छत्तीसगढ़ » धमतरी

Date : 25-Aug-2019

सिहावा विधायक ने कार्यकर्ताओं संग मनाया जन्मदिन

छत्तीसगढ़ संवाददाता
नगरी, 25 अगस्त।
विधायक कार्यालय नगरी में कल सिहावा विधायक डॉ. लक्ष्मी धु्रव के जन्मदिवस पर बधाई देने कार्यकर्ताओं का तांता लगा रहा।

ब्लॉक कांग्रेस नगरी-सिहावा, कुकरेल, बेलरगांव,  मगरलोड, क्षेत्र के आम नागरिक, शिक्षक संघ सहित विभिन्न कर्मचारी संगठन, युवा कांग्रेस, महिला कांग्रेस, सेवा दल, एनएसयूआई कार्यकर्ता विधायक कार्यालय पहुंच जन्मदिन की बधाई दी। विधायक ने शासकीय अस्पताल नगरी मे मरीजों से  हाल-चाल जाना एवं फल वितरण किया। इस दौरान उनके साथ समस्त कांग्रेसजन भी उपस्थित थे।

इस अवसर पर एल.एल धु्रव, स्वप्निल धु्रव, पूर्व मंत्री माधव सिंह धु्रव, विधायक प्रतिनिधि कुकरेल श्यामसुन्दर सिन्हा, विधायक प्रतिनिधि नगरी रूद्रप्रताप नाग, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष बेलर गांव कैलाश प्रजापति, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष कुकरेल करण चन्द्राकर, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष मगरलोड राजेश साहू, शहर कांग्रेस अध्यक्ष कृष्णकुमार कश्यप, टेश्वर सिंह ध्रुव, विधायक प्रतिनिधि बेलरगांव अख्तर खान, माखन भरेवा, शकुंतला ठाकुर, हेमलता प्रजापति सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता, आम नागरिक उपस्थित थे। 


Date : 25-Aug-2019

नियम उल्लंघन का आरोप, लिखित में आपत्ति दर्ज, भारत स्काउट संघ जिलाध्यक्ष चुनाव रद्द करने की मांग 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कुरूद, 25 अगस्त।
भारत स्काउट गाइड जिला संघ चुनाव को त्रुटिपूर्ण करार देते हुए अध्यक्ष प्रत्याशी राजेश शर्मा ने इसे रद्द करने की मांग की है। उन्होंने इसके लिए मुख्य निर्वाचन अधिकारी, जिला शिक्षाधिकारी पदेन आयुक्त व राज्य संघ के पर्यवेक्षक को लिखित में आपत्ति दर्ज कराई है। 

धमतरी के इंडियन गल्र्स स्कूल में 23 अगस्त को स्काउट संघ का चुनाव हुआ। शुरूवात में चुनाव प्रक्रिया के तहत आजीवन सदस्यों का चुनाव किया गया। तत्पश्चात जिला संघ अध्यक्ष व उपाध्यक्ष पद के लिए मतदान हुआ। 

मतों की गणना के समय सर्वप्रथम उपाध्यक्ष पद के लिए डाले गए मतों की गणना की गई। जिसे प्रत्यक्ष रूप से प्रत्याशियों को दिखाया गया व डाले गए कुल मत वैध व अवैध मतों की नियमत: उद्घोषणा की गई। लेकिन अध्यक्ष पद की घोषणा सीधे कर दी गई। जिसमें न तो यह बताया गया कि कुल कितने मत डाले गए थे न ही प्रत्यक्ष प्रत्याशियों के सामने गिनती की गई और न ही वैध-अवैध मतों की जानकारी दी गई। सीधे परिणाम की घोषणा कर दी गई। 

भारत स्काउट गाइड जिला संघ के अध्यक्ष पद प्रत्याशी राजेश शर्मा ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर आरोप लगाया कि चुनाव में निर्वाचन नियमावलि का सीधा-सीधा उल्लंघन हुआ है। उन्होंने निर्वाचन रद्द कर पुन: चुनाव कराये जाने की मांग करते हुए बताया कि उनके द्वारा आपत्ति दर्ज कराने के पश्चात जिला कमिश्रर ने निराकरण हेतु आपस में बैठकर निर्णय देने के लिए मुख्य निर्वाचन अधिकारी को निर्देशित किया था। जिस पर मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने राज्य कार्यालय से दिशा-निर्देश लेने के लिए दो दिन का समय मांगा था।

पर्यवेक्षक और नवर्निवाचित पदाधिकारी भी इस बात से सहमत थे कि अगली कार्यवाही तक अध्यक्ष चुनाव का फैसला स्थगित रखा जाए। लेकिन वहां से निकलते ही निर्वाचित घोषित प्रत्याशी को प्रमाण पत्र प्रदान कर दिया गया। जिसके लिए उन्होंने संबंधित चुनाव पदाधिकारियों पर कार्रवाई की मांग की है। 

