बाद मौसम में बदलाव होगा। उसके बाद ठंड फिर बढ़ सकती है, लेकिन इसकी संभावना अगले 2-3 दिनों ही है। रविवार को धमतरी में रात का तापमान 14 डिग्री दर्ज किया गया। यह सामान्य के बराबर है। दिन में भी पारा 28 डिग्री दर्ज किया गया। उन्होंने बताया कि प्रदेश में मौसम शुष्क रहेगा। अगले 48 घंटे स्थिति ऐसी रहेगी। 

     

  •  

Posted Date : 14-Jan-2019
  • लागत 543.94 करोड़,  बनेंगे 10 स्टेशन, लंबाई 67.20 किमी

    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    धमतरी, 14 जनवरी। केन्द्र सरकार ने रायपुर-धमतरी बड़ी रेल लाइन बनाने के लिए भूमि अधिग्रहण की तैयारी प्रारंभ कर दी है। धमतरी, बठेना, अर्जुनी, सेहराडबरी, संबलपुर, सांकरा, लिमतरा, सरसोंपुरी, सेनचुवा, डांडेसरा, अटंग, कन्हारपुरी, कुरूद, चरमुडिय़ा, भालूकोन्हा, भाठागांव, आलेखुंटा, सिर्री, कुल्हाड़ी, कोटगांव, चटौद, कोड़ापार, भरदा की जमीन बड़ी रेललाइन के अधिग्रहित की जाएगी। जानकारी के मुताबिक दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे द्वारा धमतरी, अभनपुर, राजिम शाखा के अंतर्गत रास्ते में पडऩे वाले गांवों के जमीन अधिग्रहण किया जाएगा। बड़ी रेल लाइन धमतरी जिले की सालों पुरानी बहुप्रतिक्षित मांग है। ब्राडगेज बनने से जिले का तेजी से विकास होगा। धमतरी जिला नया रायपुर और राजधानी से सीधे जुड़ जाएगा। रेलवे विभाग के पीआरओ तन्मय मुखोपाध्याय ने बताया कि धमतरी-केंद्री बड़ी रेल लाइन प्रोजेक्ट के लिए टेंडर प्रक्रिया में है। भूमि अधिग्रहण की कार्रवाई के तहत डिप्टी कलेक्टरों को प्रक्रिया के तहत कार्ययोजना भेजी जा चुकी है। बड़ी रेललाइन पूरी होते ही बढ़ेंगे उद्योग-व्यापार
    धमतरी से केंद्री तक प्रस्तावित बड़ी रेल लाइन जिले के विकास में महत्वपूर्ण होगी। 6 अक्टूबर को केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल इसका शिलान्यास भी कर चुके है। इसका निर्माण पूरा करने का लक्ष्य साल 2022 तक है। नए साल में इस पर काम तेजी से होगा। इसके प्रथम चरण का काम तो 70 प्रतिशत हो चुका है। इसके तहत नया रायपुर से केंद्री तक बड़ी रेल लाइन बिछाई जा रही है। दूसरे चरण में केंद्री से धमतरी तक रेल लाइन बिछाई जानी है। इसके लिए 544 करोड़ रुपए पहले ही स्वीकृत हो चुके हैं। जैसे ही बड़ी रेल लाइन बिछेगी, जिले की अर्थ व्यवस्था के जानकार बताते हैं कि व्यापार, उद्योग, रोजगार सहित सभी क्षेत्रों में दोगुनी तिगुनी वृद्धि होगी। व्यापारी तो यहां तक कह रहे हैं कि वनोपज का निर्यात 20 करोड़ से बढ़कर 150 करोड़ के करीब तक पहुंच जाएगा। यात्री भी 80 रुपए के स्थान पर केवल 22 से 25 रुपए भाड़ा देकर रायपुर पहुंच सकेंगे। 
    ऐसे बढ़ेंगे रोजगार के अवसर, होटल व्यवसाय बढ़ेगा 5 गुना
    बता दें कि धमतरी कृषि प्रधान जिला है। यहां कृषि उत्पाद बढ़ेगा तो इस क्षेत्र में रोजगार भी बढ़ेगा। व्यापार और उद्योग बढ़ेंगे तो भी रोजगार बढ़ेंगे। राइस मिलों और भारतीय खाद्य गोदाम का काम बढ़ेगा। होटल व्यवसाय तो 5 गुना बढ़ जाएंगे। इन होटलों में बस्तर, कांकेर, जगदलपुर, नारायणपुर से आने वाले व्यापारी रुकेंगे। नए उद्योग खुलेंगे। इस सब से पूरे जिले की अर्थ व्यवस्था मजबूत हो जाएगी। 
    यहां बनेंगे स्टेशन और 2 टर्मिनल स्टेशन
    गेज परिवर्तन के तहत केंद्री -धमतरी और अभनपुर-राजिम के बीच कुल 10 स्टेशन होंगे। केंद्री, अभनपुर (जंक्शन स्टेशन), चटौद, सिर्री, कुरूद (क्रासिंग स्टेशन), सरसोंपुरी (पैसेंजर हाल्ट), सांकरा (पैसेंजर हाल्ट), धमतरी स्टेशन (टर्मिनल स्टेशन), मानिकचौरी, राजिम (टर्मिनल स्टेशन) में स्टेशन बनेंगे। 
    फैक्ट फाइल 
    543.94 करोड़ प्रोजेक्ट की लागत 
    67.20 किमी रेल लाइन की लंबाई 
    70 करोड़ माल गोदाम की लागत 
    बनेंगे 10 स्टेशन

