इतिहास

इतिहास में 3 सितंबर
03-Sep-2020 11:20 AM 8
इतिहास में 3 सितंबर
  •  
  •  1658 -ब्रिटेन के राजनीतिज्ञ एवं प्रथम राष्ट्रपति  ओलिवर क्रामवेल का निधन हुआ।  उन्होंने ब्रिटेन में राजशाही व्यवस्था को भंग कर दिया।  वे आधिकारिक रूप से 1653 में ब्रिटेन के शासक बने जबकि 1649 से अनौपचारिक रूप से ब्रिटेन की सत्ता उनके हाथों में थी।  ओलिवर क्रामवेल ने कुल मिलाकर 9 वर्षों तक ब्रिटेन पर शासन किया। 
  •  1976 -मानवरहित अंतरिक्षयान वाइकिंग-2 मंगल ग्रह पर उतरा, तथा पहली बार मंगल की तस्वीर खींची। 
  •  1998 - नेल्सन मंडेला द्वारा गुट निरपेक्ष आंदोलन शिखर सम्मेलन में कश्मीर का मुद्दा उठाये जाने पर प्रधानमंत्री अटलबिहारी वाजपेयी ने कड़ी आपत्ति व्यक्त की।
  •  2000- नासा की डाटा रिपोर्ट में सबसे बड़ा ओज़ोन छिद्र पाया गया।
  •  2003 - पाकिस्तान सरकार द्वारा पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो पर देशद्रोह का मुकदमा चलाने का निर्णय।
  •   2006 - यूरोप का पहला त्रिवर्षीय चंद्र मिशन समाप्त। भारतीय मूल के भरत जगदेव ने गुयाना के राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली।
  •   2007 - चीन के झिंगजियांग प्रान्त में चीनी व जर्मन विशेषज्ञों ने लगभग 16 करोड़ साल पुराने जीव के 17 दांत खोजने का दावा किया। बांग्लादेश की पूर्व प्रधानमंत्री ख़ालिदा जिया और उनके सबसे छोटे पुत्र अराफ़ात रहमान कोको को भ्रष्टाचार के आरोप में गिरफ़्तार किया गया।
  •  2008- राजेन्द्र कुमार पचौरी को संयुक्त राष्ट्र की संस्था जलवायु परिवर्तन के अंतर सरकारी पैनल (आईपीसीसी) का पुन: प्रमुख चुना गया।
  •  1940 -  हिंदी सिनेमा की प्रसिद्ध संगीतकार जोड़ी लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल में से एक प्यारेलाल का जन्म हुआ। 
  •  1923 - सुप्रसिद्ध तबला वादक किशन महाराज का जन्म हुआ। 
  •  1905 - अमेरिकन भौतिकशास्त्री कार्ल डेविड एन्डरसन का जन्म हुआ, जिन्होंने ऑस्ट्रिया के विक्टर फ्रान्सिस हेस्स के साथ पॉज़ीट्रॉन की खोज की जिसके लिए उन्हें वर्ष 1936 का नोबेल पुरस्कार प्रदान किया गया। (निधन-11 जनवरी 1991)
  •  1883-अमेरिकी भौतिकविद्  हैरॉल्ड डी फॉरेस्ट अरनॉल्ड का जन्म हुआ, जिनके अनुसंधान ने लंबी दूरी की टेलीफोनी विकसित करने में योगदान दिया। (निधन-10 जुलाई 1933)
  •   1992- अमेरिकी वैज्ञानिक  बारबरा मैकक्लिंटॉक का निधन हुआ, जो आनुवांशिकी पर कार्य करने वाले प्रारम्भिक वैज्ञानिकों में एक जानी जाती हैं। वर्ष 1940 से 1950 के दरम्यान उन्होंने मक्के पर काम किया और पता लगाया कि जीन स्थानांतरित हो सकते हैं।  (जन्म 16 जून 1902) 
  •  1860-जर्मन शरीर क्रिया विज्ञानी और चिकित्सक  मार्टिन हेनरिक रैथके का निधन हुआ,जो आधुनिक भ्रूणविज्ञान के संस्थापकों में माने जाते हैं। उन्होंने भ्रूण की अवस्था में पीयूष ग्रन्थि की उत्पत्ति का स्थान बताया। इसके अलावा उन्होंने समुद्र-जन्तुविज्ञान में भी अग्रणी कार्य किया। (जन्म 25 अगस्त 1793) 
     

अन्य पोस्ट

Comments