राजेश शर्मा के मांग को जायज बताते हुए कमल देवांगन, श्याम शंकर चन्द्राकर, मनिष साहू, देवेन्द्र दादर, हरिश, कविता साहू, त्रिवेणी देवांगन आदि सदस्यों ने समर्थन किया है।  

 


Date : 25-Aug-2019

तहसीलदार व पुलिस की संयुक्त टीम ने रेत का अवैध परिवहन, 13 वाहन जब्त
छत्तीसगढ़ संवाददाता
कुरूद, 25 अगस्त।
महानदी के रेत खदानों से अवैध उत्खनन एवं परिवहन में लगे वाहनों के खिलाफ तहसीलदार व पुलिस की संयुक्त टीम ने हाईवा एवं टै्रक्टर सहित 13 वाहनों पर जब्ती की कार्यवाही की है। जिससे खनिज माफियाओं में हडक़ंप मच गया है। 

शनिवार को तहसीलदार भूपेन्द्र गावड़े के नेतृत्व में राजस्व एवं पुलिस की टीम ने कुरूद-मेघा मार्ग में दबिश दी। जहां रेत परिवहन कर रहें 8  हाईवा और 5 टै्रक्टरों की जांच की गई। जिसके पास परिवहन का कोई पीटपास नहीं होने पर उसकी जब्ती कार्रवाई की गई। तहसीलदार श्री गावड़े ने बताया कि पकड़े गए वाहनें से रेत रायपुर, भिलाई, अहिवारा ले जा रहें थे। उन्होनें आगे भी कार्रवाई करने की बात कही है। 

गौरतलब हो कि कुरूद से 10 किमी. की दूरी पर बहने वाली महानदी रेत माफियाओं के लिए खुला खाजाना सिद्ध हो रहा है। पर्यावरण संरक्षण के लिए एनजीटी द्वारा बनाए नियमों का उल्लंघन कर रात-दिन खुलेआम रेत की तस्करी हो रही है। भारी भरकम वाहनों की वजह से क्षेत्र की सडक़ें बदहाल और लोगों की जान मुश्किल में है। जन शिकायत पर प्रशासन कार्रवाई जरूर करती है लेकिन कुछ दिनों में फिर वही ढर्रा चल पड़ता है। ऐसा नही हंै कि रेत के अवैध उत्खनन से क्षेत्रिय लोगों को ही परेशानी है। बल्कि इससे शासन को भी लाखों का राजस्व का नुकसान उठाना पड़ रहा है। 

 


Date : 25-Aug-2019

तेज हाइवा की ठोकर, बाइक सवार 3 मृत  

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कुरूद, 25 अगस्त।
केनाल रोड में तेज रफ्तार हाईवा ने एक बाइक को ठोकर मार दी जिससे सवार दो की मौके पर ही  मौत हो गई। तीसरे ने अस्पताल में दम तोड़ा। पुलिस के अनुसार शनिवार रात चर्रा मार्ग से जोडऩे वाले केनाल रोड से बाईक पर  कुरूद पचरीपारा निवासी सुफल ध्रुव, संजु धु्रव एवं करेली निवासी प्रदीप साहू नगर की ओर आ रहे थे। विपरीत दिशा से जा रही तेज रफ्तार हाईवा ने इन्हें अपनी चपेट में ले लिया। 

हादसे की सूचना मिलते ही पुलिस पहुंची तब तक  सुफल एवं प्रदीप की मौत हो गई थी। गंभीर रुप से जख्मी संजू को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां आज सुबह  उसकी भी मौत हो गई। पुलिस ने फरार चालक के खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया है। उल्लेखनीय है कि केनाल रोड पर भारी वाहनों की आवाजाही पर प्रशासन ने रोक लगाई है इसके बाद भी आवाजाही जारी है।

 


Date : 24-Aug-2019

कलेक्टर ने किया गांवों का दौरा, ग्रामीणों के बीच लगाई चौपाल

छत्तीसगढ़ संवाददाता
नगरी/धमतरी, 24 अगस्त।
कलेक्टर रजत बंसल ने नगरी विकासखण्ड के विभिन्न ग्रामों का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने गांवों में ग्रामीणों की आवश्यकता के अनुरूप योजना को मूर्तरूप देने के लिए सम्भावनाएं तलाशी। ग्राम छिंदभर्री, चनागांव में ग्रामीणों के बीच चैपाल लगाकर उनकी प्राथमिक जरूरतों व समस्याओं पर चर्चा की। इसी तरह ग्राम झूरातराई के अंतर्गत नरहराधाम जलप्रपात को पर्यटन की दृष्टि से सुव्यवस्थित और विकसित करने संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया।

