छत्तीसगढ़ » धमतरी

Previous12Next
Date : 25-Jun-2019

रानी दुर्गावती की प्रतिमा का अनावरण,आदिवासी समाज ने दी श्रद्धांजलि 

नगरी, 25 जून। नगरी नगर पंचायत के रानी दुर्गावती वार्ड  क्र 06 में दुर्गावती चौक पर   रानी  दुर्गावती  के नवनिर्मित भव्य,आकर्षक आदमकद प्रतिमा का अनावरण किया गया और वीरांगना को भावभीनी श्रद्धांजलि दी गई। आयोजन सर्व आदिवासी समाज द्वारा किया गया था।

सभा को सम्बोधित करते हुए मुख्य अतिथि विधायक डॉ लक्ष्मी ध्रुव ने कहा कि  रानी दुर्गावती  की अदम्य साहस वीरता पराक्रम ने मुगल शासकों को पराजित किया था  वे त्याग,शौर्य, और वीरता के प्रतिमूर्ति थीं। उनके द्वारा प्रजाहित में कई कल्याणकारी कार्य किये गए है।उनके बताए मार्ग पर चलना ही उन्हें सच्ची श्रद्धाजंली होगी । सभा को पूर्व मंत्री माधव सिंह ध्रुव,पूर्व विधायक अम्बिका मरकाम,श्रवण मरकाम,नगर पंचायत अध्यक्ष नंद यादव,पार्षद जीतू विक्की खनूजा सहित अनेक वक्ताओं ने सम्बोधित किया है। ज्ञात हो कि नगर पंचायत के पार्षद संत नेताम ने पार्षद निधि  से 3.50लाख  रुपये तथा  दुर्गावती वार्ड के पार्षद जीतू विक्की खनूजा ने पार्षद निधि से 01 लाख रुपये देकर रानी दुर्गावती की आदमकद प्रतिमा स्थापित करने  में अहम योगदान दिए । इस सभा मे पार्षद जीतू खनूजा ने चौक के सौंदर्यीकरण हेतुपार्षद निधि से 02 लाख रुपये देने की घोषणा की।  वही पार्षद नूतन कुंजाम के द्वारा  सौंदर्यीकरण के लिए पार्षद निधि से1.50लाख रु देने की घोषणा किया गया। 

पार्षद नन्दनी कंचन के द्वारा शहीद गेंद सिंह नायक के मूर्ति स्थापना के लिए पार्षद निधि से 01 लाख रुपये देने की घोषणा की गई।   इस दौरान सभा मे मूर्तिकार विजय घोष का साल श्री फल ,प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया वही मूर्ति स्थापित करने में योगदान देने वाले पार्षद संत नेताम,जीतू खनूजा,नूतन कुंजाम,नन्दनी कंचन,संतोष गंगेश ,समारू राम नेताम का भी साल श्रीफल भेंट कर सम्मानित किया गया।  


Date : 25-Jun-2019

कलेक्टोरेट में ग्रामीणों का प्रदर्शन कहा, 72 साल बाद भी हमें नहीं मानते स्थानीय निवासी 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
धमतरी, 25 जून।
वन ग्रामों में रहने वाले आदिवासी अपनी 9 सूत्रीय मांगों को लेकर सोमवार को कलेक्टोरेट का घेराव किया। वनवासियों ने पुलिस से बोले कि वे अपनी मांगों को लेकर 110 किमी सफर कर कलेक्टोरेट पह़ुंचे है, लेकिन प्रशासन 10 कदम चलकर गेट पर नहीं आ रहा। 55 मिनट बाद अपर कलेक्टर केआर ओगरे आवेदन लेने पहुंचे और वनवासियों की समस्या सून रहे थे।  इसी बीच कलेक्टर रजत बंसल भी पहुंच गए। उनकी गाड़ी को अंदर लाने के लिए भीड़ हटवानी पड़ी। प्रतिनिधि मंडल ने कलेक्टर को अपनी समस्याएं सुनाई। कलेक्टर ने मांगों को लेकर हरसंभव प्रयास करने की बात कही, तो वनवासियों ने 15 दिन के भीतर मांगों पर विचार नहीं करने पर बड़े आंदोलन की चेतावनी दी। 

समिति बोली- वनग्रामों का हाल बेहाल 
वन ग्राम संघर्ष समिति के बैनरतले नगरी सिहावा क्षेत्र के ग्रामीण लंबे समय बाद अपनी समस्या लेकर बड़ी संख्या में कलेक्टोरेट पहुंची थे। अध्यक्ष जगन्नाथ मंडावी, मायाराम नागवंशी, राजाराम मंडावी, माधव सिंह, दिनेश्वरी नेताम, महेंद्र नेताम, चिंताराम वट्टी, मनका राम, भानूराम नेताम ने कहा कि देश को आजाद हुए 72 साल हो गए। वनग्रामों का हाल बेहाल है। आदिवासियों को अपनी छोटी-बड़ी समस्या के लिए भटकना पड़ रहा है। आज भी उन्हें भारत का मूल निवासी नहीं माना जाता। वर्तमान में सबसे ज्यादा दिक्कत रिकार्ड तहसील कार्यालय के कम्प्यूटरों में ऑनलाइन नहीं हुआ है। लोन, नक्शा, खसरा के लिए भी भटकना पड़ता है। समस्याओं को लेकर कई बार शासन प्रशासन स्तर पर आवेदन दे चुकें, लेकिन इस ओर कोई प्रयास नहीं किया गया। 

 


Date : 25-Jun-2019

केपीएस स्कूल में शाला प्रवेशोत्सव 

कुरूद, 25 जून। किरण पब्लिक स्कूल कुरूद में शाला प्रवेशोत्सव मनाया गया।  जिसमें नवप्रवेशी व पूर्व विद्यार्थियों का तिलक और मुंह मीठा कर स्वागत किया गया। साथ ही उन्हे राज्य शासन द्वारा प्रेशित नि: शुल्क पुस्तक का वितरण किया गया।  कार्यक्रम मुख्य अतिथि गोविद मगर ने विद्यार्थियों को सकारात्मक सोच , लगन व धैर्य के साथ नये शिक्षण सत्र में कदम बढ़ाने की बात कही। अध्यक्षता कर रहे गोपाल मगर ने सभी बच्चों को मन लगाकर पढ़ाई में गुणवत्ता परक भाव लाने पर जोर दिया गया। 

