छत्तीसगढ़ » कोरबा

Previous1234Next
07-Mar-2021 6:56 PM 21

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोरबा, 7 मार्च। शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी गांव-गांव तक पहुँच रही है। जनसंपर्क विभाग द्वारा आयोजित किए जा रहे सूचना शिविर के माध्यम से ग्रामीण इलाकों में जनहितकारी योजनाओं का प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। विकास फोटो प्रदर्शनी के माध्यम से सभी योजनाओं को शिविर में प्रदर्शित किया जा रहा है।

 जनकल्याणकारी योजनाओं से संबंधित पुस्तिका संबल, जनमन एवं किसान गाईड का वितरण भी ग्रामीण जनों में किया जा रहा है। आज विकासखण्ड पोड़ी-उपरोड़ा के ग्राम पंचायत भांवर में विकास फोटो प्रदर्शनी सह सूचना शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में ग्राम भांवर के अलावा आसपास के ग्राम सीपत, नगोईबछेरा तथा महोरा के ग्रामीण बड़ी संख्या में आकर विकास फोटो प्रदर्शनी का अवलोकन किया।

ग्रामीणों ने शिविर में आकर विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी भी ली। शिविर में आए हुए समस्त ग्रामीणों को शासकीय योजनाओं की प्रचार पुस्तिका का वितरण भी किया गया। आयोजित शिविर में ग्राम भांवर के किसान श्री शिवनारायण सिंह ने आकर योजनाओं की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने कहा कि सूचना शिविर के माध्यम से गांव के लोगों तक योजनाओं की जानकारी पहुंच रही है। योजनाओं की जानकारी होने से ग्रामीणजन योजनाओं का लाभ भी ले सकेंगे। उन्होंने अन्नदाता की चिंताएं दूर शीर्षक से जारी प्रचार पुस्तिका जनमन को पढ़ा। श्री शिवनारायण ने कहा कि पुस्तिका में जनहितैशी योजनाओं के बारे में विस्तार से दिया गया है जो कि किसानों को निश्चित तौर पर प्रोत्साहित करेगा। उन्होंने पुस्तिका में छपे राजीव गांधी किसान न्याय योजना से लाभार्थी किसानों को हुए लाभ के बारे में सफलता को भी पढ़ कर जाना।

ग्राम पंचायत भांवर में आयोजित शिविर में गांव की उप सरपंच श्रीमती राजेश्वरी टेकाम सहित अन्य महिलाएं श्रीमती साधमति, श्रीमती रेखा देवी एवं श्रीमती रमणिया बाई ने भी शिविर में आकर योजनाओं के बारे में जानकारी प्राप्त की। उप सरपंच ने कहा कि शासन द्वारा महिलाओं के लिए नरवा-गरवा-घुरवा-बाड़ी योजना के अंतर्गत विभिन्न आर्थिक स्वावलंबन के कार्य संचालित किए जा रहे हैं। गौठानों में महिलाएं विभिन्न आर्थिक गतिविधियों में लगी हुईं हैं। गौठानों के माध्यम से विभिन्न प्रकार के आजीविका संवर्धन के कार्य महिलाओं द्वारा संचालित किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि गौठानों के माध्यम से ग्रामीण महिलाओं को रोजगार के साधन अपने गांव में ही मिल रहे हैं। उप सरपंच श्रीमती राजेश्वरी ने कहा कि सूचना शिविर के माध्यम से शासन की महत्वकांक्षी योजना नरवा-गरवा-घुरवा-बाड़ी के आर्थिक विकास की कहानी ग्रामीण इलाकों तक पहुंच रही है। शिविर में छत्तीसगढ़ सरकार की महत्वकांक्षी योजना नरवा, गरवा, घुरवा और बारी के क्रियान्वयन, समर्थन मूल्य पर धान खरीदी, राजीव गांधी किसान न्याय योजना, गोधन न्याय योजना, आदर्श गौठान, बिजली बिल हाफ योजना, मनरेगा, मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान, राम वन गमन पथ, अल्पकालीन कृषि ऋण माफ, स्वास्थ्य, शिक्षा, महिला एवं बाल विकास विभाग, पीडीएस, कृषि विभाग के विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं को छायाचित्र के माध्यम से प्रदर्शित किया गया। आठ मार्च को विकास फोटो प्रदर्शनी सह सूचना शिविर का आयोजन विकासखण्ड पाली के ग्राम पंचायत ईरफ में किया जाएगा।


05-Mar-2021 6:58 PM 21

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोरबा, 5 मार्च। शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी प्रत्येक व्यक्ति तक पहुँचाने के उद्देश्य से गांवो में विकास फोटो प्रदर्शनी सह सूचना शिविर का आयोजन किया जा रहा है। कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल के मार्गदर्शन में जनसम्पर्क विभाग द्वारा सरकार की उपलब्धियों और हितकारी योजनाओ को फोटो प्रदर्शनी के माध्यम से सूचना शिविर में बताया जा रहा है।

विभिन्न योजनाओं की जानकारी प्रचार-प्रसार पुस्तिका जनमन, संबल और किसान गाइड में दिया गया है। इन पुस्तिकाओं का नि:शुल्क वितरण  ग्रामीणों को शिविर के माध्यम से किया जा रहा हैं। आज विकास फोटो प्रदर्शनी सह सूचना शिविर का आयोजन विकासखण्ड करतला के ग्राम पठियापाली के साप्ताहिक हाट बाजार में आयोजित किया गया। शिविर में पठियापाली सहित आसपास के गांव करईनारा, दमखाँचा, छातापाट, मौहार, धमनागुड़ी, जामपानी, साजा पानी एवं गांडापाली के ग्रामीण बड़ी संख्या में आयें। ग्रामीणों ने शिविर में आकर  फोटो के माध्यम से प्रदर्शित शासन की विभिन्न योजनाओं का अवलोकन किया।

विकास फोटो प्रदर्शनी सह सूचना शिविर में योजनाओं की जानकारी लेने आये ग्राम कराईनारा के किसान श्री तिहारु राम पटेल ने प्रचार पुस्तिका जनमन का अवलोकन किया। उन्होंने जनमन पुस्तिका में दिए गए विभिन्न योजनाओं की जानकारी सहित राजीव गांधी किसान न्याय योजना और गोधन न्याय योजना को पढ़ा। श्री तिहारु राम ने कहा कि गोधन न्याय योजना गोबर संग्राहक किसानों के लिये बहुत ही लाभकारी है। सरकार ने गोबर को दो रुपये प्रति किलो में खरीदकर आमदनी का नया जरिया ग्रामीणों को प्रदान किया हैं। शासन द्वारा गांवो में स्थापित किये गए गौठानों से ग्रामीण महिलाएं विभिन्न आजीविका संवर्धन के कामों में लगे हुए हैं। उन्होंने कहा कि राज्य शासन ने राजीव गांधी न्याय योजना के तहत धान का दो हजार 500 रुपये प्रति क्विन्टल कीमत देकर किसानों को खेती करने के लिए प्रोत्साहित किया हैं। शिविर में छत्तीसगढ़ सरकार की महत्वकांक्षी योजना नरवा, गरवा, घुरवा और बारी के क्रियान्वयन, समर्थन मूल्य पर धान खरीदी, राजीव गांधी किसान न्याय योजना, गोधन न्याय योजना, आदर्श गौठान, बिजली बिल हाफ योजना, मनरेगा, मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान, राम वन गमन पथ, अल्पकालीन कृषि ऋण माफ, स्वास्थ्य, शिक्षा, महिला एवं बाल विकास विभाग, पीडीएस, कृषि विभाग के विभिन्न जनकल्याकारी योजनाओं को छायाचित्र के माध्यम से प्रदर्शित किया गया। पांच मार्च को विकास फोटो प्रदर्शनी सह सूचना शिविर का आयोजन विकासखण्ड कोरबा के ग्राम पंचायत भैंसमा में किया जाएगा।


05-Mar-2021 6:53 PM 12

   केवल दो ब्लॉकों में ही लगभग एक हजार लोगों को पेंशन स्वीकृत हुई   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोरबा, 5 मार्च। कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल की पहल पर कोरबा जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में आठ फरवरी से 13 फरवरी तक लगाए गए निदान शिविरों में लोगों की समस्याओं और मांगो का बड़े पैमाने पर निराकरण हुआ है। निदान शिविरों में शासकीय योजनाओं को लोगों को लाभ दिलाकर कई लोगों की जिंदगी में सकरात्मक परिवर्तन ला दिया है। निदान शिविरों में मिले आवेदनों में से केवल दो विकासखण्डों करतला और कोरबा में ही लगभग एक हजार पात्र हितग्राहियों को एक साथ सामाजिक सुरक्षा पेंशन स्वीकृत हो गई है।

 कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल ने शिविरों के आयोजन से पहले ही अधिकारियों को निर्देशित किया था कि छोटे-छोटे दस्तावेजों या कार्रवाईयों को शिविर स्थल पर ही शिविर के दिन ही पूरा किया जाए और लोगों को यथासंभव उसी दिन शासकीय योजनाओं का लाभ दिलाया जाए। इसी निर्देश पर पंचायत सचिवों, पटवारियों सहित सभी विभागों के मैदानी अमले ने अपने-अपने विभागों से संबंधित योजनाओं से पात्र हितग्राहियों को लाभान्वित करने का काम किया।

 निदान शिविरों से करतला विकासखण्ड में 395 पात्र हितग्राहियों को तो कोरबा विकासखण्ड में 541 हितग्राहियों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन, दिव्यांगता पेंशन, विधवा या परित्यक्ता पेंशन स्वीकृत कर दी गई है। इस महीने से इन सभी हितग्राहियों को पेंशन का लाभ मिलने लगेगा। इसके साथ ही निदान शिविरों में बड़ी संख्या में लोगों ने ग्राम पंचायतों में मनरेगा के तहत रोजगार मूलक काम की भी मांग की थी जिस पर परीक्षण के बाद जिला पंचायत द्वारा एक साथ एक हजार 010 कामों की स्वीकृति दे दी गई है। 

कोरोना काल के बाद प्रदेश में सबसे पहले कोरबा जिले में कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल की पहल पर लोगों की समस्याओं और मांगो को जानने प्रशासन गांवो तक पहुंचा था। इसका माध्यम निदान 36 शिविर बने थे। जिले में आठ फरवरी से 13 फरवरी तक निदान शिविरों का आयोजन हुआ था। आठ फरवरी से 12 फरवरी तक सभी विकासखण्डों में एक-एक क्लस्टर स्तरीय शिविर लगाया गया था और 13 फरवरी को एक साथ सभी विकासखण्डों में एक-एक विकासखण्ड स्तरीय शिविर लगा था। इन शिविरों में जनसामान्य की राजस्व संबंधी समस्याओं से लेकर बिजली, पानी, शिक्षा, सडक़, स्वास्थ्य आदि समस्याओं का निराकरण यथा संभव मौके पर ही किया गया। नए राशन कार्ड बनाने से लेकर नाम जोडऩे, नाम काटने के काम भी इन शिविरों में तत्परता से हुए। सामाजिक सुरक्षा पेंशनों के पात्र हितग्राहियों का चिन्हांकन, पेंशन प्रकरण तैयार कर स्वीकृति के लिए भेजने के काम भी इन शिविरों में उसी दिन पूरे किए गए। अब निदान शिविरों में मिले आवेदनों पर की गई कार्रवाई और किए गए समाधान की जानकारी देने निराकरण शिविरों का आयोजन जल्द ही शुरू होगा।