प्रदेश शासन की सुराजी गांव योजना के विस्तार एवं सफल क्रियान्वयन के उद्देश्य से कलेक्टर ने नगरी विकासखण्ड के ग्राम पंचायत चनागांव का आकस्मिक दौरा किया। इस दौरान उन्होंने घुरवा को सुव्यवस्थित ढंग से तैयार करने ग्रामीणों के घर जाकर उनके व्यक्तिगत बॉयोगैस संयंत्र का निरीक्षण किया। जिसके बाद उन्होंने अलग-अलग निजी संयंत्रों के स्थान पर सामूहिक संयंत्र स्थापित करने के संबंध में क्रेडा विभाग के अधिकारी को आवश्यक कार्रवाई करने निर्देशित किया। 

कलेक्टर ने ग्राम पंचायत झूरातराई से पांच किलोमीटर दूर प्राकृतिक जलप्रपात नरहरा धाम का निरीक्षण किया। पर्यटन की दृष्टि यहां पर सुविधाएं विकसित करने के उद्देश्य से कलेक्टर ने उक्त जलप्रपात तक पहुंच मार्ग आसान बनाने सड़क निर्माण के लिए जल संसाधन विभाग कोड-90 के कार्यपालन अभियंता को निर्देशित किया। इसी तरह उक्त झरने में बारहमासी पानी का ठहराव रहे, इसके लिए नरवा कार्यक्रम अंतर्गत बारिश के जल का संग्रहण एवं संचयन करने व आसपास के जंगल व गांवों में उसकी उपयोगिता के लिए कार्ययोजना तैयार करने के भी निर्देश दिए। साथ ही पहुंचमार्ग एवं जलप्रपात के स्पॉट पर सोलर लाइट स्थापित करने के लिए कार्यपालन अभियंता श्री ए.के. पालडिय़ा को निर्देशित किया। 


Date : 24-Aug-2019
मुख्यमंत्री के जन्मदिन पर कांग्रेसियों ने मरीजों को किया फल वितरण
 
कुरूद, 24 अगस्त । प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के जन्मदिन पर कुरूद के कांग्रेसियों ने कांग्रेस भवन में केक काट बर्थडे सेलिब्रेट किया। पश्चात रैली के शक्ल में सिविल अस्पताल पहुंच मरीजों को फल बांटे। 
 
शुक्रवार को दोपहर कांग्रेस भवन में कांग्रेसी एकत्र हुए जहां सीएम भूपेश बघेल के छायाचित्र को रख उनके जन्मदिन पर केक काटा। इस दौरान जिंदाबाद के नारे लगा बघेल के दीर्घायु होने कामना की। पश्चात सिविल अस्पताल पहुंच वार्डों में भर्ती मरीजों को फल वितरण कर उनका कुशलक्षेम पूछा।  इस दौरान संयुक्त सचिव राजकुमार अग्रवाल, ब्लॉक अध्यक्ष प्रमोद साहू, किसान कांग्रेस जिलाध्यक्ष तपन चन्द्राकर, प्रवक्ता आशिष शर्मा, युकांध्यक्ष देवव्रत साहू, उपाध्यक्ष मनोज अग्रवाल, महामंत्री कृष्णा साहू, खेमराज चन्द्राकर के अलावा रमेशर साहू, भीषम साहू, देवचरण, उत्तम साहू, दुर्गेश सिन्हा, रोशन चन्द्राकर, भरत साहू, राम रतलानी, सुखराम सोनकर, ढेलूराम साहू, इन्द्रजीत सिंह, रूद्रनाथ साहू, चन्द्रकांत चन्द्राकर, डॉ. यूएस नवरत्न, डॉ. सरोज दीवान सहित अस्पताल के कर्मचारी उपस्थित थे।     
 
 
 

Date : 22-Aug-2019

सीएम के हाथों 36 बैंक सखियों को मिला बायोमैट्रिक डिवाइस

छत्तीसगढ़ संवाददाता
नगरी, 22 अगस्त।
दुगली प्रवास के दौरान ग्राम सुराज अभियान और वनाधिकार मड़ई में मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सहित मंचासीन अतिथियों द्वारा 36  बैंक सखियों को बायोमैट्रिक डिवाइस का वितरण किया गया। 

इस तहत 71 बैंक सखियां बैंकिंग सुविधा से जैसे-दिव्यांग पेंशन, वृद्धा पेंशन, विधवा पेंशन, महात्मा गांधी नरेगा मजदूरों का भुगतान, प्रधानमंत्री आवास भुगतान, तेंदूपत्ता संग्राहकों का भुगतान एवं अन्य भुगताान से ग्रामीणजनों को लाभान्वित करेंगी।

