इतिहास

आज का इतिहास 27 मई
आज का इतिहास 27 मई
27-May-2019

27 मई 1964 को स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने आखिरी सांस ली. नेहरू को आधुनिक भारत का निर्माता माना जाता है.
जवाहरलाल नेहरू का निधन अचानक ही हुआ. नेहरू पहाड़ों पर छुट्टियां बिता कर लौटे थे. नई दिल्ली में उन्हें सुबह सीने में दर्द की शिकायत हुई. डॉक्टरों की तमाम कोशिशों के बावजूद उन्हें नहीं बचाया जा सका. निधन के वक्त नेहरू की बेटी इंदिरा गांधी सिराहने पर मौजूद थी. नेहरू के निधन की जानकारी केंद्रीय मंत्री सी सुब्रमणियम ने सार्वजनिक की. राज्य सभा में रुआंसे गले से उन्होंने कहा, "प्रकाश नहीं रहा."भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के धुर आलोचक भी इस बात को स्वीकार करते हैं कि वे महान लोकतांत्रिक मूल्यों वाले नेता थे. नेहरू ने तमाम मुश्किलें उठाकर धर्मनिरपेक्ष ढांचे की नींव रखी और उसकी पूरी शक्ति से हिफाजत भी की. संसद में आलोचना करने वालों की भी वो पीठ थपाया करते थे.नेहरू के करिश्माई नेतृत्व के कायल दुनिया भर के कई नेता रहे. इन्हीं में से एक थे सोवियत संघ के पूर्व राष्ट्रपति मिखाइल गोर्बाचोव. गोर्बाचोव जब छात्र थे, तब वो कॉलेज बंक कर नेहरू का भाषण सुनने गए. मिखाइल गोर्बाचोव ने ही पूर्वी और पश्चिमी जर्मनी के एकीकरण में निर्णायक भूमिका निभाई.अमेरिका और सोवियत संघ के बीच छिड़े शीत युद्ध के कारण नेहरू ने गुट निरपेक्ष आंदोलन की भी शुरुआत की. वो चाहते थे कि दुनिया लोकतांत्रिक रहे, दो ध्रुवों में न बंट जाए. नेहरू के कार्यकाल में भारत में अच्छी शिक्षा वाले कॉलेज खुले. गांवों और कस्बों के विकास में स्थानीय अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए पॉलीटेक्निक, आईआईटी और आईआईएम जैसे कॉलेज खोले गए.

कई विश्लेषकों के मुताबिक नेहरू ने वह कर दिखाया जो पाकिस्तान में मोहम्मद अली जिन्ना नहीं कर सके. नेहरू ने भारत को किसी दूसरे देश पर निर्भर होने के बजाए अपने पैरों पर खड़े होने का आत्मविश्वास दिया.

  • 1796- पियानो के लिए पहला अमेरिकी पेटेन्ट जेम्स सिलवैनस मैक्लीन को जारी किया गया।
  • 1924-ऐडिसन ने क्लोरीनयुक्त रबर बनाने का तरीका पेटेन्ट कराया।
  • 1994 - नोबेल साहित्य पुरस्कार विजेता रूसी लेखक एलेक्ज़ेंडर सोल्केनित्सिन पश्चिम में 20 वर्ष का निर्वासन समाप्त कर स्वदेश लौटे।
  • 1999 - बोत्सवाना की सुन्दरी पुले क्वेलागोव वर्ष 1999 की मिस यूनिवर्स चुनी गयीं, विश्व का सबसे बड़ा पर्यावरण पुरस्कार (सोफी पुरस्कार) डरमन हेली (सं.रा. अमेरिका) तथा थॉमस केयरी (भारत) को प्रदान किया गया, सर्विया के राष्ट्रपति स्लोबोदान मिलोसेविच अंतर्राष्ट्रीय न्यायाधिकरण द्वारा युद्ध अपराधी घोषित।
  • 2000 - फिजी में महेन्द्र चौधरी सरकार बर्खास्त, राष्ट्रपति मारा ने प्रशासन सम्भाला।
  • 2002 - नेपाल के प्रधानमंत्री देउबा को 3 साल के लिए पार्टी से निकाला गया।
  • 2005 - दक्षिण अफ्रीका की राजधानी प्रिटोरिया का नाम बदलकर श्वाने करने का निर्णय लिया गया।
  • 2006 - इंडोनेशिया में आये विनाशकारी भूकम्प में कम से कम 2900 लोग मारे गये और हज़ारों लोग घायल हुए।
  • 2008 - केन्द्र सरकार ने सीमेंट निर्यात पर लगाए गए प्रतिबंध को वापस लिया।
  • 2010- भारत ने ओडिशा के चांदीपुर में बालसोरा जि़ले में परमाणु तकनीक से लैस धनुष और पृथ्वी 2 मिसाइल का सफल परीक्षण किया। पृथ्वी 2 मिसाइल धरती से धरती पर मारक क्षमता वाली बेलिस्टिक मिसाइल है जिसकी रेंज 350 किमी है। जबकि धनुष पृथ्वी मिसाइल का नौसेना संस्करण है।
  • 1894 - ख्यातिप्राप्त आलोचक तथा निबंधकार पदुमलाल पुन्नालाल बख्शी का जन्म हुआ। 
  • 1964 - भारतीय स्वतन्त्रता संग्राम के महान सेनानी एवं स्वतंत्र भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू का निधन हुआ। 
  • 1983 -भारतीय राजनीतिज्ञ और पूर्व लोकसभा अध्यक्ष  सरदार हुकम सिंह का निधन हुआ। 
  • 1887 -पॉलिश अमेरिकी रसायनज्ञ कासिमिर फैजान का जन्म हुआ, जिन्होंने ब्रिटेन के फ्रेड्रिक सोडी के साथ रेडियोऐक्टिव विस्थापन नियम प्रतिपादित किया। नियम के अनुसार जब एक रेडियोऐक्टिव धातु का विखण्डन होता है तो उसका परमाणु भार दो संख्या कम हो जाता है। (निधन-18 मई 1975)
  • 1907 -अमेरिकी जीव विज्ञानी रैचेल लुइस कार्सन का जन्म हुआ, जिन्होंने पर्यावरण प्रदूषण और समुद्र के प्राकृतिक इतिहास पर बहुत से लेख लिखे। उन्होंने अपनी पुस्तक साइलेन्ट स्प्रिंग (1962) में कीटनाशकों के अधिक प्रयोग के प्रभावों को बताया और लोगों को जागरुक करने की अपील की। (निधन-14 अप्रैल 1964)
  • 1910 - जर्मन चिकित्सक हेनरिक हर्मन रॉबर्ट कोच का निधन हुआ,  जो जीवाणुविज्ञान के संस्थापक माने जाते हैं। उन्होंने क्षय रोग तथा हैजा के जीवाणुओं की खोज की।   (जन्म-11 दिसम्बर 1843)
  • 1988-जर्मन इलेक्ट्रिक इंजीनियर अर्नस्ट आगस्ट फ्रेड्रिक रुस्का का जन्म हुआ, जिन्होंने इलेक्ट्रॉन सूक्षमदर्शी का आविष्कार किया। (जन्म-25 दिसम्बर 1906)।

अन्य खबरें

Comments