संचालन डुगेश निषाद व कमल नारायण साहू आभार प्रदर्शन वरिष्ठ शिक्षक आर.के.खरे ने किया। इस अवसर पर प्राचार्या अंकिता सिंह, मुकेश कश्यप, कमल नारायण साहू , वेदलता सिन्हा, हेमलाल साहू, जमुना देवांगन,, रत्ना मानिकपुरी,,शारदा बंजारे, त्रिलोक साहू ,हु
 

 


Date : 25-Jun-2019

चिटफंड डायरेक्टर के घर से कंपनी का सामान जब्त

छत्तीसगढ़ संवाददाता
धमतरी, 25 जून।
चिटफंड कंपनी महानदी एडवाइजरी सर्विसेज लिमिटेड के निवेशक, अभिकर्ताओं के धरना प्रदर्शन के 5 दिन बाद टीआई उमेंद्र टंडन ने फाइल खोलकर कार्रवाई शुरु कर दी है। पुलिस की टीम कोलियारी स्थित कंपनी के डायरेक्टर कुलेश्वर सोनकर के घर दबिश दी। ताला तोड़कर पुलिस ने चिटफंड का सारा सामान जब्त किया और घर सील कर दिया। 
फरवरी महीने में भी पुलिस टीम ने बस स्टैंड स्थित एक कॉम्प्लेक्स से इसी कंपनी का कुर्सी-टेबल, म्यूजिक सिस्टम सहित अन्य सामान जब्त किया था। टीआई उमेंद्र टंडन ने बताया कि इस कंपनी के 5 आरोपी डायरेक्टर कुलेश्वर सोनकर, यशवंत सोनकर, मयंक सोनकर, हेमंत देवांगन, चित्रसेन साहू को गिरफ्तार करने टीम बाहर जाएगी। पुलिस के अनुसार महानदी एडवायजरी सर्विसेस कंपनी अप्रैल 2010 से कोलियारी में संचालित हो रही थी। बाद में यह कंपनी बस स्टैंड स्थित कुशल काम्पलेक्स में स्थानांतरित हो गई। इसकी शाखा बालोद, रायपुर, बिलासपुर, नगरी, जगदलपुर में भी संचालित थी। हेड आफिस जेपी नगर 7 फेस बैंगलोर (कर्नाटक) में है। प्रदेशभर में इस कंपनी के 7 ब्रांच थे। 10 हजार निवेशकों के 30 करोड़ इसमें फंसे हैं। 

 


Date : 25-Jun-2019

एसपी ने ली थानेदारों की क्लास, कहा- फरियादियों से सम्मानजनक व्यवहार करें, नहीं तो होगी कार्रवाई

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
धमतरी, 25 जून।
एसपी बालाजी राव सोमावार ने अपने दफ्तर में पुलिस के अफसरों और थाना-चौकी प्रभारियों की बैठक ली। उन्होंने जुआ, सट्टा, अवैध शराब के विरुद्ध कठोर कार्रवाई करने का सख्त निर्देश दिया। 

एसपी ने उच्चाधिकारियों से मिले महत्वपूर्ण निर्देशों का पालन करने की समझाइश दी। साथ ही थाने में लंबित मर्ग, शिकायत, संमस, वारंट, स्थायी वारंट के शीघ्र निराकरण एवं तामिली करने का निर्देश दिया। उन्होंने हिदायत देते हुए कहा कि थाना प्रभारी यह बात ध्यान रखें कि थाना में पहुंचने वाले किसी भी आवेदक के साथ दुर्व्यवहार, भ्रष्ट आचरण अथवा धृष्टतापूर्ण आचरण नहीं होना चाहिए। किसी भी थाने से भ्रष्ट आचरण की शिकायत प्राप्त होती है तो संबंधित थाना प्रभारी एवं दोषी स्टाफ के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई की जाएगी। उन्हें विभाग से अलग करने की भी कार्रवाई की जाएगी। अंजोर रथ की भी समीक्षा की गई। एसपी ने अंजोर रथ के माध्यम से आम नागरिकों, ग्रामीणों को शार्ट डॉक्यूमेंट्री फिल्मों के माध्यम से जानकारी देकर जागरूक करने कहा। ग्राम रक्षा समिति, जन मित्र योजना शीघ्र लागू करने के संबंध में बताया। 

 


Date : 24-Jun-2019

विधायक के जन्मदिन पर दो दर्जन से अधिक लोगों ने ​किया रक्तदान 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कुरूद, 24 जून।
वंदेमातरम् परिवार कुरुद एवं प्रथम एजुकेशन फ़ाउन्डेशन के तत्वावधान में पूर्व स्वास्थ्य मंत्री एवं क्षेत्रीय विधायक अजय चन्द्राकर  के जन्मदिन पर रक्तदान शिविर का आयोजनकिया गया। जिसमें दो दर्जन से अधिक लोगों ने रक्तदान कर जरूरतमंदों का जीवन बचाने का संकल्प दोहराया। 

प्रथम एजूकेशन फ़ाउन्डेशन परिसर कुरुद में 24 जुन को आयोजित रक्तदान शिविर में शामिल हुए विधायक अजय चन्द्राकर ने कहा कि रक्तदान महादान है इसके लिए युवा आगे आए। ताकि अमुल्य जीवन बचाया जा सकें। वंदे मातरम परिवार प्रमुख भानू चन्द्राकर ने बताया कि लोकप्रिय विधायक के जन्मदिवस पर प्रतिवर्ष रक्त दान शिविर का आयोजन किया जाता रहा है। इस वर्ष 25 से अधिक युवाओं ने रक्तदान किया है। 

इस अवसर पर जनपद अध्यक्ष पूर्णिमा रामस्वरूप साहू, पूर्व नंप. अध्यक्ष ज्योति चन्द्राकर, पार्षद मुलचंद सिन्हा, बसंत सिन्हा, खिलेन्द्र चन्द्राकर, सत्यप्रकाश सिन्हा, कृष्णकांत साहू, आलोक चन्द्राकर, कमलेश चन्द्राकर, कमल शर्मा आदि उपस्थित थे। 

 


Date : 24-Jun-2019

चर्रा में रेत निकासी का विरोध, चक्काजाम

कुरूद, 24 जून। महानदी के किनारों से रेत का अवैध कारोबार धड़ल्ले से चल रहा है।  जिससे ग्रामीण क्षेत्र की सडक़ों का बुरा हाल है। सांसद आदर्श ग्राम चर्रा के ग्रामीणों ने सोमवार सुबह से ही 20 से 30 हाइवा गाड़ी को रोक दिया। ज्ञात हो कि ग्राम लड़ेर की रेत खदान से निकली हाईवा राष्ट्रीय राजमार्ग पकडऩे कभी चर्रा बायपास तो कभी कुरूद नगर के मेन रोड से होकर गुजरती है। 