कार्यक्रम में उपस्थित वरिष्ठ मंत्रीगणों सहित अन्य जनप्रतिनियों ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि-शासन की योजना के अनुरूप सर्वप्रथम जिले के पांच पंचायतों में बैंक सखी की स्थापना कर मिशाल कायम किया है। निकट भविष्य में जिले को सबसे अधिक ट्रांजेक्शन कर बैंक सखियों को अधिकतम आय अर्जित कर रिकार्ड कायम करने कहा। 

इस उपलब्धि पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री विजय दयाराम के. द्वारा सभी बैंक सखियों एवं जिला पंचायत बिहान टीम को बधाई एवं शुभकामनाएं दी। उन्होंने आगे बताया कि-विभाग द्वारा दिये गये लक्ष्य के अनुसार कार्यों को तत्परता के साथ कार्य करने वाली नगरी विकासखंड के ग्राम पंचायत डोंगरडुला निवासी श्रीमती पूर्णिमा साहू के द्वारा सर्वाधिक बैंकिंग सुविधा उपलब्ध कराने के कारण पूरे छत्तीसगढ़ राज्य में सर्वाधिक भुगतान कर दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्रों में बैंकिंग सुविधा प्रदान करते हुए उपलब्धि हासिल की है।


Date : 21-Aug-2019

सीएम ने किया लघु वनोपज प्रसंस्करण केंद्र दुगली का अवलोकन

त्रिफला प्रसंस्करण केंद्र का शुभारंभ, स्व-सहायता समूह की महिलाओं से मुलाकात

छत्तीसगढ़ संवाददाता
नगरी / धमतरी, 21 अगस्त।
मुख्यमंत्री ने धमतरी जिले के ग्राम दुगली में लघु वनोपज प्रसंस्कण एवं प्रशिक्षण केंद्र का अवलोकन कर यहां प्रसंस्करण कार्य कर रही स्व-सहायता समूह की महिलाओं से चर्चा की। मुख्यमंत्री ने यहां त्रिफला प्रसंस्करण केंद्र का शुभारम्भ भी किया।

इस अवसर पर यहां महिला समूहों द्वारा माहुल पत्ते से दोना निर्माण कार्य, शहद का संग्रहण कर इसकी प्रोसेसिंग, सतावर का संग्रहण कर प्रोसेसिंग कार्य का अवलोकन सीएम ने किया। मुख्यमंत्री श्री बघेल और श्री पुनिया में यहां निर्मित शहद, बैचांदी के चिप्स और तिखुर जूस का सेवन किया और इसके स्वाद और गुणवत्ता की तारीफ की। 

उल्लेखनीय है कि धमतरी जिले के इस आदिवासियों बाहुल्य वन क्षेत्र में अनेक वनोपजों का उत्पादन होता है। राज्य शासन का प्रयास है कि इनके संग्रहण एवं प्रसंस्करण को बढ़ावा देकर यहां के नागरिकों की जीवकोपार्जन में वृद्धि की जाए। राज्य शासन द्वारा राज्य के वन क्षेत्र में संग्रहण के लिए अब 15 वनोपजों का न्यूनतम समर्थन मूल्य निर्धारित किया है। इसी तरह वन वनोपजों की संग्रहण क्षमता बढ़ाने के लिए विभिन्न ग्रामो में संग्रहण केंद्रों की स्थापना की जा रही है। तेंदूपत्ता के संग्रहण दर को भी 2500 रुपये मानक बोरा से बढ़ा कर 4000 रुपये मानक बोरा किया गया है। 

मुख्यमंत्री ने स्व. राजीव गांधी की स्मृति पर बनाए गए प्रदर्शनी का अवलोकन का भी किया। इस अवसर पर राज्यसभा सांसद पी.एल.पुनिया, पंचायत विभाग के मंत्री टी.एस. सिंहदेव, उद्योग मंत्री व जिले के प्रभारी मंत्री कवासी लखमा, वन मंत्री मोहम्मद अकबर, राजस्व मंत्री जय सिंह अग्रवाल, विधायक मोहन मरकाम, मध्य क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण की अध्यक्ष डॉ.लक्ष्मी धु्रव, विधायक रंजना दीपेंद्र साहू, जिला पंचायत अध्यक्ष रघुनंदन साहू सहित अपर मुख्य सचिव आर. पी. मंडल, प्रधान मुख्य वन संरक्षक राकेश चतुर्वेदी, कलेक्टर रजत बंसल भी उपस्थित थे।


Date : 21-Aug-2019

सीएम ने विद्यार्थियों संग जमीन पर बैठकर चखा मध्याह्न भोजन

छत्तीसगढ़ संवाददाता
नगरी /धमतरी, 21 अगस्त।
मुख्यमंत्री श्री बघेल ने आदिम जाति विकास विभाग द्वारा संचालित शासकीय बालक आश्रम का अवलोकन किया। यहां अध्ययनरत विद्यार्थियों ने उनका स्वागत गुलाब फूल भेंट कर किया। इस दौरान बताया गया कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी द्वारा 1985 को दुगली प्रवास के दौरान इसका अवलोकन किया गया था। यह आश्रम भी उसी साल से संचालित है, जो कि जिले का सर्वप्रथम आवासीय आश्रम है। इसके उपरांत मुख्यमंत्री एवं अन्य वरिष्ठ मंत्रियों व अतिथियों ने आश्रम के विद्यार्थियों के साथ जमीन पर बैठकर भोजन किया। 