निदान शिविर में जानकारी मिलने के बाद पोड़ी-उपरोड़ा विकासखण्ड के सलिहाभाठा ग्राम पंचायत के बालागांव में किसानों को सिंचाई के लिए सौर उर्जा आधारित सिंचाई योजना की भी स्वीकृति दे दी गई है। इस योजना का काम भी प्रारंभिक स्तर शुरू हो गया है। तान नदी पर बनने वाली इस सौर उर्जा आधारित सिंचाई योजना से नदी से लगे लगभग 30 हेक्टेयर क्षेत्र में खेती-किसानी के लिए 50 से अधिक किसानों को सिंचाई की सुविधा आने वाले दिनों में मिलने लगेगी। निदान शिविरों में ही बीमारों की जांच के साथ स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। लंबे समय से छोटे-छोटे कारणों से नहीं बन पा रहे जरूरी दस्तावेजों और प्रमाण पत्रों के लिए भी मौके पर ही औपचारिकताएं पूरी करके लोगों को लाभान्वित किया गया। अभी तक मिली जानकारी के अनुसार छह दिव्यांगों के दिव्यांगता प्रमाण पत्र बनने के साथ ही चार दिव्यांगों को तत्काल ट्राइसाईकिल भी उपलब्ध कराई गई है।

पाली विकासखण्ड में मिले आवेदनों में से अभी तक 35 पात्र हितग्राहियों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन स्वीकृत की गई है। कोरबा तहसील में निदान शिविरों के दौरान राजस्व विभाग द्वारा 147 किसान किताब जारी करने के साथ-साथ 19 फौती नामांतरण, पांच अविवादित नामांतरण के प्रकरण मौके पर ही निपटा दिए गए हैं। कोरबा तहसील में ही 22 छात्र-छात्राओं को जाति प्रमाण पत्र भी जारी कर दिया गया है। निदान शिविरों में पीने के पानी की समस्या को लेकर भी कई गांवो से आवेदन मिले थे।

 लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा जांच कर 60 जगहों पर नए हैण्डपंप स्थापित करने के लिए बोर खनन की मंजूरी दे दी गई है और 27 बिगड़े हैण्डपंपों को सुधार कर पीने का साफ पानी उपलब्ध कराने लायक बना दिया गया है। पशुधन विकास विभाग द्वारा निदान शिविर से अब 38 हितग्राहियों को मुर्गी पालन, बकरी पालन, सुकर पालन जैसी स्थानीय रोजगार मूलक गतिविधियों से जोड़ा जाएगा। हितग्राहियों को इन गतिविधियों के लिए विभागीय योजनाओं के तहत शासकीय अनुदान की मंजूरी कर दी गई है। पोड़ी-उपरोडा़ विकासखण्ड में कपड़ा व्यवसाय करने के इच्छुक हितग्राही द्वारा आवेदन प्रस्तुत करने पर तत्काल ऋण भी निदान शिविर के माध्यम से स्वीकृत कर दिया गया है।

निदान शिविरों में लोगों ने राशन कार्डों से नाम हटाने, जोडऩे और नए कार्ड बनाने की मांग भी प्राथमिकता से की थी। शिविरों में मिले आवेदनों की जांच के बाद 93 लोगों के नाम राशन कार्डों से काट दिए गए हैं। राशन कार्डों में 27 लोगों के नाम जोड़े गए हैं और 21 हितग्राहियों के नए राशनकार्ड भी बना दिए गए हैं। अब इन सभी को इस महीने से राशन भी मिलने लगेगा।


05-Mar-2021 6:52 PM 14

   कलेक्टर ने तय की रूपरेखा, अफसरों को जिम्मा   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोरबा, 5 मार्च। कलेक्टर किरण कौशल ने कल पाली के हाई स्कूल मैदान पर बरगद पेड़ की छांव में बैठकर जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ चर्चा कर पाली महोत्सव की रूपरेखा तय की। जिला पंचायत के सीईओ कुंदन कुमार की मौजूदगी में कलेक्टर ने इस आयोजन के लिये सभी जरूरी तैयारियॉं समय पर पूरी करने के निर्देश अधिकारियों को दिये। जिला प्रशासन द्वारा महाशिवरात्रि के अवसर पर जिले के ऐतिहासिक स्थल पाली में दो दिवसीय पाली महोत्सव 11 एवं 12 मार्च को शासकीय हाई स्कूल मैदान में आयोजित होगा। इस अवसर पर आकर्षक सांस्कृतिक कार्यक्रम भी होंगे। जिसमें स्थानीय प्रतिभाओं, और कलाकारों को आमंंित्रत किया जायेगा। अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी श्रीमती प्रिंयका महोबिया ने जिला स्तरीय अधिकारियों को विभिन्न जिम्मेदारियॉं सौंपी। सम्पूर्ण आयोजन के लिये पाली एसडीएम अरूण खलखो को नोडल अधिकारी मनोनित किया गया। कलेक्टर ने इस महत्वपूर्ण बैठक के बाद स्थल भ्रमण किया और अधिकारियों को अपने-अपने विभागों की शासकीय योजनाओं से संबंधित विकासपरक प्रदर्शनी लगाने के भी निर्देश दिये। 

इस बार का पाली महोत्सव जिले के पुरातात्विक वैभव और पर्यटन की थीम पर आयोजित होगा। महोत्सव में शामिल होने वाले लोगों को इस बार कोरबा की ऐतिहासिक और धरोहरों के बारे में जानकारी मिलेगी। उर्जाधानी के रूप में विश्व विख्यात कोरबा के प्राकृतिक पर्यटन स्थलों के आकर्षण से चित्रों और विभिन्न प्रकार के प्रचार माध्यमों से भी लोगों को अवगत कराया जाएगा। चैतुरगढ़, तुमान, सीतामणि, नगोईअकुटेशर, लाफा, सीताचैकी, देवपहरी, सतरेंगा, परसाखोल, बुका से लेकर चामा, केंदई, नकिया जलप्रपात, मड़वारानी, झोराघाट जैसे पुरातात्विक एवं पर्यटन स्थलों की जानकारी इस महोत्सव में लोगों को विस्तार से मिलेगी।

पाली महोत्सव में शामिल होने वाले अतिथियों और कलाकारों का स्वागत इस बार अनुठे तरीके से होगा। फूल-माला या बुके के स्थान पर इस बार जिले के गौठानों में बने गोबर के छोटे-छोटे गमलों में लगे हर्बल पौधों से पाली महोत्सव में शामिल होने वाले अतिथियों का स्वागत किया जाएगा। इसके साथ ही महोत्सव में अपनी आकर्षक सांस्कृतिक प्रस्तुतियां देने वाले कलाकारों को भी शॉल-श्रीफल के साथ-साथ गोबर के गमले में लगे हर्बल पौधे भेंट किए जाएंगे। कोरोना के संक्रमण से सीख लेते हुए शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने और कोरोना से बचने के उपायों को लोगों के ध्यान में लाने के लिए जिला प्रशासन द्वारा महोत्सव में इस बार यह पहल की जा रही है। गोबर के गमलों में लगे हर्बल औषधीय पौधों को अतिथि एवं कलाकार अपने घरों के बगीचे या गमलों में भी लगाकर रख सकेंगे।

 महोत्सव के दौरान जिले में जैविक खेती के लिए प्रेरित और आने वाले एक सप्ताह में गौठानों से सर्वाधिक वर्मी कम्पोस्ट लेने वाले किसानों का भी सम्मान किया जाएगा।

     कलेक्टर श्रीमती कौशल ने संबंधित विभागों को सौंपी गई जिम्मेदारी को समय पर पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने मंच निर्माण, लाईट एवं साउंड व्यवस्था, सांस्कृतिक कार्यक्रम, डेऊसिंग रूम व्यवस्था, स्वागत व्यवस्था, आमंत्रण पत्र व्यवस्था, कलाकारों का आमंत्रण, उनके ठहरने एवं भोजन व्यवस्था, कार्यक्रम स्थल पर बिजली, पानी की व्यवस्था, पाली के षिव मंदिर की साज-सज्जा, वाहन व्यवस्था, विभागीय योजनाओं का स्टाल, कार्यक्रम का प्रचार प्रसार, नियंत्रण कक्ष एवं चिकित्सा सुविधा, कानून एवं यातायात व्यवस्था, बांस बल्ली की व्यवस्था, वीडियोग्राफी एवं फोटोग्राफी, संदेशिका, मानदेय, पेयजल, विद्युत, पार्किंग व्यवस्था के संबंध में अधिकारियों द्वारा अब तक किए गये कार्यों की समीक्षा की।

कार्यक्रम स्थल पर आयोजित बैठक में श्रीमती कौशल ने निर्देशित किया कि पाली महोत्सव प्रारंभ होने से पूर्व सभी प्रकार की व्यवस्थायें सुनिश्चित कर ली जाये। बैठक में कार्यक्रम स्थल में प्रवेश हेतु प्रवेश पास, व्हीआईपी पार्किंग, मुख्य मार्ग में यातायात व्यवस्था सुगम बनाने इस मार्ग में चलने वाले भारी वाहनों का रूट डायवर्ट करने के संबंध आवश्यक निर्देश पुलिस विभाग के उपस्थित अधिकारी को दिये। कलेक्टर ने बैठक में निर्देशित किया कि मंच को वाटरपु्रफ एवं दर्शकों के बैठने की व्यवस्था में चांदनी के उपर तारपोलिन लगाई जाये। कलेक्टर ने कार्यक्रम स्थल पर विभिन्न विकास योजनाओं से संबंधित मॉडल तथा विभागीय योजनाओं से संबंधित जानकारी प्रदान करने हेतु निर्देशित किया। उन्होंने निर्धारित समय के पहले आयोजन स्थल पर मंच निर्माण सहित अन्य तैयारियां भी पूरी करने के निर्देश लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को दिए। कलेक्टर ने निर्देशित किया कि मौसम को ध्यान में रखते हुए मंच तथा विभागीय स्टालों को वाटरपु्रफ तरीके से बनाया जाये। श्रीमती कौशल ने कार्यक्रम स्थल पर नियंत्रण कक्ष की स्थापना करने अधिकारियों को निर्देशित किया। अतिविशिष्ट अतिथियों के पाली महोत्सव में शामिल होने की संभावना को देखते हुए कलेक्टर ने जिला पंचायत के सीईओ के साथ संभावित हैलीपैड स्थल का भी निरीक्षण किया और यहां सुरक्षा संबंधी समस्त तैयारियां भी साथ-साथ पूरी करने के निर्देश दिए।


03-Mar-2021 8:14 PM 17

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बालकोनगर, 3 मार्च। वेदांता समूह की कंपनी भारत एल्यूमिनियम कंपनी लिमिटेड (बालको) ने कॉरपोरेट फिल्म (अंग्रेजी) श्रेणी में देश का प्रतिष्ठित पब्लिक रिलेशंस सोसाइटी ऑफ इंडिया नेशनल अवार्ड-2020 हासिल किया। कोविड-19 की रोकथाम एवं उसके प्रति जागरूकता की दिशा में बालको द्वारा छत्तीसगढ़ शासन और प्रशासन को दिए गए योगदान पर आधारित फिल्म के लिए पुरस्कार केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक एवं उत्तराखंड की राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने बालको की कंपनी संवाद प्रमुख सुश्री मानसी चौहान, सह प्रबंधक विजय वाजपेयी वदीपक कुमार विश्वकर्मा को वर्चुअल समारोह में प्रदान किया।

बालको के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं निदेशक  अभिजीत पति ने पुरस्कार के लिए बालको परिवार को बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं। श्री पति ने कहा कि बालको देश की चहुंमुखी प्रगति में योगदान के लिए कटिबद्ध है। कोरोना वाइरस के दुष्प्रभाव से बालको परिवार और संयंत्र के आसपास रहने वाले नागरिकों को बचाने और उन्हें जागरूक बनाने की दिशा में बालको प्रबंधन की ओर से हरसंभव कदम उठाए गए। बालको परिवार के लोगों ने पूरे अनुशासन से कोविड-19 के दिशानिर्देशों के अनुरूप एकजुटता से कार्य प्रदर्शन किया। श्री पति ने बताया कि संयंत्र प्रचालन के विभिन्न क्षेत्रों में अत्याधुनिक एवं डिजीटल तकनीकों का समावेश किया जा रहा है।

बालको की कॉरपोरेट फिल्म ‘न्यू नॉर्मल’ कार्य शैली पर आधारित है। फिल्म में उत्पादन, उत्पादकता, औद्योगिक स्वास्थ्य, सुरक्षा एवं पर्यावरण प्रबंधन प्रक्रियाओं, महिला सशक्तिकरण, नवाचार, सामुदायिक विकास, मानव संसाधन, टाउनशिप आदि के साथ ही कोरोना से बचाव की दिशा में बालको संचालित सैनिटाइजेशन एवं अन्य जागरूकता अभियानों को प्रदर्शित किया गया।

बालको प्रबंधन ने संयंत्र प्रचालन के प्रत्येक क्षेत्र में केंद्र एवं राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर जारी कोविड-19 दिशानिर्देशों का पालन सुनिश्चित किया है। बालको ने अपने कर्मचारियों, ठेका कामगारों और व्यवसाय के साझेदारों की सुरक्षा की दृष्टि से हरसंभव कदम उठाए हैं। वैधानिक आवश्यकताओं के अनुरूप कर्मचारियों और व्यवसाय के साझेदारों के स्वास्थ्य की रक्षा की दृष्टि से बालको अस्पताल में समयबद्ध स्वास्थ्य परीक्षण किए जाते हैं।

पुरस्कार के निर्णायक मंडल में पीआरएसआई के महासचिव श्री वाई. बाबजी, दैनिक द हिंदू के एसोसिएट एडिटर श्री शिशिर सिन्हा, बिजनेस इंडिया पत्रिका के एसोसिएट एडिटर सुश्री येशी सेली, ऑल इंडिया मेडिकल एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष डॉ. के.के. अग्रवाल, एससीओपीई तथा इंडियन ऑयल के पूर्व अध्यक्ष श्री सार्थक बेहुरिया, राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग की पूर्व अध्यक्ष सुश्री स्तुति कक्कड़ एवं पीआरएसआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अजीत पाठक शामिल थे।

पब्लिक रिलेशंस सोसाइटी ऑफ इंडिया (पीआरएसआई) जनसंपर्क के क्षेत्र में कार्यरत पेशेवरों का राष्ट्रीय संगठन है। वर्ष 1958 में संगठन की स्थापना के बाद जनसंपर्क व्यवसाय के प्रति जागरूकता के संचार के क्षेत्र में देश ने महत्वपूर्ण उपलब्धियां पाई हैं। संगठन के प्रयासों के फलस्वरूप जनसंपर्क व्यवसाय को प्रबंधन में रणनीतिक रूप से महत्वपूर्व व्यवसाय के रूप में स्थापित होने में मदद मिली है।

भारत एल्यूमिनियम कंपनी लिमिटेड (बालको) देश की प्रमुख एल्यूमिनियम उत्पादक इकाई है। कंपनी की 49 फीसदी अंशधारिता भारत सरकार के और 51 फीसदी अंशधारिता वेदांता लिमिटेड के स्वामित्व में है। वेदांता लिमिटेड दुनिया की 6वीं सबसे बड़ी वैविध्यीकृत प्राकृतिक संसाधन कंपनी है तथा यह कंपनी देश में एल्यूमिनियम का सबसे अधिक उत्पादक करती है। बालको द्वारा कोरबा में 0.57 मिलियन टन प्रति वर्ष उत्पादन क्षमता के एल्यूमिनियम स्मेल्टर का प्रचालन किया जाता है। बालको मूल्य संवर्धित एल्यूमिनियम उत्पादों की अगुवा कंपनी है जिसके उत्पादों का महत्वपूर्ण अनुप्रयोग कोर उद्योगों में किया जाता है। विश्वस्तरीय स्मेल्टर और बिजली उत्पादक संयंत्रों के साथ बालको का ध्येय ‘भविष्य की धातु’ एल्यूमिनियम को उभरते अनुप्रयोगों हेतु प्रोत्साहित करते हुए हरित एवं समृद्ध कल के लिए योगदान करना है।


01-Mar-2021 7:42 PM 23

मुख्यमंत्री ने विधानसभा में प्रस्तुत किया बजट, दो नई तहसीलें भी मिलीं

कोरबा, 1 मार्च। मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने आज छत्तीसगढ़ विधानसभा में अपनी सरकार का तीसरा आम बजट पेश किया। बजट में उन्होंने कोरबा जिले को भी कई सौगातें दीं। मुख्यमंत्री ने अपनी सरकार के बजट में आने वाले वित्तीय वर्ष में कोरबा के बांकीमोंगरा में नया महाविद्यालय खोलनेे की घोषणा की है। 

बांकीमोंगरा और आसपास के ग्रामीण इलाकों के विद्यार्थियों की हायर एजुकेशन के लिए काॅलेज खोलने की बरसों पुरानी मांग मुख्यमंत्री ने इस बजट में पूरी कर दी है। अब बांकीमोंगरा में नया काॅलेज खुल जाने से क्षेत्र के विद्यार्थियों को काॅलेज पढ़ने के लिए कोरबा या कटघोरा तक दौड़ नहीं लगाने पड़ेगी। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने बजट में कोरबा जिले में अजगरबहार और बरपाली को नई तहसीलों का दर्जा देने की भी घोषणा की है। इन दोनो जगहों पर तहसीलों की स्थापना से लोगों को अपने राजस्व संबंधी मामलों के लिए कोरबा और करतला तक नहीं जाना पड़ेगा। पाली अनुभाग बनाने के बाद जिले में राजस्व संबंधी कामकाज की बेहतरी के लिए पाली अनुविभागीय कार्यालय की स्थापना का प्रावधान भी इस बजट में शामिल किया गया है। 

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने अपनी सरकार के तीसरे बजट में दुर्घटनाओं में पत्रकारों की होने वाली आकस्मिक मृत्यु पर परिजनों को दी जाने वाली सहायता राशि भी तीन लाख रूपए बढ़ा दी है। पहले दुर्घटनाओं में पत्रकारों की असमय मृत्यु होने पर आश्रित परिजनों को दो लाख रूपए की सहायता राशि दी जाती थी जिसे इस बजट में बढ़ाकर पांच लाख रूपए कर दिया गया है। कोरबा में शुरू होने वाले नए मेडिकल काॅलेज भवन के लिए भी इस बजट में मुख्यमंत्री श्री बघेल ने एक सौ करोड़ रूपए का प्रावधान रखा है। उन्होंने कोरबा में एक-एक नए बालक और कन्या छात्रावास भी बनाने की घोषणा बजट में की है। मुख्यमंत्री ने इस बजट में पूरे प्रदेश में 119 नए इंग्लिश मीडियम स्कूलों को शुरू करने की घोषणा की है। इनमें से तीन स्कूल कोरबा जिले में खुलेंगे। इन नए स्कूलों के खुल जाने से कोरबा जिले में शासकीय इंग्लिश मीडियम स्कूलों की संख्या छह हो जाएगी। तीन नए स्वामी आत्मांनद इंग्लिश मीडियम स्कूल करतला, पोड़ी और कटघोरा के शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूलों में खुलेंगे। 

सतरेंगा बनेगा इन्टरनेशनल टूरिज्म डेस्टिनेशन, वाॅटर स्पोर्ट्स सुविधाएं शुरू होंगी -* वर्ष 2021-22 के बजट में प्रदेश में पर्यटन सुविधाओं के विस्तार के लिए भी बड़े प्रावधान किए हैं। कोरबा जिले में सतरेंगा पर्यटन स्थल को इन्टरनेशनल टूरिज्म डेस्टिनेशन के रूप में विकसित करने की अपनी योजना का जिक्र मुख्यमंत्री ने बजट में किया है। कोरबा जिले को अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन मानचित्र पर पूरी तरह स्थापित करने की तरफ सरकार का यह एक और कदम है। सतरेंगा में हसदेव-बांगो जलाशय की अपार जलराशि पर विश्व स्तरीय एडवेंचरस वाॅटर स्पोट्र्स गतिविधियां भी शुरू होंगी। जिसके लिए भी मुख्यमंत्री ने बजट में प्रावधान किया है। अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन केन्द्र के रूप में सतरेंगा के विकसित हो जाने से एक ओर जहां छत्तीसगढ़ को पर्यटन के क्षेत्र में एक नई पहचान मिलेगी वहीं दूसरी ओर स्थानीय युवाओं के लिए भी रोजगार के नए अवसर खुलेंगे। मुख्यमंत्री श्री बघेल की यह घोषणा उनकी पर्यटन से रोजगार की नीति को धरातल पर उतारने वाली है। सतरेंगा से कोरबा ही नहीं बल्कि पूरे छत्तीसगढ़ को पर्यटन के रूप में एक नया स्थान मिला है। कुछ दिनों पहले स्वयं मुख्यमंत्री श्री बघेल ने सतरेंगा में रात्रि विश्राम कर यहां की सुंदरता और प्राकृतिक सौंदर्य की तारीफ की थी। साथ ही उन्होंने विभिन्न माध्यमों से लोगों को भी सतरेंगा आने और यहां के प्राकृतिक सौंदर्य का लुत्फ उठाने के लिए आमंत्रित भी किया था।


01-Mar-2021 7:13 PM 39

राजस्व मंत्री अग्रवाल और सांसद महंत होंगे शामिल

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
कोरबा, 1 मार्च।
छत्तीसगढ़ सहित देश के बच्चों को डाॅक्टर बनने के लिए कोरबा में नए मेडिकल काॅलेज का शुभारंभ इस सत्र से हो जाएगा। कोरबा मेडिकल काॅलेज भवन का वर्चुअल भूमि पूजन कल दो मार्च को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल करेंगे। कोरबा में स्थापित होने वाले इस नए मेडिकल काॅलेज में पढ़ाई शुरू करने के लिए तात्कालिक तौर पर झगरहा के आईटी काॅलेज के दो ब्लाॅकों में पृथक व्यवस्था की जा रही है। 

मेडिकल काॅलेज के नए भवन के लिए आईटी काॅलेज की पीछे ही 25 एकड़ भूमि चिन्हांकित कर ली गई है। इस भूमि पर नया काॅलेज भवन बनाने के लिए कल दो मार्च को भूमि पूजन कार्यक्रम होगा। इस कार्यक्रम में प्रदेश के राजस्व मंत्री  जयसिंह अग्रवाल, स्कूल शिक्षा मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री डाॅ. प्रेमसाय सिंह टेकाम और कोरबा लोकसभा की सांसद श्रीमती ज्योत्सना महंत प्रत्यक्ष रूप से शामिल होंगी। सुबह 11 बजे से शुरू होने वाले इस भूमि पूजन समारोह में राजधानी से वीडियो  कॉन्फ्रेंस के माध्यम से विधानसभा अध्यक्ष डाॅ. चरण दास महंत, स्वास्थ्य मंत्री  टी. एस. सिंहदेव एवं कोरबा, मध्य क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष पुरूषोत्तम कंवर, एकीकृत आदिवासी विकास परियोजना के सलाहकार मण्डल अध्यक्ष  मोहित राम केरकेट्टा, रामपुर विधानसभा के विधायक ननकी राम कंवर, कोरबा नगर निगम के महापौर  राजकिशोर प्रसाद, जिला पंचायत की अध्यक्ष श्रीमती शिवकला कंवर और नगर निगम के सभापति श्याम सुंदर सोनी भी कार्यक्रम में शामिल होंगे। 

उल्लेखनीय है कि प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार और चिकित्सा शिक्षा के लिए केन्द्र प्रवर्तित योजना के तहत तीन नए मेडिकल काॅलेज कोरबा, कांकेर और महासमुंद में खोले जाने है। कोरबा जिले में 325 करोड़ रूपए की लागत से एक सौ विद्यार्थी प्रति वर्ष प्रवेशित क्षमता का नया मेडिकल काॅलेज खुलेगा। मेडिकल काॅलेज की कुल लागत में से 60 प्रतिशत राशि केन्द्र सरकार द्वारा और 40 प्रतिशत राशि राज्य सरकार द्वारा वहन की जाएगी। पहले साल में  मेडिकल काॅलेज में विद्यार्थियों के दाखिले के बाद एनाॅटोमी, फिजियोलाॅजी, बायो-कैमेस्ट्री विषयों की पढ़ाई शुरू होगी। कोरबा के मेडिकल काॅलेज में अध्ययन-अध्यापन के लिए लगभग 280 विभिन्न पदों पर नियुक्तियां भी की जाएंगी। राज्य सरकार द्वारा मेडिकल काॅलेज में अध्यापन के लिए विशेषज्ञ प्रोफेसरांे और अन्य नाॅन मेडिकल स्टाफ की भर्ती की प्रक्रिया भी जल्द शुरू की जाएगी। मेडिकल काॅलेज से जिला अस्पताल को संबद्ध कर विद्यार्थियों को प्रैक्टिकल आदि की सुविधा भी मिलेगी।


26-Feb-2021 8:56 PM 38

श्रीमती कौशल को लगा कोरोना का टीका

अब तक 10 हजार से अधिक को लगा टीका का पहला डोज

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
कोरबा, 26 फ़रवरी।
कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल ने आज अपनी बारी आने पर जिला चिकित्सालय पहुंचकर कोरोना का टीका लगवाया। कलेक्टर को टीका लगाने के बाद लगभग आधे घंटे तक डाॅक्टरों की निगरानी में रखा गया। किसी भी तरह की परेशानी नहीं होेने पर उन्हें डाॅक्टरों ने घर जाने की अनुमति दी। टीकाकरण के बाद मुस्कुराते हुए कलेक्टर श्रीमती कौशल ने कहा कि कोरोना से बचने के लिए लगाए जा रहे टीके पूरी तरह से सुरक्षित हैं। इनका कोई गंभीर साइड इफेक्ट अभी तक सामने नहीं आया है। 

कोरबा जिले में अभी तक जिन लोगों का कोरोना टीकाकरण हुआ है, सभी सुरक्षित और स्वस्थ हैं। श्रीमती कौशल ने कहा कि खुद को और अपने परिवार को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए अपनी बारी आने पर फ्रंटलाइन कोरोना वाॅरियर्स को अवश्य ही टीका लगवाना चाहिए। कलेक्टर ने यह भी कहा कि जिन लोगों को टीका लग चुका है उन्हें अपने अनुभव को दूसरे लोगों के साथ साझा कर उन्हें भी कोरोना टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए।   

कोरबा वनमण्डाधिकारी श्रीमती प्रियंका पाण्डेय ने भी आज शाम कलेक्टर के साथ के कोरोना की वैैक्सीन लगवायी।  टीकाकरण केे बाद जिला अस्पताल के डाक्टरों ने कलेक्टर श्रीमती कौशल को आने वाले दिनों में रखी जाने वाली सावधानियों की जानकारी भी दी। किसी भी तरह की असामान्य स्थिति या स्वास्थ्य खराब होने जैसी हालत में तत्काल चिकित्सकों से संपर्क करने की सलाह भी दी।

कोरबा जिले में कोरोना से लड़ने वाले फ्रंटलाइन वाॅरियर्स को टीका लगाने का काम तेजी से किया जा रहा है। राज्य शासन एवं स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के निर्देशानुसार कोरोना का टीका सबसे पहले स्वास्थ्य कर्मियों, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं जैसे फ्रंटलाइन कोरोना वाॅरियर्स को लगाया गया है। वनमण्डलाधिकारी जिले के टीकाकरण प्रभारी डाॅ. कुमार पुष्पेश ने बताया कि कोरबा जिले में अभी तक कोरोना के टीके की पहली डोज 10 हजार 219 कोरोना वाॅरियर्स को दी जा चुकी है। इसके साथ ही एक हजार 331 लोगों को कोविड वैक्सीन का दूसरा डोज भी लगा दिया गया है। उन्होंने बताया कि टीका लगने के बाद अभी तक किसी भी कोरोना वाॅरियर्स में कोई भी प्रतिकूल लक्षण या परेशानी सामने नहीं आई है। टीका लगने के बाद कुछ समय के लिए बुखार आना या सिर दर्द होना सामान्य प्रक्रिया है। ऐसा होने से यह तय हो जाता है कि टीका अपना प्रभाव दिखा रहा है और आगे वह व्यक्ति का कोरोना संक्रमण से पूरी तरह बचाव करेगा।


25-Feb-2021 7:20 PM 30

  एसईसीएल गेवरा को 7 विकेट से हराकर बालको ने फाइनल में बनाई जगह   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोरबा, 26 फरवरी।  कोरबा प्रेस क्लब द्वारा आयोजित स्व. केशवलाल मेहता स्मृति क्रिकेट प्रतियोगिता विगत 16 वर्षों से लगातार आयोजित की जा रही है। प्रतियोगिता अब अपने अंतिम चरणों की ओर पहुंच चुकी है। प्रतियोगिता का पहला सेमीफाइनल मैच बालको इलेवन व एसईसीएल गेवरा के मध्य खेला गया, जिसमें बालको ने एसईसीएल गेवरा को 7 विकेट से हराकर फाइनल में अपना स्थान पक्का कर लिया। फाइनल में उसका मुकाबला एसपी इलेवन व एसईसीएल कुसमुण्डा के बीच होने वाले मुकाबले के विजेता से होगा।

केएल मेहता कप क्रिकेट स्पर्धा के पहले सेमीफाइनल मैच में एसईसीएल गेवरा की टीम टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी। आयोजकों द्वारा सेमीफाइनल मैच 15-15 ओवरों का कराने का निर्णय लिया गया। एसईसीएल गेवरा की ओर से बल्लेबाज भंज ने 19 गेंदों पर 3 छक्कों व 4 चौकों की मदद से सर्वाधिक 39 रन बनाए। इसके अलावा धर्मेंद्र ने 26 व अंकित ने 21 रनों की पारी खेली। निर्धारित 15 ओवरों में गेवरा की टीम ने 8 विकेट पर 146 रन बनाए और बालको को 147 रनों का लक्ष्य दिया। बालको ने महज 8 ओवर में 3 विकेट के नुकसान पर 147 रनों का लक्ष्य हासिल कर लिया। बालको की तरफ से बल्लेबाज ज्योतिष ने सर्वाधिक 58 रन बनाए। मैन ऑफ द मैच ज्योतिष को दिया गया। मैच में अंपायर की भूमिका करतार सिंह व वीर सिंह ने तथा स्कोरर की भूमिका आलोक डग ने निभाई, जबकि कमेंट्री वेद यादव ने की। पहले सेमीफाइनल मैच में पूर्व महापौर सुश्री श्याम बाई कंवर, सांसद प्रतिनिधि हरीश परसाई, रायपुर प्रेस क्लब के अध्यक्ष दामू अम्बे डारे, बिलासपुर प्रेस क्लब के अध्यक्ष तिलक राज सलूजा, रायपुर प्रेस क्लब के सदस्यगण पंकज सोनी, उमेश यादव, सत्यप्रकाश यादव, बिलासपुर प्रेस क्लब के सचिव वीरेन्द्र गहवई, कोषाध्यक्ष रमन दुबे, विश्वदीपक राय, बालको की हेड जनसंपर्क अधिकारी मानसी चौहान, विजय वाजपेयी बतौर अतिथि शामिल हुए। सभी अतिथियों ने अपने संक्षिप्त उद्बोधन में कोरबा प्रेस क्लब द्वारा किए जा रहे आयोजन को सराहा और भविष्य में भी ऐसे आयोजन के लिए शुभकामनाएं दी। कोरबा प्रेस क्लब द्वारा सभी अतिथियों को स्मृति चिह्न भेंटकर सम्मानित किया गया।

0 लैंको को हराकर एसपी इलेवन पहुंचा सेमीफाइनल में

केएल मेहता कप क्रिकेट 2021 के क्वार्टर फाइनल मुकाबले का अंतिम मैच एसपी इलेवन और लैंको के मध्य खेला गया, जिसमें टॉस जीतकर एसपी इलेवन ने पहले बल्लेबाजी की। एसपी इलेवन की तरफ से भवानी ने 29 गेंदों में 12 छक्का व 3 चौके की मदद से 92 रनों की पारी खेली। पिछले मैच के शतक वीर संजय ने 15 गेंदों में 3 चौके व 3 छक्कों की मदद से 43 रन बनाए। एसपी इलेवन ने निर्धारित 12 ओवरों में 173 रन बनाए। इनमें मैच के अंतिम ओवर में लगातार 4 छक्के लगे। लैंको की तरफ से अजय ने सर्वाधिक 3 विकेट लिए। 174 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी लैंको की टीम में शुरू से ही दबाव साफ नजर आया और नियमित अंतराल में उसके विकेट गिरते रहे। लैंको की तरफ से अनिल ने 23 रनों की पारी खेली जबकि उसके 3 बल्लेबाज खाता ही नहीं खोल सके। पूरी टीम 102 रनों पर आउट हो गई। एसपी इलेवन की तरफ से इरफान व हरमेश ने दो-दो विकेट लिए। एसपी इलेवन ने लैंको को 71 रनों से हराकर सेमीफाइनल में अपनी जगह बनाई। अब इनका मुकाबला एसईसीएल कुसमुण्डा से होगा। मैन ऑफ द मैच 92 रनों की पारी खेलने वाले भवानी को दिया गया।


25-Feb-2021 1:02 PM 32

बालको ने मेयर इलेवन को 7 विकेट से हराकर सेमीफाइनल में किया प्रवेश

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
कोरबा, 24 फरवरी।
केशवलाल मेहता स्मृति क्रिकेट प्रतियोगिता का तीसरा क्वार्टर फाइनल मैच बालको इलेवन व मेयर इलेवन के बीच खेला गया जिसमें टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी मेयर इलेवन की टीम ने निर्धारित 12 ओवरों में 110 रन बनाए और बालको को जीत के लिए 111 रन का लक्ष्य दिया, जिसे बालको इलेवन ने बड़ी आसानी से मात्र 3 विकेट गंवाकर हासिल कर लिया।

बालको की ओर से 3 विकेट लेने वाले अरविंद मानिकपुरी को मैन ऑफ द मैच चुना गया। मैच में वितरण विभाग के अधीक्षण अभियंता पीवी संजीवा, डीएसपीएम के मुख्य अभियंता एसके बंजारा, सीएसईबी कोरबा पूर्व के वरिष्ठ कल्याण अधिकारी एसपी बारले, कोरबा तहसीलदार सुरेश साहू, गवर्मेंट पीजी कॉलेज के प्राचार्य आरके सक्सेना, खेल अधिकारी वीएस राव अतिथि थे। सभी अतिथियों ने कोरबा प्रेस क्लब द्वारा विगत 16 वर्षों से लगातार आयोजित की जा रही केएल मेहता क्रिकेट स्पर्धा की सराहना की। इस जीत के साथ ही बालको इलेवन की टीम ने सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है।

एसईसीएल कुसमुण्डा ने अधिवक्ता इलेवन को दी मात
केएल मेहता कप क्रिकेट प्रतियोगिता का दूसरा क्वार्टर फायनल मैच एसईसीएल कुसमुण्डा व अधिवक्ता इलेवन के बीच खेला गया, जिसमें टॉस जीतकर एसईसीएल कुसमुण्डा पहले बल्लेबाजी करने उतरी। एसईसीएल कुसमुण्डा की ओर से कृष्णा ने 19 गेंदों में 5 छक्के व 2 चौकों की मदद से सर्वाधिक 44 रन बनाए जबकि वीरेंद्र ने 32 रनों की पारी खेली। अधिवक्ता इलेवन की ओर से छतराम ने 4 जबकि अब्दुल ने 3 विकेट चटकाए। कुसमुण्डा ने अधिवक्ताओं के सामने 127 रनों का टार्गेट रखा। जवाब में खेलने उतरी अधिवक्ताओं की टीम 101 रनों पर ढेर हो गई। अधिवक्ता इलेवन की तरफ से राहुल ने 17 गेंदों में 3 छक्कों की मदद से 24 रनों की पारी खेली। एसईसीएल कुसमुण्डा ने 26 रनों से मैच जीतकर केएल मेहता कप प्रतियोगिता के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया।


22-Feb-2021 4:18 PM 20

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
कोरबा,  22 फरवरी।
स्व. केशवलाल मेहता स्मृति क्रिकेट प्रतियोगिता 2021 के चौथे दिन सीएमएचओ इलेवन व एसईसीएल गेवरा के मध्य दिन का पहला मैच खेला गया, जिसमें एसईसीएल गेवरा ने सीएमएचओ इलेवन को 34 रनों से हराया।

एसईसीएल गेवरा की टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। एसईसीएल गेवरा  की ओर से अंकित सावरकर ने 7 छक्के व 4 चौके की मदद से सर्वाधिक 65 रन बनाए। अंकित की इस बेहतरीन पारी की मदद से एसईसीएल गेवरा की टीम ने निर्धारित 12 ओवरों 141 रन बनाए और विपक्षी टीम को जीत के लिए 142 रनों का लक्ष्य दिया। सीएमएचओ इलेवन की तरफ से अख्तर ने 4 विकेट लिए। जवाब में खेलने उतरी सीएमएचओ की टीम की तरफ से देव ने सर्वाधिक 41 रन बनाए। लेकिन सीएमएचओ की टीम निर्धारित 12 ओवर में 107 रन ही बना सकी। इस तरह एसईसीएल गेवरा ने सीएमएचओ इलेवन को 34 रनों से हराकर मैच जीत लिया। मैन ऑफ द मैच अंकित को दिया गया।

मैच के अतिथियों नगर पालिक निगम के आयुक्त एस जयवर्धने, सीएमएचओ डॉ बीबी बोर्डे,अग्रवाल सभा के अध्यक्ष श्रीकांत बुधिया, भाजपा नेता योगेश जैन, वरिष्ठ पत्रकार छेदीलाल अग्रवाल, कमलेश यादव, जयप्रकाश टमकोरिया, विजय खेत्रपाल ने कोरबा प्रेस क्लब के आयोजन की सराहना की । इस दौरान बड़ी संख्या में दर्शक और प्रेस के सदस्य उपस्थित रहे। मैच में वेद यादव ने कमेंट्री की
सीएसईबी वेस्ट को हराकर एसईसीएल कुसमुण्डा ने जीता मैच
केएल मेहता स्मृति क्रिकेट प्रतियोगिता के तीसरे दिन एसईसीएल कुसमुण्डा व सीएसईबी पश्चिम के मध्य दिन का दूसरा मैच खेला गया जिसमें टॉस जीतकर एसईसीएल कुसमुण्डा की टीम पहले बल्लेबाजारी करने उतरी। शुरू से ही संभलकर खेल रही एसईसीएल कुसमुण्डा ने बल्लेबाज कृष्णा के तीन छक्के व 5 चौकों की मदद से 24 बॉल में बनाए गए 47 रनों की मदद से निर्धारित 12 ओवरों में 5 विकेट खोकर 107 रनों का सम्मानजनक स्कोर बनाया। जवाब में सीएसईबी वेस्ट की टीम पारी की शुरुआत से ही दबाव में नजर आई और निर्धारित 12 ओवरों में 9 विकेट खोकर 100 रन ही बना पाई। इस तरह एसईसीएल कुसमुण्डा ने 7 रनों से यह मैच जीत लिया। सीएसईबी की तरफ से विनीत ने सर्वाधिक 17 रन बनाए। जबकि एसईसीएल कुसमुण्डा के बॉलर टोप्पो ने 4 विकेट लेकर अपनी टीम को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई। 

टोप्पो के इस प्रदर्शन के लिए उसे मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार दिया गया। मैच के अंत में अतिथियों को कोरबा प्रेस क्लब द्वारा स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया गया। 
 


21-Feb-2021 8:21 PM 30

कोरबा, 21 फरवरी। अंधे कत्ल की गुत्थी सुलझाने में उरगा पुलिस को  सफलता मिली है। पुलिस ने पत्नी की हत्या के मामले में पति को गिरफ्तार कर रिमांड पर भेजा है।

इस संबंध में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कीर्तन राठौर ने बताया कि  ग्राम गुमिया में रहने वाले राज कुमार आदिले अपनी पत्नी संतरा बाई के साथ निवास करता था  और अपने पत्नी के साथ आए दिन वाद विवाद करता था । 15फरवरी की रात सोते वक्त राजकुमार ने  अपने पत्नी के सिर  घन  मारकर हत्या कर फरार हो गया । घटना की सूचना मिलते ही उरगा पुलिस ने शव को पंचनामा कर पोस्टमार्टम के  लिए भेज दिया था। पोस्टमार्टम

रिपोर्ट में मृतक की हत्या का खुलासा हुआ । इसके बाद पुलिस ने आरोपी पति की तलाश कर पूछताछ शुरू की तो उसने हत्या करना स्वीकार किया। आरोपी पति के खिलाफ धारा 302का अपराध पंजीबद्ध कर रिमांड पर जेल  भेजा गया।


21-Feb-2021 8:18 PM 35

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोरबा, 21 फरवरी। कोरबा प्रेस क्लब द्वारा आयोजित स्व. केशवलाल मेहता स्मृति क्रिकेट प्रतियोगिता अपने चरम पर है। शहरवासियों को साल भर इस आयोजन की प्रतीक्षा रहती है। प्रतियोगिता के तीसरे दिन पहला मैच एसीबी इलेवन और बालको के मध्य खेला गया, जिसमें एसीबी इलेवन के कप्तान ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। एसीबी इलेवन की तरफ से मंजीत ने 30 रन व मंजीत कुमार ने 25 रनों की पारी खेली। अपने दोनों खिलाडिय़ों की पारी की बदौलत एसीबी ने निर्धारित 12 ओवरों में आठ विकेट खोकर 106 रन बनाए। जवाब में खेलने उतरी बालको ने 10 वे ओवर में 2 विकेट गंवाकर निर्धारित लक्ष्य हासिल कर लिया। बालको की तरफ से संतोष ने नाबाद रहते हुए 6 छक्कों व एक चौके की मदद से सर्वाधिक 47 रन बनाए जबकि नरेश ने 20 रनों की पारी खेली। मैन ऑफ द मैच बालको के संतोष को दिया गया। मैच के दौरान अतिथि के रूप में बालको के जनसंपर्क अधिकारी दीपक विश्वकर्मा, विजय वाजपेयी , कृषि विभाग के उप संचालक जे.डी शुक्ला, जनपद पंचायत कोरबा के सीईओ जी.के. मिश्रा, करतला जनपद सीईओ राधेश्याम मिश्र, ॥ञ्जक्कक्क दर्री के अधीक्षण अभियंता प्रमोद बघेल, वरिष्ठ पत्रकार राजेंद्र पॉलीवाल, किशोर शर्मा, विश्वनाथ केडिया उपस्थित रहे। अतिथियों ने कोरबा प्रेस क्लब द्वारा विगत 16 वर्षों से लगातार वरिष्ठ पत्रकार स्व. केशवलाल मेहता के स्मृति में आयोजित किए जा रहे क्रिकेट स्पर्धा की सराहना की एवं भविष्य में भी ऐसे आयोजन के लिए प्रेस क्लब को शुभकामनाएं दी। मैच में अंपायर की भूमिका इसराइल खान व राजेश श्रीवास्तव ने अदा की। कमेंट्री वेद यादव ने की। स्कोरर लकी रहे। मैच के बाद विजेता व उपविजेता टीम के खिलाडिय़ों को पुरस्कृत किया गया एवं अतिथियो को कोरबा प्रेस क्लब की तरफ से स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया गया।

0 एसपी-इलेवन ने सीएसईबी इलेवन को दी मात, एसपी-इलेवन के संजय ने जड़ा शानदार शतक

कोरबा प्रेस क्लब द्वारा आयोजित केएल मेहता स्मृति क्रिकेट प्रतियोगिता का चौथा मैच एसपी-इलेवन व सीएसईबी पूर्व के मध्य खेला गया। जिसमें टॉस जीतकर एसपी-इलेवन ने पहले बल्लेाबाजी चुनी। एसपी-इलेवन की ओर से संजय कुर्रे, कीर्तन राठौर ने पारी की शुरूआत की। संजय ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए 18 छक्कों व 7 चौकों की मदद से सीरिज का पहला शतक लगाया। संजय ने मात्र 40 गेंदों में 141 रनों की धुआंधार पारी खेली। संजय ने मैदान के चारों ओर रनों की बारिश कर दर्शकों का दिल जीत लिया। एसपी-इलेवन ने निर्धारित 12 ओव्हर में 3 विकेट के नुकसान पर 183 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया। जवाब में सीएसईबी पूर्व ने दमदारी से मुकाबला किया। सीएसईबी पूर्व की ओर से चंद्रकांत कश्यप ने 8 छक्के और 2 चौके की मदद से मात्र 20 गेंदों में 59 रनों की पारी खेली। दिनेश चंद्रा ने 5 चौके और 1 छक्के की मदद से 29 रनों की पारी खेली। इसके बावजूद निर्धारित 12 ओव्हरों में सीएसईबी पूर्व केवल 146 रन ही बना सकी और एसपी-इलेवन ने यह मैच जीत लिया। मैन ऑफ द मैच का खिताब शतकवीर संजय कुर्रे को दिया गया। इस दौरान उपस्थित अतिथियों ने भी संजय की इस पारी के लिए उसे नगद पुरस्कार से नवाजा। मैच के दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कीर्तन राठौर, सीएसईबी पूर्व के वरिष्ठ श्रम कल्याण अधिकारी, पूर्वांचल विकास समिति के कार्यकारी अध्यक्ष बीएन सिंह, गुड्स एसोसिएशन के अध्यक्ष राजेन्द्र तिवारी, वरिष्ठ अधिवक्ता श्यामल मल्लिक बतौर अतिथि शामिल हुए। अतिथियों ने अपने संक्षिप्त उद्बोधन में दोनों टीमों के प्रयास की सराहना की। कोरबा प्रेस क्लब को इस तरह के आयोजन के लिए साधुवाद दिया।


20-Feb-2021 8:59 PM 23

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोरबा 20 फरवरी। खेल एवं युवा कल्याण विभाग द्वारा बिलासपुर एवं रायपुर में खेल अकादमी में प्रवेश के लिए आज हॉकी खेल का चयन परीक्षण किया गया। परीक्षण में जिले से कुल 156 बच्चों ने भाग लिया। जिला स्तरीय चयन परीक्षण सी.एस.ई.बी.खेल मैदान परिसर में सुबह नौ बजे से आयोजित किया गया। चयन परीक्षण में जिले के 09 से 17 वर्ष आयुवर्ग के खिलाड़ी में कुल 156 बालक-बालिकाओं ने चयन परीक्षण में सम्मिलित होकर मोटर एब्लिटी टेस्ट जिसमें उंचाई, वजन, वर्टिकल जंप, शटल रन, 30 मीटर फ्लाइंट स्र्टाट, बॉल थ्रो एवं 800 मीटर रन का परीक्षण दिया। इसके पश्चात बच्चों ने स्कील टेस्ट अंर्तगत अपने हुनर का प्रदर्शन किया।

प्रभारी खेल अधिकारी ने बताया कि खेल अकादमी में प्रवेश के लिए चयन परीक्षण का आयोजन जिला स्तरीय चयन समिति के सदस्य, सहायक संचालक, संचालनालय खेल एवं युवा कल्याण श्री प्रमोद बैस,, जिला हाकी खेल विशेषज्ञ श्री के आर टण्डन, सचिव कोरबा जिला ओलंपिक एसोसिएशन श्री सुरेश क्रिस्ट्रोफर, सचिव छत्तीसगढ किकबाक्ंिसग एसोसिएशन श्री तारकेश मिश्रा, प्रभारी जिला क्रीडा अधिकारी श्री आर.के. पाण्डेय, की उपस्थिति में संपन्न हुआ। 20 फरवरी को तीरंदाजी खेल का चयन परीक्षण किया जाएगा।


20-Feb-2021 8:57 PM 25

  ग्रामीण अंचलों के दौरे पर हैं सांसद, पसान होते हुए मरवाही के लिए रवाना  

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोरबा, 20 फरवरी। लोकसभा क्षेत्र की सांसद ज्योत्सना चरणदास महंत संसदीय क्षेत्र के ग्रामीण दौरे के चौथे दिन शुक्रवार को कटघोरा और पाली-तानाखार विकासखंड के गांवों में पहुंचीं। देर शाम पसान में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होकर मरवाही जिले के लिए रवाना हुईं।

अपने ग्रामीण क्षेत्रों के भ्रमण के क्रम में सांसद श्रीमती महंत आज दीपका पहुंचीं जहां कांग्रेस कार्यकर्ताओं एवं नगर पालिका परिषद के कांग्रेस पार्षदों से मुलाकात की। सांसद का यहां कटघोरा विधायक पुरूषोत्तम कंवर व क्षेत्रीय पदाधिकारियों द्वारा स्वागत किया गया। सांसद ने समस्त कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों, खासकर महिला और युवा कार्यकर्ताओं से पार्टी संगठन को आगे बढ़ाते हुए कांग्रेस सरकार की कल्याणकारी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने का आह्वान किया। यहां क्षेत्रीय महिलाओं ने दीपका मुख्य मार्ग में स्थित शराब भ_ी को हटाने की मांग सांसद से की जिस पर उचित कार्यवाही का आश्वासन सांसद ने दिया। इसके पश्चात ग्राम डोंगरी पहुंची सांसद ने यहां आयोजित हो रहे संत कबीर के चौका आरती में शामिल होकर आशीर्वाद लिया। डोंगरी के ग्रामीणों ने कृषि कार्य के लिए पानी की समस्या उनके समक्ष रखी जिस पर कहा कि विभागीय अधिकारियों से बात की जाएगी कि किस तरह यहां पानी की उपलब्धता सुनिश्चित हो। शक्तिनगर में भी सांसद चौका आरती कार्यक्रम में शामिल हुई। ग्राम जवाली में भी सांसद ग्रामीणों से रूबरू हुईं। उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों में मिल रही स्वास्थ्य, शिक्षा, विभिन्न पेंशन, इंदिरा आवास संबंधी आवेदनों का तत्काल निराकरण करने के निर्देश पंचायत सचिवों और सीईओ को दिए हैं। कहा है कि उपरोक्त शिकायतों व समस्याओं का निराकरण के लिए तत्काल प्रस्ताव बनाकर संलग्न करें। इसके बाद पसान में सांसद ने कोरोना वारियर्स को सम्मानित किया व क्षेत्रवासियों से मुलाकात की। यहां से सांसद मरवाही के लिए रवाना हुई। इन अवसरों पर सांसद के साथ प्रतिनिधि हरीश परसाई, वरिष्ठ नेता धरम निर्मले, पोषक दास महंत, श्रीमती उषा तिवारी, नगर पालिका दीपका अध्यक्ष संतोषी दीवान, निशा बंजारे, कुसुम खेस, श्रीमती नायर, श्रीमती मनोरमा लकड़ा, तनवीर अहमद, रजनीश तिवारी, सुनील अग्रवाल, रामू कंवर सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता व क्षेत्रवासी उपस्थित रहे।

कसनिया मोड़ पर सांसद का हुआ स्वागत

जिला कांग्रेस कमेटी ग्रामीण के नवनियुक्त पदाधिकारियों के द्वारा सांसद के कटघोरा पहुंचने पर कसनिया मोड़ में भव्य स्वागत किया गया। इस दौरान लालबाबू सिंह, राजू लखनपाल, अशरफ मेमन, घनश्याम अलवानी, डॉ. देवेश सिंह, विमल मानिकपुरी, रामगोपाल कंवर, डॉ. शेख इश्तियाक, राज जायसवाल, अमन हसन सहित अन्य पदाधिकारी व कार्यकर्तागण उपस्थित रहे।


20-Feb-2021 8:53 PM 37

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोरबा, 20 फरवरी। जिला प्रशासन और नवोदय विद्यालय समिति के उच्च अधिकारियों से प्राप्त मार्गदर्शन एवं सहयोग से जवाहर नवोदय विद्यालय कोरबा ने अपना परचम लहराया है। जवाहर नवोदय विद्यालय कोरबा ने नवोदय विद्यालय समिति भोपाल क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले सभी 113 विद्यालयों में से सर्वश्रेष्ठ 20 नवोदय में अपना स्थान बनाया है।

 जवाहर नवोदय विद्यालय कोरबा को भोपाल क्षेत्र (ओडिशा, छत्तीसगढ़ एवं मध्यप्रदेश) के टॉप-20 में चुना गया है। छत्तीसगढ़ राज्य के पांच सर्वश्रेष्ठ नवोदय विद्यालयों में भी शानदार स्थान प्राप्त किया है। यह उपलब्धि उच्च गुणवत्ता पूर्ण मापदंडो पर खरा उतरने के कारण प्राप्त हुआ है। जवाहर नवोदय विद्यालय कोरबा में सुंदर हरित परिसर, अच्छी बुनियादी संरचना, बिजली की उपलब्धता, सर्वोत्तम आवास सुविधा, फर्नीचर की उपलब्धता, कम्प्युटर शिक्षा, प्रतिभाशाली और समर्पित स्टाफ तथा हर्षित विद्यालय के वातावरण में शिक्षा प्रदान करने के कारण यह उपलब्धि मिली है।

प्राचार्य जवाहर नवोदय विद्यालय कोरबा ने समस्त स्टाफ, विद्यार्थियों एवं उनके पालकों को इस उपलब्धि के लिए बधाई दिया। उन्होंने बताया कि जवाहर नवोदय विद्यालय कोरबा की समस्त उपलब्धियों को ध्यान में रखते हुए स्कूली शिक्षा और साक्षरता मंत्रालय-शिक्षा विभाग ने अगले सत्र से विद्यालय में नई शिक्षा नीति लागू करने का निर्णय लिया है। अब जवाहर नवोदय विद्यालय कोरबा छत्तीसगढ़ राज्य के नोडल जवाहर नवोदय विद्यालय के रूप में उभरेगा। साथ ही नई शिक्षा नीति के आदर्शों को प्राप्त करने के लिए अन्य नवोदय के प्रेरणा स्रोत और सलाहकार के रूप में कार्य करेगा।

जवाहर नवोदय विद्यालय में कक्षा नवमीं में प्रवेश के लिए चयन परीक्षा 24 को

कोरबा 20 फरवरी। जवाहर नवोदय विद्यालय सलोरा में कक्षा नवमीं में प्रवेश के लिए चयन परीक्षा 24 फरवरी को आयोजित किया जाएगा। शैक्षणिक सत्र 2021-22 के लिए चयन परीक्षा में शामिल होने के लिए प्रवेश पत्र जवाहर नवोदय विद्यालय के वेबसाइट पर अपलोड कर दिया गया है। जिन अभ्यर्थियों के द्वारा ऑनलाइन आवेदन पत्र भेजा गया था, वे अभ्यर्थी अपना प्रवेश पत्र वेबसाइट डब्ल्यू डब्ल्यू डब्ल्यू डॉट एनव्ही एडमिशन क्लास नाइन डॉट इन के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं। प्राचार्य जवाहर नवोदय विद्यालय कोरबा ने बताया कि विद्यार्थियों को किसी भी प्रकार की असुविधा होने पर जवाहर नवोदय विद्यालय सलोरा के हेल्पडेस्क में संपर्क कर सकते हैं।


20-Feb-2021 5:47 PM 28

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बालकोनगर, 20 फरवरी।
ग्राम रिस्दा, तहसील एवं जिला कोरबा में बालको द्वारा क्षमता विस्तार के तहत वर्तमान संयंत्र परिसर में एल्यूमिनियम स्मेल्टर क्षमता 5.75 एलटीपीए से 10.85 एलटीपीए करने हेतु पर्यावरणीय स्वीकृति हेतु हुई लोक सुनवाई गत दिनों संपन्न हुई। लोक सुनवाई का आयोजन बालकोनगर के डॉ. अंबेडकर स्टेडियम में किया गया। क्षेत्रीय जन प्रतिनिधियों और स्थानीय नागरिकों ने बालको की एल्यूमिनियम उत्पादन क्षमता बढ़ाए जाने का पुरजोर समर्थन किया। बालकोनगर के आसपास रहने वाले ग्रामीणों और कोरबा के लगभग 5000 महिलाओं और पुरुषों ने लोकसुनवाई में भागीदारी की। सभी को विचार रखने का भरपूर समय मिला। पर्यावरण, रोजगार एवं अनेक स्थानीय मुद्दों पर नागरिकों ने रचनात्मक सुझाव दिए जिस पर बालको प्रबंधन ने सकारात्मक पहल का आश्वासन दिया। 

लोक सुनवाई की पीठासीन अधिकारी कोरबा की अपर कलेक्टर  प्रियंका ऋषि महोबिया ने कार्रवाई का संचालन किया। अनुविभागीय दंडाधिकारी, कोरबा सुनील नायक, एडीशनल एसपी कोरबा श्री कीर्तन राठौर, क्षेत्रीय अधिकारी, पर्यावरण संरक्षण मंडल आर.आर. सिंह लोक सुनवाई में मौजूद थे। बालको के परियोजना प्रमुख मनीष कुमार जैन ने एल्यूमिनियम स्मेल्टर संबंधी संक्षिप्त रिपोर्ट प्रस्तुत की। लोक सुनवाई अत्यंत ही सौहार्द्रपूर्ण माहौल में संपन्न हुई। लोक सुनवाई में औद्योगिक स्वास्थ्य, सुरक्षा एवं पर्यावरण महाप्रबंधक कृष्णा व्ही. कुलकर्णी, बालको सिक्योरिटी एवं प्रशासन महाप्रबंधक अवतार सिंह सहित अनेक बालको अधिकारी मौजूद थे। 

पर्यावरणीय लोक सुनवाई में कोरबा महापौर राजकिशोर प्रसाद ने कहा कि कोरबा क्षेत्र में उद्योग लगने का सकारात्मक प्रभाव स्थानीय अर्थव्यस्था पर होगा। संयंत्र के विस्तार से रोजगार में बढ़ोत्तरी होगी। स्थानीय व्यापार और सहायक उद्योगों को बढ़ावा मिलेगा। श्री प्रसाद ने पर्यावरण संरक्षण एवं संवर्धन, चिकित्सा एवं खेल सुविधाओं आदि के उन्नयन के संबंध में महत्वपूर्ण सुझाव दिए। 

बालकोनगर चेंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष सुमेर डालमिया ने विस्तार परियोजना हेतु अपनी सहमति जताते हुए बताया कि वह बालकोनगर क्षेत्र में लगभग पांच दशकों से निवासरत हैं। बालको ने क्षेत्रीय हित और विकास की दिशा में अनेक महत्वपूर्ण कार्य किए हैं। बालको का विस्तार रोजगार और व्यवसाय के हित में है। 

देश के सुप्रसिद्ध साहित्यकार तथा एनटीपीसी के पूर्व पर्यावरण सह महाप्रबंधक डॉ. माणिक विश्वकर्मा नवरंग ने कहा कि कोरोना के कारण देश मंदी के दौर से गुजर रहा है। ऐसे में वेदांता समूह द्वारा बालको में विस्तार परियोजना के लिए निवेश किया जाना सराहनीय है। उन्होंने कहा कि बालको द्वारा प्रस्तुत ईआईए रिपोर्ट के अध्ययन से यह कहा जा सकता है कि प्रस्तावित परियोजना का कोई भी विपरीत प्रभाव पर्यावरण पर नहीं होगा। पर्यावरण के संरक्षण और संवर्धन की दिशा में बालको की नीति उत्कृष्ट है। 

नए संयंत्र में अत्याधुनिक विश्वस्तरीय तकनीकों की स्थापना की योजना अत्यंत प्रशंसनीय है। देश और प्रदेश के विकास के लिए बालको का विस्तार होना चाहिए। बालकोनगर निवासी श्री भास्कर चौधरी ने कहा कि बालको का औद्योगिक विस्तार वर्तमान समय की मांग है। युवाओं के रोजगार की दृष्टि से परियोजना स्वागत योग्य है। बालको ने क्षेत्र में सदैव ही पर्यावरण के संरक्षण और संवर्धन का ध्यान रखा है। आज इस बात की आवश्यकता है कि हम बालको और देश के विकास के भागीदार बनें। 

कोरबा नगर पालिक निगम के चेयरमैन तथा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता श्यामसुंदर सोनी ने विस्तार परियोजना के समर्थन में कहा कि वेदांता समूह स्वावलंबन, स्वास्थ्य सहित विकास के अन्य क्षेत्रों में बेहतरीन योगदान दे रहा है। श्री सोनी ने अनेक रचनात्मक सुझाव देते हुए कहा कि बालको के विस्तार से नागरिकों को लाभ होगा। भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व एल्डरमैन श्री व्यासमुनि मिश्रा ने बालको की विस्तार परियोजना का समर्थन किया। श्री मिश्रा ने कहा कि प्रस्तावित परियोजना के लिए बालको प्रबंधन को न तो अतिरिक्त जमीन और न ही अतिरिक्त पानी तथा बिजली की आवश्यकता है। परियोजना से पर्यावरण को कोई नुकसान नहीं होगा। श्री मिश्रा ने बालको के सामुदायिक विकास कार्यों के साथ ही बालको अस्पताल में उपलब्ध सुविधाओं की प्रशंसा की। 

बालको के मनीष कुमार जैन ने स्वागत उद्बोधन में कहा कि आत्मनिर्भर भारत निर्माण की दिशा में बालको की प्रस्तावित परियोजना अत्यंत महत्वपूर्ण है। इससे बालको विश्व के वन मिलियन एल्यूमिनियम क्लब में शामिल हो जाएगा। उत्पादन क्षमता के आधार पर बालको विश्व में 14वें स्थान पर पहुंच जाएगा। इससे एल्यूमिनियम आधारित उद्योगों को प्रोत्साहन मिलेगा। परियोजना से छत्तीसगढ़ राज्य और देश को अतिरिक्त राजस्व की प्राप्ति होगी। एल्यूमिनियम का उपयोग परिवहन, निर्माण कार्य, पैकेजिंग, रक्षा और बिजली जैसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों में होता है। 

प्रस्तावित परियोजना के लिए बालको को अतिरिक्त भूमि की जरूरत नहीं होगी। अतिरिक्त जल की आपूर्ति वर्तमान में आबंटित जल की मात्रा से पूरी की जाएगी। एल्यूमिनियम विस्तार परियोजना के लिए आवश्यक बिजली की आपूर्ति बालको के वर्तमान विद्युत संयंत्रों से की जाएगी। प्रस्तावित परियोजना से लगभग 5000 नागरिकों को प्रत्यक्ष एवं परोक्ष रूप से रोजगार के अवसर मिलेंगे। परियोजना में स्थानीय प्रतिभाओं को प्राथमिकता के आधार पर नियोजित किया जाएगा। शिक्षा, स्वास्थ्य, आधारभूत संरचना विकास, महिला सशक्तिकरण, खेल गतिविधियों आदि के प्रोत्साहन की दिशा में बालको 55 वर्षों से कार्यरत है। प्रस्तावित परियोजना का सकारात्मक प्रभाव विभिन्न सामुदायिक विकास कार्यों पर होगा। 

बालको प्रबंधन ने लोक सुनवाई के शांति एवं सौहार्द्रपूर्ण आयोजन के लिए कोरबा जिला प्रशासन और नागरिकों के प्रति आभार जताया। 
नागरिकों की सुविधा का रखा गया ध्यान - लोक सुनवाई के दौरान भागीदारी करने वाले प्रत्येक नागरिक की सुविधा का भरपूर ध्यान रखा गया। बारिश की आशंका को देखते हुए डॉ. अंबेडकर स्टेडियम में वाटर प्रूफ स्टाल लगाए गए थे। इसके साथ ही पूरा क्षेत्र सीसीटीव्ही की निगरानी में रखा गया। पूरे लोक सुनवाई की विडियो और फोटोग्राफी सुनिश्चित की गई। कोविड-19 के स्थापित दिशानिर्देशों का पालन करते हुए नागरिकों को लगातार सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति जागरूक किया गया। नागरिकों को सैनिटाइजर और मास्क वितरित किए गए। 
 


16-Feb-2021 9:32 PM 48

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
कोरबा, 16 फ़रवरी।
कोरबा लोकसभा क्षेत्र की सांसद श्रीमती ज्योत्सना चरणदास महंत ग्रामीण अंचलों के प्रवास पर हैं। उन्होंने मंगलवार को ग्राम भैंसमा से अपने इस ग्रामीण भ्रमण की शुरूआत की। भैंसमा में आयोजित हो रहे भागवत कथा ज्ञान यज्ञ में शामिल होकर कथा श्रवण का पुण्य लाभ व आशीर्वाद लिया। इसके उपरांत भैंसमा के पूर्व सरपंच वरिष्ठ कांग्रेसी नेता बहादुर सिंह कंवर के निधन पर उनके निवास पहुंचकर पत्नी एवं कोरबा जनपद पंचायत के अध्यक्ष श्रीमती हरेश कंवर व परिजनों से मुलाकात कर उन्हें ढांढस बंधाया तथा स्व. बहादुर सिंह कंवर को श्रद्धांजलि अर्पित की।

इसके पश्चात सांसद ने ग्राम तिलकेजा पहुंचकर ग्रामीणों से रूबरू होते हुए उनकी समस्याओं के बारे में जाना। ग्राम तुमान में सांसद ने हाईस्कूल के प्रयोगशाला का उद्घाटन किया। ग्राम बैगापाली में ग्रामीणों से मिली व उनकी समस्याओं को जानकर निराकरण के लिए निर्देश दिए। प्राथमिक शाला बैगापाली के जर्जर भवन का मरम्मत कराने की मांग उठाए जाने पर सांसद ने जिला शिक्षा अधिकारी को इस हेतु आवश्यक कार्यवाही के त्वरित निर्देश दिए।

सांसद के ग्रामीण दौरे के दौरान गांव पहुंचने पर उनका स्थानीय लोगों के द्वारा फूल-मालाओं से आत्मीय स्वागत किया गया। सांसद ने इन मौकों पर कहा कि वे अपने क्षेत्र के लोगों की समस्याओं को जानने के लिए निकली हैं, सांसद होने के नाते उनकी यह जिम्मेदारी भी है। उन्होंने कहा कि कोरबा सहित पूरे संसदीय क्षेत्र का विकास के लिए वे राज्य से लेकर केन्द्र तक लगातार प्रयासरत हैं। इस अवसर पर उनके साथ पूर्व विधायक श्यामलाल कंवर, सांसद प्रतिनिधि हरीश परसाई, ब्लाक अध्यक्ष अजीत दास महंत, हरकुमारी बिंझवार, दौलत सिंह राठिया, श्रीमती उषा तिवारी, गोदावरी राठौर, धनेश्वरी कंवर, अशोक सिंह, फूल सिंह राठिया, प्रशांत राठौर, मो. आवेश कुरैशी, सूरज सिंह, बिस्सू घोष सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस पदाधिकारी, कार्यकर्ता तथा ग्रामवासी उपस्थित रहे।


16-Feb-2021 6:46 PM 25

  वित्तीय कार्यों के लिए सुविधा बढ़ाने पाली में जल्द शुरू होगा उप कोषालय   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोरबा, 16 फरवरी।  कोरबा जिले के पाली क्षेत्र के 138 गांवों के लोगों को अब जमीन-जायदाद संबंधी कामो के लिए कटघोरा तक नहीं जाना पड़ेगा। 51 हजार से अधिक खातेदारों की सहुलियत के लिए विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत और प्रभारी मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल और सांसद ज्योत्सना महंत की मौजूदगी में पाली में एसडीएम कार्यालय और नए पाली राजस्व अनुभाग का औपचारिक शुभारंभ किया।

एसडीएम कार्यालय के शुभारंभ अवसर पर कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल ने प्रशासनिक प्रतिवेदन प्रस्तुत किया और कार्यालय शुरू हो जाने से मिलने वाली सुविधाओं से अवगत कराया। इस अवसर पर प्रभारी मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने प्रशासनिक वित्तीय कार्यों के लिए पाली में उपकोषालय शुरू करने की घोषणा भी की।

डॉ. महंत ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश वासियों के हित के लिए हर जरूरी काम कर रही है। दूर-दराज के इलाकों के निवासियों की सहूलियत के लिए नई तहसीलें-उपतहसीलें और नए जिले बनाने का काम सरकार ने किया है। क्षेत्र के विकास के लिए जनसहयोग के साथ-साथ सभी को मिलजुल कर एक साथ एक राय होकर काम करना होगा। विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि मंत्री, विधायक, सांसद, प्रशासनिक अधिकारी सभी मिलकर क्षेत्र की जरूरतों के हिसाब से योजनाएं बनाएं और उन पर अमल करें तो विकास कार्यों को और गति मिलेगी।

जिले के प्रभारी डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने कहा कि पाली क्षेत्र के लोगों की एक बहुप्रतिक्षित मांग आज पूरी हो गई है। ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों के राजस्व मामलों के निपटारे के साथ-साथ प्रशासनिक कसावट के दृष्टिकोण से भी पाली में एसडीएम कार्यालय खोलने की मांग जनता द्वारा लंबे समय से की जा रही थी। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ की सरकार किसानों की सहुलियतों के लिए लगातार काम कर रही है। पाली में एसडीएम कार्यालय खुल जाने से सबसे ज्यादा फायदा क्षेत्र के किसानों का होगा। अब किसानों को और 51 हजार से अधिक खातेदारों को अपने राजस्व संबंधी छोटे-छोटे कामों नामांतरण, बंटवारा, सीमांकन आदि के लिए 30 किलोमीटर दूर कटघोरा तक नहीं जाना पड़ेगा। प्रभारी मंत्री ने कहा कि प्रदेश में धान खरीदी भी रिकॉर्ड स्तर पर की गई है। सरकार ने समितियों की संख्या बढ़ाकर किसानों को धान बेचने के लिए जो सुविधाएं दी हैं उन्ही का परिणाम है कि पिछले 15 सालों से भी अधिक इस बार 92 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी हुई है और किसानों को समर्थन मूल्य का पैसा सात दिनों में खातों में मिल गया है। प

 राजस्व मंत्री श्री अग्रवाल ने कहा कि गांव स्तर तक शासकीय योजनाओं को सफलता पूर्वक  पहुंचाने, लोगों को अपने राजस्व संबंधी कामों के लिए सहुलियत देने के उद्देश्य से दो साल में 24 से अधिक तहसील-उपतहसील राज्य सरकार ने बना दीं हैं। आने वाले दिनों में भी नईं तहसीलों-उपतहसीलों को बनाने की प्रक्रिया चल रही है। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में नई तहसील-उपतहसीलों की संख्या लगभग 50 तक पहुंच जाएगी। राजस्व मंत्री ने नए राजस्व अनुभाग बनने और पाली में एसडीएम कार्यालय शुरू होने पर पाली क्षेत्र के लोगों को बधाई और शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा कि अब राजस्व  संबंधी कामों के लिए लोगों को कटघोरा तक नहीं जाना पड़ेगा। राजस्व संबंधी मामले अब कम समय में बिना कटघोरा जाए ही पाली में ही निपट जाएंगे। राजस्व मंत्री ने कहा कि जिले में पिछले दो सालों में विकास के कई काम हुए हैं। जिले के सभी स्कूलों में मूलभूत सुविधाओं में बढ़ोत्तरी के लिए स्कूलों का बाउंड्री वॉल, शौचालय, शाला भवनों, पेयजल की सुविधाओं आदि का विस्तार किया जा रहा है। स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए मेडिकल कॉलेज की स्थापना का काम तेजी से चल रहा है। सरकार ने मेडिकल कॉलेज के लिए डीन की नियुक्ति भी कर दी है। राजस्व मंत्री ने पाली को नए अनुभाग बनाए जाने का श्रेय सांसद श्रीमती ज्योत्सना महंत दिया और कहा कि सांसद क्षेत्र के विकास के लिए हमेशा तत्पर रहती हैं। कोरबा हो या कोरिया दोनो जिले के वासियों को सहुलियतें दिलाने और क्षेत्र में विकास कार्यों के लिए योजनाएं बनाने में सांसद श्रीमती महंत का विशेष मत होता है। राजस्व मंत्री ने बताया कि क्षेत्र के विकास के लिए सांसद हमेशा अधिकारी-कर्मचारियों और मंत्रियों से लगातार विचार-विमर्श करती रहती हैं।

इस दौरान मध्यक्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष पुरूषोत्तम कंवर, पाली-तानाखार के विधायक मोहितराम केरकेट्टा, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती शिवकला कंवर, कोरबा नगर निगम के महापौर श्री प्रसाद, नगर पंचायत पाली के अध्यक्ष  उमेश चन्द्रा, नगर निगम कोरबा के सभापति  श्याम सुंदर सोनी, जनपद पंचायत पाली के अध्यक्ष दिलेश्वरी सिदार, पूर्व विधायक  बोधराम कंवर सहित  प्रशांत मिश्रा और गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।


15-Feb-2021 5:35 PM 27

 एसईसीएल कर्मी की 14 माह की बेटी को दुर्लभ बीमारी से बचाने 22 करोड़ के इंजेक्शन की जरूरत

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
कोरबा, 15 फरवरी।
अपनी जि़न्दगी के लिए अपोलो अस्पताल बिलासपुर में लगभग 45 दिनों से वेंटिलेटर पर संघर्ष कर रही 14 माह की बच्ची सृष्टि को बचाने के लिए उसके पिता ने प्रदेश व देश की जनता के साथ मुख्यमंत्री व प्रधानमंत्री से मदद की गुहार लगाई है। लगभग डेढ़ माह बीत जाने के बाद भी अब तक इंजेक्शन के लिए 22 करोड़ में से लगभग 3 लाख पचास हजार रुपए दानदाताओं से  एकत्रित हुए हैं।  

सृष्टि को दुर्लभ बीमारी स्पाइनल मस्कुलर एट्रोफी है जिससे ठीक होने के लिए स्विट्जरलैंड के नोवार्टिस कंपनी की जोलजेसमा इंजेक्शन की जरूरत है। जिसकी कीमत 22 करोड़ है। यदि केंद्र सरकार अपना 6 करोड़ टैक्स माफ कर दे तो यह इंजेक्शन 16 करोड़ में अपने देश आ जाएगा।

सृष्टि के पिता सतीश कुमार कोरबा जिला के एसईसीएल दीपका में कार्यरत है। एसईसीएल अपने खर्च पर अपने कर्मियों व उनके परिवार को शत प्रतिशत कैशलेस स्वास्थ्य की सुविधा उपलब्ध कराती है। परंतु मासूम सृष्टि को एसईसीएल अब तक इस बीमारी का संपूर्ण उपचार उपलब्ध नहीं करा पाई है । इसका मुख्य कारण यह है कि यह दुर्लभ बीमारी स्पाइनल मस्कुलर एट्राफी एसईसीएल की स्वास्थ्य सूची में शामिल नहीं है। इसी कारण नियम कायदों के बीच फंसकर मासूम सृष्टि पल-पल मौत के करीब जा रही है।

ऐसी ही बीमारी मुंबई के  कामत परिवार की बच्ची तीरा को हुई है। तीरा के मात- पिता ने अपनी बच्ची को बचाने के लिए देशवासियों से सहयोग मांगा था सोशल मीडिया व्हाट्सएप, फेसबुक समाचार पत्रों, टीवी न्यूज की मदद से एक अभियान चलाया गया और 92 दिनों में तीरा के एक इंजेक्शन के लिए 16 करोड़ जमा हो गए। बाकी 6 करोड़ रुपए सरकार ने अपना टैक्स माफ कर दिया। अपोलो अस्पताल बिलासपुर में भर्ती सृष्टि को मुंबई की तीरा के जैसे मदद नहीं मिल पाई है। 

क्या है स्पाइनल मस्कुलर एट्राफी बीमारी
स्पाइनल मस्कुलर एट्रोफी बीमारी के लिए जिम्मेदार जीन शरीर में तंत्रिका तंत्र के सुचारू रूप से कार्य करने के लिए आवश्यक प्रोटीन के निर्माण को बाधित कर देता है। इसकी वजह से तंत्रिका तंत्र नष्ट हो जाता है। इस बीमारी की वजह से शरीर की सभी मासपेशियां सिकुडऩे लगती हैं। हाथ पैर-काम करना बंद कर देता है और मरीज की मौत हो जाती है।


Previous1234Next