ग्रामीणों का कहना है कि ठेकेदार भी अपनी जेब भरने में लगे हंै। बारिश आते ही सडक़े चलने लायक नहीं बची है। बड़े-बड़े गड्ढों के बीच आने-जाने में हो रही परेशानी से तंग आकर चर्रा के ग्रामीणों ने सोमवार सुबह से ही 20 से 30 हाइवा गाड़ी को रोक दिया। घंटे भर सडक़ जाम रहा।चक्काजाम की खबर लगते ही टीआई विपिन लकड़ा ने मौके पर जाकर सरपंच चंद्रिका दुर्जन ध्रुव और ग्रामीणों से बात कर समस्या का हल निकालने की बात कहते हुए जाम खत्म करवाया।

 


Date : 24-Jun-2019

सीएम ने कहां- सरकार पर किसानों का पहला हक, उनकी समस्याओं का हल प्राथमिकता से करेंगे

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
धमतरी, 24 जून।
प्रदेश के संसाधनों और सरकार पर पहला हक यहां के किसानों का है, इसलिए उनकी समस्याओं का निश्चित तौर पर हल प्राथमिकता से होगी। छत्तीसगढ़ ऐसा पहला राज्य है, जहां किसानों के परिश्रम का मर्म समझते हुए 2500 रूपए प्रति क्विंटल के मान से समर्थन मूल्य पर धान खरीदने का निर्णय शासन ने लिया है। उक्त बातें मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार को कुरूद आगमन पर कही। 

मुख्यमंत्री बघेल ने कुरूद के चंद्राकर समाज मंगल भवन में आयोजित चंद्रनाहू कुर्मी क्षत्रिय समाज के 50वें केन्द्रीय महाअधिवेशन में समाजजनों को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार किसानों और जमीन से जुड़े लोगों के हितों की रक्षा करने हरसम्भव प्रयास करेगा तथा इसके लिए कभी संसाधनों की कमी नहीं होगी। उन्होंने वर्तमान खेती पद्धति पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि रासायनिक तत्वों की मदद से खेती करने से जमीन की उर्वराशक्ति का लगातार ह्रास होता जा रहा है, जिसका मानव जीवन पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है। इसी तरह जल संसाधनों के अत्यधिक दोहन से भूजल स्तर में लगातार गिरावट आ रही है, जो गम्भीर चिंता व चिंतन का विषय है। इन्हीं समस्याओं को दृष्टिगत करते हुए छत्तीसगढ़ शासन ने नरवा, गरवा, घुरवा और बाड़ी योजना संचालित की है। इस ड्रीम प्रोजेक्ट का मुख्य उद्देश्य जैविक खेती को पुनर्जीवित कर जल संरक्षण के उपाय करना, गौवंश की रक्षा करते हुए उनके लिए सुनिश्चित स्थान और चारागाह उपलब्ध कराना व उसके गोबर से घुरवा में कम्पोस्ट तैयार करना तथा सब्जीवर्गीय फसलों को बढ़ावा देना है। कुल मिलाकर पूर्वजों की कृषि पद्धति को अपनाकर खेतों, गायों व बाड़ी को संरक्षित करना ही योजना का उद्देश्य है। 

वॉटर रिचार्ज के लिए दिया जोर 
जल संरक्षण के लिए नरवा (नालों) में बंधान, तटबंध के माध्यम से भूजल स्तर को बनाए रखते हुए वॉटर रिचार्ज के लिए प्रयास करने पर जोर दिया, जिससे कि बारहमासी जलस्रोतों में बढ़ोत्तरी हो सके व जल संकट जैसी भयावह स्थिति निर्मित न हो। मुख्यमंत्री ने चंद्रनाहू समाज के लोगों को जमीन से जुड़े कर्तव्यनिष्ठ, परिश्रमी और स्वाभिमानी बताते हुए शासन की योजनाओं को सफल बनाने सहयोग करने की अपील की। साथ ही समाज की विभिन्न मांगों को आने वाले समय में निश्चित तौर पर पूरा करने का आश्वासन भी दिया। 

सरकार और समाज एक-दूसरे के पूरक 
सिहावा विधानसभा क्षेत्र की विधायक डॉ. लक्ष्मी ध्रुव, महासमुंद विधायक विनोद चंद्राकर तथा पंडरिया विधानसभा क्षेत्र की विधायक ममता चंद्राकर ने समाजजनों से कहा कि सरकार और समाज को एक-दूसरे के पूरक हैं। उन्होंने शासन की योजनाओं का लाभ लेने का आह्वान किया। इसके पहले, मुख्यमंत्री का स्वागत छत्तीसगढ़ की पारम्परिक प्रतीक नांगर (हल), कमरा और खुमरी भेंट कर किया गया। कार्यक्रम के अंत में मुख्यमंत्री ने विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट एवं उल्लेखनीय उपलब्धि प्राप्त करने वालों समाज के युवक-युवतियों व छात्र-छात्राओं को प्रशस्ति-पत्र एवं स्मृति चिन्ह भेंट कर उन्हें सम्मानित किया।

 

 


Date : 24-Jun-2019

15 लाख की लागत से 6 महीने में बनी रथ, अब 56 साल बाद नए रथ में सवार होकर श्रद्धालुओं को दर्शन देने निकलेंगे महाप्रभु जगन्नाथ

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
धमतरी, 24 जून।
शहर में रथयात्रा का इतिहास 100 साल से भी पुरानी है। जगदीश मंदिर ट्रस्ट 100 साल से शहर में भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा निकाल रहे है। करीब 44 साल तक बैलगाड़ी में शुरुआत में रथयात्रा निकाली गई। 56 साल पहले भगवान का रथ तैयार कर रथ से नगर भ्रमण कराना शुरु किया गया। इस साल जगन्नाथ की रथयात्रा नए रथ में निकलेगी। 

भगवान जगन्नाथ के साथ बहन सुभद्रा, भाई बलभद्र श्रद्धालुओं को दर्शन देते 4 जुलाई को जनकपुरी जाएंगे। नए रथ की पूजा-पाठ करने पुरी के जगन्नाथ मंदिर के 5 पंडित धमतरी पहुंचेंगे। पूजा विंध्यवासिनी मंदिर स्थित गौशाला परिसर में 29 और 30 जून को होगी। रथ बनाने में कारीगरों को 6 महीने का समय लगा। इसे बनाने में करीब 12 से 15 लाख रुपए खर्च हुए। यह राशि एक दानदाता ने अपने पिता की स्मृति में दान कर रथ का निर्माण करवाया है। 

जानिए... इसलिए बदलना पड़ा पुराना रथ  
जगदीश मंदिर ट्रस्ट ने अनुसार इस साल रथयात्रा को शहर में निकलते 101वें वर्ष पूरे हो जाएंगे। शुरुआत में बैलगाड़ी में रथयात्रा निकलती थी, लेकिन करीब 56 साल से रथ में रथयात्रा निकाली जा रही थी। पर यह रथ पुराने होने के कारण रथयात्रा निकालने से पहले सुधारने के अलावा पेंटिंग में हजारों रुपए खर्च होते थे। रविवार को नए रथ को अर्जुनी से खींचते हुए मंदिर ट्रस्टी के पदाधिकारी और शहर के गणमान्य नागरिक गौशाला मैदान लाए। 

4 को निकलेगी रथयात्रा 
26 जून को सुबह 10.30 बजे भगवान को स्नान कराया जाएगा। 29 जून से 2 जुलाई तक काढ़ा वितरण होगा। 3 जुलाई को भगवान जगन्नाथ की प्राण-प्रतिष्ठा एवं पूजा-अर्चना होगी। 4 जुलाई को मठ मंदिर स्थित जगदीश मंदिर से दोपहर 1.45 बजे रथयात्रा निकाली जाएगी। 

1918 में लाए गए थे विग्रह 
वर्ष 1914 के आसपास भगवान जगन्नाथ व सुभद्रा और बलभद्र की मूर्तियों के हाथ हिलने लगे। मूर्ति खंडित न हो जाए, इसलिए शहर के लक्ष्मण दाऊ, सावतराम खंडेलवाल और पं घासीराम 1918 में नई मूर्ति लेकर आए। इसी समय से रथ में रथयात्रा निकाली जा रही है। 

 


Date : 24-Jun-2019

जिले में कहीं चमकी बुखार की शिकायत नहीं, फिर भी निबटने की पूरी तैयारी

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
धमतरी, 24 जून।
बिहार में चमकी बुखार के प्रकोप से 150 से अधिक बच्चों की मौत से देशभर में हडक़ंप मचा हुआ है। छत्तीसगढ़ में भी स्वास्थ्य विभाग ने अलर्ट जारी कर दिया है। धमतरी जिले का स्वास्थ्य अमला भी अलर्ट पर है। बीमार होकर अस्पताल पहुंचने वाले बच्चों के स्वास्थ्य पर निगाह रखी जा रही है। अभी तक जिले में चमकी बुखार का एक भी मामला सामने नहीं आया है। 

जिला अस्पताल धमतरी समेत कुरूद, नगरी और मगरलोड के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में सर्दी, बुखार व अन्य परेशानी से पीडि़त बच्चों का डॉक्टरों द्वारा उपचार किया जा रहा है। वहीं शहर के निजी अस्पतालों में भी उपचार कराने बच्चों की भीड़ है, लेकिन जिले में कहीं से भी चमकी बुखार की शिकायत अब तक नहीं मिली है। चमकी बुखार से संबंधित एक भी लक्षण उपचार के दौरान डॉक्टरों को नहीं मिला है। बिहार में चमकी बुखार से हुई कई बच्चों की मौत के बाद जिले में भी स्वास्थ्य अमले को सजग किया गया है। गांव-गांव में मितानिन सक्रिय है। उप स्वास्थ्य केन्द्रों में महिला, पुरुष स्वास्थ्य कार्यकर्ता बच्चों में होने वाले विभिन्न प्रकार के बुखार पर नजर रखे हुए हैं। वहीं जिला स्वास्थ्य विभाग द्वारा जून माह से जिले में मलेरिया माह व संक्रामक बीमारियों की जांच स्वास्थ्य विभाग के टीम द्वारा की जा रही है, जहां बच्चों में चमकी बुखार से संबंधित कोई लक्षण सामने नहीं आया है। हालांकि चमकी बुखार से निबटने जिला स्वास्थ्य विभाग ने अपने स्तर पर तैयारी पूरी कर ली है। 

अलग प्रकार की बीमारी है चमकी बुखार 
सीएमएचओ डॉ. डीके तुर्रे ने बताया कि चमकी बुखार अलग प्रकार की बीमारी है, जो हमारे जिले के वातावरण के अनुसार नहीं आ सकता। बस्तर में एक-दो बच्चों में जापानी बुखार के लक्षण देखा गया है। चमकी बुखार आसानी से ठीक हो जाता है। यह बुखार कमजोर व काफी कुपोषित बच्चों के शरीर में होता है। ज्यादातर स्लम एरिया के कमजोर बच्चों के शरीर में इसका इंफेक्शन आसानी से प्रवेश कर जाता है। 

चमकी बुखार के लक्षण है 
डॉ. तुर्रे के मुताबिक छोटे बच्चों को बुखार आने के साथ शरीर में झटका आना। सिर में दर्द होने के साथ उल्टी होना और शरीर शिथिल पडऩे के साथ लकवा जैसी स्थिति निर्मित होना ही चमकी बुखार के लक्षण है, जो जिले के एक भी बच्चों में लक्षण नहीं मिला है। फिर भी विभाग चमकी बुखार को लेकर काफी सजग है। स्वास्थ्य अमला सक्रिय होकर ऐसे बीमारियों पर नजर रखे हुए हैं। जून माह में चल रहे मलेरिया माह व संक्रमण बीमारियों की जांच अब अगस्त माह तक चलेगा, ताकि हर तरह की बीमारी स्वास्थ्य अमला के नजर में रहे। 

 


Date : 24-Jun-2019

नीम, कटहल और नींबू के पौधे रोपकर लिया सुरक्षा का संकल्प

धमतरी, 24 जून। मैत्री विहार कॉलोनी धमतरी में जनजागरण सेवा समिति और नागरिकों ने पौधे लगाए। 19 नीम, दो कटहल, एक नीबू पौधा रोपकर उसकी सुरक्षा का लोगों ने संकल्प लिया। जनजागरण सेवा समिति के सदस्यों ने कहा कि धमतरी ने शहर को हरा भरा बनाने का प्रयास किया जा रहा है। यह प्रयास तब सफल होगा, जब हर घर के सामने एक पौधा लगाएंगे। पौधा लगाने का मन सभी का होता है, लेकिन साथ नहीं होने के कारण हम यह कार्य करने में सफल नहीं हो पाते। इसलिए समिति शहरी वृक्षारोपण अभियान चला रही है। पौधे लगाने के साथ उसकी सुरक्षा के लिए ट्री-गार्ड भी लगाए जा रहे हैं। जैविक खाद और पानी देने की भी व्यवस्था है। मैत्री विहार कॉलोनी में जन जागरण सेवा समिति, ब्रज गोपिका समिति, महापौर अर्चना, पार्षद नेमीचंद जैन, हेमंत रावल, राजू मैथ्यू, विजय अग्रवाल, शीतल सांखला, विकास अग्रवाल, शीतल खंडेलवाल, बजरंग गोयल, मदन गोयल, धनराज लुनिया, मनीष गोठी, संजय मुलवानी, अभय थिटे, इरफान खोखर, जनेन्द्र शर्मा, आकाश कटारिया, कैलाश कुकरेजा, तथा जन जागरण सेवा समिति के अध्यक्ष मितेश जैन ने पौधे लगाए। नन्हें बच्चे कुश अग्रवाल एवं विशिका गोयल ने भी पौधे रोपे। 