मुख्यमंत्री को अपने बीच पाकर तथा उनके साथ आम आदमी की भांति सहज ढंग से जमीन पर बैठकर भोजन ग्रहण करने पर विद्यार्थी गदगद हो गए। मध्याह्न भोजन के तौर पर मुख्यमंत्री एवं अन्य अतिथियों को दाल, चावल, रोटी के अलावा खेक्सी, आलू-बरबट्टी, लौकी की सब्जी परोसी गई। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कक्षा चौथी के रौशन कमार, रविशंकर कमार तथा सूरज कमार से पूछा कि रोज ऐसा ही भोजन मिलता है, जिस पर बच्चों ने उत्तर दिया कि यहां प्रतिदिन मीनू के अनुसार स्वादिष्ट भोजन परोसा जाता है। 

खाना खाते समय उन्होंने बच्चों से उनके लक्ष्य के बारे में भी पूछा, तो किसी ने शिक्षक, किसी ने डॉक्टर और किसी ने इंजीनियर बनने की इच्छा प्रकट की। भोजन कक्ष में मुख्यमंत्री के साथ राज्यसभा सांसद  पी.एल. पुनिया, प्रदेश के ग्रामीण विकास एवं स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव, परिवहन, आवास तथा वन मंत्री मोहम्मद अकबर, वाणिज्यिक कर, उद्योग तथा जिले के प्रभारी मंत्री कवासी लखमा, राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल, कोंडागांव विधायक  मोहन मरकाम सहित सिहावा विधायक डॉ. लक्ष्मी धु्रव, पूर्व मंत्री माधव सिंह धु्रव व कलेक्टर रजत बंसल ने भी जमीन पर बैठकर मध्यान्ह भोजन किया। 

 


Date : 20-Aug-2019

सीएम ने लइका जतन ठउर का किया उद्घाटन
बच्चों को दिए फल, पोषाहार, कपड़े और हैंडवाश
अगले एक साल में दुगली सेक्टर के 45 गांवों में कुपोषण दूर करने का लक्ष्य
छत्तीसगढ़ संवाददाता
नगरी /धमतरी, 20 अगस्त।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने धमतरी जिले के नगरी विकासखण्ड के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र दुगली में लइका जतन ठउर का उद्घाटन किया। दुगली सेक्टर को कुपोषण मुक्त करने पोषण पुनर्वास केन्द्र की तर्ज पर स्थापित इस अभिनव लइका जतन ठउर में कुपोषित बच्चों का संपूर्ण उपचार और चिकित्सीय देखभाल की जाएगी। यहां बच्चों के लिए 10 बिस्तरों की व्यवस्था है। 18 प्रतिशत कुपोषण दर वाले दुगली सेक्टर के 45 गांवों को अगले एक वर्ष में कुपोषण मुक्त करने का लक्ष्य है। 

 श्री  बघेल, स्वास्थ्य मंत्री  टी.एस. सिंहदेव, राज्यसभा सांसद  पी.एल. पुनिया तथा विधायकद्वय  मोहन मरकाम और लक्ष्मी ध्रुव नवनिर्मित लइका जतन ठउर में इलाजरत बच्चों और उनकी माताओं से मिले तथा उन्हें फल, रेडी-टू-ईट पोषाहार, कपड़े और हैंडवाश वितरित किए।लइका जतन ठउर में डॉक्टरों द्वारा कुपोषित बच्चों का वजन मूल्यांकन कर उचित प्रोटीनयुक्त आहार दिया जाएगा। यहां कुपोषित बच्चों की माताओं को भी बच्चों को दिए जाने वाले भोजन के विषय में प्रशिक्षित किया जाएगा, ताकि जब बच्चे 15 दिनों के उपचार के बाद घर लौटे, तो उनके वजन की वृद्धि के अनुपात में पौष्टिक भोजन तैयार करने में माताओं को सहूलियत हो। आंगनबाड़ी केन्द्रों में भी इन बच्चों की सतत निगरानी की जाएगी। साथ ही डॉक्टरों द्वारा फॉलोअप भी किया जाएगा, जिससे कि पूरा दुगली सेक्टर कुपोषण मुक्त हो सके। 

इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री बघेल स्वास्थ्य विभाग की चिरायु और अन्य योजनाओं के हितग्राहियों से भी मिले। लोकार्पण कार्यक्रम में स्वास्थ्य विभाग की सचिव निहारिका बारिक सिंह, संचालक  नीरज बंसोड़, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की संचालक डॉ. प्रियंका शुक्ला, कलेक्टर रजत बंसल और धमतरी के मुख्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी डॉ. डी.के. तुर्रे सहित स्वास्थ्य विभाग के अनेक अधिकारी तथा गणमान्य नागरिक मौजूद थे।


Date : 20-Aug-2019

भूपेश ने किया तीरंदाजी प्रशिक्षण केंद्र दुगली का शुभारंभ
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
नगरी /धमतरी, 20 अगस्त।
प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज ग्राम दुगली में तीरंदाजी प्रशिक्षण केंद्र का शुभारंभ किया। इस अवसर पर श्री बघेल ने बच्चों को तीरंदाजी के गुर सिखाये और स्वयं भी निशाना साधा। इस अवसर पर राज्य सभा सांसद पी.एल. पुनिया, शासन के वरिष्ठ मंत्री टी.एस. सिंहदेव,  मोहम्मद अकबर, प्रभारी मंत्री कवासी लखमा, जयसिंह अग्रवाल, विधायक सिहावा डॉ लक्ष्मी ध्रुव, पूर्व विधायक अशोक सोम भी मौजूद थे। 

ग्राम दुगली में अब 20 आदिवासी बच्चे आधुनिक कीट से तीरंदाजी सीखेंगे, जिसमें 10 लड़कियां और 10 लड़के हैं। इन बच्चों को आधुनिक तरीके से तीरंदाजी सीखाया जायेगा। इन बच्चों में 16 बच्चे विशेष पिछड़ी जनजाति कमार वर्ग के हैं और चार बच्चे आदिवासी वर्ग से हैं। इस मौके पर आरचेरी कीट पाकर आदिवासी बच्चे बहुत खुश हैं। कक्षा आठवीं की छात्रा द्रोपति नेताम और कक्षा बारहवी की छात्रा संतोषी नेताम ने बताया कि वह अपने पापा के सपनों को पूरा कर सकेंगे। 

संतोषी ने कहा कि वह बचपन में अपने पापा के साथ तीर चलाना सीखते थे, लेकिन आधुनिक तीरंदाजी के अभाव में नहीं सीख पाई। अब उनका सपना पूरा होगा। उन्होंने मुख्यमंत्री जी को धन्यवाद ज्ञापित किया है। इसी तरह कक्षा ग्यारहवी के छात्र राजेंद्र सोरी ने कहा कि वह बहुत खुश है और तीरंदाजी को आगे बढ़ायेंगे। अध्ययन के साथ-साथ तीरंदाजी के शौक को भी पूरा करेंगें। ज्ञात हो कि पहले यहां तीरंदाजी केन्द्र खोला गया था, लेकिन आधुनिक तकनीक के साथ बच्चे तीरंदाजी नहीं सीख पाये। अब इन बच्चों को आधुनिक तकनीक से प्रशिक्षण भी दिया जायेगा। मुख्यमंत्री ने बच्चों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि उन्हें अध्ययन के साथ-साथ तीरंदाजी को प्रोफेशनल तरीके से आगे बढ़ाने का अवसर मिलेगा।


Date : 20-Aug-2019

दुगली में राजीव की प्रतिमा का सीएम ने किया अनावरण
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
नगरी/धमतरी, 20 अगस्त।
पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न स्व. राजीव गांधी की 75वीं जयंती के अवसर पर उनके आदमकद प्रतिमा का अनावरण आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दुगली ग्राम में किया। इस मौके पर उन्होंने रुद्राक्ष का पौधरोपण भी किया। इस अवसर पर राज्य सभा सांसद पी.एल. पुनिया, मंत्री टी.एस. सिंहदेव, मोहम्मद अकबर, प्रभारी मंत्री कवासी लखमा, जयसिंह अग्रवाल, विधायक सिहावा डॉ. लक्ष्मी ध्रुव मौजूद थे।

ज्ञात हो कि आज से 34 वर्ष पूर्व राजीव गांधी सपत्नीक ग्राम दुगली पहुंचे थे। राजीव गांधी की स्मृति में स्थापित इस प्रतिमा को देखकर लोग भावुक हो उठे और राजीव गांधी अमर रहे के नारे लगाए। 34 साल पहले की ऐतिहासिक अवसर को याद कर ग्राम की कमला बाई ने बताया कि वह दिन रविवार था और उस दिन उन्होंने अपनी टोकरी में लाल भाजी, टमाटर, करेला और मिर्च धनिया लेकर पसरा लगा रखा था। दुगली के तिराहे पर वे करीब 10 मिनट रूके। इसके बाद वे कार में सवार होकर सीधे शासकीय वन प्राथमिक शाला भवन में चले गए। 

