इतिहास

इतिहास में 3 दिसंबर
03-Dec-2021 9:51 AM (84)
इतिहास में 3 दिसंबर
  • 1469-इटली के विख्यात राजनेता और इतिहासकार निकोलो मैक्यावेले का फ़लोरेन्स नगर में जन्म हुआ।
  • 1851-पेरिस की जनता ने नेपोलियन बोनापार्ट के भतीजे लुईस नेपोलियन के विरुद्ध आंदोलन आरंभ किया।
  • 1984-भोपाल नगर में अमरीकी केमिकल फैक्ट्री युनियन कार्बाइड से गैस के रिसाव के परिणाम स्वरुप भयानक त्रास्दी हुई। कंपनी के अधिकारियों की ओर से साधानी के नियमों की अनदेखी कारण के होने वाली इस त्रास्दी में कम से कम ढाई हज़ार लोग मारे गए और दसियों हज़ार लोग बीमार हो गए
  • 1796 - बाजी राव द्वितीय को मराठा साम्राज्य का पेशवा बनाया गया। वे मराठा साम्राज्य के अंतिम पेशवा थे।
  • 1829 - वायसराय लॉर्ड विलियम बैंटिक ने भारत में सती प्रथा पर रोक लगायी।
  • 1959 - भारत और नेपाल ने गंडक सिंचाई और विद्युत परियोजना के समझौते पर हस्ताक्षर किए।
  • 1967 - भारत का पहला रॉकेट (रोहिणी आर एच 75) को थुम्बा से प्रक्षेपित किया गया।
  • 1975 - लाओस गणराज्य घोषित।
  • 1994 - ताइवान में पहला स्वतंत्र स्थानीय चुनाव सम्पन्न।
  • 1999 - विश्व प्रसिद्ध गिटार वादक चार्ली ली बर्ड का निधन, चेचेन्या के छापामारों ने 250 रूसी सैनिकों को मार गिराया।
  • 2000 - विसिट फ़ॉक्स मैक्सिको के नये राष्ट्रपति निर्वाचित, आस्ट्रेलिया ने वेस्टइंडीज को टेस्ट मैच में हराकर लगातार 12 टेस्ट मैच जीतने का रिकार्ड बनाया।
  • 2008 - मुंबई में हुई 23 नवंबर की आतंकवादी घटना के बाद महाराष्ट्र के मुख्य मंत्री विलासराव देशमुख ने अपने पद से त्यागपत्र दे दिया।
  • 1882 - भारत के एक प्रसिद्ध चित्रकार नंदलाल बोस का जन्म हुआ।
  • 1884 - भारत के प्रथम राष्ट्रपति राजेन्द्र प्रसाद का जन्म हुआ।
  • 1889 - स्वतंत्रता सेनानी खुदीराम बोस का जन्म हुआ।
  • 1903 - हिन्दी के  कथाकार और निबंध लेखक यशपाल का जन्म हुआ।
  • 1982 - टेस्ट क्रिकेट मैच में दोहरा शतक बनाने वाली पहली भारतीय महिला मिताली राज  का जन्म हुआ।
  • 2011- फि़ल्म अभिनेता और निर्माता देव आनंद का निधन हुआ।
  • 1942- अमेरिकी कृत्रिममृदा वैज्ञानिक पीटर सी. शुल्ज़ का जन्म हुआ,  जिन्होंने कॉर्निंग ग्लास शोधकर्ताओं, रॉबर्ट मॉरर और डॉनल्ड केक के साथ काम करते हुए आप्टिकल फाइबर का निर्माण किया।
  • 1193-डच रसायनज्ञ  पॉल क्रूट्ज़ेन का जन्म हुआ, जिन्होंने बताया कि नाइट्रोजन के यौगिक स्ट्रैटोस्फेयर में ओज़ोन परत के क्षय के लिए जिम्मेदार हैं। इसके लिए उन्हें सन 1995 में रसायन विज्ञान का नोबेल पुरस्कार मिला।

अन्य पोस्ट

Comments