 


Date : 24-Jun-2019

6 माह में शिशु को विटामिन-ए, नहीं पिलाया तो अभी पिलाएं, स्वास्थ्य विभाग ने 21 जून से 23 जुलाई तक शिशु संरक्षण माह विटामिन ए अनुपूरक कार्यक्रम का आयोजन किया

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
धमतरी, 24 जून।
बच्चों को कुपोषण से बचाने स्वास्थ्य विभाग ने 21 जून से 23 जुलाई तक शिशु संरक्षण माह विटामिन ए अनुपूरक कार्यक्रम का आयोजन किया है। इसके तहत सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र गुजरा में शिशु संरक्षण माह मनाया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ ग्राम पंचायत गुजरा की सरपंच लीलेश्वरी पटेल ने बच्चों को विटामिन ए की खुराक पिलाकर व आयरन सिरप वितरण कर की। 

खंड चिकित्सा अधिकारी डॉ. वंदना व्यास ने कहा कि विटामिन ए का घोल पिलाने से पहले यह सुनिश्चित कर लें कि तय आयु समूह के बच्चे को पिछले 6 माह के दौरान विटामिन ए पिलाया गया है या नहीं। यदि 6 माह के दौरान शिशु को विटामिन ए नहीं पिलाया गया है, तो उसे सत्र के दौरान विटामिन ए का घोल अवश्य पिलाएं। साथ ही उन्होंने विटामिन ए, आईएफए सिरप पिलाने, बच्चों का वजन लेने, बच्चों की आयु के अनुरूप उन्हें पोषण आहार देने की सलाह दी।  

विटामिन ए आंख, हड्डियों को मजबूत रखता है
डॉ. वंदना व्यास ने कहा ने कहा कि विटामिन ए आंख, त्वचा, हड्डियों को मजबूती प्रदान करता है। बच्चों में निमोनिया व डायरियां से होने वाली मृत्यु को कम करता है। इसे प्रत्येक 6 माह में पिलाया जाता है तथा आयरन सिरप सप्ताह में 2 बार 1 एमएल अतिरिक्त पूरक पोषण आहार के रूप में दिया जाता है। इससे बच्चों के शारीरिक एवं मानसिक विकास में सहायता मिलती है। 

गुजरा सेक्टर में लगाए जाएंगे 350 शिविर  
खंड प्रशिक्षण अधिकारी दशोदा गजपाल ने बताया कि गुजरा सेक्टर के अंतर्गत 234 आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं 418 मितानिनों के सहयोग से 143 ग्राम व 1 नगर पंचायत में 350 शिविर आयोजित किए जाएंगे। शिविर के दौरान 13504 बच्चों को विटामिन ए तथा 20552 बच्चों को आयरन सिरप पिलाने का लक्ष्य रखा गया है। यह अभियान 21 जून से 23 जुलाई तक चलेगा। इस अवधि में प्रत्येक मंगलवार व शुक्रवार को कार्य योजना अनुसार शिविर लगाकर विटामिन ए सिरप, आयरन सिरप व नियमित टीकाकरण किया जाएगा।

 


Date : 23-Jun-2019

 

डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि पर भाजपाईयों ने किया याद
छत्तीसगढ़ संवाददाता
कुरूद, 23 जून।
जनसंघ के संस्थापक डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि पर उनकी आदमकद प्रतिमा पर माल्यार्पण कर भाजपाईयों ने बलिदान दिवस के रूप में मनाया। 

कुरूद पुराना बाजार चौक में भाजपाइयों ने डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की प्रतिमा पर पुष्पाजंलि अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। इस मौके पर भाजपा प्रदेश मंत्री निरंजन सिन्हा ने बताया कि विषम परिस्थितियों में भी डॉ. मुखर्जी ने कश्मीर जाकर दो निशान, दो प्रधान और दो विधान के खिलाफ  आवाज उठाई थी। 

भाजपा जिला उपाध्यक्ष भानू चंद्राकर ने डॉ. मुखर्जी की राष्ट्रवादी सोच पर प्रकाश डाला। 
नपं अध्यक्ष रविकांत चंद्राकर ने डॉ. मुखर्जी के जीवन से जुड़ी घटनाओं का उल्लेख किया। पूर्व नपं अध्यक्ष ज्योति चंद्राकर ने कहा कि डॉ. मुखर्जी ने जनसंघ रूपी जो पौधा रोपा था वह आज भाजपा रूपी विशाल वटवृक्ष का रूप धर चुका है। 

इस अवसर पर प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य शिवप्रताप ठाकुर,मंडल अध्यक्ष तिलोकचंद जैन, मोहन अग्रवाल, कृष्णकांत साहू, सोहन आमदे, लोकेश्वर ग्वाल, सुनील चंद्राकर,  गोरख देवांगन, कमलेश चंद्राकर आदि उपस्थित थे।

 


Date : 23-Jun-2019

कुरूद एसडीएम बंजारे बने धमतरी डिप्टी कलेक्टर

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कुरूद, 23 जून।
कुरूद अनुविभागीय अधिकारी राजस्व डीसी बंजारे को धमतरी डिप्टी कलेक्टर के पद पर पदस्थ किया गया है। उनकी जगह नगरी के एसडीएम जितेन्द्र कुर्रे को कुरूद एसडीएम बनाया गया है। 

गौरतलब है कि एसडीएम प्रेम पटेल का 22 फरवरी 2019 को दंतेवाड़ा तबादला हो गया था। उनकी जगह भोपालपटनम (बीजापुर) के अनुविभागीय अधिकारी डीसी बंजारे ने 2 मार्च 2019 को कुरूद एसडीएम के रूप में चार्ज लिया था। शांतिपूर्ण ढंग से लोकसभा चुनाव सम्पन्न करानें एवं पुराने मामलों के निराकरण में अहम भूमिका निभाने वाले अधिकारी को जिला मुख्यालय में वापस बुला लिया गया है। 