प्रतिमा अनावरण के इस स्वर्णिम पल का गवाह रहे ग्रामीणों ने बताया कि 14 जुलाई 1985 के पहले ग्राम दुगली के किसी भी ग्रामीण ने यह कल्पना नहीं की थी कि देश के प्रधानमंत्री का आगमन उनके गांव में होगा। दुगली के बुजुर्गों का यह मानना है कि राजीव जी का दुगली आगमन का सबसे बड़ा कारण विशेष पिछड़ी जनजाति कमार की संस्कृति, रहन-सहन, खानपान, वेशभूषा से परिचित होना था। उनकी इस जिज्ञासा ने ही उन्हें दुगली खींच लाया। वहीं कुछ ग्रामीणों का यह भी मानना है कि कमार जनजाति के साथ-साथ आदिवासी संस्कृति, वनों पर उनकी निर्भरता और बिना किसी बाह्य सहयोग के जीवन यापन के तरीकों से प्रत्यक्षत: अवगत होना चाहते थे। 

कमारपारा के वयोवृद्ध  मैतूराम और उनकी पत्नी मोतिम बाई ने उस दिन को याद कर बताया कि कुएं का निरीक्षण करने के पश्चात् श्री गांधी ने सियान (सुकालूराम व सोनाराम) से आत्मीय बातचीत की। इस दौरान उन्होंने पलाश के पत्ते से बनाए गए दोने में मडिय़ा पेज, कडू कंद, कुल्थी बीज की दाल और चरोटा भाजी का स्वाद भी चखा। साथ ही महुए के एक फूल को लेकर उसके रस का भी स्वाद लिया। फिर यहां से बीरनपारा में बने गौरा चबूतरे के पास कुछ समय बिताए। गांव के 65 वर्षीय बुजुर्ग और तत्कालीन ग्राम पटेल भुवालराम नेताम ने बताया कि यहीं पर श्री गांधी ने विशेष पिछड़ी जनजाति कमार को संरक्षित करने के उद्देश्य से ग्राम को गोद लेने की मंशा जाहिर की थी। इसके बाद वे पुरानी बस्ती (बीरनपारा) में मिट्टी से बने कुछ घरों में जाकर अवलोकन भी किया। इससे थोड़ी दूर पर बनाई गई घासफूस की झोपड़ी में उन्होंने भोजन किया।    

 


Date : 20-Aug-2019

रेत भरी हाईवा से सड़कें बदहाल, ग्रामीणों ने किया चक्काजाम

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कुरूद, 20 अगस्त।
रात-दिन रेत परिवहन में लगी भारी भरकंप हाईवा के चलनें से सड़कों की हालत बदतर हो रही है। आए दिन होने वाली दुर्घटना से परेशान ग्रामीणों ने गांव से हाईवा नही गुजरनें देने की मांग करते हुए करीब 3 घंटे तक चक्काजाम किया। जिससे दोनों ओर रेत से भरे वाहनों की लंबी कतार लग गई। मौके पर पहुंची नायब तहसीलदार की समझाईश पर ग्रामीण शंात हुए। 

कुरूद-चर्रा मार्ग से होकर बारना रेत खदान से रोज तीन सौ से अधिक हाईवा गुजरते हैं। जिससे इस सड़क की हालत जर्जर हो गई है। सैकड़ों छात्र-छात्राओं और ग्रामीणों का रोज इसी सड़क से आना-जाना होता है। रात-दिन तेज रफ्तार से दौडऩें वाले इन भारी वाहनों से आए दिन दुर्घटना होते रहती है। प्रशासन से शिकायत के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं होने से तंग आकर ग्राम कोकड़ी के ग्रामीणों ने सोमवार शाम चक्काजाम कर दिया। खिलेन्द्र देवांगन, कोमल साहू, रेखराम सार्थी, नरेश, लखन साहू, भूपेन्द्र देवांगन ने बताया कि बारना, दोनर से रेत भरकर निकले वाहनों की वजह से कुरूद, चर्रा, कोकड़ी, कातलबोड़, नवागांव, सिवनी आदि की सड़कें बदहाल हो गई है। 

शिकायत के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं होती इसलिए हमें आंदोलन करना पड़ा। चक्काजाम की खबर लगते ही नायब तहसीलदार आकांक्षा साहू, टीआई बिपिन लकड़ा मौके पर पहुंचे। उन्होनें आक्रोशित ग्रामीणों को समस्या का समाधान उच्चाधिकारियों से कराने की बात कह कर चक्काजाम खत्म करने के लिए मनाया। रात्रि साढ़े 8  बजे ग्रामीण तैयार हुए तब तक गांव के दोनों ओर सैकड़ों हाईवा की कतार लग गई थी। ज्ञात हो कि इसके पूर्व भी चर्रा, कातलबोड़ के लोगों ने आंदोलन किया था।  

 