     

  •  

Posted Date : 13-Jan-2019

  •  

    छत्तीसगढ़ संवाददाता 
    धमतरी, 13 जनवरी। धमतरी ब्लाक के ग्राम पंचायत सिवनीखुर्द में सीसी कैमरे क्या लगे, यहां की व्यवस्था ही बदल गई। अब यहां कोई खुले में शौच नहीं करता। शिक्षक समय पर स्कूल आते हैं और तो और जुआ, सट्टा, शराब पर भी लगाम लगा। साथ ही विकास के दूसरे काम भी होने लगे। गांव में सोलर सिस्टम लगाया गया है। पावर सप्लाई चालू रहे, न रहे, पर गांव में अंधेरा कभी नहीं रहता। गांव की हर गली सोलर बिजली से रोशन रहता है। खास बात यह कि इससे प्रेरित होकर दोनर और बारना में भी कैमरे लग गए। वहां भी जुआ, सट्टा और शराब पर लगाम लग गया है। 
    जो खुले में शौच जाते है, पकड़ जाते है 
    गांव में बदलाव की शुरुआत 2018 में 8 माह पहले हुई, जब घर-घर शौचालय बनने के बाद भी लोग खुले में शौच जाने लगे थे। सारे प्रयास विफल हुए, तो ग्राम पंचायत के प्रतिनिधियों ने निगरानी के लिए सीसी कैमरे लगा दिए। इससे गांव में शराब पीकर हुल्लड़ करने वालों पर लगाम लगा और लोग खुले आम जुआ सट्टा नहीं खेलते। गांव के हर चौक, कोने और आउटर में एक साथ 22 कैमरे लगा दिए गए। ग्राम पंचायत से इसकी निगरानी शुरु कर दी गई, जो भी खुले में शौच जाता, वह पकड़ में आ जाता। कोने में बैठकर शराब पीने और जुआ खेलने वाले भी पकड़ाने लगे। गांव में बैठक कर उन्हें खरी खोटी सुनाई जाने लगी। बदनामी के डर से शराबियों और जुआरियों ने गांव में जुआ खेलने और शराब पीना ही बंद कर दिया। 
    ये आया फर्क... जहां बैठकर खेलते थे जुआ, वहां अब विकास की बातें होती है
    पहले बाजार चौक, हनुमान मंदिर के पास और कुछ अन्य स्थानों में जुआ, शराबखोरी होती थी। शाम होते ही फड़ लग जाता था। रात को शराब के दौर चलते थे, लेकिन कैमरे लगने के बाद वे लोग ही गायब हो गए। अब उस जगह पर गांव के बुजुर्ग और युवा गांव के विकास के बारे में बातें करते हैं। 
    सरपंच बलराम पटेल बताते हैं कि कैमरे की निगरानी से गांव में शांति आई तो विकास के लिए अच्छा माहौल बनने लगा। पहले जो लोग शराब पीकर विकास की चर्चा के दौरान बेवजह की बहस किया करते थे, अब वे नजर नहीं आते। 
    ग्रामीणों के सहयोग से माता तालाब में स्टील का स्वागत गेट लगाया है। चारों ओर रेलिंग भी लगाई गई हैं। गांव में पानी की किल्लत न हो इसलिए 5 बोर भी करवा दिए हैं। 

  •  

Posted Date : 12-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता 

    धमतरी, 12 जनवरी। जिले के रेडक्रॉस वॉलिंटियर्स निस्संदेह विभिन्न सामाजिक गतिविधियों एवं त्वरित सेवा के क्षेत्र में बेहतर ढंग से अपने दायित्वों का निर्वहन कर रहे हैं। चाहे मतदाता जागरुकता कार्यक्रम हो या स्वच्छता का अथवा दिव्यांग मतदाताओं को मतदान से जोडऩे का कार्य हो, हर बार अपने सक्रिय भूमिका से सोसायटी के बच्चों ने बेहतर मिसाल कायम की है। यह बात कलेक्टर एवं जिला रेडक्रॉस सोसायटी के अध्यक्ष डॉ. सीआर प्रसन्ना ने जिला स्तरीय फर्स्ट एड ट्रेनिंग एण्ड वर्कशॉप के तहत आयोजित सम्मान समारोह में कही।  
    विंध्यवासिनीं वार्ड के सामुदायिक भवन में आयोजित समारोह में कलेक्टर ने आगे कहा कि शासन की अनेक नीतियों एवं योजनाओं के क्रियान्वयन में धमतरी जिला हमेशा अग्रणी रहा है। स्वच्छता अभियान और रक्तदान शिविर जैसे कार्यक्रमों में रेडक्रॉस वॉलिंटियर्स ने अपनी हर जिम्मेदारियों का निर्वहन बखूबी किया है। उन्होंने आगे कहा कि नेत्रदान और देहदान जैसे पुनीत कार्य में इतनी बड़ी संख्या जिले के नागरिकों की पहल करना अपने आप में सराहनीय है। इससे निश्चित ही और लोगों को प्रेरणा मिलेगी और वे प्रोत्साहित होकर आगे आएंगे। इसके पहले, एस.पी. श्री सिंह और सोसायटी के सचिव ने अपने संक्षिप्त उद्बोधन में मौजूद वॉलिंटियर्स को अपनी शुभकामनाएं देते हुए समाज औ प्रदेश के लिए प्रेरक बताया। 
    सम्मान समारोह में जिले भर के 168 स्कूल और 12 कॉलेजों के 1466 वॉलिंटियर्स, कैम्पस एंबेसेडर और ईएलसी मेंमर्स को कलेक्टर एवं मंचस्थ अतिथियों द्वारा प्रशस्ति-पत्र भेंट कर सम्मानित किया गया। जिलेभर से देहदान एवं नेत्रदान करने वाले लोगों को भी शॉल, श्रीफल एवं प्रतीक चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया। रेडक्रॉस सोसायटी के जिला संगठक प्रदीप साहू ने बताया कि उनके साथ-साथ उक्त समारोह में देहदान एवं नेत्रदान की घोषणा करने वालों में धमतरी के आकाशगिरी गोस्वामी एवं उनकी पत्नी वंदना गोस्वामी, निरुपा जयसिंधु, सुशीला गुप्ता, प्रीतम केसवानी, मूलसंजीवन ध्रुव, नगरी की रजनी देवी, गौतमचंद साहू, गोरेगांव नगरी के लेखराज साहू व ललिता देवी साहू, भोथीडीह मगरलोड के राधेलाल सिन्हा शामिल हैं। इस अवसर पर एसपी रजनेश सिंह, सीएमएचओ तथा रेडक्रॉस सोसायटी के सचिव डॉ. डीके तुर्रे मौजूद थे। 

     

     

     

  •  

Posted Date : 12-Jan-2019
  • बीते 2 साल से डकैती और डकैती के प्रयास जैसे एक भी अपराध दर्ज नहीं 

    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    धमतरी, 12 जनवरी। जिले में साल 2018 में सड़क दुर्घटना में 133 लोगों की मौत हुई है। हत्या के 25 मामले सामने आए थे, लेकिन इस साल 13 प्रकरण दर्ज हुआ, जबकि हत्या का प्रयास बीते साल के मुकाबले बढ़े है। 2017 में 8 और 2018 में 13 प्रकरण दर्ज हुए। अपहरण जैसे अपराध भी बढ़े है। 2017 में 18 प्रकरण दर्ज किया गया था, जो इस साल दोगुने होकर 38 हो गए है। जिले में धोखाधड़ी के मामले पर नजर डाले, तो बीते साल 32 थे, जो इस साल 38 हुए है। बीते 2 साल से जिले में डकैती और डकैती के प्रयास जैसे एक भी अपराध दर्ज नहीं हुए है। जाली नोट, लड़कियों की तस्करी के मामले एक भी सामने नहीं आए। 
    जिले के नक्सल प्रभावित नगरी ब्लॉक में कुछ साल पहले नक्सलियों का आतंक बढ़ गया था। क्षेत्र के लोग काफी दहशत में थे। वर्ष 2009 में रिसगांव विस्फोट जैसी बड़ी वारदात को अंजाम देकर 12 पुलिस जवानों और एक ड्राइवर की जान ले ली थी। जब धमतरी में नक्सली मूवमेंट चरम पर था, तब कुछ परिवार तो अपना मकान व जमीन छोड़कर मैदानी क्षेत्र में बस गए। इसके बाद क्षेत्र में फैले नक्सली दहशत को दूर करने जिला पुलिस ने सालों मेहनत की, तब जाकर लोगों के मन से नक्सली खौफ खत्म हो पाया था, लेकिन वर्ष 2018 में हुई नक्सली घटना ने एक बार फिर से नगरी के जंगल में नक्सली खौफ को जिंदा कर दिया है। पुन: इससे घने जंगल के बीच रहने वाले ग्रामीणों में नक्सलियों को लेकर भयभीत है। 
    एसपी रजनेश सिंह ने बताया कि साल 2018 में कुल 2807 अपराध घटित हुए, जिनमें से 2698 अपराधों का निराकरण किया गया। निराकरण का प्रतिशत 96 रहा। आईपीसी के कुल 1366 प्रकरण घटित हुए, जिनमें से 1265 अपराधों का निराकरण किया गया है। निराकरण का प्रतिशत 93 है। जबकि वर्ष 2017 में आइपीसी के 1390 प्रकरण की तुलना में 1366 प्रकरण घटित होकर प्रकरण में पांच प्रतिशत की कमी आई है। संपत्ति संबंधी कुल 126 अपराधों में से 116 अपराधों का निराकरण किया गया। आमर्स एक्ट के 49 प्रकरण में 61 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। 61 क्विंटल 77 किलो 720 किलो गांजा एवं डोडा कीमती 57 लाख 74 हजार 150 रुपये एवं वाहन जब्त किया गया। जुआ, सट्टा के 348 प्रकरण में से 980 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। आबकारी एक्ट के 990 प्रकरण में 1009 आरोपियों को पकड़ा, इससे 2623 लीटर शराब जब्त हुई। मोटर व्हीकल एक्ट के तहत 36960 प्रकरण की कार्रवाई कर 96 लाख 100 रुपये समन शुल्क वसूल किया। वहीं सड़क दुर्घटना के 347 प्रकरण में 133 लोगों की मौत हुई। 314 लोग घायल हुए। जबकि वर्ष 2017 की तुलना में दुर्घटना का यह आंकड़ा कम है। पिछले साल की तुलना में इस साल सात प्रतिशत दुर्घटना में कमी आई है। आईपीसी के अपराधों के तहत वर्ष 2017 की तुलना में 2018 में हत्या, चोरी, ख्यानत, जालीनोट, आगजनी, दहेज मृत्यु, शीलभंग, यौन उत्पीडऩ, प्रताडऩा, उपेक्षापूर्ण कार्य से मृत्यु एवं अन्य ताहि के प्रकरणों में कमी आई है। वहीं हत्या के 13 मामलों में 12 आरोपितों को गिरफ्तार किया गया। जिले में बलात्कार के कुल 73 प्रकरण घटित हुए। 

  •  

Posted Date : 12-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता

    कोरबा, 12 जनवरी। किसानों के धान के भंडारण के लिए उपयोग में आने वाले बारदाने (बोरे) की अफरा-तफरी का मामला सामने आया है। कोतवाली पुलिस ने सरकारी बारदाने से भरे कंटेनर (आरजे-29-जी-5054)  को जब्त किया है। पुलिस अब इस मामले में ट्रांसपोर्टर से पूछताछ कर रही है।
     बताया जा रहा है कि शासन की तरफ से उपार्जन और धान खरीदी केन्द्रों में भेजे जाने वाले इस बोरे की तस्करी राजस्थान में की जा रही थी। किसी ने कोतवाली पुलिस को इसकी सूचना दे दी। सूचना पाकर इमलीडुग्गु के पास कंटेनर को रुकवाया और जांच की गई। कंटेनर बारदाने से भरा हुआ था। इस मामले में पुलिस सभी पक्षों से पूछताछ कर रही है।
    बता दें कि सहकारी बैंकों से किसानों को मुहैय्या कराये जाने वाले इन बोरों की खरीदी-बिक्री नहीं की जा सकती। इसका उपयोग हितग्राही किसान ही अपने धान रखने के लिए करते हैं। 

     

     

     

     

  •  

Posted Date : 12-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    धमतरी, 12 जनवरी। पड़ोसी राज्यों में बर्ड फ्लू से कौंआ व अन्य पक्षियों की मौत के बाद धमतरी जिले में भी बर्ड फ्लू के लिए जिला प्रशासन ने अलर्ट जारी कर दिया है। स्वास्थ्य अमला जिले के पोल्ट्री फार्मों और मुर्गी दुकानों में निरीक्षण कर संचालकों को सावधानी बरतने जानकारियां दे रहा हैं। वहीं पोल्ट्री फार्मों में कार्य करने वाले कर्मचारियों को मुंह में मास्क व हाथ में हैंडग्लब लगाकर सावधानीपूर्वक काम करने कहा जा रहा है। 
    जिले में कहीं भी बर्ड फ्लू की शिकायत नहीं है। फिर भी सावधानी के मद्देनजर स्वास्थ्य अमला सजग है। पड़ोसी राज्यों में बर्ड फ्लू से कौंआ व अन्य पक्षियों की हुई मौत के बाद से जिले में भी अलर्ट जारी है। स्वास्थ्य विभाग की गठित टीम शहर व आसपास संचालित पोल्ट्री फार्मों में बर्ड फ्लू को लेकर निरीक्षण कर रही हैं, ताकि कोई भी पोल्ट्री फार्म संचालक बर्ड फ्लू को न छिपाए। साथ ही लक्षण दिखते ही उपचार व इससे निबटने कोई उचित उपाय तत्काल किया जा सके। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पोल्ट्री फार्म व पोल्ट्री दुकानों में कार्य करने वाले कर्मचारियों को मुंह में मास्क व हाथ में हैंडग्लब्स लगाकर काम करने कहा गया है, ताकि वे वायरस से बच सके। साथ ही पोल्ट्री फार्म संचालकों को कहा गया है कि मुर्गियों की मौत होने के बाद उसे दफनाने की विशेष व्यवस्था करें। 
    सीएमएचओ डॉ. डीके तुर्रे ने जिले में बर्ड फ्लू बीमारी से विशेष सावधानी बरतने की अपील की है। उन्होंने बताया कि जिले में पक्षियों, पालतू, गैर पालतू, पोल्ट्री फार्म की मुर्गा-मुर्गी आदि में उच्च रोगजनक एवियन इंफ्लूएंजा एएचपीएआई हायली पेथोजनिक एवियन इन्फ्लूएंजाए एच5एन1 नामक वायरस के संक्रमण से मनुष्यों में फैलने की आशंका होती है। डॉ.तुर्रे ने जिले के सभी बीएमओ को निर्देश दिया है कि वे पशु चिकित्सा अधिकारी से समन्वय स्थापित कर पक्षियों के असामयिक मरने की जानकारी प्राप्त करें। साथ ही औषधि प्रशासन पोल्ट्री फार्मों के मुर्गियों व अन्य पक्षियों में कोई भी विपरीत अथवा असामान्य व्यवहार देखते ही जिला कार्यालय को तत्काल सूचित करें। सीएमएचओ ने कहा कि जिले में अब तक कहीं से भी बर्ड फ्लू की शिकायत नहीं मिली है। 

     

     

  •  

Posted Date : 11-Jan-2019
  • छत्तीसगढ़ संवाददाता 

    धमतरी, 11 जनवरी। राष्ट्रव्यापी हड़ताल के कारण बैंक कर्मचारी वेज रिवीजन सहित अपनी 3 सूत्रीय मांगों को लेकर 8 और 9 जनवरी को हड़ताल पर रहे। हालांकि बैंकों के ताले जरुर खुले, लेकिन कामकाज प्रभावित रहा। हड़ताल के कारण एटीएम में कैश की किल्लत से ग्राहकों को काफी परेशानी उठानी पड़ी। 
    जिले के 99 बैंक शाखाओं के करीब 8 सौ से अधिक कर्मचारी वेज रिवीजन समेत अपने 3 सूत्रीय मांगों को लेकर हड़ताल पर थे। हड़ताल खत्म होने के बाद 10 जनवरी से बैंकों के शटर जरुर खुले, लेकिन इसका असर एटीएम में देखने को मिल रहा है।
     शहर के एसबीआई, देना बैंक, सेंट्रल बैंक, सिंडीकेट बैंकों के एटीएम में देखा गया कि दोपहर बाद एटीएम में कैश ट्रांजेक्शन और राशि ट्रांसफर करने के लिए ग्राहक अपनी बारी का इंतजार करते रहे। कई एटीएम में सर्वर प्राब्लम के चलते ग्राहकों को एक एटीएम से दूसरे एटीएम का चक्कर काटना पड़ा। 
    100 के नोट गायब 
    सिहावा चौक में 3, पीडी नाला के पास 3, बस्तर रोड में पेट्रोल पंप के पास 1 और अबेडकर चौक में अलग-अलग बैंकों के 3 एटीएम लगाया गया है। जिसमें से अधिकांश एटीएम में 100 और 2 हजार के करेंसी की किल्लत बनी हुई है। जबकि ग्राहकों को 5 सौ रुपए की करेंसी ही मिल रहा है। लीड बैंक अधिकारी अमित रंजन ने बताया कि एटीएम मेंं कैश की कमी होने की शिकायत नहीं मिली है। सर्वर प्राब्लम के चलते ट्रांजेक्शन करने में परेशानी हो रही होगी। 
    क्या कहते हैं ग्राहक 
    मोहन सोनकर, जगदीश देवांगन, भोलानाथ पटेल, सतीश पटवा, ललित साहू ने बताया कि शहर के विभिन्न चौक-चौराहों में लगे एटीएम मेंं सर्वर प्राब्लम के चलते कैश ट्रांजेक्शन करने में परेशानी हो रही है। बैंक प्रबंधकों को इस ओर ध्यान देना चाहिए। कई एटीएम में 2 हजार और 100 की करेंसी गायब है। 2 सौ रुपए की जरुरत पडऩे पर मजबूरी में 5 रुपए निकालना पड़ रहा है। यहां 100 की करेंसी भी डाला जाना चाहिए। 

     

     

     

     

     

  •  



Previous123Next