Date : 23-Jun-2019

माता-पिता का साया सिर से उठने के बाद 12 साल की उम्र में बंदूक थाम मेसी से बन गई नक्सली सीमा मंडावी

छत्तीसगढ़ संवाददाता
धमतरी, 23 जून।
माता-पिता का साया सिर से उठने के बाद 12 साल की मेसी घर छोड़कर जंगल चली गई। नक्सलियों से मुलाकात होने के बाद उसने बंदूक थाम ली। गांव की भोलीभाली किशोरी आगे चलकर कुख्यात नक्सली सीमा मंडावी बन गई। घर-परिवार से दूर रहकर लगातार नक्सली संगठन के लिए काम करते हुए अपराध की दुनिया में जाने के बाद परिजनों से वह कभी दोबारा नहीं मिली। स्थिति ऐसी बनी कि मौत के बाद उसकी लाश परिजन नहीं देख पाए। जब तक परिजन धमतरी पहुंचे, उसके पहले ही लाश का अंतिम संस्कार हो चुका था। 

18 जून को मुठभेड़ में मारी गई थी सीमा 
एसटीएफ और डीआइजी की संयुक्त टीम के साथ 18 जून को बोराई थाना क्षेत्र के ग्राम कट्टीगांव-सिंघनपुर में नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ में सीतानदी एरिया कमेटी की सचिव नक्सली सीमा मंडावी ढेर हो गई। शव के पोस्टमार्टम के बाद अंतिम संस्कार के लिए शव ले जाने पुलिस को परिजनों का इंतजार था। तीन दिनों के इंतजार के बाद भी परिजन नहीं पहुंचे, तब जिला पुलिस ने शव का अंतिम संस्कार स्वर्गधाम सेवा समिति के माध्यम से करवा दिया। 

अंतिम संस्कार के दो दिन बाद परिजन पहुंचे धमतरी 
अंतिम संस्कार होने के 2 दिन बाद नक्सली सीमा मंडावी के परिजन महाराष्ट्र के गढ़चिरौली जिला के आलेवारा थाना क्षेत्र के ग्राम बुरगी से पहुंचे। मृत नक्सली के भतीजे संजय नरोटी, दशरू टुक्का, माधव बेड़दा, मधुकर बेड़दा, बसु लेकामी जब शव लेने धमतरी पहुंचे, तो पुलिस दंग रह गई। परिजनों को पुलिस ने नक्सली सीमा मंडावी के अंतिम संस्कार होने की जानकारी दी। इसके बाद पुलिस के साथ सभी परिजन उस स्थल पर गये, जहां नक्सली का शव दफनाया गया था। अपने रीति-रिवाज के अनुसार परिजनों ने श्रद्धांजलि दी। परिजनों ने कहा कि शव ले जाने के लिए आने में इसलिए देर हुई क्योंकि वहां की पुलिस ने उन्हें देर से जानकारी दी। जिस दिन दाह संस्कार किया गया, उसी दिन सूचना मिली। 
सीमा मंडावी ऐसे 
बनी नक्सली
मुठभेड़ में ढेर नक्सली सीमा मंडावी के भतीजे संजय नरोटी ने बताया कि रिश्ते में सीमा मंडावी उनकी मौसी लगती है। वह गढ़चिरौली क्षेत्र के ग्राम बुरगी में अपने मां-पिता के साथ रहती थी। बचपन में सीमा मंडावी का नाम मेसी रूसी बेड़दा था। वह वनांचल की सामान्य बालिकाओं की तरह ही रहती थी। वह गांव की भोलीभाली लड़की थी। बचपन में उसके माता-पिता की मौत हो गई। गांव में गुजर बसर करने में जब 12 साल की मेसी को कठिनाई महसूस होने लगी, तो वह अन्य रिश्तेदारों को बिना कुछ बताए अपने घर से निकल गई। परिजनों ने उसे ढूंढने कोशिश की, लेकिन वह कहीं नहीं मिली। इसी बीच वह नक्सलियों के संपर्क में आई और नक्सली संगठन में शामिल हो गई। बपचन में एक बार लापता होने के बाद वह कभी दोबारा गांव नहीं आई। सालों बाद मेसी की जानकारी जब गांव पहुंची, तब तक वह मर चुकी थी। मेसी का नाम बदलकर कुख्यात नक्सली सीमा मंडावी हो चुका था। 


Date : 23-Jun-2019

धमतरी में मानसून की दस्तक, गंगरेल, दुधावा, मुरुमसिल्ली और सोंढूर बांध में पानी की आवक शुरू  

छत्तीसगढ़ संवाददाता
धमतरी, 23 जून।
तेज गर्जना और झमाझम बारिश के साथ जिले में मानसून ने दस्तक दे दी है। कुछ घंटों की बारिश से शहर व गांव में चहुंओर पानी-पानी हो गया है। मानसून की पहली बारिश के साथ ही जिले के चारों बांधों में पानी की आवक भी शुरू हो गई है। बारिश होती रही तो बांधों की सेहत में जल्द ही सुधार आने की संभावना है। मानसून आने के साथ लोगों ने भीषण गर्मी और भारी उमस से राहत ली है। खेत-खलिहानों में पानी भरने के बाद खेती-किसानी के कार्यों में भी तेजी आने लगी है। 

22 जून की सुबह अंचल में तेज गर्जना और झमाझम बारिश के साथ मानसून ने दस्तक दी है। अच्छी बारिश होने से शहर व ग्रामीण अंचल में चहुंओर पानी-पानी नजर आ रहा है। 

खेत-खलिहान, मैदान, खाली पड़े जमीन व सड़क किनारे पानी भर गया है। शहर के निचली बस्तियां बांसपारा, नयापारा, रेलवे स्टेशन, बनियापारा वार्ड समेत कई वार्डों की गलियां पानी से भरा रहा। वहीं शहर के मिशन ग्राउंड, एकलव्य खेल मैदान, बाम्बे गैरेजे के सामने संचालित शासकीय स्कूल परिसर, रूद्री रोड स्थित शराब दुकान, कलेक्टोरेट परिसर में पानी भर हुआ है। 

गलियों में नालियों के माध्यम से बरसाती पानी के निकासी के बाद लोगों की आवाजाही शुरू हुई। ग्रामीण अंचल के खेत-खलिहान, डबरा, सड़क किनारे गड्ढों व मैदानों में पानी भर गया है। खेतों में पानी भरने के साथ खेती-किसानी के कार्यों में तेजी आएगी। किसान-मजदूर खरीफ की तैयारी में जुट गए है। 

अब तक 195.6 मिमी औसत वर्षा 
मानसून आने में भले ही लेटलतीफ हुई, लेकिन झमाझम बारिश और भारी गर्जना के साथ दस्तक दी। पिछले साल की तुलना में इस साल एक जून से अब तक अधिक बारिश हो चुकी है। 

जिले में 195.6 मिमी औसत वर्षा दर्ज की जा चुकी है। पिछले साल एक जून से 22 जून तक 122.5 मिमी औसत वर्षा हुई थी। इस साल 73.1 मिमी औसत वर्षा से अधिक हुई है। अब तक धमतरी तहसील में सबसे अधिक 286.7 मिमी वर्षा हो चुकी है। कुरूद में 165.4 मिमी, मगरलोड में 143.4 मिमी और नगरी में सबसे कम 137.4 मिमी बारिश दर्ज की गई है। 

24 घंटे में 84.5 मिमी बारिश 
पिछले 24 घंटे में धमतरी जिले में 84.5 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है। सबसे ज्यादा वर्षा नगरी तहसील में 95.5 मिलीमीटर और सबसे कम कुरूद तहसील में 74.6 मिलीमीटर वर्षा रिकॉर्ड की गई, जबकि धमतरी तहसील में 85.8 मिलीमीटर तथा मगरलोड तहसील में 82 मिलीमीटर वर्षा आंकी गई है। 

बांधों में पानी की आवक
मानसून के दस्तक देने के साथ ही भारी बारिश हुई। मानसून की पहली बारिश से ही जिले के चारों बांधों में कैचमेंट एरिया से पानी की आवक शुरू हो गई है। गंगरेल बांध में 1178 क्यूसेक प्रति सेकंड की रफ्तार से पानी आ रहा है। मुरूमसिल्ली बांध में 405 क्यूसेक पानी, दुधावा बांध में 140 और सोंढूर बांध में 747 क्यूसेक पानी आ रहा है।


Date : 23-Jun-2019

सिंधु शक्ति महिला संगठन एवं पंचायत महिला विंग द्वारा सजने-संवरने और स्वस्थ रहने का एक दिवसीय ब्यूटीशियन सेमिनार का आयोजन

धमतरी, 23 जून। सिंधु शक्ति महिला संगठन एवं छत्तीसगढ़ सिंधी पंचायत महिला विंग धमतरी द्वारा एक दिवसीय ब्यूटीशियन सेमिनार का आयोजन किया गया। प्रियंका मोटवानी ने स्वस्थ और सुंदर बनने के तरीके बताए।  प्रियंका ने बताया कि घर से बाहर निकलते वक्त अपने चेहरे पर किस चीज का इस्तेमाल करना चाहिए। किस तरह से अपने आप को स्वस्थ और सुंदर बना सकते हैं। यदि घर से बाहर पार्टी में भी जाते हैं या सामान्य रूप से कहीं घूमने भी जाते हैं, तो किस तरह से मेकअप किया जाता है। उन्होंने मेकअप का तरीका बताया। शरीर को स्वस्थ रखने वाली चीजों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। छत्तीसगढ़ पंचायत की महासचिव पार्वती वाधवानी ने धन्यवाद व्यक्त किया और कहा कि हमारी समाज में महिलाओं में बहुत हुनर है लेकिन उसका इस्तेमाल किस तरह से किया जाना चाहिए, इस बात की जानकारी नहीं है। प्रिया मोटवानी ने प्रैक्टिकल करके दिखाया तथा बहुत कम समय में किस तरह से सजना चाहिए और किस तरह से मेकअप करना चाहिए। दुल्हन कैसे बनते हैं, यह सारी जानकारी दी। कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ सिंधी पंचायत महिला विंग की जिलाध्यक्ष प्रिया पंजवानी, रोमा राहुजा, शारदा चावला, मोना वाधवानी, किरण ग्वालानी, हेमा वाधवानी, सरल डोडवानी सहित अन्य लोग उपस्थित थे।


Date : 22-Jun-2019

सीएमएचओ ने कहा- स्वच्छता से ही बचाव संभव

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
धमतरी, 22 जून।
बिहार और गोरखपुर में फैले चमकी बुखार से हो रही मौतों को लेकर जिले का स्वास्थ्य विभाग अलर्ट हो गया है। हालांकि जिले में अब तक एक भी केस सामने नहीं आया है, लेकिन विभाग के अधिकारियों को केवल इस बात को लेकर चिंता है कि यदि कोई ऐसा केस आ गया, तत्काल इलाज किया जा सके। सीएमएचओ डॉ. डीके तुर्रे ने बताया कि यह बुखार उन बच्चों को अपनी चपेट में ले रहा है, जो गंदगी के कारण कुपोषण के शिकार है। ऐसे बच्चों में बीमारी से लडऩे की ताकत कम हो जाती है। इसलिए छोटी बीमारी भी ऐसे बच्चे के लिए घातक बन जाती है। उन्होंने बताया कि जिले में फिलहाल ऐसा कोई केस नहीं आया है।

क्या है च्चमकी बुखारज् के लक्षण
स्वास्थ्य विभाग के अनुसार यह एक संक्रामक बीमारी है। इस बीमारी के वायरस शरीर में पहुंचते ही खून में शामिल होकर अपना प्रजनन शुरू कर देते हैं। शरीर में इस वायरस की संख्या बढऩे पर ये खून के साथ मिलकर व्यक्ति के मस्तिष्क तक पहुंच जाते हैं। मस्तिष्क में पहुंचने पर वायरस कोशिकाओं में सूजन पैदा कर देते हैं, जिसकी वजह से शरीर का च्सेंट्रल नर्वस सिस्टमज् खराब हो जाता है। चमकी बुखार में बच्चे को लगातार तेज बुखार चढ़ा रहता है। बदन में ऐंठन के साथ बच्चा अपने दांत पर दांत चढ़ाए रहता है। शरीर में कमजोरी की वजह से बच्चा बार-बार बेहोश होता है। शरीर में कंपन के साथ बार-बार झटके लगते रहते हैं। यहां तक कि शरीर भी सुन्न हो जाता है। 

 


Date : 22-Jun-2019

सीएम ने किया मोबाइल एप का शुभारंभ

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
धमतरी, 22 जून।
जिले के सभी पशुपालकों का पंजीयन अब सरलता के साथ मोबाइल एप में संकलित होगी। इस एप के जरिए पशुओं से संबंधित बीमारी, समस्या, उपचार तथा विभाग की अद्यतन जानकारियां सीधे पशुपालकों को मिलेगी। प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 7 जून को धमतरी प्रवास के दौरान ‘धमतरी गौठान-पशु मितान‘ नामक एप का शुभारंभ किया। उन्होंने जिले के पशुपालकों को इसकी बधाई देते हुए कहा कि सुराजी गांव योजनांतर्गत प्रदेश का सर्वाधिक महत्वाकांक्षी अभियान नरवा, गरूवा, घुरवा, बाड़ी की यह महत्वपूर्ण कड़ी है। इस हाइटेक सेवा से पशुधन विकास के क्षेत्र में क्रांतिकारी परिवर्तन आएगा। 

एप के माध्यम से मिलेगी पूरी जानकारी 
उक्त एप के माध्यम से प्रत्येक पशुपालक की एक विशिष्ट पहचान संख्या (आईडी नंबर) होगी। कलेक्टर रजत बंसल के निर्देशानुसार पशुधन विकास विभाग तथा एनआईसी के सहयोग से इस एप को तैयार किया गया है। डीआईओ उपेन्द्र सिंह चंदेल ने बताया कि एप में दर्ज की जाने वाली सभी जानकारी पशुधन विकास विभाग को उपलब्ध हो जाएगी। इसके जरिए पशुपालक अपने पालित पशुओं में होने वाली बीमारियों, बीमारी के लक्षण के अलावा इसके समुचित उपचार व सावधानी के बारे में भी अवगत हो सकेंगे। पशुओं को लगने वाले टीके और उनकी आवश्यकताओं के बारे में विभाग को जानकारी भेजी जा सकती है। गाय के कृत्रिम गर्भाधान, गर्भ परीक्षण, वत्सोत्पादन, बधियाकरण, टीकाकरण की समस्त प्रक्रिया व रिपोर्टिंग आसानी से की जा सकेगी और इस दौरान लिए जाने वाले फॉलोअप व आवश्यकतानुसार उपचार करने भी आसानी होगी।

हर पशु को टैग नंबर
डीआईओ ने एप के फंक्शन के बारे में बताया कि इसमें प्रत्येक पशु को टैग नंबर अलॉट किया जाएगा, जो कि भारत सरकार के लाइवस्टॉक सेन्सस के अनुरूप होगा।
इसके माध्यम से कृत्रिम गर्भाधान में प्रयुक्त होने वाले बुल सीमेन की आईडी को भी संकलित किया जा सकता है, जिसके जरिए होने वाले वत्सोत्पादन को मॉनिटर किया जा सके। अब जिले के पशुपालक इस मोबाइल एप के जरिए न सिर्फ तकनीकी रूप से विकसित होंगे, बल्कि अब उन्हें सभी आवश्यक व वांछित जानकारियां एक क्लिक से मिल जाएंगी। 

 

 


Date : 22-Jun-2019

29 को शहर में मनाया जाएगा प्राकट्य दिवस

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
धमतरी, 22 जून।
सनातनधर्मियों को अपनी संस्कृति से मजबूती से जोड़े रखने के लिए धर्मपीठ परिषद, आदित्य वाहिनी और आनंद वाहिनी के सदस्य द्वारा धर्म महासभा का आयोजन 29 व 30 जून को शहर में किया गया है। इस कार्यक्रम को प्राकट्य दिवस के रूप में मनाया जाएगा। इसके लिए सदस्य गांव-गांव व शहर में लोगों से संपर्क कर प्राकट्य दिवस की जानकारी दे रहे हैं। इसके तहत 20 जून को ग्राम कुर्रा में योगेश गांधी और लक्की डागा ने कार्यक्रम की जानकारी ग्रामीणों को दी। इसके बाद ग्राम खपरी और तेलीनसत्ती पहुंचे। उन्होंने बताया कि जिले के सभी गांवों का भ्रमण कर हिंदू धर्मावलंबियों को प्राकट्य दिवस की महिमा से परिचित कराएंगे और सभा में आने के लिए आमंत्रित करेंगे। इस कार्य में राज मानस संघ के सदस्य भी 35 शक्तिपीठों में प्रचार प्रसार कर रहे हैं। प्राकट्य दिवस के माध्यम से जगतगुरू शंकराचार्य निश्चलानंद स्वामी महाराज का 75 वां जन्मोत्सव मनाया जाएगा। इस पावन बेला में विभिन्न धार्मिक अनुष्ठान भी होंगे। तैयारी में पं राजेश शर्मा, शिवदत्त उपाध्याय, शिवनारायण छांटा, योगेश गांधी, विजय साहू, दिलीप पटेल, सन्नी मिश्रा, लक्की डागा, आशीष थिटे आदि जुटे हैं।

3 दिनों तक होंगे धार्मिक कार्यक्रम
संघ के सदस्यों ने बताया कि जगद्गुरु शंकराचार्य निश्चलानंद महाराज 28 जून को धमतरी पहुंचेंगे। इस दौरान उनका जोशीला स्वागत किया जाएगा। 29 जून को पादुका पूजन, दीक्षा, विचार गोष्ठी, धर्म, आध्यात्म और राष्ट्र से जुड़े मुद्दों पर सवाल-जवाब व प्रवचन होगा। प्रवचन बाद रुद्राभिषेक और दिव्य सत्संग समारोह का भी आयोजन होगा। 30 जून को वैदिक विद्वानों द्वारा पूजन, आराधना, सामूहिक रुद्राभिषेक, सुख, शांति, समृद्धि और जनकल्याण के लिए किया जाएगा। इसके बाद स्वामी महाराज धर्म उपदेश देंगे। कार्यक्रम पुरानी कृषि उपज मंडी में होगा। 

आर्थिक सहायता राशि स्वीकृत  
बेमेतरा, 22 जून। राजस्व पुस्तक परिपत्र आर.बी.सी. 6-4 के तहत कलेक्टर  महादेव कावरे द्वारा एक जरूरतमंद परिवारों को 4 लाख रूपए की आर्थिक सहायता राशि स्वीकृत की गई है। संयुक्त जिला कार्यालय के राजस्व शाखा से प्राप्त जानकारी के अनुसार एक प्रकरण आग में जलने से - ग्राम चारभांठा विकासखण्ड बेमेतरा निवासी सागरबाई टंडन  आग में जलने से मृत्यु होने पर परिजन तिरथ नारायण को 4 लाख रूपए की आर्थिक सहायता राशि स्वीकृत की गई है। 

 

 


Previous12Next