Date : 20-Aug-2019

पौधरोपण व अतिक्रमण ने छीना पशुओं का चारागाह, घरों में कैद मवेशी, ग्रामीणों ने लगाई कलेक्टर से गुहार

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कुरूद, 20 अगस्त।
खारून नदी के किनारे घास भूमि में अवैध कब्जा कर बनाए गए खेत-खलिहान एवं मैदानों में हुए पौधरोपण के चलते मवेशियों के लिए चारागाह की जगह खत्म हो गई है। जिसे देख चरवाहों ने गांव के मवेशी चरानें से मना कर दिया। जिसके चलते पांच दिन से गाय, बैल, भैंस, बकरी-बकरा आदि घरों में बंधे है। गांव की बैठक में समाधान नही होने पर पंचायत प्रतिनिधियों ने कलेक्टर से मदद मांगी है। जहां से उन्हें सप्ताह भर के भीतर समस्या सुलझानें का आश्वासन मिला है। 

कुरूद विकासखंड के अतंर्गत ग्राम सेमरा(भखारा) में बाढ़ से जमीन का कटाव रोकनें व पर्यावरण को हरा-भरा करनें के उद्देश्य से शासन के आदेश के तहत खारून नदी किनारे एवं खाली पड़े घास भूमि में वन विभाग द्वारा वृक्षारोपण कर सुरक्षा के लिए तार फेसिंग भी किया जाना है। ग्रामीणों का कहना है कि पुराना व नया बगीचा में खाली पड़ें जमीन को पहले से ही कुछ प्रभावशाली लोगों ने बेजा कब्जा कर अपना खेत-खलिहान बना लिया है। नदी किनारे थोड़ी बहुत बची खाली जमीन में वृक्षारोपण किया जा रहा है। जिससे चारागाह की समस्या खड़ी हो गई है। 

सेमरावासियों ने यह भी बताया कि कुछ दिन पहले हमेशा की तरह चरवाहे उस क्षेत्र में मवेशी चरानें गए तो वृक्षारोपण कार्य में लगे लोगों ने उन्हें डांट-डपटकर भगा दिया। जिसकी जानकारी चरवाहों ने बस्ती पंचायत को दे मवेशी चरानें से मना कर दिया। इस मुद्दे को लेकर गांव में तीन बार बैठक हो चुकी है। जिसमें वृक्षारोपण में रोक तथा बेजा कब्जाधारियों से जमीन खाली करा चारागाह के लिए आरक्षित रखे जाने का निर्णय लिया गया। जिसकी जानकारी संबंधित अधिकारियों को दे दी गई है। लेकिन समस्या का समाधान नही हो पाया। जिससे अब तक गांव के सैकड़ों मवेशी घरों में बंधे हुए हैे। सोमवार को सरपंच पुष्पेन्द्र कुमार जोशी, उपसरपंच कृष्णकुमार साहू, ग्रामीण अध्यक्ष सीताराम साहू, उपाध्यक्ष ईश्वर साहू, कोषाध्यक्ष बाबूलाल निर्मलकर आदि ग्रामीण कलेक्टोरेट पहुंच ज्ञापन सौंप समस्या बताई। जिस पर उन्हें जल्द कार्रवाई करने का भरोसा दिलाया गया। इस संबंध में कुरूद डिप्टी रेंजर पीएल पाण्डेय ने बताया कि सरपंच की सहमति एवं कलेक्टर के आदेश पर सेमरा के पुराना बगीचा क्षेत्र में 4.704 हेक्टेयर में 5174 पौधा तथा नया बगीचा के नदी किनारें व कुछ मैदानी क्षेत्र के10.538  हेक्टेयर में 6 417 पौधों का रोपण किया गया है। 


Date : 20-Aug-2019

भाजयुमो प्रदेश महामंत्री का स्वागत 

कुरूद, 20 अगस्त। भारतीय जनता युवा मोर्चा छत्तीसगढ़ के प्रदेश महामंत्री संजूनारायण ठाकुर का प्रवास सिर्री मंडल के ग्राम बिरेझर में हुआ । जिसका भानु चंद्राकर जिला उपाध्यक्ष भाजपा, सत्यप्रकाश सिन्हा भाजयुमो सिर्री मंडल प्रभारी, अरूण साहू अध्यक्ष युवा मोर्चा,  बालेन्दु ठाकुर महामंत्री सिर्री, मंडल मुकेश साहू, देवेंद्र सिन्हा, हिमांशु साहू , राहुल बांधेकर, दीपेश चंद्राकर, विक्रम बंजारे, अनुराग साहू , प्रताप साहू, गुपेन्द्र साहू, जगमोहन साहू, कुंदन साहू, तुलेश साहू, धनेश साहू, जयनारायण साहू, विजय यादव, त्रिलोचन साहू, भुनेश्वर, पूरण साहू, एवं युवा मोर्चा सिर्री मंडल कें कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया।